बीएफ बीपी फिल्म

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बड़े बड़े लंड

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी पिक्चर देना: बीएफ बीपी फिल्म, उसके पापा ने दूसरी शादी कर ली थी, पर जो उसकी नयी मम्मी हैं, वो श्वेता को तो पसंद करती हैं, पर नेहा को पसंद नहीं करती हैं.

सेक्स व्हिडिओज सेक्सी व्हिडिओज

राजेश ने कहा- शर्माओ नहीं जान … आज तुझे जन्नत का नजारा दिखाएंगे, हम दोनों तेरी अच्छी से चुदाई करेंगे. होली सेक्सी होली सेक्सी होली सेक्सीएक पल बाद फोन कटने की आवाज आई और मैं आंख बंद करके उस जानलेवा शै को याद करने लगा.

खैर … मुझे इस चीज़ की कोई टेंशन नहीं थी क्योंकि आज तो वैसे भी में लवी के साथ किस से कुछ ज़्यादा करने के मूड में था. क्या तुम सेक्सी देखती होमुझे तो पता चल गया था कि मेरा प्लान काम कर रहा है और चाची सेक्स के लिए गर्म हो रही हैं, लेकिन बोल नहीं पा रही हैं.

उन्होंने कहा- ये झटके ले रहा है … सामान्य अवस्था में ये झटके नहीं लेता है.बीएफ बीपी फिल्म: सर मुझे देखकर यही सोच रहे थे कि मैंने आज शर्ट नहीं पहनी है लेकिन वो कन्फर्म नहीं कर पा रहे थे.

सोनाली अपने दोनों हाथों से मेरे सर को सहलाते सहलाते पीठ और कमर को भी सहला रही थी.स्कूल की बारहवीं कक्षा की छात्रा सीमा को पेशाब लग आई थी तो वह बाथरूम में चली गई थी.

एक्स सेक्सी गेम - बीएफ बीपी फिल्म

उसने मुझसे मिलने से मना कर दिया, वो मेरे साथ रात में रुकने के लिए भी नहीं मान रही थी.जैसे जैसे मैं ऊपर जाता गया, उनकी टांग की मांसपेशियाँ मुलायम होती जा रही थी.

अन्तर्वासना Xxx हिंदी कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपना परिचय दे देता हूं. बीएफ बीपी फिल्म हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी अपनी स्वाति एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में स्वागत करती हूँ.

उसको देख देख बेचैनी बढ़ती जा रही थी, पर मेरी पुकार सुन ली गई, ज्यादा दिन इन्तजार नहीं करना पड़ा.

बीएफ बीपी फिल्म?

उधर से हज़ीरा की आवाज आई- आप ठीक कह रहे थे डार्लिग … आह आह सी सी … और तेजी से धक्का मारिए आह मेरी चुत फाड़ दीजिए. मैंने उनकी कमर को पकड़ा और जोर जोर से उन्हें ऊपर नीचे करते हुए धक्के लगा रहा था. वाइफ एक्सचेंज सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि दो कपल्ज़ ने मिल कर आपस में पति अदल बदल के और ग्रुप सेक्स का मजा लिया.

इतनी देर हुई चुदाई से उनकी हालत खराब हो चुकी थी, वो अब चिल्ला भी नहीं रही थी, बस टांगें चौड़ी करके चुदाई का मज़ा ले रही थी।फिर थोड़ी और चुदाई के बाद उनके शरीर ने ज़वाब दे दिया और उन्होंने मुझे जकड़ लिया. सुबह उठ कर एक एक बार फिर से चुदाई का मजा लिया और अपने अपने कपड़े पहन कर अपने अपने घर निकल गए. तो पहले तो हमने अपना केक काटा … एक दूसरे को बहुत सारी पप्पियाँ दी।केक काटने के बाद उसने मुझे अपनी बांहों में उठाया और बेड पर ले गया.

इतने में भाभी के घर की बेल बजी और मैंने झट से लौड़ा पैंट में कर लिया. भाभी हंसती हुई बैठ गईं और बोलीं- आ जा मेरे शेर, अब तेरे लंड को भी प्यार कर लेती हूँ. नमस्कार दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का एक पुराना पाठक हूँ और यहां की सभी सेक्स कहानियां बड़े चाव से पढ़ता हूँ.

