बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बीपी सेक्सी वीडियो चालू

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन पोर्न सेक्सी बीएफ: बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ, जिससे मेरा लंड का कुछ भाग अनु को दिखने लगे।यह सोच कर मैंने पैर को थोड़ा मोड़ा लेकिन मेरी लुंगी पूरी कमर पर गिर गई और मेरा पूरा लंड दिखने लगा.

हिंदी xvideos

मैं समझ गया वो उसकी झिल्ली थी।मैंने लण्ड को थोड़ा बाहर किया और एक ज़ोर के धक्के के साथ पूरा लण्ड उसकी चूत में उतार दिया।मेरे इस हमले से वो बेहोश सी हो गई।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !मैंने उसके मम्मों को मसकना चालू कर दिया और उसके निप्पल को चूसने लगा, उसकी आँखें आँसू से भर गई थीं. सेक्सी पोर्न वीडियोइसलिए उसने इस माँ-बेटी के बीच का अनूठा प्यार को और आगे बढ़ाने की बात सोची.

तो मैंने पिंकी को पेट के बल लेटा दिया और उसकी चूत में बहुत सारा थूक डाल दिया। फिर अपना लण्ड उसकी चूत पर लगा कर. हिंदी सेक्सी वीडियो भाभीफिर उस दिन काफी देर तक हम दोनों में बातें होती रहीं मुझे उसकी निगाहों में एक भूख सी दिखी, लेकिन इतनी जल्दी हम दोनों में कुछ भी खुलासा नहीं हो सका.

तो वो बोल नहीं पाएगी या बताने में दिक्कत महसूस करेगी।एक उदाहरण के लिए सोचिए.बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ: तो इन सबको करने की कोई जल्दी नहीं होती। बस एक-दूसरे के साथ को पूरे सुकून से जीने और मरने की ख्वाइश होती है।फिर वो बोली- मैं तुम्हारे लिए चाय बनाती हूँ.

लेकिन तुम्हारी बीवी का क्या होगा?उसने कहा- वह काफी अच्छी है और खूब गरम भी है। फिर भी मुझे उसके साथ सेक्स में कोई ख़ास मजा नहीं आता और मैं जल्दी झड़ जाता हूँ। तुम चाहो तो मेरी बीवी को चोद सकते हो।मैंने हैरानी से कहा- यह तुम क्या कह रहे हो.आते समय मैंने देखा था कि चादर पर हम दोनों का वीर्य लगा था पर कहीं भी खून की एक बूँद तक नहीं थी। तो क्या मिलन पहले भी चुद चुकी थी?3.

बुलुफिल्म - बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ

तो क्या प्राब्लम है?मौसी ने कहा- वो अभी कमसिन है और आख़िर तुम उसे चोदोगे कैसे?तो मैंने कहा- वो सब आप मुझ पर छोड़ दो.नापा हुआ है, एक साधारण शरीर और साधारण ‘अंग’ का मालिक हूँ।आज मैं आप सबको एक ऐसी बात बताने जा रहा हूँ जिसके बाद मेरी जिंदगी ही बदल गई।मेरी एक लड़की से दोस्ती थी.

प्रिया ने अब मेरे मुँह से अपने होंठों को छुड़वा लिया और मेरी तरफ‌ घूर घूर कर ऐसे देखने लगी‌ जैसे कि कोई भूखी शेरनी के मुँह में हड्डी स्लो स्पीड से जाने लगी हो. बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ भाभी की गांड चुदाई की इस कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने एक पड़ोसन भाभी को होली वाले दिन चोदा.

तो मैंने लंड को हल्का सा बाहर निकाला और पूरे दम से धक्का मारा।सोनी की चीख फिर से बहुत जोर से निकली ‘आआआ.

बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ?

अनु’ बोलता हूँ।इस प्रकार दो महीने पहले शुरू हुआ हमारा प्यार आज भी जारी है।कहानी पर अपनी राय दीजिये![emailprotected]. तो मैंने पिंकी को पेट के बल लेटा दिया और उसकी चूत में बहुत सारा थूक डाल दिया। फिर अपना लण्ड उसकी चूत पर लगा कर. ’ की उत्तेजित आवाजें निकालते हुए झड़ गई और उसने कमर हिलाना बन्द कर दिया।कमरे में सिर्फ हमारे मिलन की आवाजें गूँज रही थी। करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद उससे अब सहा नहीं जा रहा था।रेणु ने कहा- अब बस करो.

मेरी चूत की प्यास और बढ़ती गई। कुछ ही देर में उसने मुझे उठा कर बिस्तर में पटक दिया।अब मेरी चूत के सामने दुबारा परीक्षा की घड़ी आ चुकी थी. हम दोनों चुदाई करते करते एक दूसरे के होंठों को भी कभी कभी चूस रहे थे. ’ मैंने झूठ बोल दिया क्योंकि मैं ये सब आंटी के मुँह से सुनना चाहता था।तो वो अपनी चूत को खुजाती हुई बोलीं- इसको चूत बोलते हैं.

तभी वह मेरी टांगों के बीच आ गया और अपने लण्ड का सुपारा मेरी चूत के मुँह पर रख कर धक्का लगाने लगा।लेकिन उसके लण्ड का सुपारा बहुत मोटा था। सही से मेरी चूत में जा ही नहीं रहा था।मैंने खुद ही अपना हाथ ले जाकर चूत को छितरा कर उसके लण्ड के सुपारे को बुर की दरार में लगा कर जैसे ही कमर उठाई. तो लण्ड बाहर ही अटक गया।मैंने फिर थोड़ा थूक उसकी चूत और अपने लण्ड पर लगाया और फिर मैंने लोहे जैसा लण्ड उसकी चूत में फंसा दिया. कुछ देर तक सील टूटने की पीड़ा झेली और फिर जैसा कि अपनी चुदक्कड़ सहेलियों से पहली चुदाई के दर्द के बाद मजा आने का सुना था, ठीक वैसा ही … बल्कि शायद महसूस करने में, उससे उन सुनी सुनाई बातों से भी ज्यादा मजा आने लगा था.

