अंग्रेजी देसी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ एचडी बीएफ एचडी बीएफ एचडी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

हम सेक्सी पिक्चर: अंग्रेजी देसी बीएफ, मैं बोली- क्या हुआ, क्यों इतना घबराए हुए हो?तो आशीष बोला- यार तुम्हारी सील तो टूटी नहीं, तुम इतना चिल्ला रही थी … इतना दर्द हुआ तुझे … तो मैंने सोचा सील टूट गई होगी, पर तेरी सील तो पहले से टूटी हुई है.

बीएफ वीडियो सेक्स देहाती

मैंने भी तैयार होकर जाने से पहले आखरी बार आईने में देखा, मैं तो जैसे गुलाब की कली बन गयी थी, बदन पर पिंक शिफॉन की नाभि दिखाती हुई साड़ी, ऊपर पिंक गहरे गले का ब्लाउज, अन्दर पिंक कलर की पैंटी, माथे पर पिंक कलर की छोटी सी बिंदी और मेरे नाजुक होंठों पर पिंक कलर की लिपस्टिक. बीएफ फिल्म नंगी चुदाई वालीमेम ने मुझे कंडोम पकड़ाते हुए जल्दी से चुदाई करने को बोला और अपना पजामा खोल दिया.

इससे पहले वो कुछ बोलता, मैंने आरती को फोन पकड़ा दिया, कहा- करो उससे बात और पूछ लो कि कब चोदेगा तुमको. लड़की और कुत्ते की सेक्सी बीएफअगले दिन हमारी आंखें मिलीं तो इस बार इन आंखों में एक अलग सा ही अहसास था.

उन्होंने आंखें बन्द की, मैं ऊपर की तरफ आकर उनके होंठों को चूमने लगा और बोला- अब आप अपना आंख खोलिए.अंग्रेजी देसी बीएफ: बाकी दोनों नीग्रो लड़के ज्यादातर बाहर ही अपने देश के दूसरे लड़कों के साथ उनके रूम पे रहते थे और लेट नाईट हॉस्टल में आते थे.

मैंने सोचा कि जो कोई भी है, अगर इसकी चूत मारने को मिल जाए तो कैसा रहे?बस फिर क्या था, मैं उसको चोदने के सपने देखने लगा.मौसी ने हमारी फ़ैमिली को भी बुलाया था, पर मैं अकेला ही मौसी के घर चला गया.

भोजपुरी वीडियो बीएफ वीडियो - अंग्रेजी देसी बीएफ

हमें रीना की आंखें खोल कर उसे यह ज्ञात करवाना था कि दूसरा अदला-बदली वाला जोड़ा आखिर है कौन?अतः पहले मैंने रीना के पास जाकर उसके गालों पर चुंबन देकर उसे जन्मदिन की शुभकामना दी.आनन्द के मारे अपने आप ही आंखें बंद हो गईं और मुँह से आनन्दमयी सीत्कारें फूट पड़ीं.

अंकल के मुँह से गांड मरवाने की बात सुनते ही मैंने अंकल को एक जोरदार किस किया और अंकल की बांहों में समा गया. अंग्रेजी देसी बीएफ पीछे से चूचियों का दबाव और साथ में नारी का स्पर्श मिलते ही लंड तुरंत खड़ा हो गया.

खैर उस समय रूबी घर से दूर एक चंडीगढ़ में हॉस्टल में रह कर कॉलेज में पढ़ती थी और मैंने अपने 12 वीं की परीक्षा दे रखी थी.

अंग्रेजी देसी बीएफ?

वो अपना सर इधर उधर झटकने लगीं, साथ ही उनकी तेज सिसकारियां भी निकलने लगीं. पहली चुदाई की कहानी कैसी लगी दोस्तो? मज़ा आया न? यदि हाँ तो इस कहानी का हॉट और तड़कता पार्ट 2 जल्दी ही लिखूंगा. कुछ ही झटकों के बाद उसके मुँह से तेज चीख निकली और वो मेरे ऊपर गिर पड़ी.

अभी तक आप लोगों ने मेरे बारे में तो सब जान ही लिया होगा कि किस तरह से मैं एक सामान्य लड़की से एक चुदक्कड़ लड़की बन गई. मैंने अपना बैग उठाया और मैं भी सबसे अंत में विलियम के पीछे धीरे धीरे चलने लगी. फिर मैंने उससे कहा कि अभी तुम अपने रूम में जो कर रही थीं, वो मैंने सब देख लिया है.