मेरे कुतिया बनते ही अंकल ने अपने लंड को मेरी कुंवारी चुत पर सैट किया और धीरे से धक्के लगाते हुए लंड को चुत में डाल दिया. उसने कहा- मैं नीचे रखकर और मां, पिताजी से बोलकर आती हूँ कि हम दोनों खेत में जा रहे हैं.

अब मैंने चाची को अपने तरफ किया और बोला- आप तो बहुत तेज़ हो, चुपके चुपके मज़े ले रही हो.

भाभी मना कर रही थी लेकिन मुझे तो उनकी चूत चोदने का जोश चढ़ा हुआ था.

फिर वो एकदम से जोर से चीख पड़ीं- आ मर गयी बाबू …वो तीसरी बार कांपती हुई टांगों से झड़ गईं. फिर मैंने भाभी को लिप किस की और अपनी पैंट की ज़िप खोल कर अपना लंड निकाल लिया. फिर जब वो बाहर आतीं, तो शायद उनको पता चल जाता कि मेरा लंड टाइट हो गया है और भाभी मुस्कुरा कर अपने रूम में चली जाती थीं.

फिर जब मैंने उसकी आखों में देखा तो ऐसा लग रहा था जैसे वो काफ़ी टाइम से सेक्स की भूखी हो. मैंने कहा- हां बोलो न भाभी … क्या काम करना है?भाभी बोलीं- आज मेरी पीठ पर तुम साबुन लगा देना … काफी दिनों से मेरी उसमें बड़ी खुजली हो रही है. शायद इसमें उनकी हां थी तो मैं धीरे धीरे उनके एक दूध को मसलता रहा … और वो गर्म होती गईं.

इतना कहकर पोर्न भाबी ने मेरी तरफ मुँह करके अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी.

जैसे ही मैं उनकी जांघ को हाथों से दबाया, कसम से मेरे रोम रोम में बिजली कौंध उठी. सोनाली चौंक कर बोली- इधर कैसे होगा?मैंने उसकी चूचियां चूसते हुए कहा- तुम देखती जाओ और मजे ले लो. मैंने उसे ज़ोर से हग किया तो उसके चुचे मेरी छाती पर गड़ गए और मजा आने लगा.

उन्होंने आंख दबाते हुए कहा- मेरा कोई इरादा भी नहीं है अपने देवर से छूटने का … आ जाओ सब साफ़ सफाई मिलेगी. उस टाइम पापा बिजनेस के सिलसिले में कहीं बाहर गए हुए थे और हम तीनों का प्रोग्राम मौसी के यहां जाने का बन गया. मैं उसके जिस्म पर जीभ फिराने लगा, जिससे वो गर्म आहें भरने लगी, उसकी हल्की हल्की मादक आवाजें निकलने लगीं.

मुझे लगने लगा था कि अब हम लाइफ टाइम इसी तरह रिलेशनशिप में बने रहेंगे.

मैं उसको देखना चाहता था, उसके चेहरे पर पूर्ण होने के भावों को पढ़ना चाहता था. अब आगे सेक्स चेंज स्टोरी:प्रकाश की बीवी को वापस आने में अभी एक दिन बाकी था.

बीएफ बीपी फिल्म मैं- कल आप चली जाओगी, आज की रात ही मेरे पास अपनी इस जवानी की आग को बुझाने के लिए हो … और दी आप ही मेरी मदद कर सकती हो मेरी इच्छा पूरी कर दो प्लीज़. मैं उसकी चूत के साथ खेलने लगा; उस पर हाथ फेरता रहा।दो-तीन मिनट बाद मुझे बीयर का सुरूर महसूस होने लगा।अब मैंने उसकी चूत पर किस किया क्योंकि मुझे शराब के नशे में चूत चाटने में मजा आता है.

बीएफ बीपी फिल्म सरिता ने अपना भीगा हुई गाउन समेट लिया और मेरे लंड को पौंछकर साफ कर दिया. [emailprotected]इंडियन देसी गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:रिश्ते में बहन के साथ सेक्स सम्बन्ध- 2.

