हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की

छवि स्रोत,दिल दे चुके सनम पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गाना सेक्सी बीएफ: हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की, मंजू भी उसी समय अपनी गांड हिला देती, जब मेरे हाथ चूत के आस पास होते.

नाबालिक सेक्सी

दवा के कारण लंड इस बार ऐसे तनकर खड़ा हो गया था कि साला दो घंटे तक बैठे ही न!सपना देर न करते हुए लंड के ऊपर चढ़ गई और गांड उछालने लगी. 16 साल ke ladkeशैंकी ने मुझे दो गोलियां दीं, जिसमें से एक दर्द कम करने की थी और दूसरी प्रेग्नेंसी रोकने की थी.

दोस्तो, उम्मीद है आपको मेरी भतीजा चाची सेक्स स्टोरी में मजा आया होगा. सेक्सी वीडियो इंडियन हिंदीनफीसा की चूत ने पानी छोड़ दिया और लन्ड फच्च फच्च फच्च करके अंदर तक जाने लगा।मेरे लौड़े ने भी वीर्य छोड़ दिया और उसके ऊपर लेट गया.

इसके पहले दोनों बार की चुदाई में मीना ने मेरे जिस्म पर ज्यादा गौर नहीं किया था.हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की: उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया तो मैंने सारा पानी पी लिया और चुत को चूसना जारी रखा.

अब मैं भी दुबारा झड़ने वाला था तो मैंने भाभी के मुँह में लंड डालकर अच्छे से मुँह की भी चुदाई की और उनके मुँह में ही झड़ गया.बॉस सविता भाभी को देखते ही उसके हुस्न का दीवाना हो जाता गया।इसके बाद की घटनाओं के बारे में जानने के लिए पूरी वीडियो देखें.

मुसलमान सेक्सी वीडियो एचडी - हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की

(यह कड़ी एकदम मुफ्त है!)फ्री पासवर्ड के लिए इस टेलीग्राम चैनल के सदस्य बनें.फिर बिना कंडोम के ही राहुल ने इक्शाना की चूत पर अपना लंड टिकाया और एक जोर का धक्का दे मारा जिससे इक्शाना की गीली चूत के राहुल का पूरा लंड एक बार में ही घुस गया.

मैंने कहा- ये फ़ूड क्वालिटी क्या होती है?वो बोली- ये मर्दों से अपनी कांख चटवाने के लिए ही लगाया जाता है. हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की अब आगे गाँव की औरत की चुदाई:करीब एक या दो बजे मेरी नींद खुली तो देखा कि मेरे पैरों की तरफ कोई लेटा था और वो मेरा लंड हिला रही थी.

इतने दिन से हम मंजू और अंजू जो खेल, खेल रहे थे, उसके कारण मैंने महसूस किया कि अंजू की चूचियों का आकार थोड़ा बदल चुका है.

हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की?

उनके मम्मों पर लाल निशान पड़ गए थे, जो ये बता रहे थे कि मैंने उन्हें कितना चूसा है … मामी के दोनों निप्पल भी फूल गए थे. लंड झड़ा तो मैंने अपना लंड अपनी बहेन की चुत में ही पड़ा रहने दिया और यूं ही उससे चिपक कर सो गया. कुछ देर बाद दादाजी ने मम्मी को चित लिटा दिया और अपना सिर मम्मी के पेटीकोट के अन्दर ले गए.

पहले मेरी चूचियां इसलिए टाईट थीं क्योंकि उन दिनों मेरे अन्दर काफ़ी आग लगी रहती थी और मेरे कुछ आशिक़ थे जो मेरी चूचियों को खूब दबाकर चूसकर मुझे चोदते थे. इतना तो पता था कि मीना को सेक्स के बारे में पता होगा कि लंड को बुर में कैसे डालते हैं क्योंकि उसके साथ उसके कॉलेज में कई शादीशुदा लड़कियां भी थीं. मैंने चुत के करीब उंगली लगाई तो दीदी ने दोनों टांगों को आपस में चिपका दिया.

ऑफिस में वाशरूम में तो भाभी से लंड चुसवाना मेरा प्रिय शगल हो गया था. मेरे मुँह से लंड चूसने से लार बह रही थी, जिसके कारण मेरे बूब्स पूरे गीले हो गए. वहां जाने पर एक होटल में इन महिलाओं के रुकने का प्रबंध किया गया था.

