सनी सनी लियोन का बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी गाना सेक्सी गाना वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी 2020 की: सनी सनी लियोन का बीएफ, फिर 15 मिनट के बाद मैंने सोचा कि देख कर आता हूं कि विक्की भैया मम्मी के साथ क्या करते हैं।जब मैं मम्मी के कमरे के पास गया तो कुछ जोर जोर से सांसें चलने की आवाज़ आ रही थी और मम्मी के कमरे का दरबाजा बन्द था.

देसी पंजाबी माँ गण्ड नेवड़

फिर उसके सामने अपने पैर पर पैर रख कर बैठ गई, जिससे मेरी नंगी जाँघ विनय को दिखायी दे जाए … और उसका लंड टाइट बना रहे. बेस्ट नाइट क्रीमएक दिन शाम के समय अमायरा और उसकी मम्मी मेरे यहाँ दीवाली पर मेरी मम्मी से मिलने आए.

… बाबा प्लीज़ और चोदो मुझे … प्लीज़ प्यास बुझाओ अपनी बेटी की … बाबा जी … आह प्लीज़ और चोदो मुझे … आपका लंबा मोटा लंड मेरे अन्दर तक घुसेड़ दो मेरी चुत में … और जोर से बाबा जी प्लीज़ चोदो मुझे. मुझे चोदना हैफ्लैट देख कर मुझे पसंद आया और मैंने मकान मालिक को एडवांस देकर घर बुक कर लिया.

सही मैं तुम्हारी इतनी सुंदर चूत से निकलते पेशाब की धार देख कर आज मैं धन्य हो गया.सनी सनी लियोन का बीएफ: मैंने कहा- हां बस थोड़ा और …मैंने दोनों हाथ कमीज़ के अन्दर ले जाकर उसके दोनों मम्मों को मसलने लगा.

एकदम से गोरी-चिट्टी, उसकी बड़ी-बड़ी गेंद देख कर तो किसी का भी लंड फिसल सकता था.वो बेशर्म होकर बोली- ले आकर चाट मेरी …मैंने आगे बढ़ कर उसकी चूत को खूब चाटा, चूसा.

सेक्स किस तरह किया जाता है - सनी सनी लियोन का बीएफ

धीरे धीरे मैंने उसकी चूत में पूरी उंगली डाल दी और फिंगरिंग करने लगा.अगर मैं तुम्हें हां ना बोलती, तो क्या अभी भी तुम मुझसे नाराज रहते?मैं- मुझे पूरा विश्वास था कि आप जरूर हां बोल दोगी.

मैं दीदी के पैरों से ऊपर जाते वक़्त उनकी चूत के रास्ते से होकर गया, जिस वजह से दीदी और भी गर्म हो गई थीं. सनी सनी लियोन का बीएफ एक बार मोहन भैया ने मुझे बताया था कि मेरी चूत चोदने के दो दिन तक वे अपनी बीवी को नहीं चोदते हैं.

भाई ने एक बार भी महसूस नहीं होने दिया कि उनका एक लंड दो लड़कियों को एक साथ चोद रहा है.

सनी सनी लियोन का बीएफ?

और सच बात तो यह थी कि मुझे वाकयी में इस वक़्त अपने खड़े लंड को बिठाने के लिए हस्त-मैथुन करने की सख्त ज़रूरत महसूस हो रही थी. जब लंड और गांड दोनों ही चिकने हो गये तो मैंने फिर से अनीता की गांड पर लंड को सेट किया और धीरे-धीरे उसकी गांड के छेद को खोलने की कोशिश करने लगा. साफ़ की हुई झांटों को एक कागज में पुड़िया में बंद करके साबुनदानी के नीचे दबा दीं.

पर जब एक बार घुस गया तो गांड सिकोड़ने ढीली करने का कोई मतलब नहीं रह गया. मैंने प्रीति को अपने गले से लगा लिया और उसकी पीठ पर हाथ फिराने लगा. तभी राहुल ने भी नीचे से दो तीन जोर से धक्के मारे तो उसके लंड ने भी लावा पिंकी की चूत में छोड़ दिया.

मैं भाबी के मम्मों को दबाने लगा और भाबी ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां लेने लगीं. उनकी सलवार में मुठ मार मार कर संतुष्ट होता था … आज वो मेरे ऊपर 69 में लेटी थीं और मेरा लंड चूस रही थीं. तुम्हें अच्छा लगा तो ठीक … नहीं लगा तो फिर कभी भी नहीं बोलूंगा ये करने के लिये!पूजा- ये सब इतना आसान नहीं है अमित तुम समझ क्यों नहीं रहे हो?मैं- क्या समस्या है मैं जान सकता हूँ?पूजा- ऐसे किस के साथ करेंगे? उसके लिए कोई विश्वासपात्र होना चाहिए.

