गोवा के बीएफ

छवि स्रोत,ऑल हीरोइन सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

चूत का दाना: गोवा के बीएफ, अब वो बिल्कुल नंगी लेटी हुई थी और पहली बार मैंने उसकी चूत के दर्शन किए.

जानवर की सेक्सी व्हिडिओ

चाची मेरे सीने पर हाथ फेरती हुई बोलीं- चिंता न करो विक्की, आज तुम भी खुश हो जाओगे और हम दोनों भी तुमसे खुश हो जाएंगी. जुग जुग जिए तू ललनवाजब उसकी चूत का पानी निकला तो मैंने उसकी चूत पर वो पैंटी लगा दी, जिससे वो पैंटी फिर से भीग गयी.

आप सब जानते हो और मैं भी जानना चाहती हूँ कि मेरे बारे में आप कितना जानते हो. सेक्स पीचरमैंने साबिरा का वो शर्मा कर मुस्कुराना देखा और उतने से ही पता लगा लिया कि लौंडिया फंसने के लिए तैयार है.

उसके अन्दर की लाल रंग की ब्रा साफ साफ दिख रही थी क्योंकि उसने सफेद रंग की पतली सी टी-शर्ट पहनी हुई थी.गोवा के बीएफ: नीता उठकर खड़ी हो गयी तो मैं उसकी दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसने लगा.

वो अपने हाथों से मेरा सर जोर दबाने लगी और बोली- ओह हर्षद, कितने गंदे हो तुम … कहां कहां भी जीभ डालते हो, मुझे गुदगुदी हो रही है.उसकी कोमल, मुलायम और गदरायी गांड का गर्म स्पर्श मिलते ही मेरा लंड फड़फड़ाने लगा.

हद हिंदी सेक्सी - गोवा के बीएफ

तभी बलदेव ने अपना लंड निकाल लिया, वो बोला- अच्छा आज थोड़ा सा प्रोग्राम कर लो, बाकी कल कर लेना.लगभग 15 दिन की मशक्कत के बाद सोनम ने पापा को लाईन देने के लिए हामी भरते हुए कहा- अगर हुआ तो चुद भी जाऊंगी.

अपने होंठ दांतों से चबाते हुए अपने दाएँ हाथ की हथेली को नीचे ले जाकर, नत्थूलाल को ऊपर उठाया. गोवा के बीएफ नीचे पेटीकोट को एक तरफ से उठा कर कमर में दबा रखा था जिससे दूधिया चिकनी मांसल टांग घुटने तक दिख रही थी.

वो भी हमारे साथ सेक्स करने को राजी हो जाए, तो स्वैपिंग में मज़ा आ जाएगा.

गोवा के बीएफ?

कुछ देर तक बहन की चूत रगड़ने के बाद मैं उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया. फिर बैठे बैठे ही उसने मुझे घुमाया और स्क्रबर से मेरा पेट, लंड सहित मुझे अच्छी तरह से रगड़ रगड़कर झाग से भर दिया. मित्रो, मैं भोगु पुन: आपकी सेवा में अपनी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ.

रेशमा ने मेरे बालों को पकड़ कर मेरा मुँह और जोर से अपनी चूत पर दबा दिया. उसी रात में उसने फिर से मैसेज किया और वो मुझे दिल्ली से बाहर मिलने के लिए जोर देने लगी. उसने मेरे सिर को दोनों हाथों से पकड़ लिया था और अपनी ओर खींच रही थी.

मैंने पति को फोन लगाया- आज मेरी सहेली मधु ने किट्टी रखी है, मैं रात लेट आउंगी. दोनों जांघ फ़ैलने से उसकी चूत ने भी अपना मुँह खोल दिया और उसका छेद साफ साफ दिखने लगा. राखी की चूत जरा सी मटकी, पर मैंने एक ही झटके मैं पूरा लंड अन्दर डाल दिया.

