पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,एक्सएक्सएक्सी फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

ji की चुदाई सेक्सी: पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी, बियर खत्म होने तक मैंने बियर की धार टूटने नहीं दी और नम्रता ने भी पूरे मजे से बियर को पिया.

बफ सेक्सी देसी

वो इतनी अधिक चुदासी हो उठी थी कि मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत में लगा लिया. सेक्सी हॉट ब्लू पिक्चरमुझे कुछ सूझता, उससे पहले माँ ने मेरे पजामा में हाथ डालकर मेरा लंड पकड़ लिया.

उसकी माँ मेरे दादाजी से कह रही थी कि मेरी बेटी का माइग्रेन अब आपकी दी हुई दवा की वजह से खत्म होने के कगार पर है मगर अब इसकी योनि से पानी निकलने लगा है. नंगी पिक्चर नंगी नंगी पिक्चरतभी उसकी चुत से पानी बाहर आना स्टार्ट हो गया जो सेक्स के टाइम पर निकलता ही है.

दोपहर को जब वो उठी तो मैंने कहा मैं बाहर कुछ शॉपिंग करने के लिए जा रहा हूं.पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी: उधर सामने टीवी में चुदाई चल रही थी, इधर में चाची को कुतिया की तरह चोद रहा था.

इस कहानी को पढ़ कर आप लोगों को मजा आया या नहीं, आप कहानी पर कमेंट करके बताना और अगर आप मैसेज करना चाहते हैं तो मुझे मेल भी कर सकते हैं.उसने मुझे अपने दोनों हाथों से ज़ोर से दबाया और मुझे बिस्तर पर गिरा दिया.

இந்திய செக்ஸ் - पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी

हर हफ्ते पार्लर जाती है और वैक्सिंग भी टाइम से कराती है। मुझे हर रोज फ्रेश मॉल मिलता है।मैंने आइस क्यूब को उसकी कांख पर रगड़ना चालू किया। वो उतेजना के मारे छपटाने लगी.मैंने अपने दोस्त राहुल और वरुण से इस बारे में बात की तो उन्होंने कहा कि तेरा काम तो हो जायेगा लेकिन इस चिकनी की चूत तो फिर हम भी मारेंगे.

जब तक मैं कुछ समझ पाता उसने मुझे अंदर खींच लिया और घर का दरवाजा बंद कर दिया. पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी दीदी के आने के बाद उस रात मैं उनके बच्चों के साथ दूसरे कमरे में सो गयी.

इस वजह से उसकी आंखें बंद हो गई थीं और वो मज़े ले ले कर आवाज़ निकाल रही थी.

पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी?

वो रो भी नहीं पा रही थी, बस अपने नाखूनों से मेरे पीठ में चुभा रही थी. तभी पारो गुलाबो का हाथ पकड़ कर वहां ले आयी और बोली- आमिर, ये लो तुम्हारी गुलाबो … आराम से करना. उस आंटी ने … वैसे उसको आंटी कहने में अच्छा नहीं लग रहा क्योंकि वह बिल्कुल जवान लग रही थी.

मैं जब अपने गांव से चला, तो वहां पहुंचने तक भाभी मुझे 15 कॉल कर चुकी थी. ई … ई … ई!वसुन्धरा रह रह कर दांत किटकिटा सी रही थी और उसके मुंह से निकलने वाली सीत्कारों का कोई ओर-छोर नहीं था. फिर मैंने कल रात को तेरी आइसक्रीम में नींद की गोली मिला दी थी और तेरी गांड को नंगी करके चाट भी लिया था.

पर छाया खुश थी, बोलने लगी- जब आपके पैर में चोट लगी ही है तो आप मेरे घर ही आराम कर लो। मेरा घर पास ही है, इस बहाने मनोज भी घर घूम लेगा।मैंने भी मम्मी से कहा- हाँ मम्मी, बुआ के घर ही चलते हैं. फिर उसने बातों बातों में अपना नम्बर दिया और बोला- आप कैब मत बुलाइये, मुझे फ़ोन कर दीजिए, आपको कैब से सस्ता और सेफ पड़ेगा. मैंने ऊपर भी लिखा था कि मुझे औरतों और लड़कियों की गांड सूंघना और चाटना बहुत पसंद है.