तब भी जब वो तीनों भाई बहन कमरे में रहते तो मैं काफी बार उनके कमरे में चला जाता‌ था. अंकित ने अपनी टी-शर्ट से ही मेरी पूरी चूत को साफ किया और मेरे जिस्म पर अपने होंठों से चुंबन लेने लगा.

फिर हम दोनों घर आ गए।वो अपने कमरे में और मैं अपने कमरे में जाकर सो गए।उसके बाद मेरी और किरण मेरी मकान-मालकिन की कुछ ज्यादा ही पटने लगी। क्योंकि वो स्कूल से आने के बाद टयूशन पढ़ाती थी.

मेरे लंड को अच्छे से साफ करने के बाद प्रिया ने एक बार अब फिर से मेरे लंड को अपने मुँह लेने की कोशिश की, मगर जैसे ही वो अपने होंठों को मेरे लंड के पास लेकर गयी, उसने मितली सी ली और अपने मुँह को‌ वहां से हटाकर मेरी तरफ देखने लगी.

आपको यहां मैं बता दूँ कि रात में मुझे अंडरवियर पहनने की आदत नहीं है तो मैं अपना लोवर शॉर्ट और बनियान पहन कर ही सोता हूँ. मैंने फोन उठाया तो सीधा ही बोली- अबे साले, मुझे चोद कर कहाँ भाग गए. मुझे चोद दो ना!मैंने भी परिस्थिति को समझते हुए अपना लंड सपना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया, सपना सिसकारियाँ भरने लगी।मैंने भी मौके की नज़ाकत को देखते हुए सपना की चूत के छेद पर लंड टिका कर एक करारा झटका लगा दिया.

जब संभोग क्रिया समाप्त हुई, तब हमने बात शुरू की और फिर उन्होंने बताया कि मुनीर में पिछले कई सालों से ऐसा हो रहा कि उसे संभोग में मजा नहीं आता पर दूसरों को सम्भोग करते देख कर वो उत्तेजित हो जाती है. फिर मैंने कहा- यह तेरा मुँह कोई सही जवाब नहीं देता इसलिए इसे ही बंद कर देना पड़ेगा. उसने बिना आवाज के गेट खोला और चुपचाप मुझे ऊपर जाने का इशारा किया और खुद वो रसोई में चली गई.

जिसकी तलाश में मैं बहुत सालों से था।उस दिन मम्मी और पापा किसी काम से बाहर गए हुए थे। घर में मेरे और मेरी बहन के अलावा और कोई नहीं था।मेरी बहन करीब दोपहर के दो बजे नहाने के लिए बाथरूम में गई हुई थी और रोज़ की तरह वो आज भी अपने कपड़े बाहर ही छोड़ गई थी। जब वो नहा कर बाहर आने ही वाली थी.

इस वक्त तक मेरे मन में ये बात कभी नहीं आई थी कि मैं अपनी बहन के साथ सेक्स करूँगा. जैसा कि मैं हमेशा करता था।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !उसके बाद मैंने उनसे कहा- एक तरीका है जिससे आप कुछ कम परेशान होंगी।उन्होंने पूछा- क्या?मैंने कहा- अप अनु को एक लैपटॉप खरीद कर दे दीजिए. इसलिए और इतनी सेक्सी बातें कर रही थीं।मैं समझ गया था कि आज ये चुदने के मूड में हैं.

जबकि पीछे तौलिया नहीं था और उनके पूरे नंगे बदन को देखकर मेरे पूरे बदन में सनसनी दौड़ गई।क्या सेक्सी सीन था. मुझे चोद दो ना!मैंने भी परिस्थिति को समझते हुए अपना लंड सपना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया, सपना सिसकारियाँ भरने लगी।मैंने भी मौके की नज़ाकत को देखते हुए सपना की चूत के छेद पर लंड टिका कर एक करारा झटका लगा दिया. उसके ऐसे उछलने की वजह से उसके बड़ी-बड़ी चूचियां जोर जोर से हिलने लगी.

हैलो मेरा नाम है रीना और मैं हरियाणा में रहती हूँ। मेरा फिगर 34-30-36 का है और मेरी लंबाई 5 फुट 5 इंच है।मुझ में सबसे ख़ास बात है.

वो थोड़ी नाराज हुई और उसने कहा- मिस्टर मेरा पहले से ब्वॉयफ्रेंड है।लेकिन फ़िर भी हमारी रोज बातें होती थीं. फिर मैं उसे किस करने लगा और वो भी मुझे पागलों की तरह चूम रही थी। ऐसा लग रहा है कि वो बहुत भूखी है।मैंने उससे कहा- तुम्हारी हवाई चुदाई करता हूँ.

बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ मैंने भी अब कुछ देर इधर उधर की बातें की और फिर से सुमन‌ की शादी पर आ गया. मूवी में बहुत से कामुक सीन थे, तो मैं मधु की लेगी में हाथ डाल कर उसकी चूत सहलाने लगा और ब्रा को अंदर ही उतार के उसके दूध दबाने लगा, मूवी में लगभग सभी कपल थे और सब अपने में बिजी थे और हम अपने में!फिर मधु वहीं नीचे बैठ कर मेरा लन्ड चूसने लगी, 10 मिनट चूस के पूरा माल पी गयी और मेरे ऊपर चढ़ के मेरे मुंह में अपने दूध पिलाने लगी.

बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ माझी गांड फाटली कि काय असे मला वाटले, पण त्याने डिसेंटली आपला लंड माझ्या गांडीत घातला होता. बड़ा ही नहीं शायद बहुत बड़ा था।ममता अब पागल हो रही थी।मैं उसकी चूची को चूसता हुआ नीचे बढ़ने लगा.

अब कोई बाधा नहीं थी, मैं उसके पीठ में किस करता, कभी जीभ से चाटता और वो गर्म होती जाती!फिर मैं उसको पीछे से गले लगा कर खड़ा हो गया और उसको मचलती गांड में अपना लंड रगड़ने लगा, उसके मुँह से आह उम्म्म … की आवाजें आने लगी, रोटियां जलनी शुरू हो गयी.

ইন্ডিয়ান সেক্স মুভি ভিডিও

मेरा पूरा लंड मामी की चूत में चला गया।मामी के मुँह से तेज चीख निकल गई- अहह. सामने एक नाटे कद का काला सा लड़का खड़ा था। मैं चुदाई के कारण कुछ हांफ सी रही थी और मेरी जाँघ से वीर्य गिर रहा था।कहानी कैसी लग रही है. डैड मामी को जितना जोर से धक्का मार कर चोदते, उतनी ही मॉम की तरफ से सिसकारी और आनन्द का इज़हार होता.

मैंने पहले एक बार मॉम को डैड के साथ सेक्स करते हुए भी देखा था।उस दिन अचानक मैं बैलेंस नहीं रख पाया और दरवाजे से टकरा गया।दरवाजे पर आवाज़ होने से मॉम ने पूछा- कौन?मैंने कहा- मैं हूँ. मयूरी- पर मैं करू क्या माँ… मुझे चुदाई की बहुत तीव्र ईक्षा होती है कभी-कभी!शीतल अभी भी मयूरी की विशाल और माखन जैसी मुलायम चूचियों की मालिश कर रही है- मैं समझ सकती हूँ… पर तुम्हें अपने मन पर काबू करना होगा… एक बार तुम्हारी पढ़ाई ख़त्म हो जाये फिर तुम्हारी किसी नौजवान लड़के से शादी करा देंगे… फिर जी भर के सेक्स करना… रोज़-रोज़ चुदवाना अपने पति से. हमारे रिश्तेदारों में किसी की शादी थी, ये शादी पास ही के शहर में सम्मेलन था, उसमें होकर होने वाली थी.

मैं अभी कुछ देर पढ़ाई करूँगा।मैं उसके बिस्तर के बगल में नीचे बैठकर पढ़ने लगा और अनु सोने लगी।ठीक जैसा मैंने उससे कहा था.

पर उसने कुछ नहीं कहा।यह देखकर मेरी हिम्मत बढ़ गई, मैंने अपने दोनों हाथ उसके कंधे से ले जाकर उसके दोनों संतरे जैसे मम्मों पर रख दिए. केवल मज़ा आएगा और जब मौसा और मौसी के रहने पर तुम्हें रात में चोदूँगा. [emailprotected]सत्यम की चंदा, जिसे बाद में कम से कम दो सौ लोगों ने जमकर रगड़ा.

तो दो दिन के बाद आऊँगा।मैं घर से बाहर निकला और रात को मामी के घर आ गया।मामी मुझे देख कर बहुत खुश हुईं और उन्होंने मुझे गले से लगा लिया।पहले हम दोनों ने चाय पी और बातें करने लगे।मामी उस दिन बहुत सुंदर लग रही थीं, मैंने धीरे से एक हाथ मामी के मम्मों पर रख कर उनको मसलने लगा और उनको किस करने लगा।मामी भी मेरा साथ दे रही थीं।मामी ने सलवार और कमीज़ पहना हुआ था. खैर कुछ देर बार चुदाई करने के बाद उस लड़के के लंड ने अपना पानी छोड़ा. ओके।”दोनों ने सर हिलाया, उसने सिक्का उछाला और इत्तेफाक से टेल आया।चलो तुम चढ़ो पहले मेरी चूत पे.

जैसे जैसे ब्लू मूवी की चुदाई आगे बढ़ने लगी, मेरी बहन की कामुकता जागती गई. मेरी सभी सहेलियां और कुछ लेडीज सब कहने लगीं कि मौसी के यहाँ जाकर तो तू वन्द्या खिल गई है, तेरा सीना बड़ा हो गया.

अपनी चूत की गर्मी को चुदाई करवा के ठण्डा करो।सलोनी बोली- तो फिर आ जाओ ना प्लीज. वो मस्त निगाहों से लौड़े को निहार रही थी।मैंने उसकी पैन्टी उतारनी चाही. और तुम भी अपनी सहेली के साथ आ जाना। तीन-चार दिन खूब मज़े करेंगे।सब होली की छुट्टियों में जा चुके थे। उस दिन शाम सात बजे सरिता अपनी सहेली रीना के साथ मेरे रूम पर आ गई।क्या मस्त लड़की थी रीना.

मैं- किसी को क्या पता चलेगा और तुम बेकार का डर रही हो।कह कर मैं उसके होंठों को फिर से चूसने लगा। ममता ने भी अपना जिस्म ढीला छोड़ दिया। मैं समझ गया कि अब वो मेरे लण्ड के लिए तैयार हो गई है। मैंने उठ कर अपनी पैन्ट उतार दी। अब मेरे जिस्म पर सिर्फ एक फ्रेंची थी.

