बीएफ सेक्स दो

छवि स्रोत,बीएफ बीपी सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

इंग्लिश न्यू बीएफ: बीएफ सेक्स दो, आंटी मुस्कुरा कर मुझसे बोली- क्या तुम इसी लिए मुझे यहाँ लेकर आये थे? मैं देख रही थी कि तुम्हारी नजर मेरे जिस्म पर है.

हिंदी ब्लू वीडियो बीएफ

आह्ह … जब पूरा लंड चला गया तो बुआ के मुंह से एक आवाज निकली ‘स्सस … आआ …’पूरा लंड चूत में लेकर बुआ ने ताऊ के लंड पर उछलना शुरू कर दिया. बीएफ एचडी हिंदी फिल्मजींस उतारते ही मुझे उसकी खूबसूरत टांगें और पेंटी में कैद रोती हुई फूली सी चूत दिखी.

फिर उसकी टी-शर्ट और ब्रा निकाल कर मैंने उसके मम्मों पर हमला बोल दिया. बीएफ ट्रिपल सेक्स व्हिडीओमैं उनसे छूटने की पूरी कोशिश कर रही थी मगर उनकी ताकत के सामने मैं कुछ भी नहीं थी.

यह कहकर भोला ने मेरी चूत में अपना लंड जड़ तक घुसा दिया और फिर पूरा लौड़ा अंदर-बाहर करते हुए आवाज निकालने लगा.बीएफ सेक्स दो: लेकिन अब वो मेरे पेट पर जीभ चलाते हुए मेरी गांड में उंगली डालने का भरसक प्रयास कर रही थी, लेकिन उसकी उंगली अन्दर नहीं जा रही थी.

पर ये सब करने के पहले मैं अन्तर्वासना की कोई नयी कहानी जरूर पढ़ती हूं ताकि मैं गर्म हो जाऊं और चूत रसीली हो उठे तभी डिल्डो का असली मज़ा आता है.उस पर से मोनी का अब करवट बदलकर अपना मुँह मेरी तरफ कर लेने से मैं और भी बेचैन सा हो गया।मैंने अब एक बार फिर से अपना मुँह दूसरी तरफ करके सोने की कोशिश तो की लेकिन मुझे चैन नहीं मिल रहा था। अजीब सी कश्मकश में उलझ गया था मैं.

बीएफ भेजो जल्दी - बीएफ सेक्स दो

वो बोले- क्या हुआ? क्या देख रही हो?कुछ नहीं … मैंने कभी ऐसा नहीं देखा.बस साला थोड़ी देर तक मेरी चूत को सहला देता था और फिर मेरे ऊपर चढ़कर मुझे चोद देता था बस.

एक दिन हम दोनों साथ बैठ कर एक फ़िल्म देख रहे थे, तो उसमें एक सेक्स सीन आया. बीएफ सेक्स दो मैंने बाथरूम में जाकर अपनी चूत को अच्छे से पानी मारकर धोया तो उसमें जलन हो रही थी.

मौसी भी शिथिल होकर उन औरतों से बोलीं- अब बस करो … हम दोनों को छोड़ दो.

बीएफ सेक्स दो?

मैं बिल्कुल धीरे-धीरे और आहिस्ता-आहिस्ता से ही मोनी के बदन को अपने शरीर से घिस रहा था. मोहल्ले का हर मर्द उसे चोदने के सपने देखता होगा पर वो मेरे ही नसीब में थी. दीदी ने भी जीजा जी के चूतड़ों को अपने हाथों में भर लिया था और दूसरी तरफ से उन्होंने जीजा के लंड को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

मैंने दिखावटी गुस्से में कहा- क्यों … बड़ी पागल है तू!तो वो शरारती अंदाज़ में बोली- अपनी चीज मैं किसी को नहीं देती. वो मेरे कंधों को सहलाता हुआ बोला- हनी मैं तुमको नहीं पहचान पाया था … मैं सोच रहा था कि साला कितना मस्त माल आया है. भाबी ने ये कहा और लंड को दबाते हुए मुझे छेड़ा- देखो तो कितना रॉड की तरह तना हुआ खड़ा है.

