बीएफ का वीडियो दिखाएं

छवि स्रोत,क्सक्सक्स वीडियो इंग्लिश

तस्वीर का शीर्षक ,

जंगल देसी सेक्सी वीडियो: बीएफ का वीडियो दिखाएं, शायद गर्मी के कारण मोनी की भी नींद खुल गयी थी‌ जिससे डर के मारे मेरी अब हालत ही खराब हो गयी। मगर मोनी‌ ने मुझे अपने से दूर हटा कर अब एक बार तो मेरी तरफ देखा, फिर करवट बदलकर वो फिर से सो गयी।वैसे मोनी‌ के साथ कुछ गलत करना तो दूर मैंने कभी सपने में भी उसके बारे में गलत नहीं सोचा था.

किन्नर की गांड की चुदाई

फिर उसने खुद ही अपनी टांगों को फैला कर मेरा लंड अपनी चूत में अच्छी तरह से एडजस्ट कर लिया. एक्स एक्स ट्रिपल व्हिडिओउन्होंने अपने होंठ मेरे काम्पते हुये होंठों पर रख दिए, मेरे तो पूरे जिस्म में करंट सा दौड़ गया.

वो चीखते हुए बोली- हटा क्यों लिया … डाल भी दो ना अब!मैं अब भी कुछ नहीं कर रहा था. राजस्थानी देवर भाभी की सेक्सी वीडियोउन्होंने मुझे जबरन अन्दर बुलाया और कहा- तुम बैठो, मैं तुम्हारे लिए कोक लेकर आती हूँ.

”अरे हाँ!”हम बाथरूम में गए। मैं, ब्रा पैंटी में घुटनों पे बैठी। दोनों मेरे सामने खड़ी हुई नंगी और फिर सुनहरी रंग का फव्वारा शुरू हो गया, मेरे चेहरे गर्दन पूरे जिस्म, ब्रा और कच्छी को भिगाने लगा।मैंने अपने भीगे जिस्म पर जीन्स और टॉप पहना। अंशु भी तैयार हो गयी।जब हम चलने लगे तो डॉक्टर आशा ने कहा- कामिनी बड़ा मज़ा आया तेरे साथ, आती रहा कर!जी ज़रूर!”और हम दोनों घर आ गए.बीएफ का वीडियो दिखाएं: मैं हर रोज इस बात के इंतजार में रहती थी कि कब जीजा जी को मेरे साथ अकेले में रहने का टाइम मिलेगा.

मगर वो अपनी गांड को मेरे लंड पर चलाती रही और मेरे लंड से चुदती रही.उसने सलवार सूट पहन रखा था जिसमें वो हुस्न की मलिका लग रही थी।मैं आप सभी पाठकों को बताना चाहूंगा कि गांव में लड़कियों को अन्दर कुछ न पहनने की आदत होती है.

नंगे इमेज लड़की के - बीएफ का वीडियो दिखाएं

मैं काजल की गर्दन पर लगातार किस कर रहा था, साथ में मेरा एक हाथ अब उसकी ब्रा के अन्दर घुस चुका था और उसकी चूची की कड़क घुंडी को हाथ में लेकर मसलने लगा था.मैंने मेरे एक दोस्त से बात की, फिर उसके साथ अगले दिन सुबह उसके घर के लिए निकल गया.

उठते हुए मेरे बाप बने जीजा से बोला- भाई तू अपना लंड अब इसकी गांड से निकाल ले और अपनी बेटी को अपनी बीवी मान कर इसकी चूत को जम कर रगड़ दे. बीएफ का वीडियो दिखाएं उनकी साड़ी पलटते ही उनकी बिना बालों की चुत अंकल की आंखों से सामने थी.

हर औरत को पहली पहली बार दर्द तो होता ही है और उसे उस दर्द को बर्दाश्त करना पड़ता है.

बीएफ का वीडियो दिखाएं?

जल्दी ही वो अपना लैपटॉप लेकर मेरे रूम में आ गया और रूम का दरवाजा अन्दर से बंद कर लिया. उसने तुरंत मेरी तरफ देखा, मैंने आंखों से इशारा किया- मैं हूँ डरो मत. मैंने उसके लेफ्ट हाथ को खोला और उसे पुलअप मशीन के दूसरे बार से फैला कर बांध दिया.

