सील पैक देसी बीएफ

छवि स्रोत,इंग्लिश बीएफ पिक्चर फुल एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन बीएफ सेक्सी हिंदी: सील पैक देसी बीएफ, मुझे इंटरनेट की दुनिया में कई लोग ऐसे मिले, पर उनसे मिलने का मन कभी हुआ ही नहीं.

बीएफ दिखाओ पंजाबी

मेरे जाने की खबर सुनकर दूसरे दिन रेशमा ने मुझसे कहा- वीरू जी, आप हमें भी ले चलिए ना? मैंने कभी मुंबई की जगमगाहट देखी नहीं है. बीएफ पिक्चर चलाइएहम दोनों ही एक दूसरे के साथ सेक्स करना चाहते थे पर सोनी प्रेग्नेंट होने की वजह से डर रही थी या फिर शायद उसे अभी तक मुझ पर भरोसा नहीं हुआ था.

वो आगे कहने लगी- मुझे तुमसे इतनी मस्ती मिलेगी, इसकी एक परसेंट उम्मीद नहीं थी. घोड़ा लड़की की सेक्सी बीएफमैं माँ चुदाने के लिए तैयार हूँ अंकल। माँ ही चुदाना क्या … मैं तो लण्ड पाने के लिए कुछ भी कर सकती हूँ।मेरी खुली खुली बातों से उसे बड़ा मज़ा आया और बोला- तुम बहुत बोल्ड हो रेशमा.

मुझे इतना मजा आ रहा था दोस्तो, कैसे बताऊं!उसने चाटकर मेरा पूरा लंड साफ कर दिया था.सील पैक देसी बीएफ: अगले दिन जब मैं शाम को घर वापस आया तो मैंने सुदिति का मोबाइल चैक किया.

सुबह तक चुदेगी तो तू लंगड़ा कर चलेगी ले कुतिया लंड ले आह!फिर वो मुझे खूब जोर जोर से चोदने लगा.दोस्तो, आपने पिछले भाग में पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनीचचेरी बहन की पहली सील तोड़ चुदाईकी थी.

बीएफ सेक्सी एचडी साड़ी वाली - सील पैक देसी बीएफ

बस कहानी बहुत ज़्यादा लम्बी ना हो जाए, इसी वजह से कुछ जगह बातों को संक्षिप्त करके लिखा गया है.अपने दोनों हाथों से मैंने उसके दोनों चूचे थाम लिए और चूचे दबाते हुए मैं उसकी नाभि को किस करने लगा.

फिर मेरी ज़िंदगी में वो एक ऐसा दिन आया, जिसे मैं पूरे जीवन भुला नहीं सकता. सील पैक देसी बीएफ आज भी वो किसी बाजारू रखैल की तरफ हर रोज मेरे लौड़े से अपनी गांड चुत चुदवाने आ जाती है.

यह विडो औरत सेक्स कहानी 6 साल पुरानी है और मेरी गर्लफ्रेंड की मौसी की चुदाई के बारे में है.

सील पैक देसी बीएफ?

मैंने जब देखा कि वो पूरी तरह से गर्म हो गई है, तब मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया, जिससे उसकी चूत और उभरकर सामने आ गई. जैसे ही उसने ऊपर के 3 बटन खोले, मुझे एक बार फिर से ख्याल आया कि ये मैं क्या कर रही हूँ. फिर मैंने संजीव भैया ने जो मुझे मेरे जन्मदिन पर फ्रॉक दिया था, उसको पहन लिया.

कुछ देर बाद राकेश बोला- मेरा होने वाला है, कहां निकालूं?मैं इसके लिए तैयार नहीं थी और मुझे पता था कि इसको अन्दर डालने से मैं प्रेगनेंट हो सकती हूँ. मैंने अपनी सारी न्यूड फोटो का फोल्डर भी ओपन करके उसे मोबाइल दे दिया. वह तो ऐसे पागल हो रही थी कि आज तक उसको कभी लंड मिले ही ना हों और तीन तीन लंड आज एक ही साथ में अन्दर घुसने वाले हों.

कुछ देर बाद काजल मेरे रूम में आई और बोली- भैया मेरे रूम में ही आ जाओ, यहां अकेले बोर हो जाओगे. मैं पहले भी सेक्स कहानीरिश्ते की बहन की सीलपैक चूत की चुदाईलिख चुका हूं. मेरी इस मॉम डैड सेक्स कहानी में मैंने अपनी मम्मी पापा की मस्त चुदाई अच्छे से देखी थी.

