सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ

छवि स्रोत,कालनिर्णय सेक्सी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

2022 का सेक्सी वीडियो: सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ, मैं नशे में बस इस सेक्सी माहौल का मज़ा ले रही थी और उत्तेजना में ‘उफ़्फ़ हहह हहह यस ओह्ह फ़क आह आह आह हहह.

जानवर जानवर के सेक्सी

फिर अपनी मम्मी को चुदती देख देख कर खुश हो हो कर अपने हाथ ऊपर नीचे हिला हिला कर हंसने लगा; उसे लगा होगा कि उसकी मम्मी कोई खेल खेल रही है. सेक्सी फोटो चोदा चोदी वालाइसी तमन्ना को पूरी करने के लिए मैंने एक एस्कॉर्ट ब्लो जॉब देने के लिए ऑनलाइन बुक कर रखी थी ताकि जिंदगी में एक बार ही सही लंड चुसवाने का आनंद तो मिल ही जाय.

जिसके बाद मैं अनूप जी के कमरे से नंगी ही अपने कमरे में आ गयी और सो गई. हिंदी सेक्सी वीडियो फुल हॉटचाची तो मेरी पहली पसंद हैं ही और अब हम दोनों ऐसे घुल मिल भी गए हैं कि मानो हम दोनों पति-पत्नी हों.

फिर मैं बोला- तुम्हें कौन से स्टाइल में चुदना पसंद है?वो बोली- बस जो तुमने किया वही.सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ: एक दिन रिया का मुझे कॉल आया, उसने बताया- दीदी के घर पर कोई नहीं है और मैंने उनसे बात कर ली है.

मगर उस वक्त चाची का महीना चल रहा था इसलिए 4-5 दिन से हमारे बीच में कुछ नहीं हो पाया था।मैं जैसे ही टॉयलेट के बाहर आया तो मेरे आगे मेरी बहन श्वेता खड़ी थी.फ्रॉक के नीचे से दिख रही मेरी गोरी और खूबसूरत टांगों पर सभी की निगाहें जा रही थीं क्योंकि मेरी फ्रॉक मेरे घुटनों तक ही आ रही थी.

जुदाई सेक्सी मूवी - सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ

उधर सोनाली उसी शिद्दत के साथ मेरे लंड को चूस चूसकर उसको फिर से खड़ा करने की कोशिश कर रही थी क्योंकि मैंने उसकी चूत में उंगली कर करके उसकी चूत को लंड की प्यासी बना दिया था.उसका एक हाथ मेरी चूचियों पर सहला रहा था और दूसरा हाथ मेरे पेट पर सहला रहा था.

आज से तुम मेरा रोज ऐसी काम करोगे।मैंने बॉडी लोशन आंटी की बाजू पर लगाया. सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ आप सोच रहे होंगे कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में लिखने जा रहा हूं.

मैंने उसकी आंखों में गुस्से से देखा और धीरे से कहा- चोदो न … क्यों तरसा रहे हो!मेरी इस बात को सुनते ही अमन ने मुझे कसके पकड़ा और लंड मेरी चुत के मुहाने रख कर जोरदार शॉट मार दिया.

सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ?

जब भी वो चलती तो ऐसे गांड मटकाती हुई चलती थी कि किसी का भी लंड खड़ा हो जाए. अब मैंने फिर से उसे अपने नीचे लिया और उसकी जोरदार चुदाई चालू कर दी. बहुत दिनों से कुछ नया करने की सोच रहा था और फिर खयाल आया कि क्यों न मैं भी अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई का किस्सा लिखूं!इसलिए आपको इस गर्लफ्रेंड सिस्टर सेक्स स्टोरी के माध्यम से बहुत रोचक घटना बताने जा रहा हूं जो मेरे, मेरी गर्लफ्रेंड और उसकी बड़ी बहन के बीच हुई थी.

कमरे में पहुंच कर प्रीति ने अपना दुपट्टा बेड पर रख दिया और अपनी बांहें फैला कर मुझे आमंत्रित किया. ज्यादा चूं चपड़ करेगा तो खर्चा पानी लेने के बाद दोनों को चलती ट्रेन से फेंक देंगे. वो फुसा से बोलीं- तुम तो दूध पीने की कह रहे थे … अब क्या हुआ?फुसा को जैसे दूध पीने की याद आई, वो अपने मुँह में एक मम्मे को भर कर चूसने लगा.

