बढ़िया वाली बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,लड़की ने लड़की की गांड मारी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स कांटेक्ट: बढ़िया वाली बीएफ फिल्म, उसने मुझे काफी देर तक मेरी चूत को चोदकर भोसड़ा बना दिया और बाद में जब वो झड़ने को हुई तो उसने मेरे चूत से लंड निकाल कर मेरे मुँह में लंड डाल दिया.

पोर्न पार्टी

कुछ देर बाद देविका ने सामान्य होकर अपने हाथ से चूत को सहलाया और हाथ देखने लगी. बबीता के नंगे फोटोहॉट सेक्सी बेब चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी बहन की जेठानी ने मेरे लंड से खुश होकर अपनी दोनों बेटियों को मुझसे चुदवाने की सोची.

घर में ज्यादा भीड़ भाड़ होने की वजह से रूम ज्यादा खाली नहीं थे तो एक रूम में 3-4 लोगों को रहना था. मेहंदी हाथ में लगाने वालीमैं उसे गोद में लेकर ही चूमने लगा और बिस्तर पर लिटा कर उसके होंठों को चूसने लगा.

फिर भाभी मेरी गोद पर से उठ गई और जमीन पर अपने घुटनों के बल बैठ गयी.बढ़िया वाली बीएफ फिल्म: मैंने उसको मेरा लंड चूसने क लिए बोला पर उसने मना कर दिया और हाथ से ही मेरे लंड की मुठ मारने लगी.

पहले तो किरण मेरे साथ ज्यादा बात नहीं करती थी, फिर वो धीरे धीरे मुझसे खुल कर बात करने लगी.और वो मेरी उनकी मुलाकातों का पहला और आखिरी दिन बन जाता।मेरी तलाश जारी रहती!अब आगे मेरी Xxx सेक्सी हिंदी कहानी:ऐसी ही कुछ मुलाकातों में मैं एक आदमी से मिली, जिसका नाम नीरज था.

सेक्सी गाना दे - बढ़िया वाली बीएफ फिल्म

फिर भाभी बोलीं- पड़ोसन भाभी से ज्यादा मजा आया मेरे बाबू को या नहीं?मैंने कहा- अरे मेरी जान … वो तो नेशनल हाईवे बन गई हैं.एक ही झटके में पूरा लंड अपने गले तक ले गयी और जोर जोर से चूसने लगी.

मेरी बहन सोनी अपनी सलवार को नीचे करके घोड़ी बनी हुई थी और कल्लू पीछे से अपना लंड उसकी गांड में डाल कर धक्के लगा रहा था. बढ़िया वाली बीएफ फिल्म अन्दर वो मुझे भी उसी कमरे में ले आई जहां सब लड़कियां तैयार हो रही थीं.

उस रात भी मैंने दोनों की चुदाई देखी और उस रात भी दोनों ने 3 बार चुदाई की.

बढ़िया वाली बीएफ फिल्म?

उसकी मादक और कामुक सिसकारियों ने कमरे का माहौल बहुत ही रोमांचक कर दिया था ‘आह आह जानू प्लीज आज मुझे अपना बना लो. मैं मन में कहने लगी कि खाना खाकर … उसने आपकी बहू की इज्जत ही खा ली. जैसे जैसे मज़ा मिलता गया वैसे वैसे मेरे टट्टों में जमा हुआ वीर्य ऊपर की तरफ आने लगा.

राहुल पायल के चूचों को सहलाते हुए- आई लव यू पायल जान!पायल सांसों को इकट्ठा करते हुए- जंगली तो तू हो रहा था यार!राहुल- तू चीज़ ही ऐसी है कि मैं खुद पर काबू नहीं रख पाया. मैं दीपक इलाहाबाद से आप सभी का अपनी चुदाई कहानी में स्वागत करता हूँ. थोड़ी देर के बाद मैंने सुनीता को गोद में बैठा कर लंड पर बैठा लिया और नीचे से चोदते हुए उसके मम्मों को चूसने लगा.

भाभी ने फोन मेरे हाथ से लिया और उसे बंद करके मेरे होंठों से लग गईं. उसने मुझे आगे बताया कि इसीलिए वह अन्तर्वासना की या फ्री सेक्स की कहानियां पढ़कर और अपनी चूत में उंगली करके काम चल रही है. क्योंकि लाइट नहीं थी और सुमैत्री ने एमर्जेन्सी लाइट चालू की हुई थी.

