हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,मुस्लिम एक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो बच्ची की: हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ, महिला के सामने एक बड़ा सा ट्राली बैग और एक भारी भरकम सा एयर बैग रखा हुआ था.

ओपन चोदा चोदी वीडियो

करीब 5 से 7 मिनट धक्के लगने के बाद चुत ने लंड को स्वीकार करके रस छोड़ दिया. इंग्लिश पिक्चर बीपीबाद में माया की भी नजर उसके ऊपर पड़ी और उसने माया को एक स्माइल दे दिया.

जैसा कि उम्मीद थी, थोड़ी देर में टी टी एक नये आर पी एफ के जवान के साथ आ धमका और मेरे शौहर से टिकट मांगा. कैसे मारी जाती हैतब तक शनाज़ सजीधजी बाहर आई- क्या हुआ अम्मी?अम्मी- अभी तू चल … तुझे रास्ते में बता दूंगी.

मैंने उसके लंड को तेजी के साथ चूसना शुरू कर दिया और वो भी अपने लंड को मेरे मुंह में ऐसे धकेल रहा था जैसे मेरा मुंह नहीं मेरी चूत हो.हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ: अरे मैडम, बच्चे को मुझे दीजिये अभी आगे बहुत चलना है, बहुत सिक्यूरिटी चेक्स हैं आगे, आप बच्चे को लिए लिए परेशान हो जाओगी.

5 इंच मोटा लंड है … जो अब तक न जाने कितनी चूतों को फाड़ कर उनका पानी निकाल चुका है, पर आज मुझे मेरी फंतासी पूरी होती नज़र आ रही थी.सेठ जी गुस्से से बोले- अरे पुरानी बोरी में से ही खा लेता, नई बोरी क्यों फाड़ दी?ये सुनकर कल्लू की गांड फट गयी.

दिल्ली वाली सेक्स - हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ

थोड़ा काम कर रहा हूँ।अब उधर से क्या बात हुई मुझे नहीं पता लेकिन इधर से सागर बोला- हाँ यार, मुझे भी तुम्हारी बहुत याद आ रही है.मैंने कहा कि मैं कुछ देर पहले ही अपनी चाची की बुर को पेल कर आ रहा हूं.

उसके बाद हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे और मेरा लंड फिर से टाइट हो गया. हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ हॉट मामी की चूत की कहानी में पढ़ें कि मेरी मामी हमेशा चुदासी सी दिखने वाली माल लगती हैं.

यह कह कर उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया।मैं किस करने लगा और अंजलि भी पूरी तरह साथ देने लगी.

हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ?

मेरे शरीर की तरह ही मेरा सामान भी तगड़ा ओर मोटा है। कोई मस्त भाभी देखते ही 7 इंच का लंबा मोटा हो जाता है।मेरी एक सेक्स कहानीमेरी प्यारी भाभी की चूत चुदाई की कहानीपहले भी इस फ्री सेक्स कहानी साईट पर आ चुकी है. उसके बाद मैं बाजी की बात मान गया और हम लोग वहां से ऊपर चुपचाप छत पर आ गये. उसने कहा- थोड़ा और ऊपर तक करो न!इस बात से मैं खुश हो गया और मैंने उसकी साड़ी को और ऊपर कर दिया.

मैंने शॉवर चालू किया और दरवाज़े की ऊपर लगी खिड़की के नीचे पटरा रख कर बाहर देखने लगी. अब मैं अंकल को सहयोग करने लगी और नीचे से अपने चूतड़ों को उछालने लगी. उसने मुझसे भाभी कह कर ही बात किया और कुछ भी गलत कमेंट या ऐसा कुछ नहीं किया.

यूँ तो मुझे बहुत बातें करने का शौक है, इसलिए मैं नए नए दोस्त बनाता रहता हूँ. शायद उसकी पैंटी सही तरीके से सैट नहीं थी, तो वो उसे ही सैट कर रही थी. हम दोनों ने एक दूसरे की ओर देखा और मैंने शर्मिंदा होते हुए अपने अंडरवियर को जीन्स के नीचे छुपाया.

उसके बाद भी मैंने अपने बच्चों को बड़े ही प्यार से पाला, उन्हें किसी भी चीज की कमी नहीं होने दी. उनके लिप्स बिल्कुल अप्सरा की तरह बड़े और उस पर रेड लिपस्टिक और लिप्स के ऊपर बड़ा सा काला तिल था.

