सेक्स मसाज बीएफ

छवि स्रोत,प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

लैंड चुस्ती हुई वीडियो: सेक्स मसाज बीएफ, कॉलेज हॉस्टल में दोनों खूब गर्मागर्म मस्ती करती रही पर किसी लड़के का लंड नहीं लिया.

चाची और भतीजे का सेक्स वीडियो

सुन्दर ने पीछे से मेरी साड़ी के ऊपर से मेरे चूतड़ दबाए।मेरे मुंह से मीठी सिसकारियां फूटने लगीं. डॉक्टर ने लड़की को चोदाउसने मुझे किस करके ‘आई लव यू …’ बोला और कहा कि तुमको मेरी कितनी फ़िक्र है … इतनी तो मेरे बॉयफ्रेंड को भी नहीं है.

हम वापस आ गए, तो घर पर सुमन दीदी हमसे पूछने लगीं- क्या हुआ है मां को, हॉस्पिटल में देख कर क्या बोले डॉक्टर?तो मां ने बोला- कुछ नहीं बेटा, डॉक्टर ने बस कमज़ोरी बताई है और बोला है कि 2-3 दिन में मैं ठीक हो जाऊंगी. सेक्सी बीएफ हिंदी हॉटमैं मन ही मन बहुत ख़ुश हुई कि चलो मैंने अपने दिल की बात का इशारा तो उसे दे ही दिया.

मेरी वासना की कहानी मेरी चाची के साथ दोस्ती और फिर उनके जिस्म के प्रति आकर्षण की.सेक्स मसाज बीएफ: वो बोल रही थी- आह चोदो मुझे आह और चोदो मुझे फ़ाड़ दे मेरी आह आह हह!मैंने कहा- मैडम, आज तुमने मुझे खुश कर दिया.

उन दोनों के बीच एक कॉम्पिटिशन चालू हो गया था कि कौन अच्छे से लंड चूसेगा.थोड़ी देर बाद उन्होंने लंड निकाला और मैं घुटनों पर बैठकर लंड को चाटने लगी.

हद बफ हद बफ - सेक्स मसाज बीएफ

परन्तु भाई थके होने के कारण उनसे सोने के लिए कह रहे थे।गुस्से में भाभी फिर कमरे से बाहर आ गई और रसोई में जाकर पानी पीने लगी.वो कद से तो लंबी थी ही और उसका मादक फिगर … इस समय मेरे सीने में उसकी मादक निगाहों की बरछियां चल रही थीं.

चूचियों और होंठों से खेलने में मैं इतना आनन्दित महसूस कर रहा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि गीत ने मेरी पैंट और शर्ट को कब निकाल दिया. सेक्स मसाज बीएफ मैंने टाइट कर दी चूत अपनी।वो सिसकारे- ओह्ह रानी … ले … ले ले मेरा लंड आह!उधर से मैं भी चीखी- आह्ह … फट गयी … आह्ह मर गयी.

जब तुम्हारे पति चले जाते हैं और महीनों के बाद आते हैं, तब तुम क्या करती हो?उनको जवाब देते हुए मम्मी बोलीं- करना क्या है बस किसी तरह से बर्दाश्त करती हूँ … आग लगी रहती है.

सेक्स मसाज बीएफ?

अब उसकी स्पीड में थोड़ी सी कमी आ गयी थी और उसने धीरे धीरे करके अपनी सारी गर्मी मेरी चूत रूपी समुन्दर में छोड़ दिया. मेरा माल अब छूटने ही वाला था, तो मैंने कहा- मेरा माल छूटने वाला है. फिर अचानक से हरीश ने सुम्मी के करीब आकर उसके गले से मंगलसूत्र को उतार दिया और कहा- लो आज मैंने तुम्हें आज़ाद कर दिया है.

कुछ देर बाद मैं उसकी कमर पर किस करने लगा और उसकी जांघों को चाटने लगा. उन्होंने मुझसे पूछा कि आप मुझे एक हफ्ते से रोज देखते हो ऐसा क्यों है?उनकी इस बात पर मैं थोड़ा डर गया और सर झुका लिया. मैं कुछ बोलती, उससे पहले उन्होंने मेरे मम्मों को दबोच लिया और बोले- शबनम, इन संतरों को भी रंग लेने दो.

