xxx हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,एचडी बीएफ सेक्सी कॉम

तस्वीर का शीर्षक ,

मटका कार्टून: xxx हिंदी बीएफ, मैंने उसकी दोनों चूचियों को अपने दोनों हाथों में भरा और जोर जोर से भींचने लगा, जिससे उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं.

वीडियो बीएफ हिंदी में वीडियो

मेरा लण्ड मम्मी की चूत के अन्दर था और मम्मी की चूची मेरे मुंह के अन्दर. भानगढ़ की बीएफबेटा अपने दोस्तों के साथ और बहू अपनी कुछ फ्रेंड्स के साथ बिजी हो गयी.

मैंने पूछा- अब ऐसा क्या हो गया है?वो बोली- आपको सब पता तो है … अब हम बड़े हो गए हैं … और ये सब बातें हमें पता लग गयी हैं कि नंगा नहीं रहना चाहिए. बीएफ सेक्सी इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियोमेरे लंड में एकदम से करंट सा दौड़ गया और मैंने अपनी अंडरवियर को निकाल दिया.

मोहन ने मेरे बाल पकड़ कर मुझे खींचा और मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया.xxx हिंदी बीएफ: मुझे दीदी की चूचियों को दबाने में बहुत मजा आ रहा था और दीदी भी मेरी हरकतों को पूरा मजा लेकर इंजॉय कर रही थी.

यही सही समय था … मैंने उसे बेड पर लिटाया और मैं बेड से सट कर खड़ा हो गया.इस दौरान कई बार चाचा को उठाते समय चाची के बूब्स मेरे बदन से टच हो जाते थे.

कुंवारी लड़की का सेक्स बीएफ - xxx हिंदी बीएफ

जैसे ही उसने हां कहा तो मैंने उसकी चूत में जीभ से चाटना शुरू कर दिया.यह मेरी खुद की कल्पना से लिखी कहानी है कि कैसे मैंने एक तरफा प्यार को पाया।मेरा नाम अंकित है और मैं एक लड़की से स्कूल के समय से काफी प्यार करता था.

मैंने अपने धक्के तेज कर दिए और रूबी भी गांड उठाकर मेरा पूरा साथ दे रही थी. xxx हिंदी बीएफ मैंने कहा- मेरा निकलने वाला है तो?वो बोली- मेरा ऑपरेशन हो चुका है, अंदर ही निकाल दो जानू, प्रेगनेंसी के कोई डर नहीं है.

रास्ते में जाते हुए मैंने मेडिकल शॉप से एक कॉन्डम का पैकेट भी खरीद लिया.

xxx हिंदी बीएफ?

वो मेरे ऊपर लेट गई और अपने दोनों पैरों को फैलाकर मेरे पेट पर आगे पीछे होने लगी. यही सही समय था … मैंने उसे बेड पर लिटाया और मैं बेड से सट कर खड़ा हो गया. मैं यह जानता था कि किले का फाटक बहुत मज़बूत है, उससे ध्वस्त कर किले में प्रवेश करना आसान नहीं है.

मैं इतना बोली ही थी कि हरामी ने एकदम से पूरा लंड मेरे चूत में डाल दिया. थोड़ा रुकने के बाद जब वह नॉर्मल हो गई तो मैंने लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया. मैंने कहा- बहू, आज 10 बज गए हैं मगर रानी नहीं आयी?बहू बोली- मैंने उसे 2 दिन की छुट्टी दे दी है.

करोना को अपने लण्ड को कनखियों से निहारता हुए देख कर औरतखोर चिन्ना बहुत खुश हुआ सोचने लगा कि अब कुछ ही देर बाद करोना की चूत का कुंवारा पानी मेरे नागराज को चखने के लिए मिलेगा. और जब दिन में चिन्ना भाषण देता तब बेचारी करोना नीचे खड़ी होकर चिन्ना अंकल के लण्ड की चुसाई करके उसकी सेवा में लगी रहती. उसके बाद फिर से उसके होंठों को चूसने लगा और हाथ से रचना भाभी की चूचियों को पकड़ कर मसल रहा था.

आह्ह … लंड जब उसकी कोमल गांड में रगड़ खा रहा था तो ऐसा मन करता कि उसके जिस्म के हर छेद को चोद कर चौड़ा कर दूं. इसी उधेड़बुन में अनायास ही उसके हाथ चिन्ना अंकल के लण्ड की तरफ बढ़ गए.