तब से आज तक जब भी हमको मौका मिलता है, तो हम दोनों चुदाई कर लेते हैं. मुझे लाइव ब्लूफिल्म का मजा मिल रहा था तो मैं अपने लंड पर हाथ भी फेर रहा था.

रात भर की घमासान चुदाई के बाद रीना ने अपने पति को मेरे पट्टे से बांधकर कमरे के एक कोने में नंगा ही सुला दिया और रात भर वो नंगी होकर मेरे साथ चिपक कर सोती रही.

चाची बड़ी खुश हुईं और उन्होंने अपनी बहू को आवाज लगाई- सरोज बेटा, देख तो तेरा देवर युवी आया है.

वो हंसी और बोली- तुमको ये सब आता भी है क्या?मैंने बोला- नहीं आता तो आज सीख लूंगा. पिंकू अपनी दो उंगली लगातार की चूत में अंदर बाहर कर रही थी।उसके मुंह से फक-मी फक-मी की आवाजें निकलने लगी. हॉट Xxx सेक्स कहानी में दो शादीशुदा लड़कियों की जवानी का नंगा खेल है.

शुरू में तो मैंने ऐसा वैसा कुछ नहीं सोचा, पर धीरे धीरे मुझे समझ आ गया कि लौंडा नया नया जवान हुआ है … इसलिए शायद वैसे ही आकर्षित होगा. मैंने एक दूध को मुँह में भर लिया और जोर से चूसने लगा जिससे मामी की आह निकल गई. उसने मेरे बारे में पूछा, तो मैंने अपना नाम सहित उसे अपनी पूरी पहचान बता दी.

मैं उनकी गोद से उठी, तो सर ने अपना मुँह बढ़ा कर मेरी एक चूची को अपने मुँह में भर लिया.

तभी वो इठला कर बोली- वीरू जी, बड़ा बैचैन हो रहा है आपका, देखो कहीं बाहर ना आ जाए?उसकी तरफ से इतना खुला इशारा मिलते ही मैंने भी उसकी गांड पर हाथ घुमाते हुए कहा- अगर आ जाए तो आप हो ना, आप संभाल लेना. काफी देर हमारी चुम्मा चाटी चलती रही जिसमें हम दोनों ने एक दूसरे के मुँह और होंठों को चूमा, चाटा और चूसा. ऐसे इस तरह मैं एक सवा घंटे तक उसकी गांड को बिना पानी निकाले चोदता रहा.

चाची मुझे खाना खाने के लिए आवाज देने लगीं पर टीवी चलने की वजह से मुझे आवाज आई नहीं. सोचते हुए मैंने सलीम की गांड पकड़ ली और नीचे से धक्के देते हुए सलीम की गांड को अपनी ओर खींच कर एक लय में चुदने लगी. मैंने एक हाथ किरण के पेट से नीचे ले जाते हुए अपनी चार उंगलियां किरण के फटे हुए भोसड़े में एक साथ घुसा दीं.

अब शायद उसका दर्द भी कम हो चुका था और वो भी इस चुदाई का आनन्द लेने लगी थी.

मेरा कद 5 फिट 10 इंच है और पाठिकाओं के कौतूहल का सबसे महत्वपूर्ण अंग, मेरे लंड का आकार काफी मस्त है. अंकिता मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा रही थी और मैं पूरी तरह शर्मिंदा हो रहा था.

सील पैक देसी बीएफ मैं अपने इरादे में कैसे कामयाब हुआ?फ्रेंड्स, मैं राजेश शर्मा, नागपुर पुनः आपके सामने अपनी दूसरी कहानी के साथ हाजिर हूँ. बात उन दिनों की है जब मैं बारहवीं की परीक्षा के बाद अपनी मौसी के पास घूमने गांव आया था.

सील पैक देसी बीएफ वो सलीम नहीं जानवर था, भगवान किसी को ऐसा BDSM लॉन्ग सेक्स का आदमखोर न बनाए!आप भी ये सब पढ़ कर सोच रहे होंगे कि अब शायद हमारी चिट्ठी से हमारी किस्मत खुल जाए, शायद हमें भी इस काम की देवी के दर्शन हों और चोदने का मौका मिले!कुछ कह नहीं सकते … आज भी मुझे कभी कभी बद से बदतर चुदने के खयाल आते हैं. कुछ देर मुझे मस्त चोदने के बाद सर ने मेरा बाल पकड़ कर मुझे अपने लंड की तरफ खींच लिया.

