सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली

छवि स्रोत,थ्री स्टेप बाल काटने का तरीका

तस्वीर का शीर्षक ,

सबसे खतरनाक भूत: सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली, मैंने बात को जारी रखते हुए कहा- डरो मत, मैं मम्मी-पापा को कुछ नहीं बताऊँगा, लेकिन अगर कभी किसी तरह की भी गड़बड़ हो जाए तो तुम मुझसे वादा करो मुझे ज़रूर बताओगी.

మేరేజ్ బ్యూరో ని వెతుకు

चूंकि उसका पानी निकल चुका था इसलिए अब वो चाहकर भी मेरा साथ नहीं दे पा रही थी. लडकी के नाम की लिस्टमैंने कारण पूछा, तो वह बोली- एक तो दीदी की टेंशन होती है … दूसरा बहुत दर्द हो रहा है.

ये कहानी मैं अगली बार लेकर आऊंगा, अगर आप सभी को मेरी कहानी अच्छी लगी, तो मुझे मेल कर दीजियेगा क्योंकि पहली कहानी है तो गलती को नजरअंदाज कर रोमांस का मजा लेते हुए अपनी दुआएं भेजिएगा. एडल्ट सीनइसलिए आप सब भी किसी रिलेशन में जाने से पहले सामने वाले से सारी बातें पहले ही क्लियर कर लें.

वो अपनी चूत को चटवाने का मजा ले रही थी मगर प्रीति ने उसको बीच में ही छोड़ दिया.सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली: अगर तुम मुझसे इस बारे में कुछ भी जानना चाहती हो, तो बेटा तुम बेहिचक पूछ सकती हो.

एक दिन किसी काम से मैं भाभी को बाइक पर बैठा कर ले गया तो रास्ते में …मेरा नाम सूरज है.लेकिन वो सही से चल नहीं पा रही थी और पापा उनको देख कर हँस रहे थे और उनकी गांड को घूरे जा रहे थे।फिर थोड़ी देर बाद चाची बाथरूम से बाहर निकली और कपड़े पहनने लगी.

जंगली जानवर वाला सेक्सी वीडियो - सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली

मैंने जोश में आकर भाभी के बाल पकड़ कर लंड का एक जोर से धक्का मार दिया और अपना पूरा लंड उनके मुँह में उतार दिया.मैं बहुत गर्म हो चुकी थी और भूल गयी थी कि मैं बीच रास्ते में अपने भाई से चुद रही हूँ … मैं सिसकारियां लेने लगी और भाई से कहने लगी- भाई चोदो ना आज अपनी सोनिया बहन को … चोद-चोद के आज मेरी चूत फाड़ दो.

इन सबके बीच में उसका एक हाथ मेरी चुची में था जो बहुत जबरदस्त तरीके से चुची मसल रहा था. सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली मैंने पिताजी से कहा कि मुझे मेरे एक दो दोस्त को शादी का कार्ड देना है … तो जयपुर जाना है.

जनाब, क्या गज़ब की ठरकी थी, जब तक … मैं वहां रहा, उसने मेरी जवानी की प्यास को जी भर के बुझाया.

सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली?

मैंने निम्मी को झटके से पलटा और बिना देरी किए दोनों टांगों को चौड़ा करके पूरा लौड़ा बुर में ठेल दिया. मैंने कहा- अगर मैं तुम्हारे साथ काम चलाऊं … तो तुम्हारे हस्बैंड का क्या होगा?वो बोली- मैंने और मेरी दीदी ने प्रॉमिस किया था कि हम दोनों एक ही लड़के से शादी करेंगे. मेरी इस भेड़िये सी भूखी नजर को उसने भी तीन से चार बार नोटिस कर लिया था लेकिन वो चुप थी.

वो मेरे सामने ही अपनी साड़ी के आंचल को ढलका देती थी, जिससे मुझे उसके नुकीली उभार दिखने लगते थे. अगले दिन सुबह जब हनी नहाने गई तो मेरी बीवी मनी मेरे पास आई और मेरी पीठ थपथपाते हुए बोली- वेल डन माई टाइगर वेल डन!मैंने पूछा- क्या हो गया?कल तुमने बहुत बड़ा काम कर दिया! बहुत सुन्दर!”पहेलियां न बुझाओ मनी. इससे दीदी को मजा आने लगा और वो मस्ती से अपने दोनों छेदों में घुसे लंड का मजा लेने लगी.

