भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,चोदा चोदी के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहार वाली भाभी सेक्सी: भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ, जब मुझसे और रहा नहीं गया, तो मैंने जेठजी के थूक की लार को निगल लिया.

रेखा के बीएफ

वो लगातार मुझे देख रहे थे और मैं खुश हो रही थी कि मेरा प्लान काम कर रहा है. बिहार की देहाती सेक्सी बीएफआंटी बोली- राज अंदर पानी छोड़ना!और उसने मुझे कसकर अपनी बांहों में भर लिया और हम दोनों जोर जोर से झटके मारने लगे.

मैं उसकी पीठ पर किस करने लगा और उसकी पैंटी के अन्दर हाथ डालकर चूत में उंगली करने लगा. बंगाली चुड़ैसरिता भाबी के मम्मों पर छोटे छोटे से काले अंगूर से निप्पल एकदम कड़क थे.

लकी ने टोका तो सारा बोली- यहाँ नोएडा में दो तीन महीने रह लो, तुम भी साले, बहनचोद, फट गयी जैसे शब्दों के बिना बात नहीं करोगे.भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ: ‘आह हहहहह … उफ़ उई मां मर गई … आह उफ़ … यस आई लाइक इट ओह्ह फ़क मी नाव आह हहह उफ.

कोमल- हाआईई … ऊऊननन्ह …मैंने धीरे से कोमल के हाथ को चड्डी पर से हटा दिया और अपने होंठों से उसकी सेक्सी सी चड्डी पर से ही चुत को चूमने लगा.अभी मैं दिसम्बर 2019 में मौसी के यहां पर गया था। उस वक्त मेरे एग्जाम खत्म हुए थे और मुझे एक प्रोजेक्ट के लिए एक फैक्ट्री में जाना था.

देसी मां की चुदाई वीडियो - भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ

हम दोनों लोगों की नजरें बचाते हुए कमरे में आए और हमने एक देर वाला लिप किस किया.अगले कुछ ही पलों में 5-6 झटके लेकर मैंने चूत का ढेर सारा रस जेठजी के चेहरे और हाथों में उढ़ेल दिया.

उसकी लचकती और बलखाती कमर पर करीब दस मिनट तक मैंने अपने दोनों हाथों से रगड़ कर मालिश की. भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ जेठजी के अंडकोष से उनका गाढ़ा वीर्य मेरी गर्भवती होने के लिये तैयार चुत में लंड के सुपारे के जरिए मेरी बच्चेदानी में अंडे को पूरी तरह भिगो रहा था.

फिर मैंने पूजा से पूछा- ये सब तेरे को अच्छा लगता है?मेरी बहन ने कहा- नहीं.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ?

देसी भाभी गांड कहानी में पढ़ें कि भाभी मुझे होटल ले गयी सेक्स के लिए. फिर 10-15 मिनट बाद उनका फिर से चुत चोदने का मन करने लगा लेकिन मैं तैयार नहीं थी. अकेले में अक्सर मैं अपनी चड्डी में हाथ डालकर अपनी चूत को सहलाती रहती थी.

अब यह ऐसा महसूस हो रहा था कि एक लंड मेरी चूत में है … और दो लंड मेरी गांड में घुसे हैं. और क्या चुचियां थी … बिल्कुल टाइट कैनवास के बाल जैसी!मेरे एक हाथ में तो पूरी आ भी नहीं रही थी, इतनी बड़ी बड़ी थी। उनको मसलने में मुझे बहुत मजा आ रहा था. जब मुझसे और रहा नहीं गया, तो मैंने जेठजी के थूक की लार को निगल लिया.

वर्षा भाभी मेरे और मेरे लंड की तरफ देख कर हंसते हुए बोलीं- क्या अमन … आज आपने हमारे साथ तो होली खेली ही नहीं … हमें तो आपने सूखा सूखा ही छोड़ दिया. सुहैला बोली- तुम्हारा लंड काफ़ी बड़ा और मोटा है … दो दिन तक इससे मैं खूब चुदूंगी. फिर वो ये बात सुनकर थोड़ी शर्मिंदा हुई और बोली- ठीक है, मगर ये बात किसी को कहना नहीं कि तूने मुझे ये सब करते हुए देखा है.

