मां और बेटे का बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,वीडियो में सेक्सी गाना चाहिए

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ चोदी सेक्सी: मां और बेटे का बीएफ वीडियो, पर काजल के मुँह से कांपती हुई आवाज़ निकली, जो डर और चुदाई की उत्तेजना से मिली जुली थी.

मारवाड़ी चूत की सेक्सी वीडियो

भाभी ने तुरंत अपने पापा को बोली – पापा मेरे बैग में आरती के कपड़े हैं, दे दीजिए!तभी मेरी नजर भाभी के पापा की तरफ पड़ीं तो देखा कि वो बिल्कुल अंडरवियर में नहाने की तैयारी में थे पर मुझे घूरे जा रहे थे और हाथ में उनका मोबाइल था, उनके बगल से एक और उन्हीं के रिश्तेदार या दोस्त उन्हीं के उम्र के, वो भी मोबाइल लिए मेरी तरफ किये हुए थे. सेक्सी पिक्चर हिंदी वीडियो चुदाईमैंने अब तक किसी को यह सीडी नहीं दिखाई है, बस आपके मुँह से सुनना चाहता था कि राज क्या है, क्या कारण रहा होगा, जो आप कमजोर पड़ गईं.

मैं और जोर से चिल्ला रही थी क्योंकि तब मुझे दर्द होता था और मजा भी आता था. सेक्सी सेक्सी चित्र वीडियोअब तो मम्मी एकदम गरम हो गई थीं और स्टीव का चेहरा अपनी चूत में घुसा रही थीं.

कुछ देर बाद वो कमसिन जवानी उठी और बगल के खेत में अपना पेटीकोट उठा कर मूतने लगी.मां और बेटे का बीएफ वीडियो: उसके बाद हमने कई बार एक दूसरे के मुँह पर सिगरेट का धुआं मारा और हँसते रहे। फिर उसने मेरी साड़ी का आँचल थोड़ा सा नीचे को खिसकाया, तो मेरे ब्लाउज़ में से मेरा क्लीवेज दिखने लगा। मैंने उसे और अच्छे से अपना क्लीवेज दिखाने के लिए अपना आँचल हटाना चाहा तो उसने रोक दिया- नहीं, तुम कुछ मत करो, जो भी करूंगा, मैं करूंगा.

मैंने एक ज़ोर का झटका दिया और मेरा लंड पूरी तरह उसकी बुर में घुस गया.निशा ही क्यों? कहानी सुना रहे हो कि खुद बना रहे हो?”सुनाऊं या बनाऊं, तू सुनने से मतलब रखना.

भाभी की हिंदी में सेक्सी वीडियो - मां और बेटे का बीएफ वीडियो

कॉलेज या बाहर… राहुल के दोस्त ज्यादा नहीं हैं, उसके केवल तीन दोस्त हैं, उसका सबसे करीबी दोस्त है इशांत, इशांत राहुल से करीब सात साल बड़ा है और बेहद सुलझा हुआ इंसान है.मैं बोली- वर्षा तेरा काम तो हो गया अब मेरी चूत कब से पानी पानी हो रही है.

मैंने उनसे पूछा कि आप शादी में शामिल होने आए हैं तो यहां रूम क्यों लिया?उन्होंने बताया कि मैंने अपने रिश्तेदारों को स्वाति के साथ आने का नहीं बताया है, एक बार आपसे बात हो जाए तो तय करेंगे कि क्या करना है. मां और बेटे का बीएफ वीडियो ”हाँ साल कुत्ते चोद मुझे… चोद… और चोद… मुझ मस्त कर मुझे जितनी गालियाँ दे सको, दो और मेरी फ़ुद्दी को चोद चोद कर चिथड़े उड़ा दो इसके.

’ कब से ज्वाइन कर रहे हैं?उसे ये शब्द सुनकर दिल में मानो बहार आ गई.

मां और बेटे का बीएफ वीडियो?

मुझे अंदर से जलन होती है और मैं तड़पती हूँ, मुझसे यह तड़प बर्दाश्त नहीं होती. थोड़ी देर में मैं भी उसके ऊपर ही गिर पड़ा, मेरे गर्म वीर्य से कविता की गर्म चूत भर गयी. जैसे ही पापा का लंड मेरी गांड के छेद में टच हुआ, मैं एक्साइटेड हो गई, पापा मुझसे पूरा पीछे से लिपट गये, बहुत सारा थूक मेरी गांड में लगा दिया.

मगर सिराज के चोदने के स्टाइल की मैं इतनी दीवानी हो गयी थी कि जैसे तैसे पैर घसीटते हुए कुछ देर बाद मैं उसके पास पहुँच ही गयी. वो दिखने में बहुत सुन्दर थी, जो भी उसे देख लेता, तो वो देखता ही रह जाता था. मैं तो हैरान रह गया कि मैंने मेरी पहली चुदाई सील पैक चूत के साथ की थी.

