बीएफ फिल्म की वीडियो

छवि स्रोत,क्यूट गर्ल फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वाले के नंबर: बीएफ फिल्म की वीडियो, इस सेक्सी चाची चुदाई कहानी अगले भाग में आपको शबनम चाची की गांड चुदाई की मस्त सेक्स कहानी को लिखूंगा.

सेक्सी एक्स एक्स एक्स सेक्सी एक्स एक्स

मेरा लंड अभी भाभी की चुत के अन्दर गया ही था कि उनकी चीख निकलने लगी- अहह उईईई मांआआ … मररर गई राज … निकालो इसे बाहर बहुत मोटा है. सेक्सी फिल्म देखने सेक्सी फिल्मवो खुली दुकान का मतलब नहीं समझ सकी और सवालिया निगाहों से मुझे देख कर बोली- इसका क्या मतलब हुआ?मैंने उसे बिस्तर पर बिठाया और उसकी गोद में अपना सर रख कर लेट गया.

मगर अंतत: लंड की विजय हुई और चुत की गहराई में जाकर वो मस्त होने लगा. সেক্স কানাডা সেক্সमेरा लंड पहले से ही तना हुआ था जिसको लोलिशा ने तुरंत हाथ में भर लिया.

गुप्प … गुप्प … कर के उसका लंड चूस रही थी।फिर कुणाल ने मेरे मुंह से अपना लंड निकाल लिया और मैं खड़ी हो गयी।कुणाल बोला- वाह लंड तो बहुत अच्छा चूसती हो तुम!मैंने कहा- आज ही सीखा है।कुणाल बोला- अच्छा है.बीएफ फिल्म की वीडियो: जैसे ही मैंने एक सांस में पैग खींचा, भाभी जी ने दूसरे पैग में दारू डाल दी और फिर से गिलास में चुतामृत निकाल दिया.

कुछ नहीं बहू, तुझे जीन्स टॉप पहने हुए पहली बार देखा न तो तेरे हुस्न के जादू में खो गया था, सच में तू इतनी सुन्दर और कमसिन सी लग रही है जैसे किसी कॉलेज की सेकेण्ड इयर की स्टूडेंट हो!” मैंने उसके मम्मों को निहारते हुए कहा.उसने उसी समय मुझे चाय पीने आने के लिए न्यौता देते हुए कहा- यदि आप एक कप चाय पीने मेरे घर आएंगे, तो मुझे ख़ुशी होगी.

అనుష్క బిఎఫ్ వీడియోస్ - बीएफ फिल्म की वीडियो

पूनम बुआ- मेरा बस चलता कहां है? और वैसे भी, मैं इस आदमी से परेशान हो चुकी हूँ.फिर उन्होंने मेरे लोवर को उतार दिया और अपने शॉर्ट्स को भी उतार दिया.

जोया ने कहा- नहीं … मुझे जाने दो, तुम मुझे दोबारा परेशान कर रहे हो, जबकि तुम लोगों ने मजा ले लिया है. बीएफ फिल्म की वीडियो रीमा ख़ुशी से मीरा के गले लग गयी क्योंकि कल रात के बाद अब वो खुल्लम खुल्ला निखिल के साथ चुदाई का खेल खेल सकती थी.

घर पहुंचते ही वो बेड पर पसर गई और पायल को फोन मिला दिया- हैलो, पायल डार्लिंग, अभी सोई नहीं?नहीं, तुम्हारा इंतजार कर रही थी.

बीएफ फिल्म की वीडियो?

थोड़ी देर बाद कमरे से आवाज़ आई- राज अंदर आ जाओ!मैं अंदर गया तो मालती धाकड़ पैग बना रही थी।उसने मुझे ग्लास दिया, मैं गटगट करके पी गया।पैग हार्ड था. फिर उन्होंने मोबाइल में मुझे एक फिल्म दिखाई, जो बहुत सेक्स वाली थी. थोड़ी देर बाद वो मुझसे बोले- बस खेलते ही रहोगे या इसको प्यार भी करोगे?मैंने कहा- हाँ करूँगा ना प्यार … बहुत प्यार करना है इसको आज!ये बोलकर मैंने उनके लंड का टोपा अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगा.

मैं तुम्हें साफ साफ बताऊँ कि सुधीर के साथ मेरा जिस्मानी रिश्ता पिछले चार पाँच साल से न के बराबर है. वो बोलीं- पहले दरवाजा तो बंद कर देने दे … बावला क्यों हुआ जा रहा है. ये कॉलेज में क्लीनिकल शिफ्ट के दौरान मुझे मिली एक गर्म भाभी Xxx कहानी है.

