बीएफ खुला चुदाई

छवि स्रोत,नंगी सेक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

मारवाड़ी कॉल रिकॉर्ड: बीएफ खुला चुदाई, अंकल ने कहा- अगर तुम चाहो तो मैं तुम्हारा डर भगा सकता हूं क्योंकि मुझे सेक्स का भरपूर अनुभव है.

बीएफ फुल नंगी

वह बोली- मालिक मैं मर गई!लेकिन मैं झटके मारता रहा और उसको मजा आने लगा. हिंदी से बीएफभाभी के वक्ष स्थल से मेरा सीना लगे रहने से मेरा लंड एकदम से तनकर खड़ा हो गया था.

मैंने मौका हाथ से जाने नहीं दिया और धीरे-धीरे भाभी से सेक्स को लेकर बात करने की कोशिश करने लगा. बीएफ ब्लू गानामैं उसके दोनों पैरों के बीच में आ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर रखकर आहिस्ता से पहला धक्का लगा दिया.

मैं उस वेटर से बोली- क्या नाम है तुम्हारा?वो बोला- मनीष, मैडम मेरा नाम मनीष है.बीएफ खुला चुदाई: मैंने सोनल के मम्मों पर हाथ फेरते हुए कहा- सब घर पर ही हैं, कैसे क्या होगा.

मैंने उसकी टांगें सीधी कर दीं और खुद उनके ऊपर बैठ कर उसके हाथों को साइड में करके पकड़ लिया ताकि वो ज्यादा छटपटा ना सके.ये एक ऐसी लड़की की चुदाई कहानी है जो सेक्स की अत्यधिक भूखी थी और मेरी बीवी बन कर मेरे साथ रह रही थी.

बीएफ ब्लू चुदाई - बीएफ खुला चुदाई

थोड़ी देर तक उन्होंने अपना लंड अन्दर ही बिना हिलाए-डुलाए घुसाए रखा और मेरे मम्मों को चूसने लगे.फिर मेरी गांड पर थपकी मार कर मुझे लंड चूत के अन्दर डालने का इशारा कर दिया.

मैं उसके बाल तेज़ी से खीन्च कर उसकी गांड पर ‘पटाक पटाक’ थप्पड़ मार रहा था और उसकी पूरी गांड पर मेरी उंगलियों की कहानी साफ छपी हुई थी।उसको काफी दर्द हो रहा था, बोल रही थी- कुत्ते बस कर, आआन्ह … खत्म कर न … अब बहुत गंदा लग रहा है … जल रहा है यार प्लीज़!कुछ मिनट बाद मैं झड़ गया और उसकी बुर में ही माल छोड़ दिया. बीएफ खुला चुदाई मैंने जैसे तैसे अलमीरा खोल दी।मैं और आंटी वैसे ही खड़े रहे, मेरा लन्ड गांड की दरार में झटके ले रहा था।मैंने कह दिया दुबारा- खोल के दिखा दीजिए ना … आपको ही देख के जवान हुआ हूं। चुपके से हर चीज मैंने आपकी देखी है.

भाभी ने झट से आगे बढ़ कर मेरे लंड को मुँह में भर लिया और तेजी से चूसने लगी.

बीएफ खुला चुदाई?

कुछ देर में राजेंद्र को देख कर इमरान और प्रकाश ने भी बीयर के झाग से मुझे नहलाना शुरू कर दिया. मैंने उसको समझाते हुए कहा- जान, कुछ नहीं होगा।रात के करीब 9:00 बजे तक वह हमारे घर पर आ गया।मैंने हिमेश को पानी पिलाया।फिर मैंने उसको खाना वगैरह के लिए पूछा तो उसने मना कर दिया. उनकी चूत में मैंने तीन चार बार लंड डाला और कहा- भाभी, तुम्हारी गांड बहुत मस्त दिख रही है, इसमें लंड टिका कर देख लूं?उन्होंने कहा- हां … लेकिन डालना मत.

उसके जाने के बाद सर मेरा सेशन करते रहे और अंत में उन्होंने मेरी छुट्टी करते हुए मुझे जाने की कह दी. मैंने उसके कमरे के दरवाजे को धीरे से खोल कर देखा तो स्नेहा नंगी थी और अपनी चूत में उंगली कर रही थी. एक बार लंड पर जीभ घुमाई मैंने और लार टपका कर और टोपे पर कंडोम रख कर चढ़ाने की कोशिश करने लगी.

