बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,தமிழ் கிராமத்து செஸ்

तस्वीर का शीर्षक ,

সোনাক্ষী সেক্স ভিডিও: बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो, उसके बाद मुझे और अंकित को जब भी मौका मिलता था हमदोनों खूब चुदाई करते थेकभी मेरे घर तो कभी अंकित के घर, तो कभी होटल में चुदाई करने जाते थे.

एक्स एक्स एक्स एक्स एन एक्स

लेकिन चूत में साबुन लगाने से उसमे जलन हो रही थी और हाथ लगाने से दर्द हो रहा था. xx3 ब्लू फिल्मअनुराधा- इतनी आसानी से नहीं भैया… अभी तो शुरूआत है… तुम्हें मेरे लिए भी कुछ करना होगा.

अंकल ने टीना को बांहों में भर लिया और उसके मम्मों को हल्के से दबा दिया. हिंदी देसी सेक्सी वीडियो एचडीउसने अपना नाम विदिशा बताया और कहा कि वो अकेली ही रहती है, उसके पति बिजनेस में हैं और वो दुबई गए हुए हैं.

पहले तो मुझे अजीब लगा लेकिन फिर मैंने अपना पैर हटा लिया और सीधे होकर बैठ गया.बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो: मैं तुम्हारे हाथ पर दवाई लगा दूँगा और तुम अपने कपड़े भी ठीक कर लेना.

तह कहानी जिस समय की है, उस वक्त मैं दिल्ली में रहता था, मैं वहां पर मैं कंप्यूटर की पढ़ाई करता था और बॉक्सिंग की कोचिंग लेता था.आशा करता हूँ सभी लड़कियों की चूत में पानी तो आ ही गया होगा और लड़के भी एक बार झड़ गए होंगे.

सेक्सी वीडियो चाहिए हमको - बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो

मैं बस इसको आशीर्वाद दे रहा हूँ ताकि इसको कम तकलीफ़ हो और ये मज़े से सब करे.मैं बिस्तर पर ही लेटी रही, उन्होंने उनके माल निकलने के बाद वो दोनों मेरे दोनों कन्धों पर सर रखकर लेट गए, दोनों तेज हाँफ रहे थे, मैं भी आँखें बन्द करके उन दोनों के बालों को सहला रही थी और वो दोनों मेरे बूब्स और निप्पल पर उंगली घुमा रहे थे.

वैसे भी कॉलेज की लड़कियां बहुत स्लिम सी होती हैं और मुझे स्लिम लड़कियां ज्यादा पसंद नहीं हैं. बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो सुमन उठ कर बैठ गई और उसने एक जोरदार अंगड़ाई ली और अपने पापा से लिपट गई- पापा, आप कितने अच्छे हो.

वाह क्या माहौल था… कातिलाना… अब तो बस रहा नहीं जा रहा था… दिल कर रहा था कि किसी भी मदमस्त लोंडे को दबोच लूँ और उसके होंठों को तब तक होंठों में भर लूँ जब तक कि होंठों से खून ना निकल आये.

बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो?

फिर मैंने कहा- अरे कोई बात नहीं, वो भी मेरा बहुत ख़ास दोस्त है, जैसे आप दोनों आपस में दोस्त हो, जैसे आज मेरे लिए नेहा नई है और आपको वैसे ही मनोज नया लगता है, परन्तु हम दोनों के राज़ आपस में शेयर रहते हैं यार. फिर मैंने गियर चेंज करके हाथों को नहीं हटाया और उसकी जाँघों को टच करके गियर पर ही हाथ रखे रहा. मेरी कमर पर बैठकर, मेरे सामने झुककर, नीचे सर और ऊपर पाँव करके, दीवार से सटाकर… एक ही रात में उसने सारे आसन में चुत चुदवा डाली.

जब उसका लिंग उसके जांघिया में छुप गया तब मैं वहां से हट कर बरामदे में वैसे ही बैठ गयी जैसे पहले बैठी थी. आज तो मैं आपको भरपूर मज़ा दूँगी और आपका लंड रस आज वेस्ट नहीं होने दूँगी. मैंने तो उसे बचा लिया है तुम्हारे लिए, नहीं तो कब का चुदवा चुकी होती.

मैंने उसकीगीली चूत पर लंडरखकर दबाया तो वो उछल पड़ी और थोड़ा डर भी गई. जब वह मुझे बिल्कुल फिट आये तब मैंने एक नाइटी को रात के लिए पहने रखा और बाकी सभी कपड़ों को अलमारी में रख दिए तथा बिस्तर पर सोने के लिए लेट गयी. मुझे मजा आ रहा है!मैंने उन को खूब गालियां दीं, उन की चुत एकदम लाल कर दी.