फिर भाभी ने मेरी तरफ देखा तो मैंने इशारे में एक बार और करने को कहा. मैंने हंसते हुए कहा- भाभी ऐसा क्या हो गया रात को, जो दर्द हो गया?भाभी ने कहा- चलो हटो. वो अगले दिन ही यूपी चले गए। मैं परेशान सी हो गई। मैं सेक्स के बारे में नहीं सोचती थी.

मैं ऊपर बढ़ती जा रही थी क्योंकि नीचे मेरी गांड में अमित का लंड घुसने वाला था. वैसे तो कई बार मैंने उंगली से खुद को ठंडा किया था, मगर आज जो सुख मिल रहा था, मैं बता नहीं सकती.

मैंने बोला- क्या हुआ?उसने बोला- पता नहीं, क्या मैं तुम्हारे गले लग सकती हूँ?मैंने बाँहें फैला कर बोला- ज़रूर…उन्होंने मुझे हग कर लिया.

” कह कर चिल्लाने लगी और अपनी दोनों टाँगों को उठा के एड़ी से मेरी पीठ पे दे मारी.

आजा उन्होंने ब्यूटी ट्रीट्मेन्ट ली थी, वो उनके मेकअप से पता चल रहा था, साथ ही उन्होंने बाल भी स्टाइलिश तरीके से बनाए हुए थे. मेरे हाथों को ऊपर उठा कर उसमें डाल दिया और नीचे खींच कर मेरी चुचियों के पास रोक दिया. मैं- क्या शर्त है?बॉस- ये लेने के लिए तुमको मेरे लंड को अन्दर से खुशी देनी होगी.

गेट कीपर ने दरवाजा खोला पर ब्लैक शीशा होने से अन्दर नहीं देख पाया और अवी ने कार ले जाकर अपने रूम के पास रोका और मुझसे कहा कि अभी मैं आऊंगा और कहूँगा, तब बाहर निकलना. वो मेरा हाथ अपने हाथ में लेकर आगे बढ़ा, पर मैंने हाथ छुड़ा लिया और अकेले अकेले चलने लगी. वो अपने लंड को पूरे जोश से मेरी चुत में अंदर बाहर कर रहे थे, मैं भी वासना से घिर कर बोल रही थी- आआआहह… उमआआआ… हां हां हां… हा चोदो मेरे राजा मेरी चूत को! हाय रे मर गयी।‌वो बोले- आआह… कितनी गर्म चूत है तेरी!फच्च फच्च!हा हाँ… आह… गयी मैं!” आआह कर के मैंने अपना रस छोड़ दिया लेकिन समधी जी अभी भी मुझे चोदने में लगे थे.

मैंने कुछ नहीं कहा, तब उसने फिर से पूछा- क्या मैं तुम्हें पसंद नहीं हूँ?मैंने कहा- तुम तो बहुत सुंदर हो, तुम्हें तो कोई भी अपनी जीएफ बनाना चाहेगा.

बॉस- नेहा बेबी जब तुम बांहों में रहोगी तब कोई नहीं आएगा, टेंशन मत लो. लड़के का नाम सुनील था, वो दिखने में बहुत कमज़ोर और काले रंग का था, उसका कद होगा कोई पांच फीट चार इंच… और लड़की का नाम मानवी था, वो दिखने में एकदम पटाखा माल थी. एक शनिवार की दोपहर मैंने कहा- वरुण बेटे, यहां आज कितनी गर्मी है, सोचती हूँ कि नहा लूँ.

लगभग 1 मिनट तक मेरा वीर्य निकलता रहा और ऐसा लगा जैसे आज बहुत सारा वीर्य निकला हो, शायद पप्पू महराज़ भी उस दिन निहाल हो गए थे. मैं चिल्ला उठी- ऊईईईई आहहह…मेरी चीख सुन कर अंकल और जोश में आकर जोर जोर से दोनों चूचे दबाने लगे और फिर अपने मुंह में भर लिया मेरे एक एक बूब को दोनों ने और बदल बदल कर जैसे चूसना शुरू किया, मैं पागल हो उठी ‘ओहहह आहहह…’ करने लगी, मेरे मुंह में भाभी के पापा का लंड था जिसे मैं चूस रही थी और वो मेरे बूब्स को मसलने और चूसने में लगे थे. मम्मी ने कहा- अंकित जल्दी से उठ कर नहा धो ले… आज राखी का त्यौहार है, देख तेरी बुआ और बहन तुझे राखी बाँधने के लिए तैयार हो रही हैं, तू भी हो जा…मैंने मन ही मन सोचा कि बहन के साथ तो अभी चार घंटे पहले मैंने पूरा त्यौहार मना लिया है.

मैंने मन में कहा कि साली लंड तो ऐसे चूस रही थी जैसे पुरानी चुदक्कड़ हो.

मुझे अंदर से जलन होती है और मैं तड़पती हूँ, मुझसे यह तड़प बर्दाश्त नहीं होती. फिर शराब के एक नए पैग बनवा कर उसमें तीनों के लंड को बारी बारी से डुबो कर पैग पी गई.