मैंने प्यार से चूमते चूमते उसके टॉप और जींस को उतार दिया और उससे कहा कि वह मेरे सारे कपड़े उतार दे उसने भी ऐसा ही किया और मेरे सारे कपड़े उतार दिए अब मैं सिर्फ अंडर वियर में था।मैंने उसकी ब्रा को निकाल दिया और उसके गोल गोल स्तन मेरे सामने थे. मैंने एक हाथ नीचे से उसके लहँगे के अन्दर डाल दिया और उसकी चुत को सहलाने लगा. इससे वो पूरी तरह से जोश में आ गई थी और मैं भी पानी निकलने के बाद फिर से गरम हो गया था.

आज आपके भाई मूड में हैं और मैं कोई रिस्क नहीं लेना चाहती। अब सब कुछ दोपहर में होगा. ऐसे में किस मर्द की मर्दानगी न जोर मारेगी, माइक का भी यही हुआ, ये सब देख कर उसका लिंग सन्न से खड़ा हो गया और टनटनाने लगा.

चलो नीचे कमरे में चलते हैं न!कमरे में पहुँचते ही मैंने दरवाजा बंद कर दिया और चाची को किस करने लगा।चाची ने कुछ नहीं बोला. इस बीच आंटी का एक बार हो गया था। मैंने आंटी से पूछा- कहाँ निकालूँ?उन्होंने कहा- अन्दर ही छोड़ दे।एक बार चुदाई के बाद हम दोनों लेट गए. मैंने प्यार से हाथ फेरा, तो लंड की बार बार मार से ज्योति की चूत गोरी से गुलाबी हो गयी थी.

સેક્સ વીડિઓ

उसने मुझसे पूछा- तुम हर रोज मुझे क्यों देखते हो? क्या मैं तुम्हें अच्छा लगता हूँ?मैंने डरते हुए हामी भरते हुए उससे अपने मन की बात बोल दी.

दूसरे दिन मैं 7 बजे आ गया, तो पता चला मनीष आज किसी इंटरव्यू के लिए भिवाड़ी गया था, तो देर होने के कारण वहीं रुक गया है. ’वो सीत्कारें करने लगी।फिर मैं उसकी चूत को ज़ोर-ज़ोर से चाटने लगा और वो मेरा लण्ड ज़ोर-ज़ोर से चूस रही थी। मुझे भी मजा आ रहा था फिर उसकी चूत ने गरम-गरम पानी छोड़ दिया. फिर मैं संतोष को बाहर बने सर्वेन्ट क्वार्टर को दिखा कर बोली- तुमको यहीं रहना है और जो भी जरूरत हो.

वो दिखने में 26 -27 साल की थी और उसके साथ उसकी बेटी और एक बुजुर्ग आदमी भी थे. चाचा ड्राइवर हैं और इसी कारण उनका अधिकतर समय शहर के बाहर गुजरता था।चाचाजी और पिताजी में आयु का काफ़ी अंतर है और उन्होंने शादी भी देर से की थी। मेरी छोटी चाची मुझसे केवल आठ या दस वर्ष ही बड़ी हैं।जैसे मैंने बताया कि मैं शुरू से ही कामुक प्रकृति का हूँ. ट्रिपल एक्स बीपी शॉटपर मुझ पर तो जैसे फुद्दी मारने का भूत सवार था। मैं लगातार चुदाई में लगा रहा और अब तो आंटी भी नीचे से गाण्ड उठा-उठा कर मेरा साथ दे रही थीं।करीब दस मिनट बाद मेरा माल छूटने को था.

आपको पता नहीं है कि मेरी प्यासी चूत इतनी रिस्क लेकर किसे खोज रही है। नीचे पति थे. मयूरी- मतलब आप भी करती हो?शीतल हंसती हुई- नहीं पगली… मेरे लिए तो तेरे पापा है ना… रोज़ खूब चोदते है… तो अब जरूरत ही नहीं पड़ती… लेकिन कभी कभी जब तुम्हारे पापा बाहर जाते है कुछ दिनों के लिए तब मैं अकेले में करती हूँ.

तब मैंने उसे बताया कि तुम्हारे जीजा को झाँटों वाली चूत ज्यादा पंसद है. वेदना तर होत होत्या, पण त्याने लवडा बाहेर काढावा असेही वाटत नव्हते. क्योंकि भाभी की गाण्ड अभी तक किसी ने मारी नहीं थी। मैंने भी सरसों का तेल लण्ड पर लगा कर गाण्ड के अन्दर डालने लगा। थोड़ा ही अन्दर जाने लगा कि भाभी दर्द से चिल्ला कर बोली- ओह्ह.

फिर बोली- कुछ करना है या मैं जाऊं?मैं उसके पास गया और उसके हाथों को उसकी चुचियों से हटाकर अपने हाथों से पकड़ कर मुँह में लेकर बारी बारी से पीने लगा. भाई ने मंगलसूत्र मेरे गले में डाल दिया और मुझे अपनी बाँहों में भर लिया, मैंने उनके पैर छुए. मुझसे अब रहा नहीं गया, मैंने आगे बढ़कर उसकी छिलने वाली जगह को अपनी जीभ से चाट लिया.

इस बार तो मोनू ने पूरा ज़ोर लगा कर धक्का मारा और इसके साथ ही पूरे का पूरा 7 इंच का लंड मेरी चूत में जाकर फिट हो गया।मैं चिल्ला उठी- ओए.

