हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी

छवि स्रोत,करीना करीना की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट पॉर्न: हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी, मैंने उनकी साड़ी को अलग किया, फिर उनके मम्मों को ब्लाउज के ऊपर से ही प्रेस करने लगा.

सेक्सी भाभी देवर भाभी की

कभी विचार आया नहीं या फिर मेरे पास ऐसी कोई अपनी जीवन की कहानी नहीं थी. दुआ सेक्सी वीडियोतुम इसे भी जीजू बोल सकती हो।तभी दीदी चाय लेकर आ गई और मुझे देखकर हड़बड़ा गई.

उसे सूंघते हुए सुखबीर बहुत खुश हुआ और बोला- और सारिका जी कितनी मादक सुगंध है आपकी योनि से निकलती हर चीज़ की … और करिए न!पर उस एक धार के बाद और नहीं निकल सकी. नंगी बफ सेक्सीभाभी की चूत ने पानी छोड़ना चालू कर दिया था, जिससे ऐसा लग रहा था कि मेरे लंड में अब चिकनापन आने लगा हो.

मैं उसके माँ-पापा से मिला और सीमा को अपनी दीदी के घर ले जाने के लिए कहा.हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी: मैं अपनी बाइक बाहर खड़ी कर गेट के अंदर चला गया। मैंने घर के पीछे की तरफ जाकर कमरे में झांकने का प्लान बनाया।मैंने देखा कि घर में ताला लगा हुआ था तो घर के पीछे की तरफ गया, जहाँ मुझे अपने भाई की कार मिली और अंदर कमरे की बन्द खिड़की से किसी लड़की की कराहने की आवाजें आ रही थीं। मुझे लगा कि मेरा भाई किसी लड़की के साथ सेक्स कर रहा है.

उसके बाद अनुष्का ने मेरे लंड को दोबारा से मुंह में ले लिया और उसको तेजी के साथ चूसने लगी.ये कहानी मेरी और मेरे पड़ोस में रहने वाली भाभी की है। भाभी के बारे में बताऊं तो वो एक काम की देवी है। उसके बूब्स और उठी हुई गांड जो भी देखे, देखता ही रह जाए और भगवान से प्रार्थना करे कि ये सुंदरी अभी मिल जाए और इसके चूचे चूस लूं … गांड में लण्ड डाल दूं।देखने में भाभी का रंग गोरा चिट्टा, बिलकुल चिकनी चमेली है वह.

सेक्सी वीडियो ब्लू वीडियो सेक्सी वीडियो - हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी

मैंने उससे बात करते हुए देखा कि ज्यादातर वो मोबाइल में ही व्यस्त रहती थी.लेकिन मेरे ग्रुप की एक लड़की, जिसका नाम साजिदा था, उसको देखके मेरा मन थोड़ा ललचा रहा था.

उससे कहा कि संभोग से पूर्व वो खुद ही आगे बढ़े और रतिक्रिया की शुरुआत करे. हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी फिर मेरे पति मेरी बगल से चलते हुए आए और बेड पर रखा हुआ दूध का गिलास उठा लिया.

मैंने उन्हें पकड़ा, तो मुझे अहसास हुआ कि उन्होंने गाउन के अन्दर कुछ नहीं पहन रखा है.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी?

मैंने पूनम को बेड पर लेटाया और उसकी दोनों टांगों को पूरा आगे करके लंड को उसकी चूत में डाला और धीरे-धीरे धक्के देने लगा. जब मस्ती से चलती थी तो अड़ोस-पड़ोस के आदमी उन्हें देखे बगैर नहीं रहते थे और पड़ोस की लेडीज उनसे चिढ़ती थी, परन्तु वह मस्त रहती थी. जब उसने मेरा मोटा और लम्बा लंड देखा तो उसने मुझे अपने पास बुलाया और मेरे लंड को पकड़ कर हिलाने लगी.

उसकी चूत का पानी पीकर मेरे होंठों की प्यास तो बुझ गई थी लेकिन कोमल की प्यास अभी नहीं बुझी थी. अब आगे:खैर कैब में बैठने के बाद मैंने खुद ही उससे बातचीत शुरू की, थोड़ा बहुत उसके करीब आने की कोशिश की. नाश्ता करने के बाद पापा और मामा किसी काम से बाहर चले गए और बोल गए कि वो शाम तक ही आएंगे, घर में केवल हम तीनों ही रह गए थे.