वो कभी कभी मेरी मां से मिलने आते थे लेकिन उनके बीच कोई सेक्स सम्बन्ध नहीं था. कहानी लिखने का मेरा मकसद है उसे ये बताना कि जिस राह पर वो चल रही है, उसी को देखकर मैंने भी वो राह पकड़ ली है. वो हमेशा सोचता कि फिर से कब रजक लाल के लंड को चूसने का मौका मिलेगा.

मैंने कहा- तो और मूड बना दूँ क्या?मॉम इस पर कुछ नहीं बोलींराखी दीदी मेरे बाजू से उठकर दूसरी साइड चली गईं. जब मैं फोन पर अकेले मिलने की बात करता था तो वो बस हंस कर मेरी बात को घुमा देती थी.

मैंने किरण से पूछा- कभी दारू पी है?किरण ने बताया- कभी नहीं और निखिल भी नहीं पीते थे.

कोई 35 मिनट लगातार उसकी गांड चोदने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया.

वो मेरे सिर को अपनी छाती पर दबाने लगी और मैंने भी सीमा के निप्पल को चूसते हुए एक और जोरदार धक्का मार कर अपना पूरा का पूरा लंड सीमा की चूत की गहराई में उतार दिया. Sasur Bahu Sex Storyअपनी टी शर्ट और लोअर उतारकर मैंने किरण को बेड पर लिटा दिया और उसके शरीर पर चुम्बन करना और हाथ फेरना शुरू कर दिया. वो बोला- आह्ह दीदी … और अंदर लो … आह्ह … लेती रहो … बहुत मजा आ रहा है… आह्ह … मैं आने वाला हूं दीदी … ओह्ह … मैं आने वाला हूं.

इस पर बड़े पापा ने बड़ी मम्मी को नीचे लेटाया और उनकी चुत में लंड घुसेड़ कर उन्हें चोदना शुरू कर दिया. फिर वो निचली मंजिल की बालकनी में चला गया और वहां खड़े होकर सिगरेट पीने लगा. उसकी चुदाई की कहानी में क्या क्या मजा हुआ, ये मैं आपको अगली बार बताऊंगा.

मैं फिर से रूम के पास गयी तो अंदर से बहुत जोर जोर की सिसकारें सुन रही थीं.

मेरी फैमिली में मेरी वाइफ, बेटा (पकंज सिंह 28) और बहू (आरती सिंह 28) है. मुझे लगता है कि आप दोनों का रिश्ता काफी गहरा रहा होगा इसीलिये आप उनको इतना याद करते हो. उन्होंने हंसते हुए पूछा कि तू तो देरी से सो कर उठता था, फिर आज कैसे जल्दी उठ गया?मैंने अंकल को पापा का गुस्सा होना बता दिया.

तभी मामी के व्हाट्सएप में एक गुड मॉर्निंग का मैसेज आया, मैंने उसको खोल कर चैक किया, तो उसकी काफी लम्बी चैट मेरे सामने आ गई. चाचा की कमाई पर ही पूरा घर चलता है।गर्मी बढ़ने के कारण हम सब परेशान थे। इससे पहले इतनी गर्मी का सामना हमने नहीं किया था। घर में पंखे के अलावा कुछ दूसरा साधन नहीं था।इसीलिए चाचा ने एक कूलर खरीद लिया और घर के हॉल में लगा दिया।कूलर घर में आने से काफी अच्छा माहौल हो गया था।हम चारों लोग हॉल में आराम से सो सकते थे. मैं जल्दी जल्दी फ्रेश हुआ, क्योंकि एक ही बाथरूम होने से मुझे कभी कॉलेज जाने में देर हो जाती … तो मैं जल्दी ही नहा लेता था.

उस दिन मुझे पहली बार अन्तर्वासना हिन्दी सेक्स स्टोरी के बारे में पता चला.

उसको उसके पापा स्कूल में छोड़ कर आते थे क्योंकि उसका स्कूल गांव से कुछ दूर शहर में था. हेमा चाची चीख पड़ीं, तो मैंने चूचियों को छोडकर गांड पर हाथ मलना शुरू कर दिया.

सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ उसकी नर्म कोमल गांड को हाथ में भींच कर मैं अपने आपे से बाहर होता जा रहा था. अब सेठ की उत्तेजना बढ़ने लगी और वो अपने भारी बदन को सेठानी के ऊपर रगड़ते हुए तेजी से चोदने लगा.

सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ पहली बार उसकी चूत ने लंड लिया था इसलिए उसे चलने में परेशानी हो रही थी. दोस्तो, लुगाई को फुल स्पीड में चोदने में जो मजा आता है, वो कहीं भी नहीं है.

तभी मेरा दोस्त बोला- यार, कोई शहर की औरत मिल जाए चोदने को तो मज़ा आ जाए.

நடிகர் செக்ஸ்படம்

अभी प्रियंका के आने का समय हो गया था, तो मैं और विनय थोड़ी दूर छुप गए और वीनू को बाइक के पास खड़ा करके उसे क्या करना है, ये समझाकर खड़ा कर दिया था. जैसे ही मेरे लंड का सुपारा उसकी गरम चूत के छेद पर लगा, उसके बदन ने एक झटका खाया और उसके मुँह से मस्ती भरी सिसकारियां छूटने लगीं- उम्ह्ह्ह अभिमन्यु पेल दो अपने लंड को … अहह देखो ना मेरी चूत कैसी अपना रस बहा रही है. मैं वापिस आया तो चाची कहने लगी- अंकित तुमने मेरी चूत को बहुत पेल लिया है फिर भी मेरा मन नहीं भर रहा है.

मैंने बाजी को पानी निकलने तक चोदा और फिर वो खड़ी हो गई।वो बोली- इमरान, अब और नहीं झुका जाएगा. हुआ कुछ यूं कि मुझे अपने सरकारी कार्य से सम्बंधित एक कांफ्रेंस में भाग लेने के लिए अचानक गुवाहाटी जाना पड़ रहा था. करीब 5 से 7 मिनट धक्के लगने के बाद चुत ने लंड को स्वीकार करके रस छोड़ दिया.

उस दिन मैंने खाना बाहर से मंगवा लिया और दीदी को लेटे लेटे ही खिलाया.

मैंने उसकी चूचियों को एक हाथ से मसलते हुए अब उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी चूत को भी सहलाना शुरू कर दिया. उस दिन उसकी कोई छोटी सी समस्या थी, जिसे मैंने उसे समझा दिया और उसकी परेशानी दूर हो गई. ये थी मेरी पहली सेक्स कहानी, अगर कोई गलती हो तो प्लीज़ नजरअंदाज कर देना.

मलखान- आह मेरी रानी … तेरा राजा आज तेरी चुत का बजा देगा बाजा आआअह ह ऐसे ही चूस मेरा लंड … हां ऐसे ही. वो तब तक उसके मुँह को चोदता रहा, जब तक रोहन उसका सारा वीर्य पी नहीं गया. मैंने जैसे तैसे बातों का सिलसिला जारी रखा फिर बातों का रुख अब धीरे धीरे सैक्स की तरफ बढ़ने लगा और बातें और भी रोमांटिक होती चली गई.

उसके गाल को प्यार से चूमते हुए मैंने कहा- हाय मेरी जान … इतनी सी बात के लिए इतनी परेशान क्यों होती हो?ये कहकर मैंने उसका हाथ खींचा और उसको अंदर रूम में ले गया. उन्होंने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत की छेद पर सैट किया और धचाक से बैठ गईं.

कमर में दर्द हो रहा है।मैंने कहा- बाजी, चलो मेरा तो पानी निकल गया और नहीं करना अब!बाजी बोली- मुझे भी नींद आ रही है. बस हो गया मेरी जान … थोड़ा सब्र रखो फिर देखना तुम्हारा ये वाला छेद भी आगे वाले छेद से कम मज़ा नहीं देगा. दोपहर के तीन बजे मनजीत का फोन आया और बोली कि सुमन पूछ रही है कब चलना है.

रजक लाल ने लंड को रोहन के गालों पर लगा दिया और अपना लंड पौंछ कर वीर्य को रोहन के चेहरे पर मल दिया.

उसकी कमर के झुकाव से उसकी गांड का गोलाकार बढ़ गया था।इस वक़्त कोई लड़का प्रियंका को चोद रहा होता तो और मजा आ जाता।मगर उस वक्त हम दोनों ही एक दूसरे का सहारा थे।प्रियंका मेरी चूत चाटते हुए एक हाथ से अपनी चूत में उंगली कर रही थी और मैं अपनी चूत के दाने को सहला रही थी. आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।तब तक आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर सेक्स कहानियों का मजा लेते रहिए और जुड़े रहिये. वो मेरी मां को अपनी बांहों में भर कर बोला- भाभी जी, आज मेरा मन भर दो; आपका क्या घिस जाएगा … वैसे भी आप भी प्यासी हो.

