फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,भयंकर चुदाई बीएफ सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बैंगलोर बीएफ: फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ, मैंने देखने की कोशिश की लेकिन आंख में साबुन चला जाने की वजह से आंख नहीं खुली.

सेक्सी गर्ल बीएफ बीएफ

मैं- प्रोटेक्शन लेने जाना पड़ेगा?दीदी- अपनी बहन के साथ बिना प्रोटेक्शन के सेक्स करोगे?मैं- ठीक है … आप जैसा चाहो, मैं अभी आया. पापा का बीएफवो मेरी गोलियों को अपनी उंगलियों से मसलते हुए पूरे लंड को गले तक लेते हुए चूस रही थी.

फिर अगले दिन हम अपने घर के लिए निकलने लगे और मौसी अपने घर के लिए जाने लगी. ब्लू बीएफ सेक्सी चलने वालीऔर जब उसका लंड नर्म होकर मेरी चूत से बाहर निकला तब उसने चूत में जितना वीर्य गिराया था, उससे मेरे हिप्स की मालिश करी।इसके बाद मैं फिर से नहाने के लिए गई.

वो बोली- तुमने आज से पहले तो कभी ये नहीं लगाया, फिर आज क्यों लगा रहे हो?मैंने कहा- इसको लगाने से आपको दर्द कम होगा और मजा ज्यादा आयेगा.फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ: अमन ने मेरे हाथ से मेरी ब्रा ले ली और साइड में रख दी और फिर से चुदाई का एक और राउंड शुरू हो गया.

)कमर तो ऐसी है कि एक बार हाथ लगाओ तो बस हटाने का मन ही न करे, इतनी भरी हुई और गदराई हुई।और अब दिल थाम कर बैठ जायें.अब उसने मेरे दस इंची लंड को ऊपर किया और लगातार मेरे लंड की गोटियों को गांड के छेद को चूसने और चाटने लगी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ बढ़िया-बढ़िया - फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ

[emailprotected]फैमिली सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मेरी अन्तर्वासना और मौसा से चुदाई-3.हमने 3 सीट बुक कर ली और शाम को हम बस स्टॉप पर पहुंच गए जहाँ पर हमारी बस लगी हुई थी.

उनके शरीर को मैंने पूरी तरह से अपने नीचे कर लिया और उनके बदन के हर हिस्से को छूकर देखने लगा. फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ अंजना- हैलो दीपक, आज मेरे मॉम डैड दोनों 2-3 दिनों के लिए बाहर जा रहे हैं.

तभी हमारी बस टोल नाके पर पहुंची और वहां लाइट हमारी सीट पर गिरने लगी.

फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ?

तभी उसने कहा- अभी नहीं!मैं समझ गया कि गांड के बाद चूत की खुजली बढ़ गयी है इसकी. बारात आने वाली थी तभी ललिता ने मुझसे कहा- बारात आने पर जयमाल होगी, फिर डिनर होगा. मुझे डर था कि अगर घरवालों को ऐसी गंदी किताबें हाथ लग गयीं तो बहुत मार पड़ेगी.

मौसी भी मेरी पीठ पर अपने नाखूनों को चुभा रही थी जिससे पता चल रहा था कि मौसी को मेरा लंड लेने में कितना मजा आ रहा था. मामी रोते हुए मुझसे कह रही थीं- कमीने तू ये क्या कर रहा था? मैं तेरी मामी हूँ. मैंने उनको छोटे साइज की ब्रा दिलवाई थी ताकि उनके बूब्स उसमें कसे हुए दिखाई पड़ें और वो सच में काफी सेक्सी लग रहे थे.

मैं मंजू के सामने अपना तना हुआ लंड खोले खड़ा था और वो मेरे लंड को देख कर आंखें फाड़े और मुँह खोले ठगी सी खड़ी थी. ऐसे ही मजे मजे में मेरा स्टॉप भी आ गया लेकिन मैंने स्टॉप मिस कर दिया. जब मैं उनके घर के पास पहुंचा तो मैंने दोस्त की मम्मी को फोन किया कि वो बाहर दरवाजे पर खड़ी हो जायें ताकि मैं उनको देख सकूं.

