बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल

छवि स्रोत,बीएफ पिक्चर चलने वाली बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ मूवी नंगी सीन: बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल, माँ- एकदम सही, मुझे भी तुमसे बातें करना अच्छा लगता है, टाइम का पता ही नहीं चलता है.

देसी पार्क सेक्स वीडियो

मगर अभी 5 मिनट भी नहीं बीते थे कि विक्रम का लौड़ा फिर पूरा शवाब पर था. नेपाली रंडीइस तरह उस दिन मैंने उसे तीन बार चोदा ओर फ़िर वो जाने के लिए कहने लगी.

मैंने उसके हाथों को उसके मम्मों से हटाया और उसके होंठों पर अपने होंठ टिका कर लिप-किस करना शुरू कर दिया, साथ ही एक हाथ से उसके मम्मों को भी सहलाना शुरू कर दिया. हिंदी की बीएफमैं रोजाना जिम करता हूँ… जिसकी वजह से मेरा शरीर बहुत ही गठीला और मजबूत हो गया है.

ऐसा करते समय एक पल के लिए भी मेरी माँ ने मेरे लंड को अपनी चुत से जुदा नहीं होने दिया.बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल: फिर मैंने उस लैपटॉप में एक सेक्सी मूवी की सीडी डाल दी और उसको बंद कर दिया.

मेरा लंड पूरा गीला हो गया था और सर्र सर्र अन्दर जा रहा था, मेरी सांसें धौंकनी की तरह चल रही थीं.फिर मैंने सोचा ये तो गहरी नींद में सो रही थी, मेरा जरा सा हाथ क्या लगा इसने तो तुरंत ही आँखें खोल दीं, चक्कर क्या है, क्या इसके मन में कुछ चल रहा है.

इंडियन बीएफ वीडियो फुल एचडी - बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल

फिर एक दिन मेम ने सबका टैस्ट लिया और इस टैस्ट में मुझे सबसे कम मार्क्स मिले.मैं कल्पना करने लगा कि उसके निप्पल कैसे होंगे? शायद गुलाबी होंगे? क्योंकि वो बहुत गोरी है! या शायद भूरे हों!मैं बस अपनी बहन की बुर और चुची के बारे सोचते हुए चाय पीता रहा और हम दोनों ने चाय खत्म कर ली.

तीन चार बार टांगें इस तरह से की कि उसको मेरी पूरी चड्डी नज़र आ जाए, जो बहुत छोटी सी थी, बहुत मुश्किल से चुत को ढक पा रही थी. बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल अब आगे:इधर थोड़ी देर रेशमा की चूत चाटते हुए उसकी गांड में उंगली डाल रहा था।इस समय हम सभी में मस्ती छाती जा रही थी; सभी के मुंह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाज आ रही थी जो कि उस कमरे के वातावरण को वासनामय बना रही थी। बीच बीच में मैं अपने लंड को मसल भी रहा था.

मैंने उसकी तरफ देखा तो उसने कहा कि वो भी सेमिनार अटेंड करने आई है और वो भी किसी को नहीं जानती.

बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल?

भाभी जी मस्त आवाज़ निकाल रही थीं और बोल रही थीं- बना ले आज अपनी भाभी को अपनी रांड. वो भी मजे से ‘आआह्ह्ह ओह्ह्ह ह्म्म्म…’ की आवाजें निकालने लगीं, मुझे भी अब बहुत मजा आ रहा था. उनकी चूत थोड़ी फूली हुई और एकदम कली जैसी गुलाबी थी, जैसे कोई अधखिला गुलाब हो.

अब भाभी ने मेरे सर पर हाथ फेरा और प्यार से बोला- चाटता ही रहेगा या लंड भी डालेगा?फिर मैंने भाभी को चुम्मा लिया और उनकी टांगें फैला दीं. उसके बाद वो आए दिन दोपहर में मुझे चोदने आ जाता और हम दोनों मस्त चुदाई का मजा करते. मैंने मार्केट से बियर की बॉटल, सिगरेट, आइसक्रीम और कुछ फ्रूट लिए और घर आ गया.

अब मैंने उसे सीधे लेटने को कहा और वो चुपचाप अपनी चुत खोलते हुए लेट गई. रोशनी की चूत की महक एकदम चमेली के फूल जैसी थी, मुझे वो रूम में अभी भी महसूस हो रही थी. कुछ देर बाद वो बोली- जीजू प्लीज़ अब इसे डाल भी दो… काफ़ी समय से आपका लंड अपनी चूत में लेने के लिए तरस रही हूँ.

मैंने बोला- आपकी उम्र कितनी है और आप ऐसा क्यों करना चाहती हैं?वो बोली- मेरी उम्र 38 साल है. हम दोनों कभी आते जाते एक दूसरे को छू लेते, कभी यहां तो कभी वहाँ हाथ लगा लेते.