मैं भाग के वापिस अंदर आ गयी।भाभी, कुणाल और अजय सब हाल में आ चुके थे और उन दोनों ने कपड़े भी पहन लिए थे।अब मेरे पास कोई चारा नहीं था इसलिए मैं भी वहीं बैठ गयी और बोली- बताओ, क्या बताना है?भाभी ने बताया कि भाभी और कुणाल कॉलेज के टाइम से ही गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड थे. चाची के घर के सामने वाली खिड़की हमारे घर के सामने ही खुलती थी जिसे चाची ने आज मम्मी की सुविधा के लिए खोल दिया था. हम सब इधर उधर घूमने लगे, कॉलेज बड़ा था, तो एक बार को तो समझ ही नहीं आया कि हम कहां पर आ गए थे.

उसकी चूत में उंगली की और उसकी चूचियों को मसल मसल कर उसकी चूत को फिर से गर्म कर दिया. और मैं तेज रफ्तार से चोदने लगा।अब मैंने उसे घोड़ी बनाया और झटके से घुसा दिया और तेज़ तेज़ ऊपर चढ़कर चोदने लगा।वो चिल्लाने लगी- ऊईई ऊईई … ऊईई उईई मर जाऊंगी.

उसने अपने दोनों कान पकड़े और सॉरी बोला और कहा- मैं दोबारा ट्राय करती हूं.

उस लड़के ने पूछा कि तुम दारू या सिगरेट लेती हो?शीला आंटी ने बोला- हां, ये सारे मजे करती है.

मैं- अंकल … मगर ये सब मैं दादा जी से कैसे कह सकूंगा?अंकल- बेटा वो मुझे नहीं पता, मुझे तो इस पेपर पर साइन चाहिए और कल के कल तू अपनी पूरी फैमिली को यहां लेकर आ सकता है. मेरी चूत तो इतनी गीली हो चुकी थी कि लंड अपने आप ही फिसल कर अन्दर जा रहा था. मेरी उम्र 27 है और मैं वाराणसी का हूँ।मैं दिखने में लम्बा और साफ रंग का लड़का हूँ.

ये सब अगर मां को गलती से भी पता चल गया ना … तो वो जमीन में जिंदा गाड़ देगी. उसे बेड पर लिटाया तो बोली- तुमने तो ऐसे उठा लिया जैसे रबर की गुड़िया हो, सुधीर तो तब भी नहीं उठा पाये थे, जब मैं इससे आधी थी. फ़लक कहने लगी- सर, प्लीज मुझे नौकरी की बहुत सख्त जरूरत है और यह मेरा और मेरी मम्मी का सपना है कि मैं आपकी कम्पनी की रेड यूनिफार्म पहनूँ, प्लीज मुझे किसी भी तरह से नौकरी दे दीजिए.

लन्ड अंदर जाते ही शीना के मुंह से जोर की चीख निकल गयी- हाय मम्मी … मर गईई! आह अंकल … बाहर निकालो! बहुत दुख रही है.

दोस्तो, मेरे बच्चे की पैदाइश में पहला अजनबी मर्द ये डॉक्टर होने वाला है. अभिनव के लिए नीम्बू का मीठा वाला अचार भी आप भेज देतीं क्योंकि मम्मी आपको पता ही है कि अभिनव को नाश्ते में परांठे और नीबू का मीठा अचार ही पसंद है. हिना के घर में होने का मतलब ये था कि नगमा ने मुझसे झूठ कहा था कि हिना अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ बाहर जा रही है.

वरना तो साड़ी उठाई सूखी भोसड़ी, भोसड़े में लंड डाला, चोदा, पानी निकाला और मामला टांय टांय फिस्स. लन्ड अंदर जाते ही शीना के मुंह से जोर की चीख निकल गयी- हाय मम्मी … मर गईई! आह अंकल … बाहर निकालो! बहुत दुख रही है. रीमा को मीरा की बात समझ नहीं आई कि ये किस तरह से खुल कर लंड चुत बोल रही हैं.

हॉट आंटी Xxx कहानी में आप पढ़ रहे थे कि इस समय मैं पुणे आकर अपनी कंपनी के ऑफिस में काम करने वाले साहिल शाह की अम्मी शन्नो के साथ भी चुदाई कर रहा था.

अब आगे डर्टी चुदाई फैंटेसी कहानी:इसके बाद मैंने ये सब रोहन अंकल को कॉल पर बता दिया. शमा मुझे देख कर हंस पड़ी और बोली- अब क्या आप बैठोगे नहीं?मैं फिर से अचकचा गया और हं.

