कॉलेज की बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,किन्नर सेक्सी पोर्न

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चुड़ै फिल्म: कॉलेज की बीएफ हिंदी, तभी मैंने देखा कि आंटी ने कुछ देर बाद अपनी नाइटी ऊपर उठा ली थी और वे मोबाइल में कुछ देख रही थीं.

मारवाडी देसी सेक्सी

मैंने पैंट को ऊपर से खोला तो भाभी ने आराम से लंड को बाहर निकाल लिया. जंगल में सेक्स करते हुए सेक्सी वीडियोजब सामने एक नंगी लौंडिया अपने पूरे शरीर पर क्रीम मले हुए मेरे सामने मुस्कुरा रही हो … तो इसमें ज्यादा क्या सोचना था.

मैंने अर्पित को बताया कि नीला को तुम्हारा चूत चाटने का अंदाज बहुत पसंद है. हरियाणा सेक्सी चुदाई वीडियोनीचे स्कर्ट मिनी थी, तो उससे वैसे भी मेरी पूरी टांगें साफ़ दिखती थीं.

बस मैंने मम्मी से पूछा कि मुझे स्विमिंग सीखनी है … ये एक पंपलेट निकला है … क्या मैं इसे ज्वाइन कर लूं?मम्मी ने भी हां कर दी.कॉलेज की बीएफ हिंदी: आंटी लंड चूसने लगीं और मेरा रस अपने मुँह में लेकर उसे मेरे लंड पर ही लगाने लगीं.

कम्बल हटते ही उनकी नजर मेरे खड़े हुए लंड पर पड़ी, जो लुंगी के अन्दर तंबू बनाए हुए था.फिर उन्होंने अपना लंड निकाल कर अपना सारा माल मेरी नाभि पर उड़ेल दिया और हांफते हुए एक साइड लेट गए … मैं भी वासना के वशीभूत होकर हांफने के बाद थक कर सो सी गई.

प्लास्टिक की सेक्सी - कॉलेज की बीएफ हिंदी

इसलिए मैं उनके ऊपर आ गया और पहले पैरों को लंड से सहलाते हुए ऊपर की ओर बढ़ने लगा.इस हिंदी सेक्सी लव स्टोरी में पढ़ें कि मेरी साली फ्रंट ओपन नाइटी में बिस्तर पर लेटी थी.

मैं उनको बता दूं कि मैं कोई रांड नहीं हूँ, जिससे मेरा मन करता है, मैं उसी से सेक्स करूंगी. कॉलेज की बीएफ हिंदी तब जुनैद ने मेरे मुँह से अपना मुँह हटा कर मुझे नशीली आंखों से देखा और लंड आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

उस रात हमने सबको जिम से जल्दी रवाना कर दिया और जिम 10 बजे ही अन्दर से बंद कर दी.

कॉलेज की बीएफ हिंदी?

लेकिन भैया कहाँ मानने वाले थे, भैया बोले- मेरी जान, मना मत करो।दोस्तो, वैसे तो भाभी हमेशा घर में साड़ी या सलवार कमीज़ सूट पहनती हैं क्योंकि सब लोग होते हैं. वह अपने कमरे में चली गई और मैंने सीढ़ियों में नीचे जाकर नीचे के दरवाजे की कुंडी खोल दी और ऊपर आकर अपने कमरे में सो गया. और फ़ोन कट कर दिया।अब मैं हर तरफ से निश्चिंत थी।मैं आईने के सामने गयी और एक एक करके अपने सारे कपड़े उतार दिए और खुद के नंगे बदन को आईने में घूर रही थी। सच कोई भी मर सकता था मेरे इस हुस्न के लिए। बिना कपड़ों के मैं किसी भी पोर्न एक्ट्रेस से ज्यादा हॉट लग रही थी.

कल फिर मिलता हूँ, मेरे गांडू भाइयों आपकी गांड में चुनचुनी हो रही होगी. देसी गांड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने ऑफिस की लड़की की गांड मार रहा था. तब अम्मी उस पर चिल्ला कर बोलीं- तुम दोनों सगे भाई बहन हो, तुम्हें शर्म ही आती है या नहीं!मेरी बहन बोली- तो आप कौन सी दूध की धुली हैं.