मेरे हाथ उनके मम्मे के पास पहुंच चुके थे, नाइटी और उसके अन्दर ब्रा इतने अधिक मुलायम कि जैसे उनके मम्मे बिना कपड़ों के मेरे हाथ में हों.

”उसकी कामुक आवाजें मुझे जोश दे रही थीं और मैं एक के बाद एक कड़क झटके देता रहा.

फिर भी भाभी ने मुझे छोड़ा नहीं और मैं भी भाभी के मम्मों से खेलने लगा और भाभी मेरे बालों को सहलाने लगी. कुछ ही देर में वो सभी दर्द भूल गई थी क्योंकि मैं उसे लंड का प्यारा मज़ा जो दे रहा था. मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से स्ट्रोक देते हुए चूमना शुरू कर दिया.

बाद में नाज़ ने कमर हिलाना चालू किया तो मैं जूही को छोड़ कर नाज की चुदाई करने लगा और जूही ने नाज की चुची दबाना चालू कर दी जिससे नाज की हालत जल बिन मछली जैसी हो गयी।10 मिनट तक लगातार चुदाई के बीच में नाज दो बार झड़ गयी थी. फिर जब कुछ दिनों के बाद जब लास्ट एग्जाम था तो मैं एग्जाम देने थोड़ी देर से पहुँची, एग्जाम ईज़ी था इसलिए ज्यादातर छात्र एग्जाम दे कर जा चुके थे. मैं अब मुंबई में जॉब करने आ गया, लेकिन जब भी मैं घर जाता हूँ तो भाभी की चुत चुदाई का कुछ ना कुछ मौका निकाल कर चोदन कर ही लेता हूँ।तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्सी कहानी… आप सबको कैसी लगी? मुझे मेल करके ज़रूर बताना, मैं आपके मेल का इंतजार करूँगा।[emailprotected].

जब मैं वहाँ वापिस आई तो डीवीडी बंद हो चुका था और डेविड दीवार पर टंगी तस्वीरों को देख रहा था.

अब मैं आराम से बिस्तर पर लेट गया और दिव्या को अपने ऊपर लेकर उसके लबों को चूमने लगा. शिवम बोला- बिल्कुल जैसा तुम बोलो आशीष, क्या मस्त माल पटाया है तुमने यार! उसके होंठ नाक और आंखें कितनी खूबसूरत है लगता है बहुत चुदासी है! मैंने वन्द्या से सेक्सी लड़की आज तक नहीं देखी, बहुत मजा आएगा।जब रूम में आ गई वन्द्या और मैं लिपट गया, वन्द्या के होंठ चूसने लगा, फिर बूब्स दबाने लगा तो वन्द्या गर्म होने लगी. जमाई जी मुझे सजी संवरी देख कर हिल गये और मुझे दुल्हन की तरह पकड़ कर बिस्तर पर लिटाया और बड़े आराम से मेरे होंठों की लाली चूसने लगे.

इससे मेरी भी हालत खराब होने लगी और मैंने अपना लंड बाहर निकाल कर पूरा माल जूही की चूत और पेट के ऊपर गिरा दिया और नाज़ को उसको चाटने के लिए बोला तो वो न नुकुर करने लगी, फिर थोड़ा मनाने के बाद पूरा वीर्य चाट गयी. कैमरे के रियल टाइमर के हिसाब से ये सुबह के आठ बजे की रिकॉर्डिंग थी. घर पहुँचते ही प्रिया कार से उतर कर दौड़ कर अपने कमरे में जा घुसी और दरवाज़ा अंदर से बंद कर लिया.

तभी भाभी बोलीं- मुझे वाइल्ड सेक्स और गालियों के साथ मज़ा आता है, पर तुम्हारे भैया सीधा करके सो जाते हैं.

पर लड़कों को भी यह ख्याल रखना चाहिए कि हाँ, एक बार मतलब बस एक बार, बाद में जब वो चाहे तभी उसको छुए. खैर मैंने अपने आपको सामान्य करते हुए पूछा- मॉम कहाँ हैं ?वो लड़खड़ाती आवाज़ में बोला- बड़ी मालकिन अभी ही तो कॉलेज के लिए निकल गई हैं.

बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल वैसे भी आंटी दूध सी गोरी थीं लेकिन मेकअप की वजह से तो पूरी ऐश्वर्या लग रही थीं. मैं बियर की 3 बोतल के साथ एक व्हिस्की का हाफ और सिगरेट का पैकेट ले आया था.

बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल मैं उनकी टाँगों के बीच में आ गया और चाची की चुत सूंघने लगा फिर चाटने लगा. इसके बाद उसने मुझसे बुलवाया मम्मों की घुन्डियां (निप्पलों) मम्मों की घुन्डियां…फिर बोली- पूरे कपड़े उतार कर नंगी हो जाओ.