भाभी जी थोड़ी सी देर चेयर पर बैठी और कुछ थोड़ा बहुत मेरे बारे में और मेरी फैमिली के बारे में जानकर कहने लगी- अब मैं चलती हूँ, नीचे खाना बनाने का काम करना है. मैंने भी देर ना करते हुए सारे कपड़े उतार दिए और नंगा हो कर उनके सामने खड़ा हो गया. थोड़ी देर रुककर मैंने फिर से पूरी ताकत लगाकर अपनी चुत को लंड पे दे मारा.

मैंने दीदी की पीठ को सहलाना चालू किया और उसके चेहरे की खूबसूरती को निहारा. चंद पलों में सलोनी ने नीचे से अपनी गांड उछालनी शुरू की और मैंने भी लण्ड को चूत के अंदर-बाहर करना शुरू किया.

मेरे मुँह से यह सुनकर अचानक आशीष चुत से मुँह उठाकर बोला- क्या बोल रही है … सच में तेरा मन रंडी बनने का है?मैं बोली- हां सच में … उनके जैसा करने का मन है … और उनको तो लोग पैसे भी देते हैं, कितना अच्छा होता है कि मजा भी ले लो और साथ में खूब सारे पैसे भी मिलें … क्या मस्त लाइफ होती है रंडियों की … मुझे रंडी बनना है.

कल्पना- क्या?मैं- अगर आपको आज का दिन आपके जिंदगी का एक यादगार दिन बनाना है, तो सबसे पहले आपको अपने में से सारी झिझक निकलना पड़ेगी, तभी आप सेक्स को एन्जॉय कर पाएंगी और दूसरी बात आपको मुझे पूरा सहयोग देना पड़ेगा.

अब वो मेरी गांड में अपना लंड डालने लगा और मेरे चूतड़ों पर अपने हाथ से थप्पड़ लगाने लगा. खैर … नीना ने प्रशांत को बेड पर लिटा दिया और खुद ने इस तरह से लंड की सवारी करने का पोज बनाया, जिससे वह चूत में अपने मनमाफिक लंड घुसवा सके. पापा मेरी चूत के रस को अपने हाथों में लेकर दिखाते हुए बोले- तुम में बहुत आग है मेरी परी, आज तुम्हारे पापा उसको शांत करेंगे बेटा, तुम दो मिनट रुको!इतना बोले और पापा रूम से बाहर चले गए।dio तीन मिनट बाद पापा वापस आये और उनके हाथ में दो कंडोम थे.

अभी तक उन्होंने अपना चेहरा मेरे कंधे के पास ही रखा था और मैं उनकी सिसकारियां आराम से सुन पा रहा था. मैं अपना हाथ सीधा किया और हल्के हाथ से मामी जी के स्तनों को दबाने लगा. उसकी गोरी चिकनी बांहें, उसकी क्लीवेज और सफेद फूलवाली हॉट ब्रा मेरे सामने थी.

मैंने अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाली, तो वो एकदम से घुस गई क्योंकि भाभी की चूत गीली हो चुकी थी.

जैसा कि वो काफी लम्बे थे, इसलिए मैंने उन्हें धकेलते हुए ऊंची जगह पर खड़ा कर दिया और मैं ट्रेक्टर के पहियों से धंस चुकी नीची ज़मीन पर खड़ा हो गया. मीना ने मेरे गले में अपने दांतों को गाड़ कर मेरे अन्दर सोया हुआ वासना का भूत जगा दिया था. वह मेरे पूरे लिंग को अपने मुँह में लेना चाह रही थी और उसे चूम रही थी बीच-बीच में अपनी जीभ से मेरे पूरे लिंग को चाट रही थी.

मेरी कमर फिर से उछलने लगी और फिर अजय का बीज मेरे अन्दर गिरने लगा जिसकी गर्मी से मैं भी पानी छोड़ने लगी. आज भी मैं हर शनिवार रविवार सुबह कैंटीन जाता हूँ और दूर से दीदी को देखता हूँ और दीदी भी शॉपिंग के बहाने आती है, झलक दिखाती है. जी … प्लीज़ … जल्दी कर लीजिये ना!” मैंने उनसे प्रार्थना की।मुझे कोई दिक्कत नहीं है.

इतनी ही देर में संजीव बाथरूम से बाहर आ गया और तौलिये से अपने गीले हाथ पोंछने लगा.