मैंने उनके कंधे पर हाथ रखा, तो वो पलट कर मुझसे लिपट गईं और रोने लगीं. वैसे मेरी उम्र 26 साल है और मेरे फिगर का साइज 30-26-32 है।मेरे पति का नाम राजीव है, उनकी उम्र 30 साल है। मेरे ससुर जी का देहांत हो चुका है लेकिन मेरी सास हम लोगों के साथ ही रहती है। मेरे पति के एक बड़े भाई हैं, उनका नाम रमेश दुबे है 52 साल के हैं.

आलिया मुझे देखकर भागने लगी और मैं अपना फोन सोफे पर रखकर उसको पकड़ने के लिए पीछे भागने लगा.

भाभी तुरंत मेरे लंड पर बैठ कर लंड को चूत में घुसा कर मुझे चोदने लगीं.

मगर हर महीने उनको कुछ ना कुछ पैसे ज़रूर भेजती रहती क्योंकि वो एक आस लगा कर रखते हैं कि जैसे ही महीना बीतेगा, उन्हें घर के खर्चे के लिए पैसे मिल जाएगें. तो जीजा जी भी तैयार हो गए, वो बोले- मेरा भी मन नहीं लग रहा है यहाँ! मैं भी तुम्हारे साथ चलूँगा. लेकिन मैं अपने वादे पर कायम था कि मैं अपनी पैंट नहीं खोलूंगा इसलिए मेरा लंड तन कर खड़ा होते हुए भी मैंने अपनी पैंट नहीं खोली.

हमारे घर पर खेती-बाड़ी थोड़ी अधिक थी तो हर वक़्त कुछ ना कुछ अनाज छत पर सूखने के लिए फैला रहता था. अब मैं भी उनके आगोश में आ गयी थी, मेरी कमर अब नीचे से उछल कूद करने लगी थी. ऊपर बाथरूम वाले किस्से को में भूल गया था, हम सभी ने खाना खाया तो मम्मी लोगों ने भी अपनी प्लेट्स लगा ली।तभी मामी बोली- अब इस राघव की भी शादी करा दो.

तभी मैंने लपक कर अपनी बीवी के दूध पकड़ लिए और बारी बारी से उन्हें चूसने लगा.

शबनम के स्तन सच में बिना किसी कमी के बहुत ही खूबसूरत कसे और चमकते हुए स्तनों को देख कर अंकित का मुंह खुला रह गया. क्या तुम तब मुझे पेलना नहीं चाहते थे?मैंने रितिका से कहा- ऐसी कोई बात नहीं थी यार, लेकिन जब पहली बार था न … एक डर सा मन में लगा रहता था कि अगर तुम चिल्ला दी, तो क्या होगा?फिर उसने मुझसे पूछा- तुम्हारी मुझे पेलने की इच्छा कब हुई?मैंने कहा- कई बार … लेकिन समय अच्छा नहीं था. हम किसी ऐसे बंदे के साथ करेंगे जो दूर का हो और जिससे हमारा ज्यादा परिचय न हो.

तू राक्षसों की तरह कर रहा है। थोडा़ आराम से कर यार … मुझे दर्द हो रहा है. आहहहह … की मादक ध्वनि के साथ उसने दोनों जांघों से मेरा सर दबा लिया और दबी हुई आवाज में बोली- चूस ले मादरचोद …ये शब्द मेरे लिए चकित करने वाला था. मैंने चाची से पूछा- कहाँ निकालूँ?चाची- चूत में निकाल दो, मैं इसके पानी से तृप्त होना चाहती हूँ.

मेरे होंठों को किस करते हुए उसने अपनी दो उंगलियां एक झटके के साथ मेरी चुत के अन्दर डाल दीं.

हम दोनों लोग मस्ती से चुदाई कर रहे थे और साथ में बीच बीच में एक दूसरे को किस भी कर रहे थे. मेरा लौड़ा जवाब देने वाला था … मेरे लण्ड की नसें फूलने को लगी थी और संजना यह जानती थी कि अब मैं झड़ जाऊँगा.

सनी सनी लियोन का बीएफ मैंने उससे कहा कि अगर तेरे सम्पर्क में कोई मॉडलिंग एजेंसी वाला है, तो इसे मॉडल बनवा दे. उसने पूरी जीभ अंदर तक घुसा दी थी और अपनी जीभ को अंदर ही अंदर घुमा रहा था.