लेकिन एक बार मानना पड़ेगी यार … क्या चूत है साली की … और देख तो … साली के मम्मे तो उसके जिस्म से बाहर आने को तैयार हैं. मैंने अपने दोनों हाथ उनकी चूचों पर रख दिए और चूचे मसलते हुए जोर जोर से चोदने लगा. दिन भर उनको अपने काम की पड़ी रहती है और इसी के चलते भैया, भाभी को ठीक से समय नहीं दे पाते हैं.

उसने कहा- दीदी कंडोम बाद में लगा लेंगे, पहले चमड़ी से चमड़ी रगड़ लेने दो. चाची बोलीं- कोई बात नहीं, लेकिन तुम्हारे ना बोलने से मेरा मन तो दुख हुआ है.

मैंने चाची के होंठों को अपने होंठों के साथ लगा दिया और उन्हें किस करने लगा.

मैंने पीछे से अपने लंड का टोपा स्वाति की गांड में डालना शुरू कर दिया और धीमे धीमे अन्दर बाहर करने लगा.

उसने सामने रखी हुए बॉटल से बने हुए पैग में कुछ और व्हिस्की ग्लास में डाल ली और एक सिप लिया. अनुराग- अरे तबीयत तो ठीक है आपकी! आप कहो तो कोई दवाई ले आऊं!मैं- नहीं, अनुराग … अभी ठीक हो जाएगा. एक बार ऐसी चूत को अगर कोई देख ले, तो उसे चाटे बिना रह ही नहीं पाएगा.

दीदी हंस कर बोलीं- हां तुम्हारे जीजा जी मेरी गांड और चूचियों से बहुत खेलते हैं. वो बोली- तो सुन, मैं ज्यादा नहीं बताऊंगी, बस इतना बता रही हूँ कि अगर हितेश को नैना पसंद है, तो नैना को भी हितेश पसंद है. उसने बताया कि उन लोगों को गुंजन पसंद है, गुंजन मेरी पड़ोस की बहन का नाम है.

मैंने आंखें बंद करके मुट्ठियां भींच लीं और अपनी सन्तुष्टि का अहसास करने लगी.

तू बस हामी भरवा कर आ जा, बाकी सब कुछ मुझ पर छोड़ दे … आज मैं भी तुझे एक्स्ट्रा माल दूंगी. मदहोशी में हम दोनों इतने ज्यादा खो गए थे कि पता नहीं चला कि कब भाभी ने पानी छोड़ दिया. बुरा मत मानना लेकिन तुम्हारी मम्मी मुझे सच में बहुत अच्छी लगती हैं.

इसके कुछ सेकंड बाद उसने मुझे सहलाना शुरू कर दिया और मेरी चूचियों को पीने लगा. एक बार लंड पर जीभ घुमाई मैंने और लार टपका कर और टोपे पर कंडोम रख कर चढ़ाने की कोशिश करने लगी. आधा घंटा बाद हर लड़के के पास दो पुरुष परीक्षक और हर लड़की के पास दो स्त्री परीक्षक पहुंचे.

पापा ने बहुत दिनों से चुदाई का सुख नहीं लिया था इसलिए उनका जी नहीं भरा था.

मेरी सहेली ने कहा- देख, जैसे भी बने उसे सेक्स की गोली खिला देना … फिर तेरी प्यास बुझ जाएगी. जबकि उन तीनों के मुँह से मस्ती भरी आवाजें आ रही थीं- आह्ह … आह्ह … सेक्सी ललिता … आह्ह तेरी चूत … आह्ह … चुदो ललिता … ओह्ह … क्या माल है … आह्ह … फाड़ देंगे आज!कुछ देर के बाद फिर राजेंद्र ने मेरी गांड से अपना लंड निकाल लिया.

