देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,సెక్స్ వీడియోలు ఇంగ్లీష్

तस्वीर का शीर्षक ,

आंटी की चुदाई हिंदी में: देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ, कुछ देर यही चलता रहा और फिर जब वो झड़ने वाले थे, तो दोनों ने लंड मेरे मुँह में ठूंस दिए और मेरे हाथ भी पकड़ लिए.

ने वाला सेक्सी

थोड़ी देर बाद मैंने फिर से मेरा लंड अमायरा के मुँह में दिया, तो लंड सलामी देने लगा. सेक्सी गीत भोजपुरीस्कूल की ऊपरी बिल्डिंग में एक कंप्यूटर रूम था, जहां पर स्कूल के काम के लिए मुझे जाना पड़ता था.

इसलिए जब भी आपके मन में कोई शंका पैदा हो तो आप अपने किसी सगे संबंधी या अपने मित्र गणों से इस विषय पर चर्चा करने से कतई परहेज न करें. चुदाई चुदाई सेक्सी व्हिडिओभाभी ने शालू से पूछा- इतना क्यों चिल्ला रही थी?वो रोते हुए भाभी से कहने लगी- ये अपना औजार मेरे छेद में घुसा रहे थे … इसलिए मुझे बहुत दर्द हो रहा था.

अब मेरी चचेरी बहन मेरे सामने नीले रंग की ब्रा पेंटी में थी तथा उसकी पेंटी से थोड़ी गीली थी।उसने आँखें बंद कर ली.देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ: उसके बाद मैंने उसकी गांड के छेद पर अपने लंड का सुपारा रखा और उससे कहा- अब तुम अपना मुँह जोर से दबा लो, जिससे तुम्हारे मुँह से चीख ना निकले.

तभी मुझे भाभी ने रोकते हुए कहा- यहां हॉल में नहीं … आओ बेडरूम में चलते हैं.उसने मेरी चूत को खोल कर देखा और बोला- तुम्हारी चूत तो अंदर से बिल्कुल लाल है नेहा.

प्रीति जिंटा की सेक्सी फोटो - देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ

वह चुप होकर खड़ा रहा।क्या हुआ बेटे? निकल गयी सारी हवा? मगर तुमने अपनी बहन के साथ जो पाप किया है उसकी सजा तुम्हें भुगतनी होगी.तुम खुद बात करना, ठीक लगे तो ही आगे सोचेंगे!उधर मैंने दूसरी तरफ राजवीर को बता दिया था कि पूजा राजी है लेकिन पहले वो तुमसे बात करना चाहती है!कुछ समय बातों का सिलसिला चला हेंग आउट्स पर … वॉइस कॉल हुई दोनों में … और फिर वो दिन भी आ गया जब राजवीर किसी काम से देहली आये हुए थे.

मेरे निवेदन है सही से पढ़िये और पूर्ण ज्ञान के साथ आनन्द लीजिये!एक बार फिर से आपके प्यार भरे मेल के लिये शुक्रिया. देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ मैं कॉलगर्ल को चोदना पसंद नहीं करता हूँ, क्योंकि मैं सेक्स को पूजा व प्यार मानता हूँ और पैसे के बदले प्यार करने के सख़्त खिलाफ हूँ.

मैं घर में किसी के मैसेज का रिप्लाई नहीं करती थी लेकिन अपने भाई के मैसेज का रिप्लाई जरूर करती थी.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ?

फिर कुंवर साहब ने अपने लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर रखा और गांड में घुसा दिया. पूजा की चूत एकदम साफ़ थी और उसकी चूत के चारों तरफ पेन से मेरा नाम लिखा हुआ था. अन्तर्वासना के सभी पाठकों को विशू तिवारी का प्यार भरा नमस्कारमेरी पहली सच्ची कहानीमिस्त्री की लाजवाब स्त्रीमें आपने पढ़ा मैंने कैसे मिस्त्री की सेक्सी और सुंदर औरत को पटा कर उसकी चूत की चुदाई की.

मुझसे बात करते करते वो मेरी पर्सनल लाइफ की बातें करने लगे और मुझसे पूछने लगे- तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है?मुझे कुछ समझ भी नहीं आ रहा था कि मैं चाचा को क्या बोलूं? मैंने चाचा को कभी इस बारे में नहीं बताया था कि मेरा बॉयफ्रेंड है और मैं उसके साथ बहुत समय से मजे ले रही हूं और उससे प्यार करती हूं और हम दोनों लोग मौका देखकर होटल में जाकर सेक्स करते हैं. और उसके दिल में भी मेरे लिए कुछ था यह बात तो मुझे मालूम थी। मैंने सुमोना के दिल में अपने लिए जगह बना ली थी।वह मुझ पर पूरी तरीके से विश्वास करने लगी थी। जब उसे मुझ पर पूरा भरोसा होने लगा तो वह मेरे साथ कहीं भी चलने को राजी हो जाती।एक दिन हम दोनों मेरे दोस्त के घर चले गए. अब मुझे बॉस को ये बताना था कि मेरे पति घर पर नहीं है और जिनसे मिलवाने के लिए मैं बॉस को घर लेकर आई थी वो घर पर नहीं हैं.

