बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ

छवि स्रोत,सील तोड़ते हुए वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

नई सेक्स वीडियोस: बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ, हॉट वाइफ स्टोरी में पढ़ कर मजा लें कि कैसे मैंने अपनी बीवी को नंगी किया.

देसी झवाझवी

अब आगे की सेक्सी चाची की चुत स्टोरी:उनकी बात सुनकर मैं दोनों हाथों से उनको बाजुओं में जकड़ने लगा और उनके मम्मों पर अपने दोनों हाथ रखकर उनको अपनी बांहों में भर लिया. सेकसी सेकसमुझे बहुत गन्दा लगा और मैंने भी गाली देते हुए कहा- साले, मुझे मालूम होता कि तू इतना सब करेगा, तो मैं आती ही नहीं.

इस ख़तरनाक चुसाई से सुमन पागल हुई जा रही थी … और न जाने क्या से क्या बोली जा रही थी- आह आह चूसो … आह बहुत मज़ा आ रहा है … उफ़फ्फ़ आप तो बहुत गर्म हो … ऐइ आराम से आह. पीली साड़ी मेंअभी भी मेरे हाथ में टमाटर की थाली थी, लेकिन उसके हाथ जो आटे से भरे हुए थे, वो मेरी गरदन पर आ गए.

मैंने एक बहुत ही गहरी पप्पी उनके कूल्हों की ले ली … इससे सीमा जी की नींद खुल गई.बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ: सर इस बात से चिढ़ गये और उन्होंने उन 17 लड़कों के साथ ही मेरा मैच करवा दिया.

मेरी हॉट वाइफ स्टोरी के अगले भाग में मैं सब तरतीब से लिखूंगा कि पारिज़ा के साथ सेक्स का मजा हमने कैसे लिया.मैं मस्ती में अपनी सेक्सी भतीजी की चूत मारने लगा और मैंने उसको बहुत देर तक चोदा.

विंडो गोल्ड - बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ

मगर फिर सोचने लगा कि एक बार देखूं तो सही कि माल कैसा है और चूत कैसी है? फिर अमित मुझे उस रात को पांचवें फ्लोर पर ले गया.मैं पारिज़ा की गीली चूत को चाटने लगा और पारिज़ा गांड उठा कर मेरे मुँह में चूत दबाते हुए सीत्कार करने लगी.

मैंने टॉर्च को और करीब कर दिया तो देखा कि मॉम की चूत के बालों में एक दो चींटियां घूम रही थीं. बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ आपने इस सेक्सी भाभी की कहानी के पिछले भागभाभी से लगाव, प्यार और सेक्स- 1में पढ़ा कि किस तरह मैंने भाभी की पीठ पर किस करके मुठ मारी और मेरा भाभी के लिए प्यार किस तरह बढ़ने लगा.

मैंने किसी तरह से अपनी आवाज़ को दबाया और हल्के स्वर में ‘आह … आह … उअफ.

बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ?

सुरेखा ने उससे पूछा कि तुम कितनी देर में आओगे?रोहन ने कहा कि मैं बस रास्ते में हूँ आ ही रहा हूँ. अतः मैं अपने दोनों स्तन अपने हाथों से खूब ताकत से दबाती मसलती और अपनी योनि के दाने या मोती को खूब सहलाती रगड़ती और मिसमिसा कर योनि को चांटे मारती जब तक कि वो शांत नहीं हो जाती. गर्लफ्रेंड लंड देख कर बोली- उई मम्मी … तो बहुत बड़ा है … ये तो एक बालिस्त से भी बड़ा लग रहा है.

मैं मुड़ा और फिर उसे अपनी बांहों में भर लिया।इस बार वो ज्यादा जोर लगाने की बजाय बस मुंह से बोलती रही कि अब छोड़िए बहुत हो गया।मैंने उसकी एक बात नहीं सुनी. अपने इसी शौक के चलते मैं कई महिलाओं और लड़कियों के साथ सेक्स कर चुका हूँ. मेरे हाथ उसकी पीठ पर लगातार घूम रहे थे और मेरा लंड उसको चुभ रहा था.

हालांकि उनके बूब्स में दूध नहीं था मगर फिर भी मीठा सा फील हो रहा था. एक दिन हम दोनों रोमांस कर रहे थे मतलब मैं सोफे पर बैठा था और पारिज़ा मेरी गोद में थी. उसके बाद वो मेरी छाती के निप्पलों को चूसने लगी जो मेरे 8 साल के जिगोलो के कॅरियर में किसी फीमेल ने मेरे साथ पहली बार किया था.

