बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो

छवि स्रोत,ब्लू फिल्में चलने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी वीडियो देसी गुजराती: बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो, फिर मैं बाथरूम गयी और अपनी चूत से जितना पानी बाहर निकाल सकती थी, निकाल दिया.

मेरा सेक्स करने का मन कर रहा है

लेकिन इतनी रात में मेरी कभी हिम्मत नहीं होती थी कि किसी स्पॉट पर जाकर लौड़े पटाने की कोशिश करूं. शिल्पी राज सेक्समैंने कहा- क्या हम व्हिस्की पीते पीते बात कर सकते हैं?उसने हामी भर दी.

मैं अपनी बेटी फरहीन को पूरी ताकत से चोद रहा था और उसे जोर जोर से थप्पड़ मारता हुआ उसकी गांड लाल कर रहा था. शिल्पा शेट्टी की चुदाईउसके बाद हमने लगभग दो घंटे तक एक दूसरे को प्यार किया, एक दूसरे को हर तरह से मसला और चूसा चूमा.

मैं भाबी के घर के बाहर पहुंचा तो देखा दरवाजा खुला था और भाबी वहीं परदे की आड़ में खड़ी थीं.बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो: संगीता मैम ने उस दिन काली चमकीली साड़ी के साथ हल्के गहने पहन रखे थे.

अपनी 28 साल की उम्र तक, जिसने परसों तक किसी एक चुत को भी नहीं पेला था, उसके पास 3 दिन में 2 अलग अलग योनियों का स्वाद लेने का मौका था.मेरे साले की लौंडिया के होंठ बड़े ही रसभरे थे, मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी और उसकी लार पीने लगा.

बिपी मराठी - बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो

धीरे धीरे क्षित मुझे किस करते हुए नीचे की ओर जाने लगी और मेरे पेट से होते हुए मेरे लंड तक पहुंच गई.मैंने अपने हाथों को उसके चूतड़, कमर, पीठ पर मसलना शुरू कर दिया, उसका सिर उठाकर उसके अधरों पर अपने अधरों को रख दिया.

जेठालाल दुखी होकर पर गाली दिए जा रहा था- मादरचोद अय्यर … मेरे हाथ तो खोल दे भोसड़ी के, मुझे भी अपना लंड हिलाना है कमीने. बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो चूँकि अभी मेरा मन चुदाई का नहीं था तो मैंने मेरी चूत टाइट कर ली जिससे सलीम का पानी जल्दी निकल जाये.

फिर मुझे देखकर बोलीं- भैया आप प्लीज रोहन को पढ़ा दिया कीजिए, आजकल वो कमजोर हो गया है.

बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो?

लौड़े के लगातार खचाखच हमले की वजह से पूर्णिमा जी का भोसड़ा जल्दी ही पस्त हो गया और भोसड़े में चूतरस लबालब भर गया. चूंकि हिमानी का घर ताई जी के घर के पास ही था इसलिए रात में भी वो भी ताई जी के घर पर ही रहने वाली थी. अब मैं उसकी चूत के दाने को बीच बीच में काट भी देता जिससे वह मचल जाती, उससे सहा नहीं जा रहा था.

लगभग 2 महीने बाद एक दिन आपा ने मुझसे कहा- सलीम, अब हमारी बचत ख़त्म हो रही है और मेरी सैलरी भी अभी नहीं बढ़ेगी तो अब हमें कुछ सोचना चाहिए!तो मैंने आपा से कहा- आपा, अब रंडी वाला काम करना चाहती हो क्या?वो बोली- यार, ये रंडी शब्द मत बोलो. वो बोले- देखो यार आज मैं बहुत थक गया हूँ … आज नहीं, फिर कभी करेंगे. इसी तरह से मैंने चॉकलेट उसके पेट और नाभि में भी मल दी और उसके पूरे पेट को मैंने चाटा.