वो बोले- अब चोद दे बेटा, मेरी गांड में डाल दे अपने लंड को। मेरी गांड को पेल पेलकर चोद।फिर वो उठे और दूसरे कमरे से एक क्रीम लेकर आये. जो कोई भी पहले आए, मेरे लिए तो एक जैसा ही है।सोहन बोला- तू मुझसे 3 मिनट बड़ा है, पहले तू चढ़।रोहण ने मेरी टाँगें खोली, और अपना लंड मेरी फुद्दी पर सेट किया. फिर क्या था … थॉमस ने मुझे अपनी गोद उठाया और हम दोनों ऊपर की ओर जाने लगे.

अब तो विलेज गर्ल की कामुक बातें सुनकर मेरा भी लंड खड़ा हो गया था … तो मैंने कहा- मेरा लंड भी खड़ा हो गया है … तुम्हारी बुर में घुसने के लिए. उसके मोटे लंड से मुझे काफी दर्द हो रहा था, लेकिन अंकुश धीरे-धीरे मुझे प्यार से सहलाते हुए अपने लौड़े के टोपे से ही मेरी चुत की मालिश करते हुए उसे अन्दर-बाहर करने लगा.

कुछ देर की चूमाचाटी के बाद मां बोलीं- आह हर्षद मेरी नाइटी, ब्रा, पैंटी निकाल कर नंगी कर दो मुझे.

मेरे पति के न रहते हुए ससुर बहू सेक्स ने ही मेरी चूत की प्यास को शांत किया.

फिर रॉन ने धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करना शुरू किया और नेहा भी आह … ओह्ह … करने लगी. मेरा पेटीकोट इस तरह ऊपर उठ गया कि मेरी जांघों के पीछे वाला हिस्सा उनकी भुजाओं की गर्मी को महसूस करने लगा. इसके बाद एक बार मुझे उसके घर जाने का अवसर मिला, तो मैं उस दिन उसे चोदने की पूरी तैयारी से गया हुआ था.

मैं प्राची भाभी के उभारों के बीच लंड फंसा कर उनके मम्मों को चोदने लगा. हम दोनों ही वैसे तो इस खेल में नौसिखिया थी लेकिन सेक्स करने का बुखार चढ़ा हुआ था कि हमने कुछ भी नहीं देखा. चूत और उसके होंठ इतने गुलाबी थे कि समझ नहीं आ रहा था कि मेरा लंड पहले चूत में डालूं या मुँह में.

मैं समझ गई कि ये अब मुझे चिल्लाने का कोई मौका नहीं देने के मूड में है.

मैंने नाश्ता खत्म किया और चाय पीकर मां को बोला- मैं जरा बाहर जाकर आता हूँ. मुझे विश्वास ही नहीं हुआ कि उस जैसी कमसिन कन्या मेरे साथ चुदाई को राज़ी हो जाएगी. अह्ह्ह उम्म्म ओह याह … फ़क अर्जुन … आःह्ह्ह जोर से पेलो मुझे … उम्म्म!” मैं उसे चूमने लगी।अर्जुन ने मेरे पैरों को पकड़ कर मुझे बेड से आधा झुक जाने को कहा जिससे मेरी कमर के नीचे का हिस्सा बेड के किनारे था.

प्रतिभा ने झड़ने के बाद लगभग पांच मिनट और मेरा साथ दिया … उसके बाद तो उसने ‘मुझे छोड़ दो … रहम करो … बस करो. ये देख कर वो अपनी धोती उठा कर ज़मीन पर सीधा लेट गया और मुझे अपना लंड चूसने को बोला. मेरी तो सांस हलक में अटक गई … ये लड़की थी या बवाल थी- अहह ऊउफ्फ्फ मीईईईईता … आ आ आह चूसो मेरी जान.

उसके बाद मैंने उसे दुबारा बेड पर लेटा दिया और उसके लंड के पास आ गयी.

उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रखा और बोलीं- हर्षद, अभी अगले हफ्ते तुम अपने ऑफिस जाने लगोगे, तो मेरा क्या होगा … मेरे दिन कैसे कटेंगे. बिन्दू मेरी आँखों की ओर देखते हुए मुस्कराई और बड़ी अदा से उठती हुई अपनी गोरी गांड मटकाती हुई फिर बाथरूम चली गई और अंदर से शर्रर … शर्र … शर … पिशाब करने की आवाजें आने लगीं.

कॉलेज की बीएफ हिंदी दुकानदार के पास किसी भी ड्रेस को फिट करवाने के लिए एक टेलर बैठता था. उसने मम्मी की गांड में लंड को लगाया और धक्का लगाया लेकिन लंड फिसल कर बाहर आ गया.

