बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,वीडियो सेक्सी फुल सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी खलीफा: बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ, जिसकी भनक मेरी मां को लग गयी थी, जिस कारण मेरी माता जी और पिता जी के बीच दूरियां बढ़ने लगी थीं.

कॉलेज सेक्सी गर्ल्स वीडियो

मैं ऋतु के मम्मों को दबा रहा था, वो नीचे से रुचि की चुत में उंगली डाल रही थी और चंचल तो चुद ही रही थी. सेक्सी ऑंटी का व्हिडिओफरियाल मेरा लंड ऐसे चूस रही थी, जैसे वो मेरे लंड को पूरा चूस कर खा ही जाएगी.

मैंने कहा- कोई बात नहीं बाबू … आज अपनी चुत और गांड को दो मर्दों से फड़वा लो … लाइट भी नहीं है. इंडियन सेक्सी हिंदी शॉटवो जल्दी से एक कपड़ा लाकर मेरी पैन्ट को साफ करने लगी, लेकिन मैं आराम ना आने की एक्टिंग करने लगा.

धारा ने दो मिनट का समय माँगा था।इस बीच शेखर ने एक बड़ा सा पैग बनाया और एक ही साँस में गटक लिया.बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ: [emailprotected]वर्जिन Xxx स्टोरी जारी का अगला भाग:कुंवारी बुर में लंड लेने की लालसा- 2.

मैंने आंटी की चीखने की परवाह नहीं की और मैं उन के मम्मों को चूसता और काटता रहा.थोड़ी देर लंड चूसने के बाद उन्होंने मुझे खड़ी किया और अपने अंदर वाले केबिन में ले गए जहां पर किसी को भी आने की परमिशन नहीं थी.

वीडियो सेक्सी पिक्चर दो - बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ

लेकिन उस दिन जब पीटीएम में स्कूल गया और सितारा से मुलाकात हुई तो दिल दिमाग में कुछ चलने लगा.अंकल- ऐसा तो नहीं कि तुम्हें खुद ही लड़कियां पसन्द नहीं आती हों?मैं- नहीं अंकल, ऐसा कुछ नहीं है.

भाभी मेरे पास आईं और मुझसे बोलीं कि रात को मेरे पास सोने के लिए आ जाना. बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ दोस्तो मेरी ये सेक्सी ऑफिस गर्ल की चुदाई आपको कैसी लगी? मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मैंने उसे पानी लाने को भेजा तो बोली कि दूध पी लो … पानी क्या दारू पीने के लिए मंगा रहे हो.

बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ?

स्नेहा ने माहौल को हल्का करते हुए मुस्कुरा कर कहा- एक बार तो तेरी चूत फैला कर देख कर रहूंगी. पता नहीं ये क्या बात थी कि उसके ना कह देने से मुझे उसका स्वभाव अब और भी अच्छा लगने लगा था. मैंने उसकी मैक्सी ऊपर करके उसे नंगी कर दिया और 69 में लिटा कर उसकी चूत को अपने कब्जे में ले लिया.

उसने उसी ओढ़ने वाली चादर के नीचे अपने सारे कपड़े उतार दिए और बस शॉर्ट्स पहन लिया. उसने ओके कहा और मैंने पम्प पर सर्विस देने वाले आदमी को इशारे से पास बुलाया. देसी लड़कियों की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी एक्स गर्लफ्रेंड ने 2 और लड़कियों को बुलाकर कैसे उनकी चूत दिलायी और ग्रुप सेक्स का मजा लिया.

दोस्त की बीवी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे पति के दो दोस्त मेरे घर में मेरी चुदाई के लिए तैयार थे. मैंने शहज़ाद का सीधे तरफ वाला हाथ इस तरह से पकड़ लिया, जैसे कोई प्रेमी जोड़ा वाली लड़की अपने ब्वॉयफ्रेंड का हाथ पकड़ती है. मगर जेठ जी पूरे हरामी थे; जानबूझकर मेरी चूत को लंड के लिये प्यासी रख रहे थे.

