लड़कियों की बीएफ दिखाइए

छवि स्रोत,न्यू ट्रिपल एक्स व्हिडीओ

तस्वीर का शीर्षक ,

बाल काले करने का तेल: लड़कियों की बीएफ दिखाइए, उस समय बुआ ने फिर से मुझसे अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा … और इस बार थोड़ा जोर देकर पूछा.

बीपी सेक्सी पिक्चर

मैं: क्या बात है? आज तो बहुत सेक्सी लग रही हो!नताशा: सच में?पीछे से मैंने नताशा को बांहों में जकड़ लिया और उसकी गर्दन को चूमते हुए कहा- आज तो खाने से बहुत ही मस्त खुशबू आ रही है. नोट वाला सेक्समैंने तो सोचा कि भाभी को गले से लगा लूं, पर मैं वैसा नहीं कर सकता था.

हॉट रोमांस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि लॉकडाउन में एक लड़की मेरे कमरे पर रुकी थी. ब्लू पिक्चर बढ़िया सीलगता है तुम्हें नंगी देख कर कोई भूत आ गया होगा और उसी ने तुम्हें चोदा होगा हा हा हा हा … तुम भी अजीब हो हा हा हा.

वो आइसक्रीम की तरह मेरे लंड को चूसने में लगी हुई थी और मैं जन्नत की सैर कर रहा था.लड़कियों की बीएफ दिखाइए: उसके पिता को दिल की बिमारी थी और मैं नहीं चाहता था कि उसके पिता को मेरी वजह से कोई परेशानी हो.

मैं समझ गया था कि अब्बू अब अम्मी का ब्लाउज़ उतार कर उन्हें पूरी नंगी कर देंगे.चचा का लंड फुफकार रहा था और वो किसी भी हालत में मानने के मूड में नहीं लग रहा था.

देसी रंडियों की चुदाई - लड़कियों की बीएफ दिखाइए

अब मैं फिर से मौसी के ऊपर लेट गया और कुत्ते की तरह तेज तेज लंड को चूत में पेलने लगा.मैं अपने साथ काम करने वाले अफसर की बीवियों को चोदने का काम भी करता हूँ.

भाभी फिर से फाइल चैक करने लगी थीं और मैंने टीवी देखते हुए अपना एक हाथ भाभी के कंधे पर रख दिया. लड़कियों की बीएफ दिखाइए आज भाभी की चूत के बारे में सोचकर मेरे लंड में अलग ही तनाव बना हुआ था.

मेरा लन्ड मेरी पैंट से बाहर निकलने के लिए बेकाबू हो रहा था।धूप बहुत तेज थी और मैं तो पसीने से तर हो रहा था.

लड़कियों की बीएफ दिखाइए?

मैंने कहा- पोर्न देख कर और क्या क्या सीखा है जान?वो हंस दी और मेरे गालों को फिर से चूमने लगी- मुझे तुम बहुत अच्छे लगते हो. वो भी मेरी निक्कर की ओर मेरे लंड को उछलते हुए देखकर मुस्करा रही थी. क्योंकि मुझे पता था कि उसने मुझे चादर उढ़ाया था और टीवी भी उसी ने ऑफ किया था.

अबकी बार मैंने भी शर्म लिहाज की मां चोदते हुए राहुल को बालों से पकड़ा और अपनी चूत पर उसका मुँह दबाने लगी. मुखिया- जैसी तुम्हारी मर्ज़ी मगर एक बात बताऊं, उससे तुम्हें चुदवाने में बहुत मज़ा आएगा … क्योंकि वो इतना बड़ा चोदू है कि तुम सोच भी नहीं सकती. मामी- तो तू कौन सा साठ साल का बुड्ढा है?मैं- तभी तो कह रहा हूं मामी.

मैंने उससे फिर पूछ ही लिया कि एक बात बताओ सिमरन, ये जो खुशबू तुम्हारे पास से आती है, इसका राज़ क्या है?वो मेरे कान के पास आई और कहा- ये खानदानी महक है. उसने मुझे देखा और हल्की सी स्माइल देकर कहने लगी- अच्छा आपको दूध पीने का मन है, रुको मैं अभी लाती हूँ. कभी कभी तो लगता है कि मैंने मेरे मां-पापा की बात ना मान कर बहुत बड़ी गलती कर दी.