बीएफ फिल्म की वीडियो अदिति बेटा, मैंने तो अभी तक कुछ किया ही नहीं फिर तू ऐसे कैसे अपनी पैंटी भिगो बैठी?” मैंने सिर झुका कर उसके कान में धीमे से हंसी करते हुए कहा. मंजू- तूने मुझे पूरी नंगी देख लिया?ममता मुस्कुराते हुए बोली- तो क्या हुआ मां आपके पास भी तो वही सब है, जो मेरे पास है.

बीएफ फिल्म की वीडियो दीदी घूम कर उसी खिड़की की तरफ हो गईं, जिधर से मैं सारा नजारा देख रहा था. मैंने उनकी आंखों को दूसरे हाथ से साफ़ किया, पर एक हाथ मैंने अब भी उनके सीने पर ही रखा था.

अफ़रोज़ के लंड का पानी निकालते निकालते मेरी चुत ने भी पानी छोड़ दिया था.

मिक्सिंग वीडियो

मेरे बचपन के मित्र की बुआ पूनम, सूरत से बहुत खूबसूरत नहीं थीं और बदन से भी बहुत साधारण ही थीं. थोड़ी देर बाद मैं चाची से अलग हुआ और बोला- चाचीजान, आपकी चुदाई में मजा आ गया. मैं कराहते हुए बोली- आह्ह … ईईई … आआईई मां … दर्द हो रहा है … आह्ह … आआयय नहीं … रोक लो … लंड को रोक लो.

मैंने उसके चुचों पर नजर गड़ाते हुए कहा- हां वो हॉट वाली बात तुम्हारी … व. मैंने मीतू के बाल को पकड़ कर लंड को उसके मुँह में गले तक अन्दर डाल दिया और उसके मुँह में ही स्खलित हो गया. उनकी चुत पर झांटें थोड़ी बड़ी थीं, पर फिर भी मैं पूनम बुआ की चुत का चीरा देख सकता था.

उसने अपनी धुन में आगे कहा- तो भाभी, चलिए हमें अपना दूध निकाल कर दे दीजिए.

राज शर्मा गुड़गांवधन्यवाद[emailprotected]पुलिस गर्ल Xxx कहानी का अगला भाग:हरियाणा पुलिस वाली को चोद कर खुश किया- 2. लेकिन मैं उनके बिना बोले उन्हें चोद भी नहीं सकता था, ये प्रॉफेशन ही ऐसा है. कुछ ही पलों में मेरा भी बदन अकड़ गया और मेरे लंड ने मामी जी की चूत में अपने गाढ़े पानी की बौछार कर दी.

उनकी शादी अपनी उम्र से दुगनी उम्र के आदमी से यानि मेरे पिता से हुई थी. अब आगे हॉट कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी:मैंने शीना से पूछा– कैसा लगा शीना, मजा आया?शीना- बहुत मजा आया अंकल, अगर मुझे पहले पता होता कि सेक्स में इतना मजा आता तो मैं भी कब की अपनी बुर चुदवा लेती।मैं- अभी तुम्हारी बुर चुदी ही कहाँ है मेरी जान, अभी तो तुम्हारी बुर को मैंने छुआ क्या देखा भी नहीं. केस के बारे में बताते हुए ही उसने एकदम से मेरी पीठ पर हाथ फेर दिया.

भाभीजी हल्की मुस्कान के साथ बोली- ठीक है, चलो … फिर मैं तुमको मेरे वेस्टर्न ड्रेस का कलेक्शन दिखाती हूँ. मैंने उसे कमर से इस तरह उल्टा उठाया कि उसकी टांगें ऊपर हो गईं और सर नीचे हो गया.

तो मैंने लंड को उसके गले में बहुत अंदर तक फंसा दिया।मुझे लगा कि लंड में से कुछ निकलने को है … तो मैंने अपने धक्के रोक दिये. आपके इस सवाल को सीधे तौर पर बता पाना मुश्किल है क्योंकि मेरी चूत में लंड बहुत लोगों का गया. मैंने ध्यान से देखा कि मेरी दीदी रमेश की अंडरवियर में उसके फूले हुए लंड को को देख रही थीं.

उसका ऊपरी हिस्सा हवा में जोर जोर से हिल रहा था और चुत में से जोरदार पच-पच की आवाज आ रही थी.

