फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी

छवि स्रोत,बीएफ दिलवाले

तस्वीर का शीर्षक ,

फिल्म सेक्सी चोदा चोदी: फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी, मैंने कहा- साली रंडी, कहीं तूने उसके लंड को तो अपने मुँह में नहीं ले लिया?वो बोली- नहीं यार … वो तो सिर्फ मेरी बहन हिना को चोदता है और उसी की गांड मारता है.

www.com हिंदी बीएफ वीडियो

मैंने उन उछलते कबूतरों को मुट्ठियों में दबोच लिया और अपना सिर उठा कर उन्हें बारी बारी से चूसने लगा. बीएफ फिल्म दीजिए हिंदी मेंबिखरे हुए बाल, सपाट माथे पर पसीने की कुछ बूँदें, शांत आँखें, कुछ जोर से चूमने से लाल हो चुके गाल और होंठ पर मंद मुस्कान।उसके चहेरे पर सम्पूर्ण संतुष्टि के ऐसे भाव थे जो उसे अब अपने पति(मौसा जी) से कभी नहीं मिलने वाले थे।मैंने अपने लौड़े से चूत के अंदर खटखटा कर उसकी तन्द्रा भंग की.

तो मैंने भाभी से कहा- आज डिनर यहीं कर लेते हैं, वैसे भी मैं बहुत दिन बाद आज मुझे खाना बनाने का मन भी नहीं कर रहा है. बीएफ सेक्सी दिवालीमैं- अरे जान … अब तुम्हें दर्द नहीं … मज़ा आयेगा … एक बार नीचे देखो … कैसे तुम्हारी चूत को मेरे लंड ने फैला दिया है और अब वो उसको जन्नत दिखायेगा.

बड़ा ही सेक्सी पल था वो!मैंने एक ही झटके में उसको पकड़ कर अपने ऊपर खींचा और उसके पिंक होंठों को चूसने लगा.फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी: थोड़ी देर में मिहिका की चूत ने मेरा लंड जकड़ लिया और उसने लम्बी मस्ती भरी आवाज निकाली- आंह आहह … मार दिया साले ने … आंहह ऊंहहह.

निखिल ने मीरा को उठाया और उसे बेड पर चित लिटा कर उसकी चूत चाटने लगा.मैं नहीं चाहता कि मैं अपनी प्यारी भाभी के अलावा किसी और को चोदूं … प्लीज भाभी.

बीएफ बीएफ सेक्स मूवी - फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी

अब वो मेरे लंड को ऐसे ही अपने पूरे मुँह में अन्दर तक लेती और बाहर निकालती.उसका लिंक नीचे दे रहा हूँ, प्लीज़ एक बार फिर से उस सेक्स कहानी का मजा भी ले लीजिएगा.

थोड़ी देर बाद मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया और मुझे बहुत ज़्यादा मज़ा आया. फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी मैं धीरे धीरे उंगली करने लगा।अब उसने मेरे लौड़े को बाहर निकाल लिया और हिलाने लगी।फिर उसने मेरे कपड़े उतार दिए और दोनों नंगे हो गए।अब दोनों को नशा होने लगा.

मैं बहार के करीब गया और उसका हाथ पकड़कर कहा- ईश्वर की यही इच्छा है कि दोनों बहनें एक साथ रहें तो इसमें हर्ज क्या है.

फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी?

रियल लाइफ सेक्स पहली बार होने के कारण मेरा सारा का सारा माल भाभी के मुंह पर गिर गया था. जब जब वो अपने मजबूत चूतड़ों के दबाव से मेरी चूत में धक्के मार रहे थे, तो मेरी बच्चेदानी सहम कर रह जाती थी. मगर मैंने कुछ भी जवाब न देते हुए उसकी चूत में लिक्विड चॉकलेट भर दिया.

बहूरानी का बैग मैंने उनकी कोच में चढ़ा दिया और उसे उसकी बर्थ पर बैठा दिया. थोड़ी देर के लिए आता था और बिना किसी से मिले कागजों पर साइन करके निकल जाता था. अचानक कृति के मुँह से मेरे होंठ हट गए और उसकी दर्द भरी आवाज़ से वे दोनों सिहर गईं.