उसी समय उसने लंड मेरे मुँह के अन्दर कर दिया और बोला- बेबी, मुझे तुमने मजबूर कर दिया, तुम खुद भी तो कर सकती थी ये सब … लव यू सन्नो … सक इट डॉल. एक दिन सुबह से ही बारिश हो रही थी तो मैं उस दिन अपनी कार लेकर गया था.

वैसे तो दीदी के बूब्स के ऊपर उनके बाल थे … पर फिर भी किनारे से उनके बूब्स आराम से नजर आ रहे थे.

मैंने सुमन को देखा, उसने जींस और शर्ट पहनी हुई थी।उसने थोड़ा मेकअप भी किया हुआ था, भोजपुरी फिल्म की हीरोइन लग रही थी।मैंने सुमन की तारीफ की तो वो शरमाने लगी.

पर कुछ देर बाद उन्होंने खुद ही अपनी टी-शर्ट को ऊपर कर लिया और पजामा को थोड़ा नीचे कर दिया. तब नीता मेरा नाम लेती हुई बोली- आह विजय, आज पहली बार मेरे स्तन को किसी पुरुष ने देखा और छुआ है. तब दीदी ने लाड प्यार दिखाते हुए कहा- अरे अरे … मैं अपने प्यारे भाई से गुस्सा थोड़ी हो सकती हूं! मेरा भाई तो बहुत अच्छा है.

ऐसे ही एक बार शाम के 8:00 बजे जब मेरे यहां स्पेशल खीर बबी तो वह देने मैं मुकेश के यहां गया. जैसे सदियों की प्यास उस पर हावी हो रही थी और वो सिसकारियां लेती हुई अपनी चूत को सनी के लंड पर कपड़ों के ऊपर से ही रगड़ रही थी. तभी तो भाभी मेरी खातिरदारी कुछ ज्यादा करने लगी थीं और भाभी खुद ही अपनी तरफ से शुरुआत करेंगी.

चाची ने अपने गाउन के अन्दर शायद कुछ भी नहीं पहना हुआ था, जिस वजह से उनके बड़े बड़े मम्मे साफ़ नुमाया हो रहे थे.

मामी भी पूरी गर्म हो गयी थीं और मामा की जीभ चूस रही थीं- आह आह और खींचो इन्हें … ओह्ह ओह आह. वैसे तो मंजू का मकान भी बड़ा था, फिर भी मीना का घर काफी बड़े एरिया में बना हुआ था. सपना बाथरूम में जाकर नहा आई और वापस आकर कहने लगी- तुमने मुझे गर्म करके छोड़ दिया था.

उस ट्रिप पर भी मौका था, समय था, एकांत भी था … पर मैं उससे कह ही नहीं पाया. मैं बस बाथरूम से निकला ही था।मैंने तौलिया लपेटे हुए नंगे बदन आकर दरवाजा खोल दिया।मेरे सामने मेरे कॉलेज की लड़की रेशमा खड़ी थी. सलवार के कपड़े के ऊपर से ही पैंटी साइड करके उसकी चुत की लकीर को सहलाने लगा.

मैंने सोचा कि क्यों ना में किसी मॉल में जाकर अपना टाइम पास कर लूं और मूड भी फ्रेश कर लूं.

मैं उनकी चुत में उंगली डालकर घुमा रहा था, जिस वजह से उन्हें और ज्यादा मजा आने लगा था. मेरी उससे बात हुई, तो महिला को अहसास हुआ कि उससे गलत नंबर पर फोन लग गया है.

हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की दरअसल मुझे उसके लंड रस लगे अंडरवियर को सूंघने और चाटने में बड़ा अच्छा लगता था. मैन टू मैन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दोस्त से गांड मरवा रहा था तो एक अंकल को पता लगा गया.

हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की वहां शराब पीने के बाद राजेश तबियत से मेरी गांड बजा रहा था लेकिन चचा ने ये सब देख लिया और मुझे गांड मराने के लिए तैयार कर लिया. ‘आह्हम्म आह्हम्म आह्हम्म उह …’मेरे लंड का सारा माल पीकर उन्होंने लंड को चाटकर साफ कर दिया.

आप कहो, तो आपके दूध को एक बार और दबा कर मजा ले लूं!इस पर भाभी मना करने लगीं लेकिन मेरे जोर देने पर भाभी मान गईं और मैंने एक पल भी जाया न करते हुए भाभी को अपनी तरफ खींच लिया.