अंकिता का बच्चा होने की बात सुन कर वो डर गये और फिर मैं उनसे पैसे लेने लगी. तो मैंने पूछा- तेरी सास को क्या हुआ? क्यों जली कटी सुना रही थी तुझको?इस पर प्रीति चुप हो गई.

लण्ड के पैन्ट से बाहर आते ही ललिता पंजों के बल उचक कर अपनी चूत मेरे लण्ड के करीब लाने की कोशिश करने लगी लेकिन नाटे कद की वजह से उसकी चूत मेरे लण्ड को छू नहीं पाई.

मैं उसके काफी करीब गया और मैंने धीरे से पेटीकोट ऊपर खिसका दिया। आह … क्या मस्त गोरे गोरे सुडौल चूतड़ थे। मैं और नजदीक गया तो गोरी चिकनी जांघ एकदम गोल मोटी और मस्त थी और जांघों के बीच में शकरकंद जैसी गुलाबी उभरी हुई चूत, जिस पर छोटे-छोटे काले घने बाल उगे हुए थे.

जिसका वो मजा ले रही थी। मैं उसे किस करते हुए अपने हाथ को नीचे की तरफ ले गया. फिर मैं बोला- तुमने भी पढ़ ली क्या?मेरी बात पर उसने नजर नीचे कर ली. दोस्तो, ये मेरी दूसरी अन्तर्वासना स्टोरी है सहेली की चुदाई की … कैसी लगी आपको? मुझे मेल करके बताएं.

रेखा का पेटीकोट, ब्लाऊज और अपनी पैन्ट, शर्ट उतार कर हम बेड पर आ गये. दीदी ने मेरे अंडरवियर को उतार दिया और मेरा मोटा लंड बाहर निकल कर झूलते हुए दीदी के सामने फनफनाने लगा. प्लान के मुताबिक वो पहले से ही लास्ट वाले केबिन में बैठी हुई थी और दरवाजा खुला हुआ था.

फिर मैंने पूरी ताकत से आखिरी धक्का मारा और माँ की आवाज आनी बंद हो गई।इस बार मेरी ताकत इतनी ज्यादा थी कि मैंने अपने दोनों आंड उसकी गांड पर टच करा दिए थे.

मुझे देख कर बोलीं- शिव तुझे टॉयलेट जाना है क्या?मैं उनसे कुछ नहीं बोला, बस हां में सिर हिला दिया और बाथरूम के अन्दर चला गया. जितनी जरूरत तुम्हारी दीदी को तुम्हारी है, इतनी ही जरूरत तुम्हें भी एक लड़की की है. मैंने जल्दी जल्दी में लिख दिया कि अब मैं तुमको माल कैसे लिख सकता हूँ … माल तो किसी सड़क पर चलने वाली को देख कर खा जाता है … तुम तो मेरी दोस्त हो.

आप मेरे दोस्त की सच्ची सेक्सी कहानी हिन्दी में को उसी की भाषा में सुनिए. अब मुझे उसकी शर्ट का बटन खोलना था ताकि मैं उसके दूधों को हाथ में ले सकूं. गे क्रॉसड्रेसर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे दूकान वाले लड़के ने मेरी क्रॉसड्रेस वाले शौक को जानकर मुझे गे सेक्स के लिए आमन्त्रण दिया.

उसी हाथ से मैंने उसके मम्मों के पास ड्रेस में लगी चैन को हल्की खोल दी … ताकि चूचों की नाली दिखने लगे.

इतने में मेरा फ़ोन बजा और ऑफिस से मैसेज आया कि आज की मीटिंग किसी वजह से कैंसिल हो गयी है, अब चार दिन बाद होगी. मैं बुदबुदाया कि कितना बड़ा चुतिया है, जो इतनी सुंदर बीवी का ख्याल नहीं रखता.

फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ हम दोनों चलने लगे, तो वो तेल की शीशी उठाकर मुझसे कहने लगी- अपनी रांड बिटिया को ऐसे ही ले जाओगे … गोदी में उठा कर ले चलो. मैंने पूछा- क्या सभी कॉलेज में ऐसा होता है?वो बोले- इंजीनियरिंग में तो बहुत होता है, बाकी का तो मुझे ज्यादा नहीं पता। अगर कोई शिकायत करे तो उसकी गांड मार ली जाती है.

फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ मॉम- हां, मगर इसे कौन समझाये?राखी मुझसे बोली- तू आगरा क्यों नहीं चलता? वहां पर रूम लेकर रह लेना. ये सोचते ही मैं गेट खोलकर बाहर आकर बैठ गया और उधर 5 मिनट बैठकर, फिर से गेट बंद करके रूम में आ गया.

मुझे लड़कों के साथ सेक्स करके बदनाम नहीं होना है और बिना सेक्स के जिंदगी में कोई मज़ा नहीं है.

नंगी हॉट सेक्सी वीडियो

कुल मिलाकर वो गर्म माल थीं, जो मेरे जैसे मस्त लंड वाले लौंडे के लिए अपनी चुत खोलने के लिए राजी थीं. वो अपनी उंगलियों से लंड को हाथ में भींच भींच कर उसकी सख्ती की जांच कर रही थी. पहले गाल, फिर होंठ, गला उसके बाद वो मेरे शर्ट के बटन खोलने लगी, उसने मेरी शर्ट उतार दी।मैं अब ऊपर से नंगा था और वो मेरे सीने को चूमे जा रही थी.

फिर मैंने मौसी की चूचियों को पीना शुरू कर दिया और मौसी के मुंह से आह्ह करके सिसकारी निकल गयी. एक तो इतनी चिकनी सफेद, ऊपर से सॉफ्ट … दिल कर रहा था कि आइसक्रीम की तरह खा जाऊँ।डेढ़ बज चुका था, रूम साफ हो चुका था. उन्होंने मुझसे कहा- आशीष, जैसे तुम मुझे घूरते रहते हो, वैसे तुमको नहीं देखना चाहिए.

मम्मी के पास पहुंचने की आहट सुनकर लवली जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी- आह्ह चाटो जान, और तेज से चाटो… आह्ह मैं तो पागल हो जाऊंगी.

इससे मेरा खुला लंड राधिका के कंधे को छूता हुआ आया और वो एकदम से लंड देखने लगी. अमिता सीधे गाड़ी में बैठ गई और सुभाष मुझ तक आकर बोला- चलो, तुम दोनों को गांव छोड़ देता हूं. भाभी की गांड को देख कर मन करने लगा कि उनको पकड़ अभी चोद दूं लेकिन मैंने किसी तरह से खुद को रोक लिया.

तब तक मैंने उसकी बगल में हाथ डालकर उसका एक स्तन पकड़ा और उसे अपने साथ छत की तरफ ले जाने लगा।मिनी बिना किसी संकोच के मेरे साथ चल दी।छत का रास्ता सँकरा होने के कारण दोनों साथ नहीं चढ़ सकते थे इसलिए आगे मिनी चढ़ी और उसके पीछे-पीछे मैं चढ़ा। चढ़ते समय मैं मिनी की बलखाती गांड को देख रहा था. ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने हवा भर दी हो उनमें और वो ऊपर निकल जाना चाहती हों. मैंने उसके हाथों को पकड़ कर अपनी नंगी चूचियों पर रखवा दिया और उसने मेरी दोनों चूचियों को दबा कर देखा.

किस करने के बाद मैंने उनको छोड़ा नहीं, बस यूं ही उनकी तरफ देखने लगा. उस दिन आंटी जैसे ही अपने रूम में आईं, तो मैंने उनको छिप कर देखा, पर मैं बाहर नहीं गया.

धीरे धीरे हौसला बढ़ता गया और मैं अपने हाथ को ऊपर की ओर ले जाने लगा. उनके आने के बाद कैसे करना है फिर?पापा बोले- करना क्या है, लवली ने प्लान बनाया हुआ है. जहां पहले मेरी चूची अमरूद के आकार की हुआ करती थी, अब वो मोटी सेब की तरह बिल्कुल गोल हो गयी थी और मेरी छाती पर तनी हुई रहती थी.

मैंने टोस्टर वाले पार्सल को खोलने की कोशिश की, लेकिन वो पार्सल नहीं खुला.