चूत को उंगली से सहलाते हुए मैं उत्तेजित हो गयी, फिर तेजी के साथ अपनी चूत पर उंगली चलाने लगी.

हम दोनों को ही ऐसा लगा था जैसे हम दोनों ही जिंदगी में पहली बार चुदाई कर रहे हों.

वो बोला- काश … इसकी मां जिंदा होती अंकित यार!मैंने पूछा- आप उनको बहुत याद करते हो क्या?वो बोला- हां, उसकी बहुत याद आती है. दूसरा गिफ्ट मौका देख कर देने का था और वो एक बहुत ही ज्यादा सुंदर ब्लैक कलर का ब्रा और पैंटी का सैट था, जो उस पर सबसे ज्यादा अच्छा लगता. अभी लो मेरी मंजुला रानी, पहले जरा एक बार इसे अपने मुंह में ले के गीला कर दो बस फिर तुम इसकी मालकिन!” मैंने ढीठ बनते हुए कहा.

शायद उनको मेहंदी ठंडी लगी क्योंकि वो रेफ्रिजरेटर में रखी थी, इसलिए ठंडी लगी होगी. सेठानी मज़े करने लगी और पांच मिनट में झड़ गई।मगर कल्लू कहां रुकने वाला था. उसके ससुराल में वो अकेली औरत है, इसलिए वो लोग उसे एकदम देवी के तरह रखते हैं.

कभी वो मेरी पीठ पर नाखूनों से चुभा रही थी और कभी मेरी गर्दन को काटने लगती थी.

तो मैंने बेख़ौफ़ उसके ब्लाउज से दोनों निप्पल साफ़ किये और एक दूध को अपने मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगा. भाभी के पूरे बदन पर एक तरह से मैंने चुम्बनों की बौछार ही कर डाली थी. क्या जल्दबाज़ी की वजह सुमन ही थी?क्या मनजीत ने सुमन को हमारी चुदाई के बारे में बता दिया है?अगर नहीं बताया, तो मनजीत जब कमरे में मेरे से चुद रही थी … तब सुमन कहां थी और क्या कर रही थी?बहुत सारे सवाल दिल में लेकर मैं वहां से वापिस आ गया.

मैंने जल्दी से मॉम का गाउन खींच कर उतार दिया और उनके मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही मसलने लगा. चूंकि भाई मेरे कॉलेज के सामने से ही गुजरता था तो वो भी उस लड़के की निगाहें पढ़ चुका था. वो ऐसे चूस रही थी जैसे बहुत दिनों बाद किसी बच्चे को लोलीपोप मिला हो।मैं भी उसके बूब्स और उसकी गान्ड को सहला रहा था।वो बहुत मस्त लौड़ा चूस रही थी जैसे रेखा आंटी चूसती हैं।मुझे रेखा आंटी की याद आ गई थी।राखी भाभी लंड को अंदर तक ले रही थी और अपनी लार से लंड को गीला कर दिया था।मैं भी बहुत खुश था और जोश में आ गया और झटके मारने लगा.

मैं समझ गया कि बड़ी मम्मी जी आज मुझसे चुदने के लिए ही मूड बना कर आई थीं इसलिए उन्होंने ब्रा पैंटी नहीं पहनी थी.

फिर उसकी गर्दन पर काफी देर तक चूमा और उसकी चूचियों को गाउन के ऊपर से दबाने लगा. वो भी मेरे जिस्म को चूस और काट रहा था और तेजी के साथ अपने लंड को मेरी चूत में पेल रहा था.

हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ मैं चाहता हूँ कि आप हॉट सेक्सी आंटी की चुदाई की मेरी स्टोरी को प्रोत्साहन दें, जिससे मैं और भी कुछ लिख कर आपका मजा बढ़ा सकूँ. करीब बीस मिनट बाद मैंने उससे पलटने को कहा और उसकी बांहों और टांगों पर मसाज करने लगा.

हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ अगले ही क्षण उसने मेरी मां की चूत में लंड को पेल दिया और उसको दे दनादन चोदना शुरू कर दिया. बलदेव ने नीरजा देवी को किसी फूल के भांति घास पर लिटा दिया और साड़ी ऊपर करके उनकी चुत को चाटना आरंभ कर दिया.

मैंने श्वेता की दोनों टांगों को कस कर पकड़ा और उसकी चूत पर अपना मुंह लगा दिया। उसकी चूत की खुशबू मेरी नाक में जाने लगी.