जल्द ही आगे की सेक्स कहानी आपके मनोरंजन के लिए लेकर हाजिर हो जाऊंगा. मैंने मिनी स्कर्ट और टॉप पहन रखा था पर मुझे इस तरह कपड़े पहन कर सोने की आदत नहीं है.

दोस्तो, कैसी लगी हार्ड फक़ नेक्स्ट डोर गर्ल की कहानी … बताइएगा जरूर!आपका आशीष धन्यवाद.

कुछ देर बाद मैंने देखा कि सर मेरे हल्के खुले मम्मों को बड़ा घूर घूर कर देख रहे थे.

दरवाजे की घंटी बजाने ही वाला था कि सामने से साबिरा ने खुद दरवाजा खोल दिया. कुछ ही पलों में भाभी अपने रंग में आ चुकी थी और मंजी हुई रांड की तरह गपागप गपागप अपने अंदाज से लंड को चूसने में लगी थी. कहानी कुछ इस तरह से शुरू होती है कि शुरू शुरू में यशवंत भैया से मेरी बात नहीं होती थी पर धीरे-धीरे हमारी बात होने लगी थी.

तभी मेरे सर भी उठ कर आ गए और मुझे देख कर बोले- अरे पूनम तुम … इतनी बारिश में कैसे आ गयी?मैं बोली- सर ऑटो से. हम दोनों की रफ्तार अचानक तेज हो गई और बिस्तर पर राजधानी एक्सप्रेस दौड़ने लगी. बच्चे स्कूल चले जाते थे तो मैं भी ज्यादा से ज्यादा वक्त चाची के साथ ही रहने की कोशिश करता था.

दोस्तो, आप सभी को मेरी नंगी भाभी सेक्स कहानी कैसी लगी, मेल से जरूर बताएं.

जैसे ही मेरा लंड चूत की गहराई में जाता, उसके मुँह से निकलता ‘ऊउ ईई आआ आह. उन्हें पता चला कि कि वो गुलाबी गुलाबी जो था, वो उनके बेटे के लंड का सुपारा था. मैं हाल में आया और डाइनिंग टेबल के सामने एक कुर्सी पर नंगा बैठ गया.

उस दिन के बाद से मैंने महसूस किया था कि वो मेरी तरफ कुछ ज्यादा ही झुकने लगी थी और मेरी अंतरंग मित्र होने कि कोशिश करने लगी थी. मैंने कहा- प्लीज तुम अपनी पैंटी उतारो और मुझे अपनी डरने वाली चीज दिखाओ. मुझे एक पल के लिए तो हंसी आ गयी कि कैसे मैंने इन दोनों भाई बहन की वासना को जगा कर अपने जाल में फंसा लिया.

बड़ी मुश्किल से समय बीता और मेरा लेक्चर शुरू होने वाला हो गया था, पर अभी तक वो नहीं आई थी.

अब मेरा लंड सीधा बच्चेदानी में टकराने लगा और मॉम की सिसकारियां मधुर संगीत बन कर निकलने लगीं. एक बार को तो मैं डर गया लेकिन सुबह की बात याद करके मैं वैसे ही पड़ा रहा.

बढ़िया वाली बीएफ फिल्म अब धीरे धीरे ललिता भाभी की कामुक सिसकारियां आह आह निकलने लगी और उनकी कमर हिलने लगी. उसके बाद मैंने उनको पीठ के बल लेटा दिया और अपने हाथ में तेल लिया और उनके मोटे मोटे बूब्स की मालिश करने लगा.

बढ़िया वाली बीएफ फिल्म और हाँ तुम्हारी शर्ट की जेब में एक ख़त है, अपने घर पहुँच कर उसे पढ़ लेना. कुछ पल बाद उसने हाथ पकड़ कर अपनी चूत पर दबाव बनाया तो मैंने अपनी दो उंगलियों को उसकी चूत में डाल दिया.

एक दिन बातों बातों में पूनम ने बताया कि वो अपने पति से दूर अपनी मां के घर पर रहती है.

