बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ

छवि स्रोत,নাতাশা সেক্স

तस्वीर का शीर्षक ,

पुरानी ब्लू सेक्सी: बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ, वह कामुक सिसकारियाँ भरने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने संध्या की चूत को सहलाना शुरू कर दिया.

ससुर+बहू+की+सेक्सी+वीडियो

सलोनी- कुछ मत बोलो … बस मुझे अपना बना लो!कह कर उसने अपने पैर हवा में उठा लिए, जितना वो फैला सकती थी, उतने पैर उसने फैला लिए. हिंदी सेक्सी वीडियो एचडी मूवीसफिर कुछ देर बाद में वो अचानक से बोली- एक मिनट रुको, मैं सुसु करके आती हूँ.

इसी के साथ कुछ पुराने फ़िल्मी गाने भी भेजे तब भी उसका अच्छा रिस्पोंस ही रहा. इंडियन हॉट सेक्सी ब्लू फिल्मयह कह कर मैंने उसके पैरों को फैला दिया और अपना मुँह उसकी चूत पर रख दिया.

मुझे आज भी याद है उसने उस वक्त जो बोला था- उफ्फ रीना … क्या हुस्न है तुम्हारा!पराये मर्द से फ़्लर्ट होना मुझे भी आनंद देने लगा था.बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ: इसके चलते वो एक बार को तो जोर से चीख उठी और डॉगी स्टाइल से हट कर वापस बैठी सी हो गयी.

मदन की मां- मैं कुछ समझी नहीं, थोड़ा अच्छे से बताओ ना?मैं- कम से कम हम दो, हमारे दो होने चाहिए, इससे परिवार थोड़ा भरा पूरा लगता है.अब मुझे लग रहा था कि इसकी बुर पूरी तरह से लंड लेने के लिए बेकरार है.

रँडी का सेक्सी व्हिडिओ - बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ

मैं तो न जाने कबसे आपके जैसे लंड वाले की तलाश कर रही थी, क्योंकि जब मैं गर्म होती हूँ, तो मेरे पति के लंड का पानी निकल जाता है और वो गांड औंधी करके सो जाते हैं.बड़े भैया को दुकान में जाकर कई लोगों का हिसाब करना था और सीधी बात ये भी थी कि भैया भाभी के जेठ लगते हैं तो वो एक दूसरे को छू देख भी नहीं सकते थे.

प्रिया ने भी मेरे जींस के अन्दर हाथ डाले और मेरे नितंब पर हाथ फिराने लगी. बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ भाभी बोली- रेशमा … साड़ी उतार दे!इतना कहकर भाभी ने भी अपनी नाइटी उतार दी.

उस दिन मैंने पहली बार महसूस किया शिखा मेरे साथ आज कुछ ज्यादा ही चिपक कर बैठी थी.

बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ?

मुझे शरारत सूझी, मैंने एक उंगली पे ढेर सारा थूक लगा कर उसकी गांड में डालने लगा. रात को हम जैसे रोज़ करते हैं, वैसे ही चुदाई कर रहे थे और चुदाई करते समय आवाजें निकालने की मेरी आदत है, क्योंकि उसके बगैर हम दोनों को ही मज़ा नहीं आता था. उसका नाम प्रदीप है और ये बात सच है कि मेरी क्लोज फ्रेंड नीलू से उसका चक्कर है.

शीला ने शरमाते हुए धीमे से कहा- अशोक जी, आप कम से कम दो जोड़ी फटे हुए कच्छे बनियान पहनते तो हैं, हम दोनों पिछले चार साल से बस एक एक सलवार कमीज़ ही पहनती आई हैं, ये तीन तीन जोड़ी साड़ियां भी चौबे जी ने भाभी जी की पुरानी साड़ियां दी हैं, जिनके ब्लाउज छोटे है, आप कहें तो हम दोनों ब्लाउज उतार कर सलवार कमीज़ पहन लें. मुझे भू दर्द हो रहा था मेरे लंड पर … ऐसा लगा कि मेरा लंड छिल गया है. अब मेरे कोई रिएक्शन या आपत्ति ना होने पर उसका विश्वास और हो गया और वह और मुझसे चिपक कर लोगों से नजर बचाकर मेरे पीछे गांड में चुपके से अपना हाथ भी लगाने लगा.

एग्जाम हाल में एग्जाम देने से ज़्यादा मेरा दिमाग़ भाभी को चोदने में लग रहा था. पर निहाल नहीं रूका और लहंगे के नीचे घुस कर उसने सीधे मेरी पेंटी को वहां से पकड़ लिया जहां चूत थी. इतने में मैं बहुत अलग तरीके से हांफने लगी, तो रंजना दीदी कान में बोली- सोनू, तू तो बहुत सेक्सी लड़की है.