मां और बेटे का बीएफ वीडियो मैंने भाभी को वहां रुकने के लिए कह कर, नीचे जाकर से बाहर रोड से जूस ले आया. मैंने प्रिया का दायाँ निप्पल अपने मुंह में चुमलाते चुमलाते ज़रा अपने बायीं ओर करवट लेते हुए अपना दायें हाथ नीचे कर के अपने पजामे का नाड़ा खोल कर और पजामा घुटनों तक नीचे सरका कर प्री-कम से सराबोर अपना लिंग प्रिया के हाथ में थमा दिया.

मां और बेटे का बीएफ वीडियो दो मिनट की लंड चुसाई के बाद वो उठ गईं और मेरे दोनों हाथों को पकड़ कर मुझे खड़ा कर दिया. क्या इनके लिए भी कुछ है?” उसने अपनी चुचियों को दोनों हाथों में थामकर पूछा.

क्योंकि उस वक्त मेरी एक गर्लफ्रेंड थी और मैं उसी के साथ काफी व्यस्त रहता था.

सेक्सी वीडियो बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ

हम दोनों वहां से कार में निकले, एक होटल में गए, वहां कुछ खाना खाया क्योंकि अवी की इस पार्टी में मैं भूखी रह गई थी. यह सुन कर वे काफी खुश हुईं और फ़िर मुझसे कहने लगीं कि वैसे तो मैं ज्यादा लोगों से बातें नहीं करती, मगर तुम अच्छी तरह समझा रहे हो, इससे मुझे बड़ा अच्छा लग रहा है. मैंने लंड भाबी के हाथ में दिया और चूसने को कहा, तो भाबी ने मना कर दिया.

इधर डर भी लग रहा था कि कहीं कोई गांव का आदमी न आ जाए, वरना होली से पहले ही मेरी खून की होली कर देगा. मेरी पिछली कहानीअपनी मां की चुदाई की हसरतको आप सबने बहुत पसंद किया और मुझे खूब प्यार दिया. रवि ने अच्छे से समझाया कि नहीं या और एक राउंड समझाने के लिए क़ह दूँ?कल्याणी- नहीं.

वो के निचले हिस्से से अपनी जीभ को रगड़ता हुआ मेरी चूत के दाने तक जीभ को फेर रहा था.

यह सुनते ही सेल्स गर्ल ने भाबी से हंसते हुए कहा- भाबी जी क्या भैया को आपकी साइज़ की बारे में पता नहीं. अब मैं भी सिर्फ अंडरवियर में था, चाची ने मेरा लंड हाथ में लेकर दबाना शुरू कर दिया. मुझे मारना है क्या?मैं बोला- तुम एक बार डलवाओ तो सही, कुछ नहीं होगा.

अब तो मेरे मन से पूरा डर निकल गया था, मुझे विश्वास हो गया था कि चाची मना नहीं करेंगी. मेरे चेहरे की राहत देख कर संजय भी समझ गया कि कोई दिक्कत नहीं है और खुश होते हुए उसने मेरी चुत को जोरों से चोदना शुरू कर दिया. पिछली रात उसने चण्डीगढ़ आकर अपने पापा के दोस्त अपने महबूब से होटल के रूम में जम कर सेक्स किया.

मैंने अपनी जेब से कॉंडम निकाला तो मेरी गर्लफ्रेंड ने मेरे लंड पर कॉंडम चढ़ाया. आओ ना समा जाओ मुझमे और कुचल डालो मुझे अच्छे से” बहूरानी ने फिर से मेरा लंड अपनी मुट्ठी में जकड़ लिया.

भाभी अगर आप नंगी भी सामने खड़ी हो जाएंगी तो हम तो दो बार सोचेंगे कि आपको ढकना है या आपको चोदना है. यह सुनते ही उन्होंने मुझे फ़िर से पकड़ लिया और मुझे स्माइल देते हुए किस करने लगीं. मैंने भाभी को अपनी तरफ खींच कर बिस्तर पर लिटा दिया और मजे लेने लगा.

भाभी के साथ चुदाई का मौका न मिल पाने के कारण अब अक्सर मैं उनके नाम की मुठ मारने लगा था.

लंड घुसते ही वो दर्द के मारे चिल्लाने लगी- मार दिया मुझको मादरचोद जल्दी निकाल बाहर. फिर से मैंने पैर खींचा, तो भाभी बोलीं कि दवाई लगवा लो, जल्दी अच्छा हो जाएगा. जब ज्वाइनिंग लेटर लेने पहुँचा तो वहाँ पे बैठी ख़ूबसूरत महिला के दर्शन हुए.

लेकिन अगले ही पल ये ख्याल आया कि अगर मैंने कुछ कहा तो वो मेरी आवाज से मुझे पहचान लेगी फिर लज्जावश वो जिंदगी भर मेरे सामने नहीं आ पाएगी या कोई आत्मघाती कदम उठा ले जिसका मुझे जीवन भर पछतावा रहे… नहीं… चुप रहना ही उचित है. फिर कुछ ऐसे ही चैट होती रही और अचानक से उसने कुछ ऐसा लिखा जो फिर से मैं चौंक गया.