फिर मैंने उसके दोनों चूचों को हाथ में पकड़ा और उसके ऊपर लेटता चला गया. हम लोगों ने खाना खाया, साथ में एक एक पैग भी पिया और फिर से चुदाई की तैयारी करने लगे. मैंने अपनी इस उंगली को नम्रता को दिखाते हुए अपनी जीभ उस छिपकली के समान बाहर निकाली, जैसे वो अपने शिकार को पकड़ रही हो.

हुआ यूँ कि एक दिन अचानक मेरे नाना जी की तबियत ख़राब हो गई और मेरी माँ उनके पास गांव चली गईं. अगले दिन जब मैं स्वाति से मिली, तो उसने बताया कि शनिवार को शाम में आज साथ में पार्टी करेंगे, फिर तू उन दोनों के साथ मौज करना. मामी के साथ दूसरी रात की चुदाई कैसे हुई, ये भी काफी रंगीन कहानी है.

बातें करते करते मैंने उसकी गांड के छेद में उंगली डाल दी, तो वो थोड़ी आह करने लगी. काजल मेरा पूरा वीर्य पी गई और गीली जीभ से लंड को चाट चाट के पूरा साफ़ कर दिया.

उसने चूल्हा बंद किया और पलट कर मेरी बांहों में समा गई उसने खुद को मेरे हवाले कर दिया.

उससे बात होने के बाद हम दोनों उनके रूम में गए और बैठ कर बातें करने लगे.

पर ये सब करने के पहले मैं अन्तर्वासना की कोई नयी कहानी जरूर पढ़ती हूं ताकि मैं गर्म हो जाऊं और चूत रसीली हो उठे तभी डिल्डो का असली मज़ा आता है. मेरे दोनों बड़े भाई आवारा किस्म के नाकारा इंसान थे जिनके बारे में कुछ बताना बेकार है, बड़ी बहिन का विवाह मध्यप्रदेश के एक बड़े शहर में हो चुका था. फिर भी बताइये अगर कुछ काम है तो?मैं उठी और बोली- रहने दो, सब ठीक है.

मैंने पूछा- कैसा लगा तुझको?उसने कहा- इतनी जल्दी हटा लिया, पता ही नहीं चला. उसकी आंखें बंद हो गई थीं और मेरा मुंह खुल कर स्स्स … स्सस … करने लगा था. मेरे सर के पीछे हाथ लगाकर मेरा मुंह झुकाकर अपने मुंह के पास ले आईं.

मेरी सहेलियां, जिनके बॉयफ्रेंड हुआ करते थे, अक्सर ही मुझे अपने किस्से सुनाती रहती थीं.

फिर उसने बुरके को ऊपर किया और मेरी लेगीस थोड़ा नीचे सरका के अन्दर हाथ डाल दिया और मेरी मुलायम गांड को दबाने लगा. उसका लगभग रोज का काम था कि शराब पीने के बाद हमेशा घर पर आकर झगड़ा करना. निहारिका ने मेरा सर दोनों हाथों से पकड़ रखा था और अपनी छाती से चिपका रखा था.

मैंने अपने दोनों हाथों से वसुन्धरा का चेहरा कनपटियों पर से थामा और पहले तो वसुन्धरा चेहरे पर, माथे पर, गालों पर, कानों पर कानों की लौ पर, चिबुक पर और यहां-वहां ढेर सारे चुम्बन लिए और फिर उसके दोनों होंठ अपने मुंह में लेकर मज़े-मज़े से चूसने लगा. उसने कहा- पंकज अब आप नहा के आ जाओ … फिर मैं अपना काम शुरू करती हूं. मानसी ने वो कप देख कर पूछा कि फ्रिज में पहले से ही दो कप रखे हुए हैं तो मैंने कह दिया कि आज मेरा मन ज्यादा खाने का कर रहा था.

मैं एक दिन पीछे आम के पेड़ के पास गया और फिर आम देख कर मुझे आम तोड़ने का मन हुआ.

वह मेरा हाथ पकड़ कर आगे-आगे चल दी और मैं अंधेरे में अपने खड़े लंड की भूख मिटाने के इरादे से उसके पीछे-पीछे. उसने मेरे लंड को अच्छी तरह चूस-चाट कर साफ़ किया और अपनी स्कार्ट उतार कर पूरी नंगी हो गयी.