भाभी को पहली बार इस कंडीशन में देख कर मेरा लंड एकदम से तन गया, मैंने सीधा बाथरूम में जाकरमुठ्ठी मार कर अपने लंड को तस्सली कराई।उस दिन के बाद भाभी जब भी मुझे देखती तो वो हल्का सा मुस्करा देती और चली जाती। यह देख कर मेरे मन को हौंसला मिलता रहता था।एक दिन भाभी मेरे घर पर आयी और मेरी मम्मी से कुछ बात करने लगी.

डाउनलोड मनीकंट्रोल

जब कभी भी उसको कहती हूँ कि यार बहुत दिन हो गए हैं… तो वो समझ जाती है कि मेरी चुत में खुजली हो रही है और मेरे लिए किसी लंबे और मोटे लंड का इंतज़ाम करवा देती है. इतनी देर में पूजा आ गई और भाभी को दर्द से तड़फने का खेल देख कर खुश हो गई- अमित जल्दी डाल… एक बार में ही तेज़ी से लंड पेल दे अन्दर… धक्का मार साली की गांड में…मैंने पूरा लंड अन्दर डाल दिया. चूँकि चाची हमेशा से मेरी सबसे अच्छी दोस्त और गाइड थीं तो मैं उनसे मिलने जाता रहता था.

उसने अपने ऊपर के होंठों से मेरे नीचे के होंठों को चबाना शुरू किया और साथ ही में मेरे कड़ियल और मजबूत बदन पर हाथ फिराने लगी. उसने अन्दर आकर घर के म्यूजिक सिस्टम पर कोई गाना लगा दिया और बड़े ही कामुक अंदाज़ में गाने के साथ साथ डांस करते हुए एक एक करके अपने कपड़े उतारने लगी. मैंने उसका हाथ पकड़कर थोड़ी सी उंगली उसकी गांड में डाल दी, वो गुस्सा होने लगी.

कि मेरी जान सी निकल गई।अब जाकर कहीं मैंने उसके चेहरे की तरफ गौर से देखा। उसका चेहरा शर्म से बिल्कुल लाल हो गया और उसके होंठों पर साड़ी की मैचिंग की लिपिस्टिक लगी थी। कुल मिलाकर उसकी तारीफ के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं।मैं बोला- इसमें बेशर्म वाली कौन सी बात है?मधु बोली- क्यों.

उसने भी मुझे मना नहीं किया तो मैंने उसे खींच कर अपने सीने से लगा लिया. इधर मैं और नाज चुदाई में लगे हुए थे, उसकी बातों को सुन कर मैं धकाधक उसकी चुदाई किए जा रहा था और उसके जोर जोर से हिलते हुए चुचे मुझे और जोश दिला रहे थे. मैं तो देखते ही रह गई कि 18 साल के लड़के का लंड इतना बड़ा कैसे होगा.

मैंने उसको लिविंग रूम में सोफे पर लेटा दिया और फ्रिज से आइस ट्रे लाकर टेबल पर रख दिया. वो लगभग नौ बजे रात में घर पहुंची और बोली- आज बहुत देर हो गई… सॉरी राहुल, चलो बाहर ही खाना खा लेते हैं, मैं बहुत थकी हूँ. इधर मेरा लंड भी बहुत टाइट हो गया था और भाभी उसे सहला रही थी।फिर मैंने भाभी से अपना लंड चूसने को कहा तो उन्होंने मना कर दिया लेकिन मेरे थोड़ा फोर्स करने के बाद वो मान गयी और मेरा लंड चूसने लगी।दोस्तो मुझे उस टाइम ऐसा महसूस हुआ कि जैसे मैं जन्नत में हूँ क्योंकि यह मेरा पहली बार था कि कोई लड़की मेरा लंड चूस रही थी.

फिर ऐसे ही चलता रहा रुचिका चौधरी मेरी फेसबुक पर मेरे हर पोस्ट को लाइक करने लगी, जिससे रुचिका चौधरी के बॉयफ्रेंड को पता चल गया. लगभग 6 बजे अशोक बोला- चलो साथ में नहाते हैं और फिर तुम्हें ड्राइवर छोड़ कर आएगा.

अब बालू मुझे दिखा, वो अपना लन्ड हाथ में लिये हिला रहा था, बालू बोला- सच बोल रहा है आशीष तू! क्या मस्त माल है ये वन्द्या… तेरा लौड़ा कैसे मस्त चूस रही थी, मैं देख कर ही पागल हो रहा था, पहले थोड़ा बुरा लगा जब तूने इसको पहले चोरी से चोद दिया और फिर जब अभी दोबारा इसकी चूत चाटना शुरू किया. क्योंकि दो साल पहले मैं भी सीधा सादा दब्बू सा लड़का था और आज चूत चैंपियन बॉडी शोडी के साथ हूँ।खैर हमारे बीच यहाँ वहाँ की बातें हुई और फिर हम मेरी कार में बाहर चले गए. मैं- पक्का प्रॉमिस… अब बताओ क्या आप सॅटिस्फाइड हो अपने पति से?माँ- नहीं, मैं उससे संतुष्ट नहीं हूँ.

