भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली

छवि स्रोत,चूत मारते वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

कामसूत्र ब्लू पिक्चर: भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली, आपको तो पता ही है कि शेर के मुँह में ख़ून लग जाए तो वो अपने शिकार को ऐसे कैसे छोड़ दे.

एक्स वीडियो फोटो

एक शनिवार के दिन मैंने छुट्टी ली हुई थी और घर बैठे आराम करने का मन बनाया था. सेक्सी सोनियामस्त क्या मजेदार सीन था!तभी मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी गुलाबी चूत पर रखा और एक हल्का सा धक्का लगाया, मेरा सुपारा नीरू की चूत के अंदर चला गया.

जब वो वापिस आई तो उसने अपने हाथों में एक डिल्डो (नकली लंड) लिया हुआ था. सांडा आयल के फायदेमुनीर ने मेरे कान में कहा- तुम्हारी चमड़ी कितनी मुलायम है और तुम्हारे बदन की खुशबू मुझे मदहोश कर रही.

मैं पहली बार इतने क़रीब उनके नंगे बदन को देख रहा था और ब्रा की पट्टी को देखता हुआ उनके हुस्न के जाल में खो गया.भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली: फिर वो रसोई में चली गयी और 2 ग्लास लेकर आयी, मुझे ओपनर देते हुए और बियर की बोतल की तरफ इशारा करती हुई बोली- आप इसे खोलो, तब तक मैं कुछ खाने को लाती हूँ.

उन्होंने मुझे अपने पति के नाइट वियर दिए, मैंने वो पहन लिए और खुद कमरे में जाकर नाइट गाउन काले रंग का पहन कर बाहर आ गईं.मुनीर ने मेरे सिर को दूसरी तरफ घुमा कर मेरी गर्दन पर अपनी जुबान फिरानी शुरू कर दी.

प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी बीपी - भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली

धकापेल चुदाई का मंजर और चुदाई की रंगीन आवाजें कमरे में गूंजने लगीं.लेकिन यह आकर्षण सिर्फ मीता के साथ गुजारे पलों में ही था, उसके अलावा मेरे सम्बन्ध जहां भी बने, वहां पर मैं एक सामान्य मर्द ही होता था.

मुनीर ने मेरे सिर को दूसरी तरफ घुमा कर मेरी गर्दन पर अपनी जुबान फिरानी शुरू कर दी. भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली उसके बाद मैंने नीरू की चुदाई की और सविता को भी और एक बार झाड़ कर संतुष्ट किया.

मैंने एक हाथ से उसका हाथ पकड़ा और दूसरे हाथ से पास ही पड़ा न्यूज पेपर उठा लिया। नीचे उतर कर पहले मैंने दाएं बाएं देख कर कन्फर्म किया कि कोई है तो नहीं.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली?

मैं तब नीचे से उसकी नंगे चूतड़ों पर हाथ फेरते हुए उसके कान पर धीरे से बोला- डार्लिंग, अब तुम्हारी चूत को मज़ा दिलवाना तुम्हारे हाथों में है. बस जब ऐसा लगेगा कि मुझे जग चाहिए, तो उस वक़्त तुम्हारे बारे सोचूंगी, बाकी मैं अपने पति की हूँ. ऐ … हुँहह … ऐ हहहह …”मेरे मुँह से कभी मादक और कभी दर्द भरी सीत्कारें निकल रही थीं- अरीई … उईईई … आअहह … उउउंम … हाँ … ऐसे ही अंकल जी … जरा धीरे अंकल जी स्स्स्स्स् … हुउउउ … आह री मौ …सी … दे …खो … अं …क …ल … ने मुझे चोद दिया … आह मौसी तुम … भी … चु …दवा … लो …मेरी और अंकल जी की ऐसी मिली जुली कामुक आवाजों से पूरा कमरा गूंज रहा था.

बात शुरू होती है हमारे ऑफिस की एक भाभी से जिनकी शादी 3-4 साल पहले ही हुई थी, वो मेरे ऑफिस में ही काम करती थी. अब मयूरी भाभी ने रिया भाभी को कहा- क्या कंडोम पड़े हैं घर पे?तभी रिया भाभी हंस दी और कहा- जनाब गांड बहुत अच्छी मारते हैं, एक बार लेकर देखो. जबकि दूसरे ब्वॉयफ्रेंड के साथ अभी तक केवल चूमाचाटी का मजा ही किया था.