बीएफ का वीडियो दिखाएं मेरे बदन पर केवल मेरी फ्रेंची रह गई थी जिसमें मेरा तना हुआ लौड़ा बेकाबू सा हुआ जा रहा था. जैसे ही बुआ बाथरूम से बाहर निकलीं … मैं फिर से सोने का नाटक करने लगा.

बीएफ का वीडियो दिखाएं उसने मेरी टांगों को उठाया और अपने लंड को अपने हाथ में लेकर मेरी गांड के छेद पर सेट किया और अंदर धकेलने लगा. भाभी ने मुझे नीचे किया और किस करते करते वह नीचे मेरी पैन्ट तक आ गई.

फिर दिमाग की बत्ती जली और मैंने पूछ लिया- आपको शॉपिंग करने का शौक नहीं है क्या?यह सवाल एक नारी से वार्तालाप शुरू करने के लिए एकदम सटीक था.

सेक्सी बीएफ कॉम

हमेशा की तरह मेरा साजन मेरी गोद में सर रख कर सो रहा था और मेरे स्तनों को चूस रहा था. दोस्तो, मैं बता दूं कि मैं गाना गाने का शौकीन हूं और ठीक ठाक गा भी लेता हूं. पिछली कहानी में मैंने भोला सिंह को बताया कि कैसे मामा के भतीजे की शादी में पहली बार मुझे चार लंडों का मजा मिला.

जब मेरा धक्का लगता तो वह रुक जाती और जब मैं रुक जाता तो वह धक्का लगा देती. मैं हल्की सी चीख़ पड़ी- आऽऽऽह …फिर भाई ने मुझे गोद में उठाया और कमरे के बेड पर लिटा दिया और मुझे किस करते करते मेरी चूत तक आ गया. और चुत भी टाइट होती है इसलिए आराम से घुसेड़ना और जितने प्यार से करोगे उतने दोनों को मजे आएंगे.

वो बहुत ज़ोर से तड़प उठी- आआहह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… यसस्स उफ़ … आअहह.

मैं भी जान-बूझकर अदिति को गर्म करने के लिए अभी टीवी बंद करने में ज्यादा से ज्यादा देरी कर रहा था. उसने कहा- तुमने ड्रिंक कर रखी है?मैंने निहारिका से कहा- तू इतने दिनों बाद आई है, तेरे आने की खुशी में पी ली. तो दोस्तो … कैसी लगी ये रियल चुदाई की घटना … सच में ग्रुप सेक्स में अलग ही मजा है.

मैं 5 फुट 3 इंच कद का हूँ और सामान्य चेहरे मोहरे का 27 साल का एक युवक हूँ. जब मैं वापस आया तो उस समय रात के नौ बज चुके थे और गांव में लगभग सभी लोग इस समय तक सो जाते हैं. मैंने अपने पैर की उंगलियां अपने हाथों से पकड़ लीं … और चौपाया बन गई.

मैंने सेक्स खिलौनों में से झाड़ूनुमा एक खिलौना लिया, जिसे ‘व्हिप’ कहते थे, उसे अपने हाथ में उठाया. यहां अलग अलग लोगों की कहानी पढ़ कर बहुत ही अच्छा लगता है और साथ ही आनन्द भी खूब आता है.

लेकिन मैंने उसके होंठों को चूसना नहीं छोड़ा और टॉप के ऊपर से ही उसकी चुचियों को जोर जोर से दबाने लगा. इसलिए जब मैं प्रिया से मनमीता के बारे में बात करता था तो उसके चेहरे पर एक शरारत भरी मुस्कान फैल जाती थी. किस्मत से मेरा तीर निशाने पर लगा और उसने खुद ही कह दिया कि अगर मैं बुरा न मानूं तो मैं उसके घर रात में रुक सकता हूँ.

तीसरे दिन उसका फोन आया- आज मेरे पापा आ गये हैं, मैं नहीं आ पाऊंगा, तू आ सके तो आ जा.

आते-जाते जब-जब मेरी निगाह उस से मिलती तो पूरी बेबाकी से मुझ से नज़र मिलाती और मुंह बिचका कर यूं होंठ चलाती जैसे मुझे कोस रही हो. मैंने धीरे धीरे प्यार से लंड अन्दर डाला और उसके होंठों को किस करता रहा. अगर मैं अपनी बहन की सहेली की चुदाई के ख्वाब देख सकता हूँ तो फिर कुणाल क्यों नहीं?कुछ देर पहले जिस कुणाल के लिए मेरे मन में इतनी गुस्सा था अब उसी कुणाल के किये में मुझे कोई गलती नज़र नहीं आ रही थी.