वैसे तो मेरी बात अपनी साली से होती ही रहती थी, फोन पर हम खूब हंसी मज़ाक करते थे, पर अब तक कभी कोई ग़लत बात नहीं की थी.

मैं- तो मैं पूछ रहा था कि तुमको मर्द के शरीर का कौन सा हिस्सा पसंद है?स्वाति- अरे… इसमें पूछने वाली क्या बात है… मेरे जैसे जवान और सेक्सी लड़की को आप जैसे जवान मर्द में सबसे ज्यादा क्या पसंद आयेगा? बेशक आपक लिंग। मुझे लगता है कि यह काफी बड़ा और मजबूत है. जब मुझे कुछ करने का मन होता था, तब मैं कभी कभार हस्त-मैथुन कर लेता था. फिर मैंने भाभी को घोड़ी बनाया और पीछे से चोदने लगा, थोड़ी देर चोदता, फिर लंड बाहर निकाल कर अपनी उंगलियाँ अंदर डाल कर चोदता और फिर लंड अंदर डाल देता और उंगली उनकी गांड में डाल देता जिससे उनका मजा दुगना हो जाता.

उसका टेस्ट तोड़ा नमकीन था, पर मैं मजे से चाट गया और चुत की मलाई की अंतिम बूंद तक चुत को चाटता रहा. फ़िर एक थप्पड़ जोर से उनकी चूत पर मारा, इस बार वो कुछ नहीं बोलीं, सिर्फ उनके मुँह से एक दर्द भरी आहह निकली.

मेरी भाभी का नाम ज्योति है, उनका रंग दूध की तरह गोरा है, हाइट में वो मेरे कान तक हैं. बस कुछ ही पलों में उसका शरीर अकड़ने लगा और एक बार फिर से उसकी चुत ने गर्म पानी की पिचकारी छोड़ दी. ”नहीं सर में पहले चूत में मोमबत्ती डालती थी, फिर धीरे धीरे केला, फिर बैगन और अब लौकी भी घुसा लेती हूँ.

देसावर आज की खबर

सेजल भाभी ने अपना सर दीवार के सहारे सटा रखा था और छत की तरफ़ आंखें बंद करके अपने होंठ दांतों से चबा रही थीं.

इंसान फ़ितरतन लालची है उसे और… और… और चाहिए लेकिन मैं नहीं चाहती कि इस और… और के लालच में ये जन्नत जो आज मेरे पास है, मैं उसे भी खो बैठूं!”प्रिया! साफ़ साफ़ कहो कि तुम मुझ से चाहती क्या हो?”आइंदा क़रीब तीन महीने मुझे फिर से आप के घर में रहना है और मैं चाहती हूँ कि वहाँ घर में आप ना सिर्फ़ सब के सामने बल्कि अकेले में भी सिर्फ मेरे मौसा जी ही बन कर रहें. नाज़ कुछ समझ पाती, तब तक तो मैं आधे से ज्यादा लंड उसकी चूत में घुसेड़ चुका था, जूही नाज के मुँह में बैठ कर उसके नाभि में किस करने लगी और उसकी चुची जोर जोर से दबाने लगी, जिससे नाज़ थोड़ा शांत हुई. इस तरहकुंवारी बुर की सील सगे भाई ने तोड़ी… मेरी बहन मेरी चुदाई की पार्टनर बन गई, हम दोनों मौका मिलते ही चुदाई का मजा लेने लगे.

थोड़ी देर में उसकी मेल आ गई। जिसमें उसका पता और फोटो था। मैंने फोटो देखा तो देखता ही रह गया क्योंकि मधु मेरे साथ कॉलेज में पढ़ी थी। कक्षा की सबसे सुन्दर और शरीफ लड़की. एक शाम 8 बजे की शिफ्ट ख़त्म करके मैं लॉज पे निकला, तो मुझे गाड़ी की हॉर्न सुनाई दिया. पंजाबी भाई बहन का सेक्सी वीडियोमैं मासूम सी शक्ल बना कर बोली- सर मैं ज़रूर आ जाऊंगी, अगर ज़रूरत पड़ी तो पूरी रात भर भी रह लूँगी, मगर आप मेरे भाई का काम तो कर देंगे ना?पूरी रात रुकने का नाम सुन कर वो अपना लंड सहलाता हुआ बोला- हां क्यों नहीं.

एक काम करोगे?वो- बताओ चाची जी?मैं- बेटा मेरी गांड में बहुत खुज़ली हो रही है. मैंने दाना डाल दिया था, अब देखना था कि पक्षी उसमें फँसता है या नहीं.