मैंने वो फूल स्वीकार कर लिया।इस तरह खेल खेलते रहे जब तक हम सब अपने अपने घर नहीं पहुंच गए।उस दिन से मेरी भूमि के साथ दोस्ती बढ़ गयी, रोज धीरे धीरे चैट होने लगी।फिर एक दिन मौका देखकर मैंने उसको प्रोपोज़ किया. एक दिन मैं ससुराल गया तो सास अन्दर कमरे में लेटी हुई थीं और गार्गी अपनी बेटी को दूध पिला रही थी. मीनू जोर की सिसकारी लेते हुए अंकित के बाल खींचने लगी और उसकी छाती पर दांत गड़ाने लगी.

उसके बाद मैंने उसका हाथ अपने लंड पर रखकर उससे प्यार करने को बोला तो उसने केवल हाथ से सहलाया लेकिन मुँह में लेने से मना करने लगी. अपनी नूनी मेरे मुँह में डाल देते हो और पिछली बार तो आपने मेरे मुँह में मूत भी दिया था.

मेरा लंड भी प्रीति की चुत के स्वाद को चख चुका था और अब उसे भी बिना उस चुत चोदे अच्छा नहीं लग रहा था.

उसी समय मैंने मॉम की गांड देखी, जो पूरी चिकनी और एकदम संगमरमर के जैसी थी.

फिर जब मैं छूटने को हुआ तो लंड को उनकी चूत से निकाला और उनके मुँह में सारा माल पलट दिया. फिर आपा मुझे किस करती हुई नीचे जाने लगी और मेरे लंड अपने मुंह में ले लिया, चूसना शुरू कर दिया. मैंने एक सेक्सी सी स्कूल ड्रेस ले ली थी जिसमें सफेद शर्ट और छोटी सी स्कर्ट थी.

लंड के स्पर्श से स्वाति की गांड ऊपर उठने लगी थी और वो लंड लेने के लिए कामातुर दिखने लगी थी. साड़ी खींचते वक्त जब वह घूम रही थी तब उसके पूरे शरीर को मैं देख रहा था. इन सब बातों के बीच में मैं धीरे-धीरे आपा की चूत को अपनी उंगलियों से सहला रहा था.

वो मेरे पास आकर धीमे से बोलीं- अभी रुकना!उन्होंने ये कह कर कमरे में वापस पैर रखे और दरवाजा बंद कर दिया.

पर काफी दिन से चुदी न होने के कारण या छोटे लंड से चुदी होने के कारण उसकी चुत इतनी टाइट थी कि मेरा लंड अन्दर ही नहीं गया. कल को हो सकता है तुम खुद का अपना लाइसेन्स भी बनवा लो तो हमारी कंपनी को और भी फायदा होगा।मैंने कहा- अरे मंत्री से मैं मिल कर क्या करूंगी. तो भाभी बोलीं- एक थी मतलब … एक से मन नहीं भरता था क्या?मैं बोला- नहीं.

उसने कहा- मैं तेरी रंडी हूँ … प्लीज़ अपनी रंडी की चुत को अपने लंड से तृप्त कर दे, मैं भीख मांगती हूँ. उसके बाद मैंने हिम्मत जवाब दे गयी चुदाई देखकर … मेरी आग और भड़क गई. उसके दस दिन बाद मैंने उससे फिर से सेक्स के लिए कहा तो वो राजी हो गई.

तभी अय्यर ने बबीता से पूछा- क्या हुआ, आवाज क्यों दी थी?तो उसने अय्यर को बताया- तुम अपनी पेन ड्राइव घर पर ही भूल गए हो.

कहानी के पहले भागउधार के पैसे से रंडी की चुदाई का मजा लियामें आपने पढ़ा कि उधार के पैसों से मैंने एक कालगर्ल की चुदाई का जुगाड़ किया था. इस पर मेरी बहन ने कहा- अभी नहीं … रात 12:30 बजे पीछे की दालान में आ जाना.

बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो उन्हें नंगी देख कर ऐसा लग रहा था कि कोई परी जन्नत से सीधा मेरे पास आ गई हो. उसकी शादी के बाद पहली रात को उसके पति ने उसे कैसे चोदा, उसी लड़की के मुख से सुनें.

बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो उसके बालों को सहलाते हुए बातें करने लगा और पता ही नहीं चला कि हम दोनों कब सो गए. चूंकि भाभी जी का एक लड़का भी था, उसे भी इन सब बातों में इंटरेस्ट आने लगा.