अतः गांड मरवाने में रीना काफी अनुभवी हो गई थी।विक्रम ने धीरे-धीरे करके अपना पूरा लिंग रीना की गांड में घुसेड़ दिया तथाशुरूआती धीमे धक्कोंके बाद जोर जोर से रीना की गांड चुदाई शुरू कर दी। रीना की कसाव भरी गांड के कारण विक्रम ज्यादा देर रीना की गांड चुदाई में नहीं टिक सका. उसके बाद मैंने आसानी से उसके गर्म चूत में लंड पेल दिया और चोदन प्रक्रिया करने लगा.

उसकी नजर झुकी हुई थी और नीचे ही नीचे उसने मेरे तने हुए लंड को भी देख लिया था. हर क्षण बाली रानी की बेपनाह खूबसूरती आँखों के सामने छा जाती थी और लंड अकड़ जाता था, अंडे भारी हो जाते थे. खाना खाने के बाद मैं बाथरूम में मोबाईल लेकर चला गया और वीडियो देखने लगा.

बीएफ एचडी फुल वीडियो

वह हल्की सी मुस्कान के साथ मेरे गाल पर चुम्बन करते हुए बोली- कोई बात नहीं।तभी आयशा नीचे उतरने लगी तो मैंने पूछा- कहाँ जा रही हो?वो मुस्कराती हुई बोली- टायलेट जा रही हूँ, चलोगे क्या?मैंने भी तुरंत हाँ कर दी।तो आयशा बोली- नहीं, कोई देख लेगा.

बेबी ने मुझे सोता जानकर धीरे से मेरे लण्ड को छुआ, फिर हाथ फेरा और हाथ हटा लिया और अपनी चूत पर और चूचियों पर फेरने लगी. मां ने पूछा कि मजा आ रहा है तो मैंने कहा कि हाँ बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है. उसकी चुत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी और उसकी वजह से उसकी पेंटी भी गीली हो रही थी.

दस मिनट की मेहनत के बाद मैंने सेलिना को फिर से गर्म कर दिया और उसके हाथ फिर से मेरी पीठ को सहलाने लगे. अगर वो ये कहती कि वो हमारे परिवार के साथ शॉपिंग नहीं करना चाहती तो उसे भी शायद ये डर सता रहा होगा कि अगर उसने ऐसा कहा तो मैं कहीं ये न समझ लूं कि वो हमारे परिवार के साथ सहज नहीं है।अपनी बातों में मैंने काजल को अच्छी तरह उलझा लिया था। जिसका मुझे अंदर ही अंदर गर्व हो रहा था।कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. नहाती हुई लड़की का सेक्सी वीडियोउसकी उछलती हुई चूचियां और दोनों के बीच चिल्लाने का दौर परवान चढ़ने लगा था.

फिर उसने मेरे पूरे जिस्म को चूमना चाटना शुरू कर दिया, मैं भी उसका पूरा साथ देने लगी. रानी का ऐसा ही आदेश था कि धक्के बहुत धीरे धीरे से शुरू करके बाद में तेज़ी दिखानी है.

मगर अगले ही पल उसका चेहरा ऐसे उतर गया जैसे बाढ़ आई नदी से पानी उतर जाता है. इसलिए रात में किसी लौंडे को लाकर अपनी लड़कियों को चुदवाने को कह रहा है. तीन-चार धक्कों के बाद उसके लंड ने मानसी की चूत में अपना गर्म-गर्म पौरूष उगलना शुरू कर दिया और आगे की तरफ हेतल ने अपनी चूत के रस से मानसी के मुंह को भिगो डाला.

दोस्तो, आपको ये सेक्स कहानी कैसी लगी … अपने विचार मुझे ज़रूर बताएं. मैंने मन ही मन कहा ‘इन दोनों (मां-पापा) को भी अभी टांग अड़ानी थी बीच में।’पांचों के पांचों घर का ताला लगाकर बरामदे में खड़ी कार की तरफ बढ़ चले. मैंने अंकल से कहा- अंकल कल से आपकी और अम्मी की चुदाई की तैयारी शुरू करते हैं, आप तैयार रहना.