गुरुत्वाकर्षण की मदद से वो नीचे को हुई और पहली ही बार में मेरा लंड 4 इंच तक चुत के अन्दर चला गया. सच तो ये था कि मैंने भी कभी किस नहीं की थी और ना ही किसी लड़की को टच किया था. अब तो आलम ये हो चला था कि वो पर्सनली मुझे अपनी हॉट इमेज भेजने लग गयी थीं और मैं खुल कर उनकी तारीफें किया करता था.

खाने के दौरान ही हमने रिवरफ्रंट पर घूमने का तय किया और खाने के बाद सीधे वहीं चले गए. वो मालिश समझ कर मजे ले रही थी जबकि मैं अपनी गिद्ध दृष्टि उसकी गुलाबी गोरी गांड पर लगाए हुए था.

आप अपने कमेंट्स, अपनी प्रतिक्रिया मेरी नीचे लिखी ईमेल आईडी पर भेज सकते हैं.

चूचियों और होंठों से खेलने में मैं इतना आनन्दित महसूस कर रहा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि गीत ने मेरी पैंट और शर्ट को कब निकाल दिया.

छह महीने से तड़प रही हूँ, इन्टरनेट पर ब्लू फिल्म्स देख देखकर आपके इन्तजार में यह तंदूर की तरह तप रही है. तो मैंने लंड को उसके गले में बहुत अंदर तक फंसा दिया।मुझे लगा कि लंड में से कुछ निकलने को है … तो मैंने अपने धक्के रोक दिये. मामी जी ने कामुक नजरों से मुझे देखा और बोलीं- ओहो राहुल … मैं आपका कब से इंतजार कर रही थी.

मैंने बिना रुके तीसरी बार में अपना पूरा लौड़ा कमसिन चुत के अन्दर घुसा दिया. थोड़ी देर बाद चाची सिसयाने लगीं- आहहह इस्स आह आह ऊऊ आआ आअह्ह!मैंने चाची के मम्मों को निचोड़ना शुरू कर दिया और चुदाई की स्पीड बढ़ा दी. कभी कभी तो मैं उसकी कमर में हाथ डाल देता हूँ, पर तब भी वह कुछ नहीं कहती है.

तो दोस्तो, आपको ये सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज मेल करके जरूर बताएं.

अब हम दोनों की सिसकारियां तेज़ हो गईं और आहह आहहह आहह करके पूरा कमरा गूंजने लगा. नीचे से वह मेरे जिस्म को चूम रहा था, मेरे मम्मों को अपने मुँह में लेकर उन्हें चूसे ही जा रहा था, छोड़ ही नहीं रहा था. मां की चीख निकल गयी पर मैंने मां को पकड़े रखा और धक्के मारना चालू कर दिया.

फिर उसने उठकर अपनी दोनों टांगें चौड़ी की और आईने में दिखाते हुए मुझसे बोली- ये क्या किया … तुमने मेरी छोटी चुत का भोसड़ा बना दिया और गांड भी देख … साला गड्डा सा खोद दिया. क्या बताऊं दोस्तों वो ब्रा और पैंटी की पिक धीरे धीरे कब ट्रांपेरेन्ट ब्रा और पैंटी में बदल गयी और न जाने कब दीदी के पिक एकदम न्यूड पिक में बदल गए, पता ही नहीं चला. मैं कुछ कहता कि अचानक से उसने पूछा- तेरी नजर में कोई लड़का है, जो एक औरत को खुश कर सके?तो मैंने तपाक से बोला- मैं तो हूँ भाई … नेकी और पूछ पूछ, मैं कब काम आऊंगा!उसने मुझे कहा- हां तेरा लंड तो मैंने देखा है … सही है चल तू ही आ जा.

उसके सोते ही मैं उस कमरे में अन्दर आ गयी और सीधे लेटे हुए शहज़ाद का लंड चूसने लगी.

वो लड़का मेरे बदन पर धीरे-धीरे किस करते हुए मेरी नाभि तक चला गया; मेरे सारे जिस्म को चूमने और चाटने लगा. इस बार वो बहुत जोर से चिल्लाने को हुई लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा और गुस्से में आकर दो मिनट तक बहुत जोर जोर से चोदने लगा.

फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी अब भाभी के जीने का सहारा मात्र उनका बच्चा रह गया था जो अब 9 साल का हो गया था. ”नशीली अदाओं के साथ बहार मेरी तरफ बढ़ी और मुझसे करीब करीब चिपकते हुए मेरा टॉवल खींचकर मेरे लण्ड पर हाथ दिया.

फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी कुछ देर बाद मैंने धक्के लगाना चालू किए, तो अब उसकी चीखें सिसकारियों में बदल उठीं और कमरे में गूंजने लगी थीं. मैंने उसे पीछे से पकड़ा हुआ था तो वह मेरा चेहरा नहीं देख पा रही थी.

मैंने उसकी गर्दन में चुंबन करना शुरू कर दिया; साथ ही साथ उसके औसत साइज के मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही दबाना शुरू कर दिया.

गांव की देसी लड़कियां

वो वासना में मस्त थीं और मुझे गाली देते हुए चुदाई का मजा ले रही थीं. आप सब जानते हैं कि कोरोना चल रहा है इसलिए बाहर का लंड लेने में डर लगता है. उसी दौरान उसने मेरे लोअर में हाथ डालकर मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

वहां से मैंने खिड़की से चुपके से झांका तो देखा दरवाजे के की-होल से भाभी अन्दर हमारी चुदाई देख रही थीं. उफ्फ … अब और मत सताओ पापा; प्लीज … मेरे भीतर समा जाओ न अब तो!” बहूरानी ने अपनी एड़ियां मेरी पीठ पर ऊपर की ओर रगड़ते हुए कहा जैसे वो अपने पैरों से ही मुझे ऊपर की ओर खींच लेंगी. डैड ने मेरे मॉम की सुहागसेज सजाई और हम सब सुहागसेज के सामने खड़े हो गए.

कुछ देर बाद वो मेरे नीचे आ गई और मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चूसने लगी.

दोस्तो, आपको सेक्सी लड़की की चुदाई कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करके बताएं. आज की इस सेक्स कहानी के माध्यम से मैं आपका वह भी बताने वाला हूं, जिससे आपके लंड से इतना वीर्य निकलेगा कि आपने सोचा भी नहीं होगा. हम दोनों सीधे बेडरूम में आ गए और फिर से एक दूसरे के मुँह में जीभ डाल कर किस करने लगे.

चाची- नहीं, मुझे देना … मैं धो दूँगी … आज तेरी बहन कपड़े धोने वाली है. परन्तु भाई थके होने के कारण उनसे सोने के लिए कह रहे थे।गुस्से में भाभी फिर कमरे से बाहर आ गई और रसोई में जाकर पानी पीने लगी. नेहा- तू ही चुदवा अपने भाई से … अगर मुझे चुदवाना होगा तो मैं अपने घर में अपने भाई चिराग से चुद लूंगी.

करवट लेने से मेरी चूचियां ब्लाउज के ऊपर से आधी से ज़्यादा बाहर निकल आई थीं. शहजाद ने उसे भी अन्दर आने का इशारा किया और उस दिन शहजाद ने मेरी दोनों बेटियों की चुत की सील तोड़ दी.

जब आप किसी पोर्न फिल्म को देखते हैं तो उसमें लंड चुत दोनों ही एकदम साफ़ दिखाई देते हैं. मैं घर में गया तो देखा कि रमेश और दीदी फोटो सेशन चला रहे थे और रूम का दरवाजा लॉक था. मैंने एक बार फिर से प्रभा के होंठों पर अपने होंठ रखकर जोश के साथ उसकी बुर में धक्का दे मारा.

इसका पता मुझे इस बात से चला कि ज़्यादा ज़रूरत न होने पर भी वो तेज़ तेज़ ब्रेक लगा रहे थे और जानबूझ कर गड्ढों में गाड़ी उतार रहे थे.

उसके बाद लंड को चूत पर सैट करके अमित ने एक जोरदार झटका दे मारा और एक बार में ही अपना पूरा लंड चुत के अन्दर ठांस दिया. शीना भी लन्ड मुंह से बाहर निकाल कर एक लंबी सिसकारी भरती और बदले में मेरे लन्ड पर अपने दांत गड़ा देती. वो अपनी गांड उठाती हुई ‘ओह फ़क फ़क हार्ड आह …’ की मादक आवाजें कुछ ज्यादा तेज स्वर में निकालने लगी.