एक्स एक्स सेक्सी बीएफ भोजपुरी

मैंने उसके होंठ चूम लिए और उसे ठीक से सीधा लिटा कर उसकी कमर के नीचे तकिया लगा दिया ताकि उसकी चूत में लंड खूब गहराई तक घुसे. और वो भी मेरे बालों और चूचियों को और मेरी गांड को दबाता, मारता हुआ लेटा रहा।कुछ देर बाद जब मैंने सागर से समय पूछा तो उसने बताया रात के 3:00 बजे हैं।बातें करते हुए हम दोनों नंगे सो गए।सुबह फ़ोन बज रहा था मेरा तो उसी से मेरी आँख 09:00 बजे खुली. सेठ जी ने पूछा कि कहां था तू तो कल्लू बोला- आज मैं भी खांड खाने गया था।सेठ जी हंस पड़े।अगले दिन फिर कल्लू सेठानी को चोद रहा था तो सेठ जी ने उसको उसकी बीवी की चुदाई करते हुए देख लिया.

उसने एक जोर का धक्का मारा और सेठानी की आह्ह … के साथ कल्लू नौकर का लंड उसकी चूत में उतर गया. मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि उसके मां पापा दोनों नौकरी करते हैं और उसकी बहन शिफ़ा कोचिंग क्लास गयी हुई है. रजक लाल ने अपने मूत की धार रोहन के चेहरे पर मारते हुए उसके पूरे पूरे बदन को मूत से सान दिया.

मौसी ने पीछे हाथ लाकर मेरे तने हुए लंड को मेरी पैंट के ऊपर से ही अपने हाथ में पकड़ लिया.

मैंने एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया और मजे लेकर चूसने लगा; हल्के हल्के दांतों से उन्हें खींचते हुए काटने लगा. इस बात पर मेरी मॉम ने मुझे ज़ोर से गाल पर काट लिया और धीरे से मेरे कान में बोलीं- अब ज़्यादा बातें नहीं. मैंने उससे छूटने की कोशिश की लेकिन उसने मुझे बहुत कस के पकड़ रखा था.

वो मेरी टांगों के बीच में आ गया और मेरी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा. फिर मैंने बचे खुचे कुछ धक्के उसकी चूत में और मारे कि चुदाई के आनंद के अतिरेक से मेरी आंखें मुंद गयीं और लंड से रस की फुहारें बरसने लगीं. उसकी चूत में से नमकीन स्वाद मिल रहा था जो शायद उसकी चूत में लगी पेशाब की बूंदों का था.

आगे आपा की डेट आती तो वो चुदाई बंद कर देती लेकिन ऐसा तो कुछ नहीं हुआ था. मॉम को ड्रेस पसंद आ रही थी लेकिन वो दोनों आपस में बात करके कानाफूसी कर रही थीं.

उस रात को फिर से हमारी बात हुई और हमारी बात सुबह के चार बजे तक चलती रही. वो बोलीं कि मैं अपने पति को क्या बोलूंगी?मैंने कहा- बोल देना कि बस या कोई ट्रेन में जगह ही नहीं मिली. मगर वो कौन सा खुशनसीब लंड था जो मेरी तड़पती हुई जवानी को पहली बार चोद गया था.

वो मेरी चूत पर तेजी के साथ हाथ से सहला रहा था और मैं उसके लंड पर अपने हाथ को ऊपर नीचे कर रही थी.

वह पूरी तरह से हमलावर हो चुकी थी, वो उठी मेरा अण्डरवियर उतारा और मेरा लण्ड चूसने लगी. उसके बदन के बारे में सोच सोचकर लंड और मुंह दोनों में पानी आ रहा था. खेत सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक खूबसूरत कुंवारी लड़की को शादी के बाद प्यार भरी जोरदार चुदाई नहीं मिली तो उसकी चूत लंड की प्यासी रह गयी.

पढ़ते पढ़ते शाम हो गयी, जब मैं अपने कमरे से बाहर निकला … तो दीदी रात के खाने की तैयारी कर रही थी. थोड़ा भारी सामान उठाने में वो मदद करने लगी।कमरे का समान बाहर निकाल कर उधर राबिया अपनी चूची हिला हिला कर झाड़ू लगाने लगी.

