इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो मोटी चूची वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्स पिक्चर: इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी, मगर रीना को चोदते हुए मेरे पेट के निचले हिस्से में दर्द होने लगा था क्योंकि मैंने डिल्डो पहन कर पहली बार चुदाई की थी, नहीं तो आज तक सिर्फ अपनी चूत की चुदाई ही करवाई थी.

desi सेक्सी विडियोज

मेरे सामने भाभी की भरी हुई एकदम दूध सी सफ़ेद जांघें थीं और उन संगमरमर सी चिकनी जांघों में लाल पैंटी फंसी देख कर मेरे मुँह में पानी भी आने लगा था. सेक्सी पिक्चर हॉट पिक्चरलेकिन वो मेरी कोई भी बात नहीं सुन रहे थे, बस लगातार धक्के लगाने में लगे थे.

मैं उसकी ओर देखती हुई बोली- वाह बहुत अच्छे नाम है तुम्हारे, बहुत बढ़िया. देसी सेक्सी भाभी को चोदामुझे डर लगने लगा कि कहीं भाभी इस हरकत को भाई से ना बता दें।तीन-चार दिनों तक भाभी ने मुझसे बात नहीं की।फिर एक दिन मैंने भाभी के रूम में कीहोल से देखा कि वह नहा कर केवल अपने बदन पर एक चुन्नी डाले हुए बाहर आई और शीशे में देख कर अपने शरीर को संवारने लगीं.

Xxx भाई बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी छोटी बहन की गांड पर नजर रखता था.इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी: मैंने कोल्डड्रिंक लेते हुए पूछा- क्या हुआ भाभी, भईया कहीं दिख नहीं रहे?वो बोली- वो अपने काम के कारण एक महीने के लिए बाहर गए हैं.

गांव में कोई बड़ा स्कूल ना होने के कारण हम सभी भाई बहन अपने बड़े चाचा और चाची के साथ कस्बे वाले घर में रहते हैं.इतने में आंटी के मुँह से अजीब सी सिसकारियां और मादक आवाजें निकलने लगीं.

भाभी की नंगी सेक्सी पिक्चर - इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी

मैं भी जानता था कि जो लड़की दो दिन पहले 55-60 साल के बुड्डे के साथ चुदने आई थी और चुद कर गयी थी.मैं भी उसके सिर को पकड़ कर अपने लौड़े पर उसके मुँह का दबाव बढ़ाने लगा.

वो मेरी पीठ के ऊपर धौल मारकर चिपक गईं और हाथ आगे करके मेरे पेट के ऊपर बांध दिए. इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी यह मेरी पहली और एकदम सच्ची प्यासी भाभी पोर्न कहानी है जो मेरी जिंदगी में बीती थी.

गांव में जब मैं निकलती, तो चाहे मेरी उम्र के लड़के हों या शादीशुदा अधेड़ उम्र के आदमी हों, सभी की निगाह मेरे तने हुए बड़े बड़े चूचों पर … और मेरी उभरी हुई गांड पर टिक जाती थी.

इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी?

इसलिए जब कॉल करूं, तब आना, मैं आगे का गेट खुला छोड़ दूंगी।अब तक 1-30 बज चुके थे और सुबह से मैं भूखा था और चूत चोदने की भूख वो अलग लग रही थी. भाभी को चुदाई की बहुत जल्दी थी तो उन्होंने मुझसे प्यार से कहा- तुम मुझे ज्यादा मत तड़पाओ प्रवीण, जल्दी से मेरी चुदाई करो, मुझसे रहा नहीं जा रहा है. इस सबके बाद बहन ने अपनी चूचियां हिलाते हुए कहा- सभी लोग सात आठ दिन के पहले नहीं आने वाले हैं.

मैंने दीदी की पैंटी को निकाला तो देखा दीदी की चूत पावरोटी की तरह फूली हुई थी. मैंने कहा- आंटी, धन्यवाद तो मुझे आपका करना चाहिए कि आप जैसी इतनी सुंदर रांड मेरे दोस्त की मां है. मेरे काम की वजह से मुझे रुकना पड़ा और उसी के बाद लॉकडाउन लगा दिया गया तो हम दोनों वहीं फंस गए.

