बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,gramathu செக்ஸ்

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी लंड चूत की सेक्सी: बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ, थोड़ी देर इसी तरह अपनी चुत चोदने के बाद दीदी एकदम पागल सी हो गई थीं और अपनी गांड उठा उठा कर उंगलियां घुसा रही थीं.

ગુજરાતી ભાભી વીડીયો

मुझको इतना बड़ा ओर मोटा लंड लेने की आदत नहीं है, मेरे पति का पतला सा लंड है. ब्लू फिल्में नई नईमैं काफी पहले से सेक्स के बारे में जानता था और मुठ मारना भी शुरु कर चुका था.

खड़ा हुआ लौड़ा आम तौर पर 6 से 7 इंच लंबा हो जाता है और उसकी मोटाई भी 2. देहाती सेक्स पोर्नबिंदु ये सुनकर बहुत डर गई और बोली- मैं अभी ही तेरे साथ चले चलती हूँ मगर पहले मेरे सामने उस पिक्चर को डिलीट करो और मुझे वो फोन दिखाओ कि मुझको फंसाने के लिए उसमें कुछ और तो नहीं है.

क्या माल थी यार वो… बहुत ही धीरे धीरे और प्यार से मेरे लंड को सहला रही थी और चूस भी रही थी.बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ: मेरे लंड में तनाव आ गया था सो मैंने भाभी की टांगों को खोल कर लंड के सुपारे को उनकी चूत के मुहाने पर रख दिया और लंड को चूत पर रगड़ने लगा.

अब आगे:मैंने ब्रा को बिना खोले ही ऊपर की ओर सरका दिया, हल्के भूरे रंग का घेराव और गुलाबी आभा लिए हुए चूचुक.अब सब शर्म और तकल्लुफ एक तरफ रख दीजिएगा और बाथरूम में जाकर अपनी नेचुरल ड्रेस में मतलब की पूरी नंगी होकर आ जाइएगा.

பெங்காலி செக்ஸ்படம் - बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ

विनय- नेहा, मेरे लंड को देखोगी, जो पूरी रात तुम्हारी याद में रोता रहा है?मैं उठ कर बैठ गई और विनय की चड्डी के ऊपर से ही उसके लंड को सहलाने लगी.उसने कहा- बोलो राहुल?मैंने कहा- जब से मैंने तुम्हें देखा है, मैं तुम्हें प्यार करने लगा हूँ आई रियली लव यू स्मिता.

मेरी सारी निजी बातें उनको पता थीं और मुझे उनकी सारी बातें मालूम थीं. बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ मैंने कहा- ठीक है, रात को जब तुम्हारी बहन सो जाए, तो तुम अन्दर वाले कमरे में आ जाना.

इसके बाद उसने मुझसे बुलवाया मम्मों की घुन्डियां (निप्पलों) मम्मों की घुन्डियां…फिर बोली- पूरे कपड़े उतार कर नंगी हो जाओ.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ?

घर के मेन गेट में स्टील की जाली लगी हुई थी, जो कि ऊपर से खुली थी तो मैंने खटखटाने से पहले अन्दर झाँका तो कुछ दिखाई नहीं दिया, पर मुझे हल्की सी आवाज सुनाई दी… जैसे कोई धीरे से हंस रहा हो. अब सच में मेरी हालत बहुत खराब होने लगी, तभी मुझे लगा कि लगता है बालू से चुदवा लूं… नहीं पागल कर देंगे. मैं तुरंत नीचे गया देखा वो पूरा क्रीम पाउडर लगा कर रूम में बैठी हुई थी.

कभी कभी मॉम सोफे पे बैठी होती थीं, मैं उनकी जांघ पे हाथ रख कर बैठ जाता था तो वो मेरा हाथ हटा देती थीं. वहाँ पे बहुत सारे कैंडिडेट आए हुए थे, जब मेरा नंबर आया तो मैं अंदर जाने के लिए उठा तो उसने ऑल दी बेस्ट कहा, मैंने हँस कर थॅंक्स बोला. मेरी चुत तो भरपूर गीली थी, इस वजह से उनका लंड आसानी से मेरी चूत में अन्दर तक चला गया.

उसने झट उसे अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया और मैंने उसके कंधे पकड़ कर थोड़े से दबा दिए. मैंने तुरंत ही एक चूची के निप्पल को अपने होंठों के बीच दबा लिया और चूसने लगा. वो मेरी तरफ कुछ अजीब तरह से देखने लगी और अपना चेहरा मेरे पास लाने लगी.