एक तो मेरे लंड का मोटा सुपारा और दूसरे मेरी बहन ज़ोहरा की चूत पर बढ़ी हुई झांटें … मेरा लंड आपा की चूत में नहीं जा पाया. उसकी गोरी जांघों को देख मेरा लौड़ा फूलने लगा।अंजलि ने मुझे कोहनी मारी जो शांत रहने का इशारा था।मैंने जैसे तैसे अपना लण्ड शांत किया. उसको अंदर लाकर मैंने फोन की टॉर्च से बेड देखते हुए उसे बेड पर लिटाया और फिर दरवाजा अंदर से बंद करके आ गया.

हिंदी इंग्लिश बीएफ सेक्सी

सेठ को मजा आ गया और वो सेठानी की चूचियों पर लेटकर उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूत मारने लगा.

मैं तो से उतने दिनों में इसे चोद चोद कर इतना मस्त कर दूंगा कि साली बिना लंड के रह ही नहीं पाएगी. मन कर रहा था कि उसकी चड्डी को उतार कर उसकी चूत में लंड को घुसा दूं लेकिन मैं जल्दबाजी नहीं करना चाह रहा था. दूसरे दिन फिर से माया सेक्सी कपड़ों मैं बाल्कनी में कपड़े सुखाने गई.

मैंने आरजू से उसका नंबर ले लिया और उससे कुछ देर बात करके उनसे विदा ले ली. उसके 30 इंच के एकदम गोल चुचे … बलखाती कमर 28 इंच की और 34 इंच की उठी हुई गांड. सोनिया का सेक्सीउसके बाद …फ्रेंड्स, मेरा नाम सुनील शर्मा है और मैं अपने कॉलेज की सेक्सी कुंवारी लौंडिया की चुत की सील तोड़ने की रसभरी चुदाई की कहानी में आपका फिर से स्वागत करता हूँ.

फिर दो दिनों के बाद होटल से चेक आउट करके मैंने उसे उसकी सहेली के घर के लिए विदा कर दिया. तरह तरह के देशी विदेशी यात्री, इठलाती बलखाती गहरे मेकअप में सजी, अपने हुस्न के जलवे लुटातीं धनाड्य नवयौवनाएं.

मेरे स्पीड एकदम से बढ़ गयी और पांच छह धक्कों के साथ अपने माल छोड़ दिया. फिर भाभी ने मेरी पैंट उतार दी और मेरी जांघों के बीच में आकर मेरे लंड को मुंह में भरकर मस्ती में चूसने लगी. मैंने सोचा कि अगर आप लोगों को सही लगे तो मैं अपनी बेटी को आपके यहां छोड़ कर आराम से निश्चिंत होकर चला जाऊंगा.

हैलो फ्रेंड्स, मैं आर्यन एक बार फिर से अपनी दीदी राखी की मदद से अपनी मॉम रश्मि की प्यासी चुत की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ. मैं मॉम का इशारा समझ गया और उठ कर मैंने मॉम की चुत पर अपना मुँह लगा दिया. वो हंसते हुए बोली- मैं भी तो देखूं कि मेरी बेटी जिसकी दीवानी है वो कैसे मजा देता है!मॉम मेरे लंड को सहलाने लगी और मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

उस समय मैं स्वर्ग सुख की अनुभूति कर रहा था।फिर मैं उसकी चूत चाटने लगा.

हालॉंकि मेरी पैंटी तो रोजाना ही गीली होती थी तो सबसे पहले मैं अपनी चूत को शान्त करती उसके बाद कहानी में दिए गए मेल आई डी मेल करना; ये मेरा रूटीन वर्क बन गया।जब मैंने कोमलप्रीत कौर को मैंने उनकी कहानी में दी हुई आईडी पर मैंने मेल किया तो मेरे पास मेल का जवाब मेल पर ही आया. इतना बोलते हुए दो मिनट बाद मामी झड़ गईं और बोलीं- अब बस करो बहुत लग रही है.

नीरजा देवी भी अपनी चुत की साफ सफाई करके अपने कमरे में चली गईं और थकी होने के कारण सो गईं. मॉम उठी और बोली- इतनी क्या जल्दी थी? अब जल्दी से इसको दोबारा खड़ा करने का इंतजाम करो, मेरी चूत में आग लगी हुई है. रात को हम सब साथ खाना खा रहे थे तो जीजा ने बताया कि उनको काम से एक हफ्ते के लिए बाहर जाना पड़ेगा.