दोस्तो, जब कोई लड़का किसी लड़की के चूचुक दबाता या मसलता है तो लड़कों को लगता है कि उन्हें मजा आ रहा है.

निशा दुबे सेक्सी इमेज

मैं भाभी की चूत से निकलने वाले सफेद पानी को बार बार जीभ से चाटकर ऐसे पीने लगा मानो अमृत पी रहा हूँ. मॉम बोलीं- रोहन दर्द हो रहा, अच्छे से कर न … तू एक काम कर किचन में तेल है. लंड चुत में घुसा तो मेरी शबाना आपा चिल्ला पड़ी- आंह भाई, बहुत दर्द हो रहा है.

उसने मेरे दोनों मम्मों को खींच खींच कर चूसा और मेरे मम्मों को पूरा लाल कर दिया. नंगी भाभी की मटकती गांड देखकर मेरा उसे चाटने का मन किया, मैंने कहा. आप मुझे मेल करना न भूलें कि आपको मेरी फॅमिली आंटी सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]फॅमिली आंटी सेक्स कहानी का अगला भाग:कामुक मामी की प्यासी चुत की चुदाई- 2.

ऑफिस में मालिक की एक खास महिला कर्मचारी थी प्रीत!प्रीत कंपनी के ग्राहकों के संपर्क में रहती थी.

आप मुझे मेल करना न भूलें कि आपको इस भाभी की सेक्सी चुदाई कहानी में मजा आ रहा है ना![emailprotected]भाभी की सेक्सी चुदाई कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी के घर में मिला चुदाई का दोहरा मजा- 2. उनकी चूचियों का आकार खरबूजे के जैसा हो गया था और वो दोनों एकदम लाल हो गई थीं. मैंने कभी उन्हें ऐसी नजर से नहीं देखा था, पर भाभीजी थीं एकदम अप्सरा जैसी, उन्हें देखते ही मन में कुछ होने लगता था.

पहले पहल तो भाभी थोड़ा छटपटा कर छूटने की कोशिश कर रही थीं लेकिन मैं भाभी को कहां छोड़ने वाला था. तभी मेरी सास आयी और बोली- दामाद जी, खाना लगवा दूँ?मैंने हां बोल दिया. मेरी चचेरी बहनें मेरे लंड से चुदी और उनकी बेटियाँ भी जवान होकर मुझसे चुदी.

मैंने उसकी चुत की फांकों में लंड का सुपारा फंसा कर चुत को रगड़ा तो उसे जन्नत कर सुख मिलने लगा. मैं भी जोर जोर से ‘आअह अआह उफ … जानू जोर से चोदो’ बोलकर उसका जोश बढ़ा रही थी.

अब उसने गाली देते हुए लंड अन्दर बाहर लेना शुरू कर दिया- हां अब चोद माँ के लौड़े … और ज़ोर से चोद बहनचोद!मैंने भी उसे गाली देते हुए पेलना शुरू कर दिया. अब उसने कहा- अभी ज्यादा मत तड़फाओ … जल्दी से अपना लंड चूत के अन्दर डालो और मेरी चुत का भोसड़ा बना दो. कोई पांच मिनट बाद वो संयत हुआ और फिर से मुझे किस करने लगा, मेरे मम्मों को दबाने लगा.

मैं पूछा- ये क्या है?अमित ने आंख मारी और बोला- इससे उसकी चुदास बढ़ जाएगी.

तो मैंने हंस कर कहा- तो क्या लंड घिस कर पतला कर लूं?वो हंस दी और कहने लगी- कुछ भी करो यार … मगर मुझे आज चुत चुदवाने का मजा लेना है. मैंने अपने आप को रोकने की कोशिश की और आपा को भी रोकना चाहा लेकिन वह नहीं मानी, मेरा लंड सहलाती रही. भाभी बोलीं- क्यों तुम्हारे ऑफिस से घर का रास्ता तो दस मिनट का ही है.

अब अय्यर ने जेठालाल को फोन लगाया और उससे बोला- जेठालाल सॉरी यार … मैंने तुम पर बिना वजह गुस्सा किया. उस समय के नजारे की आप कल्पना कर सकते हैं कि चुदाई कैसी लग रही होगी.