कॉलेज की बीएफ हिंदी मैंने पहले तो शर्म के मारे होंठ नहीं खोले मगर उन्होंने मेरी कमर पर हल्की सी चुटकी काट दी जिससे मेरी सिसकारी निकल गयी और मेरे होंठ खुल गये. आगे क्या हुआ, ये मैं अपनी टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी के अगले भाग में लिखूंगी.

संगमरमर की तरह तराशा हुआ गुरजीत का जिस्म देखकर मेरा लण्ड उछलने लगा.

सेक्सी पिक्चर हिंदी में वीडियो वाली

अनिकेत की चौड़ी छाती मुझे जकड़े हुए थी, जिससे मेरे जिस्म में और आग लग गयी थी. उसकी इस हरकत पर मुझे लगा कि ये सील पैक माल थी क्या? मैंने पक्का करने के लिए लंड बाहर निकाला और देखने पर ऐसा कोई सुराग हाथ नहीं लगा, जिससे लगे कि ये सील पैक थी. उसे बहुत मजा आ रहा था और मेरे चेहरे पे भी मुस्कुराहट आ गयी ये देख के।अब मैंने देर करना उचित नहीं समझा क्योंकि मेरे अंदर भी सेक्स यानि चुदाई की जबर्दस्त इच्छा जाग चुकी थी।इसलिए मैं गुप्प … गुप्प … उसका लंड मुंह में अंदर बाहर करते हुए चूसने लगी.

सिगरेट के कश लेते हुए उन्होंने पूछा- एक बात बता … तू मुझे चोदते हुए दीदी दीदी क्यों कह रहा था?उनके इस सवाल से मैं खांस पड़ा और सोचने लगा कि इन्हें क्या बताऊं कि मैं दीदी को पिछले तीन सालों से चोद रहा हूँ. बड़ी- बड़ी चूचियां, सुंदर नैयन नक्श, मोटी मोटी आंखें, शरीर के ऊपर मलाई जैसी स्किन, लेकिन पति के गंदे स्वभाव और बेमेल शादी से दुखी होकर नेहा ज्यादातर चुप ही रहती थी. जब वो रुक गए, तो मैं बिस्तर पर पेट के बल पसर गयी और वो भी धीरे धीरे झुकते हुए मेरी पीठ पर लेट गए.

आप देखते तो एकदम से उनकी पूरी कमर को अपने हाथों में भर कर उन्हने अपने सीने से लगाने का मन बनाने लगोगे.

रॉबर्ट मेरे पास आया और मेरे गुलाबी होंठों पर उसने अपने काले होंठ रख दिए. दोस्तो, बुर्के की खास बात ये है कि वो हुस्न में अन्दर से चांद सा निखार दे देता है. इसके बाद मैंने एक बार फिर से उसकी चूत चोदी और अपने कमरे में आकर सो गया.

मैंने- फिर?प्रतिभा ने कहा- संदीप, हमने तो सिर्फ खेल रचा था, पर खुशी तुमसे बहुत प्यार करती है … और इस खेल के कारण मैंने अपनी सहेली को धोखा दिए बिना उसकी जिंदगी के दो अहम किरदारों से प्रेमालाप का रास्ता बना लिया. मेरा लंड खड़ा होने के कारण लुंगी में तंबू बन गया था, तो मैंने लंड को नीचे दबाया और ऊपर अखबार लेकर पढ़ने का नाटक करने लगा. मैं रोहन को दिखा दिखा कर आहें भर रही थी और थॉमस भी मुझे बहुत जोरों से चोद रहा था.

मगर उन सभी पाठकों से माफी चाहूंगी क्योंकि मैं सभी से नहीं चुद सकती हूं. स्क्रीन पर आते ही आरूषि मेरी ओर देख कर ऐसे मुस्करा रही थी जैसे कि हम दोनों एक दूसरे को बहुत लंबे समय से जानते हों.

मैंने उनके दो हुक बंद करते हुए अपने लंड को भी हल्का सा उनकी गांड की दरार में सटा दिया. मगर उनकी बातों से मुझे कहीं भी ऐसा नहीं लगा कि उनको हमारे बारे में ज्यादा पता हो. हालांकि चूत में थोड़ा दर्द था, लेकिन सेक्स के मजे के आगे चूत के दर्द का मजा फीका था.

वो दर्द में कराहते हुए बोल रही थी- आआआ अंकल … बहुत मोटा है आपका लं.