आह्ह … चोदो न … और जोर से … आह्ह … चूत फड़वाने का मजा भी आज मिला है मुझे. अब कहानी को आगे बढ़ाते हैं!डिम्पी फोन पर सिसकते हुए बोली- सौरभ, तुम मुझे भी कुछ दिनों के लिए मुंबई ले जाओ, मैं यहां नहीं रहना चाहती. दोस्तो, मैं आपको बता दूं कि हमारे घर में दो कमरे थे जिनमें बेड डले हुए थे.

हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ फिर एक दिन ऐसे ही बातों ही बातों में उसने मुझसे कहा- कब मिल रही हो भाभी?मैंने भी हंसकर कह दिया- जब आप बोलो. जिस लड़के को इसने मारा, वो हमेशा बोलता था कि तेरे पापा मर गए हैं, तो तेरी मम्मी को मेरे पास भेज दे.

ब्लू पिक्चर हिंदी में हिंदी में

मैंने अपने घर पर फोन कर दिया और कह दिया कि आज रात ऑफिस में रुकना पड़ेगा. मैंने उसकी चूचियों को एक हाथ से मसलते हुए अब उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को भी सहलाना शुरू कर दिया. पर मैं डरता था कि कहीं वो मना ना कर दे, इसलिए मैंने उसे प्रपोज नहीं किया.

अब आगे की बाथरूम सेक्स कहानी:अगले दिन मैं सुबह उठी और जब नहाने गयी, तो मेरे कमरे का दरवाजा खुला ही रह गया था. माया की गांड पर हाथ घुमाने के बाद माया की चूत को सहलाने गया, तो उसकी चुत पहले से गीली हो रही थी. सेक्सी बूटीबलविंदर को पता था कि अलीमा के मम्मी पापा को आने में थोड़ा देर लगेगी, तो वो डायरेक्ट अलीमा के रूम में चला गया.

मैंने पोजीशन बनाई और भाभी के ऊपर चढ़ कर अपना लंड भाभी की चूत में पेल दिया.

मैं अन्दर गया और उससे बोला- दो बजे तक क्लीनिक खुला रहता है, तुम सवा दो बजे आओ. कुछ देर में आरजू मेरे पास आई, तो मैंने कहा- अब यहां खतरा है और 8 भी बज रहे हैं.

वह मेरी हालत समझ चुकी थी और मुझसे पूछने लगी कि क्या मैं ड्रिंक करता हूँ. फिर वो एक बार उसके पास गयी और न जाने क्या बात की उसने कि उसके बाद मकान मालिक चुप हो गया. उसके दोनों पैर ऊपर करके चिपकाए और चूत में लंड का सुपाड़ा सेट करके झटका दे दिया.

मां के बारे में कुछ कुछ बातें चलने लगीं लेकिन हम दोनों बहनों ने कभी इस बात पर ध्यान नहीं दिया.

गर्लफ्रेंड सिस्टर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड की बड़ी बहन भी मुझे पसंद करती थी. तो उन्होंने कहा- क्या देख रहा है?मैंने उनसे कुछ नहीं कहा।फिर वो मेरे को बकने लगी- तू मेरे बिस्तर पे कैसे बैठा है? तू नीचे बैठ! वो एक टॉवल रखा है उसको उठा कर ला और मेरे हाथ पैर को टॉवल से पौंछ!मैंने उनके हाथ पैर के पानी को टॉवेल से साफ किया. आखिर कालेज का छोकरा था, ज्यादा देर नहीं रोक पाया और चूत भिगा कर बगल वाले सीट पर जाकर बैठ गया.

गाने डाउनलोड कीजिएकुछ दिन पहले एक दिन जब नजमा दीदी घर पर आई हुई थी तो उन्होंने कहा कि अब रुबीना की शादी करनी चाहिए ये भी जवान हो गई है. ये गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड सेक्स कहानी मेरे एक फेसबुक फ्रेंड की है, जिसने मुझसे गुजारिश की थी कि मैं उसकी कहानी लिख कर अन्तर्वासना की ही एक अन्य साईट फ्री सेक्स कहानी पर पोस्ट करूं.