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]देसी Xxx चूत की कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 2. करीब 30 मिनट तक उसकी चूत को चाटने के बाद उसका पानी निकल गया, जिसे मैं लगभग पूरा ही पी गया.

मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और उसकी चुदाई करने लगा.

मेरा हाथ धीरे धीरे उसके पेट पर होते हुए ऊपर जाने लगा तो उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया.

सन्नो- शुरू में तो थोड़ा शर्माना ही पड़ता है मुखिया जी … अब तो मैं आपकी ही रखैल हो गई हूँ. फिर वो वॉशरूम का बहाना बना कर दूसरे रूम को लॉक करके आ गयी, जहां उसकी रूममेट सो रही थी. काफी देर तक मैं उसकी चूचियों को दबाता रहा और उसके बाद उनको बारी बारी से मुंह में लेकर पीने लगा.

सुबह होते ही कभी न्यूज पेपर उठाने, कभी पौधों को पानी देने के बहाने बाहर गया ताकि यार का दीदार हो जाये. मैं जानता हूं कि मैं जिन्दगी में कितनी बार भी सेक्स कर लूं, कितनी भी चूतें मार लूं लेकिन पहली चुदाई पहली ही होती है. मेरी क्लाइंट बोली- ये सब मत करो, मुझे ये सब अच्छा नहीं लगता।मना करने पर मैं ऊपर की ओर आ गया और फिर से उसके चूचों को और होंठों को अच्छे से चूसने लग गया.

मां ने कुछ नहीं कहा बल्कि वो और जोर से सिसकारते हुए अपने चूचे मसलने लगी.

उसने भी अपना बड़ा लंड निकाल कर मेरी चूत पर लगा दिया और एक धक्के में ही अन्दर कर दिया. मैंने नीचे लेट गया और उससे कहा- अब आप मेरे ऊपर आ जाओ और मेरे लंड पर बैठ कर अपनी गांड में लो. मेरे टमाटर काटने की स्पीड को देख कर बोली- वाह क्या बात है … बीवी खुश रहेगी.

फिर मैंने उसके काटे हुए निशान की फोटो उसे भेजी, तो उसने आंख दबाने वाली स्माइली भेज दी. वो हांफते हुए बोलने लगी कि मैं कहीं भागी थोड़ी जा रही हूँ … आज की पूरी रात है हमारे पास … तुम तो ऐसे चोद रहे थे कि जैसे आज के बाद मैं कभी मिलूंगी ही नहीं. मेरी पैंटी बार बार बीच में आ के हस्तमैथुन में विघ्न उत्पन्न कर रही थी तो मैंने अपने पैर हवा में उठाये और पैंटी को उतार के अपने सिरहाने रख लिया.

”फिर एक काम हो सकता है कि मनीषा को मेरे घर के एक कमरे में शिफ्ट कर दीजिये, आप लोग एक एक करके मिलने भी आ सकते हैं.

फिर मैंने घर का एक चक्कर लगाया तो एक कमरे में कुछ लोगों का पीना पिलाना चल रहा था, शराब की गंध कमरे के बाहर तक आ रही थी और रूचि के पापा यानि कि मेरे मौसा जी की बहकी बहकी बातें बाहर तक सुनाई दे रहीं थीं. 8 फीट की हाइट एवं एक गठीले शरीर का मालिक है।जितने भी वर होते हैं सभी को अपनी सुहागरात में बहुत दिलचस्पी होती है जो कि स्वाभाविक सी बात है.

बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ उस रात सुबह तक चुदाई के बाद हम दोनों इतना थक गए थे कि बिना सफाई किए वैसे ही एक दूसरे के चिपचिपाते रस से भीगे, एक दूसरे की बांहों में थक कर सो गए. मैंने कहा- लेकिन वो तो काफी बड़े हैं मुझसे!सुमन बोली- तो क्या हुआ यार? प्यार उम्र को थोड़े ही देखता है.

बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ एक ही धक्के में उन्होंने पूरा लंड मां की चूत में पेल दिया और उनको चोदना शुरू कर दिया. फिर वो बोले- अच्छा, मेरे लिये अगर किसी और को चूत देनी पड़े तो?मां बोली- चुप करो जी, मेरी चूत सिर्फ आपके लिये है.