अब अचानक इसको क्या हुआ भगवान जाने!सुलक्खी- ऐसे अचानक क्या हुआ उसको?सरजू- हमको क्या पता … हमारे साथ थोड़े ही था. मैंने अपनी रफ्तार और बढ़ा दी और उससे कहा- बोल साली, पानी कहां निकाल दूँ.

उसकी गोटियां मेरे चूतड़ों पर आकर टकराने लगीं और पूरा कमरा फट फट … की आवाज से भर गया.

मौसा जी के फ़ार्म हाउस पर पहुंच कर मौसा जी ने ताला खोला और हम भीतर चले गए.

करीब 10 मिनट तक लंड चूसने के बाद मैंने लंड निकाल कर उसके मम्मों के बीच में रख दिया. डॉक्टर ने कहा है कि 6 महीने तक सेक्स करने में कोई दिक्कत नहीं है लेकिन थोड़ी सावधानी से करना होगा. वो अंदर चली गई और फिर मैंने अपने लंड को टिश्यू पेपर से साफ कर लिया और बेड पर आकर लेट गया.

रूचि की विदाई के बाद दोपहर तक घर का माहौल गंभीर सा बना रहा और शादी की बातें ही चलती रहीं. मैं कभी उसे ब्लूफिल्म दिखाते हुए सेक्स वीडियो की स्टाइल में उसकी चुत में लंड दे देता. मैं इसके आगे नहीं बढ़ पा रहा था … क्योंकि मुझे अन्दर हाथ डालने की जगह नहीं मिल रही थी.

उसका पानी बह कर मेरे टट्टों पर आ गया था, लेकिन मैं अब रुकने वाला नहीं था.

सुरेश ने लंड को चुत पर सैट किया और धीरे से धक्का लगाया, तो आधा लंड चुत में घुस गया. जैसे ही उसने मुझे देखा कि वो तुरंत ही चिल्लाती हुई घबरा गई और दौड़ कर अपने रूम की ओर भागी. इतनी जोर का धक्का मार रहा था कि मैं बार बार दीवाल से टकरा जा रहा था.

काल का चक्र कुछ ऐसा चला कि मैं किसी अन्य पुरुष से जानबूझ कर अपने जिस्म में धधकती वासना की आग बुझवाने लगी; ये सब बातें मैं आगे आप सब से साझा करूंगी. कमरे पर पहुंचे तो मेरे पति कोल्ड ड्रिंक वगैरह लेने के लिए दुकान पर चले गए. लौड़े से दो-चार धक्के उनके मुँह में मारने के बाद लंड ने पिचकारी छोड़ दी.

सबने मिल कर कैसे चुदाई की होली खेली?हैलो फ्रेंड्स, मैं अंजलि फिर से आ गयी हूं अपनी सेक्सी कहानी लेकर.

उनके बाद जैसे ही मैं बिस्तर पर पहुंची, मेरे पति ने मेरी सलवार में हाथ डाल कर मेरी चूत सहलाना चालू कर दिया. कोई इंसान का काम होता, तो कुछ निशान तो मिलता, किसी एक आधे की लाश ही मिल जाती.

लड़कियों की बीएफ दिखाइए अब मैंने भी मौसी को कस कर पकड़ा और और ऊपर चढ़कर एक हाथ से लंड पकड़ कर मौसी की चूत के ऊपर सेट कर दिया. कुछ देर के बाद मेरा निकलने को हो गया तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.

लड़कियों की बीएफ दिखाइए तभी प्रिया पीछे से आयी और मेरी आंखें अपने कोमल हाथों से बंद कर दीं. उसके बाद मैंने उन्हें कैसे ट्रिक से नंगी किया, फिर उनकी चूत चुदाई की.

मैंने थोड़ी हिम्मत करके आराम आराम से उसके मम्मों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.

