बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी में चोदा चोदी वीडियो सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

शक्तिमान विडियो: बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ, मेरे घर के सामने रहने वाली आंटी की अनतरवासना मेरे लंड ने कैसे शांत की.

अंग्रेजी सेक्सी वीडियो भेजना

हम दोनों एक ही साथ झड़े।दोनों पसीने से लथपथ हो गए थे। कुछ देर तक दोनों एक दूसरे से लिपटे हुए हांफते रहे. सेक्सी वीडियो खेसारी लालअब उन दोनों में से एक ने लंड निकाला और मां के पैरों को फैलाकर उनकी बुर में लंड पेल दिया.

ये बात तब की है, जब मैं कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई कर रहा था और दीदी फाइनल ईयर में थीं. काठमांडू सेक्सी पिक्चरउसकी कोमल चिकनी चूत बेपर्दा होती चली गई और मैंने उसकी पैंटी उतार कर फेंक दी.

दोस्तो, मेरा नाम सिया है। जिन लोगों ने मेरी पिछली मस्तचुदाई की Xxx काहनीबिना शादी के सुहागरातपढ़ी है वो मुझे जानते होंगे। आज मैं फिर से आप लोगों के लिए अपनी एक और कहानी के साथ वापस आ गयी हूं.बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ: वो बोली- ये क्या है?मैंने बोला- जानेमन … आज कुछ मत पूछो … आज सिर्फ तुम मजा लो.

मैंने उससे पूछा कि आप यहां कितने दिन के लिए आए हैं?विशाल ने बताया कि अब तो मेरी पढ़ाई पूरी हो गई है और इधर पटना में भैया के पास रह कर जॉब की तलाश करूंगा.सुबह बीवी से फ़ोन पर बात करने के बाद मैंने बोल दिया कि मैं थक गया हूँ, इसलिए अब सोने वाला हूँ.

ரோஜா செஸ் விதேஒஸ் - बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ

फिर मैंने उसकी भारी भारी जांघों को थोड़ी फैलाया और उसकी चूत में लंड को पेल दिया.मेरी चूत से भी पानी छूट पड़ा और मैं बुरी तरह से वहीं खड़ी खड़ी कांपने लगी.

वो मेरे स्तनों को दबाते हुए मेरी योनि का मैथुन करने लगा और 15 मिनट तक रगड़ने के बाद वो मेरी योनि में ही स्खलित हो गया. बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ चपरासी ने कहा- आपका बदन देख कर लगता है कि आपके दो तीन चक्कर और लगेंगे.

लंड घुसवाते ही नम्रता चिल्लाने लगी- आंह … मेरी फट गई … मुझे दर्द हो रहा है … जल्दी बाहर निकालो.

बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ?

मेरे कूल्हे को बारी-बारी से दांत गड़ाता हुए पीठ पर अपनी जीभ चलाते हुए मेरी गर्दन को चाटने के बाद मेरे होंठ चूसने लगा।फिर वो झटके से खड़ा हुआ और अपने सब कपड़े एक-एक करके उतारने लगा।मेरी नजर सिर्फ और सिर्फ उसकी पैन्ट पर थी, जो अब उतर चुकी थी. मेरी इस सेक्स कहानी के पहले और दूसरे भागों में आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने प्यार सनी को खो दिया था. मैंने धीरे से भाभी के हाथ को अपने तने हुए लंड पर टच करवा दिया तो भाभी के होंठ खुल गये.

अब आगे:होली की मस्ती जब शुरू होती, तब होती … जेठानी जी ने तो उसी समय दीपक जी की लुंगी खींच दी और बोलीं- मैं भी तो देखूं अज़गर कैसा है?जेठानी जी की इस हरकत से मैं और रिया शॉक्ड हो गए. मैं घुटनों पर बैठ गयी और उसके लंड को मुंह में लिया तो मुझे वो बहुत अजीब और खट्टा सा लगा. बिना चूत में डलवाये हुए लिंग ऐसा मजा दे रहा था तो सोचो अंदर जाने के बाद तो कितना मजा देता होगा.