मैं समझ तो गई कि ये मेरे मोबाइल में मेरी तस्वीर देखने के लिए झूठी कहानी गढ़ रहा है.

अक्षरा सिंह की सेक्सी बीएफ

तो अर्णव थैंक्स बोलते हुए कहा- फिर किसी दिन मैं जरूर आपके साथ में कॉफ़ी पीने आऊंगा. बार बार मेरे ऐसा करने से वो मेरी अदा की कायल हो गई और कहने लगी- आह हां चूसो इनको … आज खा ही जाओ … आज इनका पूरा रस निचोड़ दो … मैंने तुम्हारे लिए ही बचाकर रखे हैं. थोड़ी देर बाद मैं अम्मी के पास आया और अम्मी का नाम लेकर बोला- नगमा, तुम मेरी बात का बुरा मत मानो … मैं तुमको बहुत प्यार करता हूँ और खुश देखना चाहता हूँ.

चुदाई तो हमने आज भी जोरदार ही की थी लेकिन अपनी आवाज पर नियंत्रण रखा था. उसके रिलैक्स होने के बाद अपना लंड उसकी गांड के छेद पर रखकर धीरे धीरे दबाने लगा. मेरी मम्मी बोलीं- पागल हो क्या … ये तुम क्या कह रही हो, कुछ तो शर्म करो!मेरी मम्मी ने आंटी से कहा- ये क्या अंट-शंट बोल रही हो!आंटी बोलीं- अरे यार, मैं तो तुमको बता रही हूँ, कोई ये थोड़ी कह रही हूँ कि मैं उससे चुदाई करवाना चाहती हूँ.

आज भी वो किसी बाजारू रखैल की तरफ हर रोज मेरे लौड़े से अपनी गांड चुत चुदवाने आ जाती है.

वो बोलीं- नहीं, अभी पहले चोदो … अभी तू झड़ जाएगा तो मैं प्यासी रह जाऊंगी. मैं अपने आपको थोड़ी सी डरी सहमी सी दिखा रही थी, पर वो तीनों भी तो थे हरामी ही!जैसे ही अमित मेरी चूत को दबा रहा था, वैसे ही मेरी चूत जोर जोर से पानी छोड़ रही थी. तो मनु ने मेरी मां से पूछा- आंटी ये कौन गा रहा है, बहुत सुंदर गाता है.

मैं उसको ऊपर से जोर जोर से चोद रहा था और वो नीचे से अपनी गांड को उठा उठा कर चुदवा रही थी. तभी सुरेश भी अपना लौड़ा मेरी गांड में घुसाने के लिए मेरे पीछे खड़ा हो गया. तीसरे दिन मैं सो रहा था तो मैंने पाया कि रानू दीदी का हाथ मेरे लंड के ऊपर है और वो उसे मसल रही है.

मैंने गेट खोल दिए और अंकित एकदम से अन्दर आ गया और उसने मुझे एक बार ज़ोर से हग किया, साथ ही एक किस कर दिया. लड़की-औरतों का नाप लेते वक्त फ़ज़लू मियां इधर-उधर हाथ लगा लेता था और इस कारण कई लड़कियों-औरतों जैसे रेखा, ममता, अल्का, नरगिस, आयशा, शबाना, हिना को फ़ज़लू मियां सैट करके दुकान के अन्दर ही थूक लगा चोद चुका था और कई बार इन सबके कारण कुछ औरतों से पिट भी चुका था.

मौसी- तुम मुझे जानते हो? कभी हमारी मुलाकात हुई है?मैं- नहीं, बस आपकी आवाज सुन कर अच्छा लगा, तो सोचा कि आपसे दोस्ती करूं. मैं उसकी चूत में जोरदार के धक्के मारने के साथ उसके मम्मों को पकड़ कर दबा रहा था. उसने एक बार फिर से पेटीकोट उठाया और अपनी चूत के अन्दर कपड़ा डाल कर अच्छी तरह से साफ किया.