इस बात पर मैंने तब ध्यान दिया जब उस भाभी ने मेरी लोअर की ओर घूरकर देखा. तभी उसने इमरान हाशमी की तरह मेरा नीचे वाला होंठ अपने होंठों में लेकर स्मूच किया.

ये बात दिमाग में आते ही मैंने अपनी एक सेक्सी सी नाइटी निकाल कर पहन ली. देखने में जैसे कोई रंडी लग रही थी मगर हाई क्लास … होंठों पर पूरी गहरी लाल लिपस्टिक लगाई हुई थी उसने. नंगी लड़की की चुदाई कहानी अगला भाग:मेरी बहनों ने मेरे लंड का मजा लिया- 3.

हिंदी एक्स एक्स ब्लू फिल्म

ईहचिइआ … एएह … आअंकल ने मेरी टांग उठा कर अपना लंड मेरी चुत के मुँह पर टिका दिया, जिससे मैं अपने होशो हवास खो बैठी और अपने चूतड़ों को ऊपर को उछालने लगी.

फिर रजक लाल ने रोहन के मुँह को खोलने को कहा और उसके मुँह में भी मूतने लगा. हे भगवान, अब और कितना सताओगे सर … चोदो मुझे जल्दी से!” वो मिसमिसा कर बोली. आप सबकी प्रतिक्रियाओं के माध्यम से ही मुझे बेहतर कहानी लिखने की प्रेरणा मिलेगी.

थोड़ा गुस्सा मैंने भी बताया, तो वो फिर प्यार से बोली- अरे मैं वो नहीं कह रही … पर हम भाई बहन हैं, तो मैं तेरे सामने नंगी कैसे हो सकती हूं. पांच मिनट के बाद मेरे लंड में तनाव आने लगा मगर इसी वक्त गरिमा की चूत ने पानी छोड़ दिया और मैं उसकी चूत का सारा रस पी गया. एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी में सेक्सीहमारी चुसाई इतनी अधिक हुई थी कि हम दोनों ही डिस्चार्ज हो गए थे और हम दोनों ने ही अपना अपना पानी एक दूसरे को पिला दिया था.

अपने घर में भी उसने सबको कुछ अलग कहानी बना कर मुझे साथ ले जाने के लिए बोल दिया. पांच सात मिनट तक मैंने उसकी चूत को सहलाया और फिर एकदम से उसकी चूत से बहुत सारा पानी निकलने लगा.

मैंने भी दो तीन धक्कों के बाद मौसी की चूत में वीर्य छोड़ना शुरू कर दिया. मैंने कमरे में आते ही अपने कपड़े बदल कर वही नाइटी पहनी और चुत को ब्लैक कलर की पैंटी से ढक लिया. कांफ्रेंस से फ्री होकर मैं सीधा उस सोसायटी की पते पर पहुंचा वो अच्छी साफ सुथरी नयी बनी सोसायटी थी; बाहर सुरक्षा की व्यवस्था थी और अन्दर कंपाउंड में सब तरह के रोज की जरूरत के सामान की दुकानें थीं.

स्टेशन पहुंच कर उन्होंने कहा कि सारे पैसे मैं उन्हें दे दूं, ट्रेन में चोरी हो सकती है. कई बार जब उसको गांव से बाहर शहर जाना होता था तो वो मुझे ही लेकर जाती थी. मैंने उसका टॉप उतारे बिना ही अंदर हाथ देकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और बूब्स दबाने लगा.

मैंने चुदाई को विस्तार से न बता कर चुदाई तक पहुंचने की बात को ही लिखा है.

वहीं पीछे एक टॉयलेट था। मैंने बच्चो को वहीं चाट खाने को बोला और मैं डिम्पी को लेकर टॉयलेट में घुस गया. उसने मेरे मुंह पर हाथ रखा और मुझे प्यार करने लगा; मेरे गालों को चूमने लगा; मेरी चूचियों को सहलाने लगा.

मॉम के सोने के बाद मैंने राखी दीदी को नंगी करके चोदने लगा और उनके कान में कहा- दीदी, आप गर्म आवाजें निकालो, जिससे मॉम गर्म हो जाएं. मैं जान गया कि इसको मोटा दमदार लंड अच्छा लगता है और उसकी कमी है शायद इसके जीवन में।मैंने उसके पति का साइज़ पूछा तो उसने बताया कि आपके लंड से करीब 2 इंच छोटा है उनका. ये देख कर बलदेव ने अपना लंगोट निकाल कर फेंक दिया और 8 इंच लंबा और ढाई इंच चौड़ा लंड फनफनाता हुआ बाहर आकर हिलने लगा था.

