हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो गुजराती साड़ी वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ पिक्चर एचडी व्हिडिओ: हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं, मामी- ओके, पर तुम बाथरूम में ये सब क्यों कर रहे थे?मैं- मामी, मेरी कोई जीएफ नहीं है न इसलिए … आपकी तो शादी हो गई है, आपको अब क्या समझ आएगा कि मुझे क्या दिक्कत हो रही थी.

सेक्सी फिल्म ब्लू फिल्म चाहिए

मेरी चूत फट जाएगी … धीरे धीरे चोद!मैंन बोला- डियर बहन जी, तुम लंड खा चुकी हो तो बस थोड़ा सा दर्द सहन कर लो … अभी एक मिनट ही दर्द होगा, फिर कुछ नहीं होगा. মারাঠি সেক্সি বিপি ভিডিওतो आपा ने मुस्कुरा कर कहा- किसने रोका है?मैंने जल्दी से आपा का बुर्का उनके जिस्म से अलग कर दिया.

वो दर्द से कराह उठी और बोली- साले बुआ चोद … आराम से दबा, मैं कहीं भाग थोड़ी रही हूँ. पोर्न sexमैं कुछ दिन बाद कोशिश करती हूँ।कुछ दिन तक ऐसे ही हम भाई बहन की चूत चुदाई चलती रही.

लेकिन मुझे नहीं जाने देना था तो तभी आज मम्मी मुझे घास के लिए लेकर गईं.हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं: एक चीज़ मैं आप सबको बताना चाहूंगा कि लड़कियों की इज्ज़त करें … और जब भी चुदाई करें तो उनकी मर्जी/इच्छा का पूरा ध्यान रखें.

न वो उसे चोद सकता है … और न ही उसे चुदवाते हुए देख सकता है और न ही अपना लंड हिला सकता है.उसके बालों को पकड़ कर पलंग पर घसीट लिया और सीधी करके उसकी बुर फैला दी.

देसी मां की चुदाई वीडियो - हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं

अमित बोला- अब तू अपनी बीवी को शिमला ले जा घुमाने, उधर ही मैं उसे चोद लूंगा.तो उसने जेठालाल के सामने अपनी बीवी को चोदने का प्लान बनाया ताकि जेठालाल अपनी लैला की चुदाई देख कर सर पीट सके.

अब मेम पूरी तरह से पागल हो गयी थीं और पागलों की तरह मुझे किस किए जा रही थीं. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं फिर मैंने मोबाइल फोन पर न्यूड वीडियो चालू किया और आपा के साथ चुदाई की वीडियो देखने लगा.

आधी रात को मेरी अचानक से नींद खुली तो मुझे कुछ ऐसा महसूस हुआ कि मेरे मुँह की तरफ कुछ गर्म चीज है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं?

अब मेरा मन अपनी तीसरी उंगली डालने को करने लगा तो मैंने तीसरी उंगली भी डाल दी. वो ‘अंअह … सीइइइ … अअअ …’ करने लगी, बोलने लगी- आंह खा जाओ मेरी चूत को … साली बहुत तड़फाती है अंअह … सीइइ इ … अअअ … और अच्छे से चूसो अंअह!उसकी कामुक आवाज़ सुन मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था तो मैंने उससे अपने लंड को चूसने के लिए बोला. जैसे ही मैंने उसे अपने गले से लगाया, योगेश ने मुझे कसके पकड़ लिया और दीवार के सहारे खड़ा करके अपने सख्त होंठ मेरे नर्म होंठों पर टिका दिए.

इस दौरान मुझे पता भी नहीं चला कि कब उसने अपने दोनों हाथ मेरी टी-शर्ट के अन्दर डाल दिए और मेरी दोनों नंगी चूचियों को अपने दोनों हाथों में समेट लिया. वो खुश होकर अपने घुटनों पर बैठ गयी और अपने हाथों से उसने मेरे लंड को छुआ. उसने पूछा- वो कैसे?मैंने उसे बताया कि मैंने अपने मकान का बेसमेंट डॉक्टर को किराए पर नहीं दिया था.

वहां से मुझे लेने गाड़ी आयी और मैं उनके घर के अतिथिकक्ष में पहुंच गया. वो प्यार से अपनी चूचियों को मेरे सीने से रगड़ती हुई मुझे चुम्मी करती रही और चुदवाती रही. तो आपा बस हंस कर रह जाती।फिर 1 दिन अचानक शाम को आपा कॉलेज से घर आई और आते ही अपने कमरे में चली गयी.