क्योंकि मैं खुद भी यह महसूस कर रही थी कि यह क्षण कभी भी आ सकता है जब वह मुझे प्रपोज करेगा।वैसे मैं भी उसे मन ही मन लाइक करने लगी थी।मैंने उससे कहा- नहीं नहीं, तुम मुझे बहुत पसंद हो. रवि ने फिर से धक्का मारा और मेरी चूत में लंड फंसा कर उसको आगे पीछे करने लगा. जैसे ही मैं उसके निप्पल निचोड़ता था तो वो मेरे लंड को कस कर भींच लेती थी.

दरअसल हमारा स्कूल इतना बड़ा नहीं था कि अगर प्रिंसीपल किसी को भी बुलाएं और हम तक आवाज़ ना पहुंचे. अब हम दोनों सोच रहे हैं कि एक साथ कानूनी रूप से लिविंग रिलेशन में रहना शुरू कर दें.

इस कहानी के पात्रों के नाम काल्पनिक हैं और स्थान के नाम भी बदल दिये गये हैं. आप भी मजा लें जवान लड़की की चुदाई का!दोस्तो, मैं शिव एक बार फिर से आपके सामने अपनी जवान लड़की की चुदाई कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. अब मैंने उसकी पैंटी को भी उसकी जांघों से सरकाते हुए नीचे पैरों में लाकर निकाल दिया.

सेक्सी वीडियो फुल एचडी ब्लू फिल्म

कुछ मिनट हम दोनों ऐसे ही रहे, फिर हमने कपड़े पहने और एक दूसरे को कसके हग करके लेट गए और सो गए.

फिर मैंने अपने लंड को उसके मुँह से बाहर निकाला और उसकी रसीली चूत को चूसने का मन बना लिया. बहुत मजा आ रहा था दोस्तो, जितना मजा चूत मारने में आता है उसके सामने मुठ मारने का मजा तो कुछ भी नहीं है. वो बोला- अगर आपको जल्दी से अच्छे रिजल्ट्स चाहिएं तो आपको कम से कम कपड़ों में योगा करना चाहिए.

उसने मेरी पैंट को जैसे ही उतारी, मेरा लंड हवा में उसके मुँह से लड़ने वाला था. थोड़ी देर में उसे मजा आने लगा और वो खुद अपनी गांड हिला हिला कर लंड को अन्दर तक लेने लगी. ब्लू पिक्चर का वीडियो बीएफअब मामा का सारा काम मैं ही देखता था, घर से लेकर बाहर तक कोई भी काम होता था … तो मैं ही करता था.

मगर मुझे अपना लंड भी शांत करना था इसलिए मैं उसकी चूत को जोर जोर से पेलने लगा. मैंने हिम्मत करके कहा- तो फिर आप पेटीकोट भी उतार दो, नहीं तो तेल लगने से खराब हो जायेगा.

मैंने उसकी तरफ से खुद को नजरअंदाज करते हुए अपनी गर्ल फ्रेंड की चुदाई करना शुरू कर दी. तीन चार साल मैंने मौसा के कम्प्यूटर में सेक्स के बारे में काफी कुछ सीखा. दो बार ये समस्या आने के बाद से अब हम जब भी मिलते हैं, तो कंडोम इस्तेमाल करते हैं … ताकि कोई खतरा न रहे.

घर में मैं बोर हो रही थी और कॉलेज के लड़कों के साथ की हुई मस्ती की यादें मुझे परेशान करने लगीं. मैंने थोड़ा उठ कर देखा तो उस आदमी की गांड मुझे हिलती हुई दिख रही थी. सड़क पर आस-पास कोई होटल भी नहीं था इस वजह से मनोज ने उन्हें सलाह दी कि गाड़ी को कहीं सुनसान जगह पर लेजा कर आराम से लगा देंगे.

मैं अपनी मामी की चूत का पानी पीना चाहता था और अपने लंड का माल उनके मुँह में झाड़ना चाहता था.

फिर अचानक ऐसे हवा चली कि तब से आज तक मैं बहुत सारी भाभी और लड़कियों को चोद चुका हूं।कुछ ऐसे ही शुरू हुआ सफर मेरे जीरो से हीरो बनने का सफ़र।पर भाभियों में कुछ अलग ही बात होती है. मैंने उनसे बहुत कहा … मगर उन्होंने मुझे मना कर दिया और वो खुद गांड मटकाते हुए रिशेप्शन पर चली गईं.

