बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी

छवि स्रोत,आदिवासी सेक्सी फिल्म वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

करीना का नंगा फोटो: बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी, हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

हॉट सेक्सी कहानी

मैंने अमित के जाने के बाद दरवाजा बंद किया और पूरा नंगा होकर अपनी बीवी के बिस्तर में आकर उसकी चूत चाटने लगा. घोड़े की सेक्स वीडियोजब मैं पलट कर जाने लगी तो राज ने मेरी गांड पर हाथ मारकर कहा- बहुत सेक्सी लग रही हो.

मैंने उसको फिर से लिटाया और उसकी चूत में बिना कॉन्डम के ही लंड पेल दिया. मुझे ऑनलाइन कपड़े चाहिएफिर जैसे ही मैंने अगला फाइनल शॉट मारा तो अंकिता की काफी तेज आवाज निकल पड़ी.

मेरी एक बार उनके हिलते हुए मम्मों पर नज़र गई तो मैंने नजरें हटाने का प्रयास ही नहीं किया.बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी: मैं कभी कभी दीदी की ब्रा पैंटी पहन लेता था और मुझे ऐसा करने में बहुत मजा आता था.

वो मेरी रियल सिस्टर नहीं है बल्कि हमारे घर के सामने वाले घर में रहती थी और मैं उसको दीदी कहकर ही बुलाया करता था.कुछ मिनट बाद मैंने उसके दूध चूसना बंद किये, तो वो खुद अपने हाथ से अपना एक दूध मेरे मुँह में देते हुए बोली- और चूसो न!मैं उसकी इस अदा से मस्त हो गया और मैंने उससे कहा- अब तुम ही पिलाओ.

भोजपुरी गाना दीजिए तो - बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी

उस वक़्त मैं बैंगलोर में जॉब किया करती थी लेकिन बीच बीच में पुणे आना हुआ करता था.यही वो पल था … जब मुझे मालूम था कि यदि मेरी जीभ इसके मुँह के अन्दर होती तो शायद ये जीभ काट सकती थी.

मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया और उसकी चूचियों से पानी पेट में आ गया।मैं साइड में लेट गया।थोड़ी देर बाद मैं मामी को गोद में लेकर बाथरूम गया. बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी मैं भी पूरी तरह से कामुक हो चुकी थी और ससुर जी की निगाह मेरे गोरे बदन और मम्मों पर ही टिकी थी.

नेहा- ह्म्‍म … जीजा जी को कुछ काम था तो वो बाद में आएँगे, अभी सिर्फ़ दीदी आई है.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी?

मेरा लंड अभी आधा ही चुत में गया था कि वो चीखने लगी- आह मर गई … निकालो इसको … आह बहुत दर्द हो रहा है. अब मुझे और कोई काम तो है नहीं यहां इसलिए मैं कल दिन की किसी फ्लाइट से वापिस लौट जाऊंगा. अनमोल ने मुझे कॉल करने का नाटक किया और बोला कि प्रणव को पनीर मिल गया है.

मुझे उस दिन चुदने का सबसे ज्यादा मजा आया और तब से लेकर अब तक हमने पांच बार चुदाई कर ली है. आप लोगों को तो पता ही है कि मुझे लड़कियों को इस तरह से तड़पा कर चोदने में ही मजा आता है. जांघिये के गीले में ठुमकते लंड को देख कर मेरी चुत की फांकों में से रस प्रभाहित होने लगा.

मेरी अम्मी घबराते हुए बोलीं- हायल्ला अभी आगे की ही बात कर … पीछे से तो मैं कभी चुदी ही नहीं हूँ. आपको ये भाभी हॉट सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे ईमेल करके जरूर बताएं. अलीमा को इस समय कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि बलविंदर उसे क्या खिला रहा है.

फिर एक दिन मैंने उससे बाहर घूमने चलने के लिए कहा, तो वो राजी हो गई. भाभी ने तुरंत मेरे लंड को पकड़ लिया और उसको हाथ से आगे पीछे करने लगी.