इसके साथ ही न जाने कब हमारे फ़ोन की बातें फ़ोन सेक्स में बदल गईं, कुछ होश ही नहीं रहा. मेरी 15 मिनट तक गांड बजाने बाद उसने मुझे सीधा किया और सारा माल मेरे मुँह पर छोड़ दिया. उनकी चूचियों के निप्पल इतने मस्त और मुलायम थे कि मुझे छोड़ने का मन ही नहीं हो रहा था.

वो मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी और मेरे लंड का पानी उसके मुँह में निकल गया. उन्होंने मम्मी की एक-एक करके कपड़े उतार डाले और चुत चाटना शुरू कर दिया.

उन्होंने रोहन अंकल के लंड को अपने माथे से लगाया और मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

उसके मुँह पर हाथ का ढक्कन लगा था, तो आवाज तो नहीं निकल पा रही थी लेकिन उसकी आंखों से आंसू आने लगे, वो रो रही थी और तड़प रही थी.

सुबह जल्दी उठकर मैं अपने रूम में आ गया ताकि मेरे दोस्त को मेरी गांड चुदाई के बारे में शक न हो. ह्म्म्मम … ठीक है पापाजी, डू व्हाट यू लाइक!” बहूरानी बोली और मेरे कंधे से सिर टिका दिया. दूसरे दिन दोपहर के 12 बजे के आस पास मुझे बेड पर उनकी ब्रा रखी दिखी.

आगे क्या क्या हुआ … वो सब मैं आपको मॉम सन हॉट सेक्स स्टोरी में अगले भाग में लिखूंगा. मैं उसकी तरफ कुछ और बढ़ गया और अपना कड़क लंड उसकी गांड में छुआ कर हल्के हल्के ऊपर नीचे करने लगा. मां की हालत बहुत खराब हो गयी थी उनकी आंखों से आंसू निकल रहे थे और गांड की सील टूटने की वजह से गांड से खून भी निकल रहा था.

आज मैं अपनी एक सच्ची सेक्स स्टोरी इस साईट पर डाल रहा हूँ … प्लीज़ मेरी हॉट चुत की मस्त चुदाई कहानी को प्यार दीजिए.

डैड- अरे ये कलूटा सांड कौन है … और तुम सब कहां पर हो इस हालत में नंगे क्यों हो?मॉम- जब तू वापस आएगा, तब देख लेना मेरे गुलाम. अब तो उसका लंड भी मुझपे रगड़ मार रहा था।मेरे मन में ख्याल आ रहा था कि ये चोद के ही मानेगा. धीरे धीरे रोज़ाना आना जाना शुरू हुआ और देखते ही देखते पूनम बुआ से मेरी निजी बातें भी होने लगीं.

सेक्स में मैं काफी अच्छा हूँ और आज तक सभी भाभियों और लड़कियों को संतुष्ट करके ही माना हूँ. थोड़ी देर बाद हरीश ने सुम्मी के दोनों हाथ पकड़कर उससे प्यार का इजहार किया. मैंने सिगरेट निकाल कर सुलगाई और हुर्रेम के दूध दबा कर उससे लंड चुसाई शुरू करने का इशारा कर दिया.

इतना बोल कर उसने एक गोली ममता को दी और कहा- डोंट वरी कुछ नहीं होगा डर मत.

[emailprotected]माँ बेटे का सेक्स कहानी का अगला भाग:विधवा देहाती मां की चूत चुदाई- 2. अभय ने ममता को नंगी ही अपनी गोद में उठाया और सीधा बाथरूम में ले जाकर उसे कमोड पर बैठा दिया.

सेक्स मसाज बीएफ उसके उठते ही दूसरे ने मेरे चुत में अपना लंड घुसा दिया और धक्के लगाने लगा. वो मस्ती से बड़बड़ाने लगी- ओ ऊपरवाले … क्या लौड़ा दिलाया है तूने … आह मेरे खुदा अपना करम यूं ही बनाए रखना … मेरे सरताज के लंड पर अपनी मेहर अता फरमा.

सेक्स मसाज बीएफ मामी जी ने जब मुझे अपने चूचियों को घूरते हुए देखा तो मुस्कराते हुए मेरे सर पर हाथ ले जाकर मेरे बालों को सहलाते हुए मेरे चेहरे को अपनी बड़ी बड़ी चूचियों से सटा लिया. मेरी बच्चेदानी में मुँह पर जेठ जी के लंड ने करीब 9-10 बार रह रह कर धार मारीं और वो मेरी छाती के ऊपर पसरते चले गए.