जैसे ही वो जाने के लिए मुड़ी, मैंने उसे हाथ पकड़ कर सीधा अपने पास खींच लिया. कब से तेरी चूत चाटने को नहीं मिली … इस बार सोचा था कि सारे अरमान पूरे कर लूंगा पर … पर, चलो बेटा जाने दो; फिर कभी देखेंगे.

दूसरे दिन सुबह सुबह वो बाहर चले गए और उस दिन मैंने मेरी दोनों छोटी बेटियों को रोक लिया. प्रभा- मैं उस समय तुम्हारा दर्द सह लूंगी … और तुम्हें अपने बच्चे का पापा भी बना दूँगी. फिर जब जीजाजी नाईट डयूटी में जाते थे तो मैं दीदी के कमरे में जाने लगा था.

सेक्स नंगी फोटो

मेरे इम्तिहान आ गए और इम्तिहान के बाद मैं छुट्टियां भी अच्छे से गुज़र गईं पर उस वक्त चाची को लेकर कुछ ज़्यादा हलचल नहीं हुई.

मैंने भी मां से और कुछ नहीं बोला और चुपचाप खाना खाकर, बाहर टहलने निकल गया. इस सेक्स कहानी को पढ़ कर अगर आप लोगों को पता चल जाए तो मुझे भी बताइएगा. अभय- ओके … पर क्या तुम जानती हो एक भाई बहन कभी दोस्त नहीं होते?ममता- अगर हम बन जाएं तो?अभय- ठीक है.

कुछ देर में बरखा ने अपनी आँखें बंद कर लीं तो मैं उसकी बुर सहलाने लगा. कुछ मिनट तक ये धार टपकती रही और धीरे धीरे करके मैं भाभी की चुत का पूरा चुतामृत ग्रहण कर गया. बीएफ सेक्सी मूवी हिंदी वीडियोउसने मुझसे पूछा- क्या तुमने अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ सेक्स किया था?मैंने उसे बताया कि हां किया है, लेकिन वो बस मुझे भोगना चाहता था.

इससे मैं समझ गया कि मां सोयी नहीं हैं और ये सब मां को पंसद आ रहा है. आयुषी ने अपनी गांड मेरे मुँह पर रख दी और हम 69 पोजीशन में एक दूसरे के गुप्तांगों को चाटने लगे थे.

वो भी गांड को बराबर से आगे पीछे करने लगी और हम दोनों चुदाई का पूरा मज़ा लेने लगे थे।अब मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर झुका दिया और पीछे से गांड में पेलने लगा. उसकी मजबूत बांहों में आकर मैंने पकड़ ढीली कर दी और उसने मेरे तपते होंठों पर होंठ टिका दिए. मैंने फ़लक को एक कागज और पेन दिया और कहा- मैं कुछ बोलूँगा, वह आप लिखती जाओ.

मेरे अन्दर आते ही उन्होंने दरवाज़ा बन्द कर दिया और उन तीनों मेरे साथ सामूहिक सेक्स किया. दोस्तो, ये मेरी काल्पनिक क्वीन सेक्स कहानी आपको कैसी लगी … कृपया अपने विचार मेल द्वारा लिखें. उन भाभी ने एकदम से मेरा चेहरा पकड़ कर मुझे लिपकिस करना शुरू कर दिया.

जैसे ही वे दोनों मेरे रूम में दाखिल हुई, रूम फ़लक के पर्फ्यूम और हुश्न से महक उठा.

मैंने देर न करते हुए अपना लंड प्रभा की चूत की दरार पर रखा और लंड बुर में पेलने से पहले एक बार उससे पूछ लेना ठीक समझा. कई बार तो दिन में ही मौका मिलते ही हम दोनों चुदाई शुरू कर देते हैं.

इस चूत में लंड सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको डॉक्टर के साथ मेरी चुत चुदाई की कहानी का लुत्फ़ मिलेगा. गन्दी भाभी की सेक्स कहानी में पढ़ें कि ओरल सेक्स के बाद भाभी ने अपनी चूत मेरे होंठों पर रख दी और बोली कि अब मेरा अमृत रस पीयो. सच बात तो यह है दोस्तो … कि हम दोनों बारहवीं कक्षा से लेकर आज तक एक दूसरे से बेइंतेहा प्यार करते आए हैं.