मैंने तुरंत चाची को बेड पर लेटा दिया और दोनों टांगों को फैला कर लंड चूत के मुँह पर सैट करने के बाद जोर जोर से चोदने लगा. फिर उसने अपना लंड मेरी चुत पर सैट किया और मैं लंड ले कर ऊपर नीचे होकर मज़े लेने लगी. जिस वक़्त की ये बात है, उस वक़्त मैं इंजीनियरिंग कर रहा था और मेरी उम्र लगभग 25 साल होगी मतलब मेरी भतीजी मुझसे लगभग 7 साल छोटी थी.

मैंने कई बार उससे कहा कि मुझसे गांड मरा लो तो वो भक्क कहकर चला जाता. मुझे नहीं पता कि उसके पति ने उसकी चूचियों को कभी पीया भी था या नहीं मगर जिस तरह से मोनी व्यवहार कर रही थी उससे मुझे ऐसा लग रहा था कि कोई मर्द उसकी चूचियों को जैसे पहली बार पी रहा है.

फिर मैंने दिशा को लेटाकर बिना देरी किये अपना लंड एक जोरदार धक्के के साथ घुसेड़ दिया … जिससे दिशा कराह उठी.

मेरे जीजा जी के साथ मेरा जो सेक्स हुआ था उसके बारे में भी मैंने सुमन को बताया था.

अपने बैग से मैंने अपना व्हिस्की का हाफ निकाला और सीधे बोतल से नीट दारू खींच ली. भाबी के इस तरह लंड सहलाने से मैं उत्तेज़ित हो कर भाबी के कपड़े उतारने लगा. दो मिनट ऊपर से अनुषी के देवर की ओर देखा कि कहीं जाग तो नहीं रहा था.

हिना बोली- कहिये पंकज जी?मैंने कहा- मुझे आपकी गांड में भी लंड डालना है. जब सुमन गर्म होने लगी तो उसने मुझे अपनी बांहों में अच्छी तरह पकड़ लिया. अब वो वैसा ही करती और मैं भी थोड़ा सा अपने पेट को हल्का करते हुए गांड को फुला-पिचका रहा था ताकि उसकी उंगली अन्दर चली जाए.

हमें किस करते हुए दस मिनट से ज्यादा हो गया था, पर काजल अभी भी मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी.

उसने चूल्हा बंद किया और पलट कर मेरी बांहों में समा गई उसने खुद को मेरे हवाले कर दिया. मैंने उससे मजाक में पूछा- मुझे चोदने का मन है?नहीं नहीं मेमसाब, ऐसा मैं सोच भी नहीं सकता!” वो डर के बोला. जब मेरे मुँह में उसका लंड था और मैं जब उसका लंड ज़ोर ज़ोर से चूस रही थी, तब अचानक मेरे मुँह के अन्दर कुछ हुआ.

वो अब तक किसी से चुदी नहीं थी इसलिए पहली बार चूत की सील टूटने का खून था. डॉली बाहर आई, कार में बैठी तो मैंने पूछा- पेपर कैसा हुआ?तो खुशी से उछलकर बोली- बहुत अच्छा. तेरा रुकना-खाना सब फ्री … आज के बाद कभी भी तू आ सकती है, ये मेरी गारंटी है। मैं रहूं ना रहूं, बस मेरा नाम बता देना.

मैं उसकी चूत को देख कर अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था और मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिये.

वो बोली- वाओ मस्त … अब मैं तेरी और बाबू जी की चुदाई देखना चाहती हूँ. अब हम दोनों को रोज फेसबुक पर और व्हाट्सैप पर घन्टों बात करते रहने की एक आदत सी पड़ गई थी.

बीएफ सेक्स दो वो चुपके से धीमी आवाज में कह गई- पेपर के बाद मुझे एग्जाम रूम के बाहर मिलना. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:ज़िम वाले लड़के के साथ दोबारा सेक्स का मजा लिया-2.

बीएफ सेक्स दो मैं कुछ देर के लिए रुक गया, लेकिन वो दर्द के मारे अभी भी बहुत जोर जोर से चिल्ला रही थी. खैर जी! मैं नियत दिन, नियत समय पर शिमला जा पहुंचा, टेंडर हमारे हक़ में ही खुला.