थोड़ी देर बाद मैंने शन्नो को लंड पर बैठा दिया और लंड सट्ट से चूत में चला गया.

बीएफ फिल्म दिखाओ बीएफ फिल्म

मैं- बस हो गया प्रभा … माफ करना यार … मेरी वजह से तुमको इतना दर्द सहना पड़ रहा है. भडुओ मादरचोदो … पुलिस को रंडी बनाकर चोद रहा है … देखो आओ!अब मैं भी जोश में था कि मालती को मेरे लौड़े से ही मजा मिलता है।मैंने उसकी कमर पकड़कर उसकी गान्ड को चोदना तेज़ कर दिया और सटासट सटासट लंड अंदर तक पेलने लगा।अब मैंने मालती को सोफे में नीचे गर्दन करके जमीन में झुका दिया और उसकी गान्ड को चोदने लगा. इतना बोल कर ममता ने अपनी मां का हाथ पकड़ कर घुमा कर पीछे से बांहों में भर लिया और उनके गाल पर एक पप्पी दे दी- भैया इज द बेस्ट.

फिर एक बार बिजनेस के किसी काम से सुम्मी के पति को दो दिन के लिए मुम्बई जाना पड़ा. अपने विचार मुझे[emailprotected]पर भेजे।अब आप सभी मुझसे अपने विचार फेसबुक पर भी साँझा कर सकते हैं।मोसी की चुदाई कहानी जारी रहेगी. मैंने उससे उसकी चुत की मांग की, लेकिन उसने ये कह कर मना कर दिया कि मुझे डर लगता है.

मैं ऊपर से नीचे पूरा मुंह चला रहा था और अंकल की सिसकारियां तेज होने लगी थीं.

कुछ देर बाद शहज़ाद ने रुबिका को मेरे सामने ही नंगी कर दिया और उसे चोदना शुरू कर दिया. मैंने अपने हाथों से उसका मुँह अपनी तरफ घुमाया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैंने बहूरानी के दोनों मम्मे कस के दबोच रखे थे और पागलों की तरह उन्हें चूमे जा रहा था.

मेरी शर्तों में ये भी शामिल था कि बड़ी राजकुमारी के बड़े बेटे को राज्य का उत्तराधिकारी बनाया जाएगा. अब मेरी सिसकारी निकलने लगी- आह … ससस्स … म्म्म्म मम … आआस्शह … चूस रंडी चूस मेरा लंड!वो भी मस्ती से लौड़ा चूसने में लगी रही. मैं बेड से उतर कर एक साइड हो गया।नीतू ने अपने पैर बेड से लटकाए और जैसे ही खड़ी होने को हुई तो वो लड़खड़ाने लगी.

मेरी वासना की कहानी मेरी चाची के साथ दोस्ती और फिर उनके जिस्म के प्रति आकर्षण की. वो एक बार के लिए मेरी तरफ मुड़ी और देखकर स्माइल करने लगी मगर फिर से मूवी देखने लगी.

ये पोज़िशन ऐसी थी कि दोनों के बदन के बीच में मामी जी के बड़े बड़े गोल गोल आकार के बूब्स मेरे सीने से चिपक गए थे. मॉम ने नखरे से कहा- सुनो जी, मंगलसूत्र क्यों निकाल रहे हो?रोहन अंकल- अब से मैं तुझको अपना मंगलसूत्र पहनाऊंगा, समझी … और आज से तू मेरी रंडी है, तू वही पहनेगी जो मैं तुझे दूँगा. डर्टी भाभी- नहीं आरुष, अगर मुझे नार्मल सेक्स करना होता … तो मैं किसी से भी कर लेती.

उनकी बात सुनकर मैं शर्माने लगी तो वो कहने लगे- खुलकर बोलो … मैं बिल्कुल भी गुस्सा नहीं करूंगा.

हम दोनों टेम्पो के बीच वाले सीट पर बैठे थे क्योंकि उस टेम्पो मैं भीड़ कुछ ज्यादा थी. उसकी हरकतों से मैं भी जाग गया और जैसे ही लंड खड़ा हुआ, मैंने लंड को उसकी चुत में पेल दिया. हमने कई बार एक दूसरे की प्यास बुझाई।ये थी मेरी गांड चुदाई की कहानी.

अब मैं मामी जी के पैरों के पास आ गया और उनकी साड़ी और पेटीकोट को कमर तक उठा दिया. तभी मैंने उसकी पैन्टी नीचे खिसका कर अपनी तर्जनी उसकी बुर में डाल दी.