चार-पांच दिन के बाद की बात है कि उसके घर वाले सब लोग कहीं बाहर गये हुए थे. अब आगे भाई बहन Xxx स्टोरी:मैं- प्रिया, कुछ खाने का मन है?प्रिया ने मुस्कुराते हुए अपनी टांगें खोल दीं- आज इसे खा लो जी भरके!मैंने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था. इसके बाद हम दोनों कुछ देर उधर रुक कर एक दूसरे से आंखों ही आंखों में अपने प्यार का इजहार करने लगे.

एक घंटे बाद हम दोनों फिर से चुदाई में लग गए और उस दिन मैंने अपनी बहन की 3 बार चुदाई की. प्रोग्राम खत्म होने के बाद मैंने उससे बोला- चलो थोड़ा नाश्ता कर लेते हैं.

मैंने इंडियन आंटी न्यूड देखी बिल्कुल उन्ही के घर में! वो मेरे दोस्त की मामी थी और अपने पति से अलग रहती थी मेरे पड़ोस में! मैं उनके काम कर दिया करता था.

अंकल ने बोला कि मेरे औजार को तूने ही बाहर निकाला और सहलाया था, तो अब कोई फायदा नहीं है.

किसी तरह मेरा ये तड़पना ये मचलना खत्म हो जाए, पर आशीष उठकर मुझे बिना कुछ बोले जल्दी से मुझसे अलग हो गया. मेरे मुँह से मीनाक्षी भाभी सुन कर प्राची हंसने लगी और मीनाक्षी भाभी भी मुस्कुरा दी. अंजलि ने मुझसे कहा- अब क्यों देर कर रहे हो … जल्दी से मेरे अन्दर डाल दो प्लीज़.

पहले पहले मीना ने मना किया लेकिन बाद में वो मान गयी, एक पेग लेकर मीना बोली- अभी आती हूँ. जब भी वो बहुत चुदासी होती है, उसकी चुत में जब ज्यादा खुजली होती है, तो वो मेरा लंड ऐसे ही जोर जोर से चूसती है. मैं उसकी चूत के पास लंड को ले गया और उसकी चूत के मुंह पर लंड को रख कर कहा- जान, अब तैयार हो जाओ.

लेकिन मैंने उनको अपनी बांहों में खींचा तो वो कहने लगीं- बस अब मुझे और मत तड़पाओ, अन्दर तो बहुत तेज़ी दिखा रहा था … फिर यहाँ पर इतना चुप क्यों हो गए हो? अब मेरी चूत की प्यास बुझा दो ना.

दोस्तों मैंने नंगी अमीषी को उठाया और बेड पर पटक दिया और खुद भी उसके ऊपर चढ़ गया. मेरी इस बात से वो चौंक गयी और उसने कहा- तुम ऊपर आए थे?मैंने कहा- हां मैं ऊपर आया था और जब देखा कि कोई नहीं है, तो नीचे आ कर बैठ गया. मैं इंतजार कर रहा था कि कब मौसी सीधा होकर सोएं ताकि मैं अपना प्लान आगे बढ़ा सकूं.

एक बार आशीष मुझसे बोला- तुम सोनम से बोलो कि हमें मिला दे, जब घर में मामी या कोई भी ना हो. खाली दिमाग शैतान का घर! इस वक्त मेरा शैतान लंड फिर से मुझे मुट्ठ मारने के लिए उकसाने लगा. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद उन्होंने मुझे खड़ा किया और मेरा लोवर नीचे करने लगे लेकिन मैंने उन्हें मना कर दिया कि अभी नहीं!कारण ये था कि इधर खुला था.

उनकी इस हरकत से मैं चकित हो गई, अब अंकल धीरे धीरे मेरी चुत सहलाने लगे.

मेरी मम्मी नींद में ही थोड़ा खिसकते हुए बोलीं- यही बीच में तू भी सो जा. एक तरफ मेरा मुंह उसके चूचों पर लगा था और नीचे की तरफ मेरा लंड उसकी चूत को चोद रहा था.

अंग्रेजी देसी बीएफ मैंने ऐसा किया था और दो चार बार कर चुकी थी, पर उससे मेरी सील नहीं टूटी. मैं- पागल तो मैं भी हूँ, कितने दिन से सोच रहा था कि नफीसा एक दिन मेरी बांहों में हो.