मॉम मेरे सर पर हाथ फिराती हुई कहने लगीं- इतनी भी क्या हवश है तुम्हें?मैं कुछ नहीं बोला और चुचियों को छोड़ कर चुत को चाटने लगा. अब वो मेरी पत्नी बन गई हैं, जब मेरा मन करता है मैं उनकी चुदाई करता हूँ.

सुबह जब मैं सो कर उठा तो हम सब नंगे ही एक दूसरे से चिपक कर सोये पड़े थे.

तो आपको अंकल अच्छे से नहीं चोदते क्या जो इधर उधर मुंह मारती हो?उन्होंने कहा- चोदना तो दूर … छूते ही नहीं! पहले 4 बच्चे पैदा करने तक खूब चोदे.

फिर मैंने उन्हें उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी दोनों टांगों को मोड़ कर चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप चोदने लगा. फिर थोड़ी देर बाद जब दर्द कम हुआ तो उन्होंने खुद गांड हिलाकर इशारा कर दिया. आप लोगों को तो पता ही है कि हम लोगों में गर्मी कुछ ज्यादा ही होती हैं, खास तौर पर लड़कियों में!यह बात आज से 2 साल पहले की है, तब मेरी उम्र 21 साल थी और रुबीना की उम्र 19 साल थी.

अरे … तुमने क्या सोचा था कि लंड केवल मर्द के पास होता है? … हम लोगों के पास भी लंड है … और मैं पूरी तरह से चुदाई कर सकती हूँ. दस मिनट चोदने के बाद मेरा लंड भी लाल हो गया था लेकिन कड़कपन कम नहीं हुआ था. मैं भी मजा ले लेकर उसकी चूत को चाट रहा था, दाना हिला हिला कर चूत चाटता रहा.

थोड़ी देर बाद जब उन्हें मजा आने लगा तो वो भी जोश में मेरा साथ देने लगीं.

शालिनी मेरी तरफ देखने लगी तो प्रिया भाभी ने उसी समय मेरा लंड निकाल कर शालिनी के हाथ में पकड़ा दिया. ऐसे ही करते करते उस्मने अपने पैरों को मेरी कमर पर एक नागिन की तरह लपेट लिया और मैंने अपना चुदाई का कार्यक्रम जारी रखा. आप खुद समझदार हैं, भाभी के गोल गोल गुब्बारे मेरी पीठ को आनन्दोलित कर रहे थे.

प्रतिस्पर्धी ने हथियार डाल दिए थेउसके पैर खुल चुके थे क्योंकि सिपाही ने दरवाजे पर दस्तक दे दी थी. बबीता के अन्दर वीर्य जाने के बाद अय्यर के पूरे शरीर से उसकी सारी दम निकल गई थी और वो बबीता के ऊपर ही गिर गया. करीब 20 मिनट तक मैंने उनकी चूत को अच्छी तरह से रगड़ा और उनकी चूत को लाल कर दिया.

इस गर्म कहानी के पिछले भागदोस्त की नंगी पत्नी के साथ बेड परमें आपने पढ़ा कि मुझे मेरे दोस्त की सेक्स से भरी पत्नी के साथ मजा करने का मौक़ा मिल गया था.

अम्मी को स्कूल जाने के लिए देर हो रही थी तो उन्होंने हमसे कहा- तुम दोनों नाश्ता करके कॉलेज चले जाना. फिर भी मैंने उनसे पूछ ही लिया कि मैम क्या आपने अभी शादी नहीं की?टीचर- नहीं, मैंने अभी शादी नहीं की.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं वो मुस्कुरा कर बोली- एक तो तुम्हारे दोस्त और मेरे भाईजान का और एक मेरे रिश्तेदारी में है, उसको तुम नहीं जानते हो. ”ये सुनने के बाद मैंने उसे दोबारा अपने करीब लेटा लिया।हम दोनों नंगे थे।शायद सौम्या काफी बार झड़ चुकी थी पर मैंने अपने आप को झड़ने से रोका हुआ था।सौम्या के आँखों में एक चमक थी.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं थोड़ी देर के बाद मैं उसके मुंह में धक्के देने लगा और मैंने सारा पानी उसके मुंह में ही छोड़ दिया जो हानिया ने पूरा पी लिया. अब कल्लू ने अपनी धोती उतार कर अपना लंड उस लड़की के हाथों में पकड़ा दिया.