पाकिस्तानी सेक्सी पाकिस्तानी

दोनों की पहली चुदाई संपन्न हो चुकी थी, मामा भानजी दोनों शांत हो चुके थे।थोड़ी देर बाद मामा अपनी भांजी के नंगे जिस्म से अलग हुआ और उसकी आंखों में देखने लगा. दीदी ने पैंटी पहन ली और चूची दिखाती हुई बोलीं- पहले चुम्मा दो इसको. कुछ ही देर में लंड चुत में दोस्ती हो गई और चाची ने फुल स्पीड से अपनी कमर चलाना शुरू कर दिया.

क्यागजब की चूचियांथीं, बिल्कुल टाइट और नुकीली चूचियां, एकदम कठोर पत्थर सी. आंटी के ऊपर मेरी नजर काफी पहले से ही थी लेकिन उनकी आंखों की हरकतें देखकर मेरी हिम्मत कुछ ज्यादा बढ़ गई थी. सविता भाभी कार्टून सेक्स वीडियो में देखें कि सविता ने नया नौकर मनोज घरेलू काम के लिए रखा.

चूंकि वहां गोबर के कंडे भरे थे तो इतनी जगह नहीं थी कि दो लोग आसानी से खड़े हो सकें.

मैंने सोचा था कि अभी घर पर कोई नहीं होगा, तो मैं किताब देख लेता हूँ. मैं अब रोज रात को बहन के आने से पहले लेट जाता और रोज उनको अपने लंड के दीदार करवा देता. पढ़ाई में मैंने अपना सब कुछ लगा दिया था जिस कारण से मैंने फर्स्ट ईयर में टॉप मारा था.

ज्योति ये सुनकर एकदम अवाक रह गई और बोली- अरे तूने ये सोचा भी कैसे कि मैं विजय से शादी करूंगी?किशन बोला- मम्मी परसों जब आप सोशल मीडिया पर विजय अंकल की फोटो देख रही थीं, तो मैं समझा कि आप दोनों के बीच कुछ है, इसलिए मैंने ये बोला. दीदी ने खाकर बर्तन साफ किए, फिर बोली- मेरे तो आज हाथ पैरों में दर्द हो रहा है. तब मैंने ध्यान दिया कि दीदी ने उस समय ब्रा नहीं पहनी हुई थी क्योंकि टीशर्ट के नीचे ब्रा की पट्टी उभरी हुई नहीं पता चल रही थी.

तुम अपने आपको उदास और अकेला मत समझो, मैं हूँ न तुम्हारे साथ!यह कह कर उसने मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मेरी चूचियां सनी के सीने में दबी हुई थीं और उसका लंड मेरी चूत में टुनकी मार रहा था.

अगर तुम चाहो तो तुम भी हमारे साथ इस खेल का मजा ले सकती हो और हमारे साथ शामिल हो सकती हो।अभिषेक और नीतू किस कर रहे थे. कभी उनकी ब्रा उठा कर ले जाता और मुठ मार लेता तो कभी उनके साथ बिस्तर में लेट जाता था. वो आज शायद मेरी मम्मी के साथ सेक्स करने के मूड में था और मेरी मम्मी भी उसके साथ सैट हो चुकी थीं.

जब दीदी ने ध्यान दिया कि मेरे सामने उनके बूब्स नंगे हो गए हैं तो तुरंत उन्होंने मेरा हाथ छोड़कर अपने बूब्स को अपने हाथों से ढक लिया.

तभी अचानक मैंने महसूस किया कि उसने अपना लंड मेरी चुत पर लगाने की बजाए मेरी गांड के छेद पर लगा दिया और हल्का सा जोर लगा रहा था. मम्मी की आवाज में वो दर्द नहीं था जो पहली बार गांड मरवाने में किसी को होता है. जैसे ही उंगली घुसी, उसकी सूजी हुई चूत में दर्द का अहसास हुआ लेकिन मजा बहुत था.

फिर मैंने उसकी चूत और चूचे पानी से साफ कर दिए और कपड़े पहन कर हम दोनों बाहर आ गए. साथ ही मेरा लंड भी पहले से मोटा हो चुका था क्योंकि मेरा लंड अंजू की हथेली में अब पूरा नहीं आता था.

वो दोबारा अपना लंड मेरे चूतड़ों के बीच में घुसाने की कोशिश करने लगा. अब मैंने थोड़ा सा लंड पीछे लेकर उनके कंधे पकड़कर तेजी से धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड मामी की चूत में घुस गया. लगातार मुठ मरवाने के कारण मेरे लंड का साइज भी बढ़ गया था और लंड की चमड़ी भी अब पीछे होने लगी थी.