बीएफ खुला चुदाई उन्होंने ऊपर पीले रंग का एक स्लीवलैस टॉप पहना हुआ था, जो लड़कों की बनियान के जैसा था. और वह उसकी चूत में और तेज धक्के लगाने लगा और झंडने लगा। उसने भी वीर्य की एक-एक बूंद मेरी वाइफ की चूत में निकाल दी।इस बार उनके चुदाई का कार्यक्रम लगभग एक घंटा चला होगा।मेरी वाइफ बहुत थक गई थी तो वह मुझसे सोने के लिए कहने लगी.

बीएफ खुला चुदाई पहले मैंने उसको किचन की पट्टी पर बिठाया और उसकी चूत को जीभ से चाटना शुरू कर दिया. उसने तुरंत अपने दोनों हाथ मेरी कमर पर लगा दिए और मुझे रोकने लगी मगर उसकी ताकत और मेरी ताकत में बहुत फर्क था.

अरुणिमा सहित सब हंसने लगे, बस मैं ही अपनी वाइफ हार्ड सेक्स देखते हुए गांडुओं सा चुप खड़ा था.

ভুতের সেক্স ভিডিও

मैंने सारा पानी चूत में निकाल दिया और चाची ने भी पानी निकाल दिया जिससे चूत में से पानी टपकने लगा. मैं आपको बताती हूँ कि कैसे मेरी यह गैंग बैंग सेक्स फंतासी एक पार्टी में पूरी हुई. विक्रम मॉम की छाती पर बैठ गया और बोला- चल साली मां की लौड़ी, अपनी दोनों मोटी चूचियों के बीच में मेरा लंड दबा.

बचपन से अपनी चाची के यहां होने के कारण मैं अपनी चाची जी को मम्मी बुलाया करता हूं. वो अपने हाथ से अपने दोनों मम्मों को बारी बारी से मेरे मुँह में देने लगी. परन्तु शारीरिक सुख और हार्ड चुदाई क्या होती है, ये मुझे एक साल पहले तक बिल्कुल पता नहीं था क्योंकि मेरे पति इस मामले में बहुत ही सीधे और पुराने जमाने के हैं.

मैं कुछ बोलने को हुआ तो विश्वेश्वर जी बोले- भड़वे! उठा कर नहीं ले जा रहे इस वेश्या को, बाहर जाकर पसर जा मादरचोद … बहरा हो गया है क्या?बिना कुछ बोले मैं बाहर आकर सोफे पर लेट गया.

बस उसे तुम अपनी बीवी समझ कर चोदना, फिर चाहे किसी भी पोजीशन में चोद लेना. उसने मुझे अन्दर बुलाया और सोफे में बैठने का बोलकर खुद भी मेरे बगल में बैठ गयी. मैडम मेरे लंड को जोर-जोर चूस रही थी, मेरे हाथ मैडम के सर पर रखे थे.

स्कूल के रास्ते में ही उसका खेत पड़ता था, जहां पर हम दोनों एक दूसरे को देख लिया करते थे. [emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी थी:माँ बेटी दोनों हुईं मेरे लण्ड की दीवानी. स्वाति भाभी बड़ी ही सेक्सी और बहुत ही खूबसूरत माल हैं, तो मुझसे रहा नहीं जा रहा था.

इसमें मैं अपने पति की हवस की हॉट हनीमून सेक्स स्टोरी लिख रही हूँ जो मेरे पति ने मेरे साथ किया था. कभी कभी तो मन करता था कि कोई ऐसी चुदक्कड़ औरत या लड़की मिल जाए, जो दिन रात चुदवाना चाहती हो … तो मेरी किस्मत खुल जाए.

यह लड़की मुझे इन्स्टाग्राम से मिली तो मैं इसे इन्स्टाग्राम सेक्स ही कहूँगा. वो कभी मेरे गाल पर चांटा मारता, तो कभी चूतड़ों को और कभी स्तन मसल देता. उसे मेरा लन्ड अपने एक्स बॉयफ्रेंड के लन्ड से भी ज्यादा पसन्द आया और उसने मुझे बताया- कल मेरे घर वाले दिल्ली जा रहे हैं किसी काम से.

”इसके बाद मैंने बहुत इमोशनल होते हुए एक बात बोली- अंत में मैं तुमसे बस एक ही बात कहना चाहता हूं कि अगर तुम्हारा दिल नहीं चाहता कि तुम मेरे साथ कुछ करो, तो मैं तुम्हारे साथ कुछ भी नहीं करूंगा.

