घड़ी मूवी बीएफ

छवि स्रोत,नंगा ओपन वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

जपानी सेक्सी: घड़ी मूवी बीएफ, से थोड़ा आगे ही एक खड्डा बचाने के लिए अचानक से ड्राइवर ने तेजी से ब्रेक लिए जिससे कुछ लड़कियां आगे की तरफ गिरीं.

बीएफ होली का

आज मेरे पति मेरे जेठ जी के साथ बड़ी सुबह अपनी ब्रिक कंस्ट्रक्शन साइट पर चले गए थे. मुजफ्फरपुर बीएफशादी करने के बहाने प्यार का जो ढोंग उसने रचाया था, उसके पीछे का झूठ, धीरे धीरे बाहर आने लगा.

मैंने एक अच्छा सा सलवार सूट पहना और उनके साथ बाईक पर बैठ कर पौने नौ पर कॉलेज को निकल गई. सेक्सी ब्लू वीडियो नईउसमें भी एक छोटी सी लड़की थी, जिसको बिस्तर पर कुतिया बना कर एक आदमी उसकी गांड पर कस कस कर झापड़ मार रहा था.

उस दिन के बाद से जब घर में दीदी नहीं होती थीं, तब मैं बिना दुपट्टा के या खुले गले के टॉप या कुरती पहनती थी, जिससे उसको मेरी दूधिया क्लीवेज साफ़ दिखती थी.घड़ी मूवी बीएफ: भाभी पूरी नंगी हो गई थीं … लेकिन मैंने अभी तक उनकी चुत को देखा नहीं था क्योंकि कार अंधेरे में खड़ी थी और अन्दर की लाइट बंद की हुई थी.

मैंने अब अपने लंड के सुपारे को उसकी गांड की छेद पर लगाया और धीरे धीरे उसकी गांड में घुसाने लगा.मैंने मासूमियत से पूछा- मैं कब तुम्हारी खिंचाई की है?वो बोली- और अभी क्या कर रहे हो?मैंने कहा- अरे ये वाली खिंचाई … मैंने सोचा कि वो वाली!वो समझ गई और बोली- अच्छा मतलब वो वाली खिंचाई करने के इरादे से हॉस्टल में घुसने का तरीका पूछ रहे थे?मैंने कहा- हां यार आज सर्दी कुछ ज्यादा ही है … अकेले मन नहीं लग रहा है.

पंजाबी xx - घड़ी मूवी बीएफ

हम दोनों आंखों ही आंखों में एक दूसरे को देख रहे थे और मस्त चुदाई भी चल रही थी.जैसे तैसे दर्द को बर्दाश्त करते हुए मैं उसके लंड को चूसती रही और पीछे से दूसरे लिंग के धक्कों को अपनी गांड में बर्दाश्त करने लगी.

दोस्तो, जैसा कि मैंने बताया कि वो थोड़ा मोटी थी, तो उसके चूतड़ बहुत ही मुलायम थे. घड़ी मूवी बीएफ मैंने मन में सोचा कि इस साले का मूसल मेरी बीवी की चूत के अन्दर कैसे जाएगा.

एक रात वो अपनी मॉम के चूत को चाटने के बाद लंड डाल रहा था, तो शिखा आंटी ने अमित को एक थप्पड़ मार दिया.

घड़ी मूवी बीएफ?

[emailprotected]देसी न्यूड आंटी स्टोरी का अगला भाग:सरसों के खेत में मामी को चोदा- 4. मैं ओके कहा, तो उन्होंने मेरा लंड पकड़कर अपने मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगीं. मुझे तो नम्रता का नंबर चाहिए था, तो मैंने व्हाट्सएप में बात करना चालू कर दिया.

मैं समझ गई कि ठंडा गरम नमकीन का मतलब चुत, लंड चुसवाने और गांड मरवाने से कहा जाता है. झाड़ी झकाड़ से भरी हुई जगह थी वो।पवन का दोस्त मोहित भी काफी हट्टे शरीर का था और किसी पहलवान की तरह ही लग रहा था। वो बार बार मुड़ कर मेरी तरफ देखता, मगर कुछ बोल नहीं रहा था।करीब आधे घंटे बाद रूपा जल्दी जल्दी चलते हुए आई. उस दिन के बाद से मैंने ठान लिया कि मैं अनु को पटाने की पूरी कोशिश करूंगा.