तभी मोनिषा ने जैसे ही टीवी ऑन किया, तो टीवी पर चुदाई की पोर्न मूवीज चालू हो गई.

एक्स एक्स एक्स एक्स गुजराती

मुखिया- अरे गीता रानी, बस थोड़ा दर्द और बर्दाश्त कर लो, उसके बाद मज़े ही मज़े आने हैं. दोस्तो, मेरी क्लास में एक सुरजीत सर हैं, जो पढ़ाई तो अच्छी कराते हैं. कपड़े सुखाते सुखाते या हो सकता है मेरी स्थिति सोचते सोचते भाभी का टखना मुड़ा और वो घुटने के बल गिर गयीं.

मैंने उसकी गर्दन को नीचे झुका दिया ताकि उसको लंड चूसने का इशारा मिल जाये. उसकी चूत से भर भर के पानी निकल रहा था, जिससे झटकों की आवाज और तेज़ तेज़ आ रही थी. मॉम अब और जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … ऊईई … याह … और तेज … आह्ह … और जोर से … चूस राजेश।अब मुझसे भी रुका नहीं जा रहा था और मैंने उनके पैर उठा कर अपने कंधों पर रखवा लिये और जांघों के बीच में जाकर अपने लंड को उसकी चूत पर टिका दिया.

जब मैं नहाकर उनके घर गया तो हम सबने साथ में मिल कर समोसे खाए। बाद में आंटी मेरे घर चली गई और उनके घर हम तीनों ही रह गये.

हम दोनों एक दूसरे के सिगरेट के धुंआ को एक दूसरे के ऊपर छोड़ते हुए किस कर रहे थे और बातें करते हुए हम लोग सो गए. चुत पर मेरा मुँह पाते ही उसने अपनी गांड ऊपर की तरफ उठाई और अपने हाथों से मेरा मुँह अपनी चुत पर जोर से दबा दिया. पूछने लगी- क्या हुआ अंकल?चॉकलेट मैंने उसकी तरफ बढ़ाई तो उसने हंसते हुए लेने से मना कर दिया.

कोई सोच भी नहीं सकता था कि एक लड़का लड़की कॉलेज की पार्किंग में चुदाई का खेल खेल रहे थे. वो कमरे में आकर मेरे बिस्तर पर किनारे की तरफ बैठ गई और 5 से 6 मिनट तक उन्होंने इधर से उधर देखा और सुनिश्चित करके कि कोई नहीं आयेगा फिर उन्होंने मेरी रजाई में हाथ डाल दिया. मेरी बहन की चूत की कहानी पर अपने कमेंट्स में बतायें कि हम दोनों के रिश्ते के जैसे ही क्या और भी भाई बहन होते हैं या फिर हम दोनों में ही ये सब खुले तौर पर हो रहा था? मुझे और रिया को आपकी राय का इंतजार रहेगा.

मैं उसकी चूत को पेलता रहा और फिर पांच मिनट के बाद एक बार फिर से मैंने मॉम की चूत में वीर्य निकाल दिया. उसने सूट-सलवार पहना हुआ था और कसी हुई चूचियां मेरी छाती से सटी थीं.

मगर वो जानबूझ कर अनजान बनी रही और उनको चाय का कप देकर वहीं सामने बैठ गई. भाभी की साड़ी का पल्लू उनके ब्लाउज के ऊपर से मैंने हटा दिया और उनके मम्मों को ऊपर से ही पकड़ लिया. कुछ देर बाद प्रेरणा भाभी का दर्द का मजे में बदलने लगा तो वो भी अपनी कमर हिलाकर मेरे साथ कदमताल मिलाने लगी.

मैं तो अपनी किस्मत पर गर्व कर रहा था कि मौसी इतनी जल्दी पट गयी मुझसे!उसके बाद मौसी ने मेरे पूरे कपड़े उतार दिये.

मैंने कहा- तब तक ऐसे ही बैठूं क्या?उसने कहा- मजबूरी है, आप एक काम कीजिए, अन्दर वाले कमरे में चलिए, वहां कोई नहीं आता. फिर मैंने अन्दर देखा कि अल्पना घोड़े बेचकर सो रही थी … उसके ऊपर चादर ओढ़ा दी गई थी. फिर मैंने उससे मिलने का वादा किया और हम शाम को 7 बजे एक रेस्टोरेंट में खाने के लिए गये.