वहां जाकर उसने ही बाथरूम खोला और मुझे नीचे उतार कर कहा- आप फ्रेश हो जाएं … मैं बाहर दरवाज़े के पास खड़ा हूँ. पहले तो मैंने उस पर ध्यान नहीं दिया, लेकिन बाद में ध्यान से देखने पर पता चला कि इसे तो मैं पहले से ही जानता हूँ.

लेकिन मैंने कुछ पेपर चिट (नकल करने के लिए पर्ची) बनाया हुआ था जो मैं अपने कच्छी में छिपा कर ले गई थी।एग्जाम के लिए बेल बजी और हम सीटिंग शीट देख कर अपनी-अपनी सीट पर जाकर बैठ गये.

नहाने के बाद हम बाहर आए और मैंने टाईम देखा तो शाम के 5 बजने को थे, मैंने कहा- अब मुझे जाना चाहिए.

एक दिन मेरे मामा ने मुझे कोचिंग करने के लिए बोला तो मैं भी हां बोल दिया. लंड चिकना हो गया और सीमा ने दोबारा से मेरे लंड की मुट्ठ मारना शुरू कर दिया. मैंने पूछा- तुम्हारी मम्मी की ऐज क्या है?सोनू ने कहा- 37 वर्ष है और पापा 44 के हैं.

इतने में अब्दुल ने मेरी गर्दन पकड़ के पूरा जोर लगाया और सुपारा चूत की दरार के अन्दर कर दिया. कुछ मिनट बाद मैंने उठ कर अखबार डस्टबिन में डालने के लिए उठाया और उसको फेंकने से पहले यूं ही देखने लगा. रिशु- अच्छा बेबी, आज मिल रही हो न शाम में?मिशिका- ओके … लेकिन कहां पर?रिशु- वो मुझ पर छोड़ दो।उसके बाद से मैंने मिशिका की एक्टिविटी पर नजर रखना शुरू कर दिया.

कभी मैं शिल्पा को अपनी गोद में उठा कर चोदने लगता, तो कभी उसे घोड़ी बना कर चोदता.

अपनी अगली कहानी मैं बताऊंगा कि कैसे मैंने, उसने और उसकी एक फ्रेंड ने थ्रीसम चुदाई का मजा किया. फिर खुद को समझाने के लिए यही सोचा कि हो सकता है दोस्तों के बीच कहीं बिजी होंगे इसलिए. मेरी चूत को चोदते हुए वो कहे जा रहा था- आह साली रांड, तेरी गांड भी बहुत मस्त है.

फिर मामी ने मुझसे कहा कि तुम्हारे कंधे पर जो टैटू बना है वो मुझे बहुत पसंद है. भईया के साथ नहीं, पर मेरे हाथों उद्घाटन होना था,मुझे लगा कि ये सब होना ही था. दो घंटे की दौड़ लगाने के बाद और दूध ब्रेड लेकर जब वापस आया, तो मेरी सास उठकर नहाने गयी हुई थीं.

उसने जल्दी से मेरा शर्ट निकाल कर फेंक दिया, तो मैंने भी उसके सारे चेहरे पर किस करना चालू कर दिया.

दोस्तो, आपको मेरी पहली कहानीवाइफ की चुदाई इनकम टैक्स ऑफिसर सेइतनी पसंद आई, इसके लिए बहुत धन्यवाद. मैंने उस वक्त दीदी को चोदते हुए पूछा- दीदी मेरा साथ कैसा लग रहा है?दीदी ने नीचे से गांड उठाते हुए जर्क दिया और कहा- यानि?मैंने कहा- तुम मुझसे संतुष्ट तो हो?दीदी ने कहा- हां ठीक है, कोई चिंता नहीं.

बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ इस सेक्स स्टोरी के पिछले भागदीदी को चोद कर बीवी बनाया-1में आपने पढ़ा था कि मैं किचन में दीदी के पीछे खड़े हो कर उसके मम्मों को टच कर रहा था, जिसका वो कोई विरोध नहीं कर रही थी. उसने मेरी चूत को चाटने के बाद अपना पूरा लंड एक बार में डाल दिया और मेरी चूत को चोदने लगा.

बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ जैसे सारा थोड़ी देर पहले उछल उछल कर मेरे लंड को चोद रही थी, वैसे ही जरीना भी चुदने लगी. मेरी जो 20 साल वाली बहन है उसका नाम मिशिका है और जिसकी उम्र 22 साल है उसका नाम राशिका है.