मेरी गर्लफ्रेंड कहां है

मुझे आपके सुझाव और प्रतिक्रियाओं का इंतजार है।अपना ईमेल आईडी मैंने नीचे दिया हुआ है।[emailprotected]. इतना तो मैं कर दूंगी।मामीजी के हां कहते ही मैंने पूजा भाभी को चोदने की खुशी में सीमा मामी की चूत में घपाघप लंड ठोक दिया।वो ज़ोर ज़ोर चिल्लाने लगी लेकिन मैंने उनकी एक नहीं सुनी और उनकी चूत का भोसड़ा बना दिया।मामी की चुदाई अच्छी तरह से करने के बाद हम दोनों वापस घर आ गये. इतने में ही कामुक होकर ससुर ने अपने खड़े लंड को पकड़ लिया और मुठ मारते हुए आह … आह … करने लगे.

वेलडन!” मौसा जी बोले और मेरे गाल काटते हुए मुझे बेरहमी से चोदने लगे. मैं आपको दिल भरकर रंग लगाना चाहता हूं और तब तक आपने अपनी आँखें बंद ही रखनी हैं. मैंने अपनी जीभ से उसकी देसी चुत के दाने पर गोल गोल घुमाना शुरू किया.

सच्ची तुझे भी एक बार चूस कर देखना चाहिए, लंड चूसने में बहुत मज़ा आता है.

मैंने तुरन्त अपनी जीन्स उतारी और उसको भी जीन्स उतारने को कहा।उसने फटाक से जीन्स उतार दी जैसे मेरे कहने का ही इंतजार कर रही थी. ये अप्रैल की बात थी। एक बार मेरे कहने पर सोनू ने फोन कॉन्फ्रेंस पर नीरज से मेरी बात भी कराई. मैंने कहा- तुम्म!?उसने शर्माते हुए कहा- जीजू मैं आपकी साली हूँ … तो इतना हक तो है मेरा!मैंने भी गांड उठाते हुए कहा- हां पूरा हक है यार … मुझे तो कोई दिक्कत नहीं है.

मैं कभी उसे ब्लूफिल्म दिखाते हुए सेक्स वीडियो की स्टाइल में उसकी चुत में लंड दे देता. मगर अगला पल बहुत ही रोमांचक था, जिसका मुझे अहसास ही नहीं था कि इतनी जल्दी ये सब भी हो सकता है. यह सुनकर मैं बहुत खुश हुआ और उसकी टांगों को अलग करके उसके बीच आ गया.

जैसे ही मेरी जीभ उसकी योनि के अंदर तक जाती वो और जोर से चूसने लगती. शैलू- ओह कहां … मैडम जी, क्या आप इस हवेली की तरफ इशारा क्यों कर रही हो?सुमन- हां कल से मैं यहां रहने आ गई हूँ ना … मुखिया जी ने रहने को दी है.

भाभी का पेट बाहर ज्यादा निकल आया था इसलिए उनके साथ में अब कुछ नहीं हो पाता था. सुरेश- कहां खो गई, कुछ तो बोलो!सुमन- फिर भी ये नाइटी बहुत सेक्सी है. अब गीता, मुखिया का लंड चूस पाएगी या कुछ और हो जाएगा, इस सबको जानने के लिए आपको अगले भाग का इन्तजार करना पड़ेगा.

मेरा पूरा का पूरा लन्ड उनकी चूत की दीवारों को खोलता हुआ उनकी चूत की गहराई में उतर गया.

वो दोनों बारी बारी से मेरा सर दबा कर पूरा का पूरा लंड मुँह में डालने लगे. अब आगे घर में चोदा चुदाई कहानी:लगभग एक घंटे बाद बुआ की वो तीनों सहेलियां घर आ गईं. ऐसे ही जब मेरी उंगली उसकी चूत के पास जाती तब भी वो आहें भरते हुए अपनी चूत को सिकोड़ लेती थी।मुझे ये सब करते हुए उसके पति भी देख रहे थे, जो कि हमारे साथ उसी कमरे में थे।फिर मैंने रीमा मैडम को पलटने को बोला.