कहिए पढ़ाई चल रही है या बंद कर दी?वो रूक गई और मुस्कुराती हुई बोली- पढ़ाई तो बंद कर दी. उसने फ़ोन पिक किया और उधर दूसरी तरफ की कुछ बात सुनी, फिर बोली- ठीक है.

शनाया ने मुझसे कहा- मैं एक बहुत अच्छा गिफ़्ट लायी हूँ, तुझे बहुत पसंद आएगा.

आखिर भाभी ने मेरा सिर पकड़ कर अपनी गर्म चूत पर दबा लिया और बोलीं- कुछ करो संजय … नहीं तो चूत रस छोड़ देगी.

मैंने मानसी से पूछा- फिर?मानसी- मैंने शनाया से एक दिन मज़ाक़ में कहा कि मुझे भी यार तेरे बॉयफ्रेंड से चुदाई करना मिल जाए, तो मजा आ जाए. ससुर जी मेरे मम्मों को बिल्कुल निचोड़ रहे थे और मुझे काफी तकलीफ हो रही थी लेकिन मैं भी उस समय पूरे जोश से भरी हुई थी और अपनी शर्म को दूर करते हुए अपने आप को उनको सौंप चुकी थी. मैंने उससे कहा- तुम डरो मत … मैं तेल लगा कर लंड घुसाऊंगा, तुझे ज़्यादा दर्द नहीं होगा.

फिर अपनी कमर ऊपर करके एक जोर के धक्के के साथ पूरा लंड राखी की चूत में पेल दिया. रेशमा ने भी ‘आह अम्मी …’ चिल्लाती हुई अपने हाथ से चूत दबा दी और वो फिर से गुस्सैल रंडी की तरह मुझे घूरने लगी. मैं जितनी बार लंड रगड़ता, वो कमर उछाल कर लंड गटकने की असफल कोशिश कर रही थी.

मम्मी की फूली और खुली हुई चूत फच फच के आवाज के साथ लंड का स्वाद लिए जा रही थी.

मैंने एक झटका लगाया तो मेरे लंड का टोपा सुमैत्री की गांड में चला गया. मैंने घर आकर सब कुछ याद करके उंगली करके अपनी चूत की आग शांत कर सकी थी, पर जो आग लंड से बुझती है, उंगलियों में वो दम कहां. फ्रेंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे मेरे पार्टनर दोस्त की बीवी बहुत पसंद थी.

मैं अपने बारे में आपको अपनी पिछली कहानियों में आपको बता ही चुका हूं कि मैं कसरती बदन का हूँ. वह मुस्कराया- साले ने पूरा लंड पेल दिया और पूछ रहा है कि परेशानी तो नहीं हो रही है. इसलिए अनु दीदी की अनुकम्पा से नए साल के जश्न में अपने दोनों सगे भाइयों को रीना और अनुष्का से विधिवतचुदाई की शिक्षादिलवाई.

भाभी ने ओके कहा और हम दोनों ने स्पून पोजीशन में सेक्स करने का सोच लिया.

मैंने जहां कमरा किराए पर लिया था, उस मकान की मालकिन बहुत ही सुंदर और उत्तेजक थी. एक हाथ से चूतड़ फैलाते हुए मैंने दूसरे हाथ से अपना गुर्राता लंड उसकी फुद्दी पर लगाया और हल्का धक्का देकर उसकी चूत में घुसा दिया.

गोवा के बीएफ मैं उसके सामने खड़ा होकर उसकी तरफ पीठ कर ली और उसकी कलाई पकड़ कर उसकी क्रीम अपनी गांड पर उसकी उंगली रख दी. मैंने बिना टाइम गंवाए उसके सारे कपड़े उतार दिए और उसने भी मुझे पूरा नंगा कर दिया.

गोवा के बीएफ मैं बोला- साली रंडी, इधर नीचे फ्लाईओवर बना कर रखा है क्या? एनएच बना रखा है साली ने … न जाने कितने डम्पर निकल गए इस पर से. वो समझती हुई बोली- हां तुम्हें भी पिलाऊंगी, लेकिन अभी नहीं … जब हमें समय मिलेगा तब!सरिता ये शर्माकर बोली.

