फुल सेक्सी बीएफ एचडी में

छवि स्रोत,मोनिका सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ शायरी वॉलपेपर: फुल सेक्सी बीएफ एचडी में, मैं बोला- मॉम क्या हम दोनों हमेशा के लिए रिलेशन में नहीं आ सकते?मॉम शर्माती हुई बोलीं- आज जैसे तुमने मेरी चुदाई की है, उससे मैं तुम्हारे लंड की दीवानी हो गयी हूं.

देवर ने किया भाभी के साथ सेक्स

वो भी मजे से मेरे होंठ चूस रही थी और अपनी जीभ मेरे मुँह में चला रही थी. ओपन नंगी फिल्मसौम्या डार्लिंग ने मुझसे कहा- जब तुम मुझे चोदने ही आए हो … तो हम दोनों टाइम वेस्ट क्यों करें!मैं सौम्या की बात सुनकर मुस्करा दिया और देखते देखते हम दोनों एक दूसरे के बहुत करीब आ गए.

जय दो मिनट रुका और बोला- साली रण्डी, जब बंद बुर में लंड घुसेगा तो थोड़ा दर्द तो होगा ही … फिर बाद में तुझे बहुत मज़ा आयेगा।दो मिनट बाद मेरा दर्द कम हुआ. बांग्ला बांग्ला सेक्स वीडियोदोस्तो, ये बात मेरे एक मित्र की भाभी के बारे में है जो कि दिखने में एक अप्सरा जैसी लगती हैं.

मैंने उसकी भाषा बदली हुई देखी तो कटोरी का सारा तेल निशा की पीठ पर पलट दिया और दोनों हाथों से रगड़ने लगा; बगलों से उसके चुचे भी मसलने लगा.फुल सेक्सी बीएफ एचडी में: आपने मेरी इस हॉट देसी आंटी सेक्स कहानी के पहले भागपड़ोसन आंटी को पूरी नंगी देखाअब तक पढ़ लिया था कि मैं आंटी की चिकनी टांगों की मालिश करने लगा था.

मैंने उससे वादा लिया कि तुम किसी को कुछ नहीं बताओगी, ये वादा करो, तभी दिखाऊंगा, नहीं तो उसे हम दोनों ग्रुप से निकाल देंगे और कोई बात शेयर नहीं करेंगे.मैंने उसकी दाईं बाजू उठा कर उसकी बगल को सूंघा और लिक किया, फिर से उसका निप्पल चूसा.

सेक्सी ब्लू फिल्म भेजें - फुल सेक्सी बीएफ एचडी में

वो बिलखने लगी और तड़पती आवाज़ में बोली- बहनचोद डाल दे … क्यों सता रहा है?मैंने पूछा- क्या डालना है?वो बोली- तुम्हारा वो!मैंने पूछा- वो क्या?वो बोली- पेनिस!मैंने कहा- हिंदी में बोलो.उनका ध्यान मेरी तरफ नहीं था शायद … मगर उन्हें बाथरूम में पानी गिरने की आवाज से समझ आ गया था कि मैं बाथरूम में नहा रहा हूँ.

कुछ टाईम बाद मुझे ऐसा लगा जैसे कोई पैंट के ऊपर से मेरे लंड को छू रहा है. फुल सेक्सी बीएफ एचडी में दोनों हाथों से गांड खींचकर मैंने सरिता की चूत में अपनी पूरी जीभ डाल दी तो सरिता कसमसाने लगी.

मैंने अपने लौड़े पर थोड़ा सा थूक लगाया और थोड़ा सा थूक अपनी साली की बुर में लगा दिया.

फुल सेक्सी बीएफ एचडी में?

मैं उसे सम्हालते हुए पूछा- क्या हुआ रीता?वो बोली- पैर में मोच आ गई है यार … बहुत दर्द हो रहा है. उसके बाद उन्होंने मेरे लंड को चुंबन दिया और बोलीं- इसने आज मुझे जन्नत की सैर कराई है. वो सिहर गई लेकिन कुछ ही देर में लंड ने चुत को मजा देना शुरू कर दिया था.

