नई हिंदी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी धमाल वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ बीएफ वाला: नई हिंदी बीएफ वीडियो, मैंने अपने आप से कहा कि इसकी चूत मारना अब मेरे लिए चैलेंज की बात है.

ब्लू फिल्म सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी

शुरुआत में मैंने उनको किस करते करते धीरे धीरे चोदा ताकि बुआ की चुत रवां हो जाए. सेक्सी मुविमैं हंसी- तो उसमें क्या है, जब तुम किसी दूसरी चुत में अपना लंड डाल सकते हो, तो उसे भी पूरा हक़ है अपनी चुत को जैसे चाहे इस्तेमाल करे.

दोस्तो, थ्रीसम चुदाई का मजा आना शुरू हो गया है, बस अब अगले अंक में आपको इस नंगी चुदाई कहानी का बाकी का मजा भी दे दूंगा. सेक्सी फिल्म दिखा वीडियो मेंमेरी शेवेड चिकनी चूत अब लौदा खाने के लिए मुख खोलकर तैयार थी।विजय ने अपने मोटे लंड का सुपारा चूत के मुहाने पर लगाया ऊपर नीचे रब करने लगा.

इसी तरह शाम गुजर हो गई और साथ ही खबर आई कि हॉस्पिटल से सासू मां को डिस्चार्ज करने की हां हो गई.नई हिंदी बीएफ वीडियो: ”जानू, मुझे पता है तुम मुझसे बहुत प्यार करती हो, पर मुझसे तेरा दर्द नहीं देखा जाएगा.

मैंने कहा- इनाम बाद में दे देना, लेकिन पहले ये पैंटी बदल लो, नहीं तो दाग पड़ जाएगा.फिर मैंने उसकी चूत की दोनों पंखुड़ियां और ज्यादा खोलीं, जिन्होंने चूत के छेद को ढक रखा था.

स्कूल टीचर का सेक्सी वीडियो - नई हिंदी बीएफ वीडियो

ख़ुशी ने एक भद्दी सी गाली निकाली- इस मादरचोद को भी अभी ही आवाज देनी थी.दोस्तो, चाहे आपके उत्तर अच्छे हों या बुरे … मुझे जरूर बताना क्योंकि आपके रिप्लाई से ही पता चलता है कि मेरी स्टोरी कैसी लिखी गयी है.

मैं जितनी बार लंड चूत में अन्दर बाहर कर रहा था, उससे उसे और मुझे दोनों को ही चरम सुख की प्राप्ति हो रही थी. नई हिंदी बीएफ वीडियो फिर वो चले गए और मैं भी फिर से नंगी होकर नहाने चली गयी।उस दिन मैं खूब रगड़ रगड़ कर नहाई.

जब मैं उसके दोनों मम्मों पर अच्छे से चॉकलेट लगा चुका तो प्रियंका से बोला- चल तू इसका एक आम चूस … एक मैं चूसता हूँ.

नई हिंदी बीएफ वीडियो?

क्या उस दौरान मेरी गांड की प्यास बुझ पाई?कैसे हो प्यारे दोस्तो, मैं अपनी कहानी का दूसरा भाग प्रस्तुत कर रहा हूं. मेरी बीवी ने हंस कर सरदार से कहा- लो जी, आपके सर जी भी औंधे हो गए हैं. उनका मुँह मेरे लंड पर जिस तरह से चल रहा था, उससे मेरे अन्दर गजब का नशा हो था.

मेरी निगाहें मंडप पर थीं और मेरा ध्यान अपने बगल में खड़ी ब्यूटी पर था।ब्यूटी मुझसे इस कदर चिपक कर खड़ी थी कि उसकी गर्म गर्म साँसें मुझे अपने कंधे पर महसूस हो रही थी।मैंने हिम्मत करके अपनी कोहनी से उसके चूचों को हल्का हल्का दबाना शुरू कर दिया. राजेश अंकल- बेटा, अब तो तुम बड़ी हो गयी हो, पूरा घर अकेले संभाल लेती हो?मैं- क्या मतलब अंकल?राजेश अंकल- मतलब अब तुम्हारी उम्र शादी करने के काबिल हो गयी है. कोई 20 मिनट मां चोदने के बाद भाई ने अपने लंड का पानी मां की चूत में ग़िरा दिया.

जो आकर्षण एक अरसे से दबा हुआ था वो बाहर आने को मचलने लगा। मैंने उसे व्हाट्सएप पर फॉलो करना शुरू कर दिया. वो हम दोनों को देखते हुए अपनी चूत में तेजी से खीरे को अन्दर बाहर करने लगी. वो पीछे से मेरी पीठ पर लंड चुभाते हुए मेरी चूचियों को आगे से दबाने लगा.

