वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ रियल

तस्वीर का शीर्षक ,

जैकलीन फर्नांडिसxxx: वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी, पप्पू अब कहाँ मानने वाला था, वो उठ के नीता के पास आ कर बैठ कर उसकी गोरी नंगी टाँगों को सहलाते हुए बनियान में बंद मम्मे ऊपर से हल्के से मसलते हुए बोला- अरे नीता, हम मर्दों का काम ही होता है चिकनी मस्त लड़कियों को छेड़ना, अब देख तेरी माँ को हम लोग बहुत छेड़ते थे पर तेरी माँ कभी गुस्सा नहीं होती थी.

हिंदी में चुदाई बीएफ पिक्चर

मैंने समय नहीं गंवाते हुए उसके रसीले होंठों को अपने होंठों में भर लिया और चूमने लगा. भाभी देवर की बीएफ सेक्सी वीडियोवैसे तो अब तक मैं 5 चूतों का स्वाद ले चुका हूँ लेकिन ये कहानी मेरी पहली चुदाई की है जो मैंने अपने साथ किराये पे रहने वाली रेनू आंटी के साथ की.

इस दौरान मुझे बहुत मजा आने लगा और मैं मछली की तरह पूरे बिस्तर पर तड़पने लगा. किन्नर का बीएफ वीडियोजब भाभी ने कोई ऐतराज नहीं जताया बल्कि वे मुझसे चिपकी रहीं तो मैं धीरे से सुमन भाभी का मुँह ऊपर करके उनको किस करने लगा.

मेरी बहन भी भूखी शेरनी की तरह लंड को निहारने लगी और मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी: गुलशन जी ने उसको समझाया जाना जरूरी था, उसके बाद उन्होंने कपड़े बदले और खाने का कहा तो फ्लॉरा ने सुमन को कहा- तू आराम कर… अंकल को मैं खाना दे देती हूँ.

दोस्तो, आप जितने भी पाठक हैं सभी अच्छे से जानते हैं कि शायद आज की दुनिया में जो चीज़ सबसे सुलभ है, वो है सेक्स.वो एकदम बेजान हो गई, पर मैं उसे चोदता रहा और थोड़ी ही देर बाद मेरा भी होने वाला था तो मैंने भी लम्बे लम्बे शॉट लगाने शुरू कर दिए और फिर उस की चूत में झड़ने लगा.

बीएफ मूवी फिल्म सेक्सी - वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी

मैंने मना किया, तभी दूसरा वाला जिसका नाम राहुल था, वो बोला- बेबी, चुदने आई हो तो असली मजा लो…उन सभी के कहने के बाद मैं मान गई.यूं ही घूमते घामते, खरीदारी करते करते सवा नौ बज गए; अब भूख भी जोर से लगने लगी थी अतः बहूरानी की पसन्द के रेस्तरां में हमने बढ़िया डिनर लिया.

अब मैंने जैसे ही अपना लौड़ा सोनिया की गांड में डाला तो सोनिया तो गांड उचका उचका कर अपनी गांड मराने लगी जैसे उसे जन्नत का मजा आ रहा हो. वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी चाचाजी ने मेरी इच्छा को फ़ौरन समझ लिया और नीचे चुत की तरफ चले गए और एक हल्की किस के साथ मेरी चुत को फुल लेन्थ में चाटना शुरू कर दिया.

दोस्तो, ये थी मेरी पहली गैंग बैंग चुदाई की कहानी, जिसमें प्यार के नाम पर मेरे साथ धोखा हुआ था.

वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी?

साली शादी की तो एक ही चूत चोदने को मिलेगी लेकिन नहीं की तो तेरी जैसी मस्त गर्म चूत मिलेगी… और तू इस लौड़े से चुदवा कर तेरी सहेलियों को भी सुलायेगी मेरे नीचे… है ना?पप्पू की ज़िप खोल कर रूपा ने अपने दोनों पैर घुटनों में मोड़ लिए, जिससे उसकी साड़ी जाँघों से ऊपर खिंच गई और पप्पू को उसकी चूत दिखाई दी क्योंकि रूपा ने पेटीकोट के नीचे पैंटी ही नहीं पहनी थी. दोस्तो, यह कहानी पब्लिश होने के बाद मैं सोनिया को भी भेजने वाला हूँ. दोस्तो, यह मेरी पहली रियल सेक्स कहानी है कि मैंने अपनी पड़ोसन कमसिन लड़की सोनी की प्यार भरी चूत चुदाई कैसे की,मेरा नाम अरुण मलिक है.