मैंने दोनों के लण्ड पकडे़ और ऊपर नीचे करने लगी।आदिल और विक्रम ने एक एक चूचा मुंह में ले लिया और उनको चूसने लगे। आदिल ने तभी मेरे चूचे पर काट लिया।मैंने चीख कर कहा- साले, क्या कर रहा है?वो बोला- कुतिया, तूने ही कहा था खाने के लिए. मगर मेरे बिना कुछ कहे ही शबाना ने लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

कुछ देर बाद वो दोनों उठ गए और बाथरूम में जाकर दोनों ने एक दूसरे को साफ किया. उसके नर्म नर्म रसीले होंठ चूसते हुए मजा आने लगा और मैं करीब 15 मिनट तक उसके होंठ चूसने का ही मजा लेता रहा. फिर सिमरन ने अपने पापा को बताया कि फैमिली बहुत अच्छी है, आप मेरी चिंता न करें … और हां पापा आप लोग संभल कर जाईएगा क्योंकि आज कर्फ्यू है और यही सब न्यूज़ में दिखा रहे हैं कि कोरोना बीमारी की वजह से 3 दिन तक सब बन्द है.

सेक्सी गाने वाली

लेकिन मुझे क्या पता था कि मुझे यहां मेरे जीवन की सबसे प्यारी सी लड़की की चूत मिलने वाली थी.

मैं जिन्दगी में पहली बार किसी जवान लड़की की चूचियों की इस तरह से अपनी आंखों के सामने नंगी देख रहा था. मैंने एक बार फिर से नताशा को बेड पर पटका और जोर से उसके गुलाबी होंठों को चूसने लगा. जल्दीबाजी में पति ने ध्यान ही नहीं दिया कि मैं समधी जी की शर्ट पहनी हूँ.

सुमन- मेरे राजा आज तुमने गोली लेकर बहुत मस्त चुदाई की है, इसी लिए अब लंड को चूस कर और ऐसी आवाजें निकाल रही हूँ ताकि आपको जल्दी से जोश आ जाए और ये लंड फिर खड़ा हो जाए. कहकर मैंने आंटी के हाथ से कपड़े गिरा दिये और उनको दीवार के सहारे लगाकर उनके हाथों को ऊपर अपने हाथों से दबा लिया और उसकी गर्दन पर चूमने लगा. ब्लू पिक्चर व्हिडिओपीठ से होते हुए आगे पेट पर लाते हुए उसके हाथ आखिर रूचि के मम्मों पर जाकर रुक गए.

फिर उसने मेरी गांड को कैसे रगड़ा?दोस्तो, मैं प्रेम शर्मा अपनी गांड चुदाई की कहानी के पहले भागगांड मरवाने का नशा- 1में मैं घर में बोर हो रहा था और मेरा मन लंड लेने के लिए कर रहा था. थोड़ी ही देर में सात-आठ पिचकारियां मेरे लंड से निकलीं, जो सीधे उनके गले के अन्दर चली गईं.

मेरी सास ने कहा- ज्यादा बकरचोदी मत कर भसोड़ी के, पहले मुझे संतुष्ट कर मादरचोद … मैं भी बहुत बड़ी खिलाड़ी हूँ. एक दिन फ्री क्लास में हम दोनों अकेले बैठे थे, तो उसने नीचे बैठ कर मेरा हाथ पकड़ा और मुझे फिर से प्रपोज़ किया. फिर उस देसी गर्ल ने मेरा हाथ पकड़ा और अपनी चूची पर रखवा दिया और कहा- अब बताओ.

मगर मैं देख रहा था कि मेरी अम्मी को धीरज के 6 इंच के लंड से कोई असर ही नहीं हो रहा था. अब बोल क्या कहता है!हरी- लेकिन मुखिया से क्या कहेगा?कालू- उसकी चिंता तू मत कर, बस जैसा मैं कहूं, तू वैसा करना. उसने वो गलती भी बताई कि किस तरह से उसका रिजर्वेशन दूसरे डिब्बे में हो गया था और बाकी का परिवार दूसरे डिब्बे में था.

मुझे तो सिर्फ उसके रसीले फूले होंठ ही दिख रहे थे।वह आगे बोली- अपनी पैंट-शर्ट को खोल लीजिए.

मेरा लन्ड उनकी मखमली चूत में घुसने के लिए दबाव बना रहा था। अब मैं थोड़ा नीचे सरका और उनके गोरे-गोरे गले पर किस करने लगा। मुझे गले में किस करने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। वो बस विरोध जताने के लिए चेहरे को इधर उधर कर रही थी।अब मैंने उनकी साड़ी का पल्लू ब्लाउज के ऊपर से हटा दिया। उनके बड़े बड़े पपीते जैसे स्तन मेरे सामने थे और मैं उन पर टूट पड़ा. मुझे लगा कि मैं और मौसी एक रज़ाई में सोयेंगे लेकिन मेरी किस्मत में अभी और इंतजार करना था.