मैं यही सोचते हुए नाईटी ऊपर करके बुर सहलाने लगी। मैंने जैसे ही बुर पर हाथ रखा. गाँव में वीडियो पर देखी है।अब वो मेरे पास आकर देखने लगा। मैं समझ गया कि अब ये अच्छे से पट जाएगा।थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि उसका लंड पैन्ट में खड़ा हो चुका था और तंबू दिखने लगा था, अब वो अपने हाथ से पैन्ट पर लंड को मसल रहा था।मैंने पूछा- खड़ा हो गया है क्या?तो वो शर्मा गया और उसने अपना हाथ हटा लिया।मैंने कहा- अबे शर्मा मत.

प्रिया की चूचियों को‌ जोरों मसलते हुए मैं अब उसके चेहरे की तरफ देखने लगा. तुझे मज़ा ही आएगा।पायल- मुझे पक्की होकर कौन सा चुदते रहना है।पुनीत- क्या पता कभी एक से ज़्यादा लोगों से चुदना पड़ जाए. उन्होंने भी मुझे नीचे लिटाकर मेरे पूरे बदन को चूमा।बदन चूमने के बाद वो मेरी कमर पर आ बैठीं। फिर मेरे लण्ड को अपने हाथों में लिया और अपनी चूत पर कुछ देर रगड़ा।इस रगड़ से दोनों को ही काफी मजा आ रहा था। फिर उन्होंने एकदम आहिस्ते-आहिस्ते मेरा लण्ड अपनी चूत में जड़ तक अन्दर ले लिया।कुछ देर इसी अवस्था में बैठकर वो लण्ड को चूत में लिए मेरे बदन पर लेट गईं। लेटे हुए वो मेरी गर्दन को.

इसलिए उन्होंने मना कर दिया और कहा- मेरा मूड नहीं है।अब मुझे यह साबित करना था कि मैं आज सच में उन्हें खुश करना चाहती हूँ। मैंने एक बार अपने मन में दोबारा से ब्लू-फिल्म में देखे गए सीन्स को याद किया और अपने आपको आने वाले पल के लिए तैयार किया। मैंने दोबारा उन्हें थोड़ा गुस्से से कपड़े खोलने को कहा मगर उन्होंने मना कर दिया।तभी मैंने खींच कर एक थप्पड़ उनके गाल पर मारा और कहा- खोल मादरचोद. फिर उसने अपनी चूत को मेरे मुंह में लगाया और चूत पर दूध डाल कर पिलाने लगी. मेरा मन जब नहीं लगता है तो कभी कभी अन्तर्वासना सेक्स कहानियां पढ़ती हूँ जिससे मुझे बहुत अच्छा लगता है.

बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ तो बहुत अच्छा रहेगा। आप खुद ‘बादशाह’ शब्द की तुलना उस नाम से करके देखो. तो मैंने उसके दोनों मम्मे दबाते हुए उसकी चूत पर से हथेली फिराना शुरू किया। हाय.

देसी चुदाई दिखाएं

पता नहीं उन दोनों के मस्तिष्क में क्या चल रहा था, वे खुल के नहीं कहते थे. इसी तरह काफी देर तक उसने मेरे सवालों के उत्तर दिए जिससे मेरा काम बन गया अब सिर्फ कुछ फोटो लेने बाकी थे।मैं- क्या मैं आप की फोटो ले सकता हूँ?रायलेनी- क्यों नहीं… ले लो. क्योंकि उनकी तबीयत थोड़ी खराब थी और वो अकेली थीं।रात में मैं सोने चला गया।दोस्तो, मैं जाहनवी के रूम में ही सोता था.

मैं भी रेडी हूँ और मेरी चूत भी तुम्हारा बेसब्री से इंतज़ार कर रही है. वो तो मैं अपने तन की आग में जल रही हूँ और इसके बावजूद भी मैंने कभी बाहर मुँह नहीं मारा। मुझे पता है कि बहुत से मर्द मुझ पर लाइन मारते हैं। कई बार मैंने सोचा भी कि चलो ये वाला अच्छा है. মাড়োয়ারি সেক্স ভিডিওवो मुझसे आगे-आगे उतर रही थी जब हम लोग एअरपोर्ट की लाबी में पहुँचे तो वो मुझ से काफी दूर थी.

लेकिन अब वो खुद धीरे धीरे अपनी गांड को आगे पीछे करने लगीं, जिससे मैं समझ गया कि यह अब पूरी तरह तैयार हैं.

’‘देखा तुम्हारे आने की बात सुनकर ही मेरी चुत अंगार मूत रही है साले ठोकू आ जा ना जल्दी. साथ ही वो छटपटाने लगीं और अपनी गांड में से मेरे लंड को निकालने की कोशिश करने लगीं- मार डाला … प्लीज निकालो इसे … मुझे नहीं मरवानी अपनी गांड … फाड़ दिया मादरचोद ने मेरी गांड को.

मुझे एक चुम्बन किया और कुछ देर मेरी बाँहों में पड़ी रही। शायद वो कहना चाह रही थी कि मैं जन्नत में हूँ और वही हाल मेरा भी था।फिर वो चली गई। वो मेरे ज़िदगी की पहली रात थी. उनका घर ज्यादा बड़ा तो नहीं था, मगर एक ड्राइंगरूम व तीन कमरे एक छोटे परिवार के लिये पर्याप्त थे, जिसमें से एक कमरा उन्होंने मुझे दे दिया. मैंने धीरे से कहा- आखिर कब तक उंगलियों से काम चलाओगी?यह सुनकर उसकी सारी दुनिया ही हिल गई, वो झटसे पलट कर रसोई में चली गई।मैंने बाइक पर बैठकर आसमान की तरफ देखते-देखते चाय पी ली।जब बाइक निकाल रहा था.