एकदम गुलाबी चूत … बिल्कुल साफ … बिना बालों की चूत थी उफ़ … लंड की मां चुद गई थी. दस मिनट तक मॉम की चुत चाटने के बाद उनकी चूत का रस निकलने लगा जिसे मैं किसी कुत्ते की तरह चाटते हुए पूरा पी गया.

फिर उसने कहा- उन्ह … चूत भी कभी फेवरेट होती है क्या?मैंने कहा- औरों की तो नहीं मालूम … मगर मेरी तो होती है.

वो भी बोलीं- तुमने मेरा भी तो चैन चुराया है … लेकिन तुम्हें कुछ सरप्राइस देना है, तो रुको.

उसने अपना पूरा शरीर मेरे ऊपर छोड़ दिया और मैं उसे लिए हुए बेड पर लेट गया. ब्यूटीफुल गर्ल Xxx कहानी मेरे दोस्त की कमसिन जवान मासी की चूत चुदाई की है. राज़- आई लव यू टू जोया मेरी जान … आज तुमने मुझे दुनिया की सबसे बड़ी खुशी दी है जोया … लव यू सो मच.

किसी और से मुठ मरवाने का मजा ही कुछ अलग होता है … और खास करके कोई भाभी जैसी चुदक्कड़ माल मिल जाए तो पूछना ही क्या. मैंने भी उनके सिर के बालों को कसके पकड़ कर आंटी को अपने लंड में एकदम से घुसा दिया. मैं कोहनी उसके मम्मों पर दबाने लगा और वो भी मेरी कोहनी से अपने मम्मों को दबवाने का मजा लेने लगी.

अब आगे कुकोल्ड सेक्स कहानी:फिर मैंने भाभी से पूछा कि आपने जब मेरा लंड अन्दर लिया तो क्यों रो रही थीं.

[emailprotected]हॉट वाइफ फंतासी स्टोरी का अगला भाग:प्यार सेक्स और चुदाई के अरमान पूरे किये- 2. सुबह जब सब लोग वापस जाने की तैयारी कर रहे थे, तभी जीजू आए और मुझे अपना व्हाट्सैप नंबर देकर बोले- वीडियो कॉल पर बातें करेंगे. सेक्स की जरूरत की कहानी में पढ़ें कि पत्नी की मौत और अपंग होने के बाद मेरी सेक्स लाइफ खत्म हो गयी.

जब तक माताजी और मामाजी नहीं आए, हम दोनों ऐसे ही प्यार से एक दूसरे के साथ बैठे रहे और चुंबन करते रहे. मेरी बहन बोली- आह ये तुम क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं यार … तेरी चूत का रस पीने में लगा हुआ हूं … बस एक बार तेरी गांड का भी स्वाद ले लिया. मामी ने बैग खोला तो उसमें दुल्हन के लिबास के लिए लाल रंग का लहंगा चुनरी और उसके साथ कुछ मेकअप का सामान था.

मुझे रिप्लाई करके ज़रूर बताएंजिन पाठकों ने मेरी पिछली सेक्स कहानी नहीं पढ़ी, वो उसे ज़रूर पढ़ें.

उसने अब अपनी कमर पर जोर देना शुरू किया और आहिस्ते आहिस्ते लंड चूत को चौड़ा करता हुआ अन्दर जाने लगा. मैंने राज के साथ जाकर अपनी बीवी को ट्रेनिंग सेंटर छोड़ा और राज ऑफिस निकल गया.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ सरिता तो चुदवाने के लिए बेक़रार थी और विजय भाभी को चोदने के लिए गर्म था. मैंने नेहा दीदी की पूरी पीठ पर तेल लगाया और पैरों पर भी तेल लगाया।मैं धीरे धीरे मसाज करने लगा.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ हमें अब ये सब बंद कर देना चाहिए और अपने रिश्ते का लिहाज करना चाहिए. तभी मेरी बहन ने अपने बैग से रूमाल निकाला और अपनी चूत को पौंछते हुए नीचे रूमाल लगा दिया.

औरत की चुदाई की तमन्ना जब सर चढ़ कर बोलती है तो वो कुछ भी करने को तैयार हो जाती है.

