एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी

छवि स्रोत,नया साल की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी भोसड़ा: एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी, अब मैंने उसके सिर को पकड़ा और जोर-जोर से लंड को ऊपर-नीचे करने लगा और अगले ही पल मैं झड़ गया.

పూజ సెక్స్

फ्रेंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे मेरे पार्टनर दोस्त की बीवी बहुत पसंद थी. मुझे सेक्सी बताओमदहोशी में भी अञ्जलि ने अपना बैलेंस बिगड़ने से बचने के लिए अपने बाएं हाथ से मेरी कमर पकड़ ली.

एक हाथ से लंड पकड़ कर उसकी गांड पर टिकाए था, दूसरा हाथ उसकी कमर पीठ पर रखे था. गांव की सेक्सी फिल्म एचडीकाश मेरे पति का भी ऐसा होता!’मैंने सोनाली की गदराई हुई मांसल गांड पर अपना एक हाथ रखकर सहलाते हुए पूछा- तुम्हारे पति का कितना बड़ा है?तो सोनाली ने कहा- तुम्हारे लंड से आधा ही लंबा है … और पतला भी.

उसने 40 लाख के लोन की डिमांड की थी और उसकी प्रॉपर्टी के तरत उसे सिर्फ 25 लाख ही दिया जा सकता था.एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी: मैं दीदी को नीचे से पेल रहा था और दीदी ऊपर से गांड उठा उठा कर चुद रही थीं.

टीचर फक़ वर्जिन गर्ल स्टोरी एक स्टूडेंट लड़की की है जो मैथ के पेपर में पास होने के लिए अपने टीचर को अपनी कुंवारी जवानी का मजा दे रही है.वो बोल रही थी- आहह हह उमम हम्मम ओहह आह … आराम से आह नीरज मेरे भाई आह चोद दे अपनी बहन की चूत को … आह साले कितना अन्दर तक पेल रहा है तू!ऐसा कहती हुई मेरी बहन फिर से झड़ गयी.

മിയ ഖലീഫ സെക്സ് - एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी

चूंकि मेरी चूत एकदम गीली हो चुकी थी जिसके कारण उसका लंड एक बार में अन्दर तो चला गया लेकिन मुझे दर्द और जलन बड़ी तेजी से होने लगी.फिर शलाका ने मुझे बेड पर अपने बाजू में लिटा लिया और वह अब मेरे कपड़ों को उतारने लगी.

उसने सवालिया नजर से देखा, तो मैंने अपनी इच्छा जाहिर की कि मैं आपकी गांड को अपनी जीभ से चाटना चाहता हूँ. एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी उनके पति बोले- बताओ दीपक, सबका ऐसा ही रहता है या इससे ज्यादा होता है?भाभी बोलीं- मैं कैसे मान लूं कि सबका ऐसा ही रहता है.

कहानी के पहले भागमेरी सहेली के भाई ने मुझे चोदकर मजा दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि सर मेरे साथ मस्ती कर रहे थे.

एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी?

आपको ये मादरचोद सेक्स कहानी कैसी लगी, मेरे ईमेल पर जरूर मेल कीजिएगा. हस्बैंड नशे में चूर थे, उनसे उठा नहीं गया तो वो बोले- अनिता तुम पानी ले लो और पैग बनाओ. उसने मुझसे अगला सवाल पूछा- क्या तुम प्यार मुहब्बत में भरोसा करते हो?मैंने उसकी तरफ देखा और कहा- मैं उसमें घर का खाना … और बाहर खाना जैसा फर्क ही समझता हूँ.

मोनिका बोली- तुम दोनों हम दोनों को यहीं हॉल में पेलोगे या बेडरूम में?दूध वाला बोला- मेरी जान बेडरूम में चलो. मैं समझ गया और उनकी चूत देख कर अपनी जीभ को अपने होंठों पर फिराने लगा. कभी वो मुझको कुर्सी पर उल्टा करके मेरी गांड मारने लगता तो कभी मुझको खड़ा करके पीछे मेरी गांड में लंड ठोक देता तो कभी नीचे झुका कर मेरी गांड मारता.