मैं बोला- लौड़े को चूस कर गीला कर दे एक बार।वो उठ कर बैठ गयी और मेरे लंड को चूसने लगी. सामान्य भाव से मामी मुझसे मम्मी पापा और भाई बहनों का हाल चाल समाचार पूछती रहीं.

इसी दौरान सभी फलों का रस उसके होंठों से गर्दन पर … और गर्दन से मम्मों पर गिर गया था.

उन्होंने भी मस्ती से मुझे निहारा और वासना से कहा- अरे गलती से शरीर बोल दिया.

बिना देर किए हुए मैंने भाभी के होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और रूम को बंद कर दिया. अपने लंड को सहलाते हुए मैंने कहा और मेरी सास भी मेरी हरकत देख रही थी. दोनों एक साथ देख रहे थे इसलिए मैं उनकी नजर में ज्यादा नजर नहीं मिला रही थी.

मैंने बुआ को देखा और ढेर सारा तेल लेकर उनकी चूत की दरार में डाल दिया और हाथ से बुआ की चुत को रगड़ना चालू कर दिया. तो निर्मला जी फिर से लिखा- वेलकम अमित … और अभी क्या कर रहे हो?भैंस की आंख, अब निर्मला जी ये क्यों पूछ रही थीं कि मैं क्या कर रहा हूँ!मैंने- कुछ नहीं आंटी जी, कल एक प्रपोजल देना है, उसी को बना रहा हूँ. कुछ दिनों बाद किसी मीटिंग में मनोज को दो दिनों के लिए चेन्नई जाना पड़ा.

तूने मुझे सुबह चोदने नहीं दिया था ना … तो अब ये दर्द झेल।अंकल को मैंने बाँहों में भर लिया और बोली- डाल मादरचोद … दिखा अपना दम!मेरे मुंह से गाली सुनकर उनमें भी जोश आ गया और बोले- ले साली रंडी … बहन की लोड़ी … आज तुझे चोद चोदकर तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा.

जहां तक भाभी की चुदाई का सवाल है तो मैं अपनी दूर तक की रिश्तेदारी में भी भाभी को चोदने का मौका नहीं छोड़ता. दोस्तो, चाहे आपके उत्तर अच्छे हों या बुरे … मुझे जरूर बताना क्योंकि आपके रिप्लाई से ही पता चलता है कि मेरी स्टोरी कैसी लिखी गयी है. ज़ारा- जाओ आप अपने कमरे में!मैं- तुम इतनी खूबसूरत लग रही हो कि तुम्हें छोड़कर जाने का मन ही नहीं कर रहा!ज़ारा- आपके ही पास आ रही हूं मैं!मैं- पहले एक पप्पी दो!ज़ारा- क्यों बच्चों जैसी हरकतें कर रहे हो जान? जाओ!मैं अपने कमरे में चला गया.

मेरी मादक आवाजों से उसकी उत्तेजना बढ़ती गई और करीब आधा घंटा तक मैंने उसके लंड से अपनी चूत चुदवाई. वो मेरे हाथों पर अपने हाथ रख कर अपने दूध को और जोर से दबाने का इशारा करने लगीं. मैंने अनजान बनने का नाटक करते हुए कहा- कौन रेशमा?उधर से वो बोली- वही रेशमा, जिसको आप कुछ देर पहले फोन कर रहे थे.

उन हाथों पर अपने हाथ फिराते हुए कहा- हेड आफिस से तीन इंटर्न रखने की मंजूरी आई हुई है और उनको मैंने ही रखना है.

काफी देर तक इस तरह वर्जिन गांड मारने के बाद अंकल ने अचानक से खुद को अलग किया और मेरे मुँह के सामने अपने लंड को लाकर रख दिया. इसी तरह से कुछ देर तक हम दोनों के बीच चुदाई चली और आंटी फिर से झड़ गईं.

नई हिंदी बीएफ वीडियो चुत को गन्दी जगह भी कह रही थी, मगर साली ने खुद ही मेरे सर को अपनी चुत पर दबाया हुआ था और चुत चुसवाने की कोशिश कर रही थी. मेरी बीवी ने हंस कर सरदार से कहा- लो जी, आपके सर जी भी औंधे हो गए हैं.

नई हिंदी बीएफ वीडियो मैंने अपना लंड ताई के मुँह में दे दिया, ओह्ह … क्या आनन्द आ रहा था. शाम होते होते अनु दीदी ने दोनों को अपने मदमस्त जवानी की वासनाओं में डुबो कर दोनों को नंगा कर दिया था और बारी बारी से दोनों भाइयों के लंड का पानी निचोड़ लिया था.