मेरे लंड का सुपारा काफ़ी मोटा है, पर मामी जैसी चुदक्कड़ को थोड़ी सी भी परेशानी नहीं हुई. थोड़ी देर बाद उस लड़के ने अपना हाथ उस लड़की की कमर पर डाला और जोर से अपनी ओर खींच लिया. भोसड़ी के … बिल्कुल चूतिया समझा है!मैं- एक काम करो अभी तुम हमारा लंड चूसो, चुदाई हम बाद में करेंगे.

पाकिस्तानी पॉर्न मूवी

मेरा मुंबई में एक एग्जाम था तो मेरा ख्याल था कि मैं अपने भाई के पास रहूँ.

वह मेरे लंड को पूरा ऊपर से नीचे तक चूस रही थी और मेरे गोटों को अपने जीभ से चाट रही थी. हम दोनों भाई बहन इस वक्त सेक्स की मस्ती में एक दूसरे को गर्म कर रहे थे. ये कह कर मम्मी मेरी तरफ़ अपनी गोरी पीठ करके खड़ी हो गईं और मैंने ब्रा हाथ में ले ली.

मेरे द्वारा चुत को ताबड़तोड़ चूमने से मम्मी मस्त हो गईं और थोड़ी देर पहले तक जो उन्हें मेरे सामने नंगी होने में शर्म आ रही थीं, वह अब एकदम से खुल गई थीं. मैं जानबूझ कर सोने का नाटक करने लगी क्योंकि मैंने शहज़ाद का मूड तो बना दिया था लेकिन आज उसे मुझे नहीं चुदना था, आज तो रुबिका की सील टूटनी थी. देशी सैक्सी विडीयोफिर बहू ने अपना बैग खोल कर कपड़े निकाले और गांड मटकाती हुई नंगी ही वाशरूम में नहाने चली गयी.

कहानी पर अपनी राय देने के लिए आप मुझे नीचे दी गयी ईमेल पर मैसेज करें. मैंने सोचा कि गीत को शायद कोई बात कहना है और वो कई दिनों से कहना चाहती है, पर कह नहीं पा रही है.

मॉम ने फोन पर हाथ रखते हुए रोहन अंकल से कहा- नहीं प्लीज़ ऐसा मत कहो. मैंने उससे कहा- क्या मुझे अपनी जवानी से खेलने दोगी?वो बोली- खेल तो रहे हो. हमारी ज्यादा ख़ुशी की एक वजह यह भी थी कि हमें पहली बार एसी बस में बैठना मिला था.

नहीं … आह्ह।तो समीर ने मेरी गांड पर थप्पड़ मारा और शम्भू के लंड पर कूदने को कहा।अब मैं अपनी गांड को अपने पति के लंड पर उछाल रही थी।जबकि उसका दोस्त मेरे मुंह को बुरी तरह से चोद रहा था।मुझे अब एक असीम आनंद की अनुभूति हुई जब समीर ने मेरी गांड में उंगली करना शुरू किया।वो पीछे की ओर झुक गया था और उसका लंड मेरे मुंह में फंसा हुआ था. अब वो मेरे ऊपर चढ़ गए थे और मैं उनके नीचे पिसने को मानो रेडी हो गई थी. गोविन्द ने बिंदु के बूब्स ओर जांघों पर गले पर शरीर पर जगह जगह काट कर निशान कर रखे थे.

करीब 1 बजे मेरी आंख खुली और मैं मां के मम्मों से खेलने लगा जिससे मां की नींद भी खुल गयी.

जसविंदर की चूचियां अपनी मुठ्ठी में दबोचकर मैंने चुदाई शुरू की तो पंजाबी शेरनी भी पूरे जोश में आ गई, जबरदस्त जवाबी धक्कामुक्की से मेरे लण्ड ने पानी छोड़ दिया और जसविंदर कौर की चुदाई का पहला दौर समाप्त हुआ. हम चुदाई के समय कहानी में लिखे डायलॉग बोलकर एक दूसरे का जोश बढ़ाते थे.

फिर नीचे ले जाते हुए उन्होंने अपने हाथ को मेरी पैंट में घुसेड़ा और कच्छे के अन्दर डाल दिया. अरे नहीं तो ऐसा कुछ नहीं है बेटा, चल अब चलें!” मैंने अपने मनोभावों को भरसक छिपाते हुए कहा. तभी ममता अपनी एक उंगली नेहा की चूत पर घुमाने लगी, जिससे नेहा सिहर उठी.

