बीएफ सॉरी

छवि स्रोत,बंगाली चोदा चोदी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

आम्रपाली के बीएफ वीडियो: बीएफ सॉरी, मुझे लगा वो असहज हो गयी तो मैंने उसे पानी की बोतल देते हुए सॉरी बोला और पानी से कुल्ला करने को बोला.

neha सेक्सी

फिर मैंने भी उसे पूरी नंगी कर दिया और मैंने महसूस किया कि अचानक से मेरा लंड फिर से सरिया की तरह सख्त हो गया. सेक्सी फिल्म दिखाओ चालूतो मैंने कहा- मुट्ठी मारने की क्या जरूरत थी मुझे आवाज लगा देते; मैं आ जाती.

तो मजा लें गाँव की देसी गांड चुदाई का!नमस्कार दोस्तो, मैं राज रोहतक से अब विस्तार से बताऊंगा कि कैसे चाची की गांड भी मारी. साडी वाल्या बायामैं उनके पीछे गया और दीदी की पीठ पर किस करके उनकी ब्रा का हुक खोल दिया.

आज तक उसने जितनी भी लड़कियां पेली थीं, उनमें से आधी तो पहले झटके से बेहोश हो गयी थीं और उसके बाद फिर से कभी उन्होंने उसके नीचे आने की हिम्मत नहीं दिखाई थी.बीएफ सॉरी: मतलब अब मैं उनसे बात कर सकता था, पर मुझे देखना था कि होली वाले दिन जो भी हुआ था, उसका भाभी पर क्या असर हुआ था.

हालांकि मैं जानती थी यह मुस्कुराहट सिर्फ मुझे दिखाने के लिए है क्योंकि उन्हें बहुत दर्द हो रहा होगा.मैंने जब मोना भाभी के ब्लाउज़ को खोला था, तो देखा था कि भाभी ने ब्रा भी पहनी हुई थी.

वीडियो का वीडियो सेक्सी वीडियो - बीएफ सॉरी

फिर क्या था भाभी को मैंने मना लिया और भाभी गांड मरवाने की लिए राज़ी हो गईं.मैं भी उनसे जोर जोर से कहने लगी- आह और जोर से चोदो बेबी … और जोर से चोदो.

अब वो सिसकारते हुए एक हाथ से अपनी चूत में उंगली करने लगी और दूसरे हाथ की उंगलियों से उसने अपनी चूत के होंठों को फैला दिया. बीएफ सॉरी कभी मेरे होंठों को अपने मुँह में लेकर चूसते … तो कभी मेरे कान की लटकन को चूसते.

मैं इंतजार करने लगा कि वो कुछ बतायेगी लेकिन उसने आगे कुछ नहीं बताया.

बीएफ सॉरी?

मैंने भी अपना हाथ उसके लंड पर लगाया, उसका लंड एकदम कठोर हो चुका था. सच में बड़ी ही मस्त किस थी वो!उसकी ज़ुबान पूरी तरह से मेरे मुँह में आ गई थी और मेरी ज़ुबान से लड़ रही थी. हैलो रीडर्स,आपने पिछले महीने मेरी कहानीस्टाफ बॉय को गुलाम बनाकर मजा कियापढ़ी और पसंद की, इसके लिए धन्यवाद.

उसने अपनी हालत को देखा और मैंने एकदम से उसकी लोअर में हाथ बाहर खींच लिया. अब मैंने मोना भाभी के लहंगे के ऊपर से ही उनकी गांड को फिर से दबाना शुरू कर दिया. इससे पहले मेरे मन में मामी के लिए कोई गलत ख्याल नहीं था, पर इस बार मुझे मामी का व्यवहार कुछ अजीब सा लगा.

एक तो उसकी चूत से इतना मस्त स्वाद वाला रस निकल रहा था और दूसरा उसकी चूत में आग लगी थी और वो चुदने के लिए बेचैन थी. मैं मामी के नंगे जिस्म पर साबुन लगा कर उनकी चूत और गांड को रगड़ने लगा. मैंने अलमारी से फ़लक के साइज की यूनिफॉर्म निकाली और उसे अपनी गोद में बैठा कर पहनाने लगा.