मैंने जल्दी से उसे कपड़ों की बाधा दूर की और अपने कपड़े उतार कर मैं नंगा हो गया. वो मेरे पीछे आकर खड़ा हो गया।वो- चाची कोई क्रीम है क्या आपके पास?मैं- नहीं.

या अपना विचार ही बदल लिया है?मैंने जवाब दिया- क्या बताऊं अशोक जी?अशोक- फिर मैं आपकी हां समझूँ ना?मैं चुप रही, तो वो बोला कि ओके.

अम्मी धीरे धीरे मेरी ब्रा खोल के उतार दी और मेरे दोनों दूध के निप्पल को पकड़ के दबाने लगी.

करीब दस मिनट तक उसकी दोनों चूचियों को चूस चूस कर मैंने उसके मम्मे लाल कर दिए. प्रिया बेसाख्ता मुझ पर चुम्बनों की बरसात किये दे रही थी और नीचे मेरा लिंग प्रिया की योनि को बिजली की तेज़ी से मथे दे रहा था. मैं भी तुरंत उसके पीछे पहुंचा क्योंकि यदि वह भीड़ में चला गया तो मेरी मोटे ताज़े लन्ड की प्यास तो बुझ ही नहीं पायेगी.

विनय ने मेरी चूत में लंड घुसा कर मेरे होंठों पर किस किया और मेरे मुँह में अपने जीभ को डाल दिया, जिससे उसके मुँह की लार मेरे मुँह में आने लगी. फिर उस पैकेट को अपने पास रखते हुए बोली- मैं रास्ते में जाते हुए इसे फेंक दूंगी. धीरे धीरे… मेरी पसलियाँ टूट जायेंगी इतनी ताकत से तो!” बहूरानी अत्यंत कामुक स्वर में बोली और उसने मेरे चौड़े सीने में अपना मुंह छुपा लिया और वहीं चूमने लगी.

मैंने बारी बारी से नैना के दोनों मम्मों को कुछ चूसा, कभी कभी तो उसके निप्पल को अपने दांत से काट भी लेता था तो वो मेरे बाल पकड़ कर खींचने लगती थी.

वो- वेट…मैं- वेट क्यों?उसने मुझे फोन पर भी एक चुम्मा दिया और फोन कट कर दिया. ये बात तब की है, जब मैं लखनऊ में अपनी चाची के घर में था, उनके घर में तीन लोग हैं. तो उसने मुझसे कहा कि उसकी जान पहचान का एक रेस्टोरेंट है, जहां से उसने कई बार ड्रेस चेंज की है.

मैंने दीदी की चिल्लपों की परवाह न करते हुए उनके लटकते मम्मों को अपने हाथों में भरा और दीदी की गांड की धकापेल चुदाई शुरू कर दी. अब आगे:रात नींद में ही मैंने करवट ली तो किसी नर्म-गुदाज़ चीज़ से मेरा हाथ टकराया. अब मैं पूरा दिन रात का इंतज़ार करने लगा; एक एक पल मानों एक साल के बराबर था!पर जैसे तैसे मैंने पूरा दिन गुज़ारा और वो हसीन रात शुरू हुई जिसमें ना जाने मैं क्या क्या करने के ख्वाब बुन चुका था.

जिसकी वजह से उसकी 32 इंच की कठोर चुचियां ऐसे ऊपर नीचे हो रही थीं, जैसे दो पहाड़ हिल रहे हों.

फिर मेरी तरफ गिलास बढ़ा कर बोले- लो पी लो… लंड लेने में आसानी रहेगी. स्मिता एक खूबसूरत नाम ही नहीं, बल्कि एक खूबसूरती का एहसास और कामदेव का पूरे आशीर्वाद या प्रसाद थी.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ कुछ देर बाद वो बोली- जीजू प्लीज़ अब इसे डाल भी दो… काफ़ी समय से आपका लंड अपनी चूत में लेने के लिए तरस रही हूँ. मेरी क्लास में 4 मैडम और 4 सर अपने अपने सब्जेक्ट पढ़ाने के लिए आते थे.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ तो उसने पेनकिलर दी, उसे मैंने खा लिया और घर जाने के लिए अपने कपड़े पहने. उनके घर में ऐसे कोने नुमा जगहें बहुत बनी हुई थीं कि कहीं भी छुप जाओ तो दिख नहीं सकते थे.

माँ- तुम्हारी माँ की उम्र और साइज़ क्या है?मैं- 44 साल और 36डी-32-34 की साइज़ है.