हिंदी सेक्सी वीडियो पाकिस्तानी

यह देसी गांड चुदाई कहानी मेरे पहले सेक्स की पर गांड मारने की कहानी है.

चाचा हाथ बाहर निकल कर सूंघ रहे थे और कुछ बोल रहे थे जिस पर मम्मी हंस रही थीं. थोड़ी देर बाद खाला की गांड फ़ैल गई और उनको भी गांड मराने में मज़ा आने लगा. कुछ मिनट में ही फिर मेरा लावा बह पड़ा और उसके लंड को जोर से भींचकर उसके ऊपर लेट गई.

मैंने जैसे ही अपना हाथ नीचे उसकी चुत की तरफ बढ़ाया और उसके पेट पर फेरते हुए नीचे ले जाने लगा, तो देखा कि उसने सिर्फ सलवार पहनी हुई थी. थोड़ी देर बाद जब मुझे लगा कि मौसी सो गई हैं तब मैंने अपना एक हाथ अपनी मौसी की लड़की की चुचियों के ऊपर रख दिया और हल्के हल्के से उसके मम्मों को दबाने लगा. अवोकेडो हिंदी नाममैंने मीना से कहा- मेरी बात गौर से सुन … पहले तू प्रकाश को लाइन पर ले, मैं प्रकाश को राज़ी करती हूं.

एक दिन रात को भैया ने मेरे सामने अपना लोअर उतार दिया और एक छोटी सी फ्रेंची में अपने फूले हुए लंड को दिखाते हुए पूछने लगे- देख मेरी ये नई वाली फ्रेंची कैसी लग रही है?मैंने कहा- फ्रेंची तो बहुत ही सुंदर है लेकिन आपके उसके हिसाब से कुछ छोटी लग रही है. मैं बस बाथरूम से निकला ही था।मैंने तौलिया लपेटे हुए नंगे बदन आकर दरवाजा खोल दिया।मेरे सामने मेरे कॉलेज की लड़की रेशमा खड़ी थी.

वहां मीना ने सबके लिए चाय बनाई और तब तक मैं फ्रेश होकर मेकअप ठीक कर करके आ गई. मेरी पिछली चुदाई वाली कहानीराजनीति में सेक्स से मिली सफलताको आप सभी की ओर से बहुत अच्छा प्रतिसाद मिला था. चिपका हुआ गाउन था तो आंटी के जिस्म का एक एक कटाव साफ़ नुमायां हो रहा था और मेरे लंड में आग सी लग रही थी.

क्योंकि पिताजी और मेरी दूसरी मम्मी की आयु में काफी फर्क था करीब 18 साल का!अब ये बात मुझे ढंग से समझ आने लगी थी क्योंकि तब मैं छोटा था. मामी एकदम से कराह उठीं- ऊम्म्म ऊमह मर गई … ऊमह उमह … उन्ह जीभ मत डालो बेबी … अब असली चीज डाल दो … मुझसे नहीं रहा जा रहा!वो अपनी कमर उचका कर बोलीं तो मैंने लौड़े को चूत के मुँह पर रख कर धीरे से धक्का दे मारा. मैं- आआ अहहह आआह … ईईईई!मेरी चीख के साथ मीना की भी तेज चीख निकली और पूरा लंड अन्दर जाकर कहीं फंस गया.

मैंने उसे समझाया- कुछ नहीं होगा तू पकड़ तो!दिव्या से मैंने लंड छूने को कहा.

मैंने कहा- क्या उंगली से ही दर्द होता है?वो बोला- नहीं उंगली से तो मजा आता है, लेकिन इसके बाद जब आप उंगली की जगह लंड पेलोगे तो दर्द होगा. आग तो दोनों नौसिखियों को लगी थी, साथ ही ये भी पता था कि ऐसा मौका दोबारा शायद न मिले, तो आज क्यों न पूरा फायदा उठा लिया जाए.

हमारे पास बेड नहीं था, हम दोनों एक एक गद्दा ज़मीन पर बिछा कर अलग अलग कमरे में सोने लगे. मुझे धीरज के सामने नंगी पड़ी रहने में कोई दिक्कत नहीं हो रही थी क्योंकि मुझे लग रहा था कि धीरज का लंड किसी तरह मेरी चुत की खुजली मिटा दे. हालांकि अभी मुझे नहीं मालूम था कि भाभी मुझे दिखाने के लिए ही बाथरूम का दरवाजा खोल कर नहा रही हैं.