वाइफ पोर्न सेक्स स्टोरी के पिछले भागमेरी दूसरी बीवी संग सुहागरात- 1में अब तक आपने पढ़ा था कि आज मैं अपनी दूसरी बीवी सुधा के साथ चुदाई की शुरुआत करने वाला था.

व्हिडीओ हिंदी बीएफ

मैंने इससे और आगे जाने के बारे में नहीं सोचा और लंड हिलाने का मजा लेते हुए रस झाड़ कर सो गया. अब उसने कान के पास मुंह करके धीरे से कहा- डाल रहा हूं, ढीली रखना!इतना बोलकर उसने लंड अंदर पेल दिया. इसका मतलब था कि घर में ना तो‌ कोई उठा था … और ना ही कोई घर से बाहर गया था.

उसके घुटनों के पास बैठकर मैं उसे निहारने लगा, उसने अपने दोनों हाथों से अपने चेहरे को ढक लिया था. मैंने कहा- क्या बहाना करके निकलेंगे?विपिन बोला- देखो, मैं कुछ महमानों को स्टेशन छोड़ने जा रहा हूँ, आप भी बाजार का बहाना करके साथ चली चलो. इसलिए मैंने बिना कुछ कहे, साइड से अपना स्कूटर निकाला और स्टार्ट करने लगा.

रेल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि बैंक ट्रेनिंग में मेरी दोस्ती एक नवविवाहिता सहकर्मी से हुई.

जाते ही हम दोनों एक दूसरे से लिपट गये और एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे. उसे अपनी बांहों में कसके एक पल को छुआ और दूसरे ही पल मैंने उसे घुमा कर उसे पीछे से बांहों में कस लिया. सुरेश ने वैसलीन लगे अपने लंड के सुपारे को सोनी की चूत पर सटाया और अगले ही पल सोनी जोर से चीख पड़ी- आआ … मर गयी … ऊईई मां … हाय … आह्ह … स्सस … ओ अंकल … नहीं … आह्ह … उफ्फ!सोनी बुरी तरह से छटपटा गयी.

मैंने कहा- क्या बहाना करके निकलेंगे?विपिन बोला- देखो, मैं कुछ महमानों को स्टेशन छोड़ने जा रहा हूँ, आप भी बाजार का बहाना करके साथ चली चलो. सुरेश ने मेरी बेटी की कच्छी खींचकर निकाल दी थी और वो अब किसी भी वक्त मेरी बेटी की चूत में लंड डालने ही वाला था. मेरे पिताजी एक धनाढ्य जमींदार हैं और पैसे से किसी बात की कमी नहीं है.

फिर भाभी बुरी तरह थक गयी थी, बोली- दीपू यार, अब पैर दर्द करने लगे हैं. बल्कि लड़कियों की गांड मारना और उनके दूध मसलना ज्यादा पसंद हैं बजाए उनकी चूत चुदाई के.

मगर सुरेश ने सोनी की टांग पकड़ कर उसे टेबल के नीचे से बाहर निकाल लिया. दोस्तो, आपको मेरी वाइफ ऐस फक स्टोरी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें. शाम का वक्त हुआ और विक्रम बोला- ठीक है दोस्त और भाभी अब मैं चलता हूँ.

किसी भी मर्द का उसे देख कर ही पानी निकल जाए, वो इतनी कामुक दिख रही थी.

उधर मैंने देखा संजू की गांड में विक्रम अपना लंड घुसा कर बहुत जोर जोर से चोद रहा था. मैं- नहीं तुम ग़लत तो नहीं हो, मगर फिर भी रोटी को थाली तक तो आने दो ना!वो- वो तो आ चुकी है मगर थाली से उठाने के लिए कोशिश तो करनी ही पड़ेगी ना!मैं इससे पहले कुछ बोलती, उसने मेरे कपड़ों में अन्दर हाथ डाल कर मेरे मम्मों से खेलना शुरू कर दिया. कभी मैं उनकी चूचियों को ब्रा के ऊपर से दबा देता, कभी दांत से काट लेता तो आंटी मादक सीत्कार भरके अपनी उत्तेजना जाहिर कर देतीं.

अब उन्होंने मेरे लोअर के अन्दर हाथ डालकर मेरे लंड को दबाया और उसे आगे पीछे करने लगीं. तभी सुरेश ने सोनी को नीचे बेड पर लिटा दिया और खुद अपने आप उसके ऊपर सवार हो गया.