मैं चुद कर बहुत खुश थी, पर मुझे बहुत निराशा भी थी कि मैं अनिकेत के लंड को शांत नहीं कर पायी थी. सारा स्टाफ चला गया सिवाय रीता को छोड़ कर। आधे घंटे के बाद रीता फाइल समेट कर रमेश के केबिन में आई और टेबल पर फाइल पटकते हुए गुस्से में बोली- लीजिये आपकी फाइल और मेरी पैंटी मुझे दीजिये, मुझे घर जाना है।फाइल देख कर रमेश खुश होते हुए बोला- घर? घर क्यों, आज तो तुम्हें होटल मूनलाइट जाना है ना?रीता- क्या? होटल? नहीं … आज कोई चुदाई-वुदाई नहीं होगी. तो उन्होंने बताया कि अभी वो सब लोग डॉक्टर के यहां आए हैं और मुझे कुछ देर वहीं पर इंतज़ार करने को बोला.

उसके बाद उसने लंड को खुद ही हाथों में संभाला और अपनी चिकनी चूत पर घिसने लगी. वो जानती सब थी मगर फिर भी अपने पति से पूछ रही थी- कौन है?वो इससे बोले- विशू भैया का फोन है.

मैंने शाजिया को बताया कि रात को तुम्हारे घर में ही चुदाई का मजा लेंगे. अब उसकी चूत मेरे मुँह के सामने हो गयी और मेरा लंड उसके मुँह के सामने था. बीच बीच में दांतों से काट लेता था और जोर का धक्का देकर चूत में लंड को अंदर तक पेल देता था.

हिंदी में हीरोइन की सेक्सी वीडियो

घर आ कर जैसे ही कुच्ची ने कहा कि इतनी देर से हम साथ में हैं, उसका फोन नहीं आया.

मैं उसके विडियोकॉल की निरंतर प्रतिक्षा कर रहा था।प्रभात ने साथ छोड़ दिया, दोपहर निकलने लगी, फिर शाम भी ढलने लगी, रात भी गहराने लगी, पर विडियोकॉल नहीं आया. इससे उसे पता चल गया कि जो आग उसके अन्दर लगी है, वही आग मेरे अन्दर भी लगी हुई है. मुझे इस समय ये बिल्कुल भी नहीं मालूम था कि मेरा बाथरूम कोई इस्तेमाल कर रहा है.

मैंने उसके चेहरे के सामने हाथ हिलाकर पूछा- क्या हुआ? कुछ काम है क्या? ऐसे कहां खोये हुए हो?वो सपने से जागा और बोला- हां, आपसे मिलने ही आया था. बिन्दू को मैंने बांहों में भर कर किस किया और उसे उसके कमरे तक छोड़ कर नीचे की सीढ़ियों के दरवाजा खोल दिया. ब्लू पिक्चर इंग्लिश ब्लू पिक्चर सेक्सीआखिरी बूंद झड़ने तक तक मुझे ऐसा एहसास हुआ, जैसे मैं न जाने कितनी हल्की हो गयी हूँ.

अदिति ने उन्हें पीछे मुड़ कर देखा तो नीला बोली- पीछे क्या देख रही है? तू भी कर, तेरा बॉयफ्रेंड भी तो साथ ही है, मौज कर तू भी. इस बार भी हमारी टीम को हरा के जीत जाओगे।सुनील ने कहा- अगर तुम चाहो तो तुम जीत सकती हो इस बार।मैंने खुश होते हुए पूछा- कैसे?सुनील ने बोला- मैं जिताऊंगा तुम्हें।मैंने आश्चर्य से पूछा- तुम मुझे क्यूँ जिताने लगे?सुनील ने बोला बिना झिझक बोला- देखो सुहानी चौधरी, तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो.

उन्होंने पूछा- कहां रहती हो?तो मैंने बताया कि एक छोटा सा रूम लेकर रहती हूं. बहुत दिनों से जिस बात की बिन्दू को तलाश थी उसकी वह इच्छा आज पूरी हो गई. मैंने पलट कर देखा तो सामने एक खूबसूरत सा चेहरा एक कातिल सी मुस्कान लिए मीता खड़ी थी.

नेहा कहने लगी- रुक जाओ, अभी 10 मिनट में खाना बना लेते हैं, आप बैठो, कहीं नहीं जाना. पर इस बार नसीम ने लंड पर केवल थूक लगा कर गांड मारी थी … क्योंकि बीच पहाड़ी पर क्रीम लाने का कोई साधन नहीं था. उसकी चूत से निकलता रस ये इशारा कर रहा था कि अब उसकी चूत की भी लंड के लिये बेसब्र हो गयी है.