वो बाइक पर दोनों तरफ पैर करके बैठ गईं, जिससे उसके नरम नरम चूचे मेरी पीठ से रगड़ने लगे. वो मेरी तरफ देखकर हंसी और उसने मेरे लंड को मुँह में ऐसे भर लिया, जैसे सालों की प्यास के बाद किसी को पानी मिला हो. मगर उसके स्तन इतने बड़े थे कि ब्रा के कप उसकी चूचियों के लिए बहुत छोटे पड़ रहे थे.

हम दोनों एक ही साथ झड़े।दोनों पसीने से लथपथ हो गए थे। कुछ देर तक दोनों एक दूसरे से लिपटे हुए हांफते रहे. अब उन्होंने धीरे धीरे मेरी नाइटी को अपने हाथों से ऊपर किया और मेरी जांघों पर हाथ फेरने लगीं.

उसकी उत्सुकता देख कर रोहन बोला- सारा इंतजाम कर दिया है मैंने, लड़की अंदर बेडरूम में ही है.

जब मुझे उनके वजन से तकलीफ हुई, तो मैं कोशिश करके मामू के नीचे से निकली और वहां से घर चली गयी.

इसके बाद रविन्द्रनाथ ने अपनी जेब से दारू का अद्धा निकाला और गटगट करके आधा पी लिया और बाकी मेरी मां के मुँह से लगा दिया. हम दोनों लडकियां बाहर निकलीं और पीछे के दरवाजे से घर के बाहर निकल गईं।आसमान में चांद की रोशनी आज कुछ ज्यादा ही तेज थी। जल्दी जल्दी चलते हुए कुछ ही समय में हम दोनों उस खण्डहर तक पहुँच गए। उस समय मैंने सलवार कमीज पहना हुआ था और दुपट्टे से अपने सर और मुँह को ढक रखा था. उसके भरे हुए दूध चूसते चूसते मैंने एक निप्पल को दांतों से काट लिया, तो उसकी मीठी सी चीख निकल गई.

मैं अपने आपको भाग्यशाली महसूस कर रही थी। उन पलों में मेरी कामुकता और बेशर्मी की सीमा न थी। मैंने जेठजी की तरफ मुस्कुराते हुए देखा और महसूस हुआ कि वो भी बहुत खुश लग रहे थे। मुझे एहसास हुआ कि मैंने जेठजी को प्यार देने में कोई कसर नहीं छोड़ी. उनकी मदमस्त चूचियां बारी बारी से मेरे होंठों में दब कर चुस रही थीं. मैंने कहा- कुछ देर पहले तो हां की थी तुमने!वो बोली- मुझे डर लगता है, कहीं कुछ गलत न हो जाये!मैंने कहा- कुछ गलत नहीं होगा.

उसके साथ मैं बहुत मजाक करता हूँ उसकी बड़ी बहन की शादी में उसने मुझे बताया कि वो मुझसे प्यार करती है.

वो अपनी चोटी को छुड़ाने लगी तो मैंने उसकी कमर को पकड़ कर उसे घुमाते हुए दूसरी तरफ कर लिया. फिर मैंने अपने लंड पर खूब तेल लगाया और उसकी बुर को फैला कर उसकी वर्जिन बुर पर अपने लंड का सुपारा टिका दिया. मैंने मौसी से जानबूझ कर कहा- मौसी आपके पास कोई नाइटी है, तो मुझे दे दो … रात में सूट पहन कर सोने में दिक्कत होती है.

भाभी की चुत चुदाई की मेरी न्यू कामुकता कहानी फ्री ने कैसा रंग जमाया, ये मैं अगले भाग में लिखूंगा. साधना और पारूल को चुदाई के लिए बेताब देख कर उसका मन भी शायद चुदवाने के लिए करने लगा था. फिर शुभम ने अपना लंड नम्रता के मुँह में दे दिया और वह भी लंड चूसने लगी.

जेठानी जी मुझसे बोलीं- तू संभाल अपने देवर को, मैं तो ये लाइव चुदाई देखूंगी.

वीडियो काल पर मैंने उन्हें अपना खड़ा लंड दिखाया और उनकी चूत और गांड को पूरी तरह से नंगी करवा कर लंड हिलाया. मेरी चूत की प्यास को देख कर वो मेरी चूत में जीभ से चोदने लगे और मैं पागल होने लगी.