सनी सनी लियोन का बीएफ धीरे धीरे मेरे मन में भी उसके साथ बैठने और चिपकने का ख्याल आने लगा. ”वो शॉर्ट्स और टॉप पहनकर मुझे भी दिखाओ ना प्लीज!”हट!”क्या हट!”मुझे शल्म नहीं आएगी त्या?”इसका मतलब तुम अपनी दीदी से प्रेम नहीं करती?”वो तैसे?”देखो अब तो मधुर ने भी तुम्हें बोल दिया कि शर्माना नहीं चाहिए और तुमने मुझसे भी वादा किया है.

बस फिर क्या था … वो कुछ देर मुझे घूरती रही और बिना लिफ्ट के सीढ़ियों से ही जाने लगी.

एक्ट्रेस क्सक्सक्स

जब मैं चूत की तरफ बढ़ा, तो देखा कि उसकी चूत का पानी और सीरप दोनों मिक्स हो गए थे, जिसमें से एक मादक खुशबू आ रही थी. सोनी के नार्मल होने पर मैं धीरे धीरे लंड को फुद्दी के अन्दर बाहर करने लगा. अंदर पहुंचा और अंदर जाने के बाद उसने मुझे डिस्पोजेबल पेंटी देते हुए अपने कपड़े उतारने के लिए कह दिया.

अब मुझसे इन कपड़ों का बोझ सहन नहीं होता … आअहह ऊहह …मैं उसके घुटने के आस पास उसे चूम रहा था और उसके हाथ मेरे सर में फिर रहे थे. अंकित कराहने की आवाज़ के साथ धीरे से शबनम के स्तनों की तरफ बढ़ गया और उसके निप्पल को चूसने लगा. रात को मनोज के साथ शौपिंग करते समय दीपा ने मनोज के कहने पर एक-दो शोर्ट ड्रेस भी लीं.

संजय बोला- देखो, मेरी बीवी मुझे धोखा नहीं दे रही है, बस हमारे लिए एक बच्चा हो जाए, हम दोनों उसका बंदोबस्त कर रहे हैं.

फिर वे मेरे पीछे चिपक गए और मेरे बगल में चेहरा लाकर पूछने लगे- मैं ये पेस्ट ले लूं?वे मेरे ऊपर झुके थे, हल्के हल्के धक्के लगा रहे थे, उनका खड़ा होकर मेरे दोनों चूतड़ के बीच रगड़ रहा था. वे पहले तो एकदम अचरज में पड़ गए, फिर मुस्करा उठे- शाबाश! तुम यार … वाकई मराना जानते हो, लंड का मजा लेना जानते हो. फिर मैंने रशीद का दाढ़ी बनाने वाला रेज़र उठाया और अपनी बुर की झांटें साफ कर लीं.

सीधे ही लिंग को योनि में प्रवेश कराने की बजाय आप अपने पार्टनर के साथ फोरप्ले पर ध्यान दें. जरीना को मैंने बढ़िया सा किस किया, उसके कपड़े पहनाये और फिर गोद में लेकर बैठ गया. मैंने कहा- अपना पैर जरा उस नल पर रखके खड़ी हो जाओ ना …थोड़ी ना नुकुर के बाद उसने अपना पैर एक नल पर रख दिया.

आप कुर्सी पर खड़ी हो कर दिखा सकती हैं?सोनिया फिर से पीछे हट गयी और एक छोटा सा स्टूल लाकर उस पर खड़ी हो गयी. मैंने नितिन से कहा कि अब आखरी राउंड कर लेते हैं क्योंकि जल्दी ही भाभी और मॉम भी घर वापस आने वाली हैं.

कुछ देर के चुम्बन के बाद मैंने आंटी की साड़ी खोल दी और उनके मम्मे ब्लाउज के ऊपर से ही मसलने लगा. चाची- कैसे नए नए तरीके ढूंढ कर लाया है मादरचोद … और कितने मज़े देगा. परवीन- तू मेरी गांड को इतना पसंद क्यों करता है?मैं- सिर्फ मैं नहीं … हर कोई जो आपको देखेगा, वो पहले आपकी गांड मारने का ही सोचेगा.

वो कभी मेरे प्यूबिक एरिया को चाट रही थी, कभी मेरे निप्पलों को अपने दांतों से काट रही थी.

मेरे बीवी बच्चे गर्मियों की छुट्टियों में अपने नाना के घर गए हुए थे. दोस्तो, मैं जोया शर्मा!मेरी सेक्स कहानीभाई ने मौका पाकर चोद दियाकई साल पहले प्रकाशित हुई थी. मैं बोला- कम से कम मेरे ऊपर ही सो जा…तो वो लेट गयी।वो मेरे ऊपर लेट कर सोने लगी तो मैंने उसकी ब्रा के हुक भी खोल दिये और उसकी कमर पर हाथ फिराने लगा लेकिन उसका कोई रिएक्शन नहीं आया.