मैंने अपना सर उसकी छातियों के बीच अड़ा दिया था और एक हाथ से एक मम्मे को मसलता हुआ, दूसरे के निप्पल को चूसने में लगा हुआ था.

सनी लियोन की जबर्दस्त सेक्सी

उसने मेरी चूत को बहुत देर तक चाटा और उसके बाद मेरी चूत ने उसके चेहरे पर अपना पानी छोड़ दिया. मेरे जैसे चोदू लड़के का लंड तो उन सभी की मादक सुगंध से ही खड़ा हो गया. आप निश्चिन्त होकर इसी तरह मुझसे बातें करते रहें।मुझसे जुड़े रहिये।मैंने आपसे वादा किया था कि मैं मेरी अगली कहानी बहुत ही जल्द आप लोगों के लिए लिखूंगा जो कि एक कपल को लेकर होगी, मैं आज वही कहानी आप लोगों के साथ शेयर करने जा रहा हूँ.

वो अपने हाथ से मेरे सिर को पकड़ कर जोर से दबा रही थी और मेरी खूबसूरत बहन ने मेरे मुंह को जोर से अपनी टांगों में भींच लिया और झड़ गयी। मैंने उसके रस को चाट कर साफ कर दिया और मैं दोनों हाथों से दोनों बूब्स को दबा रहा था और निप्पल को चूंटी से काट रहा था. वैसे तो मुझमें पेशेंस बहुत है लेकिन पहली मुलाकात थी उससे तो ज्यादा भरोसा करने का मन भी नहीं कर रहा था. उसके आते ही मैंने उसे ज़ोर से हग किया और एक दूसरे को किस करने लग गए.

लगभग 15 मिनट के बाद वह बाथरूम से बाहर निकल कर आई और मेरी नजर उस पर गई तो मैं उसे देखता ही रह गया.

लगभग दस मिनट उसको कुतिया वाली पोज में चोदने के बाद अब मेरे लंड ने भी और ज्यादा टाइट होना शुरू कर दिया और मैं जल्दी ही झड़ने वाला था. उसने गुलाबी रंग की ब्रा पहनी हुई थी, ये देखते ही मेरी उत्तेजना और बढ़ गयी और मैंने और जोर से उसकी चूचियों को दबाना शुरू किया. आते ही मैंने सलहज को बोला- भाभी जी कहां हो?वो घर में झाड़ू लगा रही थी.

एक बार उसने मेरे निप्पल को खींचते हुए काटा, जिससे एकदम से मेरे मुँह से मीठी कराह निकल गई. तो वाणी बोली- वाह क्या बात है … इस पर इतनी जल्दी इतना प्यार आ रहा है. जब पूरी तरह से उसने मेरी चूत को चोद लिया तो अपना सारा माल चूत में ही छोड़ दिया.

कल्पना ने जो एड्रेस दिया था, वो मेरे घर से कुछ 4 किलोमीटर की दूरी पर ही था, तो मैं भी फटाफट निकल गया और गूगल की हेल्प लेकर 20-25 मिनट में ही पहुंच गया. दिन रात बस रोती रहती थी कि या अल्लाह ऐसी कौन सी खता हुई मुझसे कि तूने मुझसे सब कुछ छीन लिया.

कुछ देर बाद ऊपर से धक्के लगाती हुई नैना अब थकने लगी थी, तो मैंने भी नीचे से धक्के लगाने शुरू कर दिए. अब तो हालत ये हो गई थी कि हम दोनों लोग जिस दिन बात नहीं करते थे तो वो लड़का मेरे घर आकर मुझसे बात करता था. मुझमें चलने की हिम्मत नहीं थी, तो मैंने उससे बोला- नामित मुझे सहारा दे … मेरे रूम में मुझे पहुंचा दे.

बीस मिनट की गांड चुदाई के बाद, मैंने एक बार और प्रमिला का पानी निकलवा दिया और मैंने अपनी गति रोक दी.

फिर मैंने कहा- अरे भाभी जी मैं मदन के दोस्त का पापा बोल रहा हूँ … मदन आज यहां रुकने वाला था. फिर उसने मेरे कानों को किस किया … लिक किया … बाईट किया और कान में ज़ुबान डाल दी. अजय ने उसकी इस अदा पर एकदम से झपटते हुए सुजाता को अपनी बांहों में भर लिया और कहा- वाह मेरी रन्नो, आज तो पूरे मूड में दिख रही हो.