करीब 5 मिनट बाद मैंने उसकी चूत अपने वीर्य से भर दी और हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर आराम करने लगे. जानती है क्यों?ममता- नहीं जानती … क्यों?अभय- देख अगर तू बाहर कोई बीएफ बनाती है और उससे चुदाई करती है, तो सबसे पहले बदनामी का डर … और पकड़े जाने का खतरा. मैं ये सवाल करते समय ऊपर से नीचे उसके जिस्म को चोदने वाली नजर से देख रहा था.

फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी तो मित्रो, इस तरह मेरा शादी में जाने का कार्यक्रम तय हो गया; बहूरानी से मिलने, उन्हें तबियत से चोदने की तड़प तो मेरे दिल में भी थी. अब ममता ने अपने भाई का लंड किस तरह से चूसा वो सब आपको माउथ सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगी.

एचडी बीपी बीपी

जब मां का दर्द थोड़ा कम हुआ, तो मैंने धीरे धीरे धक्के मारना चालू कर दिए. उसने अपने दोनों कान पकड़े और सॉरी बोला और कहा- मैं दोबारा ट्राय करती हूं. शीना ने अपनी दोनों टांगें मेरी पीठ पर कैंची की तरह लपेट ली और अपनी गांड उठा कर मेरा साथ देने लगी.

सर मेरे लंड को देखकर बोले- देख शबनम साली रांड देख इसका लंड कैसा टनटना रहा है. उनके ही क्लीनिक का एक लड़का मुझे वहां छोड़ आया और कैसे क्या करना है, वो भी उसने बता दिया. बीएफ सेक्सी दीजिए तोवो मेरे ऊपर आकर बोले- तू चिंता मत कर शबनम … मैं आराम से तेरी गांड मारूंगा.

मुझे वो मजा नहीं आ रहा था जो सरपंच के लड़के मगन के साथ आता था।वो मुझे मसल देता था.

उसने दीदी को इसी पोजीशन में घूमने को कह कर उनकी गांड की और गांड पर कसी लाल चड्डी की ढेर सारी फोटो ले लीं. थोड़ी देर में मेरी मां रज्जी ने अपने होंठ हटा लिए और हमारा किस रुक गया.

ये कह कर मैं घर से तुरंत निकल गया, लेकिन मैं जाते-जाते अपना फोन घर पर ही भूल गया. कुच्ची हंसते हुए बोला- चुप रह भोसड़ी वाले … पहले मेरी तो बात सुन कमीन. मैं उसी गर्म कहानी को ही आगे बढ़ाने की सोच रही थी … लेकिन आप लोगों ने इतनी शिद्दत से जानना चाहा कि मेरे बेटे का बाप कौन है.

हालांकि उसे लेकर अभी तक मेरे दिमाग में ऐसा कोई विचार नहीं आया था कि इसकी तरफ कोई आकर्षण बने.

लौटते समय देखा कि अफ़रोज़ के कमरे की लाइट ऑन थी और उसके कमरे का दरवाज़ा भी थोड़ा सा खुला था. पूनम अपने कपड़े ठीक करके नन्नू के पास चली गईं और मैं उठ कर बाथरूम में चला गया. मैंने कुछ देर में ही एक उंगली को अच्छे से अन्दर बाहर करनी शुरू कर दी.

इंडियन एक्स एक्स वीडियो बीएफकृति अपने हाथों में सजी मेंहदी और कुछ गहनों के साथ एकदम क़यामत लग रही थी. तू उसको किसी तरह से अपनी चूचियां दिखा दे … और हो सके तो चूत भी दिखा देना और हां पहले चुत की झांटें बना लेना, चिकनी चूत चोदने में लड़कों को बहुत मज़ा आता है.

वीडियो पिक्चर ब्लू

तुझे अपने भोसड़ी से निकालने के लिए पता नहीं कितने लंड खाये होंगे मां ने, तब तू पैदा हुई कुतिया. मैं कुछ नहीं बोलता था क्योंकि मुझे लगता था कि वो बस फ़्रेंडली हो रही हैं. मैं भी किसी कुत्ते की तरफ दुम हिलाता हुआ बिस्तर पर आ गया और सीधे उसकी चुत चाटने में लग गया.