लेकिन रोहित बिना सुने हौले-हौले से मेरी पेन्टी को चाट रहा था- आह भाभी, बहुत मजा है इस रस में!मेरे जीवन के इस आनन्द के क्षण को अब मैं जीवन भर नहीं भूल पाऊँगी।फिर वो मेरे पैरों के बीच से हट गया. मेरी वासना से तप्त नजरें उनके बड़े बड़े मम्मों और फूली हुई गांड पर टिकी थीं. अचानक उनकी नजर मुझ पर पड़ी, पर न तो वो लोग उठ कर बाहर गए … न कुछ बोले.

से थोड़ा आगे ही एक खड्डा बचाने के लिए अचानक से ड्राइवर ने तेजी से ब्रेक लिए जिससे कुछ लड़कियां आगे की तरफ गिरीं. मेरी चूत बहुत दिनों से प्यासी थी इसलिए मुझे बहुत मजा आ रहा था अपनी चूत को अपने हाथ से रगड़ते हुए.

बस फिर मैंने इतनी जोर जोर से लौड़े को पेलना शुरू किया कि मेरे पेट पर अचानक गर्म पानी की तीन बार बौछारें पड़ीं.

अंकल का काला सा लंड करीब करीब 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा था जिसे देख कर मेरी सांसें जैसे थमने लगी थीं.

अब वो अपने एक हाथ से कभी मेरे स्तनों को मसलते, कभी मेरी जांघों को सहलाते, कभी मेरी चूत में उंगली डालते. उसके कमरे से बाहर आकर मैंने उसकी अम्मी के कमरे के दरवाजे को बाहर से खोल दिया. उसके घर के आंगन में एक लंबी और गोरी लगभग 45 साल की औरत सफेद साड़ी और ब्लाउज में खड़ी थी.

मेरे लण्ड पर हाथ फेरते हुए मौसी बोली- तूने मेरी सो चुकी भावनाओं को फिर से जगा दिया है आज विजय. अगले दिन मैंने योगेश जी से कह दिया कि मैं होटल पूनम में नहीं जाऊंगी दोबारा. तभी उसने मुझसे कहा- पता नहीं कब चलेगा ये?मैंने उससे पूछा- कहां तक जाएंगी आप?उसने कहा- राइपुर (बदला हुआ).

शाम को फिर अनु मेरे घर आई और बोली- तुम्हें मेरी मां घर बुला रही है खाने के लिए … चलो।मैंने कहा- ठीक है, मैं आता हूं.

मैंने इतना ही बोला था कि मोहित अंकल भी चिल्लाने लगे- आह मैं भी बस आ रहा हूँ … आह कमिंग. जिससे मुझे हल्के दर्द के साथ मजे आने शुरू हुए।करीब 15-20 मिनट तक वो मेरी चुदाई करते रहे और फिर अपना गर्म लावा मेरी चूत के अन्दर डालकर किनारे हो गये।मुझे भी खूब मजा आया। मेरे जिस्म के एक-एक अंग को निचोड़ कर रख दिया था।मेरा पानी निकलने के बाद ही उन्होंने अपना लावा मेरे अंदर डाला. सुमित के लंड से जीजा जी का लंड करीब दो इंच बड़ा था और काफी मोटा भी था.

रोहन बोला- तुम भी पॉर्न फिल्म देखती हो क्या?मैंने कहा- एक दो बार देखी हैं मैंने. रात के करीब दो बजे में उठकर बाथरूम जा रहा था, तब मुझे पीयूष के रूम से आवाज आई. मैं घूमी तो देखा कि अल्पना सनी के सीने से चिपकी हुई उसे चूम रही थी.

वो छोटे और तंग कपड़े पहनती, काफी पैसे खर्च करती, मेरी दवाई वगैरह सब समय पर आ जाती.

पर आज मेरी पकड़ इतनी मजबूती थी कि वो चाह कर भी मुझसे अलग नहीं हो पा रही थीं. मैं सब कुछ हैरान सा होकर सुन रहा था मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि ये सब मेरी आंखों के सामने हो रहा है.

बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ उसके तुरंत बाद मैंने मामी जी के रसीले बूब्स को पकड़ पकड़कर अच्छे से दबा दबाकर निचोड़ डाला।मेरी इस क्रिया से वो जोर जोर से सिसकारने लगी थी. वो आदमी उसके मुँह के सामने खड़ा हो गया और अपने लंड को उसके मुँह में पूरा डाल दिया.

बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ वो पागल हुए जा रही थीं और कामुक होकर कहने लगीं- प्लीज़ और मत तड़पाओ मेरी चुत को! अब तो इस चुत को फाड़ दो. मैंने कहा- अभी तो एक लड़का रहता है मगर वो सर्दी में किसी काम का नहीं है.

फिर वह अपना चेहरा मेरे चेहरे के करीब लाकर कहने लगा- सुरभि जी, आप बला की खूबसूरत हो.

हिंदी मुस्लिम सेक्सी व्हिडिओ

दूसरा मुझे शारीरिक सुख मिल सकता था और तीसरा ये कि सामने वाली बंदी की भी इच्छा पूरी हो जाएगी. तभी शेखर ने अपना लन्ड मुँह से निकाला और मां जी की चूचियों पर टूट पड़ा। वो उसकी 34 डी की एक चूची को पी रहा था और दूसरी को मसल रहा था. मैं इतनी गर्म हो गयी कि ध्यान ही नहीं रहा कि पास में दिया का भाई विजय भी सो रहा है.

तो दोस्तो, मैंने मौसी की लड़की की चूची पर हाथ रखा हुआ था और मैं उसकी चूची को लगभग 10 से 15 मिनट तक दबाता रहा. मेरा लंड गले में फंसा होने के कारण दीदी की सांस रुक रही थी और उसकी आँखों से आंसू आ रहे थे. मैं नवाब के बच्चे की मां बनना चाहती थी लेकिन समाज के डर से मुझे वो बच्चा गिरवाना पड़ा.

वो मुझसे मिलने आयी और …न्यू सेक्स कहानी हिंदी के पिछले भागकोरोना बाबा का प्रसाद- 1में आपने पढ़ा कि 14 दिन तक मेरे घर पर पत्नी की तरह रह कर चुदाई कराते कराते मनीषा ने मुझे दीवाना बना दिया.

जो फोटो उसने भेजी उसमें उसने एक टाइट कमीज पहनी हुई थी जिसमें उसके चूचे बहुत ही मस्त और बड़े दिख रहे थे. आज मेरी भूख मिटा दे मेरे बच्चे।मैंने मौसी की चूत में उंगली दे दी और जोर जोर से अंदर बाहर करने लगा. ये वीडियो देसी चुदाई का था, जिसमें एक 40 साल की उम्र का आदमी बेड पर बैठा था.

कभी मेरे कंधों पर तो कभी मेरी छाती पर किस करके वो मुझे तड़पा रही थी. वहीं पास में खड़ी चम्पा ये सीन देख कर अपनी चूत में उंगली करने लगी थी. मैंने भी दीपक को उठाया और रिया दी के रूम में छोड़कर अपने रूम में सोने चली गयी.

आंटी को लगा कि मैं बस किस करूंगा … मगर तभी अमित ने मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ा और अपनी मॉम की चूत पर सैट कर दिया. मैंने लिखा- कुछ अजीब नहीं होता यार! चूत और लंड की रिश्तेदारी सिर्फ चुदाई की होती है.

जितेन्द्र के निगाहों के सामने मेरी मां की भरी हुई चूचियां फुदकने लगीं. वो मेरे मुंह में लंड को अंदर बाहर करने लगा और मेरे मुंह की चुदाई होने लगी. वो मेरे पीछे आकर बोले- रानी, अब मेरे लंड की सवारी के लिये तैयार हो जा.

इससे पहले कि वो कुछ बोलता, दीपक बोल पड़ा- जा जल्दी से शटर गिरा के आ जा, तेरे भाई की तरफ से तुझे एक तोहफा है.

अब मैं उनकी पूरी बॉडी को अपनी जीभ से चाट रहा था और उनकी बगल में मुँह डालकर पसीना पी गया. आपको ये मैरिड वुमन सेक्स कहानी मजेदार लगी? मुझे अपनी प्रतिक्रियाओं के जरिये जरूर बतायें. वो बोली- विक्की क्या कर रहे हो?मैंने पीछे मुड़ कर देखा तो अनु खड़ी हुई थी.

मेरा लम्बा लंड आंटी के मुँह में पूरा अन्दर तक घुस गया और अनलोड होने लगा. मैंने उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया और उसके होंठों का रस पीने लगा.