इसलिए दोषी तो आप भी हैं!इस बात को सुनकर भाभी कुछ सोच में पड़ गई और एकदम अपने नितंबों को हिलाते हुए मेरे कमरे से निकल कर सीधा हॉल में चली गई।अगले दिन में कॉलेज से आया तो मुझे पता लगा कि मेरे भाई तीन-चार दिन के लिए ऑफिस के काम से कहीं बाहर जा रहे हैं घर में सिर्फ मैं और मेरी भाभी ही बचे थे।मैं बहुत खुश था पर भाभी बहुत घबराई हुई थी. मैं आराम से उसके ऊपर आई और पैरों के बल उसके लंड के टोपे पर चूत टच किया. आगरा की ही एक अमीर घर की लड़की को मैंने कैसे चोदा, आपको कहानी के जरिए बताता हूँ.

विक्रम बोला- देख साली … तेरी रंडी मां भी तुझे चुप होने के लिए कह रही है. मगर मेरे पास रहने खाने के लिए कुछ नहीं था क्योंकि मैंने घर पर कह दिया था कि मैं जॉब करने लगी हूँ, तो मुझे पैसे की जरूरत नहीं है.

दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार!मेरा नाम पूनम है, मैं राजस्थान के एक छोटे से शहर से हूँ. मैंने उसकी हिंदी सेक्सी चूत पर हाथ लगाया तो वो भी पानी निकाल रही थी. चाचा बाहर मस्त ठंडी हवा के मजे ले रहे हैं … और मैं आपकी जवानी के मजा ले रहा हूँ.

सनी लियोन की सेक्सी बीपी

इमरान का लंड चूत में लेकर मैं उछलने लगी तो राजेंद्र ने मुझे रोक लिया.

आज मेरी चूत का तुम भुर्ता बना दो, रुकना मत आह्ह आअह्ह उह्ह्ह!वह ना जाने क्या कुछ बोले जा रही थी।उसकी आँखें कामुकता से लाल हो चुकी थी और मैं दनादन शॉट पे शॉट लगाये जा रहा था।दिव्या की चूत की दीवारें मैं अपने लंड की चमड़ी पर महसूस कर सकता था जो काफ़ी गर्म थी और टाइट होने की वजह से मेरे लंड की चमड़ी छिल गयी थी. परीक्षक पुरुषों ने लड़कों से कहा कि आज तुम्हारी गांड फाड़ देंगे, कुछ दिन ठीक से चल नहीं पाओगे. मैंने जोर से किस करना चालू कर दिया और उनके मम्मे दबाने लगा, तब जाकर चाची की आंख खुली.

चूत के अन्दर जैसे ही अपने लंड को दाखिल करता तो जैसे दुनिया का सारा सुख मिल गया हो ऐसा लगने लगता था. अब मैं भी धीरे-धीरे सिसकारियां ले रही थी और आवाजें निकाल रही थी- आह आह भाई मजा आ रहा है … और चोदो मुझे … आंह भाई!मैं भाई के बाल पकड़कर उसे चूम रही थी. 16 साल की लड़की के साथ बीएफघर में सिर्फ हम दोनों ही थे तो कोई दिक्कत नहीं थी उसके चिल्लाने में!अब मैं भी उसे जोर जोर से चोदते हुए आह आह की आवाजें निकाल रहा था.

उस वजह से भैया को मालूम था कि मुझे एग करी अच्छी लगती है और मैं बनाता भी बहुत अच्छे से हूँ. कुछ मिनट बाद वो बोली- विकु मेरी चूत पूरी गीली है … आंह लंड पेलो न!मैंने उसके कान में धीरे से कहा- गीली चूत को चाटने का तो मजा ही अलग है.

मैंने भी बैठे बैठे अपनी चूत देखी, उसमें भी बहुत सारा झाग और उसमे हल्का खून लगा हुआ था. मेरी बगलों में अपने दोनों हाथ डाल कर मेरे कंधों को पकड़ लो और ताकत से धक्का मारो, ताकि तुम्हारी पकड़ से मैं आगे को ना जा सकूँ. एक दिन में ऐसे ही बेठे बेठे बोर हो रहा था तो मैं अपना अकाउंट खोलकर उससे लड़कियों को फॉलो रिक्वेस्ट भेजने लग गया.