पट्टी कुछ इस तरह की थी कि वो चाह कर भी उसे निकाल नहीं सकता था और ना ही पहनने वाले को कुछ भी नज़र आता. उसने बाद की रातों में मुझे हर आसन में पेला … मेरी चुत को पीछे से चोदा … साइड से चोदा.

अपने साथ आप किसी लेडीज को लेती जाएं … क्योंकि वहां दरवाज़ा नहीं है … बस पर्दा पड़ा है.

इस बार थोड़ा असर हुआ वो एक हाथ से मुझे जल्दी झाड़ने के लिए मेरे लंड को सहला रही थीं, लंड में थोड़ी ऐंठन सी हुई.

उसके हाँ बोलते ही मैंने जोर का झटका मारते हुए लन्ड को उसकी चूत में पेल दिया. कुछ ही देर में उसकी चूत में दर्द होने लगा और वो जोर जोर से चीखने लगी. मैंने कहा- तभी तो तुम दिन में नंगी होकर सेक्सी मूवी देखकर अपनी चूत में उंगली करती हो.

ऐसे कैसे सो जाएगी? आज तो रात भर तेरी चूत की मालिश करूंगा। और उसके साथ साथ तेरे पिछवाड़े की भी!” जीजा ने गांड दबाते हुए बोला. उसने शहजाद की पैंट की चैन खोल कर उसका लौड़ा बाहर निकाल लिया और गप से लंड को मुँह में लेकर मस्ती से चूसने लगी. हथेलियों में भरने से उसे इतना तो अंदाज़ा हो चुका था कि धारा की चूचियों का साइज़ 34 से कम नहीं था; शायद 34 और 36 के बीच का कह लीजिए.

डॉक्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी सेक्सी बीवी ने हॉस्पिटल के डॉक्टर संग टांका भिड़ा कर सेक्स का मजा लिया.

धीरे धीरे निखिल के लंड की चाहत को भी मीरा समझ गयी थी क्योंकि जब भी वो ऐसी कोई हरकत करती तो निखिल का लंड फूल कर उसकी इस क्रिया का अभिवादन करने लगता था. हालांकि ब्लू फिल्म में गांड मरवाने वाली फिल्म देख कर मेरा कई बार मन हुआ मगर आप सब जानते ही हैं कि ब्लू-फिल्म की ऐक्ट्रेस गांड मरवाने की ट्रेनिंग लेती हैं, तभी वो बड़े बड़े लौड़े अपनी गांड चुत में एक साथ ले पाती हैं. तो भाभी कहने लगीं कि ये उदासी तुम्हारी समझ में नहीं आएगी, ये सिर्फ एक लड़की ही समझ सकती है.

फिर मैंने जीभ को नुकीला करके चूत के अन्दर जहां तक जीभ जा सकी, चोदना शुरू कर दिया. पर आप और मम्मी की दोनों वीडियो में मम्मी की चूत बिल्कुल नीट एंड वलीन और आप के भी लन्ड पर भी अभी की तरह वीडियो में भी एक भी बाल नहीं. उसने मुझे भी सेक्स का भूखा समझ लिया होगा।ऐसे अनगिनत सवाल और ख़्याल शेखर के मन में दौड़ रहे थे.

वो चुदने के लिए इतनी जल्दी में थी कि मुझे ठीक से चूत भी देखने नहीं दी.

चार महिलाओं ने तो मेरे साथ सेक्स करने की भी इच्छा जाहिर की और उन में से एक महिला ने तो मेरे साथ अपनी रात रंगीन कर भी ली, जो कि मेरे शहर चंडीगढ़ से कोई सो किलोमीटर लुधियाना में रहती है. इस सब मैं वो कामयाब भी हो रही थी क्यों उसको निखिल के पैंट के उभार को देख कर पता चल रहा था.

बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ फिर मैं बोली- इतनी ज्यादा नाराजगी!गौतम बोला- मुझे आपसे बात नहीं करना. हॉट लव सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी प्यारी चाची का बर्थडे गिफ्ट- 5.

बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ अगले दिन सुबह जागकर उसने फिर से उसी तरह से मेरी गांड में दवाई लगाई और शाम को भी. फिर मैंने हल्का सा मेकअप किया और सोफे पर बैठ कर उन लोगों का इंतजार करने लगी.

अब वे मेरी चूत और जोर जोर से दबा रहे थे और मेरी गर्दन पर किस किए जा रहे थे.

हिंदी सेक्सी फिल्म पिक्चर वीडियो

तुमको बिना आवाज दिए अन्दर आने में शर्म नहीं आती?मैंने कहा- मुझे तो आती है आंटी, पर आपको नहीं आती. एक दिन जब मामा मेरे होंठ चूसते हुए मेरी चूचियां मसल रहे थे, तब मां ने देख लिया था. मैं इतना ज्यादा उत्तेजित हो गया था कि सिर्फ़ दो मिनट में ही झड़ गया.

जैसे ही मैंने गेट खोला, सनी मुझे इस रूप में देखकर समझ गया कि मैं पूरी रात चुदी हूँ. अचानक ऐसे किसी के चिल्लाने की वजह से उस चपरासी का मोबाइल उसके हाथ से नीचे गिर गया और वो अपने दोनों हाथों से अपना लौड़ा और पैंट सँभालने की कोशिश करने लगा. चाची उठी और दूसरे कमरे में जाकर एक गद्दा लाई और उसे कमरे में जाली के दरवाजे के आगे बिछा दिया.

कुछ दूरी चलने के बाद भाभी प्यार से बोलीं- मेरा घर आ गया, यहीं रोक दो.

तभी चंचल ने मुझे दुबारा कॉल किया- क्या आप अभी मेरे पास आ सकते हो?मैंने पूछा- कहां और क्यों?चंचल ने कहा- आपको चोदना था न?मैंने ‘हां. कुछ देर बाद मैंने स्पीड तेज की, तो वो भी लंड का मजा लेने लगी मगर मोटा लंड उसे पहली बार में मजा कम दर्द ज्यादा दे रहा था. इस बार अमित ने मेरी बीवी की गांड मारी और मैंने उसकी चुत में लंड पेला.

उसका लंड देखकर जब भी मेरा मन करता मैं उससे लिपट जाती और वो मुझे पटक कर चोद देता. मैंने लंड निकाल लिया और उनके होंठों को अपने होंठों से जकड़ कर एक हाथ से उनकी चूची दबाने लगा और दूसरे हाथ से चूत में जल्दी जल्दी उंगली करके उन्हें गर्म करने लगा. तभी मुझे लगा कि वो झड़ने वाली हैं; मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और ‘उम आह.

कुछ देर बाद उसका दर्द जैसे ही कम हुआ, मैंने एक और झटका लगाया तो पूरा लंड गांड में घुस गया. हॉट भाभी की चूत स्टोरी में पढ़ें कि कैसे भाभी का दूध पीने से मैं उत्तेजित हो गया.

जैसे ही मैंने कपड़े उतारे तो वो चोरी चुपके से मुझे पूरा नहाते हुए देखता रहा. गपागप गपागप अन्दर बाहर करने लगा उसकी आहहह आहहह के साथ मेरी भी सिसकारियां निकलने लगीं और मेरे लौड़े ने अपना गर्म गर्म लावा शन्नो रंडी की चूत में भर दिया. उसकी हिलती हुई चूचियां मुझे मजा दे रही थीं तो मैं उन्हें दबाने लगा और उसकी गांड में हाथ फेरने लगा.

मुझे नहीं पता था कि मेरा मौसेरा भाई मुझे दरवाजे की झिरी में से देख रहा है.

उसकी बीवी के बूब्स और गांड देखकर मेरा लौड़ा उसकी चुदाई मांगने लगा पर मैंने अपने पर काबू रखा और सिर्फ दोस्त की बहन की चूत गांड मार कर काम चलाया. कुछ देर बाद हम अलग हुये तो उसने मेरा लंड पोंछा और बाथरूम में अपनी चूत और गांड धोकर आयी, कपड़े पहने तब तक मैं भी कपड़े पहन चुका था. मयंक ने संगीता की जांघों पर हाथ फिराना शुरू कर दिया और वो एक मिनट बाद उठ कर संगीता की टांगों के बीच में आ गया.