अब मेरी जगह रोहित ने ले ली थी और वो अपनी बीवी ज्योति की चुदाई रोहित कर रहा था. सिस्टर ऐस फक कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी विवाहित दीदी की चूत और गांड मार कर मजा लिया. तब तक नीचे मेरी कच्छी में मेरी छोटी सी बुर ने हल्का हल्का पानी भी छोड़ दिया था.

मॉम की आवाज सुनकर विक्रम ने मुझे छोड़ा और मॉम से बोला- आंटी, मैं तो आपसे भी इसकी तरह गले मिल लूं, पर आप बुरा मान जाएंगी. फिर मैं उससे अलग हो गया और आधा घंटा तक हम दोनों एक दूसरे के साथ चूमाचाटी करते रहे.

मैं अपने भाई की बीवी की धकापेल चुदाई कर रहा था और उधर भाई, मेरे कमरे में मेरी बीवी को रगड़ रहा होगा.

रणवीर ने मुझको एक गिलास पानी देकर कहा- अभी आराम से बैठो और पानी पियो.

भाभी- मैं सबको बता दूंगी कि तुम कैसे मुझे देखते हो … और अभी जब मैं तुम्हें कोल्ड ड्रिंक दे रही थी, तब भी तुम मेरे ये गुब्बारे देख रहे थे. मैं जैसे ही घर के अन्दर गया तो मामी मुझे देखते ही रंडी की तरह मुझ पर टूट पड़ीं. उसने मेरी चूत की फांकें अपने दोनों हाथों की उंगलियों से अलग की।बॉस, ये तो पहले से गीली है, कुछ करने की जरूरत नहीं, चलो सीधा चोदते हैं.

इसलिए श्रीमती वर्मा ने अपनी सहेली यानि मेरी श्रीमती को फोन करके मुझे बिजली की खराबी देख लेने को कहा था. मैं धीरे धीरे लंड आगे पीछे करने लगा, लंड थोड़ा थोड़ा सरक सरक कर पूरा अंदर चला गया. साली- आह जीजू … आ जाओ जल्दी से मुझसे लिपट जाओ और अपना लंड मेरी चूत के अन्दर पेल कर मुझे दम से चोद दो.

यह कहते हुए राजेश शर्मा अंकल को हॉल से बाहर तक छोड़ने के लिए चला गया.

[emailprotected]वाटर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बैचलर पार्टी में मेरी सामूहिक चुदाई- 3. मैंने उसके मजे लेते हुए कहा- शानू चाय पिओगे क्या?तभी शानू अपने हाथ में लंड पकड़ कर किचन में आने लगा. कुछ समय आराम करने के बाद मैंने किशोर को बोला कि जब तक हम लोग हैं, हमारे खाने का इंतजाम अच्छे से करना.

अब दूसरे दिन से भाभी और भाभी के 5 माह का बच्चा एक साथ ऑफिस जाने लगे. उस रात हम सबने एक साथ ड्रिंक एन्जॉय की और मैं वरुण को कुछ ज्यादा पिला दी. कुछ ही पलों में भाभी बहुत उत्तेजित हो गई थीं और उन्होंने एकदम से मेरे सर को पकड़ कर अपनी चूत पर जोर से दबा दिया.

उसकी इस झीनी सी नाइटी में से उसके आधे से ज्यादा दूध साफ़ दिखाई दे रहे थे.

मैंने तुरंत ही उठकर अपना लंड नीलिमा की चूत पर लगा दिया और बुआ ने उस पर थूक कर उसे चिकना बना दिया. अब तक हम दोनों ने एक दूसरे को देखा भी नहीं था लेकिन तब भी हमारे बीच एक अच्छी दोस्ती सी हो गई थी.

इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी मेरे उभरे हुए दोनों दूध उसके सीने पर दबे जा रहे थे, मेरी सांस काफी तेज रफ्तार से चल रही थी. मैं बोला- मेरे सिवाय उसका अपना कौन है … और मैं तो उसे चोद नहीं सकता!कोमल बोली- क्यों तुम में क्या खराबी है, तुम ही चोद दो, बदनामी भी नहीं होगी और काम भी हो जाएगा.

इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी भाभी मस्ती में ‘ईएम्म्म एम्म उएम्म्म …’ कर रही थीं और चुदाई का मजा ले रही थीं. उस समय मैंने ब्रा नहीं पहनी थी तो जैसे ही मैं झुकती या चलती … तो मेरे स्तन हिलते और झुकने पर दिखने लगते.

