हिंदी देसी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,ब्लू पिक्चर सेक्सी वीडियो फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

तेजा सॉन्ग: हिंदी देसी बीएफ सेक्सी, मैंने भाभी का ब्लाउज खोला, भाभी के मम्मों को पहले से थोड़े बड़े हो गए थे.

ಬಿಎಫ್ ಸೆಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋಸ್

हां सुनो जी … अपना माल बाहर ही निकालना, कहीं यह ना हो जाए कि मैं फिर से किसी बच्चे की मां बन जाऊं वरना शिवानी को मुँह दिखाने भी मुश्किल होगा. ब्लू फिल्म वीडियो कॉलपरीशा की कुँवारी चूत की फाँकें मुकुल राय के लंड के सुपारे के चारो तरफ फैलते हुए कस गई।अपनी चूत के छेद पर अपने पापा के लंड का गर्म सुपारा महसूस करते ही परीशा के बदन में मानो हज़ारो वॉट की बिजली कौंध गई हो, परीशा का पूरा बदन थरथरा गया.

मैं चुदाई का बहुत शौकीन हूं, रोज-रोज नई चूतों को चोदने की कामना रखता हूं इसलिए मैंने भी जिगोलो साइट पर अपना प्रोफाइल अपडेट किया और मुझे और थोड़ा बहुत रिस्पांस आने शुरू हो गया. बिहारी सेक्सी चुदाईवो काम करने लगी, तो मैंने उससे कहा कि मैं बाथरूम जा रहा हूँ, थोड़ा घर का ध्यान रखना.

फिर कुछ देर बाद उसने मुझे नीचे लिटा दिया और खुद मेरे लंड पर बैठ गयी.हिंदी देसी बीएफ सेक्सी: देव कभी मेरी गाण्ड में भी उंगली फिरा देता था तो कभी चूत में उंगली डाल रहा था। मेरी चूत रस बहाने लगी, मेरी चूची सख्त होने लगी.

मैं- ह्म्म्म!मैं- लेकिन हुआ क्या?पूजा- सच बताऊं तुम बुरा तो नहीं मानोगे?मैं- नहीं नहीं … पूजा बताओ तो?पूजा- दिन में नींद नहीं आ रही थी तो मैंने कल जो कहानी पढ़ी थी, उसके बाद का भाग पढ़ा और मेरे हाथ खुद ब खुद मेरी चूत में जा पहुँचे और मैंने कहानी पढ़ते पढ़ते हस्तमैथुन कर लिया और ऐसी नींद आयी कि पता ही नहीं चला.कुछ देर चूत चूसने के बाद मैंने कहा- अब तुम्हारी बारी … मेरा भी लंड खड़े रहकर अब दर्द करने लगा है.

सेक्सी पिक्चर ब्लू वाली - हिंदी देसी बीएफ सेक्सी

फिर हम दोनों सो गए और अगले तीन दिनों तक हम लोग घर से बाहर ही नहीं निकले, बस चुदाई और चुदाई ही की.मुझे आशा है कि आज मेरी बीवी के साथ मेरी इस सुहागमिलन की घड़ी में आपको मजा आ रहा होगा.

उसके भरे हुए मम्मे उसकी बाली उम्र में ही उसकी सेक्सी जवानी को बिखेरते थे. हिंदी देसी बीएफ सेक्सी भाभी मुझसे ऐसे चिपक गई थीं, मानो वो जैसे मुझमें समा जाने की कोशिश कर रही हों.

हम दोनों बहुत बार फ़ोन पर ही चुदाई कर लेते थे। मैं अपने घर पे भी आता रहता था पर चुदाई का मौका नहीं मिलता था.

हिंदी देसी बीएफ सेक्सी?

एकदम गुलाबी और गीली थी भीतर से। मैंने एक उंगली डाल कर उसमें अपनी उंगली को अंदर बाहर किया और फिर अपनी जीभ से उसके दाने को सहलाने लगा।वो एकदम मदहोश होकर मजे से मेरे सिर के बालों को सहलाने व नोंचने लगी. उन्होंने भी झट से मेरे बॉक्सर की साइड से हाथ डाल कर मेरा बॉक्सर निकाल दिया. उसे जल्दी स्टेशन तक पहुंचाने के चक्कर में मैं उसे शार्टकट से ले जाने लगी लेकिन वो सड़क बंद थी.