शायद मामा जी ने जो गांड मारने वक़्त लंड पर वेसलिन लगाई थी उस वजह से…मैं मामा जी के लंड को गौर से निहारने लगी, ना जाने फिर कब ऐसा मौका मिले! वेसलिन लगे होने की वजह से मामा जी का लंड का ऊपरी हिस्सा एकदम स्ट्राबेरी जैसा गुलाबी दिख रहा था, मैं खुद को नहीं रोक पा रही थी, मैंने लंड को मुँह में ले लिया और मुँह के अंदर ही टोपा को जीभ से सहलाने लगी. मैं जाकर पास बैठ गया और वो मेरे सिर में तेल लगा कर मालिश करने लगीं.

मैं कभी उसके गोटियों को अपनी उंगलियों से छूती, कभी जीभ से चाट लेती.

मैंने फिर से जैसे ही अपने बात ख़त्म की, मेरे राइट साइड वाली लड़की ने फिर से मुझे एक थप्पड़ मारा और कहा- बहुत बोलता है भैनचोद… सुन बे या तो हमारी बात मान ले या फिर जो तुम्हें सही लगे तुम करो, जाओ.

मैंने अपने दोनों हाथों से रूबी के मम्मे पकड़े और धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगा. अनामिका जी उसका लंड पकड़कर बोलीं- जरा सब्र करो, इतनी जल्दबाजी भी ठीक नहीं… तुम तो मौके का फायदा उठाना अच्छी तरह जानते हो. मैं- लव यू अनु… एक बार मेरा लंड चूस ताकि वो बिल्कुल चिकना हो जाए और आसानी से घुस सके.

प्रिय पाठको, क्या आप ने कभी विचार किया कि हमारी गरमा गर्म सविता भाभी अपने जिस्म को, अपनी फ़ीगर को इतने अच्छे से कैसे मेंटेन रखती हैं?हाँ वो बेशक जिम जाती हैं लेकिन उस तरह से नहीं, जैसे आप या हम या सब लोग जाते हैं, बल्कि सविता भाभी का अपना एक ‘व्यक्तिगत’ ट्रेनर अमन है, जो उन्हें फिट चुस्त दरुस्त रखने के लिए सबकुछ करने को तैयार रहता है. मैं चाय पीते पीते बोला- भाभी जी गर्लफ्रेंड पटाने के लिए टाइम कहाँ से निकालूँ और अगर तुम्हारे जैसी कोई सामने से भी पट गई तो उसका खर्चा मैं उठा ही न पाऊं और ना ही टाइम दे पाऊं. फिर मुझसे रहा नहीं गया, तब मैंने उसकी लाल धारीदार पेंटी को उतार दिया.

थोड़ी देर तो सुमन ने ये देखा फिर उसका सब्र खत्म हो गया और वो भी नंगी हो कर दोनों के पास आ गई.

मेरे द्वारा ऐसा करने से तरुण उत्तेजित हो गया और उसने अपनी जीभ को तेजी से मेरी योनि के अन्दर बाहर करने लगा तथा एक उंगली से मेरी भगनासा को मसलने लगा. चूत सूखी हुई थी इसलिए लंड अन्दर नहीं जा रहा था तो मैंने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और फिर कोशिश करने लगा और इस बार मैं सफल भी हो गया. अतः मैं बहूरानी की चीत्कार, रोने धोने को अनसुना करके यूं ही स्थिर रहा और उसकी पीठ चूमते हुए नीचे हाथ डाल कर उसके बूब्स की घुन्डियाँ मसलता रहा और उसे प्यार से सांत्वना देता रहा.

आज मैंने वाइट कलर का स्लीवलैस कुर्ता और पजामी पहनी थी और अन्दर कुछ भी नहीं पहना था. यहाँ एक बड़ा मजेदार वाकिया होता है जो कि चित्रकथा के माध्यम से कहानी के रूप में सविता भाभी की किरतु. चाची झटके से खड़ी हुईं और बोलीं- पागल हो गए हो क्या? कोई आ गया तो?अगले दिन स्कूल लगना था तो चाची चाचा के साथ सीकर चली गईं.

फिर मैंने चाची का मुंह खोला और अपना लंड उनके मुँह में घुसेड़ दिया और चाची की गर्दन पकड़ कर आगे-पीछे करने लगा.

वो अपना फ़ोन मम्मी पापा के पास चालू हालत में रख कर, मम्मी के रूम की बाहर से कुंडी लगा कर आ गई. हैलो साथियो, आज सविता भाभी कार्टून कॉमिक्स की एक नई और मस्त कर देने वाली कड़ी के साथ आपके सामने प्रस्तुत हूँ.

बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो बहूरानी ने मैक्सी पहन रखी थी जिसमें से उसका पिछवाड़ा बड़े शानदार तरीके से उभरा हुआ नज़र आ रहा था. मैं उठा और उससे पूछा- झांटें साफ नहीं करती क्या कभी?बोली- पहले करती थी, अब नहीं करती.

बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो दोस्तो, आप मुझे मेरी मेल पर इस चुदाई की कहानी पर अपने कमेंट्स भेज सकते हैं. टीना- एक साल तक मेरी चुत को मजा देकर उनका दिल भर गया तो वो कहीं और मुँह मारने लगे और ऐसे ही एक दिन ज़्यादा चुत लेने से उनका हार्ट फेल हो गया और वो भगवान को प्यारे हो गए.

तरुण से अपने बेटे को ले कर मैं उसकी ओर पीठ करके खड़ी हो गयी तब वह उलझी हुई डोरी सुलझा कर डोरी को बाँधने लगा.

बियफ सेकसी विडियो

उसकी जांघें चिकनी मक्खन मलाई सी थी, मैंने उसकी नंगी जांघों को सहलाया तो उसे गुदगुदी हो रही थी. संगीता ने देखा कि पूरा टब का पानी उस की चुत के खून से लाल सा हो गया था. कविता एक बार तो कसमसाई पर फिर उसने काकू के कहने पर पैर भी खोल दिया.

जैसे ही मैंने आँखें नेहा से मिलाई तो वो बोली- आप तो बहुत फ़ास्ट हो जीजू, मैं जरा की साइड को क्या हुई, चांस ले लिया. एक दिन जब मैंने उससे कहा- मुझे कुछ इनाम तो दो?तो कहने लगी- बोलो क्या चाहिये?मैंने कहा- अपनी किसी सहेली की सुन्दर सीचूत दिलवा दो. मैंने चिल्लाना शुरू किया- कम ऑन बेबी फक मी नाओ! मुझे अभी चुदाई चाहिए.

मैंने पूछा- रितु दीदी ये बताएं कि क्या आपने किसी लड़के को लड़की को चोदते या लड़की को चुदते हुए देखा है?रितु दीदी बोलीं- हाँ कई बार.

अमन ने भी मौके का फायदा उठाया और उसने शोभा को कह दिया कि तुम कसरत जारी रखो, मैं सविता भाभी की मांस-पेशियों को दूसरे कमरे में जाकर ठीक करता हूँ. वो तो मानो पागल हो गई थी, उसने अपने पांवों से मेरी कमर को जकड़ लिया और अपने हाथ मेरी पीठ पर कस लिए. फिर जब मैं घर आया तो गर्लफ्रेंड की चुदाई करने एक महीने की कसर निकालने अगले दिन मैं गर्ल फ्रेंड के घर चला गया.

मेरे दोनों हाथों में चाची के दोनों मम्मों थे और मैं जैसे ही चाची को नाभि पे या उससे नीचे किस करता तो चाची खुद को बहुत ऊपर उठा लेतीं, जिससे मेरा सेक्स का मजा कई गुना हो रहा था. मैंने पांसा फेंका, मेरी जीत हुई, तुम्हारे लंड की हलचल को मैं आते ही देख चुकी थी. अब तो मेरी प्यारी गुड़िया रानी मस्ती में आकर मेरा लंड कहीं भी, तीनों छेदों में आराम से ले लेती है।मेरी साली की बेटी की बुर और गांड चुदाई की कहानी पर अपने विचार जरूर मेल करें![emailprotected].

बाद में रीना ने पूछा- तूने क्यों नहीं चुदवाया?तो कविता बोली कि वो अपनी कुंवारी चूत की सील किसी मसाजर से तुड़वाना नहीं चाहती. मेरे पूछने पर की गाय कब लाया तब उसने कहा- बच्चे और चाय आदि के लिए दूध लाने के लिए सुबह शाम हवेली पर नहीं जाना पड़े इसलिए मैं तड़के ही गांव जा इसे ले आया हूँ.

इनमें से ज्यादातर मर्द अकेले नहीं थे, सभी समूह में थे और बातचीत करते हुए आतिशबाजी का आनन्द ले रहे थे इसलिये मैं चाह कर भी कुछ नहीं कर पा रहा था. मैंने अपना एक हाथ उसकी चूड़ीदार पाजामी के ऊपर से ही उसकी चुत पर रखा तो मैंने महसूस किया कि उसकी चुत में से कुछ निकला है और वो बहुत ही चिकना पदार्थ है. मेरे स्टाफ में एक यादव था, जो 24 घण्टे मेरे साथ ही रहता था, वो केवल नहाने और खाने के लिए ही जाता था.

इस पूरे वाकिये में हुआ ये कि शोभा एक दिन सविता भाभी के घर उनसे मिलने आ गई थी.

मेरा लंड अब भी उसकी गांड में ही था… हम दोनों बहुत ज़्यादा थक गए थे. मैं अपनी पहचान गुप्त रखना चाहती हूँ तो यहाँ सिर्फ राहुल जी की आई डी ड़े रही हूँ,[emailprotected]आप इस पर ईमेल कर सकते हैं जो मुझ तक पहुँच जाएगी. नमस्कार लंड वाले भाइयो, चूत वाली लड़कियो, भाभियो और आँटियो!मैं इस साईट का बहुत पुराना पाठक हूँ.