जब मेरी आंख खुली तो मैंने देखा कि मैं बिस्तर पर लेटा हूँ और वो नहा कर आ रही है. मैंने चुटकी ली- पहले क्या फाड़ना है … आगे से या पीछे से शुरू करूँ?वो हंस दी और बोली- साले हरामी … पहले आगे की तो फाड़ ले, फिर बाद में कुछ और बात करना. जो तुम्हारे मन में है वे बता दो!जब हमारी ये बातें हो रही थी, उस वक्त भी मैं दीदी के बूब्स के साथ-साथ उनके निपल्स भी छू रहा था … पर दीदी मुझे कुछ नहीं कह रही थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की वो उधर से चिल्ला कर बोली- ये तुम क्या कर रहे हो … शर्म नहीं आती?मैं कुछ नहीं बोला और अपने कमरे में चला गया. चाची अपने मम्मे मेरी तरफ करती हुई बोलीं- तो पी ले न … मैंने कब मना किया है.

भोजपुरी एल्बम सेक्सी वीडियो

मामी- तेरे मामा चोदते तो हैं, लेकिन तेरा लंड उनसे बड़ा ओर मोटा है साले … आह्म्म अहम और अन्दर तक डाल ओह्म्म आह्म्म आह आ!मामी लंड के मजे से चिल्ला रही थीं. जीजू मेरी तरह मेरी रजाई में आ गए और मेरे मम्मों को मेरे कपड़ों से आजाद करने लगे. उसने मेरे लौड़े को एक बार छुआ।फिर मुझसे रहा नहीं गया, मैं उसे बेड पर लिटाकर उसके बूब्स को मुंह में लेकर चूसने लगा.

फिर उसने मम्मी को लिटा दिया और अपने लंड पर कंडोम पहन कर मम्मी को चोदने में लग गया. ये कह कर चिराग ने अपना मुँह मेरी चूत में लगा दिया और चुत चूसने-चाटने लगा. सेक्सी वीडियो भोजपुरी फुल एचडीअब तक तीन बार तीन आसनों से उसने अंदर डाला था तो क्रम के हिसाब से कम होती दर्द हर बार हुई थी.

हैदराबाद में तब मेरे कुछ स्कूल के दिनों के क्लासमेट भी अपनी इंजिनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर जॉब सर्च कर रहे थे, स्ट्रगल कर रहे थे.

दूसरे दिन सुबह किशन हम दोनों को कोर्ट ले गया और वहां पर हम दोनों की शादी रजिस्टर कर दी. धन्यवाद[emailprotected]मामी के साथ गर्म सेक्स किचन में का अगला भाग:लखनऊ वाली जवान मामी की कामुकता- 4.

आप दोनों एकदम सही वक्त पर आए हो।सविता ने भी हंस कर औपचारिकता पूरी की।लता ने अपने पति का शोक से परिचय कराया. मैंने मामी को पीठ के बल लेटा दिया और उनकी गांड पर तेल लगाकर मसाज करने लगा. कुछ देर बाद वो उठीं और उन्होंने अपने दोनों हाथ मेरे सीने पर हाथ रख लिए.

आज जो लोग 50 साल की उम्र के आस-पास हैं, उनको जीवन में बहुत से अनुभव होते हैं और उन्हीं अनुभवों में से एक अनुभव होता है सेक्स … या सेक्स लाइफ.

खैर 2 दिन तो ऐसे ही निकल गए पर मेरी कुछ करने की हिम्मत नहीं हो रही थी क्योंकि दीदी मुझसे बड़ी थी. अपना वजन उसने सामने वाले हाथों पर रखा और दोनों स्तन सामने लटकते हुए स्पष्ट दिख रहे थे. कुछ सेकंड बाद अभिषेक रुका और बोला- नीतू, अगर तुम हमारे लंड को पकड़ कर देखना चाहती हो और हमारे लंड से मजे लेना चाहते हो तो तुम भी हमारे लंड से खेल सकती हो.

हम साथ साथ हैं हिंदी फुल मूवीउसे अहसास हुआ कि सनी की छाती पहली बार से कुछ ज्यादा चौड़ी हो गई है. भाभी को गर्म करने के दौरान ही मेरा लंड लोवर में तम्बू बन कर खड़ा हो चुका था.

सेक्सी नंगी आदिवासी

उनके बूब्स ब्रा में समा नहीं रहे थे और निप्पलों का उभार साफ साफ दिख रहा था।फिर मैंने उनकी सलवार निकालने में मदद की. मैंने उसकी दोनों टांगों को फैलाया और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया. मैं फ्रेश होकर नीचे आया तो देखा कि वही लड़की, जो मुझे ऊपर मिली थी, वो नव्या के साथ बैठी थी और उससे बात कर रही थी.