किस करते करते मेरे हाथ उसकी टी-शर्ट के ऊपर से ही उसके मुलायम मम्मों पर चले गए. बस हो गया मेरी जान … कुंवारी चूत में पहली दफा लंड जाने पर दर्द सहना ही पड़ता है. हमारी जिंदगी में हमारा सेक्स और हमारा प्यार ऐसे ही चलता रहा और लगभग हमारी शादी को छह-सात महीने बीत गए.

सेक्स मसाज बीएफ अब वो मेरे लंड को ऐसे ही अपने पूरे मुँह में अन्दर तक लेती और बाहर निकालती. अगले दिन मैं फिर से दीदी के कमरे में गया तो देखा कि दीदी ने आज ब्रा नहीं पहनी थी और उनका ब्लाउज पूरा खुला हुआ था.

रानी मुखर्जी का सेक्सी बीएफ

फिर रमेश ने बड़ी स्टाइल से दीदी की नंगी चुत की एक दो फोटो ले लिए कुछ पोज उसने दीदी से खुद की चुत में उंगली करवाते हुए और दूध मसलवाते हुए ले लिए उसने मेरी दीदी की रंडी की तरह फोटो ले ली थीं. दीदी अपनी गांड में उंगलियों का मजा लेने लगीं, मैं समझ गया कि दीदी के दोनों छेद चालू हैं. इसलिए मैं रीमा को बोल देता हूँ कि आज की रात वो तुम्हारे घर पर रुक जाए.

उसने आगे कहा- क्या सोच रही हैं आप? यही कि आपके स्तनों का दूध प्रसाद में प्रयोग हो सकता है या नहीं. उसके बदन से परफ्यूम की बहुत अच्छी महक आ रही थी, जिससे मेरी मादकता और बढ़ गई. हिंदी में ब्लू हिंदी मेंवो मेरी पैंटी की इलास्टिक में उंगली फंसा कर उसे नीचे करने लगे तो मैंने अपनी गांड उठा कर अपनी पैंट और पैंटी को नीचे खिसक जाने दिया.

उसके बाद दोनों शहर आ पहुंचे, जहां अभय को फसलों के लिए कुछ कीटनाशक दवाइयां लेनी थीं, उसने वो लीं.

चूंकि उनका बच्चा अब उनका दूध कम पीता था, इसलिए भाभी को अपनी चूचियों में दूध भरे रहने के कारण काफी दर्द होने लगा था. कुछ देर बाद चित्रा ने खुद ही अपना ब्लाउज व ब्रा खोलकर अपनी चूचियां मेरे सामने कर दीं.

इसके साथ ही न जाने कब हमारे फ़ोन की बातें फ़ोन सेक्स में बदल गईं, कुछ होश ही नहीं रहा. हैलो फ्रेंड्स, मैं आर्यन एक बार फिर से आपके सामने एक मस्त कॉलेज सेक्स स्टोरी लेकर हाजिर हूँ. बारहवीं के इम्तिहान सर पर थे और मैं पढ़ाई के लिए गांव से शहर जाता था.

उस रात मैंने भाई के साथ डिनर किया, इसके बाद कुछ देर टीवी देखा, फिर हम दोनों अपने-अपने कमरे में सोने के लिए चले गए.

और थोड़ी बर्फ डालने के बाद गिलास को भाभी ने दोनों जांघों के बीच लेकर चुतामृत से गिलास को भर दिया. बाहर डर भी लगता है और वैसे भी कोई मेरी चुदाई तो दूर की बात, आंख उठा कर देखने की भी हिम्मत नहीं कर सकता था. मैंने उठकर साफ सफाई की। शीशे में देखा तो देसी गांड और चूत दोनों लाल हुई पड़ी थी।उसके बाद मैं कपड़े पहनकर तैयार हुई।सुरजन बोला- भाभी बहुत मजा दिया.

नंगी फिल्म दिखाएं ब्लूकुछ देर बाद फिर से चुदाई शुरू हो गई और सारी रात फार्म हाउस में सुम्मी ने हरीश के लौड़े से अपनी चुत की आग बुझवाई. डॉक्टर ने हम दोनों को केबिन में बुलाया और रिपोर्ट हाथ में लेते हुए बोला- सब कुछ ठीक है.