उसी घर का दूसरा भाग जो बिल्कुल वहीं बाजू में था, उसमें एक राजस्थान के रहने वाले भाभी और भैया रहते थे. मैं बोली- अब क्या करूं? बोलो? सच में गजब का स्टेमिना है आपका!सुरेश अंकल बोले- अपने मुंह में लो मेरा लंड और मुझे भी खाली करो!मैं बोली- ठीक है, मेरे मुंह में डालो अपना लंड!मेरी चूत से जैसे अपना लंड निकाला एकदम कड़क मेरे चूत रस से सना हुआ, मेरे मुंह में सुरेश अंकल ने डाला पर जा ही नहीं रहा था, मैंने अपना पूरा मुंह खोल कर लंड भर लिया और चूसने लगी, जम के चूसने लगी. तो आंटी मैं भी कल्याणी का टेस्ट कर लूँ?”आंटी बोलीं- नहीं पहले मैं तुम्हारा टेस्ट करके देखती हूँ.

हिंदी में देखने वाली बीएफ

सेक्स की उत्तेजना, वासना जितनी लड़कों में होती है, उससे ज्यादा लड़कियों में होती है.

वो मुँह ऊपर करके जोर से हंसने लगीं और फिर जब मुँह नीचे करके मेरे लंड को देखा तो कुछ बोली नहीं. मैं- हाँ दीदी बहुत खास वीडियो है, फन्नी वीडियो!दीदी- ठीक है बाबा, करती हूँ ऑन!दीदी ने रूम से अपना मोबाइल लिया और ब्लूटूथ ऑन करके सामने टेबल पर रख दिया और मैंने भी ब्लूटूथ से फाइल सेंड करनी शुरू कर दी, फाइल सेंड हो रही थी और मैं दीदी को देख कर खुशहो रहा था, दीदी भी मेरी मुस्कान को देख कर हल्की हल्की खुश हो रही थी. मैं मदभरी सिस्कारियां लेती हुई अपना चेहरा इधर उधर घुमा रही थी और संजय मेरी गरदन को अपनी लार से भिगोता हुआ लगातार चूम रहा था.

स्टेशन छोड़ने के पहले भी उसने मेरी बुर को एक बार हचक कर चोद दिया था. मैं कुछ समझ पाती, तब तक उसने अपने लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर रखा और जोर का झटका लगा दिया. भाभी की सेक्सी चुदाई चुदाईलेकिन पिंकी तो सिर्फ मेरे बैंगन की दीवानी हो रही थी, पर उस वक्त उसने ओके कर दिया.

पिंकी के स्ट्राबेरी जैसे निप्पल मुझे कह रहे थे कि सर आके हमें चूम लो. डॉक्टर ने कुछ टेस्ट करवाए थे और रिपोर्ट देखने के बाद बताया है कि वाइरल फीवर है.

जैसे ही उसका 9 इंच का लंड पूरा अन्दर घुसा, उसे पूजा के गरम रस के छींटे लंड की टोपी पर लगे. लंड चुत पर सैट करके, एक निप्पल मुँह में दांत के बीच में फंसाया और मेरे दोनों हाथों ने भाबी के हाथों को पकड़ा. उनका बंगला भी काफी बड़ा था, वहाँ जाने के बाद वो भी मुझे देख कर काफी खुश हुईं.

नमस्कार दोस्तो, अब तक आपने प्रेरणा की चुदाई और बाबा की गिरफ्तारी तक की हिंदी एडल्ट कहानी पढ़ी. मैं उसको बोला- ममता भाभी मैं सिर्फ आपकी चूत को देखूंगा और हाथों से ही सहलाऊँगा, लंड अन्दर नहीं डालूँगा. यूं तो मेरा सारा बदन प्रिया के बदन के साथ ही लगा हुआ था लेकिन मैं जानबूझ कर थोड़ा सा ऑफ़-लाईन था… बोले तो… मेरी दायीं जाँघ प्रिया की दोनों टांगों के बीच में थी,प्रिया की दायीं टांग मेरी दोनों टांगों के बीच में कसी हुई थी, प्रिया की योनि की गर्मी मेरी दायीं जाँघ का बाहर वाला ऊपरी सिरा झुलसाये दिए जा रही थी.

तभी बीप की आवाज़ हुई और फाइल सेंड हो गई, मैंने अपना मोबाइल उठा लिया और दीदी ने अपना मोबाइल उठा कर फाइल को देखना शुरू किया और एक ही पल में उनके हाथ से मोबाइल वापिस टेबल पर गिर गया लेकिन वीडियो बंद नहीं हुई और दीदी भी फटी हुई आँखों से वीडियो देखने लगी, यह वही वीडियो थी जिसमें दीदी अमित का लंड चूस रही थी.