आखिरकार एक चुदाई करने वाला ही दूसरी चुदाई करने वाली की व्यथा समझ पाता है. बाइक को फ्लैट की पार्किंग में लगा कर मैं फिर से लिफ्ट में चढ़ा और 5 नंबर प्रेस किया. किया और बोली- धीरे …मैंने आँटी की स्कर्ट के इलास्टिक में अपनी उंगलियां डाली और उसे नीचे खींचने लगा.

हिंदी सेक्सी बीएफ यूपी

थोड़ी देर तक तो इन्तजार किया, फिर मैं जैसे ही जाने को हुई तो धीरू अंकल ने मुझे आवाज देकर रोक लिया.

वह मेरे बूब्स को जोर-जोर मसलने लग गया और मेरी गर्दन पर किस करने लगा. मेरे होंठों को चूसने के बाद उसने फिर से आगे की ओर मुंह घुमा लिया और अब वो आह्ह … आह्ह … की आवाज करते हुए चुदने लगी. अब वो लोग धीरे धीरे ट्रेन के धक्कों के बहाने मुझे छूने की कोशिश कर रहे थे.

हमने फिर शॉवर चलाकर खुद को साफ किया और एक दूसरे के जिस्मों को तौलिया से पौंछा. जैसे ही मैंने उनकी चूत पर अपना मुँह रखा, भाभी ने मेरा मुँह हटा दिया और बोलीं- ये क्या कर रहे हो, अब इसे भी चाटोगे क्या?मैंने बोला- हां, आप आराम से लेटो और चूत चटाई के मज़े लो. সেক্ষ ভিডিওमेरी बीवी संजू और मेरा दोस्त विक्रम दोनों पूर्ण नग्न अवस्था में थे और संजू घुटने के बल बैठकर विक्रम के विशालकाय लंड को बेतहाशा चूसे जा रही थी.

स्नेहा- हैलो जीजू और आप कैसे हो?मनीष- हैलो स्नेहा, पर ये क्या साली जी, अपनी दीदी को हग किया और हमसे बस हैलो. दोस्तो, मैं रूपा अपनी सेक्स कहानी में आपका एक बार फिर से स्वागत करती हूँ.

ऊपर से मैं ये बात शायरा को भी सुनाना चाहता था कि हमें उसके बारे में पता नहीं है. बहुत मन कर रहा है … मान जाओ ना … प्लीज!ये कहते हुए मैंने भाभी की साड़ी का पल्लू गिरा लिया और उसकी चूचियों की घाटी में चूमने लगा. अनामिका- आह कमीनो … मेरे हाथ खोल दो … आह कैसे काट रहे हो तुम दोनों.

प्लेबॉय बनने की बात से मुझे केवल इसलिए डर लगता है क्योंकि फिर कहीं कोई जानकार भाभी मिल गयी तो दिक्कत हो जायेगी. फ़िर भी इशारों इशारों में मैंने सवाल कर लिया- चुम्मी किस लिए?उसका कोई जवाब नहीं देते हुए उन्होंने मुझे सवाल किया- तुम्हें बुरा तो नहीं लगा?मैंने न में सिर हिला दिया. लंड सरकता हुआ चुत के अन्दर चला गया … और अनामिका की मीठी आह निकल गई.

उसने भी मेरी नजरों को ताड़ लिया और हल्के से मुस्कान देकर मुझसे दूर हो गई.

”तुम्हें कोशिश करने का कोशिश की कोई जरूरत नहीं है, बस तुम मेरा साथ दो. विक्रम बोला- सॉरी यार, मैं महीनों से भूखा था, इसलिए तेरी बीवी को मैंने इतना परेशान किया.

उसके बाद उसने मेरी गांड में उंगली दे दी और खड़े खड़े ही मेरी गांड में उंगली करने लगा. मेरी तरफ से तो हमारी शादी से पहले भी हाँ थी और आज भी मेरी तरफ से हां ही है. ये देखकर मुझे बहुत सुकून मिला कि चलो चोदने के बाद इसे इतना ख्याल तो आया कि सोनी को प्यार की जरूरत है.

बल्कि लड़कियों की गांड मारना और उनके दूध मसलना ज्यादा पसंद हैं बजाए उनकी चूत चुदाई के. घबराकर रेशमा मुझे देखने लगी, पर तभी मैं उसको उसका बुरका देते हुए पहन लेने का इशारा किया. उसने धीरे से अपना सिर भी उसकी छाती पर टिका लिया जैसे कि वो कोई और नहीं बल्कि उसका पति ही हो.