”मैं अपने पापा के साथ जो चाहे करूँ तुम्हें क्यों खुजली हो रही है? तू भी ले ले मजे. कुछ ही समय बाद हम दोनों ससुर बहू बहूरानी के बेडरूम में मादरजात नंगे एक दूसरे की बांहों में लिपटे पड़े थे. मैं बिस्तर से उठ कर खड़ा हो गया और समीर घुटने के बल आकर मेरा लंड चूसने लगा.

थोड़ी देर तक इस नज़ारे को देखने के बाद रमेश का गुस्सा हवस में बदल गया. मैंने पूरी तरह अपने आप को छोटे बच्चे की तरह शीतल के हवाले कर दिया था. भाई बहन के प्यार प्रसंग के होने के दौरान ही मयूरी मंदिर से वापिस आ गई.

इतना कह कर उसने अपनी लुंगी उठानी चाही तो मैंने तुरंत ही उसकी लुंगी उठा ली और कहा- तुम ऐसे ही बहुत अच्छे लग रहे हो. लेकिन अर्चना को दर्द नहीं हुआ तो मैंने पूछा- दर्द क्यों नहीं हुआ?तो उसने मुस्कुराते हुए कहा- मेरी चूत की झिल्ली फाड़ चुके हो भाई, अब दर्द नहीं होगा.

कुछ देर बाद एअरपोर्ट से बाहर निकल कर मैंने अर्पिता को कॉल किया और पूछा कि वो कहाँ है, तो बात करते-करते वो मेरे पीछे आ कर खड़ी हो गई.

फ्लॉरा- यार मैं घर नहीं गई, वहां मॉम डैड परेशान होंगे, मैं उनको फ़ोन करके बता देती हूँ.

फिर एक दिन रात के करीब 12:30 बजे जीजू का मुझे फ़ोन आया, मुझे थोड़ा अजीब लगा कि जीजू इतनी रात में मुझे फ़ोन क्यों कर रहे हैं. अब वो उठे और मुझे नीचे लेटा कर मेरे ऊपर आ गये और मेरी चूत पर अपना लंड टिकाकर रगड़ना शुरू कर दिया।मैं भी कामुकता के आवेश में हो रही थी, मैंने उनके चूतड़ पकड़ कर अपनी तरफ खींच लिए तो उनका लंड मेरी गीली चूत में समा गया और जीजू झटके मारने लगे. मैं शुरू में बहुत शर्मीला और अपने में ही मस्त रहता था। मैं वो घटना सुनाता हूँ.

तो उसने कहा- अमित नहीं बोलता?मैंने कहा- शुरू में एक दो बार कहा, मैंने मना कर दिया तो अब वो नहीं कहते हैं. अनिता- ऐसा कुछ नहीं है संजय… वो अच्छे इंसान हैं और मैं वैसी की वैसी ही हूँ, तुम्हारा देखने का नज़रिया बदल गया है. करीब बीस मिनट की मस्त चुदाई में भाभी जी ने दो बार अपनी चुत का पानी निकाला था, जो उन्होंने मुझे बाद में बताया था.

ये चूत से निकलती सीटी मुझे सुनने में बहुत मजेदार लगती है और अदिति बहूरानी की चूत तो सू सू करते टाइम ऐसे सीटी निकालती है जैसे कहीं लगातार घुंघरू से बज रहे हों.

! कहाँ पढ़ती है तू? तेरी चड्डी से तेरी कच्ची जवानी की खुशबू आ रही है. एक बार दिल कर रहा था कि इसको सारी बात बता दूं, फिर सोचा अगर इसे पता चल गया कि मैं किसी और से चुदकर आया हूं या किसी और का लंड चूसकर आया हूं तो कहीं ये भी मुझे रंडी कहकर दुत्कार न दे, और मैं रवि को किसी भी कीमत पर खोना नहीं चाहता था. उसका लंड मैं कभी नहीं भूलता और ना ही उसका वो अंदाज़… लेकिन दोस्तो, उसने सच ही कहा था, हमेशा उसके जैसे नहीं मिलते.

सलमा को चोदने में वह अजनबी झड़ा नहीं था इसलिए वह शिशिर की गांड में झड़ने को बेकरार था. दोस्तो, मेरी मामी को 6 महीने की बेटी थी तो उनकी चूचियां इस वक़्त अपने चरम पे थीं. दोस्तो, मैं अवि आप लोगों को अपनी रियल चुदाई कहानी बताने जा रहा हूँ मेरी उम्र 24 साल है.