मैं काफी समय से सोच रहा था कि अपनी कहानी अन्तर्वासना के माध्यम से लिख कर आप सभी से साझा करूँ, लेकिन नहीं लिख पाया. उसने मुझे बाद में बताया कि जीजू से सेक्स करने में फायदा है कि चूत को लंड भी मिल जाएगा और घर की बात घर में ही रह जाएगी. मैंने बाहर आकर देखा तो सुलेखा भाभी रसोई में बर्तन साफ कर रही थीं और प्रिया के कमरे का दरवाजा बन्द था.

कुछ ही देर में हम दोनों के बीच में चरम जैसी स्थिति आ गई और हम एक दूसरे को किस करते हुए जल्दी जल्दी चुदाई करने लगे. मेरे एक हाथ में किसी का लंड था, जो मेरा हाथ पकड़ के रगड़वाने लगे, उनका लंड बहुत गर्म था.

लेकिन अभी तक किसी के भी साथ इस पोज़ का एग्जीक्युशन नहीं हो सका था!और तो और चुदाई कला के माहिर पोर्न आर्टिस्ट भी अभी तक मेरी पत्नि के साथ ऐसा पोज़ एग्ज़िक्यूट नहीं कर सके थे.

जब सुबह उठे तो 9 बज गए थे और बेडशीट को देखा तो वो पूरी खून से गीली हो गई थी.

उसके मुँह में कुछ माल था, वो मुझे किस करने लगी और इस तरह से उसने अपने मुँह में बचा हुआ सारा माल मेरे मुँह में दे दिया. काले रंग की ब्रा में दूध से सफेद मेरे कोरे चूचे खुले में देख देवेंद्र पागल हो गया. मैंने मन ही मन सोचा … साली देख कैसे रुला रुला कर चोदता हूँ। पराया मरद कहाँ … उस पुजारी को छोड़कर मेरा आठ इंच का लंड एक बार ले ले, फिर इसका गुलाम बन जाएगी।मैं- वो कमरे का किराया बहुत ही ज्यादा है.

इससे भाभी को काफी दर्द हुआ पर इस बार वो चिल्लाई नहीं, बस दोनों हाथों से मेरी पीठ जोर से पकड़ के नाखून से खरोंचने लगीं. तभी ऊपर से हिमांशु मुझसे लिपट गया और लंड पेलता हुआ बोला- वन्द्या तेरी चूत इतनी टाइट कैसे है … तू तो बता रही थी कि तू बहुत बार लंड ले चुकी है, फिर भी बहुत टाइट चूत है. फिर उसकी चुत पे लगाई … उसके होंठों पे लगाई … नाभि पे लगाई … अंडरआर्म पे लगाई … गांड के छेद पर लगा दी.

मेरे रिप्लाई करने के थोड़ी देर बाद ही मुझे 2-3 फोटो और अगले मेसेज में नाम- पूर्वी शर्मा (काल्पनिक), पता लिखा मिला.

शायना भाभी आँख मुझे मारते हुए उठीं और बिना कुछ बोले नंगे ही बेटे को दूध पिलाने लगीं. मैंने फिर तारा की तरफ देखा … तो वो लिंग को चूस रही थी और लिंग पूरी तरह से खड़ा हो चुका था. अंकल ने मुझको अपनी बांहों में लिया और लंड को पकड़ कर चुत में हल्का सा धक्का दिया.

कुछ देर बाद भाभी एक परपल कलर की नाइटी पहन कर बाहर आईं, जिसमें उनके चूचे और गांड के पहाड़ बहुत ही बड़े बड़े लग रहे थे. जैसे ही वो अंडरवियर में आया, मैंने देखा कि उसकी गजब की फिट बॉडी थी, ऐसा लगता था जैसे कोई मॉडल हो. ऐसा लग रहा था कि वो बहुत दिनों से … दिन नहीं … शायद सालों से ही प्यासी थीं.

मैं पूजा से बोला- अरे मेरी जान, लंड डालने से ना तो चूत फटती है और ना ही गांड ही फटती है.

वे इतने सालों से मुझे जानती थीं इसीलिए वो मुझसे बहुत खुल कर बातचीत करती रहती थीं. रेवती ने मेरे लंड को अपने होंठों की गिरफ्त में ले लिया और मैं अचानक हुए इस हमले से आनन्द के उस सागर में चला गया, जिसकी गहराई दुनिया में आज तक कोई भी नहीं नाप पाया है.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली तब सतीश बोला- यह छिनाल से भी बड़ी वाली रांड है यार … तू देखता नहीं इसका सेक्सी लुक है और ऊपर से ब्यूटीफुल भी है … इस साली कमसिन को कौन छोड़ेगा. मैं उसको सीधा लेटा दिया और पैरों को पकड़ कर बुर में धक्के लगाने लगा.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली मैंने बोला कि अगर मैंने बताया तो हमारा ये भाई बहन का रिलेशन खत्म हो जाएगा. वो देखने में थोड़ी मोटी थी, उसके चुचे और गांड मस्त थे, लेकिन माल थी.