हरी- उफ़फ्फ़ कितनी मादक खुशबू है तेरी चुत की … आज तो इसे चोदने में मज़ा आ जाएगा. मैंने नीचे से गांड हिलाकर एक जोर का धक्का उसकी चूत में मारा तो आधा लंड उसकी गीली और गर्म चूत में घुस गया. चुदाई के बाद हम दोनों ने आराम किया और कुछ देर बाद फिर से एक राउंड चुदाई का चला.

फिर मैं अपने कपड़े पहन कर उन दोनों को बाय बोलकर अपने रूम में आ गया और सो गया. अब मैं धक्का मारने लगा, तो दीदी ने अपनी दोनों टांगों से मेरी कमर को जकड़ लिया. मेरी उंगलियां उनकी चूत में अंदर बाहर चल रही थीं और मामी चुदाई के लिए गर्म होने लगी थी.

लड़कियों की बीएफ दिखाइए यहां तो हम बस ऊपर का मज़ा ले सकते हैंमीता मचलते हुए बोली- तो बाबूजी कहीं और चलते है ना!सुरेश- अब तुझे कहां लेकर जाऊं … मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा है. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसको बेड पर गिरा लिया और उसकी चूचियों पर टूट पड़ा.

फेसबुक खोलो जल्दी

शबाना- अरे तुम कब आए?मैं- मैं बस अभी ही आया हूँ, तुम नहीं गई शादी में?उसने इस बात का कोई जवाब नहीं दिया, वो बस एक मुस्कान के साथ रसोई में चली गई. उसके बाद मैंने उन्हें कैसे ट्रिक से नंगी किया, फिर उनकी चूत चुदाई की. जैसे वो मुझे देख रही थी, उससे लगा कि थोड़ी सी मेहनत की जाए, तो काम बन सकता है.

मैं मदहोश होकर कासिब का मुँह अपनी टांगों में भींचने लगी और ‘अआह भाई उउह ओहह भाई. चाचा ने अपने हाथ से लंड की मुठ मारना शुरू कर दिया और सुहानी उनके चूतड़ों और झांटों पर हाथ फिराती रही. आदिवासी xnxxगर्म सिसकारियां लेते हुए भाभी ने अपना एक हाथ मेरे लौड़े पर रख दिया और उसे दबाने लगीं.

फिर वो बोलीं- जानू फिर आगे!मैं बोला- फिर मैं आपको पलट दूंगा और आपको पीछे से पकड़ लूंगा.

अब जब भी वो आती है, मैं अपनी बीबी और साली को एक साथ में ही चोदता हूँ. मैंने मन ही मन सोचा- भाभी भी ड्रामा करने में एक्सपर्ट है, कितनी सीधी बनकर बात कर रही है.

एक बार तो मेरे पति ने बताया कि वो इनके फोन में मेरी साड़ी-ब्लाउज वाली सेक्सी फोटोज़ देख कर खुद को रोक नहीं पाया और इनके सामने ही मेरी फोटो देखते देखते मुट्ठ मार कर झड़ गया।वो फोन पर तो कई बार मेरी चूत का पानी निकाल चुका था और अब सच में मुझे चोदने के लिए वो कितना बेताब था ये मैं अच्छी तरह जानती भी थी और ये बताते भी थे।खैर! अपनी बात पर वापस आती हूँ. वहीं सड़क के दूसरे छोर पर एक नदी बहती थी। जब नदी के कल-कल करते जल की धाराओं को देखा तो मन का कोना-कोना खुशी से भर गया. मैंने कहा- क्या हुआ सिमरन … कोई बात है?उसने कहा- मेरे अन्दर कुछ उबल रहा है.

पहले सर तुम्हारी चूत मारेंगे और फिर उसके बाद मैं अपनी सेक्सी चुदक्कड़ बीवी की चुदाई करूंगा.