मेरा मन बार बार उनकी चूत को चाटने का कर रहा था, परन्तु उनकी बड़ी बड़ी गोरी चूचियां और उन चुचियों पर बड़े बड़े काले निप्पल मुझे बार बार अपनी ओर बुला लेते थे. फ्रेश होकर जब सासू माँ के पास गई, तब उनसे पता चला कि हितेश ऑफिस जा चुके हैं.

काफी मस्त मिजाज का लौंडा है, खर्चा भी करता है और गांड भी मरवाता है. इससे वो एकदम से गरमा गई और गाली देते हुए बोली- मादरचोद, क्यों सता रहा है … छेद पर भी कर ना. भाभी की तबीयत ठीक ना होने के कारण मैंने ही दूध गर्म किया और भाभी और मैं साथ में दूध पीकर सो गए.

सुहाग वाली सेक्सी

इसके बाद मैं भाभी की ब्रा को फाड़ कर अलग करते हुए उनके मम्मों को चूसने और दबाने लगा.

वो बोला- वन्द्या, तू बहुत सेक्सी है, जब तू चिल्लाती है, तब लगता है कि तुझे और जम के चोदूं. कुछ समय तक यूं ही आराम करने के बाद मैंने मामी से कहा- मामी, आपकी चूत को चोदने का जो मजा आया है, वो वास्तव में गजब का मजा था. कुछ ही देर में मेरी बीवी की भोसड़ी ने भी शायद पानी छोड़ दिया था, जिसकी वजह से चुदाई की आवाज कमरे में गूंज रही थी.

मैं बोला- ऐसा क्या? तो उसको भी अपने पास बुला लो न … आप दोनों का टाइम पास हो जाएगा. मैं भी समझ गई कि जेठ जी के लंड से भाभी को मज़ा नहीं आता इसलिए शायद भाभी ने मनोहर के लंड से ही मज़े लिये हैं. मांडलगढ़ सेक्सी वीडियोवह मेरी जीभ को चूसने लगे और बोले- वन्द्या तेरी नाक बहुत सेक्सी है, बहुत गजब की बनावट है तेरी नाक की.

मेल करने वाले का नाम था सुनील राठौड़, उसने अपने लंड की कई फोटोज भेजते हुए लिखा था कि पम्मी लंड पसंद आए, तो जवाब जरूर देना और बताना कि पंजाब में कहां की रहने वाली हो. अब मुझे ऐसा लगने लगा कि मैं थोड़ी ही देर में अपना सारा पानी उड़ेल दूंगी.

कुछ देर विरोध करने के बाद आंटी ने विरोध करना बंद किया और आराम से अपनी गांड में मेरी उंगली को रास्ता देने लगी. पिछली कहानी में आपने मेरे साथ एकशौकीन लड़के की गांड चुदाईका लुत्फ़ लिया था. रमेश ने सिगरेट सुलगाते हुए एक ठहाका लगाया और बोला- और तू क्या सूखी सूखी होली खेलेगी? चल एक और बना.

मैंने दीदी की चुत को चाटना चालू किया, उसे भी चूत चटवाने में मजा आ रहा था. क्या बोलूँ … इतनी सॉफ्ट स्किन और टेस्टी थी कि बस मैं उसे चूमता चला गया. मैंने भाभी की खुल्लम खुल्ला बात सुन उनके गाल पर चुंबन धर दिया और कहा- मेरी प्यारी भाभी अगर तुम्हें चुदना ही था … तो इतने दिनों तक इंतज़ार करने की ज़रूरत क्या थी.

तब मैंने उसे अपना नाम बंध्या बताया, तो वह खुश हो गया और मुझसे बोला कि मेरा नंबर लिख लो और अपना नंबर बता दो.

मेरा बॉयफ्रेंड मुझे बेतहाशा चूम रहा था और मेरे बूब्स को दबा रहा था. देरी के लिए माफ़ी चाहता हूँ … कुछ वजह से आगे की कहानी पूरी नहीं लिख सका था, लीजिये पेश है आगे की कहानी.

पति बाहर काम करने जाता था, कई दिनों में आता था, तो पहली पत्नी की शिकायत पर मंजू की पिटाई करता था. अब मेरी चूत में अब्दुल और गांड में रमीज के लंड अन्दर बाहर होने लगे. जिसका सबूत है मेरा मेल बॉक्स, जिसमें मेलों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है.