अब उसने जांघों को ढीला कर दिया था और मेरे मुँह पर जोर जोर चुत को दबाने लगी. पर प्रीति को इन सब में घिन आती थी, तो सुखबीर ने ज्यादा दबाव नहीं दिया.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी बीच में उसने अपने परिवार की प्रोब्लम्स भी बताई जिससे मुझे उससे हमदर्दी भी होने लगी. पड़ोस में रहने के कारण उनके यहाँ आना-जाना तो था ही और अच्छी जान-पहचान भी है.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी मैंने उसकी चड्डी में ही दोबारा से वीर्य निकाल दिया और उसके बाद मैं भी सो गया. बताओ न?मैं गरमा गया था उसके दूध पर अपना सीना दबाते हुए बोला- साली आज बहुत ही तेवर दिखा रही है … जरा हाथ तो छोड़ … फिर दिखाता हूँ.

जब वो थोड़ी नार्मल हुई, तो मैंने उससे पूछा- क्या तुम अगले धक्के के लिए तैयार हो?तो उसने हां में सर हिलाया तो मैंने देर न करते हुए अपनी पूरी ताकत से एक और धक्का लगा दिया.

मालिक और नौकर की शायरी

मेरा लंड सारा आपा की हायमन से टकरा रहा था और जब लंड ने उसे भेदकर आगे बढ़ना चाहा तो सारा चिल्लाने लगी कि दर्द के मारे मैं मर जाऊँगी. शाम को पांच बजे मेरी नींद खुली तो देखी कि वो सो रहा है और मेरी भाभी उसके लंड के साथ खेल रही है, चूस रही है. थोड़ी देर बाद उसका जिस्म कांपने लगा और एक झटके के साथ वो मेरे मुँह में झड़ने लगी.

मसाज एक तरह से बोला जाए, तो सेक्स से पहले मसाज फोरप्ले का काम करता है. मैं अपनी बाइक बाहर खड़ी कर गेट के अंदर चला गया। मैंने घर के पीछे की तरफ जाकर कमरे में झांकने का प्लान बनाया।मैंने देखा कि घर में ताला लगा हुआ था तो घर के पीछे की तरफ गया, जहाँ मुझे अपने भाई की कार मिली और अंदर कमरे की बन्द खिड़की से किसी लड़की की कराहने की आवाजें आ रही थीं। मुझे लगा कि मेरा भाई किसी लड़की के साथ सेक्स कर रहा है. अब मैं राजे तुझे नंगा करुँगी … लेकिन पहले एक बात सुन ध्यान से!”मैंने कहा- कहिये मैडम जी … मैं सुनूंगा ध्यान से.

… सच में बहुत मजा आ रहा है … हां…ऐसे ही … ओह्ह्ह सैयां जी … मैं आज से आपकी पत्नी बन गयी.

इसमें मैं इसमें कुछ भी नहीं बदल रही हूं, नाम सहित सब सच जस का तस लिख रही हूं. अब आगे:मैंने कहा- जल्द ही यह काम भी कर दूंगा, ये तो क़िस्मत की बात होती है, तुम्हारी शादी हो गयी … फिर भी तुम कुंवारी रही और मेरी सुहागरात तुम्हारे साथ मन रही है. हम जब भी अकेले में मिलते, तो मैं उसे किस करता, उसके होंठों को छूता, जिसकी वजह से वो नशे में आ जाती और मुझे भी जोर जोर से किस करती.

नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सब? आप सब ने अन्तर्वासना पर बहुत ही गर्म कहानियाँ पढ़ी होंगी. ऐसा कुछ नहीं, जब मिलना हो, तो मिल लेता हूँ, जब बात करना हो, तो कर लेता हूँ, ऐसे चैटिंग वगैरह कम ही करते हैं. एक लड़के को पूरा नंगा देखके उसकी भी आंखें हवस से भर गईं, उसने कहा- आओ पहले नहा लेते हैं.

मैंने कहा- ठीक है, मैं थोड़ी देर में आता हूँ … मगर तुम्हारा फ्लैट नम्बर क्या है?उसने मुझे अपने फ्लैट का नम्बर बता दिया और मैं काम खत्म करके उसके घर की तरफ चला गया. मैंने उसकी इस बात का विरोध किया तो सबने कहा कि आज उसका जन्मदिन है तो उसका हक़ बनता है, वो कहीं भी छू सकता है.