अंग्रेजी देसी बीएफ मैंने ये कहते हुए उसे अपना गैस चूल्हा और सिलेंडर दे दिया कि मैं बाद में दूसरे सिलेंडर और चूल्हे का इंतजाम कर लूंगा. मैंने देखा कि उसने अपनी नाइट ड्रेस वापस से पहन ली और फिर लाइट बंद करके अपने घर में अंदर चली गई.

इसके बाद जब तक शीतल भाभी के पति अपनी बिजनेस ट्रिप से वापस लौट कर नहीं आ गए, मैं शीतल भाभी को रोज़ चोदता रहा.

गांव सेक्सी फिल्म

मेरा लंड उनकी चूत की दीवार को चीरता हुआ पूरा चूत में समा गया और उनकी बच्चेदानी से टकरा गया. उसने एक हल्की मीठी सी सिसकारी ली- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आम्म … हह आहह हह्ह!वह आँखें बंद करके मजे लेने लगी. जैसा कि मैंने अपनी पहली सेक्स कहानी में भी बताया था कि मैं एक स्पा केन्द्र में काम करता हूँ.

भला थन से दूध निकले बिना छोड़ने वाला थोड़े ही था मैं? हिलाते हुए जब दूसरी बार ख्यालों में पूजा को नंगी किया तो अबकी बार चूत में लंड को पेल दिया और दो चार धक्कों के हसीन ख्वाबों ने वीर्य को बाहर निकलने पर मजबूर कर दिया. पिंकी जाते हुए दरवाजे पर कुछ देर रुकी और अमर को देख कर मुस्कुरा कर अपनी साड़ी का पल्लू मुंह पर रख कर चली गई. मौसी की हाइट 5 फुट 5 इंच है, गदराया बदन है, न ज्यादा मोटी हैं, न पतली हैं.

मैं तो चुदते हुए मन ही मन कहने लगी थी- आया नया उजाला, जबरदस्त धक्कों वाला … जमाई जी मेरी चूत को अपने लंड से घायल कर रहे थे और मैं उनके हथौड़े को पूरा मौका दे रही थी कि वह अंदर तक मेरी चूत की ठुकाई कर दे.

जैसा तय किया था, उस तरह से किस करने के बजाए अपने आप पर से आपा खोने लगे थे. इस बार जब मैं गांव आया था, तो मुझे पूरे 4 साल बाद गांव आने का मौका मिला था. उसके बाद मैंने अचानक से उसकी चूचियों को अपने होंठों में भर लिया और उनको चूसकर पीने लगा.

तो मैंने खाने के लिए फिर कॉल किया, तो अंकल बोले कि बना ले, मैं भी खा लूंगा. अब मैंने चुत के छेद पर लंड को रखकर एक ही धक्के में पूरा का पूरा लंड डाल दिया. मैं क्या सोचता था इनके बारे में, क्या समझकर इनकी इज्जत करता था मैं … और आज इन्होंने मुझको ये क्या बोल दिया है.

इस लहंगा गिरने वाले हादसे पर क्षण भर के लिए वसुंधरा ने अपनी आँखें खोली और मेरी आँखें अपने तन के निचले भाग (जोकि करीब-करीब निर्वस्त्र था) पर जमी पाकर फ़ौरन दोबारा बंद कर ली और जल्दी से मेरी तरफ़ पीठ कर ली. दोस्तो, मैं अन्तर्वासना साईट पर हिंदी सेक्स कहानियां पिछले 2010 से पढ़ रहा हूं.

जब वो अपनी गांड मटकाकर चलती थी, तो बस मैं दिल में ये ही सोचता कि इसकी लम्बी गांड जब नंगी होगी, तब कैसी लगेगी. जब वह नॉर्मल हो गई तो मैंने अपने धक्कों की स्पीड को थोड़ा सा और ज्यादा तेज करने की कोशिश की. अब तो मैं अक्सर उसके रूम पे जाती रहती थी और कभी उसका रूम साफ करने में मदद करती.

और मेरे लण्ड को सहलाते हुए बोली- अब मुझे भी चोदो!मैंने सारा के कपड़े निकाल दिए और उसे किस करने लगा.