मैं वीडियो देख चकित हो गयी कि माइक एक 40-45 उम्र की महिला के साथ संभोग कर रहा था, जबकि मुनीर उनकी वीडियो सार्वजनिक रूप से दिखा रही थी.

जब उन लोगों ने मुझसे बातचीत शुरू की और हमने एक दूसरे को जाना, तब से मुनीर मुझसे मिलने का प्रार्थना कर रही थी. मैंने कहा- खुशी खुशी करोगी या मजबूरी में ऐसा कह रही हो?रिया भाभी बोलीं- मैं तुमसे लव करती हूँ और मैं सब अपनी खुशी से करूँगी लेकिन सिर्फ एक बार करूँगी और तुम कंडोम यूज करोगे. लेकिन तुम चाहो तो मैं मना नहीं करूँगा।उसने कहा- ठीक है आज तुम मेरी चूत को.

फिल्म सेक्सी नंगीजो बहुत टाइट हो चुका था और 7 इंच लंबा भी हो गया था।अर्चना ने मदहोशी में अभी तक मेरा लण्ड देखा नहीं था. तो मैं कभी-कभी उसकी हेल्प भी कर देता था।अब मेरी नज़र तो पूजा पर थी। पूजा का फिगर 32-28-30 का था.

एक्स एक्स एक्स चुदाई वाली वीडियो

तब पूजा अपनी जगह से उठकर मेरे पास आई और मेरे घुटनों पर बैठ गयी और उसने अपने हाथों को उठाकर मेरे गले में डाल दिया. ’मुझे एक बार ऐसा लगा कि इस जमील से इसके लंड की लैंडिंग का गुर सीखना ही पड़ेगा।साला बड़ा लंडबाज है ये जमील!इतने में सोनू ने चुहलबाजी की- मोटू महाराज आप कुछ ज्ञान की बातें बताइए।सोनू ने मेरे लंड को पकड़ कर कहा।मैंने हँसकर कहा- बालिके. उसने सफेद रंग की नेट वाली ब्रा पहनी हुई थी और उसके बड़े-बड़े मम्मे गज़ब लग रहे थे।मैंने बिना वक्त बरबाद करते हुए.

बस मैं तो जैसे इसमें खो ही गया था।अब मनप्रीत भी मेरा पूरी तरह से मेरा साथ देने लगी थी. उसने कहा- अगर तुम्हें कभी ठंडा पानी या कुछ और चाहिए हुआ करे तो तुम मेरे घर से ले लिया करो. वो होंठों से नीचे आ कर मेरे मम्मों को मसल मसल के चूस रहा था और मेरी सब बातों को इग्नोर कर रहा था.

पर लण्ड फिसल गया। मैंने फिर कोशिश की इस बार जोरदार धक्का मारा और लण्ड का सुपारा अन्दर घुस गया।रेणु जोर से चिल्ला उठी और मेरी पकड़ से छूट गई। मैंने फिर से उसे कस के पकड़ा और एक ही धक्के में आधा लण्ड उसकी चूत में उतार दिया। उसके आंसू आ गए और उसके नाखून मेरी पीठ पर गड़ गए।मैंने थोड़ा रुक कर एक और धक्का दिया. क्या??मयूरी- अरे यही जो तुम देख रहे थे?और अपनी मनमोहक चूचियों की तरफ देखा. मैंने उसे नहीं रोका। मैंने भी अपना हाथ फिराते हुए उसकी जांघों के बीच ऊपर से ही रगड़ने लगा।वो और मस्त होने लगी थी.

ऊपर से उन तीनों भाई बहनों का कमरा भी एक ही था, इसलिये प्रिया से अकेले में तो बात करने का मुझे कोई मौका मिल नहीं रहा था. मैं भी आपसे चुदने को तड़प रही हूँ।तभी चाचा बोले- बहू छत पर अंधेरा है कोई आ गया तो भी हम दोनों को देख नहीं पाएगा.

उसकी चूत पहले ही गीली होने के कारण चिकनी हो रखी थी, इसलिए आसानी से ही मेरे सुपाड़ा प्रिया की चुत में घुस गया.

इसलिए सबसे पहले आकर बैठा हूँ।वह झट से अन्दर आ गईं, पहले उन्होंने मेरी डेस्क चैक की. एक्स एक्स एक्स एक्स मूवी एचडीमैंने उसे अलग किया और नीचे लेटा दिया। मैं उसके मम्मों पर टूट पड़ा और अच्छी तरह से मसलने लगा।वो ‘आहह्ह्ह्ह. सेक्स दिखाओ करते हुएमैं जब थोड़ा नींद में उठी तो देखा कि मेरा देवर मेरी पेंटी को बहुत ध्यान से देख रहा है. तो देखा कि दोनों पूरी तरह से नंगी होकर एक-दूसरे की चूत को चाट रही हैं। मैंने अपना मोबाइल निकाला और दोनों की रिकॉर्डिंग करने लगा। जब दोनों का पानी निकल गया.

वह भी मेरी चूत को जल्द चोद लेना चाहता था।मैं बड़बड़ाते हुए बोलने लगी- ओह.