फिर मैंने उसको सोफे पर बैठा दिया और उसकी दोनों टांगें फैला कर उसकी चूत को चाटने लगा अपनी जीभ से. मैं उससे उसकी पसंद नापसंद के बारे में पूछने लगा, तो बोली- तुम्हें मेरी पसंद और नापसंद सभी के बारे पहले से ही मालूम है. मेरे चूचुक चूमने और योनि में लगातार लिंग के कारण वो और भी ज्यादा उत्तेजित हो रही थी.

मगर राजन अभी भी नहीं रुका और वह अपने लिंग को तकिए पर घिसता ही जा रहा था.

वो भी मुझसे लिपट गई और उसने होंठों के ऊपर किस कर के अपनी स्टाइल में थेंक्स कहा मुझे!तभी मेरी छोटी दुल्हन ज़रीना जो वहीं सो रही थी, जाग गयी और आकर मुझ से लिपट गयी. नहीं जाने की वजह उसने बताई कि माँ भाई जल्दी चले गए थे, सुबह का उसने ही घर का सारा काम किया. कोई किसी तरह से शक न करे इसलिए मैंने प्रीति और अपने पति को बता दिया था कि सुखबीर के पास मेरा नंबर है और उसका नम्बर मेरे पास है.

कोमल ने हिना को ये बताया, तो उस लड़के ने जल्दी जल्दी दोनों को चोद कर खुश कर दिया. मैं बोला- आप अब फटाफट नाईटी और पैंटी पहन के दिखाओ!इंदु नाईटी और पैंटी पहन कर मेरे पास आयी.

एक कोने में एक लकड़ी का बेड था, उसके पास उनका स्टडी टेबल, उसके पास एक फ्रिज. मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और उसकी गीली चूत को गचागच चोदने लगा. उसकी आंखें मस्ती में बंद होती जा रही थीं, इसका गवाह था, बेड के दूसरी तरफ लगा ड्रेसिंग टेबल का शीशा.

छत्तीसगढ़ी सेक्सी वीडियो दिखाइए

फिर उसने मुझे अपनी बांहों में भर कर मेरे बालों में जो बैंड लगा था, उसे खोल दिया और बोला- तुम्हारी जुल्फें बहुत खूबसूरत हैं, इन्हें खोल दो बंध्या … तुम बहुत सेक्सी हो.

मैं देख रहा था, वो वापस आ रही थी उतने में वो सड़क के बीच में थी तब एक ट्रक आ गया, मैंने फिल्मी स्टाइल में उसे बचाया. उसे मैंने कुछ ख़ास नहीं कहा, बस इतना बोला- भाई मैं तो फिर भी पड़ोसन को ठोक रहा हूँ, तू तो मकान मालिक की लड़की को ही लगभग रोज चोदता है. जैसे ही सब घर से बाहर निकले, चाची ने मेन गेट बंद कर लिया और मुझे आवाज़ लगाई.

अब आगे:फिर मैंने अपनी जेब से निकाल कर एक अंगूठी पहले नज़राने के तौर पर दी. चूंकि मेरे को कम्पनी में आए एक महीना भी नहीं हुआ था और इतने पैसे भी नहीं थे. सेक्स ओपन सेक्सी वीडियोउस समय मेरी बीवी पेट से थी, तो मैंने कई दिनों से सेक्स नहीं किया था.

मेरी बॉटल देख के पायल बोली- क्या जीजू आज भी? लेकिन चलो अच्छी बात है, आपके वो कमीने, गुंडे दोस्त तो नहीं है आज. मोनिका अपने वायदे के अनुसार घर वापस आ गई, पर उसने मुझको कॉल नहीं किया.

अब राजन को गद्दे तकिये की चुदाई नहीं करनी पड़ती है क्योंकि अब मैं उसको अपनी चूत का मजा दे देती हूँ और उसके लिंग का मजा भी ले लेती हूँ. रिया ने पहले भी ग्रुप सेक्स में अपनी गांड और चूत में एक साथ लंड के मजे लिए थे और इस बार भी वो यही सब सोच कर मेरे साथ आई थी. यह कह कर चिन्टू मीना के और पास आ गया और मीना का हाथ पकड़ कर बोला- मौसी, अब तू चिंता ना कर, अब मैं तेरी मदद करता हूँ, सब-कुछ ठीक हो जायेगा.