अब मैं मोबाइल में अन्तर्वासना सर्च कर ही रहा था और सोच रहा था कि अब एक दो कहानी पढ़कर मुठ मारूंगा. थोड़ा बोलने के बाद मैंने उनके होंठों पर होंठ रख दिये, वो साथ नहीं दे रही थीं, लेकिन विरोध भी नहीं कर रही थीं. ’जैसे ही मैं अपनी जीभ उसकी चूत के छेद पर रगड़ने लगा, उसने मेरे सर को जोर से अपनी चूत पर दबा दिया.

बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ रात को खाना खाने के बाद उसका रिप्लाई आया, उस वक्त लगभग 9 बजे होंगे. कल्पना- बस 5 मिनट वहीं रुको, अभी थोड़ी देर में तुम्हारे पास एक ब्लैक कलर की होंडा सेडान आकर रुकेगी, उसमें बैठ जाना.

हिंदी में ब्लू सेक्स

पुनीत बोला- यार वन्द्या तुम ऐसा करो कि थोड़ा फ्रेश हो लो, इधर बगल में बाथरूम है. आंटी ने बादाम का दूध दो गिलासों में निकाला और हम दोनों ने एक एक ग्लास दूध पी लिया. लगभग दस दिन के बाद मुझे नोएडा की एक कंपनी से इंटरव्यू के लिए कॉल आया और इंटरव्यू के लिए दिन और समय भी फिक्स हो गया.

इस बात से बिदकती हुई नीना ने कहा- जिसे मदद करनी होती है, वह खुद आगे आ जाता है, पूछता नहीं है. यही कोई 12-13 मिनट तक मैंने उसे हचक कर चोदा और चूंकि मैंने कंडोम लगाया हुआ था तो उसकी बुर में ही मेरा पानी निकल गया. सेक्सी व्हिडिओ किन्नरउसके बाद अचानक से दरवाजे की घंटी बजी और हम दोनों ख्यालों से बाहर निकले और वह उठकर दरवाजा खोलने के लिए उठी.

उन्होंने फिर से मेरी फुद्दी चाटते हुए मेरी गांड पर उंगली फेरी और बोले- पम्मी अबकी बार तेरी पजाबी गांड मारूँगा.

उस वक्त घर में मेरे सास-ससुर, जेठ जी, उनकी पत्नी और एक बेटा, जो तीन साल का था, वही रहते थे. तो मैंने कहा- मैं भी सोच रहा था कि कपड़े उतार कर कुछ देर सो लिया जाए.

मेरा मन कर रहा था कि फिर से एक बार इस वासना के तालाब में पापा के लंड के साथ डुबकी लगा लूँ. अब वो भी जोश में आ गई और मेरे पूरे चेहरे पर चुंबन की बारिश करने लगी. शादी में मिसेज पाटिल की चुदाई का एन्जॉयमेंट का पूरा मजा लेने के लिए आपको मेरी इस चुदाई की कहानी के अगले भाग का इन्तजार करना पड़ेगा.

मैं महसूस करने लगी कि मेरे मुँह में उसका लिंग बड़ा हो रहा है और मैं झड़ने के जोर में दांतों और होंठों से ताकत से उसे दबाती चली गयी.

जब मैंने पूछा- भाभी, आपको चुदवाये कितने दिन हो गए हैं?तो भाभी उदास हो गई और कहने लगी- मुझे नहीं पता कितने साल हो गए हैं, जब यह छोटा हुआ था उसके बाद हमने एक दो बार किया है. मैं- हां मैं आ जाऊंगा, पर आना कहां है?कल्पना- परसों मेरे घर वाले दोपहर में सूरत जा रहे हैं किसी शादी में शरीक होने. मेरी बीवी की चूचियां एकदम उसकी मुट्ठी में थीं और बॉस उनको ऐसे दबा रहा था कि जैसे रबड़ की कोई गेंदें हों.

वीडियो सेक्सी एचडी फोटोमैं शायद पहली बार ऐसे झड़ी होऊंगी, जिसमें इस तरह से मेरा पानी निकला होगा. जल्दी से गीता ने बेल्ट खोली और पहन कर वाणी के ऊपर चढ़ गयी और इतनी तूफ़ानी रफ्तार से धक्के लगाने लगी कि मेरी तो जान ही बाहर निकलने को हो गयी.

इंडियन सेक्स video.com

उसने ऋतु को ड्रॉइंग रूम में एक कैटवॉक करने को बोला, जिससे से वो उसका पूरा बदन देख सके … आगे से और पीछे से भी. मैं उसके मम्मे ज़ोर ज़ोर से दबाए जा रहा था और छोटे बच्चे की तरह चूस रहा था. मेरी रानी अब मैं रोज तुम्हें ऐसे ही चोदूँगा, मैं भी सालों बाद चुदाई के मजे ले रहा हूँ … वो भी तुम जैसी गुद गुद और रसीली औरत से … आज से तुम मेरी पत्नी हो.