अगर आपने आज नहीं किया तो कल से मैं दवा नहीं लगवाऊँगी, इससे मुझे तकलीफ़ होती है और आप मेरी मदद भी नहीं करते हो. मैंने पूछा- क्या कह कर आई है?बोली- मैंने कह दिया कि मैं सोने जा रही हूँ.

गुलशन- तुम यहा कुर्सी पर बैठोगी, पीछे तुम्हारे हाथ बाँध दूँगा और आँख पर पट्टी. उस रंडी औरत को चुदाई के लिए इतनी बेताब बनी देख कर उसे और तड़पाने के लिए उसके मम्मे और भी बेरहमी से मसलते हुए निप्पल खींच कर उनको मस्ती से मरोड़ते हुए वो बोला- बहनचोद इतनी क्यों उतावली हो रही है कि लंड पे से मेरा पानी ले कर चूत में डाल रही है रंडी? अरे चूत में तो मेरा लौड़ा घुसेगा… तब मज़ा आएगा तुझे… वो उंगली निकाल रांड. उनको क्या कहेंगे? क्या वो इंसान हैं है या कुछ और हैं?मॉंटी की बात सुनकर टीना के पैरों तले ज़मीन निकल गई क्योंकि इतना सा लड़का और इतनी बड़ी बड़ी बातें कर रहा था.

હિન્દી સેક્સ વીડિયો

मैंने तुम्हारी चुत में अपना लंड घुसाया तो तुम्हारी चुत ने मेरे लंड को अपने खून का टीका लगाया और मेरे लंड से शादी कर ली.

शायद भाभी के पति का लंड छोटा होने की वजह से उनकी चुत पूरी तरह नहीं खुल पाई थी. फिर नाश्ता करने के बाद हम दोनों बाथरूम में जाकर शावर चला कर नहाने लगे. यह कहानी मेरी उन चाची की है, जिन्हें आप में से कोई भी पहली बार देखने पर चाची तो बिल्कुल नहीं मान सकते.

पूरी चुदाई के बाद मैं उसको अपने पास लिटाकर प्यार करने लगा और वो आई लव यू बोलकर मेरी बांहों में आ गई. फिर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं उसकी गांड की दरार पर लंड रगड़ने लगा; वो मादक आहें भरने लगी. गुजराती भाभी सेक्स व्हिडिओतभी उसे अहसास हुआ कि कमरे के बाहर कोई है तो वो सोने का नाटक करने लगी.

उसकी बात में तर्क था परन्तु शहज़ाद ने बोला- सज़ा तो उसे मिलेगी ही!वो उसे बेडरूम में ले गया और सारे कपड़े उतारने को बोला. तुम अगर चुदवाना नहीं चाहती तो कोई बात नहीं, मगर हम दोनों की चुदाई देख तो सकती हो ना.

फिर मैंने सोचा मोनिका को बाहर किसी होटल में ले चलता हूं, जहाँ हम दिल खोल कर जितना टाइम चाहें, मिल सकें. अपने होठों से लगाई हुई बोतल उसने मुझे भी पिला दी जिसे मैं अमृत समझ कर पी गया. बोल तूने कहाँ तक लिफ्ट दी है मर्दों को, जब उन्होंने तेरा जिस्म भीड़ में मसला… बोल रूपा रानी?कमर उछाल उछाल कर चुदवाने से रूपा के मम्मे उछल रहे थे और फचक-फचक की आवाज़ आने लगी जब पप्पू का लंड उसकी चूत में घुस कर बाहर निकलता क्योंकि दोनों बहुत गीले हुए पड़े थे.

धीरे-धीरे हम आपस में बहुत खुल गए और फ़ोन पर ही सेक्स की बातें करने लगे. पहले तो मेरा मन नहीं किया पर जब मैंने उसकी चूत देखी तो मैं खुद को रोक ही नहीं पाया. इतनी उम्र के आदमी के साथ चुदाई करने में तुझे क्या, किसी को इंटरेस्ट नहीं होगा मगर तू यकीन कर, इस उम्र के आदमी चुत को बहुत मज़ा देते हैं.

मेरी इच्छा होती थी की तरुण अपना लिंग को योनि में डाल कर मेरी उत्तेजना को शांत करे लेकिन ऐसा कैसे सम्भव हो यह नहीं जानती थी.

मैंने कोल्ड ड्रिंक की कहा था पर उसने तो दारू की बात समझ ली और कहा- यहाँ सब लोग देखेंगे, आपके घर ही चलते हैं. साथ ही एक हाथ से भाभी की ब्रा को उतार दिया, अब उनके दोनों संतरे आजाद थे.