बीएफ नंगी चुदाई वाला

उसका सात इंच का लंड अभी इरेक्ट हो गया था जिसको मैंने काफी देर तक चूसा. तब तक कुसुम ने रोहन को आवाज देकर बुलाया और उसे शेखर के सामने खड़ा कर दिया. फिर एकदम से मामा ने उसकी चूत में उंगली दे दी और अंदर बाहर करने लगे।दीदी मदहोश सी होने लगी थी.

मुझे जेठजी के जकड़ने से एक मर्दानगी वाली जकड़न का पूरा आभास हो रहा था. इतने दिन से उसकी चुदाई के लिए मैं तड़फ रहा था तो मैं इस अवसर को कैसे छोड़ सकता था. कुछ ही समय में मैंने अपने हाथों को उसकी गांड की गोलाइयों तक पहुंचा दिया और उसकी गांड को सहलाने लगा.

भाभी मेरा सिर पकड़ कर अपनी फुद्दी में दबाने लगीं और सिसकारियां भरने लगीं.

आज सारा ने मन बना लिया था कि वो और लकी आज हर सीमा लांघ कर सेक्स करेंगे. भले ही नाना नानी हैं लेकिन दिल की बात सुनने या सुनाने के लिए तो उनके पास कोई है ही नहीं. पहले मुझे पता नहीं था कि वो भाभी तलाक़शुदा हैं और उनके साथ जो लड़का रहता है, वो उनका देवर नहीं है बल्कि वो भाभी के गांव का दूर का रिश्तेदार था.

अब मैं ज़रीना के मुँह से लंड हटाकर एकदम से खड़ा हो गया और सीधे होकर मैंने आसिफा की चूत में लंड लगा दिया. रोहन का लंड कुसुम की चूत पर चुभ रहा था और रोहन की छाती से कुसुम के मम्मे पिसे जा रहे थे. अब मेरा लंड भी पानी छोने वाला था, तो मैंने लंड चूत से निकाल कर उसके मुँह में घुसा दिया और 2-3 झटके के बाद उसके मुँह में ही पानी निकाल दिया.

तो तेरे मुँह की तरफ मेरे पैर आ जायेंगे, समझ गया बुद्धूराम?मैंने हाँ कहा तो वो बोली- अब क्या देख रहा है? चल हो ना जल्दी से! फिर मैं तेरा लंड चूस लूंगी और तू मेरी चूत को चाट लेना। इससे हम दोनों को बहुत मजा आएगा।उसने मुझे अपनी बालों भरी चूत हाथ से खोलकर दिखाई और बताया- इधर अपनी जीभ लगाकर चाटना. और एक दिन रुककर वो आगे अपने काम के सिलसिले में और 4 दिन रुकेंगे।मैं यह जानकर मंद मंद मुस्काया क्योंकि घर में मैं और हर्षिता जी और उनके बच्चे रह गये थे।रात का खाना बना, खाया और सोने चल दिए।उस दिन अनायास ही मैं रात 1 बजे के लगभग जाग गया.

आज की बातें सुन कर मुझे इतना तो यकीन हो गया था कि मैं अगर कुछ करूं भी, तो ये मुझे कुछ नहीं कहेगी. मैंने अपनी जींस उतार दी और चड्डी में से अपना छह इंच लम्बा लंड उसके हाथ में दे दिया. कुछ देर बाद शेखर भी उठ गया और नित्य क्रिया से फारिग होकर वो तैयार हुआ और बाहर ब्रेकफास्ट के लिए डाइनिंग टेबल पर आ गया.

इसलिए मैं लवली की चूत को बड़ी ही गौर से देख रहा थातभी लवली बोली- विशु तूने कभी किसी लड़की की चूत नहीं देखी जो इस तरह से घूर घूर के देख रहा है?तो मैंने कहा- पहली बार देख रहा हूँ.