यह नजारा देख कर अम्मी तो इतनी खुश हुईं कि दूध का ग्लास वहीं रख कर सारे कपड़े उतार कर नंगी हो गईं और अब्बू की कमर के दोनों तरफ पैर करके लंड पर बैठ गईं. अब मैं ज्यादा देर न करते हुए उसकी पैंटी को अंदर हाथ डालकर उसकी चूत को मसलने लगा जिससे वह बेकरार हो गयी और मुझे और जोर से किस करने लगी. वह अपने लंड को छुपाने लगा और शायद उसे बिठाने के लिए वो मुठ मारने बाथरूम की तरफ चल दिया.

भोजपुरी भाभी के सेक्सी वीडियो

मेरी मौसी बेड में नंगी कुतिया बनी हुई थीं और मौसा जी मौसी की गांड मार रहे थे.

वो लंड को चूस चूस कर उसका रस खाने लगीं और एक बूंद भी खराब न करती हुई सारा माल निगल गईं. मैं झट से उठा और बैग से तेल निकाल कर अमित के पास आया और मैंने अमित का लंड पकड़ कर तेल लगा दिया. लगभग 2 महीने बाद एक दिन आपा ने मुझसे कहा- सलीम, अब हमारी बचत ख़त्म हो रही है और मेरी सैलरी भी अभी नहीं बढ़ेगी तो अब हमें कुछ सोचना चाहिए!तो मैंने आपा से कहा- आपा, अब रंडी वाला काम करना चाहती हो क्या?वो बोली- यार, ये रंडी शब्द मत बोलो.

वो मेरा दर्द कम होने तक रुका रहा और मुझे सहलाता रहा, मेरे मम्मों को चूसता रहा. अब वो मेरे कंधे पकड़कर मेरी चुदाई कर रहा था जिससे उसका लंड मेरी बच्चेदानी में चोट मार रहा था. सेक्स ऐप्समैंने ओके बोला और उसके जिस्म पर पहनी हुई अपनी शर्ट को उतारा, तो वो नीचे से एकदम नंगी थी.

मैं बोला- तूने ये सब और किसी के साथ भी किया है?वो बोली- हां गन्नू के बापू मुझे उठा कर खेत में ले जाकर ये सब करते हैं. तो मंत्री जी ने अपने हाथों से मेरी कमर, मेरी जांघों को सहलाया, चड्डी के ऊपर से ही मेरी चूत को भी थोड़ा सा रगड़ा।फिर अय्यर ने मेरी ब्रा का हुक खोला तो मंत्री जी ने मेरी ब्रा को मेरे जिस्म से अलग कर दिया.

शायद इतने से ही दीपिका की चुत में आग लगनी शुरू हो गई थी तो अचानक से दीपिका ने मेरा लंड पैंट के ऊपर से ही पकड़ लिया. मैंने कहा- मैं उठ नहीं सकती, तुम ऐसे लेटे लेटे ही मेरी चुदाई कर लो!उसने मुझे वहीं बाथरूम में लेटा दिया और लंड मेरी चूत में घिसने लगा. दस मिनट बाद जब निशा झड़ने के करीब पहुंच रही थी तो मंडेला ने वायब्रेटर बंद कर दिया.

वो भी मेरे इशारे को समझ गईं और बैठ कर गप्प से मेरे लंड को किसी लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. आप तो जानते ही हो कि मैं अपनी बुआ को पहले कई बार चोद चुका हूं और बुआ ने अपनीसहेली प्रीति की चूत चुदाईभी अपने कमरे में बुलाकर करवाई है. वो बोलीं- इतना जल्दी?मैंने कहा- भाभी आपके लिए ये सामान्य बात होगी, मैं तो जन्नत में था.

वो एकदम से चीख उठीं- आह आह उम्मा ओह ओह उफ्फ ओह आह मर गई!मैं पिला पड़ा रहा.

वो भी मस्ती से बोलने लगी- आंह साहब जी और जोर से चोदो … आंह बड़ा मजा आ रहा है … ओह … चोदो साब मुझे और जोर से पेलो. हर रोज पूरा दिन तो दुकान में अच्छे से निकल जाता पर रात को मम्मी की चुदाई की चीखें मुझे मुठ मारने को विवश कर देती थीं.