घड़ी मूवी बीएफ अब मैं कई बार दिन में उनसे जानबूझकर टकराने लगी ताकि उनके अंदर हवस के शोले भड़का सकूं. फिर एक हाथ चूची पर और दूसरे हाथ की एक उंगली उसकी चूत में करके मैं उसको मजा देने लगा.

घड़ी मूवी बीएफ तो सचमुच लसलसा कर गीली हुयी पड़ी थी।मेरा अब न तो पढ़ने में मन लग रहा था और न ही स्कूल में। बस मुझे घर जाना था।जैसे ही स्कूल छूटा, मैं घर आ गयी. मैं उनके घर चला गया क्योंकि रिश्तेदारी की बात थी और मैं मना नहीं कर सकता था.

बस अब उसने मेरी ओर झुकते हुए मेरे होंठों पर अपने होंठ जमाए और लंड को चूत के अन्दर ठेल दिया.

मुझे हिंदी सेक्सी वीडियो

रात के करीब दो बजे में उठकर बाथरूम जा रहा था, तब मुझे पीयूष के रूम से आवाज आई. तो उन्होंने इशारे में पूछा- क्या हुआ? ऐसे क्यों देख रहे हो?मैंने ना में सर हिलाकर कहा- कुछ नहीं … बस ऐसे ही बैठा हूँ. दरबान डेढ़ घण्टे में अमिता के साथ वापस आया और मैं उतनी देर सिर्फ बैठ कर सोचता रहा.

उसको रोक कर कहा कि मुझे उसके साथ दोस्ती करनी है और उसका नम्बर मांग लिया. उसके बाद सुनीता भाभी ने मुझसे मेरा नंबर लिया और कहा- मैं आपको कॉल करके पूछ लूंगी … क्योंकि रोज़ रोज़ मेरा मार्किट आना पॉसिबल नहीं हो पाता. मेरी उदासी देख कर भाभी मेरे से गले लग गईं ओर हम वापिस शादी में आ गए.

वो बोली- अच्छा! ऐसा क्या है अनु भाभी में?मैं बोला- आपकी आंखें भी बहुत मस्त हैं.

अब मैं पेट से हूं … तो प्लीज अब थोड़े दिन भूल जा मुझे … मेरे लिए बच्चा सब कुछ है. मामी जी अब तक पूरी तरह गर्म हो चुकी थी। वो भी मेरे लन्ड को अपनी प्यासी चूत में लेने के लिए तरस रही थी।मगर जितने नखरे उसने किये थे मैं भी सबका बदला लेना चाहता था. मुझे देख कर गुस्सा आया कि साला खुद तो संतुष्ट हो गया लेकिन मेरी मां को प्यासी छोड़ दिया.

मैंने पहले कभी किसी लड़की या महिला के साथ सेक्स नहीं किया था इसलिए समझ नहीं आ रहा था कि अपने बारे में क्या बताऊं. इतना हक तो विकास का भी था मेरे जिस्म पर कि वो मेरे जिस्म के साथ छेड़खानी करके खेल सके. शाम को सात बजे सनी का फोन आया और उसने मुझसे सामान बताया कि उसने वोडका ले ली थी.

पीछे धकेलते हुए वो बोली- क्या कर रहे हो गौतम? कोई देख लेगा!मैं हटा और दरवाजा ढालने के लिए चला गया. मेरी बेटी उसका लंड चूसते हुए बोली- साहब आपका 7 इंच का लौड़ा है … कौन सी हिम्मत वाली रांड होगी, जो आपका लंड पूरा अन्दर लेगी.

जब तक बेचारा रवि कुछ समझ पाता, तब तक समीर ने अपना पूरा वजन रवि के शरीर पर डाल दिया. मैंने कहा- तुम क्या चाहोगी?वो बोली- मुझे तुम पसंद हो और मैं बस तुम्हें खोना नहीं चाहती हूँ. इस तरह डेढ़ दो घंटे तक मेरी चुदाई चली और सबने क्रम से मेरी योनि में अपना वीर्य छोड़ा.

मैंने पूछा- ये चाय का कप किसके लिए?दीदी ने कहा- बाहर मेरे देवर के लिए.