इस दौरान हम तीनों का मेरे घर मिलना, पोर्न फिल्म देखना, बियर पीना, कभी कभी लेस्बो करना होता रहता था. रईस परिवार की निगार आंटी की चुत को मेरा लंड कैसा लगा और उनकी चुदाई का क्या हुआ, वो सब मैं आपको इस अनतरवासना गरम चूत की कहानी कहानी के अगले भाग में बताऊंगा. पापा मां की एक ही चुची को पीने लगे थे … और मां उनसे दूसरी चूची भी पीने के लिए कह रही थीं.

सेक्सी बंदूक

साथ ही वो दोनों हाथों से मेरे चूचे दबा रहा था। मेरे होंठों से हट कर उसने मेरी गर्दन चूमना शुरू कर दिया और अपने दोनों हाथ मेरे टॉप के अंदर घुसाकर मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे चूचे दबाने लगा।मैंने भी उसकी शर्ट के बटन खोलने चालू किये और उसकी नंगी छाती पर हाथ फिराने लगी।तभी अचानक वो उठा और अपनी पैंट उतारने लगा.

वो भी अपने दोनों हाथों से अपने चुचे दबाते हुए, आंखें बंद करके हर पल को एंजाय कर रही थी. ऐसा लंड हर किसी का नहीं हो सकता।फिर मैंने हाथ हटा कर नीचे से ऊपर जोर लगा कर उछाल मारी तो हरी का लंड थोड़ा और अंदर घुस गया. इतना बोल कर मैंने मां की चूचियों को जोर से भींच दिया और उसको किस करने लगा.

फिर मैं आंटी से बोला- आप दोनों हाथों से अपनी गांड के छेद को चौड़ा कर लो … मैं आपकी गांड में अपनी जीभ डालूंगा. पर बिना किसी गम के मैं सब सहता गया, दिल में बस एक ही दिलासा लिए कि कुछ दिनों में वो मेरी होगी. हिंदी में सेक्सी वीडियो दे दोफिर रीता के मुँह से लंड निकाल कर मैंने मम्मी के मुँह में लंड डाल दिया.

आह … ओह … मानव, स्लो … स्लो डाउन … यू आर सो फास्ट … आहह … ओहह … सो हार्ड … उहह उम्मह … उह ओहह आह … धीरे करो यार।उसके मुंह से ऐसी दर्द भरी आवाजें सुन कर मेरा जोश और ज्यादा बढ़ गया था. मेरे पति मेरी चुदाई रोज नहीं करते तो मैंने अपनी चूत की प्यास जरूर मिटाऊँगी.

पांच मिनिट के बाद वो वापस मेरे बगल में आई और बोली कि भाभी अब आप चढ़ जाओ. और साथ ही मेरी चूत के बालों से खेलने लगा।वो चूत की झांटों से खेल क्या रहा था, उन्हें जड़ से ही उखाड़ने की कोशिश कर रहा था।इससे मुझे उस जगह हल्का सा दर्द भी हो रहा था और साथ ही खुजली भी मचने लगती. तो वो बोली- हां सरप्राइज मिलेगा … बस कुछ दिन रुक जाओ यार, फिर दे दूंगी.

मैं- भाभी, आज कितने दिन बाद चुद रही हो!भाभी- आह अभी तो तू मेरी चुत चोद भोसड़ी के … इतिहास न पूछ. किचन में गैस स्टॉव के पास खड़ी होकर मैं गैस जलाने का नाटक करने लगी. फिर उसने पॉर्न फिल्में शुरू कर दीं। रोहन ने उसका ध्यान भटका कर रखा था और मौका देखकर मैं वहाँ से किसी तरह निकल गई। उस दिन के बाद भी मैंने और रोहन ने खूब मज़े किये।मैं अब लोकेश से पूरी तरह पीछा छुड़ाना चाहती थी। वो हमेशा मुझे परेशान किया करता था। मैंने रोहन से भी इस बारे में बात की थी। एक दिन मेरी और लोकेश की बहुत लड़ाई हो गई।मुझे उस दिन बहुत गुस्सा आया.

साथ ही आंटी की सहेली ने अपनी बात भी कही कि उन्हें भी प्रेगनेंट होना है.

फिर अगले दिन उनसे पूरे दिन बात नहीं हुई … न उनकी कॉल आई, न मैंने की. अभी दो मिनट भी नहीं हुए थे कि वो दो लोग, जिनसे मैं मिल चुकी थी … और दो नये चेहरे धड़धड़ाते हुए कमरे में घुस गए और कुर्सी पर बैठ गए.