कहानी के पहले भागदोस्त की साली के साथ सेटिंग हो गयीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं सो रहा था कि मुझे महसूस हुआ कि मेरे लंड पर कोई दबाव डाल रहा है और एक मादक महक आ रही है. जैसे ही मैंने अपनी जुबान उसकी गांड के छेद पर रखी, तो सोनाली अपनी गांड हिलाकर जोर से सीत्कारने लगी- ओह आह ऊंई इस्स हा आह हुं ओह हर्षद … बहुत गंदे हो तुम … कहां अपनी जुबान लगा रहे हो … आह लेकिन मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है. मैं- क्या तेरा डालने का इरादा है तो मैं पैंट खोलूं!ये कह कर मैं अपनी बेल्ट खोलने लगा.

उसके लिए मैंने अपने दिमाग में प्लान करना शुरू कर दिया कि कैसे वो चुदाई के लिए तैयार होगी. उन दोनों बाबाओं ने काफी आसनों में सुबह से दोपहर एक बजे तक ने मुझे खूब ज़बरदस्त चोदा.

मैंने जब ये सुना तो मैं समझ गया कि मेरी बहन की चूत में काफी पहले से ही आग लगी थी और ये खुद ही मेरे लंड से चुदने मचल रही थी.

उसके कंठ से मादक आवाज निकलने लगी- आह स् स् स्ह स्ह … ओह हर्षद प्लीज मुझे दूध बना लेने दो ना!मैंने उसके थन मसलते हुए कहा- तुम बनाओ ना दूध … मैंने कहां तुम्हारे हाथ पकड़े हैं?ये कहकर मैं अपने दोनों हाथों से उसकी दोनों चूचियों को भींच कर सहलाने लगा; साथ में निप्पलों को भी मींजने लगा.

’उसी समय समीर का लंड चूसती हुई मैंने लंड का माल पीने की आवाज निकाल दी. उधर से साबिरा भी किसी बाजारू रंडी की तरफ लंड चूत की बातें करने लगी. मैंने अपना एक हाथ उसके गले में डाला और अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

मैंने सोचा कि माल तो अच्छा गर्म हो रहा है, स्टूडेंट सेक्स के लिए तैयार है, अब सुरंग फाड़ने का काम किया जाए. लौड़े से बाहर आने को तड़पने वाला मेरा वीर्य मुझे कैसे भी करके जल्दी ही रेशमा की बंजर बच्चेदानी पर गिराकर उसे हरी भरी करना था. कहानी के पहले भागगांडू लड़के से चुद गयी शादीशुदा लड़कीमें अब तक आपने पढ़ा था कि गांव के खेत में नंगे होकर हम कुछ लौंडे नहा रहे थे.

सुबह जब शैली मामी ने जगाया तो वो हम दोनों की नंगे बदन देख कर शर्मा गईं और चेतना की चूचियों को दबाती हुई पहली चुदाई की अनुभूति को जानने की कोशिश करने लगीं.

मैंने उससे वादा किया- ऐसा कुछ नहीं होगा और हम ट्राई करके देख सकते है. बातें करते वो कब मेरे करीब आ गयी और मेरी जांघ पर अपना हाथ रख बात करने लगी, मुझे पता ही नहीं चला. हालांकि हम दोनों हमेशा एक दूसरे के संपर्क में रहे, मैं उसकी शादी में भी गई थी.

मैंने सोनाली को अपने नीचे लेते हुए कहा- अच्छा तो भाभी भी तुम्हारे साथ है क्या?मैं अपने घुटने के बल बैठकर उसकी दोनों चुचियां मसलते हुए बोला. चाची भी अपनी गांड को हिलाने लगीं- अहह उहह चोद आह्ह चोद फाड़ दे मेरी गांड और जोर से चोद आहह उहह उहह मर गई आहह ऊईईई मार जोर से झटके मार … आहह आआह फाड़ और फाड़. अब भी बोलो, तो इसकी में से निकाल कर तेरी में डाल दूँ?राकेश फिक्क से हंस दिया.

मैं- लो भाभी, पर भाभी मेरे पास ये सिर्फ एक ही क्रीम की टयूब है, आप किचन में जाओ … और लगा कर वापस दे दो.

मैंने उनकी चूत में अपनी जीभ डाल रखी थी, इससे उनकी चूत का सारा रस मेरे मुँह में चला गया. हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी मेघा, आपको अपने यार समीर और सर रितेश के लंड से चुदने की Xxx कहानी सुना रही थी.

एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी फिर भी मेरी यह इच्छा थी कि किसी औरत के जिस्म का सुख भोगने को मिल जाए. दोस्तो, आप सभी लोगों को मेरी तरफ से नमस्ते, भाबी और लड़कियों को भी हाथ जोड़ कर नमस्ते.

एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी मैंने गौरव से पूछा, तब उसने बताया कि आंटी और संजीव ग्वालियर गए हुए हैं. सरिता भाभी ने अपने मां, पिताजी और बड़ी बहन सोनाली से मेरी पहचान करवा दी.

मैं भी सारे कपड़े उतार कर नहाने लगा क्योंकि साथ में कोई अलग से कपड़े नहीं लाया था.

अच्छा वाला सेक्सी व्हिडीओ

मैं खून से लथपथ बुर चोदने का मजा लेते हुए तेज गति से हचक हचक कर चोद रहा था. उसने अपनी मिड फिंगर चूत में डाली और मेरे जी-स्पॉट को ढूंढने लगा।जी-स्पॉट मिलते ही उसने उसे इतना रगड़ा कि मेरा 2 मिनट में ही पानी निकल गया।मेरी चीख के साथ पानी निकला और उसके हाथ व मेरी पैंटी दोनों को पानी से भर दिया. ’‘इस्स इस्स सर ये रोड भी मुँह से साफ होती है … अंह अह निप्पल मत मरोड़िए.

हम दोनों ही थक चुके थे, तो ऐसे ही एक दूसरे की बांहों में कुछ मिनट लेटे रहे. आज जो मैं आप के साथ दुबई सेक्स का किस्सा सांझा करने जा रहा हूँ, उसमें थोड़ी उर्दू जबान देखने को मिलेगी क्योंकि किस्सा ही कुछ ऐसा है. कभी बेडरूम में, कभी सोफे पर, कभी बाथरूम में नहाते वक्त, तो कभी सविता को फर्श पर लेटा कर … मैं उसे चोदता रहा.

तुम्हारा ये गठीला बदन, चौड़ा सीना और इतना मोटा और लंबा लंड देखकर मैं तो तुम्हारी दीवानी हो गयी हूँ हर्षद.

वह मुझको चूमने के साथ साथ मेरी फूली हुई चूचियों को कपड़ों के ऊपर से ही मसल रहा था. उनका पेटीकोट भीगा हुआ था, वो शायद पौंछा लगा रही थीं जिसकी वजह से वो बेड के नीचे घुस सी गई थीं. उसने अपने तौर पर कमरा तलाशा तो कोई ढंग का रूम नहीं मिला इसलिए वो परेशान था.

मैंने पूछा- भैया कहां जा रहे हो?भैया बोलने लगे- कश्मीर घूमने जा रहा हूँ. मैं अपने दोनों हाथों से उसके स्तन, पेट, कमर पर साबुन लगाकर उसे सहलाते हुए नहला रहा था. अञ्जलि ने भी अपने बालों को बल देते हुए घुमाया और अपना जूड़ा कस कर बांधने के बाद, वहीं रखे हुए, वॉटर प्रूफ हेड कवर से अपने बालों को ढक लिया.

ललिता भाभी आंख बंद करके आहहह आहहह करके अपनी कमर हिला रही थीं और मैं तेजी तेज धक्के लगाने में लगा था. फिर भैया ने मुझसे कहा- तू चलेगा मेरे साथ?मैं एकदम खुश हो गया और मैंने तुरंत हां कर दी.

तो मैंने पूछा- इसका क्या करना है … मैं तो आज तुम्हारी गांड मारूंगा. मेरे सामने वो पूरी तरह से नंगी हो गई थी और उसकी आंखें अपने आप शर्म से बंद हो गई थीं. उन्होंने मुझे अपने गले से लगा लिया जिससे मेरी चूचियों की नोकें उनके सीने में जा घुसीं.

अदिति सीधे घुटनों के बल बैठ गयी और आहिस्ता से मेरा लंड अपनी चूत से बाहर निकाला.

मौसी की चूचियों को देखकर लगा कि मौसी की दोनों मुसम्मियों को निचोड़ लूं. मैंने शॉवर बंद किया और तौलिया लेने के लिए जरा आगे बढ़ा ही था कि बाथरूम का दरवाजा अन्दर की तरफ खुला. उसका फ़ायदा ये हुआ कि मैं रात रात भर में किसी की चुत को 5-6 बार भी चोदूँ, तो कमजोरी नहीं आती है.