मैंने कहा- वो तो ठीक है मेरी कामुक कुतिया … मगर तू चूत का भोसड़ा बना देने वाली बात पर क्यों हंसी थी?चित्रा बोली- हां वो इसलिए हंसी थी कि जब तू मेरी चूत का भोसड़ा बना देगा तो तुझे मेरी चूत चोदने में मजा आना बंद हो जाएगा.

मुझे भी ऐसे जंगली चुदाई अच्छी लगती है, तो मैं भी उनका साथ देने लगी. मेरा गे टॉप सेक्स के लिए तैयार था, उसने मेरी दोनों टांग उठा कर ऊपर की और अपना लौड़ा मेरी गांड के छेद पर टिका दिया. फिर उसने मेरा पैंट खींच कर उतारा और चड्डी पर ही मेरा लंड मसलने लगी.

मैं सीधी हो गई और दोनों टांगों को फैला कर पापा के सामने चूत खोल दी. उसका चूतरस मेरे लौड़े को नहलाता हुआ बाहर की तरफ छलक पड़ा और मेरा पेट, लौड़ा और टट्टे भिगोते हुए पॉल का चेहरा भी गीला करता हुआ नीचे टपकने लगा.

उन्होंने मेरे निप्पलों को भी खूब रगड़ा, जिसके कारण मेरी दोनों चूचियां एकदम लाल पड़ गईं. दस सेकंड के लिए मैं हिल ही नहीं पाया शायद मनु मेरे मन के विचार समझ गई थी. फ़ोटो लेते वक्त उनके भरे हुए चूचे मेरे हाथ से सीने से टच हो रहे थे और कभी हाथ मेरे ऊपर रख कर सेल्फी ले रही थीं.

गांव की साड़ी वाली बीएफ

मेरे सामने खड़े होकर उसने अपने कपड़े पहने और मुझे रुकने का इशारा करके वो झट से कमरे के बाहर चली गयी.

लाल रंग के ब्लाउज में कसे हुए उसके बूब्स ऐसे लग रहे थे, जैसे हुक तोड़ कर बाहर आने को आतुर हों. शुरूआत रागिनी ने ही की और मुझे चूमना शुरू कर दिया; वो इतने दिनों की प्यास को जल्द से जल्द मिटा देना चाहती थी. कुछ पल के बाद मुझे मजा आने लगा था और मैं ज्योति को लेकर मदमस्त होने लगा था.

वहां क्या हुआ?मेरा नाम आकाश है और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ. मैं धीरे धीरे कहानी पढ़ती गई और मेरी दिलचस्पी उस मस्त सेक्स कहानी में बढ़ती चली गई. बीएफ देखनी हिंदी मेंउसे भी तो लगता होगा कि कोई उसकी चुदाई कर दे।अब बस पिंकू की यादों में ही दिन गुजर रहे थे और मैं पिंकू के नाम का मुठ मार रहा था।तभी एक दिन सुबह मुझे पता चला कि नानी जी की तबीयत काफी खराब है.

अब फ़ज़लू मियां शीरीं के अलावा किसी और की तरफ देखने की इच्छा भी नहीं करता क्योंकि जब घर में गोश्त मिल जाए तो बाहर की दाल सब्जी किसको पसंद आएगी. जॉन ने सुदिति की पैंटी निकाल दी और अपने लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

उधर से रोहित भी मुझे यही कह कह कर उकसा रहा था कि साली तू मेरी रंडी है … मैं तुझे रंडी की तरह चोदूंगा … मैं तुझे क्या …. उसकी सहेलियां अपनी चुदाई का किस्सा उसे बड़े चाव से सुनाती थीं, जिससे उसके मन में भी सेक्स के प्रति झुकाव होने लगा था. अब कमरे में टीवी और हम दोनों की मादक आवाजें मिक्स होकर गूंजने लगी थीं.

‘आअह्हह मांआआ …’ की किलकारी भरती हुई रीना ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया. रीना जैसी भरी हुई औरत के मुँह में लंड जाते ही मेरे लौड़े में गुदगुदी होने लगी, लंड की नसों में फिर से ख़ून दौड़ने लगा और कुछ ही देर में मेरे लौड़े का आकार बढ़ गया. मैंने ऑटो वाले से कहा कि कोई अच्छी सी जगह ले चलो, खाना खाने जाना है.

पर सोनी को ये सब समझ नहीं आता, वो बस ये चाहती थी कि मैं दुकान छोड़कर कोई नौकरी करूं.