अब मेरे दोनों स्तनों का आधे से ज्यादा हिस्सा बाहर को झलक रहा था। अपने आपको आईने में देखा और अपने हुस्न के जलवे से मुझे अपने पर गर्व होने लगा। मन में सोच लिया था कि भैया को दीवाना न कर दिया तो मेरा नाम भी सोनी नहीं।अब मैं पूरी तरह तैयार थी और मैंने हरी भैया को मैसेज किया कि जल्दी आइये, मैं घर पर अकेली हूँ।मेरी धड़कन जोर से बढ़ने लगी। घबराहट सी हो रही थी. जैसे ही मैंने उसकी सलवार कुर्ती उतारी, तो दो कपड़ों में ब्रा पेंटी में वो उठ कर खड़ी हो गई. उसका नाम गुड़िया (बदला हुआ) था।दिखने में वो थोड़ी सांवली सी थी लेकिन अगर उसका फिगर कोई देख ले तो बस मुठ मारे बिना नहीं रह पाये.

जाह्नवी- मैं तेरे साथ चुदाई करूंगी लेकिन तुझे मेरे से शादी करनी होगी और अपनी पहली बीवी को तलाक देना होगा. मम्मी- दूसरी किसकी?मैं- किसकी क्या … घर में तुम्हारे अलावा कौन है … उसी का छेद मिलेगा.

मैंने डैड के जाने के बाद उनके जमाए हुए बिजनेस को संभालना शुरू किया था. मैंने अपने मन को दिलासा दी कि चल डिम्पू … कोई बात नहीं ये माल तो अब यहीं रुकने वाला है. वो लड़की सेक्स के किये बेचैन होकर एकदम से जोर से सिसकार उठी- आह्ह … आहहहा … आआ … आहह् … ओह्हह … ओओईई … उम्म … आह्ह निलेश … आई लव यू … आह्हहह … ऐसे ही करो.

सेक्सी पिक्चर सेक्सी पिक्चर आदिवासी

मैंने धीरे से उनके ऊपर आने की कोशिश की और उनकी चूत में एक उंगली कर दी.

गाँव की चुत चुदाई कहानी में पढ़ें कि मामी की चूत चुदाई के बाद से मेरा लंड मुझे चैन से नहीं बैठने दे रहा था. मैंने अल्पना की जींस के बटन खोल दिए और पैंटी के साथ नीचे खींचते हुए उसे पूरी नंगी कर दिया. मैंने बाबूजी का साथ देना शुरू किया और अब ससुर बहू दोनों ही एक दूसरे से नंगे लिपटे हुए एक दूसरे को चूमते हुए सेक्स का मजा देने और लेने लगे.

उनकी मादक आवाजें बराबर निकल रही थीं और वो रंडी की तरह खूब जोर से चिल्लाते हुए लंड ले रही थीं. अब उससे मेरी बात कुछ इस प्रकार से आगे बढ़ी कि वो एकदम से मचल गई और पूछने लगी कि अब तक कितनी को चोदा है. ब्लू मूवी मूवीउसके रसीले होंठों के सामने मैं ज्यादा देर तक नहीं टिक सका और उसके मुँह में ही झड़ गया.

उसके बाद मधु की बोलती हम दोनों ने कैसे बंद की, उसके बारे में विस्तार से मैं अपनी आगे आने वाली कहानी में बताऊंगा. अब आगे की क्रेजी डिल्डो सेक्स स्टोरी:मुझे दस मिनट का आराम करने का मौक़ा दिया गया.

[emailprotected]इंडियन सेक्स आंटीज़ स्टोरी का अगला भाग:सरसों के खेत में मामी को चोदा- 3. वे बोले कि उनकी शादी हो जाने दो, उसके बाद अगर वो चाहेंगे, तो उनको भी ग्रुप में शामिल कर लेंगे. मगर मैं गुड़िया को अभी और तड़पाना चाहता था इसलिए मैं उसकी बुर में लंड नहीं डाल रहा था.

मूतने के बाद भाभी उठी नहीं … सीधे गांड को नीचे सरका कर चूत लंड पर रख कर बैठ गईं और लंड पर उछलने लगीं. उसने बिना किसी हिचक के बड़ी अदा से सिगरेट होंठों में फंसाई और लाईटर से सिगरेट जला कर एक कश खींचकर धुंआ छोड़ा. मेरी चाची की चुदाई की कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी चाची ने मूतते हुए मेरे लंड को देख कर पकड़ लिया.

वो मेरे लंड को देख कर मचल उठीं और उन्होंने मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया.

आशीष ने मेरे कान में कहा- भाभी, मेरी चुदाई कैसी लगी?मैं कुछ नहीं बोली. फिर पल्लवी अपने पीजी से जाकर अपने कपड़े ले आयी और वार्डन से बोल आयी कि वो दो-तीन दिन अपने रिलेटिव के यहां रुकेगी.