लेकिन अगले दो दिन मैं उसका इंतज़ार करता रहा और अपने लंड को समझाता रहा कि चिंता मत कर, चूत का इंतज़ाम हो गया है और मुठ मारकर सो जाता. तभी माँ ने मुझे बोला- अपना फ़ोन दो!तो मैं डर गया लेकिन माँ की बात थी तो डरते डरते देना पड़ा.

मैं उसके होंठों और मम्मों को किस करने लगा ताकि उसका दर्द कुछ कम हो जाए. उसकी बुर में गजब की गर्मी महसूस हो रही थी, जो मुझे और एग्ज़ाइट कर रही थी. मैंने उसे अच्छे से समझाया और फिर से लंड रखा और जोरदार झटका मार कर आधा घुसा दिया, वो फिर से रोने लगी और मैंने उसकी परवाह न करते हुए लगातार अपना पूरा लंड डाल कर रीना की गांड चोदने लगा.

आज मैं उसे अच्छे से गर्म कर देना चाहता था क्योंकि मैंने ये पढ़ा था कि अगर पहली बार चुदाई कर रहे हैं तो पार्ट्नर को अच्छे से गर्म कर देना चाहिए ताकि सेक्स का मजा सजा में ना बदल जाए. थोड़ी देर बाद मैं फिर से ट्राइ करने लगा लेकिन इस बार भाभी की नींद टूट गई और वो जाग गईं. मेरी इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि मेरी दोस्ती अवी नाम के लड़के से हो गई थी और आज मैं उसके साथ पहली बार मॉल में जा रही थी.

मां और बेटे का बीएफ वीडियो ”मैंने भी ज्यादा परेशान नहीं किया और चूमते हुए धक्के तेज कर दिए और मधु की चूत को पेलने लगा। कुछ देर बाद फिर मधु ने मुझे कसकर पकड़ लिया और निढाल पड़ गई। उसकी बरसों की प्यास शान्त होने से खुशी से उसकी आँखों से आँसू निकल आए।मैं समझ गया कि वो झड़ गई है। थोड़ी देर बाद मधु बोली- प्लीज जल्दी करो. मैं और जीजू होटल चले गए, वहां हमने रूम की चाबी ले ली और रूम में चले गए.

सेक्सी वीडियो बीएफ चूत मारने वाली

उसने मेरे से ये गिफ्ट माँगा कि उस रात मैं उसके साथ रुकूं और हम एक हो जाएं. मैं किसी को कुछ नहीं कहूँगी, इसमें बुरा क्या है, तलब लगी तो जो सामने था, उससे शांत करवा ली. अब मैंने अपना हाथ चूत से हटाया और दूसरी चुची को टॉप में से आजाद कर दिया और दोनों हाथों से उसकी दोनों चुची को दबा व मसल रहा था.

मेरी तो फिर से लाटरी निकल पड़ी… उसका फिगर क्या मस्त था, बस पेट पर दो ऑपरेशन के निशान थे, बच्चे हुए थे उनके. तुम्हारे चाचा ने आज तक मुझे संतुष्ट नहीं किया, वो तो ढंग से चुदाई कर भी नहीं पाते और बहुत जल्दी थक जाते हैं. prem सेक्सीतभी जोया ने मेरे लंड को पकड़ कर मोना के छेद पर रखा और मैंने धक्का लगा दिया.

मैंने भी तो पूरा मजा लिया था और सच बताऊं उस दिन जो हुआ, उसको मैं भूल नहीं पाई थी.

तभी मुझे याद आया कि मेरा फोन ऊपर है, सो मैंने सोचा कि जाकर ले आती हूँ. एक दिन उसका फ़ोन आया कि घर वाले सभी मार्केट गए हुए हैं, पता नहीं कब तक आएंगे.

कुछ देर के बाद रुबीना होश में आई और बोली कि ये सब शादी के बाद करना. अपनी कहानी शुरू करने से पहले आप सबको अपना परिचय दे दूँ, मैं राजेश 25 साल का हूँ, वाराणसी उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ, मेरे घर में मेरे मम्मी पापा और मेरी एक छोटी बहन है।मेरे पापा का इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का काम है तो वो घर से अक्सर बाहर ही रहते हैं।ठंडी का मौसम था और रात के 11 बजे थे, मैं अपने कमरे में कर अन्तर्वासना की कहानी पढ़ रहा था. मैं अब आपके सामने अपनी ज़िंदगी की एक और घटना के बारे में बताने जा रहा हूँ.

यही सोच कर पहली बार मिलने जयपुर का प्लान बनाया, वहां पहुँचते ही हमने पहले फ़िल्म देखी, उसके बाद खाना खाया, फिर उसको कार में बिठा के लॉन्ग ड्राइव पे ले गया.

मैं रुका, तो वो मेरे पास आई और मुझे थैंक्स बोल कर कहा कि नवीन प्लीज़ ये बात घर पर किसी को मत बताना वरना तुम तो जानते हो ना. अंधेरे का फ़ायदा लेते हुए मेरी बहन उस लड़के के लंड के साथ खेलने लगीं. क्या हुआ अदिति बेटा?”कुछ नहीं पापा जी, अब और नहीं, नहीं तो खुद को रोक नही पाऊँगी.