अब मैं जानती हूं कि इसने शादी कर ली, कुछ दिनों बाद अपनी सेलरी भी देना बंद कर देगी.

सेक्स हिंदी सेक्स बीएफ

मैंने पूछा- भैया कहां जा रहे हो?भैया बोलने लगे- कश्मीर घूमने जा रहा हूँ. डरी सहमी चेतना एक शब्द भी नहीं बोली और घर में किसी और को नहीं बताने की मिन्नतें करने लगी. फिर विलास ने उसे अपने थूक से पूरा गीला कर दिया और मुझे नीचे आने को बोला.

एक बाबा बोला- पत्नी जी, आज सुहागरात किस तरह से मनाई जाए?मैं कुछ नहीं बोली. दोस्तो, ये थी Xx सेक्सी गर्ल की चुदाई और मेरी सच्ची कामुक सेक्स कहानी. दोस्तो, जिसकी ऐसी तारीफ खुद उसका पति करे, उसका मेरी तरफ आकर्षित होने लाजिमी था.

‘क्या बात है सर … एकदम टाइट है ये कभी बैठता नहीं है क्या?’‘तुझे देख कर खड़ा हो जाता है.

धीरे धीरे नीचे सरकते हुए मैंने उसकी दोनों चूचियां बारी-बारी से चूसनी चालू कर दीं. हम गांव के ग्राउंड के पास मिले, उसने नीले रंग की टीशर्ट पहनी था और नीचे काले रंग का ढीला लोअर था. उसकी खूबसूरती के बारे में मैं शब्दों में ज्यादा कुछ नहीं कह सकता थामैं बस उसे देखे ही जा रहा था.

यूं तो मैं सेक्स कहानी लिखने का बहुत दिनों से सोच रहा था लेकिन ये जो घटना मेरे साथ क़ल हुई तो मैंने सोचा कि ताज़ा रस ही लिख कर आप सभी को मजा दूँ. मैंने उसे बिस्तर के किनारे घोड़ी जैसा बनाया और उसकी गांड पर थूक लगा कर उसे चिकना किया. नीता उठकर खड़ी हो गयी तो मैं उसकी दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसने लगा.

इसलिए वह चाहती थी कि उसका पति एक बार उसके सामने किसी की बुर चोद ले. आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बता दूँ कि मैं एक सामान्य शरीर का 5 फीट 8 इंच का युवक हूँ.

ऐसे पाठकों से मेरा इतना ही कहना है कि कहानी को दिमाग लगा कर पढ़ें और पहले ये जान लें कि कहानी किसकी है और आप क्या सवाल कर रहे हैं?ससुर सेक्स की हिंदी कहानी के पहले भागमैं ससुर जी के सामने नंगी चली गयीमें अभी तक आपने कहानी में पढ़ा कि किस तरह से मेरी सहेली नैना अपने जिस्म की आग में जल रही थी, जिसके कारण उसने पहले अपने देवर पर डोरे डाले लेकिन सफल नहीं हुई. थोड़ी ही देर में फकीर ने मेरी पैंटी को खींचा और मेरे पजामी को दोनों पैरों से बाहर कर दिया. मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी Xxx लड़की की चुदास की कहानी पसंद आ रही होगी.

मैंने अपना बैग नीचे रखा और उसको गले से लगाए हुए उसकी पीठ और चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा.

फिर उसको कुतिया बनाए हुए ही चूत से लंड खींच कर गांड दबाते हुए बार बार लंड पेलने और निकालने लगा. वो बराबर लंड चूसती रही और जब तक मेरे झटके खत्म नहीं हो गए, वो मेरे लंड को भैंस के थन जैसी चूसती रही. शाम ढले, शैली के पति अमरचंद अपनी ड्यूटी बजा कर आए तो जरूरी शिष्टाचार के साथ सारी बातें बताईं.