जब उसने अपने पति के जाने के बारे में बताया तो इस पर मैंने कहा- इसीलिए आपने मुझसे वो कलेक्शन मंगवाया था. उसके बाद क्या हुआ?दोस्तो, मेरी गर्ल xxx सेक्स स्टोरी शुरू करने से पहले मैं आप सबको अपना एक छोटा सा परिचय दे दूँ. वो मेरी बात को मानते हुए घुटनों के बल बैठ गईं और मेरी ओर देखकर मेरे पैंट की बटन और जिप को खोलने लगीं.

घर से निकलने के बाद मैंने ट्रेन पकड़ी और उसके बाद मैं खुरई पहुंच गया. उसकी स्थिति पर मुझे दया आती थी इसलिए मैं उसके साथ अच्छे से बात करता था. जिया मेम- उहहह … ओहह मानव … स्टॉप इट। तुम्हारा टाइम खत्म हो गया है.

घड़ी मूवी बीएफ मेरी हाउसवाइफ सेक्स स्टोरी आपको कैसी लग रही है? अपनी राय और प्रतिक्रिया देने के लिए नीचे दी गई ईमेल पर अपने संदेश भेजें. इस तरह डेढ़ दो घंटे तक मेरी चुदाई चली और सबने क्रम से मेरी योनि में अपना वीर्य छोड़ा.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो पोर्न एचडी

मेरे लंड की तड़प थोड़ी ही देर में मिटने वाली थी और मामी की गर्म चूत को भी ठंडक मिलने वाली थी. उस मेरी नज़र उसके 32 साइज के मम्मों पर ही टिकी थी और वो ये बार बार नोटिस कर रही थी. मैं उम्मीद कर रही थी कि लुंगी हटते ही लंड के दर्शन हो जायेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

मैं वादा करता हूं कि आप और जिया मेम के बीच में जो पति पत्नी का रिश्ता है उस पर भी कोई असर नहीं आयेगा. जब तक मैं कुछ समझ पाती, किसी ने दीवार की दूसरी तरफ से मेरे कपड़े खींच लिए थे. हिन्दी मे xxxकुछ देर की मस्ती के बाद मैं उसकी जींस खोलने लगा, तो वो बटन पर हाथ रख कर शर्माने लगी और बोली कि नहीं यार … यह सब अभी नहीं … कोई आ गया तो!मैंने बोला- कोई नहीं आएगा … तुम टेंशन ना लो मेरी जान.

वो आवाज़ें सुन कर लोकेश के रोंगटे खड़े हो गए। उसने रोहन से पूछा- ये किसकी आवाज़ है?रोहन ने कहा- मैं इस लड़की को जानता हूं और यही वो सरप्राइज है.

उन्होंने कहा- बेटा कोई प्रॉब्लम नहीं है … तुम मेरे घर कभी भी आ सकते हो. फिर कुछ देर चाटा और तेल की शीशी उठा कर मेरे कंधों पर मसाज करने लगे.

एक बेहतरीन सी चूत की महक मुझे पागल करने लगी और मैंने पेंटी के ऊपर से ही अपने जीभ से बीवी की चूत को चाट लिया. यह कुवारी लड़की का सेक्स कहानी मेरे और मेरी मौसी की लड़की के बीच की है. और कंडोम के ऊपर उसने पूरे लंड पर शहद लगा लिया।मैं चूतड़ों ऊपर करके और सर झुका कर उसके लंड के घुसने का इंतजार कर रही थी।नीरव ने मुझे कमर से कस कर पकड़ लिया.

लेकिन मैंने मेरा हाथ नहीं हटाया।मामी बोली- रोहित! मैंने तुझसे जो कहा था वो याद है या नहीं?मैंने कहा- मामी जी, मुझे आपकी चूत चोदनी है, मुझे तो बस यही याद है और कुछ याद नहीं आ रहा।मामी- नहीं, मैं तुझे ऐसा नहीं करने दूंगी.

जो फोटो उसने भेजी उसमें उसने एक टाइट कमीज पहनी हुई थी जिसमें उसके चूचे बहुत ही मस्त और बड़े दिख रहे थे. दुनिया में बस औरतें ही तवायफ नहीं होती हैं, मर्द भी तवायफ होते हैं. मेरी पिछली कहानीमां-बेटी ने चुद कर चलाया बिजनेसआपने पढ़ी और पसंद की.