डॉक्टर के कमरे के पीछे डॉक्टर का आराम करने वाला कमरा था जहाँ फ्रीज़ और बेड पड़ा था। अस्पताल खुलने से पहले मैं उस कमरे के छज़्ज़े पर छुप गया। दीदी दोपहर तक डॉक्टर के साथ काम करती रही. अच्छा उस वक्त मुझे ये नहीं पता था कि वो अकेली है या कोई और है उसके साथ. एक पल बाद उनकी सांसें लौटीं, तो भाभी जोर जोर से दर्द के मारे कराहने लगी थीं.

उसने मुझसे बोला- मैं जानता हूँ कि तुझे लड़कियों की तरह रहना पसन्द है. फिर उसने अपने नाखून मेरे कंधों में ही गड़ा दिये और अपनी लंबी सी जीभ अपने मुँह से निकाली.

मैंने ध्यान दिया, तो कमरे की खिड़की का एक पल्ला हल्का सा खुला हुआ था, जिसमें से मेरी सासु मेरी साली की चुदाई का मजा ले रही थीं.

मैंने कहा- हां मेरी जान, अब तो मैं रोज ही तुम्हारी चूत की चुदाई कर दिया करूंगा.

शिखा- आप मेरे पापा की उम्र के हैं … अच्छा कैसे लगेगा!मैं- देखो आज पहली पहली बार है, तो ऐसा लग रहा है. वो मुझ से पूछने लगे- तुम तैयार हो अपनी चूत की चुदाई के लिये?मैंने कहा- इतनी दूर तुम्हारे साथ आयी हूँ. मैं उससे बोलने वाला था कि मेरी शादी होने वाली है, पर उसकी इस खुशी में प्रॉब्लम नहीं बढ़ाना चाहता था, तो चुप रहा.

जैसे ही सब अलग हुए, मैं स्कार्फ को लंड के सामने रख कर उसे छुपा रहा था. मेरा खड़ा लंड उसके पेट से टकरा रहा था और बरखा मुझे कहने लगी- विक्की आज तुम मेरी बरसों की प्यास बुझा दोगे. मैंने उसके होंठों पर धीरे से अपने होंठ रख दिए और लंबा किस करने लगा.

वो यह थी कि सुशी के हाव भाव मुझे बहुत बदले बदले से लगे। एक बार भी उस लड़के ने मेरी टाइट जीन्स या टी शर्ट को नहीं देखा.

मेरा ईमेल पता है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बस में मिली हसीना को पटाकर चोदा-2. मेरी वाइफ बोली- मैं सो रही हूँ … आराम से करना, इसकी चूत मत फाड़ देना … वरना ये रोएगी. शनिवार की सुबह ही मेघा का फोन आ गया कि वो लोग शाम के सात बजे तक मेरे फ्लैट पर पहुंच जाएंगी.

वो कहने लगी- जानू तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा है … इतनी सी चूत में कैसे चला गया?मैं मुस्कुराया दिया और धक्के मारने लगा. अब मैंने आशी से जाकर पूछा- हमारी चुदाई देखने में मजा आया?तो उसने कहा- हाँ आंटी!मैंने सीधे पूछा- तो अब तू चुदेगी अपने पापा के लंड से?तो उसने हाँ सर हिला दिया. अगली कहानियों में मैं बताऊंगी कि कैसे मैंने अपनी पड़ोसन और उसके यार के साथ मिल कर मजे किये.

स्तनपान करवाते हुए चाची के मुंह से अब जोरदार आवाजें निकलने लगीं थीं.

उसके बाद उसने भी मुझे केक लगाया और बाक़ी सभी को भी केक खाने के लिए दिया. आशी ने कहा- मैंने तो नहीं लिया ऐसा आनंद?फिर मैंने उससे कहा- मैं तुझे ऐसा आनंद दे सकती हूँ और जीवन भर याद रखेगी.

सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली मैं आहिस्ता आहिस्ता उनके बोबों को दबाने लगा, जिससे भाभी और भी गर्म हो गईं. उन्होंने दूध दबाते हुए देखा तो बोलीं- अच्छा … इसीलिए रोमांटिक मूवी देखनी थी.

सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली मैं उनसे इस बारे में पूछना चाहता था लेकिन डरता था कि कही दीदी भड़क न जाएं. वैसे मुझे भी ऐसी दर्द वाली चुदाई पसंद है, जिसमें कोई मुझे गालियां दे, मारे और रंडी की तरह चोदे.

मेरे को नींद नहीं आ रही थी … बार बार बुआ की बूब्स मुझे याद आ रही थी फिर मैं मुठ मारके सो गया।अगली सुबह मैं कॉलेज चला गया लेकिन बुआ की याद में मैं कॉलेज से जल्दी वापिस आ गया.

कॉलेज गर्ल्स ओपन सेक्स

कई बार तो उसका हाथ मेरे लंड पर भी लग जाता था या फिर यूं समझें कि वो मेरे लंड बहाने से छूने की कोशिश करने लगी थी. मैंने उनको मैक्सी उतारने को बोला, तो उन्होंने उतार दी और मैं उनकी मोटी मोटी चूचियों को चूसते हुए माँ के ऊपर चढ़ गया. उसने पता देखा, तो उसकी आंखें चमक उठीं लेकिन वो शांत स्वर में कहने लगी- ये तो मेरे घर के पास ही है, चलो मेरे साथ … वहीं होटल में रुक जाना.

मैंने आंटी की चूत के इर्द-गिर्द पैंटी के किनारों पर उसको चूमना शुरू कर दिया. वो फिर से गर्म हो गई और इस बार मेरा मन कुछ नया करने के लिए किया तो मैं उसको शावर में ले गया. उनकी चूत का के रस का स्वाद मुझे अपने मुंह में मिलना शुरू हो गया था.

मैंने कहा- मेरा नाम मान शाह है और आपको अपना नाम बताने में कोई हर्ज न हो तो बता दीजिएगा, अन्यथा मैं आपका नाम खुद रख लूंगा.

लेकिन मेरा इरादा कुछ और था, मैंने फटाफट ड्रेसिंग टेबल पर पड़े तेल को अपने लन्ड पर लगाया और मॉम की गोरी चिकनी गांड के छेद में अपना डालना शुरू कर दिया. अगर किसी को पता ही न लगा तो कैसे बदनामी होगी!मेरी बात को चाची टालती रही. मैंने सोते सोते महसूस किया कि कोई मुझे जगा रहा था, पर मैं इस वक्त थकान के कारण इस हालत में नहीं था कि जाग सकूँ.

मैं जोश में आकर भाभीजान को लिप किस करने लगा और साथ ही उनके बोबे दबाने लगा. जब मैं सुबह उठा, तो काव्या मुझे जोर जोर से हिलाते हुए उठा रही थी- जीजा जी, उठ जाओ. मुझे थोड़ा दर्द हुआ, क्योंकि मैंने पहली बार किसी की गांड में लंड घुसेड़ा था.

नमस्कार दोस्तो, मैं अर्जुन सिंह अपनी पहली और सच्ची सेक्स कहानी बॉडी मसाज के बहाने चुदाई को आपके आगे पेश कर रहा हूँ. सबसे पहले मैं सोया फिर मनी सो गई तो हनी ने मेरे लण्ड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.

तुमको पता है न जब कोई खास मेहमान आता है, तो हम सिर्फ अंडरगारमेंट पहनते हैं. एक दिन क्लब में मिली एक भाभी मुझे अपने घर ले गयी वहां मैंने सेक्सी भाभी से सेक्स किया. नहीं तो रोज़ ब्वॉयफ्रेंड का लंड चूसती मेरे भाग्य में पहला ही इतना मस्त लंड चूसने लिखा होगा, ये तो मैंने भी नहीं सोचा था.

उसके बाद हम अलग हुये तो देखा कि उसकी चूत हमारा सफेद पानी निकल रहा था.