सच में दोस्तो, लड़की की चूचियां भींचने में जो मजा है उसके कहने ही क्या।हिमानी भी पहली बार किसी लड़के से अपने बूब्स को दबवा रही थी. मैंने उसे आंख मारी, तो वो फिर से स्माइल करके लंड पेलने का इशारा कर उठी.

अब आगे सेक्सी बीबी की चुदाई:उसके बाद मैंने पारिज़ा को पूरी नंगी कर दिया और पारिज़ा की मस्त चुत को देखकर मुझे अंकल याद आ गए. तभी कुछ देर बाद मुझसे रहा नहीं गया और मैं भाभी के मुँह को चूत समझ कर धक्के लगाने लगा. मुखिया ने अपने होंठ गीता की छोटी सी चुत पर टिका दिए, जो हल्के रोंए से घिरी हुई थी.

xxxiii वीडियो

मैंने उसकी तरफ देखा और ज्यादा देर ना करते हुए आगे बढ़ कर उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसना शुरू कर दिया.

अब पढ़ने लिखने के लिए तो कुछ था नहीं तो मम्मी ने बोला- छुट्टी है तो जाओ नाना नानी से मिल आओ जाकर. क्योंकि कितने सालों के बाद अंकल सेक्स करने जा रहे थे और वैसे भी अंकल अपनी बेटी की चूत चोदने जा रहे थे इसलिए वे थोड़ा हिचकिचा रहे थे. मैंने सोचा एक बार पहले इसकी चुदाई कर देता हूँ … कहीं वो गैंडा हिलता हुआ आ गया तो खड़े लंड पर चोट हो जाएगी.

उसकी जीभ का अहसास इतना अधिक मदमस्त था कि मेरी चुत में मानो आग सुलग उठी थी. कुछ देर बाद रोहन ने अपना लंड चुत से बाहर निकाला और बिस्तर पर गिर गया. सबसे ज्यादा सेक्सी पिक्चरकुछ देर बाद उसने कहा- मेरा ब्वॉयफ्रेंड काफ़ी सीधा था, वो कुछ करता ही नहीं था.

उनके ऐसे करने से मेरा पूरा जिस्म झनझना उठा और मेरी चूत में पानी की जैसे बाढ़ सी आ गई. हालांकि मुझे बॉडी मसाज नहीं आती, लेकिन उनके घर जाने का और कोई बहाना ही नहीं मिला.

मैंने पूछा- क्या हुआ डार्लिंग … फट गई क्या!तब चाची बोलीं- अरे फटी को क्या फाड़ेगा … मुझे कुछ नहीं हुआ है. तब तक के लिए सभी रसीले लौड़ों और चुदक्कड़ चूतों मेरा बाय-बाय।मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]. मेरी दिली इच्छा थी कि मेरी योनि की सील मेरे पतिदेव ही अपने लिंग से तोड़ें और मैं आजीवन एक अच्छी संस्कारवती पत्नी की तरह रहूं.

इस पर मां ने कहा- तो आपको मजा नहीं आता क्या जब मैं आपके लंड पर मूतती हूं?वो बोले- आता है जान … तुम्हारा गर्म गर्म मूत लंड पर गिरता है तो बहुत मजा देता है. उस रात मैंने सोचा कि क्या चाची का इस उम्र में लंड लेने का मन करता होगा. मैं पसीने से चिपचिपा हुआ पडा था तो मैं नहाने के लिए बाथरूम में चला गया.

जब तक वो विरोध कर रही थी तब तक मेरा हाथ उसकी कमर पर था और जब विरोध ख़त्म हुआ तब मेरा हाथ हिप्स पर चला गया। पहली बार मैं अंजू को इस तरह टच कर रहा था.

ये बात मुझे मेरे पड़ोस के एक लड़के से ही पता लगी थी क्योंकि जिस लड़के ने उसको प्रपोज किया था वो भी हमारे पड़ोस का ही था. कपड़े सुखाते सुखाते या हो सकता है मेरी स्थिति सोचते सोचते भाभी का टखना मुड़ा और वो घुटने के बल गिर गयीं.