अंकल का स्वभाव अच्छा था, तो मैंने उनको सब कुछ बता दिया और अंकल मेरे पास आकर बैठ गए. शीतल भाभी ने मुझसे पूछा कि तुमने मुझसे तो मेरे बारे में सब पूछ लिया, पर अपने बारे में कुछ नहीं बताया. हमारे पास एक एक बैग था, तो हमने रूम में पहुंचते ही पहले वो बैग रखे और गेट बंद कर लिए.

मैंने प्रत्यक्षतः पूछा- सच में आप कर दोगी?उन्होंने कहा कि हां … तुम खाना खा लो, मैं जब तक तेल गर्म करके लाती हूँ. अब आगे गरम भाभी बस सेक्स कहानी:मैंने अपना चेहरा उसके कंधे से हटाकर बिल्कुल उसके गाल के पास अपना गाल कर टच कर दिया.

कमलेश सर मम्मी से मिलने अक्सर आया करते थे और वहीं मेरे स्कूल में टीचर भी थे. वो अपना मुंह मेरे कान के पास लाकर धीरे से मेरे कान में बोला- मिस राठौड़, प्लीज ओपन योर आइज़!अब मैंने भी इस नाटक को बंद करना ही उचित समझा. वह बोली- पहले आप मुझसे एक वादा करो कि आप इस बारे में किसी से कुछ भी नहीं बताएंगे.

सेक्सी भेजो सेक्सी फिल्म

आःह आआह ह्हह …हम दोनों भाई बहन पूरे जोश में लगभग 20 मिनट तक चोदने में लगे रहे और हम दोनों एक साथ ही झड़ गए.

फिर उसके आगे लंड ले जाकर बोला- ले अब चूस अब मीठा लगेगा … जिस तरह तू आइसक्रीम को मजे से चटखारे लेकर चूसती है इसे भी एक आइसक्रीम ही समझ कर चूस. जब भाई तो यह सब बताया तो उसने मुझे 3-4 और वैसे ही मॅगज़ीन दी और साथ में कुछ चुदाई वाली कहानियाँ भी दी जिनको मैंने आरती को देते हुए कहा- तुम आराम से देखो और पढ़ो. मैं- चलिये तो फिर आप मुझे अपनी इच्छा बता दो, हो सकता है कि आपकी इच्छा पूरी करने में मैं आपका साथ दे दूँ.

बाद में कल्पना ने बताया कि नेक्स्ट टाइम वो अपना अधूरी फैंटसी पूरा करना चाहेंगी. मैंने कहा- आपको शर्म नहीं आयी?वो बोलीं- नंगे तुम थे, मुझे क्यों शर्म आएगी?उनकी इस बात पर मैं चुप हो गया. लड़कियों की चूत की बीएफतीन चार दिन तक नम्रता के दर्शन नहीं हुए, पता चला कि उसकी तबियत कुछ ज्यादा खराब हो गयी थी.

शारदा चाची- सन्नी, दोस्तों से ही बातें करता रहेगा या कुछ काम भी करेगा?मैंने मन ही मन सोचकर कहा- चाची आपका तो सारा काम कर दूं आप करने तो दो?मैंने मन की हवस के आवेग से अपने मन की बात चाची के मन तक पहुंचाने की कोशिश की. मैंने फिर हल्के से अपने लिंग को वसुन्धरा की योनि में वापिस आगे उसकी पुरानी जग़ह तक पहुँचाया.

मैंने उसकी तरफ देखा और पूछा- स्माइल क्यों कर रही हो?दीदी बोली- जब तू हाथ फेरता है तो गुदगुदी लगती है. पर मैं अब तक उसके बारे में अपने दिमाग़ में कभी कोई ग़लत ख्याल नहीं लाया था, क्योंकि वो मेरी भाभी ही थी ना. उनकी चुचियों पर मेरे मुख का स्पर्श पड़ते ही उनके मुँह से भी मादक सिसकारियां निकलने लगीं.

फिर उसने मुझे सीधा लेटा दिया और फिर अपना बड़ा लंड मेरी चुत में डाल के चोदने लगा. तो बढ़ते हैं मेरी कहानी के अगले हिस्से में:जोन्स ने मुझे गोद में उठाया और ऊपर के रूम में ले गया और पलंग के पास ले जा कर खड़ा कर दिया. अपनी एड़ियां ऊपर करके उसे एक किस किया और बोली- जाने से पहले एक क्विकी करेंगे क्या?नहीं डार्लिंग … मुझे नींद आ जायेगी … रात को आने के बाद आराम से करेंगे.