मगर यह सब हुआ कैसे? मैं एक पल के लिए तो सोच में पड़ गया लेकिन फिर अगले ही पल सोचा कि बड़ी मुश्किल से मछली फंसी है. पांच सौ कम्यूटर्स! अगर मैं सब ख़र्चे निकाल कर पांच सौ रुपये प्रति कम्यूटर के हिसाब से भी अपना प्रॉफिट रखता तो फ़िगर ढाई लाख के पार जाती थी.

मैंने उसकी चूत में तेजी के साथ उंगलियों को चलाना शुरू कर दिया और उसके मुंह से स्स्स… आह्ह … अम्म… ओह्ह जैसी मधुर आवाजें निकलने लगीं.

वो मेरी कुतिया बनी थी और मैं उसको चोदने वाला कुत्ता! उसको डॉगी स्टाइल में चोदने लगा.

फिर वहां खड़ी चार औरतों में से तीन ने अपनी सलवार और एक ने अपनी साड़ी उतार दी. जैसे तैसे स्कूल की छुट्टी की घंटी बजी, मैं तेज़ तेज़ साइकिल दौड़ाता हुआ घर गया और कपड़े बदल के तुरंत रानी के बंगले की तरफ चल पड़ा. उसको मैं इससे पहले कितनी ही बार चोद चुका हूँ मगर जब भी उसको ऐसे नंगी देखता हूँ तो लगता है कि मैं पहली बार उसको नंगी देख रहा हूं.

दीदी के आने के बाद उस रात मैं उनके बच्चों के साथ दूसरे कमरे में सो गयी. मैं उसका सिर अपने टांगों के बीच में दबा रही थी, मुझे अपनी चूत में आग लगी हुई महसूस होने लगी थी. अगले दिन मैं पूजा से मिला और बताया कि यार लंड का बुरा हाल है … कुछ करो.

मैंने अपने लंड को नीचे बैठे हुए ही एक हाथ से हिलाया तो लंड ने जैसे कह दिया हो- बहनचोद! अब तो डाल दे मुझे इस माल के अंदर …मैंने जीभ को मनमीता की चूत से बाहर निकाल कर उसको यहां-वहां से चूसा चाटा और मनमीता मुझे ऊपर उठाने लगी.

पूछने पर बताया कि यदि उसने दो दिन के अन्दर फाइल मेरे से साइन नहीं करायी, तो कंपनी उसे नौकरी से निकाल देगी. उसने अचानक नीचे बैठ कर मेरी पैन्ट खोल कर मेरे लंड को बाहर निकाल कर चूसना शुरू कर दिया. रितेश जोर से हंस पड़ा और मुस्कराते हुए बोला- ये चस्का तो तेरी बड़ी दीदी को भी शादी से पहले ही लगा दिया था मैंने.

प्रीति के शब्द:मैं तो सुन्न पड़ गई थी, जब भाई ने मुझे नंगी ही डिलीवरी बॉय के सामने जाने को कहा. मैंने कहा- लेकिन 5 लोगों के साथ कैसे कर पाऊंगी?सर बोले- परेशान मत हो तुम्हें भी मजा आएगा. तभी दादाजी ने बताया कि इसकी कोई हड्डी शायद गल कर इसकी योनि से बाहर निकल रही है.

बाद में मैं भी तैयार हो गया और फिर दोनों लोग मेरे घर की तरफ चल दिए.

मैंने कहा- मैं इसे कैसे चूसूं?इस पर उन्होंने मेरी साड़ी ब्लाउज आदि सब कपड़े निकाल दिए और मुझे नंगा कर दिया. ? मैंने कहा- नहीं भाभी अभी तो शुरूआत हुयी है, तुम्हें तो अभी बहुत मजा मिलने वाला है.

पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी मैं वापस नीचे आई, पर दोनों को नंगी चूचियों को दबवाते देखने में मुझे मज़ा आ गया था, इसलिए मुझसे रहा नहीं गया और मैं वापस ऊपर जाकर फ़िर से खिड़की से अन्दर देखने लगी. ताऊजी ने पास ही रखी हुई तेल की शीशी उठाई और अपनी हथेली पर थोड़ा सा तेल लगा कर बुआ की चूत पर मलने लगे.

पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी किंतु इस तरह की दवाएं काफी नुकसानदेह हो सकती हैं जिनका असर कई बार विपरीत भी हो जाता है. कुछ देर के बाद उसने अपना लंड फिर से मेरी चूत से बाहर निकाल दिया और मेरी चूत को चाटने लगा.