अब पढ़ें कि कैसे मैंने सेक्सी चाची की चूत मारी:मेरे नीचे चुदासी पड़ीं हेमा चाची ने मुझे कस कर अपनी बांहों में जकड़ लिया और कुछ मिनटों तक हम दोनों इसी तरह लेटे लेटे बातें करते रहे.

गोली का असर बड़ा जोर दार था मेरा लंड अभी भी चैलेंजिंग मूड में तन्ना रहा था.

रुखसार दीदी से कह रही थी- तूने बताया नहीं कभी कि तेरा भाई भी है?दीदी बोली- सगा भाई नहीं है, मेरे मामा का बेटा है. जब उन्होंने मुझे ये बताया तो उस वक्त मैंने झूठा नाटक करके ये दिखाया कि मुझे बहुत बुरा लगा कि वो अकेले ही जा रहे हैं. अब इस उम्र में कौन शादी करेगा मुझसे?मैं बोला- सोसायटी में तुम सबसे अच्छी दिखती हो मुझे.

तुम्हें मन था ना मेरी चूची पीने का … आह्ह … पी ले अब … जोर से।वो और जोर से सिसकारियां भरने लगी थी. फिर मैंने अपनी पैंट को उतार दिया और उससे कहा- मेरी चड्डी उतार कर लंड को चूसो. फिर दोनों बेड पर लेट गए।मेरा भी पानी निकल गया था ये चुदाई देख कर।फिर अभय 15 मिनट बाद बोला- मैं जा रहा हूं, वर्ना किसी ने देख लिया तो प्रॉब्लम हो जाएगी कि रात में मैं क्या कर रहा हूं तुम्हारे घर में!बहन- हाँ, अब जाओ तुम।अभय उठा और कपड़े पहनने लगा.

अमित की अभी अभी शादी हुई थी, तो उसको घर बदलने में कोई परेशानी नहीं थी.

रात को मैंने कहा कि कुछ करना है?मोना मना करने लगी- नहीं, उन्होंने आज के लिए मना किया है. किस करते करते मैंने उसको उठा कर बिस्तर पर ले गया और उसके मम्मों को ऊपर से ही दबाने लगा. हुआ यूं कि अचानक एक दिन सोहेल के अब्बू का इंतकाल हो गया और सोहेल के सर पर घर चलाने की जिम्मेदारी आ गई.

शुभम फ़ोटो क्लिक कर रहा था उन दोनों का। वीडियो भी बना रहा था।शुभम: वाह … टैक्सी, तू तो नंगी होकर एकदम बवाल लगती है,अंजलि: आह्ह … और जोर से चाटो, खा जाओ मेरी चूत को!ऐसा कहते हुए वो आदित्य के मुंह में झड़ गयी और आदित्य ने बहन को बेड पर उल्टा पटक दिया. नेहा- पर मैं ट्रांसपेरेंट नाईटी में रहती हूँ जिसमें से मेरे दूध दिखते हैं. अब मैंने उसकी चूत की फांकों को हाथ से हटाया तो उसकी चूत में बहुत पानी भरा हुआ था.

साहिल की मम्मी, मेरी दादी और रागिनी ये सब एक कमरे में बैठ कर पत्ते खेलने लगे.

उनके कमरे में घुसते ही हेमा चाची को देखकर मेरे अन्दर हवस जागने लगी और मेरा लंड खड़ा हो गया. फिर रात को फोन सेक्स की बारी आती थी, तो मैं नेहा से बात करने लगता था.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी मैं उंगली अंदर चलाते हुए बोला- कल जब दो दो मर्दों से चुदवा रही थी तो तुम्हें शर्म नहीं आई?ये सुनकर उसके चेहरे की लाली खत्म हो गयी और चेहरा सफेद हो गया. इस पर अलीमा बोली- अच्छा जी, प्यार करते हैं कि मुझे चोदना चाहते थे?बलविंदर ने कहा- वो तो तुम्हारी खूबसूरती देखकर कौन नहीं मचल जाएगा.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी अब इस इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी में आंचल जैसी अतृप्त महिला की चुदाई को लिखूंगा. उसके बाद मैंने उसकी चूत के बालों को हटाया और अपने लंड का सुपारा चूत के छेद पर रख दिया.