हिंदी बीएफ देहाती हिंदी बीएफ देहातीमैं हाथ बड़ा कर अपनी बीवी के चुचियों को मसल रहा था और अपनी बीवी से लंड चुसवा रहा था. लावा निकालते वक्त मैं उसके होंठों के रस को पागलों की तरह पी रहा था.

फुल एचडी सेक्सी वीडियो नंगी

उसकी नाभि को चाटने के बाद एक बार फिर से मैंने उसके बूब्स पर हमला बोल दिया. और सबने एक-एक बार मेरी चूत मारी, पूरन और प्रिंसीपल से मैंने गांड चुदाई।फिर हम सब साथ में नहाए, सबने मिलकर मुझे साफ किया।मैंने कपड़े पहने और मैं घर के लिए निकल गई।तो दोस्तो, ये थी मेरी चूत गांड चुदाई कहानी, रांड बनने की कहानी, मेरी और भी कहानियाँ है जिसे मैं आप तक जरूर पहुँचाऊंगी। तब तक के लिए ‘गुड बाय’।[emailprotected]. उनको नंगी देख कर मैं उत्तेजित होने लगा और मैंने अपने सारे कपड़े खोल दिए और पूरा नंगा हो गया … ताकि मम्मी को चोदने के लिए तैयार कर सकूं.

मेरी नजरें उनसे मिलीं तो हम दोनों एक दूसरे को देखकर स्माइल करने लगे. दोस्तो, अब आप लोग ये सोच रहे होंगे कि जिस औरत का पति एक इतना बड़ा बिजनेसमेन है और सेक्स भी जम कर करता है, अपनी बीवी को प्यार भी करता है लेकिन फिर भी वो एक गैर मर्द से चुदने के लिए तैयार हो गयी?यदि आप ऐसा सोच रहे हैं तो मैं आपको बता दूं कि इसके पीछे भी एक बहुत बड़ा ट्विस्ट छिपा हुआ है. मैं जबलपुर का रहने वाला हूँ। मैं एक कारोबारी हूँ, मेरा काम काफी बड़ा है। मैं कई राज्यों में जाता रहता हूँ।मैं इस साइट का बहुत बड़ा फैन हूँ। मैंने इस साइट की काफी कहानियों को पढ़ा है।आज मैं अपनी मदर इन ला Xxx स्टोरी आप लोगों को बताने जा रहा हूँ। यह कहानी मेरी मौसी सास के बारे में है.

अब मैं महीने की उस एक मुलाकात के खातिर जीने लगा, पर दिल में उसको पाने की और हमेशा के लिए अपना बनाने की ख्वाहिश नहीं गयी. वो काउंटर से बाहर आ गया और मेरी बांह पकड़ते हुए बोला- आज कोई बहाना नहीं चलेगा, अरे जब तक इनिशियल स्टेप नहीं लेंगे तो शुरूआत कैसे होगी? चलिए पहले तो मैं आप को टेस्ट कर लेता हूं. सब गांव की लड़की की जवानी का मजा लूटना चाहते थे और जब दिल भर जाता तो किनारा करके अलग हो जाने की मंशा रखते थे.

अगर मामी नाराज हो गयी तो चूत चोदने का मिला मिलाया मौका हाथ से निकल जायेगा. कुछ देर बाद वो मेरी बेटी से बोला- चल कुतिया, फिर से लंड चूस कर खड़ा कर.

तो क्या क्या करना पड़ेगा और कितनी फीस वगैरह होगी?मैंने उसे सारी बेसिक चीजें बताईं और बोला कि लोअर, जूते और पानी की बोतल साथ में लेकर आ जाना.

यह मैंने इसलिए किया क्योंकि मुझे पता था कि अब मैं पीछे वाले बरामदे में कपड़े सुखाने जाऊँगी और जेठ जी वहां व्यायाम कर रहे होंगे. সানি লিওন ভিডিও বিএফआंह तू तो बड़ी मस्त रांड है मादरचोद … ले हरामन पूरा चूस भैन की लौड़ी. बीएफ xxr पहियों कीमत फिलीपींसमैं उसके होंठों को चूसने लगा और एक हाथ से उसके मम्मों को दबाने लगा. ऐश्वर्या- डैड क्या हुआ?ससुर- उस रात हम दोनों के बीच जो हुआ था ऐश्वर्या, उसको भुलाना मुश्किल है.