अगले दिन मनोज के ऑफिस जाने के बाद दीपा ने सोचा कि चलो पार्लर हो आती हूँ. मैंने उससे फोन नम्बर ले लिया और उसको ज्यादा पैसे देने का वादा किया तो वो कुछ सोच कर मान गयी.

मैं उसकी गर्दन को चूमने लगा और उसके पूरे बदन को यहां-वहां किस करने लगा. उनका ब्लाउज बस उनके निप्पलों को ढक पा रहा था और बाकी सब माल साफ़ दिख रहा था. ” परीशा बोली।मुकुल राय ने जैसे ही अपना लंड परीशा की चूत से बाहर निकाला तो उसकी आँखें फटी की फटी रह गई, उसका लंड खून और परीशा के चूत से निकल रहे कामरस से सना हुआ था।परीशा ने अपने पास रखे एक कपड़े को अपनी चूत पर दबा दिया ताकि उसमें से खून निकल कर बेडशीट पर ना गिरे.

क्सक्सक्स देसी इंडियन

आपको मेरी हिंदी एडल्ट स्टोरी कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मेरे मम्मों पर पहुंच कर उसने एक पल के लिए मम्मों को निहारा और अपने होंठों पर जीभ फेर दी, जैसे उसे उसकी फेवरेट मिठाई दिख गयी हो. मेरा पूरा लंड अब उसकी चुत में अन्दर बाहर हो रहा था, जिससे प्रिया की सिसकारियां तेज हो गईं और मेरे हरेक धक्के के साथ वो जोरों से अपने कूल्हों को उचका उचका कर चुदास से भरी आवाजें निकालने लगी ‘इइ. उन दोनों के अलावा मेरे घर में मैं अपनी स्कूटी किसी को भी चलाने के लिए नहीं देती हूं.

जब वो मेरे निप्पल चूस रहा था, तब मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसको अपना दूध पिलाने में बड़ी तसल्ली महसूस कर रही थी. सोनिया- ठीक है ये बताओ … केवल महिलाएं ही ब्रा क्यों पहनती हैं और पुरुष नहीं. डबल सिक्सवैसे भी उनकी पीने की आदत थी ही।मैंने उनसे पूछा- मैनेजर कब तक आयेंगे?तो उन्होंने कहा- 7 बजे आयेंगे.

ऐसा लग रहा था जैसे वह मेरी द्विअर्थी बात के असली अर्थ को समझ गयी हो. फिर मैंने मोबाइल नंबर मांगा, तो उसके पति के पास मोबाइल नहीं था, वो साला पूरा शराबी था और उसने पता नहीं किस किस से लेन देन का झंझट पाला हुआ था.

उस दिन जब भाई ने मेरी चुदाई की तो भाई कहने लगा- तेरे बूब्स और तेरी चूत तो मेरी गर्लफ्रेंड से ज्यादा से मस्त है. पीछे मेरी गांड में लंड मजा देने लगा था, इधर आगे वो लौंडिया मेरी चूचियों को मजे से चूस रही थी. उसके नरम जीभ के स्पर्श मात्र से ही मेरी चुत पिघल गयी और पानी छोड़ने लगी.

वेटर ने बिना टाइम गंवाए अपने कपड़े उतार दिए और सीधे माँ के शरीर को खाने के लिए उनके ऊपर चढ़ गया. बिक्कू ने अपने पैरों को मेरे माथे पर रख दिया और मैंने उसके पैरों को हाथ से पकड़ लिया. हालांकि, किसी को भी असलियत में मिले बिना सही अंदाज़ा नहीं लगाया जा सकता … हो सकता है तुम असल में चम्पू निकलो.

तो दोस्तो, इस प्रकार मैंने अपनी बीवी को दो गैर मर्दों के लौड़ों के चुदवा दिया.

हालांकि मैं यह भी सुनिश्चित करना चाहता था कि यह कोई लड़का मुझ पर प्रैंक न खेल रहा हो, इसलिए मैंने सोचा कि उसे खुद को वेबकैम पर दिखाने के लिए कहूंगा. हम दोनों आज से चार्ली की दो पत्नियां हैं यह समझो!और अगर तुम इस बात को नहीं मानोगी तो मैं तुम दोनों का वीडियो सबको भेज दूंगी तो फिर देख लेना कि तुम्हारा क्या हाल होता है.