मैंने अंकिता से बोला- तुम आज ज्योति के सोने के बाद मेरे घर आ जाना, हम दोनों मेरे घर पर पूरा मजा लेंगे.

बीएफ सेक्सी मराठी चुदाई

लेकिन अब हेमा चाची को भी चाचा के आने का डर सताने लगा था तो हेमा चाची बाथरूम में चली गईं और थोड़ी देर बाद वापस आ गईं. वापसी के लिए मैंने सेमी-स्लीपर बस में विंडो सीट बुक की जो बस के बीच में थी. वो बोली- शिखा कहां है?मैंने कहा- वो तो स्कूल गई है।उसने कहा- मैं तो स्कूल के कुछ काम से आई थी.

बंदरों के झुण्ड को देख हेमा चाची बहुत तेज घबरा गईं और उन्होंने मेरा हाथ कस कर पकड़ लिया. बहन की गांड पर थप्पड़ मार मार कर उन्होंने उसकी गांड को एकदम लाल कर दिया था. मुझे बेहिसाब दर्द हो रहा था मगर किसी तरह से मैं दर्द बर्दाश्त कर रही थी.

अब आगे की Xxx बुआ सेक्स कहानी:बुआ मेरे सामने बिना ब्रा के अपने मस्त चुचे हिला रही थीं.

आपको मेरी बहन की चुदाई ये कहानी कैसी लगी मुझे अपने मैसेज और कमेंट्स में बतायें. एक बार तो मैं घबराया क्योंकि दीदी ने मेरे हाथ में मेरा लंड देख लिया था. मैंने उसे नीचे लिटाया और उसकी टांगें खोलकर उसकी चूत में मुंह लगाकर चाटने लगा.

एक बार आंटी हर्ष के लंड को मुंह में लेती और अर्पित के लंड की मुठ मारती. इधर रीति ने भी अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया और उसको मुट्ठी में भरकर दबाने लगी. हंसते हुए मैं बोला- रहने दो, अगर मैं शुरूआत नहीं करता तो तुम आज भी कुछ नहीं करने वाली थी.

भानू को भी शायद थोड़ा बुरा लगा और वो चुपचाप अपना पजामा बांधकर वहां से बाहर निकल गया. ब्लाउज़ बैकलेस था और सामने डीप कट था जिससे मेरी क्लीवेज कुछ ज्यादा ही दिख रही थी.

भाभी के शरीर की महक इतनी आकर्षित और मादक थी कि मुझे लग रहा था कि बस ऐसे ही भाभी से चिपका रहूं. फिर उसने अपना स्कार्फ लिया और अपने मुंह में फंसाने से पहले बोली- जो भी हो, अब तुम किसी तरह डाल देना. जब हम लोग हैदराबाद से छुट्टी मनाकर वापस आए, तब मैंने और अमन ने अपने नम्बर ले दे लिए थे.

मैंने सुलेखा को गले लगा लिया और उसके माथे पर एक किस करके अपने प्यार की मोहर उस पर धर दी.

मैंने भी देर न करते हुए उसकी पैंटी खींच कर निकाल दी और गुलाबी कोमल चिकनी चूत को चाटना शुरू कर दिया. कुछ देर के बाद फिर नाश्ता किया और हम भतीजे को लेकर दोनों घर से निकल लिये. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- मैं कितनी किस्मत वाली हूं; मेरा भतीजा मुझे चोद रहा है। और चोद … आज अपनी बुआ की फुद्दी फ़ाड़ दे!मैं और जोश में आ गया और नंगी बुआ की चूत में झटके पे झटके लगाने लगा.