एकाएक मैंने अपने दोनों हाथ उसके मम्मों पर रख दिए और ज़ोर से दबाने लगा. अभी कुछ ब्लेंक रिकॉर्डिंग बाकी थी क्योंकि मॉम की रिकॉर्डिंग रात की थी और मैंने दस बजे कैमरा निकाला था. सोचते सोचते बहुत गर्म हो जाती, मेरी पैंटी भीग जाती गीली हो जाती थी।यह कोई मेरी कहानी नहीं है, एक एक शब्द एक एक बात पूरी सच लिख रही हूं, यह मेरे जीवन की सच्चाई है, इसे झूठ कोई मत मानिएगा।मैं अपनी मम्मी की कसम खाती हूं और गॉड कसम… सब कुछ बिल्कुल एक-एक शब्द सच लिखा है।यह बात सच है कि मुझे खुद भी बहुत ही ज्यादा मजा आया, यह कैसा सुख और इंज्वाय है मैं इसे नहीं जानती थी। पर बहुत ही बेस्ट अनुभव रहा है.

उनके पति यानि मेरे चाचा दिन में काम पर होते थे और उनका लड़का राहुल स्कूल चला जाता था. तो चाची बोलीं- ठीक है, लेकिन सिर्फ एक बार…मैं तो बहुत खुश हो गया और बोला- हां चाची, बिल्कुल लेकिन जल्दी करो प्लीज…अब वो अपने हाथ मेरे पैर से हटा कर मेरे लंड पर ले आईं और हाथ में थोड़ा सा तेल लेकर मेरे लंड पर मसलने लगीं. मैंने उसकी गांड से लंड खींचा और उसको फर्श पर चित लिटा कर उसकी चूत में लंड पेल दिया.

इंसान तो क्या कोई जानवर भी वहां होता तो न चाह कर भी उसका लंड खड़ा हो जाता और पीछे से दीदी की गांड पर चढ़ाई करके लंड गांड में घुसा देता.

कुछ देर इधर उधर की बातों के बाद मैं उससे सटकर बैठ गया और उसे गणित समझाना शुरू किया. मैंने उसकी तरफ देखा तो पाया कि नीला मेरे सामने ही टकटकी लगाकर मुझे घूर रही थी.

इस तरह उस दिन मैंने उसे तीन बार चोदा ओर फ़िर वो जाने के लिए कहने लगी. बहूरानी अपने भाई की शादी में जा रही थी तो उसके हाथ पैरों में रची मेहँदी, आलता नाखून पोलिश और ऊपर से गोरे गोरे गुलाबी पैरों में सोने की पायल… मेरा एक एक शॉट लाजवाब निकला. ”प्रिया! लाइट बंद कर दी तो वादा कैसे पूरा होगा? ”मुझे नहीं पता… लेकिन आप लाइट बंद कीजिये.

वो झड़ने के बाद थोड़ी देर मेरे ऊपर लेटी रहीं, फ़िर साइड में लुढ़क गईं और जोर जोर से साँस भरने लगीं. उसने भी एक हाथ से मेरा अंडरवियर नीचे किया और मेरे कड़क लंड देख कर एकदम से खुश होकर बोली- वाउ इतनी कम उम्र में इतना मस्त लंड. मुझे भी तो अब ही गांड मारनी थी तो मैंने चुत की तरफ से लंड हटा कर फिर गांड के छेद पे रख दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल जब मैंने उसे बताया कि अगर तुम हाँ नहीं कहती तो मैं बोल देता कि अप्रैल फूल बनाया, तो वो बहुत हँसी. आख़िर मुझसे ना रहा गया तो मैंने बिंदु से कहा कि मेरी चुत के लिए भी कुछ सोचो ना.

एचडी सेक्सी एचडी सेक्सी वीडियो

मैं अपने लिंग-मुंड को वहीं अटका छोड़ कर प्रिया के ऊपर लम्बा लेट गया. ऐसा लगता था कि दीदी को बस अब लंड चाहिए था, जो उसकी चुत में घुस कर उसको कुतिया की चोद दे. ड्राईवर बोला- दरवाजा खोल कर मेमसाहब अन्दर चलिए, साहिब आप का इंतज़ार कर रहे हैं.

क्योंकि तुम्हारा बच्चा गिराने के लिए जब मैं तुम्हारे अन्दर अपना डालूँगा तो तुम्हारे बदन की गर्मी से मुझे नुकसान भी हो सकता है. मैंने अपना एक हाथ उसकी चुत पे रखा और अपनी उंगली से धीरे धीरे उसकी चुत कुरेदने लगा. जींस वाली चुदाईअब इस ऑफर में भैया के बॉस का मूड था वो आपको अगले और अंतिम भाग में जानने को मिलेगा.

तब मम्मी ने आंटी को फोन किया और कहा- नीलम यार, मुझे विकी के मामा के घर जाना है, तुम विकी और उसके पापा का खाना बना देना.

एक तो पहला सेक्स था और ऊपर से उसने इस तरीके से चूसा कि मैं कुछ ही मिनट में झड़ गया. मैंने लंड उसकी चुत पर सैट किया और कमर पकड़ कर शॉट लगाने शुरू कर दिए.