निशा की सेक्सी मूवी

मैंने कहा- आपको किस करना आता नहीं है या करना नहीं चाहती हो?वो बोलीं- मुझे नहीं आता है. वो बोला- कैसी लगी ब्रेड?मैंने कहा- मजा तो आया पर तुम्हारी गाढ़ी मलाई ब्रेड में लगी होती तो और मजा आता. हार्डकोर सेक्स के आखिर में लंड ने ज्वालामुखी विस्फोट कर दिया और वीर्य से ललिता की गांड को भर दिया.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में लिया और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को स्मूच करने लगे. उन दोनों को चुदाई करते हुए लगभग आधे घंटे से ज्यादा का समय हो चुका था और अभी तक बॉस का पानी नहीं निकला था. मैं देख ही रहा था कि उसने मुझे टोका- क्या देख रहे हो … कभी लड़की नहीं देखी क्या?मैं शर्मा गया और नीचे देखता हुए धीरे से बोला- हां आपके जैसी तो अब तक नहीं!वो सुन कर बोली- क्या बोले?मैंने आश्चर्य से कहा- कुछ नहीं.

फिर मेरा होने वाला था, मैं पूछा- रबड़ी किधर निकालूं डार्लिंग?चाची बोलीं- अन्दर ही टपका दो राजा.

तुम्हारा लंड भी इतना गोरा है कि मुँह से निकालने को भी दिल नहीं करता. चूत रस निकलने के कुछ पल बाद उसने मेरे पीठ पर अपनी उंगलियां धंसा कर कस लिया था. और जितना वक्त मैंने मर्दों के साथ गुजारा है, उससे इतना तो पता है कि मर्द खुद की देखभाल एक दायरे में करते हैं और उसके लिए खर्चा नहीं करते।नीरज ने मुझे अपने दोस्तों से मिलवाया.

मैंने कहा- कोई बात नहीं पागल, फ्लैट पहुंचने की देर है, मैं तुझे ढेर सारा प्यार दूंगी. जैसे ही मैंने उनको कान के निचले हिस्से को चूसा, वो पागल सी हो गईं और मुझे पागलों की तरह चूमने लगीं. चाची Xxx अन्तर्वासना कहानी में पढ़ें कि एक रात मैंने चाची चाचा की चुदाई देखी.

भाभी जब हंसती हैं तो उनके गालों में गड्डे पड़ते हैं, उस समय उन्हें देख कर मेरा दिल एकदम से पगला जाता है और मेरा मन भाभी को चूमने का करने लगता है. वो उठी तो घबरा गई और बोली- भैया इतना सारा खून?मैंने कहा- पहले नहीं निकला था क्या?वो बोली कि हां मगर थोड़ा सा ही निकला था.

अब मैं और जोश में आकर चोटी पकड़ कर चोदने लगा और बोला- ले साली ले … आज तेरी गांड़ फाड़ दूंगा. आंटी अपने भूरे बाल और पूरी पसीने में भीगी इतनी प्यारी लग रही थीं कि मुझसे रहा नहीं गया. थोड़ी वसलीन मैंने उसकी चूत पर लगाई और थोड़ी अपने लंड पर!और मैं उसे डोगी स्टाइल में चोदने लगा.

फिर मैंने मॉम को लिटाकर उनकी गांड के नीचे एक तकिया लगाया और लंड चूत में घुसा कर धबाधब चोदने लगा.

रूपा जानती थी कि मैं फिर से उसकी चुदाई करने वाला हूं इसलिए वो पहले से ही चड्डी और ब्रा में हो गई. जिस हिसाब से मेघना के जिस्म में चुदाई की गर्मी भरी हुई है और जिस प्रकार से उसका गदराया हुआ जिस्म है. कुछ ही देर में किरण की लार ने पाटिल जी का लौड़ा पूरी तरह से गीला कर दिया.

मन में तो आया कि कह दूं कि मर्दों के लोड़े से बेहतर नशा कुछ नहीं है. टीवी में भी शक्तिमान, चंद्रमुखी, चित्रहार, या संडे वाली फिल्म ही सब देखते थे वरना सब साथ में ही खेलते थे.

उसमें एक कहानी मुझको बहुत पसंद आई थी, जिसमें भाभी अपने 12वीं में पढ़ रहे देवर को ध्यान लगा कर पढ़ने का बोल कर उससे वायदा करती हैं कि यदि तुम एग्जाम में पास हो जाओगे, तो तुम्हारे लिए एक गिफ्ट है. माया मॉम- इसको हिन्दी में लंड बोलते हैं, एक औरत हो या लड़की, लंड दोनों की एक बड़ी जरूरत होती है, समझे?मैं- अच्छा, तो आपको इसकी जरूरत है?माया मॉम- हां बेटा, मुझे इसकी जरूरत तो बहुत ज्यादा है, पर तुम सोनिया दीदी को बता दोगे, तो उनको बुरा लगेगा. मैंने कहा- अरे बताओ तो!वो बोली- कुछ नहीं, वो स्टेशन पर कुत्ता कुतिया की याद आ गई.