उसने बताया कि सभी परिवारजन किसी शादी में शामिल होने के लिए गये हैं और वह भी शाम को जायेगा.

15 साल की लड़कियां सेक्सी

तभी एक कमरे से लड़की की हंसने खिलखिलाने की आवाज़ सुनाई दी तो मैं वहीं रूक गया और ध्यान से कान लगाकर सुनने लगा और समझ गया कि लड़का लड़की का चक्कर है. गैब्रियल ने मेरे सीने में हाथ से धक्का देकर मुझे बेड में गिरा दिया और अपने दोनों बाजू इधर उधर करके मेरे ऊपर चढ़ गया. उन्होंने मुझे रूम में ले जाते हुए बनावटी अंदाज़ कहा- अमीश को कुछ मत बताना, प्लीज.

ओहहह राज कुछ स्पेशल कर यार!तब राज अंकल बोले- ये सोनू हम तीनों को छक्का बोली. मैं काफी बार सोचता रहता था कि क्यों ना मैं सुलेखा भाभी और किशोर भैया की उम्र के इस अन्तर के तार को छेड़ कर सुलेखा भाभी के साथ अपने प्यार की पींग बढ़ाने की कोशिश कर ली‌ जाए. तभी मुन्ना अंकल मेरे सामने आए और बोले- वन्द्या, अब बता तुझे घर पहुंचा दें जहाँ तू सो रही थी या हम लोग जल्दी से तेरी मस्त चुदाई कर दें.

इसलिए उनकी चुत गहरे काले घने और घुंघराले बालों से भरी हुई थी जो उनकी योनि को छुपाने की नाकामयाब कोशिश कर रहे थे.

वह मुझे अपने कमरे में ले गया और बोला लो कर लो जो चाहो, मैं आधे घंटे के लिए तुम्हारे हवाले हूँ. चाची- तू अपनी सारी लालसा मिटा ले आज मेरी गांड मार मार के मस्त हो जा पर मेरी चूत में उंगली चलाता जा. फिर मैंने रेखा के कुर्ते में हाथ डाल दिया और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

मैंने बोला- वहां पर क्यों?तो दीदी बोलीं- यहां रूम कम हैं … तो अंकल ने कहा कि बेबी मेरे घर में जाकर रह सकती है … इसलिए ये वहां पर रेस्ट कर लेगी, तुम बस इसका सामान उधर रखवा दो. मैंने हामी भरते हुए उसे एक लिप किस की और फिर उसने दरवाज़ा खोला और बाय बाय बोला. हमारी सांसें स्थिर हो चली थी … प्यार के गुजरे मादक और अविस्मरणीय पलों की महक और उन पलों को कहीं अंदर ही रेकार्ड कर लेने की कोशिश करते हुए हम दोनों की एक दूसरे के शरीर को पुनः अहसासों से भरता हुआ महसूस करने लगे.

मैंने भी उसके अन्दर ही माल छोड़ दिया और मैं निढाल उसके ऊपर गिर गया. मैं उसके सर को पकड़ कर चोद रहा था तो मेरा लंड उसके गले तक जा रहा था और वो गूं गूं गूं करते हुए इतना मस्त चुसाई कर रही थी कि मेरा बदन अकड़ने लगा और मैं उसके मुंह में ही झड़ गया.

माइक के धक्के कुछ पलों में जोरदार झटकों में बदल गए और तारा की मादक सिसकारियां चीखों का रूप लेने लगीं. केवल जब मैं उन्हें दूध नहीं पिलाती, तब वो मेरे लिए मेरे साथ पीते है. सुलेखा भाभी के गालों को चूमते हुए मैं उनके रसीले होंठों पर आ गया था, जो कि अब जोरों से थरथराने लगे थे.

मैंने खुद से अपनी कमर ऊपर उठा दी, तो मेरी चूत में राज अंकल की दोनों उंगलियां सट से अन्दर हो गईं.