उसके जरा से नीचे जहां ब्रा की लाइन बन जाती है, वहां जीभ को चलाना शुरू कर दिया. साले रोनित ने हाथ मिलाते हुए रचना को हग कर लिया और पीछे से उसकी हिप्स पर प्यार से हाथ फेर दिया. मैंने भाभी जी से बोला- वाह क्या खाना बनाया है … बहुत बढ़िया … ऐसा खाना तो किस्मत वालों को ही मिलता है.

जब इस बार छुट्टी पर मैं अपने घर गया, तो मैंने देखा कि इस एक साल में ही रचना का शरीर बहुत ही ज्यादा बदल गया था. कोई दिन जब मनोज बड़ोदरा में हो तो बिना पोर्न मूवी देखे और बिना वाइब्रेंट सेक्स के सो नहीं सकते. मैं अपने अगले टूर पर जब बालाघाट गया तो एक होटल में रुका और शाम को मुकेश के घर गया.

उसके फोन रखने के बाद मैंने उसके लंड के बारे में सोच कर अपनी चूत को खूब रगड़ा. धर्मशाला से बाहर निकले तो किस्मत से एक खाली रिक्शा मिल गया और हम लोग उस पर बैठ कर निकल लिए.

उसने अपने निचले आधे हिस्से को उसके ऊपर धकेल दिया और ऐसा महसूस किया जैसे उसके कपड़ों के ऊपर से कुछ अंदर चला गया हो.

मैं- मैं कार चला सकता हूं?तभी आलिया ने मुझे कार की चाभी दे दी और मैंने ड्राइविंग सीट पर बैठ कर कार स्टार्ट कर दी.

पर जैसे ही मैंने लंड गांड पर सैट किया वो गांड हिलाते हुए बोली- उधर नहीं प्लीज़. मैंने उसकी आँखों में देखते हुए ही एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया. वो जोर से अपने हाथों की पूरी ताकत लगाते हुए मेरे दूधों को दबाने लग गया.

लाइव ब्लू फिल्म देख कर मैं भी गर्म होने लगी क्योंकि मैंने इससे पहले कभी ये सब रियल में नहीं देखा था. मैं फिर से वही करने की कोशिश करने लगा, तो वो प्यारी सी आवाज़ में बोली- पार्थ मत करो न … अभी नहीं. ‘अअअह … छोड़ दो कोई आ जाएगा … मुझे बहुत देर हो गई है … घर पर सब इंतज़ार कर रहे होंगे … जाने दो … अहह अहह धीरे करो … ईईई सीईईई उईई माँआ … दुख रहा है दादाजी.

मैंने अपनी पैंट के नीचे बोतल छुपा रखी थी, वो निकाल कर बेड पर रख दी तो बोतल देख कर वो गुस्से से लाल हो गयी और कहने लगी- किससे पूछ कर ये लेकर आया है तू?मैंने बोला- सेक्स की माँ की चूत। मुझे तो ये देखना था कि तू दारू कैसे पीती है.

हम दोनों काफी मजा ले रहे थे, इस अवस्था में उसने अपना पानी छोड़ दिया क्योंकि वह मेरी चूत चाट रहा था … तो मुझे भी बहुत मजा आ रहा था. फिर मेरे बहुत जोर देने पर उस इनकम टैक्स ऑफिसर ने बताया कि मेरी बीवी ने ही उसे ऐसा करने के लिए कहा था क्योंकि मेरे सामने रहने से मेरी बीवी खुल कर चुदाई के मजे नहीं ले पा रही थी. इस कहानी से जल्दी वाले सेक्स के बारे में पढ़ने वालों को निराशा हो सकती है.