देसी सेक्स ब्लू पिक्चर

फिर वो बोली- आपने कल भी आवाज सुनी थी क्या?मैंने हां में सिर हिलाया. मैंने शुरू तो नेक काम के लिए किया था, लेकिन अब मुझे भी उन तीनों से अपनी चूत और मोटी गांड चुदवाने में मज़ा आने लगा था. मुझे नाखून गड़ा रही थीं और बोल रही थीं कि फाड़ दो मेरे राजा … आह मेरी इस कमीनी चूत को … आह बहुत चुदासी है ये.

और उसने मुझे अपने ऊपर खींच कर अपनी बांहों में भींच कर फिर से प्यार करने लगी और आई लव यू बोला।यह सुन कर मुझे भी बहुत अच्छा लगा।इसके बाद क्या हुआ फिर कभी बताऊँगा कि कैसे मैंने उसकी गांड मारी।आपको मेरा अब तक का अनुभव कैसा लगा मुझे बतायें। मुझे आपके मेल का इंतज़ार रहेगा।[emailprotected]. वेटर- आप भी करोगे क्या किसी के साथ?मैंने कहा- हां, बहुत मुश्किल से पटाई है, आज नहीं हुआ तो फिर कभी नहीं होगा. मैंने उसकी चूचियों को फिर से दबाया और कहा- अब तो नहीं डरी न?वो हंसने लगी और बोली- बड़े नॉटी हो!मैंने कहा- अभी नॉटीनैस देखी किधर है मेरी बुलबुल … अब देख.

नीरजा देवी भी अपनी चुत की साफ सफाई करके अपने कमरे में चली गईं और थकी होने के कारण सो गईं. इससे मेरी सांसें तेज होने लगीं और मैंने अपना एक हाथ अक्षय के लोवर पर उसके खड़े होते लंड के ऊपर रख दिया. मैंने उसे लंड लगाए हुए ही अपनी गोद में लिया और धीरे से अपने नीचे ले लिया.

अंडरवियर खींचते ही ताऊ जी का लंड बाहर आ गया और बड़ी मम्मी जी के मुँह में जा लगा. कमरों में सब जरूरत का सामान जैसे बेड, फर्नीचर, पंखे वगैरह लगे थे, बेडरूम में ऐ सी भी लगा हुआ था.

वो मेरे नीचे से निकलने की कोशिश करने लगी पर मैंने उसको अच्छे से पकड़ा हुआ था.

इतना कह कर टी टी ने मेरे कमर के पास मेरी पेटीकोट के अंदर दोनों तरफ से उंगली डाल दी और पेन्टी के अंदर उंगली फंसा कर जोर से नीचे की ओर खींच दिया. जंगल मे मंगल सेक्स विडियोउसमें आवाज आ रही थी- पापा मुझे चोदो और जोर जोर से चोदो, फाड़ डालो इस आपकी ही दी हुई अमानत को!ऐसी आवाज़ पूरे कमरे में गूंजने लगी. दोस्त की पत्नीये उसे बहुत अच्छा लगा कि मैंने उसके लिए गाड़ी का दरवाजा खोला।फिर हम दोनों गुरूग्राम एक मॉल में गए और एक दूसरे को जानने के लिए बहुत सारी बातें की। हमारी करीब 10 दिन से बातें हो रहीं थी तो थोड़ी ही देर में हम दोनों एक दूसरे से काफी खुल कर बात करने लगे।फिर मैंने उसे बताया कि एक लड़की के साथ मेरा अभी अभी ब्रेकअप हुआ है. मंजुला का फोन आया और कहने लगी कि वो दीपावली पर अपने घर आ रही है और मुझसे मिलना चाहती है.

बलविंदर को तो इस बात की उम्मीद ही नहीं थी कि अलीमा उससे गुस्सा होगी.

मेरी मम्मी का नाम ज्याना है, प्यार से सभी उन्हें ज्यानु पुकारते हैं. मैं- छोड़ो अंकल छोड़ो … यह आप क्या कर रहे हो?तब मैं अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करने लगी मगर अंकल की मजबूत बांहों से छुड़ा ना सकी. सागर के लन्ड का पानी पूरा मैंने पी लिया और मेरी चूत का रास भी सागर पी गया।कुछ देर ऐसे ही पड़े रहे उसके बाद मैं सागर के तरफ मुंह करके उसके ऊपर ही लेट गई.