उसने सभी दोस्तों से बोला- मुझे कुछ काम आ गया है और इसे मेरे साथ अभी जाना पड़ेगा. मैंने उसे बैठाया, थोड़ा पानी पिलाया और पूछा- अब कैसा लग रहा है?वो बोली- अब ठीक है.

मैंने कहा- पांव अटक गया मेरा!मैंने इस बहाने से सीधी होते हुए ही उसकी लुंगी के ऊपर हाथ फेर दिया और लंड का तनाव महसूस किया. ससुर सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि मेरे पति के दूर रहने के कारण मेरी चुदाई की जरूरत पूरी नहीं हो पा रही थी. वो आंख दबा कर बोली- हो गया केएलपीडी!मैं हंस दिया और उसे चूम कर मैंने गाड़ी को उसके घर की तरफ मोड़ दिया.

सेक्सी एडल्ट फिल्म हिंदी में

ट्रिपल Xxx हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि होटल के कमरे में मैंने विदेश से आई एक भाभी के साथ BDSM सेक्स करके उसे भी मजा दिया और खुद भी मजा किया.

लेकिन मेरा पति शराबी था और वो अब नहीं रहा, इसलिए मैं सभी सुख से वंचित थी. मैंने कहा- अब हमें अपने अंतिम लेकिन सबसे महत्वपूर्ण काम की ओर बढ़ना चाहिए. वो बोला- सपना, तुम्हारी सेक्स लाइफ कैसी चल रही है?मैंने कहा- कुछ खास नहीं.

com/chachi-ki-chudai/dost-ki-bua-sex-story/चलिए, कहानी पर आते हैं।मैं आपको बता दूँ कि यह घटना मेरे साथ दो साल पहले ही घटी है और पायल मेरे एक घनिष्ठ मित्र तरुण की चचेरी बहन है।आशा है कि सभी दोस्तों ने अपने अपने लण्ड को तैयार होने का इशारा कर दिया होगा. मैंने चूत की दरार पर लंड रगड़ना जारी रखा और अपने हाथ उसकी दोनों चूचियों पर गोल घूमकर चूचियों को मरोड़ता और दबाता रहा. हिंदी सेक्सी पिक सेक्सीचाची के बाद जब मैं मम्मी से गले लग कर मिला तो मेरा लंड मेरी मम्मी की चूत के पास ही लग रहा था.

ललिता भाभी मेरी बात सुनकर एकदम से उदास हो गईं और बोलीं- मेरी जिंदगी तो बेकार हो गई है. उसने मेरे पास आकर मेरे लंड को थाम लिया और बोली- तुम्हारा लंड ही मेरी चूत की गहराई को नाप सकता है और मेरे अन्दर की आग को शांत कर सकता है.

फिर भी अपने घर जाते जाते महंत को छोड़कर, सुमंत और मुझसे आज़ सुबह भी एक राउंड चुदाई करवा गई थीं. मैं- मैं उस दिन की तरह उंगली से कर दूँ या आपकी चूत को चाट कर, चूस कर कर दूँ?भाभी- उंगली से तो ठीक है पर चूस कर कैसे?मैं- ये सब आप मुझ पर छोड़ दो, आप को मज़ा न आए और शांति न मिले तो कहना. कुछ देर बाद उन दोनों ने मेरे साथ 7 फेरे लिए, मेरी मांग भरी और मुझे मंगलसूत्र पहना कर मुझे अगले तीन दिनों के लिए बस चोदने के लिए अपनी पत्नी बना लिया.

फिर मुखिया जी ने माँ को अपनी मजबूत बांहों में जकड़ लिया और उनके होंठों को चूमने लगा. मैंने तेल लेकर उनके कंधे से लगाना शुरू किया और पूरी पीठ को तेल से चिकना कर दिया. मैं कमरे की ओर बढ़ने लगा तो मैंने देखा कि रेखा बिना कपड़ों के नंगी सोई हुयी थी.

मैं अपनी गर्लफ्रेंड शलाका को बहुत बार चोद चुका था व उसी से शादी भी करना चाहता था पर मेरी गर्लफ्रेंड के घर वाले नहीं माने और उसका कहीं और रिश्ता कर दिया.