पीछे मेरी गांड में लंड मजा देने लगा था, इधर आगे वो लौंडिया मेरी चूचियों को मजे से चूस रही थी. इसके बाद मैंने भाभी जी की फूली हुई डबलरोटी की तरह चूत को हाथ लगाया. मैं बड़े आराम से उसकी नटखट चूचियों का उछालना कूदना देखता रहा; बीच बीच में मैं उसके निप्पलस खींच कर अपने सीने पर रगड़ने लगता और उसके कूल्हों के बीच की दरार को, उसकी गांड के झुर्रीदार छिद्र को अपनी उँगलियों से सहलाने लगता जिससे कम्मो की वासना और प्रचण्ड रूप ले लेती और वो किसी हिस्टीरिया के मरीज की तरह अपनी कमर चलाने लगती.

उसके घर वाले भी खेत चले जाते थे, उस वक्त वो भी घर में अकेली होती थी. अब आगे …रात होते ही महेश अपनी बहू के कमरे में घुसकर उसकी शानदार चुदाई करता। समीर भी इसी तरह रोज़ अपनी बहन को चोदता था।आज सुबह समीर के जाने के बाद नीलम घर का काम काज करने में व्यस्त हो गई। महेश ने आज अपनी बेटी को चोदने का पूरा मन बना लिया था क्योंकि पिछले 2 दिनों से उसका लंड उसकी बेटी की चूत की चुदाई करने का भूखा था.

उसका मन कर रहा था जैसे यहीं अंकित उसके सारे कपड़े उतार कर और वो सब कुछ उसके साथ करे जिसकी इतने दिनों से वो कल्पना कर रही है.

इसका कारण ये था कि भाभी जब भी बाहर जाती थीं, तो सास के पास एक वाइब्रेशन मोड पर करके मोबाइल दे जाती थीं.

जीजा जी मेरी चूची मसकते हुए बोले- तू तो बहुत बड़ा माल है … किसी दिन फुरसत में तुझे और मज़ा दूंगा. मैं उसके रूम पर पहुँच गया और सामान्य औपचारिकता के बाद मेरी गर्लफ्रेंड मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अलग बेडरूम में ले जाने लगी. मैंने अंडरवियर के ऊपर से ही चाचा के लंड को हाथ में पकड़ कर सहलाना शुरू कर दिया तो चाचा ने अपना अंडरवियर उतार दिया और अपना लंड मेरे हाथ में दे दिया.

मैं संकोच से- ऐसा क्यों मामी?मामी- तेरा कॉन्फिडेंस बढ़ गया ना इसलिए!मैं- ओह मुझे लगा कि …मामी तिरछी नजर डालते हुए- कि क्या … आगे तो बोल?मेरी तो फट गयी, यह मैं क्या बोल गया था, मैं हड़बड़ाते हुए- कुछ नहीं मामी, वो बस ऐसे ही!और बात पलटते हुए बोला- मुझे नहाने जाना है, पूरा पसीना पसीना हो रहा हूँ, बाय!और भागते हुए छत में बने फ्लैट में जाने लगा और मामी वही खड़ी मुझे देखती रही. मुझे रोनित की बात सुनकर गुस्सा तो बहुत आया कि हरामी मेरी बहन के बारे में बोल रहा है. प्रीति ने गहरे गले का चोलीनुमा ब्लाउज पहना हुआ था, इसमें से उसकी आधी चुचियां और क्लीवेज झाँक रही थी.

मैंने बोला- पैर ही दबा रही थी या कुछ और भी?वो मुझे ऐसे देखने लगी कि मैंने उसकी दुखती रग पर हाथ रख दिया हो.

अब आगे:मैं नीचे झुकते हुए बोली- पहले लंड की मोटाई नापने के लिए उसके टोपे पर इस तरह जीभ घुमाते हैं. मैं बेबस थी … क्योंकि एक तरफ कामवासना से तप्त मेरा 27साल का बेटा था और उसके नीचे मेरी कमसिन 19 साल की बेटी दबी हुई थी. उसके एक सप्ताह बाद जब मेरी पत्नी रीना मेरे पास सोने के लिए आई तो मैंने उससे अहमदाबाद में अपने भाई के साथ चुदाई का किस्सा जानना चाहा.

एक सप्ताह बाद मैं जब ऑफिस में था, मुझे संजना का मेसेज आया- आज रात का खाना मेरे घर पे खाओगे. मैंने उसके बाजू में लेट कर उसकी टी-शर्ट में हाथ डाल कर उसे ऊपर सरका दिया. ” कह के मम्मी ने उठाया।कुछ सुना और जी, ज़रूर” कह के रख दिया।मेरी तरफ देख के मुस्कुराई और बोली शाम को तुझे बुलाया है, चौधराईन मिलना चाहती है.