अब जो उन्हें समझना हो सो मुझे समझते रहें, मैं कौन सा वहां चरित्र प्रमाणपत्र बनवाने गयी थी. ये शायद उसकी पहली चुदाई थी। मुझे नहीं पता लेकिन उसने मुझे ऐसा ही बताया था. जब भी रूचि राहुल से कुछ पूछती, तो वो समझने के लिए थोड़ी और झुक जाती.

एक्स एन एक्स एक्स एचडीमैं फैमिली सेक्स कहानी पढ़ता जरूर था लेकिन मेरे साथ कभी वास्तविकता में ऐसा कुछ घटित नहीं हुआ था. भाबी की चुदाई के बारे में सोचकर ही मैंने मुट्ठ मार ली और शांत होकर सो गया.

सास और दामाद की सेक्सी वीडियो

मैं सर को अपने बदन से सटाकर कसे हुए थी और एक हाथ से उनका लन्ड पकड़ रखा था. बस … अब देर मत करो मामू।मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और एक जोरदार झटका मारा. अंदर जाते समय उसकी सहेली मुझे देखकर मुस्करा रही थी।बाद में देर रात उस सहेली का भी कॉल आया। फिर उसकी सहेली भी मेरे लंड से चुदी.

मैंने उसे बेड पर बिठाया और उसके सामने ही अपने शॉर्ट्स के ऊपर से लंड को सहला दिया. मैंने उनकी नाभि को चूमा और पेटीकोट के नाड़े को दांत से पकड़ कर खींचने लगा. मैंने कहा- हां … अगर और किसी के बारे में पूछना है, तो वो भी पूछ लो.

करीब दस मिनट तक मेरा मुँह चोदने के बाद उसने अपने लंड का रस मेरे मुँह में ही छोड़ दिया. ग्रेजुएशन करने के बाद मैंने देश के एक प्रतिष्ठित महिला कॉलेज में एम. सरजू- ओये होये मेरी छुटकी, तू इतनी बड़ी हो गई क्या … जो बड़ी बड़ी बातें कर रही है.

अपने मोटे लंड से उस स्त्री को सुख दो।खाना खत्म करने बाद मुझे नींद नहीं आ रही थी इसलिए फिर से छत पर टहलने चला गया। अभी रात के करीब ग्यारह बज रहे थे। थोड़ी देर बाद देखा कि बहू अपने कमरे से निकलकर ससुर के कमरे में गई और दरवाजा लगा लिया।अब इतनी रात को ससुर के कमरे में जाकर अंदर से दरवाजा लगाने का क्या मतलब है भई? मन में शंका पैदा हुई तो मैं नीचे चला गया. एक तरफ में केवल गेहूं के खेत लहलहा रहे थे तो दूसरी तरफ नदी में औरतों की जवानी.

तब तक रजिया मेरे होंठों को चूसने लगी और मैं उसकी चूचियों से खेलता हुआ सोनिया की चूत को चोदता रहा.

भाभी ने कहा- अच्छा तो आप यही सब देखते हैं!मैंने कहा- एक तो आप इतनी सेक्सी हो … ऊपर से आपकी चूची दिख रही है तो कैसे न देखूं. बीपी पिक्चर वीडियो गुजराती20 मिनट गांड चुदाई करने के बाद मैं उनकी गांड में ही झड़ गया और हम दोनों नहाने लगे।नहाते समय मुझे ऐसा लगा कि जैसे शायद बाथरूम के दरवाजे के बाहर कोई हम दोनों को सुन रहा हो। बाद में पता चला कि वो भाबी की छोटी बहन थी। उसकी कहानी मैं आपको बाद में बताऊंगा. ಇಂಡಿಯನ್ ಬಿಎಫ್ ವಿಡಿಯೋसुमन- क्यों एक बार ही बस … उसके बाद क्या कोई मिली नहीं!कालू- ऐसी बात नहीं है, वो दरअसल …सुमन का मन कालू के साथ चुदाई का रस लेने का था, मगर उसे मायूसी ही हाथ लगी. अब हम बात करना बंद कर चुके थे और दोनों के बदन में एक आग सी जलने लगी थी.

वो अलग बात है कि आंखों को पसंद आने वाली हर चीज हर किसी को नहीं मिल पाती है.