उसके मुँह से निकली मादक आवाजें निकल रही थीं और चुदाई की आवाजों से पूरा रूम गूंज रहा था.

गली दिसावर में आज क्या खुलेगा

फिर दीदी ने मेरी गांड को फैलाकर अपनी एक उंगली मेरी गांड में डाल दी. मैं पायल से बोला- अब क्या ख्याल है मेरी जान?वो मेरे लंड की तरफ देखने लगी. वो मुझे पास में पड़े बिस्तर पर ले गया और बिस्तर पर बिछे वाटर पिलो वाले मुलायम गद्दे पटक दिया.

मैंने भी पूरा लंड एक झटके में चूत के अन्दर तक पेल दिया और चोदने लगा. वो सीन अभी भी मेरी आंखों के सामने चल रहा था कि आज जिन्दगी में पहली बार मुझे सेक्स में इतना मजा आया था. उसका गर्म गर्म लावा मेरे गले में जाता हुआ मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे मैं गर्म गर्म पानी पी रही हूँ.

प्रिय पातको, आपको मेरी हॉट गर्ल की चूत की कहानी अच्छी लगी या नहीं?मुझे कमेंट्स में और मेरी मेल पर लिखें.

वैशाली को कौन बताएगा?चाची सास- तब भी, ये सब गलत है … आज नहीं तो कल पता चल ही जाएगा. मैंने सोचा आंटी कल चली जाएंगी, तो एक बार और आखिरी बार चूत मार लेता हूँ. वो बोलीं- मैं कबसे तुझसे चुदना चाहती थी, लेकिन मैं कैसे कहूं … समझ में नहीं आ रहा था.

कोमल- रुको पहले ये गोली तो खा लो … और वो जो आपका स्पेशल कैमरा वाला मोबाइल है, वो मुझे दे दो. मैं- फिर मैंने तुम्हें बिस्तर पर गिरा दिया और तुम्हारे ऊपर आकर अपने दोनों हाथों से तुम्हारी चूचियों की मालिश करने लगा. मैं चलते चलते आंटी की गांड को मटकते हुए देख रहा था और इसमें मज़ा भी बहुत आ रहा था.

अंजलि- विवेक प्लीज़ अपना वीर्य मेरी चूत में निकालना, मैं तुम्हारे बच्चे की मां बनना चाहती हूँ प्लीज़ अन्दर डालना अअह ऊऊऊ और जोरर्र सेईई आआह करते रहो. कसम से दोस्तो, इतना मजा आ रहा था, जिसके बारे में मैंने न कभी सोचा था और न ही उस अनुभव को मैं शब्दों में बयान कर सकती हूं.

उसका थोड़ा सा ही लंड मेरी गांड में जा पाया था मगर मेरी मां चुद गई थी. वो किसी तरह से अपनी चूत छिपाने की कोशिश कर रही थी मगर मैंने उसके दोनों पैर फैला दिए और अपने दोनों हाथों को उसकी चूतड़ के नीचे लगा कर उसकी चूत में झुक गया. इससे अंकल में और ज्यादा हवस जाग गई और वो मेरी जीभ को चूसने लगे।फिर उन्होंने मुझको खड़ी किया और मेरे पीछे आ गए जिससे उनका बड़ा और मोटा लंड मेरी जींस में घुसने को बेकरार हो रहा था।अंकल ने झट से मेरा टॉप निकाल दिया और मेरी ब्रा के ऊपर से मेरी चूचियों को दबाने लगे.

अब मैं अपनी बहन की चूत चुदाई के समय उसकी गांड में उंगली भी करने लगा था इससे मेरी बहन की गांड ढीली होने लगी.

रीना इठला कर बोली- क्यों आंटी, क्या अब तक तुमने ही अकेले लंड के मजे लिए हैं क्या. उस वक्त प्रिया भी जोर जोर से चिल्लाए जा रही थी और मैं हल्के हल्के उसे चोदे जा रहा था. वो सीन अभी भी मेरी आंखों के सामने चल रहा था कि आज जिन्दगी में पहली बार मुझे सेक्स में इतना मजा आया था.

अब उन्होंने मेरे लंड को जैसे ही बाहर निकाला तो बोली- तेरा लंड भी बहुत कड़क है।और वे तीनों बारी-बारी से मेरे लंड को चूसने लगी. वो सब अपने अपने हाथों से अपने लंड को ऊपर नीचे करने लगे और एक-एक करके झड़ने लगे.