उसके छोटे छोटे दो रसीले नर्म चूचों पर गुलाबी निपल्स चूसने से ऐसे लाल हो गए थे, लगता था जैसे अभी खून टपक पड़ेगा. थोड़े दिनों बाद मेरे चचेरे भाई अपने काम के चलते अपनी फैमिली को लेकर पास के शहर में चले गए.

मेरी पूरी पैंटी गीली हो गयी थी, इसलिए मैं वहां से वाशरूम जाने के बहाने निकल गयी थी. सर ने मुझे चुप कराने के लिए मेरे मुँह में लंड देने का तय कर लिया था. उसकी उम्र शायद 42 साल की रही होगी, लेकिन वो 35 साल की माल सी दिखती है.

सुबह 10 बजे ही मैं उसके घर की ओऱ निकल गया था क्योंकि मुकेश अपने मां बाप को एयरपोर्ट छोड़ने चला गया था जो 100 किलोमीटर दूर दूसरे शहर में था. वो भी मुझसे बात करने को मरी जा रही थी तो जल्दी ही मेरी उससे बात होने लगी. मैं ऊपर वाले से प्रार्थना करने लगा कि हे कामदेव आज मिहिका का पति नहीं आना चाहिए.

एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी पीछे से चूत चोदने वाले बाबा ने मुझे नीचे खींच कर ज़मीन में खड़ा कर दिया और मेरी एक टांग उठा कर मुझे पीठ से अपनी तरफ करके मेरी गांड में अपना लंड पेल दिया. उसके शरीर में तुमको उसका कौन सा अंग सबसे ज्यादा अच्छा लगता है और तुम्हारे शौहर को तुम्हारे शरीर की कौन सी बात सबसे अच्छी लगती है.

सेक्सी मूवी फिल्म इंग्लिश

मैंने अपने लंड को जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया और जल्द ही अपनी पूरी ताकत से उसे चोदने लगा. रेशमा का नंगा बदन मेरे नंगे बदन पर रगड़ रगड़ कर फिर से मेरे लौड़े में जान फूंक रहा था. मैं रंडियों की तरह अपने दोनों छेदों में दो लंड लिए हुए कामुक सिसकारियों से चुदती रही.

धीरे धीरे ललिता भाभी को भी मज़ा आने लगा और वो मस्ती ने बोलने लगीं- आह आह आहह राज … और चोदो मुझे … आहह आहह … कितना अच्छा लग रहा है. मैंने कहा- मेरे पतिदेवो … अभी जल्दी क्या है … कुछ देर आराम कर लेते हैं. सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी में भेजेंउस सेक्स कहानी को में आगे अलग अलग तरीकों से किस तरह से चुदाई हुई, वो सब मैं आप लोगों के बीच लेकर बाद में आऊंगा.

जब मैंने कारण पूछा तो उसने कहा- मैं इतना बड़ा लंड बर्दाश्त नहीं कर सकूंगी.

मैं नंगी थी और अपनी कमर पर हाथ रख कर बोली- कब से देख रहे हैं आप?पापा कुछ नहीं बोल पाए. जब मैंने भाभी की ओर देखा तो भाभी शर्मा कर जल्दी से मेरे घर से निकल गयी.

मैं बोली- रोहित … ये कितने इंच का है?तो रोहित बोला सही पकड़े हो मेरी जान … ये साढ़े सात इंच का ही है. फिर उसने यही सवाल मोनिका से पूछा, तो वो बोली- मेरे लिए तू दूसरा ही था. कुछ देर लंड रगड़ने के बाद उसने अपना एक हाथ मेरे पेट के पास लगाया और मुझे अपनी दूसरी साइड लिटा दिया.

वो अपनी गांड को फैलाने लगी और उस पर अपनी उंगली से ही थूक लगाने लगी.

चाची मेरे सीने पर हाथ फेरती हुई बोलीं- चिंता न करो विक्की, आज तुम भी खुश हो जाओगे और हम दोनों भी तुमसे खुश हो जाएंगी. दोस्तो, आप ससुर सेक्स की हिंदी कहानी अगले के भाग में पढ़कर जानिए कि कैसे ससुर जी ने 3 महीने के लॉक डाउन में चोद चोद कर मेरी हालत खराब कर दी और कैसे हमने एक दूसरे को चुदाई का मजा देते हुए एक दूसरे की जरूरत को पूरी किया. हम दोनों आधे घंटे एक-दूसरे को पकड़ कर ऐसे बेहोश पड़े थे, जैसे शरीर में जान निकल गई हो.