मैं चूचों को ब्रा के ऊपर से ही दबा रहा था और ब्रा को नीचे सरकाकर उन्हें एकटक देखने लगा. भाभी हमारी ये दोस्ती देखकर बहुत प्रभावित हो गयी थी, उसकी आंखों में आंसू आ गए थे. उधर मेरी मौसेरी बहन अदिति ने अपनी स्कूल की परीक्षा पास कर ली थी और उसे मेडिकल की तैयारी करनी थी.

अब दीदी को बुर और गांड से इतना ज्यादा दर्द हो रहा था कि वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी. वो जोर से चिल्लाई- मैं मर जाऊंगी मादरचोद!लेकिन मुझे केवल अब उसको चोदना ही दिख रहा था और मैं जोर जोर से नैना को चोदने लगा. Xxx गांड हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि एक अमीर आदमी की बीवी उसे छोड़ गयी तो उसे लड़कों की गांड मारने की लत लग गयी.

उसी समय मेरे घर से कॉल आया और घर वालों ने पूछा- घर कब आओगे?मैंने कहा- अभी तो एग्जाम 3 दिन डिले हो गए हैं. [emailprotected]लेडी डॉक्टर सेक्स कहानी का अगला भाग:लेडी डॉक्टर ने मेरे लंड की खुजली का इलाज किया- 3.

अम्मी, खाला और जेबाँ एक ही कमरे में उसी बेड पर सोती थीं जिस बेड पर मैंने खाला को चोदा था.

इसके बाद से मेरे दिमाग में कुछ कीड़ा घुस गया था तो मैं अपनी दीदी पर नजर रखने लगा.

अगले दिन ऑफिस में जब रीता मिली तो वह मुझे एक कशमकश भरे अंदाज में देख रही थी, पर मेरी फटी पड़ी थी. इसी के चलते एक महिला ने मुझसे संपर्क किया, जिसने अपना नाम रीटा बताया था. मैं भी प्यार से उसके लण्ड को आगे पीछे करके मसलने लगी और अपनी चूत पर मसलने लगी.

बस ये सोचिए कि मैं आपका ब्वॉयफ्रेंड हूँ … और आप मेरी गर्लफ्रेंड हैं. और मैं हर धक्के में जोर से सिसकार उठती- ओह मां … उह … आह … ओह … आह, ओए!मुझे कुछ बोलने की जरूरत ही नहीं पड़ती, मेरी तो ऐसे ही हालात खराब थी।मैंने सिर्फ बोला- थोड़ा तेज चोदो ना प्लीज़!जेठ जी ने लन्ड को बाहर निकाल लिया. जब भी मैं अपनी बुआ के घर जाता, तो उनके पड़ोस में ही मेरा मन लगा रहता था क्यूंकि पड़ोस में रहने वाले की बेटी सोनल मुझे बड़ी भाती थी.

मैं चाहता हूँ कि तुम उसके जन्मदिन पर उसके साथ चुदाई करो, मुझे ख़ुशी होगी.

नीचे से मेरा लंड बार बार रिया की चुत पर अपनी दस्तक दे रहा था और ऊपर मेरे हाथ उसके दोनों मम्मों को दबाए हुए थे. भाभी की और देवर की चुदाई हुई मजेदार … वो मेरे मौसेरे भाई की पत्नी थी और उन्हें बच्चा नहीं हो रहा था. वो भी मेरे सीने से चिपक गई और हम दोनों अपनी सांसों को नियंत्रित करने लगे.

वो कराहती हुई बोली- आह जान मर गई … मैंने इतना बड़ा लंड कभी लिया ही नहीं था … मेरी चुत में दर्द हो रहा है … आह एक बार निकाल लो प्लीज़ फट जाएगी मेरी … प्लीज़ निकाल लो. उस समय हमारे बीच में चुदाई की कोई बात नहीं होती थी, बस किस वगैरह की बात होती थी कि किसने स्कूल में किसको किस किया, कौन किसकी गर्लफ्रेंड है. इससे उनकी चुत ने रिसना शुरू कर दिया था, जिससे कमरे में पछ पच की आवाज़ होने लगी.

अब मैं खुद को औरत मान बैठा था और आगे की सेक्स कहानी भी उसी रूप में लिखूंगा, मतलब जैसे औरत बोलती है.

तो मैं यूं ही रुक गया और फिर धक्का मारा तो मेरा सुपारा उसकी चूत में घुस गया. कॉलेज सेक्सी गर्ल की कहानी में पढ़ें कि दो सहेलियां आपस में लेस्बियन सेक्स करके अपनी अन्तर्वासना को कैसे दबाती थी.