वो मुझे घूरने लगी और बोली- मैं जीती हूँ, तुमको मेरी बात माननी पड़ेगी. जैसे ही वो थोड़ी शांत हुई, मैंने हल्के हल्के से लंड को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. फिर उस दिन तुम सच बोलने वाले थे, तब से में तुम्हारे प्यार में पड़ गयी.

मैं- आपको तो नाग से प्यार होना चाहिए आप भी क्या ये टीवी सीरियल्स लेकर देखती हैं. देखने में वो अच्छे थे मगर मैं उन्हे हमेशा राजेश भाई साहब कह कर ही बुलाती थी।कभी कभी मुझे लगता था कि वो मुझे किसी और नज़र से देखते हैं. अब उसका दर्द कम हो गया था और कुछ देर में दर्द की जगह मजे ने ले ली थी.

बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो छह इंच लम्बा और तीन इंच मोटा मेरा लंड उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर दस्तक़ देने लगा. प्रकाश ने अपने दोनों हाथों की उंगलियां मेरे भारी चूतड़ों पर जमाकर गांड को उचकाया तो सट से मेरा पूरा लंड उसकी गांड के अन्दर चला गया.

सेक्सी गांव की छोरी

फट …’इसी के साथ मॉम की मादक सिसकारियां भी आ रही थीं ‘उहह … आआह … उई मां … चोद भी दे …’साथ ही साथ मॉम गालियां भी दे रही थीं- बहनचोद … आंह बहन के लौड़े साले चोद मादरचोद … आज मेरी चूत की बच्चेदानी को भी फाड़ दे मादरचोद आंह और जोर से पेल भोसड़ी के … आंह और जोर से …’उधर मामा अपनी पूरी ताकत लगा कर मेरी मां चोद रहे थे. जब वो 29 साल का हुआ, तब उसकी शादी आंध्रप्रदेश की एक लड़की से तय हो गई. उन्होंने एक सफेद रंग का कमीज पहना हुआ था और नीचे लाल रंग की पजामी पहनी हुई थी.

वो अपने शरीर को अकड़ाती हुई बोली- आंह साब मैं कट गई … आंह और कस के साहब!बस तभी वो झड़ गई और शांत हो गई. उन्होंने मेरा कॉलर पकड़ा और मुझसे कहा- मैं तुझे सिर्फ 2 दिन का समय देता हूं, 2 दिन में अगर तूने मेरे पैसे नहीं दिए तो फिर देख मैं तेरे साथ क्या करता हूं. पतंग कैसे बनाई जाती हैपायजामे के ऊपर से ही उन्होंने भैया के लिंग को सख्त तरीके से पकड़ लिया और पायजामे के ऊपर से ही ऊपर नीचे करने लगीं.

मैंने उसे चोद कर पहली बार महसूस किया था कि कई बोतल शराब का नशा कर लिया हो.

कुसुम- यार मेरा छेद देख, ये सिर्फ एक इंच मोटा लंड ले सकता है, ये बहुत छोटा छेद है और तेरा लंड तो 3 इंच मोटा है. अगले दिन सुबह मेरी आंख खुली तो मैं नहा धोकर जैसे ही नीचे पहुंचामैंने देखा कि आपा पूरी इज्जत के साथ बैठी हुई नाश्ता कर रही थी.

लेखक की पिछली कहानी थी:देवर से लिया चुदाई का असली मजातो लंड वालो, अपनी जिप खोलकर अपना लंड मुट्ठ मारने के लिये बाहर निकाल लो. शर्ट हटते ही उसके शानदार तने हुए दूध मेरे सामने आ गए और मैं उसके मम्मों को चूसने चूमने लगा. फिर मैंने किस करते करते उसकी टी- शर्ट के ऊपर से मम्मों को जोर जोर दबाने लगा.

बगल में उसकी मौसी सुनीता के कमरे का दरवाजा खुला था और लाईट भी जल रही थी.