मैं बोला- अरे यार, मैं कम्पनी की तरफ से एक प्रोजेक्ट के काम से जा रहा हूं.

सुहागरात की वीडियो सेक्स

मैं तो अभी एक बार उसकी फिर से चुदाई की सोच रहा था पर वो तो चली गई थी. पूर्णिमा जी की साड़ी और पेटीकोट एक बार ही बार में खिसककर नीचे आ गए, जिससे भोसड़े के ऊपर पहनी हुई लाल चड्डी के दर्शन हो गए. थोड़ी देर मेरा मन पूरी तरह से उसकी गांड मारने का बन गया तो मैंने उससे कहा- अब तुम अपने पूरे कपड़े उतार दो हम दोनों खुल कर चुदाई का खेल खेलेंगे.

वो अपने चूचों को मुझसे रगड़ रगड़ कर मुझे चुम्मी करती रही और मस्त होती रही. फरहीन और ज़ेबा ने मेरे लंड को चूस कर साफ़ किया और मुझे अपनी चूचियों से रगड़ रगड़ कर नहलाया. मुझे किसी भी तरह का डर भी नहीं था क्योंकि मैं अपने पति की जानकारी में ही ये सब कर रही थी.

मेरी इस वर्जिन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी की नायिका का नाम पारुल है जिससे मेरी बात रॉंग नम्बर के माध्यम से शुरू हुई थी और धीरे धीरे प्यार और उसके बाद सेक्स तक पहुंच गई.

उस वक्त मुझे महसूस हुआ कि मॉम की साड़ी ऊपर उठ गई थी और ऐसा टेबल पर रखे पंखे की हवा की वजह से हुआ था. अगले कुछ दिनों के बाद एक दिन भाबी ऑनलाइन नहीं आईं तो पता चला कि भैया की शिफ्ट हर हफ्ते बदलती है. और जैसे ही हम बाहर आये हमने देखा कि पंकज जो मेरा दोस्त था, वो कमरे में था.

उस वक्त उन्होंने गहरी हरे रंग की साड़ी और स्लीव लेस काला ब्लाउज पहन रखा था. मैं भी हंसने लगा और बोला- भाभी जी बहुत परेशान करूंगा आपको, आप हैं ही इतनी सुन्दर … अच्छा थोड़ी देर में आप धर्मशाला जाने के लिए तैयार हो जाओ. उसकी गांड अब लंड लेने लायक हो गई थी तो मैंने अपने लंड के चमड़ी को नीचे किया और लाल सुपारे को बाहर निकाल कर अपने सुपारे पर ढेर सारा थूक लगा दिया.

दोस्तो, आपको मेम और मैडम स्टूडेंट Xxx कहानी कैसी लगी, मेल के द्वारा आप मुझे अपनी प्रतिक्रिया जरूर बताना. मैं मूवी देख रहा था तो मेरा मन जाने का नहीं था पर मां के बोलने पर चला गया.

गे सेक्स वीडियो देखते देखते मेरा मन मचलने लगा और मैं अपने कपड़े निकाल कर अपनी गांड में डिल्डो करने लगा. उसी तरह मैंने पूरे ग्राउंड के दो चक्कर काट दिए मगर कोई बात बनती नजर नहीं आ रही थी. फच्च फच्च फच्च की आवाज तेज हो गई और मैं अपनी पूरी रफ्तार से चोदने लगा.

फिर वो मेरे पास आकर बैठ गयी और मैं उसकी गोरी गोरी जांघें देखने लगा.

जब वो हमल से हो गईं तो मैंने अपनी बेटियों से निकाह कर लिया और उन सभी ने एक महीने में ही कुछ कुछ दिनों के अंतराल में सरकारी हस्पताल में बच्चे पैदा किए थे. मगर अब हमें यह सोचना है कि पैसों का इन्तजाम कहाँ से किया जाये।मैंने एक बात नोटिस की कि नसरीन आपा से गले लगे लगे मेरा लंड खड़ा होने लगा. उसने पैंट की चैन खोल कर अपना लंड बाहर निकाल लिया और मैं उसे अपने हाथों में ले हिलाने लगी.