मेरे दोस्त मुझसे कहते थे कि यार बुरा मत मान, पर बॉस तेरी बहन के साथ भी वही करना चाहता है, जो उसने शेफाली और निशा के साथ किया है.

कुछ देर के बाद उसके पैरों को फैला कर लंड को चूत में सैट करने लगा, लेकिन वो भी अब अन्दर आसानी से उतर नहीं रहा था. वह है कि इस समस्या को लेकर पुरुष अक्सर शर्मिंदगी महसूस करते हैं और समस्या के बारे में खुल कर किसी अच्छे सलाहकार से सलाह या परामर्श लेने से कतराते हैं.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ और समझा दो मेरी चुत को कि मोटे लंड से चुदवाने का मतलब क्या होता है. उसने फिर जोर से आवाजें करते हुए उसके लंड पर अपनी चूत का पानी गिरा दिया.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ उन्होंने कहा- क्यों ऐसा क्यों? कोई मिली नहीं क्या … या कोई स्पेशल चाहिए, बताओ तुम्हारी पसंद कैसी है?तब मैंने कहा कि मुझे कोई आपके जैसी कोई मिली ही नहीं, जिसे मैं अपनी जीएफ बना लेता. एक बार मुझे बहुत गुस्सा आया क्योंकि एक बार हमारे घर की लाइट चली गयी थी.

अब मैं तुम्हें अच्छे तरीके से प्यार करना चाहता हूं जहां पर किसी का कोई डर न हो.

बंगला सेक्सी सेक्सी

कहीं लटक न जाओ लास्ट ईयर में ही!राहुल भाई- अरे पापा, टॉप थ्री में तो रहता ही है ये, पास तो हो ही जायेगा वो भी अच्छे परसेंटाइल में! क्यों राघव?मैं- हाँ भाई, वैसे भी अब टीचर्स भी इंटरनल्स में अच्छे मार्क्स ही देंगे. आंटी अपनी चूत खोल कर मेरे ऊपर बैठ गईं और मेरे सीने पर काटने और चूसने लगीं. उन्होंने कहा- क्यों ऐसा क्यों? कोई मिली नहीं क्या … या कोई स्पेशल चाहिए, बताओ तुम्हारी पसंद कैसी है?तब मैंने कहा कि मुझे कोई आपके जैसी कोई मिली ही नहीं, जिसे मैं अपनी जीएफ बना लेता.

इस बीच में मैंने उनके स्तन और पेट पर कई बार चूस चूस कर निशान बना दिए. एक घंटे बाद हम दोनों ने दुबारा सेक्स किया और इस बार भाभी को पहले से ज्यादा मज़ा आया. मैंने उसकी गांड को थाम लिया और फिर उसके चूतड़ों को अपनी तरफ खींचते हुए एक जोर वाला धक्का लगाया तो आधा लंड उसकी गांड को फाड़ता हुआ घुस गया.

एकदम गोल गोरे चुचे … उन पर भूरे रंग के कड़क निप्पल … मेरा लंड फिर से तुनकी मारने लगा.

गाल फूले फूले से … बड़े बड़े चूतड़, मोटी मोटी जांघें, हल्के सांवले/गेंहुए रंग के!अपने शहर होशंगाबाद से बिजनस का सामान लेने आए थे।चूँकि हमारे पास एक ही बिस्तर व पलंग था, अतः गद्दा आड़ा करके बिछाया पैरों के नीचे दरी बिछाई. इससे पहले मैं इस सेक्स कहानी को लिखूँ, आप सभी को इसके पहले भाग से रूबरू करा देता हूँ. आगे के सफ़र के लिए ट्रॅवेलर में सीटें कुछ इस तरह से सैट की गई थीं कि हर सीट पर एक लड़का और लड़की बैठे.

इसी डर से मैंने उसे मना कर दिया, वो मान गया।उसने पुनः अपनी जेब से एक चॉकलेट निकाला और मुस्करा दिया. मेरी पिछली कहानीसहेली के सामने कॉलेज के लड़के से चुदवा लियामें आपने पढ़ा और मेरी ऑडियो सेक्स स्टोरी में सुना होगा कि कैसे जबरदस्ती राहुल के दोस्त मुझे चोदने के लिये तड़प उठते हैं. सोनी के नार्मल होने पर मैं धीरे धीरे लंड को फुद्दी के अन्दर बाहर करने लगा.

मैंने भाभी की चुत को अपने वीर्य से भर दिया और उसी अवस्था में भाभी पर गिर गया. उनकी तरफ देखते देखते मैं बाथरूम में चली गयी और जाते जाते साड़ी बाहर ही उतार दी.