क्या तुम दोनों एक कुंवारे लड़के का इंतज़ाम कर सकते हो? प्रकाश अच्छा इनाम देगा.

बीएफ सेक्सी लड़कियों की

रात भर लगातार ये लोग मेरी चुत का भोसड़ा बनाते रहे और मैं बिना कुछ बोले इनके नीचे पड़ी चुदती रही. मैंने वंश को मैसेज किया और उसे बुला लिया- घर खुला छोड़ा है, अन्दर से लॉक करके नंगा होकर बेडरूम में आ जाना. मैंने उसका हाथ अपने सीने पर रह दिया तो वो मेरे निप्पलों से खेलने लगी.

दीदी की चूत के छेद पर मैंने अपना लंड लगाया और एक हल्का झटका दे दिया. वेदिका- ये क्या किया तुमने … कितने गंदे हो तुम! तुमने मेरी पैंटी में सेक्स किया?मैं शर्म से बिना कुछ बोले खड़ा था. मैंने यहां गणित और रसायन विज्ञान की तैयारी के लिए एक कोचिंग में दाखिला ले लिया.

फिर एक दिन मैंने उनसे कहा- भाभी, आप उन तीनों को बुलाकर एन्जॉय कर लिया करो, आपके तो हस्बैंड वापस नहीं आए हैं.

उससे पता चला कि वो कल रात में ही आया था और उस लड़की के साथ ही रुका था. पता नहीं क्यूं आज मुझे जल्दी नींद आ गयी।आज मौसी मां दीदी के साथ सोई ताकि रात को उनकी देखभाल हो सके।आपको मेरी Xxx गन्दी बात कैसी लगी? मेरे ईमेल कर जरूर बताइएगा क्योंकि आगे की कहानी आपकी रूचि पर निर्भर करेगी।आपका प्यार ही आगे लिखने को प्रेरित करेगा।[emailprotected]. मैंने उसका चेहरा ऊपर किया और कहा- जो काम उधर सड़क पर अधूरा रह गया था, उसे पूरा करना भी तो ज़रूरी है.

जब भी मैं भाभी को यूं देखता, तो मेरा लंड खड़ा हो जाता और मुझसे रहा नहीं जाता था. वो मेरे लंड से अपनी चूत और गांड रगड़ ले रही थी, तो उसकी चूत गीली होने लगी थी. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने अपना एक हाथ उनकी जांघ पर रख दिया और सहलाने लगा.

उसे मैं किस करने लगी और वो नीचे से मेरी चूत में अपना लौड़ा तेजी से आगे पीछे करने लगा. प्रकाश ने गैस को बंद कर दिया और उसने सोनम को किचन की स्लैब पर झुकाकर पैर फैला दिए और उसे झुकने को कहा.

उसमें भी एक बार ही कर पाते है, अब उनमें आपके जैसा जोश कहाँ ससुर जी।ससुर जी का लन्ड खड़ा होने लगा था- बहू, अगर तुझे कुछ भी चाहिए तो मुझसे बोलना मैं तुझे दूँगा।मैं- अब एक जवान औरत को क्या चाहिए होता है, आपको तो पता ही होगा।यह बोल मैंने ससुर जी का लन्ड धोती के ऊपर से ही पकड़ लिया. शब्बो की कामुक सिसकारियां वीरू को और उकसा रही थीं, उसका लौड़ा अब शब्बो की चूत में घुसने को बेताब था मगर शब्बो की गीली नंगी चूत से निकल रहा रस वीरू को उसकी चूत को लगातार चाटते रहने के लिए मजबूर कर रहा था।उसने अपनी जबान को उसकी चूत के पूरे अंदर तक धकेल दिया और भूखे भेड़िये की तरह वो उसकी चूत का पानी पीने लगा. पर आप सब लोग तो जानते ही हैं कि जब हवस का नशा चढ़ता है तो आगे पीछे का कुछ दिखाई नहीं देता.