मैं- वो बात तो ठीक है शीना, पर क्या तुमने पहले कभी सेक्स किया है किसी के साथ?शीना- मम्मी कसम … अंकल मैंने आज तक ऐसा कुछ नहीं किया, पर मैं इसके बारे सब जानती हूं. मैं उसे गाली देने लगा- साली रंडी कुतिया छिनाल चिल्ला भैन की लौड़ी … जितना चिल्लाना है, चिल्ला ले … आज मैं तेरी गांड फ़ाड़ कर ही मानूंगा.

पहले मैंने उर्वशी की चूत पर लगाया और उसके बाद अपने लंड पर अच्छे से मालिश की, जो उर्वशी ने ही की थी. इस बार लंड कुंवारी लड़की की सेक्सी चुत की फांकों में सैट हो गया था और उसके हाथ मुझे रोकते हुए कोशिश कर रहे थे. आपने लंड भी इतना मस्त चूसा कि मैं ज़्यादा देर रुक न सका … लेकिन दूसरी बार ऐसा नहीं होगा.

धारा 457 क्या है

देसी वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि सेक्सी बीवी ने अपने पति के दोस्त को रात में अपने घर बुलाया.

सुनसान रास्ते में उसने मुझसे बात शुरू की; कुछ अपने बारे में बताया और मेरे बारे में भी पूछा. अब जब नीचे वाले बाबूलाल ने ही हां कह दी थी, तो मैं कौन होता था ना बोलने वाला. वो एक हाथ से वो रीमा की चुचियों का मर्दन करने लगा और दूसरे हाथ से उसकी चुत को सहलाने लगा.

तभी भाभी की सास की आवाज आई, तो मैं भाभी से अलग हो गया और वहीं वाशबेसिन में हाथ धोकर रूम में चला आया. सितारा ने जैसे ही मेरी फ्रेंची नीचे खिसकाई काले नाग सा फुफकारता मेरा लण्ड बाहर आ गया. नंगी चुदाई वाली सेक्सीफिर वो बोली- इसे तो मैं बहुत दिन से पाना चाह रही थी … राजा, आज इसे मेरे अन्दर डाल दो.

एक दिन जब मामा मेरे होंठ चूसते हुए मेरी चूचियां मसल रहे थे, तब मां ने देख लिया था. इधर से शेखर- अरे ऐसा नहीं है ललित भाई जो मैं धारा जी के ऊपर संदेह करूँ, मुझे यक़ीन है कि वो बढ़िया मालिश करती होंगी … मैं तो बस ये कह रहा था कि शायद मेरे नसीब में ये सुख नहीं है.

मैं- मेरा नंबर तुम्हारे मम्मी पापा के फ़ोन में सेव है, उनसे ले लेना. वो बोली- उसे भी हटा दो न!मैंने बिना समय गंवाए उसकी पैंटी भी उतार दी. फिर पूरे 21 दिन के लॉकडाउन में मैं भाभी के घर पर ही रहा और दिन रात भाभी की जमकर चुदाई की.

ममता- कम ऑन … होता है इस उम्र में, पर सॉरी क्यों!अभय- वो तूने मुझे उस हालत में देख लिया ना इसलिए. जब मैं साड़ी पहनती हूँ तो ब्लाउज में से मेरी चूचियों की घाटी एकदम अलग सी दिखती है. दीदी का ये फिगर ठीक वैसा ही था, जो हमेशा की तरह मैंने उन्हें देख कर सोचा था.

लेकिन मेरे हाथों की मजबूत पकड़ उसकी कमर के चारों तरफ से होते हुए उसके चूतड़ों तक थी जो उसकी कोशिश को नाकाम कर रही थी.

मुझे पता था कि साला अमित फिर से बियर में पॉवर वाली दवा मिला कर लाया होगा. तभी मेरे देवर के दोस्त ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा.