आप लोगों ने कभी किसी लड़के के नज़दीक जाने ही कहां दिया? मैं अपनी इस जवानी को जैसे तैसे झेल रही हूँ.

इसलिए ये मत समझो कि मुझे कुछ पता नहीं है, पहले पीछे से सट गए मुझसे, फिर पेट रगड़ा और अब सीने तक पहुँच गए. गुलशन- ये देखो में सरसों का तेल लाया हूँ इससे तुम्हें आराम मिल जाएगा.

वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी मैं भी अपनी टोली के साथ दशहरा घूमने की सोच रहा था, तभी रात्रि 9 बजे मामा जी का फोन आया कि मामी घर में अकेली हैं और मुझे काम पर जाना है, तुम तुरंत घर पहुंच जाओ. एक दिन की बात है, मामा दुकान पर गए थे, आजकल उनके साथ मैं भी दुकान पर चला जाता था.

वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी फोन पे हुई रूपा की बात सुन के पप्पू खुश हुआ और रूपा को झुका के उसके मम्मे बारी बारी से चूमते हुए पप्पू बोला- ये अच्छा किया तूने कि सहेली से कहा कि तुझे देर होने वाली है. एक दिन उसका मुझे सुबह फोन आया कि आज मेरे घर कोई नहीं है, सब शादी में गए हैं.

रूपा की कमर में दोनों हाथ डाल कर उसकी चूत बेताबी से चाटते हुए पूरी जीभ चूत में घुसा के पप्पू चाटने लगा.

सेक्सीनेस

वो कुछ नहीं बोली और किचन की टेबल के नीचे का सामान लेने के लिए पीछे को सरक कर नीचे झुक गई. मेरे हाथ मामी की चुचियों पर जमे थे, लेकिन एक मिनट अगर मेरे हाथ मामी की चुचियों पर हैं. मोना- इसका मतलब आज पहली बार तूने लंड को पकड़ा है और उसका पानी निकाला है?नीतू- हाँ दीदी.

उसने मेरे मुँह पर अपनी चूत उठा दी, जिसे मेरी जुबान उसकी चूत में अन्दर तक मजा दे. फिर मैंने खाना खाया और अपने डैडी के लिए भी लेकर खेत में भी चला गया. और उन दोनों के टॉयलेट के निकलने से पहले ही मैं उस पार्टी को छोड़ कर चल दी और होटल से बाहर आ गई.

मॉंटी- अरे, ये आप क्या बोल रही हो दीदी, मैं भला आपको क्यों मारूँगा?टीना बहुत उदास थी उसको बस सुमन याद आ रही थी.

मैंने उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया और मैंने मजा लेकर अपनी बहन की गांड मारनी शुरू कर दी. मेरी हिंदी चोदाई स्टोरी की पिछली कड़ी में आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपनी सोती हुई चाची को चोद रहा था. तभी तीसरा आदमी जो शमशेर होगा, मम्मी के नाभि के नीचे के टांकों के निशान देख कर बोला- वाह यार, यह तो कुंवारी चूत के बराबर है, इसका तो बच्चा भी आपरेशन से हुआ है.

वो बिस्तर पे गिर गई उसके साथ साथ गुलशन जी भी उस पर गिरे और पूरा लंडबेटी की गांडमें घुसा रहा. टॉयलेट के साथ में एक और खुला कमरा सा था जहाँ पुराना फरनीचर और कुछ आलू की बोरियां पड़ी थी. मैंने भी देर ना करते हुए वैसलीन से उसकी गांड और अपने लंड की मालिश की.

मेरी इस रियल सेक्स स्टोरी पर आपके विचारों भरी आपकी ईमेल का इन्तजार रहेगा. अब मैं पूरे दिन भर उसका इंतज़ार करता रहा, लेकिन शाम को वो देर से दस बजे आई.

जैसा मैंने शीर्षक दिया है ‘नग्न दिखाने की चाहत’ आजकल यह फेंटसी सब से ज्यादा चल रही है. टीना- चलो रे आ जाओ तुम लोग भी, ये अतुल का लंड चूस कर हमारी चुत भी गीली हो गई है. मेरा मतलब कहीं किसी के साथ रासलीला तो नहीं करने जाते?सुमन- ऐसा कुछ नहीं है यार… अगर ऐसा ही होता तो रोज तड़पते नहीं, उनका अजगर हर वक़्त खड़ा ही रहता है.

वो दोनों हाथों से रूपा का ब्लाउज खींच कर उतारने लगा, जिससे उसका ब्लाउज फट गया.