सेक्सी गाने देखने केमैं धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करता रहा, कुछ देर बाद चाची से मैंने पूछा- अब कैसा लग रहा है. ये ससुरी ना दुखती… इसे तो लंड से जितना मारो पीटो… उतनी ही ज्यादा खुश होती है बेशरम!” बहूरानी जी खनकती हुई हंसी हंसी.

दुनिया के सबसे खतरनाक बीएफ

जब वो मूत कर आई तो सामने से उसका नंगा बदन ऐसे लग रहा था मानो अप्सरा मेनका मेरे सामने नंगी खड़ी हो. मेरी बीवी तीन मर्दों से चुद कर मेरे साथ बेवफाई करने के बाद मुझसे ऐसे बर्ताव कर रही थी जैसे कुछ हुआ ही ना हो. कि 3-4 इन्च का लिंग भी औरत की इच्छा पूरी करने के लिए काफी होता है।हाँ, यह बात ठीक है.

उसे देखते ही लंड तन कर खड़ा हो गया और ममता भी तिरछी नज़र से मेरे लंड के तरफ देख रही थी. खैर ये तो रही पुरानी बातें, पर ये बात आज की है अब मैं 21 साल का हो गया हूँ और अब अपने लंड की आग को संभालना मेरे लिए और भी मुश्किल हो गया है. वो मेरे नीचे थी और मैं उसके ऊपर, मेरे सीने में ममता की तनी हुई चूचियों के दबे होने का कोमल सा एहसास हो रहा था और वो मेरी आँखों में देख रही थी और मैं उसकी आँखों में देख रहा था.

मैंने उन्हें बेड पर चित किया और उनके मम्मों पर फिर से टूट पड़ा, जिससे मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. लेकिन अगले दो दिन मैं उसका इंतज़ार करता रहा और अपने लंड को समझाता रहा कि चिंता मत कर, चूत का इंतज़ाम हो गया है और मुठ मारकर सो जाता. पीछे से उसकी गांड इतनी मोटी थी कि क्रिकेट के बल्ले का निचला सिरा भी डाल दें तो उसकी गांड जस की तस रहे.

मैं बोली- नहीं मेरी प्यारी वर्षा रानी तू अभी गांड मारने के लिए छोटी है, इसमें पहले बहुत दर्द होता है. कुछ देर करीब 10 मिनट दबा दबा कर मेरे मम्मों की मालिश की फिर कहा- तौलिये से पौंछ लो और कपड़े पहन लो.

मैंने अपना पानी खत्म करके कहा- अगर इतना ही सर में दर्द हो रहा है तो आप दवाई क्यों नहीं ले लेतीं?वो बोलीं- दवा से मुझे एलर्जी हो जाती है और दवा घर में है भी नहीं.

उन्होंने अपनी पहचान में एक लड़की रुबीना थी, उससे भैया की शादी तय कर दी. सेक्सी वीडियो हिंदी वाली सेक्सी वीडियोउसका नाम था भीम जी काका था, एकदम शांत स्वभाव था, उनका उनकी हाईट लगभग करीब 6 फुट होगी जिसे मैं अंकल कहती थी. सेक्सी इंग्लिश बी एफ पिक्चरऐसे ही कुछ दिन और निकल गए और रवि की मदद से मैंने महेश से बात कर ली. फिर मैंने उसे कहा- चलें मूवी या रूम में?वह- मूवी में मजा नहीं आएगा, रूम में ही चलते हैं.

मैंने ‘ठीक है…’ कह कर बाम की शीशी को खोला और उंगली में बाम ले कर दोनों हाथों से मीना जी के माथे पर आहिस्ता आहिस्ता रगड़ने लगा.

वो फिर मुँह लटका कर चुप सा हो गया। फिर कुछ सोचने के बाद उसने पूछा- चाची, एक बात बताओगी?मैं- हाँ जी बोलो?वो- चाचा आपके कौन से छेद में डालेंगे?मैं बेसमझ सी जरूर हो गई. उसे भी बहुत मजा आ रहा था, लेकिन टयूशन का टाइम होने की वजह से मैंने अपनी कामवासना को दबा कर उसको अपने से दूर किया. यही सोच कर पहली बार मिलने जयपुर का प्लान बनाया, वहां पहुँचते ही हमने पहले फ़िल्म देखी, उसके बाद खाना खाया, फिर उसको कार में बिठा के लॉन्ग ड्राइव पे ले गया.