विनी ऐसे ही एक दो मिनट तक मेरी योनि चाटती रही फिर उसने योनि के होंठ खोल दिए और अन्दर की तरफ चाटने लगी. चूंकि मेरे ब्लाउज के दो हुक तो पहले से खुले थे, तो रोहन को मेरी चूचियों में अपना हाथ डाल दिया. मतलब मैं पारिज़ा को एकदम से चुदाई की पोजीशन में लाकर उससे इमोशनली बात करने लगा.

मैं बहुत परेशान थी कि अब मैं क्या करूंगी … मैं घर कब और कैसे जाऊंगी. सुषमा मैडम ने मुझे थैंक्स कहा और पूछने लगीं कि तुम कौन से विंग में रहते हो?मैंने कहा- आपकी विंग से एक विंग आगे. लौड़े का पानी निकलने के बाद सीमा जी ऐसे ही बिस्तर पर उल्टी पड़ गईं और मैं भी उनके ऊपर लेट गया.

बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ मैं बोला- क्यों मिसेज रोहित क्या हाल है?वो शर्मा गयी और मुझसे चिपक गयी. मैं उनके लिए कभी आइसक्रीम लाता, कभी समोसे, कभी कोई सामान लाता … और हम दोनों साथ में खाते.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी वीडियो

वो बोली- पापा, अब मुझे जब भी सेक्स की जबरदस्त भूख लगेगी, तो मैं आपके साथ इसी तरह डॉटर फादर रोल प्ले सेक्स करके चुदाई करवाऊंगी. महक मेरे हाथ से गुलाब लेते हुए बड़े प्यार से बोली- ओह्ह्ह गुरू … बस इतना कहने के लिए कितना टाइम लगा दिया तुमने … आय लव यू टू गुरू. मैंने कहा- तू इतनी देर से मुँह में लेकर चूस रही है ना, इसलिए तुझे ऐसा लग रहा है.

जब उसका लंड पूरा लार से भीग गया तो उसने लंड निकाला और मेरी टांगें उठाकर अपने कंधे पर रखवा लीं. पांच मिनट घमासान घपाघप चुदाई के बाद में आखिर में झड़ गया और पारिज़ा का पानी भी निकल गया, जिससे मेरी सेक्सी बीबी एकदम से रुक गई. इंग्लिश नंगा फिल्मफिर मेरे होंठों को चूम कर मेरा निचला होंठ चूसने लगे साथ ही वो मेरे स्तन दबाते मसलते जा रहे थे.

मेरा लौड़ा फिर से खड़ा हो गया था और भाभी की चुत की मांग करने लगा था.

अब चुपचाप लेटी रह और नखरे मत कर!उसने उठ कर फटाक से दरवाजा अंदर से लॉक किया और मेरे ऊपर आकर मुझ पर टूट पड़ा. मेरा काम था फाइल्स को मेन्टेन करना और क्लाइंट्स को अटेंड करना और क्लाइंट्स से पेमेंट भी लेकर आना। मेरा काम अच्छा चल रहा था और साथ में मेरी ओपन से ग्रेजुएशन भी चल रही थी।जिस वकील के पास मैं काम करता था वो केवल एक्सीडेंट के केस लड़ता था तो ऑफिस में रोज़ के बहुत क्लाइंट्स आते थे.

’इतना कहते ही मैंने उसके बड़े बड़े चूचों को ब्रा के ऊपर से ही पकड़ लिया. करीब 10 मिनट बाद जब हम नॉर्मल हुए, तो उन्होंने बोला- अब हम लोगों को नहा लेना चाहिए. मैंने मां को वहीं पर फर्श पर गिरा लिया और उसकी चूचियों के ऊपर टूट पड़ा.

मैंने उसकी पेंटी को उतारा, तो देखा कि उसकी चूत पर बड़े बड़े बाल थे.

चूत को मसलते मसलते मैंने उनकी चूत में दो उंगलियां डाल दीं और अन्दर-बाहर करने लगा. उसने मेरी गर्दन पर अपने होंठों से एक बहुत प्यार भरा चुम्बन कर दिया जिसके अहसास ने मुझे उस पर प्यार उड़ेल देने के लिए मजबूर कर दिया. मैंने अपना एक हाथ अल्पना के मम्मों पर रख लिया और एक हाथ नीचे ले जाकर उसकी चूत पर लगा दिया.