मम्मी ने फिर पूछा और अपना ब्लाउज खोलकर बोली- बचपन में मेरी चूची पीता था. मैं समझ गया कि इसे इसके पति ने वो सुख नहीं दिया, जो इसकी जवानी को चाहिए था.

उसके मुलायम हाथ का स्पर्श मेरे लंड पर होते ही मेरा लंड जोर से फड़फड़ाने लगा. अचानक मैंने देखा कि दोनों ने एक दूसरे को देखा और होंठ से होंठ लगा कर किस करने लगे. व्यस्तता के दौरान भी मैं अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ने का वक़्त अक्सर निकाल ही लेता था.

कहानी बीएफ

कुछ ही देर में उत्तेजना चरम पर पहुंच गई थी और मुझसे रुका ही नहीं जा रहा था.

जावेद- ज्यादा लग रही थी? अब धीरे धीरे करूंगा, जोश में झटके जरा जोरदार हो गए थे … अब ध्यान रखूंगा यार माफ करो … गलती हो गई. फकीर के हाथ धीरे-धीरे अपनी मर्यादाओं को लांघ कर मेरे जिस्म को टटोल रहे थे. मैं बाथरूम में नहा रहा था और ये उसको पता नहीं था, उसने अचानक से बाथरूम का दरवाजा खोल लिया और तभी तुम्हारा फ़ोन आ गया.

मैंने कार्ड देखकर उससे पूछा- इन दोनों नम्बर में से आपका कौन सा नंबर है? ऑर्डर किस नंबर पर करूं?उसने कहा- जो नम्बर बैक साइड में नंबर लिखा है, आप उस पर कॉल करके आर्डर कर सकते हैं. मतलब चूत मारने वाला लंड अब मेरी गांड में घुस गया और गांड मारने वाला मेरी चूत मारने में लग गया. जानवर सेक्सी एचडीमैंने उससे कहा- थोड़ी देर पहले तो कह रही थी कि मैं कुछ भी कहूंगा तो करूंगी … और अब मना कर रही हो.

मैंने ईमेल पढ़ा और न जाने क्यों कुछ सालों पहले के ख्यालों में खो गया. मैंने अपना एक पैर बाजू में फैलाया और अंडगोटियां सहलाने को जगह बना दी.

मैंने भी देर ना करते हुए उनको सीधा किया और उनके ग़ुलाबी होंठों को चूसने लगा, अपने हाथों से उनके 36 इंची चूचों को दबाने लगा. जैसे तैसे सितम्बर में वाइफ मायके गयी, तब तक चीजें थोड़ा सही हो चुकी थीं. आमोद कुमार[emailprotected]नंगी लड़की सेक्स फोरप्ले कहानी का अगला भाग:दोस्त की सहेली संग चुदाई युद्ध- 3.

शुरू के 9 महीने तक तो वो साथ में रहे लेकिन उसके बाद वो सूरत चले गए और मैं अपने देवर और ससुर जी के साथ घर पर अकेली रहने लगी. मुझे पता था कि जब मैं अपने लंड पर यह कंडोम लगा कर सुमैत्री की गांड की चुदाई करूंगा, तो उसकी क्या हालत होगी. मैंने उसकी टांगें चौड़ी की और देखा कि सामने एकदम गुलाबी और चिकनी चूत नम हुई पड़ी थी.

मैंने भाभी की गांड के छेद में अपनी जीभ लगा दी और छेद गीला करने लगा.

गीली चूत देख कर मैंने अपना लंड चूत पर सैट किया और एक ही झटके में अपना आधा लंड भाभी की चूत में पेल दिया. मैंने रेखा की चूत की सील कैसे तोड़ी, आप इस सत्य यंग गर्ल Xxx स्टोरी का आनन्द लें.