मैंने जैसे ही भैया के लंड को थामा, उनके लंड की फूली हुई नसें मुझे गड़ने लगीं. उसी समय उसने मेरी आधी लटकी ब्रा को उतार दिया और मेरे मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा.

रीना के मुँह की गर्मी और थूक से मेरा लौड़ा अब पूरी तरह से फूल चुका था. मैं विपिन के आधे नंगे शरीर को देख रही थी और वो मेरी नंगी टांगों को. हॉट डॉक्टर सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी पहचान की डॉक्टर ने मुझे अपने घर बुलाया अपनी चूत चुदवाने के लिए.

ऑफिस पहुंचते ही मोहिनी मीटिंग में व्यस्त हो गयी और लंच तक फ्री हो पायी. उसने स्कूल में भी मेरे से बात करने की कोशिश की, लेकिन मैंने उससे बात नहीं की. साथ में वो अपने स्तन मेरी पीठ पर रगड़ रही थी और से गीता मेरे तने हुए लंड को, अंडगोटियों को और जांघों को बार बार साबुन लगाने के बहाने सहला रही थी.

सील पैक देसी बीएफ मैं गुड़गांव का रहने वाला हूँ और जैसा कि आप सभी को पता है कि मैं कपल और भाभियों से उनकी चुदाई के लिए मिलता रहता हूँ. मैंने उसकी गांड को सहलाया और अपनी उंगली को गीला करके उसकी गांड में एक उंगली डाल दी.

साड़ी वाली इंडियन बीएफ

शादी के बाद ससुराल में पहली बार आने के कारण सभी ने बहुत ही अच्छे तरीके से मेरा स्वागत किया. नीता- हर्षद ये तुम्हारा तगड़ा लंड थोड़ी देर अन्दर ही रहने दो, मुझे बहुत मजा आ रहा है. इससे पहले कि वो कुछ करता, मैंने जल्दी जल्दी पैंट पहनी और बाहर आकर खेत में बैठ गया.

दोस्तो मैं उम्मीद करती हूं कि आपको माय पुसी चुदाई का यह वाकिया अच्छा लगा होगा. खाने के दौरान भी रीना मुझे जानबूझ कर बता रही थी कि कैसे उसे मेरे लौड़े से चुदवाकर मजा आ गया. चुदाई वीडियो बीएफ फिल्मउस वक़्त मुझे लगा शायद अभी सोनी का स्खलन नहीं हुआ था, पर अब मैं कुछ नहीं कर सकता था.

चाची बोलीं- शिवम देखो बहुत खुजली हो रही है, मेरी थोड़ी पीठ तो खुजा दो.

अब आगे न्यूड पोर्न गर्ल चुदाई कहानी:रात के 11 बजे उसने मुझे कॉल किया, उस समय बिजली नहीं होने और गर्मी ज्यादा होने की वजह से मैं छत पर पूरी तरह से नग्न अवस्था में टहल कर बस लेटी ही थी. अभी 2-3 मिनट ही हुए थे कि सोनी का शरीर काँपने लगा और वो मुझसे कसकर चिपक गयी.

मजा देगा उसका बड़ा लंड मेरी हॉट चुत को!उस मादरचोद को मैंने फोन किया तो कुत्ते मने मना कर दिया. मैं पीठ खुजाते खुजाते साड़ी के ऊपर से उनकी गांड को छू देता तो कभी बूब्स को. कुछ देर के बाद सर मेरे पेटीकोट पर हाथ फेरने लगे, तो मैंने सर के गाल पर किस करते हुए धीरे से उनके कान में कहा कि सर अभी और ज्यादा ना करें, घर जाने में देर हो जाएगी.

वो वासना से बोली- बस इन्हें ऐसे ही देखते रहोगे … कुछ करोगे नहीं, इनके साथ खेलोगे नहीं क्या?उसके ये बोलते ही मैं अपनी साली के मम्मों पर झपट पड़ा और ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को चूसने चूमने लगा.

मैंने लच्छो को अपने पास बुलाया और कहा- लो लच्छो, आज तुम भी मेरे साथ पियो. मैं नीचे सरककर अदिति के पेट और नाभि को हर जगह चूमने लगा; साथ में अपनी जीभ उसकी नाभि में डालकर गोलाकार घुमाने लगा. मजे की बात तो ये कि रेशमा ने भी मेरी बांहों में आकर अपना सीना जानबूझ कर मेरे सीने पर दबा दिया.