मेरे नंगे मम्मों को देखते ही अंकल की स्पीड थोड़ी बढ़ गई और वो निप्पल और बूब्स को जोर से मसलने लगे थे.

उसने आधे सुपारे तक लंड बाहर निकाला तो उसकी चूत से गर्म चुतरस बहकर मेरे पूरे लंड को नहलाने लगा था. अभी मैं कुछ कहता कि अक्की ने कहा- क्या सोच रहे हो?मैंने उससे कहा- कुछ नहीं, मूवी देखने चलेगी?उसने कहा- आज नहीं, फिर कभी चलूंगी. उसने पारुल को पीछे से पकड़ कर झुका दिया और बोला कि आज तो तेरी चुत पीछे से चोदूंगा.

सोनाली ने घड़ी देखी, तो घड़ी में पांच बज गए थे- हर्षद अब मुझे नीचे जाना पड़ेगा. मैंने एक हाथ की हथेली से उसके निप्पल को सहलाना शुरू कर दिया और दूसरे हाथ से कभी उसकी नाभि से खेलता, तो कभी चुचे को दबा देता, तो कभी जींस के ऊपर से ही उसकी चूत को प्यार से सहला देता.

रीता- सभी जीजू अपनी सालियों के साथ ऐसे ही करते होंगे, जैसा आपने किया. फूफा जी ने अपना लंड, जिसे मैं अब तक देख भी ना पाई थी, उसे मेरी चुत पर रगड़ने लगे. थोड़ी देर बाद उन्होंने मेरी गांड से उंगलियों को निकाला तो मुझे मेरी गांड थोड़ी खाली खाली सी लगने लगी.

छोटी वाली बीएफ

हमने नंगी रहकर ही मैगी खाई।9 बजे तक हम ऐसी ही नंगी रही और एक दूसरी के कभी जिस्म से खेलती, कभी किस करती, कभी एक दूसरे को चाटती।तब हम दोनों तैयार हुई और मुकेश को फ़ोन लगाया।मुकेश की ओर से साफ सिग्नल मिलते ही हमने 10 मिनट तक आपस में किस किया और फिर सीमा मुकेश की दुकान पर चल पड़ी।सीमा के पीछे पीछे कुछ दूरी पर मैं थी.

पांच मिनट बाद रमेश सर ने कहा- मेरी लैला, मेरी जान … अब तुम जमीन पर लेट जाओ … तुमको आराम मिलेगा. कुछ देर उसे ऐसे ही दर्द देने के बाद में रुक गया और उससे अपने लंड के ऊपर आने को बोला. एकदम से लंड घुसा तो उसकी तेज चीख निकल गई- आंह मर गई अम्मी … फट गई मेरी.

मैंने भी मौके का फायदा उठाया और उसकी टांगें खींच उससे अपने ऊपर ले लिया. बचपन में मेरे माता पिता की मृत्यु हो गई थी, तब मैं दुधमुंहा बच्चा था. सेक्सी फिल्म 2015 कीमेरी जिया दीदी स्टाइलिश हॉट लड़की होने के साथ साथ मॉडर्न ख्यालत वाली हैं तो मैं उनके साथ खुलकर बात कर लेता था.

मैंने उसे अपने लिए कपड़े चुनने को कहा लेकिन उसने मुझे अपनी पसंद का कपड़े लेने को कहा. ये मेरी देहाती सेक्स की कहानी अपने दोस्त राजेश की सैटिंग के साथ की है जिसकी मैंने चुदाई की थी.

मैंने उसके करीब जाकर उसके कंधे को छुआ और कहा- तुम्हारी दीदी ने पुछवाया है. मेरी चुदाई Xxx कहानी मेरे ऑफिस के दोस्त के साथ मेरे पहले सेक्स की है. मैं पूरे जोश में शॉट मार रहा था कि तभी मेरे लंड ने भी पानी की पिचकारी छोड़ दी.

वो मुझसे थोड़ा गैप बना कर बैठी थी और उसने कुछ पकड़ा हुआ भी नहीं था, तो उसे झटका लगा. अब अंजलि भाभी मुझसे बोलीं- कैसी लगी मेरी बहन?मैं बोला- बहुत सुंदर और मस्त है साली. और हां वो ईमेल के जरिए मेरी इस देसी हॉट गर्ल्स कहानी को अपना प्यार देना न भूलना.