होम मेड जॉब

सेक्सी दीदी नंगी कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरा दोस्त मेरी दीदी का फोटो शूट करने के बहाने मेरे घर आया. मेरा दोस्त अपने गांव गया था और वो एक दूसरे दोस्त को चाभी दे गया था. फिर मैंने उनको उठाया और अपने लंड के सहारे हवा में लटका कर चोदने लगा.

मां मेरे पास आईं और मस्ती भरी आवाज में बोलीं- चल बेटा अपने कपड़े उतार दे … मैं तेल से मालिश कर देती हूँ. लम्बे अरसे के बाद मौक़ा मिलने वाला था पर …बहू सेक्स कहानी के पहले भागपुत्रवधू से मिलन की तलबमें अपने पढ़ा कि मैं बहू के मायके की शादी में शामिल होने गया. न्यूड इंडियन आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी जवान मौसी ने मुझे अपने घर बुलाया.

अरे अदिति बेटा, मेरे ऊपर से अपने पांव तो हटा तभी तो मैं तुझे चोद पाऊंगा न!” मैंने कहा. उसके 32 साइज के तने हुए चुचे मुझे ब्रा के ऊपर से ही बहुत अच्छे लग रहे थे. नेहा- यार ममता, एक बात तो बता कि अभय भैया ने जो ग्रुप चुदाई का बताया था … वो क्या था.

चुत पर लंड सैट करके मेरा गला पकड़ लिया और जोर का धक्का देकर चुत में लंड घुसा दिया. अब आगे फ्री मॉम सेक्स कहानी:मैंने अपनी गर्म हो चुकी मां का हाथ अपने लंड पर रख दिया.

मैं कृति की इन बातों से अतिउन्मादित हो गया और ज्यादा ज़ोर से धक्के देने लगा.

तो या तो मैं अपने बॉयफ्रेंड को घर पर बुला लेती हूँ या हम कहीं होटल में चले जाते हैं. सेक्स बीएफ मूवीउसने आगे बहुत ही भद्दे अंदाज में कहा- आपका तो एक बच्चा है न … तो आपके स्तनों में तो दूध भरा होगा. बीएफ वीडियो बिहारी सेक्सीबुर के लबों को फैलाकर मैंने लण्ड का सुपारा रखा और अन्दर ठोंका लेकिन उसकी बुर इतनी टाइट थी कि अन्दर गया नहीं. जब मुझे लगा कि भाभी जी को नींद लग गयी है तो मैंने भी नींद का बहाना करते हुए उनकी चुत से अपने लंड को सटा दिया और आगे पीछे होकर धीरे धीरे अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.

कुछ देर तक जब बिजली नहीं आई तो रमेश ने कहा- बिजली को मारो गोली … मैं कैमरे को नाईट मोड में करके फोटो निकालना शुरू करता हूँ.

मैंने पीछे से जाकर मां को पकड़ लिया और उनके कंधों पर चुम्मा देने लगा. इसी कारण से मैं तुमको अपना पति समझ कर तुमसे चुदने के लिए तैयार हुई हूं. वहां मैरिज गार्डन के सामने से हमने एक ऑटो रिक्शा लिया और स्टेशन जा पहुंचे.

उसने मेरी चूची छोड़कर मेरे होंठों को अपने मुँह में ले लिया जो कि मुझे चुदाई के समय हमेशा अच्छा लगता था. इस बार मेरा आधे से ज्यादा लंड चुत के अन्दर पेवस्त हो गया था और उसकी सील फट गई थी, जिससे खून की गर्म धार मुझे मेरे लंड पर महसूस होने लगी. करीब 5 मिनट जब उसका दर्द कुछ कम हुआ तो उसने अपनी गांड उठाकर मुझे इशारा किया.

एक्स एक्स एक्स ब्लू बीएफ

करीब पंद्रह मिनट बाद चाची बोलीं- आहह बस बस आह मैं झड़ गई हूँ … प्लीज छोड़ दो ना!सर बोले- स्साली मादरचोद … थोड़ी देर रुक जा कुतिया. पहले मैंने मीना की चुत से टपकते हुए योनिरस से अपने लंड को फिर से गीला किया. पन्द्रह मिनट की गांड चुदाई के बाद मैंने आंटी की गांड में ही अपना बीज छोड़ दिया.