कहीं वो अपनी उंगली से चुत को चोदती होगी या किसी लड़के के साथ कहीं चुदवा तो नहीं ली. मैं इसके लिए तैयार थी इसलिए मैंने पूरा सहयोग करते हुए अपने हाथ में उसके सख्त एवं तने हुए लिंग को पकड़ कर अपनी योनि में मुँह पर लगा दिया. और वो भी पहली बार चुदाई… समय तो लगना ही था।उसके हर झटके में लण्ड मेरे गले तक जाता और आते हुए ढेर सारा थूक मेरे मुँह से नीचे गिर जाता.

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि फ्लॉरा के घर पर टीना रात को होने वाली पार्टी को लेकर बरखा और अतुल से बातचीत कर रही थी. तभी हमारे कानों में आवाज आयी- डू यू नीड एनी हेल्प लेडीज?मेरी इंडियन लेस्बियन सेक्स स्टोरी जारी रहेगी. मैंने दवा लाकर दे दीं और सुमन से कहा- आप कल ऑफिस मत आना, में शाम को डॉक्टर को लेकर आऊंगा.

बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो लौटने के वक्त पिंकी ने कहा कि किसी पार्क में चल कर बैठेंगे और वहीं कुछ खा पी लेंगे. अँधा क्या चाहे दो आँखें! मैंने कहा- जी ठीक है!अगली सवेर हुई, मैं जल्दी उठ जाती हूँ वैसे भी आज मुझे बन-फब के रहना था, सेक्सी कपड़े, मैंने गहरे गले का सूट पहन लिया वो भी नेट का, जिसके पीछे ज़िप.

सनी लियोन की हिंदी सेक्सी

मुझे पक्का पता चल चुका था कि चाची अब जानबूझ कर मुझसे खुद फंसना चाहती हैं. मैंने अपनी एक उंगली भाभी की फुद्दी में घुसा दी और उनकी चूची चूसने लगा. सुमन ने आज पिंक टॉप और येलो स्कर्ट पहनी थी, जिसमें उसका निखार अलग ही नज़र आ रहा था.

आशीष- उफ्फ क्या करती हो शनाया… आराम से!लेकिन मुझसे तो बर्दाश्त नहीं हो रहा था, दिल कह रहा था कि मेरे आशीष मुझे अपनी बलिष्ठ बाजुओं में जकड़ लें, मुझे अपने जिस्म में समा ले या वो मेरे जिस्म में समा जायें. मैं होश खो बैठी… उफ्फ्फ्फ़ आअह्ह्ह आह की मंद सिसकारियाँ हम दोनों को उत्तेजित कर गई. हिन्द क्सक्सक्समैं मैदान की भीड़ भाड़ से थोड़ा अलग गया और सुनसान मैदान, हल्के अँधेरे और कुछ गिने चुने खण्डहरों को देखने लगा और इन सब के बीच किसी जवान मर्द के मूसल जैसे लंड की कल्पना करने लगा.

मैं अल्का से बहुत प्यार करता हूँ, अब तो ऐसा हो गया है कि मैं या वो एक-दूसरे के बिना रह ही नहीं सकते हैं.

आपसे मुलाक़ात कभी नहीं हुई!सविता भाभी ने बताया- मुझे उधर का एक बेहद होशियार ट्रेनर अमन व्यक्तिगत ट्रेनिंग देता है. मुझे मेरे लंड को उसकी चूत में घुसने से रोकने में बहुत ज़्यादा मुश्किल हो रही थी क्योंकि उसका दूध सा गोरा जिस्म, उसके एक बड़े ऑरेंज जितने बड़े चूचे, उसकी आर्म्पाइट्स में हेयर जो कामुक महक से भीगे थे, उसका भीगा जिस्म चमक रहा था और उसने अपने पैर इस तरह फैला कर रखे हुए थे कि उसका भगनासा भी दिख रहा था.

शायद मर्द स्त्री की सिसकारी की आवाज़ से उत्तेजित होता है, वो भूल जाता है कि एक कोमल जिस्म की मलिका उसके भार के नीचे दबी है. जो पीछे वाला लड़का होता वो अपना लंड मुझसे सटा के रख कर पूछता था कि कैसा है मेरा लंड नीता? तो मैं भी जवाब देती थी कि बाहर निकाल कर दिखा तो सही… काला है कि गोरा. वहां खड़े लड़कों ने मुझे शांत देखा तो सुरेश को बोले- यार तूने तो कमाल कर दिया, साली को 2 मिनट में शांत कर दिया, ऐसा क्या किया?सुरेश बोला- तुम लोग सिर्फ आम खाने से मतलब रखो!और फिर सब मेरे टूट पड़े, मेरी पैंटी पहले कौन निकाले इसी जल्दी में मेरी पैंटी को सबने मिल कर एक झटके में फाड़ दी.

अब अगर मैं तेरी फ्रेंड्स को नहीं चोदूँगा तो उनको शक होगा, यही कहना चाहती है ना तू?सुमन- हाँ पापा मैं यही आपको समझाने की कोशिश कर रही हूँ.