उसने स्लीपर का पर्दा अच्छे से बंद कर दिया और अपने दूध सहला कर बोली- क्या विचार है?मैंने बोला- विचार तो दोनों के ठीक नहीं लग रहे हैं. धीरे धीरे करके मैंने पूरा लौड़ा उसकी गांड की गहराइयों में उतार दिया. जब कुंवारी चुत में वासना की आग लगती है तो वो चुदाई के लिए कुछ भी कर लेती है.

वो पूरे जोश में सिसकारियां ले रही थी- आहह मेरे राजा … आज बजा दो मेरे चूत का बाजा!मैंने उसकी नाभि पर किस करते करते धीरे से अपने दांतों से उसकी पैंटी को खींच कर निकाल दिया. मैंने झट से मॉम की ब्रा को नीचे डाल दिया और कुछ देर बाद बाहर निकल आया.

जब वह रसोई में जा रही थी, तो मैंने देखा कि स्मिता एकदम स्लिम और सेक्सी लड़की थी. मैंने अचानक देखा कि मैम की टांगों के बीच में चूत के पास मैक्सी हल्की गीली सी थी. एक कॉलेज गर्ल छुपा छुपी के खेल में मेरे साथ छिपती थी और अपने चूतड़ को मेरे लन्ड पर दबाती थी। मुझे भी इस खेल में मजा आता था। मैंने उसकी जवानी का आनन्द लिया.

আমি সেক্স করতে চাই

सुहागरात में मामा मामी की चुदाई कर रहे थे तो मैंने मामी की नंगी चूत देखी.

ये चुम्बन इतना प्रगाड़ और लम्बा चला था कि अलग होने पर हम लोग हांफने लगे थे. वैसे जो लोग गुजरात में रहते होंगे, उन्हें तो पता ही होगा कि अहमदाबाद से राजकोट की दूरी अपनी गाड़ी से मुश्किल से चार घंटे का रास्ता है, पर बस में पांच से छह घंटे लगते हैं. फिर क्या था अपनी तो जैसे लॉटरी लग गई!सुबह मैं जल्दी ही उठ कर नहा धो कर तैयार होकर मामा के घर पहुँच गया.

उस वक़्त मुझे पता चला कि मेरे मॉम पापा रात को सेक्स करते हैं और मेरे पापा, मेरी मॉम को दूसरे मर्दों से चुदवाने भी भेजते हैं. मैंने पिताजी से कहा कि मुझे मेरे एक दो दोस्त को शादी का कार्ड देना है … तो जयपुर जाना है. गर्ल्स चश्मामैंने उसे ऑफिस का … और स्कूल का ढेर सारा काम थमा दिया, जिसमें बच्चों की कॉपी जांच करने का काम भी था.

फिर मैंने धीरे से उसकी सलवार निकाली उसने लाल रंग की पैंटी पहनी हुई थी. मैंने जोश में उसकी चूत के पास काट दिया, तो उसने चिल्ला दिया- आआ … मम्मीईईई … भोसड़ी के मैंने तुझे चूसने को बोला था … काटने को नहीं … कमीने!उसकी चूत पर बहुत ही कम बाल थे.

उसका मोटा और तगड़ा लंड मेरी प्यासी चिकनी चूत को चीरता हुआ अंदर जाने लगा. करीब एक घंटे पार्क में घूमने के बाद थोड़ी चाट पकौड़ी खाई और फिर उसने मेरे को होटल से बस स्टैंड ड्राप कर दिया. मैं हर बार उनके बूब्ज़ ऐसे ही चुपके से देखता था और अपने लंड को मसलता था.

लंड को बाहर निकालने के बाद मैं उसको हाथ में लेकर उसके टोपे को आगे पीछे करने लगी. मेरा लंड आधा मामी की चूत में घुस गया और मामी चिल्लाई- आआआह आईई ईईई!उनको दर्द हो रहा था. अपनी बहन की तरफ देखते हुए मैं बोला- तेरी शिकायत तो मैं पापा से करूंगा.

एक बार जयपुर के होटल में मेरे सामने ही तीन अफ्रीकी नीग्रो लड़कों ने अपने काले मोटे लम्बे लंड से मेरी दीदी को चोदा.

उसने उसके निप्पलों को काटना शुरू किया तो प्रीति को चुदास चढ़ने लगी. मैंने उससे कहा- ओके, जाओ पहले अच्छे से नहा कर आओ, तब तक मैं भी तैयार हो जाता हूँ.