मुझे नशा हो गया था, मैं अपनी बीवी के पास गया और उसकी नंगी पीठ को चूमते चूसते हुए उसकी गर्दन पर आ गया. मैंने रिंकी को छोड़ दिया और हम दोनों ने एक दूसरे का मोबाइल नम्बर एक्सचेंज कर लिया. मामी उन्हें देख कर अपने काम में लग गईंफिर लंच खाकर मैं टीवी देखने लगा.

झारखंड एक्स वीडियोदीपक ने अपनी दोनों टांगों को हवा में फैला दिया था जिससे मेरा लंड उसकी गांड की जड़ तक धंस धंस कर जा रहा था. फिर तीस सेकंड बाद उसने मेरी नाक को खोला तो मैंने मुँह से लंड निकाला और राहत की लंबी सी सांस ली.

राजा और रैंचो

दूसरे ने कहा- अबे वो लौंडा है … क्या तुझे लौंडों में इंटरेस्ट है?वो बोला- अबे क्या लौंडा और क्या लौंडिया … साला लंड पेलने के लिए छेद चाहिए. उसने पूछा- भाई आप बाथरूम का दरवाजा खोल कर अपने लंड को क्यों हिला रहे थे. उसने मेरे होंठों को इतना जोर से काटा कि मेरे होंठों से खून आने लग गया.

बाद में क्षिति ने मुझे बताया कि वह उन्हें जानती नहीं थी, बस ऐसे ही बातचीत कर रही थी. जब खाना परोसते समय मामी के मम्मे मेरे मुँह से कुछ ही इंच की दूरी पर थे, तब मैंने सोचा खाना गया तेल लेने मैं तो इन्हीं पर टूट पड़ता हूं. फिर कुछ समय बाद उसने अपने मम्मों को अपनी टी-शर्ट से बाहर निकाल दिया और मेरे मुँह को अपने एक दूध के ऊपर चिपका दिया.

क्या आप फोन नहीं रखती हैं?उन्होंने कहा- अरे वो मैं अपना फोन नहीं लाई हूँ … मुझे तुम्हारे भइया को कॉल करना है. मैंने उसकी चुत चूसने के साथ साथ उसकी चूचियां मसलना भी शुरू कर दिया था. मेरा एक हाथ नसरीन आपा के चूतड़ों को सहलाने में व्यस्त था तो दूसरे हाथ से मैं टीशर्ट के ऊपर से उनके बड़े बड़े बूब्स दबा रहा था.

फिर ताई जी मोहिनी भाभी की ओर मुँह करके बोलीं- बहू, चाय नाश्ता करके थोड़ी देर आराम कर लो, फिर 3 बजे से महिला संगीत है. वहां निशा का वकील आया, उसे निशा ने पहले से मेरे बारे में बता रखा था.

फिर मैं खड़ी हुई ही थी कि उसने मुझे दीवार से सटा दिया और मेरा हाथ ऊपर हैंगर की ग्रिल पर बांध दिया.

मैंने पहले उसकी गांड मारने की सोची क्योंकि एक तो उसने अपनी उंगलियों से गांड में मजा ले लिया था, जिससे उसकी गांड में मेरा मोटा लंड आसानी से जा सकता था. सेकसीवीडीयामैं समझता हूं कि इससे अम्मी की चुत की दोनों फांकों खुल गयी होंगी और दोनों फांकों के बीच में अब्बू का लंड चिपक गया होगा. अंकिता सेक्सीरोहित तो मेरी कसी चुत पाकर इतना मतवाला हो गया था कि उसने जोर रोज से लंड पूरा डालना और बाहर निकालना शुरू कर दिया था. रेशमा भी मेरे फूलते लौड़े को देख रही थी और वो दोनों मिलकर मेरा कचूमर बनाने की सोच रही थीं.

अब आगे देसी वर्जिन गर्ल सेक्स कहानी:दूसरे दिन सुबह उठ कर रूम से बाहर आया और देखा तो ससुर जी घर में नहीं थे.