मैंने पूछा कि क्या हुआ?वो बोलने लगी कि उसके बॉयफ्रेंड की वजह से …मैंने कारण जानना चाहा. तभी उसने खड़े लंड को मुँह में लेकर मेरी उत्तेजना में 4 चांद लगा दिए.

लंड मुँह में घुसा, तो साले ने अपनी कमर हिलाते हुए मेरे मुँह को ही चुत समझ लिया और धकापेल चोदने लगा. उन दोनों ने अपनी शराब खत्म की और विजय ने अचानक अपना एक हाथ मेरी जांघ पर रख दिया. बाहर निकाल कर लन्ड को मैंने उसके मुंह में डाल दिया और वो चूसने लगी.

बीएफ सेक्सी लड़का

मैं फ्रेश होने चली गई और अमन से कहा कि जब मैं आवाज दूं तभी तुम रूम में आना.

तो कुछ इसके लिए भी दवाइयां लाए हैं या नहीं?बलविंदर ने हंसते हुए उसे एक गर्भनिरोधक की गोली दे दी. वो धीरे धीरे आवाज करने लगी और कहने लगी- आह्ह … जान … आह्ह … मजा आ रहा है. दी साइड पोज़ में होकर किस करने लगी।मैंने हाथ से दी की गांड दबानी शुरू कर दी.

गाँव में चुदाई की कहानी में पढ़ें कि पहचान पत्र बनने के काम में मैं अपनी टीम के साथ एक छोटे से गाँव में गया. ऐसे ही एक बार रात को 12:30 बजे के लगभग मैं आदीबा की चुदाई करने के लिए उसके रूम पर जा रहा था. सवेरा गेममैंने लंड से कॉन्डम हटाया और मुठ मारते हुए उसकी चूत के मुंह पर लंड को टिका दिया.

मैंने तुरंत अपनी उंगलियां निकालीं और उसको किस करने लगा और उसके शरीर को सहलाने लगा. मैंने उससे पूछा- कैसी हो भाभी? बुखार कैसा है?भाभी ने कहा- जल्दी से किसी अस्पताल ले चलो.

वो बोला- सिर्फ देखना है कि चूसना भी है!मैंने अपनी बात दोहराई कि नहीं मुझे तुम्हारा लंड देखना भर है. मैंने दरवाजा को धक्का दे दिया और देखी कि सामने एक 26 साल का लड़का बैठा था. बीच रात में मैंने उन दोनों की चुदाई देखी जिसमें भाभी को पूरा मजा नहीं मिला.

बलविंदर उसके मम्मों को एक हाथ से दबा रहे थे और एक हाथ से पूरा उसे जकड़े हुए थे. अब आगे की प्यासी पड़ोसन Xxx कहानी:कुछ देर बाद अंकिता हाथ धोकर आई और मेरे साथ चिपकर बैठ गई. सभी के अंदर जाने के बाद मैं फिर से कमरे के बाहर आकर अंदर झांकने लगा.

तो राजसी अपने घुटनों पे बैठ गयी और साहिल का लौड़ा उसकी शार्ट में ही मसलने लगी.

उधर मुझे खुशबू मिली और बोली- कैसा रहा?मैं बोली- मस्त … लेकिन यार पूरा थक चुकी हूँ. फिर वो नीचे लेट गये और मुझसे बोले कि मेरे ऊपर आकर मेरे लंड को चूसो.

जब मोना ने चुदाई की बात मुझे नहीं बताई, तो मैंने मन ही मन सोचा कि अगर बच्चा हुआ, तो ठीक है. नहाने के बाद मैंने पहले ब्लाउज पहना जो कि पीछे से छोटा और आगे से काफी गहरा गला था. अब मैं साहिल के पास गई और उसकी बाइक पर बैठ गयी। मैंने एक हाथ उसके कंधे पर रखा जबकि दूसरा उसकी जांघ पर! और बिल्कुल उसके सट कर बैठी थी जिससे साहिल को मेरे मम्मे अपनी पीठ पर रगड़ खाते हुए साफ महसूस हो रहे थे।मैंने साहिल से बोला- मुझे भी थोड़ी से पीनी है.