जो देसी चुदाई कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूँ यह मेरी जिंदगी की एक सच्ची घटना है। मेरा बाप बहुत पहले बिहार से पंजाब में काम करने के लिये आ गया था। मेरा ज्यादा समय पंजाब में ही गुज़रा है। मेरा बाप एक जमींदार के घर में खेती का काम करता था. दीदी का कॉलेज मेरी कॉलेज के रास्ते में पड़ता है, तो रोज मैं उसे अपनी बाइक से छोड़ता हुआ जाता हूँ. फिर मॉम बोली- देख बेटी, तेरी अब शादी हो गयी है, तेरा तो पति भी है, मगर तू फिर भी अपनेसगे भाई से चुदाईक्यों करवा रही है? जा … अपने रूम में जाकर सो जा.

सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ उसकी चूत में से नमकीन स्वाद मिल रहा था जो शायद उसकी चूत में लगी पेशाब की बूंदों का था. कुछ देर बाद भाभी का जिस्म कांप उठा और वो मेरे जिस्म से कसके चिपक गईं.

लेटेस्ट ब्लू फिल्म

उनकी झुकी हुई पतली कमर और गोरे रंग के मोटे चूतड़ देख कर मेरी हालत खराब हो गई। मेरा दिल किया कि साली को फिर से चोद दूं।मैंने कहा- बाजी … आपकी गांड का सुराख बहुत अच्छा लग रहा है. मुझे वासना की गर्मी इतनी अधिक चढ़ चुकी थी कि मैं मदमस्त हाथी की तरह उसे रौंद देना चाहता था. सागर की पैंट की चेन खोलकर उसका मोटा लौड़ा खुली सड़क पर बाहर निकाल कर चूसने लगी.

वो कभी मां की चूचियों को दबा कर देख रही थी तो कभी उनको पीने की कोशिश कर रही थी. जब भी मैं गली से गुजरती थी तो लोगों की निगाहें मेरे गोरे और सेक्सी बदन पर टिक जाती थीं. सेक्सी फिल्म आना चाहिएगाली सुनना मेरी बीवी को बहुत पसंद है इसलिए उसने अमित को बांहों में कस लिया और किस करके बोली- आज नहीं देवर जी … कल जब मेरे पति ऑफ़िस चले जाएंगे … तो आप मत जाना.

बुआ की पिंक चूत खून निकलने से और भी पिंक हो गई थी, जिसमें से मेरा माल गिर रहा था.

आगे क्या क्या हुआ होगा आप समझ सकते हैं, आखिर को लड़की के इलाज के नाम पर एक हजार रुपये देकर उन सज्जन की जान छूटी. फिर अमन कमरे में आया तो उसके हाथ में एक शहद की बोतल थी जो वो किचन से उठा लाया था.

एक बात और कहना चाहता हूं कि ये मेरा कहानी लिखने का पहला अनुभव था इसलिए गलती हुई हो तो माफ कर देना. इस पर ज्योति बोली- भइया क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं … बस तुमसे प्यार कर रहा हूँ। क्या तुम्हारा मन नहीं करता है कि कोई तुमसे प्यार करे … अपनी बांहों में भरकर तुम्हें जिंदगी का सबसे हसीन सुख दे दे।ज्योति ने कहा- भइया, आप मेरे भाई हैं. मैंने उसके माथे पर एक किस करते हुए कहा- पागल ये बता कि तुझे मज़ा आया या नहीं?तो उसने मेरे सीने पर किस करते हुए अपना चेहरा मेरे सीने में छिपा लिया।मैंने ज्योति को सामने बैठने का इशारा किया तो वो मेरे सामने घुटनों के बल बैठ गयी।मेरे इशारे पर ज्योति ने मेरे लोवर और अंडरवियर को उतार दिया।अब मेरा खड़ा लन्ड उसके सामने था.

फिर उन्होंने मुझे सीने से हटाया और मेरे नर्म नर्म लाल सुर्ख होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगे.

कुछ देर बाद बस आगे ढाबे पर खाना खाने के लिए रुकी … तो मैंने उसे उठाया कि खाना खा लो. अंदर जाते ही मैंने सीधे उसका साया उठाया और उसकी पैंटी उतरवाकर अपना 8 इंच का लण्ड उसकी चूत में घुसा दिया और ज़ोर से धक्के देने लगा. फेक अकाउंट की वजह ये है कि मैं अपनी असली पहचान किसी को देना नहीं चाहता और किसी की जानना भी नहीं चाहता.