मॉम ने मेरी जीभ चूसना शुरू कर दिया और मैंने मॉम की चूचियों को सहलाना शुरू कर दिया. मैं- क्यों क्या हुआ?भाभी बोली- कुछ विशेष बात करनी है … ये बहुत जरूरी बात है. वो मेरी चूत में डिल्डो पेल कर मेरी चूत की जोर जोर से चुदाई करने लगी.

कॉलेज सेक्सी ओपन

मैंने कुछ कुछ मंगवाया भी तो विश्वेश्वर जी ने मना कर दिया और बोले- ठीक नहीं लगता.

चौथे ने फिर से मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और मुझे कुर्सी पर बैठा कर मुझे जोर जोर से चोदने लगा. भाभी की पैंटी की इलास्टिक में दोनों तरफ से उंगलियां फंसाईं और नीचे को खींची तो भाभी ने गांड उठा दी और उनकी जन्नत का दरवाजा मेरे सामने बेनकाब हो गया. जंगल और नदी के बीच सभी मजे कर रहे थे और मैं दूर अकेले पानी के पास बैठ अपनी कैरियर और चूत के लिए सोच ही रही थी कि अचानक से जोगी सर आ गए.

दो मिनट के बाद भाभी को गांड मराने में मजा आने लगा और वो खुद से अपनी गांड उठा उठा कर मरवाने लगी. मैंने शेयर बाजार में नया नया काम शुरू किया था मगर नासमझी के कारण मुझे उसमें नुकसान होने लगा, मेरी जमापूँजी खत्म होने लगी, जिससे मैं बहुत ही ज्यादा अवसाद में आ गयाइसके बाद मैं एक मनोवैज्ञानिक सर के यहां अपने आपको इस अवसाद की स्थिति से बाहर निकलने के लिए जाने लगा. सेक्सी पिक्चर वीडियो चुदाई हिंदीस!इतना सब तो मैं भी बर्दाश्त नहीं कर पाया, मैंने स्पीड से चार पांच झटके एक साथ ज्योति की चूत में लगाए और जोर से लौड़े को बाहर निकाला.

मैं उठ कर बैठ गई और अंकल के लोड़े की टोपी को अपने हाथ से पकड़कर आगे पीछे करने लगी. इतने में मेरे घर में आंटी आ गईं और उन्होंने मुझे रंगे हाथों पकड़ लिया.

पानी का हौद लगभग 10 फीट लंबा-चौड़ा होगा, वो एक छोटे स्विमिंग पूल जैसा था. वो बोलीं- सामने ही तो हूँ, दिखाओ न!मैंने कहा- अरे यार, जब तुम्हारा ज्यादा मन हो तो मुझे घर बुला कर देख लेना, अन्दर ले लेना, जो मन हो सो कर लेना. वो बोली- साले, गांड की तरफ की सोचियो भी मत … उधर तेरी दाल नहीं गलने वाली.

फिर धीरे धीरे मैंने उसकी कमर से पजामे को नीचे किया तो उसने पैंटी नहीं पहनी थी. मैंने एक बार अपने भाई की तरफ देखा जो बस गहरी नींद में था।अंकल ने मेरी चूत के दाने को अपने मुंह में लिया और उसे बुरी तरह चूसने लगे. फिर मैं चुदाई की मुद्रा में आ गया और उनकी टांगें उठा कर उनकी गुलाबी गांड चाटने लगा.

लेकिन मुझे कोई ऐसा लड़का नहीं मिल रहा था, जो मेरी उम्मीद पर खड़ा उतरे.

उनकी दोस्ती अनुज से हो गई थी, तो आंटी को वही एअरपोर्ट छोड़ने जाने वाला था इसीलिए आंटी ने हमको मना कर दिया. कुछ देर बाद मैडम अकड़ गई, मैं समझ गया कि मैडम का पानी निकलने को है.

आंटी दर्द से कराहा उठीं क्योंकि चूत में दो लंड आंटी के लिए पहली बार था. वो गर्म हो गई और मेरे साथ सेक्स करने लगी, चूत को मेरे लंड पर पटकती हुई बोली- ठीक है, तुम्हें जो करना है, करो. मेरा लंड भो लोहे की रॉड बन गया है, देखोगे नहीं?वो बोला- हां देखेंगे, क्यों नहीं देखेंगे.