मैं उसके चुत में उंगली घुमाकर बोला- हो जाए और एक राउंड!आलिया- नो …मैं- प्लीज़, इस बार धीमे करूंगा. वहां हमने सब कुछ किया, लेकिन जब बात चूत में लंड डालने की आई, तो राज मेरी कामुकता को शांत किये बिना ही वहां से भाग गया. आह … मैं उनका लौड़ा अपनी गांड में महसूस कर रहा था और मजा ले रहा था.

” नीलम ने अपने ससुर को देखते हुए कहा।अरे बेटी रात को नहीं सोयी थी क्या?” महेश ने फिर से नीलम से सवाल किया।हाँ सोई थी, मगर मेरा बदन अभी तक बहुत दर्द कर रहा है, आप रात के समय आ जाना!” नीलम ने अपने ससुर को समझाते हुए कहा।बेटी कहाँ पर दर्द है मैं उसे अभी दूर करता हूं.

मैंने अपनी जेब से निकाल कर एक हार उनको अपनी शादीशुदा जिंदगी के पहले नज़राने के तौर पर दिया. जब मैं उसमें इंटरेस्ट लेने लगा तो वो मुझसे और ज्यादा चिपकने लगी और बाहर मिलने के लिए बोलने लगी. फिर अपने एक हाथ से मैंने उसके लोवर के ऊपर से ही उसकी जांघों पर फिराना शुरू कर दिया.

हमारे आने तक अपनी बहन का ध्यान रखना और टाइम से दादाजी को खाना दे आना. मैं बोला- आई लव यू बेबी!फिर तो उसके बाद हम लोग फोन में घंटों बात करते रहते.

उस दिन तू फार्म हाउस के लिए जो बुला रहा था, उसी दिन मुझे सब पता चल गया था. ” अंगूर दीदी अपनी धुन में अपनी सु-सु को सहलाती जा रही थी और साथ में धीमे-धीमे बड़बड़ाती भी जा रही थी।कहानी जारी रहेगी. हम दोनों ही मैच्योर तरीके से तो सेक्स नहीं कर पाए थे, लेकिन जैसे भी हुआ था, बहुत मजा आया था.

नहाने वाली सेक्सी फिल्म

पूजा ने फ़ोन बन्द किया और मेरे ऊपर आकर किस करने लगी हम दोनों एक दूसरे को चूमने चाटने लगे देखते ही देखते हम निर्वस्त्र हो गये!मैंने पूजा नीचे लेटा कर खुद उसके जिस्म को चाटने लगा!पूजा की सिसकारियाँ निकलने लगी.

धीरे धीरे मेरे मन में भी उसके साथ बैठने और चिपकने का ख्याल आने लगा. पहले पुलिस वाले ने ऋतु के गालों पर लंड को फिराते हुए मुठ मारनी शुरू कर दी. मैंने दीदी को चूमते हुए कहा- अगर आप जन्नत के उस पार जाना चाहती हो, तो आज हम ब्लाइंड सेक्स करेंगे.

फिर भाई ने दिव्या की चूत से लंड को निकाल लिया और मेरी चूत में डाल दिया. तब मैंने कहा- अगर सब जानती समझती हो तो बताओ जब ये स्टोरी पढ़ती हो तो कैसा लगता है?वो हंस कर बोली- अच्छा लगता है. सेक्सी 36 साल”मैंने जैसे ही उषा को फोन लगाया, तो रितिका ने मेरे हाथ से मोबाइल खींच लिया.

एक तरफ राहुल मेरे मम्मों को चूस रहा था, सीमान्त मेरी चुत चूस रहा था और रीमा लेस्बियन सेक्स के जैसे मेरे होंठों को चूसने लगी थी. कबीर ने मेरी चूत में लंड को लगभग पूरा फंसा कर अब मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया.

अब भाभी बाथरूम में जाकर अपनी योनि धोने लगी और तब तक मैं वहीं लेट गया था. फिर मैंने इधर उधर देखा और इस छत की मुंडेर पर ऐसी जगह छिप गया, जहां से उन दोनों को साफ़ देखा जा सकता था. आप सोचते होंगे चाट चाट कर कैसे सुखाया जा सकता है?खुद करके देखिएगा, बहुत मजा आता है.

पूजा मेरे लंड को अपने मुँह में भर कर मेरे पेशाब को गटगट पीने लगी और जब मेरा पेशाब निकालना बंद हो गया तो मेरे लंड को मुँह से निकाल कर जीभ से अपने होंठों को साफ करते हुए बोली- मज़ा आ गया. तुम ही इसे समझा दो ना!” महेश ने अपनी बहू के नर्म हाथ अपने लंड पर पड़ते ही सिसकते हुए कहा।चलो पिता जी, मैं ही इसे समझाकर देखती हूँ. फिर मेरा मुँह खुल गया, उसने अपने दोनों आंड मेरी गांड के छेद पर सटा दिए थे.