मैं ऊपर गया और छत फांदकर उसके कमरे में पहुंचा, देखा लाइट नहीं आ रही थी. चाची- अरे तूने बॉक्सर नहीं बदला!मैं ग़लती से बोल गया- बिना नहाए क्यों बदलूं … नहाते वक्त बदल लूँगा ना!चाची- अरे तुम पागल हो क्या?मैं- चाची आप ऐसे क्यों बात कर रही हो. वो खुश हो गए और मेरे गाल चूमते हुए बोले- तो फीता काट दूँ?मैंने कहा- आप कुछ भी कर सकते हो.

भाभी जी ने उनके लिए भी पैग बना दिए और वो तीनों भी ड्रिंक एन्जॉय करने लगे. बहूरानी की चूचियां उनकी नाइटी के भीतर से झांक रहीं थीं; मैंने बहूरानी की कमर में हाथ डाल कर उन्हें अपने और करीब कर लिया और मैं धीरे धीरे उनकी चिकनी जांघ सहलाने लगा. उसी समय भाभी ने एक मादक अंगड़ाई ली और अपने मम्मों को एक कामुक अदा से हिला कर मुझे ललचाया.

वो सिसकार रही थी- आह हह … मम्मम्म … और जोर से जान आह हह … चोदो मुझे आह हहह … बस आज की रात मुझे चोदते जाओ ओऊऊऊ … बहुत दिनों से अच्छे से चुदी नहीं! आज मुझे रगड़ रगड़ के चोद दो हह!मैं उसे लगातार चोदे जा रहा था।फिर मैंने उसे घोड़ी बनने को बोला. मैं जीजा जी के बारे में बताऊं … जीजा जी दिखने में बहुत ही हॉट लगते हैं.

तभी मैंने ऊपर से जोर से उसके सर पर दबाया और उसके मुँह पर लंड लगा दिया.

सुधीर और चित्रा ने आपस में बात की और आनन फानन में बरखा से मेरी शादी करा दी. सेक्स वीडियो बीएफ अंग्रेजीउन्होंने रोहन अंकल के लंड को अपने माथे से लगाया और मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. देहाती भाभी का बीएफ वीडियोतीन दिन बाद भाभी ने फोन पर बताया कि एक दो दिन में मेरे पति किसी काम से देहरादून जाने वाले हैं. मामी जी भी पूरी मस्त हो चुकी थीं और उन्होंने अपनी टांगों को फिर से उठा कर मेरी कमर पर कस लिया.

राजेश ने गोविन्द से पूछा- गोविन्द, क्या कहते हो?वो बिंदु की तरफ देख रहा था.

मैंने भाभी से पूछा- क्या हुआ भाभी?तो उन्होंने बिना कुछ कहे मुझे गले से लगा लिया और सभी चीजों के लिए धन्यवाद कहा. मैं उसको सहलाते हुए, प्यार करते-करते उसको सुख देने की कोशिश कर रहा था. हमने जम के चुदाई के मज़े लिए। घर का ऐसा कोई कोना नहीं बचा जहाँ उसने मुझे ना चोदा हो।2 दिन बाद जब वो गया तो बुरा तो बहुत लगा … पर शायद यही ज़िन्दगी है।उस दिन के बाद सागर और मैं अक्सर बात करने लगे।आज भी हम इतना है करीब हैं जितना 3 साल पहले थे।दोस्तो, आशा करती हूं कि आपको मेरी यह हॉट फॅमिली सेक्स कहानी पसंद आई होगी।अगर इस सेक्स कहानी पर कोई अपनी राय मुझे भेजना चाहता है, तो जरूर भेज सकता है.

पापा जी, इतने सारे मेहमान हैं मैरिज गार्डन का कोई कोना, कोई जगह सूनी नहीं है, आप कहो तो किसी वाशरूम में घुस जाते हैं और फटाफट निपट लेते हैं. तब चाची बोलीं- तेरा राजू भी तो पूरा जवान है … साली, इतना अच्छा माल घर में है और मोमबत्ती से काम चलाती है. जब हम दोनों घर वापस आए, तब तक शाम के आठ बज चुके थे और मेरे डैड भी आ चुके थेरोहन अंकल ने उन्हें भी नंगा कर दिया था और उनसे अपने पैर दबवा रहे थे.