अपने लंड को अपने हाथ में लेकर ताऊ जी ने बुआ को हिला कर दिखाया तो बुआ मुस्कुराने लगी और बोली- बहुत दिनों बाद आज इस औजार से मुझे प्यास बुझाने का मौका मिला है.

हिंदी सेक्सी साड़ी ब्लाउज वाली

मैं सोच रहा था कि जागृति की नजरों से बचने का यह अच्छा तरीका है कि मनीषा अंधेरे में चुदाई करवाने का प्लान कर रही है. फिर एक महीने बाद उसके घर से सब गेस्ट जा चुके थे, तो मैं रात को निहारिका के घर चला गया. एक दिन मैंने रिदम को भी बता दिया कि मैं अपनी सहेली के साथ शॉपिंग करने के लिए जाऊंगी तो मेरे रिदम अपनी बाइक लेकर मुझसे मिलने के लिए शॉपिंग माल आ गया.

मैं भाभी के मना करने के बाद भी कभी कभी लम्बा झटका दे देता, तो भाभी की चीख निकल जाती. इस तरह जीजा जी की बात होने पर हम दोनों के बीच में सेक्स की बात भी शुरू हो जाती थी. इस पर वह कहने लगा- एक बार और चुदाई करते हैं और आज तुम पूरी रात मेरी बांहों में ही गुजारो.

कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मेरे छोटे भाई विक्रम ने मेरी बीवी रीना को नंगी बेड पर बंधे हुए देखा और वह अपने लंड को पैंट के ऊपर से मसलने लगा.

हेतल ने कहा- तो फिर तेरा क्या जाता है इसमें … अगर मैंने राज से चुदवा भी लिया तो वो हम दोनों के बीच की बात है. कहकर वो तेजी के साथ मेरी चूत में जीभ चलाने लगा और मैं मचलते हुए अपने चूचों को दबाने लगी. लेकिन जब वो पैर से ऊपर नहीं हुए तो अब नशे-नशे में मैं उन्हें अपने हाथ से भी खींचने की कोशिश करने लगा.

ऐसा कहते हुए जीजा ने मेरी गर्दन को पकड़ लिया और अपने लंड का सुपाड़ा निपोर कर मेरी चूत के छेद में जैसे ही डाला तो बिना ताकत लगाए ही फच से उनका लंड मेरी चूत में पूरा का पूरा समा गया. पैंटी पर से मेरी उंगलियां गीलीं हो उठीं और मैं शर्म से पानी पानी हो उठी कि अभी अंकल जी मेरी गीली बहती चूत देखेंगे तो हाय राम पता नहीं क्या क्या सोचें. जब एक औरत एक जवान लौंडे के लंड पर अपना हाथ चलाएगी तो लौंडे को तो मजा आना पक्का ही समझिए, सो बस मैं भी गर्म हो गया, मेरा लंड तन गया, जो 7 इंच लम्बा 3 इंच मोटा था.

करीबन 15 मिनट लगातार दिशा की हचक कर चुदाई की तो वो शांत हो गई … मैं भी उसकी चूत से लंड निकाल कर उसके पेट पर झड़ गया. तभी साले अंकल ने मेरे बूब को काटा, मैं चिल्ला दी- उई अंकल आहह … ये क्या कर रहे हो … छोड़ो मुझे.

जीजा जी मुझसे बोले कि आप जब मेरे यहाँ आओगी तो आपके साथ सुहागरात मनाऊँगा. मैं बोली- मजा आया कि नहीं?बहुत मजा आया!”कुछ देर बाद उसने कहा- क्या मैं तुमको और चोद सकता हूँ?मैं बोली- क्यों नहीं … आज पूरी रात मैं तुम्हारे लिए हूँ, जितना चोदना है चोद लो. जब रींगस में बस रुकी तो सब लोग पानी-पेशाब करने के बहाने से उतर गये मगर वह वहीं सीट पर बैठी रही.

फिर जीजा जी ने अंडरवियर निकाल कर मुझे अपना लिंग मेरे हाथ में पकड़ा दिया.

फोन दोस्त का था लेकिन मैंने नाटक करते हुए मां से कहा- मां शायद, शालू घर पहुंच गई है और आपको पूछ रही है. पहले हॉल में, फिर सड़क पर, फिर यहां अपनी ही बिल्डिंग में मुझे नंगी घुमा रहा था. मेरे लंड पर बैठने के बाद वह उछलने लगी और खुद ही अपनी चूत को चुदवाने लगी.