मैंने उसकी चूची के निप्पल को चूसते हुए कहा- मुझे भोसड़ समझ रखा था क्या?इस पर वो बोली- तो रिचा को भी साथ बुला लूं?मैंने कहा- चुत लंड का कोई रिश्ता नहीं होता है.

बहू बोली- पक्का डैडी जी, मैं इस बार आऊँगी तो प्रेग्नेंट होके आऊँगी.

यह कहते ही सिम्मी ने मुझे गले लगा दिया।उसके सुडौल स्तन मुझ पर चुभ रहे थे. चिन्ना ने स्लेक्स और पैंटी करोना के बदन से अलग करने के प्रयास में करोना के बाएं पैर को उठाने का प्रयास करने लगा. उसने बोला- आज मैं तुझे अपनी चुत पर कुदवाऊंगी साले … पूरा जी भर कर चुदाई करवाऊंगी.

मेरा लंड पूरी तरह टाइट हो चुका था, ऐसा लग रहा था कि अब यह लंड गर्मी के मारे फट जाएगा।वह बहुत धीरे-धीरे अच्छे बहुत अच्छे से चूसने लगी. उसके बाद चिन्ना बेपरवाही के साथ मूतने लगा।करोना के कमरे में अँधेरा था और बाथरूम में लाइट जल रही थी। अपनी इस स्थिति की वजह से चिन्ना करोना को नहीं देख सकता था पर करोना चिन्ना तो साफ़ साफ़ देख सकती थी. मुझे समझते देर नहीं लगी कि अंदर अवश्य ही मां और पापा की चुदाई चालू है.

आपके विचार आप मुझे इस ईमेल-आईडी पर भेज सकते हैं-[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गांव की कच्ची कली-2.

दोनों मॉम को चूम रहे थे और पुष्पा आंटी वीडियो बना रही थी।फिर एक ने मॉम की टीशर्ट को खींच कर फाड़ दिया. करीब 2 मिनट के बाद वो झड़ गयी और उसका रस अपने लंड पर महसूस करके मैं भी झड़ने लगा. मैंने बोला कि मुझे जल्दी है, तुम जल्दी से खाना दे दो, मुझे घर जाना है.

मम्मी की चूत भी काफी गीली हो चुकी थी और धक्का मुक्की में मैं भी जल्दी ही डिस्चार्ज हो गया. उसकी स्पीड कम हो गई थी, तो मैं अपनी गांड उचका कर उसको नीचे से चोदने लगा. मैं पूरे प्यार से उन्हें इसी मस्त नशे में ले रहा था, इससे वो मुझसे बेइंतहा प्यार करने लगी थीं.

अगर उनका लंड तेरे लंड की तरह इतना दमदार होता तो आज तू मामा बन गया होता.

उसे दरवाजा खुलने का पता चल गया वो भी जल्दी से नीचे भाग गई पर तब तक हम दोनों ने एक दूसरे को देख लिया था।तीन दिन तो मैं डर से छत पर ही नहीं गया। उसने भी किसी को कुछ नहीं बताया था। बताया होता तो मैं यहां अब तक नहीं होता।अगले दिन वो ही नीचे आ गयी और बोली- मुझे अपना नंबर दे दो. कुछ ही दिनों में मैंने उस गांव की कच्ची कली को चोद चोद कर फूल की तरह खिला दिया.

xxx हिंदी बीएफ आपने मेरी इस टीचर सेक्स कहानी के पिछले भागटीचर संग प्यार के रंग-3को इतना प्यार दिया उसके लिए आप लोगों को बहुत बहुत धन्यवाद. अब चिन्ना ने अगला कदम उठाया और अपना मुँह करोना के दूसरे कान के पास ले जा कर उसके कान के साथ होंठ टच करते हुए और उसके इस कान में भी हल्की सी जीभ फिराते हुए बोला- बेटी, अगर मालिश का अल्टीमेट मजा लेना है तो अपना टी शर्ट उतार दो और फिर देखो मालिश का असली मजा!और करोना के हाँ कहने से पहले ही चिन्ना उसकी टी शर्ट को नीचे से पकड़ कर उतरने का उपक्रम करने लगा.

xxx हिंदी बीएफ मैंने इस बार उसे अपने लंड पर बिठाया और उसकी उछलती चूचियों को अपने हथेलियों में भर कर खूब मींजा. सबसे छोटी वाली लड़की नेहा मुझसे 4 साल छोटी होने का कारण मैं उस पर ध्यान नहीं देता था.

