देहाती बीएफ फोटो

छवि स्रोत,योग वाली सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी झवाझवी सेक्सी: देहाती बीएफ फोटो, अब मैं आज़ाद पंछी की तरह बेबाक घूमती थी, शॉर्ट्स, मिनी स्कर्ट्स, टाइप ड्रेसेस पहनना मेरी फेवरेट चॉइस थी।मुझे अपने जिस्म को दिखाना बहुत पसंद है।मुझे सेक्स करना भी बहुत अच्छा लगता है तो इन दिनों मुझे लंड की कमी महसूस होने लगी थी क्योंकि पिछले कई महीनों से मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं था.

ब्लू फिल्म हिंदी सेक्सी वीडियो एचडी

सोनल थोड़ी देर ही मेरा लंड चूस पायी थी कि तभी उसकी बहन काजल ने सोनल के मुँह से मेरा लंड खींच कर निकालने का प्रयास किया. सेक्सी ब्लू वीडियो चलाएंऔर हर रोज मैं अपने पति के लंड से भी चुदती ताकि अगर गर्भ रुके तो पति और सास को शक ना हो.

उनकी चूत को ध्यान से देखते हुए उनकी चूत में लंड देने की कल्पना कर रहा था. सेक्स वीडियो सेक्स सेक्सी वीडियोमैंने उसकी चड्डी की इलास्टिक में उंगलियां फंसाईं, तो उसने टांगें उठा दीं और मैंने चड्डी निकाल दी.

वो हंसने लगी और आंख मारते हुए बोली- तुम क्या पीते हो … बोलो मैं ला दूँ?मैंने उसके दूध की देखते हुए कहा- हां वो तो तुम्हारे पास ही है.देहाती बीएफ फोटो: एक बार मधुर ने मुझे अपने रूम में नीचे ही पकड़ लिया और मुझे किस करने लगा.

पूजा भाभी से मेरी नार्मल बातें होती थीं, उनके हस्बैंड कोई सीमेंट फैक्ट्री में काम करते हैं.मगर जैसे ही मैंने उसको अपनी तरफ खींचा और किस शुरू किया, वो मुझसे भी ज़्यादा मज़े में किस करने लगी.

सेक्सी पोर्न पोर्न - देहाती बीएफ फोटो

चुत को चाटने के साथ साथ मैंने अपनी दो उंगलियां भी चूत में घुसा दीं.तो वो मान गयीं और दो दिन बाद अपनी बेटी और मेरे बच्चों के साथ वो चली गईं।जेठ जी उनके साथ नहीं गए क्योंकि वो जिस कम्पनी में काम करते थे वहां से उनको छुट्टी भी नहीं मिली थी।एक बात बता दूं कि मेरे जेठ जी बहुत ही शर्मीले किस्म के इंसान हैं।तो मैंने सोचा कि उनके साथ ही चली जाऊंगी जब वो जाएंगे.

उसके मुँह से सिसकारी निकलती और साथ ही वह आगे की तरफ खिसक जाती जब मैं उसकी गांड में लण्ड डालता तो!उसे गांड में लंड लेने में तकलीफ हो रही थी लेकिन कुछ बोल नहीं रही थी. देहाती बीएफ फोटो इसलिए मैं ब्रून से रानी की देखभाल करने के लिए बोलकर 15 मिनट के फ्रेश होने के बहाने से टॉयलेट में चला गया.

चूंकि उसको हमारे रसोई के बारे में ज्यादा पता नहीं था इसलिए वो बार बार मुझसे ही पूछ रही थी.

देहाती बीएफ फोटो?

पहले से ही ट्रेन में बहुत ज्यादा लोग थे और गाजीपुर स्टेशन पर ट्रेन में और ज्यादा लोग भर गये. राजा- अनमोल एक बात बताओ यार … ये लड़की तुमको कहां से मिली?अनमोल- तू आम खा, गुठलियां मत गिन. दीदी मुझसे बोलने लगी- प्लीज़ करो ना!मैंने अपने लंड को दीदी की चुत पर रखा और अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.