मां और बेटा की सेक्सी

मैं- मॉम मैं कुछ समझा नहीं कि आप क्या बोल रही हो?माया मॉम- बेटा इसको (लंड) देखो और बताओ इसको क्या बोलते हैं?मैं- इसको पेनिस या डिक बोलते हैं मॉम, पर यह सब आप क्यों पूछ रही हो और आपने इसको पकड़ कर क्यों रखा है?अपनी मॉम के सामने मैं भोला इसलिए बन रहा था क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि मॉम की नजर में मैं हरामी बन जाऊं या अपनी मॉम की ममता को खो दूँ.

मॉम डैड से बोलीं- यार आपका लंड तो अब बूढ़ा हो चुका है, आप रोहन से कुछ सीखो. बहन- मगर ऐसा ही चलता रहा और तू हिलाता रहा, तो तेरी सेहत पर इसका बुरा असर पड़ेगा. साबिरा ने भी अपने भाई की आंखों में आंखें डालते हुए मेरे लौड़े पर जुबान घुमाई.

मैं दिखने में एक हट्टा कट्टा नौजवान मर्द हूं लेकिन मुझमें बहुत सी शारीरिक कमजोरियां हैं. कुछ ही देर में ललिता भाभी गर्म हो चुकी थीं और ‘आहह आहह …’ करके धीरे धीरे गांड हिलाने लगी थीं. पोर्न स्टार वीडियोउसके लिए उसे एक अच्छे खासे मोटे लंड की जरूरत है, जो कि मेरे पास नहीं है.

मेरी बात पर मुस्कुराती हुए नीता ने मेरे दोनों गालों पर बारी बारी से चूम कर कहा- बहुत बदमाश हो तुम. कुछ देर तक हर बिंदु पर सोचने के बाद मैंने ठान लिया कि कुछ भी हो जाए मॉम को अब चोद कर ही रहूँगा.

मैं भी कभी पहले न तो किसी लॉज में और ना ही किसी होटल में गया था और ना ही मुझे इन सब के बारे में कुछ मालूम था. फ्रेंड्स, मैं क्रॉसड्रेसर शिवानी एक नई कहानी लेकर फिर से हाजिर हूं. मॉम ने जब तक मुझे दबाए रखा जब तक पूरा माल उनकी चूत में नहीं गिर गया.

गीता की बातें सुनकर मैंने कहा- हां गीता, तो हम क्यों अपना समय बर्बाद कर रहे हैं. उसकी चूत से ढेर सारा हम दोनों का कामरस तकिए से होकर बेड पर बहने लगा था. यह मेरा पसंदीदा तरीका है क्योंकि किसी माल को जब घोड़ी बनाओ तो उसकी गांड पर जब धक्के पड़ते हैं और उसकी गांड जब लहराती है, तो वो मजा ही अलग है.

तुम्हारी इतनी चिकनी, गुलाबी और कसी हुई चूत देखकर मैं अपने लंड पर काबू नहीं कर सकता.

सुनीता की चूत पहले से पानी पानी थी, मेरे एक धक्के में ही लंड चूत में फच की आवाज के साथ अन्दर घुसता चला गया. जिस दिन मैंने सोनी को प्रोपोज़ किया था, ठीक 10 दिन बाद सोनी का बर्थडे था.

लेकिन जब धारा ने उसके लंड को अपने मुँह में नहीं भरा तो शेखर ने अपनी आँखें खोलकर ये देखने का प्रयास किया कि आख़िर वो कर क्या रही है!आँखें खुलते ही शेखर ने देखा कि धारा एकटक उसके लंड को निहार रही थी और अपने होठों पर बड़े ही मादक अन्दाज़ में अपनी जीभ फिरा रही थी. उसकी छोटी सी बुर से बेहद मादक और उत्तेजक गंध आ रही थी जिससे मेरा रोम रोम खड़ा हो गया. मेरी बातें सुनकर साबिरा ने आंखें खोल कर अपने भाई जान की तरफ देखा और हल्के से हंसकर उसको चिढ़ाने लगी.