मैं दर्द के मारे तिलमिलाने लगा, उसका लंड बहुत ही कड़ा और मोटा महसूस हो रहा था।मेरी गाण्ड फट गई. मुझे देखना है आपने मेरी चुत का क्या हाल किया है?पापा- हट तो जाऊंगा बेटा. दोस्तो, इतना मजा आ रहा था कि मन कर रहा था कि इस तरह ही सारी उम्र करता रहूँ.

अब मेरे शरीर में थोड़ी सी भी हिलने की ताकत नहीं रह गई थी, इसलिए दो बार चुत और तीन बार गांड मारकर हम एक दूसरे को पकड़े पता नहीं कब सो गए. अपने होंठ काटते हुए रूपा पप्पू का मुँह जोर से अपनी चूत पे दबाते हुए बोली- उम्म्म हाँ और चाटो राजा.

जैसा कि आप सब को पता है कि मैं कामुक कहानियाँ लिखने के अलावा अन्तर्वासना के पाठक पाठिकाओं की सेक्स जिज्ञासा, सेक्स समस्याएं एवम् सेक्स सलाह भी मेल या वाट्सएप्प पे देता हूँऔर इस लेख को लिखने का आईडिया भी आप में से कुछ लोगों से, जो मुझे मेल करते हैं, उन से ही आया और तो और मैं खुद इस फेंटेंसी से उत्तेजना फील करता हूँ. मैं जीजू के सामने के एकदम नंगी थी, मैं बोली- अगर ये बात दीदी को पता चल गई तो?जीजू बोले- पिंकी, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और तुम्हें चोदना चाहता हूँ, तुम मेरी हो जाओ, मैं तुम्हारी दीदी से ज्यादा तुम्हें प्यार करता हूँ और तुम्हें खुश रखूँगा. वो बोला- क्यों… मेरा लंड लिए बिना तेरी गांड का कीड़ा शांत नहीं होता क्या.

राजस्थानी लड़कियों के नंबर व्हाट्सएप

मैंने कहा- भाभी जी की क्या लालसा है?उसने लिखा कि उसे किसी कुंवारे लड़के के साथ चुदाई करना है.

वो अपने सामने दोनों भाइयों का लंड अपने ही लिए खुला देख कर बहुत ही रोमांचित हो उठी थी. मैंने कहा- ओ के मेरी जान, कुछ नहीं होगा… बस थोड़ा सा दर्द होगा, उसको एक बार सहन कर लेना. अब मुझमें मौसी को चोदने की बात घर कर गई थी, पर रिश्ता ऐसा था कि कुछ कर नहीं सकता था.

एक दिन सुमन भाभी थोड़ी अपसेट सी दिखीं, मैंने उनसे पूछा तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया. गुजराती भाभी की चुदाई की कहानी के पहले भाग में आपने पढ़ा कि एक देसी भाभी भीड़ भरी बस में थी, एक युवक उसके पीछे खड़ा था, बस में लग रहे धक्कों से युवक लंड भाभी की गांड में घुसा जा रहा था. बीएफ हिंदी हिंदी फिल्ममुझे बर्दाश्त करना मुश्किल हो रहा था लिहाजा मैंने उसके बाथरूम में जा कर मुठ मार कर खुद को शान्त किया वरना साली का जबरदस्त चोदन ही कर देता.

तब मेरी छुट्टियाँ चल रही थी, मैं घर में बोर हो रहा था तो मैंने सोचा कि कहीं घूमने जाना चाहिए. अब चूँकि मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ तो दोस्तों बता दूँ हमारे यहाँ आज भी बिजली की किल्लत होती हैं और उन दिनों सुबह 4 बजे से 10 बजे तक बिजली गायब रहती थी.

बाहर काम करना या बिना इजाजत के बाहर घूमने जाना तो सपने में भी संभव नहीं… मेरे तो सपनों में भी बंदिश है, बंदिशों में बंधे हैं मेरे सपने…मैं दिखने में अच्छी हूँ, कम से कम मुझे तो यही लगता है. अब मोहन का नम्बर आया तो उसने मम्मी को बोला- रानी, अब तू घोड़ी बन जा. दोस्तो अक्सर इंसान अकेले में बात करता है तो उसके सामने उसका दूसरा रूप आ जाता है यानि कुछ आत्मा टाइप.