नई हिंदी बीएफ वीडियो मैंने एक पल को उसकी आंखों में देखा और उसकी चूत पर नेट वाली पैंटी के ऊपर से ही जीभ को फेरा. मैं तेल की शीशी लेकर बुआ की टांगों के पास बैठ गया और उनके पैरों में तेल लगा कर मालिश करने लगा.

सेक्सी बीएफ वीडियो में देहाती

भूरा के नैन नक्श तीखे थे और उसके बाल भूरे रंग के थे इसलिए उसका नाम भूरा रख दिया गया था. पता नहीं उसे कितने पैसों की जरूरत थी और क्यों!मगर मैंने फिर भी पूछा- तुमको पैसों की आवश्यकता क्यों है? कोई परेशानी है क्या?मगर उसने बस ‘नहीं’ शब्द ही कहा।उसकी आँखों से आँसू लगातार बहे जा रहे थे।अब मुझसे उसके आँसू देखे नहीं गए और मैंने कार सड़क के बगल में खड़ी कर दी. मैंने पीहू को सो जाने के लिए बोला तो उसने थोड़ी देर में सोने का कह दिया.

उसके बारे में कभी बहुत अच्छे से आप सबको बताऊंगा, अभी बस इतना समझ लीजिए कि वो एक माल लौंडिया थी. मेरी ये दोनों बुआ लेस्बियन थीं और एक दिन उन दोनों को मैंने लेस्बियन सेक्स करते देख लिया था. सेक्सी फोटो करीनामैंने कहा- छत पर कैसे करेंगे … कोई प्राब्लम हुई … मतलब आपके पति जाग गए तो क्या होगा?उन्होंने कहा- मैंने पति को खाने में नींद को गोली मिला कर दी है.

पता नहीं किचन में वो‌ क्या करने गयी थी और क्या नहीं, मगर वो अब मुझे दिखाई नहीं दे रही थी, जिससे मुझे अब फिर थोड़ी घबराहट होने लगी.

फिर एक दिन मेरा एक दोस्त मुझे एक मज़ार पे ले गया, मैं भी उसके साथ चला गया. ट्रेनिंग सेंटर के प्रवास के दौरान मॉल और पार्क आदि जहां भी हम दोनों घूमने गए.

मैं उसके ऊपर लेट गया और उसकी चूचियों को पीते हुए उसकी चुदाई शुरू कर दी. जिंदगी में पहली बार वो दोनों युवा लौंडे सेक्स का पहला अनुभव पाकर अनु दीदी के मुँह में बारी बारी से झड़ गए थे. तो आज मैं आपको बता रहा हूँ कि समीना को मैंने ब्लोजॉब और अनाल सेक्स के लिए कैसे मनाया.

अब हम दोनों किस करते हुए हाथ से एक दूसरे के जिस्म को ऊपर नीचे छूते हुए किस कर रहे थे.

उसने बिना ब्रा के स्लीवलेस टॉप और घुटनों से थोड़ी नीचे तक की स्कर्ट पहन रखी थी. भाभी ने मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा, तो मैंने मना कर दिया. दोनों एक साथ देख रहे थे इसलिए मैं उनकी नजर में ज्यादा नजर नहीं मिला रही थी.

आदमी में कमजोरी के कारणफिर मैंने राकेश को अपनी बांहों में लेकर रोना शुरू कर दिया और बोली- प्लीज़ मुझे माफ़ कर देना, मैं ये सब उसे मज़ा देने के लिए कर रही थी ताकि उससे हमें चैक मिल जाए. हम दोनों के लिप किस करते हुए, वह मेरे बूब्स चूसते हुए, अपनी जीभ मेरी चूत में डालते हुए, पीछे से मेरी गांड में अपनी जीभ डालते हुए अलग-अलग स्टाइल में उसने फोटो ली।मैंने अपने मोबाइल का फ्रंट कैमरा ऑन करके उसमें वीडियो रिकॉर्डिंग चालू कर दी और कैमरा विजय को दे दिया … वह तुरंत पलंग के साइड में जाकर मोबाइल इस तरह से रख दिया कि हम दोनों की पूरी चुदाई उसमें रिकॉर्ड हो सके और तुरंत पलंग पर वापस आ गया.