मैंने कहा- हां हिंदी फिल्मों से पहले ये इसी तरह की फिल्म एक्ट्रेस थी. आज मैं ऐसी कहानी लिखने जा रहा हूँ जो मेरी एक पाठिका ने मुझे सुनाई थी. मेरी सेक्स कहानी के प्रथम भागदोस्त की सौतेली माँ-1में आपने पढ़ा कि मेरे एक दोस्त की माँ की मौत के बाद उसके पिता ने अपने से काफी कम उम्र की कुंवारी लड़की से शादी कर ली.

आज उससे काफी देर बात चली, मैं फ़ोन कट करने ही वाला था तभी ज्योति बोली- रवि एक बात बताओगे?मैंने कहा- हां पूछो. उससे पहले मैं चाची ने मेरा लंड फिर से अपने हाथ में दबोच लिया और बोलीं- गर्मी ज्यादा है क्या इसमें?मैं चाची का हाथ हटाते हुए पीछे हो गया।चाची बोलीं- मुझे किरन ने सब बता दिया है।मैंने माफ़ी मांगनी शुरू कर दी. तो सोनी आई फिर हम दोनों ने खाना खाया और वो बर्तन साफ़ करने लगी।अब सोनी बोली- हॉटशॉट.

সেক্সি বিএফ সেক্সি

और मैं मन ही मन में रोकर रह जाती हूँ।मैं सुने जा रहा था।उसने आगे बताया- यूँ समझो कि मुझे संतुष्ट हुए (चुद कर स्खलित हुए) तो अरसा बीत गया है. वरना तेरी रीमा दीदी मर जाएगी।मैं सीधा लेट गई और मोनू को अपनी टाँगों के बीच आने को कहा।एक बार तो मैं उसका लंड देख कर सोचने लगी कि जिस चूत में हमेशा इससे कहीं छोटा लंड जाता था. आपकी प्रसंशा या टिप्पणी दोनों ही मेरे लिए बहुमूल्य हैं।चलिए अब अपने बारे में कुछ बता दूँ।मेरा नाम राज है.

तो वो भी पूरी तरह से साथ देनी लगी।लगातार 15 मिनट के बाद अमर का छूटने वाला था.

फिर मैंने उसे बिस्तर पर उठा कर रखा और लटकती साड़ी पूरी तरह अलग कर दी.

यह मेरी पहली और सच्ची चोदन स्टोरी है अगर कोई गलती दिखे तो माफ कर देना. तो हमारे घर वालों ने यह फ़ैसला किया कि मैं चाची के घर सोया करूँगा।अब चाची और मैं उनके बेडरूम में एक साथ ही सोया करते थे।चाची मैक्सी पहन कर सोया करती थीं।दो दिन के बाद एक रात को चाची को नींद नहीं आ रही थी. विवाह मूवी हिंदी मेंऔर ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा। उसका जिस्म एकदम से इठ गया और शायद वो झड़ने की कगार पर आ चुकी थी।फिर मेरा भी काम होने को था.

कीर्ति फिर हँस पड़ी और बोली- वो हरामी हमारी राह देख रहा होगा कि ये दोनों अभी आएंगे. मैं अभी मदरडेयरी से दूध ले कर आती हूँ।मैंने बोला- ठीक है।जैसे ही वो गईं. उसका आदमी वहाँ से चला गया था।अर्जुन नीचे आया तो उसने बिहारी को वहाँ देखा.

आह … आह … आह … आहह आ…ह …”अंकल- क्या हुआ?मैं- उफ़्फ़ … उफ़्फ़ थोड़ा और घुसाओ न. ऊपर से उन तीनों भाई बहनों का कमरा भी एक ही था, इसलिये प्रिया से अकेले में तो बात करने का मुझे कोई मौका मिल नहीं रहा था.

दोस्तो, मेरा नाम निशा है। मैं 40 साल की हूँ, मेरा फिगर 38सी 36 40 है और मैं दिखने में बहुत ही हॉट और सेक्सी हूँ। आप लोगों ने मेरी पिछली कहानियों को पढ़ा, काफी सराहा और काफी कमेन्ट भी दिये इसलिये एक और सच्ची कहानी लेकर आई हूँ आपके के लिये कि कैसे मैंने अपने छोटे भाई की पत्नी के साथ मनाली में लेस्बीयन सेक्स किया।अब मैं कहानी पर आती हूँ.

गाँव में वीडियो पर देखी है।अब वो मेरे पास आकर देखने लगा। मैं समझ गया कि अब ये अच्छे से पट जाएगा।थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि उसका लंड पैन्ट में खड़ा हो चुका था और तंबू दिखने लगा था, अब वो अपने हाथ से पैन्ट पर लंड को मसल रहा था।मैंने पूछा- खड़ा हो गया है क्या?तो वो शर्मा गया और उसने अपना हाथ हटा लिया।मैंने कहा- अबे शर्मा मत. मैं और जोश में आ गया और ज़ोर-ज़ोर से चूत चाटने लगा।मैंने अपनी उंगली चूत में डाल दी वो फिर से चिल्ला पड़ीं- आआआहह. अब मैं पूरी तरह से झड़ने वाली ही थी कि मैंने कहा- रीतिका, मैं झड़ने वाली हूँ!फिर वह और तेजी से मेरी चूत में उंगली पेलने लगी और साथ में चूत को चाटने भी लगी, वो अपनी जीभ को मेरी चूत में घुसा दे रही थी जिससे और ज्यादा उत्तेजना हो रही थी और मजा आ रहा था.

भाई बहन की चुदाई वाली वीडियो तो मैं उसे जल्द से जल्द अपने नीचे लिटा लूँगा।उन्होंने फिर मुझसे कहा- प्लीज़ अनु को छोड़ दो. जब उसने देखा कि मैंने कोई प्रतिक्रिया नहीं की है, तो उसकी हिम्मत बढ़ गई और उसने धीरे से हाथ मेरी जीन्स में अन्दर डाल दिया और वो मेरी चूत को सहलाने लगा.