मेरे लंड से चुदने वाली लड़कियों ने हमेशा मेरे लंड की तारीफ ही की है.

एक दिन मैंने उससे कहा- देखो मैं कल से तुम्हें पढ़ाने नहीं आऊँगी क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मैं तुम्हारे पिता से बेकार में पैसे लूँ … जबकि तुमको पढ़ना ही नहीं है. मैं उसी टाईम अपनी छत पर चढ़ा, जहां से उसका घर साफ दिखता था और घर में घूमती वो भी हमेशा दिखाई दे जाती थी.

उसने मेरी गांड की चुदाई तो इतनी जबरदस्त तरीके से कर दी थी कि मेरी गांड तो पूरी फट ही गई थी. मैंने आँखें खोलीं तो मुझे समझ आया कि वो बॉस के लंड से निकलने वाली पेशाब की धार का फव्वारा था. और वह मजे लेकर चूची पिलाती हुई सिसकारी भर रही थी ‘आई आई ऊह ऊऊऊ ऊ ऊ उवह …’कुछ देर बाद उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूत से मेरी उंगली निकाल दी.

इतने में हंसिका भाभी ने मेरा हाथ जोर से पकड़ा और खींचते हुए मुझे अपने बेडरूम ले गईं. एक दिन उसने मुझे खुद को वेबकैम पर भी दिखाया तो मेरे बदन में वासना की आग लग गयी. मैं बोली- दो मिनट के लिए बोला है लेकिन उसको आने में दस मिनट जरूर लगेंगे.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ वैसे भी मैं तो उसी को ही पाने की कोशिश कर रहा था, प्रिया तो गलती से फंस गयी थी. वो मुझको देख कर मुस्कुराई, मैं भी मुस्कुराया और उसके पीछे पड़े बेड पर बैठ गया.

फोटो सेक्सी दिखाइए

मेरी ऑफिस सेक्स की कहानी आपको कैसी लगी, मुझे ईमेल करके जरूर बताना … आपके ईमेल के इंतज़ार में आपकी उज्ज्वला. मैं- क्या हुआ … बिकनी पहनने में देर क्यों लग रही है?दीदी ने सिर्फ हंस कर कहा- जरा सब्र रखो यार … पूरा मजा लेना है या आधा?मैंने कहा- पूरा मजा लेना भी है और देना भी है दीदी. उसके जाते ही बॉस मेरे पास आकर खड़े हो गए और मेरे चेहरे को पकड़ कर किस कर लिया.

मेरी पिछली कहानी थीमेरी कामवासना तेरा बदनआह … इस्ससस … बस ना रे … और कितना अन्दर डालेगा? साले मेरी फट गयी ना … हाय साले फाड़ डाली … आज चार साल बाद मिली हूँ … तो चोद दे मनमाफिक. मैं बोली- दो मिनट के लिए बोला है लेकिन उसको आने में दस मिनट जरूर लगेंगे. झी मराठी सेक्सी व्हिडिओशायद संजना ने मुझे उसके घर के अंदर आते हुए देख लिया था और वह मेरा इंतजार दरवाजे पर खड़ी कर रही थी.

हैलो डियर … मेरी ये सेक्स कहानी काल्पनिक है, इसका किसी से कोई लेना देना नहीं है.

अरे बेटी, तो आओ आज मेरी गोद में सिर रखकर सो जाओ न। बचपन में भी तो तुम सोती थी. मैं भी उसके पूरे बदन को चूमने लगा और उसके मम्मों को भी दबाए जा रहा था.

मैंने उन दोनों की पैंट खोल दी और उनके कहने से पहले ही उनकी अंडरवियर भी खोल दी. मैंने ओके कहा और भाभी जी के दोनों पैर पकड़ कर उनको बिस्तर पर चित लिटा दिया. मेरे निवेदन है सही से पढ़िये और पूर्ण ज्ञान के साथ आनन्द लीजिये!एक बार फिर से आपके प्यार भरे मेल के लिये शुक्रिया.

मैं, मेरे हस्बैंड और हमारा एक छोटा सा बेबी पिछले 3 सालों से यहां रह रहे हैं.

मैं एक हाथ से उसका पेटीकोट नीचे से ऊपर करता हुआ उसकी चिकनी जांघों पर हाथ फेरने लगा. प्रारंभ में इस तरह का प्रयोग करने में आपको कुछ दिक्कत हो सकती है क्योंकि सेक्स करते समय इस तरह का प्रयोग करना बहुत मुश्किल होता है. उस पर्ची में उसने आने के लिए मेरा धन्यवाद दिया और कहा कि अब ऐसा प्यार मुझे रोज़ मिलता रहेगा.