मेरी आंखों के सामने अब उनकी घुटने से नीचे की नंगी और चिकनी टांगें साफ़ दिखाई देने लगी थीं जो अब मुझे और ज़्यादा कामवासना में लीन करने लगी थीं. इससे कुसुम की मादक सिसकारियां और तेज़ हो गईं- आआ आहह … ओह माय गॉड नोओओ उम्म्म्म … नोऊओ. मैंने हरदीप को बोला कि चलो यार अभी कमरे में चलते हैं।हरदीप और मैं दोनों कमरे में आ गए।कमरे में आते ही मैंने हरदीप को पकड़ा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये। मैं उसके होंठों का रस चूसने लगा।वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी क्योंकि आग दोनों तरफ बराबर की लगी हुई थी.

लंड चुत में पेलने के बाद उसने मुझे मेरी गांड से पकड़ कर उठाना और बिठाना शुरू कर दिया था. इधर इकबाल मुझे कॉल करता क्योंकि उसके अड्डे पर मेरी डिमांड बहुत हो गयी थी.

मैंने मामी के पेटीकोट के नाड़े को खोलने की कोशिश की तो मामी ने नाड़ा खुद ही ढीला कर दिया. अब सारा और लकी को जब भी मौका मिलता वो लकी के फ्लैट में सेक्स करते थे क्योंकि अगर कमल किसी शक की वजह से अपने फ्लैट में कोई कैमरा लगाता या किसी को भेज कर चेक करवाता तो उसको कुछ हाथ न लगे. जिस जिस्म को मैं चोदने के लिए मरा जा रहा था, आज वो मादक जिस्म मेरी बांहों में था.

एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स सी बीएफ

पीयूष मदहोशी में था; वो बोला- कभी ना कभी तो लंड को अपनी बुर में लेना ही पड़ेगा … क्यों ना आज तुम अपने भाई का लंड ही ले लो.

मेरी चुचियों को कभी सत्यम अपने मुँह में डाल कर चूसता, तो कभी मेरी जीभ या मेरे होंठ चूसने लगता. इस पर मैं बोला- जब दोनों सहेली एक हैं तो हम दोनों भाई भी एक ही हैं. उधर बसंत भी पागलों की तरह मेरी चुत के दाने को होंठों से खींच खींच कर चूस रहा था.

जब तक दीदी मसाज करवाती रही तब तक मेरे लंड में तनाव बना रहा और मेरा लंड पानी छोड़ता रहा. फिर एक लंबी सांस ली और एक ऐसा तगड़ा धक्का मारा कि लौड़ा एक बार में ही चूत में अन्दर तक फिट हो गया. देसी बीएफ साड़ी वाली भाभीमस्त गोरी चुत और उसके गुलाबी होंठ … उसके ऊपर हल्की हल्की रेशम सी झांटें …आह … मेरा मुँह खुद ब खुद उसकी चुत पर चला गया.

वो इठला कर बोली- हां वो तो मैं सोऊंगी ही … मुझे हर रोज रात भर तुमसे चुदना जो है. बस इतना समझ लीजिए कि पहली बार फोन पर बातचीत में मेरी उससे सीधे चुदाई की बात नहीं हुई थी.

उन्होंने फिर पूछा- तुम मुझे बता सकते हो … मैं किसी से भी नहीं कहूंगी. मैं रोज मम्मी की ब्रा ले जाता और अन्दर पूजा की ब्रा पैंटी रखी होती, तो रोज की तरह मुठ मारकर मैं बाथरूम से बाहर आ जाता. उसने मेरे लंड को लोअर के ऊपर से ही हाथ में भर लिया और फिर पास आते हुए मेरे कंधे पर सिर रखकर मेरे कान में धीरे से सुबह के लिए सॉरी कह दिया.

कार्तिक के लंड पर हाथ रखते ही मेरे बदन में मानो तेजी से बिजली चमकते हुए अन्दर तक चली गयी थी. वो बोली- कैसे प्यार करूं?मैंने उससे लंड चूसने के लिए बोला तो उसने मना कर दिया. मगर साफ करने के बाद उसने एक बार फिर से मेरे लंड को मुंह में भर लिया.

आंटी एक पैग पीने के बाद मुझे अपने मायके और अपने बचपन के बारे में बताने लगीं.

पहले दिन का डांस का समय पूरा हुआ और मैं कमरे में साड़ी पहनने आई तो इकबाल मुझे अपने कमरे में ले गया. सच में अगर मेरी ऐसी होती, तो मैं तो पूरी रात नंगी करके पेलता, साली को कपड़े भी न पहनने देता.