अंजलि पीछे और पारुल आगे वाली सीट पर बैठ गयी क्योकि पारुल से मेरी कभी बात नहीं हुई थी तो मुझे थोड़ा उसको समझने में टाइम तो लगना ही था. जैसे ही मैंने प्रिया का बायाँ हाथ उठा कर अपने ऊपर रखा तो प्रिया ने मुझे अपने साथ कस कर भींच लिया. तब उसने मुझको थोड़ी देर बाद कॉल की, जब मैंने बात की, तक पता चला कि ये वो रवि नहीं था.

कल मेरे साथ मेरे घर चलना, मैं तुम्हें चुदाई से पहले की तैयारी करवा दूँगी और सेक्सी कपड़े भी दे दूँगी, जिसे डाल कर तुम मेरे साथ चलोगी.

मैंने उनसे पूछा- मैं कुछ हेल्प करूँ?पहले उन्होंने मुझे देखा, फिर बोलीं- नहीं आप परेशान मत हो. इतना कह कर उसने बिना मेरे उत्तर की प्रतीक्षा किए बिना ही धक्का दे दिया. पापा जी अब बस भी करो ना, चलो पहले खाना खा लो फिर ये सब बाद में कर लेना अब तो टाइम ही टाइम है अपने पास!”अरे बेटा, इतनी जल्दी नहीं अभी आठ बीस ही तो हुए हैं.

छोटी लड़कियों का बीएफमैं देर से इसलिए झड़ा क्योंकि एक बार में उसकी चुत में लंड डालने से पहले ही झड़ चुका था. मैंने भी उन्हें बांहों में भर लिया, कुछ पल खुद को ये एहसास कराया कि हां मैं हकीकत का सामना कर रहा हूँ.

होली पर राजस्थानी कविता

इतनी दयावान इतनी केयरिंग भाभी के लिए मेरे नजर में उनकी इज्जत और बढ़ गई थी. भाभी ने काफी टाइम पहले ही सोच रखा था कि वो भी लंड चूस कर देखेगी, आज उनकी हर ख्वाहिश पूरी हो रही थी और मैं तो एकदम हवा में उड़ने लगा मेरी भी सेक्सी भाभी को चोदने की इच्छा पूरी होने वाली है, मैं बहुत ही प्यार से भाभी की चुत चाटने लगा और भाभी मेरा लंड मजे से चूस रही थी जैसे कि कितने सालों बाद मिला है. रोका किसने है!उसकी सीत्कार निकली, वैसे ही मैंने और जोर जोर से उसकी चुत को चाटना शुरू कर दिया और वो अपनी गांड ऊपर करके मेरी जीभ को अन्दर तक लेने की कोशिश करने रही थी.

उस दिन उसने जींस और मस्त सफ़ेद टॉप पहना था, टॉप इतना टाइट था कि मुझे उसकी पिंक कलर की ब्रा भी थोड़ी थोड़ी दिख रही थी. उसने धीरे से कहा- मुझे एक बार वो क्लिट्स का चित्र दिखा सकते हो?अरे रोशनी तुम तो अपनी खुद की क्लिट्स देख सकती हो, पिक्चर की क्या जरूरत है?”सर मैंने कोशिश की, पर मुझे कोई मटर के दाने जैसी लुल्ली नहीं मिली, वो किस जगह होती है. वो भी मेरे ऊपर के होंठ को अपने दोनों होंठों के बीच रख कर चूसने लगी.

भाभी मुझे लेटा कर मेरे ऊपर आ गईं और मेरे लंड को अपनी चूत पे सैट कर के धीरे धीरे बैठने लगीं. कुछ देर बाद वह आई और बोली कि घर के सभी लोग कहां गए हैं?मैंने बताया, फ़िर मैंने उसे पेप्सी ऑफ़र की, तो उसने पहले तो बनावटी सा ना किया. मैंने निकालने की कोशिश की तो दीदी के मुँह से दर्द भरी सिसकारी निकलने लगी.

फिर उसने नशे में ही उठकर मेरे मुँह में लंड दे दिया, जो पूरा चला गया. उसने अपना मोटा लंड मेरी छोटी सी बुर पर रख दिया और धीरे धीरे अन्दर करने लगा.

वो रिक्वेस्ट करती रही- खा लो!मैंने चुपचाप खाना खाया और बैडरूम में आ गया.

उसने वहां उतरने के बाद कॉल किया तो मैंने हाथ हिला कर इशारा किया कि मैं ही हूँ. बीएफ वाला सेक्सी बीएफमैंने अब रोशनी को धीरे से उठाया और कहा कि अपनी चूत को बाथरूम में पानी से साफ़ करके आओ. पंजाबी बीएफ हिंदीमेरे घर में प्याज लहसुन किचन में रखना वर्जित है, पर जिसे खाना होता है वो बरामदे में रखे प्याज के अलग से रखे हंसिया से काट कर खा सकता है. मैंने पूछा- क्या तुम सिंगल हो?वो बोली- क्यों शादी करनी है?मैंने भी कह दिया- आप कहो तो कर लें?वो बोली- क्या कर लें.