फिर वो अपनी योनि खुजा कर सो गई लेकिन उससे मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने उसको करीब खींचा तो वो भी करीब आ गई।मैंने अपना एक हाथ थोड़ा नीचे करते हुए उसकी गाण्ड पर रखा और आहिस्ता से उसका एक पैर मेरे पैर पर चढ़ा लिया। अब तक वो भी जाग चुकी थी. जी … मुझे नहीं पता कुछ भी …” मैंने शर्मिंदा सी होकर जवाब दिया।अच्छा … तुझे अब कुछ भी नहीं पता … यू. कुछ देर के बाद मुझे महसूस हुआ कि मैं भी अब झड़ने वाला हूँ, तो मैंने लंबे-लंबे धक्के मारने शुरू कर दिए.

अब जब इतनी सारी जनसंख्या बाहर के दूसरे राज्यों से आकर रहेगी तो यहां की एक ही हांडी (मटकी) में पकने वाली खिचड़ी का स्वाद कैसा होगा इसका अंदाजा तो आप भी लगा ही सकते हैं. वो भी समझ रहा था कि मैं उसके साथ सेक्स करना तो चाहती हूँ लेकिन नारी सुलभ विरोध कर रही हूँ. अचानक भाभी ने मुझे मुट्ठ मारते हुए पूरा नंगा देख लिया और बोली-ये क्या है??मेरी तो गांड फट गई कि अब क्या होगा और मुझे ज्वाइनिंग के लिए उसी दिन शिप पर भी जाना था.

निकालो … प्लीज़ … छोड़ दो … उम्म्ह… अहह… हय… याह… दर्द हो रहा है … अइया …’ जैसी दर्द भरी आवाजें निकालती रही, मगर मैं उसकी चूत को सहलाता रहा और अपने लंड को उसकी गांड में पूरा डाल कर लेटा रहा. मगर अभी मेरा लंड ज्यों का त्यों उसकी चूत में फंसा हुआ था और मेरा पानी अभी तक नहीं निकला था.

मेरी पिछली कहानी थीगाजियाबाद की चुदासी औरतदोस्तो, आप जानते ही हैं, इस बार बहुत दिन हो गए हैं, तो इस बीच जीवन में बहुत ही घटनाएं घटी हैं.

उनके झड़ने के बाद मैं उनकी जाँघों को चूमने लगा जिससे पूषी और कसमसाने लगीं और फिर से दोबारा मैंने अपना ध्यान उनके चुचों पर लगा दिया. गर्लफ्रेंड गर्लफ्रेंडके लिए कमरा खाली है?वो बोली- है तो सही पर उससे पहले आप अपने बारे में पूरा ब्यौरा दें. सेक्सी फिल्म करनेउसने मेरे लंड को लगभग खींचते हुए अपनी चूत में घुसेड़ लिया और लगी धक्के लगाने. एक बार हम पैसों की तंगी से बहुत परेशान चल रहे थे और मेरी नौकरी भी छूटी हुई थी, इसलिए हम थोड़ी परेशानी में चल रहे थे.

बुआ- इसीलिए तो तेरी रंडी बनी हूँ, पत्नी नहीं, तेरा जैसे मन करे मुझे चोदना, आज से मैं तेरे लंड की गुलाम हूँ.

अंत में हम दोनों किचन में गए तो मैंने एक ग्लास पानी भर के उसे दिया. मैं- मतलब?सासू माँ- मतलब ये कि बेटा, मुझे सब पता है कि हितेश ने अभी तक तुझे छुआ तक नहीं है … और वो तुझसे दूर भागता है. इतना कहकर भाभी झड़ ही गई और मेरे होंठ उसकी चूत के रस से भीग कर बिल्कुल गीले हो गए.