नयी जगह होने के कारण और उच्च शिक्षा के कारण व्यस्त रहता था, तो मैंने बाहर भी कोई लड़की को नहीं पटाया था.

चूंकि पूजा मेरे घर काफी बार आती जाती रहती थी, उसे मेरे और सौरव के बारे में सब पता था. वो कुछ देर लंड को अन्दर लेकर बैठी रही अपनी चूत से मेरे लंड की दोस्ती करवाती रही.

राधिका ने अपनी चूत पर मेरी जुबान पाते ही सीत्कार भरना शुरू कर दिया. मैंने उसका स्वाद लेने की मंशा से उसकी मधुर महकती चूत पर होंठ रखे तो मेरी गीतू की सिसकारी निकल गयी- सिस्स … आअह्ह … प्रीतम … आआआ … ह्ह्ह … बड़े दिनों बाद कोई यहां तक पहुंचा है… उफ्फ्फ्फ़!उसकी चूत की खुशबू जब मेरे नथुनों से होती हुई मेरे पूरे बदन में समाने लगी तो उत्तेजना में मैंने भी उसके मुंह में अपने लण्ड के झटके बढ़ा दिए. बाहर निकलते हुए मैंने दीदी का हाथ पकड़ लिया और कहा- दीदी, ये तो चीटिंग है.

अब तो गरबा क्लास बंक करके घूमने, मूवी देखने, खाने के लिए बाहर जाने लगे. उसकी आहें निकलती रहीं ‘आहह … आआआहह!कुछ ही देर में उसका दर्द खत्म हो गया और चूत चुदने के लिए मचल उठी. दस बजे करीब जब मेरी आंखें खुलीं, तो मैंने देखा मेरे बगल में अलका सोई हुई है.

बीएफ का वीडियो दिखाएं फिर मैं पीछे आया और उसकी गांड पे हाथ फेरते हुए मैंने उसके चूतड़ पर एक जोर की चपत लगा दी. कि ज़रूर लाएंगे … पर लाते ही नहीं हैंहां बेटी … आज तुम दोनों की चूत की आग जरूर शांत करवा दूंगा.

पौर्न वीडियो

हैलो फ्रेंड्स, मेरी पहली कहानीचलती बस में गांड मराई की हसीन रातके लिए आप लोगों के मुझे बहुत सारे ईमेल आए, जिनसे मुझे मालूम हुआ कि मेरी कहानी आप सभी को बहुत अच्छी लगी. उसकी मादक सिसकारियों से पूरा कमरा गूँज उठा था, लेकिन टीवी की तेज आवाज की वजह से कोई समस्या नहीं थी. मैं सुमेर से बोला- जब तक कुंवारी लड़की नहीं मिलती, इसी से काम चला लेता हूँ.

फिर कुछ देर भाभी और मैं बातें करने लगे और नैना अपने कमरे में चली गई. बलवन्त बिना रुके जोर जोर से मेरी गांड मार रहा था और मैं दर्द से कराहते हुये रो रही थी. नागी पिक्चरअंकल उनकी टांगों के बीच में आए और अपना लंड आंटी की चुत पर रगड़ने लगे.

भाबी को 6 महीने जैसे पहले देखा था, अब भाबी उससे भी ज्यादा कयामत ढा रही थीं.

मैंने भी कहा- आज मैंने अपनी लाइफ की पहली चुदाई अपने ही भाई से करवा ली. यह कहकर भोला ने मेरी चूत में अपना लंड जड़ तक घुसा दिया और फिर पूरा लौड़ा अंदर-बाहर करते हुए आवाज निकालने लगा.

मैंने उसकी चूत में जीभ अंदर डाल दी और उसकी चूत को चाटने लगा जैसे कुत्ते दूध पीते हुए करते हैं. मेरी छाती पर बैठ कर ऐसे चूस रही थी जैसे बरसों बाद मिला हो।अचानक से वो अलग हुई और मेरे फेस को अपने फेस से सटा लिया और आँखें बंद कर लीं. हम लोग रोज ऑफिस के बाद मिलते और किस तो करते, लेकिन इससे आगे और कुछ करने का मौका नहीं मिल रहा था.

अगर तुझे ये अजीब लग रहा है, तो सुबह मेरे नंगे जिस्म को देख कर तेरा लंड क्यों खड़ा हुआ था.