भाभी की तरफ से ये बड़ा सीधा सा इशारा था कि बिना चूत के काम चला रहे हो क्या. मैंने उसकी दोनों चूचियों को पकड़कर उसके बीच में लंड लगाया और चूचियों को दबा कर धक्के मारने लगा. उसके होंठ थोड़े मोटे, जिस पर सुर्ख लाल रंग की लिपिस्टिक उसे बहुत ही ज्यादा हॉट बना रही थी.

तो वो बोली- मैंने आपको बताया था न कि मेरे घर में कोई नहीं है और आज आप मेरे घर में रुक जाना. मैंने कहा- हां हां, कह तो दिया है कि वहीं नंगी होकर मेरे पापा के लंड से चुद लेना … उनके साथ रंडी की तरह खुल कर हमबिस्तर हो जाना. काश तुम मेरे पति होते होते तो अब तक मैं तीन चार बच्चों की मां बन जाती.

गोवा के बीएफ रेशमा- चुप करो बदमाश, उस सुअर का नाम लेकर क्यों मजा ख़राब कर रहे हो? ऐसे लौड़े को चूसने के लिए तो मैं इतने दिन से तड़प रही थी मेरे राजा जी, अब देखो कैसे आपको मजा दिलाती हूँ. मैंने उसे धीरे से लिटा दिया और उसकी साड़ी को पेटीकोट समेत धीरे धीरे ऊपर कर दिया.

बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ

मेरी मस्ती में सिसकारी निकल रही थी- ओह फ़लक … ऐसे ही … आह उह्ह्ह … तुम वर्ल्ड की बेस्ट पार्टनर हो. मैंने सुपारा गांड में फंसाया और जब तक भाभी कुछ कहतीं मैंने एक धक्का दे मारा. उसे मैंने भाभी की गांड और अपने लंड पर लगाया और लंड गांड के फूल पर रगड़ने लगा.

इस पर मैंने बोला- अगर ऐसे खेत के मालिक हम होते, तो हल भी ठीक से चलाते, पानी भी टाइम से लगाते, बीज भी सही बोते और फसल पकने तक ध्यान भी रखते. जीजा अपना फनफनाता लंड आरजू की चुत पर रगड़ने लगा, तो महीनों से प्यासी चूत पनियाने लगी और पूरी गीली होकर लंड लेने के लिए फुदकने लगी. इंग्लिश सेक्स व्हिडिओ डाऊनलोडफिर दो घरों के लेंटर डलने के बाद हमने वहां कुछ मजदूरों को रख लिया ताकि वहां पड़े सामान की चौकीदारी भी हो सके.

अब सुनीता की नींद उड़ चुकी थी, वह पूरी तरीके से गर्म हो गई थी लेकिन घरवालों के कारण कुछ नहीं कर सकती थी.

ताबड़तोड़ चुदाई करते करते आंटी की आंखों से आंसू बहने लगे और मैं होंठों को चूमने लगा. मैं भी उठ गया और वो अचानक से मेरे गले से लग गई और मुझे चूम कर चली गई.

मगर वह लड़के को अपनी बांहों में बुरी तरह जकड़े हुए था और उसकी कमर लगातार ऊपर नीचे हो रही थी. फिर मैंने भाभी की टांगों को फैलाया और उनकी चूत को चाटना चालू कर दिया. जब मौसी ने मेरे कंबल को अपनी तरफ खींचा और अन्दर से पकड़कर सही करने लगीं.

अब भी बोलो, तो इसकी में से निकाल कर तेरी में डाल दूँ?राकेश फिक्क से हंस दिया.

मैंने भी हाजिर जवाबी होते हुए कहा कि और मर्दों का तो पता नहीं, लेकिन सारी औरतें इतनी दिलकश हसीना नहीं होतीं कि नजर हटाने का मन न करे. मैं- नहीं, अगर आपको किताब दे देंगे, तो आप एक ही दिन में सारे चुटकुले पढ़ लोगी. फिर अपनी कमर ऊपर करके एक जोर के धक्के के साथ पूरा लंड राखी की चूत में पेल दिया.