उसमें कपल ही ज्यादा थे, मैंने उसका हाथ पकड़ा तो उसने अपना सर मेरे सीने पर रख दिया. अगले दिन सबको यह पता था कि घर की लाड़ली बेटी का जन्मदिन है तो सबने अपने-अपने काम से छुट्टी ले ली थी. आज चूंकि जगेश को मेरी नई चूत चोदने की जल्दी थी इसलिए उसने पहली बार में मुझे सीधे सीधे ही चोद कर मजा लेना तय किया था.

अब मैं भी ज्यादा गर्म हो गया था और पूजा से बोला- हाय, मेरी चुदक्कड़ रानी, क्या चूत है तुम्हारी. मैंने चाची की चूत के दाने को अपनी दो उंगलियों के बीच में दबा कर मींजना शुरू कर दिया.

मैंने कमरा खोला, फिर घर का चक्कर लगा कर देखा कि कोई आस पास है या नहीं. सुलेखा भाभी को अपनी बांहों में पकड़े पकड़े ही मैं उन्हें बिस्तर के पास ले आया और कहा- बताया ना कि डॉक्टर की दवाई लेने की कोशिश कर रहा हूँ!मैंने सुलेखा भाभी के गालों को‌ चूमते हुए कहा जिससे उनके गाल तो क्या अब तो पूरा का पूरा चेहरा ही शर्म से सिन्दूरी सा हो गया. अगली कहानी में बताऊंगी कि कैसे टूर्नामेंट खेलने गई और वहां कैसे मैंने बेशर्मों की तरह और लंड खाए.

सेक्सी गर्ल हॉट गर्ल

वे लड़कों की तरह फ्लैट थे। मैंने मुट्ठी में भर कर दोनों पुट्ठों को दबोचा.

उसने फिर से अपनी जांघों को भींचने की कोशिश की, मगर अब तो सेंध लग चुकी थी. मैंने हां में सिर हिलाया, तो दोनों करीब आ गए और मेरी स्कर्ट को ऊपर करने लगे. मैंने बस एक दो बार ही उसकी चुत को सहलाने के बाद अपने‌ हाथ को उसके लोवर व पेन्टी से बाहर निकाल‌ लिया और धीरे से उठकर उसकी बगल में बैठ गया.

मैंने भाभी को अपनी तरफ खींच कर बारी बारी से उनकी दोनों आंखों को चूम लिया. रंग उसका गोरा था गाय के दूध की तरह और बदन का साइज 30-28-32 लगभग।उसने बताया कि वो हमारे ही गाँव की है, हमारी बिरादरी से अलग दूसरी बिरादरी की है तो मैं उसे नहीं पहचानता था. सेक्सी वीडियो में गाने वालीमैं जैसे ही नीचे चुत चाटने को हुआ तो वो बोली- जानू … नीचे अभी गन्दा है.

मैंने उसका नाम पूछा तो बोली- जी मेरा नाम नीता है और मैं आपके पास वाली फैक्ट्री में ही जॉब करती हूँ. हमने जैसा तय किया था, उस टाइम पर हम दोनों मिले और हमने एक होटल में जाकर खाना खाया.

रेखा भाभी की चुत की महक भी बिल्कुल ऐसी ही थी और हो भी क्यों ना … दोनों सगी बहनें ही तो हैं और दोनों ही एक एक बच्चे की मां भी हैं. मैं अपनी ही धुन में लगातार धक्के लगाता रहा, जिससे प्रिया अब जोरों से कराहने लगी- आआ … अहह्हह … ओय्य … बस्स्स … अब बहुत जल रहा है …प्रिया ने मेरी कमर को पकड़कर कराहते हुए कहा. मैं तो कभी नहीं चाहूँगा ऐसा। वैसा मेरा इरादा न तुम्हें तकलीफ पंहुचाने का है और न ही कोई तुम्हारी इंसल्ट करने का। मुझे साइकोलॉजी में गहरी दिलचस्पी भी है और पकड़ भी.

वो बोली- मुझे पता है … तुम्हारी दीदी ने बताया था कि रात में तुमने उसके साथ लगभग सेक्स किया था. शुरू में तो वो सब भी कुछ पूछने से कतरा रही थीं और मैं भी कुछ बताने से कतरा रहा था. उनका लंड मेरे मुँह की तरफ था और सर मेरी चूत को पागलों की तरह चाट रहे थे.

मैंने भाभी से सॉरी बोला तो भाभी पूछने लगीं- आज कल आते भी नहीं हो, कोई गर्लफ्रेंड पटा ली क्या?तो मैं बोला- भाभी, मेरी इतनी अच्छी किस्मत कहां कि मुझसे कोई लड़की पट सके.