अब मैंने उसके मुँह के पास लण्ड लगा दिया और बोला- अब इसे चूसो और ज्यादा मज़ा आएगा.

पापा ने मेरी दोनों टांगों को चौड़ी कर दिया और अपना लंड मेरी चूत पर टिका कर रगड़ने लगे. उसी समय बस ने एक ज़ोर का झटका खाया और मैंने चाची के मम्मों को ज़ोर से दबा दिया.

शायद ये उसके सामीप्य का असर था या मैं काफी दिनों से घर नहीं गया था, जिससे मेरी जिस्म की भूख जाग रही थी. मां बोलीं- आप मुझे पहचानने के बाद मुझे रुसवा तो नहीं करोगे न?मैं बोला- क्या आप मेरी चुदाई से संतुष्टि नहीं मिल रही है?मां बोलीं- बहुत मजा आ रहा है. मैंने जल्दी से खाना खत्म किया और कमरे में उसके आने का इंतजार करने लगा.

मैंने सरिता को अपनी बांहों में उठाकर बेडपर लिटा दिया और उसकी जांघों के बीच घुटने के बल बैठ गया. शारदा चाची- चोद मेरे राजा … बहन के लंड … और ज़ोर से चोद … ओह … मेरे चुदक्कड़ बालम. चूत में पानी भर जाने से मेरे पति का लंड मेरी नाजुक कोमल गुलाबी चुत में आसानी से अन्दर बाहर होने लगा था.

अंग्रेजी देसी बीएफ जैसा कि मैंने पहले ही बता दिया था कि मैं ऊपर सोता था और दीदी के रूम के पीछे से सीढ़ी चढ़ी हुई थी. मामा भी वहीं साइड वाले पलंग पर सो रहे थे, जो हमारे पलंग से लगा हुआ था.

सेक्स वीडियो हद हिंदी

अमर समझ चुका था कि रास्ता एकदम साफ़ है, बस एक मौका मिलने का इंतजार करना बाकी है. मैं जाने को हुआ, तो उसने मेरा हाथ पकड़ के खींचते हुए कहा- चुपचाप चलो. कल जब तुम्हें सेक्स करते हुए देखा तो मेरी दबी हुई कामनायें जाग उठीं.

’कुछ देर बाद उसे भी मजा आने लगा और हम दोनों जोर जोर से चोदन में लग गए. अब श्वेता ने शुभी की चूत को चाटना शुरू कर दिया और मैं उसकी चूचियां दबा रहा था. हिंदी देसी सेक्सी बीएफ पिक्चरदूसरा हाथ उसके सर पर रखा और उसके चेहरे को अपने चेहरे के पास ले आया.

उसने कहा- तुम अपने दोस्त से मेरी बात कब करवा रहे हो?मैंने कह दिया- मेरा दोस्त अभी कहीं बाहर गया हुआ है.

क्या तुम मुझसे दोस्ती करोगी?उसने भी थोड़ी ना नुकर के बाद हां बोल दी. लेकिन मम्मा ने मुझे प्यार से झिड़कते हुए कहा- अच्छा बेटा, अपनी मम्मा को मक्खन लगा रहा है.

10 मिनट तक ऐसे से चोदने के बाद वो उठा और मुझे खींच के बिस्तर के बाहर ले गया मेरे होंठों को चूमते हुए उसने मेरे दोनों हाथ अपने गले में फंसा लिए और झटके से मेरे दोनों पैरो को पकड़ के उठा के अपनी कमर में फंसा लिए और लंड चुत में टिका कर एक बार में पूरा लंड अंदर पेल दिया. मैंने उसे एक राउंड और करने को कहा तो उसनेचूत में दर्दका बोलकर मना कर दिया. मैंने नोट किया कि वसुन्धरा अपनी योनि के भगनासा पर मेरा लिंग-मुंड सख्ती से गोल-गोल रगड़ रही थी, यकीनन इस में उसे ज्यादा मज़ा आ रहा था.

गुलाबो रोने लगी- हय मर गयी … मेरी चूत फाड़ डाली! अब तो मैं मर जाऊँगी … अब मैं क्या करूँगी.