प्रियंका चोपड़ा हॉट सेक्सीआप देवर भाभी GF BF कहानी पढ़ कर मुझे मेल करके मेरी ग़लती बताओगे, तो मुझे बहुत खुशी होगी. मैंने पूछा- क्यों?उसने कहा कि मेरे माता पिता बहुत रूढ़िवादी हैं और लड़की को ज्यादा शिक्षित नहीं करना चाहते हैं.

सेक्सी गूगल वीडियो

वो- आह हर्षद, मुझे डर भी लग रहा है तुम्हारे लंड का आकार मेरी चूत को फाड़ न दे. इससे भाभी की कामुक सिसकारियां निकलने लगीं- उह्ह आह्ह्ह उउच्छ ओह राहुल चाटो … और जोर से चूसो … खा जाओ मेरी चूत को … चूसो और जोर से चूसो … चाट लो अन्दर तक जीभ डालो. वो चिल्लाने लगी- आअहह मर गई … रूको … आंह बाहर निकालो … मुझको बहुत दर्द हो रहा है.

उन्हें सामान लेकर 10 बजे एयरपोर्ट के लिए निकलना है और मुझे वापस आने में 12 या 1 बज जाएगा. उनकी इस तरह की बातों से मेरा मुरझाया हुआ लंड चुत में फिर फड़कने लगा. पर्वी ने आनन्द और दर्द के मिले जुले भाव से ‘ऊंह मर गई …’ की आवाज निकाली.

मैं भाभी की बात सुनकर बड़ा खुश हुआ, बच्चों के स्कूल जाने के बाद हम दोनों ने अपना सेक्स का खेल फिर से शुरू कर दिया. सोनम 10 बज कर 10 मिनट पर पापा के रूम में पहुंची, जहां उसका वे बसब्री से इन्तजार कर रहे थे. मैंने चूत की फांकों में लंड का सुपारा घिसा और एक जोरदार धक्का दे मारा; मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

सही वक्त और मौका देख कर लंड के ऊपर ज्यादा सी वैसलीन लगा कर सुपारे को गांड पर रख दिया और हल्के हल्के गांड पर घुमाते हुए गांड के अन्दर जोर लगा कर डालने लगा. जल्द ही हम दोनों गर्म होने लगे और सविता अपने दोनों हाथों को मेरे सर पर रखकर मेरे बाल सहलाने लगी.

यहां पर सिर्फ फ़ोरप्ले करेंगे … चुम्मी करेंगे, चुसाई करेंगे; बाकी चूत चढ़ाई पलंग के रणक्षेत्र पर करेंगे और कवच के साथ.

अब मैं रुक गया और उसका चुम्बन लेते हुए उसके लटके लंड को सहलाने लगा. सनी लियोन सेक्सी चूत चुदाईचेतना की देसी बुर ने दो बार झड़ कर इतना अधिक मदनरस छोड़ दिया था कि बुर के नीचे बिस्तर गीला हो गया था. सेक्सी ब्लू फिल्म टोकाकरीब पन्द्रह मिनट की गांड चुदाई के बाद सुमैत्री ने हार माल ली और बोली- प्लीज, अब गांड से लंड निकालो और मेरी चूत को चोदो, मुझसे सहन नहीं हो रहा. लेकिन दोस्तो, मेरा ये नजरिया गलत निकला और अब मैं ये पूरे विश्वास के साथ कह सकती हूं कि हॉट लड़की की वासना, जिस्म की प्यास एक ऐसी प्यास है, जिसे बुझाने के लिए इंसान किसी भी हद तक जा सकता है और वो सारे रिश्ते नाते भूल सकता है.

अब मैंने लंड का दबाव उसकी गांड पर आहिस्ता आहिस्ता बढ़ाकर आधा लंड अन्दर पेल दिया.

मैंने उससे कहा- तैयार?वह हंस दिया और अंडरवियर के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगा. मेरे मोबाइल में रीना के कई फोटो थे; उनको दिखाने के लिए मैं आंगन में गया. उन्होंने मेरे मम्मों पर हमला बोल दिया और अपने दांतों से मेरे निप्पलों और स्तनों को बारी बारी से काटने लगे.