उसने मेरी बात सुनते ही मुझे छोड़ दिया और मुझे बिस्तर के सिरहाने होकर कुतिया बन जाने को कहा. मैं अभी कुछ सोचता इससे पहले मैडम ने कहा- एक ही सुलगा लो, शेयर कर लेंगे. अपनी मेरी पिछली कहानीभाई की कुंवारी साली की चुदाईपढ़ कर बहुत मेल किए उसके लिए धन्यवाद.

मैंने उन्हें अपने पड़ोसी होने के नाते खाने पीने के लिए अपने ही घर में बोल दिया.

अंकित तो घर में था नहीं और भाभी शायद सोच रही थी मैं अब वापस चला जाऊंगा. वैसे सच कहूँ तो मुझे भी बाहर इतनी गर्मी में जाने का मन नहीं हो रहा था.

नहीं जाने की वजह उसने बताई कि माँ भाई जल्दी चले गए थे, सुबह का उसने ही घर का सारा काम किया. तो उनको कोई एतराज नहीं था क्योंकि मैं बचपन से ही उनके साथ सो जाती थी जब वो घर आते थे।बस यही मेरी जिंदगी का सबसे बड़ी मोड़ था।बात करते 2 बज गए तो हमने सोने की सोची. उस पूरी रात में हम दोनों ने 2 बार और चुदाई की और बुरी तरह से थक गए थे.

मैं आशा करती हूं कि मेरी इस कहानी को पढ़ कर मजा आप सभी को आएगा, क्योंकि ये कहानी भी पहले के जैसी आम जीवन की है मगर सबसे छुपी थी. घर के बाहर जाकर मैंने उनके डोर पर लगी घंटी बजाई, तो मीरा मैडम ने गेट खोला. कुछ पलों तक दीदी की चूत को चाटने के बाद विनय जीजू ने अपने लंड को दीदी की चूत पर रख दिया और उसकी चूत में अपने लंड को अंदर की तरफ धकेल दिया.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी मैं साइड टेबल से सिगरेट का पैकेट उठा कर सिगरेट पीने ही लगा था कि उसने मुझे फ्लास्क से दूध निकाल कर गिलास को भर कर दिया … जो नीम गरम था. मिसेज पाटिल बोलीं- ये तुम्हारे औजार के लिए हैं, इसका ध्यान रखना, बड़ा मस्त टूल है.

सेक्सी वीडियो वीडियो फुल एचडी

जब वो तैयार हो गयी, तो मैंने एक और जोर से धक्का दिया और मेरा लिंग पूरा अन्दर हो गया. मुझे देखते ही दोनों ठिठके, अगले ही पल जीजू मुस्कराते हुए बोले- आओ रचना, बैठो!मैं उनके साथ बैठ गई. उसकी गोरी चिकनी चुत मेरे होंठों के सामने थी, बिल्कुल मलाई जैसी नरम गुलाबी चूत पर एक भी बाल नहीं था.

मैंने उसकी टांगों को फैलते हुए देखा तो समझ गया कि लौंडिया खुद लंड लेने की जुगत में है, बस दिखावे के लिए मना कर रही है. मैंने उससे पूछा- वैसे आपको जाना कहां है?उसने बता दिया कि वह कहां जा रही है. सेक्सी रंडियों का वीडियोकरीब पांच मिनट की धीमी रफ्तार से चुदाई के बाद मैंने एक झटका मारा, तो लंड करीब चार इंच अन्दर घुस गया.

मैं उंगली को अंदर बाहर करने लगा, तो वह अपने चूतड़ हिलाकर उसे जगह देने लगी.

फिर मैंने दूध को पीकर खत्म किया और खाली गिलास को उनकी तरफ बढ़ा दिया. मैंने उसको सुझाव दिया कि पहले एक बार अपनी सहेली को मुझसे चुदवा दो, फिर उससे भी जानकारी हो जाएगी.

उसने काफी देर तक मेरे स्तनों से दूध पिया और फिर धीरे धीरे मुझे पेट, नाभि से चूमता हुआ मेरी योनि तक पहुंच गया. सर अंदर गये और थोड़ी देर बाद मैडम बाहर निकली- किशन! बाकी कमरों को ताला लगाकर तुम चले जाओ. क्या शरीर था … बहुत चिकने हाथ, चिकनी साड़ी में उनका हर अंग बहुत कोमल, चिकने फर्श की तरह कड़क माल के जैसी गर्म भाभी.

उसके होंठ खुले थे, जिनमें से अब हल्की कामुक सिसकारियों की आवाज सुनाई पड़ रही थी.