आप इस देसी गर्लफ्रेंड रोमांटिक कहानी पर अपनी राय मुझे मेरे ईमेल आईडी पर बता सकते हैं. सोफे के ऊपर बैठ कर मुझे साफ दिखाई दे रहा था कि कैसे उनका लम्बा चौड़ा लौड़ा रेशमा की भोसड़ी को तार तार करके अन्दर दाखिल हो रहा था. अब वो दोनों कभी मेरी गांड मारते, कभी चूत … या कभी दोनों एक साथ चोदने लगते.

बढ़िया वाली बीएफ फिल्म Xxx विडो चुत गांड कहानी में पढ़ें कि भरी जवानी में विधवा होने पर मुझे सेक्स की जरूरत महसूस होने लगी थी. वे चाहते थे कि हम साथ में झड़ें।और उनकी यह सोच रंग लाई।हम एक साथ झड़े.

सेक्सी ब्लू कुमारी

इस पर वो आदमी झट से पैग बना कर लाया और बोला- आज तो इस रांड का मैं भी भोग लगाऊंगा. अब मैं आपके साथ मेरे और मेरे साले की बीवी के बीच हुई सेक्स कहानी को साझा कर रहा हूँ. चूंकि मैं काफी उत्तेजित हो चुका था इसलिए मैं सुमैत्री को देखता रहा और धीरे धीरे उसकी तरह बढ़ने लगा.

बीच बीच में वो मेरी जांघ को सहला रहे थे और अपने सीने से मेरे दूध को दबाये जा रहे थे. Xxx विडो चुत गांड कहानी में पढ़ें कि भरी जवानी में विधवा होने पर मुझे सेक्स की जरूरत महसूस होने लगी थी. टाइटन जेलअब मेरा लंड भी मंजिल पर पहुंच गया था और झटके के साथ लंड ने पिचकारी छोड़ दी.

मेरे गांव में मेरे लिए सब नए थे क्योंकि मैं शुरू से ही बुआ के घर रही थी.

मैंने उन्हें मुझे हिंदी में गालियां देने को कहा।साली छिनाल, तू भी कल रात चुदना चाहती थी, नखरे कर रही थी बेकार के, आज तेरे सारे नखरे निकालूंगा।” यह कहकर उन्होंने मेरी एक टांग हवा में उठा दी और उसी तेजी भरे झटकों से चोदना जारी रखा।रमन में गजब का स्टैमिना था, वो मुझे एक घंटे से लगातार पेले जा रहे थे. उनका खड़ा लौड़ा मेरी गांड की दरार में घुस गया और वो एक हाथ मेरी नंगी जांघ पर रख कर मुझे मेरी सारी वीडियो बारी बारी से दिखाने लगे.

मैं साबिरा की जांघों को प्यार से सहलाते हुए अपने हाथ उसकी कमर के नीचे ले गया और उसको थोड़ा ऊपर उठा दिया. शर्ट काफी खुल गई थी जिससे मेरे काफी गहरी क्लीवेज साफ़ दिख रही थी और ब्रा न पहने होने की वजह से मेरे निप्पल्स एकदम खड़े और साफ दिख रहे थे. MILF सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी एक प्रशंसक पाठिका ने मुझे अपने घर बुलाया.

उसके बाद शाम के 4 बजे तक कोचिंग से सभी छात्र, शिक्षक एवं अन्य लोग वापस चले गए.

हैलो फ्रेंड्स, मैं सुधा आपके सामने अपनी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. उसकी दोनों जांघें कांपने लगीं और सारे कमरे में उसकी सिसकारियां गूंज उठीं- आह्हह आआह्ह मम्मीईई आह्हह ओओह … बसस्स आंह्ह!जल्द ही उसकी पूरी बुर पानी से लबालब भर गई और मैं उस पानी को बड़े प्यार से चाटता गया. वो बोली- कितना बड़ा है तुम्हारा!मैंने पूछा- पसंद नहीं आया क्या?वो शरारत भरी नजरों से मेरी आंखों से देखने लगी और मेरे लंड को मुँह में ले लिया.