चोदी चोदा सेक्सी पिक्चर हिंदी

मैं बहुत ही धीरे से ये सब कर रहा था, जैसे कि मैं कोई ट्रेंड इंसान हूँ. आप सबको धन्यवाद देता हूँ कि आप लोगों की फ्री सेक्स स्टोरीज को पढ़ पढ़ कर मुझे भी अपनी वास्तविक रूप से घटित कहानी लिखने का साहस मिला है. यह मेरी जिंदगी की पहली लिप किस थी, या यूं कहिए कि जो आज कर रही थी सब कुछ आज पहली बार ही फिजिकली कर रही थी.

दोस्तो, मैंने दीदी को दो बार चोदा और दोनों एक दूसरे को पकड़ कर सो गए. वो नहीं मान रही थीं, लेकिन तभी उनका लड़का स्कूल से आ गया और बोला- मम्मी, क्या हुआ भैया को?तो चाची बोलीं- कुछ नहीं बेटा, तुम्हारे भैया को थोड़ी चोट लग गई है. अंकल और उनके दोस्त हँसने लगे और बोले- सच में सुनीता रंडी तुम्हारी चुदाई करके बहुत मजे आए… तुम बहुत सेक्सी औरत हो… हम तीनों ने आज तक कभी भी ग्रुप में ऐसी रंडी की चुदाई नहीं की थी.

मेरी चुत पर रहम कर भोसड़ी के…मैंने उनके मुँह से गाली सुनी तो मैं भी जोश में आ गया और मैं भी उनको गाली देने लगा- आह.

इस बार अलका ने मेरे कान खींचते हुए कहा- वैसे किसी लगी सोलहवीं रानी?”मैंने जवाब में ज़ोरों से चूचे निचोड़ते हुए कहा- मदमस्त… बेहद चुदासी बदचलन रांड… तू तो मेरी जान है अलका रानी… अब से असलियत में तू अलका रानी हो गई. उसने मुझसे रास्ते में पूछा- कौन सा फ्लेवर लूँ?मैंने मुँह बनाते हुए कहा- मत लो. वो रुचिका चौधरी पर शक करने लगा क्योंकि उसके बॉयफ्रेंड को भी मेरे और नीति के बारे में ज्यादातर बातों का पता था क़ि हम लोग कैसे रूम पर साथ साथ रहते हैं.

मैंने अपना लंड उनकी मुँह की तरफ कर दिया तो उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. एक दिन भैया ने हमेशा की मुझे दारू पीने बुलाया और हम मज़े से पार्टी एन्जॉय कर रहे थे. अब दीदी हल्की हल्की आह आह की आवाज़ के साथ अपनी उंगलियों से अपनी चुत को चोदे जा रही थीं.

दोस्तो, इसके बाद तो हम दोनों ऑफिस में रूम में या जहां भी जगह मिलती, चिपक जाते और वहीं चुदाई करने लगते. मैंने रजाई हटा दी और चूत को फैला कर चाटने लगा, वो मजे से चूत चटवाने लगी, उनके मुख से ‘सीईईई… सीईए… सीएस…’ की आवाज आ रही थी.

तभी बालू बोले- ऐसी भी क्या जिद है? चलो देखता हूं, कैसे अभी रह पाओगी बिना मेरा लोड़ा घुसवाये!मैं बोली- देख लो, आजमा लो, पागल तो मुझे कर ही दिया है!उसी समय फिर एक हाथ से मेरे नंगे बूब्स दबाने लगे, एक हाथ से चूत में अपनी उंगली डाल दी, बालू को मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था. ग्राउंड फ्लोर में मेरे पापा और मम्मी रहते हैं, मेरे बड़े भैया बैंगलोर में जॉब करते हैं. क्या अहसास था वो, मैं भाभी की चुत की झलक दूर से तो पहले ही देख चुका था लेकिन पास से भाभी की सफाचट चुत देखने का मजा ही अलग था.

पीछे का इलाका उठी हुई गांड का, एकदम ऐसा लगता था कि दो मीडियम साइज़ के दो खरबूजे लगा दिए हों.

उसकी साड़ी खोलने के बाद उसने मेरे सामने ही मेरी वाइफ को पूरी नंगी कर दिया और बोला- वाह भाबी, आप तो बहुत हॉट माल हो. ”पूजा हँसते हुए बोली- मेरी जान की कल सुहागरात है तो…!!सुहानी ने तुरंत पूजा का मुँह बंद कर दिया. मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा.