मैंने सोचा था कि आज मैं पूनम की चुत फाड़ दूंगा, लेकिन हुआ बिल्कुल उसके उल्टा, मैंने जैसे ही पूनम को बिस्तर पर लिटाया उसने मेरी शर्ट फाड़ दी और पैन्ट उतारने लगी. उसने मुझसे बोला- जा जाकर बेडरूम से कोई क्रीम ले आओ … पहली बार है, तेरी बीवी को दर्द नहीं होगा. मैंने लंड ठोक दिया अपनी सगी दीदी की चूत में …दीदी की कराह निकल गई- आऊच आआआ.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो दिखाओ

मैंने बोला- तुम्हारी कोई फ़्रेंड सहेली के घर मिल सकते हैं?उसने बताया- मेरी दो फ्रेंड हैं, जिसमें एक की टीचर की जॉब इसी शहर में होने की वजह से वो पास वाली बिल्डिंग में एक फ्लैट में किराए पर रहती है. फिर मैंने कल्पना भाभी की बुर पर अन्दर तक लुब्रिकेंट लगाकर लंड को उनकी बुर के छेद पर रख कर ऊपर नीचे करने लगा. फिर हम एक दूसरे से अलग हुए और मैं उसे गोद में उठाकर उसके बेडरूम में ले गया.

फिर वन्द्या की चूत से ख़ून क्यों निकल रहा है?तब अब्दुल बोला- अगर मेरे लंड से लड़की की चूत से खून नहीं निकले, तो क्या मतलब हुआ मेरे पठान होने का?मुझे बहुत असहनीय दर्द हुआ, पर अब्दुल को कोई फर्क नहीं पड़ा.

साथ ही बॉस मेरी बीवी की चूत लगातार चोद रहा था और हर शॉट के साथ मेरी बीवी की दोनों मदमस्त चूचियां हिल रही थीं.

जब भाभी नीचे सरकने लगी तो मैंने अपने दाहिने हाथ को भाभी को सहारा देने के बहाने उनकी जांघों में डाल कर उनकी चूत को दबा दिया. अजय ने आकर मेरे मुँह में लंड ठूंस दिया और उधर सुनील जी ने मेरी फुद्दी पर ऐसे झटके लगाने शुरू किए. टैबू सेक्स क्या होता हैअब मुझे एक तरह से कुछ तसल्ली मिल गई थी कि मैं इसको अब कह सकती हूँ कि मेरी चूत को तुमने ही फाड़ा है.

मैंने अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रख कर पूछा- ज़रीना, तुम वाकयी और चुदवाना चाहती हो?वो उत्तेजना में चिल्लायी- हाँ … अब देर मत करो और अपना लंड मेरी चूत में डाल दो, फाड़ दो मेरी चूत को!मैं अपने लंड को धीरे-धीरे उसकी चूत में डालने लगा. मैंने उसे आँखे खोलने को कहा और पूछा- मीशा, कैसा लग रहा है?अच्छा लग रहा है है भैया… और करो ना!” मीशा वासनात्मक स्वर से बोली. मेरी सलवार नीचे आते ही मैं पूरी नीचे नंगी हो गई क्योंकि पैंटी तो उसी के हाथ में थी.

मैं जब जब उसके अंडों, लिंग को जोर से दबाती या हिलाती, तो दर्द से सरदारजी कराह उठते और लिंग हल्के से जोर मार देता. कुछ मिनट बाद मैंने उठ कर अखबार डस्टबिन में डालने के लिए उठाया और उसको फेंकने से पहले यूं ही देखने लगा.

वह जो मूछों वाले ठाकुर थे, उन्होंने राज अंकल को बोला था कि ये लोग जो भी, जितना भी खरीदें, तुम खरीदने देना … पैसों की चिंता मत करना.

संजीव ने पीछे हाथ लाते हुए मुझसे हाथ मिलाया और गाड़ी शहर की तरफ मुड़कर सड़क पर दौड़ने लगी. उनका बेड दरवाजे से बिल्कुल सामने था कोई आता भी, तो भाभी उसे झुके झुके चुदते टाइम आसानी से देख सकती थी. उसे घोड़ी बनाकर पीछे से चोदा, बेड पर सुलाकर चोदा, शेल्फ पर बिठाकर चोदा, यानि हर मुमकिन पोज़ में चोदा.

सेक्सी वीडियो आदावासी सेक्सी तभी मैंने मौके का फ़ायदा उठाते हुए पूछा कि फिर उसके बाद कभी तुम्हें ऐसी कोई ज़रूरत महसूस नहीं हुई?धारा- ज़रूरत तो होती है लेकिन दुबारा ऐसा कुछ हो जाए, उसके डर से शादी करने से डरती हूँ और मेरी इसी ज़िंदगी को अपना भाग्य मान के ज़ीने का फ़ैसला कर लिया है. कुछ दिनों बाद मैंने कुछ गलत फील किया, तो मैं डॉक्टर को चैक कराने गई.