मैंने उससे पूछा कि आप यहां कितने दिन के लिए आए हैं?विशाल ने बताया कि अब तो मेरी पढ़ाई पूरी हो गई है और इधर पटना में भैया के पास रह कर जॉब की तलाश करूंगा. क्या भैया को दूध नहीं पिलाती हो?मैंने उसकी चूचियों को दबाया और कहा- यार नूतन तेरी तो बहुत बड़ी हैं … तुम क्या पूरी चुदाई में दूध ही चुसवाती रहती हो. फिर पेन्टी के अन्दर छुपी हुयी मेरी चूत को चाटते हुए मेरी नाभि, पेट, चूचियों के बीच की घाटी को, फिर ठुड्डी को, कान को, गाल को, फिर मेरे दायें कान को, गाल को और फिर उसी क्रम में चाटता हुए दूसरे पैर के पंजे तक पहुंचा।मैं आनन्द के सागर में गोते लगा रही थी।फिर उसने मुझे हल्के से करवट दिलायी और फिर मेरे पीछे के हिस्से को चाटने लगा.

मैंने सिगरेट जला ली और जाम उठाते हम तीनों ने चियर्स बोल कर पार्टी शुरू कर दी. उसका मुठ निकला और वो सीधा मेरा मुंह में डालने लगा और मैं पीने लगा।उसके वीर्य का स्वाद नमकीन सा था. इस पर दीपक जी बोले- अरे भाभी मैंने कई बार रिया से बात की, लेकिन वो नहीं मानी.

बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ शॉर्ट के अन्दर अंडरवियर भी नहीं पहनी, ताकि मेरा खड़ा लंड उसे दिखाई दे सके. हाथ मैंने इसलिए रखा क्योंकि अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरीज में मैंने पढ़ा था कि अगर लड़कियों की पहली बार चुदाई करो तो उनको बहुत दर्द होता है और वो इसी दर्द के कारण चिल्ला देती हैं.

नंगी लड़कियों की सेक्सी वीडियो

जब मां मेरे समझाने के बाद भी नहीं मानी तो मैं बोला- मां, अब ये बातें शहरों में बहुत नॉर्मल हो गयी हैं. उसके दोनों बड़े बड़े स्तनों को हाथों में पकड़ लिया और दोनों बोबों को ज़ोर ज़ोर से दबाने और मसलने लगा। मामी जी के बोबे बहुत ज्यादा मुलायम और गद्देदार थे. वो कराहट से बोली- आह्ह रोहित, धीरे दबा ना प्लीज, बहुत दर्द हो रहा है.

मैं भाभी जी की चूत का दीवाना हो गया एक बार देवर भाभी की सेक्सी चुदाई करके!हम दोनों एक दूसरे को बांहों में लेकर बातें करने लगे. कोई 15 मिनट तक किस करने के बाद मैंने उसके चुचे दबा दिए और उसके चुचों को बेदर्दी से चूसने लगा. भाई बहन की चुदाई की कहानियांभाभी काफी दिनों से चुदी नहीं थीं और कुछ ही देर पहले उनकी चुत चटने से चुत में आग लगी पड़ी थी.

उन दिनों मुझे अक्सर आटा चावल दाल आदि लाने के लिए अपने गांव जाना पड़ता था.

सुबह बीवी से फ़ोन पर बात करने के बाद मैंने बोल दिया कि मैं थक गया हूँ, इसलिए अब सोने वाला हूँ. साधना और पारूल को चुदाई के लिए बेताब देख कर उसका मन भी शायद चुदवाने के लिए करने लगा था.

साथ ही बीच-बीच में पूरी जीभ बाहर निकालकर मेरी चूत को ऊपर से नीचे तक चाट रहा था। ऐसे ही दस मिनट से भी ज्यादा देर तक वो मेरी चूत को चाटता रहा. मैं बोला- हां साली रंडी … जब चुदवाना था ही तो नखरे क्यों दिखा रही थीं?धकापेल चुदाई होने लगी. मैं- वो दोनों शराब तो पीते होंगे … क्या ऐसा कभी हुआ है कि उन दोनों में से कभी आपको शराब के नशे में चोदा हो?ऐश्वर्या- एक बार अविनाश ने शराब के नशे में मेरा मूड ना होने के बावजूद मेरी चुदाई की थी.