मुझे एक बीएफ चाहिएहिंदी सेक्स कहानी के पहले भागसौतेली मां की अन्तर्वासना का ज्वारमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी माँ अदिति मुझसे मेरे दोस्त की बीवी सरिता की चुदाई की चर्चा कर रही थी. मैंने उसे अपनी गोदी में बिठाया और उसे लेकर खड़ा हो गया, उसको हवा में उठा कर चोदने लगा.

शादीशुदा का बीएफ

वो बोली- तो उसका कोई मुहूर्त निकालना पड़ेगा क्या?मैंने कहा- काहे का मुहूर्त …बस मैंने बिना कुछ सोचे अपना मुँह उसकी बुर पर लगा दिया और जोर जोर से चूसने लगा. वह घोड़ी बन गई और बोली- राज, अब मुझे जमकर चोद डालो प्लीज़!मैंने उसकी कमर पकड़कर पूरा लौड़ा अन्दर तक घुसा दिया और झटके लगाने लगा।अब धीरे धीरे वो भी अपनी गांड आगे पीछे करके ट्रेन सेक्स में मस्ती से चिल्ला रही थी- हहह आआह हहह उह हहह … ऐसे ही चोदो मुझे और और चोदो आहह आहह मजा आ रहा है!मैंने कहा- नाजिया, आवाज मत करो. मेरे लंड को अपने मुँह से निकाल कर सुहानी ऐसे आहें भर रही थी जैसे सनी लियोनी भी नहीं लेती होगी.

अब हमें बस लॉज या होटल में जाने के लिए एक बहाने की जरूरत होती और जैसे ही हमें मौका या बहाना मिलता, हम पहुंच जाते. मर्दों के लंड चूसना, गांड मरवाना और ख़ुद को समर्पित करके किसी गुलाम की तरफ चुदवाना, उसका शौक बन चुका था. अर्णव ने कहा- वाओ … आप देखने में लगती नहीं हैं कि आप इतने बड़े बच्चे की मां हैं.

मैं उनके घर गया तो …नमस्कार दोस्तो, कैसे है आप लोग!मैं अक्सर सेक्स स्टोरी पढ़ता रहता हूं और मेरी ज्यादातर रूचि शादीशुदा औरतों में ही रहती है. तभी मुझे एक लड़की का मैसेज आया, जिसने पहले मुझसे मेरा नाम कंफर्म किया और बताया कि वह कैसे मुझसे लगभग 20 वर्ष पहले मिली थी. उसने नीचे आकर कहा कि अगले दिन किसी प्लंबर को लेकर आऊंगा, ताकि तुम्हारा पाइप ठीक हो सके.

उसने मुझे पानी में भीगा हुआ देखा, तो उसका लौड़ा पूरी तरह से खड़ा हो गया था, जो मैंने देख लिया. हमने एक साथ स्नान किया और मैंने फिर से उसकी चूत और गांड को गर्म पानी से अच्छे से सेंका जिससे उसे अच्छा लगा और वह नॉर्मल हो गई.

ये मैंने कल ही तय कर लिया था, ऐसे जानवर और राक्षस के साथ कौन सेक्स करेगा।सलीम ने इशारों में कहा- जल्दी खाना खत्म करो, मेरा लोड़ा अब भी खड़ा है और मुझे कहा गया है कि खड़ा लोड़ा औरत के अंदर हो तो ज्यादा बेहतर रहता है।मैंने जल्दी खाना खाया और हम वापिस कमरे में आ गए.

हां यह जरूर है कि वो कामुक खूब हैं और पापा का लंड खूब मजे से लेती हैं. बीएफ वीडियो सेक्सी में वीडियोवो कहने लगी- इतना दर्द तो मुझको मेरी सील टूटने पर भी नहीं हुआ था, जितना पहली बार गांड मरवाने पर हो रहा है. करिश्मा कपूर का सेक्स बीएफउसी समय उसने मेरी आधी लटकी ब्रा को उतार दिया और मेरे मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा. जब मेरी वाइफ सो जाया करती थी, तब मैं धीरे से उठ कर अपने रूम को लॉक करके उसके रूम में आ जाता.