कुछ 15 मिनट में वो खाना ले आईं तो मैंने कहा- खाना बहुत जल्दी तैयार कर लिया?उन्होंने कहा- तैयार तो पहले ही कर लिया था, अभी तो जरा गर्म किया है. पहली बार में तो मेरा लंड फिसल गया, मगर दूसरी बार में लंड का सुपारा ही अन्दर जा सका.

इधर लोगों के किस्से पढ़ पढ़ कर मैंने भी सोचा कि क्यों ना अपनी ज़िंदगी की सेक्स लाइफ आप सब के साथ शेयर करूँ. मैं- फुल पार्टी करने का इरादा लग रहा है आपका!पूर्वी- ऐसा मौका बार बार मिलता भी तो नहीं ना…मैं- हम्म्म. लेकिन मुझे क्या मालूम था कि वो मुझसे सही में ऐसी दोस्ती करना चाहता था.

नेहा ने उस दिन दूध वाले को छेद से देखता हुआ जान लिया था, तो वो अपनी सफाचट चूत और बड़े बड़े मम्मों को मसलते हुए दूधवाले की नजरों की हवस जगाने लगी. और इसी के साथ सुशीला झड़ गयी … और साथ में मैं भी उसका यह रूप देख कर!उसके बाद सुशीला उठकर बाथरूम चली गयी अपने कपड़े उठा कर … मैंने भी अपनी धोती उठाई. मैंने अब फिर से उठने की कोशिश तो की मगर सुलेखा भाभी ने मुझे आंखें दिखाते हुए ऐसे घूर कर देखा, जैसे कि मुझे धमका रही हों.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली इसके बाद मैंने कम्मो का जीमेल अकाउंट बना कर फेसबुक, व्हाट्सएप्प भी बना दिया और उसे अपनी फ्रेंड बना लिया. मैंने नीचे को होकर अपने होंठ उनकी बुर पर रखा … तो दोस्तों की सारी बातें याद आने लगीं.

किन्नर और लड़की की सेक्सी

मैं पूजा का कहा मान कर चुपचाप बिस्तर पर ही लेटा रहा और आज शाम से जो जो घटनाएं हुई थीं, उसके बारे में सोचने लगा. तभी उन्होंने हाथों से तेज़ी से ऊपर नीचे कर सुपारे की चमड़ी को पूरी नीचे कर उस पर अपना थूक गिराया और दोनों हाथों से लंड को मसलने लगीं. मैंने दो-चार और धक्के मार कर पूजा से पूछा- पूजा रानी, अब कैसा लग रहा है? अब तुम्हारी गांड में मेरा लंड घुसा हुआ है, तेरी चुत में मेरी उंगली घुसी हुई है और तेरी एक चूची मेरे हाथों से मसली जा रही है.

कॉफी खत्म होने के साथ ही मैंने उससे बोला- आओ मैं तुम्हें अपना बेडरूम दिखा दूँ. उसने पूछा- गर्लफ़्रेंड बना कर उसका क्या करोगे?मैंने कहा- कुछ तो करूँगा. सेक्सी वीडियो चोदनादेख कम्मो, मुझे तुम्हारे घर चलने में कोई आपत्ति नहीं, लेकिन तुम्हारी आंटी, मेरी बहूरानी अदिति को ये बात अजीब लगेगी कि मैं तुम्हारे गांव क्यों जा रहा हूं.

थोड़ी देर में मनीषा रूम में आई और पूछने लगी- कुछ और चाहिए?मैं टीवी देखने में मशगूल था, मैंने ना में सर हिला दिया.

अगर वो आई, तो तुम्हें बुला लेंगे, अब न बताया और कल को उसे पता चलेगा ही, तो वो बोलेगा कि अकेले अकेले माल चख लिया, बताया भी नहीं. ऊपर उसने एक ढीली सी टी-शर्ट पहनी हुई थी, जिसका गला कुछ ज्यादा ही खुला हुआ था.

मम्मी मुझे देख कर बोलीं- अब कैसी है तेरी तबियत सोनू?मैं बोली- अच्छी हूं अब ठीक लग रहा है. इस बीच एक बार तो उनकी ज़ुबान की कामुक हरकतों से मेरी चूत पानी पानी हो गई. ये बात करीब 3 साल पहले की है जब मैंने अपनी पहली गर्लफ्रेंड बनाई थी, उसका नाम हिनल था.

मैंने देखा कि हॉल के अन्दर छोटे छोटे से केबिन हैं और केबिन के अन्दर एक छोटा सा बेड था, जिस पर एक ही जन लेट सकता है.