बाद में उसी पोजीशन में दोनों बारी बारी एक दूसरे को किस करने लगे थे. वे पीछे मुड़ कर बोले- अभी झड़े नहीं?मैंने कहा- प्रभात जितना जोर तो नहीं है, पर मजा आया कि नहीं!वह- नहीं यार, प्रभात से ज्यादा मजा आया … आपका हथियार भी मस्त है.

इस कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको डॉक्टर प्राची के साथ चुदाई की कहानी लिखूंगा.

बस ऊपरी मन से बोले जा रही थीं- यश, छोड़ो ना … किसी ने देख लिया तो दिक्कत हो जाएगी.

क्या आप मेरे साथ बाइक पर चलना पसंद करोगी?वो बोली- हां, मुझे कोई परेशानी नहीं है. उसकी ऊंची और कामुक सिसकारियां इस माहौल को और ज्यादा गर्म कर रही थीं और इस लाइव सेक्स चैट सेशन का मजा दोगुना हो गया था. पहले भागमाँ बनने से पहले मैंने क्या कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि डॉक्टर मुझे चोदने के लिए कोशिश करने लगा था.

आह … एक तरफ तो दारू का नशा और दूसरी तरफ अलवीना की जवानी मेरे लंड को चूस रही थी. रंजू की चूत ने मेरा लंड कस कर पकड़ रखा था और इस वजह से मुझे लंड को अन्दर-बाहर करने में थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ रही थी. अब उसके दोनों बूब्स मेरे सामने थे जिनको मैं बारी बारी से मसलने और चूसने लगा।मैंने उसके एक निप्पल को हल्के से काटना शुरू किया और दूसरे निप्पल को हल्के से भींच दिया।मेरे ऐसा करने पर वो मानो पागल सी हो गयी और अपने मुँह से कामुक आवाज़ें निकालने लगी।फिर मैंने उसके बोबे पर भी धीरे से एक चपत लगाई.

न्यूड भाभी की मस्त चुदाई कहानी के पिछले भागमस्त शादीशुदा पड़ोसन को पटाने की कोशिशमें अब तक आपने पढ़ा कि मैं खिड़की से झांकती हुई श्वेता के मस्त मम्मों को देख ही रहा था कि उसने मुझे चाय पीने के लिए अपने फ्लैट में आने को कहा, तो मैं उसके फ्लैट में चला गया.

मगर एक बार फिर मैंने किसी तरह खुद को रोका और मैं इस आकर्षक वेबसाइट के बारे में देखने लगा. उनके हाथ शिथिल से पड़ गए थे और उनके मुँह से सिर्फ ‘हूँ-हूँ …’ की आवाज़ ही आ रही थी. उसने मुझे खड़ा करके मेरी फ्रॉक नीचे से पकड़ते हुए ऊपर की ओर से निकाल दी.

डॉक्टर ने पूछा- तो मधुजी जांच कैसी रही … कोई कमी तो नहीं रही ना?मैं बोली- जी, सब ठीक था. मेरे धक्के लगे चले जा रहे थे और मैं पूनम बुआ से बात करते करते भी उनको एक दो चपत रसीद कर चुका था. थोड़ी देर बाद वो फिर से बूब्स दबाने के लिए हाथ आगे लाया तो मैंने उसका हाथ रास्ते में ही रोक दिया और उसकी तरफ झुककर उसको बोली- ऐसे कोई देख लेगा.

मैंने अब उनके कंधों को छोड़ दिया था और मेरे दोनों हाथ उनकी कमर और चूतड़ों के जोड़ पर थे.

वो दोनों ब्रा और पैंटी में ही मेरे पास बिस्तर पर चादर ओढ़ने आने लगीं. अगर मैंने दारू न पी होती, तो शायद कब का निधि की चुत में झड़ चुका होता.

बीएफ सॉरी मेरी किस्मत ने मुझे क्या मौका दिया?नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप लोग?ये मेरी पहली कहानी है इसलिए अगर कोई गलती हो जाए तो माफ़ कर देना. अमन ने कुछ मिनट तक रीना दीदी की बुर चाट कर उसको एकदम रसीला कर दिया था.