वो आदमी बेड पर बैठ गया और उसने एक सिगरेट सुलगाते हुए मेरी बेटी को आँख मारी.

वो चुपचाप लंड के इंतजार में लेटी हुई थी कि कब उसकी चूत और गांड को मेरे लंड का स्पर्श मिलेगा. मोहित अंकल ने मुझे देखा और बोले- डार्लिंग, तुम्हारा लौंडा गर्म हो गया है. मैंने फोन उठाया तो उधर से मेरे एक बचपन के एक दोस्त गोल्डी ने हैलो किया.

मैंने रूम को बाहर से लॉक कर दिया जैसा कि निखिल ने मुझसे करने के लिए कहा था. ये देखते ही उसी टाइम मैंने उनको अपनी बांहों में खींच लिया और जोर से अपने सीने से चिपका लिया. मैं सोच रही थी कि आज यदि भाई मेरी चुत में लंड पेलेंगे, तो मैं लंड अन्दर ले ही लूंगी.

भाभी की सेक्सी पिक्चर दिखाएं

ऐसा बोलकर अल्पना मेरे लोवर में हाथ डालकर मेरी गुलब्बो रानी को मसलने लगी. मैंने अपनी बीवी का चेहरा थाम लिया और पहले उसके माथे पर, फिर नाक पर, फिर दोनों गालों पर बारी बारी से चूम लिया. 10-15 मिनट की चुदाई के बाद उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और मेरे गले को काटते हुए अपना माल मेरी योनि में गिरा दिया.

फत्त … की सुखद आवाजें आ रही थी।मेरा मन हो रहा था कि अब चाची की चुदाई रुकनी नहीं चाहिए.

एक दिन दीदी अपने कमरे में सो रही थीं और मेरी अम्मी उन्हें आवाज़ दे रही थीं.

उसने मुस्कराकर मुझे देखा और अंदर आने को कहा। मैं अंदर गई और उसने मुझे बैठने को कहा तो मैं सोफे पर जाकर बैठ गई।वो फिर किचन में गया और दो ग्लास जूस ले आया। हमने साथ में जूस का ग्लास खत्म किया। हम दोनों फिर बात करने लगे। मैं तो विश्वास ही नहीं कर पा रही थी कि पूरन इतना पैसे वाला निकलेगा इसलिए मैंने पूछ ही लिया. मैंने उसके चुचों को चूसना जारी रखा और उसकी नाभि में अपनी उंगली चला दी … इससे वो मचल उठी. एक्स एक्स एक्स हिंदी देसी वीडियोअब दीपक जी के मुँह में एक एक करके समीर और रवि अपने अपने लंड घुसाने लगे.

चुदाई करके जब हम जाने लगे तो रास्ते में पैर फिसल जाने के कारण मामी गिरी और मैं भी गिर गया. मैं सामने झुक कर खाना डालने लगी तो देखा कि उनकी नजर मेरी चूचियों की घाटी में झांक रही थी. उस समय अमित अपनी मॉम के मम्मों को चूस रहा था और अपने एक हाथ से उनकी गांड को सहला रहा था.

मैंने दादाजी की पकड़ से एक हाथ छुड़ाकर उनकी पीठ पर सहलाते हुए उनको कस कर पकड़ लिया. सोनी फिर आगे बताने लगी और बोली- मैंने सोचा कि क्यों न मैं अपनी चूत के बाल साफ कर लूं.

चम्पा- क्या जंवाई बाबू … ऐसे गोरे गालों को इतनी जल्दी थोड़े ही न छोड़ा जाता है … जरा कस कर मसल कर रंग लगाओ.

ऐश्वर्या के ससुर उसके पास गए और खुद पहल करके उन्होंने ऐश्वर्या को खड़ा कर दिया. और एक बार फिर से मां को कुतिया बनाकर उनकी चिकनी चौड़ी गांड में अपना लंड डाल दिया. उसका रास्ता भी बाहर से ही बना हुआ है इसलिए किरायदारों से ज्यादा मतलब भी नहीं रहता है.

सेक्स बीएफ देहाती वो रात को अपनी मॉम के साथ ही सोता था और रात को अपनी मॉम की चूत सहलाता था. वो रविन्द्रनाथ मेरी नानी को खेत के पास अपने ट्यूबबेल के पास ले जाते थे.