फुल सेक्सी बीएफ एचडी में उसने मुझे अपनी गोद में उठा कर बेड पर लिटा दिया, खुद भी मेरे पास नंगा ही लेट गया. शाम को खाना खाने के बाद टीवी देखी और नीरजा को आवाज दी मगर नीरजा को नींद आ रही थी तो वो नहीं आई.

फुल सेक्सी बीएफ एचडी में थोड़ी देर बाद उसे जोरों की पेशाब लगी और उसकी तीव्रता बढ़ने पर उसने मुझे बताया. मैंने अपनी कमर तेज तेज चलानी शुरू कर दी और हमारीताबड़तोड़ चुदाईकी शुरुआत हो चुकी थी।उसकी आवाज सुनकर मुझे जोश चढने लगा और मैंने जोर जोर से अपना लंड उसकी चूत में पेलना शुरू कर दिया।अब उसके मुंह में से हल्की-हल्की चीख निकलने लगी।मैंने उसकी दोनों टांगें उठा कर अपने कंधों पर रख ली और और पैरों के भार बैठकर कर उसकी चूत में अपना लंड पेलने लगा.

सौम्या के साथ उसकी दो सहेलियां भी थीं और वो दोनों भी अन्दर आना चाहती थीं लेकिन सौम्या ने बहाना किया कि उसको पूरी नंगी होना होगा और उसको शर्म आती है.

पुरानी सेक्सी बीएफ

रोमिल ने लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया।शायद रोमिल का मोटा लौड़ा पिंकी की चूत में अंदर नहीं जा रहा था।रोमिल ने लंड पीछे खींचा और झटके से घुसा दिया. मेरा एक हाथ उसकी चूत पर रगड़ रहा था और अब दूसरा हाथ मैंने उसके सीने के ऊपर लिपटी हुई चादर को नीचे कर दिया. मैंने इस बार बिना किसी हिचक के उसका लंड चूसा और उसने मेरी चुत चूस कर मुझे गर्म कर दिया.

थोड़ी देर बाद मैं सरिता की चूचियां छोड़कर सीधा होकर अपने दोनों हाथों से उसकी कमर को कसकर पकड़ लिया और लंड अन्दर बाहर करने लगा. उसने पूछा- तुम कौन से होटल में रुके हो?मैंने कहा- मैं अभी किसी होटल में नहीं रुका हूँ. वो कहकर चिल्लाने लगी लेकिन मेरे ऊपर उस वक्त उसकी किसी भी बात का असर नहीं हो रहा था.

तो मैं अपनी पूरी रफ्तार से रुचिता की चुदाई में लग गया और वो दर्द और मजे के मिश्रण के साथ आवाज निकालने लगी.

तभी मम्मी ने धीमी आवाज में कहा- क्या तुम मुझे चोदोगे नहीं?ये सुनकर पहले तो मेरी फट गयी, फिर मैं झट से चादर को हटाया और अपनी मम्मी को अपने ऊपर खींच कर लिटा लिया. मेरी पिछली कहानीअनकटे लंड से गांड मरवाने का मजा लियाआप सभी ने पढ़ी होगी. मैं कराह कर बोली- आंह भैया क्या कर रहे हो … फिर मैंने मम्मी को बोला कि देखो न मम्मी, भैया मुझे कितनी जोर से दबा रहा है.

इस बार उसने अपना हाथ वापस नहीं खींचा और वो धीरे धीरे मेरे लंड को सहलाने लगी. उन्होंने आगे बताया कि जब ज्यादा पैसे की जरूरत होती है तो मैं तेरी खाला को भी ले जाती हूं. वो दिखने में सुंदर, कद साढ़े पांच फिट और फिगर 34-30-36 का, बाहर निकले कूल्हे, बहुत ही सेक्सी फिगर.

उसने हंस कर बताया कि मैं बहुत ज्यादा ब्लू फिल्म देखती हूं, जिसकी वजह से मैं ये सब कर पा रही हूँ. कभी एक दूध चूसता तो दूसरे को दबाता … कभी दूसरे को चूसता और पहले को दबाता.