पर गले में हाथ डाले ही कोई दोस्त शरारत से बात करते करते अकसर गाल चूम लेता और मुस्कराने लगता. जब मुझसे बर्दाश्त से बाहर हो गया तो मैंने कहा- अब सब कुछ हो जाने दो प्लीज. फिर जैसे ही मुखिया जी ने माँ का सिर छोड़ा … माँ ने मुखिया जी का लन्ड अपने मुँह से निकाल ओर उनका सारा माल थूक दिया.

सेक्स सेक्सी हिंदी व्हिडिओ

उसने भी अपना विज़िटिंग कार्ड मुझे थमा दिया और इस तरह हम दोनों अपने अपने रास्ते चले गए. अपना पैंट ओर अंडरवियर उतार कर उसने अपना लंड मेरी चूत की फांकों में फिट कर दिया और मेरे दोनों हाथ पकड़ लिए. मुझे हर बार ऐसे करने में मजा आता है क्यूंकि औरत की चीख सुनकर मुझे बड़ा मजा मिलता था.

तुम कब सेमुझे चोदना चाहते थे?मैं समझ नहीं पा रहा था कि मैं क्या बोलूं.

फिर मैंने पूछा- क्या आप मुझे उस दवा का नाम लिख कर दे सकती हो, जो आपने इंजेक्शन से डाली थी?उसने सवाल करते हुए पूछा- क्या आप यहां पर दोबारा ड्रेसिंग करवाने नहीं आओगे?मैंने कहा कि मुझे 3 दिन के लिए चंडीगढ़ जाना है, इसलिए दवा का नाम पूछा.

मैं उस समय खुद पर कन्ट्रोल नहीं कर पाया और अपना सारा वीर्य उसके चूतड़ों पर उगल दिया. उस दिन के लिए मैंने अपनी चूत की साफ़ सफाई की; अपने जिस्म को पार्लर में जाकर चिकना करवाया. आज चौथ है क्या[emailprotected]सेक्स वासना की कहानी का अगला भाग:भतीजे के लंड पर दिल आ गया- 2.

भाभी बोलीं- इलाज विलाज से कुछ नहीं होगा और वैसे भी आपका लंड तो बस चार इंच का ही है. कुछ देर शिराज की जमकर गांड चोदने के बाद उस लड़के का पानी शिराज की गांड में ही निकल गया. उसने कुछ ही देर में भाभी की चूत का रस चाट कर साफ़ कर दिया था और भाभी चित पड़ी लम्बी लम्बी सांसें ले रही थीं, उनकी गोल मटोल चूचियां बड़ी तेजी से उठ बैठ रही थीं.

तीसरे दिन आंटी ने मुझसे कहा- तुम दूध लेकर अन्दर ही आ जाना, चाय बनाती हूँ. विलास भी मेरे लंड पर दबाव बनाए हुए था और गांड सिकोड़ कर लंडरस को अन्दर खींच रहा था.

मैं थोड़ी कड़क आवाज में बोला कि नहीं ये गलत है … और मैं ऐसा इंसान नहीं हूं.

अब मैंने सुमैत्री को अपने ऊपर आने को कहा और बोला कि अब तुम मेरे ऊपर बैठ कर अपनी चूत को चुदवाओ. वो भी खाना खाकर अलसाए हुए थे तो एसी की ठंडक में आराम करने के मूड में आ गए थे. मैंने बाथरूम के शीशे में देखा कि मेरी गांड और चूची दोनों के आकार में कुछ बढ़ोत्तरी हो गयी थी.

गर्भवती महिला सेक्सी व्हिडीओ मेरी कहानियाँ मेरे जीवन की सच्ची घटना है, यह कोई कल्पित घटना नहीं है।दोस्तो, यह हॉट फॅमिली Xxx कहानी मेरी मासी का लड़का, मेरी ममा और मेरी है।मैं मेरी ममा के साथ रहती हूँ और सब कुछ शेयर करती हूँ।मेरी ममा की चूचियाँ 36″ कमर 32″ और चूतड़ 38″ आकार के हैं।पापा राजधानी में रहते हैं तो यहाँ ममा का एक दोस्त है. मैंने जेब में देखा, नहीं मिली तो सूटकेस के अन्दर से निकाल कर टेबल पर रखी और एक सिगरेट सुलगाई.