खासकर भारत जैसे देश में तो जिस तरह की जीवनशैली है उसका सीधा असर लोगों की सेक्स लाइफ पर पड़ता है. उसके यार हमेशा उसके घर के आस पास इस उम्मीद में घूमते थे कि ना जाने कब उनकी बारी आ जाए. मैंने उनसे पूछा कि क्यों झड़ गईं … औरत तो इतनी जल्दी नहीं झड़ती है?उन्होंने कहा- अगर तेरे जैसा कोई चूत चाटने वाला मिले तो मैं क्या कर सकती हूँ.

बीएफ की नंगी फिल्मउस पर सफेद बेडशीट, बेडशीट के बीचों बीच गुलाब के फूलों से दिल बना हुआ था. हमें रीना की आंखें खोल कर उसे यह ज्ञात करवाना था कि दूसरा अदला-बदली वाला जोड़ा आखिर है कौन?अतः पहले मैंने रीना के पास जाकर उसके गालों पर चुंबन देकर उसे जन्मदिन की शुभकामना दी.

सेक्सी वीडियो हिंदी में फिल्म

अपनी अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगी कि जीजू ने कैसे मेरीकजिन सिस्टर को चोदाऔर अपनी दोनों सालियों के साथ कैसे ग्रुप में चुदाई की।धन्यवाद. कुछ दिन हमारी ऐसे ही बातें हुईं, फिर अगली बार बातों बातों में मैं उसको आप आप करके बात कर रहा था. खड़ा लंड देख कर रिया इस बार मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट करके बैठ गई.

उनकी बुर से निकला पानी भी मुझे अमृत लगा और मैंने एक एक बूंद को चाट कर पी लिया. अमीषी भी पूरी मस्ती में अपने पैर मेरी कमर पर लेकर ‘अअअह अअअह अअअओह … आप पहले क्यों नहीं मिले … इतना मजा मुझको पहली बार मिला … अअअअअ ईईई ओईई … डालते रहो डालते रहो … फ़क मी फ़क मी. हम जब भी घर में बैठते, तब बहुत मस्ती मज़ाक कर लिया करते थे और कभी मियां बीवी मुझे रास्ते में मिल जाते, तो मैं उनको आइसक्रीम या कोल्डड्रिंक के लिए ज़रूर इन्वाइट करता.

उनके नर्म चूचों के स्पर्श से एकदम से मेरा लंड खड़ा हो गया, पर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया और बेड तक आया. इस वक्त वो दूसरे हाथ से पूरे अंडकोष को ऊपर से नीचे तक मलहम लगाकर सहलाने सी लगी थी. मैं सोचने लगा कि इसकी बहन भी मेरे दोस्त की बहन है … मगर जब ये खुद से कह रही है तो मुझे हां कर ही देनी चाहिए.

मैंने उनकी तरफ देखा तो बोलीं- मुझे मालूम है कि तुम मुझे नहाते हुए देखते हो. उसकी पीठ एकदम गर्म हो गयी थी।उत्तेजित होने के कारण मेरी सांसें बहुत तेज गति के साथ चल रही थीं.

उनकी इस हरकत से मैं चकित हो गई, अब अंकल धीरे धीरे मेरी चुत सहलाने लगे.

मैं दोपहर होने का इंतजार करने लगा क्योंकि गर्मियों में लोग अक्सर दोपहर के समय में सो जाते हैं. सेक्स बीएफ अंग्रेजों कीये देख कर उन्हें लगा कि मुझे ठंड लग रही है और इसलिए उन्होंने मुझे अपनी चादर में घुसा लिया. चुदाई की बीएफ दिखाओमामा भी वहीं साइड वाले पलंग पर सो रहे थे, जो हमारे पलंग से लगा हुआ था. एक काल्पनिक भार्या ने अपने काल्पनिक पति को अपने असली कामौर्य की भेंट चढ़ा दी थी.

इस दौरान मैं सोनू को जगह-जगह पर चूमता रहा, इससे उसको पूरी संतुष्टि मिल गई.

मैं भाविका चंद्रवाडिया उर्फ भाव (मेरे प्रेमी द्वारा दिया गया नाम) गुजरात के एज्यूकेशन हब आणंद की रहने वाली हूँ. अरे यार, पर ये तो बता कि अगर मैं प्रेग्नेंट हो गयी तो?”तू उसका टेंशन मत ले. लेकिन तब सामाजिक बंधन इतने मजबूत हुआ करते थे कि पड़ोसन की लड़की को बहन ही मान लेना पड़ता था.