कुछ देर सोचने के बाद मैंने गूगल की हिस्ट्री को खंगाला तो मुझे ढेर सारी साइट्स दिखने लगीं. सामने से मैंने कहा- ठीक है, मैं सोफे पर सो जाता हूँ, तुम बिस्तर पर आ जाओ. इधर मेरा लंड भी पूरा टाइट हो गया था और पैंट से बाहर आने के लिए तड़प रहा था.

आंटी की ब्रा की पट्टी झलक रही थी।मेरा लन्ड इतना कड़क हो गया था कि मैंने इलास्टिक से निकाल दिया, मैंने सोचा जो होगा देखा जायेगा।आंटी लन्ड को देख के गर्म हो रही थी.

Xxx भाई बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी छोटी बहन की गांड पर नजर रखता था. मैडम आह उह की आवाज निकालने लगी और बोली- अब घुसेड़ भी दो मेरी जान … जल्दी से मेरी बुर का भोसड़ा बना दो.

मेरे ऑफिस जाने के बाद कोमल नीतू के कमरे में गई, तो देखा कि नीतू सो रही थी. मैंने कराहते हुए उनसे कहा- अपना लंड बाहर निकाल लो, मुझे बेहद दर्द हो रहा है. लड़कियों को लड़कों का लंड, जांघ चूमकर उनका लंड खड़ा करना सिखाया गया.

उसकी चूत पर एकदम छोटे छोटे बालों के मुँह से निकले हुए थे, शायद उसने 3-4 दिन ही बाल साफ किए होंगे. उसकी बीवी हुसैना और भाई की मां साथ में रहती हैं, दोस्त की मां मेरी खाला (खाला) भी हैं. कुछ मिनट में ही हम दोनों एक साथ झड़ गए और एक दूसरे के पानी को पी गए.

बीएफ खुला चुदाई वो बोला- दीदी उधर डर लगेगा, क्या करूं?मैंने कहा- ठीक है, मेरे साथ सो जाओ. अगले ही दिन जब हम अपना सामान शिफ्ट करने के लिए ट्रक लोड करवा रहे थे, तभी अचानक से वरूण के पास कॉल आया.

सेक्सी फिल्म ब्लू सेक्सी फिल्म ब्लू

इसके बाद विक्रम ने अपना लौड़ा मॉम की चूत पर रखा और एक ही झटके में पूरा अन्दर डाल दिया. यह कहानी तब हुई थी जब मैंने 2017 में स्कूल से 12 वीं क्लास पास करके कॉलेज में दाखिला लिया था. शिवानी आंटी- बिटिया, सभी अच्छे हैं, तुम अपनी शादी की तो बताओ!दिशा- आंटी शादी-वादी के चक्कर में अभी नहीं पड़ना, पहले कैरियर बना लेने दो, उसके बाद शादी के बारे में सोचूंगी.

मैंने आहिस्ते से उसका हाथ अपने हाथों में लिया और बोला- प्रिया, मैं तुम्हें बेहद पसंद करता हूँ. किशन- भैया, मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है लेकिन आपका लंड लेने में बहुत मजा आया. भोजपुरी देहाती सेक्सी वीडियो बीएफशिखा की मम्मी शिवानी आंटी ने मुझसे पूछा- दिशा कैसी हो, तुम तो इतनी बड़ी हो गयी हो मालूम ही नहीं चला.

इस वक्त मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था और जब नीलिमा मेरी गोद में बैठी, तो उसकी गांड में चुभने लगा.

फिर मिलूंगा अपनी किसी कहानी के साथ।तब तक आप सभी मेरी कहानियों को यूं ही अपना प्यार देते रहें।और इस Xx फ्रेंड सेक्स कहानी अपना फीडबैक मेरे पर्सनल ईमेल[emailprotected]पर भेजते रहे।. मैंने महसूस किया कि आयशा भाभी और हुसैना भाभी दोनों के चेहरे पर सेक्स की लालिमा छाई हुई थी.