मगर जैसे ही उसे आहट हुई कि मैं बाहर आ रही हूं तो उसने फोन एक ओर रख दिया और टीवी को चेक करने का नाटक सा करने लगा. और फिर नंगी ही एक दूसरी से चिपक कर सो गयी।अगले दिन सुबह उठी मैं … तो तनु सोई हुई थी।मैंने उस नंगी को उठाया और बोली- चल नहा ले! फिर मम्मी के साथ काम भी करने हैं।हम बहनों ने नहाते हुए फिर से लेस्बियन सेक्स का मूड बनाया. उसने कई बार कोशिश की।तो मैंने कहा- तनु तेरे हाथ में नहीं आएगी।वो बोली- दीदी, मैं अपनी तो पकड़ लेती हूंतो मैंने उसकी नंगी चूची को हाथ में पकड़ा और बोली- तेरी छोटी हैं.

ભાભી ની બ્રા

उनके ब्लाउज का गहरा गला मुझे कामुक बना रहा था मेरी नजरें उनकी भरी हुई चूचियों पर ही टिकी थीं. वह सिर्फ चूची चूसने तक नहीं रुका, वो मेरे मम्मों को पीते हुए मेरे दोनों निप्पलों को बारी बारी से अपने दांतों से खींच भी रहा था. उसके कोमल हाथ का स्पर्श पाकर मेरा लंड पैंट में से जोर जोर के झटके देने लगा.

मैं सोशल मीडिया पर भी बहुत समय देता हूं इसलिए भाभियों और आंटियों को पटाने की कोशिश करता रहता हूं.

चूंकि अलीमा बहुत ही अच्छे नेचर की थी, इसलिए उसने बलविंदर से तो कुछ भी विरोध नहीं जताया.

अपने शारीरिक परिचय के बाद अब सीधे आपको सेक्स कहानी के माध्यम से गर्म करने की कोशिश करती हूँ. मेरी सास, मेरे पति, जो पिछले साथ सात साल से कोमा में बिस्तर पर ही पड़े हैं और अंत में मेरी बेटी नीरजा, जो कि अब 22 बरस की है. पिंकी फोटोमैंने पहले से ही अपने एक स्टाफ को बोल दिया था कि वो मुझे ठीक साढ़े छह बजे फोन करके किसी अर्जेंट काम के लिए फोन कर दे.

मैं भी उनके पीछे ही चल दिया।नीचे आकर बाजी टॉयलेट में घुस गई तो राबिया बोली- इमरान, मुझे पता है कि तुम्हें अजीब लगेगा, मगर मैं तो रोज़ तुम दोनों को चुदाई करते देखती हूं. मगर फिर मुझे भी आइडिया अच्छा लगा और उसने मेरे से मेरी कुर्ती और ब्रा उतारने के लिए कहा. मेरी बीवी ने मामी (मनजीत कौर) को यह बोलकर रोक लिया कि शाम को मैं उनको इनसे छुड़वा दूंगी.

लेकिन मैंने उसकी किसी बातों पर ध्यान नहीं दिया और लंड को पूरा चूत के अन्दर डाल दिया. मैंने प्रीति को घोड़ी बना दिया और उसके पीछे जाकर उसकी चूत में अपना लण्ड पेल दिया.

मैं भी साथ में चला गया।बाजी ने कहा- अब बताओ, क्यूं परेशान हो?मैंने कहा- बाजी, नजमा दीदी ने क्या करने के लिए कहा था?वो बोली- अरे नीचे की सफाई करने के लिए कहा था.

मेरा मन कर रहा था कि उन्हें वहीं पकड़ कर चोदना शुरू कर दूं, पर मैंने खुद को काबू में रखा. लंड अंदर गया तो मौसी ने हल्का सा उई किया बस!मैं अब धक्के लगाने लगा, मौसी भी मेरे हर धक्के का जवाब अपने धक्के से दे रही थी. मैं उसके चेहरे और गर्दन को ऐसा चूस रहा था मानो बूब्स को चूस रहा हूं.

हिंदी गाना सेक्सी में फिर कहने लगा कि वो सोसायटी में अभी अभी नया रहने आया है और अपना जिम का बिजनेस सिटी में सैट कर रहा है. अब हमारी कुछ देर बातें होती रहीं, तब पता चला कि वो अपनी कॉउंसलिंग के लिए शिमला जा रही है.