मैं अन्दर ही अन्दर अपनी फंतासी को पूरा होता हुआ देख रहा था और उनके सामने घबराने का नाटक कर रहा था. ये शर्ट वाकयी इतनी चुस्त थी कि उसके बटन के बीच में से मेरे सीने के पास से खुल सा गया था. जैसे कि आपको शीर्षक से ही पता चल गया होगा और आपने अंदाजा भी लगा लिया होगा कि इस फ़ोरसम सेक्स से मेरे लंड की क्या हालत हुई होगी.

मैंने उसकी तरफ देखा तो वो भी बिस्तर की चादर को अपनी मुट्ठियों में भींचे हुई थी. जैसे ही फ़लक बाथरूम का दरवाजा बंद करने लगी मैंने उससे कहा- फ़लक तुमने इन दोनों कपड़ों के नीचे कुछ नहीं पहनना है. थोड़ा डर सा गया मैं … कि भाभी ने मेरे बारे में कुछ बोल तो नहीं दिया.

बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ मेरा लंड फुंफकार मारते हुए खड़ा था, जिसे देख कर उसकी आंखें बड़ी हो गईं और वो थोड़ा शर्माने लगी. मजा आ गया।वे मेरे बालों को सहलाते हुए बोले- शबनम, अभी तो शुरूआत है मादरचोद, अभी तो तुझे और मजे करने हैं.

भोजपुरी सेक्सी जंगल

इतने में भाभी ने अपने शरीर को अकड़ा दिया और एक फुट ऊंची गांड उठाने लगीं. गगन हवस से भरा हुआ स्टेज पर चढ़ा और अपनी बहन प्रियंका के मम्मों को दबोचकर उसे किस करने लगा. जब भी इस तरह का टॉप पहन कर कोई लड़की सामने से झुकती है, तो सबकी नज़रें उसके मम्मों पर ही टिक जाती हैं.

इसलिए तुझे बुलाया था ताकि तू मेरी कुछ हेल्प कर दे, लेकिन तू तो एक और को साथ ले आई. आंटी बोली- हां ठीक है, मगर पहले मेडिकल स्टोर पर जाओ और कंडोम ले आओ. घरों की सेक्सीदस मिनट के बाद फिर से भाभी का शरीर अकड़ने लगा तो मेरा भी काम उनके साथ हो गया और हम एक दूसरे पर पड़े रहे.

वैसे तो वो घर पर काफी बार अकेली रहती थी लेकिन मेरा उसके घर तब ही जाना होता था, जब घर पर सब होते थे.

वह मुझे लेकर एक झाड़ी में आ गई, जो ऊपर से झाड़ी दिख रही थी … पर अन्दर से एकदम साफ सुथरा स्थान था. जब लंड चुत के लिए कड़क हो गया तो मैंने उन्हें पीठ के बल लिटा दिया और अपने लंड को उनकी चूत के द्वार पर सैट कर दिया.

मैं पहले से ही उत्तेजित था … अब तो बेकाबू हो रहा था इसलिए मैं भी उनका साथ देने लगा. अब डॉक्टर रोहित के लंड की लालसा में मेरी चुत मचलने लगी थी जिसे मैं अगली बार की सेक्स कहानी में विस्तार से लिखूंगी. बाद में मुझे पता चला कि उसने मम्मी को फोन करके कह दिया था कि मेरे पेट में आज बहुत दर्द है और फीवर भी है इसलिए मम्मी ने उसे रुक जाने को कहा था.

मैं उसे जितना देख रहा था, उतना ही उसकी सुन्दरता में खोता जा रहा था.

वो बोली- हां हुजूर अब तो मैं एकदम से समझ गई हूँ कि साहब को मैं हॉट लगती हूँ. वो हंसने लगी और उसने नौकरानी को आवाज लगा कर उसे बोला- शारदा, हम दोनों का खाना लगा दो. कुछ देर बाद कमरे की लाइट ऑन हो गई और भाबी मेरे बगल में आकर बैठ गईं.