थोड़ी देर के बाद सोनाली अपनी गांड हिलाने लगी तो मैं अपनी कमर आगे पीछे करके लंड अन्दर बाहर करने लगा. जैसे ही थोड़ा सा लंड अन्दर गया, तो वो दर्द से ऊपर को सरक गई और उसके मुँह से चीख निकल गई. एक बार मेरे इशारे से वो मेरे पास से निकली … तो मैंने मौका देखकर उसके चूतड़ों पर हाथ को टच कर दिया.

सेक्सी मूवी पिक्चर पंजाबी

‘आआह मेरे कालू राजा ऊफ़्फ़ … कुतिया की तरह चोदो मुझे उम्म … मैं हमेशा के लिए तुम्हारी रांड हूँ मेरे राजा चोद दो मेरी मक्खन सी चूत का काम उठा दे आंह … आज मर्द मिला है. उसमें मैंने अपने बारे में बताया था लेकिन फिर भी जो नए पाठक जुड़े हैं उनको मेरे बारे में जानकारी हो जाए, इसलिए मैं फिर से बता देता हूँ. दोस्तो, मैं अर्पण आप सभी का सेक्स कहानी में हार्दिक स्वागत करता हूँ.

कई बार मैंने चाची को नहाते हुए देखा था, उस टाइम वो सिर्फ पेटीकोट में ही रहती थीं और उनके चूचे मुझको दिख जाया करते थे. मगर मैंने दरवाजा खोल दिया और पूछा- कहां जा रही हो सविता?उसने बताया कि वो घर जा रही है.

दीदी- अजय ये तेरे ही हैं, पर आराम से कर … जीजाजी अब पता नहीं कब तक आएंगे.

उसके बाद जस्सी ने मुझे नीचे लिटाया और मेरे पूरे शरीर पर पेशाब की, जो मुझे भी अच्छा लगा. कई साल पहले जब मेरे पिताजी का देहांत हुआ तो मेरी माँ ने अकेले ही पूरे घर की जिम्मेदारी को उठा लिया. इसके बाद वो दूसरा वाला बाबा मेरे सामने से आ गया और मेरी चूत में अपना लंड घुसा कर मेरी चूत चोदने लगा.

हॉट Xxx साली की चुदाई कहानी पर आपके मेल के इंतजार में![emailprotected]. उस समय ऐसा हुआ कि मैं सोफा पर सो रहा था और वो महिला मेरे पास ही जमीन पर सो रही थी. मैं उसको देख ही रहा था कि इतने में भाभी ने मेरे सर को पकड़ा और अपनी चूत पर दबा दिया.

तुम्हारे पास कुछ जादू है क्या, जो शादी शुदा औरतें तुम्हारे पीछे पड़ जाती हैं.

एक्स एक्स बीएफ देवर भाभी: वो बोली- पंडित जी, सन्तान प्राप्ति के लिए कौन सी पूजा करवानी चाहिए. सच बताऊं तो मेरी गांड भी बहुत फट रही थी कि कहीं कोई लफड़ा हो गया तो रायत फ़ैल जाएगा.

चूत में लंड और चूत के दाने पर मेरी उंगली का खेल करते हुए मैं रेशमा को ट्रेन के कूपे में पूरी नंगी करके कुतिया बनाकर ताबड़तोड़ चोदे जा रहा था. इतना सुनकर मेरा दिल झूमने लगा कि मुझे ज्यादा चुदी हुई चूत नहीं मिलेगी और वैसे भी रूना को देखते ही मुझे उससे प्यार सा हो गया था. ऐसा नहीं था कि एकदम नहीं मिल पाए, मिले … लेकिन बाहर पार्क में, कहीं या ऐसे ही किसी रेस्टोरेंट में मिले.

रात को खाना खाने के बाद मैंने उससे सॉरी बोला और उससे बातें करने लगा.

छोटी कमर और गदरायी हुई बाहर को निकली हुई गोल मटोल छत्तीस इंच की गांड देखकर मेरा लंड तनाव में आने लगा था. हम दोनों का ओरल सेक्स पोर्न खेल होने के बाद हम दोनों ने खुद को ठीक किया और शांति से बैठ गए. दोस्त लौंडिया दिलवाने की बात करते हैं, पर मैं उनका लंड लेना चाहता हूं.