दरअसल मैं अभी कुछ दिनों पहले ही मेरी चाची के साथ नागपुर आया हुआ था. मैं भी समझ सकता था कि ऐसी औरत को अगर लंड न मिले तो वो ज्यादा दिन तक खुद को रोक नहीं सकती है. मैं उसकी जीभ को चूसने लगा।कुछ देर तक उसकी जीभ चूसने के बाद मैंने अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दी और वो मेरी जीभ चूसने लगी।करीब दस मिनट तक हम ऐसे ही चुम्माचाटी करते रहे।अब तक पीहू पूरी तरह चुदाई की मस्ती में आ गयी थी.

मेरे ऑफिस की लड़की ने नशे में मेरे गाल पर चूम लिया तो मैंने उसकी कमसिन जवानी के मजे कैसे लिये, मेरी बेहद गर्म सेक्स कहानी में पढ़ कर आनंद लें. मेरे पड़ोस में एक आंटी को बेटे की शादी के बाद पोते का सुख नहीं मिल पाया. मैं फिर अब जोश के साथ लण्ड को चूत में आगे पीछे करने लगा। सुमन भी उतने ही जोश में आहें भर रही थी ‘आह … ओह … आहा …’ओह-या … ओ-याह … करते हुये नीचे से गांड उछाल उछाल कर पूरे मजे से लण्ड को अपनी चूत में जाने दे रही थी.

मेरा शरीर का तापमान सामान्य देख के बुआ थोड़ी सी मुस्कराई लेकिन बोली कुछ नहीं और चुपचाप नीचे चली गई।दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी काल्पनिक कहानी जरूर बताना।[emailprotected]. वो लंड चुसाई के मजे ले रहा था और मैं चोकोलेट की तरह उसे चूसे जा रही थी.

मैंने तुरंत सोचा कि अगर कुसुम मुझे किस करने से मना करती है तो अगली बार मैं शालिनी पर ट्राय मार सकता हूँ.

मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ और मैंने भी वीडियो कॉल ज्वाइन कर लिया और अपनी बीवी की गांड के छेद को चाटने लगा.

रानी के साथ शाम को मैं घूमने निकला, तो बियर लेने के लिए मैंने रानी को भेज दिया था. फिर मैंने उसकी टांगों को चौडी़ कर दिया और उसकी चूत में मुंह रख दिया. सच कहूं दोस्तो … उस टाइम आप मेरी जगह होते, तो आपका तो पानी ही निकल जाता.

कुछ पल बाद उसने मेरी तरफ अपना ध्यान दिया, तो मैं एकदम से अचकचा गया और खिसयाई सी हंसी अपने चेहरे पर लाते हुए उससे पूछा- आप तो शायद मेरी ही क्लास में हैं न!पहले तो उसने मेरी तरफ देखा और कहा- हां, मैंने भी तुम्हें कई बार देखा है. यह एकदम अनोखा, अनुपम और अद्भुत दृश्य था जिसका आनंद वे पति ही ले सकते हैं जो अपनी प्रियतमा, अपनी जीवन संगिनी से निःस्वार्थ प्रेम करते हैं. बहन की चूत चुदाई में बड़ा मजा आ रहा था … मजा तो चूत में आता ही है … मगर जब लंड अपनी बहन की चुत में घुसा हो, तो मजा दुगना हो जाता है.

मेरी ईमेल आईडी है-[emailprotected]कहानी का अगला भाग:किरायेदार की चालू बीवी-2.

उनकी बात सुनकर एक तेज झटका लगा और मेरे सारे अरमान कांच की तरह बिखर गए. अगले ही पल उसने अपना मुंह खोल कर मेरे लंड को मुंह में भर लिया और चूसने लगी. लगभग दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद वो एकदम से चिल्लाते हुए निढाल पड़ गई.

उनकी चूचियां लगभग नंगी थीं, सिर्फ ब्रा ने उनको नीचे से सपोर्ट देते हुए उठाने के काम किया था. मैंने एक हाथ से उसके चूचे को दबाते हुए उसे छेड़ा, तो उसने भी मेरे लंड को मसलते हुए कहा- बेबी सब्र नहीं हो है न … मुझे भी जल्दी से ये चाहिए. 2 मिनट बाद जब हम दोनों होश में आए तो मोहित बोला- आकाश, चल अब तू भी जल्दी से चोद ले.