जीनीयस मूवी डाउनलोडमैंने बोला- ठीक है मैं चला जाऊंगा, लेकिन तुम अभी कहां हो?तो उसने बोला- अभी मैं अपने भईया भाभी घर फ़रीदाबाद आई हूँ. आज अकेले उसके घर पर उसके साथ उसे इस रूप में देखकर मेरे लंड से पानी रिसने लगा.

प्रियंका चोपड़ा का वीडियो बीएफ

मेरा भाई शिवम हंसने लगा और वो मुझसे बोला- चल बहना, आज तेरी चुत की ओवरहालिंग कर देता हूँ. उनकी चूचियां का आकार इतना मस्त कि जो भी देखे, उसका लंड पैंट फाड़ कर बाहर आ जाए, बूढ़ों के अन्दर भी कामवासना जगा दे. अब मैंने ललिता भाभी की पीठ पर हाथ फेरते हुए कहा- अरे भाभी, यह तो मेरा फ़र्ज़ था.

मैंने फिर से कहा- दादा, मेरे से तो ज्यादा माशूक ये मेरे दोस्त हैं, सब चिकने हैं. वो मेरे ऊपर आ गए और मेरे पैरों को फैलाकर लंड को चूत में लगाया और तुरंत एक धक्का लगा दिया. पानी की वजह से लंड झट से अन्दर गया तो रेखा सिहर उठी, वो मेरे होंठों को चूसने लगी.

वो मेरे हाथ को उठा कर अपने पेट पर ले आई, तो मैं उसके पेट पर उंगलियां घुमाने लगा. मैंने, महंत और सुमंत ने लगातार दीदी को ढांढस बंधाया और उन्हें सहलाते रहे. दस पन्द्रह मिनट की ऐसी धमाकेदार चुदाई के बाद हम दोनों कामवासना में डूब गए थे.

’फिर उन्होंने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और एक झटके में पेटीकोट नीचे खींच दिया. आज जब हम दोनों एक दूसरे को एक बार ज़ी भर कर चोद चुके हैं और चूस चुके हैं और अपनी जवानी की प्यास को आंखों से अभी चोद रहे थे.

फिर चाची चली गईं और मैंने भाभी की फिर से लेनी शुरू कर दी कि भाभी आपकी शादी से पहले कितने ब्वॉयफ्रेंड थे और भैया से शादी होने के बाद क्या क्या किया … वगैरह वगैरह.

अब आगे हिंदी गांड सेक्स कहानी:मैंने भी अपनी कमर को थोड़ा आगे पीछे किया, तो उसने लंड उगल दिया. हिंदी मूवी सेक्सी हिंदीछत से मैं मिहिका के घर जाने का रास्ता सोचने लगा कि छत से कैसे उतरना है. सेक्सी वीडियो फुल एचडी 2020मैंने फायदा उठाते हुए उसके होंठों पर होंठ रख दिए और किस करना शुरू कर दिया. ऐसा नहीं था कि एकदम नहीं मिल पाए, मिले … लेकिन बाहर पार्क में, कहीं या ऐसे ही किसी रेस्टोरेंट में मिले.

वो मुझसे लिपट गया और उसने गीला लंड निकाल कर मेरे मुँह में ठूंस दिया.

मेरी आवाज सुनकर मेरे चूतिया हस्बैंड ने हल्के से आंख खोली और बोले- क्या हुआ?मैं बोली- कुछ नहीं, सो जाओ … मुझे चुदने दो. मैंने ललिता भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और अपना लंड उनके मुँह में घुसा दिया. कुछ देर उछलने के बाद भाभी लेट गईं और भैया भाभी के ऊपर आकर भाभी को चोदने लगे.

उसने अच्छे कपड़े पहने हुए थे और उसके होंठ लाल गुलाब की तरह खुले हुए थे. पापा- हां पूरा मजा लो यार … लाइफ के में जवानी एक बार ही आनी है जान. मैंने उसे चुदाई की पोजीशन में लिटाया और लंड चूत पर सैट करके धक्का दे दिया.