मैंने हाथ बढ़ा कर ब्रा को पकड़ा, तभी दीदी ने मेरे हाथ को पकड़ा लेकिन मैं नहीं रुका और ब्रा को निकालने लगा. मैंने जल्दी से दरवाजा बंद किया और तेजी से मधु की नंगी गाण्ड को याद करके मुठ्ठ मारने लगा। जल्द ही मेरा माल निकल गया और मैं नहाने घुस गया।मित्रों ये मेरे जीवन की एकदम सच्ची घटना है जिसमें मैंने सिर्फ वो लिखा है जो वास्तव में मेरे साथ हुआ था।मेरी एडल्ट कहानी आपको कैसी लगी, आप सभी पाठकों की प्रतिक्रियाएं आमंत्रित हैं।[emailprotected]. जिसकी तीन तरफ की दीवारों के खूटों और रैक पर लोहे की मोटी चैनें, चमड़े के चाबुक, कोड़े, मोटे चमड़े के हंटर, घुड़सवारी के सभी सामान, एक बिना घोड़े के जुती हुई गाड़ी, मोटे रस्से, लकड़ी के विभिन्न आकार के रैक रखे हुए थे.

बीएफ सेक्सी फोटो चाहिए

जैसे मैंने बताया कि पहले शाट के साथ मैं निप्पल भी चबाने वाला था, जैसे मैंने निप्पल चबाते हुए पहला शाट मारा, भाबी की चीख निकल गई. फिर अपने होंठों को उसके होंठों से हटा कर उसके दोनों स्तनों को बारी बारी चूसता और मसलता जा रहा था और वो आह आह… की आवाज के साथ अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़ के अपनी चुची पर दबा रही थी और मैं उसके स्तनों को चूसता जा रहा था. मैंने कहा- तुम टेंशन मत लो, हम कौन सा रोज रोज क्लास बंक कर रहे हैं.

अगले दिन जब मैं सुबह सो कर उठा तो अपने सामने दीदी को नंगा खड़ा पाया.

डिजाइनर ब्रा में बहू के मम्में और भी दिलकश लग रहे थे और उसकी पैंटी में वो उभरी हुई चूत… चूत का त्रिभुज और लम्बी सी दरार बिल्कुल साफ़ साफ़ दिख रही थी पैंटी के ऊपर से! पैंटी के ऊपर चूत की दरार इस तरह से दिखे तो पोर्न की दुनिया में इसे कैमल टो Camel toe कहते हैं.

नाभि को चूमने से दीदी फिर से गरम हो गईं और उन्होंने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया, जिससे हम दोनों दुबारा चुदाई के लिए तैयार हो गए. वह भी मेरा साथ दे रही थी और मेरी जीभ मुँह में जाने पर उसको चूसने लगी. बीपी सेक्सी व्हिडीओ खपाखपसाले उस दिन शकूर का लंड चुपचाप ले गए कि नहीं? उनका हथियार तो मेरे से ड्योढ़ा है.

अब मैंने उसके सिर के बाल पकड़ कर अपने हाथों में लपेट कर खींच लिए जिससे उसका चेहरा ऊपर उठ गया और मैं इसी तरह उसकी चूत मारने लगा; बीच बीच में मैं उसके नितम्बों पर चांटे मारता हुआ उसे बेरहमी से चोदने लगा. मैं- दीदी, ऐसे मज़ा नहीं आ रहा ना… हल्का हल्का टच करने दो ना प्लीज!दीदी- नहीं सन्नी!मैं- ठीक है तो मैं चला जाता हूँ. फिर उसी समय देर ना करते हुए मैंने एक और झटका मार दिया और पूरा लंड उनकी पिंक टाइट चुत की जड़ के दर्शन कर चुका था.

यही सोच कर मैं चुपचाप पड़ा रहा और मन ही मन ईश्वर से प्रार्थना करता रहा कि वे कोई चमत्कार करें और मुझे इस पापकर्म में लिप्त होने से बचा लें. किशोर दोबारा लंड निकालने के लिए पीछे खिसका तो बेहोश वर्षा भी खिंच जाती.

अब मैं धीरे धीरे एक हाथ नीचे ले जाकर उनकी चुत को पेन्टी के ऊपर से ही सहलाने लगा.

उन्होंने मुझे हटाया और अपनी टाँगें फैला कर किसी भूखी कुतिया की तरह मुझे देखने लगीं. मैंने भी कोई प्रतिक्रिया नहीं की, ना खुद को सही किया, ना हिली वैसे ही लेटी रही. मेरी खुशी उसे मेरे चेहरे पर साफ दिखाई दे रही थी, जिसे देख कर वो भी बहुत खुश थी.

सेक्सी बफ हिंदी में चुदाई मेरी नजर उसके चुचों पर पड़ी, उसके टॉप का गला बड़ा होने की वजह से मुझे उसकी चुचों की लकीर दिख रही थी. रवि ने अच्छे से समझाया कि नहीं या और एक राउंड समझाने के लिए क़ह दूँ?कल्याणी- नहीं.

अब विवेक और मेरी बीवी में, बॉस और सबऑर्डिनेट के सम्बन्ध की जगह प्रेमी प्रेमिका का सम्बन्ध बन चुका था. उन्होंने कहा- अच्छा तभी… जब से मैंने एंट्री की है, आप तब से ही मुझे देखे जा रहे हो. रोशनी ने उठ कर हम दोनों के लंड पर पप्पी लगाई और कपड़े पहन के नीचे चाय बनाने चली गई.