मां ने पूरा लंड अंदर ले लिया था जैसे कोई कुतिया किसी कुत्ते के लंड को खींच लेती है. मैंने ताई की गर्म चूत में उंगली की और फिर ताई चुदने के लिए कहने लगी. मैं उन्हें अपनी गोद में उठा कर कमरे में ले आया और उनकी सजी हुई सेज पर उन्हें गिरा दिया.

इसलिए मैंने शाम को रघु को विश्वास में लेकर कहा- सुन … तू वैसे ही करना जैसे माँ कहेगी. मैंने चुपके से उसकी लोअर को नीचे कर दिया और उसका लंड उछल कर फिर से बाहर आ गया. काफी देर की चूत चुदाई के बाद उसने मुझे मेरे बालों से पकड़ कर नीचे बिठा दिया और अपना लन्ड फिर से मेरे मुंह में दे दिया.

फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ उसे फिर से मजा आने लगा और उसका बदन एकदम से अकड़ने लगा और वो जल्दी ही झड़ गई. मैंने एक कहानी में पढ़ा था कि एक बेटा उसकी मां को मां बोल कर चोद रहा था.

सेक्सी राणी मुखर्जी

दस मिनट के बाद मैं झड़ने को हुआ तो मैंने पूछा- कहां निकालना है?साधना बोली- विशू जी, मुझे कोई खतरा नहीं है, मेरी चूत में ही निकाल दो. फिर थोड़ी ही देर में दारू के असर से मेरी जवानी की गर्मी बाहर आने लगी. उसके बाद दीदी ने एक गिलास में दारू डाली और दूसरे में जैसे ही डालने लगीं मैंने उन्हें रोक दिया.

मैंने कहा- मामी, जब आपकी चूत में मेरा मुँह है … तो बाहर मूतने की क्या जरूरत है. मां के नीचे के बाल मेरी बगल वाले हिस्से पर मेरी जांघ पर टच हो रहे थे. सुहागरात बीएफ सेक्सी हिंदीएक बार लंड का स्वाद चख लिया तो रोज ही मेरे लंड से खुद ही चुदने लगोगी.

इसी तरह थोड़ी देर करते रहने पर मुझे लगने लगा कि मैं किसी भी आसमान से गिरने वाला हूँ.

मेरी हाईट छह फीट है और सबसे मस्त बात ये कि मेरा लंड पूरा 7 इंच लम्बा और ख़ासा मोटा है. अब मैं चौक कर उसे देखने लगा, तो वह मेरे पास आयी और मेरे होंठों से अपने होंठ लगा दिए.

मैंने अपने लंड को और ज्यादा बाहर निकला और उसे धीरे धीरे सहलाना शुरू कर दिया. मैं किचन में चाय बनाने गया, तो देखा कि मेरी बेटी वहां टॉवेल में खड़ी चाय बना रही थी. तब जाकर उसने मुझे धक्का देकर छुड़ा लिया।बाद में अपने होंठ दिखाया जहाँ से थोड़ा कट गया था और खून निकल रहा था।इसके बाद दोबारा से मैंने उसे किस किया तो मैं अंदर से बहुत गर्म हो गया.

फिर भाभी के कहने पर मैंने बाहर से खाने का आर्डर कर दिया क्योंकि सोनम और रीना कालेज से आने वाली थीं.

फिर कुछ देर के बाद वो दोनों लड़कियां और उनके साथ वो लड़का ही दिखाई दिया. मौसी का एक बेटा भी था … यानि मेरा भाई … जो कि विशाखापत्तनम में बीटेक कर रहा था … वो वहीं रहता है. कभी कभी ऐसे बोलता- और क्या हाल है छोकरिया? कैसी है मेरी बिटिया? क्या चल रहा है लाडो?मैं उसकी बातों को इग्नोर कर देता था.

बोलेरो बीएफतो हमने उसका क्या इलाज किया?अब तक इस चुदाई की कहानी के पिछले भागफाइव स्टार होटल की स्टाफ लड़कियों की चुदाई-1में आपने पढ़ा था कि मुझ पर मेरी सीनियर प्रिया नामक की लड़की फ़िदा हो गई थी और उसने मुझसे चुदकर मेरा प्रमोशन भी कर दिया था. मुझे देखते ही सब समझ में आ गया।वहाँ एक बड़ा सा बेड था और बहुत खूबसूरत सजावट थी।मुझे ऐसा लगा कि जैसे आज मेरी सुहागरात की चुदाई कहानी लिखी जायेगी!वो मुझे बेड पर ले गया और मुझे चूमने लगा.