लंड को सहलाते हुए ही मैंने अपना एक कदम आगे बढ़ाया और मैं उनके जिस्म के बिल्कुल करीब आ गया. ”आपने इतना मजा दिया तो मेरा भी फर्ज है आपको मजा दूँ … लाइये देखूं तो सही आपका कैसा है … अभी तक छुपा कर रखा हुआ है. आज मैंने अपने मन में उनके लिए पहली बार उन्हें चोदने के लिए फील किया.

पवन वीडियो सेक्सीमैं तो हमेशा ही तैयार रहता था कि किसी तरह कुछ जुगाड़ हो और मुझे रवि मामा का लंड देखने को मिले. मैंने भी तुरंत हाँ कर दी और बोला- रितिका, मैं तुम्हें भरपूर प्यार दूंगा.

मराठी मे सेक्स

उसने मेरी बात मान ली और जैसा मैंने उसे सिखाया, वैसा ही करने का निश्चय किया. वह ज्यादा सुंदर तो नहीं थी मगर मैंने चूत पहली बार देखी थी अपनी आंखों के सामने. उसने मुझसे मेरा नाम पूछा- तुम अपना नाम बताओ … क्या नाम है तुम्हारा?मैंने उससे बोला कि मैं क्यों बताऊं तुम्हें अपना नाम … नहीं बताऊंगी.

मैंने पूनम से पूछा- तुम्हें क्या लेना है?तो उसने कहा- मुझे तुम्हारे साथ बस दिन बिताना था तो सामान का बहाना करना पड़ा. ननकू और मीना की एक बेटी 18 साल की हो चुकी थी और उसकी शादी करने के जुगाड़ में थी. मगर मामी तो गर्म हो चुकी थी और कूद-कूद कर लंड को अंदर निगल रही थी उनकी लंडखोर चूत.

मेरी एक ही औलाद है मेरी बेटी … वो अठारह साल की हो चुकी है, उसका नाम है आरज़ू. एक और समस्या यह थी कि इस तरह हम औरतें पेशाब करती नहीं हैं, सो कुतिया की तरह झुक कर करना बहुत मुश्किल था. तो मैंने भी हिम्मत जुटाकर बोल दिया- वह कैसे?यार मेरे मंझले भैया की शादी होने वाली है, जिसमें मैं छुट्टी लेकर घर जाने वाला हूं.

अगले ही पल अनुष्का मेरे पास आई और मेरी पैंट के ऊपर से मेरे खड़े लंड को छूकर हाथ फिराते हुए बोली- बहुत उछल रहा है ये. मैं भी उसकी चुत के बाहरी फांकों को कभी जोर से चूस लेता, जिससे उसे और मज़ा आने लगा.

एक अजीब सा डर भी था कि मैं कैसे इसके सामने अपने नंगे जिस्म को पेश कर पाऊंगी.

हमने इसीलिए नई वसीयत बनवाई ताकि हमारे ना होने पर हितेश तुझे परेशान न कर सके. सेक्सी ओपन फोटो सेक्सीमेरी बड़ी दुल्हन झड़ती गयी और फिर मैंने अपना सारा माल सारा की चूत में छोड़ा और उनकी बाँहों में आँखें बंद कर लेट गया. सेक्सी फिल्म वीडियो में चोदा चोदी वालामैंने उससे पूछा कि उसे मज़ा आया या नहीं तो बोली- ऐसा कभी किसी के साथ नहीं आया. उसके साथ बहुत दर्द भी होता है, इतना पेन तो तुम्हारे साथ कभी नहीं हुआ.

मैंने सोनू से पूछा- फिर तुम्हारा दिल किया था करवाने को?सोनू ने बताया- कल तक तो आपसे मिलकर मैंने यह सोचा था कि मैं यह काम नहीं करूंगी, परंतु रात को जब मैंने मम्मी पापा को देखा तो मेरा फिर दिल किया और मैंने उंगली से करके अपनी प्यास बुझाई और मन में सोचा कि कल अगर आप कुछ करेंगे तो मैं मना नहीं करूंगी.

कमरे में अन्दर जाते ही भाभी मुझ पर टूट पड़ी और मेरी शर्ट के बटन खोल कर छाती पर जोरदार किस करने लगी. कुछ ही देर में मैंने एक झटके में उसकी नाईटी उतार कर फेंक दी और ऊपर से ही उसकी चुत पर हाथ घुमाने लगा. मैं गरीब घर से हूं, तो इस तरह से स्पेशली मेरे लिए खाने पीने को किसी ने मुझे इसके पहले इस तरह से नहीं पूछा था.