उसकी लंबाई 5 फीट 5 इंच, रंग गोरा, नशीली आँखें, पतले-पतले होंठ, पतली कमर, मीडियम साइज के चूचे… मतलब एकदम टंच माल थी।वह मेरा टारगेट इसलिए थी क्योंकि उसे मेरी और रचना की बातें पता चल चुकी थी और वह भी मुझे परेशान करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती थी। वह जब भी मिलती तो ‘लड़की से पिट गया’ कह कर मुझे चिढ़ाती. अब आप सभी तो जानते ही हो कि बॉक्सिंग वाले बंदे का शरीर और स्टेमिना दोनों ही अच्छे होते हैं. मैंने उससे मजाक किया- चोर कहीं की, चोरी-चोरी क्यों देख रही थी, क्या कभी देखा नहीं है, चल आ तुझे दिखाऊं!मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और बेडरूम की तरफ ले जाने लगी.

हिन्दी सकसउसके बाद मैंने करीब 15 लड़कियों को चोदा है, पर आज तक उस दिन जैसा मज़ा हासिल नहीं कर पाया. आप अपने विचार मुझे इमेल से भेज सकते हैं, इंस्टाग्राम पर भी जुड़ सकते हैं मुझसे।[emailprotected]Instagram/ass_sin_cest.

मुस्लिम पोर्न वीडियो

काकू ने अब टॉवल उसकी पीठ पर दाल दिया और कविता से पैरों को चौड़ा करने को कहा और दोनों हाथों की उंगलियों से उसकी पैंटी उतार दी. अनुराधा- मैं तुम्हारा लंड क्यों चूसूं? तुमने तो मेरी चुत नहीं चूसी?मैं- तू बोली ही नहीं. हम तीनों काम वासना के मज़े में मस्त थे कि अचानक हमारे दरवाजे पे दस्तक हुई, हम दरवाजा लॉक करना भूल गए थे और मनोज खाने का सामान लेकर अन्दर दाखिल हुआ.

मॉम ने कहा- बेटी रो मत, दर्द तो सिर्फ पहली बार होगा, एक बार तेरी सील टूट गई तो उसके बाद दर्द नहीं होगा. सैफिना ने सोचा कि आई तो हूँ ही क्यों न थोड़ा सा घर का काम ही कर दूँ. मैंने चाची का हाथ उठा कर अपने लंड पर रखा और उनके हाथ से ही लंड को सहलवाने लगा.

गांड मारने का अपना अलग ही मज़ा है कारण की गांड के छल्ले में लंड फंसता हुआ अन्दर बाहर होता है जिससे दोनों को अविस्मरणीय सुख की अनुभूति होती है. फिर उसने मेरे लंड को बाहर निकाला तो उसे देख कर बोली- सर जी आज 5 साल के बाद मैं किसी लंड का प्यार करूँगी. तभी मुझे रागिनी की मादक सिसकारी सुनाई दी- आहहहसीसी कम ऑन मेरी चुत देखो.

अब मैंने अपने लंड को उसकी चुत पर लंड लगा कर एक ज़ोर का धक्का दे मारा, जिससे मेरा आधा लंड उसकी चुत में जाकर घुस गया. दीदी की ननद का नाम अंजलि है और वो होशियारपुर कॉलेज में पढ़ती है और वहीं पर रहती है.

रितु दीदी ने फिर पूछा कि क्या तुमने किसी लड़की या औरत को नंगा देखा है? जैसे अपनी माँ, बहन, भाभी, मौसी, नौकरानी को नहाते या कपड़े बदलते?मैंने कहा कि नहीं.

तब जाकर टीना ने आँखें खोलीं और एक बार तो वो भी सोच में पड़ गई कि संजय ऐसा कैसे कर सकता है. एक्स एक्स एक्स देहातीमैं आँखें मूंदे पड़ी थीवो अपने बैग में से 2 बियर के कॅन निकाल लाया और मुझे हिला कर बोला- हिमानी ले… थोड़ा पी ले… थकान उतार जाएगी. भाभी सेक्स वीडियो देसीहम दोनों अपने चूचुकों पर हाथ फिराने लगी।दो मिनट के बाद रवि ने डॉली से पूछा- मजा आ रहा है?इस पर डॉली ने कहा- हां, थोड़ा थोड़ा आ रहा है।लेकिन मैंने कहा- मुझे तो बिल्कुल मजा नहीं आ रहा है। टीचर जी आप ऐसा करो मेरे चूचुक थोड़े चूस लो. गर्दन को चूमते हुए मैं उसकी पीठ को चूमने लगा और उस की ब्रा का हुक खोल कर पीठ को चूमते हुए उसके मम्मों को हाथों से दबाने लगा.

फिर मुँह से लंड निकाल कर मैंने बिना देर किए उनकी चुत पे रख कर एक जोरदार झटका मारा.