बीएफ पिक्चर फुल एचडी वीडियो

मैं आलोक आपकी खिदमत में काफी समय पश्चात अपनी नयी सेक्स कहानी लेकर आया हूँ. दीदी को देख कर मैं हैरान हो गया क्योंकि थोड़ी देर पहले दीदी सलवार और कमीज़ पहनी थी लेकिन अब सलवार के बदले नीचे स्कर्ट पहनी हुई थी. मैंने दरवाजा वापिस बंद किया तो उन्होंने बोला- मेरे पैर और कमर दर्द से उठा नहीं जा रहा है, कुछ करो.

रुचिका ने तुम्हारी बहुत प्रसंसा की है और वो बोली है कि अब कुछ ऐसा करो कि सप्ताह में एक बार मिलन होता रहे.

मैंने उसकी तरफ देखा तो वो बोला- मुझे मालूम है कि आप नितिन के साथ क्या गप्पें लड़ाते हैं.

मैंने ललिता भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और अपना लंड उनके मुँह में घुसा दिया. कुछ देर बाद जब उसने मेरे हाथ से अपना हाथ छुड़ाने की कोशिश नहीं की तो मैंने उसके ड्रेस के दुपट्टे को हटा दिया. ಲೋಕಲ್ ಸೆಕ್ಸ್देसी वर्जिन गर्ल हॉट स्टोरी में पढ़ें कि छुट्टियों में मैं गाँव गया तो वहां मुझे एक लड़की दिखी.

यह आदमी वही डॉक्टर था जिसने मुखिया जी को मुझे पैसे देने के लिए कहा था. पिछले भागलेडी डॉक्टर की गांड में उंगलीमें अब तक आपने पढ़ा था कि डॉक्टर रेखा की प्यासी चूत ने मेरे लंड से दो बार चुद कर मजा ले लिया था. मैं अपने घुटनों के बल आ गई और जोर जोर से उसके लंड को मुँह में गले तक लेकर चूसने लगी.

यह सुनते ही, उसने भी पीछे से मुझे कसके पकड़ा और बोली- क्यों, क्या इरादा है … बहुत जल्दी में हो क्या!उसने जिस तरह से मुझे पकड़ा था, मुझे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी. मैंने अंकल से थोड़ा हट कर कप उठाया तो अंकल ने धीरे से कहा- थोड़ा और खौलाओ न!मैंने उनका इशारा समझ लिया था.

तेरे बाप की गांड फट रही है, तो तू ही रंडी बन जा और अपने बाप का लंड पकड़ ले.

उसके सर को मैं अपनी दोनों टांगों के बीच जोर जोर से दबाने लगी और वह मेरी चूत और गांड का रसपान करने लगा. तुम्हारा पति तुम्हारी गांड मारेगा भी या नहीं!मेरे कुछ देर समझाने के बाद वो बैक डोर सेक्स के लिए राजी हो गई. इससे नीता और मदहोश होकर कामुक सिसकारियां लेने लगी और साथ में बड़बड़ाने लगी- हां ऐसे ही … और जोर से धक्के मारो हर्षद … आंह ऐसे ही रगड़ दो मेरी चूत को … इसकी पूरी गर्मी निचोड़कर बाहर निकाल दो हर्षद … आह.

गांव का सेक्सी हिंदी में मैंने इंटरव्यू से एक रात पहले श्रेया को बता दिया था कि तुम्हें मेरे साथ चलना है. कहने का आशय यह कि उन बिहारी भाभी को अगर कोई एक बार देख ले तो उसे बिना मुठ मारे चैन नहीं मिलेगा.

‘उफ बलदेव …’तभी एक मजदूर मेरी जांघों को चूमने लगा और दूसरा मेरी टांगों को चूमने लगा. करीब एक घंटे बाद सर का कॉल आया- मेघा, मैं तुम्हारे घर के बाहर खड़ा हूँ. मैंने सोफे पर लेटे हुए अपने देवर को ऐसे अनदेखा किया जैसे कि मैंने उसे देखा ही नहीं था.