इसके बाद मॉम को होश आया, पर चुदास बढ़ाने वाली दवा का असर और सेक्स की भूख अब तक बहुत बढ़ चुकी थी. तभी हम दोनों ने एना की कराह सुनी, तो पलट कर देखा, तो पाया कि एना और हेक्टर नंगे हो चुके थे. हम दोनों ने लॉलीपॉप की तरह उसके लंड चूस कर लिसलिसे करना शुरू कर दिए, ताकि लंड को चूत में घुसने में मजा आ जाए.

’ऐसे ही वो कुछ भी ऊटपटांग बोले जा रही थी और इधर मैं नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर धक्के लगा रहा था. तेरे प्यार में ये दीवाना पागल है … क्या तुम मेरी सपनों की रानी बनोगी?आलिया- क्या बात है, शायरी अच्छी बोल लेते हो. अब मैं भी उनके आगोश में आ गयी थी, मेरी कमर अब नीचे से उछल कूद करने लगी थी.

सनी सनी लियोन का बीएफ नायरा ने धीरज की सुविधा के लिए अपने हाथों से अपने मम्मे ड्रेस से बाहर निकाल दिए और अपने हाथों से उन्हें नीचे से सपोर्ट देकर धीरज के मुँह के पास कर दिया. लेकिन कॉन्डम के साथ भी उसकी चूत की गर्मी मुझे अपने लंड पर अलग से ही महसूस हो रही थी.

फुल्ल सेक्स व्हिडिओ

रितिका ने पूछा- क्या कहा उसने?मैंने कहा कि वो कह रही है पहले इसकी चुत और गांड ढीली कर, तब तक मैं आती हूँ. मैंने कहा- तुम बस एक बार मुंह खोल लो और बाकी का काम मैं खुद कर लूंगा. वो मुझे जब भी हवस भरी नजरों से देखते थे, तो मुझे बहुत अजीब लगता था.

शायद संजना ने मुझे उसके घर के अंदर आते हुए देख लिया था और वह मेरा इंतजार दरवाजे पर खड़ी कर रही थी. पागल, मार डालेगी क्या?”उफ्फ दीदी तुम्हारे होंठ हैं ही इतने रसीले … मैं क्या करूँ. सेक्सी पिक्चर गाने के साथऔर उसको बोला कि जब चाची पूछे तो बोलना कि फिसल कर गिर गयी थी, पैर में मोच आ गयी.

फिर बोली- यार, वैसे तुझे मिलकर करना क्या है क्योंकि सेक्स तो मैं तेरे साथ करने से रही.

मेरी बीवी तो अभी भी बिस्तर पर अपनी गांड उठा कर पड़ी हुई है … खर्राटे मार रही है, पर मेरे को कहां नींद आने वाली थी. और जब मैंने चार्ली को अपने गले से लगाया था, तब मैंने तुम्हारे चेहरे को अच्छे से पढ़ लिया था कि कहीं ना कहीं तुम भी उसको चाहती हो.

मैंने लंड को उसकी चूत में दबाते हुए पूछा- कैसा लग रहा है मेरी जान?वो एक लम्बी सी सांस भरते हुए बोली- बस पूछो मत, ऐसे ही प्यार करते रहो मुझे।बस मुझे इतना ही तो सुनना था. मैंने कहा- कहां जा रही हो सासू माँ?वो बोलीं- मुझे ज़ोर से टॉयलेट आई है. आलिया के गाल पर किस करके मैंने उसे सॉरी बोला … फिर लाइट ऑफ करके मई आलिया से चिपक गया.

फिर बोली कि तुम्हें बुरा तो नहीं लगा ना?तो मैंने कहा कि नहीं … वैसे भी इतनी खूबसूरत लड़की से मार खाने में भी मजा आता है.

फ्लैट देख कर मुझे पसंद आया और मैंने मकान मालिक को एडवांस देकर घर बुक कर लिया. मेरे अन्दर आग लगी थी कि पूरी रात सोनी के साथ सोकर भी उसकी फुद्दी का स्वाद नहीं चख सका. तब सागर ने मुझसे कहा- बात तो आपकी सही है, मगर एक बात मैं आपसे पूछता हूँ.

एमसी का मतलब क्या होता है” गौरी ने मंद-मंद मुस्कुराते हुए कहा और फिर मेरे तातार लंड को पाजामे के ऊपर से ही मुठियाने लगी।फिर गौरी ने 4 दिनों के बाद लंड देव का एकबार फिर से अभिषेक करके प्रसाद ग्रहण कर लिया।और फिर पूरी रात हम दोनों को ही उस हसीन सुबह का बेसब्री से इंतज़ार था. मैंने रचना के सामने शर्त रखी कि एक ही शर्त पर तुझे मैं अपने साथ ले चलूँगा कि वहां किसी को पता नहीं चलना चाहिए कि तू मेरी बहन है.