मैं बहुत असमंजस में थी और स्वयं निर्णय नहीं कर पा रही थी कि जो मेरे साथ हो रहा, उसे रोकूं या होने दूँ. लेकिन आज आप इतनी खूबसूरत लग रही हैं कि एक पुरुष वाली जो भावनाएं एक खूबसूरत लड़की को देखकर जागृत होती हैं न. उन्होंने बोला- अगर किसी को पूरी बात में से कुछ हिस्सा बताया जाए, तो आप पर विश्वास कर सच तो मान लेता है.

चुदाई चुटकुलेयह सुनते ही श्यामा ने मुझे अपने पैरों से मेरी पैरों को ठोकर मारते हुए आँख का इशारा किया, जिसको मैं समझ गई और बोली- क्यों नहीं सर. एक दिन उसने मुझे मजाक में ही अपनी गर्लफ्रेंड बनाने के लिए मुझसे कहा कि वो मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बनाना चाहता है.

एसएस की सेक्सी वीडियो

अब किरण जी मेरे गले से चिपक गईं, मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर दबाने लगीं. मेरा होने वाला था, मुझे भी पहली चुदाई के कारण ज्यादा कुछ नहीं पता था कि पानी कहां निकलना है. तो वो मेरी बात को अनसुना करते हुए बेशर्मी से बोली- मुझे निक्की ने बताया है कि तुम बहुत अच्छा चोद सकते हो … तुम्हारा लंड काफी बड़ा है.

फिर मैंने बैठे बैठे ही उसे अपनी तरफ खींचते हुए अपनी जांघों पर बिठा दिया. मैंने पास रखी पानी की बॉटल से उस पर थोड़ा पानी डाला, तो वो होश में आई और रोने लगी. मैं अपना लंड उसकी गांड की दरारों की बीच में डालने की कोशिश कर रहा था, पर उसने बहुत ही टाइट साड़ी पहनी हुई थी, इसलिए मैं ऐसे ही लंड को उसकी गांड पर रगड़ रहा था.

मैं कॉलेज में गयी, तब से मुझे सेक्स के बारे में सब कुछ पता चल गया था. मेरा जब तीसरा ही सेमेस्टर चल रहा था तो मेरे घरवालों ने मेरी शादी भी फिक्स कर दी थी. मैं थोड़ा देर से उठता था, जिससे उन्हें चुदाई करने का आराम से समय मिल जाता था.

उसका नाम मीनल था, वो हमारी बायोलॉजी टीचर के साथ ही वो ही हमारी क्लास टीचर भी थी. उन्हें नंगा देखा है, उन्हें चोदा है लेकिन अब तक कोई भी ऐसी लड़की मेरे नीचे से नहीं गुजरी जो इतनी ज्यादा दुबली पतली हो कि दिमाग में ख्याल आये कि इसका कुल वजूद जैसे बस दो छेद भर हो और उभारने पर वे छेद कैसे दिखते होंगे।”दो छेद?”मैं आगे पीछे दोनों छेदों का शौकीन हूँ और दोनों ही मुझे समान रूप से आकर्षित करते हैं।”तो.

बीच बीच में मैं उसकी चूत को खोल कर रखता और वो गोरा निशाना लगाकर अपना नौ इंच का भरकम लंड अन्दर घुसा देता और मेरी पत्नी मज़े में कोयल की तरह चहक उठती और ख़ुशी में लोटपोट हो जाती.

फिर पता नहीं क्या हुआ कि वे एकदम से बोलीं- ठीक है मेरे ही कपड़े उतारने में मदद कर दो, बाकी मैं कर लूँगी, मेरा ब्लाउज पीछे से हुक वाला है, बस आप इसे खोल दो. होटल का सेक्स वीडियोमेरी जेठानी, देवरानी और ननद भी अभी तक प्यासी हैं, जब उन्हें मैं बताऊँगी कि तुम तो बहुत बड़े वाले चोदू इंसान हो. सेक्स तो सेक्सगज़ब का माल मेरे हाथ लगा था।वो भी अपनी चूत चुदाई का पूरा मजा ले रही थी … कामवासना से भरपूर आवाजें निकाल रही थी … अपने चूतड़ पीछे धकेल धकेल कर चोदन में सहयोग कर रही थी. मैंने उसकी चूत में अपना लंड दस मिनट तक अन्दर बाहर किया! वो अकड़ने लगी थी जिससे मुझे अहसास हो रहा था कि शायद वो झड़ने वाली है.

फिर दिमाग में आया कि इसको बताया और कहीं पहले की तरह इसने मॉम को बोल दिया तो उस समय तो बच गया था, अब की बारी नहीं बच पाऊंगा.