नीता- हर्षद ये तुम्हारा तगड़ा लंड थोड़ी देर अन्दर ही रहने दो, मुझे बहुत मजा आ रहा है.

मगर मैं उससे ज़्यादा नहीं बोलती थी और ना ही हम दोनों ने कभी सेक्स किया था. वो मुस्कुरा दीं और बोलीं- हां, अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ऊपर नीचे होने का मौका ले लेना. धीरे धीरे सोनी का भी दर्द गायब हो गया और वो अब कामुक सिसकारियां लेने लगी.

अब मुझे ये समझ नहीं आ रहा था कि मां के लिए किसे बुलाऊं, पापा भी घर पर नहीं हैं. राकेश का लंड इस समय सीधा खड़ा था और वो इस समय अपने घुटनों पर खड़ा हुआ था. अब उनकी थप थप की आवाज़ तेज होने लगी और मां अपनी चुदाई से मस्त होकर चिल्ला रही थी.

व्हिडिओ बीएफ फिल्म

मैं पापा और मम्मी को स्टेशन तक छोड़ने चला गया और कुछ देर बाद वापस आ गया।पिंकू भी आज स्कूल नहीं गई थी. मैंने ध्यान से देखा तो मनु के पैरों के बीच जींस में से धीरे धीरे पानी झलक रहा था. लेकिन उसको दर्द सच में काफी हो रहा था इसीलिए वह इस सेक्स का ज्यादा मजा नहीं ले पाई.

चाची को मैं शुरू से ही पसंद करता था और उन्हें चोदना चाहता था, पर ये अभी तक संभव नहीं हो पाया था.

वो मेरे होंठों को चूसते हुए मेरे बूब्स को मसलते रहे और काफी देर तक अपने होंठों से मेरे निप्पलों और मम्मों को चाटते रहे.

तभी राकेश ने मेरे पास आकर मुझे अपने हाथ से हिलाया, तब मेरी निद्रा टूटी. कभी जोर जोर से मुठियाते हुए वो अपने गांडू पति के टट्टे भी जोर से मसल देती, तो कभी उसका लौड़ा जोर से मरोड़ देती. सेक्सी वीडियो फुल एचडी मूवी बीएफइतने में सनी मेरी चूत के पास आया और मेरी गीली चूत में उंगली करते हुए बोला- क्या बात है जीजू ने गाड़ी में भी दीदी की चूत से पानी निकाल दिया.

मेरे और अंजलि के संबंध कहां तक बने उसे मैंने कितनी बार और कहां-कहां चोदा, अब वह भी मैं बता रहा हूँ. दोनों ही मुझसे चिपक गईं और मेरे बदन पर किस करने लगीं और मेरे बदन को चूसने चाटने लगीं. सामने की तरफ उसकी पैंटी जालीदार थी जिसमें से उसकी चूत का ऊपरी भाग थोड़ा सा दिख रहा था.

मैं उसका कुछ जवाब देने की हालत में नहीं थी इसलिए मैं कुछ भी नहीं बोल पा रही थी. उसे लगता था कि कोई आ जाए और उसके मम्मों को इतना चूसे कि उन्हें निचोड़ दे.

मेरी कोई भी प्रतिक्रिया ना पाकर उनको इस बात का यकीन हो गया कि मैं अब गहरी नींद में सो गई हूँ.

उसे खुद पर हैरानी थी कि कितने ही पुरुष उसके साथ एक कप कॉफ़ी पीने के लिए तैयार रहते थे, पर उसने किसी को भी अपने पास नहीं फटकने दिया था. वासना का ये हॉट Xxx सेक्स अगली रात तक चला, तब तक ना जाने रेशमा कितने बार चुदी, लेकिन होटल में वापिस आने के बाद उसकी भोसड़ी और गांड की हालत देखकर मुझे ऐसे लगा कि इसको दस बीस लोगों ने पटक पटक कर चोदा है. मैं काफी देर तक समीर भैया से एकदम चिपक कर डरती हुई पिक्चर देखती रही.

गुड्डू बीएफ मेरे भाई ने मेरी गांड में शैम्पू लगाया और अपने लंड को मेरी गांड में पेल दिया. लॉकडाउन की वजह से मैं अपने दोस्त विलास के बेटे के नामकरण विधि पर भी नहीं जा सका था.