वो सब मेरी तरफ आए, मेरे करीब आकर ठहरे, इतने करीब कि मैं एक लड़के की तो साँसें महसूस कर सकती थी और तभी वे मुझे देखकर पलट कर वापस चले गए. इधर मैं और नाज चुदाई में लगे हुए थे, उसकी बातों को सुन कर मैं धकाधक उसकी चुदाई किए जा रहा था और उसके जोर जोर से हिलते हुए चुचे मुझे और जोश दिला रहे थे.

फिर उन्होंने मुझे मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर एक अच्छा किस करना सिखाया. कुछ देर बाद रेखा का बदन अकड़ने लगा और एक चीख के साथ रेखा झड़ गई, पर पंकज का अभी नहीं हुआ था. तभी मेरी छाती के ऊपर हुई फ्राक को गले तक कर दिया, उसी समय मैं हाथ जीजा के पकड़ने लगी पर तब तक वह मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे दूध दबाने लगे और मेरे मुंह में अपने होठों को रगड़ने लगे.

गुजराती सेक्सी वीडियो लाइव

मैं आंटी को उलटा लेटा कर उनकी गांड में लंड डालने लगा और कुछ ही दर्द के बाद मेरा पूरा लंड आंटी की गांड में हाहाकार मचाने लगा.

मैंने उसके लंड का पानी पीते हुए उससे कहा- मैंने आज तक कभी यह रस नहीं पिया है. लंच के बाद मैं अपने काम में लग गई मगर दिमाग में हर पल किसी लड़के का पूरा खड़ा लंड मेरी चुत में जाता हुआ दिखाई देता रहा. उसी समय मेरे पति को सर्दी और बुखार हो गया, इस वजह से उन्होंने और मैंने सेक्स से थोड़ा दूरी बना ली.

मैंने उनकी चुत का नमकीन पानी गटक लिया और भाभी की पकड़ ढीली पड़ने लगी. क्योंकि अब मैं छूट चुकी थी तो मैं सुबह रोज़ की तरह से अपने दफ़्तर गई और वहाँ एमडी से मिली. एक्स हम स्टारवो बोली- तुम भी अपना शर्ट उतारो ना… नंगे जिस्म से चिपकाने में मजा आयेगा.

जब तक उनको अंदाज़ा हो कि क्या हुआ, उससे पहले ही बर्फ का टुकड़ा उनकी चूत की गहराई में उतर गया. जिसके पीछे कॉलेज के सभी लड़के पड़े रहते थे, पर ये अपनी नजरें भी ऊपर नहीं करती थी। खुद मैं भी इसे पटाने की सोचता था। मैं ये भी नहीं जानता कि वो मुझे पहचानेगी भी या नहीं। क्योंकि वो कक्षा के किसी लड़के से बात तो दूर.

यह सुन कर वो बोला- अगर आप मेरी कोई सहायता करना चाहती हैं तो मेरी बहन बन कर कर सकती हैं. वो बोली- जो मैं तुम्हें पैसे दे रही हूँ वो सब मेरी चुदाई के या किसी को चुदवा कर उसकी चुदाई की कमिशन हैं. थोड़ी देर में डिम्पल झड़ गई और मेरा भी झड़ने वाला था तो मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मुठ मार कर बाहर झर गया.

मैं भी पूरा वादा करती हूँ कि जब तुम्हारी शादी हो जाएगी, तब से मैं किसी दूसरे आदमी से चुदने की बात नहीं सोचूँगी. वहां के होटल ढाबे की तरह थे और सब लड़के लड़कियां छोटे छोटे कपड़ों में लेटे थे, घूम रहे थे. प्रिया जिन शारीरिक अहसासों से अभी नयी नयी दो चार हो रही थी, वो सब मेरे बरसों के जाने पहचाने थे.

थोड़ी देर बाद दीदी अपने एक हाथ से अपने एक पैर को पकड़ कर फैलाने लगीं ताकि चुत थोड़ी और खुल जाए और दूसरे हाथ से दोबारा करेले को पकड़ सीत्कारियां लेते हुए उसको अपनी चुत में अन्दर बाहर पेलने लगीं ‘ओह फ़क… ओ माय गॉड… आह आह ओह…’थोड़ी ही देर में दीदी की हाथों की रफ़्तार मशीन की तरह बढ़ गई थी और दीदी चेयर की पीछे की ओर गर्दन झुकाये हुए चिल्लाते हुए अपनी चुत चोदे जा रही थीं.

पर अब तक मैं यह भी समझ चुका था कि वो नाटक कर रही है और उसे इस खेल का पूरा मजा आ रहा है. विनय- नेहा तुम तो चुदी हुई हो फिर भी दर्द हुआ? बॉस तो तुमको हमेशा चोदते हैं ना?मैं- हां… पर बॉस ने काफी दिनों से मेरी चूत नहीं मारी.