जीजा- साली जी, तुम्हारी चूत में तो जन्नत का मज़ा है, चाटने दो ना! और तुम भी जवानी का मजा लो. मैं थोड़ी ओट में थी तो उन दोनों ने ध्यान नहीं दिया और मैं पूरी फिल्म देखने लगी. अमर अपनी स्पीड में तो था ही … उसने कुछ और तेज झटके दिए तो पिंकी झड़ने लगी.

आदिवासी सेक्सी वीडियो हिंदी में

मैंने अपनी अधखुली नजरों से देखा तो डाक्टर की आंखों में और चेहरे पर कामुकता नजर आ रही थी. जल्द ही उसने मेरी शर्ट निकाल दी और मेरी छाती पर, गर्दन पर किस करने लगी. वैसे तो मेरा उनके घर पर अक्सर आना-जाना लगा ही रहता था लेकिन मेरी ज्यादा बातें रवि के साथ ही होती थीं.

फांकों के बगल का क्षेत्र भी सूज गया था … उनकी काफी अच्छे से चुदाई हुई थी.

मैं फिर भी अनजान बनते हुए कहने लगा- अच्छा, मेरा काम तो हो गया, अगर आप बोलें तो मैं निकलूँ?कल्पना ने कुछ देर तक सोचते हुए मुझे देखा और कहा- एक बार और आओ ना …मैं- आपको दर्द कर रहा है ना, अगर फिर से करेंगे तो और दर्द बढ़ जाएगा.

लेकिन दिल में एक खुशी भी थी कि चलो इसी बहाने मैंने पम्मी आंटी को नंगी तो देख लिया. उसी समय इंग्लिश मीडियम वाले सेक्शन में एक लड़की पढ़ती थी, जिसका नाम अनु था. हिंदी बीएफ एचडी सेक्सी वीडियोमैं भूखे कुत्ते की तरह उसके बूब्स को चूसने चाटने और चबाने लगा।रश्मि मेरे लन्ड को पकड़ के हिला रही थी.

मैं- अगर मैं मेरी बात करूँ, तो मैं तो इसे बुर या चूत कहता हूं … आप क्या कहती हो पता नहीं. इतना कहकर मैंने उसकी नाइटी को पीछे से ऊपर उठा दिया और उसकी गांड मेरे सामने दिखाई देने लगी. मैंने कहा- देखो जानू, मैंने तुम्हारी चूत चाट कर कितना मजा दिया, क्या तुम मेरा एक बार भी मुंह में नहीं ले सकती?वह बोली- ठीक है, मगर मैं ज्यादा देर नहीं लूंगी.

मैंने उनको फर्श पर लिटा कर अपनी जीभ चाची की चूत में लगा दी और जैसे कोई बच्चा कुल्फी खाता है, वैसे चाटने लगा. पिंकी जाते हुए दरवाजे पर कुछ देर रुकी और अमर को देख कर मुस्कुरा कर अपनी साड़ी का पल्लू मुंह पर रख कर चली गई.

वो बोली- आज तुम घर पे ही हो, तो चलो शॉपिंग करने चलते हैं और डॉक्टर को भी दिखा आते हैं.

मैंने अंगूठे को उनकी गांड के पास रखा और दो उंगलियों को चूत के पास रख दिया और धीरे से अंदर करने लगी. आज भी जब मैं अपना पहला लिप किस याद करती हूं, तो धड़कन तेज हो जाती हैं. पूजा ने अपने एक पैर जमीन रखा था, दूसरा पैर घुटने से मोड़कर बेड पर रखा हुआ था.

एक्स वीडियो बीएफ ओपन यह नजारा तो बहुत ही अलग था, अब मेरे सामने चुत भी मुँह खोलकर लंड मांग रही थी और गांड भी मेरा लंड अन्दर लेने के लिये तैयार थी. आज राशि जल्द ही झड़ गयी और फिर मेरे लंड को पकड़ कर बोली- अब बस कर, मैं आग से तपी जा रही हूँ, अब चाटने से काम नहीं चलेगा, अपना मोटा-काला लंड इस चूत में घुसा दे.