उसके बाद वो सब लोग रूम में चले गए, रूम का गेट व अन्दर से लॉक कर लिया.

जब उसके रूम का गेट बंद होने का आवाज आई, तो मैं फिर खिड़की के पास आ गया. पिक के टैग में उसकी प्रोफाइल भी लगी हुई थी, तो मैंने बिना देर किए उसको फॉलो करना शुरू कर दिया.

देहाती बीएफ फोटो कट लगने के साथ ही मैं लुढ़कता हुआ उससे चिपक गया तो अगले ही कट में वह मेरे ऊपर ही आ गई. लेकिन यह थोड़ी ही देर की तसल्ली थी क्योंकि जवानी की आग इतनी जल्दी ठंडी नहीं होती है.

देहाती बीएफ फोटो मौका पाकर वो मेरे पास आई और कहने लगी- भाभी जी घर पर हैं क्या?मैंने कहा- नहीं तो, भाभी से ही काम था या मुझसे?वो बोली- काम तो आपसे ही था. वह लेडी अब मेरे बिल्कुल पास आकर लेट गई और अपने फोन से घर कॉल करके बताने लगी कि वह अब बस से घर आ रही है.

शुक्रिया मित्रो।[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मामी की चूत चुदाई की सेक्स कहानी-2.

जबरदस्त सेक्सी वीडियो देहाती

आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी प्रतिक्रियाओं से जरूर अवगत करायें. बीच बीच में वह लम्बे झटके देकर अपना पूरा लंड मेरी चुत में भर देता था. एक दो हफ्ते तक तो मुझे आस-पास से कुछ मतलब नहीं होता था, लेकिन ऑफिस में ग्राहक न आने के कारण मैं बोर होने लगी थी.

लेकिन दूसरी तरफ मैं यह भी जानता था कि अगर वे चुदाई करते भी हैं तो कोई भी उन पर ध्यान नहीं देगा क्योंकि सब लोग तो जागरण में बिजी रहेंगे. दोपहर का कार्यक्रम खत्म होने के बाद वो दोनों निकल गईं, पर जाते जाते बोलीं- हे मेरे धनजुज्जी के मालिक … रात में फिर कबड्डी का खेल खेला जाएगा, दरवाजा मत लगाइएगा. क्या बताऊं यारो … क्या लग रही थी वो! फोटो में वह उतना खूबसूरत नहीं दिख रही थी लेकिन रियल में क्या लग रही थी.

मैं जानता हूं कि एक औरत की योनि में प्रवेश कराने के लिए 3 इंच का लंड काफी होता है, जो उसको संतुष्ट कर सकता है.

घर आकर मैं फ्रेश हुआ और सोनल से बोला- सबके सोने के बाद ऊपर छत पर आ जाना. इसके बाद वो मेरे बाकी कपड़े ले आई जिसे पहनने में भी उसने मेरी मदद की. औरत की चुत जब झड़ती है, तो शायद वो लंड से लड़ती है कि अब तू भी झड़ जा.

मैंने कुछ देर उन्हें अकेले छोड़ दिया और दीदी को बोला- मैं बाद में आता हूँ. मैं अभी भी उसको किस कर रहा था, पर अब मेरा लंड ढीला हो चुका था और वो मेरे लंड से खेल रही थी. मैं पापाजी से पूरी चिपक गयी थी, मेरे बूब्स उनकी छाती में दब रहे थे और पापा जी का लंड खड़ा होने लगा था.

मैं उनकी चूचियों को अपने दांतों से मसल रहा था, शोभा भी पूरे मजे ले रही थी!थोड़ी देर में उनके गोरे गोरे बूब्स पर मेरे हवस की निशानियां आ चुकी थीं।मैंने अपनी जीन्स उतारी, मेरा 7. यश एकदम से मेरी ब्रा में कैद मेरे रसीले मम्मों को देख कर मानो बौरा गया था.

तभी नीतू बोली- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैंने धीमी आवाज में कहा- नहीं. मैंने नशीली आँखों से मॉम की चुत को पूरा चाट कर साफ़ कर दिया और उनकी तरफ नजर उठा कर देखा. शाम को मैंने बिस्तर से उतर कर कुर्सी पर बैठ कर खाना खाया और सोने के लिए बिस्तर पर लेट गया.