उसने आंखें बंद कर ली और मेर सर पकड़ कर अपनी चुत पर झुकाने लगी और बोली- चूसो मेरे भोले राजा … मुझे भी मजा दो!मैंने भी उसकी चुत को चूसना शुरु कर दिया.

एचडी सेक्सी फुल एचडी

हम दोनों लोग ये सब कपड़ों के ऊपर से ही कर रहे थे क्योंकि बस में हम नंगे हो कर ये सब नहीं कर सकते थे. अगले दिन रात को मैंने उनकी गांड भी मारी, जिसका मजा मैं बयान नहीं कर सकता. फिर आंटी बोली- सुमित, ज़रा काम में मेरा हाथ बंटा दो।मैं बोला- क्यों नहीं! अभी आता हूं आंटी.

भाभी की गुलाबी चूत देख कर मेरी लार टपक गई … उनकी चूत पे एक भी बाल नहीं था. अब मैं हर दिन अपने कपड़े छोटे और टाइट ही पहनने लगी थी और बाथरूम में जानबूझ कर अपनी यूज़ की हुई पैंटी छोड़ देती थी. मैंने उसकी गांड की तेजी के साथ धक्के देते हुए चुदाई चालू कर दी और उसको चोदते हुए धीरे-धीरे हॉल की तरफ चलाने लगा.

मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]मुझे आपके अमूल्य फीडबैक का इंतज़ार रहेगा.

इस तरह से नम्रता की चूत और गांड के छेद बहुत अच्छे से नजर आने लगे और फिर बाकी का काम मेरी जीभ ने करना शुरू कर दिया. शायर कहता हैउम्मीद ग़ुम यास ग़ुम, हवास ग़ुम क़यास ग़ुमनज़र से आस पास ग़ुम, हमा बजुज़ चुदास ग़ुम”अर्थात चुदाई और सिर्फ चुदाई के सिवा दिल और दिमाग से सब कुछ ग़ुम हो चुका था. देखते ही देखते उसका लंड तन गया और फिर उसने एकदम से अपने लंड को पैंट के बाहर निकाल कर उसकी मुट्ठ मारते हुए हिलाने लगा.

उसके रूम में पहुंच कर जब मैंने उससे पूछा- ऐसे चोरी की तरह क्यों आए हम?उसने आंख मार के कहा- सब जग न जाएं. मैं जैसे जैसे भाभी के चूचों को ज़ोर से दबाता गया, वैसे वैसे भाभी की कामातुर सीत्कारों की आवाज़ भी बढ़ती गई. मैं दर्द से चिल्ला उठी- भोसड़ी के मार डाला मुझे, निकाल बाहर अपना लंड … मुझे नहीं चुदवाना है.

उसकी भूरी आंखें, काले लंबे बाल और उसके होंठ तो गुलाब की पंखुरियों से थे. मेरी दोनों चुचियां एक साथ उसके मुँह में जाने से और दोनों होंठ से दबाने से में भी बहुत उत्तेजित हो गई.

मैडम मेरे सामने वाले सोफे पर बैठ गयीं और एक टांग दूसरी टांग पर टिका कर आराम से हो गयीं. मेरे मुहँ से अह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आअह … और करो … मजा आ रहा है … आह!उसने चाट चाट कर मेरी पूरी चुत साफ़ कर दी. उस पर से मोनी का अब करवट बदलकर अपना मुँह मेरी तरफ कर लेने से मैं और भी बेचैन सा हो गया।मैंने अब एक बार फिर से अपना मुँह दूसरी तरफ करके सोने की कोशिश तो की लेकिन मुझे चैन नहीं मिल रहा था। अजीब सी कश्मकश में उलझ गया था मैं.

उसने मुझसे कहा कि मेरी भाभी ने मुझसे बोला है कि मैं लकी हूँ कि मुझे तुम जैसा चोदू मिला.

मेरी पीठ दीवार पर लगी थी और उसका हाथ मेरे लंड को मसलने और सहलाने लगा. मैं वहां इसलिए भी जाने लगा था कि मेरे दोस्त के घर के एक हिस्से में बने एक फ्लैट में नए किरायेदार आए थे. यह कहकर मैंने महेश को धक्का देकर गिरा दिया और गीतू की चूची दबाने लगा.