मैं तो तुम्हें सही से जानता भी नहीं हूँ … और तुम भी मुझे नहीं जानती हो, तो क्या तुम एक अनजान के साथ रह लोगी. इसलिए मैं अब ज्यादा समय न लेते हुए अपनी देसी फैमिली सेक्स कहानी शुरू करता हूं. उधर मेरे पति ने अपना लंड मेरे मुंह में दे दिया था और मैं मस्ती में उसके लंड को पिये जा रही थी.

थोड़ी देर मैं बिना मन के लंड चूस रही थी, फिर उसके लंड की सुगंध ने मुझे मनमोहित सा कर दिया और अब मैं मदमस्त रांड की तरह लंड चूसे जा रही थी. मैंने अपना हाथ भाभी की चुत पर रख दिया और साड़ी के ऊपर से ही उनकी चुत को सहलाने लगा. मैं कभी उसे ब्लूफिल्म दिखाते हुए सेक्स वीडियो की स्टाइल में उसकी चुत में लंड दे देता.

जैकलीन फर्नांडिस porn

मेरी गर्लफ्रेंड मधु ने मुझसे कहा कि अभी संजना का कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं है, उसके जिस्म में जवानी की आग भरी पड़ी है, तो वो रात में मुझसे ही लिपट जाती है … लेकिन मुझे ये सब अच्छा नहीं लगता है. वो चीखी लेकिन मेरे होंठ उसके होंठों पर कसे होने के कारण उसकी आवाज नीचे दब गयी. पैंटी के ऊपर से ही मैंने उसकी चूत के मोटे मोटे होंठों को चूमा और एकदम से मुंह में भर लिया.

मैंने आंटी से कहा कि तुम्हें कितने दिन से पटाने में लगा हुआ था मैं, तुमने मुझे लाइन क्यों नहीं दी?आंटी बोली कि वो अपने पति से बहुत डरती है और वो उसको मारता भी है.

करीब चार घंटे तक चली इस धकापेल चुदाई के बाद दोनों ही थक कर चूर हो गए थे.

मेरी चचेरी दीदी की एक बहुत अच्छी आदत थी कि सुबह के काम निपटा कर नहा धोकर ही बाकी सारे काम शुरू करती थीं. मैंने रंडी के साथ सेक्स किया हुआ था लेकिन आप तो जानते हैं कि रंडी और बंदी में कितना अंतर होता है. मराठी भाभी सेक्स वीडियोबीवी की टाइट चूत चोदते हुए अब मुझे भी मजा आ रहा था और मैं अब धीमे नहीं कर सकता था.

अब मैंने उसकी चूत के ऊपर लंड के टोपे को ऊपर नीचे करना शुरू कर दिया. अब मेरे मुंह में उसकी चूची थी और नीचे से मेरा हाथ उसकी चूत को सहला रहा था. अब वो मेरे लौड़े को धीरे धीरे हिलाने लगी और मैंने आंटी की साड़ी का पल्लू उनके ब्लाउज पर से नीचे गिरा दिया.

सच में दोस्तो, अगर मेरा वश चलता तो मैं सचमुच में अपने लंड को घुसा घुसाकर उसकी जांघ में छेद कर देता. शीशे में अपनी योनि देख कर मैं मन ही यह सोच के लजा उठती कि इसी के भीतर मेरे पति का लिंग प्रवेश करेगा, मेरी सील टूटेगी, मुझे दर्द सहना पड़ेगा फिर मज़ा भी मिलेगा और नमन कितने खुश होंगे मेरी योनि की सील तोड़ कर.

उसकी चुत का पानी निकल गया था, वो झड़ने के बाद एकदम से निढाल सी हो गई थी.

दोस्तो, सच बताऊं तो मामी की चूत इतनी गर्म थी कि अगले तीन-चार मिनट में ही उनकी चूत के सामने मेरे लंड ने हांफना शुरू कर दिया और पचर … पचर … सारा वीर्य चूत में छोड़ दिया. मैं फैमिली सेक्स कहानी पढ़ता जरूर था लेकिन मेरे साथ कभी वास्तविकता में ऐसा कुछ घटित नहीं हुआ था. मैं भाभी को चूमते हुए उन्हें चोदने की सोच कर बहुत गर्म हुआ जा रहा था.