उसने लिखा- किस ख्याल में खो गए? तुमने मेरी चैट को ओपन कर रखा है … और मैसेज ही नहीं किया. [emailprotected]मेरी चाची लव स्टोरी का अगला भाग:चुदासी चाची के साथ मस्ती से भरी रंगरेलियां- 5. हॉट बहन की वासना इतनी बढ़ गयी कि वो अपने भाई से सेक्स करने की बातें सोचने लगी.

इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी चाची खुशी के मारे ‘आहह ह … उहहह … ईहह …’ जैसी आवाजें लगातार निकाल रही थीं. इसके बाद मैं अपना लंड भाभी के मुँह के पास ले गया तो भाभी मेरा लंड देख कर खुश हो गईं और उसे मुँह में लेकर चूसने लगीं.

सेक्सी फिल्म अंग्रेजी सेक्सी

इसके बाद वह पौंछा लगाने लगी।पौंछा लगाते समय उन्होंने अपनी कुर्ते को थोड़ा ऊपर कर लिया जिससे वह एक डॉगी स्टाइल में उनकी टाइट लैगी से उनके चूतड़ साफ-साफ दिख रहे थे।ऐसे ही अब शाम हो गई. न्यूड बूब्ज़ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं बहन की ससुराल गया तो उसकी जवान ननद गलती से मेरे सामने ऊपर से बिल्कुल नंगी आ गयी. आप पाठकों का ज्यादा भेजा ना चाटते हुए सीधा देसी भाभी Xxx चुदाई कहानी पर आता हूँ.

जैसा कि मैंने पहले बताया मैंने 3 साल से सेक्स नहीं किया था तो मेरे से आधी उम्र की जवान लड़की के मेरा लंड पकड़ते ही मेरा माल फूट पड़ा. उसी के साथ नर्स सुरभि भी किस तरह से मेरे लौड़े के नीचे आई उसकी चूत गांड चुदाई की कहानी भी लिखूंगा. सेक्सी वीडियो एचडी 9 सालफिर मैं रूम में गया और उन्हें सामने देखकर में एकदम से पलट गया और वापस रूम से बाहर आ गया और सोचने लगा कि अब क्या होगा?अब मुझे बहुत डर लग रहा था कि कहीं चाची समझ नहीं गयी हो कि मैं जानबूझकर रूम में आया था.

कुछ पल बाद मैं बेड से नीचे आकर खड़ा हो गया और अपनी भाभी की टांगों को अपने कंधों पर रखकर चूत में लंड के झटके देने लगा.

भाभी की ख़ुशी देख कर मुझे भी ठीक लगा कि उनको मेरा आयशा से बात करना बुरा नहीं लगा. उस वक्त मेरी आँखें बंद हो रही थी और मैंने अपने हाथों से सुकेश के सिर को पकड़ रखा था.

राजेश के इशारे पर प्रकाश ने मेरी चोली और लहंगा भी पानी में भिगोकर बाहर निकाल कर एक कुर्सी पर सुखा दिया. अब मॉम ने स्पीड बढ़ा दी और तेजी से अपनी उंगलियां अन्दर बाहर करने लगीं. भाभी ने मुझे फिर होंठों पर किस किया और उसके बाद मैं अपने रूम में आ गया।शाम को राजेश भी आ गया.

लॉकडाउन में जब मैं फ्री हुई, तो मुझे लगा मुझे भी अपने जीवन की रसीली कहानियां अन्तर्वासना पर लिखनी चाहिए क्योंकि मेरा जीवन सेक्सी कहानियों से भरा हुआ है.

बारहवीं क्लास की एक लड़की, जिसे मैं काफी पसंद करता था … परंतु उसे कभी बोल नहीं पाया था. आप मुझे मेल करें कि आपको फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected]धन्यवाद. अब ये दूसरा राउंड था तो स्वाभिक तौर पर झड़ने में टाइम तो लगना ही था और ये दोनों रुक रुक कर अरुणिमा को चोद रहे थे तो और ज्यादा समय लगने की उम्मीद थी.

देसी सेक्सी नंगा डांसभाभी बहुत जोर जोर से आह आह कर रही थीं और अपने दोनों पैरों से मेरे कमर को जकड़ कर गांड उठा रही थीं. मेरे पिताजी को कुछ कार्य होने की वजह से वह शादी में नहीं जा रहे थे, केवल मुझे, मेरी मम्मी और मेरे छोटे भाई को शर्मा अंकल के साथ शादी में जाना था.