बीएफ सॉरी उधर भाभी सुबह 6:30 बजे उठती हैं और भाई तो आराम से 9 बजे तक उठते हैं. एक बार यामिना ने मसाज करते हुए कुछ पीछे देखा तो मैंने अपने टॉवल की गांठ को तुरंत निकाल कर ढीला कर दिया.

मगर जब उसके शौहर का फोन आया तो उसने कह दिया कि वो अपनी सहेली के साथ है और वो खुद ही घर आ जायेगी.

14 साल की लड़की की बीएफ

साली जब वो तुझे कसके चोदेगा ना … तो तेरी सारी हड्डियां चटक जाएंगी जानेमन. मैंने फिर से हिम्मत की क्योंकि मेरी वासना मुझे रुकने नहीं दे रही थी. चूंकि मेरे घरवाले मुझे अकेला नहीं छोड़ सकते थे तो उन्होंने मुझे ताऊजी के यहां छोड़ने का फैसला किया.

फिर मैंने देखा कि अभी मेरा पूरा लंड चुत में अन्दर नहीं गया है, अभी तो सिर्फ आधा ही गया है. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद वो बोली- जीजू मुझे चोदोगे?मैंने कहा- नेकी और पूछ पूछ. अब मेरे लिये मेरे वीर्य के वेग को और ज्यादा देर तक रोक कर रखना बहुत मुश्किल हो गया था.

पूरे कमरे में बस फच फच की आवाज़ और वासना भरी सिसकारियों की आवाजें ही आ रही थीं.

मनीष उसे देख रहा था और मन में ही सोच रहा था कि हे भगवान इस छिनाल की चुत में फिर से आग लगी है. चाची भी मेरी कमर पर हाथ फिराने लगीं और जल्द ही हमारी जीभ एक दूसरे आपस में प्यार करने लगी थीं. मैं भी मीठे दर्द के साथ नसीम भाईजान का मशहूर लंड अपनी गांड में लेकर पुरानी यादों में खो गया था.

वो तेल की शीशी किचिन से लाया, अपने लंड पर तेल लपेटा और सुधीर की खुली गांड में लंड पेल दिया. पर बात करने की रिक्वेस्ट आई लेकिन शेखर की नज़रें बस धारा का रास्ता देख रही थीं. मेरा मकसद था कि उसकी बेटी जाग जाए और चुदाई के मज़े को समझे, जिससे उसे चोदने में और आसानी हो जाए.

मैंने कमरे में झांक कर देखा तो सच में निखिल और नेहा का रोमांस अपने चरम पर था. अब आगे बीवी की सहेली की चुदाई:उससे किंजल मेरे लौड़े से चुदकर इतनी संतुष्ट हो गई थी कि वो प्यार से रोने लगी.

अब मेरा लौड़ा अन्दर बच्चादानी तक जाने लगा और उसकी आह आहह की आवाज तेज हो गई थी. उसे इससे कुछ ज्यादा दर्द हो रहा था मगर वो मुझसे चुदने का लोभ भी नहीं छोड़ पा रही थी. इसी प्रकार की मस्ती करती हुई दोनों फ्रेश हुईं और तैयार होकर हॉल में आ गईं, जहां पहले से सभी बैठे थे.

मैं आप लोगों को भी यह सलाह देना चाहूंगा कि दिल्ली सेक्स चैट पर हम नंगी वेबकैम मॉडल्स के साथ जैसे मन चाहे वैसे मजा ले सकते हैं.

परी ने मेरी बात काटते हुए कहा- शायद तुम भ्रम में जी रहे हो मूर्ख प्राणी. फिर उसने मुझे उल्टा कर दिया और मेरी पीठ में किस करने लगी और अपने निप्पलों को मेरे पीठ में रगड़ने लगी. स्नेहा- फिर!नेहा- फिर मैं उनके रूम के पास खड़ी हुई, तो देखा कि चाची चाचा से बात कर रही थीं.

टॉवल छोटी थी तो मेरी मुयालम गांड भी दिखने लगी।तभी सर को हल्का ठसका सा लगा और मैं हड़बड़ा कर उनको जग में से पानी देने लगी. मैंने लंड को उनके बंद होंठों पर रखा और वो लंड के सुपारे को सूंघने लगीं.