उसके दो मिनट के बाद ही प्रिंसीपल सर भी पीछे से आ गये और मुझे बड़े साहब की छाती पर झुका कर मेरी गांड में लंड को सटा दिया.

माँ की चुत तेरी … सनम बहनचोद!सनम भी बोल रही थी- मेरी जान … मेरे राजू … मुझे चोद. और चोदो … और तेज़ … मजा आ रहा है … और तेज़ और तेज़।सुनील मुझे आहह … आहह … हम्म … हम्म … ये ले साली रांड.

बाहर की दोनों मोटी सतह साफ, अन्दर चूत के छेद के बाहर दो छोटी गुलाब की कोंपलें सी और पिंक कलर का अन्दर का टाइट छेद. बहुत सोचने के बाद मैंने आपको मैसेज किया है, क्या आप मुझसे दोस्ती करेंगे? आप मेरे लिए और मैं आपके लिए अनजान हैं. स्नेहा ने मुझे मैसेज किया, लेकिन मोबाइल ऑफ होने के कारण मैसेज रीड नहीं हुआ … तो उसने मुझे कॉल किया.

कभी तो वो सिर्फ निप्पल चूसता तो कभी मेरा पूरा स्तन मुंह में डाल लेता था. मामी मुझे गरम करते हुए बोलीं- किसकी में पेल रहा है?मैंने कहा- मामी, आपकी चुत में पेल रहा हूँ. मैं और शरद एक दूसरे की तरफ देखकर हंस रहे थे कि हमने किला फ़तेह कर लिया.

कॉलेज की बीएफ हिंदी जब वो अपने क्लाइमेक्स पर पहुंचेगा तभी तो रस छोड़ेगा न!मित्रो, अपने आने वाले पहले बच्चे की खुशी तो मुझे भी बहुत थी. तो उसने बोला- आप किस साधन से आई हो आंटी?मैं बोली कि मैं तो ऑटो से आई थी.

मालकीण सेक्सी व्हिडिओ

मैंने अपना लंड अपनी पैंट से बाहर निकाल लिया और उसको धीरे-धीरे हिलाने लगा. मेरा लिंग तो अब भी तना हुआ था, पर मुझे प्राची भाभी की हालत पर दया आ गई. ओफ्फो … अरे यार पहले खाना तो खा लो नहीं तो ठंडा हो जाएगा; ये सब करने को तो सारी रात पड़ी है.

पर थोड़ी सी मायूसी भी हुई कि अब निष्ठा के साथ सेक्स करने को नहीं मिलेगा. रोहन भी थॉमस से चुदते हुए मुझे देख रहे थे और मैं भी रोहन को अब देख रही थी. नंगा सेक्सी सेक्सी सेक्सीमैं बोला- मगर आप इतने यकीन के साथ कैसे कह सकती हो कि उसको मेरा लंड चाहिए?शिवानी बोली- मैं एक औरत हूं.

मैं कांपने लगी उसकी चुदाई से!फिर भी मैं चिल्लाये जा रही थी- हहम्म फ़क अर्जुन … आह्ह्ह … जोर से चोदो मुझे … फाड़ दो मेरी चूत।”अर्जुन को मेरी हालत का अंदाजा हुआ, उसने मुझे ऊपर अपनी गोद में बिठा लिया और हम दोनों काउच पे आ गए.

उसके मुँह से दीदी सुनकर मेरी हंसी निकल गयी और मैं सोचने लगी कि थोड़े दिन में टू इसी दीदी का बहनचोद भाई बनने वाला है. मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी चुत को फैलाया और अपनी जीभ अन्दर तक डाल दी.

अब मेरी चूत में नीचे से बड़े साहब का लंड जा रहा था और पीछे से मेरी गांड में प्रिंसीपल का लंड चोद रहा था. जैसा कि आप जानते है मैं रायपुर छतीसगढ़ से हूँ, लेकिन मैं अभी कॉम्पिटिशन एग्जाम की तैयारी के लिए दिल्ली में रहता हूँ. मैंने उसकी कमर को अपने पैरों से जकड़ लिया और गले में हाथ डाल कर जोर से पकड़ लिया.

मेरे होंठ उसके लंड को टच होने लगे, जिसमें से मुझे बहुत नापसंद आने वाली महक आ रही थी.

व्हाट्सप्प पर चैटिंग के दौरान मैं उससे उसकी पिक्स माँगता था तो बड़ी मिन्नतें करने के बाद मिलती थी. अस्पताल के गेट पर उसने वो दुपट्टा फिर से अपने सिर और कन्धों पर डाल लिया जिससे उसका पूरा जोबन छुप गया. मीता ने जीभ बिना हटाए ही मेरी ओर देखा और मुस्कुराते हुए पूरा लंड अपने मुँह में लेकर सपोड़ने लगी.