उसकी आज की हंसी से मुझे समझ आ गया कि लौंडिया लंड की भूखी है और थोड़े से प्रयास से लंड के नीचे आ जाएगी. भाभी बोलने लगी- आंह मेरे राज़ा … आअज तो मज़ा आ गया … और जोर से ई उम्म्म्मम … ऊओह ऊऊर जोरर से बेबी … ऊओंम्म्म ऊहह!वो ऐसे ही बोलती गयी और मैंने उसके चूतड़ों पर दो तीन चमाट मारे, जो उसको और मज़ा दे रहे थे. उसने अपने दोनों हाथ मेरी पैंटी की इलास्टिक में डालकर मेरी पैंटी मेरे जिस्म से अलग कर दी.

करीब 5 मिनट तक लंड और चूत चाटने के बाद उसने मेरे टॉप और ब्रा दोनों निकाल कर मुझे चित लेटा दिया. कमरे का दरवाजा लगाते ही मैंने संगीता मैम को पकड़ लिया और अपने गले से लगा लिया. [emailprotected]लेखक की पिछली कहानी थी:बीवी की कमी सासू माँ ने पूरी करी.

रुकमणी सटका मटका

उनकी चूत में से फच फच की … और मुँह से आह यह उह ओह की आवाज आ रही थी. वो तो मेरी चूत का इतना दीवाना हो चुका था कि वो मुझे मेरे पीरियड्स में भी चोद देता था. मैं तो अभी एक बार उसकी फिर से चुदाई की सोच रहा था पर वो तो चली गई थी.

मेरी बहन अपनी चुत चुदवाती हुई मस्ती से जोर से आवाज निकालती रही और मैं अपनी बहन की मदमस्त जवानी को रौंदता रहा.

मैंने आपकी बीवी से बात की है, आप आपसी सहमति से तलाक़ की अर्जी में दस्तख़त कर दो.

तब भी मुझे अपने लंड पर भरोसा था कि एक न एक दिन कीर्ति मेरेलंड पर सवारीकर ही लेगी. कुसुम एक हॉट लड़की थी जिसके बूब्स तो ज्यादा बड़े नहीं थे पर उसकी गांड बहुत मस्त थी. केले की खेतीबबीता का एक पैर अय्यर के एक पैर के ऊपर था और उसके दोनों हाथ अय्यर की छाती को छू रहे थे.

देसी हॉट सेक्सी गर्ल को चोदा मैंने! वो पड़ोस में रहने वाली कुंवारी लड़की थी. ऐसे ही 15 मिनट तक मौसी की गांड मारने के बाद मैंने देखा कि मौसा ने अपना माल मौसी के मुँह में निकाल दिया और अलग हो गए. सारे दिन में मुझसे ज्यादा बात नहीं करती मगर रोज रात को मेरी तरफ गांड करके सो जाती.

मैं फिलहाल पुणे में अपनी पढ़ाई पूरी करके सिविल सर्विसेस की पढ़ाई रहा हूं इसलिए मैंने वहीं पर एक रूम किराए पर लिया हुआ है. मैंने उसके पैरों को फैलाया और उसकी मखमली चूत में लंड लगा कर एक झटका मारा तो हल्की सी चीख के साथ हाशना लंड चुत में अन्दर सटक गई.

उनको मैं किस करने लगा और कुछ पल बाद मैंने एक बार फिर से धक्का दे दिया.

मैंने पूछा- किस किस के लंड का स्वाद चखा है?वो बोली- ये मेरा सीक्रेट है. उसने लंड को हिलाते हुए कहा- आ ज़ा मेरी रांड!मां भी कमसिन अंगड़ाई लेती हुई अपनी चूत को गीली उंगली से मसलती हुई बोली- यह भी कई दिन की भूखी है. फिर मैं इतना गर्म हो गया कि मुझे खुद को ही याद नहीं रहा कि मैं क्या कर रहा हूँ.

xxanaxx tentacion 2019 गाने डाउनलोड कुछ बाद ऋतु मेम ने लंड को मुँह से निकाल दिया और सीधी होकर मेरे लंड को अपनी चुत पर सैट करने लगीं. उसमें भी बहुत हवस थी, पर शर्मीली होने के कारण कुछ नहीं बोली, जो मैं बोलता रहा, बस वो करती गई.