तो मम्मी ने आंटी से पूछा- क्यों हंस रही हो?आंटी ने मम्मी से बताया- वो लड़का बोल रहा है कि मेरी जान है साथ में!ये सुनकर मेरी मम्मी भी हंसने लगीं. वो भी इठला कर बोलीं- मुझे जितना चाहिए, उतना आप दे भी पाओगे!भाभी की बात पर मैं भी कॉन्फिडेंस में आ गया और अपनी छाती पर हाथ ठोक कर बोला- आपका स्वागत है भाभी, आप कभी भी और कहीं भी आजमा लीजिएगा. तभी उसने पूछा- सेक्स किए हुए कितने दिन हो गए?मैंने इस बार बिंदास कहा- सात महीने हो गए हैं डाक्टर.

தமிழ் நடிகை செஸ் மொவயே

हल्की हल्की कंपकंपाती सी आवाज में बोलने लगीं- ये बहुत मोटा है और मस्त है. जैसे जैसे मेरी हरकतें बढ़ती गईं, वैसे वैसे उनकी सिसकारियां और आहें कराहें भी बढ़ती गईं. आगे जब भी उसकी चूत में उंगली डालने की कोशिश करता, तो वो चिंहुक जाती और दर्द होने के बारे में बताती.

अब मैंने अपने मस्तिष्क में टाइम ट्रैवल मशीन बनाने की ठान ली ताकि पास्ट में जाकर मैं अपनी मम्मा सौम्या को चोद सकूं और सौम्या की जिंदगी में खुशियां भर सकूं. हमारे मिलन का समय आ ही गया और मेरे सपनों की हसीन रानी मेरे रूम पर आ गई.

वो मुझे अपनी बांहों में भरे हुई थी और अपने हाथ मेरे बालों में फिरा रही थी.

काफी देर तक उसकी गांड को दबाने के बाद मैंने उसकी गांड की दरार को अपने दोनों हाथों अलग करके देखा तो उसकी गांड का छेद सिकुड़ा हुआ था. मैंने कहा- तो गेट बंद कर दूं?उसने कहा- अब तक तो तुम्हें बंद कर देना चाहिए था. मीरा को आराम से उठते देख रितेश समझ गया कि मीरा ने सिर्फ़ कमर में चोट लगने का नाटक किया था.

उस दिन उसने पीले कलर का पजामी सूट पहना हुआ था और वह उसमें बहुत ही प्यारी लग रही थी. दोस्तो, मैं आपका दोस्त सन्नी सिंह, आज मैं आपको सुनाऊंगा मेरे परिवार की कहानी. करीब पाँच मिनट ही हुए होंगे कि सर ने अपनी बांहें फैलाकर हम दोनों के कंधों पर रख दी- शाबाश … जल्दी-जल्दी करो.

क्या बताऊं दोस्तो एकदम टाइट कड़क दूध, मक्खन जैसा बदन, मम्मी की चूत पर छोटे छोटे बाल, होंठ एकदम लाल, पेट अन्दर की तरफ ऐसा हल्का सा दबा हुआ मानो उर्वशी रौतेला का शरीर हो.

अंग्रेजी देसी बीएफ: इतना ही नहीं, रानी ने लंड की नसें दबा दबा के बची खुची वीर्य की बूँदें भी निकल ली थी और उनको भी चाट गयी थी. एक रात को मैंने उससे बोला- मुझे तुम्हें किस करना है, कल तुम मेरे रूम पर इस बहाने से आ जाना कि कंप्यूटर में कुछ डाक्यूमेंट्स चैक करने हैं.

वो पहले तो वो ताई पर हाथ फिराते हुए उनका ब्लाउज उतारने लगे, फिर छाती पर हाथ फिराते फिराते उनए मम्मों को मसलने लगे. मैंने झट से उसकी आवाज़ दबाने के लिए जल्दी से उसके मुँह को बंद कर दिया. मैंने पापा को रात वाली सारी बात बता दी और पापा ने रोहित को उसके कमरे से बुला कर बहुत बुरा-भला कहा.

मैं बिहार के भागलपुर का रहने वाला हूं और एक मिडिल क्लास फैमिली से हूं.

फिर मैंने धीरे से महसूस किया कि उसने मेरी ज़िप खोल दी और अंडरवियर को हटा दिया. उसने मुझे अंडरवियर में डांस करने के लिए कहा तो मैंने मना किया मगर फिर दोनों मुझ पर दबाव बनाने लगीं और मैंने अपनी लोअर और शर्ट उतार कर डांस कर दिया. जब वो मुझे चोद रही थी, तब मेरे चेहरे के सामने उसकी पीठ थी, तो मैंने उसको घुमाकर चेहरा मेरी तरफ करने के लिये कहा.