उनकी झील जैसी गहरी आंखें, सुराहीदार गर्दन और दो रसीले नर्म 34 साइज़ के चूचे जबरदस्त थे. देसी कपल स्वैप स्टोरी में पढ़ें कि मेरे शहर के एक कपल ने स्वैप के लिए मुझसे सम्पर्क किया. ही ऑनलाइन हुई थी और शेखर को ऐसा लग रहा था जैसे उसे पूरी दुनिया मिल गयी हो.

एक्स एक्स एक्स मुसलमानी बीएफ

वो एकदम से भड़क गई और मेरे ऊपर मुट्ठी तानते हुए बोली- मतलब आपने मुझे चूतिया कहा.

यही सब सोचते सोचते कब मेरा हाथ मेरी चुत पर चला गया, पता ही नहीं चला. मैंने अपनी टांगें खोलते हुए अपने लंड पर हाथ फेरा और एक उंगली के इशारे से विधि भाभी को अपने करीब बुलाया. मम्मी- चल छोड़, बेकार की बातें मत कर!और यह कह कर मेरी मम्मी वहाँ से जाने लगी.

लेकिन एक दिन मैंने देखा कि मेरे पापा, मम्मी के ऊपर नंगे होकर चढ़े हुए हैं और वो अपने शरीर को ऊपर नीचे कर रहे थे. फिर मैंने छाया (छाया बुआ की चुदाईके बारे में आप मेरी पहले की कहानियों में पढ़ सकते हैं) को फ़ोन किया. ಫುಲ್ ಸೆಕ್ಸ್ ಫಿಲಂमात्र उन्नीस साल की कमसिन रंजू की चुत में लंड बहुत टाइट जा रहा था इसलिए रंजू अपनी टांगें और खोल दीं और दीवान को झुक कर मजबूती से पकड़ लिया.

मैं बगल के कमरे में से डॉक्टर की सब बात सुन रही थी, तो मैंने सोचा कि साले ने क्या बहाना बनाया है. वो चिल्लाने लगी, तो मैंने उसके मुँह में हाथ लगाया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा.

उसने मुझे सीधे सीधे पूछ लिया कि एक शर्त पर मेरे उभार देखने मिलेंगे, अगर मंजूर है तो बोलो!अब अगर वो जान भी मांगती तो भी मैं दे देता. फिर मैंने पेटीकोट को थोड़ा ऊपर करके उनकी कमर को प्यार से सहलाने लगा. गवर्नमेंट वर्कर सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक दिन मेरे घर पोलियो ड्रॉप्स वर्कर आई तो बारिश के कारण वो वहीं फंस गयी.

उधर मेरे लंड के हर झटके पर अपनी गांड को पीछे धकेल कर पूरा लंड अन्दर लेने को बेताब रंजू मुझे नशे से गाफिल किये हुए थी. मैंने उसको हैरानी से देखा तो वो बोली- इतनी आसानी से नहीं जाने दूंगी. लिली मेरे नीचे लेटी या नहीं और फ़लक का इंटरव्यू मैंने कैसे लिया यह सब जानने के लिए आपको मेरी अगली कहानी का इंतजार करना होगा.

इसकी वजह से मैं तड़प उठा और मैंने भी उतनी ही जोर से उसके निप्पल को काट दिया.

भाभी इतनी सुंदर लग रही थीं कि मेरे पास उनकी खूबसूरती को बयान करने के लिए कोई शब्द ही नहीं है. चूंकि मेरी मीटिंग्स में मेडिकल टीम साथ रहती थी, फिर भी मीटिंग्स में आने वालों की कमी आने लगी थी.

मैंने उसे काफी प्यार से समझाया और वो मेरे साथ अब एक प्रेमिका के जैसे बात करने लगी थी. इस मस्त देसी भाभी न्यूड कहानी के अगले भाग में आपको भाभी की चुदाई की कहानी को पूरे रस से डुबो कर लिखूंगा. उसने सब कुछ देख लिया तो अब शर्म कैसी!बात खत्म हो गई और मुझे अब मम्मी पापा की चुदाई के साथ मजा लेने की मानो छूट मिल गई थी.