सेक्सी फिल्में बताएं हिंदी मेंइसी बीच शेखर ने धारा के बदन से अपनी पकड़ थोड़ी ढीली की ताकि वो उसकी चूचियों का मर्दन कर सके. अबकी बार ज्योति सबके सामने खुल कर चिराग के साथ, कभी उसके गले में बांहे डाल कर सेल्फी ले रही थी … तो कभी हग करके फुल एंजॉय कर रही थी.

इंग्लिश में सेक्सी पिक्चर

मैं देखना चाहती हूं कि इन तीनों की हालत मुझे चोदते हुए देखकर कैसी होगी. सुबह 3:00 बजे मेरा स्टेशन आ गया और मैं सुनीता के पास विदा का एक पत्र रख आया जिसमें मैंने उसे उसके प्यार के लिए शुक्रिया लिखा था. भाभी चाय लेकर आईं … तो मैंने कपड़े पहने और हम साथ साथ चाय पीने बैठ गए.

वो एक हाथ से तेल की शीशी से गांड के छेद पर तेल टपकाते हुए अपनी दोनों उंगलियों को गांड के अन्दर बाहर करने लगा. तो लकी कहने लगा- तूने यह ठीक नहीं किया … तूने मेरी मां के साथ गलत किया है. एक दिन हम मंडी में सामान लेने गये थे तो वहां मेरा पैर डगमगाया और समीर ने मुझे संभालते हुए मेरी चूची को दबा दिया.

थोड़ी देर बाद मैंने पलट कर देखा तो लकी की मम्मी बिल्कुल नंगी नहा रही थीं. अब आगे इंडियन देसी सेक्स गर्ल की कहानी:शालू- एक दिन घर के सभी लोग किसी शादी में चले गए थे. धारा- ओहो … दवा ले लीजिए … और अगर कोई आस-पास हो तो बदन की थोड़ी सी मालिश करवा लीजिए.

पहले पहल तो आंटी मेरे किस का जवाब नहीं दे रही थीं, फिर अपने आप ही उन्होंने मुझको किस करना शुरू कर दिया. उन्होंने मुझे नीचे बैठा दिया और अपनी डेस्क की नीचे कर दिया ताकि किसी भी आने वाले को पता ही ना चले कि मैं कहां बैठी हूं.

चाचा- किसे बुला रही मेरी रंडी … अपनी मां को … आह बुला ले आज उसको भी नंगी करके चोद दूंगा.

मेरे देवर का दोस्त कहने लगा कि भाभी आप मुझे बहुत पसंद हो, मैं आपकी हर जरूरत का ख्याल रखूंगा. नेपाली नंगा सेक्सीवो आंख मारते हुए बोली- किधर?मैंने समझ लिया कि बंदी को लंड पसंद आ गया. बटाला सेक्सी वीडियोफिर एक रात मैं बाथरूम के रास्ते उनकी तरफ वाला दरवाजा खटखटाया तो उन्होंने उठ कर बाथरूम का दरवाजा खोला और चुपचाप अपने बिस्तर पर जाकर बैठ गए. पता नहीं वो कितनी देर तक वैसे ही रहे।फिर शेखर नींद की आग़ोश में खो गया.

मैं भाभी के ब्लाउज के हुक खोलने लगा और उनकी ब्रा के ऊपर से ही उनके मम्मों को चूमने लगा.

वो बोली- पहले नाश्ता खत्म कर लो, ठंडा हो जाएगा … फिर मुझे चोद लेना. अभी तक सारा कुछ सही था, उसकी मां को लेकर मेरी कोई भी गलत सोच नहीं थी. मैं- हां बोलो … क्या बात है?वो- यार मैंने तुम्हारे बारे में कभी ऐसा सोचा ही नहीं था.

उसमें एक महिला ने मुझसे कहा कि वो मुझसे बॉडी मसाज और सेक्स करना चाहती है. भाभी ये सुनकर एकदम से चौंक गईं तभी मैंने बाहर देखा और सब कुछ मुताबिक़ पाते हुए भाभी के करीब आ गया. उनकी परेशानी समझते हुए मैंने पूरा लंड बाहर निकाला, जिससे उन्हें एक गहरी सांस आयी.