सेक्सी वीडियो दिखाओ बीएफ

उसने अपना बरमूडा नीचे किया और मैंने थूक लगा कर लंड पेल दिया।मैं धीरे धीरे कर रहा था तो वह बोला- सर आप डर रहे हैं क्या?ये सुनकर मैं धक्कम पेल करने लगा. मैंने भाभी का हाथ पकड़ा और अपने कच्छे में अंदर घुसाकर उसके हाथ में लंड पकड़ा दिया. फिर दो उंगलियों से बुर को फैलाकर बुर के छेद पर अपनी जीभ को घुमा घुमाकर चाटने लगे।काफी देर तक मेरी बुर को चाटने के बाद उन्होंने अपनी चड्डी निकाल दी। उनका लगभग आठ इंच लंबा लंड मेरी आँखों के सामने पहली बार आया।उसका मोटा सुपारा देख कर मेरी गाँड का छेद अंदर बाहर होने लगा।मेरे दिल की धड़कन अचानक से तेज हो गई।नाग जैसा काला लंड और उसके नीचे वो बड़ा सा अंडकोष बहुत ही भयानक लग रहे थे.

मैंने उसे अपनी बांहों में समेट कर उसे बेतहाशा चूमना शुरू कर दिया था; मेरे हाथों ने उसके बदन पर रेंग कर उसे मस्ती देना चालू कर दिया था. सरिता- किराये की तो कोई बात ही नहीं है लेकिन …फिर सोचकर बोली- चलो कुछ दिन देखते हैं. नीता अपने हाथ ऊपर करके, मेरे सर के बालों को तौलिया से साफ करती हुई बोली- अभी भी बाल गीले हैं हर्षद … क्या तुमने सही से अपना बदन नहीं पौंछा?वो मेरे बाल साफ कर रही थी और उस समय उसकी चूचियां मेरे नंगे सीने पर रगड़ रही थीं.

न्यू ईयर पार्टी के मस्त माहौल को रीना दीदी, मस्त रंजू और अनु दीदी के साथ बाईस साल की अर्चना अपनी मस्त जवानी से शाम रंगीन कर रही थी. आज की यह Xxx भाबी चुदाई कहानी मेरे और सोनिया भाभी (काल्पनिक नाम) के बीच की चुदाई की है. मैंने उनकी गांड के छेद पर थूक टपकाया और चुत चोदते-चोदते उनकी गांड में अपना अंगूठा डालने लगा.

मैंने मन में सोचा कि यार ये तो बहुत बड़ी गलती हो गयी आज!! क्यों साले से पचास हजार रूपए उधार लिए?मगर मेरा अंदाजा गलत साबित हुआ क्योंकि सुरेश ने उसकी गांड की बजाय चूत में दोबारा से लंड घुसाया था. मेरे कदम अपने आप शैली की तरफ बढ़ गए हर कदम के साथ उसके शरीर से उठती लहर की तरह वह खुशबू मुझमें और जोश भर रही थी.

इसको अपने बच्चे की मम्मी बना दे मादरचोद को।फिर झटके देते हुए रवि भी मेरी गांड में झड़ गया और मेरी गांड में अब दोनों लौड़ों का वीर्य भर गया था.

मेरी वाइफ, चाची से सात साल छोटी है लेकिन फिर भी वो चाची जी के साथ ऐसे रहती है, जैसे की वो उनकी सहेली हो. नागी पुगी पिक्चर सेक्सीइस बार उन्होंने मुझे नहीं छोड़ा और उसी पोजीशन पर खड़े रहेफिर धीरे-धीरे जैसे मेरा दर्द कम हुआ तो उन्होंने मुझसे कहा- अब तुम इसे अपने आप आगे पीछे करके चूसो. नंगी सेक्सी भाभी कीचूत को हथेली से रगड़ते ही उसने अपनी चूत को मेरी हथेली पर जोर लगाकर दबाना शुरू कर दिया और वो सिसकारते हुए बोली- कर दो यार … कर दो प्लीज … अब मेरे से बर्दाश्त नहीं हो रहा है. मैं कहानी तो रेशमा की बता रहा था लेकिन चूत मुझे शगुफ्ता की दिखाई दे रही थी.

पर तुम्हें इस रूप में देख कर मैं अपने आप पर काबू नहीं रख पाया और यह सब कुछ कर बैठा … अगर तुम्हें बुरा लगा हो तो उसके लिए सॉरी! जब तक तुम मेरे दोस्ती के प्रस्ताव पर हां नहीं बोलोगी मैं वादा करता हूं कि मैं तुम्हें टच भी नहीं करूंगा।मुझे पता था कि विजय पर अब सेक्स का भूत सर चढ़कर बोल रहा है और करीब-करीब वही हालत मेरी थी.

मैंने उससे अपनी असहमति दिखाई, तो वो मुझे पलट जबरदस्ती मेरे होंठों को चूमने लगी. मैंने उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके टॉप को उतार दिया और इसी के साथ उसकी ब्रा को भी उतार दिया. जब मैं मकान मालकिन से बात कर रहा था … उस समय शायरा भी वहीं पर थी और उसने भी हमारी बातें सुन ली थीं.