मैंने कहा- तो फिर उनका खड़ा नहीं होता था क्या?वो बोली- होता था लेकिन दो धक्कों में ही ढेर हो जाते थे.

हिंदी सेक्सी वीडियो xxx

लेकिन जब मैं सोने ही वाला था तभी मैंने देखा कि मेरा हाथ मनीषा के हाथ में है और मनीषा मेरे हाथ को जोर जोर से दबा रही है. मेरी बहू ने एक पीले रंग की साड़ी पहनी थी और पीले रंग का ही ब्लाउज!और साड़ी बहू ने इतनी नीचे बंधी थी कि बस थोड़ा नीचे और हो जाये तो बस बहू की झांटें दिेखने लगे. दो मिनट के बाद मेरा वीर्य पूरे उबाल पर आ गया और अब किसी भी पल वो लावा बाहर फूट सकता था.

तो मैंने उसकी पेंटी के अन्दर अपना हाथ डाला और चूत के अंदर उंगली करने शुरू कर दी।मेरी उंगली उसके चूत के रस से पूरी तरह भीग गई थी. मेरी बहू ने एक पीले रंग की साड़ी पहनी थी और पीले रंग का ही ब्लाउज!और साड़ी बहू ने इतनी नीचे बंधी थी कि बस थोड़ा नीचे और हो जाये तो बस बहू की झांटें दिेखने लगे. और जैसे ही करोना की उँगलियाँ गलती से करोना की भगनासा से टकराई, अचानक उसके पूरे शरीर में तूफ़ान सा आ गया और …कहानी का पिछला भाग:जवान लड़की और नेता जी-1तभी अचानक करोना एक किशोर युवती को बस में चढ़ते देख कर ठिठक गई। करोना के हावभाव समझ कर अटेंडेंट ने बताया- यही लड़की साहब की मालिश करेगी।ये सुन कर करोना को एक झटका सा लगा.

उसने मुझे कस गले लगाया और लोअर के ऊपर से ही मेरा लन्ड दबाने लगी।फिर बिस्तर पे हम मस्ती करने लगे।उसने अपनी टॉप उतार दिया और मेरी टीशर्ट, फिर अपनी समीज और मेरा बनियान.

मैं मैम की चूत चाटता रहा।और फिर मैं उठा, मैंने अपना अंडरवियर उतारा और उनसे कहा- अब आप मेरा लंड चूसो. अब मैं भी क्या करता, सो बोल दिया कि ठीक है, मेरे साथ ही ज़िंदगी भर रहना. मैं उसके 36 के चुचे को आज़ाद कर चुका था और उनको अपने मुँह में भरने की नाकाम कोशिश कर रहा था। जब मैं चूचे को जोर से दबा कर निप्पल को काट देता तो उसके मुंह से चीख निकल जाती थी।धीरे से नीचे जाते हुए मैं उसकी नाभि को छेड़ने लगा और उसकी पैंटी के उपर से चूत को रगड़ने लगा।उसकी पैंटी थोड़ी सी भीग चुकी थी। मैंने पेंटी को हटाया और चूत में उंगली करने लगा.

मैंने बहू की गांड से बट प्लग निकाला तो बहू की गांड का छेद काफ़ी खुल गया था. माथे पर मालिश करने के प्रयास में जब भी करोना आगे झुकती तो उसके टॉप में कैद उसकी चूचियों की घुण्डियां अनायास ही चिन्ना की नंगी छाती के सख्त बालों को स्पर्श कर जाती तो करोना को अनजाना सा मजेदार अनुभव देने लगती थी. मैं रवि के कान में फुसफुसायी- अपने या हॉटल के रूम में नहीं हो जो इतने इत्मिनान से कर रहे हो, कोई उठ गया तो मुसीबत हो जाएगी.

मैंने भी सोचा हुआ था कि अगर आज किला फतेह नहीं हुआ, तो आगे से दरवाज़ा तक छूने को नहीं मिलेगा. दीदी- क्या मतलब है कि नहीं है … क्या तू बिना प्रोटेक्शन के मेरे साथ सेक्स करना चाहता है … ऐसा कभी नहीं होगा.