थोड़ी देर में मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया कुछ रह गया था तो बाहर लटकते दो आंड!जब मेरा लंड उसकी चूत में पूरा चला गया तो मैंने उसकी दोनों टांगें हवा में उठा ली और उसे जोर से चोदने लगा।उसके हाथों में पड़ी चूड़ियां खन खन और उसके पैरों में पड़ी पायल छम छम कर रही।चुदाई का ऐसा मधुर संगीत चल रहा था जैसे किसी बहुत बड़े संगीतकार ने चुदाई राग छेड़ दिया हो।कुछ देर में नीतू को भी मजा आने लगा था.

मैंने दरवाज़ा बंद किया और गुलाब भी ऊपर जाने लगा।उसने मुझे देखा तो मैं मुस्करा दी.

ये देख मैंने कहा- अब तेरे रोने के दिन गए मां, अब तो तेरे जिंदगी जीने के दिन है. कितनी बार फिर फिर से चुदाई हुई कुछ स्मरण नहीं, बहूरानी बारम्बार झड़ती रही और मेरी लुंगी से अपनी बहती चूत बार बार पौंछती रही. देसी ब्लू पिक्चर्सकुछ ही पलों में मेरा भी बदन अकड़ गया और मेरे लंड ने मामी जी की चूत में अपने गाढ़े पानी की बौछार कर दी.

भाभी मुस्कुराकर बोलीं- अच्छा … मेरी चुत चाट रहे थे और मुझे अहसास भी नहीं हुआ. अब लंड आराम से जाने लगा।मालती की गांड टाइट थी, उसने गांड को ढीला छोड़ दिया और तेज़ तेज़ लंड अंदर बाहर करने लगा।अब मैंने लंड निकाल लिया और बिस्तर पर लेट गया. मेरे भाई ने बहन को चोदा … आपको कैसा लगा?प्लीज़ मेल और कमेंट्स जरूर कीजिएगा कि यह Hindi Sexy Audio Story सुनकर कैसी लगी?आपकी चुदक्कड़ बहन आशना.

चूंकि मैं एक शादीशुदा मर्द हूँ और किसी दूसरे की वाइफ या लड़की में मेरा कोई इंटरेस्ट नहीं था. अब ममता ने एक ट्रांसपेरेंट नाईटी पहन ली, जो उसके घुटनों तक ही आ रही थी, वो भी बिना ब्रा पैंटी के.

उसी समय उसके मुँह से ‘आ … आ … एम्म … एमेम … इसस्स …’ की सिसकारी निकलने लगी.

उसने अपनी धुन में आगे कहा- तो भाभी, चलिए हमें अपना दूध निकाल कर दे दीजिए. मां बोली- तेरे पिताजी तो बस आकर मेरे अन्दर अपना हथियार डालते थे और पानी छोड़ कर सो जाते थे. नहीं तो सारी रात ऐसे ही तरसते तड़पते गुजर जायेगी; फिर कल सुबह विदाई के बाद हमें निकलना होगा, शाम को दिल्ली से तेरी फ्लाइट जो है.

हिंदी इंग्लिश बीएफ नमस्कार दोस्तो, हिन्दी सेक्स कहानी के इस वैश्विक पटल पर आपका स्वागत है. अब आगे बहू सेक्स की कहानी:आधे से ज्यादा मेहमान तो वरमाला होते रात में ही निकल लिए थे; बस वर वव्हू पक्ष के कुछ नजदीकी खास रिश्तेदार ही विदाई होने की प्रतीक्षा में रुके हुए थे.

ममता ने अपनी एक उंगली नेहा की टाईट गांड में झटके से पेल दी और आगे पीछे करने लगी. मैंने उन्हें किस किया और उनकी चुत का थोड़ा सा रस, उनके मुँह में दे दिया. लेकिन उसकी चूत से अभी भी रस आ रहा था तो मैंने जल्दी से रस को हलक से नीचे गटक लिया।नीतू अभी भी झड़ रही थी इसलिये मैं फिर से उसकी चूत से मुंह सटा कर अमृत पीने लगा। नीतू बहुत देर तक झड़ती रही और मैं उसी तरह उसका रस कई घूंट गटकता गया।थोड़ी देर बाद नीतू पूरी तरह झड़ कर बेसुध हो गई।मैंने भी उसकी जांघों के बीच से अपना सर निकाला और उसकी चूत के पास सर रख कर लेट गया।मेरी कहानी में आपको जरूर मजा आ रहा होगा.