सेक्सी सिक्केदो मिनट की चुम्मा चाटी के बाद वो बोलीं- तूने समझने में इतना टाइम लगा दिया, मैं तो कब से तुझमें समाना चाहती थी. वो भी अपनी गांड को आगे उचकाती हुई मचल रही थी और अपनी चूत को मेरे मुँह से चुदवा रही थी.

सेक्सी हिंदी शॉट

मेरे हाथों ने उसकी ब्रा को ऊपर से पकड़ लिए और कहा- ब्रा का हुक लग रहा है. उसका गदराया हुआ शरीर, गोरा चिट्टा रंग … कद 5 फुट 5 इंच के करीब, मीडियम साइज के चुचे और गांड बाहर को आती हुई ऐसी मटकती थी कि कितना भी ढीला सलवार सूट पहन ले, तब भी चलते हुए में उसकी गांड साफ दिखती थी. मैं पूजा की चूत चाटते हुए कभी कभी उसकी गांड में अपनी उंगली फेर रहा था और जब जब मैं गांड में उंगली फेर रहा था, तब तब पूजा अपनी गांड को भींच रही थी.

मैंने भी सोचा कि चलो अच्छा है, फोकट में रहना मिल रहा है … इसमें बुराई क्या है. अब सागर ने मुझे पूनम जी कहना छोड़ दिया और सिर्फ पूनम बोलना शुरू कर दिया. दोस्तो, चुत वाली आंटियों, भाभियों, लड़कियों और लण्ड वालों को मेरा नमस्कार।मेरा नाम प्रीतम है (बदला हुआ) और मैं राजस्थान का रहने वाला हूँ। मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ।यह मेरी पहली कहानी है जो मैं आप पाठकों के लिए लिख रहा हूँ। यह कहानी मेरी और मेरी चचेरी बहन पुण्या (बदला हुआ नाम) की है।मेरी उम्र 22 वर्ष है और मेरी चचेरी बहन की 19 वर्ष है.

इसके बाद मैं इंस्ट्रूमेंटल म्यूजिक बजाने लगा और हम दोनों कपल के तरह डांस करने लगे. तू उस अंकल को ही पटा ले क्योंकि वो यहाँ के रहने वाले भी नहीं हैं और वो ये सब बात गुप्त भी रखेंगे, तेरे को मजा भी बहुत देंगे क्योंकि वो काफी अनुभव वाले भी होंगे!उसकी बात में तो दम था, मेरे मन में अब तो उनके प्रति वासना जाग गई थी. मैंने उसकी कमर को अपने हाथों से जकड़ लिया और अपने पैरों से उसके पैरों को बांध सा लिया.

मैंने अन्दर जाते हुए दरवाजा बंद किया और बोला- क्या हुआ … ऐसे घूर क्यों रही हो?इतना कहकर मैंने फव्वारा चालू किया और उसे अपनी ओर खींच लिया. बस कमी थी तो अमित की कामुक इच्छाओं को पूजा के आगे रखने की … जिससे अमित का सपना पूरा हो सके!आगे की कहानी अमित ने कुछ इस प्रकार बयाँ की:मैं रोज की भांति बेडरूम में गया.

उस औरत ने आदमी से सिगरेट ले ली, उसने भी धुंआ उड़ाया और उस आदमी से मस्ती करने लगी.

वो मेरे सामने बेमन से चुदने का नाटक भर किया करती थी लेकिन उसको गैर मर्द से चूत चुदाई में बहुत मजा आता था. హీరోయిన్ అనుష్క సెక్స్रशीद ने कच्छा पहना और इसके बाद मैंने दिया बुझा दिया और चुपचाप दबे पाँव अपने कमरे में आकर चारपाई पर लेट गयी. செக்ஸ் ப்ளூ வீடியோमैंने रूम में म्यूजिक बजाकर, आलिया को अपने साथ डांस करने के लिए कहा. उसने अपने बारे में बताया कि कैसे उसके पुराने ब्वॉयफ्रेंड ने उसको धोखा दिया था.

अब आंटी ने मेरा लंड पकड़ते हुए कहा- जल्दी से चोद दे मेरी जान … मुझे चुदे हुए बहुत साल हो गए.

अब ज्यादा मत बनो, मुझे सब पता चल गया है!” मैंने उसको अपनी तरफ खींचते हुए कहा और उसे बांहों में भरकर अपनी‌ गोद में बिठा लिया, जिससे मेरा उत्तेजित लंड सीधे उसके भरे हुए कूल्हों की गहराई में कहीं खो सा गया. उसकी चुत इतनी मदमस्त और फूली हुई थी कि उसे कोई भी देख लेता, तो बिना उसे मुँह में लिए नहीं रह सकता था. ” महेश ने अपनी बहू की तरफ हवस भरी नजरों से देखा।पिता जी मैं तैयार हूँ, मगर हमें करना क्या होगा?” नीलम ने अपने ससुर से पूछा।बेटी जब समीर घर में दाखिल होता है तो वह सीधे अपने कमरे में आता है, हमें उसके आने से पहले उस कमरे में बिल्कुल नंगे होकर एक दूसरे की बांहों में सोना होगा और जैसे ही वह दाखिल हो तुम्हें उठकर यह कहना होगा ‘अरे बापू, आपने दरवाज़ा भी बंद नहीं किया। आज यह टाइम इतनी जल्दी कैसे बीत गया.