मैं दिल ही दिल में ऊपर वाले को धन्यवाद बोलने लगा कि इसे मेरी लाइफ में भेजने के लिए आपका शुक्रिया मालिक.

जैसे ही उसने मुँह खोला, मैंने उसमें थूक दिया और मुँह से मुँह लगा कर चूसने लगा. दिनकर ने भी सुम्मी की चूचियां और गांड जोर जोर मसलना शुरू कर दी थीं.

उनके पलंग के ऊपर एक तेल की शीशी रखी थी, मैंने हाथ बढ़ा कर उन्हें दे दी. क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैं अम्मी से बोला- तुम हो, बहनें भी हैं. मैंने पूछा- क्यों ठीक नहीं समझा?वो बोली- अरे यार मैं ज्यादा कुछ पूछती तो मम्मी को शक नहीं हो जाता कि मैं ज्यादा क्यों पूछ रही हूँ.

इस सेक्सी गर्ल पोर्न स्टोरी की शुरूआत तब होती है जब मैं स्कूल में पढ़ता था. मैंने उनके मम्मे दबाकर चूसना चालू किया ही था कि मामी भी चालू हो गईं. थोड़ी ही देर में मैं आहिस्ता आहिस्ता अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा, तो चूतरस बाहर निकल कर हम दोनों की जांघों पर बहने लगा.

बीएफ बीपी फिल्म मैं समझ चुका था कि मेरी दीदी यानि कोमल भी आज इससे चुदाई कराने के मन बना चुकी है. अपने एक हाथ को मैं उसकी छाती पर फेरने लगा, जिससे वो और भी ज़्यादा गर्म हो गई थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो भोजपुरी में

जवानी में उनके चले जाने से सासू माँ काफी आहत हुई थी मगर उन्होंने खुद को किसी तरह सम्भाल लिया क्योंकि ससुरजी का बिजनेस चल रहा था तो पैसे की परेशानी नहीं हुई. वह धीरे धीरे मेरे हाथों की उंगलियों को अपने हाथों की उंगलियों में डालकर मेरे हाथ से खेलने लगा. हसित के दोनों हाथ रीना के मम्मों पर थे और रीना के दोनों पैर हसित के कंधों पर थे.

कुछ देर किस करने के बाद मैंने मिरर में देखा तो उसने जो लाइट पिंक कलर की लिपस्टिक लगाई थी वो उसके होंठों से मेरे होंठों पर आ गई थी. वो बोली- ठीक है, आज मैं घर जरा देर से आ पाऊंगी क्योंकि आज स्कूल में मीटिंग है. सेक्सी ब्लू वीडियो ब्लू फिल्मफिर मैंने उसके बड़े बड़े मम्मों को अपने मुँह में रगड़ा और एक को मुँह में लेकर चूसने लगा.

उसने एक पल बाद रीना को अपने ऊपर ले लिया और रीना की ब्रा के हुक को खोल कर उसकी पीठ पर हाथ चलाने लगा.

उसने बताया कि तुमने अपना फोन नम्बर फेसबुक की प्रोफाइल में डाल रखा है. देसी आंटी की चुत चोदी गांव के एक चोदू लड़के ने! वो शहर में पढ़ने आया तो कमरा किराये पर लिया.

जो मैं आपको बताकर कहानी का लुत्फ खराब नहीं करना चाहती।ऐ रीटा! चल न हमारे मिलने की खुशी में कोई डेरिंग टास्क करते है।” जब मैं रसोई में नंगी ही सुबह की चाय बना रही थी तब पीछे से मुझे पकड़े हुए सीमा ने कहा. मुझे और जोश आ गया और मैंने अपना लंड सुपारे तक बाहर निकाला और जोर से अन्दर पेल दिया. मेरे हाथ के ऊपर अभी भी विलियम का हाथ था और मेरे हाथ से विलियम अपनी पैन्ट के ऊपर से कड़क लंड पर टच करवा रहा था.