मेरी बीवी पूनम ने मुझे फ़ोन किया और कहा- आप यहां चले आइए, हम लोग यहां अकेले हैं. वाजिहा भी बहुत खुशी से प्यार से मेरे जिस्म को लिपट चिपक कर मेरा पूरा लंड मुँह में लेकर चूसती चूमती रही थी.

तीन बार की चुत चुदाई और एक बार की गांड चुदाई में ही उसे मेरा लंड पसंद आ गया था और वो मेरी पर्सनल रंडी बन गई थी. घर में मेहमानों की चहल-पहल थी और नई नवेली दुल्हन के स्वागत में घर की सभी स्त्रियां बहुत उत्साहित थीं. आपा ने उस दिन भी रोज की तरह बुरका पहना हुआ था और वो झुक कर कोई सामान देख रही थी.

एक्स वीडियो एक्स एक्स एक्स एक्स

करीब आधे घंटे तक पागलों की तरह मैंने दीपक के नंगे जिस्म को दोनों हाथों में दबोचकर चोदा.

हम लोग नदी में जाकर बहुत मस्ती करते थे, नदी में नहाते थे और नहाते समय साथ में नहाने वाली किसी भी लड़की के चूत में उंगली कर देते थे. फिर वो अचानक से बोली- साहब मैं अभी आ जाऊं क्या?मैंने बोला- इतनी रात को?वो बोली- हां साहब. नाश्ता देते हुए उन्होंने मेरा हाथ जोर से दबा दिया और एक आंख मार कर मुझे इशारा किया.

नॉर्मली अम्मी के चूतड़ जितने दिखते थे, अभी टांग लपेट कर लेटने के कारण करीब 4 इंच और बड़े से देख रहे थे. मैं कब से देख रही हूं कि तुम दोनों बात तक नहीं कर रह हो?मुझे लगा कि बस अब प्रिया सब कह देगी और मेरी खैर नहीं, अब ये सब बताने वाली है. सेक्सी बीएफ साड़ी वालामैंने उससे पूछा- क्यों तुम्हारा पति तो है न … तुम्हारा पति क्या तुम्हें चोदता नहीं है क्या?मेरी बात पर उसने एकदम से बिफरते हुए कहा- नाम मत लो उस भैन के लौड़े का … उस साले मादरचोद का खड़ा ही नहीं होता है तो साला करेगा क्या!जब उसने ऐसा बोला तो मैं समझ गया कि आज मरे लंड को मस्त कसी हुई चूत चोदने को मिलने वाली है.

तब मैं सेक्स की बारे में ज्यादा कुछ नहीं जानता था, बस कभी कभार सेक्स वीडियो देख लिया करता था. यह सुनकर विशाल ने कहा- ठीक है, मैं भी अपने लंड को तैयार कर लेता हूं.

करीब दो मिनट बाद जब वो थोड़ा नॉर्मल हो पाई तो उसने भी साथ देना शुरू किया. तो हानिया ने मुझे रोक दिया और बोली- 10 हजार में बस इतना ही मिलता है. मैंने उसकी चुत में तेल डालने के बहाने उसकी गांड के पास से तेल डाला और गांड को भी चिकनी कर दिया.

मैं जब झड़ने को हुआ तो मैंने लंड बाहर निकाला और उसके मम्मों पर पानी छोड़ दिया. आपा को पता चल गया कि मैं अपना लंड उसकी गांड में डालना चाहता हूं तो उन्होंने तुरंत मुझे अपने से दूर कर दिया और बोली- यहाँ मत करो भाई, बहुत दर्द होता है. मैंने फिर से दोनों हाथों से उसके दोनों मम्मों को कस के पकड़ा और मसलने लगा.

मैंने कहा- क्या है?मौसा बोले- तुझे अपनी मौसी कैसी लगती है?मैंने कहा- अच्छी.

मेरी बात खत्म होते ही नसरीन आपा ने मेरे गाल पर एक तमाचा मार दिया जिससे कि मैं हिल गया. वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराया और बोला- अकेले में मोबाइल में ब्लू फिल्म देख रहा था क्या?मैंने हंस कर कहा- अरे यार बस यूँ ही कभी कभी मन करता है तो देख लेता हूँ.