वो बोली- देखो अविनाश परसों जो भी हुआ … उसको एक सपना समझ कर भूल जाओ. उसका रस आने लगा और मैं वीर्य की हर बूंद के साथ गले में लंड सूतने लगी. फिर पंकज ने आपा को सीधी करके लेटा दिया और आपा की टांगें अपने कंधे पर रखकर चुदाई करनी शुरू कर दी.

मेरा दिल तोड़ने से पहले रिंगटोन

तभी मामी बोलीं- अभी … दूध नहीं लाया?तो पीछे से राजश्री आयी और बोली- ये लो मां, दूध. भाभी- अच्छा, फिर उनका साथ कैसे छूट गया?मैंने एक कदम आगे बढ़ाते हुए कहा- वो ज्यादा मजेदार नहीं थी. कुछ देर बाद मैंने हाथों को ब्लाउज में से बाहर निकालकर उनके कंधों पर रख दिए और उनकी मजबूत मोटी सांवली कलाइयों को रगड़ने लगा.

पर सेक्स में अगर एक ही का साथ रोज रोज हो, तो उसमें कुछ नयापन नहीं लगता. वो खुद उतावली होकर अब्बू से बोलती थीं कि मेरी गांड मरवाने की इच्छा है, तो आज मेरी गांड भी मारो.

ऐसे तेरा सारा कर्ज भी उतर जायेगा और तुझे चुदाई करने को भी मिल जाएगी.

उसके दर्द का अहसास पाकर मैं कुछ देर के लिए वैसे ही रुक गया और उसके बूब्स मसले।अब जब दोबारा उसकी चीख और कराहना बंद हुआ, तब मैंने धीरे धीरे अपने लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया. मैंने अपने होंठों को उसके होंठों पर रख दिया और उसके अधरों का रसपान करने लगा. अपनी पूरी कहानी कहानी बताने के बाद निशा ने मुझसे पूछा- क्या वह छोटी मोटी नौकरी करना चाहती है? या कॉल गर्ल बनकर थोड़े समय में काफ़ी रुपए कमाना चाहती है?मैं कॉलगर्ल बनने को राज़ी हो गयी.

इस बार मैंने उसे गर्म किया और अपना पूरा लंड उसकी चुत में उतार दिया. फिर जैसे ही मैंने जोर से भींच कर मीनू को जकड़ा, उधर अंकित ने एक शॉट में ही पूरा लंड उतार दिया. मैंने चारपाई बिछा दी और फिर भारी भरकम पूर्णिमा को उठाकर चारपाई पर पटक दिया.

तूने मेरी छोटी सी चुत को जो एक इंच ही ले सकती थी, तीन इंच मोटा लंड लेने लायक कर दिया.

बीएफ वीडियो भोजपुरी भक्ति सॉन्ग वीडियो: उसके बालों को पकड़ कर पलंग पर घसीट लिया और सीधी करके उसकी बुर फैला दी. तब मैंने भी सोचा कि मॉम भी मेरी उंगली से चूत रगड़वाने में अच्छा लग रहा है तो मैंने थोड़ी देर बाद फिर से चूत ने उंगली डाल दी और हिलाना शुरू कर दिया.

पर एक बात हैरान कर देने वाली भी हुई कि इतनी कम उम्र में इसकी गांड आसानी से उंगली कैसे ले रही है क्योंकि गांड में उंगली लेना कोई साधारण बात नहीं होती है. फिर वो जैसे ही चलने के लिए मुड़ी, तो मैंने देखा कि उस हॉट कामवाली की गांड बड़ी मस्त थी और गजब मटक रही थी. वहां भाभी जी कपड़े ट्राई करके मुझे दिखा रही थीं कि कौन सा अच्छा लग रहा है.

मैं तेज तेज मुँह में लंड करने लगा था जिस वजह से उसकी सांसें अटकने लगीं.

अन्दर मैं अपनी सास की बहन को चोदने में लगा था और बाहर एक बाप अपनी बेटी की गांड में अपना लंड रगड़ रहा था. मम्मी ने पहले लकड़ी से आग बाहर की तरफ की, तो अंकल अपने नाड़े को देखते हुए बोले- इसे भी तो ढीला कर दे. अब हम दोनों कपल की तरह घूमने लगे … मस्ती करने लगे और फोन पर बातें करने लगे.