कुंवारी लड़की की पहली बार चुदाईशेखर के लंड की बेचैनी को महसूस करते हुए धारा ने शेखर के होठों को चूसना बंद किया और अपनी गर्दन थोड़ा सा ऊपर उठा कर शेखर की आँखों में देखते हुए लंड की टोपी को अपनी हाथेलियों से खोलते हुए सुपारे को अपनी गांड के छेद पे रगड़ने लगी. मेरा हाथ अपने हाथ में पकड़ कर उसने अपनी चड्डी पर रखा और खुद मेरा हाथ अपनी गर्म चूत पर रगड़वाने लगी.

ब्लू फिल्म वीडियो सेक्सी फिल्म वीडियो

मैंने भाभी को दोनों चूचियों को कसकर पकड़ लिया और जोर से धक्का लगा दिया. मैंने एयर कंडीशनर को फुल स्पीड पर चालू करके रुचिका के कपड़े उतार दिए और चादर खींच कर मैं भी नंगा होकर उससे चिपक कर लेट गया. उसके लबों पे फैली मुस्कान शेखर को इस बात का अहसास दिला रहे थे कि धारा आज उसे पूरी तरह से तड़पा कर उसे बेसुध बनाने का इरादा कर बैठी थी.

भाभी- पर आप तो कह रहे थे कि आपकी कोई जीएफ ही नहीं है, तो किसके साथ सेक्स किया है?मैं- एक पड़ोस में भाभी जी हैं, उनके साथ मेरी अच्छी बनती थी. वो बोली- आराम से जान … इतनी जल्दी क्या है … अब तो मैं तुम्हारी ही हूं. मेरा आप सभी से निवेदन है कि मुझसे मेरी महिला मित्रों के संपर्क सूत्र की मांग ना करें.

मेरा एक हाथ उसकी कमर को थामे हुए था और दूसरा हाथ उसके मस्त गदराए चूतड़ को सहला रहा था. डैड के आने बाद मैं डैड से कहा- मैं मॉम के साथ 4 दिन के लिए मसूरी जा रहा हूँ. मुझे तो समझ में ही नहीं आया कि सोनी ने ये जानबूझ कर किया या गलती से हो गया.

छोटी बहन यानि भाभी ने लपक कर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और हम तीनों ने एक दूसरे को संतुष्ट करना शुरू कर दिया. तो वो उसकी बात पर बोला- देखो पूनम, उसने आज गोला मारा है और अगर उसको बाहर कुछ हो जाता तो कौन जिम्मेदार होता.

इस कारण रूचि के झटके से एक झटके में लंड उसकी चूत को चीरता हुआ गर्भाशय से जोर से जा टकराया.

अब मन यही हो रहा था कि कब मोहन बाबू अपना लंड मेरी चूत में डाल दें और मुझे चोदना शुरू करें. सेक्सी नेमवो बोलने लगीं- जल्दी निकाल, मुझे नहीं करवाना!मैं चुपचाप चूमता रहा और चूचियों को मसलता रहा. ब्लू पिक्चर सेक्सी गानेहमारे सबके पापा नौकरीपेशा थे तो वो सब दिल्ली में अपनी नौकरी करने निकल जाते थे. ’तू भी तो इतनी गदराई हुई है, मेरा वजन नहीं झेल सकती?”‘कितनी गंदी बातें करते हैं साहब आप.

मम्मी घर के काम करने में जुटी रहतीं और काम के बाद समय मिलते ही पड़ोस में एक दूसरे के साथ बैठ कर बात करने लगती थीं.

मैं जानती थी कि ये लंबी रेस के घोड़े हैं और अब वो वैसा ही कर भी रहे थे. अब मेरा मन दुकान या पढ़ाई में बिल्कुल नहीं लगता, दिन भर बस सोनी के बारे में सोचना या उसके कॉल का इंतजार करना, यही मेरा काम रह गया था. पापा ने कहा- रितिका की 12वीं की परीक्षा भी खत्म हो गयी है और यह भी घर पर अकेली ही रहती है.