पूरे सफर के दौरान मैंने एक बात नोटिस की थी कि सारिका पेप्सी की बड़ी शौकीन है, खाना चाहे न मिले लेकिन पेप्सी जरूर चाहिए. आपको भी उसकी झलक दिख जाए, तो आपका भी उसके साथ सेक्स करने का मन करने लगेगा. मगर मैं बहू के साथ और मज़ा करना चाहता था शायद बहू भी इस बात को जानती थी इसीलिए वो मुझे चिड़ा रही थी.

मेरी इस भैंस के दूध की बनी चाय मिल सकती है क्या मुझे?वो बोली- हां, अभी लाती हूं.

एक दो दिन तो कुछ नहीं हुआ, तीसरे दिन मैंने देखा कि नल बंद था और वो भी चुदाई की आवाजें सुनकर अपनी चुत में उंगली करके मुठ मार रही थीं. अब चिन्ना ने अपनी तर्जनी उंगली का दबाव करोना की क्लाइटोरिस (चूत के दाने) के ऊपर बढ़ाया. पर मेरी बहन पहले हाथ मार गयी।मैंने हँसते हुए कहा- दीदी, हाथ नहीं मेरे लण्ड पर अपनी चूत मार गयी।चल अब ज्यादा ना बोल.

मेरा हाथ लंड पर चला गया और लंड हिला कर मैं कल्पना की चुदाई सोचते सोचते सो गया. हमें तेज नींद आ रही थी, लेकिन मेरा एग्जाम 10 बजे से था … मानवी का एग्जाम दो बजे से था.

क्या आपको नहीं लगता कि दुनिया का हर पुरुष उसी लड़के के किरदार में खुद को देखना चाहता है और दुनिया की हर लड़की अपने मर्द (पति या होने वाले पति) के हाथों उसी की तरह एक कला बन जाने का सपना देखती होगी?शरीर के गुप्तांगों के अतिरिक्त कमर की तगड़ी के रूप में भी मेंहदी डिजाइन काफी आकर्षक लगता है. हम दोनों हजरतगंज में मिले और फिर वहां से सीधे केसरबाग रूबी के रूम पर आ गए. वो लंड को जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करने लगी, इससे मुझे भी मजा आ रहा था.

सविता भाभी की सेक्स

श्वेता शरारत से बोली- भैया मैं जानती हूँ आपका सुसु ही गड़ रहा है, पर वो इतना बड़ा और गर्म क्यों है.

ये सुनकर वो हंसने लगी और बोली- हां वो तो दिख रहा है … और पंकज ने भी कहा था. न वो कुछ कह रही थी और न मैं कुछ कह रहा था लेकिन दोनों के ही मन में वही आग सी उठी हुई थी शायद. लेकिन उन्होंने यह नहीं किया और मैं कामुकता की चरम सीमा तक पहुंच गई थी और निढाल पड़ गई.

भाभी मेरे दाहिने तरफ खड़ी थी भाभी ने मुझसे कहा- मैं तुम्हारे आगे आ जाती हूं तुम मुझे सुरक्षा दो. जैसे-जैसे पापा मेरे करीब आ रहे थे, मेरी चूत उतना ही पानी छोड़ रही थी और उतनी ही मचल रही थी. भयानक बीएफउसका जोश देख कर मेरा जोश और भी बढ़ गया और उसे किस करते हुए उसके होंठ को अपने दांतों से काट लिया.

मेरा लंड अबकी बार आधा घुस गया लेकिन नेहा को देख कर ऐसा लगा जैसे वो बेहोश हो जायेगी. थोड़ी देर बाद मैं आपके गले से चूमता हुआ नीचे की ओर आता हूँ, फिर आपके एक बूब्स को दबाते हुए चूसता हूँ.

सेजल अपने ससुर के अंडों को दबा रही थी जिससे कि उसका ससुर आराम से सिसकारियां ले रहा था. मेरी उम्र 40 साल है, मेरे लंड का साइज 6 इंच है।मैं एक कॉल बॉय हूं मुझे आंटियां भाभियाँ और अकेली रह रही लड़कियां या फिर कोई भी विधवा कॉल करके बुलाती हैं. लंड को टाइट होता देख कर मेरी मां फुर्ती से पापा की ओर झुक कर अपनी चूत को दिखाने लगी.

अगर किसी लेडी की गांड सेक्सी और बड़ी हो तो वो मुझसे सेक्स में कुछ भी करवा सकती है. कम्पार्टमेन्ट के दोनों खिड़की पर वृद्धा और वो कालेज का लड़का बैठा था. अपनी गर्लफ्रेंड को अपने फ्रेंड के कमरे में चोदकर निकला तो सामने की एक भाभी ने देख लिया.