सेक्स आगराअब मैंने उसकी गांड को प्यार से घपाघप प्यार से चोदता रहा और उसकी गर्दन, पीठ को चाटता रहा. मैंने उसकी गोद में ही उसके होंठों को चूमा और उसे कमरे में ले चलने के लिए बोला.

देहाती सेक्सी वीडियो चोदी चोदा

अंजू कुछ कपड़ा अपने शरीर को ढकने के लिए देख रही थी तब तक मैं सिर्फ़ अंडरवियर में रह गया था. उसने लंड चूसने से मना कर दिया इसलिए मैंने लंड का बदला उसकी चूत ठोक कर लिया. मैं उसकी पीठ पर झुका हुआ था और मेरे हाथ आगे आकर उसके मोटे मोटे स्तनों को दबा दबा कर उनका रस निचोड़ने पर तुले थे.

रात को लगभग 12 बजे जब मेरे घर में सब सो गए, तब चुपचाप मैं छत की दीवार फांद कर उनके घर में आ गया और ऊपर वाले कमरे का दरवाजे को धक्का लगाया तो वो खुल गया. जब उसे कुछ आराम मिला तो उसके बोलने पर मैं धक्के लगाने लगा। उसे शुरू में चुदवाने में दर्द होता रहा मगर पांच मिनट के बाद वो अब सिसकारते हुए चुदने लगी थी. अन्तिम क्षणों में मैंने उसके मुंह में लंड पूरा घुसा दिया और इतनी जोर से उसके सिर को दबाया कि उसके गले में लंड फंस गया.

दोस्तो, मैं नाहिद अपनी भाभी की बहन को चोदा कहानी का दूसरा पार्ट लेकर आया हूं. वो दोनों चुदाई में व्यस्त थे और मैंने धीरे से अपना हाथ अपनी अंडरवियर में डाल कर लंड को मसलना शुरू कर दिया. मां की चुदाई देखते देखते पता नहीं कब मुझे नींद आ गयी और मैं सो गया.

तो मैं बोला- मेरी प्यारी रंडी, कितनी बार अपनी देसी बुर में लंड ले चुकी हो, मगर चीखती तो ऐसी हो कि पहली बार लंड ले रही हो. गांव के बाहर तक तो हम बाइक पर आ गये लेकिन आगे बाइक का रास्ता नहीं था.

मॉम ने वो दो छोटे छोटे कपड़े बिछाये और बिछाकर उनके ऊपर जमीन पर पेट के बल लेट गयी.

चाची हवा में टागें उठाते हुए बोलीं- हां मालूम है मुझे तेरे लंड की ताकत … इसी लिए तो तुझसे चुदने के लिए मचल रही थी. साड़ी वाली की सेक्सपता लगा कि मेरा दोस्त इसी बिल्डिंग में किसी लड़की की चुदाई का मजा ले रहा है! तो मैंने भी …सभी को मेरा नमस्कार! मेरा नाम जीत है. गर्ल फोटोदो-तीन मिनट में ही लौड़े ने जोर की पिचकारी बाथरूम की दीवार पर दे मारी. अब सुबह होने में कुछ ही वक्त बचा था और शहर बस आधे घंटे की दूरी पर था.

जब से मैडम की चुत देखी थी, तब से ही मुझमें ठरक आ गई थी … जो आज भी है.

5 मिनट बाद फिर पापा भी झड़ने लगे और पापा ने सारा माल मम्मी की चूत में छोड़ दिया. चुम्बन में हमारी जीभ ऐसे लड़ रही थी और नीचे से हम दोनों आगे पीछे हो रहे थे. मैंने हंसते हुए कहा- क्यों मज़ा नहीं आया?उसने अपना मुँह नीचे कर लिया।मैंने कहा- दर्द तो मुझे भी हो रहा है कल से पेट में।उसने बोला- दवाई ली या नहीं?मैंने बोला- अभी नहीं ली, कल लूंगा।उसको फिर मैं बाइक पर लेकर घूमने निकल गया। फिर रास्ते में एक पार्क था जो एक्चुअल में एक लवर्स वाला पार्क था.

मैंने लंड को पहले भाभी की तपती हुई चूत पर रगड़ा, फिर धीरे से आधा लंड प्यासी भाभी की गोरी चुत में सरका दिया जो बड़े ही आराम से अंदर चला गया. जब मैं अकेली यहां तड़पती रहती हूं तो तब कोई मेरे बारे में नहीं सोचता. ये मैं सुनते ही सीट के ऊपर से उठ गया और उसके सामने आकर नीचे बैठ गया.