वो थोड़ा सा चिल्लाई और आगे को भी सरक गई लेकिन मैंने उसकी कमर को सख्ती से पकड़ रखा था और बिना रुके तेज तेज चोदने लगा. लेकिन फिर सोचती कि शायद उसका दिल साफ होगा इसलिए वो मेरे लिए कुछ नहीं सोचता है. भाभी मुझसे कहने लगीं- मुंदे लंड, मेरी प्यास बुझाएगा भोसड़ी के!मैंने कहा- साली रंडी, सब कुछ करूँगा लेकिन पहले अपना माल दिखा, भैनचोदी.

तो आपकी कहानी‘सुहाग रात का असली मजा’ मिली और यह कहानी मुझे अपनी जैसी लगी। आप फरीदाबाद के पास के हो, ये जानकर मैं खुश हो गई और आपसे बात करने की सोची। फिर सोचा कि पहले आपकी भाभी से बात करूँगी। इसके दो कारण थे एक तो वो मेरी परेशानी को अच्छे से समझ लेतीं, क्योंकि उनके भी साथ वही हुआ था. एक बार क्रिकेट खेलते वक़्त उसके हाथ को चोट लग गई, इसके कारण उसके हाथ को प्लास्टर तक करवाना पड़ा. इसलिए मैंने कहा- कल रात को।तभी उन्होंने अपनी पैन्ट उतार कर मुझे अपना लंड दिखा दिया, वो बहुत ही बड़ा था और लंबा भी था।वो मुझे अपना लौड़ा दिखा कर चले गए, मैं सोचने लगी कि इतना बड़ा कैसे ले पाऊँगी।मैंने एक कमरे में जाकर अपनी सलवार नीचे की.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ मेरे दोस्त ने मेरी वाइफ को पूरी रात में चार बार चोदा और मेरी बीवी की हालत बुरी कर दी. अलका रानी मेरे बग़ल में लेट गई और बड़े प्यार से मेरे बालों में उंगलियाँ घुमाने लगी.

ओके सेक्सी फोटो

मेरे पति से लेने को कहते हैं, फिर बाद में मयूर को उनका हिस्सा दे देते हैं. उनके पति यानि मेरे चाचा दिन में काम पर होते थे और उनका लड़का राहुल स्कूल चला जाता था. फिर मैंने आंटी को अपनी ओर खींचते हुए कहा- आंटी, दो साल से आपसे प्यार पाने की राह देख रहा हूँ.

उसने दूसरी बार झड़ने के बाद दो पैग दारू के लगा कर तीसरी बार भी मुझे पेला. कमरे में पूरा सन्नाटा छाया हुआ था। मैंने एक लंबी साँस ली और एकदम सावधान सी हो गई।उसने थोड़ा सा और धक्का लगाया. सनी लियोन के सेक्सी वीडियो फुल एचडीफिर मां की चूत पर थूक लगाकर अंकल के एक दोस्त मां की चूत में अपना लंड घुसाने लगे.

उसकी जांघ और गांड गुब्बारे जैसी लचकदार है, पर उसके उभार बिल्कुल भी निकले हुए नहीं है.

चौथे दिन वह आई तो बात करते वक्त मैंने अपना हाथ अचानक उसके कंधे पर रख दिया, उसने कुछ प्रतिक्रिया नहीं की. उन्होंने भी मुझे रंगते हुए मेरी चूचियों को मसल दिया तथा हाथ डालकर सहला भी दिया.

तो मैंने कहा- आपने मुझे ही इस काम के लिए क्यों चुना?वो बोली- तुम्हारी बातों से विश्वास झलकता है तभी चुना. उस वक्त उसके एक्स बॉयफ्रेंड ने फोन करना स्टार्ट कर दिया और कालेज छोड़ने का दबाव बनाने लगा. कि मैं तुम्हें अपनी गांड का मज़ा देती हूँ।वो- नहीं बताऊँगा।मैंने उसका लंड अपने हाथ में पकड़ लिया.

इसी तरह से हम दोनों ने बहुत दिन तक एंजाय किया पर किसी बंधन में न बंधने की कसम खा ली, हम सिर्फ़ चुदाई का मजा लूटने के लिए एक दूसरे का साथ देने लगे.