मैंने तुरंत ही चोदने की स्पीड को बढ़ा दिया और जोर जोर से लंड चुत की जड़ तक पेलने लगा. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने अपनी पैंट को उतार दिया और अपने अंडरवियर को भी निकाल दिया. उनके ब्लाउज का गला बहुत गहरा रहता है हमेशा … जिसके कारण उनका क्लीवेज साफ साफ दिखता है.

एक दिन मेरी बीवी मुझसे कहने लगी कि मेरा तो भरोसा नहीं है कि मैं तुम्हें पिता बनने का सुख दे पाऊंगी या नहीं. सेक्स के लिए मेरी प्यास मुझे अपनी जिन्दगी पर इतनी भारी पड़ेगी मैंने कभी नहीं सोचा था. मैंने कहा- कोई बात नहीं … आज मुझसे चुद कर देखो … अपने ब्वॉयफ्रेंड का लंड भूल जाओगी.

सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली वो बोले- प्यार का सबूत देना पड़ता है, वो तुम दोगी?मैंने कहा- मुझे समझ नहीं आया. जैसा कि आपको विदित है कि यह मेरी पहली सेक्स कहानी है और मैं कोशिश कर रहा हूं कि मैं इसे आपके सामने अच्छे से प्रस्तुत करूं.

नंगे फोटो दिखाइए

मौसा जी भी कार में ड्राइवर की सीट पर बैठते ही बोले- साहिल, एक बोतल व्हिस्की और चाहिए. उसके बाद भाई आगे बढ़ा और मेरे कुर्ते के ऊपर से मेरी चूची पर हाथ रख दिया. मैं कमरे में अपनी बड़ी साली को अपनी गोद में उठाए उसकी एक चूची को अपने मुँह में दबाए चूसता हुआ अन्दर आ गया.

मेरी बातों से वो भी अपनी अपनी सीलबंद बुर की चुदाई के लिए बेचैन हो रही थी. वैसे भी जब लड़की ‘भाई’ कह देती थी तो मुझे भी लगता था कि किसी की भावनाओं को आहत करना अच्छी बात नहीं है. मद्रासी सेक्सी चाहिएउनका हाथ मेरी पैन्ट में जा चुका था और मेरा हाथ उनकी पैंटी के अन्दर खेल रहा था.

मैंने उससे पूछा- तुम मेरे बारे में और क्या जानती हो?अनुजा- जब आप मम्मी को चोद रहे थे, तो हम और अंश चुपके से देख रहे थे.

मैंने झटका देकर अपने को संभाला और औपचारिकता बस केबिन से बाहर जाने के खड़ा हो गया, तो आगे से बड़ी और पीछे से छोटी ने मेरा रास्ता ब्लॉक कर दिए. आंटी बोली- अब डरने की कोई बात नहीं है, जो भी है खुल कर कहो।फिर मैंने उनकी आँखों में प्यार से देखा और दो चार फिल्मी डायलोग मारे, आंटी खुश हो गयी और मुस्कुराने लगी.

फिर वो बोली कि तुमने मेरी तो चाट ली मगर तुम्हारा मन नहीं कर रहा है अपना ये हथियार मेरे मुंह में देने के लिए?हम लंड की ओर देखे तो वो तन कर पूरा खड़ा था. लेकिन मुझे कभी कभी ये लगता था कि जो मैं सोच रहा हूँ, यदि वो सब सही नहीं निकला, तो मेरी इज्जत की माँ चुद जाएगी. मैं कपड़े पहन कर खेत में नित्य क्रिया करने चला गया और 15 मिनट बाद आया, तो अर्पणा ने फिर से एक बार और चुदाई करने को कहा.

एक दिन की बात है कि मैं छत वाले कमरे में लेटा हुआ अपने फोन में टाइम पास कर रहा था.

ये सुनकर वो डर गई और रोते हुए बोली- प्लीज माफ़ कर दो … मुझसे गलती हो गई. मैंने उसको हाय कहते हुए कार का गेट खोला और उसके बाजू की सीट पर बैठ गया. मैंने उनकी तरफ मुस्कुरा कर देखा और पूछा- क्या मैं आपका नाम जान सकता हूँ.