उसकी चुत टाइट होने से केवल थोड़ा ही लंड अन्दर गया और वो एकदम से चिल्ला उठी और बोली- उई माँ मर गई … बाहर निकालो इसे. मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों सेक्स करने के बाद एक दूसरे को देख कर मुस्कुरा रहे थे. इस तरह मनोहर ने धीरे-धीरे लंड चूत में सेट किया और कुछ देर बाद मैंने उसकी बाहों में बाहें डाल दीं तो वो समझ गया और ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा.

ब्लू सेक्सी ब्लू सेक्सी ब्लू

वाणी भी मस्ती में आने लगी और अपना पैर सीधा करके मेरे लंड पर रख दिया और मेरे लंड को छेड़ने लगी. ऊपर से उन्होंने जो पर्फ्यूम लगाया था, वो मुझे भी मदहोश किए जा रहा था. शाम को जब मैं बाहर दिल बहलाने के लिए जाने लगा तो दीदी ने मुझे चाय पीने के लिए टोक दिया.

मैंने बाहर निकले हुए दीदी के चूतड़ मसले और पूछा- इनकी क्या साईज है?दीदी ने कहा- क्या इनकी इनकी कह रहा है … चूतड़ बोल न, चूतड़ अच्छा शब्द है … मेरे चूतड़ की साईज 44 इंच की है. उन्होंने कहा- अब मेरे दर्द का कोई इंतज़ाम है या नहीं?मैंने कहा- अभी आयोडेक्स मल देता हूँ.

मैंने फ्रिज में से दूध निकाला, चाय बनाई और थरमस में चाय भरके मेरे यार से मिलने निकल पड़ी.

अंधेरा तो था ही, रंजना मेरी तरफ घूम कर बोलीं- सोनू, तुझे क्या हो गया?आपके कमेंट्स का इन्तजार रहेगा. मैंने पलट कर अपनी छोटी बीवी जरीना की दोनों टांगों को फ़ैला दिया उसके ऊपर चढ़ गया. मैं एकता की पीठ पर चुम्मा चाटी करने लगा और दोनों आपस में किस करने लगीं.

इसलिए जब रात को राहुल कमरे में आएगा, तो मैं उसे नींद की गोली दे दूंगी, ताकि हम दोनों अपने दिल के अरमान पूरे कर सकें. वो तुरंत बाथरूम में चली गई और थोड़ी देर में बाहर आकर मेरे पास बैठ गई. मैंने उनसे बोला कि ये क्या यार … केवल ऊपर ऊपर ज़ोर लगा रही हो, नीचे भी तो उंगली करो.

अगले कदम पर थोड़ी देर बाद प्रशांत ने नीना को एक झटके से अपनी गोद में लेकर खुशी के मारे आंगन के कई चक्कर काट डाले.

बीएफ एक्स एक्स सेक्सी व्हिडीओ: सुषी ने मुझे कस कर पकड़ लिया और मैं तेजी के साथ उसकी चूत में लंड को अंदर-बाहर करते हुए उसकी चूत को चौड़ी करने लगा. अब तेरी मम्मी के लिए कोई आता नहीं होगा, तो लड़की को धंधे में लगा दिया.

अचानक भाभी ने मेरे पेट और लौड़े के बीच चिकोटी काटी और बोलीं- बाहर ही रहोगे … अन्दर नहीं आना क्या?मैं होश में आया और बोला- नहीं, आज तो अन्दर ही आना है. बाथरूम से आते वक्त उसने बेडरूम में जाते जाते मुझसे कहा- चलो तुम भी शॉवर ले लेना … और आते वक्त बाहर की लाईट बंद करके कुंडी लगा के आना. मैंने बोला- भैया, टेंशन न लो, हम खुद भिड़ा लेंगे, आप देखो, कहीं आप भाभी को देखने की जगह, भाभी की सहेलियों या साली को न देखने लगना.

मैं मन ही मन आंटी के चूचों को दबाने और उनकी चूत को चोदने के ख्याली पुलाव पकाने लग गया था.

वह अपने लण्ड को जड़ तक पेले हुए मेरी पसीने से भीगी हुई काखों के पसीने को चाट रहे थे. औरत की बात करूँ तो कोई अपने नौकर से, तो कोई अपने ड्राइवर से और कोई कोई तो वॉचमैन तक से चुदवा रही हैं इस सोसाइटी में … और जिनको इन सब में इंटरेस्ट नहीं है, वो सब भाड़े पर बुला कर चुदवा लेती हैं. मैं बोला- क्या हुआ आंटी?तो वो बोलीं- मेरी शादी को बीस साल हो गए, पर अभी तक मेरा कोई बच्चा नहीं है.