अपने बारे में बताते हुए वो कहती है कि वैसे तो उसका रंग रूप साधारण ही है लेकिन उसके बदन में लड़कों को पसंद आने वाली चीजें काफी सेक्सी हैं. मेरे चालीस साल के मामा अपनी 36 साल की पत्नी और जवान बेटी अर्चना एवं दो बेटों के साथ नजदीक के एक किराए के फ्लैट में रहते हैं. जल्दी ही लंड ने लावा उगल दिया और चूत फैल सिकुड़ कर लंड को निचोड़ने लगी.

आप भी कहते हो कि प्यार में पहले दर्द तो होता ही है और बाद में मजा आता है.

मेरे घर के जीने बाहर से हैं, तो कोई भी आये जाए किसी को पता नहीं चलता. मैंने अपनी मोटी मौसी की गांड मार ली थी और अब तो मौसी के सभी छेद रमा हो गए थे.

फिर मैंने थोड़ा निप्पल को धीरे से दबाया, कुछ हरकत नहीं हुई, वो गहरी नींद में थी. मुझे अच्छा लग रहा था, मैंने कहा- आज तो तू सच में रंडी हो रही है, ये साली तेरी कमीनी चूत, कितना चुदेगी, अभी तक कितनी गरम और टाइट है, जल रही है. मुझे पहल करना उचित लगा तो मैंने एक पानी में गोता लगाते हुए दोनों के चूतड़ जोरों से भींच दिए.

अब क्योंकि रहने को कोई जगह नहीं थी, तो मैं अपने किसी जान पहचान वालों के घर में रहने लगा. फिर मैंने देखा कि उनका दर्द कम हो गया है, तो मैंने धक्के मारने शुरू किए. अब दर्द मीठा हो गया था और चुत में पानी रिसने लगा था, जिससे लंड को अन्दर बाहर होने में आसानी हो गई.

वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी सुदेश- यार ऐसे ये नहीं पहचान पाएगी कुछ आसान करो, जिससे ये अपने महेश को पहचान सके. मैंने भी कहा- हां मेरी कमीनी रंडी, आगे से अपना वाला सेक्स करूँगा पर कभी देसी भाषा में चोदूँगा नहीं.

सन 2020 में दीपावली कब है

उसके बाद आंटी ने मुझसे पूछा- अकेले रूम लेकर रहते हो?मैंने कहा- जी आंटी. उसने अपनी जीभ मेरी क्लिट पर फिराते हुए मेरी चुत को चाटना शुरू कर दिया. फिर मैंने उनके कपड़े उतार दिए और बेड पर लिटा कर मैंने उनको अपनी बांहों में भर लिया.

जब भी उनके घर जाता तो उनके बड़े मम्मों को घूरता रहता और उनकी मोटी गांड के नजारे भी देखता था. पसीने से ब्लाउज भी तरबतर होने से उसमें से रूपा की ब्रा दिखाई दे रही थी. नेपाली सेक्स बीएफ वीडियोमाँ ने कहा- मेरे कपड़े कौन उतारेगा?मैंने मॉम की साड़ी और ब्लाउज उतार दिए.

पप्पू का मुँह अपने मम्मे पे दबाते हुए वो बोली- आहह… आहह ओहहह माँ हाँ.

उसकी अपने पति से भी इसीलिए नहीं बनी क्योंकि विनीता बिस्तर में उसके नीचे आ कर चुदवाने को तैयार नहीं थी और लंड की सवारी ही गाँठना चाहती थी. दोस्तो, मेरा नाम किरण है(किरण लड़कों का नाम भी होता है), मैं पुणे महाराष्ट्र का रहने वाला कॉलब्वॉय हूँ, मैं दिखने में स्मार्ट हूँ, कद काठी भी ठीक ठाक है.

बस ये सब इसी लिए ऐसे अधनंगे बने हैंदीपक- हां यार दिव्या, तुम तो ऐसे बिहेव कर रही हो. बीवी सुगंधा के बिगड़ने पर कहा कि दोपहर में तुम किचन क्लासेस में चली जाती हो, मैं फैक्ट्री चला जाता हूँ. बीवी सुगंधा के बिगड़ने पर कहा कि दोपहर में तुम किचन क्लासेस में चली जाती हो, मैं फैक्ट्री चला जाता हूँ.

तभी उनकी वीर्य की गरम गरम जोर से पिचकारी छूटी जो मेरी चूत की दीवारों से टकराई.