मैं आपका ये अहसान कैसे उतारूंगी? आप जो कहोगे मैं बदले में करने के लिए तैयार हूं. मीटिंग रविवार को थी तो शुक्रवार के दिन बॉस का फोन मेरी बीवी के फोन पर आया. मैंने कहा- देख लो, आ गया तो दिक्कत न हो जाए आपको!मोना भाभी बोलीं- आओ तो सही.

बीएफ सॉरी न बनाया तो कहना, बहुत आग लगी है ना तेरी इस चुत में … साली रंडी!नेहा ने फटाफट मनीष को नंगा किया और वहीं नीचे बैठकर मनीष के लंड की पहले 2-3 बार मुठ मारी, फिर मुँह खोल कर गप से लंड अन्दर ले लिया. उन्होंने विभिन्न फिल्म एक्टर्स के बाहर से बंगले बताए, भेलपुरी खिलाई.

एक्स एक्स जबरदस्ती बीएफ वीडियो

मेरे धक्के लगे चले जा रहे थे और मैं पूनम बुआ से बात करते करते भी उनको एक दो चपत रसीद कर चुका था. सुलतान ने अंडरवियर में ही अपना लंड मसलते हुए सोफे पर बैठ कर व्हिस्की पीना शुरू कर दी थी. वो इसलिए होने लगा था क्योंकि एक बार जल्दी जल्दी में लंड मम्मी की गांड में घुस गया था और वो दर्द से चिल्ला उठी थीं, तो पापा पूछने लगे थे कि क्या हुआ.

ये क्रिया बॉडी को डेटॉक्स करने के साथ मृत कोशिकाओं को भी निकाल देता है. वो भी मादक सिसकारियां भरने लगी- आह जीजू … और तेज़ और और … चोद दो मुझे … प्लीज़ ऊऊहह जीजू … प्लीज़ और करो. बेटी के सेक्सी वीडियोरमण बोला- मेरा भी होने वाला है, अंदर ही निकाल दूँ?अनीता घबरा गयी और उछलकर हट गयी।इतनी देर में ही रमण का फव्वारा छूट गया और उसी के लंड के चारों ओर गिर गया।रमण ने चौंककर अनीता से कहा- ये क्या किया तुमने?अनीता बोली- प्रकाश का ऑपरेशन हो चुका है, अगर कोई गड़बड़ हो गयी तो मेरी ज़िंदगी बर्बाद हो जाएगी। प्रकाश मुझे घर से निकाल देगा.

अब मैं बस मौके की तलाश में था कि कब उसके पति के घर में उसकी चुदाई के लिए वो मुझे बुलायेगी.

अब मैं उसके ऊपर आ गया और उसकी टांगें अपने कंधों पर रख कर अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा. उसके होंठों पर मैंने अपने होंठों को कस दिया और फिर से धक्के लगाने लगा.

मैंने उसे चोदने से पहले काफी सेक्स वीडियो देखी थीं, जिनमें लड़कियों को कैसे उत्तेजित करते हैं … वो सब समझा था. हैलो फ्रेंड्स, मैं आपका प्रिय भोगू अपनी सेक्स कहानी में आप सभ का स्वागत करता हूँ. हम दोनों पसीने में भीगे थे और हमारे बदन किसी भट्टी की तरह तप रहे थे.

वो उचक कर हल्के से चीख पड़ीं- आआह … इतनी जल्दी क्या है … आराम आराम से करो न!मैंने कहा- हां अब आराम से ही करूंगा.

नसीम भाई भी उन्हें खूब मक्खन लगाते ताकि वे दुबारा गांड मरवाने को तैयार हो जाएं. दोस्तो, कैसे हो आप सब … एक बार मैं शिव राज फिर से आपसे मुखातिब हूँ. मैं उसके निप्पलों पर बाइट करने लगा जिससे उसकी हालत खराब होने लगी और उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया.

মিয়া খলিফা hotजाने क्या बात थी धारा में, उसकी आवाज़ कानों में पड़ते ही शेखर सारी दुनिया से बेख़बर हो जाता था और यह भी भूल जाता था कि शेखर और धारा दोनों शादी-शुदा थे और दोनों का एक हँसता खेलता परिवार था. उसने एक और जोरदार धक्का मारा तो इस बार उसका पूरा लौड़ा मेरी गांड में घुस चुका था.