देसी भाभी का वीडियो

मैं उनकी इस बात से पूरी तरह से सहमत था कि चुदाई सिर्फ लंड चूत की नहीं होती हैं. अगर आप सहमति दें, तो मैं आज से ही ऑफिस में काम करना चाहूँगी … और सर आपने जो तनख्वाह बताई है, यदि ये उससे आधी भी होती, तो मैं बहुत ही खुशी खुशी करने के लिए राज़ी हो जाती. अनीता अपनी पजामी को ऊपर करके कमरे से बाहर गई और अपनी सास के कमरे तेल की शीशी उठा लाई.

उन सभी लोगों से अभी भी मेरी बात होती है, लेकिन मुझे अब किसी नए लंड की तलाश है. मुझे लगता है कि वो कला मेरे अंदर है इसलिए मैं लड़कियों को जल्दी ही पटाने में कामयाब भी हो जाता हूं. मैं खुद को भाग्यशाली मान रहा था कि ऐसा मस्त माल मुझे चोदने को मिल रहा है.

मेरी बहन मेरा सारा माल पी गई और उसने मेरे लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया. तभी उसके आने की आहट हुई, तो मैंने झट से उसका बैग बंद कर दिया और इस तरह से बर्ताव किया, जैसे मुझे कुछ पता नहीं है. कहां जा रही हो दीदी?” ये कहते हुए उसने मुझे खींच कर अपनी गोद में बिठा लिया.

छोड़ो ये सब बातें और चलो हम लोग फिर से अपनी चुदाई की गाथा शुरू करें. सोनी के नार्मल होने पर मैं धीरे धीरे लंड को फुद्दी के अन्दर बाहर करने लगा.

फिर मेरी बीवी ने अपनी पेंटी को एक साइड से सरकाया और अपनी नंगी चुत को खोल कर मेरे मुँह पर रख दिया.

हम दोनों बार से बाहर निकल रहे थे, पर नशे के कारण मेरी चाल बिगड़ गई थी. जबरदस्त रोमांस वीडियोअब भाबी बोलीं- मुझसे रहा नहीं जा रहा … प्लीज़ तुम जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दो … और मुझे चोद दो अंकित … मैं न जाने कितने दिनों से प्यासी हूँ. देसी सेक्स कहानियांमेरी सेक्सी कहानी के पहले भागएक दिन की ड्राईवर बनी और सवारी से चुदी-1में आपने पढ़ा कि मैं अपने पापा की कैब लेकर सवारी लेने निकल पड़ी. वो दोनों तैयार हो गये और हमने गुड़गांव के होटल को बुक करने का प्लान कर लिया.

उसने अपने होंठों को गिलास से लगा कर जब सिप गटका, तो मुझे वासना में शराब का घूंट उसकी गर्दन में उतरते हुए दिख रहा था.

वह अपनी बहू की चूत के दाने को चूमते हुए अपनी जीभ से चाटने लगा। महेश कुछ देर तक अपनी चूत के दाने से खेलने के बाद नीचे होते हुए अपने होंठों को उसकी चूत के छेद की तरफ ले जाने लगा, महेश के होंठ अब चूत के दोनों बंद होंठों तक पहुंच चुके थे।महेश ने अपने होंठों से एक बार चूत के बंद होंठों को चूमा और फिर अपने हाथ की उँगलियों से उसकी चूत के छेद को खोल दिया।ओहह … यह अंदर से कितनी लाल है. उसने जैसे बेल्ट को तोड़ते हुए पैंट के बटन और ज़िप को खोला और उसके लंड को निकल कर भूखी नज़रों से उसको देखने लगी. हस्तमैथुन यदि ज्यादा मात्रा में कर ली जाये तो इससे भी शीघ्रपतन की समस्या पैदा हो सकती है।शीघ्रपतन की समस्या से निजात पाने में यह क्रिया सहायक भी हो सकती है.

गेट से अंदर आने के बाद लिफ्ट से दूसरे फ्लोर पर आकर रूम के बाहर आकर मुझे फोन करियेगा. एक दिन मैंने उससे कहा- देखो मैं कल से तुम्हें पढ़ाने नहीं आऊँगी क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मैं तुम्हारे पिता से बेकार में पैसे लूँ … जबकि तुमको पढ़ना ही नहीं है. कम्मो बेटा, चूत कायदे से परोसी जाती है लंड के सामने!” मैंने कहा तो उसने असमंजस से मेरी तरफ देखा जैसे मेरी बात उसकी समझ न आई हो.