मैंने सोचा कि चलो उन टीचर से मिल कर पूछता हूँ कि कोई कोचिंग क्लास मुझे पढ़ाने को दे सकते हैं क्या?मुझे कोचिंग में पढ़ाने के लिए मिल गया. उसने मुझे अपनी गोद में उठा कर बेड पर लिटा दिया, खुद भी मेरे पास नंगा ही लेट गया. मेरी जिंदगी के 19 वर्ष बीत चुके थे और मैं अभी तक सिर्फ अपना लंड हिलाकर ही काम चला रहा था.

जब भी मैं धक्का देता तो उसके चूतड़ों से रगड़ कर मेरा लंड चूत के अन्दर जा रहा था.

इसी प्रकार एक बार उसके जन्मदिन के कुछ दिन पहले हमने नागपुर में मिलने का प्लान किया. हालांकि उसका लंड कड़क हो गया था, फिर भी इतना छोटा सा था कि मुझे हंसी सी आ रही थी. पर मैं बहुत ही सीधा था, इतना कि उस समय तक मैंने एक भी गर्ल फ्रेंड नहीं बनाई थी.

मैंने अपने बर्थडे का निमन्त्रण टीना को दिया और मजाक में उससे गिफ्ट लाने को भी बोला. विलास ने अच्छी तरह से लंड को क्रीम लगाकर चिकना बना दिया और मेरे सामने ही मेरी तरफ गांड ऊपर करके और मुँह गद्दे पर रखकर हो गया.

उस दिन मुझे उसके होंठों का अहसास पाते ही लगा, जैसे मुझे एकदम से करेंट लग गया हो. मैं- क्या तुम मुझसे प्यार नहीं करती?रुचिता- करती हूँ, पर समझा करो न यार!मैं- पर क्या? अगर तुम मुझसे प्यार करती हो तो मना क्यों कर रही हो?वो कब तक मना करती, उसके मन में भी तो चुदने की ललक थी ही, आखिरकार थोड़ा बहुत नाटक करके वह मेरे दोस्त के कमरे पर आने को राजी हो ही गयी. ऐसा बोलते हुए उसने अपना एक हाथ मेरे लंड पर रख दिया और पैंट के ऊपर से ही लंड दबाने लगा.

सेक्स ब्लू वीडियो सेक्स

जब से तुमने मुझे प्रेग्नेंट किया, तब से आज तक मैंने तुम्हारे दोस्त का भी लंड नहीं लिया.

रुचिता मेरे करीब आई और बिना कुछ बोले मेरी बाइक पर गांड उचका कर बैठ गई. अब मेरा हाथ उनकी टांगों में और अच्छी तरह से फंस गया था जिस वजह से मम्मी की नींद खुल गयी. तब मैंने अपना लंड उसकी चूत के मुहाने पर लगा कर रगड़ना चालू कर दिया और ऊपर उसे चूसने लगा जिससे उसका ध्यान भटक जाए.

मौसी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगीं- आंह आराम से कर अरुण … बहुत दर्द हो रहा है … आराम से कर कुत्ते. मैंने अपना एक हाथ उसके मम्मों पर रख दिया और धीरे धीरे से दबाने लगा. ववव क्सक्सक्स वीडियो कॉमवह बोला- झड़ गए क्या? आज बड़ी देर लगे रहे, पूरी कसर निकाल ली, मेरी ऐसी तैसी कर दी.

सौम्या डार्लिंग मेरे बच्चे की मां बनना चाहती थी लेकिन उसने अपने बेटे अंकित के जन्म के समय ही नसबंदी करा ली थी इसीलिए वो मेरे बच्चे की मां नहीं बन सकती थी. कभी कभी मुझे उसका डांस देखने का मूड होता है, तो मैं बीवी से कहता हूं.

मैं इतने मजे में था कि कुछ ही मिनट में ही मैं सौम्या के मुँह में झड़ गया. तभी अचानक से रिंकू ने भी मेरे लंड को प्रियंका के मुँह से खींच कर निकाला और अपने मुँह में भर लिया. तो मैं मम्मी को उस हिस्से में ले गया, जहां बड़ी ही कामुक ब्रा पैंटी का भंडार था.