मैं वैसे ही किसी को नहीं बताना चाहता था कि मेरी बहन इतनी सेक्सी है कि बूढ़ों का भी लंड खड़ा कर दे. मैंने हंस कर दिलासा दे दी कि कोई बात नहीं … जब भाभी चाहेंगी, देवर हाजिर हो जाएगा. चित्रा अभी मॉडलिंग के लिये ट्राय कर रही थी और आलिया मामा के बिजनेस में मदद करना चालू कर चुकी थी.

सनी लियोन की सेक्सी 2020 की

ये सोचना भी जैसे मुमकिन न हो।10 मिनट का वो दीर्घकालीन चुम्बन दो जवान जिस्मों की अन्तर्वासना जगाने के लिए काफी था।अब हमने कोठरी की ओर रुख किया। कोठरी में काफी पुआल (धान का कचरा) रखी हुई थी। झटपट उसी का गद्दा बना लिया गया।एक अजीब विचार मेरे मन में आया कि मामा ने अपना सामान सुरक्षित रखने के लिए ये कोठरी बनवायी होगी. एक मिनट के लिए आप खुद को मेरी जगह महसूस कर लो और बताओ कि ऐसी स्थिति में आपका क्या फैसला होता?मैंने कहा- मैं आपको इसका जवाब एकदम से नहीं दे सकती क्योंकि मैं जब तक खुद को ऐसे अनुभव में ना ले जाऊं, तब तक कुछ नहीं कह सकती. मेरी बुर गीली हो गयी थी, यहां तक कि उसमें से चाशनी जैसी टपकने लगी थी.

उनको इतनी सुन्दर दुल्हन के रूप में देख कर मेरे मुँह से निकल गया- वाह … तुम तो बला की क़यामत हो मेरी जान.

धीरज ने ज्यादा वक़्त न लगते हुए नायरा की फ्रॉक और अपने कपड़े उतार दिए और नायरा को लेकर बेड की ओर चला.

एक बार फिर से अपना संक्षिप्त परिचय देते हुए बताना चाहता हूँ कि मेरी हाइट 6 फीट के करीब है और शरीर भी ऐवरेज ही है. फिर मैं दोबारा से एक दिन उसी स्पा में गया और वहां जाकर मैंने उसी चिकनी को सिलेक्ट किया. स्मॉल गर्लउनका एकदम सफेद और गुदगुदा शरीर इतना मस्त है कि आप भी देखोगे तो मुठ मार लोगे.

फिर उसने बहुत सारा सीरप अपने चूचों के बीच में डाला और कुछ मेरे लंड पर लगा दिया. सुखविन्दर मेरे खाने की बहुत तारीफ कर रहे थे और साथ में पति को बोल रहे थे- तुम्हारी बीवी बहुत अच्छा खाना बनाती है. लेकिन मेरी कोशिश यही रहती है कि जब पैसे दिये ही जा रहे हैं तो क्यों न फिर लंड को चूत का मजा भी मिल ही जाये.

तो मैंने मजाक करते कहा- ब्वॉयफ्रेंड के साथ गयी थीं … या अकेले ही घूमती हो. मैं भाई की गोद में बैठ कर बीयर पी रही थी और भाई मेरे बूब्स को दबा रहा था.

दोस्तो, मेरी स्टोरीविदेशी महिला मित्र के साथ सेक्स सम्बन्धका अगला भाग प्रस्तुत है.

मेरी गे सेक्स स्टोरी के पहले भागक्रॉस ड्रेसर की सुहागरात की गे स्टोरी-1में आपने पढ़ा कि मुझे लड़की के कपड़े पहनने और लड़की की रहना अच्छा लगने लगा था. मैंने अपनी जीभ से योनि को चाटना चालू कर दिया और दोनों हाथों से भाभी के स्तन मसलना चालू कर दिया. मैंने उनके बालों को एक साइड में सरका कर उनकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया.

मुझे सेक्स करना है क्या करूं वह इसी तरह करे जा रहा था, अपने होठों को एक निप्पल से दूसरे को निप्पल तक, चूमता रहा, चाटता रहा, चूसता रहा, चुटकी लेता रहा, पकड़ता रहा और जोर-जोर से सहलाता रहा।हाँ अंकित, अपनी जबान से करो बेटा. मैं बोली- देखो, ये सब गलत है … प्लीज ऐसा मत करो … तुम तो मजे लेते ही हो और लड़कियों के साथ … मुझे कोई मजे नहीं चाहिए.