लड़कियों का चुदाई

हम तीनों की सांसें फूल रही थी … ना एक दूसरे से बात कर पा रहे थे और ना एक दूसरे की तरफ देख पा रहे हैं, इतनी थकान हो रही थी. बात करके उस समस्या से निजात पाने की कोशिश करेंगे तो कहीं न कहीं आपको समस्या का समाधान अवश्य ही मिल जायेगा. यह कहते हुए उन्होंने अपनी दोनों टांगें मोड़ कर मेरी कमर में लपेट लीं.

उसे मैंने दरवाजा खोलने को कहा तो वो काली साड़ी पहन कर आई और दरवाजा खोल कर आंखें झुका कर मेरे सामने खड़ी हो गयी.

मेरे बीवी बच्चे गर्मियों की छुट्टियों में अपने नाना के घर गए हुए थे.

मैं उनके पैरों के बीच आ गया और उनकी चूत के दाने को जीभ से सहलाने लगा. बॉस ने मेरी चुदास भड़कते हुए समझ ली और मेरी चूत में अपना खड़ा लंड एकदम से डाल दिया. सोनाली बेंद्रे सेक्सउसने पहले तो लंड चूसने से मना किया, पर मेरे कहने पर उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चाटने लगी.

मैंने कहा- फिर भी मैं तुमको एक और चान्स दे रहा हूँ फैसला बदलने का … इन 24 घंटों में हर एक पहलू से सोचना, आर्थिक दृष्टि से, सामाजिक दृष्टि से, पारिवारिक दृष्टि से और शारिरिक दृष्टि से! हर तरफ से सोच समझ लेना क्योंकि अगर मैंने तुमसे दिल से प्यार कर लिया तो फिर उसके बाद तुम चाह कर भी अपने कदम पीछे नहीं खींच सकती हो. ये स्थान भी बड़ा संवेदनशील था उसका; मेरे लंड छुलाते ही वो मज़े के मारे कमर हिलाने लगी. फिर मैंने पूजा की पीठ पर जम कर फैलते हुए उसकी एक चूची जोर से पकड़ लिया और अपनी उंगली पूजा की गांड में घुसेड़ दी.

वो सिसियाते हुए धक्के मार मार कर चुदवाने लगी। मस्त तरीके से आगे की तरफ धकेल रही थी अपनी चूत मेरे लन्ड पर। मुझे कुछ गोल मांस का छोटा सा टुकड़ा लन्ड पर महसूस हो रहा था जब जब वो अपनी चूत को आगे धकेलती थी और हम दोनों मजे से एक दूसरे को पकड़ते हुए जोर लगा रहे थे. मेरे पति अब खाना ख़त्म कर चुके थे और हाथ धो कर सामने वाले कमरे में चले गए, मैं बस उनका साथ दे रही थी।वो बार बार मेरी तरफ देख रहे थे मुझे उनका इस तरह देखना अच्छा नहीं लग रहा था।अचानक मैंने गौर किया कि वो मेरे उभरे हुए वक्ष को बार बार देख रहे हैं.

कुछ ही देर में हम दोनों को पसीना आने लगा था, लेकिन चुदाई के आगे हम दोनों को गर्मी लग ही नहीं रही थी.

हाथ निकलने के बाद मैंने तुरंत अपना लंड बाहर निकाला जो बहुत गर्म हो गया था. मेरी बात सुनकर वो बोली- नहीं दीदी … मैं अब मन लगा कर पढूँगी और आपको कोई शिकायत का मौका नहीं मिलेगा … आप प्लीज़ पापा से कुछ ना बोलना. पूजा की चूत एकदम साफ़ थी और उसकी चूत के चारों तरफ पेन से मेरा नाम लिखा हुआ था.

ट्रक वाला गेम बताइए मेरा फार्म हाउस नज़दीक ही था … कोई 10 किलोमीटर दूर … हम दोनों आधा घंटे में वहां पहुंच गए. दूसरे वाले ने अपना स्खलन होने का कहा, तो मम्मी ने उसके लंड का पूरा माल अपनी चुत में नहीं जाने दिया.

जिस वजह से मुझे विश्वास था कि वो पक्का सेक्स के खूब मज़े लेती होंगी. मैं जाने लगा, तभी अन्दर से उनके पति के चिल्लाने का आवाज आई- कौन है किससे बात कर रही हो?मैं घर के अन्दर गया, तो वो शराब पी रहा था और अपनी बीवी को गाली दे रहा था. वैसे भी उनकी पीने की आदत थी ही।मैंने उनसे पूछा- मैनेजर कब तक आयेंगे?तो उन्होंने कहा- 7 बजे आयेंगे.