मैंने उसको पीछे की तरफ़ सीढ़ी पर बैठा दिया और उसकी मस्त टांगों को फैला कर उसकी चुदासी चूती हुई चूत पर अपना मुँह लगा कर चूसने लगा. मैंने पिन को उसके एक निप्पल पर धीरे से चुभो दी, तो वो आहें भरने लगी.

थोड़ा आराम करने के बाद नहा धोकर मैंने उसको कॉल किया- मैं पंकज बोल रहा हूँ और मैं बैंगलोर आ गया हूं. वो अपने आप को नंगी देख कर घबरा गई और गुस्से से बोली- तू ये क्या कर रहा है मेरे साथ … तुझे शर्म नहीं आती क्या?मैं चुपचाप उसके सामने नंगा खड़ा हुआ था. वे बोलीं- पति देव, आज तो कमाल कर दिया … अब तो तुझे रोज ऐसे ही चटाऊंगी.

अचानक ठंड लगने के कारण

वो बोली- अगर दोबारा वही नजारा सामने हो तो क्या करोगे?मैंने कहा- अबकी बार तो काट कर खा ही जाऊंगा.

जब भी वो अपने मायके वाले गांव जाती थी, तब मैं उससे मिलने चला जाता था. इस तरह मैंने सुकांत जी को बुधवार को मेरे बैंक या ऑफिस में बुलाया; मैंने सोच रखा था कि सुकांत जी को लेकर अपने घर चली जाऊँगी फिर डिनर वगैरह के बाद सारी रात हमारी ही होगी. उसे इस कंडीशन से बाहर लाने के लिए मैं उसके गाल अपने हाथों से सहलाने लगा.

फिर उसने मेरे कंधों से मुझे पकड़ कर ऊपर उठाते मुझे अपने ऊपर गिरा लिया. मेरी हिम्मत बढ़ी और मैंने उसकी चूची को अपने हाथ में भर लिया और उसको दबाने लगा. बीएफ चोदा चोदी सेक्सी वीडियोमैंने पट्टी निकाल दी और सोचने लगा कि शायद मुझे सबसे पहले दिशा चोदने को मिलेगी.

इसके बारे में तुम्हें पता नहीं था। तुमने सोचा घर पर केवल रीना और तुम ही हो। तुमने अपने स्तनों पर टॉवल लपेटकर अपने कूल्हे व स्तन ढक रखे थे। उस वक्त मैं ऊपर वाले कमरे में ही था. मेरे साथ देते ही उसको भी मज़ा आ गया और उसने धीरे धीरे किस करते करते मुझे जकड़ना चालू कर दिया.

मैं अभी स्टूडेंट हूँ और मुझे अपनी पढ़ाई और एग्जाम के चलते दूसरी सिटी में भी जाना पड़ता है. उसका लंड राकेश से काला था और मोटाई थोड़ी कम थी और लम्बाई बराबर!मैंने जल्दी से उसे मुंह में ले लिया और चूसने लगी. मेरे रूम में केवल मैं और मैडम ही थे इसलिए मेरी हवस उबल-उबल कर बाहर आ रही थी.

उनको जो भी देखता है, उसके सोये हुए अरमान जाग जाते हैं कि वो मेरी बुआ को चोद कर अपना लंड शांत करवा लें. मैंने सुमिना के कमरे की तरफ कदम बढ़ाने शुरू किये तो आवाजें और तेज होती जा रही थीं. वो बोला- सॉरी डार्लिंग, इट्स जस्ट फॉर ए मिनट देन यू विल इन्जॉए अ लॉट.

हम दोनों जब भी आमने सामने होते थे तो वो मुझे देख कर मुस्कुराता था और मैं भी उसको देख कर मुस्कुराती थी.

इस बार मैं लंड पेलने के बाद उसे धीमे धीमे चोद रहा था, जिससे वो मजा ले ले कर सीत्कार करने लगी- आह आह अह ओह भाई चोद आह चोद डाल … अपनी बहन की चुत … आई लव यू भाई!उसकी मीठी कराहें सुनकर मैंने भी अपनी रफ्तार बढ़ा दी और सोनल भी मेरे साथ गांड उठा कर चुदाई का मजा लेने लगी. मैं मम्मी के पास गई और बोली- मम्मी अंकल आए हैं … वे नीना को इंग्लिश समझा रहे हैं, क्या मैं भी चली जाऊं?भला इस काम के लिए मम्मी मुझे क्यों मना करतीं.