સની લીયોની એક્સ વિડીયો

वो मेरी चूत चाटने लगा और मैं पागलों की तरह उसका लंड।जब वो ज़ुबान घुसा देता और हिलाता जिससे मैं उसके लंड को ज़ोर से चूसती. सब बहुत डरे हुए थे लेकिन कृति को मेरे इरादों की भांप गई थी इसलिए वो निश्चिंत थी. उसके गालों को चाटा, उसकी नाक, आंख, कान, चुचे, अंडर आर्म और उसकी चूत पर लगी चॉकलेट को मैंने इस तरह से चाटा जैसे आयुषी कोई लिक्विड चॉकलेट से बनी डिश हो.

अबकी बार मैंने उसके सामने लंड कर दिया तो उसने चूसने से भी मना नहीं किया.

फादर इन ला सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे बेटे की पत्नी ने कैसे होटल के कमरे में मेरे लंड का मजा लिया.

इसी बीच एक लौंडे ने सिगरेट की डिब्बी निकाल कर टेबल पर रखी तो मैंने एक सिगरेट पीने की इच्छा जाहिर कर दी. फिर भाभी ने मेरे सिक्स पैक्स पर खूब चूमा और वहां भी काट काट कर निशान बना दिए. बीएफ मूवी एचडी मेंइस सेक्स कहानी में इतना ही हुआ था, मगर बाद में होटल लौटने के बाद हमारे साथ टूर पर आई लड़कियों के साथ चुदाई का क्या मजा हुआ, वो मैं अपनी अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा.

मैं फिर से चित लेटा और वो मेरे ऊपर मेरे लंड पर बैठ गई; कामुक सिसकारियां भरते हुए एक बार से मेरे पूरे लंड को अपनी चूत में डाल लिया. फातिमा ने मेरी उंगली को अच्छी तरह से चूत पर फिरवाने के लिए अपनी जांघें खोल दीं. पार्टी में दारू के कारण मेरा नशा मुझ पर हावी था और ऊपर से भाभी को चुत में उंगली करते देख कर मैं बहुत गर्म हो गया था.

जब से गुलाब गया है मेरी चूत बहुत प्यासी है, बहुत ज्यादा। उफ कुत्ते … मत तड़पा … पेल दे।वो बोला- ले मेरी कुतिया … संभाल मेरा मोटा लंड. इतना बोल कर ममता ने अपने भाई के पैंट की चैन खोली और अन्दर हाथ डाल कर उसका लंड पकड़ कर बाहर निकाल लिया.

पहली बार सेक्स की कहानी में आपको मजा आ रहा होगा ना?[emailprotected]पहली बार सेक्स की कहानी का अगला भाग:मेरी बहू रानी को पुनः भोगने की लालसा- 3.

कुछ देर इसी तरह बीतने के बाद जब मैं नहा कर बस तौलिया पहन कर नाश्ता बना रही थी. मेरी अन्धी कामुकता की कहानी में पढ़ें कि जब मुझे लगा कि मेरी बहू से मिलने का अवसर प्राप्त हो सकता है. छोटी भाभी की गांड मारी मेरे जेठ जी ने! जेठ जी के लंड ने मेरी चूत को मजा दिया.

बीएफ सील तोड़ चुदाई कुछ ही पलों में दीदी की चुत ढीली हो गई और लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा, अब मेरी बड़ी दीदी भी लंड से चुदने के मजा लेने लगी थीं. वीरू बोला- साली रंडी, यहां जंगल क्यों उगा रखा है … झांटें क्यों नहीं बनाती … तुझे मालूम है कि मुझे झांटें पसंद नहीं हैं … फ़िर भी!चाची बोलीं- साले भड़वे, चिल्लाता क्यों है … कल बना लूंगी … आज तो तू मेरी प्यास बुझा मां के लौड़े.

कुछ पल बाद मैंने भाभी की पैंटी उतार फैंकी और उनकी चूत में उंगली डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. कुछ देर बाद मैंने उससे पूछा- क्यों मज़ा आया मेरे भैनचोद भाई को, अपनी बहन की चुत चोदने में?उसका लंड अभी भी मेरी चुत में ही था. वैसे मैं तो सोच रही थी कि मुझे इतनी गर्मी लग रही है, तो अपने पेटीकोट को उतार कर सो जाऊं.