पुनीत की लम्बाई कुछ 6 फीट है और मस्त मस्क्यूर बॉडी है उसकी… भाई पसीने में भीगा हुआ था, उस ने वी शेप वाली फ्रैंची पहनी थी जिस में भाई के लन्ड उभर कर साफ दिखाई दे रहा था. मैंने कहा- भैया मुझे भी आप दवा लगा देंगे?भैया बोले- हाँ दो, लगा दूँ. मैं बाहर आ गयी और सोचने लगी कि कैसे जाएगी पिचकारी मेरी गांड में!मेरी नज़र टेबल पर पड़ी, मुझे एक तरकीब सूझी, मैंने टेबल को दीवार से सटाया और टेबल से एक कुर्सी सटा दी, कुर्सी पे पिचकारी को रख दी, पिचकारी का नुकीला हिस्सा टेबल से केवल 3 से 4 इंच ऊपर निकला हुआ था.

हिंदी पुरानी बीएफकुछ दिन बाद मेरी कुछ सहेलियों ने एक पार्टी रखी एक होटल में, जिस में उन्होंने सभी को इनवाइट किया तो सभी लड़कियाँ अपने अपने बॉयफ्रेंड के साथ पार्टी एन्जॉय कर रही थी जैसे डांस करना, हँसी मज़ाक करना वगैरह वगैरह लेकिन पूरी पार्टी में अकेली मैं ही एक ऐसी लड़की जो बिना बॉयफ्रेंड के थी. एक दिन निर्मला भाभी सुबह खाना बनाने के लिए आ गई, तो मैंने उससे कहा- अभी सिर्फ़ सुबह का ही खाना बनाओ और शाम को फिर से खाना बनाने के लिए आ जाना.

कोल्हापुरी लावण्या

शायद उसको भी यह पता चल गया क्योंकि वह आगे-पीछे हो रही थी तो लंड की सख्ती उसे उसके चूतड़ों में चुभ रही थी. मैंने ओके कर दिया और स्टाफ से बोल कर रागिनी को मेरे रूम के बगल वाले वार्ड में शिफ्ट करा दिया. अब वो मजे में बोलने लगी- फक मी फक मी उम्म्ह… अहह… हय… याह… अअअअअ हम्मम्म.

[emailprotected]कहानी का दूसरा भाग :लखनऊ से दिल्ली की ट्रेन में चुदाई का मजा-2. मैं तेरी गांड को चाट कर रेडी करता हूँ और तू मेरे लंड को जल्दी से चूस कर तैयार कर दे. अभी तक आपने पढ़ा…मैं रवि से मिलने उसके गांव पहुंच गया, वो अपनी भैंसों को जोहड़ में नहला रहा था.

उस के इन शब्दों को सुनकर मुझे तसल्ली हुई यानि कि कोई और औरत भी है, जो चुदना चाहती है. इतने में मैंने ही उससे कसके हग किया और आजू-बाजू कोई को ना देख कर उसके गांड को फील किया. ड्राईवर गंगा राम बाहर खड़ा रखवाली करते हुए हम दोनों की फ्री में ब्लू फिल्म देख रहा था.

धीरे धीरे तेरी चूत को मैं अपने दोस्तों से बड़ी करावाऊंगी, फिर तुझे कुछ नहीं होगा. इस हिंदी सेक्स की कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि विक्रांत के बेटे को उसकी भाभी एडल्ट मूवी दिखाने ले गई है.

उसने साफ़ साफ़ लिखा कि मैं एक विवाहित पुरुष हूँ और मेरी भी एक इच्छा है.

अब तो रागिनी जी बात करते हुए मेरे पैर से पैर सटा देतीं, मुझे भी कुछ कुछ समझ आने लगा था. भोजपुरी सेक्सी वीडियो भोजपुरी बीएफमेरी टीचर की चुदाई की सेक्स स्टोरी पर आपको जो भी कहना हो आपका स्वागत है. सेक्सी+बीएफ+वीडियोकोई हमारे होंठ खा रहा था, कोई मम्मे काट खा रहा था तो कोई चुत में, गांड में उंगलियां कर रहा था. उसने थाईलैंड के कई किस्से बता कर हमारा मनोरंजन किया।कुछ देर बाद हमें नशा सा हो गया.

मैं समझदार था, मुझे पता था कि ये होना ही है, पर फिर भी दिल में जो दर्द था, किसी को बता भी नहीं सकता था.

अब रेणु थोड़ा दर्द से छटपटाई, पर थोड़ी देर डबल स्पीड से चूतड़ उठा उठा कर उंगली और बुर पर वार करवाती रही. इतने में ही बाहर से एक औरत की आवाज़ आई।आरे छोरे…(अरे लड़के)।कित मर ग्या रे…(कहां रह गया रे). मैं भी अपनी गुलाबी गर्म जीभ को उसके मुँह में डालकर चारों तरफ़ घुमाने लगी.