वो उसके स्तनों से इतना खेलता है कि मुझे तो डर है कि कुछ समय बाद उसके स्तन इतने बड़े हो जाएंगे कि सुरीली को उसके साइज की ब्रा भी नहीं मिलेगी. मैंने हैरानी से पूछा- क्यों झूठ बोलते हो यार … नहीं बताना चाहते हो तो मत बताओ. यह सुनकर मेरा लंड औऱ भी फनफनाकर चुत चोदने लगा क्योंकि मुझे चुत के अन्दर माल निकालने में बहुत ही आनंद का अनुभव होता है.

भाभी मेरी बात से शर्मा गईं और बोलीं- अच्छा … इतनी अच्छी हूं मैं!तो मैंने बोला- हां आप बहुत सुंदर हो. फिर ब्रा को बाहर निकाल दिया और उसके दोनों मम्मों को बड़े प्यार से थाम लिया. मैं डर रहा था कि दीदी कहीं एकदम से गुस्सा न हो जाये लेकिन वो शायद गर्म हो चुकी थी और चाहती थी कि मैं उनके दूध पर मसाज करूं।मसाज करते हुए मैंने अब दूध को दबाना शुरू किया।दीदी अब भी चुपचाप लेटी हुई मसाज करवा रही थी।5 मिनट बाद मैं कसकर दीदी के दूध दबाने लगा.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ वो दर्द से चिल्लाने लगी उसकी मादक आवाजें पूरे कमरे में गूंज रही थीं. फिर कुछ देर के बाद रिज़वान के अब्बू आए और मुझसे बोले- बेटा तुम सीवान जा रहे हो, तो आयत को भी लेते जाओ.

भाई-बहन एक्स एक्स एक्स बीएफ

कुछ पल बाद उन्होंने बताया- तुम्हारे मामाजी बिजनेस के लिए विदेश जाकर रहने का बोल रहे हैं. उसने मुझे अपनी नयी ड्रेस दिखायी और उसके उस रूप को देखकर मेरा दिल घायल हो गया. मैंने बड़े प्यार से बाजू वाली भाभी के होंठों को अपने होंठों से जकड़ा और एक प्यारा सा किस दिया.

रोहन ने अपनी मॉम के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और दोनों एक दूसरे को किस करने लगे. उसे भी अपनी गांड उंगली से मजा आने लगा था और उसका डर खत्म हो गया था. चूत चुदाई वीडियो एचडीमैंने हिम्मत करके अपना चेहरा भी उसी तरफ घुमाया और अपना एक पैर उसके चूतड़ के ऊपर रख दिया.

वो पजामे के ऊपर से मेरा लंड पकड़ने लगी तो मैंने पजामा और टी-शर्ट दोनों को खोल दिया.

जिधर की सुरक्षा करने का मुझे ये काम मिला था, वो अभी एक नयी 12 फ्लोर की बिल्डिंग बनी थी. बीवी हंस कर बोली- क्यों ऐसा क्या हो गया है?मैं उसकी चूचियां देखता हुआ बोला- कुछ नहीं.

थोड़ी देर लड़की की गांड में उंगली को अन्दर बाहर करने के बाद में बाहर निकाली और मुँह में लेकर चाटने लगा. अचानक शीना को कुछ याद आ गया और वो बोली- नहीं भैया, यह सब नहीं … आपका लौड़ा बहुत बड़ा है और मेरी चुत अभी तक कुंवारी है. कुछ गलती हो तो माफ़ करना क्योंकि ये मेरी पहली रियल इन्सेस्ट चुदाई स्टोरी है।गोपनीयता के कारण मैंने सभी नाम बदल दिये हैं.

तब तक सत्यम को आबिया, अनामिका और सुमेधा आंटी एक कमरे में ले जाकर चुदवाने लगींउस रात के बाद से मैं जब भी यहां मम्मी के घर आती, तो सत्यम से चुदवाए बिना नहीं रहती.