शाम को मैं बोर हो रही थी तो मैंने सोचा मामा के लड़के सुरेन्द्र को घर बुला लूं. उसकी गर्म सांसें मेरी चुत को एक अजब सा नशा दे रही थीं और मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसे सहला रही थी. फिर मैंने भी भाभी से पूछ लिया- और सुनाएं भाभी जी, आप मुझे चाचा कब बना रही हैं.

हम दोनों एक साथ झड़ गए।उसके बाद मैंने उसके चेहरे पर संतुष्टि का भाव देखा था।वह अपनी आँखें बंद किए हुए थी।मैं उसके ऊपर झुका और उसके गाल पर किस करते हुए कहा- कैसा लगा?वह अपनी आंखें बहुत ही प्यार से खोलते हुए मुझे उम्मीद की नजरों से देखते हुए बोली- मैं बहुत खुश हूँ. उसने मुझे चित लिटाया और मेरे दोनों पैर फैला कर चुदाई की पोजीशन में लिटा दिया. फिर जब तक सब लोग वापस नहीं आ गए, मैंने भाभी की चुत को चोद कर भोसड़ा बना दिया.

वो उधर अपनी चुत को साफ करने लगीं, इधर मेरा लंड मेरी पैंट को फाड़कर बाहर आने लगा था. वो वासना से बोली- विजय मेरी जान … आज तुमने मुझे सच में एक औरत होने का अहसास दिया है.

थोड़ी देर बाद जैसे ही दीदी को अहसास हुआ कि उन्होंने मुझे स्मूच कर लिया है वे शरमा गई और उन्होंने अपना सर मेरे कंधे में छुपा लिया.

मैंने फिर से एक जोर का झटका दे दिया तो मेरा पूरा लंड चुत में समा गया. दादा दादी के लिए शायरीदोस्तो, मैं आपको एक बात शेयर करना चाहता हूँ कि कुंवारी लड़की को चोदने से ज्यादा मजा शादीशुदा औरतों को चोदने में आता है क्योंकि शादीशुदा औरतें सब जानती हैं, उन्हें ज्यादा मनाना नहीं पड़ता. 12 साल लड़की के सेक्सीवो बोले- अरे मेरी जान, तुम अब यहां 3 महीने और रुकोगी, मैं तुम्हें जाने ही नहीं दूँगा. थोड़ी देर चूमा चाटी के बाद वो मेरी जांघों पर बैठ कर मेरे जिस्म को गौर से देखने लगी.

बीच बीच में वह मेरी दोनों गोटियो को मुंह में ले कर चूसती।दस मिनट लंड चूसने के बाद मेरा माल उसके मुंह में गिर गया, पूरा माल वो पी गई।अब मैंने उसकी वन पीस को खोला, उसकी बॉडी को किस करने लगा.

’मामा उठकर तैयार होने चले गए और मामी वहीं लेटकर लम्बी लम्बी सांसें लेने लगीं. उन्होंने दादाजी के सामने नंगी होकर अपनी चूत में उंगली डाली और बोलीं- बाबू जी, आपको अपनी बहू को चोद कर मज़ा आया या नहीं!दादाजी बोले- हां, तुझे चोदने में बहुत मजा आया. फिर सनी, ऋतु की चूची चूसते हुए अपना एक हाथ नीचे ले आया और उसकी सलवार के अन्दर घुसा कर उसकी चूत को अपने हाथ में भर लिया.

उसमें से चूं चूं की आवाज हमारी जांघों की पट पट चट चट की आवाज से मिल कर बड़ा ही मधुर संगीत पैदा कर रही थी. उस फौजी ने मेरी बहन को उठा कर अपने कन्धों पर बिठा लिया और उसकी चूत चाटने लगा. भाई ने लंड बाहर निकाला, मुझे खड़ा किया और मेरे शार्ट को खोल दिया और मेरी जांघों को चूमने लगे।मैंने भी अपना टी शर्ट उतार दिया।भाई शॉर्ट्स को नीचे सरकाते जा रहे थे और मेरे नंगी जांघों को चूमते जा रहे थे।जैसे ही मैं पूरी नंगी हुई भाई ने मुझे लिटा दिया और मेरे चूत के आस पास चूमने लगे.