तब भी भाभी को ये नहीं मालूम चल सका था कि मैं अपनी बीवी शालू की गांड में लंड पेल रहा था. अब मैं एकदम से जाग गयी और मैंने उसका हाथ पकड़ लिया, मैंने पूछा- ये क्या हो रहा है?तो वे दोनों भाई बहन सकपका गए. आज मैं फिर से अपनी एक नई देवर भाभी सेक्स स्टोरी लेकर हाजिर हुआ हूँ.

सेक्सी लड़की के साथबाद में जब वो मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरी चूत को चोदने लगा, तो मेरी चूत में उसका लंड आसानी से अन्दर बाहर होने लगा. उसे इस चीज से काफी आराम मिल रहा था। मैं उसकी बदन की खुशबू को महसूस कर पा रहा था। यूँ तो हमने कई बार सेक्स किया है लेकिन यह अहसाह ही कुछ और था।मैं आईस क्यूब को उसके बोबों पर घुमा रहा था.

वेवेक्सएक्स

ताऊ जी बुआ के चूचों को चूसने लगे और पीछे से उनका लंड चूत को पेलता रहा. मैं हमेशा अपनी फैंटेसी में सोचती थी कि गैंगबैंग में मेरी गांड चूत को एक साथ दो लंड मिलकर चोदें. मैं- तो यार … खाना खाने के बाद तुरन्त चुदाई तो हो नहीं सकती न, अब तुम जो कहो, वो कर दिया जाए.

मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी और उसे चूम कर शोरूम में एसी चला कर सोफे पे लिटा दिया. दो तीन दिन क्रेन का काम चलता रहा और हम लोगों का एक दूसरे को देखने का अपना खेल चालू रहा. मुझे कुछ अज़ीब लगा मैं सोच में पड़ गई कि ‘क्या ये अब फिर मेरी गांड मारने वाला है?’मेरी सोच सही साबित हुई, उसने गांड की छेद में अपना थूक लगाया.

उधर चूत के रस की बौछार से लंड सनक गया और गोलियों में एक पटाखा फूटा. घर आकर अपनी बीवी में अनामिका का चेहरा की कल्पना करते हुए दुगने उत्साह से चोदने लगा. मां बोली- तो मैं भी चल पड़ती हूं तुम्हारे साथ, मुझे भी बाजार से सामान लाना है.

मैंने अपनी पैंट खोल कर अपनी पैंट को नीचे कर लिया और अंडरवियर भी उतार लिया. मैं ये सोचता हुआ कदम आगे बढ़ा रहा था कि जो मेरे मन में ख्याल आ रहे हैं वैसा मुझे कुछ न मिले.

मुझे नम्रता के नग्न और गर्म जिस्म पर हाथ रखे हुए दो या तीन मिनट हुए होंगे कि मेरे हाथ ने अपने आप ही हरकत करना शुरू कर दिया.

मैंने उसी समय फिर से एक झटका दे मारा, जिससे कि मेरा पूरा लंड उसकी छोटी सी चुत में चला गया था. ट्रिपल एक्स सेक्सी मराठीजब मेरी चूत पर लंड रगड़ रहा था, तो मेरे अन्दर का सेक्स बढ़ता ही जा रहा था और मुझे जल्दी से लंड से चुदवाने का मन कर रहा था. नंगी लड़की नंगा लड़काफिर अगले दिन सुबह सुबह विकी पीने का पानी लेने आया, तब उसको मेरी सास ने पानी दिया, तब मैं वहीं हॉल में थी. मगर उसके दोबारा आ जाने से उसकी मौजूदगी की बूंदों पड़ने से अब उस आकर्षण के पौधे ने एक बार फिर से नई कोपलें निकाल दी थीं.

भाबी भी मस्त हो कर अपनी टांगें चौड़ी करके अपना टाइट भोसड़ा मुझसे चुदवा रही थीं.

उसका नाम डिंपल जयश्री है उसे उसके उपनाम डीजे कह कर बुलाना अच्छा लगता है. बहुत साल पहले एक बहुत अच्छा रिश्ता आया था वसुन्धरा के लिए और वसुन्धरा को लड़का पसंद भी था लेकिन मैं ही चूक गया. मेरा बदन अब तक अच्छा खासा भर चुका था, मेरे चेहरे पर लुनाई आ गई थी, मेरी ब्रा का साइज़ भी बदल गया था और मैं पूरी तरह से माल बन चुकी थी.