शिल्पा सेक्सी वीडियो एचडीलेकिन उसका दामाद पहले सास को चोदता है, फिर उस शादी के लिए राजी होता है. मेरे मुंह से जोर से आह्ह … निकली और वो एक हाथ से मेरी चूचियों को दबाते हुए मेरी चूत में उंगली करने लगा.

सेक्स करने का व्हिडिओ

उसके जंगली तरह से किस करने से मैं भी गर्म होने लगी और मैं भी अरमान का साथ देते हुए उसको किस करने लगी. अब उसकी पीठ की मालिश करते करते मैंने उसके मम्मों को भी छूने की कोशिश की. उस दिन मैंने खाना बाहर से मंगवा लिया और दीदी को लेटे लेटे ही खिलाया.

मैंने अपनी क्लासमेट गर्लफ्रेंड की चुदाई कैसे की?मेरी कॉलेज लाइफ की इस सेक्स कहानी के पहले भागटीचर की चुदाई देखकर मुझे कुंवारी चूत मिली-1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरी टीचर की चुदाई स्कूल के प्रिन्सिपल सर ने बाथरूम में की थी, जिसे मैंने और मेरे साथ पढ़ने वाली आकांक्षा ने देखा था. पर मैं एक छोटे से गांव जो कि बूंदी जिला में आता है, का रहने वाला हूँ।मैं आप को मेरे बारे में बता देता हूं। मैं 25 साल का पूरा नौजवान हूँ. दोनों तरफ दूध ही दूध था।सोनाली का टॉप ऊपर करके मैंने ब्रा नीचे कर दी और उसके निप्पल्स मसल दिए और चूसने लगा। फिर उसकी लोअर के अंदर हाथ डाल दिया.

दीदी ने ब्लू कलर का टॉप पहना हुआ था और ब्लैक कलर का कैफ्री डाली हुई थी. इस कहानी के बारे में आगे बढ़ने से पहले मैं आप लोगों को अपने बारे में बताना चाहती हूं. लण्ड के धीरे धीरे अन्दर बाहर होने से मनमीत भी आनन्दित हो रही थी लेकिन मेरा लण्ड पूरा घुसने को बेताब था.

अब मैं फिर से बेड पर आया और उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं और लंड को उसकी चूत के द्वार पर सटा दिया. अब मैंने सोच लिया था कि किसी भी तरह मैं रिया को होटल में ले जाऊंगा और उसकी होटल में चुदाई करूंगा.

मैंने कहा- मैंने कौन सी गलती की है भाभी?वो बोली- मुझे सब पता है कि तुम कहां देख रहे थे.

वो अपनी गांड को उठाते हुए सेठ के लंड को अपनी चूत में गोल गोल घुमाने की कोशिश कर रही थी. गाना वाला सेक्सी वीडियो दीजिएउसका गोरा पेट और झीने से ब्लाउज में उसकी काली ब्रा साफ पता लग रही थी. सेक्सी मासेमैं- अम्मी … आखिर बात क्या है?अम्मी गुस्से में- ज़ोहरा की सास कह रही है कि अगर इस बार ज़ोहरा के हमल ना रुका तो अगली बार रफ़ीक़ की दूसरी शादी करवा देगी. कारण कि धार्मिक विचारों वाली मेरी पत्नी तो लंड चूसती ही नहीं और मेरी जिंदगी में कोई बाहर वाली कभी आई ही नहीं.

वो बाहर आने के लिए बेताब थे और उसकी ब्रा को जैसे अंदर से ही धकेल कर कह रहे हों कि हमें यहां से बाहर निकालो.

मैंने दिल्ली में एडमिशन के लिए कहा तो पापा अपने दोस्त से बात कर ली. मैं शनाज़ को एक बार चोद कर उसे सुला कर आपा के कमरे में जाना चाहता था लेकिन उस रात उसने मुझे कहीं नहीं जाने दिया. मैंने आरिया से पूछा कि कितनों से चुदवा चुकी है?आरिया हंस कर बोली- अभी सिर्फ दो से … आप तीसरे हो.