कुछ मिनट तक मैंने उसकी गांड में उंगली डाल के रखी थी जिसे गांड ने उंगली को झेल लिया था. बस से उतरते ही बाहर उसका बॉयफ्रेंड खड़ा था और उसने आगे आकर उसे हग कर लिया. हालांकि ये कहते हुए मेरी भी गांड फ़ट रही थी कि कहीं ये हल्ला ना कर दे … लेकिन रिस्क तो लेना ही था, तो कह दिया.

लड़की का बीएफ सेक्सी

मैं आपको अपनी सहेली की एक दोस्त की कहानी बता रही थी जो मुंबई में नौकरी करने गयी थी. हम दोनों ने बहुत सारी प्यार भरी बातें की और एक दूसरे के साथ जीने मरने की कसमें खाई. जैसे ही लंड अन्दर गया, वो गांड उछाल उछाल कर लंड को अन्दर करवाने लगी.

उधर ममता को नहीं‌ पता था कि क्या हो रहा है … इसलिए वो बिस्तर पर लेट गयी थीं.

उसको अपना अपमान भी महसूस हो रहा था लेकिन साथ ही साथ वो गर्म भी हो रहा था.

जैसे ही उसकी लंड मेरे चूत के दरवाजे पर छुआ, मेरे मुँह से हल्की सी ‘स्सी …’ की आवाज निकली. शाम के समय मैं घूमने के लिए बाहर निकला और लौटते समय चार फालूदा कुल्फी ले आया. ಸೆಕ್ಸ್ ಡೌನ್ಲೋಡಿಂಗ್मैंने विजय को बोला- विजय तुम मेरी ब्रा का हुक लगा दोगे?विजय तो जैसे तैयार ही बैठा था तुरंत दौड़कर मेरे पास चला आया.

उसका एक हाथ मेरी छाती पर था और दूसरा हाथ पीछे मेरी नंगी गांड को दबाने में लग गया. इस तरह हम दोनों ने अपनी चूत और लंड का पानी को मिक्स करके पी गए।रात के 11:00 बज रहे थे और हम दोनों नंगे पलंग पर एक दूसरे से चिपक कर लेटे थे. उन्होंने सबको आवाज़ देते हुए कहा- देखो मम्मी पापा, सन्ध्या आंटी, प्रभात अंकल … अब सन्नी और मैं कैसे खड़े खड़े चोदने का खेल खेल रहे हैं.

पत्नी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी की ताऊ की मृत्यु पर वो मायके में रह गयी. किसी गोलगप्पे जैसी फूली हुई उसकी छोटी सी चूत मेरे लंड के सामने कुछ नहीं थी.

मैं भी उसके बालों में अपना हाथ फिराने लगी।वह कभी-कभी मेरी चूत में अपनी पूरी जीभ डाल देता और कभी बाहर के हिस्से पर धीरे-धीरे करके जीभ फिराता।उसके थूक से मेरी चूत पूरी गीली हो गई थी।बहुत देर तक ऐसे ही चूत को चूसने के बाद वह किस करता हुआ मेरे बूब्स तक आ गया और दोनों हाथों से मेरे बूब्स को दबाकर चूसने लगा।फिर उसने अपना लंड बाहर निकाला और मेरी चूत पर रख दिया और फिर धीरे-धीरे धक्के लगाने लगा.

पिछली सेक्स कहानीमैं सम्भोग के लिए सेक्सी डॉल बन गईमें मैंने आपको बताया था कि कैसे नई साल के समारोह में कविता मेरी ओर बहुत आकर्षित हो गई थी. मेरा घर अगले तीन दिनों के लिए खाली हो गया था और चूत गांड लंड लेने के लिए गर्मा गई थी. एक उसने खुद से कहा- भाबी, देखो हम लोग रोज घर पर खाना खाते हैं, मगर कई बार होटल में भी तो जाकर खाते हैं.

सपना संगीता लेकिन थोड़ी देर बाद मेरी गांड उनके लंड की आधी हो गई और मुझे भी थोड़ा थोड़ा मजा आने लगा. उसके बाद मैंने चूची छोड़ी और अपना कच्छा नीचे करके खड़ा हो गया और उससे कहा- मेरा लंड चूस अब।मौनी घुटनों पर बैठ गयी और लंड को मुंह में लेने लगी.