जब तक मैं कुछ बोल पाती उन्होंने अपने लंड अपनी पैंट की जिप से बाहर निकाल लिये थे. मैं उस नौकर के लंड को भी अपनी चूत में लेने का मन बना रही थी लेकिन भोला एक ठाकुर मर्द था और वो इतनी आसानी से झड़ने वाला नहीं था. सुमेर बोला- इसे तुम जब मर्जी चोद लेना पर ये राज किसी पर जाहिर मत करना, बेचारी लड़की बदनाम हो जाएगी.

हॉस्टल का सेक्सी बीएफ

मेरा मन कर रहा था कि अपनी चूत को अभी जीजा के सामने ले जाकर फैला दूँ और वो अपने मोटे लंड से मेरी चूत की सवारी करें. फिर उसने नीचे हाथ ले जाकर खुद ही मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर सेट कर लिया और मुझे अपने ऊपर लेटा लिया. धीरे धीरे मेरा पूरा लंड उसके मुँह में समा गया जिस वो अंदर बाहर करके चूसती रही.

जीजा ने कस कर मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और एकदम से मेरे तने हुए दूधों को पकड़ कर अपने लंड को चूत में बुरी तरह से पेलने लगे … आह्ह … आह्… करते हुए वो ऐसे चीख रहे थे जैसे उनका लंड अभी फटने ही वाला है किसी बॉम्ब की तरह.

फिर वो रुके ओर उन्होंने पूरा माल मेरी पेंटी ओर पेटीकोट पर झाड़ दिया.

वो मना कर रहे थे तो मैंने उन्हें वापस जल्दी बुलाने का वादा कर उन्हें भेज दिया और सो गई।[emailprotected]. अंदर आकर मैं भाभी के ऊपर चढ़ गया और उनके चूचों पर अपनी छाती सटा कर उनके होंठों को जोर से चूसने लगा. सेक्सी वीडियो पिक्चर बीपीमैंने अपनी इस उंगली को नम्रता को दिखाते हुए अपनी जीभ उस छिपकली के समान बाहर निकाली, जैसे वो अपने शिकार को पकड़ रही हो.

इस बहाने वहां पर घूमना भी हो जायेगा और आंटी भी फार्म हाउस देख कर आ जायेंगी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:ज़िम वाले लड़के के साथ दोबारा सेक्स का मजा लिया-2. मैं- विक्की, क्या तुम निहारिका के साथ सेक्स करना चाहते हो?विक्की- हां दीदी.

फिर उसने लड़की, जिसका नाम पारो था, उससे पूछा- पारो क्या तुम मेरे दोस्त आमिर से चुदना चाहती हो?तो मेरी बीवी बनी आपा सारा बोली- तो आमिर … फिर तुमने पारो को चोदा?मैंने कहा- थोड़ा सब्र रखो और पूरी कहानी सुनो!फिर मैंने कहानी आगे बढ़ाते हुए कहा:तो पारो शरमाते हुए बोली- इनका लण्ड तो तगड़ा है चुदाई में बहुत मजा आएगा. मैंने बहाने पर बहाने बनाये और आखिरकार सुमिना को उसी दिन शॉपिंग पर चलने के लिए मजबूर कर दिया.

अगर आपने मेरी पहली कहानी नहीं पढ़ी है तो पढ़ लीजिएगा ताकि कहानी का पूरा मजा आए.

उन्होंने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और फिर एकदम से शांत होकर मेरे ऊपर लेट गये. वो सब मुझे चिढ़ा रहे थे कि यार तेरी तो आज रात को दीवाली ही दीवाली है. अब वो कुछ सख्त होने लगा था और अपने दोनों हाथों से मेरे मम्मों को बेदर्दी से मसलने लगा था.

देसी भाभी की वीडियो नहाते हुए वनिता के ससुर जी बोले- अनु मजा आया?मैं उनको चूमते हुए बोली- बहुत मजा आया. बाहर जीजा जी और दीदी नवजात बच्चे की तरह पूर्ण रूप से नंगे होकर एक दूसरे को बांहों में भर कर सेक्स कर रहे थे.