फिर मैं तेज़ तेज़ झटके मारकर रखी को चोदने लगा।अब राखी की सिसकारियां तेज़ हो गई और पूरे कमरे में चुदाई की आवाज तेज हो गई।मैं उसे पूरी रफ्तार से चोदने लगा. अब सागर निश्चिन्त होकर उस सन्नाटे वाली सड़क पर एकदम मेरे चिपक के बैठ गया और अपने होंठों से मेरे गले को चूमने लगा. वैसे तो एक दो दिन में ही लौटना हो जाता था, मगर कोई बड़ा काम आ गया होता, तो 10 दिन 15 दिन के लिए भी बाहर रहना पड़ जाता था.

भाभी को चुदाई

फिर मैंने मॉम को घोड़ी बना लिया और उसकी गांड पकड़ कर उसकी चूत चोदने लगा. क़िस्मत ने मेरा साथ दिया और लाइट चली गई।तभी सुरभि और नीलम (दुल्हन) ऊपर आ गईं। वो दोनों एक तरफ खड़ी होकर बतियाने लगीं. इस बात को आप नीरजा से मत बोलियागा कि मैंने आपको आने को बोला है … क्योंकि वो अपने पापा को लेकर आपको कुछ नहीं बोलती.

तभी मैंने माया को फोन किया- मुझे आज रात घर आना सम्भव नहीं हो पाएगा.

शायद उसकी चूत ने अब पानी छोड़ दिया था क्योंकि मुझे उसकी चूत में अब कुछ ज्यादा ही चिकनाहट महसूस हो रही थी.

प्रीति की टांगों के बीच आकर मैंने उसकी चूत के लब खोले और अपने लण्ड का सुपारा अन्दर कर दिया. हम दोनों अन्दर चले गए और भाभी हम दोनों को सोफा पर बिठाकर चाय बनाने चली गईं. सेक्सी फिल्म खुल्लम-खुल्लाबॉयफ्रेंड ने कहा कि इस भिखारी को तेरे चूचे दिखाते हैं, बहुत मजा आयेगा.

चूंकि चूत का रस छूट चुका था इसलिए चूत में पुच … पुच … की आवाज होने लगी. पर उसने सोचा कि गांव में रहकर उसके बच्चे की अच्छी शिक्षा नहीं हो सकती और न ही उसका भविष्य संवर सकता है इसलिए वो विभिन्न नौकरियों के लिए तैयारी करने लगी और सफल भी हुई. मैंने इस बार पूछ लिया कि जब सुबह आप नाश्ता रही थीं, तो बार बार लोअर ठीक क्यों कर रही थीं?मैं डरते डरते उनके चेहरे को ही देख रहा था.

उसके गुबाली होंठों पर मेरा सफेद वीर्य लगा हुआ चमक रहा था जिसे देखकर मुझे बहुत सुकून मिल रहा था. मैंने बोला कि चाची पहली बार तो जब आपने आगे से किया होगा, तब भी दर्द हुआ होगा न … तो क्या आप मेरे लिए इतना दर्द भी सहन नहीं कर सकती हो?चाची कुछ नहीं बोलीं.

अब मैंने उसके 36 के बूब्स को टॉप के ऊपर से ही जोर से दबा दिया और फिर उसकी आह निकल गई.

उसने अपनी बेटी को उसकी नानी के पास सुला दिया था। अंदर जाते ही वो एक शेरनी की तरह मुझ पर टूट पड़ी और मुझे किस करने लगी. मैं कुछ बोलूं, उससे पहले मेरे शौहर ने पूछा- कहां?टी टी ने कहा- खर्चा पानी लेकर आते हैं हम लोग, हम इसी टाईप का खर्चा पानी लेते हैं. अब मैं पहली वाली चूची को जोर देकर दबा रहा था और दूसरी को सक् कर रहा था.

कोलकाता के सोनागाछी सेक्सी वीडियो उनका नम्बर आया तो वो महिला मेरे बगल में रखे स्टूल पर बैठ गई और सरदार जी सामने वाली कुर्सी पर. कुछ ही दिनों के बाद मैंने देखा कि उसकी चूचियों का आकार बढ़ने लगा था.

बड़ी बड़ी कजरारी पानीदार आंखें जो किसी को भी सहज ही वशीभूत कर लें!उसके ब्लाउज का गला हालांकि बहुत छोटा था पर उसके विशाल स्तनों का लुभावना उभार उसकी साड़ी के ऊपर से ही साफ नज़र आता था. हिलाते हिलाते उसने मेरा लन्ड मुंह में ले लिया। मेरी प्यारी छोटी बहन मेरा लंड इतने मजे से चूस रही थी कि मुझे उस पर बहुत प्यार आ रहा था और मैं उसके बालों को प्यार से सहलाते हुए लंड को चुसवा रहा था. मेरे पास जितने पैसे थे वो तो मैंने एडमिशन और एक बिजनेस में लगा दिये.