इसीलिए जब भी मुझे मौका मिलता है मैं उसे अपने पास बुला लेती हूं और चुदाई के मजे लेती हूं।मैं अपनी अन्तर्वासना की महिला पाठिकाओं से कहना चाहती हूं कि अपनी जवानी को ऐसे ही एक लंड के पीछे मत बर्बाद करो.

मैंने उसे एडमिन बना लिया था ताकि वो सभी लड़कियों को भी ग्रुप में जोड़ ले. एक मिनट बाद आंटी भी मेरे लौड़े को लोअर के ऊपर से फिर से दबाने लगी थीं. फिर एक मिनट बाद मैं उसके नीचे होकर बगल में लेट गया और उससे बात करने लगा.

छत्तीसगढ़ी फिल्म सेक्सीभाबी लम्बी सांस लेते हुए कहने लगीं- मारोगे क्या … मेरी तो जान ही निकलने वाली थी … आराम से करो. मैंने बाल्टी में पानी चला दिया और धीरे से बाहर निकला और देखा कि फ्रिज के पीछे उनकादेवर भाभी की चूत चोद रहा थाउनकी साड़ी उठाकर.

सेक्सी इंडियन वीडियो सेक्सी

हम इंडिया गेट पर मिलने वाले थे।मैं पहली बार दिल्ली गया था तो मुझे पहुंचने में थोड़ी परेशानी हुई लेकिन जैसे तैसे करके मैं पहुंच गया. क्या गुदगुदा मांस था। मुझे चांदनी रात में उनकी जांघों के बीच में छोटे छोटे काले घने बाल नजर आये. मैंने अपना बैग अपने घुटनों पर रखा था, जो उस महिला के घुटनों पर भी थोड़ा था.

अब मुझसे रुका न गया और मैंने नीचे बैठ कर उसकी जीन्स को नीचे खींच कर उसकी पैंटी को भी साथ में खींच लिया. फिर मौसी ने अपनी टीशर्ट और लोअर उतार दी और मुझे अपनी बांहों में कसते हुए मुझसे लिपट गयी. मैंने नीचे जाकर उससे पूछा- यहां कैसे?तो उसने बताया कि मैं पार्टी में जा रही थी.

फिर अगली सुबह मैंने अपना लैपटॉप ओपन किया, तो देखा कि उन्होंने मेरी रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली थी और मैसेंजर पर हाय लिख कर भेजा हुआ था. मैंने उसको ब्रा और पैंटी लाकर दी और कहा कि अब तू मेरे और चाचा के सामने ऐसे ही रहा करेगी. वैसे आपका नाम क्या है?वो आदमी बोला- शमशेर … और तेरा क्या नाम है?मेरी बेटी बोली- मेरा नाम नताशा है … आप कपड़े उतारो.

फिर ऐसे ही कुछ दिन एक दूसरे को देखने के बाद उसने मुझे अपना नंबर दिया. कुछ देर बाद मेरे लंड ने पानी छोड़ने का इशारा किया, तो मैंने अनीता भाभी से बोला कि भाभी रस कहां निकालूं?भाभी ने कहा कि मेरे भोसड़े में ही छोड़ दो.

मेरी उनके साथ कुछ छिपे हुए शब्दों में खुली खुली सी बात हुई, तो उन्होंने हंस कर बोला- कोई बात नहीं शाम को बात करेंगे, अभी अंकल पार्क से घूम कर आ रहे होंगे.

फिर वो मेरी चूत पर लंड लगाकर अपना सुपारा उसमें घुसाने की कोशिश करने लगा. जपानी ओपन सेक्सीइंडियन सेक्स आंटीज़ स्टोरी में पढ़ें कि मैं मामी को पटाकर सरसों के खेत में अंदर ले गया. सेक्सी वीडियो भोजपुरी इंडियनमां ने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और अपनी चूत के मुंह पर लगा दिया. उसके बाद वो मेरे बदन को गर्म करना शुरू करेगी और मुझे चोदने के लिए तड़पाने लगेगी.

मैंने बचने की सभी गुन्जाइश तलाशी और कोई रास्ता नहीं दिखा तो कपड़े उतारने लगी.