एक्स एक्स एक्स चुदाई सेक्सी बीएफ

करीब रात को सवा नौ बजे मैं उनके घर पहुंचा, तो मैं उनकी लाइफ स्टाइल देख कर दंग रह गया. अंकल मेरी चुत देखते ही रह गए, एकदम गोरी चिकनी सीलपैक चुत उनके सामने थी. आज तुम मेरी मर्जी से कर लो, नसीम भाई तुम्हारे हथियार की चर्चा भाईसाहब से कर रहे थे.

वो समझ गया और बोला- अच्छा मेरी रानी को ग्लिसरीन चाहिए ताकि वो किसी का भी लंड आराम से ले सके. वहां पहुंच कर उसने फिर से मुझे चूमना शुरू किया, फिर मैं भी कहां पीछे रहने वाली थी. भाभी- चूस साली … चूस बहन की लौड़ी … देख तेरे भाई से बड़ा और मोटा लण्ड है.

फिर संगीता ने मेरे होंठों से अपने होंठ छुड़वाए और बड़ी तेज गति के साथ घुटनों के बल बैठ गई. मगर इसमें कोई परेशानी नहीं थी।शेखर को अन्तर्वासना की अश्लील कहानियाँ पढ़ कर लंड को हाथों से मसलना और फिर मुठ मार कर अपना पानी निकालने का शौक़ बहुत पहले से लग गया था. मैं तो आधी नींद में ही था, तुरन्त जाग गया और मैंने चाची की ओर करवट ली.

मैंने होटल के मैनेजर से पूछा कि रूम मिल जाएगा कि नहीं?मैंने 3-4 घंटे के लिए रूम का चार्ज पूछा तो उसने 2000 रूपये बताया. [emailprotected]जीजा साली सेक्स क्लिप:जीजा ने साली को नंगी करके चोद दिया.

फिर होटल में मुझे ले जाकर वो मुझसे ऐसी चुदाई करवाती है कि कई दिन से पानी से तरसे हुए को पानी मिल जाए.

तो बात कैसे बनी?मेरा नाम राहुल (नाम बदला) है, मेरी उम्र 33 साल है और मैं गुरुग्राम का रहने वाला हूँ. https://thumb-v8.xhcdn.com/a/sO0sHPrGsfufSB7LLOEMnw/018/794/728/526x298.t.webmदेखते ही देखते मैं उसकी चुत की फांकों में मोटा लौड़ा अन्दर तक पेल कर उसकी चुदाई करने लगा. राखी बंधन का गानाकई बार नसीम भाई ने मेरे हाथ में पानी के अन्दर ही अपना लंड पकड़ा दिया था. उस दिन मैं उसके घर पहुंचा कर अपने घर आया ही था कि अचानक दस मिनट बाद राजकुमार की मौसी के मरने की खबर आ गई.

मगर दोस्तो, ऐसे तो कोई किसी को न तो चोद पाता है और न ही कोई चुदवा लेता है इसलिए मैंने उसको घर छोड़ने का ऑफर दे दिया और वो मान भी गयी।वैसे उसके पास विकल्प था क्योंकि चाहती तो वो फोन करके अपने शौहर को बुला लेती.

मैं कभी बीच बीच में उससे बातें करता तो वो बोलती- जी करता है, पूरी लाइफ तेरा ये लंड चुत में डाल कर चुदती रहूँ. मैंने यामिना की जांघों को फैलाया और उसकी चूत में लण्ड को चलाने लगा. मेरी चूत की गर्मी निकलने वाली थी, जिससे मेरी मुँह से आवाजें निकलने लगीं.