इस तरह से हम दोनों ने एक-दूसरे के उस अंग को अच्छे से साफ किया, जिसके बिना कोई इस संसार की कल्पना नहीं कर सकता था. इसके बाद मैंने मिशी भाभी को पलटा और ऊपर आ कर धक्के देते हुए उसकी चुत में झड़ने लगा. वो भी गालियाँ बके जा रहा था- रंडवी साली … तेरे भोसड़े में मेरा लोड़ा … तुझे आज घोड़ी बना दूंगा, तेरी चुत चोद चोद कर फाड़ दूंगा, तेरी गांड मार दूंगा.

जीजा-साली की ऐसी गर्म चुदाई देख कर उसकी चूत ने भी वहीं पर पानी छोड़ना शुरू कर दिया और मैंने हेतल की गांड पर अपना तना हुआ लंड रगड़ना चालू कर दिया. भाई ने मुझे एक स्माइल दी और मेरी टावल खोल कर मेरी चूचियों को चूसने लगा. आह्स्स … जीजा … आह … मेरे मुंह से कामुक सिसकारियाँ और ज्यादा तेज होती जा रही थीं.

बीएफ सेक्स दो कुछ देर के बाद जब मैंने पीछे मुड़ कर देखा, तो पाया कि आतिशा रूम के दरवाजे पर खड़ी होकर फिल्म देख रही थी. पर थोड़ी देर के बाद महसूस हुआ कि उसकी चुत फड़फड़ाने लगी थी, जिसकी वजह से में रुक नहीं सका और उसने भी मुझे रोकने की कोशिश नहीं की.

सेक्स video download

सुबह उठने के बाद मैंने हाथ मुंह धोया और किचन में गया तो माँ नाश्ता बना रही थी. भाभी ने कुछ नहीं कहा तो मैंने बड़े रोमांटिक मूड में आगे बोल दिया- मुझे तो कोई और पसंद है. तभी मैंने उन्हें पलट दिया और डॉगी स्टाईल में चोदना शुरू कर दिया क्योंकि मैं उनकी गांड पे चमाट मारते हुए उनकी चुदाई करना चाहता था.

लेकिन तू ऐसा क्यूं पूछ रही है?मानसी बोली- झूठ मत बोल चुदक्कड़, तू राज से ही चुदवाने के बाद तो ससुराल गयी है. फिर अंकल ने आंटी को अपने लंड पर झुका दिया और आंटी ने अपना मुँह खोलकर अंकल के लंड का स्वागत किया. बीएफ नंगी मेंमैं नहाने चला गया और वापस आ कर देखा, तो उसने मुझे 20000 दिए और कहा कि पंकज अब आप पलंग पर लेट जाओ.

पर मेरा दूध बहुत बड़ा होने के कारण उसके मुँह में नहीं जा पा रहा था.

एक लड़के ने दूसरे से कहा- राजेश तू इसकी चूचियों को नंगी कर दे और मैं तब तक इसकी चूत के दर्शन कर लेता हूँ. उनके धक्के इस बार काफी दमदार लग रहे थे और बुआ कीचूत में दर्दहोने लगा था.

अंकल- जरूर बेटा … वैसे मैंने आज तक तुम्हारी अम्मी को बुरी नजर से नहीं देखा, मगर अब हमेशा देखूंगा. उसने भी गाली बकी- अबे गांडू साले चोद दे आज … तेरा मस्त लौड़ा मेरी चूत की खुजली मिटा रहा है … अन्दर तक पेल आह … भैन के लौड़े. मैं वापस कमरे में आया और गुप्ताइन को फोन करके पूछा- यह लड़की कौन है?तो बोली- मेरी भतीजी है, गोरखपुर से आयी है.

वहाँ पर जाने के बाद मैंने देखा तो उन्होंने एक व्हिस्की की बोतल निकाली और गिलास में डालने लगे.

उसकी बातों से मुझे लगने लगा था कि ये तो मुझसे खुद ही पटी हुई निकली. वो जानता था कि इससे अच्छा मौका मुझे शायद ही फिर मिलेगा, सो वो ज़िद करके निकल गया. मैं उसका असली नाम नहीं बता सकती क्योंकि अगर कहीं किसी जानने वाले ने पढ़ लिया तो मुसीबत हो जायेगी.