मैंने उसकी पीठ को खूब चूमा और पीछे से उसके गले को चूम कर पूछा- कैसा लगा जानेमन?तो उसने कहा- आज तो तुमने मुझे तृप्त कर दिया … मेरी पूरी गर्मी निकाल दी. पेशाब की गंध और चूत की गंध एक साथ मेरे नाक में समा रही थी, मेरा गला सूख रहा था।सूंघ मेरी चूत … चाचा … और बता तेरी बहू के चूत की महक कैसी है?बहुत मस्त बेटा … मजा आ गया!” कहते हुए मैंने अपनी जीभ उसकी चूत के अन्दर डाल दी. हम्म … मजेदार कैसी होती है?फ़िर मैंने खुलते हुए कह दिया- आप जैसी हो तो कोई काम की बात बने.

भैया ने भाभी के वस्त्रविहीन जिस्म को अपनी जिह्वा से चाटना शुरू कर दिया. मेरी गर्दन बेड के अंतिम छोर पर नीचे हो चुकी थी और मेरे बाल अब नीचे जमीन तक झूल रहे थे. उनका इशारा पाते ही मैं फिर से लग गया और अब मैं अपनी बहन की चुत को ताबड़तोड़ चोदने लगा.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं फिर मैं उसके गले के पास किस करते हुए नीचे गया और ब्रा के ऊपर से ही उसकी चूचियों को काटने लगा. उस तरफ से कोई आवाज़ नहीं आई तो मैंने भी कॉल कट कर दी और सोचने लगा हो सकता है कि किसी से गलती से फोन लग गया होगा.

सेक्सी एक्स एक्स एक्स कॉम

वह मेरी निप्पल को अपने मुँह में लेकर चुभलाने और अपनी जीभ से खेलने लगा. चूंकि वो मुझसे सैट हो गई थी तो मैंने खेलते खेलते ही अपना खड़ा लंड पैंट से निकाल लिया और उन दोनों को दिखाने लगा. अगर मैं बाहर चली जाऊंगी तो शक होगा।मैं बोला- ठीक है!प्रिया के चेहरे पर तो सिर्फ हवस थी।जैसे ही अंदर गया, प्रिया जोर से कमरे का दरवाजा लगा कर मेरे ऊपर टूट पड़ी।मैंने प्रिया से कहा- थोड़ा सब्र तो कर लो।वो बोली- नहीं मुझसे इंतजार नहीं होगा। रात मैंने किस तरह काटी है, मैं ही जानती हूं.

दोस्तो, आपको मेम और मैडम स्टूडेंट Xxx कहानी कैसी लगी, मेल के द्वारा आप मुझे अपनी प्रतिक्रिया जरूर बताना. [emailprotected]यंग भाभी सेक्स कहानी का अगला भाग:प्यासी भाभी को पूरा मजा देकर चोदा- 2. इंडियन हॉट गर्ल बीएफअब मेरी बेटियां मेरे लंड से चुदवा कर पैदा हुए मेरे बच्चों को पाल रही हैं और मेरे साथ रोज़ रोज़ चुदवा रही हैं.

मगर फिर कुछ ऐसा हुआ कि दूर की रिश्तेदारी में एक शादी में जब मैंने संगीता मैम को देखा, तो मेरी सारी यादें तरोताजा हो गईं.

सनोबर एक बेहद गोरी, सेक्सी, हॉट चिकनी त्वचा और खूबसूरत जिस्म वाली लौंडिया थी. मैंने पूछा- क्या हुआ मेम आप क्यों रो रही हैं?ऋतु- मैं अपनी लाईफ में खुश नहीं हूँ अमन!मैं- क्यों क्या हुआ आपको?ऋतु- मेरा कोई ख्याल रखने वाला नहीं है … और मैं कभी कोई सुख प्राप्त नहीं कर सकती.

मैं कई बार उस दोस्त के घर गया मगर मुझे उसकी बहन से बात करने का मौका ही नहीं मिल रहा था क्यूंकि उसके घर में कोई ना कोई होता ही था. मेरी आंखें खुलीं तो मैंने देखा कि मेरी अम्मी अभी भी अब्बू के लंड से नहीं उठी थीं. मैंने मौसी की टांगें चुदाई की पोजीशन में खोलीं और अपना लंड डाल दिया.

तो वो गाली बकने लगी- आंह मादरचोद … आराम से चोद ले मेरे बाप … मुझे मार मत कमीने आह मेरी चूत चिर गई … आंह मैं कहीं नहीं भाग रही हूँ.