वहां एक लड़की से मेरी नज़र मिली और हम दोनों ने एक दूसरे को लगभग पांच मिनट तक एकटक देखा. मेरा खुद का हाथ रोहित को हेल्प करने लगा।थोड़ी देर बाद रोहित बोला- आओ भाभी, चलकर नहा लेते हैं।मैं उसकी बात काट नहीं सकती थी. कुछ पल बाद लंड ने चुत में अपना स्थान बनाया और मैंने धीरे धीरे से अपना लंड हिलाना शुरू कर दिया.

प्यार की अगन में दोनों शमा परवाने की तरह ऐसे जले, मानो जैसे इस प्यार की कोई सीमा ही नहीं है … और प्यार से बढ़कर एक दूसरे की सासें भी नहीं हैं. मैंने लण्ड को उनकी चूत में डाल दिया और धीरे धीरे उनकी चूत की गहराई नापने लगा. रत्ना की मादक सीत्कारें निकलने लगी थीं और वो अपने दामाद को रोक भी नहीं रही थी.

ब्लू पिक्चर दिखाइए सेक्सी पिक्चर

इस पर सनी ने लिखा- मैं तो तुम दोनों को एक साथ …मैं उसकी इस आधी अधूरी बात से गर्मा गई और लिखा- एक साथ क्या … सनी पूरी बात लिखो न!सनी- तुम दोनों को एक साथ एक ही बेड पर चोदना चाहता हूँ. सर मेरा मुंह देख कर मुस्कराते हुए बोले- कैसा लगा मानव?मैंने कहा- गुड, लेकिन टेस्ट थोड़ा अजीब लग रहा है. मैं अपने हाथ से भाभी की चुत को मसल रहा था, जिससे उनकी चूत की पंखुड़ियां खुल बंद हो रही थीं.

आधे घंटे तक मेरे दोनों निप्पलों को चूसता रहा और चूस चूस कर उन्हें लाल कर दिया। उसके बाद वो लेट गया और मैं उसकी गर्दन पर चूमने लगा.

अनीता- देर मत करो जान … मैं बहुत प्यासी हूँ … पहले एक बार मेरी प्यास बुझा दो.

नानी उनके आते ही समझ चुकी थीं कि आज रविन्द्रनाथ उसकी बेटी की गांड को बिना पेले नहीं छोड़ेंगे. अंकल- हां मेरी जान, किसी को पता नहीं लगेगा, तुम उस बात की चिंता बिल्कुल मत करो. सेक्सी वीडियो 2020 का भोजपुरीवो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी और मैं बैठ कर उसकी गांड को सहलाने लगा.

‘सर की बीवी की गांड कौन मारेगा’ यह तय करने की बारी आई तो सर और मेरा नाम पर्ची में लिख कर डाला गया. भाभी बोलीं- वो लड़की पड़ोस में ही रहती है … लेकिन उसकी भी शादी हो चुकी है … और देवर जी, आप भी अब शादीशुदा हो, तो ये बातें आपको शोभा नहीं देती हैं. उसने पहले तो मना कर दिया, मगर फिर उसने मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना चालू कर दिया।कुछ देर लंड चूसने के बाद वो बोली- बस करो … मेरी जलती हुई भट्टी के बारे में भी तो सोचो.

ये कह कर मैंने नजमी को अपनी गोद में खींच लिया और अपने मुँह में एक पैग खींच कर उसके मुँह से मुँह सटा कर उसके मुँह में कुल्ला कर दिया. अबकी बार मैंने उसकी गांड चोदी और उसकी गांड में ही माल भी गिरा दिया.

मैं चेन बंद करने लगा लेकिन चाची ने मेरे हाथ को पकड़ लिया और मुझे चेन नहीं बंद करने दी.

हालांकि मुझे गांड मराने का अनुभव था, पर फिर भी मुझे दर्द हो रहा था. तभी उसने मुझे रोका और कहा कि यार थोड़ा आराम से करो … इतनी ज़ोर से मत दबाओ … मेरे बूब्स मुलायम हैं. एक बेहतरीन सी चूत की महक मुझे पागल करने लगी और मैंने पेंटी के ऊपर से ही अपने जीभ से बीवी की चूत को चाट लिया.