मगर अब जैसे ही मैंने अपने होंठों से उनके होंठों को छुआ, सुलेखा भाभी के होंठ और भी जोरों से थरथरा गए. वो पहले तो कुछ देर शायद कुछ समझ नहीं पाया कि उसके साथ क्या हो रहा है. उसने कुछ और दम लगाते हुए जोर के झटके लगाए और तारा को स्थिति बदलने को कहा.

मैंने कहा- जब शादी हो जाती है तो पति और पत्नी आपस में प्यार करते हैं, तो उसे ही सेक्स कहते हैं. अगर कोई मुझे चोदने के पैसे दे देता है तो वो तो सोने पे सुहागा हो जाता है. फिर सोनाली ने मेरे आंड के नीचे पास वाली नस से खेलने लगी और सहलाने लगी.

अंतरा चौधरी सेक्सी

मैं तो जैसे जन्मों से उनके लिए ही प्यासा बैठा था … मैंने तुरंत ही उनकी चूचियों के भूरे भूरे निप्पलों में से एक को अपने मुँह में भर लिया और दूसरी चूची को अपनी हथेली में भर‌कर जोर से मसल दिया. कुछ दिन मैंने खिड़की को खोला नहीं और रेवती को नजरंदाज करना शुरू कर दिया. ” वो मेरे कंधे पर अपना सिर रख कर समर्पित भाव से बोली और मेरी छाती सहलाने लगी.

उसके जाने की देर थी कि मैंने बीवी को जोर से चूम लिया और हाथ बड़ा कर उसकी बुर को सहला दिया, जो बेचारी कब से एक लौड़े के लिए दम तोड़े चुचा रही थी.

सिर्फ और उस बेड के आगे की तरफ एक करीब एक से डेढ़ फीट का मोटा सा होल है.

आंटी एकदम से बोलीं- क्या कर रहे थे?मैं बोला- ये दीदी की सहेली है, इसको आपके घर का रूम दिखा रहा था. अब आगे:तभी वह लड़का लंबा सा हैंडसम निकल गया और स्टोर वाला मेरे से बोला- थोड़ा जल्दी करो, जिसको कहना हो बता कर और आ जाओ. मम्मी को चोदामैं कुछ समझ पाता कि उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

गाहे-बगाहे मौका मिलते ही चूत चुदाई का खेल शुरू हो जाता था।दोस्तो, आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी मुझे इमेल करना।[emailprotected]. मेरी चूत पिघल गई और उसकी गर्मी से सर के लंड ने भी तेज बौछारें मेरी चूत में गिरा दीं. कुछ देर के बाद दीपक उठा और उसने मानसी की चूत में लंड घुसा दिया और जोर जोर से धक्का लगाने लगा.

आखिर मैं एक जवान लड़की हूं, वह भी कच्ची कली; बिल्कुल जवानी की दहलीज पर मचलती हुई महक रही थी. तब तक उसने मेरे लंड को उसकी चूत में सेट कर दिया था तो मैं उसकी गर्म चूत की गर्मी को महसूस करने लगा.

जैसे ही उसकी पतली खमदार कमर ऊपर को उठती, मेरी जुबान भीतर तक चली जाती और नीचे कमर आने पर जुबान मदनमणि को सहलाने लगती.

जीवन में इससे जरूरी कुछ नहीं है, न ही इससे ज्यादा मज़ा किसी चीज में है. आज उनकी वजह से हम सबको यह सुख मिला था, तो हमने सोचा हम तीनों मिलकर उनको चाटेंगे. उसने अपना नाम साधना बताया। मैंने नोटिस किया कि उसका कद 5’6″ तो होगा.

करीना कपूर की एक्स एक्स अब पीछे हिमांशु ने मेरे कूल्हों को फैला कर मेरी गांड में थूक लगाया और गांड में थोड़ी उंगली डाल कर अपना लंड फिट करके अन्दर जैसे ही डाला. शायद मेरी ही गलती थी कि मैंने उसे जगह दे दी थी, जिससे उसे मेरे भीतर पूरी तरह से आने का मौका मिल गया.

मैंने अपने दोस्त की मदद से उसका रूम ले लिया और मैडम को वहां का पता मैसेज कर दिया. ” कहते हुए नेहा ने तुरन्त ही अपने हाथ को झटक कर ऐसे हटा लिया, जैसे कि उसने कोई बिजली की तार को छू लिया हो. मुनीर ने माइक के लिंग के सुपारे को तारा की योनि में प्रवेश करा दिया.