4 घंटे में मैं लखनऊ में अपने रूम में पहुंच गया।घर जाकर मुझे बैग में कुछ पैसे दिखे तो मैंने सोनम को तुरंत कॉल किया।सोनम- पहुंच गए?मैं- हाँ पहुंच गया। तुमने मेरे बैग में पैसे रखे?सोनम- मैंने नहीं, दीदी ने रखे!मैं- क्यों?सोनम- मुझे क्या पता?मैंने तब कुछ नहीं कहा, मन में सोच लिया कि जब दोबारा उनसे मिलूंगा तो लौटा दूंगा. रात को कमरे में एक अलग ही तरह से पलंग जमा हुआ था।मैं– क्या है यह सब?प्रिया- हमारे सोने की व्यवस्था।मैं- मगर तुम्हारे तकिया मेरी कमर के पास क्यों लगा है?प्रिया– आप सिर्फ नंगे होकर मेरी तरफ मुंह कर के से जाइए।मैं– ठीक है जैसा तुम बोलो. इस तरह मैंने उस रात पहली बार आंटी के साथ Xxx फ्री सेक्स का मजा 4 बार लिया और लंड का पानी भी पिलाया.

40 साल की औरत की सेक्सी वीडियो

यदि मैं चिल्लाती तो भाई के लंड से चुदने का सुख खो बैठती और ऊपर छत पर सोये सभी लोगों को पता चला जाता. खैर … जब से मैंने उसे देखा, तब से ही मैं रोज उसके नाम की मुठ मारने लगा था. साबिरा ने भी अपने भाई की आंखों में आंखें डालते हुए मेरे लौड़े पर जुबान घुमाई.

नमस्कार दोस्तो, सेक्स कहानी के अगले भाग में आप सभी पाठकों का नैना की तरफ से स्वागत है.

उसे देखने के बाद मुझे अहसास हुआ कि मेरा लंड तो मेघना के किसी काम का नहीं है.

डैड के आने बाद मैं डैड से कहा- मैं मॉम के साथ 4 दिन के लिए मसूरी जा रहा हूँ. ऐसे करने से अब मेरी गांड भी किरण के सामने आ गयी और मैंने झट से उसका मुँह अपनी गांड में दबा दिया. एक्स एक्स व्हिडीओ 2019एक दिन मेरे एजेंट ने मेरी दिल की इच्छा पूरी कर दी, जिसके लिए मैं न जाने कब से इंतजार में था.

मैंने चार पांच थप्पड़ उनके गाल में जमा दिए और कहा- चुप हो जा साली कुतिया … आज तुझे बचाने कोई नहीं आएगा. कोई गलती हुई हो तो वह भी कमेंट में लिख दीजिएगा ताकि मैं अगली कहानी में सुधार कर सकूं. आंटी लंड पर मस्ती से आह आह करके अपनी गांड पटक पटक कर चुदाई का भरपूर आनन्द ले रही थीं.

ऐसे ही कुछ मिनट चुदाई करते करते मैंने पूरा लंड देविका की चूत में उतार दिया था. ये बात 2 साल पुरानी उस समय की है, जब मैं कानपुर में नया-नया आया था.

सुबह से उनकी ये चौथी चुदाई थी, मेरी चूत उनके मोटे लोड़े से चुद चुद के फट चुकी थी, पानी से धोने पे भी दर्द हो रहा था.

मैं पूरे दिन गूगल पर बस यही सर्च करता रहता था कि अपनी बहन को चुदाई के लिए कैसे मनाऊं. मैंने तेल की शीशी उठाई और उस रण्डी की गांड के छेद में तेल भरने लगा. अब जब तक वो वापिस नहीं मुड़ जाती, तब तक मेरे पास कोई रास्ता नहीं था.

सेक्सी सोंग वीडियो हमारे होंठ जुड़े हुए थे तो आवाज तो आ ही नहीं रही थी, बस गर्म सांसों की गर्मी ही हम दोनों को उत्तेजित किए जा रही थी. मैंने कहा- क्या वो घर मुझे देखने मिल सकता है?मॉम मुस्कुरा दीं और बोलीं- हां जरूर दिखा तो दूंगी … पर अभी मिलेगा नहीं.

मैं अपने दोनों हाथों की बड़ी वाली उंगलियों में थूक लगा कर अपने निप्पल्स पर रगड़ने लगी. जब वो मेरा लंड चूस रही थी, तो उसकी गर्म आवाज इतनी अच्छी लग रही थी कि क्या बताऊं … मेरी बहन मुझे बड़ा मजा दे रही थी. उसके फिगर के बारे में क्या बताऊं यार … सवा पांच फुट की हाइट, नशीली आंखें, मस्त रेशमी बाल और 34-28-36 की कामुक फिगर.