अब मैंने उसको वापस मेरी तरफ घुमा लिया और उसके मुलायम होंठों पे एक किस कर लिया.

मैंने स्कूटी को स्टैंड पर लगाकर किक लगाई, कुछ किक्स में स्कूटी स्टार्ट हो गई. निशा को भी मेरी उंगली का स्पर्श अपनी गांड पर महसूस करते हुए मज़ा आ रहा था. मैंने उससे कहा- अगर तू मुझसे ऐसे बात करेगी तो मुझसे बोलना बंद कर दे.

कुछ देर बाद उसकी चूची को दबाने के बाद मैंने उसको छोड़ दिया, फिर हम लोग ने किसी तरह से मूवी देखी. वह मेरे लंड को ऐसे चूस रही थीं, जैसे छोटे बच्चे दूध की बोतल चूसते हैं… और खास करके उनके पतले होंठों का अहसास मेरे लंड को लोहे सा कठोर बना रहा था. मेरी वाइफ ने उसकी और कोई ध्यान ही नहीं दिया और ऐसे ही टांगें खोल कर बैठी रही.

शुद्ध हिंदी सेक्सी

उसने मुझसे कहा- मेरी कोई जरूरत हो तो बताओ?लेकिन मुझे कोई दिक्कत नहीं थी, तो मैंने मना कर दिया. उसने अपने लंड से 20-25 धक्के लगाए होंगे कि अपना लंड मेरे मुँह से खींच लिया. अलका रानी का रेशमी साटिन जैसा बदन मेरे बदन से चिपक के मेरी वासनाग्नि को अंधाधुंध भड़काए जा रहा था, मेरी सांस तेज़ हो चली थी, माथे पर पसीने की बूंदें उभर आई थीं.

वो झड़ने के बाद थोड़ी देर मेरे ऊपर लेटी रहीं, फ़िर साइड में लुढ़क गईं और जोर जोर से साँस भरने लगीं.

मेरी आप से विनती है कि जिसे मैंने अपने मन-मंदिर का देवता माना है वो देवता ही रहे.

लेकिन हाँ, जिस लड़की की चूत की सील नहीं टूटी होती है उस चूत में शुरू में थोड़ा दर्द होता है, उसके बाद सब नॉर्मल हो जाता है और बहुत मजा आता है. थोड़ी ही देर में वो चाय लेकर आई तब तक मैंने वो xxx वीडियो चैक कर लिया और उसे सेफ्टी के लिए अपने गूगल ड्राइव पे सेव कर लिया. हिंदी में बीएफ हिंदीमैंने उन्हें नीचे लेटा कर उनकी चुत पर आइसक्रीम डाल कर चुत में धक्का दे दिया.

अंजलि लन्ड को अच्छे से चूसने लगी और मेरा लन्ड थूक से बिल्कुल गीला हो गया तो मैंने अंजलि का सिर पकड़ कर अपने हाथों से आगे पीछे करने लगा. मेरे ख्याल से जब वो उसकी क्लिट को छूता था, तब मेरी साली थोड़ा टाईट हो जाती थी और उसका हाथ पकड़ लेती थी. लेकिन अभी पूरी तरह से स्वास्थ्य ठीक न हो पाने के कारण हम दोनों ने अभी सेक्स करना ठीक नहीं समझा.

उनका दूसरा दोस्त मां की साड़ी ऊपर करके नीचे से उनकी गोरी गोरी जाँघों पर अपने हाथ फेरते हुए चूमने और चाटने लगा. फिर मुझे लगा कि अब मुझे नीचे की तरफ बढ़ना चाहिए, इसलिए मैं उनके पेट की तरफ बढ़ने लगा.

हालांकि अर्पिता का पहली बार था, तो उसको थोड़ी उबकायी जैसा लगा, पर फिर धीरे धीरे सही हो गया.

ताकि मैं तुम्हें पहचान सकूँ।वो बोली- ठीक है, तुम कल शाम 6 बजे आ जाना, मैं मेल कर रही हूँ. इस तेज झटके के बीच अचानक लगा जैसे मेरी मूत निकल गई और मैं धड़ाम से माँ के ऊपर गिर पड़ा. उसके भरे हुए मम्मे इतना मस्त मजा दे रहे थे कि हाथों को अब तक उनकी मुलायमियत का अहसास हो रहा है.

इडियन सेक्सी विडिओ मगर हम दोनों के पास ही कंप्यूटर नहीं था तो प्लान बना कि अगले सन्डे को मैं किसी साइबर कैफ़े में जा कर उसको ट्रेनिंग दूंगा. इत्तफाक देखिए, 2 दिन बाद मैंने फिर से उसे देखा, आज भी सेम वही ड्रेस पहने थी.