अब आगे फक़ मी कहानी:मैं बगल वाली आंटी के घर गयी, उनको खीर का कटोरा पकड़ा दिया और काफी देर उनके साथ बैठ कर बातें की. पोर्न चूत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि शादी के बाद पति से चुदाई का मजा ना मिलने से मैंने पराये मर्दों को पटाना शुरू कर दिया था. उसके अलावा और किसके साथ किया है, वो भी बता देना … भले अभी नहीं, कभी फुर्सत से बता देना.

सनी लियोन की नई सेक्सी बीएफ

मैंने शैली से कहा- शैली यार देखो, मैंने हां कर दी है और मैं घर वालों को मनाने की अपनी पूरी कोशिश भी करूंगा. मैंने उसे उठाया और हाथ में लिया तो उस पर चिपचिपा पानी सा लगा हुआ था. वो बोला- तुम यहीं रुको, मैं पार्किंग से गाड़ी लेकर सीधा गेट पर लगा दूंगा.

बस फिर क्या था, मैं उन पर ऐसे टूट पड़ा, जैसे किसी भूखे को कई दिनों बाद खाना मिला हो. तभी पिंकू ने मुझे देखते हुए पकड़ लिया और मुस्कुराती हुई बोली- क्या हुआ भैया?मैं बोला- कुछ नहीं ऐसे ही!पिंकू समझ चुकी थी कि भैया क्या देख रहे हैं।अगले दिन सुबह जैसे ही मैं सोकर उठा.

मैं इस अहसास में ही इतनी मदहोश हो गई थी कि मैं कितने मिनट तक झड़ती रही, यह मुझे भी पता नहीं चला.

अब मैं उसके हाथ को अपने लंड के पास ले गया और उससे लंड पकड़ने को बोला. हम दोनों काफी देर देर तक कमरे में घुसे रहती थी जिससे मेरी पढ़ाई नहीं हो पा रही थी. कुछ देर बाद सोनी अपनी कमर इधर उधर हिलाने लगी तो मैं भी धीरे धीरे अपनी कमर आगे पीछे करने लगा.

वो मेरी और मैं उसकी जीभ को ऐसे चूस रहे थे, जैसे लॉलीपॉप का मजा ले रहे हों. अर्णव को धक्का देकर मोहिनी ने बेड पर गिरा दिया और कमान अपने हाथ में ले ली. उसी समय उसने मेरी आधी लटकी ब्रा को उतार दिया और मेरे मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा.

मैंने उससे पूछा कि रस कहां पर टपकाऊं?उसने कहा- अन्दर ही डालो क्योंकि दूसरा बच्चा पैदा होने के बाद मेरा ऑपरेशन हो गया था.

सील पैक देसी बीएफ: फिर उन्होंने अपने लंड को मेरी गांड के छेद पर सैट किया और अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों कूल्हों को खींचते हुए अपना लंड धीरे धीरे मेरी गांड में प्रवेश कराने लगे. मैं अपने मां बाप का इकलौता बेटा हूँ, तो घर पर मम्मी की देख रेख करने वाला कोई नहीं था.

अर्णव ने झुक कर मोहिनी के एक चूचुक पर जीभ फिराई और होंठों से चुम्बन ले लिया. मामा ने एक जगह उस अनजान लड़की को उसकी सेक्सी पिक भेजने को कहा लेकिन उस लड़की ने मना कर दिया और पिक नहीं भेजी. मैंने करिश्मा से कहा- घर के सभी दरवाजे अच्छे से बंद कर लेना और किसी चीज की जरूरत हो, तो कॉल कर लेना.

ये सोच कर मैंने मां की तरफ देखा और सोचा कि शायद इसी तरह से मैं कुछ करूं तो मेरी मां की जान बच जाएगी.

शायद रेनू का दिमाग अभी भी ऊहापोह में हो रखा था कि मुझसे चुदे या न चुदे, शायद इसी लिए वो ज्यादा ड्रिंक कर रही थी. मेरा पढ़ाने का काम अच्छा चलने लगा पर अब मेरा और सोनी का मिलना जुलना बहुत कम हो गया था क्योंकि सुबह उसका कॉलेज होता, दोपहर को और रात को 8 के बाद उसके पापा घर पर ही होते तो उसका निकलना मुश्किल होता. फिर एक मिला, जिसने मुझे अपने किराए के छोटे से कमरे पर बुलाया और मैं चुदक्कड़ रण्डी की तरह चली गई.