स्कूल यूनिफार्म ड्रेस

इसलिए रात भर फेसबुक और व्हाट्सएप्प में ऑनलाइन रहती है।फिर वह मेरे पास आकर बैठ गई तो मेरी गांड फटने लगी. बड़े सलीके से बंधी साड़ी को मैंने धीरे धीरे किरण के शरीर से अलग किया, फिर उसका ब्लाउज और पेटीकोट उतार दिया. उसने मुझे जो बताया था, उसमें से जितना मुझे याद है, वो मैं लिख रहा हूं.

हम दोनों एक दूसरे से चिपके हुए थे, एक दूसरे को खूब चूम और चाट रहे थे।वह मेरे पूरे जिस्म को चाट रहा था। मेरे बूब्स को कभी चूस रहा था कभी दबा रहा था। और बीच-बीच में मेरे होंठों पर किस कर रहा था. दोनों हवलदार, जो मेरे आजू बाजू में लेटे थे, ने अपनी एक एक टांग मेरी टांगों पर चढा़ दी और अपने एक एक हाथ मेरे दोनों स्तनों पर रख दिया.

भाभी की चुत को सहला रहा था, मेरे हाथ के ऊपर उनका बैग था, तो किसी को पता नहीं चल रहा था.

झूठ ही तो बोलना है न, या मैं आपको ऑफिस पहुंचा के बाहर से ही लौट लूंगा. ये देख कर उसने मेरी मम्मी के नीचे हाथ लगाया और उनके नीचे के कपड़े उतारने लगा. [emailprotected]सास चुदाई की कहानी का अगला भाग:जमींदार के लंड की ताकत- 2.

सुनते ही कल्लू झट से बेड पर चढ़ गया उसने अपनी शर्ट और पजामा उतार फेंके. मेरे लौड़े के हर झटके से उसकी सिसकारी तेज़ होने लगी और मैं भी फुल स्पीड से चोदने लगा. भाभी की गांड और चूतड़ों का आकार ऐसा लग रहा था कि कोई दिल के आकार का गुब्बारा मेरे सामने थिरक रहा था.

ठाकुर ने तुरंत चाय का बरतन उतार कर नीचे रखा और मंजू को दोनों हाथों से उठाकर बेडरूम में ले आया और बेड पर पटक दिया.

सेक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओ: मेरी मम्मी को मजा आने लगा और वो अपने हाथ से फुसा को दूध पिलाने लगीं. यह देसी GF सेक्स कहानी मेरे और मेरी गर्ल फ्रेंड डिम्पल की चुदाई की है.

वो बहुत तेज़ी से मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूस रही थी और मैं भी अपनी जीभ उसकी चूत में अन्दर-बाहर कर रहा था। लगभग 10-15 मिनट के बाद हम दोनों अलग हुए और फिर एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे। मैं उसकी चूचियों को मसल रहा था और वो मेरे लंड को सहला रही थी. अंकल ने उससे मेरे लिए भी चाय लाने के लिए कहा, तो वो बोली- आप ये मम्मी की चाय इन्हें दे दीजिए, अभी मम्मी दूध निकाल रही हैं, मैं उनके लिए दूसरी बना देती हूँ. मैंने अपने बदन को ढीला छोड़ दिया और उसका साथ देने की कोशिश करने लगी.

अब आहिस्ते आहिस्ते घर में सभी लोगों के मन में डर होने लगा कि कहीं हम दोनों भाई बहन के ऊपर कुछ ऐसा है कि हम बेऔलाद ही रहेंगे.

कुछ देर इसी तरह रहने के बाद उन्होंने अपना सिर पीछे किया, तो हम दोनों के होंठ एकदम आमने सामने आ गए. घोड़ी बनाकर चोदने से चूत और टाईट हो जाती है, जिससे लण्ड बहुत फंसकर अन्दर जाता है, इसीलिये मुझे यह आसन बहुत पसन्द है. मैंने वहां इस बात का जिक्र किया कि राबिया की शादी होने वाली है तो अब सबने इस बारे में ही जिक्र करना शुरू कर दिया।नजमा दीदी की दो बेटियां हैं- सोफिया और आयत.