मैंने देखा कि प्राची की आंखें बंद थीं और इसी का फायदा लेते हुए मैंने अपना हाथ उसकी शॉर्ट्स में डाला ही था कि उसी वक्त बच्ची नींद से उठ कर रोने लगी. इनकी बातचीत खत्म हुई और अब मैं आपको फिर से नेहा के घर में सेक्स कहानी में ले चलती हूँ, जिधर सेक्स भरा पड़ा है. मेरे परिचय के बाद अब सीधे कहानी पर आते हैं।कुछ महीने पहले की बात है, जब मेरी एक सहेली ने मुझे बताया कि एक लड़का उसके यहां काम करता है जो उसकी मदमस्त चुदाई रोज़ करता है।सहेली की चुदाई वाली बात ने मुझमें और ज़्यादा उत्तेजना भर दी थी। मेरी चुदाई की तमन्ना और तेज हो गयी थी.

हिंदुस्तानी बीएफ हिंदी

उन्होंने दोनों हाथ मेरे लोअर में डाले और मेरी गांड भींच कर मुझे अपनी ओर खींच लिया. चूंकि मेरे घरवाले मुझे अकेला नहीं छोड़ सकते थे तो उन्होंने मुझे ताऊजी के यहां छोड़ने का फैसला किया. कुछ मिनट के बाद भाभी ने लंड मुँह से निकाल दिया और मेरे मुँह पर अपनी चुत को रख कर बैठ गईं.

अब पापा का लंड मेरे मुँह में … और मेरी चुत पापा के मुँह पर लग गई थी.

मैंने उसेक स्तनों की मालिश करके उसके बूब्स बढ़ाए और उसकी चूत चुदाई भी की.

मैंने उनकी पैंटी उतारी और चुत पर उंगली फेरी, तो भाभी ने मस्ती से आवाज करते हुए आंखें बंद कर लीं. उंगली मुँह में लेकर मैं नमकीन चुतरस टेस्ट करते हुए चखना का स्वाद लेने लगा. सेक्सी वीडियो गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंडसंगीता ने लंड को चूसते हुए कहा- मुझे काफी लंबे समय से लंड नहीं मिला है … और आज से पहले मैंने कई लड़कों के साथ इंजॉय किया है.

उसकी पैंटी को थोड़ा हटाया और उसके चूतड़ पर इंजेक्शन देने ही वाला था कि पायल मेरे करीब आ गयी और उसने मेरे कंधे पर हाथ रखते हुए अपने चूचे मेरे कंधे से सटा दिये. ’आकाश- तो उसके बाद कभी मौका नहीं मिला क्या तुझे … मुझसे मिलवा दे, साली को दबा कर पेलूंगा. मैं थोड़ी मुस्करा दी तो वो मना नहीं कर पाए और साथ साथ चल दिए।रूम काफी बड़ा था.

बोतल आधी से थोड़ी कम भरी हुई थी … भाभी ने उसे होंठों से लगाया और नीट ही पी गईं. भाभी और हॉट लड़कियां अपने मेल करके मुझे जरूर बताएं कि वो चूत में उंगली करने पर मजबूर हुईं या नहीं.

फिर जैसे ही भाभी उठीं, तो उनसे चला नहीं जा रहा था, उनकी गांड में बहुत दर्द हो रहा था.

अब वो अपने पति के होंठों को चूसते हुए अपनी चूत में उसकी उंगली का मजा ले रही थी. हम बेर तोड़ते, आम के पेड़ों पर चढ़ कर कैरी तोड़ते, यूं ही घूमते, आवारागर्दी करते, क्रिकेट खेलते बदमाशी करते. मेरे लण्ड को मुँह भर कर उसने मेरी पुरानी गर्लफ्रैंड की याद दिला; मगर अभी मैं उसकी बात नहीं करूंगा.

हिंदी हॉट सेक्सी कहानी अब हो ये रहा था कि मोना भाभी के कपड़े जो मैंने और भाभी ने पकड़ रखे थे वो कभी भाभी खींच रही थीं, तो कभी मैं अपनी तरफ खींचता. स्नेहा बोली- बीसी (बहनचोद) तू तो सचमुच चुदवाने का पूरा मन बना कर आई है छिनाल.

शेखर भी रेणु की हर तरह से मदद करता और जब भी मौक़ा मिलता उसे ख़ुद से चिपकाए रहता. तूने क्या मुझे समीर की पूजा दीदी समझी है, जो अपने भाई से चुदवाती है. एक हफ्ते से हम दोनों में कोई बात नहीं हो रही थी, बस कोई काम होता तो मैं वो करके वापस आ जाता था.