सेक्सी मूवी फुल हड हिंदी मे

थोड़ी देर दूध पीने के बाद वरूण की आवाज़ आ गई तो हमने कपड़े ठीक किए और मेज पर वापस चले गए. मैं अपने घर में क्या कहूँगी!जोगी सर बोले- अपने घर में कह देना कि तुम पार्टटाईम जॉब करने लगी हो. मैंने तुरंत बोला- भाभी मेरी कामना कब करेंगी?भाभी हंस कर बोलीं- जब आप चाहो.

उस तरह से मैंने उस जॉब के लिए हां कर दी और पूछ लिया कि सैलरी कितनी मिलेगी?तब सुनील जी बोले- महीने के 28,000 मिलेंगे और बीमा भी मिलेगा. अन्दर अरुणिमा ने गुरबचन जी के लंड पर उलटी कर दी थी और बाकी उलटी चादर पर फ़ैल गई थी. मैंने उसकी चूत के ठीक नीचे नजर डाली, तो उसकी गांड का छोटा सा गुलाबी छेद नजर आया.

मेरा इतने कहने की देर थी कि रोहित ने भी अपना नंगा लंड ज्योति के दोनों मम्मों के बीच रख दिया. उसने लिखा- किस ख्याल में खो गए? तुमने मेरी चैट को ओपन कर रखा है … और मैसेज ही नहीं किया. दोस्तो, आपने मेरी पिछली सेक्स कहानी पढ़ी होगी, जिसमें मैंजुआ के अड्डे से पोर्न एक्ट्रेसबन गई थी.

उस दौरान चाची ने एक बार भी ‘ऊईई याह ऊहहह …’ की आवाज नहीं निकाली बल्कि एकदम शांत होकर और आंखें बंद करके बस मेरे लंड को अपनी चूत में अन्दर लेती रहीं. शायद वो डर रहा था कि मुझे कुछ गलत न लगे और कहीं मैं टीचर को न बता दूँ.

उसने मेरी टी-शर्ट स्तन के ऊपर से अलग कर दी और मुँह से दूध को किस करने लगा.

भाभी की पीठ को सहलाते सहलाते मैं खुद को रोक नहीं पाया और मैंने अपना हाथ भाभी की बगल से आगे ले जाकर उनकी एक चूची को धीरे से प्यार से दबा दिया. बुआ की चुदाई की सेक्सी वीडियोमैंने उनकी तरफ देखा, तो भाबी ने कहा- हम डॉक्टर हैं यार, थोड़ा दिमाग़ से सोचो. सेक्सी वॉलपेपर भोजपुरीभाभी को इन सब बातों का अहसास था कि मोहल्ले के सभी लड़के उनको वासना भरी नजरों से देखते हैं लेकिन भाभी किसी को भाव ही नहीं देती थीं. नमकीन सफ़ेद अमृत का स्वाद जैसे ही मेरी जीभ पर लगा, मैं निहाल हो गया ‘उफ्फ … उम्महा …’मैंने आज पहली किस उनकी चूत की फांकों पर की थी.

अंकल ने कहा- अगर तुम चाहो तो मैं तुम्हारा डर भगा सकता हूं क्योंकि मुझे सेक्स का भरपूर अनुभव है.

वो मेरे करीब आये और उन्होंने मुझे अपनी बांहों से पकड़ कर खड़ा कर दिया. किसी नौसिखए के साथ सेक्स करने से ज्यादा अच्छा है कि तुम मेरे साथ सेक्स करो. उस वक्त मेरी चूत की तड़प इतनी भयंकर हो रही थी कि मैंने सुकेश को अपने ऊपर खींच लिया.

पायल ने साड़ी नाभि से करीब पांच इंच नीचे पहनी हुई थी जिससे उसकी नाभि साफ साफ दिख रही थी. फिर मैंने किचन से बाथरूम की तरफ देखा तो बाथरूम का दरवाजा लगा हुआ था. किशन- तो आपने सूरत में कितनी भाभियों को अपने लंड के नीचे लिया?मैं- कहां यार, यहां तो एक भी नहीं मिली.