हमने कई बार एक दूसरे की प्यास बुझाई।ये थी मेरी गांड चुदाई की कहानी. फिर एक लड़के ने मुझे गद्दे पर धकेल दिया और मेरे कंधों को दबा कर मुझे गद्दे पर लिटा दिया. उसने कहा- मैं आपकी गर्लफ्रेंड बनना चाहती हूँ … क्या आप बनाएंगे?मैंने कहा- नहीं.

निखिल ने भी अपने मूसल लंड को अपनी मौसी की चूत में एक बार में ही पूरा उतार दिया. पंजाबी भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी पड़ोस की भाभी ने मुझे मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई करते देखा.

मैंने कहा- एक बार इधर ही आपके ऊपर चढ़ जाता हूँ … मुझे एक बार और चोदना है. भाभी ने दर्द और उत्तेजना के मारे कूकना शुरू कर दिया- आह आह हई मम्मी इस्स … मम्मी!उनकी दोनों टांगें मेरे चूतड़ों के पीछे कसके जकड़ी हुई थीं, तब भी मैं भाभी की चुत में कस कसके धक्के मार रहा था. तब मैंने कहा कि मैं आंटी से बात करूंगा, यदि वो राजी हो गईं तो हम दोनों मिलकर चुदाई का मजा लेंगे.

विडमेट 2018

हम चुदाई के समय कहानी में लिखे डायलॉग बोलकर एक दूसरे का जोश बढ़ाते थे.

जया की चूत में धीरे धीरे ऊँगली करते हुए मैं उसकी चूचियां चूसने लगा. मेरे जेब से मोबाइल निकालते ही मैनेजर ने कहा- सर, दस मिनट का समय दे दीजिये, मैं अपने मालिक को बुला लेता हूँ. मैं दूसरी लड़की हुर्रेम के पास गया और पीछे से उसकी चूत को चाटने लगा.

मैंने अपने लंड को मां के हाथों में दे दिया जिसे मां ने हिला कर वापस खड़ा कर दिया. मौसी के कसे हुए बड़े बड़े चूचे, पतली कमर और सपाट पेट, चौड़ी गांड मुझे अन्दर तक घायल कर रही थी. बिहार के सेक्सी चाहिएफिर उसने अपने दोनों हाथ मेरे पैरों के बीच बेड पर टिका दिए और कमर को उठा उठा कर आगे पीछे करते हुए चुदाई करने लगी.

अब मुझे अपनी पत्नी रानी पर भी गुस्सा आने लगा था कि उसने भावुक होकर नींबू का अचार मुझे पकड़ा कर ग्वालियर रवाना कर दिया; और मैं भी कैसा नासमझ कि बहूरानी की चूत मारने के दिवा स्वप्न देखता हुआ यहां शादी में आ पहुंचा. की दूरी पर ही था।काम काफी तेजी से हो रहा था और समय भी बीतता जा रहा था।दो महीने बाद एक दिन मैं मृणालिनी के घर अचानक से पहुंच गया।तब उसके घर पर कोई नहीं था.

थोड़ी देर बाद मैंने मुँह मिहिका की दोनों टांगों को खोला और उसकी चूत पर मुँह लगा दिया. मेरा गाढ़ा लावा भाभी ने अपने मुँह में ले लिया और किसी रंडी की तरह पी गईं. मेरी पिछली सेक्स कहानीसेक्स की प्यासी लड़की को मजा दियामें आपने पढ़ा था कि मैंने किंजल की बुर चुदाई करके उसे अपने लंड का दीवाना बना लिया था.

मैं जेठ जी का इंतजार करती रहती हूं कि फिर से कब उनके नीचे लेटने का मौका मिलेगा. मेरी दीदी और मैं घर में अकेले ही रहते हैं क्योंकि मेरे मॉम और डैड जॉब पर चले जाते थे, तो घर पर हम दोनों ही अकेले ही रहते थे. टीटीई इस कमरे के बाहर वाले लाउंज में पड़े सोफे पर बैठा था और वो माल भुनभुनाती हुई बाथरूम में घुस गई थी.

रमेश ने कहा- वैसे तो इसे लंड कहते हैं लेकिन तुम इसे कोई भी नाम दे सकती हो.

आंटी मुझे बहुत पसंद करती थीं और वो अपने किसी भी काम के लिए मुझे बुला लेती थीं. पर मां आप यही पहना करो, इससे आपका सीना उठा हुआ लगता है, जवान लड़कियों की तरह.