व्हाट्सएप का सेक्सी वीडियो

मैंने देखा कि हॉल के अन्दर छोटे छोटे से केबिन हैं और केबिन के अन्दर एक छोटा सा बेड था, जिस पर एक ही जन लेट सकता है. डांस करते हुए तीनों एक दूसरे का चूचियां दबाने लगीं और एक दूसरे के कपड़े खोलने लगीं. गाड़ी लगभग एक किलोमीटर आगे बढ़ी, तभी वहां पर दो लोग खड़े थे, कार रोक दी गई.

उसने मेरे मम्मों को इतना अधिक चूसा कि बस यूं समझिए कि मम्मे लाल ही कर दिए. अब उन्होंने अपना काम शुरू किया और मेरी शर्ट के सारे बटन खोल कर मेरी बेल्ट उतार दी.

सोनाली और ख़ुशी मेरे निप्पलों को चूस रही थीं और वे हाथ से मेरे लंड को भी हिला रही थीं.

तो वो मेरी बात को अनसुना करते हुए बेशर्मी से बोली- मुझे निक्की ने बताया है कि तुम बहुत अच्छा चोद सकते हो … तुम्हारा लंड काफी बड़ा है. फिर उसके स्कूल और घर के बीच में रास्ते में बीच में एक जगह है, वहां रुक कर मैंने उससे बात करना ठीक समझा. तो दोस्तो, कैसी लगी आपको ये हॉट कहानी … मुझे मेल से बताएं या मेरे लिए कोई सुझाव या परामर्श हो, तो जरूर भेजें.

मम्मी ने पड़ोस वाली चाची के साथ डॉक्टर के पास जाना था, डॉक्टर से अपॉइंटमेंट ले रखी थी तो उनका जाना जरूरी था. फिर हाथों से सहलाते हुए मेरी ओर देखकर अपना निचला होंठ दांतों से भींचते हुए एक अलग ही प्रकार की कातिल स्माइल देने लगीं. क्या समझ जाऊंगा …” ये कहते हुए मैं उसे पकड़ने के लिये उठने ही वाला था कि तभी प्रिया ने हंसते हुए कहा- रहने दे … रहने दे … ये चालाकी, मैं आ रही हूँ वहीं पर!और सही में वो मेरी तरफ आने लगी.

इतना ही मेरे लिए बहुत था। मेरा लण्ड खड़ा हो गया था। धीरे से हिम्मत करके मैंने उसका एक मम्मे को दबाया.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी साड़ी वाली: मेरी बीवी कोशिश कर रही थी कि स्टीव का पूरा का पूरा लंड उसके मुँह में समा जाए. तुमको क्यों इतनी पसंद है मेरी चूत?मैं- आप मोटी तगड़ी हो इसलिए, मोटी औरत की चूत बहुत बड़ी और बहुत फूली हुई होती है और मुझे ऐसी ही चूत पसंद आती है.

कुंवारी लड़की मिली तो भी ठीक ही है, पर मजा चुदी चुदाई के साथ ज्यादा आता है. यह सुनते ही मैं उसके ऊपर आ गया, उसे अपनी बाँहों में भर लिया।अब मेरे होंठ उसकी गर्दन पे चलने लगे। उसकी गर्दन से चुम्बन करता हुआ मैं उसके होंठों पे आ गया। कभी मैं उसका निचला होंठ अपने होंठों में लेकर चूसता तो कभी ऊपर वाला होंठ चूसता!फिर मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी और वो मेरी जीभ को चूसने लगी, मैं उसकी जीभ को चूसने लगा।हम दोनों बहुत गरम हो चुके थे. ”चाची कांपते हाथों को जोड़कर बोली- आप मुझे चोदना चाहते हो तो चोद लो पर प्लीज मुझे जान से मत मारना!!चाची हांफती हुई बोली.

भाभी अब भी मेरी नजरों को ही ताड़ रही थीं, तब भी वे न तो अपने पल्लू को ठीक कर रही थीं और न ही मुझे कुछ कह रही थीं.

मैंने उसकी भावना को जाना तो मुझे उस पर प्यार आ गया और हम दोनों फिर से दुबारा सेक्स करने की कोशिशें करने लगे. फिर उनके हाथ मेरी पीठ पे रेंगने लगे और उन्होंने मेरी पैन्ट में खुरसी हुई शर्ट बाहर निकाल दी. डर के कारण मेरा गला अब सूख गया था और मुझे अब अपनी पिटाई होना तय ही लगने लगा था.