अब मैं 43 की हो गयी हूं और मेरे अंदर सेक्स करने की इच्छा फिर से जाग गयी है.

भाभी ने नीचे बैठ कर मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और फिर मैंने उनको वाशबेसिन पर बिठा कर भाभी की टांगें फैला दीं. वो बोली- भैया आप बुरा न माने, तो एक बात कहूँ?मैंने कहा- मैंने तेरी कोई बात का कभी बुरा माना है?वो बोली- भैया, मेरी सहेलियां स्कूल में ऐसे ही सेक्स को लेकर उल्टी सीधी बात करती थीं.

वो शरमा गई- राज, ये क्या कर रहे हो?मैंने एकदम से अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए।वैसे भी चोदने की सोचते सोचते बहुत दिन हो गए थे. रानी की आँखें बंद थी और हल्की सी प्यार भरी आवाज ‘आह’ उसके मुँह से निकली. फिर मैं मामी की नाभि पर किस करने लगा और धीरे से मामी का पेटीकोट खोल दिया.

उसकी लाल रंग की पैंटी में उसकी छोटी सी देसी चूत की शेप देख कर मैं पगला गया. मैं दीदी की बातों को नजरअंदाज करके तेजी से उनकी चुदाई किये जा रहा था. मैंने ध्यान से देखा तो उसकी चूत फूल कर पकौड़ा सी लाल हो गई थी, जिससे उसको दर्द होने लगा था.

xxx हिंदी बीएफ अन्दर बाहर करते करते लण्ड फिर से अकड़ने लगा तो मैंने हनी की चूचियां चूसना शुरू कर दिया. कुछ ही देर में दीदी ने मेरे होश उड़ा दिये और मैं दीदी के मुंह में ही झड़ गया.

भाई बहन की चुदाई वाली वीडियो

रास्ते में जाते हुए मैंने मेडिकल शॉप से एक कॉन्डम का पैकेट भी खरीद लिया. रात के ठीक बारह बजे मम्मी ने मेरे मोबाइल पर कॉल की और पूछा- नींद नहीं आ रही है ना? आ जाओ, मेरे बेडरूम में. मैं बैठा तो मैंने उसे अपनी तरफ खींच लिया और वो मेरी गोद में आकर बैठ गई.

वह अब जोर से सिसकारने लगी थी- उम्म… ओह … हा … और जोर से चूसो … लिक इट … सक इट … उम्म्म … हा. ”अब आज का प्रोग्राम सुन लो, मैं चुपचाप सोने जा रहा हूँ, मुझे जगाना, मेरा लण्ड खड़ा करना और मुझे चोदना सब तुम्हारे जिम्मे है. बीएफ मूवी वीडियो दिखाइएयही वजह थी कि मैंने सोचा कि एक और बार कल्पना को चुदाई के लिए बुला लेता हूँ और एक और बार मजे करता हूँ.

पूरी सेटिंग होने के बाद मैंने पूरा जोर लगा कर एक धक्का मारा और मेरा मोटा लंड उस चुदक्कड़ टीचर की चूत को चीरता हुआ अंदर जा धंसा.

दीपिका अजय के लंड को चूसने लगी और मैं नीचे उसकी चूत की ओर मुंह को ले गया. बहुत प्यारी लग रही थी बिल्कुल गुलाबी … छोटे-छोटे बाल थे चूत के आसपास जो बहुत ही प्यारे लग रहे थे.

चूंकि पीछे से ब्लाउज पूरा खुला था, जिसकी वजह से मैं ब्रा नहीं पहन सकती थी. तब मैंने कहा- अभी तो बहुत कुछ होगा … तुमको इस दर्द में भी मजा आएगा. फिर मैंने उसकी चूत में जीभ को अंदर डाल दिया और उसकी चूत में फिर मजा आने लगा.

मेरे लंड का सुपारा ही अन्दर गया था कि आकांक्षा चीख उठी- आआईईई मां उफ़्फ़ ओहह हह उईईई मार डाला …आकांक्षा छटपटाने लगी.