राजस्थानी सैकसी

दरअसल ये सेक्स कहानी मेरी नहीं बल्कि 5 फुट 7 इंच कद के और 7 इंच के लंडधारी एक 30 वर्षीय गबरू जवान की है. वो तो थोड़ी देर में ही झड़ गईं क्योंकि वो मेरी और ताई की चुत चटाई देख कर पहले से ही चूने लगी थीं. उस बीच भाभी ने मेरे होंठों पर अपने होंठों को जमा दिया और वो मुझे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगीं.

मैंने साहिल और राज का लंड पकड़ लिया और उनको अपने पीछे खींचने लगी जैसे कि वे मेरे कुत्ते हों.

किसी औरत के हाथ लगाने से लंड की लम्बाई कितनी हो सकती थी, ये मुझे अभी तक मालूम ही नहीं था.

हमारे शहर में एक नदी पड़ती है, जिसके पास नए साल वाले दिन खूब बड़ा मेला लगता है. आह्ह्ह … शे…शेखर !!” अचानक से अपनी चूचियों को बेदर्दी से मसले जाने पर धारा ने अपना मुँह शेखर के मुँह से छुड़ा कर एक आह्ह भरी और फिर अपनी गर्दन को पीछे की तरफ़ झुका दिया. बिहारी सेक्सी जबरदस्तघर आ कर जब भी हम दोनों को मौका मिलता, मैं चाची को गिरा लेता था और चोद देता था.

मैंने सोचा- अगर इसकी माँ अपनी चूत चुदवा रही है, तो क्यों न बेटे को तो कोई गिफ्ट दे ही दिया जाए. रस कहां निकालूं?भाभी के मुँह में लंड होने के कारण उन्होंने हाथ से इशारा किया कि मुँह में ही छोड़ दो. मैं उनके घर के सामने से गुजर ही रहा था कि भैया ने आवाज दी- हैलो!मैंने एकदम से पीछे मुड़कर देखा तो भैया बोले- हां आपको ही बुला रहा हूँ.

मैं अभी उनसे कुछ और पूछता, तब तक भाभी ने कुछ सोचा और मेरी तरफ देखने लगीं. मैंने धीरे से लंड चुत में डाला तो उसने अपने दांत भींच कर अपनी आंखों को बंद कर लिया.

मेरा सिर अपनी गोद से टिका कर मेरे दोनों पैरों को पकड़ा लिया और उनको फैला कर हवा में उठी हुई मेरी नमकीन चूत में मुँह डाल कर चूसने लगा.

भाभी- तुम्हारी गर्लफ्रेंड का क्या नाम है?मैंने बताया- मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. मैं लगभग 10:00 बजे भाभी की चारपाई पर आ गया और उनके बाजू में लेट गया. मैं भी क्या कहता … बस चूतियों की तरह हंस दिया।तभी दरवाजे की घण्टी बजी.

सेक्सी वीडियो 15 साल लड़की की इसी तरह बीच बीच में मैं उसके यहां चली जाती और अपनी चुत की खुजली मिटा लेती. मैं सुबह उठा तो भाभी ने मुझे फिर से अपनी बांहों में लेकर प्यार किया और हम दोनों एक साथ नंगे नहाये और उधर बाथरूम में भाभी की आखिरी चुदाई करके मैं घर आ गया.

मैं हाथ जोड़कर मिन्नतें करती रही पर उन्होंने लंड को चूत में नहीं घुसाया। मैं चूत समेत उछलती रही पर वे नहीं माने और थोड़ी देर बाद मेरा बदन ऐंठने लगा और मैं बिना लंड से चुदे ही झड़ गयी. अब वो हर झटके में सिसकारने लगी और मैंने भी अपने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी. इसी अवस्था में धारा ने 5 मिनट तक शेखर के आधे लंड से अपनी चूत की गहराई नापी, फिर धीरे-धीरे बदन का पूरा भार लंड पर डाल दिया.