अपने लंड के सुपारे को चूत के छेद पर रखकर लंड को चूत की गहराई में उतार दिया. मैंने कहा- ऐसा क्यों कह रही ही रागिनी … मैं तो तुम्हें काफी पसंद करने लगा हूँ. दीदी जब लेट गईं, तब उनकी दोनों चूचियां एकदम कड़क हो चुकी थीं और लेटने पर भी ऊपर की तरफ तनी हुई खड़ी थीं.

वो भी तुरंत बेड पर कुतिया बन गई।नीतू की उभरी हुई गांड देखकर मैं खुद को रोक न सका और एक के बाद एक कई झापड़ उसकी गांड पर जमा दिए।उसकी गुलाबी गांड लाल हो गई थी. इससे पहले मैं कुछ पूछती, मुकेश बोला- जाऊंगा उसके पास, बसंत ढाबे के सामने गली में रहता है।मुकेश ने जैसे मेरा काम खुद ही कर दिया. अब वो बोलीं- क्या बोले आप?बस मां ने मेरे गले में हाथ डालकर मुझे अपने मम्मों से चिपका लिया.

बीएफ फिल्म की वीडियो दोनों ने एक दूसरे के शरीर पर मेरे वीर्य के एक एक कतरे को चाट चाट कर साफ़ कर दिया।जिस तरह रसोई में रखा गर्म खाना वक्त के साथ ठण्डा हो गया था उसी तरह वासना से जल रहे तीन जिस्म भी ठण्डे हो गये थे. खैर जैसे-तैसे हम मुंबई पहुंच गए!वहां पहुंचकर भैया ने अच्छी तरह हाल-चाल पूछा.

सेक्सी करने वाली वीडियो दिखाइए

हम लखनऊ पहुंच गए और हमारी बस पहले जिधर गई, वो खास जगह नहीं लग रही थी. मैंने उसे समय दिया और सीधा लेट गया, वो मेरे सीने पर सर रख कर लेट गई. उसकी मजबूत बांहों में आकर मैंने पकड़ ढीली कर दी और उसने मेरे तपते होंठों पर होंठ टिका दिए.

अंकल अपनी उम्र का लिहाज ना करते हुए चोरी चोरी से मेरे दोनों दूध घूर कर देख रहे थे. सेम हियर बेटा … मुझे भी लग रहा था कि मैं जैसे तेरे कॉलेज में प्रोफेसर हूं और तू मेरी क्लास में कोई कमसिन सी स्टूडेंट है और मैं तुझे क्लास में मेज पर झुका कर तुझे चोद रहा हूं. सेक्सी नोरा फतेहीपापा जी, देख लेना सब देख लेना, सारी रात है आपकी जो चाहो जैसे चाहो सो कर लेना पर अभी तो जल्दी से चोदो मुझे प्लीज …” बहूरानी मिसमिसाती हुई बोली और अपनी कमर फिर से बेहद कामुक अश्लील अंदाज़ में उचकाई.

बंगालिन भाभी के मुँह से सीत्कार निकलने लगी और वो मेरे सर पर हाथ फेरती हुई मुझे अपना दूध पिलाने लगीं.

और अगर वो लंड आपका हो तो क्या आपको कोई ऐतराज है?तोमर साब खुश हो कर बोले- अरे वाह, फिर तो मजा आ जाएगा. उसने मेरी चूची छोड़कर मेरे होंठों को अपने मुँह में ले लिया जो कि मुझे चुदाई के समय हमेशा अच्छा लगता था.

हिना मेरे पास आई और उसने मेरा लंड पकड़ कर अपनी बहन की गांड से बाहर निकाला और चाटने लगी. दो दिन तो ऐसे ही चला, फिर मां ने मुझसे कहा- बेटा, मेरा महीना अब आने वाला है, तो हम कुछ दिन चुदाई नहीं कर पाएंगे. मैंने चूमते चूमते उसकी चोली खोल कर ब्लाउज़ उतार दिया और ब्रा में चूचियों को दबाने लगा.

रात को भी मुकेश को दारू पिलाकर हम सुला देते और खूबचुदाई का मजाकरते।गुलाब को गए हुए तीन महीने हो गये हैं.

इससे दीदी को मजा आने लगा और वो सीत्कार भरते हुए रमेश से बोलीं- आह मजा आ गया … और दो थप्पड़ मारो. सुरजन ने जुबान चूत में घुसा कर ज़ोर ज़ोर से मेरी चूत चूसनी शुरू कर दी. बहुत ज़बर्दस्त मौका था। एक डर भी था कि पता नहीं सुनील कितनी जल्दी डॉक्टर को दिखा लौट आएगा।गुलाब बोला- जी मोहतरमा, मैं काम करने लगा हूँ ज़रूरत हो तो बुला लेना।मैं बोली- जी ठीक है।वो बोला- थोड़ा पानी पिला दीजिये.