भाभी की चुदाई सेक्सी वीडियो बीएफअपनी मदमस्त फिगर के बाद मैं आप सभी को अपनी फैमिली के बारे में भी बता दूं कि मेरे घर में मैं, मेरी मम्मी और पापा रहते हैं. कुछ देर तक उसके चूचों को चूसने के बाद मैंने उसकी पैंटी को निकलवा दिया और उसको नंगी कर दिया.

गुदा में दरार

मैंने पीछे से उनकी चूत में लंड डाल दिया और काफी देर चोदने के बाद खुद को चरम पर आता हुआ महसूस किया तो मैंने आंटी से कहा- मेरा निकलने वाला है. मैंने उसे गाल पे किस किया और उसे वैसे छोड़ कर टेबल की तरफ बढ़ा, जहां वाइन की बॉटल रखी थी. जब सारा सुहागरात का पूरा किस्सा सुना चुकी तो ज़रीना कहने लगी- आमिर, आप बहुत अच्छे तरीके से चुदाई करते हो … आप तो इंगलैण्ड चले गए थे और आपने नूरी खला को बोला था आपकी कई गर्लफ्रेंड थी.

मैंने उसकी सलवार को खोल कर नीचे खींच दिया और उसे अपनी वाली जगह पर दीवार के साथ सटा दिया. मैंने सब कपड़े पहने मतलब ब्रा पेंटी साड़ी आदि सब पहने और लिपस्टिक भी लगा ली. मैंने उसकी जुल्फों को हटाते हुए कहा- कहां चल दीं जानेमन?मेरी नाक को दबाते हुए नम्रता बोली- फ्रेश होने जा रही हूं, उसके बाद तुम्हारे घर चलना है.

चौंकते हुए अंकल ने कहा- क्या बात कर रहे हो बेटा … मेरे साथ अपनी अम्मी की चुदाई को तुम देखना चाहते हो?मैं- हां अंकल … मैंने अम्मी को उस वक्त हमेशा पूरी नंगी देखा है … जब वो अपनी चुत में नकली लंड डालती हैं. हुआ यूं कि हम दोनों ने सेक्स करने का तय कर लिया तो मैंने सुकांत जी को अपने यहां इसी हेतु बुलाया. इसलिए जब मैं प्रिया से मनमीता के बारे में बात करता था तो उसके चेहरे पर एक शरारत भरी मुस्कान फैल जाती थी.

जिस कमरे में उनकी बहन बैठी थी उसी में मैं और भाभी भी बैठ कर बातें कर रहे थे. मैं उसको चोदता रहा और बीस मिनट की जोरदार चुदाई के दौरान वह दो बार झड़ गई.

इससे मेरे मुँह से आवाज निकलने लगी- ओह राधिका कम ऑन … आह और चूसो मेरी जान … आह ओह आह अह.

वो भी बेबाक हो कर बोली- वो चीज क्या … साफ़ बोलिए न?मैंने कहा- छोड़ … तू नहीं समझेगी, तू अभी छोटी है. बीएफ फिल्म की वीडियो दिखाएंमैंने मामी से पूछा- आपको मजा आ रहा है?वो बिना कुछ बोले मेरे बाल पर अपना हाथ फिरा के मेरा साथ देने लगीं. देसी बीएफ अंग्रेजीचाची ने मेरे लंड से चुद कर अपनी चूत की प्यास को तो बुझा लिया था, लेकिन उनके बार बार कहने पर भी मैंने उनकी चूत की नहीं चाटा था. उसने अपनी स्कर्ट कमर तक उठा ली और अपनी चूत को मेरे लण्ड से सटा लिया.

दोस्तो, मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ बताना और किस किस की चूत गीली हुई … ये भी बताना.

अब मैं आंटी की ड्रेस पर ध्यान दिया तो उसकी नाईटी तो एकदम ट्रांसपैरेंट थी. उसने तेजी से मेरी गांड की चुदाई की और लगभग बीस मिनट की चुदाई के बाद वह मेरी गांड के अंदर खाली हो गया. फिर मैंने उसकी दोनों टांगें उठाकर चूत चोदी और पूरा माल चूत में छोड़ दिया.