हेमा चाची मुझे बार बार इशारे कर रही थीं कि वो मुझसे प्यार करने लगी हैं … लेकिन मैं सब कुछ जानते हुए भी अनजान बनने का नाटक करने में लगा था. मैं उससे यही सब बातें करते हुए धीरे धीरे से लंड उसकी गांड में डालता जा रहा था. उसने मेरी हॉट बुर में जीभ डाली और एक दो बार बुर में जीभ चलाने के बाद ही मेरी बुर ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी मैंने झट से उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं … और लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा. वो कुछ नहीं बोल रही थी इसलिए मैंने उसकी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया.

एचडी बीएफ वीडियो दिखाइए

मेरे हाथ उनके बदन को छूने के लिए तड़प रहे थे लेकिन आगे बढ़ते हुए गांड भी फट रही थी. मैं कोई चूतिया तो था नहीं … उनका इशारा समझ गया था कि उनकी चुत की आग धधक रही है. फिर मैंने साक्षी से कहा- अब आज का ये लास्ट राउंड करके हम निकलते हैं.

रास्ते में मैडिकल शॉप से 2 पैकेट कॉन्डम, 3 सेक्स की गोली और 2 शिलाजीत और सेक्स टाइम बढ़ाने की गोली भी ले ली. भाभी ने भी मेरी कमर पर हाथ रख कर धक्का दिया और हम जोर जोर से एक दूसरे को चोदने लगे।कुछ देर के धक्कों के बाद वो फिर झड़ गई और मेरे कंधे पर सिर रख कर लंबी सांसें लेने लगी. गोरा पार्वतीहम दोनों एक दूसरे से चिपके हुए बेतहाशा चुम्बनों का मजा ले दे रहे थे.

काफी समय तक उसने मेरी गांड, मेरी जांघ मेरी पीठ पर अपनी जीभ को घुमाता रहा.

फिर मैंने धीरे से एक धक्का उसकी चूत के अंदर लगाया और मेरा लंड उसकी चूत में 2 इंच तक उतर गया. मुझे पता चल गया कि आगे का मामला सैट है, पर कहां करना है … यह सोचना बाकी था.

उसी ने मुझे घर रुक जाने के लिए कहा था और उसी ने सेक्सी नाइटी पहन कर मुझे गर्म कर दिया था. उसी समय रूबी भी घर पर आ गई और शायद उसने हम दोनों की बातचीत सुन ली थी. [emailprotected]अन्तर्वासना चाची की कहानी का अगला भाग:पड़ोसन चाची के साथ मस्ती भरी रंगरेलियाँ- 4.

थोड़ी देर हम लोग बातें करते रहे।फिर मैं भी लेट गया और दी को किस करने लगा.

करीब आधे घंटे में अलीमा दो बार झड़ी फिर बलविंदर ने भी अपने लंड का रस अलीमा की चुत में ही निकाल दिया. उनकी चुदास देख कर मुझे लग रहा था कि आंटी कई वर्षों से मेरा ही इंतजार कर रही थीं. इस सेक्स कहानी के पहले भागघरेलू औरत की प्यार की प्यासमें आपने अब तक पढ़ा कि आंचल मैडम मेरे सामने अपने पति से सुख न पा पाने के कारण खुल गई थीं और मेरे साथ उनका सेक्स होने के हालात बन गये थे.

गांव की जंगल की सेक्सी वीडियोफिर उस टाइम पर उनके घर पर पहुंच कर मैंने बेल बजाई, तो अन्दर से एक बहुत ही खूबसूरत आंटी बाहर आईं. मेरे लंड को मैंने देखा तो वो मेरी लोअर के एक बड़े हिस्से को अपने प्रीकम से भिगो चुका था.