उसने उन उभारों पर स्किन प्लास्टिक लगा कर बिल्कुल बूब्स से बना दिए और मेकअप और विग लगा मुझे लौंडियों वाले कपड़े पहना दिए.

मैंने सोनाली से पूछा- तुम ठीक तो हो ना सोनाली?तो सोनाली मुस्कुराकर बोली- हां मैं ठीक हूँ. मैं अपने को गांड मराने का एक्सपर्ट बहुत हसीन मानता था, अब भी मानता हूं … पर मैं उसे अपने को दोनों बातों में कमतर समझ रहा था. मैं उनके ऊपर लेट गया और उनके कोमल बदन पर होंठ फिराने लगा, फिर से उनकी एक चूची पर मुँह रख कर चूसने लगा.

हॉट सेक्सी वीडियो 2020 का[emailprotected]क्यूट भाभी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बस स्टॉप पर एक भाभी से दोस्ती और प्यार- 5. जब सोनम ने प्रकाश के खड़े लंड की लंबाई और मोटाई देखी, तब उसे समझ में आया कि उसे गांड मरवाने में इतना दर्द क्यों हुआ.

चोदने वाला सेक्सी वीडियो दिखाइए

मैंने लंड उसकी चूत की फांकों में फंसा दिया और एक जोरदार धक्का लगा दिया. कुछ पल बाद वो थक कर मेरे ऊपर लेट कर बस मुझे देखती रही, मेरे सीने पर सर रख अपने हाथों से मेरे सीने को सहलाने लगी. दोस्तो, मेरा नाम सैम है और मैं आपको अपनी और मेरी दीदी की सेक्स कहानी बता रहा था.

फिर वो मेरे ऊपर आ गई और उसने अपने हाथों से मेरा लौड़ा अपनी चूत की फांकों के बीच पर सैट किया और बैठ गई. उसकी चूत बिल्कुल ही गीली हो चुकी थी और वह मेरा लंड अपनी चूत में डलवाने के लिए उत्तेजित हो गई थी. मैंने सोचा कि 4 दिन तो कुछ होना नहीं है, एक बार ट्राई और कर लिया जाए.

हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी अपनी स्वाति एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी में स्वागत करती हूँ. मैंने कहा- क्या मतलब?मौसी- अभी तुम अपने उसमें झटके मार रहे हो … और मुझे देख रहे हो. उन दोनों का एक बेटा भी है, जो उस समय अपने नाना नानी के घर रह कर पढ़ रहा था.

मैं तो जैसे स्वर्ग मैं था क्योंकि सुबह नौ बजे से शाम के सात बजे तक हम लोग अकेले ही होते थे. ये मेरी देहाती सेक्स की कहानी अपने दोस्त राजेश की सैटिंग के साथ की है जिसकी मैंने चुदाई की थी.

उन्होंने फोन पर कहा- हां, एक रांड चोद रहा हूँ … हां हां तुम्हें भी मिलवा दूंगा … पहले मैं तो मजे ले लूं.

पति ने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और बेड के ऊपर सीधा पीठ के बल सो गए. मां को चोदा बेटे ने सेक्सी वीडियोसिर्फ़ महीने के माहवारी के कुछ दिन छोड़ कर अब हर दोपहर और रात को हम दोनों एक दूसरे से अपनी प्यास बुझाते थे. अलका कुबल सेक्सीमैंने उसको पीछे से पकड़ लिया और उसके बड़े बड़े चुचों को हाथों में भरकर मसलने लगा. मेरे आते ही सूरज ने पूछा- माल कैसा लगा?मैंने मुस्कुरा कर कहा- मस्त था.

मैं भी अभी भी आंखें बंद करके लेटी हुई थी और विलियम सोच रहा था कि मैं अभी भी सो रही हूं.

उन्होंने अपने दूध अपनी टांगों में छिपा रखे थे और पीठ पूरी खोल दी थी. वह कह रही थी- पहले मुझे चोदो, फिर मेरी अम्मी चोदना। आज तो है नहीं … तुम कल ही मेरी अम्मी चोद पावोगे। कल चोदना और मेरे सामने चोदना. विशाल ने रवि के कंधों पर घोड़ा गाड़ी बांध दी, रस्सी का लगाम उसके मुँह में लगा दी गई.