मेरा नाम मैं बताना नहीं चाहता, आप मुझे बस वर्मा जी के नाम से जान लो. मैंने धीरे धीरे उसकी ब्रा को अलग किया तो उसके दोनों मम्मे उछल कर बाहर आ गए. मैं- तो मैं पूछ रहा था कि तुमको मर्द के शरीर का कौन सा हिस्सा पसंद है?स्वाति- अरे… इसमें पूछने वाली क्या बात है… मेरे जैसे जवान और सेक्सी लड़की को आप जैसे जवान मर्द में सबसे ज्यादा क्या पसंद आयेगा? बेशक आपक लिंग। मुझे लगता है कि यह काफी बड़ा और मजबूत है.

रसीली चुतमैंने अपनी पेंट से कंडोम का पैकेट निकाला और चढ़ाने लगा तो आंटी बोलीं- ये किसलिए?मैंने कहा कि कहीं आप प्रेग्नेंट हो गई तो?वो बोलीं- तब तो और अच्छा है वैसे भी मेरे हज्बेंड में इतनी दम नहीं थी जो मैं प्रेग्नेंट होती. दोनों हाथों से मैंने उसकी कमर तो थोड़ा सा उठाया और उस मखमली गोरे दूध जैसे सफ़ेद पेट पर किस करने लगा.

सेक्सी देसी रोमांटिक

एक शाम 8 बजे की शिफ्ट ख़त्म करके मैं लॉज पे निकला, तो मुझे गाड़ी की हॉर्न सुनाई दिया. साले ने कोई जवाब ही नहीं दिया… मैंने भी दिल को तसल्ली देते हुए मन ही मन कहा- हाँ नहीं की है लेकिन ना भी तो नहीं की है… उम्मीद अभी बाकी है…यही सोचते हुए मैं वार्ड के बाहर उसका इंतज़ार करने लगा. 5 इंच मोटा काला लंड बाहर आ गया, जिसे वो मेरी साली की चूत पे सैट करने लगा.

तभी वो बोली– यार ज़रा मेरे निप्पल चूसो ना!मैंने उसका एक निप्पल मुख में लिया और चूसने लगा, दूसरी चुची को मैंने हाथ में दबोच लिया और से जोर जोर से मसलने लगा. मैं अब तुम्हें आज के बाद कुछ नहीं कहूँगी सिवाए अपने पैसे माँगने के. मैं- वाह… उस दिन आपकी मेरे लिए क्या प्लानिंग है?माँ- कल तुम माँ के लिए एक सुंदर सी ब्रा पेंटी और एक नाईट गाउन खरीदोगे और उनको अपने हाथ से लिखी एक चिट्ठी के साथ गिफ्ट करोगे.

यह बात आज से कुछ समय पूर्व की है, जब मैं बारहवीं कक्षा में था और महक ग्यारहवीं कक्षा में पढ़ रही थी. अब तक आपने मेरी इस लव एंड इन्सेस्ट सेक्स स्टोरीबड़ी बहन से वासना भरा प्यारमें पढ़ा था कि मैंने किस तरह अपनी बहन से अपनी मुहब्बत का इजहार किया था और उसके न मानने पर खुद का एक्सिडेंट करवा लिया था. विवेक उत्तेजना से झूम गया, वो सीधी टांगें फैला कर लेट गया, कामिनी ने अभी उसके लंड को 8-10 बार ही चूसा होगा कि उसने कामिनी को अपने ऊपर खींच लिया.

शायद उसकी आँखों में अपनी पहली चुदाई का मंजर घूम गया और उसको अपनी चुत की झिल्ली टूटने पर हुआ दर्द याद आ गया. पहले तो भाईसाहब ने मना कर दिया, पर बाद में बोले कि आप चलिए मैं आता हूँ.

कई बार उसकी उँगलियों ने अण्डों और गांड के बीच के मुलायम भाग को दबाया, जिससे मज़े से मेरी किलकारियां निकल गयी; सी सी करता हुआ मैं झड़ने के क़रीब जाने लगा; उसका सिर पकड़ कर जो मैंने चार तगड़े धक्के मारे हैं तो लंड धम्म से झड़ा.

अब उसके गाल और नेक पर किस करते करते मैंने उसे लिप किस करना शुरू किया. हिंदी फिल्म xxxमेरी एक बहन स्वाति की चुदाई की कहानीअपनी चालू बहन को चोदाआप पहले ही पढ़ चुके हैं. এক্স এক্স বাংলা মুভিचाची मेरे लंड को बड़ी लालसा वासना से निहार कर बोलीं- सच में अब तुम बच्चे नहीं रहे… जवान हो गए हो. एक मिनट बाद जब आंटी बाहर आईं तब मैंने ध्यान से देखा कि वास्तव में आंटी कुछ परेशानी में दिख रही थीं.