रंडी खाना का नंबर

कमलेश ने थोड़ा सा वीर्य नीचे जमीन पर छोड़ दिया और बोला- चल इस मलाई को कुतिया के जैसे चाट. वो मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह सपड़ सपड़ चूसती रहती।उसके बाद मैं फिर अपना लंड चूत में घुसा देता, फिर जोरदार चुदाई!चाची की चूत से पानी झड़ रहा था. हां अगर वो बिना कॉन्डम के ही चुदने के लिए तैयारा हो जाती तो फिर तो बात ही कुछ और थी.

मैं शर्मा कर बिल्कुल जड़ हो गयी और विनय मेरे होंठों को चूम कर बाहर हॉल में चला गया. करीब 5 मिनट बाद उसके लंड से कुछ बाहर निकला, जो मुझसे गटका नहीं गया.

वह अपने इन मस्त और रसीले होंठों को फेरते हुए मेरी जांघों पर आ पहुंची.

फिर धीरे से उसने अपना लंड मेरी चूत में से निकाला और वीर्य से भरा कंडोम अपने मुरझाते लंड पर से निकाला और डस्टबिन में डालने चला गया. तभी वो अलग हुई और बोली- इससे ज्यादा इधर और कुछ नहीं हो सकता इसी लिए मैं तुमसे अकेले में मिलना चाहती हूँ. मैंने सोचा शायद बात बन सकती है, तो मैंने उनसे बोल दिया कि आप जो चाहो, मैं आपको दूंगी.

जाँघिया बहुत ही कसा हुआ था।वह मेरे बैचैनी को देखकर हँसने लगी और बोली- मेहता जी! थोड़ा शांत हो जाइए … इतना कामुक और चोदने के लिए बेचैन तो सुहागरात के दिन भी मेरे पति नहीं हुए थे जितना आप अभी हो रहे हैं!ऐसा कहकर वो एक झटके में ही अपनी कसी जाँघिया को खोल दी और मैं अपना पचास साल का गठीला और हुष्ट-पुष्ट शरीर उसके नंगे बदन पर रख दिया और उसकी दो बड़ी बड़ी चूचियों को मुंह में लेकर चूसने लगा. मैंने ही उससे पूछा- फिर शिवानी से मीटिंग कैसे रही? मेरा मतलब है कि उसने कुछ पूछा होगा ना कल के बारे में, जब हमें देखा था यहां पर?वो बोला- मैं बहुत हैरान था क्योंकि उसने तो कोई जिक्र तक नहीं किया, जब कि मुझे पक्का विश्वास था कि वो ज़रूर पूछेगी. काफी देर तक मैं ऐसे ही करवटें बदल बदल कर सोने की कोशिश करता रहा, लेकिन मुझे नींद नहीं आयी.

”फिर वह 5 मिनट बाद आई और बोली- चलिए … लेकिन ध्यान रहे किसी से कोई बात नहीं करनी है.

सनी सनी लियोन का बीएफ: दीदी के चहरे पर साफ़ पसीना आ गया क्योंकि ये उसकी पहली चुदाई होने वाली थी. थोड़ा डियो और सेंट लगाया और उस दिन की मीटिंग के लिए खरीदे हुए नए कपड़े पहने.

फिर वो भी एकदम से पूरे लंड को मेरी चूत में घुसा कर शांत होता चला गया. हालांकि वो दोनों सगी बहनें ही थीं, मगर फिर भी प्रिया को ये गंवारा नहीं था कि मैं अब नेहा के साथ सम्बन्ध बनाऊं. सिर्फ एक दूसरे से प्यार और भरोसे के बदौलत ही हम दोनों ने ये लुत्फ़ उठाया था.

मैंने महसूस किया कि उसका हाथ कभी मेरी भरी हुई टाँगों को नाप रहा था … तो कभी मेरी पीठ को सहला सा रहा था।मैं समझ गया कि अब यह भी यौवन की अग्नि में डूब चुकी है।मैंने उसको देखा … लेकिन प्रीति मेरा हाथ सहलाने लगी थी … तो कुछ नहीं सूझा … मैं बस एक काम-आतुर की तरह उसके सम्मोहन में गिरफ्तार हुआ उसके होंठ चूसने लग गया.

अभी बस 1 रूपए के सिक्के के बराबर गोलाई नजर आ रही थी, जो पीछे की तरफ मोटी होती जा रही थी. मैंने फोन को एक तरफ रख दिया लेकिन बार-बार उसके लंड की तस्वीर मेरे मन में उभर कर आ जाती थी. मौसी बोलीं- रात को क्या देखा था?मैंने कहा- रात को अंधेरे में मैं चूत नहीं देख पाया था.