तो मैंने उससे पूछा- मुझे इतना दर्द क्यों हो रहा है?वो बोला- तुम्हारी सील मेरे एक ही झटके से टूट गई है इसलिए … पर अब दर्द नहीं होगा. मैं चुपके से उसके लंड से चुदाई का मजा लेती रहती हूँ और घर वालों को भी कुछ पता नहीं चल पाता हम दोनों के सेक्स कांड के बारे में. हम दोनों सिनेमा हॉल में कॉर्नर वाली सीट पर एक साथ मूवी देख रहे थे, वो मुझे अपनी बाँहों में लेकर मुझे मूवी दिखा रहा था.

सेक्स विडियो हिंदी ऑडियो

नम्रता भी मेरे लंड को चूसने लगी और बीच-बीच में सुपाड़े पर जीभ चलाती जाती. मैंने अपने दोनों हाथों से वसुन्धरा का चेहरा कनपटियों पर से थामा और पहले तो वसुन्धरा चेहरे पर, माथे पर, गालों पर, कानों पर कानों की लौ पर, चिबुक पर और यहां-वहां ढेर सारे चुम्बन लिए और फिर उसके दोनों होंठ अपने मुंह में लेकर मज़े-मज़े से चूसने लगा. इसलिये मुझे हल्का डर सा लग रहा था कि कहीं मोनी कल रात के बारे में कुछ बोल न दे।वो कहते हैं न- चोर की दाढ़ी में तिनका! बस वही हाल मेरा था.

उसने मेरी चूत को मसलने के बाद मेरी चूत पर अपना लंड रख दिया और मेरी चूत को लंड के सुपारे से रगड़ने लगा.

फिर वो बोला- सर कुछ और चाहिये हो तो प्लीज़ 9 नम्बर पे कॉल कर दीजिएगा.

फिर ऐसे ही प्यार से छोटे छोटे धक्कों के साथ मैंने अपना पूरा लंड स्वीटी की चूत में डाल दिया. उसके ब्लाउज में भरे हुए चूचे देख कर मैं उन पर टूट पड़ा और उनको ब्लाउज के ऊपर से ही जोर से भींच दिया. बीएफ डॉग वालाशादी से पहले कभी किसी के साथ कुछ किया नहीं था, सीधा सुहागरात पे शौहर से ही जिस्मानी सुख मिला.

मैंने आखिरी हमला किया, काजल के होंठ को छोड़ कर मैंने उसकी ब्रा निकाल दी. हम सब लोग पार्टी कर रहे थे और उस दिन उन्होंने एक मेल एस्कोर्ट को भी बुलाया हुआ था. अबकी बार मैं उसके लंड को ऐसे प्यार से चूस रही थी, जिससे उसे भी मज़ा आए.

दीदी अपने पति से अपनी गांड को चुदवाते हुए नॉर्मल होने की कोशिश कर रही थी मगर जीजा के धक्के बहुत ही तेज थे. मुझे विकी का बुरा नहीं लग रहा था, पर शरद के साथ किया उसका ज्यादा बुरा लग रहा था.

उसने मुस्कुरा के सर हां में हिला कर मुझे जवाब दिया और लंड के सुपारे पर अपनी जीभ फिरा दी.

उस रात चूंकि स्वीटी का पहली बार का चोदन था, तो ज्यादा न चोदते हुए पूरी रात में एक बार और चुदाई का खेल हुआ. मेरे को क्या मालूम … मैडम बड़े बिगड़े हुए मूड में हैं … तुमने कोई न कोई शैतानी की होगी … तुम हो ही एक नंबर के शैतान लड़के. मैंने तुरन्त कहा- शनिवार को तो मैं लखनऊ जा रहा हूँ, दो घंटे का काम है.

सेक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी टॉप पूरी तरह टाइट था, उसके मस्त चुचे टॉप फाड़ कर बाहर आने को बेताब थे. फिर वे मुझे होटल के पास ही एक पार्लर ले गए और मुझे वहाँ फुल बॉडी हेयर रिमूवल करने को बोला.