कुछ ही देर के बाद मुझे लगने लगा कि मेरे लंड से कुछ बाहर निकलने वाला है. पर उनकी धीमी आवाज में होने वाली बातें सुनकर मुझे ऐसा लगा कि मेरे उस कमरे में सोने से उन्हें कुछ दुख सा हो रहा था. मामी को जब पैर लगा, तो मामी पीछे मुड़ीं और उनकी निगाह मेरे लंड पर आ पड़ी.

कामसूत्र सेक्स बीएफअब उसकी चूत की सील टूट चुकी थी और उसकी चूत से खून और आँखों से आंसू निकल रहे थे. मैंने एक दो बार उसके छेद को चाटा और उससे कहा- जानेमन तैयार हो जाओ, मेरा लौड़ा अब प्रवेश के लिए तैयार है.

सनी लियॉन की सेक्सी पिक्चर

हालांकि मैंने उसकी फोटो देखी हुई थी, लेकिन रियल में वो और भी ज्यादा हैंडसम दिख रहा था. मेरे इतना कहते ही भाभी ने अपनी टांगें खोल दीं और चुत उठाते हुए कहने लगीं-मेरे राजा … अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है. मैं अब भी उनसे रिक्वेस्ट कर रहा था कि वो ये बात डैड को ना बताएं कि मैं आपको वीडियो में देखकर लंड सहला रहा था.

मैंने भी उसको अपने सीने से चिपका लिया। हम ट्रेक से पहले ही थके हुए थे तो हम कब ऐसे ही सो गए हमें पता ही नहीं चला।कहानी जारी रहेगी. ये 8 साल पहले की बात है, जब हम दिल्ली में अपने नए घर में शिफ्ट हुए थे. पहले दिन जब मैं दोपहर को बुआ के घर पहुंची तो बुआ ने मेरा सारा सामान कमरे में रखवा दिया.

मगर ताज्जुब की बात ये थी कि उसने मेरी हरकत का कोई ख़ास विरोध नहीं किया और न ही वो चीखी या चिल्लाई. सेजल ने अपने कोमल हाथों से बलविंदर साहब के लंड को ऊपर नीचे करना चालू किया बलविंदर साहब ने अपनी आंखें बंद कर ली. इतने में पापा ने एक झटके में अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया और मेरे मुँह को चोदने लगे.

उस वक्त मैं अपने बोर्ड्स के एग्जाम देकर छुट्टियों में अपने मामा के यहां जा रहा था. मैं उससे मिलने गयी तो उसने मुझे अपने पास बिठा लिया और …हेलो, मेरा नाम सोनाली है अंतर्वासना पर मेरी एक कहानी हैइंटरनेट दोस्त के साथ सेक्स का मजाआ चुकी है। मेरे बूब्स का साइज 32 और मेरे हिप्स का साइज 36 है मैं एकदम भरे हुए जिस्म की औरत हूं।मुझे देखते ही सब मुझसे अट्रैक्ट हो जाते हैं और मुझे चोदने की ख्याल अपने मन में लाने लगते हैं.

मेरे घर में सभी सदस्यों के कमरे अलग अलग हैं पर टीवी मेरे कमरे में ही लगा है.

मैंने देखा कि मेरा कंडोम उसकी चूत में फंस गया है और मेरा पांच इंच का लंड एक इंच का हो गया है. बीएफ औरत का बीएफनमस्ते मेरे सभी चाहने वाले सभी दोस्तो, आप कैसे हो … मुझे उम्मीद है कि किसी न किसी की जुगाड़ में लगे होगे. विदेशी इंग्लिश बीएफ वीडियोदूसरी का नाम सुल्ताना था, जो 22 साल की थी और आखिरी का नाम शबनम था, वो भी उन्नीस साल की हो चुकी थी. बेटा अपनी कार में ऑफिस चला गया और बहू पास के जिम में!और मैं बाहर बने पार्क में टहलने लगा.

आप अपनी योनि को सरल रूप से रतिक्षण तक पहुंचने के लिए तैयार कर रही हैं.

वो इतनी ज्यादा गर्म हो चुकी थी कि मेरे लंड को पूरा मुँह में ले रही थी. शिल्पा- ठीक है, पर सिर्फ एक ही बार … वो भी इस कारण क्योंकि तुमने किसी के नहीं छुए. कल्पना अब मुझसे बार बार कह रही थी कि अब बस भी करो … नहीं तो मेरा पानी कभी भी छूट जाएगा.