सेक्सी मॉम हॉट वीडियो

फिर सनी ने जैसे ही जीभ निकाल कर ऋतु की चूत पर फेरी, ऋतु की चूत पिघल गई और सनी के मुँह में रस की धार छोड़ने लगी. मैंने चूत की फांकों में लंड का सुपारा फंसा कर एक झटका मारा तो मेरा लंड थोड़ा सा घुस गया. कुछ ही देर में लंड चुत में दोस्ती हो गई और चाची ने फुल स्पीड से अपनी कमर चलाना शुरू कर दिया.

हमारी इतनी बातें करने अपने के दौरान मेरा लंड फिर से टाइट हो गया और मेरी दीदी मेरा लंड देखकर देखकर बोली– लो तुम्हारा औजार तो फिर खड़ा हो गया.

मेरे प्रिय पाठको, आपको यह हॉट न्यूड सिस्टर सेक्स स्टोरी पढ़ कर मजा आ रहा होगा.

इए भाई से चुदाई बहन की हुई मजेदार!उस रात उसने मुझे चार बार चोदा … सुबह हम दोनों घर आ गए. अब आगे लड़की की पहली बार चुदाई:वो आदमी, जिसका मकान था, उसने हमें एक टॉर्च दी और कहा कि दोनों दरवाजे अच्छे से बंद कर लेना. फुल एचडी मारवाड़ी सेक्सकिसी को ऐतराज तो होना ही नहीं था तो हम दोनों उसके पापा की प्रिया स्कूटर से चल पड़े.

मन तो मेरा भी कर रहा था … पर मैंने कहा- मैं अपने पति के अलावा किसी से भी नहीं कर सकती … और न ही अपने पति को धोखा दे सकती हूं. मैंने राहुल को अपनी चुत से हटाने की कोशिश की पर वो मादरचोद हट ही नहीं रहा था. मैं और राहुल बहुत अच्छे दोस्त हैं हम कॉलेज में भी साथ में पढ़ते थे और अपनी बातें एक दूसरे को बताते हैं.

उन्होंने मेरे मम्मों के बीच में अपने फौलादी लंड को रखा और हाथों से मम्मे दबा कर मेरी बूब फकिंग करने लगे. जैसे ही उसने ऋतु को उठाया, तो ऋतु को उसके जिस्म की कठोरता का अहसास हुआ कि उसका जिस्म एकदम पत्थर जैसा हो गया था.

मेरा हाथ पकड़ कर मुझे रोका और लंड बाहर निकाला कर फिर से चुत के अन्दर बाहर करने लगे.

हैलो फ्रेंड्स, मैं राज़िखान आपका फिर से अपनी देसी मामी की चुत चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ. मेरे मन में भाभी के शरीर का एक एक अंग घूम रहा था और मन बहुत बेचैन हो गया था. राहुल का काला लंड इक्शाना की गीली चूत में फच फच की आवाज के साथ अन्दर बाहर हो रहा था.

राजस्थानी लोकल सेक्स मैंने उनसे कहा कि अब मैं कुछ नहीं जानता हूं … मैं आज बस आपको चोदना चाहता हूं. तभी अब्बू ने जल्दी से अपना लंड खाला की चूत से बाहर निकाला और गांड पर रख कर हिलाने लगे.

मैंने कहा- ओह्ह … अब क्या होगा?धीरज- डॉक्टर ने कहा है कि उस रंडी की चुत संक्रामक रोग से ग्रसित थी … तुमको भी इन्फेक्शन हो गया है. मेरे लंड की कुछ चोटें इतनी खतरनाक लगीं कि भाभी के आंसू टपक आए और वो ‘आआह ईई आआह मर गई रे. उनकी उम्र ज्यादा नहीं थी।हमने तय किया कि बकरी का खेल खेलने के बाद स्वाति और मोहिनी, मेरे लंड को चूस कर मुझे शांत करेंगी.

मोनालिसा सेक्सी फिल्म

हर बार मीना सिसकारी भरने लगती और दर्द से कराहने लगती- आह्ह्ह … आशु … ये क्या कर रहे हो … आह्ह … मैं मर जाऊंगी … आंह मत करो … उम्म्म बहुत मज़ा आ रहा है … ओह्ह … उफ़ आशु लगती है दर्द हो रहा है … प्लीज रुको … धीरे से ह्म्म्म … ओह्ह … उफ्फ कुछ हो रहा है कोई देख लेगा!उधर ये सब चलता रहा और इसी बीच मेरे हाथ उसकी बुर तक पहुंच गया. तभी मेरा देवर अली आ गया।वह सीधे मेरे पास आया और बोला- भाभीजान, आपने मुझसे चुदने को मना कर दिया?मैंने बड़ी हैरानी से उसे देखा और कहा- क्या मतलब? तुम तो अभी इतने छोटे हो और ऐसी बातें कर रहे हो?वह बोला- मैं छोटा नहीं हूँ भाभी जान … मैं जवान हो चुका हूँ।मैं बोली- यार चूतिया न बनाओ मुझे … तुम्हें देख कर तो लगता है कि तेरा अभी खड़ा भी नहीं होता होगा. कुछ देर बाद उसने लंड बाहर निकाला और खुद लेट गया, मुझे अपने ऊपर आने कहा.