सेक्सी पिक्चर नंगी सेक्सी पिक्चर नंगी

अब किसे पता कि किस वक्त कोई बहुत ज़्यादा बीमार हो जाए और उनको पूरी रात उसको संभालना पड़ जाए. मैंने बिना उसको नंगी किए सभी आसनों में सेक्स किया। जाने से पहले मैंने अंजू से कहा- एक बार और प्लीज़।अंजू ने अपने आप ही सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे पास मेरी गोद में आकर बैठ गयी. तुम्हें ऐसी खुशी और मज़ा कभी नहीं मिला होगा, मैं दावे के साथ कहता हूँ.

भाभी अब कुछ बदले से स्वर में बोलीं- तुम्हारी कोई जीएफ नहीं है?मैं बोला- है.

हम दोनों ने करीब 20 मिनट तक एक दूसरे को खूब चूमा … वो भी गर्म होने लगी थी.

यहां पर लाने के बाद उसने शादी करने से मना कर दिया और छोड़ कर भाग गया. थोड़ी देर बाद मैंने उसे जवाब दिया- क्यों नहीं … आखिर मैं तेरे पापा की उम्र का ही तो हूँ. का नंगा डांसप्रत्येक इंच अंदर जाते लंड के साथ पूजा के मुंह से- आह्ह, ईईई, उफ्फ, मर गयी, उईई मां, ओह्ह जैसी आवाजें निकल रही थीं.

ये सुन कर मैं एकदम से भौंचक्का सा हो गया कि मैडम ये क्या बोल रही हैं. मम्मी ने सारा काम खत्म किया और नहाने के लिए कपड़े निकाल कर बेड पर रख दिए. मैंने रिमोट से टीवी बंद कर दिया, जिससे अब चुदाई की फच फच फच आवाज़ साफ सुनाई देने लगी थी.

मैं मस्ती में अपनी सेक्सी भतीजी की चूत मारने लगा और मैंने उसको बहुत देर तक चोदा. तब अनिल जोश में बोला- जब मैंने तेरी मां की गांड में अपना लंड डाला था, तो वो भी चीखने चिल्लाने लगी थीं.

मैंने जाकर देखा तो वो पेटीकोट पहन चुकी थीं और काली ब्रा से दोनों चूची ढक चुकी थीं … बस हुक लगा ही रही थीं.

लेकिन ऐसे बिना दरवाजा बंद किये मैंने खुल के खेल भी तो नहीं सकती थी पर मुझ पर वासना हावी थी सो मैंने कोठरी का बल्ब निकाल कर एक तरफ रख दिया जिससे अंधेरा हो गया. भाभी अब कुछ बदले से स्वर में बोलीं- तुम्हारी कोई जीएफ नहीं है?मैं बोला- है. ये सब करने के बाद मुझे लगा कि मैं ये क्या कर रही हूं? अपना बदन किन्हीं अन्जानों से नुचवाने जा रही हूं और तैयार ऐसे हो रही हूं जैसे अपने पति या प्रेमी से मिलने जा रही हूं!मैंने नाश्ता किया और अच्छी सी महंगी साड़ी पहन ली.

माँ रिंगटोन डाउनलोड ये कहते हुए मैंने पायल बहू का पल्लू गिरा दिया और उसकी गर्दन पर चूमने चाटने लगा. आप हम दोनों सिर्फ नीचे से लंड चुत को ढकने वाले कपड़े ही पहने हुए थे.

मैं दो पाटों के बीच में पिसने लगा, मगर वो पल मेरी जिंदगी का सबसे सुखद पल था. मैंने ये सुनते ही अपना लंड चूत पर सैट किया और बहुत तेज़ झटका दे मारा. मेरे लंड की लंबाई औसतन भारतीयों की तरह 6 से साढ़े 6 इंच के बीच में ही है.

সেক্স ভিডিও বাঙ্গালী

पारो भाभी का भी फिर से मूड बन गया और वो मादक स्वर में ‘उफ़ आह उह आह उफ. फिर भी मैंने अंगिका की मेहमाननवाजी का मान रखते हुए उसकी दोस्त को आने की इजाजत दे दी. और मेरा दिल कर रहा था कि अब विनी मेरी योनि को अच्छे से मसल डाले और इसमें दो उंगलियां घुसा कर तेजी से अन्दर बाहर करती रहे.