मोटी गांड वाली औरत की बीएफ

जब मैंने आंखें खोलीं, तो देखा कि मेरे लंड महाराज जी पूरी तरह लाल हो गए थे. शबाना भाभी की उम्र केवल 26 साल ही थी, मैं तो उनका पहले ही दिन से दीवाना हो गया था और सोच लिया था कि मौका मिला, तो इनको चोदूंगा जरूर. अब मुझे समझ में आया कि यह रात भर अपने मामा की लड़की की चुत में खोया रहता है.

मैंने अब भाभी के ब्लाउज़ के ऊपर से ही उनके चुचों को मुँह में दबा कर चुभलाना शुरू कर दिया था. सेक्सी कहानियों की कई साइट थीं और इस साइट के माध्यम से ही कई दूसरी साईटों पर भी शेखर विजिट कर लिया करता था.

उसके कान को अपने मुंह में लेकर मैंने गीला कर दिया।मैं उसको पूरा मजा देना चाहता था क्योंकि उसका ये पहली बार था.

बुआ मेरे लंड को छोड़ कर लम्बी लम्बी सांस लेने लगीं और उनकी कंपती हुई काया से साफ़ लगने लगा था कि वो किसी भी वक़्त झड़ सकती थीं. आपको हॉट देसी औरत चुदाई कहानी कैसी लगी … बताने के लिए मुझे मेरी मेल पर अपनी राय जरूर भेजिएगा. मैं उसे बेइंतेहा चूमने लगा, इस बार मैंने तेल लगा कर अपना लंड धीरे से उसके अन्दर डाला तो उसको दर्द कम लगा.

हम सब अब सिर्फ़ चुदाई करने के ख्याल वाले ही रहे थे, लेकिन संख्या ज्यादा देख कर मेरा दिल बैठने लगा था कि चुदाई समारोह कैसे होगा. चुत के पानी की गंध के साथ हम दोनों के लौड़े के पानी की खुशबू, कमरे में अद्भुत महक फैला रहा था, जो आजीवन हम पांचों नहीं भुला सकते थे. एक बार चुत झड़ जाती है तो कुछ देर के लिए चुत वाली की कसमसाहट का बढ़ जाना स्वाभाविक ही होता है.

मैं रोशना के पास आ गया और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके रसीले मम्मों को दबाते हुए मसलने लगा.

बीएफ सॉरी: पायल जोर जोर से चिल्लाने लगी और गाली बकने लगी- निकाल अपने लण्ड को मेरी चूत से बहनचोद … बहन के लौड़े … मैं मर गयी! ऊईई मम्मी … मर गयी रे … निकाल ले साले. मेरी बीवी की भोसड़ी और गांडआज मैं उसी कहानी के आगे की घटना की बताने जा रहा हूं.

मुझसे अब ये गर्मी बर्दाश्त नहीं हो रही थी; मैं बोली- निखिल हम दोनों ठंड से मर जाएंगे. वहां उसने अपनी चूत, गांड धोयीं और मेरा लंड भी साबुन लगाकर अच्छे से धो दिया! अब हम फिर से बिस्तर पर आ लेटे!मैं- ज़ारा!ज़ारा- जी?मैं- दो दिन की छुट्टी और ले लेते हैं!सुनते ही ज़ारा लिपट गयी और गाल पर चूम लिया. वो तो दी आ गई थीं, नहीं तो कुतिया को वहीं पटक कर चोद देता मैं … मादरचोदी रंडी.

मैंने पूछा- आप लोग कहीं जा रहे हैं?मेरी दीदी ने कहा- मॉम डैड को एक हफ्ते के लिए दिल्ली जाना है.

उस टाइम मुझे ऐसा लग रहा था कि पूरी लाइफ मेरा लंड उसके मुँह में ही घुसा रहे. धीरे धीरे इसकी चाहत बढ़ती गयी और मैं रोज ही अपने लंड को हिला कर अपनी अन्तर्वासना को शांत करने लगा. मैंने एक हाथ बढ़ाते हुए उसकी साड़ी के अंदर से उसकी चूत के ऊपर रख दिया.