एकदम हँसमुख और एक्टिव औरत है।बातें करते-करते उसने मेरा मोबाइल नंबर माँगा और मैंने दे दिया. तो वे बोले- अभी हम दोनों बाजार में हे तुम्हारी आज की मस्त चुदाई की तैयारी करने का सामान लेने गए हैं. उसमें डीवीडी भी लगा हुआ था उसे ऑन किया और उसमें एक इंग्लिश ब्लू-फिल्म लगा दी। उसमें चुदाई चल रही थी।वो मेरे पास आकर बैठ गया और फिल्म देखने लगा.

मराठी सिक्स व्हिडिओ

जिससे वो दो बार झड़ चुकी थी।मैं उसके झड़ने के साथ ही उसकी चूत का सारा नमकीन रस पी गया। चूत चाटते हुए मैंने उसकी गांड में उंगली डाल दी. यह कहकर राज अंकल मेरी दोनों आंखों को चूमने लगे और बोले- खोल सेक्सी इन आंखों को!मैं भी सब देखना चाहती थी तो मैंने धीरे से अपनी आंखों को खोल दी. अर्जुन को क्यों रोक दिया वहाँ?बिहारी- इतनी भी भोली ना बनो मेरी जान.

लेकिन वो यह नहीं कह पा रही थी कि मेरी चूत में अपना लंड डाल दो।मैंने उसकी चूत को चोदने के लिए उसकी दोनों टाँगें ऊपर उठा दीं और दोनों टांगों को फैला भी दिया. मेरी सील टूट चुकी थी और दिमाग की बत्ती खुल चुकी थी कि लंड और चूत का खेल क्या होता है.

थोड़ी देर बाद मैं जब वाशरूम जाने के लिए कमरे से बाहर निकला तो मैंने देखा कि रेवती अपने कमरे में अकेले बैठकर उसी थाली में खाना खा रही थी, जिसमें उसने मुझे खिलाया था.

पीछे की बाकी है।कोमल- सर आज तक मैंने पीछे से नहीं मरवाई है।मैं- आज मारूँगा. जितना अच्छा सुलेखा भाभी का व्यवहार था, देखने में भी वो उतनी ही खूबसूरत थीं. मैं पीछे से उनकी चूत, जो थोड़ी चिकनी हो गयी थी, उसमें अपना लंड डाल दिया.

मैं चूत में ही झड़ रहा हूँ।यह कहकर मैं अनु की चूत में ही झड़ गया, मेरा लावा अनु की चूत में भरता ही जा रहा था।फिर मैं झड़ने के बाद अनु पर गिर गया और कुछ देर वैसे ही पड़ा रहा।उसके बाद मैं उसके ऊपर से हटा और कहा- हाय मेरी प्यारी बहना. मैं खड़ी होके उनके ऊपर बैठ गई और अपने हाथ से लंड को अपनी गांड में डालकर लेने लगी. मैंने उसको चुप रहने को कहा, तो वो बोली कि उसने अपनी सास को पहले ही नींद की गोलियां दे कर सुला दिया है.

मैंने संजय को गीत को सीधा करने का इशारा किया। संजय ने मेरा इशारा पाकर गीत को अपनी गोद में उल्टा कर दिया।अब गीत ने मुझे देख कर अपनी आँखें बंद कर लीं और उसकी उसकी छाती मेरे सामने थी।मैंने एक हाथ से गीत की कमीज़ को निकाल दिया, अब गीत के ऊपरी हिस्से में ब्रा थी.

बीएफ चोदने वाली सेक्सी बीएफ: वैसे भी आपकी चुदाई पाकर मेरी मुनिया आजकल कुछ ज्यादा ही मचल रही है और खुली छत पर आपकी याद में मुझे यह सब करना अच्छा लग रहा था।तभी जेठ मेरी चूत को अपने हाथ भींच कर बोले- तू कहे तो जान अभी तेरी चुदाई शुरू कर दूँ?मैंने कहा- अभी नहीं. चाहे वो किसी भी विषय में हो।मैं बचपन से ही थोड़ा ज्यादा सेक्सी था और सेक्स की किताबों में मेरा मन कुछ ज्यादा लगता था। पर मैं अपनी पढ़ाई में हमेशा अव्वल रहता था.

इसलिए मैंने उसका लंड पूरा चूसना शुरू कर दिया और उसके अंडकोष को चाटना शुरू कर दिया. तो लौड़ा अपने आप ही अकड़ जाएगा।पायल- अरे भाई, ये आपके लौड़े को क्या हो गया. इसलिए आज मैंने तुम्हारे नाई को बुलाया था और उससे अपनी चूत की झांटें साफ करवा दीं.

मेरा साथ देने लगी और मुझे पागलों की तरह किस करने लगी। इसके बाद मैंने उसकी मस्त चूचियों को मसलना शुरू कर दिया और उसके होंठ चूसने लगा.

कार में बैठे एक दिन सिम्मी ने मुझसे पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- हाँ, क्यूँ?सिम्मी- कितनी?मैं- हैं 2-3 …सिम्मी धीमी आवाज़ में बोली- पता ही था. विक्रम थोड़ा गुस्सा सा दिखाते हुए- मुझे पता है कि इसको गांड बोलते हैं. मोटा और खड़ा लंड देख कर मुझसे रहा ही न गया और मैंने जल्दी से बैठ कर उसके लंड को चूसना शुरू कर दिया.