क्या चूत थी, ऐसा लग रहा था मानो कोई अनछुई कली हो, पूरी क्लीन शेव थी. अब आगे:मेरा चोदू देवर मुझसे कहने लगा- भाभी, तुमने भैया से भले ही बहुत बार चुदवाया है लेकिन तुम्हारी चुत मेरे लंड के लिए किसी कुंवारी चुत से कम नहीं थी. आगे आप शनाया की देसी कहानी उसी के शब्दों में पढ़ें!मेरा नाम शनाया है, मैं मुंबई शहर में रहती हूँ, मेरी उम्र इस वक़्त 27 साल है और ये वाकया मेरे साथ अभी कोई 6 महीने पहले घटित हुआ, मैं इस अन्तर्वासना साइट की सभी कहानी रोज़ पढ़ती हूँ और काफी सालों से पढ़ती हूँ.

हम दोनों थक चुके थे परन्तु दो घंटे तक चली इस चुदाई में हम दोनों को बहुत मजा आया था. उधर रिया की चीखें बढ़ती जा रही थी और उनकी साथ मेरी चुदास भी बढ़ती जा रही थी. हम दोनों गर्म होने लगे, अब आहिस्ता आहिस्ता मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसने मेरा भी हाथ पकड़ लिया.

बीपी देसी वीडियो

फिर मैंने उबासी सी ली तो दीदी ने मुझसे कहा- भैया तुम थक गए होगे, बाथरूम में जाकर चेंज कर लो, मैं चाय बना देती हूँ. अब मैं पूरी तरह से नंगी हो चुकी थी; मैंने सोचा कि जब मैं पूरी नंगी हो ही चुकी हूँ तो क्यों ना मामा जी की सू सू निकलते देख लूँ; मैं मामा जी को बोली- आप एक बार खड़े हो सकते हैं?मामा जी खड़े हो गये, मैं बोली- मुझे आपकी सू सू भी पीनी है. उसने अपनी दोनों टांगों मेरी मेरी टांगों में ऐसे फंसा दिया कि मैं ऊपर होऊं चोदने के लिए तो भी न होए.

उसने मेरे सिर को जोर से अपनी चूत पर दबा दिया और दोनों जांघों से जकड़ लिया.

मैंने देर न करते हुए उन्हें भी बुला लिया तो रोस्टन भी तुरन्त नंगा हो गया और सिंडी भी नंगी हो गई.

इस पर सविता भाभी ने हैरत जताते हुए कहा- तुम इतनी खूबसूरत हो, तुम पर तो लड़के मरते होंगे. मुझे गीत ने अपने बैडरूम के साथ वाला कमरा सोने के लिए दिया, मेरी साली, मेरी पत्नी और बच्चे, ये सभी उनके बेडरूम में सोने की तैयारी करने लगे. वीडियो एक्स एक्स एक्स एक्स एक्सवह पूरी तरह से बेकाबू हो गई और बोली- डार्लिंग बहुत हो गया… अब मत तड़पाओ… प्लीज मेरी गर्मी को शांत कर दो मेरे राजा.

फिर उसने मेरी पैन्टी उतार कर मुझे नीचे से पूरी नंगी कर दिया और मेरी चूत को थोड़ी देर देख कर उस पर किस कर लिया. फिर मैंने देर ना करते हुए उसके कपड़े उतारे उसने आज पीले रंग का सूट पहन था. किस करते हुए उसने अब मुझे बेड पे लिटा दिया और मेरे टॉप को ऊपर खींच कर मेरे मुँह के ऊपर ला कर रोक दिया.

रोज़ ही मौसी ठीक मेरे आगे बैठ जाती थीं और मेरे लंड को निहारती रहती थीं. अब विनय ने भी अपना लंड पूरा पेला और थोड़ी देर में ही उसका लंड कविता की चूत में चुदाई कर रहा था और दोनों के होंठ और जीभ मिले ही थे.

मैंने थोड़ा ज़ोर लगाकर पूरा लंड अंदर घुसेड़ दिया, रूबी की चीख निकल गई और उसके आंसू निकल गए.

उसकी आँखों से आँसू बहने लगे। मैंने उसके आँसुओं को पौंछा और उससे पूछा- ज्यादा दर्द हो रहा है?तो उसने कहा- मुझे नहीं पता था इतना दर्द होता है. उसने टॉवल ऊपर करके पहले तो उसकी जांघों से नीचे एड़ियों तक की मालिश की और रीना से सहयोग मिलता देख कर उसकी जांघों से बगल में उसकी चूत तक भी हाथ फिर आया. साली के मम्मे फिर से काफी सख्त हो चुके थे और मैं अब एक हाथ से उसके मम्मों को सहला रहा था और लौड़े को उसकी गांड में आगे पीछे कर रहा था, साली जोर जोर से कामुकता भरी आवाजें निकाल रही थी.

xxx देसी लड़की गुलशन- हाँ तो सुमन तैयार हो तुम? और हाँ सिर्फ़ जीभ और होंठों से पता करना है. दोस्तो, मैं सोच में पड़ गया क्योंकि सुमन की सेलरी सिर्फ़ 8000 रूपए थी.