फिर धीरे-धीरे परीशा का दर्द कुछ कम होने लगा और उसे अपनी चूत में अजीब सी सरसराहट होने लगी। अब उसे मज़ा आने लगा था और उसने अपनी टांगों को जो कि उसने अपने पापा की कमर पर कस रखी थी, को ढीला कर दिया. अपने जिस्म की भूख को शांत करना अलग बात थी लेकिन इस तरह किसी अन्जान के साथ कब तक? आखिर मुझे भी तो पता होना चाहिए कि जो मर्द मेरे जिस्म के मजे ले रहा है वो है कौन? मैंने इसके बारे में पता करने के लिए ठान लिया था. कुछ पल बाद मैंने उनकी तरफ देखा, तो उनकी आंखों में एक मस्त प्यास सी दिखाई दी.

ट्रिपल सेक्सी वीडियो एक्स

”गौरी की सूरत रोने जैसी हो गयी थी। मुझे लगता है गौरी को इस समय यहाँ से जाना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लग रहा था।तब जाना होगा?” उसने रुआंसी मरियल सी आवाज में पूछा।मैं ऑफिस जाते हुए तुम्हें ड्राप कर दूंगा. मैंने उससे कहा- रशीद रात जो कुछ भी हम दोनों के बीच में हुआ है, उसमें जितने कसूरवार तुम हो, उतनी ही मैं भी हूँ. लेकिन वो सो रही थी और मैं उसके बड़े भाई मोहन के साथ उनके बेडरूम में चली गयी थी.

मैंने अलमारी से दो कपड़े निकाले और पहले दीदी की आंख पर पट्टी बाँध दी. मैंने ध्यान से देखा तो वो तुरंत नहा कर निकली थीं और अपने बाल सुखा रही थीं.

उनके क्लिटोरिस को चूसते हुए मैंने 2 उंगलियां आंटी की चूत में अन्दर बाहर करनी शुरू कर दीं.

हस्तमैथुन यदि ज्यादा मात्रा में कर ली जाये तो इससे भी शीघ्रपतन की समस्या पैदा हो सकती है।शीघ्रपतन की समस्या से निजात पाने में यह क्रिया सहायक भी हो सकती है. नर्म नर्म मुलायम मुलायम मम्मों को हाथों में लेकर बहुत ज्यादा मजा आ रहा था. [emailprotected]Instagram: @handsome_hunk2307चुदाई की कहानी जारी रहेगी.

अपने ऊपर बैठा कर उस दिन उसने बहुत देर तक मुझे ऐसे ही चोदा था और ऐसे ही हम दोनों एक दूसरे की कोली भरकर झड़ गए थे. उन दोनों के अलावा मेरे घर में मैं अपनी स्कूटी किसी को भी चलाने के लिए नहीं देती हूं. आगे चूत में लंड मजा दे रहा था और पीछे से गांड में लंड एक मूसल सा घुसा हुआ दर्द कर रहा था.

डिनर के बाद हम बिस्तर में जाकर एक दूसरे से लिपट गए और बातें करने लगे.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफ: ” महेश ज़ोर से सिसकते हुए अपनी बहू को समझाते हुए बोला।नीलम को उस वक़त जैसे होश ही नहीं था. रोहन- हे सोनिया, सुनो तो … प्लीज बंद मत करो …सोनिया- नहीं, आज के लिए इतना काफी है.

मैंने देखा एक नई और आकर्षित करने वाली नई-नकोर कोरी चूत मेरे लंड का इंतज़ार कर रही थी. मेरे लंड में सख्ती आ गई और मैंने मौके का फायदा उठाने का मन बना लिया. ये सोचना भी जैसे मुमकिन न हो।10 मिनट का वो दीर्घकालीन चुम्बन दो जवान जिस्मों की अन्तर्वासना जगाने के लिए काफी था।अब हमने कोठरी की ओर रुख किया। कोठरी में काफी पुआल (धान का कचरा) रखी हुई थी। झटपट उसी का गद्दा बना लिया गया।एक अजीब विचार मेरे मन में आया कि मामा ने अपना सामान सुरक्षित रखने के लिए ये कोठरी बनवायी होगी.

मैंने उस भाभी की चुत की प्यास कैसे बुझायी?मेरा नाम राज है, कुछ वर्ष पूर्व एक भाभी ने मुझे अपनी वासना पूर्ति के लिए इस्तेमाल किया था.

ख़ास तौर से किसी भी लड़की को गलती से भी मत छूना … क्योंकि यहां अमीर घरों की बिग्ड़ी औलादें आने वाली हैं. वो सही कह रहा था … क्योंकि उसके अब्बू मुझे 3 मिनट से ज्यादा नहीं चोद पाते थे. उसने अपने निचले आधे हिस्से को उसके ऊपर धकेल दिया और ऐसा महसूस किया जैसे उसके कपड़ों के ऊपर से कुछ अंदर चला गया हो.