సమంత सेक्सी फोटोपापा अक्सर रात में मम्मी की नंगी करके चुदाई करते थे, बाद में उनकी गांड चुदाई भी करते थे. उन्होंने भी कम से कम आधे मिनट तक मुझे पूरी नंगी देखा और मुझे सॉरी बोल कर दरवाज़ा बन्द कर दिया.

सेक्सी भोपाल

देसी फ्रेश चुत की चुदाई के पहले भागभोलेपन में एक लड़के के सामने चूत खोल दी मैंनेमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी पहचान की दूकान पर रेजर लेने गयी चूत के बाल साफ़ करने के लिए. मैंने गाड़ी पार्क की और वापस आ रहा था, तो देखा घर के बाहर पैसेज में भाभी खड़ी थीं, वो घर में अन्दर नहीं गई थीं. मैंने दोनों को कैसे चोदा?कहानी के पिछले भागमौसी और उनकी जेठानी का लेस्बियन सेक्समें आपने पढ़ा कि मैंने अपनी मौसी रूपाली को उनकी जेठानी नीतू के साथ लेस्बीयन सेक्स करके के लिए मना लिया.

चूंकि सर्दी की ठंडी लहर चल रही थी और हाड़ कंपकंपाने वाली हवा चल रही थी. अब अगर तुमने हमें चुदाई नहीं करने दी या कुछ भी हरकत की, तो हम सबको ये चुदाई की वीडियो दिखा देंगे. लंड को लेकर मैं दावा कर सकता हूं कि कोई भी लड़की लेगी तो खुश हो जायेगी।तो अब सीधा हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी पर आते हैं। ये तब की बात है जब देश में लॉकडाउन लगने वाला था.

ऐसे ही उसके मुँह से निकलने वाले, न जाने कितने अनगिनत अश्लील शब्दों ने मेरे खून में हवस को खौलाने का काम किया. दोस्तो, मेरा नाम जय है और मैं गुजरात के एक छोटे से गांव में रहता हूं. फिर उसने मेरे खुले हुए बालों को पकड़ा और मेरे बालों को अपनी तरफ खींच कर मेरी चूत में बहुत तेज तेज धक्के लगाने लगा.

इसका पता मुझे इस बात से चला कि ज़्यादा ज़रूरत न होने पर भी वो तेज़ तेज़ ब्रेक लगा रहे थे और जानबूझ कर गड्ढों में गाड़ी उतार रहे थे. मेरे कॉलेज खुले होने की वजह से मुझे वहीं अपने कस्बे में ही रुकना पड़ा.

उनकी शादी अपनी उम्र से दुगनी उम्र के आदमी से यानि मेरे पिता से हुई थी.

उन दोनों की वासना एक दूसरे के तन बदन से रगड़ खाती हुई भड़कती चली गई और उसी बीच हरीश ने सुम्मी की ड्रेस को कब उतार कर जमीन पर फेंक दी, कुछ पता ही नहीं चला. और भी सेक्सीये कहते हुए डॉक्टर रोहित ने मेरी स्कर्ट उठा दी और मेरी गोरी गोरी गद्देदार गांड नंगी हो गयी. दिन सेक्सीमैंने भाभी से पूछा कि भाभी ये जो कल रात को हमने किया था, वो सब सेफ तो है ना … किसी को पता तो नहीं चलेगा?उन्होंने मुझसे कहा- बेबी तुम चिंता मत करो, तीनों लड़कों को मैं बहुत समय से जानती हूं. वो ‘आहह अल्लाह अल्लाह अल्लाह मैं गई आह …’ करने लगी और मैं भी जोश में आकर गपागप अन्दर बाहर करने लगा.

अब उर्वशी भी हंस कर बोली- अपनी उर्वशी दीदी के पास रुकोगे या उर्वशी डार्लिंग के पास!तब मैंने कहा- जिसके पास आप मुझे रोकना चाहो.

बहूरानी की चूचियां उनकी नाइटी के भीतर से झांक रहीं थीं; मैंने बहूरानी की कमर में हाथ डाल कर उन्हें अपने और करीब कर लिया और मैं धीरे धीरे उनकी चिकनी जांघ सहलाने लगा. कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपनी मां और अपने बारे में बता देता हूँ. मैं ही छोड़कर आ जाऊंगा बहू को!ससुर बोले- गोरी बेटा, कल मैं तुझे बस में बिठाकर आ जाऊंगा.