सेक्सी इंग्लिश हिंदी पिक्चर

शिखा- यार, तू कह तो सही रही है, काश मैं भी इनमें से किसी का लंड ले पाती, चल … कोई बात नहीं, मैं कभी किसी और दिन तेरे साथ किसी और के लंड का मजा ले लूंगी. मैंने बहन के बूब्स दबाए और धीरे से बहन की चूत में लंड घुसाना शुरू कर दिया. मैं- हां, कोमल क्या हुआ?कोमल- तुमने छोटी से क्या कहा?मैं- उसने तुमसे कुछ कहा क्या?कोमल- उसने मुझसे कुछ नहीं बोला है.

शर्मा अंकल- तुझे कैसे पता?मैं- मैंने आपकी और राजेश की सारी बात बाथरूम की खिड़की से सुन ली थी.

मैं अपनी सहेलियों से उनकी चुदाई के किस्से सुनती तो मेरा मन भी अपनी छोटी सी बुर चुदवाने को करने लगता.

तो मैंने उसे अपने लन्ड की अलग अलग एंगल से 3-4 फोटो क्लिक करके भेज दी. मिशनरी पोज में चुदाई के बाद मैंने अपनी बहन को कुतिया बना कर चोदा, फिर उसे अपने लंड की सवारी भी करवाई. चोदा चोदी ओपन सेक्सीहमारे पास समय बहुत कम था क्योंकि किसी भी समय उनका पति की आने का डर था.

हमारे समाज ने भी एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया था जिसमें विवाह योग्य लड़के लड़कियों के बायोडाटा डाले जाते थे और एक दूसरे के बारे में जानकारी मिल जाती थी. शायद मेरे चाचा ने भी चाची के साथ इतने सालों में मजे नहीं किए होंगे, जितना मजा मैंने एक साल में चाची के साथ कर लिया था. उन्होंने भी हां कहा और अब हम एक दूसरे को अपने निजी अनुभव और बातें भी कहने लगे थे.

शुरुआती दर्द के बाद मेरी गांड किसी भी लंड को बड़े आराम से अन्दर तक ले लेती है. नीचे मैं लन्ड रगड़ रहा था, ऊपर चूची दबा रहा था और पीठ, गर्दन कंधा चूम रहा था।आंटी बस स्स … इस्स … आह उम्म … कर रहीं थीं।मैं उनको अपनी तरफ मुंह करने को कह रहा था पर नहीं कर रहीं थीं.

एक सड़क दुर्घटना में प्रमोद के भाई भाभी, उसकी पत्नी 3 साल पहले ही गुजर चुके हैं।असल में ये पांच लोग एक कार से जा रहे थे कि दुर्घटना हुई और उस हादसे में सिर्फ प्रमोद और उसके भाई की भतीजी अयाना ही बचे.

आप मुझे मेल करें कि यह नो कंडोम सेक्स कहानी आपको कैसी लगी?[emailprotected]. मैं उसके हाथ फेरने से कुछ असहज सा महसूस कर रहा था क्योंकि वो एक लड़की थी और एक लड़की, जवान लड़के के जिस्म पर हाथ फेरे तो लंड की नसें खुद ब खुद तनने लगती हैं. मेरा बड़ा लंड देख कर उसे मजा आने लगा और वो अपनी चूचियों के निप्पल मींजने लगी.

सेक्सी डांस एचडी वीडियो अब यह बिहारी सेक्स … चुदाई का खेल, हम दोनों का रोज का काम हो गया था. शनिवार को मैंने पूरे दिन उससे बात नहीं की और रात को भी मोबाइल बन्द करके सो गया.

उसने अपने खड़े लंड के सुपारे को मेरी गांड के छेद के ऊपर सैट कर दिया. इससे उसे थोड़ी दिक्कत तो हुई थी।लेकिन मेरे कुछ झटकों के बाद बाद उसे भी मज़ा आने लगा था।मैं भी आज अपनी काफी दिनों की चुदाई की कसर पूरी कर रहा था।हम दोनों सेक्स का भरपूर मज़ा ले रहे थे।मैं उसे अलग अलग पोज़ में चोद रहा था।सोनी मेरी चुदाई से खुश हो गयी थी।मैंने उसे पूर्ण संतुष्ट कर दिया था। वो पूरा मजा लेकर झड़ी. कुछ पल बाद मैंने बाहर को आकर भाभी को आवाज दी तो भाभी अपने आपको ठीक करती हुई बाहर आईं.