दोस्तो, ये मेरी सच्ची मोटी गांड की चुदाई कहानी है इसलिए सब सच बात लिख रहा हूँ. सुकेश मेरे उरोजों को दबा रहा था साथ ही साथ उसने हल्के हल्के धक्कों लंड को मेरे गले में उतारना शुरू कर दिया. मैंने से ऊपर ले लिया और उसने धीरे से मेरे लंड को अपनी चूत में ले लिया.

पायल की चीख निकल गई और वह तो एकदम से छटपटाने लगी, मीठे दर्द से भरी आवाजें निकालने लगी- ऊह आह ऊ मर गई … मेरी चूत फाड़ दी.

हम दोनों ने किचन में कुछ मिनट तक एक दूसरे को किस किया और मैंने अपनी साली के मम्मों को चूसा. कहानी के पहले भागइंस्टाग्राम पर मिली भाभी की कामवासनामें अब तक आपने पढ़ा था कि भाभी मेरे लौड़े को पकड़ कर उससे खेलने लगी थीं. मैंने कहा- मुझे क्या पता कि आपके मन में क्या है … मैंने तो बस ऐसे ही आपसे बात कही थी.

यूपी के बीएफ सेक्सीप्रिया भाभी बस ब्रा और पैंटी में रह गई थीं और मैं कच्छे में रह गया था. वो ड्रिंक लेता था इसलिए उसने आते समय एक बॉटल व्हिस्की की ले ली थी जबकि मैं नहीं पीता था.

सेक्स करने वाली ब्लू पिक्चर

उनका मूसल लंड मेरी चूत में फचाक से घुसा तो मेरी तो चीख निकल गयी ‘आह्ह आह … मर गई. साली मेरी तरफ देख कर बोली- जीजू, आपको बहुत भूख लग रही है न!मैंने कहा- हां यार, सुबह से कुछ खाया नहीं है. अब तक कितने लंड ले चुकी है?वो मेरी छाती पर मुक्का मारती हुई बोली- क्या भैया आप भी बड़े वो हो!मैंने कहा- मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता बहना.

थोड़ी देर के बाद चाची बोली- मैं बाहर जा रही हूँ, तुम्हें बैठना हो तो बैठो. अब वो कामुक आवाजें निकालने लगीं- ओह ह्म्म … आह और जोर से चोद साले और ज़ोर से पेलो, मुझे तुम्हें अन्दर तक लेना है. उस समय फसल में पानी लगाने का काम चल रहा था, जिस वजह से मामा को रात में खेतों में बने एक कमरे में ही रुकना पड़ता था.

चल तू भी मेरे इस गदर जिस्म का मजा ले ले!अब हम दोनों आंटी की गांड चूत को जोरों से चोदने लगे. वरुण के सो जाने के बाद मैं उसकी मम्मी की गांड कैसे मारी ये मैं अपनी अगली कहानी में लिखूँगा. फिर हमने कपड़े पहने और बाहर आने लगे मैंने देखा कि वो थकी हुई लग रही थी.

मैं उसका लंड मुँह में लेकर देख रही थी कि चूत में कितना अन्दर जाएगा क्योंकि मुझे कुछ और भी करना था. हम दोनों किस करने लगे और मैं अपने एक हाथ से Xxx साली के बड़े दूध को दबाने लगा और मसलने लगा.

चाची- ओके, तुम अपने होने वाले पति के साथ बात कर रही थी, इसलिए छोड़ रही हूँ.

फिर उसने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और कंडोम पर भी चिकनाई लगा कर मेरे चूतड़ों को खोल कर मेरे छेद पर अपने लंड का सुपारा रख कर रगड़ा. राजाओं की बीएफआंटी ने कहा- अब जल्दी से मेरी ब्रा उतारकर कबूतर आज़ाद कर दे और इनको चूस ले क्योंकि बहुत दिनों से किसी ने चूसे नहीं हैं. ब्लू बीएफ देहातीविश्वेश्वर जी से बहुत दिनों से मुलाकात नहीं हुई थी और उन सबकी व्यस्तता के कारण कोई भी मेरी शादी में आ नहीं पाया था. उसके एक दिन पहले ही मैंने अपने गुप्तांगों की साफ सफाई की और तीन बार लंड की मालिश की.

परंतु एक बार हमारे मकान मालिक को पता चल गया कि हम फ्लैट में दारू, बीयर आदि पीते हैं और लड़कियों के साथ मस्ती भी करते हैं.