मेरा लण्ड 7 इंच लम्बा है जो कि किसी भी भाभी को सम्पूर्ण आनंद तक पहुंचाने के लिए काफी है।मैं अंतर्वासना का नियमित पाठक हूँ। मुझे अंतर्वासना की कहानियां पढ़ना बहुत अच्छा लगता है।आज मैं आपको जो हॉट भाबी सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ यह मेरी पहली और सच्ची घटना है. मैंने नीचे झुककर देखा तो उसकी चूत में लंड जब अंदर जा रहा था तो पूरी चूत फैलकर मेरे लंड का स्वागत कर रही थी. हैलो, मैं आपकी प्यारी सी तमन्ना, एक बार पुनः आपको सेक्स कहानी का मजा देने के लिए हाजिर हूँ.

देहाती लड़कियों की सेक्सी पिक्चर

फट फट की आवाज़ निकलने लगी जब सागर पीछे से मेरी गांड मारने लगा।कुछ देर बाद वो मुझे अपनी गोद में उठा कर बेडरूम में लेकर आया. उसने कहा- टीना तुम आज भी बहुत हॉट और सेक्सी हो, काश उस समय तुम शादी के लिए हां कर देती … तो आज कुछ और बात होती. कुछ देर के बाद मां ने कहा- आप हमारे घर पर पहली बार आये हैं, चाय पीकर जाइयेगा.

पसीने के कारण पूरे कमरे में चुदाई की आवाजें और उसकी कामुक सिसकारियां मुझे और जोश दिला रही थीं. ऐसे ही एक बार मैंने उससे पूछ लिया- तुमने ऐसे आदमी से शादी क्यों की?वो बोली- हमारी लव मैरिज हुई थी.

उस हालत में बिखरे हुए, फर्श पर नशीली हालत में हम दोनों बेसुध पड़े थे.

उसकी दोनों टांगें फैला कर जैसे ही मैंने मेरा टोपा अन्दर डाला, तो लंड चुत में नहीं गया … फिसल गया. करीब 10 मिनट तक ऐसे ही चुदाई करने के बाद मैंने उसे नीचे लेटाया और उसकी टांगें अपनी कमर पर रखकर अंदर लंड डाला और तेज तेज झटके मारने लगा. तुम्हारा स्वभाव, तुम्हारा बदन, तुम्हारा सेक्स करने का तरीका बहुत ही मस्त है.

मैंने उसकी सारी बातों का अंत उसके हाथ से सिगरेट लेकर एक कश मारा और धुंआ छोड़ दिया. मेरी तो आंखें बंद हो गई थीं और मेरे एक हाथ में बड़ी मम्मी का एक दूध दबा हुआ था, जिसे मैं मजे से भींचे जा रहा था. उन्होंने मेरा लंड हाथों में पकड़ लिया और उसके सुपारे पर दो तीन किस की.

मैं बोला- फिर तुम सबने मिलकर खुशी खुशी हम दोनों का निकाह शादी क्यों करवाया?ज़ोहरा आपा ने हंस कर अपने हाथ से मेरा लंड अपनी चूत से निकाला और बोली- चल अंदर चलते हैं.

हिंदी फिल्में सेक्सी बीएफ: अमन अपना हाथ नीचे ले जाकर मेरी चूत मसल रहा था और मैं अमन का लंड हिला रही थी. अब मंजुला बेडशीट अपनी मुट्ठियों में दबोच कर अपनी चुदास पर नियंत्रण रखने की भरपूर कोशिस कर रही थी.

बाहर रखे गमले के नीचे से चाबी निकाली और लॉक खोल कर आकांक्षा को अन्दर बुला कर अन्दर से दरवाज़ा बंद कर दिया. अब मैंने प्रीति से कहा- मेरे लिए सबसे पहले तुम हो, बाद में वो जवान लड़कियां. जिस कॉलोनी में मैं रहता हूं वहीं पर एक घर में एक किरायेदार रहने के लिए आये.

एक कुंवारी बुर को दो राउंड पेलने के बाद और उसके बाद अपनी मां की गांड को चोदने के कारण मुझे भी थकान हो रही थी.

क्योंकि वो बेशक पंजाब का है लेकिन इंटरनेट पर मेरी बदनामी कर सकता है. वो जानबूझ कर अलीमा के गले से लगता, कोई बहाना मार कर अलीमा के पापा यानि अपने दोस्त को दिखाता कि अलीमा उसकी बेटी की तरह है और वो एक बाप के नजरिए से ही उसे गले लगाता है. मैंने कहा- अगर आप चुत चोदने दोगी, तो हटा दूँगा … इतनी भी जल्दी क्या है? अभी तो हम एक हफ्ते रुकेंगे.