उस वक्त मेरी जीभ से उसकी नाभि को एक लव बाईट देते हुए चाटना और नाड़ा खोलना दोनों काम एक साथ चल रहे थे. वो हंस दी और उसी वक्त मैंने अपना एक हाथ ले जाकर उसकी बुर पर रख दिया और वो अपनी बुर पर एक मर्द का हाथ पाकर कांपने लगी. इस बीच वीना की शादी तय हो गयी और वो कुछ दिन साथ रहने के बाद अपने ससुराल चली गयी.

मैंने कार की डिक्की खोलकर सोनाली का बैग और सामान निकालकर उसके हाथ में दे दिया.

फिर मैंने कहा- आपकी बात अपनी जगह सही है, पर हर इंसान की अपनी अपनी ज़रूरतें होती हैं. दोस्तो, मैं यश हॉटशॉट एक बार फिर से आपके सामने अपनी कहानी को लेकर हाजिर हूँ.

भाभी- तो क्या रात में तुम ही थे?मै- हां भाभी, आपने मुझे भईया समझ कर सुहागरात मनाई. ऐसे करके 10-15 धक्के अन्दर को मारे ताकि मेरे लंड के लिए जगह बन जाए. इसके बाद एक दो घटनाएँ और भी हुई, उन्हें मैं समय मिलने पर फिर कभी बताऊंगा.

मैं उठने लगा तो काटते वक़्त टमाटर का थोड़ा सा पानी जो नीचे गिर गया, वो दिखा नहीं. कुछ देर में मुझे लगा कि मेरा होने वाला है, तो मैंने उससे कहा कि मेरा होने वाला है. विलियम की गोद में उसके लण्ड पर उछलने से मेरे मजे और आनंद की सीमा पार हो चुकी थी.

फुल सेक्सी बीएफ एचडी में मैंने कहा- कोई बात नहीं जेठ जी, मैं समझ चुकी हूं कि वो सब बस गलती से हुआ।तो वे बोले- अगर तुमने मुझे माफ कर दिया है तो साथ में बैठकर खाना खाओ!मैंने कहा- ठीक है!फिर हम दोनों ने साथ में बैठकर खाना खाया और बहुत सारी इधर उधर की बातें भी की।फिर मैं बर्तनों को समेटने लगी तो जेठ जी बोले- रहने दो, सुबह कर लेना यह सब! अभी जा के सो जाओ।मैं बोली- सुबह भी तो मुझे ही करना है. वो मुझे अपने हाथों से समेटे हुए गंदी गंदी गालियां दिए जा रही थी- आंह भोसड़ी के चोद दे … अब नहीं रहा जा रहा … मादरचोद तेरी मां की चूत पेल दे अपने बड़े लंड को … आआआ!मैंने उसको गोद में उठाया और उसके बेडरूम में ले जाकर बिस्तर पर धकेल दिया.

हिंदी बीएफ सेक्सी पिक्चर

मैंने गोद में ही सौम्या डार्लिंग की चूत के छेद पर लंड रगड़ना शुरू कर दिया. उसकी चूत कुछ टाइट थी तो आधा लंड तो घुस गया … बाकी के लिए मुझे और जोर लगाना पड़ा. मैंने फ़ोन उठाया और पूछा- हैलो कौन?तो आवाज़ आयी- अरे पागल … ये मैं हूँ.

मम्मी अपनी चूत नाईटी के ऊपर से ही मेरे लंड पर रगड़ती हुई बोलीं- बहुत बदमाश हो. दो मिनट तक खूब चाटने के बाद मैंने लंड को चुत पर टिका कर पीछे से रिया को पेलना शुरू कर दिया. एक्स एक्स हिंदी कॉमदोस्तो, जैसे जैसे लंड में रक्त प्रवाह प्रबल होता जाता है, वैसे वैसे मर्द की वासना भी बेकाबू होती जाती है.

शिल्पा ने अपने कपड़े पहने और थोड़ा गुस्सा होते हुए बोली- ये जो किया है ना … वो अच्छा नहीं है.

मैंने कॉल उठाते ही कहा- हां पम्मी आंटी … बस मैं 5 मिनट में आता हूं. रात को 11 बजे उसका मैसेज आया लेकिन दीदी मेरे रूम में आकर बैठ गयी थीं.

30 बज चुके थे मैंने उन्हें खाना दिया और पूछा- भाई, आपका सोने का क्या इंतज़ाम है?वो दोनों बोले कि हम दोनों टैंट में ही सो जाएंगे. ऊपर के दो बटन खुलने से उसके गोल मटोल दूध से भरे स्तन मेरे सीने पर दब गए थे. मैं चाची के पास आ गया और चाची को गोद में उठा कर दूसरे कमरे में ले गया.