फिर अपने लंड को मेरे छेद पर लगाकर अपना पूरा भार मेरे शरीर पर डालते हुए मेरे ऊपर लेटने लगा. उस नाशुक्री ब्रा ने कल्पना भाभी की चुचियों पर अपना कब्जा जमाया हुआ था. मूवी देखने के टाइम उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरे कंधे पे सर रख के बैठ गईं.

हिंदी पुराना सेक्स

भाभी की लंड लेने की आदत से मुझे भी एक फायदा हुआ कि मेरे लंड को चूत का मजा मिलने लगा. मैं बिना रुके बुर का रस पी रहा था क्योंकि उसकी चुत से तो झरना बह रहा था. मैंने अपनी टी-शर्ट उतारी और उसके ऊपर लेटकर उसको बेतहाशा चूमने और चूसने लगा.

लेकिन जब मैंने उन्हें किचन में से वापस आते हुए देखा, तो मैं एकदम से चौंक गया.

उसके बाद हम दोनों बाइक पर बैठे और मैंने रीना को उसके रूम तक छोड़ दिया.

फिर वह एकदम से उठा और सामने दीवार में बनी अलमारी में से सरसों के तेल की शीशी उठा ली. उसने हां में सर हिलाया तो मैंने उससे इधर उधर की बातें करना शुरू कर दीं. सेक्सी वीडियो बंगाली भाषा मेंउसे पता था कि मेरा फ्लैटमेट बाहर लंच करने गया है और आधे घंटे बाद आएगा.

इंदु ने वीर्य के एक एक कतरे को पी लिया और मेरे लंड को बिल्कुल साफ कर दिया. जब वो बाहर आईं, तो मैंने पूछा- आपने क्या लिया?तो उन्होंने कहा- कुछ नहीं, तुम्हारे मतलब का नहीं है. आखरी दिन था, तब मेरा दोस्त मेले में से दो लड़कियों को पटा कर लाया और बोला- तू किसको चोदेगा?मैं एकदम से हड़बड़ा गया कि ये लड़कियों के सामने कैसे बोल रहा है.

कुछ देर बाद वह भी झड़ गयी, उसकी चुत का रस उसकी चुत से होता हुआ मेरे होंठों पर, गालों पर बरस रहा था. शॉवर में चोदते वक्त मैंने दीदी से पूछा- दीदी बता ना … तेरी सासू माँ क्या बोली थी और तुम दोनों हंस पड़े थे?दीदी ने कहा- उसने मुझे चाबी दी और जड़ी बूटी वाला पावडर हाथ में थमाकर कहा था कि इस बार दो चम्मच ज्यादा डालना … आज रात तुम्हारी असली सुहागरात है … पलंगतोड़ कबड्डी होनी चाहिये … मैं देखने आऊंगी.

इसी तरह मामी की चुदाई करते हुए कैसे तीन महीने निकल गए, पता भी नहीं चला.

तभी जीजा जी अंदर आ गए और मुझे बांहों में भर कर अंदर वाले कमरे में ले गए. हमारे बीच सब बातें हुईं कि स्कूल कब जाती हो, कब आती हो, कॉल मैं पहले ना करूँ, वो करेगी, छत पर ज्यादा ना जाओ, वो कहेगी, तब आऊं … वो भी उसके स्कूल से आने के बाद आऊं. उसके मुंह में जाते ही लंड ने पिचकारी मारी और सारा वीर्य उसके मुंह में जाने लगा.

लड़कियों की सेक्सी फोटो सेक्सी मैं जोर से चिल्लाई- उई मम्मी … मेरी चुत फट गयी पापा!उन्होंने अपना हाथ मेरी मुँह पे रखा और जोर से धक्के लगाने लगे. फिर उसने चुटकी बजाई, मुझे आवाज देकर होश में लाई और मुझे अपने साथ घर के अन्दर चलने को बोली.