भारत की सेक्सी बीएफ

पहले रुबीना मना करने लगी मगर मेरे कहने पर मान गई और फिर हम मेरे फ़्रेंड के कमरे पर पहुँच गए. उसने एक पारदर्शी जालीदार काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी। मैंने उसके कानों पर लिकिंग करते हुए उसके गर्दन से नीचे आते हुए उसके ब्रा के हुक को अपने दांतों से खोला, बहुत देर लगी मुझे ब्रा का हुक खोलने में… फिर मैंने अपने होंठों और दांतों से ही उसकी ब्रा पूरी उतार दी. मेरी वासना से भरपूर पिछली चोदन कहानीकिस्मत खुली चुत फटीआपने पढ़ी, आप सबके मेल मिले.

किशोर ने दूसरा धक्का मारा, पर लंड उतना ही गया, मेरी अनचुदी बहन बहुत जोर से छटपटा रही थी. अचानक प्रिया ने मेरे सर के पीछे के बाल अपने बाएं हाथ में कस कर जकड़ लिए और दाएं हाथ से अपना वक्ष पकड़ कर निप्पल बिलकुल मेरे होंठों पर रख दिया.

मैंने जैसे ही चुत चाटना चालू किया, उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं और वो अपनी गांड उछाल उछाल कर अपनी चुत मेरे मुँह पे रगड़ने लगी.

मैंने उनकी साड़ी पेटीकोट को जैसे ही ऊपर किया तो देखा कि जैसे उन्होंने मुझसे चुदने की पहले से तैयारी कर रखी थी. मैंने उनको 6 बजे मेट्रो से अपने घर के पास वाले मेट्रो स्टेशन पर बुला लिया और जल्दी जल्दी अपना पूरा कमरा ठीक करके कपड़े पहन कर उन लोगों को लेने के लिए चली गई. मुझे शर्म आ गयी इसलिए मैं सर नीचे करके अपनी नादानी से शर्मसार हो गया.

तुम जब कहोगी मैं आ जाऊँगा।मधु बोली- तो जनाब अब हम पर एहसान कर रहे हैं।हमारी इस बात पर काफी बहस हुई। आखिर में वो रूपये देकर ही मानी; उसने मुझे 20 हजार रूपये दिए और बोली- राज मुझे अब पैसों की कमी नहीं है. वो शरीर में वजनी थी, तो उसे काबू में करना मेरे लिए मुश्किल हो रहा था. जब भाभी और मैं गर्म हो गए तो मैंने अपने हाथों से उनके दोनों कबूतरों को पकड़ लिया और दबाने लगा.

पिंकी बहुत जोर से चीखी, मैंने अभी एक भी धक्का नहीं दिया, पर पिंकी क्यों रो रही थी.

मां और बेटे का बीएफ वीडियो: अब मैंने उसकी पैंटी नीचे सरकानी शुरू की तो अंजलि ने पानी जांघों को भींच लिया मगर मुझे पैंटी उतारने से नहीं रोका. हम दोनों एक दूसरे के लंड पकड़ कर हिलाते, एक दूसरे के गाल चूमते, साथ साथ घूमते खेलते पढ़ते.

माधुरी के पास साधारण सा फोन था तो मंजरी उस फोन से पुलकित को मिस काल करके उससे खूब बातें करती थी. बाथरूम में जाकर उन्होंने मुझ पर पानी डालना शुरू कर दिया, तो मैं भी कहाँ पीछे रहने वाला था, मैं भी शुरू हो गया. पर मेरा उनके प्रति कभी कोई गलत सोच नहीं थी क्योंकि मैं तो अपनी गर्लफ्रेंड के साथ मस्त रहता था.

विक्रांत को भी समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहा जाए और दूसरी तरफ ईशा को तो जैसे सदमा लग चुका था वो सपनों की दुनिया में चली गई.

वैसे एक बात बताऊँ आज तुम बहुत अच्छी लग रही हो, इतनी अच्छी कि मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता हूँ. उन का इरादा यह था कि प्रिया मेरे सुझाये किसी अच्छे इंस्टिट्यूट में 2-3 घंटे की क्लास अटेण्ड करे और रोज़ घर वापिस लौट जाए पर मैंने उन लोगों को ऐसा समझाया कि C++ लैंग्वेज़ सीखने में बहुत मेहनत और समय चाहिए और समय ही हमारे पास कम है तो अच्छा रहेगा कि प्रिया रोज़ घर आने जाने के चक्कर में ना पड़ कर 3 महीने यहीं शहर में रहे और सीखे. वैसे माँ की हाइट 5 फ़ीट 10 इंच है लेकिन उनकी चूचियाँ 38 इंच की थी जो उनके लम्बे बदन पे चार चाँद लगा रही थी.