ब्रा में छुपे भाभी के दोनों चूचे मानो अन्दर से बाहर आने को तरस रहे थे.

मैंने अपना बैग और पर्स उठाया और धीरे-धीरे होटल के रिसेप्शन पर पहुंची और बेबाक अंदाज में जाकर बोली- मुझे एक रूम बुक करना है. बहुत ज्यादा मज़ा आया और मैंने आशिमा दीदी के गाल पर किस करके उन्हें थैंक्स कहा. वो जोर से चीखी … पर मैं रुका नहीं।सिसकारियाँ भरते हुए उसने कहा- हाँ ऐसे ही … आह … मजा आ रहा है!मैंने कहा- बहुत!और उसे चूमने लगा।तभी उसने मुझे कस के पकड़ लिया और खाली हो गई।मैं अभी भी चोद रहा था.

सेकसी बिडीयेशनाया पहले हाथ में लंड पकड़ कर हिलाने लगी और अपनी जीभ से टोपे को चाटने लगी. फिर देखा तो उसकी चूत से खून निकल रहा था लेकिन काली चादर होने की वजह से चादर गीली बस दिख रही थी, खून बिल्कुल नहीं दिख रहा था.

देवर भाभी के बीएफ सेक्सी

उधर एक होटल में चैकइन करके मैंने उसे फोन किया कि मैं किस होटल में रुका हूँ. ’मैंने भी महसूस किया कि चाची की चुत काफ़ी कसी हुई लग रही थी इसलिए मैंने लंड बाहर निकाला और पहले से वहीं रखा तेल उठा कर अपने लंड पर लगा लिया. मगर मैं इस बात को भी जानती हूँ कि एक बार मेरे मामा के लड़के की शादी हो जाने के बाद वो मुझे चोदेगा तो, मगर मेरा मन शायद अपना प्यार बंट जाने को स्वीकार नहीं करेगा और मैं एक रखैल की हैसियत से ज्यादा कुछ नहीं पा सकूंगी.

मुझे लगा अपनी मम्मा सौम्या मुझसे पूछेगी कि मैं कहां था इतने साल!लेकिन सौम्या ने कुछ कहा ही नहीं. जय मेरी चूचियों को पीते हुए मेरी बुर में अंगुली डाल कर सहला रहा था. मैंने कहा- क्यों विजय मुंबई में क्या कर रहा है?नीरजा- विजय मुंबई में पढ़ता है मामा.

जब मैंने महसूस किया कि वो होंठों पर किस करना चाहती है तो मैंने उसके बूब्स को दबाया और होंठों से होंठ मिला दिए. उसने कहा- एक गेम है, उसमें तुम्हें सामने वाले की सारी बात माननी पड़ेगी. मुझे देखते ही उन्होंने मुझे ‘गुड मॉर्निंग गौरव …’ बोलते हुए कातिलाना आंख मारी.

मेरा दिमाग पहले ही खराब था क्योंकि चाची खड़े लंड को धोखा देकर चाचा से चुदने चली गई थीं. कुछ देर बाद जब मुझे ऐसा लगा कि अब इसका होने वाला होगा, तो उससे पहले ही मैंने थोड़ी तेज आवाज सी की.

मिनी ने अपने पर्स से वैसलीन की डिब्बी निकाली और काफी वैसलीन मेरे लंड पर लगा दी और कुछ अपनी चुत पर.

वो बिना कंडोम के ही चुदाई करने को बोली क्योंकि उसने आज तक किसी और से सेक्स नहीं किया था. नंगी ब्लू फिल्म सेक्सीफिर उसके बाद उसकी चूत को भी चूमना चालू किया, उसकी जांघ को, उसके पैरों को चाटना चालू किया. भोजपुरी एक्स एक्स एक्स एक्स एक्सघर के सभी लोग अन्दर थे, बाहर कोई नहीं था तो बात करने का अच्छा मौका था. इतने में मेरे पति आते दिखे, तो मैंने झट से अपने बैग में बिल और फूल दोनों छुपा लिए.

तब दीदी ने मेरी तरफ देखा और मेरी बहन मेरे लौड़े को देख कर चौंक गई और कहने लगी- हम दोनों भाई बहन हैं.