वहां बड़े बड़े पटाखे यानि औरतें लड़कियां अपना इलाज कराने के लिए आती हैं.

अब जैसे ही उसकी सिसकारी कम हुई, तो मैंने झट से लंड निकाल कर उसकी गांड में घुसा दिया. ”मैंने पंखा ऑफ किया, फिर उसकी दोनों गोरी गोरी टांगों के बीच में बैठ कर बालों को साफ करने लगा. यह सुन कर वो बोला- अगर आप मेरी कोई सहायता करना चाहती हैं तो मेरी बहन बन कर कर सकती हैं.

बाहर एक बच्चे को दिखाते हुए बोली- ये मेरा छोटा बेटा है, बड़ा दिल्ली में है, वो नहीं आया. उसने मुँह को हटाने का प्रयास किया, पर मैंने उसका मुँह पकड़ कर सारा का सारा माल उसके मुँह में डाल दिया. वो बोली- तुमने जो मुझे दिया है वो अनमोल है, उसके हिसाब से तो ये बहुत कम हैं.

ब्लू सेक्सी पिक्चर एक्स एक्स एक्स

शायद इस जन्म में मुलाकात हो ना हो…’पूरी रात हमने जमकर हॉट सेक्स किया. वहां मैं किसी को जानता नहीं था तो में आखिरी पंक्ति में एक कुर्सी पर बैठ गया और सेमीनार शुरू होने की प्रतीक्षा कर रहा था. मैंने उससे कहा कि क्या वो मुझे बाहर लेकर जाएगी?यह सुन कर उसने कहा कि उसके लिए पहले वो मुझसे मिलना चाहेगी.

मेरी उम्र का भी वहां औऱ कोई लड़का नहीं था, तो मेरा भी सारा टाइम कंचन के साथ ही बीत जाता था.

उसने नोट्स देखे और बोला- इसमें परसों वाले एग्जाम के नोट्स तो है ही नहीं.

शादी से पहले हमारी काम वाली के लड़के ने मेरी कुंवारी गांड मारी, फिर मेरी शादी के बाद मैं अपनी ससुराल से अपने भतीजे (पति के भतीजे, जेठ के लड़के) के साथ अपने पति के पास जा रही थी और रास्ते में एक होटल में उसने मुझको गांड मरवाने के लिए राजी कर लिया।अब आगे. शालिनी ने सरगोशी से पूछा- राजेश, तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है या नहीं?मैंने कहा- नहीं शालिनी, तुम जैसी कोई मिली ही नहीं. हिंदी में चुदाई पिक्चर’ निकला… उसने अपना गरम पानी मेरी गांड के अन्दर निकालना शुरू कर दिया।मुझे तो एकदम बहुत दर्द हुआ.

मैंने थोड़े झाके जोर जोर से उसकी चूत में लगाए और हम दोनों एक साथ स्खलित हो गए. अन्दर तो पता नहीं क्या हुआ होगा… लेकिन हम अनुमान लगा सकते हैं कि उस लड़के ने फटाफट अपनी पेंट पहनी होगी और जल्दी से दूसरे दरवाजे से बाहर निकल गया होगा. रोशनी ने कहा- ये चूत का पिक्चर सही से नहीं बनाया है, यहाँ दो नाम दिए हैं.

इसके बाद उन तीनों ने बारी बारी से मां के होंठों का चुंबन किया और घर आने के लिए निकल गए. उधर मेरी साली भी यह सुन कर हंसने लगी और बोली- तुम्हें तो बस यही चाहिए.

मैंने बोला- बस इतने में ही?तो भाभी बोलीं- हां काफ़ी साल बाद पी है तो एकदम से सिर घूमने लगा.

वो काफी हॉट कपड़े पहन के जाती और उस जैसी पटाका आइटम को देख मर्द आहें भरा करते. दिव्या ने खुद से अपनी टाँगें चौड़ी की और मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत पर लगाया और मुझे धक्का मारने के लिए कहा. फिर जब मैंने उनसे जोर देकर और अपनापन दिखाते हुए कुछ बताने पर जोर दिया.

गर्ल वॉलपेपर डाउनलोड जब दीदी बेसुध पड़ी रहीं तो धीरे से अपने हाथों को पजामे से बाहर निकाल लिया. उधर अब्बू का लन्ड अम्मी के मुंह में था और वो लपलप कर के लन्ड को चूसे जा रही थी.