હિન્દી ફોટા

डॉक्टर बोला- देखिए मुझे कल छुट्टी नहीं है … और दूसरे डॉक्टर एक सप्ताह बाद आएंगे. वह मुझसे उम्र में थोड़ी सी बड़ी भी थीं, इसलिए मैं उनको यथोचित सम्मान देती हूं. क्योंकि मैं भी घर पर ही रहता था तो मेरी भी नवीषा से अक्सर बात हो जाया करती थी।दो-तीन दिन में मेरी और नवीषा की एक दोस्तों वाली बात हो गई थी.

वो वहीं बैठा सिगरेट पी रहा था और शीला आंटी उसके सामने कुर्सी पर लैगिंग्स और टॉप में बैठी थीं. कुछ देर बाद उसने लन्ड चूसना छोड़ दिया और अपनी बुर को मेरे होंठों पर दबा दिया और ससस आह आह कर के मेरे होंठों पर झड़ गयी.

शमा मुझे देख कर हंस पड़ी और बोली- अब क्या आप बैठोगे नहीं?मैं फिर से अचकचा गया और हं.

मैं- अपना रस आप खुद पीना चाहोगी?चाची कराहते हुए मीठी आवाज में बोलीं- हां पी लूंगी हरामी … मगर जल्दी से मेरी प्यासी चुत में अपना मुँह फिर से लगा. मैंने दोनों को कैसे चोदा?कहानी के पिछले भागमौसी और उनकी जेठानी का लेस्बियन सेक्समें आपने पढ़ा कि मैंने अपनी मौसी रूपाली को उनकी जेठानी नीतू के साथ लेस्बीयन सेक्स करके के लिए मना लिया. उन्होंने भी उसी पल मेरी शर्ट के बटन खोल दिए और शर्ट को अलग कर दिया.

मेरी सेक्स चुदाई कहानी के पिछले भागटेलर मास्टर को चूत देकर काम करवायामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं ड्रेस बदल कर आई तो डॉक्टर रोहित ने मेरे सेक्सी लुक की तारीफ की. शीला आंटी ने उस लड़के से कहा- लो आ गयी तेरी रानी … ले जा और कर ले जो करना है. मैं- हां बता, ये क्या चूतियापा है!कुच्ची ने मुझे बताया कि उस दिन जब रात में शब्बो की चूत शांत नहीं हो सकी और मैंने उससे तेरे लिए कहा, तो वो समझ गई कि तू भी अकेला है.

पिछली कहानी में आपने पढ़ा कि आंटी ने मेरे साथसुहागरात का रोल प्लेकिया.

फुल एचडी सेक्सी बीएफ एचडी: अचानक से उनकी गांड ने एक झटका खाया और मामी जी की कमर अपने आप ही ऊपर की तरफ उचक गईं, जिससे मेरा आधा से ज्यादा लंड उनकी चूत में घुस गया. वो मेरे ऊपर आई और मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट करके एक हल्की सी सिसकारी के साथ लंड पर बैठ गई.

अब उनके दोनों चुचे मेरी पीठ पर छू रहे थे और सोनिया दोनों हाथों से मेरे पेट के आगे से अपने हाथों को कसके पकड़ कर बैठी थीं. उसने शीला आंटी से बोला कि जिसने फोन पर बात की थी, वो माल कहां है!शीला आंटी ने उससे बोला- थोड़ा रुको, वो बस आ रही है. उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और अपना गाउन उतारकर मेरे ऊपर चढ़ गए.

मैंने उसके बाल पकड़े और लंड पर दबा कर कहा- आह खा ले रंडी … चॉकलेट को चूस ले मेरी छिनाल!वो लंड गपागप चूसने लगी.

वो मुस्कुराते हुए बोलीं- अरे यार, बड़े दिन बाद मेरी चुत में आपका लंड जा रहा है. ‘ऊऊ ओहह्ह … ऊऊ ऊह्ह मर गई … आह्हह कमीने … भोसड़ी वाले जान निकाल दी तूने …’मैंने भी कहा- साली कुतिया तेरी चूत तो आज भी बहुत टाईट है … किसी कमसिन लड़की की तरह है. ममता- और बता … कोई बीएफ बनाया या अभी तक अपना हाथ ही चला रही है?मैं- नहीं यार … मैं इन चक्करों में नहीं पड़ती.