सुहागरात सेक्सी वालामैं तो तैयार थी मगर पापा नहीं मान रहे थे।किसी तरह से पापा मान गए। मैं और मौसी अगले ही दिन बस से चल दिये. कुछ देर बाद उसका लंड पूरा खड़ा हो गया और उसने अपना लंड बाहर निकाल कर मेरे हाथ से पकड़ा दिया और धीरे धीरे से हिलाने लगा.

सेक्सी video mom

मैंने इस कामुक ड्रेस को पहनने के बाद अपने लम्बे बालों का जूड़ा बनाया और स्कूल के लिए निकल गई. कोई 15 मिनट की बाद वो सब उठ गए और अपने अपने कपड़े पहन कर चादर लपेट कर चलने लगे. कुछ देर बाद वो मेरे से बोला- मेरी मारोगे?मैंने कुछ नहीं कहा तो उसने अपनी गांड खोलते हुए अपना पंचा ऊपर कर लिया.

शायद उसका इरादा कुछ और था।क्या बात है, चिकनी सड़क तैयार है और तुम कच्ची सड़क ढूंढ रहे हो?” मैंने पूछा. आरूषि- जानू, अपने लिंग को अपने अंडरवियर में ही रखो, वरना तुम शुरू करने से पहले ही अपना माल गिरा दोगे. अब आप सोच रहे होंगे कि रॉकी कौन है?कहानी जैसे जैसे आगे बढ़ेगी आपको रॉकी के बारे में भी पता चल जायेगा.

और सभी मित्रों को मेरा दोस्ती भरा अभिनंदन है।अन्तर्वासना पर मेरे बहुत से नियमित पाठक और प्रशंसक हैं. प्रतिभा अभी भी वैसे ही लेटी थी, इसलिए मेरी पिचकारी की धार उसकी चूत के ऊपर से सपाट पेट, घाटी उरोजों से होते हुए उसके चेहरे तक पहुंच गई. साली जी तुरंत घूम गयी और प्लेटफोर्म पर अपनी कोहनियां रख कर झुक गयी.

कैंडल की पीली रोशनी से कमरा नहा गया … खिड़की पर लगे मोटे परदों ने पहले ही कमरे को दिन में अंधेरा … मतलब रात जैसा कर दिया था. उन्होंने कहा- नहीं बहू, ये चादर मैं संदूक में ताला लगा कर रखूंगा, तू चिंता मत कर.

तो चलिए अब शुरू करते हैं देसी हनीमून सेक्स स्टोरी।भैया की शादी के बाद सुहागरात हुई सुहागरात पर ही भैया ने सील तोड़ी और भाभी की जमकर चुदाई हुई।सुहागरात के बाद भाभी पगफेरे की रस्म के लिए अपने मायके चली गई.

तो उसने बोला- आप किस साधन से आई हो आंटी?मैं बोली कि मैं तो ऑटो से आई थी. देवर भाभी की सेक्सी मजेदारवो अपनी दोनों टांगें हवा में उठाते हुए बोलीं- आह और चोदो … और जोर से … मेरी जान मस्त मजा आ रहा है. सेक्सी सेक्सी भोजपुरी में सेक्सीलेकिन ये दर्द ज्यादा देर तक नहीं चला क्योंकि उसकी चुत गरम हो चुकी थी और पानी छोड़ने लगी थी. फिर अंकुश ने शेफाली को वॉशबेसिन के प्लेटफार्म पर बिठा दिया और उसकी टांगें चौड़ी करके उसकी चूत चाटने लगा.

दस मिनट बाद आंटी ने मुझे उठाया और बोलीं- अब तू जा … मीनू आने वाली होगी.

उसके लंड की ताकत के आगे मेरी चुत अब तक दो बार रो चुकी थी … मगर उसकी शैतानी ताकत कम होने का नाम ही नहीं ले रही थी. मैं अपने प्रेम को अपने अंदर समेटे खुशी के बहाने अपनी प्रेमिका को महसूस कर लेता था. थॉमस भी मेरे बाल पकड़ कर अपने लंड पर धक्के मार रहा था और अपने लंड से मेरे मुँह को चोद रहा था.