तो थोड़ी देर में वो अपनी गाण्ड हिलाने लगी।मैंने उसकी हरी झण्डी समझ कर धक्के लगाना शुरू कर दिए, वो आह. अब मैं लंड को पूरा अन्दर ले गया और फिर लंड को अन्दर बाहर करता रहा, जिससे समीर को बहुत मजा आ रहा था. टीना- यार यहाँ कोई शादी नहीं हो रही और ये बरखा कोई दुल्हन नहीं है जो घूँघट में शर्माती हुई आएगी.

सेक्सी मुवी

भाभी तो कामुकता से जैसे पागल सी होने लगीं, उनके मुख से बस ये आवाज़ें निकलने लगीं ‘आमम्म. फिर यह प्रोग्राम कई दिनों तक चला, जब भी हमें मौका मिलता हम चुत चुदाई का खेल खेल लेते. फिर हम सबने बैठ कर कहीं बाहर घूमने का प्लान बनाया तो डिसाइड हुआ कि कुल्लू-मनाली या फिर मैसूर जाएँगे.

मैं बेड के कोने पर पाँव नीचे लटका कर बैठ गया और उस को अपनी टांगों के बीच खड़ी कर के उस के मस्त चुचों को मुंह में भर कर चूसने लगा.

उसकी जीभ मेरे लंड पर बराबर चल रही थी और मेरी उंगली उसकी गांड में काम में लगी थी.

मैंने अपनी सास को बेड पर गिरा दिया, फिर अपनी साड़ी, पेटीकोट, ब्लाऊज, ब्रा, पैन्टी उतार दी. एक हाथ से वो मेरे बदन को सहला रही थी और दूसरे हाथ से मेरे लंड को दबा रही थी. एक्स एक्स एक्स बीएफ बंगाली मेंमैंने देर ना करते हुए ज़ोर का झटका मारा और अपने लंड को एक बार में पूरा अन्दर पेल दिया.

तभी वो कण्ट्रोल होकर अलग हुईं… वो भी मेरा लंड का हाल देख चुकी थीं सो वो सकपका गई थीं. मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और पूरी ताकत से अपना 8 इंच का लंड चाची की गांड में पेल रहा था. !सुमन की बात का गुलशन जी पर कोई असर नहीं हुआ, वो तो बस जल्दी से उसकी मालिश करना चाह रहे थे.

उसने मेरे मुंह को हाथों से दबोच लिया और बोली- उंगली क्या गई तेरी चूत में… तेरी तो चीख निकल गई और आंसू बहा रही है, साली अभी तो ये उंगली भी लड़की की है. साली तूने खुद को इतना मेंटेंन कर रखा है जान, जिससे आज भी तू 30-32 साल की ही लगती है.

वो औरत मेरे से बोली- मिस्टर संदेश, अगर आप बुरा ना माने तो क्या मैं अपनी प्राईवेसी के लिए आपकी आँख पर पट्टी बाँध सकती हूँ.

सुदेश- यार ऐसे ये नहीं पहचान पाएगी कुछ आसान करो, जिससे ये अपने महेश को पहचान सके. अमित का लंड उसकी बच्चेदानी तक टकरा रहा था, वहीं उस्मान का लंड भी कम नहीं था. तुम अपनी मर्जी से कभी भी हमारे साथ शामिल हो सकती हो बशर्ते किसी को भनक तक नहीं लगे.

बीएफ सेक्सी बीएफ दिखाएं लेकिन देखते ही देखते उस कमीनी ने मूतना स्टार्ट कर दिया। उसने मेरे बालों से लेकर मेरे मुँह और पूरे शरीर पर मूत दिया।मुझे गुस्सा होने के बजाए अजीब सा लग रहा था।मूत खत्म होते हो वो बोली- चाट मादरचोद मेरी चूत को!मैंने चाटना शुरू कर दिया।थोड़ी देर बाद वो बोली- नहा कर नंगे ही मेरे कमरे में आ!मैं खुश हो गया। मुझे लगा कि अब साली को मेरे लंड की याद आई। मैं नहा कर नंगा ही उसके कमरे में गया. भैया राजी हो गए और मैंने उनकी पेन्ट उतारी, लंड पे तेल लगा कर मालिश करने लगी.