औरत वाली बीएफ सेक्सी

अरे अब जितना देखा उतना बता दिया … बाकी तो देख कर, चख कर ही बता सकता हूं. उसके बाद अगर सच में चुदाई में मजा आता और मेरे पति को कोई दिक्कत ना होती, तब मैं किसी दूसरे से चुदाई करती. मैंने देर न करते हुए सीधे उसकी चूत पर हमला बोला और चुत पर जीभ फेरने लगा.

इससे मुझे बहुत अच्छा लगा और कुछ देर बाद वो उसी तरह मेरी गांड से अपना लन्ड सटाते हुए आया भी।काम हो जाने के बाद मैं अपने क्लास में आ गयी।इसी तरह कुछ दिनों तक चलता रहा. ग्रामीण भारत में मेल प्रोस्टीटयूशन यानि पुरुष वेश्या का चलन अभी नहीं पहुंचा है किंतु भारत के महानगरों में यह धड़ल्ले से चल रहा है. मैं उसको गांड चुदाई के लिए तैयार करना चाहता और इसके लिए उसकी चुदास भड़काना जरूरी था.

इससे पहले कि वो कुछ बोलती, मैं उसको हाथ पकड़ कर अपने रूम में ले आया. मुझे पता चल गया कि आगे का मामला सैट है, पर कहां करना है … यह सोचना बाकी था. मैंने दुबारा से एक करार झटका मारा, तो मेरा 5 इंच लंड चुत के अन्दर चला गया.

फिर वो उसको चूसने लगी और मेरे मुंह से आह्ह आह्ह करके सिसकारें निकलने लगीं. और रेखा आंटी की तो रोज चुदाई करता हूं।फिर मैंने चाची को नीचे लिटा दिया और ऊपर से चोदने लगा।अब चाची सेक्स का मजा लेती हुई बोली- राज, मुझे भी जन्नत का मज़ा चाहिए.

अब फच्च फच्च फच्च की आवाज आने लगी।बुआ बोली- राज, तेरा लंड तो कमाल है.

इसके बाद जब उनके होंठ मेरे होंठों से लगे तो मैं तो मानो बिखर ही गई. स्टोन वाली साड़ीउसकी नर्म नर्म गद्देदार गांड को दबाते हुए मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ने लगी. इंडियन हॉट व्हिडिओपूरी तरह से थके होने की वजह से हम दोनों बिना कपड़ों के ही कब सो गए, हमें पता भी नहीं लगा. सबसे पहले मैंने हेमा चाची के लाल और रसीले होंठों को चूसना शुरू कर दिया और उन्हें चुदाई की पोजीशन में लेते अपने लंड को चाची की चूत में डाल दिया.

भाभी ने तुरंत मेरे लंड को पकड़ लिया और उसको हाथ से आगे पीछे करने लगी.

अबकी बार के राउंड में मैंने उसको उल्टा किया और उसकी गांड मारने की सोची. पहले भागपड़ोसन लड़की की गांड की चुदाई कीमें मैंने आपको बताया था कि मैं पड़ोस की लड़की हिमानी को जान से ज्यादा पसंद करता था और वो भी मुझे चाहने लगी थी. मैंने उनसे पूछा- कहां निकालूं?उन्होंने बड़े ही मादक स्वर में कहा- जानू मेरी चूत बरसों से प्यासी है.

मेरे सेठ ने उस औरत से उसका पता लिया और कहा कि आदमी आपके घर आ जाएगा. तो दोस्तो, मुझे जरूर बताइयेगा कि कहानी कैसी लगी? अगर आपको अच्छी लगी होगी तो मैं मेरी ज़िंदगी के कुछ और पन्ने भी पक्का खोलूंगी आप लोगों के सामने।मुझे मेरी ईमेल पर मैसेज करें. अलीमा भी अब तक इतनी मदहोश होती जा रही थी कि वो अपने हाथों से बलविंदर के चेहरे को पूरा अपनी ओर दबाती जा रही थी.