मैं डर भी रही थी कि कहीं मेरे पति को मेरी फटी चूत का पता ना लग जाए. मुझे लग रहा था कि मेरे ब्वॉयफ्रेंड के अलावा कोई दूसरा आदमी मेरे बदन को न छुए, पर मैं मना भी नहीं कर सकती थी. उन्होंने जोर जोर से किसी मदांध सांड के जैसे झटके मारे कि मेरी जान ही निकल गई.

वो- सी सी आह आह क्या कर रहे हो अनन्त!ऐसा कह कर मदमस्त वो आंहे भरने लगी. दोस्तो, आपको मेरी हॉट Xxx आंटी चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल जरूर करें. दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो उसने उठ कर मुझे खड़ा किया और जोर जोर से मुँह में लंड लेकर हिलाने लगी.

देसी लोकल सेक्स वीडियो

[emailprotected]यंग पुसी सेक्स कहानी का अगला भाग:उन्नीस की चूत छप्पन का लंड- 5. कुछ देर आराम करने के बाद आंटी बोलीं- अब तुम मेरी गांड की चुदाई करो. मैं अपने पड़ोस की एक लड़की, जो कि रिश्ते में मेरी बहन लगती है, उसकी शादी के लिए प्रयास कर रहा था.

उसने भी जैसे ही मुझे देखा, अपने न्यूड बूब्ज़ को हाथों से ढकने की नाकाम कोशिश की.

उसकी चूत, गांड और उसके मुँह में एक साथ अपने लंड से उसकी मजेदार चुदाई करें.

आप मुझे अपने प्यारे प्यारे मेल लिखना न भूलें कि आपको यह पढ़ कर कैसा लगा जब मैंने अपनी नंगी चाची चोद दी. मेरे मामाजी का घर 2 मंजिल का है, जिसमें 3 कमरे नीचे और 2 कमरे ऊपर बने थे. इंडियन बीएफ लड़की कामैंने कहा- क्या लाना था?मैडम चटक गई और बोली- साले हाथ भर का हथियार लिए घूम रहा है और तुझे मालूम नहीं है कि क्या लाना पड़ता है.

क्योंकि अगर भाभी ज्यादा तेज आवाज निकालतीं तो भाई जाग सकते थे और हम दोनों पकड़े जाते. मैंने कहा- बच्चे कब तक सोएंगे?दीदी बोली- सो जाएंगे अभी!मैंने कहा- आज आप कराहने वाली हैं. दीदी ने मेरे मुँह से मुँह लगाया और अपने मुँह में भरा सारा रस मेरे मुँह में डाल दिया.

2- शादी के कुछ साल बाद कुछ पति या पत्नी को चुदाई का उत्साह कम हो जाता है. मुझे लगा कि अरुणिमा की मोबाइल की बैटरी कम रही होगी और बाकी लोग आने से पहले मोबाइल स्विच ऑफ कर के रखे होंगे.

तो जो नज़ारा मेरे सामने था वो देखकर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने स्पोर्ट्स ब्रा के ऊपर से ही दूध बाहर निकाल लिए और मसलने लगा.

वो बिना हाथ लगाए लंड के सुपारे को मुँह के अन्दर ले रही थी और गले तक अन्दर ले रही थी. वह इतनी गर्म हो गई और बोली- मालिक अब रहा नहीं जाता!फिर मैंने अपने लन्ड का सुपारा थोड़ा सा उसकी चूत में घुसा दिया. मैंने उसके होंठों का चुम्बन लिया तो वो जाग गई और मुस्कुरा कर मेरे सीने पर सर रख कर लेट गई.

हिजडा बीएफ भाभी ने मुझे फिर होंठों पर किस किया और उसके बाद मैं अपने रूम में आ गया।शाम को राजेश भी आ गया. इसके साथ साथ मैंने प्रति दिन भाभी की हिम्मत की तारीफ भी करना शुरू कर दिया था.

अपने घर जाकर मैं बेड पर लेट गया और आंटी की पैंटी को चूत की तरह गद्दे तकिया के बीच में सैट कर दिया. कुछ देर उसकी चूत मेरे मुंह में रस छोड़ने के बाद नार्मल हुई तो हमने उसे छोड़ दिया।ज्योति उठ कर बैठ गयी. मेरा इतने कहने की देर थी कि रोहित ने भी अपना नंगा लंड ज्योति के दोनों मम्मों के बीच रख दिया.