सेक्सी एचडी वीडियो फिल्मऐसी ही एक मस्त आइटम भाभी मेरे जिम में आई तो वो मेरे लंड के नीचे कैसे आई? मेरी क्सक्सक्स कहानी का मजा लें. फिर दो मिनट के बाद मेरे लंड से नियंत्रण छूट गया और मैं उसकी चूत के अंदर ही झड़ने लगा.

सेक्स वीडियो टीचर के साथ

दरवाजे के पास आते ही हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसने का मजा लेना शुरू कर दिया. वो चीख उठी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…मैं समझ गया कि ये सही कह रही थी कि ये कुंवारी है. मगर कुछ ही देर के बाद मां ने मुझे आवाज लगा कर अपने कमरे में बुलाया.

कुछ देर बाद हम दोनों अलग हुए और उसने खुद को साफ़ करने के लिए बाथरूम में जाने के लिए कहा. बहुत बार मैंने उस सेक्सी आंटी के नाम की मुठ मारते हुए अपना वीर्य निकाला था. मैंने उसका बैग उठा कर अन्दर मिंकी के रूम में रख दिया और अपने रूम में आ गया.

मैं धीरे धीरे नीचे को होता गया और बुआ की चूत की दरार पर किस कर दिया. वैसे मैं भी आपको एक बात बताने के लिए मिलना चाहता था, अच्छा हुआ कि आप आ गये. उसका हाथ से स्पर्श करना और कभी धीरे से अपने अंगूठे से मेरी हथेली को कुरेद देना.

मेरी वाइफ बोली- मैं सो रही हूँ … आराम से करना, इसकी चूत मत फाड़ देना … वरना ये रोएगी. जैसे-जैसे मैं उसका सर दबा रहा था वैसे वैसे मेरे लंड में तनाव आता जा रहा था.

अगर चूत की चुदाई नहीं होती तो बच्चे कहां से पैदा होते!मीरा बोली- मेरी भी चुदाई होती है, फिर मेरी कैसे फैल गई और तुम्हारी कैसे सेफ रह गई?उसके सवाल पर मैंने कहा- अगर मुझे भी तुम्हारे जैसी चूत बनवानी हो तो कैसे बनेगी.

बहुत जमीन जायदाद है तो उसी की आमदनी लाखों रूपये मासिक है जो जरूरत से ज्यादा पड़ती है तो मैं अपनी जायदाद की देखभाल ही करता हूँ. हिजडा कसा असतोआपने ये सब कहां से सीखा?वो बोले- ये सब मैंने तेरी भाभी के कारण सीखा है. मारवाड़ी हिंदी में सेक्सी वीडियोउसके जिस्म से चिपके हुए कपड़ों में से झलकता छोटा सा निप्पल याद आ गया. साइज़ तो 38 की थी ही औरउसके पीछे की गान्ड भी बहुत बड़ी और गोल थी, वो भी बाहर निकल रही थी.

मेरी बुआ की चुदाई कर गया और अभी साला खुद ही मुझसे अकेले अकेले मलाई खाने की बात कह रहा था.

जबकि कानून यह कहता है कि आरोपी को अपने बचाव में दलीलें देने और सफाई पेश करने का मौका दिया जाना चाहिए. मैं सब समझ रही थी … मन तो मेरा भी हो रहा था पर हिम्मत नहीं हुई ना उनकी और न मेरी!अगले दिन भाई शहर चले गये जॉब के लिए!6 महीने के बाद भाई ने फोन किया और कहा- मैं कल कुछ काम से गाँव वाले बाज़ार आ रहा हूँ, मुझे तुझसे मिलना है. मैं बोला- हां मॉम, रेशमा आंटी हॉट और सेक्सी है लेकिन आपके जितनी नहीं.

इधर एक बात और बता दूं कि मेरी सलहज काव्या करीबन 6 महीने हमारे यहां रही और इन 6 महीनों में मैंने कैसे कैसे उसको मन भर चोदा … यह मैं अपनी अगली कहानियों में लिखूंगा. तभी अचानक बादल उमड़ आए और भयंकर बारिश होने लगी, तो मैंने मजाक के मूड में पूछा- अर्पणा … व्हिस्की या बीयर?उसने भी हंस कर कहा- व्हिस्की … वो भी सिग्नेचर चाहिए. एक दिन पूछा तो उन्होंने बताया- ऐसा नहीं है कि मैं अपने पति से खुश नहीं हूँ.