इस बार मेरा आधा लंड चुत के अन्दर चला गया और उसकी जोर से चीख निकल गयी. ऊपर से अगर पति-पत्नी के बीच में 5-7 साल का आयु का गैप हो, तो ये होना और भी ज्यादा तय होता है. जैसे ही मुझे मेरी भतीजी की चुदाई का मौका मिलेगा मैं आप लोगों को जरूर बताऊंगा.

सूरज पंचोली जीएफ बीएफये गरम गीली चुत स्टोरी आज से पांच साल पुरानी उस समय की है, जब मेरी नयी नयी जॉब लगी थी. दरअसल मुझे तभी मालूम हो गया था … जब पहली बार मैंने बाथरूम का दरवाजा खटखटा कर आपको बाथरूम से बाहर निकाला था.

वीडियो में बीएफ फिल्म हिंदी

हम दोनों इस चुदाई को मस्त बनाने के लिए चुत, लंड, चूची, गांड शब्दों का भरपूर प्रयोग कर रहे थे. मुझे गुस्सा आ गया और मैंने ज़ोर लगा कर उसकी कमीज़ फाड़ दी और साथ ही उसकी सलवार भी. जैसे ही उसकी नजर मुझ पर पड़ी, तो उसने शर्मा कर अपनी आंखें बंद कर लीं.

मगर लंड को इतनी अधिक कसावट महसूस हो रही थी कि मैं जल्दी ही उसकी गांड में झड़ गया. आंटी एक पैग पीने के बाद मुझे अपने मायके और अपने बचपन के बारे में बताने लगीं. उसकी कामुक आवाजों से पूरा रूम गूंज उठा था- आह मादरचोद हरामियों तुम दोनों ने मुझे आज बाजारू रंडी बना दिया है … आह साले बड़ा मजा आ रहा अह आह भैन के लंड और जोर से चोदो मेरी गांड में आह कितना अन्दर जा रहा है आह सोनू चुत में भी पूरी गहराई में पेलो लौड़ा … आह मम्मी रे और तेज तेज चोदो और तेज चोदी मेरी गांड और चूत!कुछ घंटे के चुदाई चली और तीनों एक साथ झड़ गए.

मुझे इस चुदाई का मजा आया, मैं उसके माथे को चूमने लगी और उसको प्यार करने लगी. मैं उसका सिर पकड़कर अपने मम्मों पर दबा रही थी और मस्त होकर उससे अपने दोनों चूचे चुसवा रही थी. मैंने पूछा- क्या तुमने उसके साथ सेक्स भी किया था?वो बोली- हां एक बार किया था.

फिर कुछ देर बाद रिट्ज स्कूल से जब वापस आयी, तो हमने उसको उसके जन्म दिन का सरप्राइज दिया. उसने मुझसे दोस्ती इसलिए नहीं की थी कि वो मुझसे प्यार करता था, बल्कि उसने मुझसे दोस्ती केवल अपनी चुदाई की भूख मिटाने के लिए की थी और मुझे भी यही तो चाहिए था.

बीवी के पीरियड के टाइम ही मैं उसे नहीं चोद पाता हूँ … बाकी समय तो न उसे चैन पड़ता है और न मुझे.

अनीषा मैडम मेरे नंगी छाती को देख कर वासना से बोली- क्यों हो गया … बस इतना ही मजा लेना था. राजस्थानी बफ सेक्सीउस जगह पहुंचने के बाद हम दोनों उतरे और उसी गली से होकर उस गार्डन में आ गए. सेक्सी वीडियो इंडियन सेक्स वीडियोझड़ने के बाद मैं रिट्ज की स्कूटी से करीब 10 बजे आकृति आंटी को दुकान से लेने चला गया. दोस्तो, इस सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको अपने दिल में रानी की दिलकश जवानी की चाहत लिए उसे कैसे चोद सका, ये लिखूंगा.

चुत के रस की चिकनाई से रोहन से भी रहा न गया और उसने अपना लंड रगड़ते रगड़ते ही अन्दर की तरफ धकेल दिया.