ப்ளூ பிலிம் செக்ஸ்

थोड़ी देर बाद मैंने अपना लंड बुआ की चूत से बाहर निकाला और उनकी चूत को चाट चाट कर साफ कर दिया. पापा बोले- पहले चुदाई का मजा तो ले लो हमारे साथ में! बाजार में बाद में चले जाना. प्रिया के मुँह से ये बात सुनकर मुझे खुशी भी थी कि प्रमोशन मिल गया और मैं दुखी भी था कि प्रीति ने ऐसा किया.

अब तक आपने मेरी अन्तर्वासना आंटी सेक्स स्टोरी हिंदी के पिछले भागदो आंटियों को चुदाई और औलाद का सुख दिया-2में पढ़ा कि नजमा आंटी ने मुझसे चुदवा कर मुझे निगार आंटी से मिलवा दिया था. इस हिंदी कहानी चुदाई की में पढ़ें कि कैसे मैंने एक गाँव की लड़की को उसी के घर में चोदा. दस दिन तक घर में हम अकेले रहने वाले थे और ये सोच सोच कर मैं खुश भी हो रहा था.

मैंने एक हाथ चाची की कमर में डाला और दूसरे हाथ से उनके बड़े मम्मों को दबाने लगा. बलविंदर ने मेरी उत्तेजना को भांप कर कहा- तुम्हारा लिंग तुम्हारी मदद मांग रहा है नंदन. अगर वो ब्रा और पैंटी से खेले तो इसका मतलब है कि वो भी आपके साथ मजे करना चाहता है.

फिर मैंने उसको बेड पर लिटाया और अपना मोटा लंड उसकी चूत पर लगा दिया. मैंने उससे कहा- ये चाय यहां रख दो और ये जो फटे हुए कपड़े यहां पर पड़े हुए हैं इनको उठा कर डस्टबिन में डाल देना.

दीदी- आकाश, ये तुम क्या कर रहे हो?जीजा जी- तुम भाई बहन की चुदाई की फिल्म बना रहा हूं.

जब मैं उनके घर पहुंचा तो मैंने धीरे से उनके घर के दरवाजे को धक्का दिया. इंडिया बीएफ हिंदी मेंआह … कितना मस्त चूसती हो … आह बड़ा मज़ा आ रहा है … मेरे आंड भी सहलाओ रानी. हिंदी बीएफ वीडियो 2022जब उससे बर्दाश्त न हो पाया तो उसने भी अपना हाथ सीधा मेरी चूत पर ही रख दिया. थोड़ी देर बाद वो फिर गर्म हो गईं और उनके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं.

मैंने पाया कि मनोहर एक अच्छा दोस्त ही नहीं बल्कि एक अच्छा इन्सान भी है.

मुझे पक्का यकीन हो गया कि मेरी पत्नी की चुदाई शादी से पहले जमकर हुई है. मैं हैरान रह गया … वहां अंजना के मॉम डैड, पूजा सिंह और मोहित सिंह दोनों खड़े थे. अंकल आंटी ने मेरी नंगी गांड मारने की कहानी पूरी की और मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखा.

उसने बताया कि वो पुणे में जॉब करता है और हैदराबाद में किसी की शादी में जा रहा है. रोशन लाल ने यह सुनते ही अलीज़ा की ब्रा फाड़ दी और बोला- भोसड़ी वाली मादरचोदी … आज तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा. तो हमने उसका क्या इलाज किया?अब तक इस चुदाई की कहानी के पिछले भागफाइव स्टार होटल की स्टाफ लड़कियों की चुदाई-1में आपने पढ़ा था कि मुझ पर मेरी सीनियर प्रिया नामक की लड़की फ़िदा हो गई थी और उसने मुझसे चुदकर मेरा प्रमोशन भी कर दिया था.