एक रूम में हम सब लोग रहते थे और दूसरे में हम रसोई का काम कर लेते थे. मैं- अच्छा … तो तुम्हारी जबान क्यों लड़खड़ा रही है … बताओगे मुझे?पवन- वो … म … मैं … अम … मैं जा रहा बाहर सोने आप भी सो जाओ. तुम इतना रिएक्ट क्यों कर रहे हो?पवन- वो … म् … म … म … मैं … व … वो!मैं- तुम कह क्यों नहीं देते कि तुम भी मुझे चोदना चाहते हो … ऐसे चुप रहने से क्या होगा?पवन- न … न … नहीं … अ … आप गलत समझ रही हैं.

हिंदी ब्लू फिल्म दिखाओ हिंदी ब्लू फिल्म

पर रात को खाने के बाद मेरी उससे बात हुई, तो उसने मुझे बताया उसके पति भी उसे खूब चोदते हैं. फिर मैंने रूम हीटर को उसके पैर की तरफ लगाया और बोला कि स्कर्ट ऊपर करके पैर फैलाओ. उसके बाद रानी की चूत पर सेट करके एक धक्के में मैंने अपना लंड रानी की गीली चूत में थोड़ा घुसा दिया.

मैंने पूछा- भाभी बच्चे कहां हैं?तो वो बोलीं- वे पड़ोस में एक बच्चे का बर्थ-डे है, तो वहां गए हैं.

फिर करीब रात को 1 बजे मुझे पेशाब लगी तो मैं अपने कमरे से बाथरूम जाने लगा तो मैंने देखा मॉम के कमरे की लाइट जल रही है.

इस पर शिल्पा ने मुझे कोहनी मारी।मैं- वैसे कुछ ज्यादा ही मुलायम है वो तुम्हारे …शिल्पा- और तुम्हारा कुछ ज्यादा ही सख्त …मैं- क्या मैं अच्छे से उनको छू सकता हूँ? कभी किसी के छुए नहीं. उसने मेरी छाती को देखा और जब मेरे हाथ मेरी पैंट को खोलने के लिए चले तो उसने अपने चेहरे को चादर में छुपा लिया. वाराणसी का बीएफबहू बहुत गुस्से में बोली- डैडी जी, मुझे कुछ नहीं खाना है, आप निकाल के खा लो.

चिन्ना की यह चाल करोना बिल्कुल पसंद नहीं आई क्योंकि वो झड़ने के करीब थी और करोना की नाजुक अनचुदी चूत को गर्म कड़क लण्ड की तपिश से मजा आने लगा था।करोना घायल शेरनी की भांति चिन्ना की आँखों में घूरने लगी. फिर दूसरी चूची को चूसते हुए पहली वाली की निप्पल को उंगलियों के बीच में लेकर काट रहा था. उसके खेत में मटर के पास में ईख भी बोई गई थी।मैं चोरी से ईख के खेतों से होते हुए मटर के खेत में पहुँच गया.

जब रचना भाभी को अपनी गांड पर मेरा लंड महसूस हुआ तो उसने मुझसे पीछे पलट के कहा- क्या कर रहे हो अबन?मैंने कहा- माफ करना भाभी, गलती से लग गया. उस वक्त मैं राजस्थान में कंप्यूटर सिखाता था और मैं एक कम्प्यूटर सेंटर में जॉब कर रहा था.

दो घण्टे में ही खाना बन गया और हमनें भी पर्याप्त लकड़ियों को काट लिया और जमीन भी साफ कर ली।हम लोगों को बड़ी तेज भूख लगी थी.

कुछ ही देर की झन्नाटेदार चुदाई के बाद चिन्ना ने महसूस किया कि करोना की चूत अब पूरी तरह लण्ड की आदी हो गई है तो चिन्ना ने करोना के मुँह पर से अपना हाथ हटा लिया. तभी मेरे बेटे ने उसे कुतिया बना दिया और पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया. मैं जोर जोर से चिल्ला रही थी- चोदो मुझे पवन … और ज़ोर से चोदो … जान निकाल दे मेरी … आह … फॅक मी बेबी … और ज़ोर से चोदो … आह … अम्म … अह … उन्ह.

बीएफ मूवी शॉर्ट इसी सेक्सी सन्नी लियोनी का एक लाजवाब नग्न विडियो आपके लिए!इस विडियो की ऑडियो में हिंदी फिल्म का गाना है. अब यह सोच कर करोना का दिल धड़कने लगा कि रोज़ की भांति आज फिर कोई मासूम लड़की बाहर से आकर अपना कुंवारापन इस बस में खो देगी।कुछ देर के बाद अटेंडेंट ने दरवाजा खटका कर कहा- बेबी डिनर तैयार है, आप आ जाइये.