मैंने भी उसकी चुत में जीभ से जोर जोर से अन्दर बाहर करना चालू रखा और अपने दोनों हाथ से उसकी गांड पर मारते हुए उसे नोंच लेता, जिससे उसकी मस्ती में और भी चुदासी मिठास घुल रही थी. उसने पूछा कि अब आपकी तबियत कैसी है?मैंने उसकी बात का जवाब दिया और फिर उसे देखने लगा. कुछ देर बाद आदिल फिर से आगे आया और प्रेम ने मुझे पेलना शुरू कर दिया.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो गुजराती

उसका लिंग काफी टाइम से खड़ा हुआ था और वह अब और ज्यादा वेट नहीं कर सकता था. तुम अपनी फ्रेंड के घर जाती हो और उसके पापा और भाई से चुत मरवाती हो. मेरे शरीर और स्वभाव में इस बदलाव को देख कर मेरे माँ और पापा थोड़ी चिन्ता करने लगे थे मेरी.

मैंने अपनी जीभ बाहर निकाली और उसकी कमर को नीचे खींचते हुए चुत को मेरे जीभ पर रख दिया. कोमल के गीले कपड़ों के ऊपर से उसकी गीली चूत को रगड़ने में जो मजा मुझे आ रहा था वह बहुत ही कमाल का था.

सासू माँ- मैं तेरी मुश्किल समझ सकती हूं बेटा, पर तू तो जानती है कि हितेश को तुझसे कोई मतलब है नहीं और तू उसके लिए अपनी खुशियां क्यों बर्बाद कर रही है.

जब उसकी वासना काबू में नहीं रही तो अपनी जेठानी के कमरे में जाकर मीना ने पूछ ही किया- कई दिन से चिन्टू दिखाई नहीं दिया? आया नहीं क्या?जेठानी ने जवाब दिया- वो आया तो था, पर चला गया, कुछ जल्दी में था. मगर क्या आपने सोचा कि यदि कोई आपकी पसंदीदा हिरोइऩ किसी दिन आपके सामने ऐसे लिबास में आ जाए, जिसमें से उसका मलाई बदन करीब से निहारा जा सके तो आप पर क्या गुजरेगी. शोभन- वो तो तुम ना भी कहती तो भी चोद कर ही जाता, अभी आ जाऊँ आरती?और क्या नहीं … तो क्या कोई महूरत निकलवाना है चूत चोदने के लिए?”शोभन- अच्छा अभी आ रहा हूँ.

मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था, जो मामी के नितम्बों पर दबाव बना रहा था. अब मेरा लंड झड़ने वाला था, तो मैंने झट से माँ की गांड से अपना लंड बाहर निकाला और माँ के मुँह में डाला और उनके मुँह में ही झड़ गया. भाभी की गांड के आसपास भी कुछ बाल थे, मैंने उसे भी साफ किया और उंगली गांड में देने लगा.

सोना को देखा तो वो सो रही थी, मुझे बेहद गुस्सा आ रहा था, शादी के बाद हम लोग घूमने गये.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर एचडी: जब अनन्त ने कमरे के अंदर दीदी की पैंटी को मेरे मुंह पर फेंक दिया था तो मुझे उस पैंटी के अंदर से अजीब सी बदबू आई थी. मैंने इंदु से बोला- भाभी जी, कहिये तो आपकी चुत के बाल बना दूँ?इंदु ने कहा- मेरे पास अभी बाल साफ करने वाली क्रीम नहीं है.

मैं आहना के चूचुकों को तब तक चूमता चूसता रहा, जब तक उसमें से दूध आना बंद नहीं हो गया. रात तो वो फिर मेरे कमरे में आया और मुझे उसने बॉलीवुड की लगभग सभी हिरोईनों ही नंगी पिक्चर्स दिखाई. मैंने खड़े होकर अपना लंड भाभी की चूत में सैट किया और तो धीरे से धक्का मारा, तो लंड अन्दर नहीं गया.

मैंने कहा- बेटा, तूने मेरे बोबे नहीं देखे हैं न? क्या तू मेरे बोबों को देखना चाहता है? क्या तू मुझे नंगी देखना चाहता है?उसने कहा- नहीं मां, बाद में देख लूंगा.

या फिर यूं कहें कि उसने जान-बूझकर वह गोल-गप्पा अपने टॉप पर गिरा लिया था. मैंने उसको समझाया और उसकी ससुराल के बारे में जानना चाहा, तो उसने बताया कि उधर सब चूतिये भरे हुए हैं. एक दिन मेरी छुट्टी थी, तो मैं सुबह ही भाभी के घर गया, दोनों ने खूब बातें की, हँसी मज़ाक़ किया, फिर मैं चला आया.