जब उसने देखा कि मुझे इसमें मजा आया तो उसने मेरे लंड को एकदम से मुंह में भर लिया.

वो जब भी झुक कर झाड़ू लगाती थी, तो मुझे उसकी आधी से अधिक चुचियों के भरपूर दीदार हो जाते थे. थोड़ी देर की शांति के बाद अमीषा ने मुझसे कहा- मुझे बाथरूम यूज़ करना था इसलिए मैं उसे फ़ोन कर रही थी. मेरे दिल में उसके साथ सेक्स करने की चाहत थी, लेकिन गांड फटती थी कि कहीं दांव उल्टा न पड़ जाए और खामखां में बदनामी हो जाए.

मैं समझ गया कि सेक्स का निर्णय मेरा लग ज़रूर रहा था, पर था अमीषा का ही. मैंने बहुत मुश्किल से खुद को संभाला और फिर अपने बिजनेस में ध्यान देने लगा.

बाहर आने के बाद आकाश की बहन पूछने लगी- कैसे चोदता है मेरा भाई?राजश्री ने शरमाकर हँसते हुए आकाश की बहन की पीठ पर एक हल्का सा मुक्का दे मारा. दो मिनट में शोभा ने कहा- ये ड्रेस आरामदेह नहीं है, तुम रुको, मैं बदल कर आती हूँ. चुम्मा देते देते ही मां के हाथ अपने आप ही अजय अंकल के लण्ड की तरफ बढ़ गए.

सेक्सी वीडियो साड़ी वाली चुदाई वीडियो

पापा मेरी बुर चाटे जा रहे थे … और मैं गांड उठा कर पापा को अपनी चुत में घुसेड़ लेना चाहती थी.

जब उसने देखा कि मुझे इसमें मजा आया तो उसने मेरे लंड को एकदम से मुंह में भर लिया. पति बोले- दिखा दी पापा को अपनी चूत जान?मैंने कहा- आपको कैसे मालूम?पति बोले- मैं वहाँ पहले से ही कैमरा लगा चुका हूँ. मैंने उसे उठाया और एक बार फिर किस करने लगा और फिर एक बार उसकी चूत में लंड डालकर चुदाई करने लगा.

पापाजी के भी हाथ मेरी पीठ पर आ गए और मेरे बूब्स उनके हाथ पर हल्के हल्के टच हो रहे थे. साराह दिखने में गहुँआ रंग की, एकदम कड़क और जानलेवा फिगर वाली आइटम थी. गुजराती लड़की की चुदाई सेक्सीअपनी लोअर को मैंने तुरंत नीचे किया और उसके मुंह में अपना लंड दे दिया.

उस दिन मैंने अपनी बीवी को नील रंग की सेक्सी नाइटी पहनाई जिसे देख कर मेरा भी लण्ड खड़ा हो गया. उफ्फ़ …इसके बाद उसने अपने लंड पर और मेरी गांड पर थोड़ा थूक लगा कर अपना लंड एक बार में पूरा डाल दिया.

हनी को उम्मीद नहीं थी कि मेरे मुंह से अनायास ही उसके हुस्न की तारीफ में इतने रसीले शब्द टपकने लगेंगे. लेकिन लंड बाहर निकालते समय वो अपनी गांड उठा देती, जिससे चुदाई का मजा बहुत ज्यादा आने लगा. नीले रंग के ब्लाउज पर काले रंग की साड़ी में उसका बदन काफी गोरा लग रहा था.

वो बोली- ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं चाची, मैंने आपको कभी ऐसे नहीं देखा था. इस के साथ मैंने उसके मुँह को हाथों से दबा दिया था, ताकि हमारी आवाजें दिक्कत ना कर सकें. उसने मेरी नजरें बचाते हुए धीरे से अपना हाथ रानी की चूत पर रख दिया और चूत मसलने लगा.

इधर बाहर खड़ा हुआ मैं, जो उन दोनों की काम-क्रीड़ा का आनंद ले रहा था, मैं स्वयं भी उत्तेजना के शिखर पर पहुंच गया था.