भाई बहन की सेक्सी वीडियो भोजपुरी

उसने अपनी चूत को पापा के मुंह पर सटा दिया और अपनी चूत को पापा के मुंह पर रगड़ने लगी और चटवाने लगी. मैंने खाना किचन में ले जाकर कर रख दिया और भाभी के कमरे में जाकर उन्हें बता दिया. और वो बेड की उछाल जो मुझे वापस लंड की तरफ़ धकेल रही थी।इस तरह मैं कई बार झड़ गई और वो भी मेरे अंदर ही झड़ गया।पूरी रात हमने कई बार चुदाई की.

”शिलाजीत गोल्ड के दो कैप्सूल खाकर मैंने एक गिलास दूध पिया और कस्तूरी की मादक खुशबू वाला परफ्यूम लगाकर मैं रेखा के घर पहुंचा.

उन्होंने मुझसे पढ़ाई के बारे में पूछा, फिर मेरे गेम्स के बारे में … क्योंकि मैं हैंडबाल और बेडमिंटन भी कालेज की तरफ से खेलता था.

फिर मैंने सोचा कि तब तक ये किताबें ही देख लूं … काहे की किताबें हैं. लंड चुसाई और गांड में उंगली की इरोटिक ब्लोजॉब सेक्स स्टोरी कैसी लगी आपको? आप मेल करना न भूलें. बीएफ मूवी दिखाएं वीडियो मेंथोड़ी देर बाद भाभी ने मेरा हाथ अपने ब्लाउज से निकाल कर हटा दिया और धीरे से बोलीं- ये क्या कर रहे हो तुम?उनकी इस अचानक हुई प्रतिक्रिया से मैं तो एकदम से डर गया और उनसे अलग हो गया.

रोशन लाल अलीज़ा की चुत पर ऊपर से नीचे तक जीभ फेरता हुआ कहने लगा- आह … क्या मस्त चूत है बहन की लौड़ी की … आह आज तो तेरी चुत को मस्त कर दूंगा. इस तरह से हम तीनों अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों के नियमित पाठक हो गये. बिना किसी लिहाज के और मैं भी तुमसे कुछ ऐसे प्रश्न पूछूंगा, जो हो सकता है, तुम्हें अजीब लगें.

कुछ ही पलों में उन्होंने अपने दोनों पैरों को मेरे सिर पर दबा कर अपनी चुत का पानी छोड़ दिया और शांत हो गईं. मैं भी कभी भाभी के मम्मों का मर्दन कर रहा था, तो कभी भाभी की चुत में अपनी 2 उंगलियां डाल देता, तो कभी भाभी की गांड को सहलाते हुए एक झापड़ रसीद कर देता.

मैं बोला- अगर इतना ही प्यार था तुम्हें मुझसे तो ये सब काम क्यों कर रही थी?वो मेरे पैर पकड़ कर रोते हुए बोली- मुझसे गलती हो गयी.

अपनी मां की चूत को चाट चाट कर साफ कर दे बेटा… इसके खारे पानी को पी जा बेटा … आहह पी जा मेरी चूत के पानी मेरे बच्चे … आह्ह खा जा मेरी चूत को… आह्ह चूस इसे. उसने मेरा हाथ पकड़ा और मेरे होंठों पर उंगली से मुझे चुप रख कर कमरे में अंदर ले जाने लगी. उन पर कॉलोनी के बहुत से लोग लाइन मारते थे और मामी की सहेली की चुदाई चाहते थे.

मधु शर्मा के बीएफ वीडियो उनको ऐसा लगे कि तुम नींद में हो और गलती से तुम्हारा हाथ उनके लंड पर रखा गया है. मैंने अपनी गांड को थोड़ा और नीचे खिसका लिया जिससे मेरी जांघें और फैल गयीं.

इस तरह से हम तीनों अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों के नियमित पाठक हो गये. मगर उस लड़के ने अपने दोस्तों के सामने खुद को हीरो दिखाने के लिए सबको उनकी चुदाई के बारे में बता दिया. किसी और के माल पर बुरी नजर नहीं डालते।मैंने दीदी का हाथ पकड़कर अपनी ओर खींचते हुए बोला- और शादी के पहले ये माल मेरा था.