देसी पोर्न सेक्सी वीडियो

यह सुन जोगी सर हंसने लगे और बोले- बस इतनी सी बात के लिए अपनी प्यारी सी मुस्कान को हमसे छीन लिया. मैं ऑफिस से घर लौटा तो खाला बोलीं- फ़ैज़ी बेटा आज तुम अपनी भाभी और उसकी भाभी को कहीं घुमाने ले जाओ, उन दोनों का बड़ा मन है. मां बोलीं- साले, तुम्हारे लंड के लिए मेरी चूत है ना, जितना मन करे, उतना मेरी चूत को चोद लो … मैं मना करूं तो कहना.

शाम को किशन की मम्मी ने डोरबेल बजाई तो हम दोनों ने फटाफट कपड़े पहने और दरवाजा खोला. उनकी तेज आंह निकलने को हुई, मैंने पहले से ही अपना हाथ उनके मुँह पर लगा दिया था.

कुछ देर बाद विक्रम ने अपने कपड़े पहने और बोला- क्यों कुतिया, अब तो कहीं दर्द नहीं है, अगर है तो कल फिर मालिश कर दूंगा.

अब आगे Xxx क्रेजी गर्ल सेक्स स्टोरी:शर्मा अंकल- मजा आ रहा है ना साले साहब?राजेश- हां जीजू, बहुत गजब का मजा आ रहा है … ललिता बहुत हॉट माल है. उसके चुचे दबाने पर उसके मुँह से ‘सीईईई …’ की आवाज आ रही थी जिसे सुनने में मुझे बहुत मजा आ रहा था. उनकी गांड दरवाजे की तरफ थी तो मैं भी भाभी के पास आया और उनसे चिपककर सो गया.

कुछ धक्कों के बाद किशोर ने भी अपना गर्म गर्म वीर्य मेरे अन्दर ही निकाल दिया. मगर मुझे ये कहां मालूम था कि मेरी कमसिन बीवी को इस चुदाई में न केवल मजा आया था बल्कि वो इस तरह की चुदाई की आदी बनती जा रही थी. मैं भी बोलने लगा- ये लो साली और चुद … आज तेरी चूत गंड दोनों फाड़ूंगा … आह और अन्दर ले साली कमीनी … आज तेरी सारी गर्मी निकाल दूँगा … बहुत गर्मी है तेरी चूत में.

कोमल एक मिनट लंड चूसने के बाद बोली- देखा, कौन चूसती है लंड … लो चूसो.

बीएफ खुला चुदाई: एक ने पूछा- पुलिस हमको परेशान करे, तो क्या करना चाहिए?आंटी- हम लोग किसी को ज़बरदस्ती इस काम में नहीं लाते, किसी को अगवा नहीं करते और पुलिस को खुश रखते हैं. मैं मस्ती से कामिनी के एक निप्पल को पी रहा था और दूसरे दूध को मसल रहा था.

कुछ देर लंड चूसने के बाद भाभी ने कहा- तुम्हारा लंड तो तुम्हारे भाई से काफी बड़ा और मोटा है. हमारे इंडियन पुरुष कुछ ज्यादा ही लेस्बियन मूवी की मांग करते हैं इसलिए. हम दोनों ने पानी में मस्ती करते हुए एक दूसरे को इतना करीब ला दिया था कि बस हम एक दूसरे में समा जाना चाहते थे.

फिर उसने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और कंडोम पर भी चिकनाई लगा कर मेरे चूतड़ों को खोल कर मेरे छेद पर अपने लंड का सुपारा रख कर रगड़ा.

ये सुनकर मैं नीचे लेट गया और वो मेरे लंड पर बैठ कर खूब मज़े से चुदने लगी. फिर मैंने थोड़ा सा लंड चूत से बाहर निकाला और एक तेज झटके में पूरा का पूरा लंड चूत में धकेल दिया. मैं- हां साली कुतिया, तुझे पता है ना जब मेरी चूत में आग लगती है तो मुझे लंड चाहिए ही होता है.