भारतीय महिला की सेक्सी मैंने अपनी उंगली पर नारियल का तेल लगा कर अच्छे से उसकी बुर पर लगा दिया और उसकी बुर के ऊपर जहां से वो पेशाब करती है, उस पर उंगली से रगड़ने लगा. पूजा आंटी वीडियो बनाती रहीं और जब भी मेरा लंड दर्द से या शर्म से मुरझा जाता, तो आंटी मेरे लंड को चूस कर खड़ा कर देतीं.

इधर मुझे लगातार मेरी क्लाइंट्स के फोन आ रहे थे लेकिन मैं सबको दोपहर का समय दे रहा था. इसके बाद चाची ने अपने कपड़े सही किये और जूड़ा दोबारा से बांधा और मेरे सीने से लिपट गयी. अपनी चूत पर उजमा एक अफ्रीकन की खुरदुरी जीभ का अहसास पाते ही एकदम से बेकाबू हो गई.

सेक्सी+वीडियो+में

न उन्होंने अपने कपड़े उतारे थे … न मेरे, बस ऐसे ही कुछ देर अपने लंड पर मुझे हिलाते रहे. मौसी अपने हाथ से मेरे सर को दबाते हुए अपने मम्मों को मानो मेरे मुँह में घुसेड़ देना चाह रही थीं. क्योंकि जिस तरह से समीर ने दीपक जीजा जी की गांड मारी थी … और अब वो रवि की गांड मार रहा था.

उसके नीचे बैठते ही मुझे ऐसा लगने लगा, जैसे उसकी चुत की दीवारें धीरे धीरे मेरे लंड को इंच दर इंच कस रही हैं. हैलो साथियो, मैं अनीस फिर से आपके सामने अपनी मम्मी की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैंने भी खुद को साफ़ किया और पानी पी कर नंगा ही बेड पर नाज़नीन के साइड में लेट गया.

अल्पना को अपने घर से आज रात के लिए मेरे पास आना था, तो उसने अपने घर पर मेरी बात करा दी. मेरी बीवी ऊपर से पूरी नंगी थी और मेरे मुँह में उसकी एक चुची दबी हुई थी. शायद एक ने मेरे दिल की आवाज सुन ली और अंकल से कहा- सुमीना, तो केक की तरह लग रही है.

मैंने तरह तरह की चीजें लंड पर लगा कर आंटी की चुत को चोदा इसमें शहद. डॉक्टर के अनुसार इस तरह से मैं ठीक हो सकती थी, लेकिन दवाओं का खर्चा कुछ ज्यादा ही होगा. मेरी बात सुनकर आंटी ने अपनी सहेली को अपने बारे में बताया कि मैंने किस तरह उन्हें प्रेगनेंट किया था.

मैंने नताशा को इस काल्पनिक शो के बारे में बता दिया था, इसलिए वो अच्छी तरह से जानती थीं.

बीएफ वीडियो बांग्ला बीएफ: अब मम्मी ने खुद अपने हाथ से लंड को पकड़ कर गांड पर रखा और बोलीं- अब पेल. एक दिन की बात है कि मैं दोपहर में अकेला था और घर पर आराम करते हुए कोल्ड ड्रिंक पी रहा था.

ठंड के छोटे दिन होने के कारण शहर से कस्बे तक जाने में ही दिन डूब गया. मां ने कुछ नहीं कहा, बस अपने कपड़े पहने और जाने के लिए तैयार हो गईं. दोस्तो … मेरी इस फेमिली सेक्स स्टोरीहोली पर मेरी ससुराल में घमासान सेक्स- 4में अब तक आपने जाना कि रिया दी ने अपनी छोटी बहन स्नेह की चुदाई से परेशान होकर अपने पति दीपक जी सहित मुझे और जेठानी जी को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया था.

यदि आपको कुछ और भी कहना है तो आप मुझे नीचे दी गयी ईमेल आईडी पर अपना संदेश भेज सकते हैं.

सनी की गोद में अल्पना बैठ थी और अपने दूध मिंजवाते हुए उसके लंड को अपनी चुत पर रगड़ रही थी. मुझे पता चल गया था कि जिया मेरे दोनों हाथों को रस्सी से बांधने वाली थी. अमित बता रहा था कि उसकी मॉम अब तक एक बुड्ढे से चुदवाती रही हैं, जो उसके गांव से आता था.