अंग्रेजी में सेक्स बीएफ

मैंने पूछा कि तुम आज अकेली आई हो?उसने बताया कि हां मेरा भाई थोड़ी देर के बाद आएगा. लगभग आधे घण्टे की ऐसे धक्कम पेल चुदाई बाद पापा ने कहा- मैं आ रहा हूँ जान … इस बार मेरा रस पी लो. सच में मुझे तो उसके लटकते हुए बड़े बड़े चुचे 42 के नहीं बल्कि 55 के लग रहे थे.

जो मेरी मारने वाले थे, मेरे ऊपर मरते थे, मेरी गांड का मजा लेते थे, वे सब पुराने कस्बे में छूट गए. इधर मैं उस पहले वाले बाबा का लंगोट सहलाने लगी जिसमें मुझे समझ आ गया कि इसमें कोई सामान्य लौड़ा नहीं है.

उसके तने हुए स्तन और निपल्स को मैं गाउन के ऊपर से ही देख पा रहा था.

मैंने उससे पूछा- क्या तुम मेरे साथ मूवी देखने चलोगी?उसने हां बोला और हम दोनों अगले दिन मूवी देखने गए. मैं- बिल्कुल भाभी, वो कयामत हैं, उनको देख कर मेरी जान निकल जाती है. दोस्तो, क्यूट गर्ल सेक्स कहानी के अगले भाग में आप पढ़िए कि कैसे मेरे और रूना के बीच चुदाई हुई और मैं कितने दिन उसके साथ वहां रहा.

वो कभी पूरा लंड मुँह में लेने की कोशिश करतीं, तो कभी तेजी से ऊपर नीचे करके मुँह से लंड चोदने लगतीं. कमरे में चाची ने मुझे देख कर कहा- क्या तुम्हें ताश खेलना आता है?मैंने कहा- हां चाची. इसके बाद सुमैत्री ने अपनी गांड को पूरी तरह से मेरे लंड के हवाले कर दिया और मजा लेने लगी.

मैंने कहा- हां फिर क्या हुआ नीता?नीता- जैसे ही मैंने उसे देखा तो उसका लंड जरा सा ही था.

गोवा के बीएफ: मेरे पास एक ही रास्ता था; हॉट सेक्स विद वाइफ!इस सेक्स कहानी में मेरी बीवी का दिल कैसे बदल गया, उसी को मैंने लिखा है. उसका थरथराता हुआ बदन भी ये साबित कर रहा था कि औरत की झड़ने की ताकत क्या होती है.

दोस्तो, अपनी इस फोरप्ले सेक्स की कहानी के अगले भाग में मैं आपको नीता की अनचुदी बुर की चुदाई की कहानी विस्तार से लिखूंगा. इसलिए अनु दीदी की अनुकम्पा से नए साल के जश्न में अपने दोनों सगे भाइयों को रीना और अनुष्का से विधिवतचुदाई की शिक्षादिलवाई. अदिति मुझसे बोली- हर्षद अब नहीं रहा जा सकता मुझसे … जल्दी से अन्दर आ जाओ.

इस बार मैंने सीमा की चूत चोदी और ना जाने क्यों मुझे हमेशा से कहीं अधिक आनन्द आज सीमा की चुदाई उसके पति सामने करने में आ रहा था.

देसी भाभी की चूत का मजा लिया मैंने अपनी मकान मालकिन को चोद कर! मेरी बीवी मायके गयी हुई थी और मेरी नजर भाभी के सेक्सी बदन पर थी. कुछ देर बाद मैंने देखा कि आंटी गांड हिला कर लंड लेने लगी हैं, तो मैंने अपने लंड को थोड़ा बाहर निकाल कर पूरा डाल दिया. जैसे ही थोड़ा सा लंड अन्दर गया, तो वो दर्द से ऊपर को सरक गई और उसके मुँह से चीख निकल गई.