बिना कंडोम के पहली बार इस तरह चोदने पर मेरे लंड में भी दर्द हुआ क्यूंकि वो काफ़ी टाइम से अपने पति से दूर थी तो चुदी नहीं थी।इस वजह से उसकी चूत भी अब काफ़ी कस गई थी। मेरे लंड की खाल पीछे खिंच गई और मुझे भी दर्द हुआ मगर मैं रुका नहीं. थोड़ी देर बाद रागिनी झड़ गयी और बोली- जीजू, आज पहली बार मुझे गुदगुदी फील हुई है, वरना आकाश तो अपना माल मेरे अंदर झाड़ कर सो जाते हैं और मैं रातभर तड़पती रहती हूँ.

मैं- क्यों रिया, खुश है अब? सब कुछ अब तेरी मर्ज़ी का पहन सकती है तू?रिया- हां भैया, बहुत खुश हूं.

उसे भी अंदाजा हो गया, तो उसने डोरी खोलना शुरू किया और बोला- मैडम लगता है, ये छोटा है, मैं इससे बड़ा साईज लेकर आता हूं. तभी सुरेश को लगा कोई आ रहा है, तो उसने कहा- ठीक है, तुम जल्दी से कपड़े पहनो … बाकी का चैकअप बाद में करूंगा. अब हम लेटे लेटे ही बातें करने लगे और एक दूसरे को वासना से देखने लगे.

पीछे से उसकी पीठ पर हाथ रखकर दूसरे हाथ से लंड को उसकी चूत के मुँह पर लगाया और चोदने को तैयार हो गया. हालांकि मैं मुझे जब टाइम मिलेगा, तभी मैं अपनी पति पत्नी सेक्स कहानी के लिए आपके मेल का रिप्लाइ ही दे पाऊंगी. उसने मेरे साथ घर में शादी कि और फिर हम दोनों भी बहन सुहागरात मनाने बेड पर आ गए.

कल तू चाहे तो मुझे फांसी लगवा देना पर आज तेरी चूत की खैर नहीं, देख मैं क्या करती हूं तेरी चूत के साथ!” वो बहुत ही बेशर्मी से बोली.

बीएफ एक्स व्हिडीओ बीएफ: वो कमरे में आकर मेरे बिस्तर पर किनारे की तरफ बैठ गई और 5 से 6 मिनट तक उन्होंने इधर से उधर देखा और सुनिश्चित करके कि कोई नहीं आयेगा फिर उन्होंने मेरी रजाई में हाथ डाल दिया. इस बार मुझे गुस्सा आ गया, तो मैंने अपने हाथ में अपना मूत भरके उनके चेहरे पर मल दिया और मैं नहा कर बाहर आ गया.

‘ईईईई …’मैं फिर भी ब्लाउज के ऊपर से ही सुनयना भाभी के निप्पल को चूसने लगा. कामरस से भीगीं अपनी उँगलियों को मैंने अपनी योनि की दरार के ऊपर पूरी लम्बाई में चार पांच बार ऊपर नीचे फिराया. खैर, मैंने आकर तेरा मजा खराब किया है तो मैं ही तेरा मजा अब पूरा भी करूंगी.

अब आगे की गर्लफ्रेंड की चुदाई हिन्दी में कहानी … प्रिया के ही शब्दों में:दोस्तो, विकास का लंड चूत में हल्का सा जाने के बाद मुझे लगने लगा था कि उसका वादा टूट गया है और अब मैं उसके लंड से सारी रात चुदूंगी लेकिन उसने मेरे अरमानों पर पानी फेर दिया और मेरे रूठने पर मुझे मनाने लगा.

मैं अकेला (सिंगल) हूँ और मैं भी तुम्हारी तरह अपने मां बाप की इकलौती संतान हूँ. अगर मिकी मुझे मेरा माल पीने के लिए मना नहीं करती तो मैं उसके साथ इस तरह से बेरहमी से लंड नहीं चुसवाता और न ही उसके गले में माल उतारता और न ही मुझे उसके मुंह में माल छोड़ने में इतना मजा आता. नीचे पापा अपने किसी काम में व्यस्त थे और वो सामान्य रूप से ऊपर नहीं आते थे.