फिर भी मौसी ने 2-3 बार अपनी कमर आगे पीछे करके मुझे आगे बढ़ने का संकेत दे दिया. ”मैं घुटनों पे बैठी, अंशु की चूत को अपने होंठों से ढक लिया, उसके चूतड़ पकड़ लिए।उसने हाथों से मेरा सिर पकड़ा और मूतने लगी, उसका नमकीन पेशाब मेरे गले को तर करने लगा।मेरे चूतामृत पीने के बाद सब सो गए।सुबह उपिंदर को जाना था, मम्मी उसका हाथ पकड़ के बोली- बड़ी टेंशन हो रही है.

पर मजा नहीं आया तो बाहर के मौसम में बारिश होती देख कर हम दोनों छत पर आ गए और उधर ही चुदाई का मजा लिया. लंड को हाथ से मुठिया कर मैंने सोनल की चुत के ऊपर ही अपने लंड को झड़ जाने दिया. रात के 10 बजते बजते सभी मर्चेंट अपने घर चल गए, बस कामिनी और मैं ही ऑफिस में अकेले रह गए.

மலையாளம் செக்ஸ் வீடியோஸ்

वो चूत को किस करने लगा और बोला- अमीषा तेरी चूत की खुशबू तो बहुत मस्त है.

अब वो जब भी अवि को मुझे देते, तो जानबूझ कर मेरे मम्मों को पकड़ कर मसल देते … और मैं कसमसा के रह जाती. जिससे वो भी गर्म हो गई और अपनी दोनों टांगों को पूरा फैला कर अपनी बुर को चुसवाने लगी. मैंने जल्दी से अपनी शर्ट उतारी और पैंट उतार कर पूरा का पूरा नंगा हो गया.

करीब 20 मिनट के बाद वो बाथरूम से बाहर निकली, वो भी सिर्फ एक टॉवल में. गुलाबो ने गुलाबी रंग की फ्रॉक पहन रखी थी और सर पर चुनरी ओढ़ रखी थी, उसने अपना चेहरा छुपाया हुआ था. नंगी पिक्चर सेक्सी पिक्चरअत: निर्धारित तिथि से एक दिन पहले मैं और मेरा भाई साक्षात्कार के लिए जायल-जयपुर वाली बस में जयपुर जाने के लिए सवार हो गये.

पांच मिनट तक हम दोनों जीजा-साली ऐेसे ही थक कर एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे. मौसी ने मुझे पास के एक कमरे में बुलाया और जल्दी जल्दी चुदाई का काम ख़त्म करने को बोलने लगीं.

इसलिए सिर्फ मुझे उसकी चौड़ी पीठ और उसकी गोरी सी गांड ही दिखाई दे रही थी. मैंने टीवी का रिमोट उठा कर टीवी ऑन करने के लिए हाथ आगे ही किया था कि मुझे किचन से मनीषा आती हुई दिखाई दी. इसके बाद मैंने अपने पर्स से ट्रिपल फाइव सिगरेट का पैकेट निकाला और एक सिगरेट सुलगा ली.

रास्ते से उसने एक शराब की दुकान पर गाड़ी रोकी और मुझे दो हजार का नोट देकर वाइन की बोतल ले आने के लिए कहा. मैं आनंद के मारे अपने लंड को उसके नितम्बों पर रगड़ने में लगा हुआ था और कुछ ही पल में इस रगड़ ने मेरे वीर्य को उफान पर ला दिया. ऐसा मैंने चार पांच बार किया, पर उन्होंने मुझसे न ही कुछ कहा और न ही वे मेरे आगे से हटीं.

थोड़ी देर बाद चूत पर हाथ फेरते फेरते उसने अपनी एक उंगली धीरे से मेरी चूत के अन्दर डाल दी.

एक टाईट सा पैग पी कर थोड़ा राहत मिली और हम लोग रजाई लेकर बेड पर बैठ गए. जब मेरे दोस्त से बर्दाश्त नहीं हुआ, तो मुझसे बोला- अबे तू हट … मुझे इसकी चुदाई शुरू करने दे.