अब मैं और नीचे उनकी चूत तक आ गया और उनकी चूत को अपनी गीली जीभ से लप लप चाटने लगा. मैंने जल्दी से वहीं पानी पिया और उसको अपनी गोदी में उठा के बेडरूम में लाकर बिस्तर पर पटक दिया. हम तीनों जमीन पर पलंग के पास बैठ गए फिर मैंने रोशनी और पिंकी दोनों की जाँघों को पकड़ कर अपनी तरफ खींचा, उनके घुटनों को मोड़ कर पैर जमीन पर रख दिए.

सेक्सी वीडियो बताइए जल्दी

मैंने उसे बिस्तर पर लिटाया और अपनी पैन्ट और जांघिया उतार कर मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसका एक पैर ऊपर किया, दूसरा पैर सीधा करके लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा. मैंने ये सोच कर कोई रिप्लाई नहीं किया कि पता नहीं किसी का यूं फ़ालतू का फोन होगा. ये लड़की नहीं, देवी है देवी…!उनको मेरे हाथ का खाना बहुत पसंद आता है.

मैंने और फिर जोश में आकर उसके कानों के पतले भाग को धीरे धीरे चूमना शुरू किया और साथ ही में मैंने अपने हाथों को उसके गले और मम्मों पर धीरे धीरे चलाना शुरू कर दिया. तभी नवीन कपड़ा लेकर आया- मालकिन आपके पैरों से पानी पोंछ दूँ?मॉम ने मुस्कुराते हुए कहा- रहने दे नवीन अच्छा लग रहा है.

फिर मैं उसकी लेग्गिंग्स को धीरे से खींचने लगा तो उसमें मुझे उसकी रजामंदी बिल्कुल साफ़ समझ आ गई क्यूंकि उसने अपने कूल्हे उठाकर लेंगिंग्स निकालने में मदद की.

लेकिन कुछ देर बाद मैंने घर जाने की जिद की और ताई जी से घर की चबी मांगी, तो ताई मुझे चाबी देने के लिए मान गई पर शरारत न करने की सलाह देकर चाभी दे दी. अब हम 69 पोजीशन में थे, भाभी चूत से पानी बराबर निकल रहा था, मैं मजे से चूत चाट रहा था और भाभी मेरा लंड चूस रही थी. मेरे झड़ने के बाद भी परीक्षित मेरी चूत को चाटते रहे और फिर से मेरी चूत का पानी भी पी गए.

आपने मेरी कहानियांगरम माल दीदी और उनकी चुदासी चूत-1बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग :गरम माल दीदी और उनकी चुदासी चूत-2को पढ़ा और उनको सराहा, इसके लिए धन्यवाद. यह सुन कर उसकी जान में जान आ गई और वो हाथ जोड़ता हुआ बोला- आपने इस मुसीबत की घड़ी में जो मेरे लिए किया है, उसे मैं जिंदगी भर नहीं भूलूंगा, क्योंकि यह नौकरी आप नहीं समझ सकती कि मेरे लिए क्या मायने रखती है. वो जैसे ही चर्च से बाहर निकला, मैं ऐसे उसके पास चली गई, जैसे यह कोई इत्तेफाक हो.

मैं अन्दर ही अन्दर बहुत खुश हो गया और हम दोनों चाची के रूम में चले गए.

बीएफ फिल्म वीडियो बीएफ बीएफ: जब मुझे लगा कि माँ सो गई हैं, तो मैं पलट गया और मैंने उनके पैर के ऊपर अपना पैर रख दिया. मेरी आवाज ही बंद गई थी, मैं चिल्ला भी नहीं पा रही थी, पता नहीं क्या हो गया था.

यह सुन कर वो बोला- अगर आप मेरी कोई सहायता करना चाहती हैं तो मेरी बहन बन कर कर सकती हैं. जाने के क्रम में हम, भाभी, उनकी बहू, बेटी तथा देवर मारुति कार से, तो भाई साहब स्कूटी से हॉल पहुँचे. मेरा बुरा हाल हो चुका था, मैं सिर्फ अपने लंड पर हाथ रख कर मदहोश होकर ये सब देख रहा था, मेरी अकल ने काम करना बंद कर दिया था.

मैं विनय की बातों से उत्तेजित होने लगी और मैंने देखा विनय का लंड भी वासना से खड़ा हो गया है.

मैंने उससे कहा- कंचन, हमने अभी अभी जो कुछ भी किया, ये बात किसी को भी मत बताना. फिर मैंने उसके होंठों को बाईट किया तो उसके मुँह से हल्की से चीख निकल गई. उस दिन वो और मैं दोनों ऑफिस से लगभग 7 बजे निकले, बाद में हमने बाहर से कुछ ख़ाने के लिए ले लिया और मैंने अपने लिए दो बियर ले लीं.