फिर मैंने बाइक स्टार्ट की तो चाची ने मेरी पीठ पर अपनी चूचियां अड़ा दीं और मुझसे बोलीं- अब तू कभी भी इनका मजा ले सकता है. सोनिया भाभी बोलीं- अब से मुझे भाभी नहीं बोलना है … सिर्फ सोनिया बोलो. फिर कुछ देर ऐसे करने के बाद मैंने एक और धक्का मारा, जिससे मेरा लंड चूत को चीरते हुए अन्दर चला गया.

भाई बहन की चुदाई हिंदी में बात करते हुए

दस मिनट तक लंड चुसवाने के बाद जीजा जी बोले- अब मुँह हटा लो, मेरा लंड झड़ने वाला है. मेरी मम्मी घर में एक झीनी सी नाइटी पहन कर रहती थीं और जब वो दारू पीकर टल्ली हो जाती थीं तो मैं उनसे कहता था- पापा की डार्लिंग अब मत पियो. मैं भी मौका देखते हुए उसकी टांगों के बीच बैठकर उसकी टांगों को अपने कंधों पर रख लिया.

मैं बाहर को गया, तो वहां गलियारे में पूजा अकेली नंगी बैठी रो रही थी.

सर बोले- शबनम मादरचोद … अहमद के आने की वजह से हम नहीं मिल पाते हैं.

मैंने उनको चूमते चूमते उनके गाउन को ऊपर उठाया तो बुआ ने भी मेरी टी-शर्ट को मेरे बदन से अलग कर दिया. फिर एक दिन मुझे कुछ पैसों की जरूरत पड़ी, तो मैंने अपनी मम्मी से पैसे मांगे. मेरी पत्नी का जन्मदिन कब हैदेखो ना मेरी चूत कैसे पानी छोड़ रही है, आपके लंड के लिए तरस रही है.

कुछ देर बाद शहज़ाद ने रुबिका को मेरे सामने ही नंगी कर दिया और उसे चोदना शुरू कर दिया. और लता को भी क्या दिक्कत है, थोड़ी देर इनका मन बहला देती है इसके बदले उस रांड को आराम से सिर छुपाने को जगह मिल गयी है. मैं उसी गर्म कहानी को ही आगे बढ़ाने की सोच रही थी … लेकिन आप लोगों ने इतनी शिद्दत से जानना चाहा कि मेरे बेटे का बाप कौन है.

अब रूम के अन्दर आकर देखा कि मीतू पूरी तरह थक कर आंखें मूंदें लेट गई थी. पूनम बुआ के मुँह से इतना सुन कर मैंने उनका हाथ अपने हाथों में थाम लिया और उनको सांत्वना देने लगा.

दुनिया की सारी औरतों में सबसे पहला हक़ तुम्हारा है मुझ पर!मेरे इतना कहते ही रूपाली मेरे सीने से लग गई हम दोनों थोड़ी देर एक दूसरे से यूँ ही चिपके रहे.

लेकिन मेरा लंड आगे नहीं जा पा रहा था; ऐसा लग रहा था कि उसे कोई चीज रोक रही थी।मैंने नीतू से अपनी गांड ढीली करने को कहा तो उसने कहा कि उसे नहीं पता कैसे ढीली की जाती है, जो भी करना है, खुद करो।मैं उसके दोनों चूतड़ों पर जोर-जोर से झापड़ लगाने लगा। मेरा हर झापड़ उसके चूतड़ों पर मेरी उँगलियों की छाप छोड़ देता।मैं झापड़ लगता तो वो दर्द से कलप जाती लेकिन साथ ही साथ और जोर से मारने को कहती. मतलब हम दोनों इतने ज्यादा करीब आ गए थे कि एक दिन वो मुझे प्रपोज़ करने लगीं. अगले भाग में पढ़िए कि कैसे मैंने बाकी दोनों राजकुमारियों की जम कर चुदाई की.

सेक्सी आदिवासी हिंदी ममता भी अब पूरी तरह खुल गई- भैया आपसे एक बात पूछूं … आप मास्टरबेट रोज करते हो?अभय- नहीं कभी कभी जब …उसके मुँह से अचानक निकल गया. वो बोलीं- ठीक है, हम पास के स्टोर रूम में चलते हैं, वहां कोई नहीं आता जाता है.