तभी पापाजी ने मेरी गांड में एक उंगली डाल दी और उसे अंदर बाहर करने लगे. अब पापाजी ने अपने हाथ मेरी पेंटी के ऊपर से ही मेरी चूत पर रख दिया और मेरी चूत रगड़ने लगे.

मां पिताजी के धोखे के बाद टूट सी गयी थीं और उनका मेरे सिवाए कोई और नहीं था. वो चिल्लाते हुए एकदम से अकड़कर कड़क होने लगी, तभी मेरे लंड ने बौछार कर दी और साराह तृप्त होकर एकदम से निढाल हो गई. उसकी चुदास बढ़ाने के लिए मैंने आज उसी के सामने में अपने रात में पहनने वाले कपड़े बदलना शुरू कर दिए.

उन दिनों जब मुझे सिर में दर्द होता था तो वो मेरा सिर भी दबा दिया करता था. फिर एकदम से मुझे मेन गेट खुलने की आवाज आई तो मैंने नीचे झांक कर देखा. मैं एक घर में गया और बेल बजाई थोड़े देर में एक 65-70 साल अंकल आए और पूछा- क्या काम है?मैंने कहा- सर में रूम की तलाश कर रहा हूँ.

देहाती बीएफ फोटो उस दिन मैंने हल्के गुलाबी रंग की पतली सी साड़ी पहन रखी थी और मैचिंग लिपस्टिक भी लगा रखी थी. आस पड़ोस की औरतों के बहाने से मेरी सास ने मुझे ताने देना शुरू कर दिया था.

ब्वॉय सेक्सी वीडियो ब्वॉय

’ कहते हुए मेरे लंड से खेलने लगी और लंड की खुशबू से पागल होकर सुपारे को चाटने लगी. वो दोनों लोग एक दूसरे की आँखों में देख रहे थे मानो कह रे हों कि कौन ज़्यादा भूखा है चुदाई का। अब माँ की चूत में सोनू का लंड बड़े प्यार से जा रहा था. एक दिन मैं उससे फोन पर बात कर रहा था, तो मुझे लगा कि कुछ गड़बड़ है.

उसने बताया कि उसका एक बेटा है, जो आजकल अमेरिका में है और वो यहां सिर्फ अपने पति के साथ रहती है. जब मैं घर वापस आया, तो घर पर कुछ मेहमान आए हुए थे, जिस वजह से मुझे मौका नहीं मिल पा रहा था. सेक्सी फिल्म नंगी सेक्सी वीडियोइन घटनाओं में से कुछ किस्से ऐसे होते हैं कि जिनको कभी भी भुलाया नहीं जा सकता.

कैसे हुआ ये सब? और भाभी की युवा बेटी कैसे आ गयी?मैं किशन पटेल गुजरात से हूँ.

मुझे भी पहले ही सेमेस्टर से ही उस पर दिल आ गया था, परंतु उसका स्वाभाव काफ़ी सहज है. वो जब किसी काम से झुकती तो मैं मामी की गांड देखता और अपने लंड को मसल देता जिसे उन्होंने देख लिया था.

मैंने जब इस ध्यान दिया तो पता चला कि एक लड़का मेरी गांड से सटकर खड़ा हुआ था. लेकिन मेरी मां ने कर लिया।मां ने अंकल के लंड पर तेल लगाया और उनके सुपारे को पीछे किया।अंकल ने कहा- इसको मुंह में लो. चाची ने कहा- कोई बात नहीं, तू हमारे साथ ही सो जाना डबलबेड तो है, इतनी तो जगह रहती है.

वो नंगी चूचियों के साथ मेरे सामने लेटी हुई कामदेवी की तरह लग रही थी.

मैंने उससे मुखातिब होते हुए उस महिला को देख कर कहा- आप मसाज के रेडी हो जाएं. उसकी टाइट वर्जिन चूत की पहली चुदाई का मजा मैंने कैसे लिया?मेरा नाम वीरेंद्र है और मैं हरियाणा से हूं. वो चिल्लाने लगी, मगर उसके होंठ मेरे मुँह में दबे थे, तो उसकी चीख नहीं निकल पाई.