इसके बाद मैंने खुद ही अपना हाथ उसके लंड पर इस अंदाज में फेर दिया मानो गलती से लग गया हो. उसने मेरे लंड का माल मॉम के सामने थूका और मॉम को बोला- भैया ने ऐसा किया, मेरे मुँह में लंड डाला और अन्दर ये वाइट पानी निकाल दिया. तुम एक एक कपड़ा उतारते हुए डांस करो और फिर चुत को बिना हाथ लगाए, उसका जलवा दिखाओ.

जानवर वाला सेक्स व्हिडीओ

एक रात में मेरी आँख खुली तो मैंने देखा कि मेरी बीवी अपनी चुत में उंगली डाल रही कर आगे पीछे कर रही है तो मैं अपनी वाइफ से बोला- ये क्या कर रही हो?तो बीवी अपनी चुत से उंगली निकालते हुए बोली- अरे आप कब जागे?मैं बोला- जब तुम अपनी चुत में उंगली डाल रही थी. इसकी वजह से मैं अब उसके लिए पूरा पागल हो चुका था… और वो भी ये बात जान चुकी थी. मैं उनकी योनि के पास तक पहुँचता, इससे पहले कविता दीदी ने मुझे ऊपर की तरफ खींचा और मेरे ऊपर चढ़ गईं.

फिर दस मिनट तक लेटे रहने के बाद मैंने उसे उठाया और उसकी चुत और अपना लंड दोनों को साफ किया, उसकी चुत कुछ फूली हुई नज़र आ रही थी. वो एकदम गरम हो गई थी और मेरी पीठ पर जोर जोर से अपने नाख़ून गड़ा रही थी.

वो एकदम अपनी आवाज़ को दबा कर रखना चाहती थी, पर फिर भी उसके मुँह से धीरे धीरे ‘आआअहह.

मेरी चूत भी तुम्हारे लंड की प्यासी हो रही है, प्लीज इसकी आप भी प्यास बुझा दो न. कामिनी जोर से बोली- विवेक डाल दो!विवेक की जीभ अंदर बाहर हो रही थी, कामिनी कामुकता के सातवें समुन्दर में गोते लगा रही थी, उसने अपनी टांगें बिल्कुल फैला दी थी पंखें के परों की तरह से… विवेक उसकी गांड नीचे दबा दबा कर उसकी चूत चूसने में मग्न था. कुछ देर बाद सर ने मुझे बाथरूम में ले जाकर मुझे साफ़ किया, मुझे खून भी निकला था.

उनकी खूबसूरती को चार चांद लगाने में उनके लम्बे बाल पूरी शिद्दत से उनका साथ देते हैंमाँ की गांड भरी और उठी हुई है और उनके मम्मे भी 36डी साइज़ के हैं. फिर लगभग 2 बजे पर मैंने उसे फोन किया तो वो पूछने लगी- ऑफिस में आपके पास कौन है?उस वक्त मेरे पास कोई नहीं था. गोलू ने विक्की की कॉपी से नक़ल करने की कोशिश की, विक्की ने जोर से उसे गाली देकर कहा कि लौड़ा पकड़ ले मेरा.

आज उससे फोन पर बात करके ही मन पक्का हो चुका था कि आज मीशा की चुत की सील तोड़ दूँगा.

बीएफ सेक्सी वीडियो गर्ल: खैर आख़िर हम घर जब आए तो पापा कहीं बाहर गए हुए थे और बिंदु वहीं पर थी, वो हम दोनों को देखते ही बोली- आओ मेरे कमरे में चलते हैं, आज तेरे पापा बाहर हैं. उसने मुस्कुरा कर मुझे गले से लगा लिया और चूमते हुए कहा- ठीक है राजा तुमको भी आज सील तोड़ने का हक है.

जीजा साली की चूत चुदाई में आपको मजा आया? मुझे मेल करें![emailprotected]. और चुदी हुई चुत को जो चोदना चाहे, ये उस पर डिपेंड करता है कि वो कितना देगा. आशीष बोला- यार अभी तक ध्यान ही नहीं दिया कि इसकी गांड कितनी मस्त है। वन्द्या बोल तेरी गांड में डालूं अपना लन्ड?फिर बोला- कुतिया तू ऐसा कर कि अपने होने वाले पति बालू से गांड की सील तुड़वा ले!मुझे बात बिल्कुल सही लगी कि कुछ तो होने वाले पति से अब करवा लूं। नहीं तो पता चला कि उसमें भी पहली बार आशीष ने अपना लन्ड डाल दिया.

फिर उसकी चूत के छेद में मेरा लंड समाता चला गया और मैं उसकी ज़ोरदार चुदाई करता रहा.

उसमें वो सिड्यूसिंग वाला सीन आ रहा था तो अचानक मैं चाची की ओर देखने लगा. पहले मैंने उससे बोला- अपने हज़्बेंड की ड्रिंक की बोतल दे, आज भेजा घूमा हुआ है. साला पाठा का लंड रबर ट्यूब की तरह था, न पूरी तरह कड़क ही था, न ही सुस्त.