काजल ने अपनी टांगें ऊपर उठा कर सुरेश को अपने कपड़े उतरने में मदद की. क्या वो भी मुझसे प्यार करता है? इस बात का जवाब मेरे पास नहीं था लेकिन इतना तो पक्का था कि वो मेरी परवाह करता है. मेरी दीदी अब मुझसे प्रेंगनेंट हैं, लेकिन मेरी बेवकूफ़ फैमिली को लगता है कि ये बच्चा जीजू का है.

हिन्दी सेक्स video

मुझे देख कर दोनों के हस्बैंड ने खड़े होकर हाथ मिलाया और आपस में परिचय लिया, दिया. मैंने अपने लंड निकाल कर उसके मुँह में दे दिया और मुँह में लंड के धक्के लगाने लगा. 30 बजे मम्मी मेरे रूम आई और कहा- आरती बेटा, मुझे नींद नहीं आ रही है, तू मेरे साथ सोने के लिए मेरे कमरे में आ जा.

तभी शमशेर ने जोर जोर से ठाप लगाई और 25-30 कस के ठापें मारीं और शांत हो गया. कहानी का पहला भाग :साली की कमसिन बेटी मेरे हत्थे चढ़ गईकहानी का पिछला भाग :सगी भानजी की कोरी गांड मारीअभी तक आपने पढ़ा कि मैंने अपनी सगी बहन की बेटी यानि भानजी की चूत मारी, अपनीबेटी की चूतको चोदा, फिर अपनी बेटी के सामने भांजी की गांड मारी.

मैं- स्मार्ट… लेकिन अरिधि को सब बता दिया ना?जोशना- नो, उसे बोला है कि डेट पे जा रही हूँ.

मैं आंटी के ऊपर आकर दोनों हाथों से उनके मम्मे मसलते हुए मम्मे चूसने लगा. होटल में पहुँच कर मैंने एक रूम बुक किया और चाभी लेकर हम अपने रूम में जाने लगे. उसके सी-कप चूचे बिल्कुल खड़े, सख़्त और चूसने के लिए एकदम तैयार दिख रहे थे.

मैं कई भाषाओं का ज्ञान रखने के कारण अपने स्कूल और कॉलेज में काफी मशहूर रहा हूँ. बहन की बुर से खून निकल रहा था और उसकी नंगी चुचियां सांस के साथ ऊपर नीचे हो रही थीं. सामान्य दिनों में आंटी लाइट ऑफ करके सोती हैं लेकिन उस दिन बल्ब जल रहा था। मैंने झाँकने की कोशिश की.

आख़िर वो दिन भी आ ही गया दिसम्बर में कम्पनी का शट डाउन आ गया और मेरी बीवी और बच्चे नानी के घर चले गए थे.

वीडियो सेक्सी बीएफ चोदा चोदी: तो नीलेश जीजू से चुदने के बाद जब मैं घर आई तो बार बार आज की चुदाई के नजारे मेरी आँखों के सामने आ रहे थे, जीजू द्वारा की गई चुदाई को मैं भूल नहीं पा रही थी उस चुदाई के बाद एक दो बार ओर जीजू ने मेरी चुदाई की पर अब बार बार जीजू ऑफिस से छुट्टी नहीं ले सकते थे इस लिए अब मेरी चूत की पूरी चुदाई नहीं हो पा रही थी. कौन था जो हमें देख रहा था??”पूजा कपड़ों की तरफ़ भागी तो उसने एकदम से निकल कर पूजा के कपड़े उठा लिए.

तीसरा अपना 8 इंच का लंड लड़की के मुँह में पूरा अन्दर उसके गले तक डाल निकाल रहा था. मैं समझ गया था कि रीना एक ठंडी लड़की है जो देर से सेक्स में संतुष्ट होती है इसलिए उसको ड्राइव करने के लिए लंड पर सवार कर लिया. शाम को जब चाचा आए तो मैं थोड़ा बाहर की तरफ जाने चला गया और फिर उनकी बातें सुनने लगा.

मेरे कामदेव पति, आपने ही तो ब्लू फिल्म दिखा दिखा कर मुझे रंडी बना दिया है.

पूरी नंगी शीलू कुछ ऐसी लग रही थी कि उसके बदन की तारीफ़ करे बगैर मैं कैसे रहता. सफर की थकान की वजह से हमने कुछ देर आराम करने का तय किया और दोपहर के खाने के बाद ही घूमने जाने का तय किया. यह थी मेरी रियल सेक्स स्टोरी जो कि बिल्कुल सत्य है, इसमें एक भी शब्द बनावटी नहीं है.