भाभी देवर की चुदाई वीडियो सेक्सीवो गुस्सा होते हुए बोली- ये क्या कर दिया तुमने, मेरे सारे मुंह पर केक लगा दिया. फिर हम दोनों ने साथ में पेग मारा। उसके बाद मैंने अपना एक हाथ दिशा तरफ बढ़ाया और उसने मेरे हाथ पर अपना हाथ रख दिया.

एक्स एक्स एक्स एक्स सनी लियोन सेक्सी

मगर हम दोनों खुश हो रहे थे क्योंकि भाभी की चुदाई का मौका अब हमें मिलने वाला था. मॉम अपनी चूचियों की क्लीवेज कभी नहीं ढकती थीं, उनकी सिल्की चूचियों की गोरी दरार उनके गहरे गले वाले ब्लाउज में से साफ़ दिखती थी, उस पर मॉम की साड़ी का पल्लू उनकी चूचियों पर कुछ इस तरह से कसा हुआ होता था कि उनकी चूचियों में दो गुब्बारों में हवा भर कर गांठ बाँध दी गई हो. चूंकि मैं भी उसको परेशान नहीं करना चाहता था, तो मैंने आगे कुछ नहीं कहा.

मैंने भी उसके चूचों के निप्पल पकड़ लिए और अपने दोनों हाथों की दो दो उंगलियों की मदद से उसके निप्पल उमेठने शुरू कर दिए. मैंने उसके मन की इच्छा को भांपते हुए जिस्मों के मिलन की घड़ी को करीब लाते हुए उसकी चूत में अपने चिकने लंड का सुपारा गच से घुसा दिया. मैं उसकी कोमल मखमली पीठ पर अपने हाथ से सहला रहा और दोनों एक दूसरे में जैसे खो गये थे.

मेरा भी छूटने वाला था तो मैंने चाची को बताया- चाची, मैं झड़ने वाला हूँ. मैंने उससे कहा- हां मुझे मालूम है … पहली बार की चुदाई के समय दर्द होता ही है. 15 वर्षों में हजारों बार मैंने मामी को पेला है।मेरी मामी का नाम रुकसाना (बदला हुआ नाम) है। यह कहानी 2004 की है जब मेरी मामा की शादी में मैं बारात में गया जिस दिन मैंने अपनी मामी को पहली बार देखा था.

करीब बीस दिन बाद कृति का फोन आया कि मैं कल सुबह एक हफ्ते के लिए अपने मायके जाऊंगी. ये स्टोरी लिखते हुए भी जब मैं वो सीन याद कर रहा था तो मेरा लंड खड़ा हो गया था.

इसी बीच सीट अड्जस्ट करने में मेरा हाथ एक दो बार अमीषा के मम्मों को टच कर चुका था, पर उसे पता था कि ये अंजाने में हुआ है तो उसने कुछ नहीं कहा.

मैं जब भी उसको मुस्कराते हुए देखता था तो उसको चोदने का मन करने लगता था. सेक्सी बताइए नंगी सेक्सीफिर प्रशांत ने गुस्से में अपने पापा को झापड़ मारा और मेरी मम्मी को बचाया. रेशमा हॉट सेक्सी वीडियोउसमें पूरा जड़ी बूटी मिला कर लाई थी, जिसे पीने के आधे घंटे के अन्दर भीतर से मादकता जोश मारने लगती थी. जा जाकर नाश्ता कर ले और फ्रेश हो जा।मैंने एक आंख खोल कर बुआ की तरफ देखा तो बुआ मेरे खड़े लंड को घूर रही थी.

पिछली बार की तरह उसने इस बार भी थैंक्यू लिख कर भेजा, जिसके जवाब में मैंने उससे कुछ पूछ लिया.

अंदर मेरी पैंट में मेरा लंड फड़क रहा था और पेटीकोट में उस टीचर की चूत उचक रही थी. लगभग छह साल पहले उसकी शादी दिल्ली में रहने वाले एक युवक से हुई तो वह बंगलौर से दिल्ली आ गई. इसी कारण से वो सब मेरी इस बात से खुश रहती हैं और उन्हीं के माध्यम से मुझे अगली चुत का इंतजाम हो जाता है.