प्रकाश ने सोनम को पीठ के बल लिटाकार उसके पैर उसकी छाती की तरफ किए और कहा कि अपने घुटनों को पकड़कर रखो. कुछ देर बाद मेरे प्यारे पति का लंड मुरझाकर मेरी गांड से बाहर आ गया था और इसी के साथ उनका वीर्य भी बहकर बाहर आकर मेरी चुत के ऊपर से बहकर पति के आंडों पर गिरने लगा. फिर मैंने उनको गोद में उठाकर उनके बिस्तर पर पटक दिया और उनकी ब्रा भी खोल दी.

बिहार बीएफ

पूरा लंड अन्दर पेल कर मैं कुछ पल रुकता और जब वो थोड़ा संभलती, तब वापस बाहर निकाल कर तुरंत धक्का मार देता. जब मैं उनके घर गया तो मेरा उनके लिए किसी तरह का कोई बुरा इरादा नहीं था. सरिता ने मेरे हाथ पर अपना कोमल हाथ रखकर कहा- हर्षद, तुम बहुत हैंडसम हो.

कुछ पल बाद चाची बोलीं- दक्ष, अब चोद दे मेरी चूत को … मुझे और मत तड़पा.

मैं आज आपको मेरी साथ कुछ दिनों पहले घटित हॉट देसी भाभी सेक्स कहानी बता रहा हूँ.

उसकी चुत को देखते ही मेरे मुँह से आहह निकल गई और मेरी आवाज़ से उसकी आंख खुल गयी. मैं अपने लंड को भाभी के कपड़ों के ऊपर से ही उनकी चुत पर रगड़ने लगा और किस करता रहा. सेक्सी देहाती चोदने वालायदि किसी की इमेज से आप तुलना करना चाहें तो मैं अलीना डिक्रूज की तरह दिखती हूँ.

कोमल के मम्मों की साइज बहुत मस्त थी और मोनू उन्हें लगभग नौच रहा था. वह थोड़ी सी शर्मा गयी।तभी प्रार्थना की घंटी बज गयी।मैंने आधी छुट्टी के वक्त अपने दोस्तों से अलग होकर उससे मिलने की सोची और फिर मैंने उसको चुपके से पर्ची में सारा प्लान बता दिया. चूंकि मैं बहुत ज्यादा उत्तेजित था तो जल्द ही उसके मुँह में झड़ गया.

फूफा जी ने अपना लंड, जिसे मैं अब तक देख भी ना पाई थी, उसे मेरी चुत पर रगड़ने लगे. वहां पहले से ही उसकी लग्जरी टूरिस्ट बस होटल के गेट के आगे लगी हुई थी जिसमें काफी विदेशी पर्यटक अपना सामान रख रहे थे और होटल से चेक आउट कर रहे थे.

अब आगे ब्रदर वाइफ सेक्स कहानी:उस बात के दस दिन बाद मुझे छोटे भाई का सुबह आठ बजे फोन आया कि आज शाम का खाना उसके यहां होगा.

मैं वहां से उठ कर अम्मी के सर के पास आ गया और अपना लंड अम्मी के मुँह के पास रख दिया. साले पहले दिन तो रहम करता, अब तो अगले कई साल तक मैं तेरी रंडी हूँ, जब मन करे तब चोद दियो. उसके ऑफिस में उसके साथ ही काम करने वाले एक लड़के जयदीप ने उसे पटा लिया और शादी कर ली.

गूगल सेक्सी वीडियो भेजो ना लेकिन उस दवाई से मुझे बहुत ज्यादा दर्द हुआ और मुझे बहुत ज्यादा पीरियड्स होने लगी. प्रकाश ने सोनम को लिटाकर बांहों में भर लिया, उसके गाल, होंठ, गर्दन चूमने लगा.