हिंदी पिक्चर वीडियो नंगी

उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और अपना गाउन उतारकर मेरे ऊपर चढ़ गए. जसविंदर की चूचियां अपनी मुठ्ठी में दबोचकर मैंने चुदाई शुरू की तो पंजाबी शेरनी भी पूरे जोश में आ गई, जबरदस्त जवाबी धक्कामुक्की से मेरे लण्ड ने पानी छोड़ दिया और जसविंदर कौर की चुदाई का पहला दौर समाप्त हुआ. ये मेरी पहली सेक्स कहानी है तो कोई गलती हो सकती है … प्लीज़ गलती के लिए मुझे माफ़ कर दीजिएगा.

जब हम दोनों की सांसें थमी, तो मुझे होश आया कि दारू के नशे में अमित ने बिना कंडोम लगाए ही मुझे चोद दिया था. मैंने भी अन्दर आते ही जल्दी से दरवाजा अन्दर से लॉक कर दिया और ममता को बांहों में भर कर उसके होंठ चूसने लगी.

वह मेरी चूचियों को पकड़कर मेरे ऊपर झुक गया और अपने होंठ मेरे होंठ पर रख दिए.

कुच्ची- तो मैं तो तुझे रात भर चोद नहीं पाऊंगा, गुड्डू को भी बुला लेता हूं … फिर हम दोनों तुझे रात भर चोदेंगे. जब कोई लड़की, भाभी या औरत मेरा लंड चूसती है … तो मैं एकदम से मदहोश हो जाता हूँ, आसमान में उड़ने लगता हूँ, मेरा लंड फूल कर और मोटा हो जाता है. मगन का नंबर भी नहीं था क्योंकि फोन मुझे इन्होंने लेकर दिया था।टाइमपास के लिए टीवी देख लेती।सासू मां को इल्म था कि उनका बेटा शराबी है और बहू बेहद जवान है। इसलिए वो मुझे दायरे में रखती थी।शादी के बाद एक रात ऐसी नहीं थी जब इनके लंड से मैं झड़ी होऊं।4-5 महीनों बाद सासूजी बोलने लगीं- बहू … पोते का मुंह दिखा दे।तब तक मैं भी सलीके से रहने लगी थी.

नेहा ने इतना बोल कर तिरछी नजर से अभय की तरफ देखा, जो अपना लंड पैंट एडजस्ट करते हुए दिखा. कुछ ही पलों में दीदी की चुत ढीली हो गई और लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा, अब मेरी बड़ी दीदी भी लंड से चुदने के मजा लेने लगी थीं. फ़ातिमा- तुमने तो मेरी जान ही निकल दी … ऐसे भी कोई पेलता है क्या? थोड़ी देर ऐसे ही मेरे ऊपर सोये रहो.

फिर अचानक से मेरे ऑफिस का एक कर्मचारी कुछ काम से अपने गांव चला गया तो ऑफिस के अधिकारी ने मेरी ड्यूटी का समय बदल दिया.

सेक्स मसाज बीएफ: अरे नहीं तो ऐसा कुछ नहीं है बेटा, चल अब चलें!” मैंने अपने मनोभावों को भरसक छिपाते हुए कहा. उसने मुझसे कहा कि तुमको जब भी पैसों की जरूरत हो, मुझसे मांग लिया करो … मैं दे दूंगी.

पन्द्रह मिनट की गांड चुदाई के बाद मैंने आंटी की गांड में ही अपना बीज छोड़ दिया. मेरी भाभी की बात सुनकर बंगालन भाभी बड़ी खुश हुई और मेरे लंड को लहराते हुए देख कर बंगालिन भाभी बुदबुदाती हुई बोलीं- अरे मेरे देवर राजा … काश में तेरी सगी भाभी होती. वो बोली- हां तो आप वो हॉट वाली क्या बात कह रहे थे?इतना कह कर वो अपनी आंखें नचाती हुई अपनी टी-शर्ट ठीक करने के बहाने से अपने मम्मे उठाती हुई मुझे रिझाने लगी.

अब मेरी विशाल चूचियां भाई के सामने थीं।वो बोला- दीदी आपके ये दोनों (चूचे) तो बहुत बड़े हैं.

उनकी वासना से भरी आंखों को देख कर मुझे उनका रूप बदला हुआ सा दिखाई देने लगा था. हां जब चुदाई का मौका कभी मिलता है तो चुदाई के मामले में अदिति से बड़ी खिलाड़ी शायद ही कोई स्त्री हो. इस साल हम दोनों एक दूसरे के हो जाते … लेकिन लॉकडाउन ने सब मटियामेट कर दिया था.