उसने आँखें खोलीं और पूछने लगी- भाई, क्या कर रहे हो? हनी क्यों डाला?मैं- तू स्वीट डिश है मेरी. उसने मुझे देखा और बोली- अरे भैया, अबके तो तुम बला(बहुत) दिनान में(दिनों में) आए हो, का गामें (गाँव को) भूल गए का?अरे नाएं(नहीं). अब गुलशन जी का लंड आज़ाद था और वो किसी ज़हरीले नाग की तरह फुंफकार रहा था.

सोती हुई भाभी को चोदा

मैंने सिर्फ़ बीमारी के कारण वो सब किया था और तुम तो पहले ही जॉन के साथ सब कुछ कर चुकी थी. पहले मैं सिर्फ़ उसके जिस्म से प्यार करता था, मगर अब मैं सचमुच उससे प्यार करने लगा हूँ. मैं पूरी ज़िंदगी उसे याद रखूंगा क्योंकि मेरी देखी और फील की हुई पहली चुत अनुराधा की थी.

नलकूप के पास थोड़ी आड़ में मैंने अपनी धोती, ब्लाउज, ब्रा और पैंटी उतार कर पेटीकोट को अपने उरोजों के ऊपर बांध लिया और नलकूप से निकल रहे पानी के पास बैठ कर मैले कपड़े धोने लगी. लंड के धक्कों से नीचे लटकता हुआ केला जोर जोर से झूलने लगता साथ में चूत में फंसे हुए केले में भी कम्पन होने लगते इस तरह बहूरानी की चूत और गांड दोनों छेदों में जबरदस्त हलचल मचने लगी.

कविता बोली- विनय ज्यादा बदमाशी नहीं, चुपचाप अपने कमरे में जाओ और अपनी बीवी को भी ले जाओ.

उसी वक्त मैंने कक्ष की दीवार पर लगी घड़ी में शाम के सात बजने का समय देखा तो तुरंत कक्ष से बाहर निकल कर तरुण को खोजने लगी. वह काफी देर से भूखा भी था इसलिए उसे दूध पिलाने के लिए मैं सूखे स्थान की तलाश में उस घर के एक मात्र कमरे के अन्दर झांका और वहां किसी को न देख कर अंदर चली गयी. चूंकि रात भर का सफ़र था तो मैंने सिर्फ एक वाइट ब्रा और वाइट टी-शर्ट और बिना पैंटी के ब्लैक ट्राउज़र पहना था.

कुछ देर और मुझे ऐसे ही चोदने के बाद रोस्टन ने कहा कि वो भी पानी छोड़ने वाला है, यह सुन कर चिंटू और परीक्षित ने भी उनके लंड को बाहर निकाल लिया. मगर इस वक़्त उसको चुत तो नहीं मिली लेकिन एक कमसिन कली का स्पर्श उसको और पागल बना रहा था. वो 69 में होकर मेरे लंड को चाटते हुए बोली- तेरा लौड़ा तो मेरे पति के लौड़े से भी बड़ा और मोटा है.

शाम के सात बजे मैं रितु दीदी के यहाँ गया और उन्हें बता दिया कि रामू उसी शर्त पर तैयार है कि आपको उससे चुदवाना पड़ेगा.

बीएफ एक्सएक्सएक्स सेक्सी वीडियो: पप्पू ने चूत आहिस्ता चोदते हुए रूपा के होंठों पे अपने होंठ दबा कर मस्ती से मम्मे मसलना शुरू किया. वो बोली- सिर्फ प्रोग्रामिंग ही करते हो या निकलना लगाना भी आता है? आई मीन टू से हार्डवेयर.

लेकिन मेरा मन और मस्तिष्क ऐसे किसी भी विचार से बिल्कुल सहमत नहीं थे इसलिए उनकी ओर से मुझे ऐसा कुछ भी नहीं करने के संकेत मिले. रूपा पूरी मस्ती में आ कर अपनी कमर उछाल-उछाल कर चुदवाती हुई बोली- और तेज़ कर भोसड़ी के… और तेज़ डाल ना, मजा आ रहा है एक साथ चूत और गांड चुदवाने में. इतना कहते हुई रागिनी मेरे को अपने चुत पर चढ़ाने के लिए ऊपर खींचने लगी.

चूंकि कल रात को मैं काफी देर तक जागा था इसी वजह से कब मेरी आंख लग गई पता ही नहीं चला.

अब मैंने उन्हें बेड पर लिटा दिया, उनकी सलवार भी खींच कर अलग कर दिया. मुझे उसकी गांड मारने में चूत मारने से भी ज्यादा मजा आया और उस दिन मैंने उसकी तीन बार गांड मारी और उस दो बार बुर की चुदाई की. तेरे साथ ज़्यादा कुछ कर भी नहीं सकता, तू जाग गई तो बहुत बड़ी गड़बड़ हो जाएगी.