एक पल सोचने के बाद मैंने फिर से कहा- मॉम, क्यों ना उसके जानने से पहले तुम उसे भी मुझसे चुदने के लिए तैयार करो. [emailprotected]हॉट न्यूड गर्ल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:भाभी की चचेरी बहन की मस्त चूत चुदाई -3. फिर पत्नी ने लंड चुत से बाहर निकालने के लिए कहा तो मैंने अपना लंड चुत से बाहर निकाला.

मैंने कहा- मैं तेल लगा कर पेलूँगा बेटू … तेरी गांड में बड़े प्यार से लंड जाएगा. विलास बोला- आंह आहिस्ता से घुमाओ हर्षद … मैं पहली बार ही ये सब कर रहा हूँ. फिर राहुल ने चाची के चूतड़ों पर हल्की थपकी मार उनको उठने के लिए बोला- चलो जान, अब सीधी हो जाओ.

लाइट वाला बूट

तभी मैं अच्छे से चैक करके दवाई से साफ कर पाऊंगी और मलहम भी अच्छे से लगा सकूँगी हर्षद. बारह बजे वो वहीं पर पहुंच गयी जिधर उसने मुझे इंतजार करने के लिए कहा था. मैं उसकी चूत चौड़ी करके जीभ अन्दर डालकर चूसता रहा और एक उंगली चूत में डालने लगा.

आप सभी सुधि पाठकों का अभिवादन।मैं देवेश उत्तरप्रदेश के एक छोटे से गांव का रहने वाला शर्मीला लड़का और अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूं।बहुत सोचने के बाद मैंने अपनी कहानी भेजने का निर्णय लिया.

मैं पीठ के बल होते हुए आंखें खोल कर जागने का नाटक करते हुए बोला- सरिता तुम यहां?तो सरिता बोली- हां मैं ही हूँ.

वह बोला- झड़ गए क्या? आज बड़ी देर लगे रहे, पूरी कसर निकाल ली, मेरी ऐसी तैसी कर दी. उसने अपने दोनों हाथों से मेरा सर अपनी चूत पर दबा लिया और वो झड़ने लगी. मारवाडी xxभाभी थोड़ा कराह कर बोलीं- देवर जी, इनको खाने का इरादा है क्या … दर्द हो रहा है.

मेरी तरफ देख कर वो हंसती हुई बोली- अभी तक नंगे ही घूम रहे हो क्या हर्षद?मैं बोला- बस मैं अभी नहाकर आया हूँ सरिता … और तुम अन्दर आ गईं. मेरा मन अभी के अभी उनके मम्मों को जोर से दबा कर सारा दूध निकालने की इच्छा होने लगी थी. साली कुतिया रंडी … तुझे तो मैं बहुत दिन से चोदना चाहता था … आज तो मैं तेरी चुत फाड़ कर रख दूँगा साली … ले लौड़ा ले मादरचोद.

मैं चूत चाटने लगा और शिल्पा आवाज निकालने लगी ‘आअह्ह ऊओह ऊओह्ह आआह …’उसको अब और भी अच्छा लगने लगा था. वो एक हाथ से अपनी चूत के दाने को मसल रही थीं और दूसरे हाथ से उन्होंने मेरे कंधे को थामा हुआ था.

मैं दरवाजे बाहर के जैसे ही गया, शिल्पा ने मुझे पीछे से आवाज लगाई- यश रुको.

नई भाभी की चुदाई कहानी के पिछले भागदोस्त की बीवी ने मुझसे बच्चा माँगामें अब तक आपने पढ़ा था कि सरिता मेरे लंड से चुदने के लिए एकदम गर्म हो गई थी. वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा पैंटी में रह गई थी और मैं एक अंडरवियर में उसके सामने था. मैंने आंखें खोल कर देखा तो चाची का हाथ रानी की चूचियों के थोड़ा नीचे था और उनका गाउन घुटनों के थोड़ा ऊपर सरक गया था.

ब्लू फिल्म फुल मैंने उसे चूमते हुए अपना लंड उसकी चुत पर रगड़ दिया और सोफे पर जाकर बैठ गया. फिर विशाल ने मुझको मोनिका के कपड़े पहनाकर खूब प्यार किया और मेरी गांड मारी.