जब उसने गर्म होकर सिसकारी ली तो मैंने अपनी जीभ उसके मुंह के अंदर डाल दी. ”अपने मुंह से मेरे लंड को निकाल कर बोली- मुझे तेरा लंड चूसने में बहुत मजा आ रहा है. ऊपर से मेरे मुंह में लंड अंदर-बाहर हो रहा था और नीचे से दूसरे लड़के की उंगलियाँ चूत में अंदर-बाहर जा रही थीं.

हम दोनों ने अपने अपने घर पर फोन से बता दिया था कि या तो लेट नाइट आएंगे या मॉर्निंग में आ पाएंगे. वो मेरी तरफ देख कर बोला- तू आराम से खुल कर मजे ले रंडी, मुझे भी अपने बाप की तरह ही समझ. उसके बाद उसने मुझसे बातचीत शुरू की- कहां खो गए थे? कभी लड़की को नहा के आया नहीं देखा क्या?मैं- नहीं … इतना करीब से आज ही देखा है.

पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी थोड़ी देर के बाद जैसे ही मैंने थोड़ा सा और जोर लगाया, तो उसने जोर की आह भरी और इसी के साथ मेरा लंड उसकी गांड में 2″ तक घुस गया. उसके बाद वो मेरी गोद में सर रख के लेट गया और पूरा मम्मा अपने मुँह में लेने का प्रयास करने लगा.

இங்கிலீஷ் பிஎஃப் செக்ஸ்

इस पर वो बोली- अब इस टाइम तो कोई नहीं होगी, मैं फिर कभी बुलवा लूँगी. और फिर उसने मेरी चुत पर थूक लगाया और कंडोम पहना और मेरी टाँगें ऊपर ले ली और चुत में अपना काला लोड़ा घुसा दिया और धक्के लगाने लगा. मुझे प्यास लगने लगी और मैंने उससे वॉटर कूलर की लोकेशन पूछी तो उसने बता दी.

आज जब मैं संसार की सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली हिंदी में सेक्स कहानी वाली अन्तर्वासना की साइट पर सेक्स स्टोरी पढ़ रही थी. मैंने कहा- फिटनेस सेंटर नहीं जाना क्या?उन्होंने बताया कि मैं अपनी सास को पास में ही रिलेटिव के यहां कार से छोड़ कर आई हूँ, सो थोड़ा लेट हो गयी हूँ. एक्स एक्स ईकैसा लंड है राज का। तुमने उसको तुम्हारी चूत चुदाई के लिए उकसाया कैसे?हेतल ने मानसी को राज की कहानी सुनानी शुरू की:राज पर मेरी नजर बहुत पहले से थी.

लोअर के अन्दर लण्ड और पैन्टी के अन्दर चूत लेकिन बेबी उनको मिला कर मजा ले रही थी.

लंड चुत में जाते ही वो एक पल के लिए बिल्कुल शांत हो गई और तेज़ी से सांसें लेने लगी. सिर्फ हिल डुल के जो लंड का चूत में घर्षण होता है उसमें ही बेहिसाब मज़ा आता है.

मैं जब अपने गांव से चला, तो वहां पहुंचने तक भाभी मुझे 15 कॉल कर चुकी थी. आह्ह … बाहर आते ही मैंने एक बार उनको हाथों में भर कर उनका अहसास अंदर तक महसूस किया और फिर अपने मुंह को उसके चूचों पर लगा दिया. रवि ने मेरे सिर को पकड़ा और पास ले जाकर फिर से मेरे होंठों को कुछ मिनट तक चूसा.

इतना होने के बाद मेरी गांड फट गयी थी कि बुआ जग कर गुस्सा ना करें, मैं ऐसे ही सो गया.

इतनी मस्त चुदाई को देखने के बाद मेरे मन में सेक्स का तूफान सा उठ गया था. हेतल अपनी चूत को मानसी के मुंह पर पटकती हुई चूचों को अपने हाथों से रौंदती रही. वहां जब मैंने अपने कपड़े उतारे, तब सामने लगे शीशे में अपने आपको देख कर दंग रह गई.