उनकी गांड के नीचे तकिया लगा होने के कारण पूरा लंड उनकी चुत में अन्दर तक जा रहा था. उनके इस कदम से मैं सिहर उठी और मेरी एक हल्की सी आह निकल गई ‘आईई …’उन्होंने तुरंत अगला कदम ले लिया और टी-शर्ट को मेरे मम्मों तक चढ़ा दिया. मुझे मोटा लंड बहुत पसंद है और मुझे मोटा लंड के साथ लम्बा लंड भी पसंद है.

सेक्सी फिल्म वीडियो नेपाली

उन्होंने पूछा- उसके साथ कभी सेक्स किया था?मैंने बोला- हां 1-2 बार, लेकिन वो बहुत डर डर के सेक्स करती थी. जैसे उसकी जान में जान आ गयी हो। उसकी आँखें वासना के नशे में एकदम लाल हो चुकी थीं. जब राज हमारे घर पर आया हुआ था तो उस दिन माँ और पापा कहीं काम से बाहर गये हुए थे.

मैंने देखा कि मेरी माँ के बूब्स बहुत ही मोटे थे और उसके निप्पल बिल्कुल भूरे रंग के थे. ताऊ जी मेरी बुआ के चूचों को चूसते हुए कमर चला कर उनकी चूत मार रहे थे.

मौसी ने एक बार फिर मेरी तरफ गुस्से से देखा और छी करते हुए मेरे लंड की तरफ झुक गईं और मेरे लंड को पकड़ कर सुपारे पर थूक दिया.

मेरे शौहर ने टिकट देखे और फिर पैसे देने लगे, पर विकी ने लेने से मना किया. वैसे तो उसको देख कर ही मेरे मुंह में पानी आ गया था लेकिन मुंह के साथ-साथ लंड में भी पानी आने लगा था. पूरे कमरे में हमारी गरमागरम सांसों की जोर जोर से आवाज और ‘फ्च्फ्च्फ् … व्ह्च्फ्च.

मैं काजल को थोड़ा तड़पा कर और गर्म करके उसके मुँह से बुलवाना चाह रहा था कि मुझे चोद दो. उसको पता था कि मैं कितनी चालाक हूँ, बाहर ध्यान दे सकती हूँ, इसलिए वो मेरे जिस्म के उभार के मजे ले रहा था. ये मुझे चोदने के लिए अपने शहर से आये हुए बैठे थे और मैं उनसे दूसरे ही ढंग से पेश आ रही थी.

मैं जानना चाहती थी कि योनि में लिंग जाने पर चूत में कैसे मजा आता है.

बीएफ सेक्स दो: फिर बारी आयी उस चीज की जिसकी कल्पना करना किसी लड़की के लिए बहुत मुश्किल होता है. फिर अंकल बोले- मुझे औरतों की गांड पर चांटा मारते हुए चोदना पसंद है.

सुमन का हाथ मेरी चूत पर आकर उसको सहलाने की कोशिश कर रहा था और मैं जैसे सुमन के जिस्म में घुस जाना चाहती थी. इन पिछले पांच छः महीनों में मुझे मेरे प्रशंसकों के पचासों मेल मिले जिनमें मेरी अदिति बहूरानी के बारे में और लिखने का आग्रह किया गया; यहां अन्तर्वासना के कमेंट्स में भी मुझे स्मरण कराया गया. इसके बाद वो अपने कड़ियल लंड से धकाधक चोदने लगता, जिससे मेरी चूत झड़ ही नहीं पा रही थी.

सौ लोगों के हुज़ूम में अकेली दहाड़ने वाली शेरनी, ऐसे सहमी सी बैठी थी जैसे अदालत में एक ऐसा मुजरिम सहमा बैठा हो जिस को अभी … बस अगले ही पल सज़ा सुनाई जानी बाकी हो.

रूम में जाते ही मैं सोचने लगा की मॉम को चोदना ठीक होगा या नहीं? सोचते-सोचते मेरे दिमाग ने यही सुझाव दिया कि माँ एक औरत है और मैं एक मर्द हूँ. जीजा जी बार-बार मेरे रूम की तरफ देख रहे थे कि मैं उनको देख रही हूं या नहीं. मैंने इस बात पर ध्यान ही नहीं दिया कि जीजा जी की आंख भी खुल सकती है.