देसी वीडियो सेक्सी वीडियो

वह इसी तरह मेरी चूत में झड़ गया और मैं भी ऐसे ही उल्टी लेटे-लेटे झड़ रही थी तो मैंने बेड की चादर को अपनी मुट्ठी में भर लिया और अपने मुंह की आवाज को रोकने के लिए अपना मुंह बेड में धंसा दिया।कुछ देर तक हम दो प्रेमी चुदाई के बाद वैसे ही तेज तेज सांसें भरते रहे. वो अचानक से बोलीं- क्या देख रहे हो?भाभी की एकदम से निकली तेज आवाज से डर के मारे मेरे हाथों से कप गिर गया. दोपहर के 3 बजे कॉलेज की छुट्टी हो गई और मैं बहुत खुश और एक्साइटेड होकर घर की ओर निकल गया.

एक दिन की बात है कि उस दिन रविवार का दिन था और मेरे ऑफिस की छुट्टी थी.

चार साल तक बिना सेक्स संतुष्टि के जीवन गुजारना काफी मुश्किल रहा होगा उनके लिए.

अब मैं पूरी तरह बरखा के सामने नंगा होकर खड़ा था पर अभी तक बरखा का सिर्फ साड़ी का पल्लू ही नीचे था. मैं तुरंत कम्बल में घुस गया और मैंने मोसी को बांहों में भरा तो झटका सा लगा. आदिवासी सेक्सी वीडियो दिखाइएमैंने पोर्न वीडियो में देखा था और उसी तरह मुझे एक बार लंड मुंह में लेना था.

उनकी टांगों को पकड़ कर मैंने उनकी चूत पर लंड को रख दिया और एक झटके में लंड को अंदर पेलने की कोशिश की. मैंने भी ठान लिया था कि अगर मजे लेने हैं तो मैं भी एक बार ट्राई करके देख लेता हूं. मैंने उसकी बुर से मुख मोड़ा और अपने लंड को ऊपर लाते हुए उसकी दोनों चूचियों के बीच में रख दिया.

हम लोगों को हनी के फैसले के साथ खड़ा होना पड़ा और हनी मेरे मुन्ने की मां बन गई. मैं उसके लिए कमरे से जुड़े किचन से एक ग्लास में कोल्ड ड्रिंक ले आया और उसे पीने के लिए देकर उसके सामने वाले सोफे पर बैठ गया.

वो लंड चूस रही थी और मैं …मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागप्रिंसीपल मैडम के साथ कार सेक्स-2में आपने पढ़ा कि मैडम के मायके जाते हुए रास्ते में बारिश के कारण गाड़ी खराब हो गई.

मैंने अपने पैरों से उनकी चड्डी भी निकाल दी और मैंने उनको पूरी तरह से नंगा कर दिया. मैंने बिना रुके सीधा मेरा लन्ड मॉम की चूत में बुलेट ट्रेन की स्पीड जैसे डाल दिया. वो चीख उठी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…मैं समझ गया कि ये सही कह रही थी कि ये कुंवारी है.

मीरा मिथुन मेरे या उनके घर, कहीं भी हम दोनों मिलते और हार्ड फ़क यानि पलंगतोड़ चुदाई का मजा करते. मैंने बहन के मुंह में लंड को पूरा घुसेड़ दिया और मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी बहन के मुंह में जाकर गिरने लगी.

ऐसा ही हुआ … मॉम मेरे रूम का दरवाजा खोल कर अंदर आई और बोली- बेटा, सो गया क्या?मैं आँखें खोलकर बेड पर बैठकर बोला- नहीं मॉम, ऐसे ही लेटा था. जब एक जवान लड़का और एकजवाँ लड़कीएक साथ एक कमरे में रह रहे हों तो उनके बीच वासना की ज्वाला भड़कने में देर नहीं लगती. लगने लगा था कि मेरी कोई गर्लफ्रेंड बन ही नहीं पायेगी जिसके साथ मैं भी कुछ मस्ती कर सकूं.