इंडियन बुर की चुदाईशायद रितेश जीजू यह सोचकर हेतल के कमरे में आए होंगे कि यहां पर हेतल की चूत चुदाई करेंगे लेकिन पता नहीं उन दोनों के बीच में क्या बातें हुईं. उसका लंड राकेश से काला था और मोटाई थोड़ी कम थी और लम्बाई बराबर!मैंने जल्दी से उसे मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो भोसड़ा

जब मेरा धक्का लगता तो वह रुक जाती और जब मैं रुक जाता तो वह धक्का लगा देती. उन्होंने छोड़ने की जगह एक झटका और दे दिया, तो अंकल का आधा लंड मेरी बुर में अन्दर घुस गया. भाबी के चुचे … जो कि पहले से बड़े नज़र आ रहे थे और पीछे से उनकी बड़ी सी गांड … जो कि और बड़ी नज़र आ रही थी.

मुझे नहीं पता कि उसके पति ने उसकी चूचियों को कभी पीया भी था या नहीं मगर जिस तरह से मोनी व्यवहार कर रही थी उससे मुझे ऐसा लग रहा था कि कोई मर्द उसकी चूचियों को जैसे पहली बार पी रहा है. पहले तो उसने अपने हाथों मेरे निक्कर से मेरे लंड को बाहर निकाला, जो कि एकदम तनकर 8 इंच का हो गया था. उसके बाद मैंने उसकी गांड में पहले अपनी अनामिका उंगली को डाला और अन्दर बाहर करने लगा.

मुझे तो पता ही नहीं था कि वो मेरी गांड फाड़ने के लिए ऐसा कर रहे हैं ताकि मेरी गांड पहले थोड़ा खुल जाए. उसके बाद वो उठे और चुपके से मेरे कमरे के दरवाजे से बाहर निकलते हुए दरवाजे को ढाल कर चले गए. उसकी मादक सिसकारियों से पूरा कमरा गूँज उठा था, लेकिन टीवी की तेज आवाज की वजह से कोई समस्या नहीं थी.

”मतलब, मालिनी के कपड़े उतर चुके हैं?”तू पागल है। अरे जब से आयी है, तब से नंगी ही है। अब इसकी गांड मारूंगा। रात ये मेरे पास ही रहेगी, सुबह डॉक्टर के पास जाएगी और अपना गर्भ गिरा के तुम्हारे पास आएगी. मैं उसके पैरों को किसी कुत्ते की तरह चूमने लगा। मुझे इतना मजा आ रहा था कि मैं कुछ भी बता नहीं सकता। मैं उस समय सातवें आसमान में उड़ रहा था।फिर लगभग 5-7 मिनट लण्ड चूसाने के बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा और मेरे लण्ड ने गर्मागर्म लावा छोड़ दिया और लण्ड से लावा की पहली पिचकारी उसके मुँह में ही गिर गई.

लंड को चूत पर सेट करके बुआ ने अपना पूरा वजन ताऊ जी के लंड पर धीरे-धीरे छोड़ना शुरू कर दिया और ताऊ का लंड लेटे हुए ही बुआ की चूत में उतरने लगा.

मेरी इस रचना में नायक-नायिका के मिलते ही काम-क्रिया में लिप्त हो जाना पसंद करने वाले पाठकों को वैसा ना हो पाने के सारांश में कोफ़्त तो बहुत होगी लेकिन जो पाठक काम-कथा में भावनात्मक और रचनात्मक आवेगों के गुण-ग्राहक हैं उन्हें ये कहानी खूब भायेगी … ऐसा मेरा विश्वास है. सेक्स सेक्स सेक्स सेक्स सेक्सी वीडियोमैं एक मिडल क्लास फैमिली से हूं तो अक्सर हम लोग एक ही कमरे में सोते थे. राजस्थानी एक्स एन एक्स एक्सउनके लंड को दीदी ने अपनी गांड में समा कर सेट करके एडजस्ट करने की पूरी कोशिश की लेकिन उससे पहले ही जीजा के धक्के दीदी की गांड में लगने शुरू हो गये. मेरा सुपारा जैसे ही अन्दर गया मौसी चिल्ला उठीं और छूटने के लिए तड़फ उठीं.

मैंने उसकी तरफ सवालिया निगाह से देखा तो उसने मेरे से बोला- तुझे एक नहीं दो लौड़ों से एक साथ चुदाई करनी होगी.

मैंने लंड पेलते हुए पूछा- अच्छा, ये बताओ कि मेरा लंड बड़ा है कि उन दोनों का बड़ा था. सुमिना मस्ती में होकर अपने चूचों को अपने हाथों से खुद ही दबा रही थी. बाहर निकलते हुए मैंने दीदी का हाथ पकड़ लिया और कहा- दीदी, ये तो चीटिंग है.