मैं अपने चरमसुख पर पहुंचने ही वाला था कि कल्पना ने अपना कामरस छोड़ दिया. भाभी ने भी अपनी नशीली आंखों से विजय को देखा और कहा- इरादा तो कच्चा खा जाने का है मगर इधर दरवाजे पर खड़ी रखोगे, तो कैसे खा पाऊंगी?विजय ने दरवाजे से हटते हुए भाभी को अन्दर आने का इशारा करते हुए कहा- कितना अन्दर आओगी जान … मेरी तो नली ही टूट जाएगी. मैंने कहा- हां आंटी, आप जरा सी भी किसी को लिफ्ट देतीं, तो आपके आगे लाइन लग जाती.

मैंने चुत की तारीफ़ करते हुए कहा- आह … ये चूत तो मेरी फेवरेट होने वाली है. थोड़ी देर बाद वो बाहर आई, तो मैंने देखा कि श्वेता ने ब्लैक कलर की हनीमून नाइटी पहन रखी थी. वर्जिन बहन की सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे एक जवान लड़का अपनी सेक्सी बहन की जवानी की तरफ आकर्षित हुआ.

बीएफ सेक्सी चोदने वाली हिंदी में

मैंने उसे बाथरूम की दीवार के साथ लगा दिया और लगातार उसको चूसने लगा. मैं अपनी आगे की सेक्स कहानियों में अपने पति के साथ हुए सेक्स के बारे में बताऊंगी. मैं जब अपना लंड उसकी चुत में डालने लगा, तो मुझे बिल्कुल कुंवारी चुत का अहसास हुआ.

कुछ देर बाद वो मेरी चूचियों को देखते हुए बोला- दीदी मैंने गेम डाउनलोड पर लगा दिया है, लेकिन आपका नेट बहुत स्लो है … तो इसको अभी डाउनलोड होने में एक घंटा लगेगा.

मैंने दस बीस तेज शॉट मारे और लंड बाहर निकाल कर उसके पेट पर वीर्य छोड़ दिया था.

वो मुझे मुझ पर गुस्सा करते हुए बोली- भैया, आप ये क्या रोज रोज चाची की ब्रा लेकर बाथरूम जाते हो, आपको कुछ अक्ल नहीं है क्या? चार दिन पहले ही चाची ने मुझसे पूछा था कि पूजा क्या तुम मेरी ब्रा को लेती हो. लेकिन अभी तुमने कॉल किया है तो और कोई नहीं, बस आज मुझे तुम ही चाहिए. ब्लू पिक्चर बिहार काअपने होंठों पर उसने लाल लिपस्टिक लगायी थी जो कि मेरे औज़ार को बाहर आने पर मजबूर कर रही थी.

अब मैं रोज़ आना शाम को उनकी दुकान पर जाने लगा उनकी गांड का दीदार करने से मेरा लंड खड़ा हो जाता और रात को मुठ मारते समय मुझे आंटी की गांड की याद आ जाती. मैं इस सेक्सी लड़की की कहानी में आपसे रानी की चुदाई की बात कर रहा था. हम कचहरी पहुंच कर काम निपटाने लगे और करीब दोपहर दो बजे के आसपास हम दोनों घर वापस आ गए.

अब एक बार फिर से वो जंगल की शेरनी की तरह कामुकता और मादकता से मेरे लंड पर अपनी गांड पटकने लगीं. वो चुत सहलाती हुई बोली- और कोई कामना?मैंने कहा कि हां मैडम एक राउंड तो पूरा हो गया.

नवाब ने मेरी गांड में लौड़ा डाला और एकदम से मेरी कमर पकड़ कर धक्का मारने लगा.

वो जरा सी भी जुम्बिश लेती, तो उसके दूध यूं थिरकने लगते मानो उनमें कोई स्प्रिंग लगी हो. यही सोच सोच कर मैं बाथरूम में जाकर अपनी बहन रिया की पैंटी उठा कर लंड पर लपेट लेता था और मुठ मारकर उसकी पैंटी पर ही अपना वीर्य झाड़ देता था. जब पहली बार मेरी चुदाई दूसरे मर्दों से करवाई थी, तब तेरा पति कहां गया था माँ के भोसड़े भैन के लंड कुत्ते … बता साले.