10 जुलाई सेक्सी वीडियो

उस महिला की उम्र करीब 45 साल के आस-पास रही होगी, वो नीली साड़ी पहने हुए बला की खूबसूरत लग रही थी. उसने कहा- कहां भाग रहा है साले, बहुत आशिक़ी कर रहा है मेरी बहन से, थोड़ी आशिक़ी मेरे से भी कर ले. मैंने अपने दोस्त के सामने कैसे उसकी जवान बहन को नंगी किया और उसके सेक्सी बदन से खेला, पढ़ें.

मन ही मन मैं भी यही तो चाहती थी।तीनों लड़के आपस में आंखों के इशारों से कुछ बात कर रहे थे जो मैं समझ नहीं पा रही थी. तभी मम्मी आ गईं और बोलीं- जल्दी से नहा लो और नाश्ता कर लो, तुमको अपना एग्जामिनेशन फॉर्म भरने भी तो जाना है.

मैंने शाम को उसके घर जाकर कम्प्यूटर को चेक किया तो उसके मदर बोर्ड में प्राब्लम आ गयी थी.

धीरे धीरे मैंने भी अपना लौड़ा रेशमा की गांड में अन्दर बाहर करना चालू कर दिया. इतना बोलकर उन्होंने ने बिस्तर पर पड़ा रेशमा का ब्लाउज उठाया और झट से उसे रेशमा के भोसड़ी में घुसा कर अन्दर से उसका पानी सोख लिया. कुछ मिनट दोनों बात करने के बाद बॉस ने मेघना को किसी गुड़िया की तरह उठाया और चूम कर बिस्तर पर लुढ़का कर उसके ऊपर चढ़ गया.

हम सब काफी उत्साहित थे और हमने भिवानी रोहतक हाइवे पर एक रिसॉर्ट बुक कराया था. इस घटना के कुछ दिन बाद मेरा बर्थडे था और सोनी ने मेरा बर्थडे स्पेशल बनाने के लिए मुझे किसी ऐसी जगह का इंतजाम करने को बोला जहां हम दोनों के सिवाए और कोई ना हो. वो पूरी तरह से नंगी हो गई और बिल्कुल मॉर्डन वाली छोटी सी चड्डी नीचे पहन ली.

दस मिनट चोदने के बाद भैया भाभी की बुर में झड़ गए और अपना सारा वीर्य उनकी बुर में निकाल दिया.

बढ़िया वाली बीएफ फिल्म: मैंने उससे कहा- क्या हुआ रूपा, बड़ी खुश दिख रही है?वो मुझे चूमती रही और बताती रही कि इस बीच उसकी चार लोगों ने चोदा था, मगर उसे आपके प्यार से चोदने की अदा बेहद भा गई थी. भाभी बोलीं- जब छाती मसल रहे थे तब नहीं लगा डर?मैं बोला- तब आप नींद में थीं.

मेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं. उसने मेरी तरफ अपनी चूत हिलाई और बोली- कैसी लगी?मैंने कहा- तू तो एकदम हॉट माल है. मैंने ओके कह कर चूत से लंड निकाला और सुमैत्री की गांड पर अपना लंड रख दिया.

जिससे श्वेता बिल्कुल बेकाबू होती जा रही थी।श्वेता गिड़गिड़ाने लगी- डाल दें लंड मेरी चूत में, बुझा दे मेरी चूत की प्यास, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा। प्लीज़ जल्दी करो!मैंने अपना लन्ड चूत में रखा, पहले धीरे धीरे 1 इंच डाला, जैसे 1 इंच गया, मैंने जोरदार झटका लगा दिया, पूरा लंड चूत को फाड़ता हुआ अन्दर चला गया।श्वेता इतनी जोर से चिल्लाई ‘आई उआ आई ईउआ आह्ह ह्ह’ कि उसकी आवाज सोनम के रूम में जा कर सुनाई दी.

नंदा मेरे पैरों के बीच बैठ कर मेरे मुरझाए हुए लंड को मुँह से आक्सीजन देने लगी. मैंने उसे धक्का देकर पीछे कर दिया और चिल्लाने लगी- ये क्या कर रहे हो?वो मेरे पास आया और बड़ी मासूमियत से बोला- दीदी, मुझे पता है आप कल रात जग रही थीं. इससे मुस्कान एकदम से गर्मा गई और जोर जोर की आहें और सिसकारियां लेने लगी- उन्ह आआह आह आह आआह भैया बस छोड़ो न … बस करो ना … मुझे कुछ हो रहा है … बस करो ना.