उसने रास्ते में अपनी बाइक रोकी तो मैंने पूछ लिया कि आपने बाइक क्यों रोक ली?वो बोला- मुझे यहां पर कुछ काम है. मैंने नोटिस किया कि वो मेरे बूब्स, जो ब्लाउज से बाहर तक दिख रहे थे, वो घूर रहा था. मैंने उसके पेट पर से शुरू किया, फिर धीरे धीरे नीचे आने लगा और उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसके चूत को चूमने और चाटने लगा.

बाथरूम से

बिस्तर के सामने एक पांच सीट वाला सुन्दर सा सोफा सेट और बहुत कीमती बेलबूटेदार कालीन. अनामिका से मैंने कहा- क्या तुम मुझे अब भी याद करती हो?उसने कहा- जब तक तुमको देखा नहीं था, तब तक तो मुझे तुम्हारी कुछ भी याद नहीं आती थी. ये तो अच्छा था कि मैंने अपने होंठ मौसी के होंठों पर ही रखा था, वरना मौसी की चीख बाहर तक सुनाई दे सकती थी.

मैंने मैडम की एक टांग को उठा कर सोफे पर रखा और उसकी चूत पर लंड को लगा दिया.

मैंने ज्यादा देर ने करते हुए उससे कहा- मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूं अदिति.

उसका जवाब सुनकर मन कर रहा था कि प्रिया के चूचे दबा दूं लेकिन वो अभी छोटी थी और मुझे उसमें कोई रूचि भी नहीं थी इसलिए मैं मन ही मन खुश होकर रह गया. मैंने तेल की शीशी से तेल निकाल कर उसके दोनों मम्मों के ऊपर थोड़ा थोड़ा करके तेल लगा दिया. क्सक्सक्स वीडियोस कॉमसेक्स कहानी शुरू करने से पहले बताना चाहता हूँ कि यह एक समलैंगिक कहानी है.

मैंने तुरंत उसकी गांड पर थूक लगाया और पूरा लण्ड अंदर करने की कोशिश करने लगा।जैसे ही गांड में लंड ने रास्ता बनाना शुरू किया तो हर के सेंटीमीटर की गहराती हुई गहराई के साथ गीतू की दर्द भरी चीखें उसके भीतर को फाड़ कर बाहर आने की कोशिश करती मगर मेरी प्यारी गीतू उन चीखों का अंदर ही गला घोंट दे रही थी. मैंने हल्का सा अपने आप को पुश किया और मेरा लंड उसकी चूत के अन्दर था. इसलिए मेरे हिसाब से सुमिना ने इसके लिए मुझे ही टोका क्योंकि पापा के साथ कहीं बाहर जाना उनको भी शायद रास नहीं आ रहा होगा.

उसने मुझे फिर से अपने ऊपर खींच लिया और मेरी छाती के नीचे उसके चूचे दब गये. मैं हंसते हुए सारा माल पी गयी।और हम सो गये।रात को उठने के बाद उसने अपने एक दोस्त को भी बुला लिया और कहा- तू मेरे दोस्त विक्रम से भी चुदेगी.

जब सारा सुहागरात का पूरा किस्सा सुना चुकी तो ज़रीना कहने लगी- आमिर, आप बहुत अच्छे तरीके से चुदाई करते हो … आप तो इंगलैण्ड चले गए थे और आपने नूरी खला को बोला था आपकी कई गर्लफ्रेंड थी.

मैंने कहा- ठीक है कमीनो, लेकिन मां के बारे में तो सोचो, अगर मां साथ में रही तो हम आंटी की चुदाई नहीं कर पायेंगे. मैं जब अपने गांव से चला, तो वहां पहुंचने तक भाभी मुझे 15 कॉल कर चुकी थी. एक क्षण का अटपटा मौन रहा, फिर प्रश्न आया- कैसे हैं आप?अच्छा हूँ। आपसे बात करके और अच्छा हो गया हूँ।”वह शायद लजा गई। मुझे लगा मुझे अपना उत्साह कम करना चाहिए।आप कैसी हैं?” मैंने पूछा.

सेक्स ब्लू फिल्म दिखाओ टेबल पर रखे सामान की तरफ इशारा करते हुए मुझे नाश्ता करने के लिए कहा. यह जानकर‌ जिससे मुझे अब कुछ राहत मिल गयी।पेशाब करने के बाद मोनी ने वापस बिस्तर के पास आकर अब एक बार तो मेरी तरफ देखा फिर चुपचाप वो बिस्तर के दूसरी तरफ सो गयी। पहले मोनी अन्दर दीवार की तरफ सो रही थी और मैं बाहर किनारे की तरफ.