अब दिव्या ने भी अपने हाथों से मुझे अपनी तरफ खींचने के लिए हल्का जोर लगाया और अपने चेहरे को मेरी तरफ बढ़ा दिया. सेक्स का मजा तो मैं कॉलेज टाइम में भी ले चुकी थी और लंड से खेलने का भी अपना ही मजा है.

उनके मस्त मम्मों को देखकर तो मेरे अन्दर वासना की लहर ही दौड़ गयी और मेरा लंड मेरी पैंट में सलामी देने लगा.

हालांकि मैं मन ही मन खुश थी कि मेरी जोरदार चुदाई होगी आज!जीजू कहने लगे- अरे मेरी रानी, जो ये तुम्हारा गदराया बदन है … इसका स्वाद तो ले लेने दो. मौसी के टॉयलेट जाने की बात सुनकर उनकी लड़की बोली- अब ये दस पन्द्रह मिनट के लिए गईं. करीब करीब हर लड़के और लड़की को सेक्स का ज्ञान कुछ इसी तरह दोस्तों से … या फिर अपने आस पास के लड़के लड़की से मिलता है.

गोरा चिट्टा रंग, एकदम मांसल जांघें, कसे हुए हाथ और लंबे घने बाल, जिन्हें बांधकर रखने की वजह से मैं अपने आपमें एक मदमस्त मर्द लगता था. जल्द ही मैंने उसको अलग किया और उठ कर अपनी प्रिया डार्लिंग की चूत की फांकों में लंड लगा कर अन्दर पेल दिया. उन्होंने उससे ये भी कहा- जब तक मैं ना बुलाऊं … तब तक कोई हम दोनों को डिस्टर्ब ना करे.

तुम दोनों मेरी चूत और गांड का खुल कर बाजा बजाओ … हाइ … उफ़ उफ़ दो दो लौड़े … मारो चोदो … आह आह आह.

हिंदी बीएफ सेक्सी कुंवारी लड़की: करीब 7-8 मिनट तक कजरी की गांड चोदने के बाद लंड ने अपनी जगह बना ली और उसे भी राहत मिल गई. जितना मजा बहेन की चुत चुदाई से ही मिलता है, उतना तो गर्लफ्रेंड की चुत चोदने में भी नहीं मिलता है.

वो मेरे लंड को देखती हुई बोलीं- कोई बात नहीं … अगर तुम्हें ऐसा करना है तो कर लो. ऐसे तो ससुर की पेंशन भी जीने के लिए काफी थी लेकिन मेरा घर में बैठे रहना मुझे अखरने लगा था. जबकि मैंने शमीज तो छोड़ो, ब्रा तक नहीं पहनी थी।मैंने शीशे में देखा … पूरे बूब्स का साफ अंदाजा हो रहा था और काली-काली घुंडियां तो एकदम क्लियर दिख रही थीं।नीचे स्किन कलर की एकदम फिट लैगी पहन ली थी, जैसे आपने कहा था।फिर जब एक-एक करके काम से वे अंदर आये तो मुझसे सामना हुआ और बिना दुपट्टे ही मैंने जब उनका सामना किया तो नजर तो टिकनी ही थी.

प्रदीप बोला- हम दोनों का एक बार हो गया है … अब क्या करना है?सपना ने लंड को मुँह से बाहर निकाला और मुँह बनाकर बोली- वहीं जाओ और बैठो, जितना करना है करो.

फिर कल रात में जब तुम मेरे बूब्स दबा रहे थे, तो क्या मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था?मैंने तभी उसके हाथ को टच किया और उसे अपने पास खींच कर उसके गाल पर किस कर लिया. मैं अपनी वासना में डूब कर पूरे मजे से लंड हिला कर मुठ मारने में लगा था. बुआ की तो जान निकली जा रही थी।फिर मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और ऊपर आकर लंड को झटके से चूत में घुसा दिया और अंदर बाहर करने लगा.