बीएफ हिंदी में सनी लियोन

उसने आंखें खोलीं और बिना देर किए लंड मुँह के अन्दर करके चूसना चालू कर दिया. ये देख कर उसने एक बार फिर से अपना हाथ जांघ पर रखा और इस बार उसने मेरी फ्रॉक को कुछ ऊपर तक सरका दिया. मेरा मूड बनता गया और मैंने इस प्रक्रिया को जोर जोर से दोहराना शुरू कर दिया; यानि मैं लेटे लेटे ही मुठ मारने लगा.

मैंने देर न करते हुए अपना लंड पकड़कर उसके मुँह के पास ले जाकर उसके मुँह में देना चाहा, पर उसने मना कर दिया.

बस वहीं से मुझे ये सोनम नाम पसंद आ गया था और मैंने अपना नाम भी सोनम रख लिया था.

मेरा हाथ उसके बदन पर हर जगह छूकर आ रहा था और वो भी इसका मजा ले रही थी. क्या ऊपर टैंक में पानी खत्म हो गया है?भाभी बोलीं- नहीं तो मेरे बाथरूम में तो आ रहा है. आंटी फोटोज taslima sheik full full hdउसने बहाने से मेरे लंड की ओर हाथ मारा और उसका हाथ मेरे लंड से छू गया.

मेरे लंड को मैंने देखा तो वो मेरी लोअर के एक बड़े हिस्से को अपने प्रीकम से भिगो चुका था. मैं सोचने लगा कि ऐसा क्या जुगाड़ करूं कि भाभी मुझे अपने साथ ले जाये. इससे इतनी जोर से भाभी की चूत में धक्का लगा कि उसकी आह्ह … निकल गयी.

इसे मैं समझ गयी थी लेकिन मैंने जानबूझ कर अपनी गर्दन उठा कर उसे देखा नहीं. उसके बाद दी खड़ी हुई और हम दोनों को देखते हुए अपनी गांड मटकाते हुए ड्रेस उतारने लगी।दी की ये हरकत देखकर प्रतीक और मेरा लण्ड और ज्यादा तन गया।दी ने ड्रेस साइड में फेंकी और सोफे पर बैठ गयी।मैं अपना लण्ड हिलाते हुते दी के सामने खड़ा हो गया.

फिर उसने विरोध करना बंद कर दिया और वो आराम से उंगली करवाने का मजा लेने लगी.

कुछ दूर जाकर एक गार्डन में मैंने उसे बिठाया और उसे चूम कर कहा- यार क्यों तड़पा रही हो? बताओ तो तुम क्या चाहती हो?वो छूटते ही बोली- चुदना. कुछ देर बाद आंटी से जब नहीं रहा गया तो वो मुझे गाली देते हुए बोलीं- चोद भी दे भोसड़ी के … आह अब मुझसे और नहीं सहा जाता राजा … अब मेरी गर्म चुत में अपना मूसल लंड डाल दो. मोना ने अपने पैर नहीं खोले थे, तो उसने जबरदस्ती पैर खोलने की कोशिश की और पैरों को खोल लिया.

गन की कीमत जैसे ही कम्बल जुड़े मैं पूरी बेशर्म हो गयी और मैंने अपना हाथ उसके लंड की तरफ बढ़ा दिया. फिर आंटी ने कहा- अब चोद दे मेरी चूत अपने लन्ड से … बहुत गर्म हो चुकी है ये.

दो दिन के बाद तो मैं अपने घर को लॉक करके उसके घर ही रहने के लिए चला गया. अपनी पूरी जवानी निकाल दो और मेरा सारा बचा हुआ माल अपने लंड को दे दो. ससुर बहू की सेक्सी कहानी में पढ़ें कि पति चुदाई में मजा कम हो जाने से मैंने खुद अपने ससुर जी को ललचाया और उन्हें मुझे चोदने के लिए गर्म कर दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो चूत की चुदाई

पूरे जिम में हम दोनों ही थे, इसलिए सर मुझसे बिना शरमाए अपने कपड़े चेंज करने लगे. क्या तुम उसे ठीक कर दोगे?मैंने कहा- अरे चाची क्यों नहीं … आप तो बस आधी रात को भी हुकुम करोगी न, तो ये बंदा सीधा आपके दरवाजे पर खड़ा मिलेगा. जब वो बिल्कुल बेसब्र हो गयी तो उसने मेरे मुंह को अपनी चूत में दबा लिया और मेरे मुंह को ही जैसे चोदने लगी.