वाजिहा ने अपनी अम्मी आरिफा के साथ कमरे में अन्दर आकर नजारा देखा तो किलक कर बोली- वाह चाचा, आपने तो मजा बांध दिया. फिर उस व्हाट्सैप ग्रुप से लेफ्ट होने के बाद भी अमित से मेरी बात होती रहती थी. तो मैंने क्या किया?मेरा नाम देवेन है (नाम बदला हुआ है) मैं विदिशा से हूँ, पर जॉब लगने के कारण अब मैं बंगलोर आ गया हूँ.

बीपी सेक्सी मराठी पिक्चरयोगेश का 7 इंच का लंड खड़ा हो गया और मेरी चुत चुदाई के लिए रेडी हो गई. उसने आज मुझे पहली बार इस तरह से देखा था तो उसने मुझसे पूछा कि मैंने अपनी ड्रेस के अन्दर कौन से रंग की ब्रा पैंटी पहनी हुई है.

तृषा कर मधु का बीएफ

मैंने उसका सर हाथ से ऊपर किया और उसके होंठों को अपने होंठों की तरफ किया तो वो आंखें बंद करके खड़ी थी. अब की बार मैंने अपना हाथ रजाई में घुसा कर सीधे गगन की सलवार में डाल दिया. मैं भी उसके सर को अपने लंड पर दबाव दे रहा था ताकि वह मेरे लंड को पूरी तरह अपने मुंह में ले ले.

मुझे लगता था कि मुझे देख कर हर कोई मेरी चुत चोदने के बारे में सोचता ही होगा. उसके बाद मैंने हिम्मत जवाब दे गयी चुदाई देखकर … मेरी आग और भड़क गई. अब मैं भी उनके झटकों को सहने में सक्षम हो गई थी और उनके झटकों का बराबर जवाब देने में लग गई.

मैंने सिटी से बाहर एक होटल में रूम बुक किया और तय समय पर हम दोनों उस होटल में आ गए. आज मुझे लग रहा था कि उनके लंड मेरे जिस्म के हर अंग को खाने को दौड़ रहे हों. वो सब मेरे बदन से चिपक कर मुझे चुम्मी करती हुई मेरे जिस्म से अपना जिस्म रगड़ रही थीं.

मैंने थोड़ा सा झुककर नसरीन आपा के चूतड़ों पर हल्का सा थप्पड़ मारा लेकिन नसरीन आपा तो बस मेरा सीना ही चाटे जा रही थी. एक दिन सुबह अय्यर अपने ऑफिस जाने को निकल रहा था, तभी उसे कंपाउंड में जेठालाल मिल गया.

अचानक से उन्होंने मेरे लंड को दांत से दबाया तो मेरे मुँह से सिसकारी निकल गई और उसी पल मामी ने अपनी चुत मेरे मुँह पर दे मारी.

अंकित- कैसी लगीहमारी चुदायी?मीनू- जान, आज तो आखिर तुमने मेरी काट ही दी. അമ്മായിയുടെ കളിआपा ने जोश में आकर मुझे अपने जिस्म से चिपका लिया जैसे कि वो मुझे अपनी जिस्म में समा लेना चाहती थी. रंडी भाभी सेक्सीमैंने उन्हें रोक कर पूछा- अरे भाबी … आप कहां जा रही हो?भाबी बोलीं- कुछ सामान लेने आई थी. दोस्तो, जब कोई लड़का किसी लड़की के चूचुक दबाता या मसलता है तो लड़कों को लगता है कि उन्हें मजा आ रहा है.

आपा के मुंह से ये सुनकर मैं हंस दिया और नंगी आपा को अपने ऊपर ले लिया.

जब मुझे लगा कि दवा का असर हो रहा है तो मैं उठ कर गया और नाना नानी के कमरे का दरवाजा बाहर से बंद करके आ गया. चूंकि हम लोग पानी के अन्दर जाकर नीचे नीचे तैरते थे और जिधर भी लड़की दिखती थी, उधर ही जाकर मजे लेने लगते थे. [emailprotected]देसी हॉट भाबी सेक्स कहानी का अगला भाग:मोहल्ले की हॉट भाभी को पटा कर चुदाई का मजा- 2.

डॉक्टर उसे भाव ही नहीं देता था; वो उस दूसरी नर्स के साथ ही मस्त रहता था. शायद मामा का लंड मॉम की बच्चेदानी को फाड़ने की कोशिश कर रहा था इसलिए शायद मॉम को दर्द हो रहा था. पर भैया ने भाभी के शरीर को बहुत जोर से पकड़ लिया था और हांफते हुए भाभी के ऊपर गिर गए.