मैं जोर-जोर से अपनी सेक्सी टीचर के बारे में सोच कर मुट्ठ मारने लगा. खैर … मैं वहां से अपने घर चला गया और भाभी के बारे में सोच कर मुठ मारने लगा. चाची को मेरी चूत चुसाई और लंड से चुदाई इतनी अधिक भा गई थी कि हम दोनों एक दिन में कम से कम पांच बाद चुदाई किये बिना रह ही नहीं पाते थे.

देहाती सेक्सी एचडी वीडियो बीएफ

झुकी हुई रानी जब मेरे जूते-मोज़े उतार रही थी, तब उसकी चूचियां जिस तरह हिल रही थीं वह देखकर मेरी काम वासना उड़ के आकाश तक जा पहुंची थी. एक बार मुझे कुछ काम था, तो मैं बैंक में गई और सीधे मैनेजर के केबिन में चली गई. मैं उनको बाथरूम में ही किस किए जा रहा था और उनकी चूत को सहलाए जा रहा था.

जब मैंने अपना लंड उसकी फुद्दी में घुसाया, तो हमारे अन्दर आग सी लग गई. अक्सर शादी में हो रही देर लड़कियों के मन में एहसास-ऐ-कमतरी यानि हीन भावना को जन्म देती है जो लड़कियों को या तो डिप्रेशन में ले जाती है या फिर दबंग और बद्तमीज़ बना देती है.

फ्राक की बैक पर लगी चेन खोलकर मैंने उसकी फ्राक उतार दी, फिर ब्रा और पैंटी.

https://thumb-v5.xhcdn.com/a/bQZmzhkYVLftxoO7j4p-Hg/016/814/125/526x298.t.webm. मुझे लगता था कि मम्मों के बड़े न हो पाने का कारण उसका पति था, जो एक शराबी था. कुछ ही मिनट में उसके लंड से वीर्य निकल कर मेरे सारा का सारा वीर्य मेरे मुंह में झड़ गया.

वसुन्धरा के पापा और मेरी अंडर-सैकेट्री मिस्टर रावत के साथ मुलाक़ात बहुत ही बढ़िया रही. कुछ देर यूं ही मेरे जिस्म से खेलने के बाद अंकल जी उठ खड़े हुए और अपने कपड़े उतार डाले, बस सिर्फ अंडरवियर ही उतरना रह गया. दो बार लंड अन्दर तक चूस कर आंटी ने मेरे लौड़े पर सीधे बोतल से दारू डालकर लंड को नहलाया और मुँह में लंड दबा कर चूसने लगीं.

उनके जाने की सुनकर मैं तो परेशान हो गई कि मेरा क्या होगा? उनको साथ में फैमिली को ले जाने की परमीशन नहीं थी, तो मुझे मुंबई अपने घर ही रुकना पड़ा.

बीएफ का वीडियो दिखाएं: सुडौल और विकसित होता जिस्म जब वह आइने में देखती होगी तो उसका मन सेक्स की तरफ भी जरूर जाता होगा. उसने सलवार सूट पहन रखा था जिसमें वो हुस्न की मलिका लग रही थी।मैं आप सभी पाठकों को बताना चाहूंगा कि गांव में लड़कियों को अन्दर कुछ न पहनने की आदत होती है.

ऐसा भी नहीं था कि मुझे लड़कियों में कोई रूचि ही नहीं थी मगर प्रिया जैसी लड़कियों की तरफ मैं कम ही ध्यान देता था. मैं जान गई कि उनका वीर्य दीदी की गांड में पिचकारी के रूप में भरने लगा है. उसकी उंगली मेरी चूत के अन्दर घूमने से मैं थोड़ी ही देर में ही अपनी चरम सीमा पर पहुंच गई.

हेतल अपनी चूत को मानसी के मुंह पर पटकती हुई चूचों को अपने हाथों से रौंदती रही.

मानसी ने पूछ लिया- लेकिन दीदी तुमने राज के साथ शुरूआत कैसे की, बताओ तो, मैं तो सुनने के लिए बहुत उत्साहित हो रही हूं. काफी लम्बा-चौड़ा बदन होने के कारण उसका लौड़ा 7 इंच लम्बा जबरदस्त साइज का था. वसुन्धरा बड़ी आतुरता से मेरी जीभ चूसने लगी और उसके दोनों हाथों की दसों उंगलियां मेरे सर में यहां-वहां गर्दिश करने लगी.