घर आकर कोई काम तो था नहीं इसलिए टीवी पर कोई ‘बी’ ग्रेड फिल्म देखने लगी. मैंने आह करते हुए अपने लौड़े का रस उसके मुँह में ही निकालना शुरू कर दिया. अचानक उसने आंखें बंद की और अपने मुँह को बड़ा सा खोलकर विक्रम के लंड को अपने मुँह में लेने का प्रयास किया.

बीएफ ब्लू फिल्म एचडी में

फिर दो उंगलियों से बुर को फैलाकर बुर के छेद पर अपनी जीभ को घुमा घुमाकर चाटने लगे।काफी देर तक मेरी बुर को चाटने के बाद उन्होंने अपनी चड्डी निकाल दी। उनका लगभग आठ इंच लंबा लंड मेरी आँखों के सामने पहली बार आया।उसका मोटा सुपारा देख कर मेरी गाँड का छेद अंदर बाहर होने लगा।मेरे दिल की धड़कन अचानक से तेज हो गई।नाग जैसा काला लंड और उसके नीचे वो बड़ा सा अंडकोष बहुत ही भयानक लग रहे थे. उसी रात को मुझे उस वेबसाइट से एक महिला का नाम पता और मोबाइल नंबर आया. जिसे देख चाची मेरे लंड को पकड़ कर हंसने लगीं और बोलीं- ये तो फिर से खड़ा हो गया … खैर, इसे मैं अभी ढीला कर देती हूँ.

मैं ललिता भाभी के होंठों को चूस रहा था और वो भी बराबर साथ दे रही थी. करीब शादी के 20 दिन बाद हमें लगा कि हमारी अब पहली चुदाई ज्यादा दूर नहीं है क्योंकि हमारे रिश्तेदारों में मेरे मौसी के बेटी की शादी थी और पूरा परिवार शादी के लिए जाने वाला था.

बुआ ने कहा- हां ये तो है योगी … चल जब जागे तब सवेरा … अब तो मुझे तृप्त कर दे.

भाभी लेटे-लेटे ही मेरे लंड से खेलने लगीं, जिससे लंड फिर से खड़ा होने लगा. धन्यवाद दोस्तो।मैं आपका विक्की शर्मा इंदौरी आपसे अब अलविदा लेता हूं।[emailprotected]. सुरेश ने मेरी बेटी की कच्छी खींचकर निकाल दी थी और वो अब किसी भी वक्त मेरी बेटी की चूत में लंड डालने ही वाला था.

उसने पीछे मुड़कर देखा और मुस्करा दी। उसने मानो मौन स्वीकृति दे दी थी. इस बार के इन इवेंट्स में कई कॉलेज ने हॉस्टल के खिलाड़ियों को भी बुलाया हुआ था. मॉम को हस्त मैथुन करते देख कर मैं भी गर्मा गया और अपने लंड की मुठ मारने लगा.

आगे की सेक्स कहानी को मैं अगले पार्ट में लिखूंगा, तब तक आप सभी अपने विचार ओर कॉमेंट मुझे मेल करें.

नई हिंदी बीएफ वीडियो: मुझे लगने लगा कि कहीं मेरा संयम इसके मुँह में ही न टूट जाये।अरे कहीं मेरा वीर्य तुम्हारे मुँह में ना निकल जाए. थोड़ी देर बाद मैंने उनकी आंखों में झांका तो अंकल का ब्लडप्रेशर हाई हो गया था, लंड वापस खड़ा होने की गुंजाइश नहीं दिख रही थी.

पांच मिनट तक मैंने उसके दोनों बोबों के ऊपर सिर्फ हाथ घुमाया, लेकिन बोबे दबाये नहीं. विपिन बोला- तो क्या हुआ … आपको मजा भी तो आया ना!मैंने कहा- हां ब्रो सिस फक़ में मजा तो बहुत आया. आप विनीता दीदी वाली बात बताओ ना?नेहा- जाने दे ना यार, फालतू में सुबह सुबह गर्म कर रही, कल रात से आग लगी हुई है … तू और भड़काने पर तुली है.

अब मैंने चाची को नीचे लेटाया और उनकी दोनों टांगों को अपने कंधों पर रख कर उनकी चुत की दरार में लंड लगा दिया.

उसके बाद अपने घर जाने के लिए मैं मामी से इजाजत लेने गया, तो मामी ने अगली दोपहर में मुझे आने के लिए आदेश दिया. आज सही समय लग रहा है मुझे क्योंकि मुझे पता था आज तुम्हारी मम्मी तुम्हारी मौसी के घर जाएगी और तुम घर पर अकेले होंगे. प्रियंका- आह जीजू … आज तो मार ही डाला आपने आह लगे रहो मेरे जालिम जीजू … आह आज अपनी साली की चुत का भोसड़ा ही बना दो.