प्रियंका की सेक्सी पिक्चर

कुछ देर तक अपनी बहन के दूध चूसने के बाद मैं आपा की चूत के पास मुँह ले गया. अम्मी जॉब के लिए तो मान गयी क्यूँकि पैसों की जरूरत तो उन्हें भी थी. मैं करना चाहता हूं, तो ये जोश नहीं दिखाती … और ये करना चाहे, तो मैं इसे खुश नहीं कर पाता.

वो बोली- वैसे तो कोई जरूरत नहीं है मगर फिर भी कोई स्थिति बिगड़ी तो संभाल लेना.

थोड़ी देर गपशप के बाद पति रंजन को हमारे शयन कक्ष में ले गए; रंजन को शयनकक्ष में छोड़कर अकेले वापिस आए.

कुछ मिनट बाद जब वो झड़ने वाली थीं तो उन्होंने अपनी चुत को मेरे मुँह पर दबा दिया और मेरे बाल पकड़ लिए. तब मुझे फील हुआ कि उसने ब्रा नहीं पहनी है वो सिर्फ टी-शर्ट ही पहन कर लेटी थी. एक्स एक्स एक्स एक्स एचडी मेंथोड़ी देर में मैं उठी और दीपक की गांड से अपनी लंड निकालती हुई बोली- हाय प्रकाश … मैं तो बहुत थक गयी हूँ, अब मैं गर्म पानी से स्नान करूंगी … तभी मेरी थकान उतरेगी.

उसका गर्म पानी मेरे लंड से लगा तो इस बार मैं भी अब झड़ने वाला हो गया था. मगर वो अब कहां रुकने वाला था; उसने मेरी गांड में पूरी उंगली चलानी शुरू कर दी. वो झड़ गई मगर कुछ ही देर बाद वो फिर से गर्मा गई और मस्ती से अपनी टांगें हवा में उठा कर मेरे लंड का मजा लेने लगी.

मैं उसके गालों पर चुम्बन करते हुए उसके बूब्स के ऊपर किस करने लगा और उन्हें दबाने भी लगा. मैंने भाभी की चूत को दम से चूसा और दाने को दांत से खींच कर मसल दिया तो भाभी एकदम से मचल उठीं.

मैं उसे अभी और तड़पाना चाहता था तो मैंने लंड को हटा दिया और घुटने पर बैठ कर उसकी चुत पर अपनी जीभ को रख दिया.

फिर भी मैंने उनसे पूछ ही लिया कि मैम क्या आपने अभी शादी नहीं की?टीचर- नहीं, मैंने अभी शादी नहीं की. कुसुम- क्या तुझे इसे सच में खाना है?मैंने हां कहा, तो वो अपनी चुत को मेरे होंठों के पास लाकर बोली- ले खा ले. मैं भी भाबी की चूत में जीभ डालकर अन्दर तक चाट रहा था और उनकी चूत की क्लिट को मसल रहा था.

डॉक्टर सेक्सी वीडियो बीपी एक महीने कीगल कसरत करने के बाद मुझे खड़े होकर, नयी 6 इंच लंबी पेन्सिल चूत में एक इंच डालकर चूत को संकुचित करना था. मैंने उससे पहली बातचीत में ही कहा कि मैं तो समझ रहा था कि मुझे तुम्हारी तरफ कोई लिफ्ट ही नहीं मिलेगी.

मैं तड़पने लगी बिस्तर पर- आह काका उई ईई!वो बोले- साली काका मत बोल … पूरण बोल!आह पूरण करो उफ … बहुत मजा आता है।”पूरण ने झुकते हुए चूत को चूम लिया।कहते हैं ना चुदाई के करतब कोई सिखाता नहीं … खुद आते हैं। खुद वो सब होंने लगता है जो नहीं भी सीखा होता!मैंने उनके लंड को पकड़ लिया. सास ने खाना लगा दिया और मुझसे बोलीं- आइए दामाद जी!मैं जाकर मेज के सामने कुर्सी पर बैठ गया. जेठालाल जागा तो अय्यर उसको अपना लंड दिखा कर बोला- देख जेठालाल, मेरे सामने तेरी औकात लंड के जितनी भी नहीं है.