चाची हँसते हुए बोली- मैंने तो बचपन में बहुत बार तुझे नंगा देखा हुआ है. इतना चोदता था कि मेरे जैसीचुदाई पसंद लड़कीभी रोज रोज की चुदाई से परेशान हो गयी थी. गोपनीयता के कारण मैंने इसमें कुछ चीजें बदल दी हैं जैसे कि जगह के नाम और पात्रों के नाम.

सेक्सी पिक्चर बताओ आदिवासी

मैंने कहा- तुम खुद ही डाल लो मेरी जान।रूबी ने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत पर सेट कर लिया. जब हम रूम में गए, तो रानी बेड पर आराम करने के मूड में एकदम से चित होकर लेट गई. जब उसके रूम का गेट बंद होने का आवाज आई, तो मैं फिर खिड़की के पास आ गया.

नंगे जिस्मों के साथ दोनों एक दूसरे के जिस्म की गर्मी को महसूस करते रहे.

जब अंकल ने लंड मां के मुंह से बाहर निकाला तो मां 2 मिनट तक खांसती रही और बोली- अब नहीं लूंगी.

जब से लोगों ने ब्लू फिल्म देखना शुरु किया है, लोग सेक्स का मजा लेने के नए नए तरीके अपनाते हैं. मैंने भी अपने मन की होते देख कर धीमे से कहा- ठीक है … अब लाइट ऑफ कर देता हूँ. सेक्सी हिंदी चोदा चोदी वीडियोऊपर वाली जो वो कॉस्ट्यूम थी उसमें मेरी नाभि भी दिखाई दे रही थी और जिसमें मेरे क्लीवेज ज़्यादा दिख रहे थे और मेरे निप्पल्स एकदम साफ दिख रहे थे.

अपने हाथों से ही उसने अपनी मोटी और गोरी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया था. तो मैंने देखा कि मेरा हाथ उसके चूचों पर था और मेरी एक टांग उसकी टांगों पर थी. मैंने उससे कहा कि जिधर चुत चुदाई होना है, मैं उधर की बात कह रहा हूँ.

तो क्या हुआ?देखने में भी वो अच्छे खासे थे, लंबे तगड़े।और इधर मुझे भी बचपन से बुरी आदतें!मैं भी सोचने लगी, इस लंबे चौड़े लम्पट ननदोई का लंड भी तगड़ा होगा। अगर ये मुझे पेले तो हो सकता है कि मेरे पति से ज़्यादा मज़ा मुझे दे।खैर यह तो मेरे दिल का विचार था. मैं उसकी चूत में धक्के लगा रहा था और चुदक्कड़ भाभी नीचे से अपनी गांड उठा कर मेरे लंड की तरफ चूत को धकेल रही थी.

वो रूम में आया और मेरे पैर को सहलाते हुए अपना हाथ मेरे चूतड़ों पर फिराने लगा.

फिर मैंने इस बात की पुष्टि करने के लिए उसके हाथ पर अपनी पैंट में तने लंड को टच करके थोड़ा दबाव बढ़ा दिया. उसने माहौल ही ऐसा पैदा कर दिया था कि उसकी चूत को फाड़ देने का मन कर रहा था. यह मेरे जीवन में घटी एक ऐसी घटना है जिसकी जिम्मेदार मैं खुद ही हूं.

बीपी सेक्सी ओपन कर दो बीच में एक दिन हॉस्पिटल में ज़्यादा मरीज़ होने के कारण देर तक रुकना पड़ा. अब मेरे दोनों चूचे अच्छे से उसकी पीठ से चिपके हुए थे और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

मैं भी अपनी नाक की नोक से उसकी चुत के दाने को घिसता हुआ चुत के अन्दर तक जीभ डाल कर चुत की दीवारों को अपनी खुरदरी जीभ से रगड़ रहा था. सुबह 6 बजे पापा जी सैर करने जाते हैं और 7 बजे तक वापस आकर मेरे कमरे का दरवाजा नॉक करते हैं. वो बोली- आह्ह … डॉक्टर साहब … चोद दो … मुझे अपने बच्चे की मां बना दो.

सेक्सी 2020 हिंदी में

मैंने उसके होंठों को चूसते हुए एक जोर का धक्का दे दिया और उसकी चूत से पुच… की आवाज हुई और लंड आधा उसकी चूत में घुस गया. मेरा 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लंड एकदम से सख्त होकर फटने ही वाला था. मामी की चूत की पूरी चुदाई हो गई थी लेकिन मामी ने आंखें नहीं खोली थी.