રાજસ્થાન વિડિયો अगर मजा नहीं आया हो तो फिर जरूर दें क्योंकि उसी से कहानी बेहतर होगी. उसने मुझे देखा और हल्की सी स्माइल देकर कहने लगी- अच्छा आपको दूध पीने का मन है, रुको मैं अभी लाती हूँ.

वो छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं उसके होंठों का रस पीता ही रहा. उसका चुदने के लिए बहुत मन कर रहा था इसलिए वो जरा भी हिचक नहीं रही थी. मेरी चूत में डालो प्लीज़।फिर मैंने एक जोर का धक्का मारा तो मेरा लंड 5 इंच तक उसकी चूत में घुस गया.

क्ष्क्ष्क्ष्चोम्

वो दो पैग बनाए और मुझे व्हिस्की का गिलास दिया, खुद वोदका का पैग लेकर बैठ गई. मैंने भी धीरे से अपनी बहन मोनिषा की सलवार में हाथ डालते हुए उसकी पैन्टी में हाथ डाल दिया. मैंने उनकी ब्रा में मुंह देकर उनकी चूचियों की घाटी को जीभ से चाटना शुरू कर दिया.

सुमन मन में सोचने लगी कि तुमको क्या पता सुरेश, वो बेटी को घोड़ी बना कर चोद चुका है. दो मिनट बाद जब उससे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था, तो वो मुझे अपने ऊपर खींचने लगी.

उसने मेरी छाती को चूमना शुरू किया और जल्दी ही उसका मुंह मेरे निप्पलों पर आ लगा.

वो देख भी लेगा, तो मुझे ही कहेगा न!मुखिया- अरे मेरी रानी डर तो इसी बात का है कि वो तुझे कुछ ना कहे. मीनू की चुत के पानी से लंड की फिसलन अच्छी तरह होने लगी थी और मीनू भी उत्तेजना में कमर हिला कर चुद रही थी. यह बात भाभी ने मुझे तीन महीने पहले बताई थी … और उसके बाद क्या हुआ, वो आपको इस सेक्स कहानी में आगे पता चल जाएगा.

मैं आंटी की चूत में जीभ देकर उसकी चूत की दीवारों को चाटने लगा और आंटी मेरे लंड को मुंह में भरकर चूसने लगी. मैंने उसरशियन लड़की के रूम के दरवाजे पर दस्तक दी और हल्के से धक्का दिया. सुमन मन में सोचने लगी कि तुमको क्या पता सुरेश, वो बेटी को घोड़ी बना कर चोद चुका है.

मैं- हां मामी, मैं तो खुद आपकी चूत को कितने ही दिन से चोदने की फिराक में था.

लड़कियों की बीएफ दिखाइए: वो तड़पने लगीं और कहने लगीं- साले दुष्ट कहीं के … तड़फाओ मत जल्दी से अन्दर डाल दो … आह जब से मैंने तुम्हें देखा है, तब से तुमसे चुदवाने की चाह में मरी जा रही हूँ. मैंने बीवी की बहन को कैसे चोदा?हैलो फ्रेंड्स, मैं सौरभ एक बार फिर से अपनी जीजा साली Xxx कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

वो मेरे लंड को आंखें बंद करके मस्ती में चूसने लगी और उस मदहोशी में मेरी आंखें भी बंद होने लगीं. कुछ देर बाद भाभी मुझे एक स्थान पर छोड़कर चली गईं, जहा पर मेरे दोस्त करण और राहुल दोनों इंतजार कर रहे थे. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]लंड चूसने की कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 4.

उसकी चूत से निकले रस ने चूत को इतनी गीली कर दिया था कि उसकी चुदाई करते हुए पूरा रूम पच … पच … की आवाजों से भर गया था.

इस पर राहुल ने देर न करते हुए अपना लौड़ा पूरी तरह से चुत के अन्दर डाल दिया. फिर मेरे एक करीबी रिश्तेदार की मृत्यु हो जाने के कारण मेरे मां-पापा को गांव जाना पड़ा. साथ ही मैंने भी अपने सारे कपड़े निकाल दिए और सिर्फ अंडरवियर रहने दिया। मैडम पेट के बल लेट गयी.