मराठी सेक्सी जबरदस्त

मैं दीदी को कभी किस करता, कभी उनकी टी-शर्ट में हाथ डाल कर ब्रा खींचता. वो बोली- मां! आप यहां क्या कर रही हो? आपको शर्म नहीं आती है एक पति पत्नी के रूम में इस तरह से ताक-झांक करते हुए? आप बाहर चलिये, मैं बाहर ही आती हूं. आह … कितना मस्त चूसती हो … आह बड़ा मज़ा आ रहा है … मेरे आंड भी सहलाओ रानी.

मैंने पूछा- वो कैसे?तो उन्होंने बताया कि सास ने मुझसे फोन पर बात करते हुए देख लिया था लेकिन वो तब कुछ नहीं बोली थीं. जैसा कि मैंने पहले ही आप लोगों को बताया कि ये वाकिया होली के अवसर का था.

मैं उठकर धीरे से शाहिद वाले रूम में गया, तो देखा कि रूम का गेट हल्का सा उड़का हुआ था और अन्दर नाइट बल्ब जल रहा था.

अगर आप लोगों ने सही रेस्पोन्स दिया तो मैं आगे भी आप लोगों के लिए अपनी आपबीती लेकर आती रहूंगी. न चाहते हुए भी मेरी नजर अक्सर मेरी मां के चूतड़ों पर ही जाती रहती थी. मैंने साइड से झुक कर अपना मुंह उसके लंड के पास करके उसके लंड को मुंह में ले लिया और तेजी से चूसने लगी.

जब मैं अपनी चूत को धोकर वापस आई तो मनोहर अपने लंड पर कॉन्डम चढ़ा कर बैठा हुआ था. मोहित अंकल- चुप कर मादरचोद … जो हो रहा है, होने दे … नहीं तो तुझे पुलिस को देकर तेरी सारी गर्मी निकलवा दूंगा … पूजा डार्लिंग जरा कॉल तो करना पुलिस को!मैं- ओके ओके … प्लीज़ अंकल पुलिस की बात मत करो … आप जो बोलोगे, मैं वो करूंगा. वो भी शायद मुझमें रूचि रखती थी, इसका एहसास मुझे होने लगा था।दिन बीतते गए और हम अच्छे दोस्त बन गए और हमारी बात व्हाट्सएप पर भी होने लगी।मैं उससे दिल खोल के फ़्लर्ट करता, उसे भी मेरी बातें बहुत पसन्द आती थी.

मैं धीरे से आंटी के पास गया और मैंने आंटी से कहा- आंटी अगर आपकी इजाजत हो, तो आज मैं आपको खुशी दे दूं.

फर्स्ट टाइम सेक्स वीडियो बीएफ: मेरे दिमाग में मेरी चूत की प्यास के कारण शैतानी वाले ख्याल आने लगे. मैंने उससे कहा- बिना कंडोम के लेना है क्या?उसे एकदम से याद आया और उसने तकिया के नीचे से कंडोम का पैकेट फाड़ा और अपने हाथों से मेरे लंड पर कंडोम पहना दिया.

फिर जब मेरी धड़कन थोड़ी सी सामान्य हुई तो मैं उठ गया और मैंने कॉन्डम उतार कर कूड़ेदान में फेंक दिया. दोस्तो, आपको मेरी ये सेक्स कहानी कैसी लगी … मुझे मेरे ईमेल पर जरूर बताएं. अभी मैंने कुछ दिनों से लगातार ध्यान दिया हुआ था कि जैसे ही स्कूल खत्म होता था, ज्योत्सना मैडम के लिए प्रिंसीपल सर का बुलावा आ जाता था.

वो बोला- जान ग्रुप चुदाई में बहुत मजा आता है … मान जाओ ना!उसके बहुत मनाने के बाद मैंने उससे हां कर दी.

आप सभी का धन्यवाद जो आपने मेरी पिछली अन्तर्वासना स्टोरी को इतना अधिक सराहा और मुझे मेल किए. उन्होंने मेरे सर को अपने मम्मों पर दबाते हुए मेरे कान में कहा- मेरी चुत भी चूसो न!उसी तरह से मैंने आंटी की फ्रेंड की चुत को भी चाटा और दोनों मज़ा दिया. मैंने पड़ोसन की बेटी को चोदा उसी के घर में! कैसे?दोस्तो, मैं इस साइट का बड़ा प्रशसंक हूँ.