हैलो फ्रेंड्स … मैं प्रकाश सिंह फिर से अपनी एक और मजेदार सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. चुदवाने का एकदम सही मौक़ा था पर मैं चाहती थी कि वह मुझे चोदने के लिए मुझसे भीख मांगे और मैं उस पर अहसान करके उसे अपनी चुत चोदने की इज़ाज़त दूं. उफ्फ पापाजी … ऐसे मत करिए नहीं तो मैं बिना चुदे ही झड़ जाऊंगी; मुझे तो आपके लंड से चुदते हुए झड़ना ही अच्छा लगता है.

लड़की की बफ

नीचे से वह लड़का भाभी के मम्मों को बहुत बुरी तरह से चूस रहा था और पीछे के छेद में लंड पेले हुए दूसरा लौंडा उनकी कमर को अपने दांतों से काट रहा था. एक रात ऐसे ही मैं खेल कर आने के बाद भाभी के कमरे में कपड़े निकालकर लेट गया था और थकान के चलते मुझे नींद आ गयी थी. मेरी चूचियों की मालिश होती रही और मैं सातवें आसमान की सैर करने लगी।मेरी चूत पानी पानी हो गई.

मैंने आगे की ओर झुककर उसकी चूचियां पकड़ लीं और उसे आधे लण्ड से चोदने लगा. मैं उसकी तरफ देखने लगा कि ये किस तरह से मेरी मनी प्रॉब्लम को दूर करेगी.

कुछ सेक्स कहानियां तो इतनी मजेदार होती हैं कि उन्हें पढ़कर लड़कों के हाथ अपने लंड तक और लड़कियों के हाथ अपनी चूत तक पहुंच जाते हैं.

मैं मैं गई भैया … गई तेरी बहन …बस इतना बोल कर ममता अकड़ी और झड़ने लगी झड़ते हुए उसने अपने भाई को जोर से भींच लिया. पूनम के पति, बृज को व्यापार में कुछ नुकसान हुआ था और इसीलिए पूनम बुआ थोड़ी परेशान रहने लगी थीं. मैं उसके कमरे में जाने लगी लेकिन खुले दरवाजे की झिरी से अन्दर का नज़ारा देख कर मैं हैरान हो गयी.

जैसे ही नियाशा ने मेरे लंड को ले के चूसना शुरू किया मेरी आह … निकलने लगी. उसने अपने दोनों कान पकड़े और सॉरी बोला और कहा- मैं दोबारा ट्राय करती हूं. तो उस दिन मेरे सास ससुर दोनों सुबह जल्दी ही कार से जयपुर चले गए।मैं बेटी की पढ़ाई की वजह से जा नहीं पाई थी तो मैंने सासू मां से कहा- मुझे रात में अकेले डर लगता है.

भोसड़ी के … बिल्कुल चूतिया समझा है!मैं- एक काम करो अभी तुम हमारा लंड चूसो, चुदाई हम बाद में करेंगे.

बीएफ फिल्म की वीडियो: शाम को मैं उनके घर से जाने लगा तो इंडियन रंडी नगमा बोली- आज की रात घर में ही रुक जाओ … अब्बू अम्मी भी नहीं हैं. इसी तरह उन्होंने कई सारे थप्पड़ मेरे दोनों चूतड़ों पर बरसा कर उन्हें एकदम लाल कर दिए.

मेरी बात सुनकर बहूरानी ने अधखुली आंखों से मेरे लंड के उभार को निहारा फिर मेरी बगल से उठ कर नीचे कार्पेट पर मेरे पैरों के बीच बैठ गयीं और लुंगी हटा कर लंड थाम लिया. मौसी दो बार झड़ गई थीं और वो मुझसे कहने लगीं कि जल्दी आ जाओ … मुझे जलन हो रही है. मैंने भी दूसरी लड़की जोया की तरफ उंगली करके कहा कि और मैं तुमको चोदना चाहता हूं.

शीना- ये औरल सेक्स कैसे करते हैं अंकल?मैं- औरल सेक्स में मर्द औरत की बुर चाटता है, जैसे अभी मैंने तुम्हारी बुर को कच्छी के ऊपर से चाटा था.

मैं- मेरी जान, आज आपको इसको चूसना तो इसकी जड़ तक चूसना पड़ेगा … वरना आपकी चुत की प्यास भी नहीं बुझेगी. सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार!मेरी पिछली कहानीचाची का कामुकता भरा प्यार सिर्फ मेरे लिएआपने पढ़ी. मेरी मां रज्जी थोड़ा शर्माती हुई बोलीं- ऐसे कैसे बैठ सकती हूं … मैंने मैक्सी पहनी हुई है.