यह केवल दुल्हन की इच्छा निर्भर करता है कि वह कब इस तरह का प्रयोग करना चाहती है. तभी मैंने सोचा कि क्यों न मैं अपनी और रानी की चुदाई बहू को दिखा दूँ. मगर ताज्जुब की बात ये थी कि उसने मेरी हरकत का कोई ख़ास विरोध नहीं किया और न ही वो चीखी या चिल्लाई.

हिंदी बीपी सेक्सी मूवी

मैं खड़ा होकर बाथरूम में गया और अपने लंड को पानी से धो कर मैंने खुद को साफ़ किया. धीरे धीरे मैंने उसकी टी-शर्ट को भी ऊपर कर दिया, जिससे अब मेरा हाथ उसके चूचों पर लगने लगा था. दो मिनट के बाद मेरा वीर्य पूरे उबाल पर आ गया और अब किसी भी पल वो लावा बाहर फूट सकता था.

इसके बाद मैं उसे अपनी गोद में लेकर सोफे पर बैठ गया और उसके मम्मों से खेलने लगा. मैं उनके नंगे बदन को चूमते हुए उनकी चुत पर पहुंच गया और जोर जोर से चुत चाटने लगा.

फ्रेश हो गये तो मैं आपके लिए नाश्ता लगा दूँ?मैंने कहा- नहीं बहू, मैं अभी नहीं करूँगा.

दूसरा अगर मैं कहूंगा तो तुम चुदवाने से मना नहीं करोगी और तीसरा अगर तुम्हारी चुदवाने की इच्छा होगी तो बेझिझक चली आओगी. उसके बाद मैं नीचे की ओर सरक गया और चादर के अन्दर ही उसकी चूत को चाटने लगा. मैंने कहा- आवाज भी नहीं आयी गेट खुलने की?बहू बोली- आप आपने रूम में थे इसीलिए नहीं आयी होगी.

जब मुझे लगा कि वो थोड़ा सा मस्त हो रहा है … तो मैंने अपना 7 इंच का लंड निकाल कर उसके हाथ में दे दिया. मैंने आंटी की टांगें फैलाकर चौड़ी कीं तो उनकी चूत का रास्ता खुल गया और चूत के अन्दर का गुलाबीपन चमकने लगा. उसने मुझे फेसबुक में संदेश भेजा- आजकल कहा हो और क्या कर रहे हो?सलमा मुझे ताने मारने लगी कहने लगी- तुमने तो बिल्कुल ही बात करना बंद कर दिया.

इसी बीच मैं तैयारी करने के लिए प्रयागराज आ गया और निधि वही कॉलेज में ग्रेजुएशन करती रही।ऐसे ही एक दिन मैं कोचिंग क्लास खत्म कर रूम पर आया.

xxx हिंदी बीएफ: करोना करीब 4 बार और झड़ कर जब थक गई तो बोली- अंकल, अब बस भी करो मेरी जान निकलोगे क्या?चिन्ना- नहीं बेटी, तुम तो मेरी जान हो. खैर … दूसरी सुबह जब वो काम वाली घर पर आई दोस्तो … मैं क्या बताऊं … मैं तो बस उसे देखता रह गया.

मैंने अंदाजा लगा लिया कि पापा मेरी मां की चुदाई 2 से 3 के बीच में ही करते होंगे. उसके बाद भी वह इस तरह की अजीबोगरीब हरकतें मेरे जिस्म के साथ करते रहते हैं. और फिर मैंने अपने होंठों को बहू की तरफ आगे किया तो बहू ने अपनी आँखें बंद कर ली.

मैं उससे कुछ बोलता, उससे पहले वो आ गया और बोला- शाम को घर जाकर पैसे ले लेना.

उसे देख कर मेरा मन कर रहा था कि अभी के अभी सीमा की चुत पर अपना मुँह लगा दूं और उसकी चुत का सारा जूस सारा पी जाऊं. उसने बोला- आज मैं तुझे अपनी चुत पर कुदवाऊंगी साले … पूरा जी भर कर चुदाई करवाऊंगी. दोस्तो, उस दिन मैंने उसे 5 बार चोदा और अपनी सेक्स की हवस को ख़त्म किया.