उनकी हालत देखकर मुझे भी रहा नहीं गया और मैं उन्हें अपनी बांहों में भरकर बोला- रो मत मां … सब ठीक हो जाएगा. यही हुआ … शेफाली ने अंकुश का लंड अपने मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगी. अगले साल ही देख लेना।सुनील ने कहा- नहीं यार, लूँगा तो आज ही … चाहे यहीं लेनी पड़े तेरी।अब ऐसा तो था नहीं कि मेरा मन नहीं था.

कुमारी लडकी सेक्सी व्हिडीओ

दस मिनट लंड चूसने के बाद रॉबर्ट ने लंड बाहर निकाल लिया और मुझे घोड़ी बना दिया. उसी पल उन्होंने बची हुई पूरी चॉकलेट मेरे लंड पर उड़ेल दी और मेरे लंड को चूसने लगीं. अब रात को अपने पति के ही सामने मुझसे बोली- मेरे मोबाइल से इमो डिलीट हो गया है.

”सच्ची?” सानिया के चहरे पर आई मुस्कान तो ऐसी थी जिसे लाखों रुपये देकर भी नहीं पाया जा सकता।और फिर मैंने अपने पर्श से सौ-सौ के दो नोट निकाल कर सानिया को पकड़ा दिए। उसने पहले तो गौर से उन नोटों को देखा और बाद में उन्हें जोर से अपनी मुट्ठी में भींच लिया।और हाँ.

फिर अगले दिन जब मैं सुबह नहा कर तैयार होने लगी, तो मैंने खुद को देखा, तो पाया कि मैं बहुत ही ज़्यादा कामुक दिखने लगी थी.

उसका लंड इस बात से ही अकड़ने लगा था कि माल 20 साल का है और कुंवारी है. मैंने पूछा- ये काहे की गोली है?उसने कहा- बाजी, कल आपके अन्दर ही निकल गया था न … कोई लफड़ा न हो जाए, इसलिए ये गोली खा लो. सेक्सी चुदाई लड़का लड़की कीकुछ ही देर बाद उसने एक हाथ से मेरे एक चूचे को पकड़ा और ज़ोर से दबा दिया.

अब उसके आगे:मेरा लण्डधारी यार मेरी गांड का सुख भोग चुका था पर अभी मेरा मन उससे भरा नहीं था।सच कहूं तो ऐसे लण्ड किस्मत वाली औरतों को ही मिलते हैं और मैं ये मौका हाथ से जाने नहीं देना चाहती थी. तो मैं अपनी चिकनी नंगी चूत लेकर खड़ी हो गयी उसके सामने।आपकी सुहानी चौधरी[emailprotected]कॉलेज गर्ल की नंगी चूत की कहानी का अगला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-3. मेरी ममा की हाइट 5 फ़ीट 6 इंच है, तो उनकी चूचियां मेरी चूचियों के ऊपर रगड़ रही थीं.

”यहाँ चूमा चाटी से ज्यादा चुदाई की जरूरत थी दोनों को!वो मुझे धकापेल चोदे जा रहा था. तुम, तुम्हारी बेटी और तुम्हारा बिजनेस!रमेश ने रति को अपनी बांहों में कस लिया और बोला- अरे जानू … ग़ुस्सा क्यों होती हो.

इस सबमें मुझे भी मज़ा आ रहा था … तो मैंने भी इसका कभी कोई विरोध नहीं किया.

च … च … च … बेचारा अमित!मैं दीदी की इस बात से बड़ी चुदासी हो उठी थी कि अब तक मैंने अपनी चुत में न जाने कितने लंड लिए हैं. मेरी दोनों टांगें खोलकर बीच में आकर उसने गप से मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया. अम्मी ने मुझे फोन करके ये सब बताया और कहा- आज बहुत दिन बाद मौक़ा मिल रहा है, तू जल्दी से घर आ जा!मैं कॉलेज से जल्दी घर आ गया.

अफ्रीका की नंगी सेक्सी वीडियो मां मेरे कंधे पर हाथ रखकर बोलीं- हर्षद नाश्ता अच्छा नहीं बना क्या? तुम शायद कुछ सोच रहे हो … क्या बात है हर्षद!मैंने बोला- कुछ नहीं मां … बस ऐसे ही. पता तो चलेगा कि बाप की इज्जत कैसे उछाली जाती है!रवि- क्या ये रंडी हम दोनों के लंड ले सकेगी? आज तो मैं इसकी चूत और गाँड का भोसड़ा बना दूंगा।रवि की बात सुन कर रमेश खुश हो गया और रश्मि बिल्कुल सरप्राइज रह गयी.