बीपी ब्लू फिल्म

जिस घर में मेरा रिश्ता हुआ वो लोग पुराने जमाने में रजवाड़े हुआ करते थे तो काफी पैसे वाले हैं. कॉन्डम लगा होने के कारण मेरे लंड से वीर्य निकलने में भी देरी हो रही थी. मैंने कहा- अभी?वो बोली- काम अभी करवाना है तो अभी ही आना पड़ेगा न, या फिर अगले जन्म में आओगे?मैंने कहा- अरे मैडम, आप कहो तो उड़ कर आ जाऊं?आंटी बोली- नहीं, पैरों पर चल कर ही आ जाओ.

एक बार मेरे भाई ने मुझे बाथरूम में नंगी देख लिया और उस दिन से वो मेरे सेक्सी जिस्म को भोगना चाहते थे. उसके हाथों को बांध कर मैंने उसको नीचे झुका कर पीछे से उसकी चूत में लंड को डाल दिया.

हमारी परीक्षाएं खत्म हो गई थीं और हम घर पर बैठ कर मक्खी मार रहे थे.

पापा ने पीछे से चाची की चुत में लंड रख कर एक जोरदार झटका दिया और पापा का लंड पूरा का पूरा एक बार में ही चाची की चूत के अंदर चला गया. अगले पांच दिन में मेरा काम पूरा हो गया और तब तक रोज़ रात में हम तीनों ऐसे ही ग्रुप सेक्स करते थे और खूब एन्जॉय करते थे. दीदी एक पल के लिए मेरी आंखों में देखती रहीं और धीरे से बोलीं- प्लीज ये बात किसी को बताना मत.

वो पूरे चरम सीमा पर थी, पर मुझे लगा कि उसकी चूत काफी ढीली हो चुकी थी. तैयार होने के बाद मैंने खुद को आईने में देखा, तो मैं खुद को ही नहीं पहचान पा रही थी. हम दोनों प्रेमी इस पोजीशन में आ चुके थे कि अब एक दूसरे में समा जाएं.

आप कोर्ट का सहारा लेकर उस अस्पताल में उस दिन जन्मे बच्चों के डीएनए टेस्ट की मांग कर सकते हैं.

सेक्सी बीएफ साड़ी वाली साड़ी वाली: मगर अचानक ही किचन में मेरे हस्बेंड आ गये और उन्होंने प्लम्बर को मेरी चूत में लंड डालते हुए देख लिया. आंटी मेरा लम्बा लंड देख कर मस्त हो गईं और बैठ कर मेरे लंड को चूसने लगीं.

मेरी बात को समझे बिना वो बीच में ही बोल पड़ी- सर, मैं भी तरक्की करना चाहती हूं. मैंने उसे धन्यवाद दिया और बताया- अब 2-3 दिन बाद तुम्हें मैं दुबारा चोदूँगा. और पापा को भी यही दिखाना चाहती थी मॉम!फिर मॉम बोली- बेटा, तू बेडरूम में जाकर बैठ जा तेरे पापा को मालूम नहीं चलना चाहिए कि तू इधर ही है क्योंकि अब वो मुझसे वीडियो कॉलिंग से सेक्स करेंगे और जिससे मुझे और तेरे पापा को संतुष्टि मिलेगी.

सुबह नाश्ते के बाद मेरे पति ने अपनी ड्यूटी पर जाने के लिए बोला, तो मैंने बोला- जान इस बार तो हमने बिना कंडोम के कर दिया है, अगर मैं प्रेगनेंट हो गई तो?इस पर पति बोले- तो बच्चा हो जाएगा और क्या?यह बात मैंने सुनी और खुश होकर बोली- हां … तब तो यह एक खुशखबरी होगी.

उसने अपने होंठ फिर से आशिमा के होंठ पर रखे और पूरी जीभ उसके मुंह में डाल दी. मेरी नीयत घर से ही उस पर खराब हो गयी थी और रास्ते में तो मेरा मनोबल जब और बढ़ गया, जब किसी ना किसी बहाने स्वाति ने मेरे बदन व गुप्तांग को कई बार स्पर्श किया. Cousin Oral Sexउसने बैठते हुए झट से मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और वो मजे से लंड चूसने लगी थी.