हम गांव में करीब 7 दिन रूके और उन 7 दिनों में मां करीब 20 बार सोनू और अभिनव से चुदी थी।अब हमारे वापस जाने का वक्त नज़दीक आ रहा था तो हमने सब से विदा लेकर हम दोनों उत्तरप्रदेश वापस आ गए। उत्तरप्रदेश वापस आने के बाद मुझे मां पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं रह गया था. फिर रात के खाने के बाद मैंने पति से पूछा- क्या पहन कर जाऊं यार आज?तो पति ने मुझे एक स्टॉकिंग पहनने के लिए कहा और कहा- ये पूरी फाड़ के चुदाई करवाना!12 बजे रात मैंने पापाजी को मैसेज किया और उन्हें गेस्ट रूम में बुलाया.

वो उस दिन चल भी नहीं पा रही थी लेकिन मैंने उसको बोल दिया कि घर पर इस बात का जिक्र न करे.

मगर वो बहुत ही लचीले अंदाज से नर्म से लहजे में बोली- राहुल, बहुत गर्मी हो रही है. मैंने बातों बातों में रानी को पूरी दो बोतल बियर पिला दी होटल वापस चलने को बोला. उसने अपने पति को थैंक्स कहा और अपने पति के सामने ही मुझे किस करके अपने पर्स में से 5000 रुपये निकाल कर दिए.

किंतु ऐसी घटनाएं भी असल जिन्दगी का हिस्सा होती हैं, मुझे पता चल गया था. तब अजय अंकल ने मेरी मां के मुंह में आंड दे दिए और चाटने को बोला।माँ वैसे तो कुछ गुस्से में थी लेकिन तब भी उन्होंने आंड को बहुत अच्छे से चांटा और अंकल के लंड से अपना गला गीला किया. कोई 10 मिनट चुत चाटने के बाद मामी सीढ़ी की तरफ जा कर देखने गईं कि कोई आ तो नहीं रहा.

कई बार अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ते समय लोग लम्बी लम्बी छोड़ देते हैं कि किसी का लंड 8 इंच है तो किसी का 9 इंच है.

देहाती बीएफ फोटो: उसके मुंह से लार टपक रही थी और कह रही थी- आह्ह भैया… आपको लंड चुसवाने में बहुत मजा आता है न…?वो भी सिसकारते हुए बोला- हां मेरी चुदक्कड़ रंडी, मुझे तो तेरे साथ सब कुछ करने में मजा आता है. मैंने पूछा- दूध में क्या मिला कर लायी थी?वो बोली- ज्यादा कुछ नहीं … केसर, शिलाजीत, अश्वगंध, मुलैठी, सतावर और एक कोई अंग्रजी दवाई का चूर्ण.

उसे जब हल्की हल्की सी ठंड महसूस होने लगी तो उसने शटर बन्द कर दिया लेकिन पर्दा फिर भी नहीं लगाया. जैसे ही वो मेन गेट को बन्द करने के बाद कमरे का दरवाजा बंद करने लगी तो मैंने उसको पीछे से पकड़ लिया. एक मिनट बाद जब उसने आंखें खोलीं, तो मैं सीधा हुआ और उसको लंड दिखाते हुए कहा- अब तुम्हारी बारी मेरी जान!वो मेरी बात समझ गई और लंड पकड़ कर होंठ लगा दिए.

वैसे भी यहाँ खेत पर कौन आएगा।उसने चारों तरफ देखा, फिर बोली- भैया, आप मुझे बाहर क्यों लाये हो?तो मैंने कहा- मेरी प्यारी बहना, तेरी चुदाई खुले आसमान के नीचे खेत में करूँगा.

शायद यही वो टर्न था, जब मेरी नजरें भाभी के मदमस्त जिस्म की तरफ बदलना शुरू हो गई थीं. मैंने उनके होंठों को दबाया नहीं … क्योंकि मैं उनकी चीख सुनना चाहता था. मुझे शुरू में थोड़ी दिक्कत हुई लेकिन फिर मैं आसानी से उसके लंड को चूसने लगी.