मैं बेसुध सी होने लगी कि तभी मेरे कानों में आवाज आई- अरे प्रिंसीपल साहब, ये तो बहुत ही मस्त माल है. तो इस बार गांड में इतना वीर्य कैसे निकला होगा?पर मुझे इसमें ज्यादा दिमाग लगाने की जरूरत नहीं थी।ओह … प्रेम! मुझे बाथरूम तक ले चलो … प्लीज … मुझ से तो उठा ही नहीं जा रहा. आज तुम घर जाते समय अपनी पसंद की सारी चीजें जरूर खाना। मैं तुम्हें पैसे दे देता हूँ.

सेक्सी वीडियो चाहिए बिहार वाला

मैंने एक लड़के की ड्यूटी लगा दी कि वो महिला पुलिस के टेंट पर ध्यान रखे कि वो वहां से कब निकलेंगी. हॉल में जो पिक्चर हम देख रहे थे दरअसल वह पिक्चर हिंदी में डब की हुई तमिल पिक्चर थी जिसमें एक बड़ी हीरोइन को छोटी उम्र के लड़के से प्यार हो जाता है और उस पिक्चर में उन दोनों को आपस में हमबिस्तर होते हुए कई बार दिखाया था. फिर मैंने पीछे हाथ करके अर्पित की शॉर्ट्स के ऊपर से ही उसके लंड को सहला दिया.

मैंने उसके लंड के नीचे लटकती एक बॉल को अपने मुँह में लिया और उसे चूसने चाटने लगी. अपना लंड चुसवाते हुए ससुर जी मुझे गंदे गंदे इशारे कर रहे थे जिससे मैं और ज्यादा चुदासी हो रही थी.

मीता ने अपने टांगों से मेरे चूतड़ों को जकड़ लिया और एक चीख के साथ उसकी चूत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया.

मेरे मन में लड्डू फूट रहे थे कि काश ये मुझे मिल जाए। मगर मेरी बिल्कुल भी हिम्मत नहीं हो रही थी कि मैं उनसे कुछ बोल सकूं. मैं- जब मैंने तुम्हारी बुर में हाथ लगाया था, तो देखा वो कितनी गीली थी. रश्मि ने खुद-ब-खुद अपने दोनों हाथ हवा में ऊपर उठा लिए और टॉप उसके बदन से अलग हो गया.

अब मैं दिन भर किससे बातें करूंगी हर्षद!ये कहते हुए उनकी आंखों में आंसू आ गए. मानो पूछ रही हो कि कौन आया है?मैंने उसे इशारों में समझाया- रुको मैं देखता हूँ. चूत के नीचे के भाग में नेहा की सुंदर गुलाबी गांड का छेद था जिसके बाहर दो सुडौल सुंदर और गोरे नितंब थे.

पहले तो उसने गुस्सा दिखाया, फिर जब मैं उठकर जाने लगा … तो डेज़ी ने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे रोका.

कॉलेज की बीएफ हिंदी: जहां मैं 2 महीने से रह रहा हूँ, वहां एक दिन एक नए परिवार के सदस्य आए हुए थे. वो प्रभात नगर चौराहे की ओर चल पड़ी तो मैं पीछे से पहुंचा और हॉर्न बजाकर गुरजीत को रोका व कहा- आओ बैठ जाओ, मैं घर की तरफ ही जा रहा हूँ.

फिर उसने मेरी छाती के निप्पल्स पर बारी बारी से एक एक निप्पल पर अपने दांतों से काटना शुरू कर दिया. मैंने कहा- आज तुम कोई गोली खा लेना ऐसा न हो कि तुम प्रेग्नेंट हो जाओ?नेहा कहने लगी- आप मेरे लिए दवाई ले आना, हम जब भी करेंगे, मैं खा लिया करूंगी. मैं यह देख कर हैरान रह गयी कि पहली बारी एकदम से इसका लंड मुंह में कैसे ले लिया?मुझे बहुत घिन्न आ रही थी.

उसी समय अंकुश मेरे पास आया और उसने मेरी तरफ आते हुए कहा- रोमा, तुम इस बिकनी में बहुत सेक्सी लग रही हो.

स्नेहा ने मुझे मैसेज किया, लेकिन मोबाइल ऑफ होने के कारण मैसेज रीड नहीं हुआ … तो उसने मुझे कॉल किया. इधर मेरी गर्लफ्रेंड को जो सेक्स का भूत चढ़ा था, वो लंड के दर्द से गायब हो चुका था. इस लेस्बियन मजा हिंदी कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी मम्मी के साथ सेक्स के मामले में पूरी खुली हुई हूँ.