नंगी पिक्चर बता फिर आंटी मुझे अपने साथ कमरे में ले गईं और अपनी अल्मारी खोल कर मुझसे बोलीं- बताओ मैं क्या पहनूं?मैं उनके सब कपड़े देखने लगा और उसी में से मैंने एक लाल रंग की साड़ी निकाल कर देते हुए कहा- इसको पहनो. मैंने उसके रस भरे होंठों के रस को पीने के लिए अपने होंठ उसके होंठों से मिला दिए.

और कई बार तो मैंने अपनी चूत में तेल लगाकर न जाने क्या क्या डाला था. मैंने जेठजी की आंखों में आंखें डाल कर मुस्कुरा कर इशारे से सर को हां में ऊपर से नीचे करते हुए उनको चोदने का इशारा किया. उसने अपने लंड का पानी कंडोम में निकाल दिया और मेरे ऊपर ही गिर कर हांफने लगा.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी में चोदा चोदी

ये सीन देख कर अब मैंने बिल्कुल भी देरी ना करते हुए, उसकी चूत को दबा कर किस कर लिया. मामी एकदम से सिसकारने लगी- आह्ह … अमन … आह्ह … स्स … आह्ह … चूस ले … पी जा … इनको।मैं जोर जोर से मामी के बूब्स का दूध निचोड़ता रहा. ऊपर भाभी दिखाई दीं तो मैं झैंप गया और भाभी जी हंसते हुए अदर चली गईं.

मैंने उसकी गर्दन के पास अपना मुँह ले जाकर कहा- मुझे तो बहुत कुछ हो रहा है. ऐसे में चुदाई करते हुए वो झड़ गई तो उसने कहा- आह जान, मेरा तो हो गया.

इसके बाद से हमारे बीच के गिले-शिकवे दूर हो गए और भाभी से बातों का सिलसिला शुरू हो गया.

तब मैंने अपनी एक उंगली आराम-आराम से सुरीली की गांड में डालना शुरू कर दी. वो अब तक दो बार झड़ चुकी थीं और उनके चेहरे पर एक अलग ही चमक सी खुशी देखने को मिल रही थी. कुछ देर बाद रमेश का लौड़ा फिर से खड़ा हो गया और इस बार रमेश ने मुझे घोड़ी बना दिया.

मैं दिखने में भी एकएम दूध सी गोरी हूँ, तो क्या जवान क्या बूढ़े, सबकी झांटें सुलगने लती हैं और लंड हिनहिनाने लगते हैं. मेरे निपल्स को कार्तिक आटे की गोली की तरह मींज रहा था, जिससे वो एकदम खड़े हो गए थे. उन्होंने मुझसे कहा- मैं गली में जा रहा हूँ, तुझे देखना हो तो देख लेना.

फिर कुछ देर बाद रिट्ज स्कूल से जब वापस आयी, तो हमने उसको उसके जन्म दिन का सरप्राइज दिया.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ: और इस बार सारी कमांड मैंने संभाली, उसको एक औरत की तरह नीचे लेटाकर, एक मर्द की ताकत उसको दिखाई. ये देखकर रोहन के मुँह में पानी आ गया और तभी कुसुम रोहन का नाम लेते हुए झड़ गई.

मेरे भाई के कुछ दोस्त, जिनको अभी अभी जवानी चढ़ी थी, वो सब मेरे पीछे दीवाने थे. मैंने मंजू के कमीज की चेन को खोल दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. कुछ 10-11 किलोमीटर बाद खेत के रास्ते से होती हुई वो मुझे किसी फार्म हॉउस पर ले गयी.

उसके हाथ मेरी गांड पर थे और मेरी गांड को बार बार दबाते और उन पर चांटे बरसा रह थे.

मैंने वासना से आंटी की तरफ देखा तो थोड़ी ही देर बाद उन्होंने लंड को चड्डी से बाहर निकाल दिया. इधर भले ही कुसुम ने अपने बेटे को समझा दिया था लेकिन उसके दिमाग में अभी भी हमेशा अपने बेटे का मोटा और सख्त लंड घूम रहा था. मामी की चूत हाथ में आते ही मैं उसको जोर जोर से दबाने लगा और उनकी गांड पर लंड के धक्के देने लगा जैसे कि मैं उनको चोदने की कोशिश कर रहा हूं.