सेक्स ओपन गेम

चाची मेरी तरफ पीठ करके लेट गईं और मैंने लंड पर फिर से तेल लगा लिया. थोड़ी कोशिश करने के बाद लंड अन्दर घुस गया और दोनों आगे पीछे से एक साथ उसको चोदने लगे. वो बोला- देख साली, मादरचोद तेरी चूत का भोसड़ा और गांड का गड्डा ना बना दिया तो कहना.

मेरी जान अब चलो मैं तुम्हें होटल में ले जाकर जन्नत की सैर करवाती हूं. उसने अपने दोस्त वेटरों से कहा- यारों ये तो साली बड़ी चुदासी है … बोल रही थी कि तुम्हारे जैसे कितने लंड अपनी चूत में उतार लिए हैं.

ननद- अच्छा वो सब छोड़ो, मेरी चुदाई की वीडियो देखोगी!मैं- नहीं, मुझे नहीं देखना.

वो मजे से अपनी बेटी की चूत चाटती रहीं और थोड़ी देर में मैंने मॉम के मुँह में अपना पानी छोड़ दिया. मैंने अपना लंड मैम का चूत की फांकों में रख दिया और पहले ही झटके में मेरा आधा लंड अन्दर चला गया. चाची चिल्लाने लगीं- उई मां … भैन के लंड … साले राक्षस … मेरी चूत है कोई सड़क छाप रंडी की नहीं.

मैम को शराब और सिगरेट खूब रास आती थी तो शराब सिगरेट औरब्लू फिल्म का मजाभी मिलने लगा था. अब आगे मेरी चाची लव स्टोरी:‘आह हमम … हम्म्म … आह्ह्ह्ह आह्ह्ह राजा …’ जैसी आवाजें निकालती हुई और अपनी आंखों को बंद करके अपने हाथों से ही अपनी चूचियों को चाची मसल रही थीं और लंड के मजे ले रही थीं. तो मैंने उसे अपने लन्ड की अलग अलग एंगल से 3-4 फोटो क्लिक करके भेज दी.

हिंदी Xxxx कज़िन चुदाई कहानी में एक जवान लड़की ने चूत की गर्मी से परेशान होकर अपने छोटे चचेरे भाई का ही लंड ले लिया.

इंग्लिश एचडी बीएफ सेक्सी: मैंने अपने दोनों हाथों से उसके चेहरे को पकड़ा और उसकी आंखों में देख कर कहा- जान, मेरे लिए ये दर्द बर्दाश्त कर लो. फिर एक डेरी मिल्क साथ लेकर 10-30 बजे तक मालती दीदी के घर जाकर बैठ गया.

इस पर भाभी ने भी मज़ाक करना शुरू कर दिया- अच्छा … ऐसा है क्या … तो देवर जी अभी भी क्या बिगड़ा है? आप मुझे अभी अपनी बीवी बना लो. तो मैंने पूछा- क्या?भाभी जी ने कहा- इतने भी सीधे मत बनो!फिर वह बोली- चलो क्रीम लग गई, अब मैं कपड़े पहन लेती हूं. मेरी जीभ चलाने की रफ़्तार बढ़ती गयी।रोहित भी उसको पूरा मज़ा देने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा था।मैंने दोनों हाथों से उसकी चूत को अच्छे से और खोल दिया और अपनी जीभ उसकी चूत के और अंदर तक कर दी- उम्म्ह्हा ले साली चुदक्कड़ चुद … उफ्फ …उसकी चूत की धार मेरी जीभ को गीला करती हुई मेरे मुंह के अंदर गिरती ही जा रही थी.

कहीं ना कहीं मुझे आज ही अपना गैंग बैंक कराने की कल्पना भी साकार होती दिख रही थी.

लेकिन मैं आज भी उनसे उम्मीद लगाकर बैठा हूँ कि शायद मेरी हॉट चाची Xxx सेक्स करने के लिए बुलायें!वैसे मैं सेक्स का इतना भूखा हूँ कि मैं आज भी कोई लेडी को ढूंढ रहा हूँ, जो मेरे साथ सेक्स करे और मुझे वही आनंद दे जो मुझे मेरी चाची से मिला था. अचानक अंकल उठ कर मेरे मुँह के पास अपना लंड ले आए और बोले- मुँह खोलो. भाभी अपनी चूत पर उंगली रगड़ने लगी थीं और कहने लगी थीं- मेरे राजा अब आ जाओ, देर न करो … मैं तड़प रही हूँ.