चाची ने मुझे कई बार चूमा और मैंने भी बदले में उन्हें कई बार चूमा। चाची की चुदाई के बाद हम दोनों बहुत खुश थे. आज वो बोलीं- तुम मुझे परेशान क्यों कर रहे हो?मैं- मुझे बस आप चोदने दो. पूरी तरह से नंगा हो कर वो मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरे स्तनों से खेलने लगा.

सेक्सी पिक्चर फिल्म हिंदी सेक्सी

ऐश्वर्या- अविनाश का इतना बड़ा है और मेरे ससुर का इससे थोड़ा छोटा है. मैंने नताशा को इस काल्पनिक शो के बारे में बता दिया था, इसलिए वो अच्छी तरह से जानती थीं. करीब 10 मिनट तक चुसवाने के बाद मेरा सारा कंट्रोल ढेर हो गया और मेरे लंड ने उसके मुँह में पिचकारी छोड़ दी और वो xxx गर्ल मेरा सारा वीर्य पी गई.

उसको अहसास हो गया था कि वो बस मेरी शारीरिक जरूरत को पूरा कर रही है. मुझे नहीं लगता था कि मैं हिरोईन बन सकती थी इसलिए मैंने उसे इस बाबत पूछा कि उनको मेरे अंदर ऐसा क्या दिखा जो वो मुझे हिरोइन के रूप में लेना चाहते हैं?उसने कहा- मुझे ऐसी लड़की चाहिए जो यहां के मूल निवासी के जैसे दिखे और मंदाकिनी के जैसे जब अपने बदन को दिखाये तब लोग आकर्षित हों.

उनके जाते ही मैं उठी और फ़रज़ाना के गले में मैंने अपनी बांहें डाल दीं.

मगर तभी अंकल झड़ गए और आंटी को देख कर लग रहा था कि वो अभी भी प्यासी थीं. उन्होंने मेरे कपड़े फाड़े और वहीं पटक कर सीन के हिसाब से मेरी इज्जत लूटते रहे, जैसा कि फिल्मों में होता है. फिर मैं खड़ा हो गया और मैंने अपनी लोअर नीचे करके अंडरवियर भी नीचे कर दिया.

कोई पन्द्रह मिनट चुदाई के बाद मैं एकदम से झड़ गया, जिससे मुझे बहुत आनन्द मिला. फिर दूसरे हाथ से उन्होंने मेरी कुर्ती उठा दी और मेरी नाभि को चूसने लगे. उसको स्ट्रेच करते समय कई बार मेरे शरीर से उसके बूब्स और गांड टच हुए लेकिन उसने कुछ भी नहीं बोला था.

उधर दीदी ने रवि के लंड के सुपारे को अपने मुँह में ले लिया और जोर-जोर से अंडकोष दबाने लगीं.

घड़ी मूवी बीएफ: इसके अलावा आप हॉट ऑफिस सेक्स कहानी पर कमेंट्स में भी अपने सुझाव और विचार रख सकते हैं. मैंने उनके सिर को अपनी चूत में दबा लिया और जोर जोर से अपनी चूत को उनके मुंह पर रगड़ने लगी.

कसम से दिखने में अनु बहुत सुंदर थी और उसका बदन भी मस्त था। उसके चूचे बड़े मस्त थे. मगर माया भी मेरी जिन्दगी में थी और वो रोज सवाल जवाब करके मुझे अपने कंट्रोल में रखने की कोशिश कर रही थी. बैग के नीचे से मैंने अपने हाथ को उसकी जांघों पर रख दिया और धीरे धीरे जांघों को सहलाने लगा.

मैंने अपनी बीवी के बाल को पकड़ कर उसके मुँह में लंड ठेल दिया, जिसे उसने ख़ुशी ख़ुशी गले तक ले लिया.

मैं सोच में पड़ गया था कि क्या करूं, ये तो आज मुझे पेशाब पिला कर ही रहेगा और यदि मैंने नहीं पीया तो फिर ये दोबारा नहीं आयेगा. उनके लिए तो मैं अंदर वाले कमरे में बंद था, अचानक से मैं मेन गेट से कैसे अंदर आ गया?मगर चूंकि मैं अब आ ही गया था तो सबने उल्टे सीधे कपड़े डाल कर खुद को ढक लिया. मैंने धीरे धीरे लंड पूरा उसकी बुर में घुसा दिया और मेरा लंड उसकी बुर में फंसता फंसाता हुआ अंदर तक चला गया.