उनकी इस बात से मैं बड़ा हैरान था क्योंकि मेरे और अनीता के बारे में कोई नहीं जानता था. उसने धीरे से मुझे सीधा कर दिया और मेरी ब्रा उतार कर मेरी चूचियों से खेलने लगा. मैं कुछ दिन उनके घर में रहा तो वहां क्या हुआ?दोस्तो, मेरा नाम ऋषभ है.

हिंदी सेक्सी फिल्म बीपी

फिर भैया को ध्यान आया कि जिस काम से उन्होंने मुझे बुलाया था वो तो बताना ही भूल गए. ये सुन चाची एकदम से शर्मा गईं और उन्होंने खुद को सम्भालते हुए राहुल को इशारा किया कि मैं भी हूँ. इस बार उन्होंने मुझे छोड़ कर तकिया को पकड़ लिया और अपने दांत भींच कर मेरे लंड को सहन करने लगीं.

इतना बोल कर धीरू ने मेरी कमर कस कर पकड़ी और मेरे चूतड़ों पर हाथ मार दिया. उसके बाद मैं कुछ देर तक रुका; उसकी चूचियां चूस कर उसे गर्म करता रहा.

मैंने कहा- आप रहने दीजिए ना!वो मेरी बात को सुन ही नहीं रहे थे, बोले- इसी बहाने तुमसे थोड़ी बात भी हो जायेगी।फिर सारा काम खत्म करके हम लोगों ने कुछ देर बातें की और फिर मैं बोली- अब चलें सोने … रात ज्यादा हो रही है।मेरा मन तो नहीं कर रहा था जाने का … मेरा भी दिल कर रहा था कि आज जेठ जी के साथ ही सो जाऊं!पर यह बात मैं कैसे बोलती?तो मैं अनमनी सी अपने कमरे की ओर जाने लगी.

भाभी बताती रही- यहां सोसायटी में भी बहुत अच्छे जवान लड़के हैं, जो मुझे लाइन भी मारते हैं. बहुत ज्यादा मज़ा आया और मैंने आशिमा दीदी के गाल पर किस करके उन्हें थैंक्स कहा. मैं घर में जैसे ही पहुंचा, सबसे पहले फाटक बंद किया और अपनी साली को सामने देख कर मुस्कुरा दिया.

फिर जैसे ही मैंने आशिया के पजामे का नाड़ा खोला तो उसके नाड़े वाली जगह पर एक किस कर दिया. वो शनाया के संगमरमर से बेदाग जिस्म पर से अपनी नज़रें ही नहीं हटा पाया. इस पर वो राज़ी नहीं हुई लेकिन रास्ते में थोड़ी देर बाद उसने हां बोल दिया.

धीरे धीरे मैं भी गर्म हो गई और थोड़ी देर बाद मैंने उसे खुद को सौंप दिया.

फुल सेक्सी बीएफ एचडी में: वो मेरी हर बात बिना कुछ पूछे ही मान रही थी और हर बात पर कातिलाना स्माइल दे रही थी. उसकी गोरी कमर को मैं अपनी हथेलियों से हल्का हल्का दबाते हुए मसाज देने लगा.

उसके बाद मैं भाभी की पैंटी के ऊपर से ही जीभ लगा कर उनकी चूत चाटने लगा. वो बीच-बीच में सिहर उठती और वो मादक सिसकारियां भरने लगी ‘उम्मम आआह भाई आआह मज़ा आ रहा है उम्मम्म अअअ आआह …’फिर मैंने बहन की चूत का रुख किया. फिर एक दिन जब उन लोगों को कहीं बाहर जाना था तो सिमरन ने मुझे बताया.

फिर मैं उसका दूसरा स्तन मुँह में लेकर चूसने लगा और पहले वाला स्तन मैं अपने हाथों से रगड़ने लगा.

ये उसने काफी देर तक किया जिससे मेरा पूरा पानी उसके मुँह में ही निकल गया और वो उसे गटक भी गई. अब शनाया ने हार्दिक के लंड को अपने मुँह में ले लिया और उसे चूसने चाटने लगी. मौसी मेरी तरफ देखने लगीं और मेरे सर पर हाथ फेरने लगीं- आज जो तूने मुझे जो मजा दिया है, ये मैं जिंदगी भर नहीं भूलूंगी.