बीएफ सेक्स फुल एचडी

इस पर दीपाली हंस पड़ी और बोली- आप मेरे एक अच्छे दोस्त हैं और प्लीज़ मेरी बात का बुरा मत मानना. फिर घपाघप झटकों के साथ ही उनके भोसड़े और मेरे लौड़े के रस से पूर्णिमा जी का भोसड़ा भर गया. वो मेरी इस तरह की सेक्सी बातों से गर्म होने लगती और अब धीरे धीरे वो मुझसे लंड चुत चुदाई की बातें खुल कर करने लगी थी.

फिर मिलने की दिनांक और समय तय हुआ, कुछ औपचारिक बातें हुईं और उसने मिलने के लिए मुझे गाजियाबाद बुला लिया. उसने कपड़े से अपनी चूत पर लगा वीर्य साफ कर दिया और मेरे बाजू में लेट गई.

और वैसे भी वो शहर में रहने लगी थी तो ये सब समान्य सी बात है वहाँ के लिये!होंठों पे गहरी लाल रंग की लिपस्टिक … उनको देखकर मैं स्तब्ध रह गया।पूरी सेक्स की देवी लग रही थी.

मैं भाबी के घर के बाहर पहुंचा तो देखा दरवाजा खुला था और भाबी वहीं परदे की आड़ में खड़ी थीं. करीब 8-9 मिनट हुए होंगे कि सुनीता की धार मेरे लंड को भिगोती हुई फिर से निकल पड़ी. मैंने देखा कि हानिया की चूत एकदम चिकनी हुई पड़ी है, उसकी चूत पर एक छोटा सा बाल भी नहीं था.

लेकिन जसवंत हंसता हुआ अपने काम में लगा रहा, उसने आपा की पजामी का नाड़ा खोल दिया और नीचे बैठकर पजामी उनके जिस्म से अलग कर दी. मुझे अच्छा तो लग रहा था लेकिन मैंने डर के मारे उसका हाथ आराम से अपने ऊपर से हटा दिया और फिर से सोने लगा. गज़ब के चूतड़ थे मेरी अम्मी के … ऐसे चूतड़ों के छेद में अब्बू ने लंड डाल डाल कर उन्हें चोदा था.

मेरी इस चूत को चोद दो और चोद चोद कर मुझे अपनी रंडी भोसड़ी वाली बेटी बना लो.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ दिखाएं: अब आगे पोर्न सिस्टर Xxx स्टोरी:थोड़ी देर बाद दरवाजे पर दस्तक हुई तो हम दोनों एकदम से जैसे नींद से जागे. मीनू ने टांगों को ऊपर से चौड़ा दिया, तो मैंने चुत पर क्रीम लगाकर पूरी तरह से फोम बनाया और रेजर से उसकी चूत के होंठों को पकड़ कर झांटें साफ़ करना शुरू कर दिया.

यह बात पता नहीं कैसे … लेकिन सोनम मेम को पता लग गयी और मेम ने मुझे बुलाने एक लड़के को भेज दिया. अब कमरे में बस हम दोनों अकेले थे तो वो लड़का मेरे पास आया और मुझे किस करने ही वाला था कि मैंने उसे रोक दिया और पैसों के बारे में कहा,उसने तुरंत 5000/- निकाल कर मेरे हाथ में रख दिए. भाबी- तुम्हें रोका किसने है?देसी Xxx भाबी का खुला इशारा पाते ही मैंने उनके बालों में हाथ डाला और सर अपनी तरफ खींच कर मैंने उनके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और उन्हें किस करने लगा.

पर मैं डर गया कि अम्मी अपने इतने छोटे से छेद में इतना लंबा मोटा लंड कैसे लेंगी, इनकी तो गांड ही फट जाएगी.

आंह जोर जोर से चोद … आ आ … ओह या …मैं भी सिसकारियां ले रहा था- ओह या ओह या आंह … मेरी रंडी बहन आज तो मैं तेरी चूत फाड़ कर रहूँगा … आ ले भाई के लंड का मजा ले. आज इतने वर्ष बीत जाने के बाद उनकी बड़ी बेटी 19 वर्ष और एक छोटी बेटी है, एक बेटा भी है. यह सुनकर नसरीन आपा टेंशन में आ गई क्योंकि वे भी जानती थी कि अगर यह बात अम्मी तक चली गई तो बहुत ज्यादा गड़बड़ हो जाएगी.