मैंने उसको बताया कि मेरे पति का टूर एंड ट्रैवल्स का बिजनेस है क्योंकि मुझे झूठ बोलने से ही यह सीट मिली थी. अम्मी ने मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ कर अपनी चुत के छेद पर रख लिया. लेकिन उस दवाई से मुझे बहुत ज्यादा दर्द हुआ और मुझे बहुत ज्यादा पीरियड्स होने लगी.

इंडियन भाई बहन सेक्सी वीडियो

मेरा मन कर रहा था कि मैं ही अपना लंड दीदी की चूत में डाल दूं और उसकी चूत की प्यास मिटा दूं. एक दो बार कोशिश करने के बाद भी लंड का सुपारा प्राची की गांड में नहीं जा रहा था. पाठक मुझे ईमेल पर मैसेज भी कर सकते हैं[emailprotected]हॉट सिस्टर की सेक्स कहानी का अगला भाग:जीजू दीदी को पति वाला सुख नहीं दे पाए- 2.

सुबह मैंने जानबूझ कर उससे पूछा- कौन है वो लकी ब्वॉय?उसने हंसने वाली इमोजी भेज कर जवाब दिया कि वो तुम ही हो. मैं- नहीं दीदी, रात में पढ़ना होता है इसलिए इस टाइम कम ही खाता हूं.

इतनी रात में मैंने ये फ़ैसला टाल दिया क्योंकि देहरादून की बस बाईपास से निकल जाती है और रात में कोई साधन नहीं मिलता है.

विशू बोला- तो क्यों रोक कर रखा है इनको … जाने दे अब!उसने कहा- अरे एक एक डबलरोटी वाला राऊंड मार लेते हैं, बहुत दिन हो गए हैं. भाभी को भी गर्मी चढ़ने लगी और अब उन्होंने हल्की हल्की सिसकारियां भरना शुरू कर दीं. अंकल ये सब बहुत प्यार से कर रहे थे जैसे उनको कोई जल्दबाजी ही नहीं हो.

दीदी की चुदाई करते हुए मुझे अलग सा अहसास हो रहा था, जिसको शब्दों में बयान करना थोड़ा मुश्किल है. उसके ऊपर चढ़ कर मैंने उसके होंठों पर एक प्यारी सी किस दी और उसी पल मैंने अपने लंड के टोपे को उसकी गांड पर रगड़ दिया. भाभी- तेरे भैया का बहुत छोटा लंड है … इसलिए तेरा ये मोटा लंड मेरी चूत में नहीं घुस पा रहा है.

इस बार मेरी कामुक आवाजें काफी जोर जोर से निकल रही थीं और मुझे असीम आनन्द आ रहा था.

बीएफ बीपी फिल्म: मैं तुरंत अपने परिचित के होटल में गया और रूम बुक किया।फिर होटल के स्टाफ को पैसे देकर कुछ खाने पीने का सामान मंगवाया।मैं रीना को लेकर रूम में चला गया और रूम को बन्द कर लिया. यार साड़ी पहनने वाली स्नेहा वेस्टर्न ड्रेस में, वो भी इतनी गजब … मैं चमत्कृत था.

वो बोली- तेरा इरादा क्या है?मैंने कहा- यहां किस करके बताता हूँ कि मैं भी कितना हॉट हुआ पड़ा हूँ. मैं अभी मीनाक्षी की चूचियों को घूर ही रहा था कि उसने मुझे टोक दिया- क्या देख रहे हो नवीन?मैं झेम्प गया और हम दोनों बातें करने लगे. आपको मेरी सेक्सी मौसी की चुदाई हिंदी कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं.

हम सभी प्लान के अनुसार चल रहे थे, अनिकेत भैया को कुछ बताया नहीं था.

इधर इस सबको लिखने का सबब ये था कि मैं अपनी बीवी के इस प्यार की वजह से एक अति कामुक आदमी हो गया था. इतना कहकर आंटी ने मेरी पैंट की जिप खोल दी और अपना हाथ अन्दर डालकर मेरे लंड को बाहर निकाल लिया. मैंने अपनी जीभ से ही उसकी पैंटी की इलास्टिक को हटाने की कोशिश की, जिससे मेरी जीभ ने उसकी चूत की ढलान को पूरी तरफ से चल कर माप लिया था.