मारवाड़ी सेक्स पिक्चर ओपन

तभी उसने मेरी मां की गांड पर धौल जमाते हुए कहा- बड़ी मक्खन गांड है … एक बार बजा लेने दो. गगन ने तीन दिन तक अपनी बहन प्रियंका को नगर के चौपाल पर बने स्टेज पर चोदा था. अब उसका मुँह मेरी दोनों चुचियों के बीच में घुसा हुआ था और मैं उसकी पीठ पर अपने हाथ रखे थी.

मैं मौसी के 10 दिन रुकी और 10 के 10 दिन उसने मुझे रोज चार बार चोदा. तन्वी- क्यों, तेरी ही चूत में कीड़े कुलबुलाते हैं क्या … मेरी चूत में आग नहीं लगती क्या?पल्लवी- हा हा हा हा … मुझे नहीं पता था.

पांच मिनट तक शन्नो ने मेरा लंड जमकर चूसा … फिर मेरे लौड़े ने वीर्य छोड़ दिया तो शन्नो एक कुतिया के जैसे लंड को चूसते चूसते सारा वीर्य पी गई.

मैंने बाथरूम में जाकर देखा तो पता चला कि नल खराब हो गया था इसलिए सारा पानी रात भर में टपक गया. पर उन्होंने बराबर में लेटना ही बराबर समझ कर मेरा एक हाथ सीधा किया और मेरे होंठों से अपने होंठ बिल्कुल सटा कर मेरे कंधे पर सिर रख कर लेट गईं. अदिति ने हंसते हुए कहा- बस बस तन्नी डार्लिंग बस, आपको क्या क्या पसंद है, ये बताओ.

फिर दो मिनट बाद पंजाबी आंटी कमरे में आईं तो मैंने उनको पूरी नंगी कर दिया और घर के बीच में ले गया. मुझे भाभी की चुत पर बहुत गर्म-गर्म महसूस हुआ और उसकी चूत से पानी में बह रहा था. इसी लिए मैंने सोचा कि अब मैं भी अपने जीवन में घटित तमाम घटनाओं को क्रमबद्ध तरीके से आप लोगों तक पहुंचाऊं.

चिकनी चूत पर हाथ फेरते हुए मैं कविता के होंठ चूसने लगा, वो भी मेरा साथ देने लगी.

बांग्लादेश की सेक्सी बीएफ: रोहन ने मेरे लन्ड को बाहर कर मुंह में पानी भर लिया और फिर मेरे लन्ड को चूसने लगा।मैं रोहन की लन्ड चूसने की कला का आनंद ले रहा था. तभी ऋतु ने अपनी बिकनी उतार कर अपने मम्मों मेरे मुँह में डाल दिया और दबाने लगी.

मैं उसके पास जाने को हुई पर मुझे भाभी की आवाज सुनाई दी किसी से बात करते हुए।तो मैं दूसरे कमरे की तरफ जाने लगी. [emailprotected]डर्टी चुदाई कहानी का अगला भाग:सेक्स की नगरी की रसीली चुदाई की कहानी- 4. उम्मीद करती हूँ कि ये कहानी भी आप लोगों को पसंद आएगी।तो दोस्तो, चलते हैं आज की देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी में!यह कहानी सुनें.

पिछले भागदोस्त की दीदी रण्डी निकलीमें अब तक दीदी ने मुझे बता दिया था कि वो एक रंडी कैसे बनी थीं.

अगर आप कहेंगे, तो मैं इसके आगे की ऑफिस गर्ल पोर्न कहानी को भी पोस्ट करूंगा. अंततः मां की चुत का लावा फूट गया और उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया, मैंने चुत रस पूरा अन्दर गटक लिया. ये किसी बहुत बड़ी बिल्डिंग का ठेका था जिसको वो छोड़ नहीं सकते थे।फिर वो बोले- मेरी जगह समीर को ले जाओ, वहां वो तुम्हारे साथ कुछ मदद ही कर देगा.