एग्जाम शुरू होने में कुछ ही देर बाकी रह गई थी इसलिए मैडम ने एग्जाम शीट बांटनी शुरू कर दी. उसने एक अच्छी स्लट की तरह हाथ ऊपर करके अपनी पूरी जवानी को मुझे परोस रखी थी. वाली कोकाकोला की बोतल ले आया और उसका ढक्कन खोलकर बेबी को पकड़ा दी, दो पेग व्हिस्की इसमें मिली हुई थी.

फुल एचडी वीडियो सेक्सी हिंदी

पर आज मेरा लंड गांजे के नशे में तन रहा था और मैं धकापेल लंड पेल रहा था. यह सवाल मीना जी द्वारा: मैंने एक पॉर्न वीडियो देखा, जिसमें दो लड़की एक लड़के के साथ सेक्स कर रही थीं. तभी मैंने इशारा किया और अपना लंड उसकी चुत से बाहर निकला और उसके मुँह में घुसा दिया और अपना वीर्य उसके मुख में छोड़ने लगा.

अपनी अस्त-व्यस्त साड़ी को अपनी ओर से व्यवस्थित कर के वसुन्धरा ने अपने दोनों हाथों से मुझे अपने आलिंगन में कस लिया. एक टाईट सा पैग पी कर थोड़ा राहत मिली और हम लोग रजाई लेकर बेड पर बैठ गए.

अनामिका से मैंने कहा- क्या तुम मुझे अब भी याद करती हो?उसने कहा- जब तक तुमको देखा नहीं था, तब तक तो मुझे तुम्हारी कुछ भी याद नहीं आती थी.

मैं अपनी दोनों आंखें बंद करके अपने भाई के साथ का पूरा मजा ले रही थी. मौसी बोलीं- किसे देख कर मुठ मारी है?मैं चुप रहा तो बोलीं कि अब क्यों शर्मा रहा … जब तू मेरी गांड बड़े मज़े से मार रहा था तब तेरी शर्म किधर थी. हम रात को ट्रेन से जा रहे थे, ग़लती से ट्रेन में लेडीज कोच में चढ़ गए, उस डिब्बे के गेट पर कई औरतें खड़ी थीं, उन्होंने मुझे रोक लिया.

फिर मैं वासना के नशे में शर्म छोड़ कर ऐसे ही टावल लपेटकर बाहर आ गयी. मैंने सोचा यदि अभी मना करूंगा, तो ये जो पहले का चूमा चाटी वाला खेल भी नहीं खेल पाऊंगा, तो मैं भैया की बात मान गया. मैं उसको चोदता रहा और बीस मिनट की जोरदार चुदाई के दौरान वह दो बार झड़ गई.

बुआ ने हंसते हुए बोला- मुझसे झूठ मत बोल … इस उम्र में तो सब लड़कों की गर्लफ्रेंड होती हैं.

पंजाबी सेक्सी बीएफ सेक्सी: काफी देर बाद जब पूरा लण्ड उसकी चूत में समा गया तो मैं धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा. हमने लाइफ में बहुत कुछ किया जो एक पति पत्नि या एक गर्लफ्रेन्ड और बॉयफ्रेन्ड ही करते हैं.

वो बोला- आशना, मम्मी पापा नहीं है और ऐसा मौका हमें कभी नहीं मिलेगा. पहले तो मुझे गुस्सा आया लेकिन उन दोनों की ये मस्ती भरी चुदाई देख कर मैं खुद ही उस नजारे में खोने सा लगा था. मैंने इस बात पर ध्यान ही नहीं दिया कि जीजा जी की आंख भी खुल सकती है.

कुछ देर बाद मामी फिर से गर्म होने लगीं और उन्होंने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया.

दरवाजा बंद करते समय मैंने देखा कि वो पीठ करके मेरा इन्तजार कर रही थी. मैं उसके साथ ही रसोई में था, हालांकि हम दोनों के बीच कोई बात नहीं हो रही थी. वो जब किचन से बाहर निकल कर आईं तो उन्होंने गुलाबी रंग की साड़ी और ब्लाउज पहन रखा था.