उसने दोनों हाथों से मेरे चेहरे को पकड़ के ऊपर किया और मेरे नर्म होंठों पर अपने गर्म होंठ रख दिए. प्रिय पाठको, नमस्कार! मैं आपका प्यारा अनुराग अपनी जवानी की चुदाई की कहानी लाया हूं.

मेरी एक सहेली के दो दोस्त उसकी ग्रुप में भी चुदाई करते थे, जो वो बड़े मजे से मुझे बताती थी कि कभी-कभी तो वो उन दोनों से एक साथ चुदाई का मजा लेती थी.

भाई की शादी में मैंने उसकी चूत भी देख ली थी लेकिन उसने चूत चुदवाने से मना कर दिया. उसकी साड़ी में भी उसकी पतली कमर और मीडियम आकार की गांड बहुत खूबसूरत लग रही थी. फिर पता नई क्यों कुछ अजीब सा लगने लगा और बाल बांधते बांधते मैंने उसकी गर्दन पर किस कर दी.

मामी मेरे लंड को तेज़ तेज़ गपागप चूसने लगी।अब मैंने कंडोम निकाला और मामी को दिया. क्या तुम मुझे मॉल में साथ दे सकोगे?मैंने भाभी से कहा- कल मेरी 7 से 3 बजे तक की ड्यूटी है. मैं भी सिसकारते हुए बोला- आह्ह दीदी … चूस लो ये लौड़ा, ये आपके लिए बहुत तड़पता रहता है.

फिर मैंने जैसे ही हेमा चाची की जांघ को हल्का सा नीचे खिसकाते हुए अपने लंड पर से हटाया, तो मेरा लंड एकदम से सीधा खड़ा हो गया.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी: मुझे खुद ही ऐसा करा होता था तो मैं जानबूझ कर ऐसी स्थिति पैदा कर लेती थी कि मेरे मम्मे ससुर जी के सामने नुमायां हो जाएं. मैंने पंखे पर ध्यान लगाया और कुछ ही देर में पंखा ठीक करके नीचे उतर गया.

चीटिंग सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सेक्सी अम्मी को घर में अपने किसी यार से चूत चुदाई का मजा लेते देखा. ऊपर से शॉवर चल ही रहा था और नीचे मैं उसको घोड़ी बना कर धकापेल चोद रहा था. कि कैसे फटी मेरी चूत पहली बार!इस सेक्स कहानी के पहले भागजवान होते ही मेरी बुर लंड मांगने लगीमें आपने मेरे बारे में सभी बातें पढ़ी थीं और जाना था कि कैसे मेरी और राहुल की दोस्ती हुई.

अब तक हम दोनों ने इतनी बार किस कर लिया था कि अकेलापन पाते ही हम दोनों बेहिचक एक दूसरे से लग जाते थे.

फिर उन्होंने बोला- तुम क्या लोगे … ठंडा या गर्म मेरा मतलब चाय लोगे, कॉफी लोगे या फिर कुछ ठंडा?मैंने बोला- रहने दो ना आंटी … खामखां क्यों तकलीफ उठा रही हो. मैंने कहा- तो फिर पास क्यों नहीं आ रही थी घर में? चल अभी किसी होटल में चलते हैं. उनकी मालिश करते करते मेरा पल्लू मेरे ब्लाउज से हटा हुआ था, पर वो कमर से निकल कर जमीन पर गिर गया था, मैंने उसे ऊपर नहीं किया.