हम लोगों के अलावा मेरे दादाजी के छोटे भाई मतलब मेरे दादाजी ही हैं, वो भी पिछले आठ सालों से वो यहीं हमारे साथ रहने आ गए थे. मैंने कहा- क्या किया था … मुझे नहीं पता कि आप किस बात का ज़िक्र कर रहे हो?यह सुन कर वो बोला- शायद मेरी ही ग़लती है कि मैंने आपसे फोन पर यह सब कहा. मैडम ने कहा- सॉरी बोलने से कुछ नहीं होगा … इसका एक ही रास्ता है बस!मैम ने अपनी बात आधी कह कर छोड़ दी थी.

तभी उन्हें पता नहीं क्या सूझी कि उन्होंने पूरा गिलास अपने ऊपर गिरा लिया.

दीदी पीछे हटते हुए बोलीं- अरे क्या खा जाने का विचार है … आज तो तुम बड़े ही फॉर्म में दिख रहे हो … क्या बात है मेरे छोटे शेर?मैंने कहा- दीदी, आज आपको जन्नत से भी ऊपर का मजा दिलाना है … तो फॉर्म में होना ज़रूरी है. वे मुझे किस कर रहे थे और उनका लंड मुझे नीचे अपनी चूत पर महसूस हो रहा था.

हिंदी देसी बीएफ सेक्सी कुंवर साहब ने कहा- फिर कब पहनोगी?मैंने कहा- हां जी पहनूंगी बाद में!मैं इतना कह कर अपने काम के लिए चली गयी. मैं पहले भी बता चुकी हूँ और फिर बोल देती हूँ कि मुझे गांड नहीं मरवानी है.

हिंदी देसी बीएफ सेक्सी उसके जरा से नीचे जहां ब्रा की लाइन बन जाती है, वहां जीभ को चलाना शुरू कर दिया. मैंने उसको रिप्लाई किया कि मुझे अपने से ज्यादा बड़ी उम्र की लड़कियों में रूचि है.

रजनी, आयशा सुजाता, मरियम और मनोरमा सभी इस गाड़ी में सवारी कर रही हैं.

पेट की सफाई कैसे करें

फिर उन्होंने लौड़ा निकाला और तौलिए से साफ करके मेरी गांड को भी साफ कर दिया. मैंने उसकी गर्म गुलाबी चूत को करीब 15 मिनट तक अलग अलग तरीकों से चोदा. तब संजना मेरी तरफ देख कर मुस्कुराई और अपने बूब्स को अपने हाथों से मसलते हुए मुझसे पूछने लगी- क्यों मेरे राजा क्या हुआ? अपनी इस रखैल को पहली बार तो नंगी नहीं देख रहे? इससे पहले तो तुमने मेरे दोनों छेद खोल दिए हैं.

मेरी मां की आवाज़ आ रही थी और पता लग रहा था कि वो चुदाई में पूरी मस्त हुई पड़ी हैं. मैं हैरान हो रही थी कि ये कहां से आ गई?मैंने दिव्या से पूछा- तुम कहां से आ गई?वो भाई की तरफ देख कर मुस्कराने लगी. कॉरिडोर एक सिरे पर सीढ़ियों पर खत्म होता था, जो कि मामी के कमरे में जाता था.

सोनिया- वो क्या?रोहन- आप सच में चाहती हैं कि मैं इसका जवाब दूँ?सोनिया- हां.

धर्मशाला से बाहर निकले तो किस्मत से एक खाली रिक्शा मिल गया और हम लोग उस पर बैठ कर निकल लिए. अगर तू मुझे किसी दिन पकड़ कर मेरी चूत को चाट लेता तो मैं अब तक तेरे लंड से चुद चुकी होती. मैंने तो अपना वीर्य निकाल लिया था लेकिन उसके बारे में मैंने नहीं सोचा.

बैगनी कलर का लहंगा उनके गोरे बदन पर बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा था. स्कूल की ऊपरी बिल्डिंग में एक कंप्यूटर रूम था, जहां पर स्कूल के काम के लिए मुझे जाना पड़ता था. ये दुकान मौसी के घर से थोड़ी ही दूरी पर है, वहां जाकर मैं कंडोम के पैकेट लेकर आ गया.

फिर दादाजी ने खुद एक एक करके मेरे सारे कपड़े निकाल दिए और मुझे पलंग पर लेटा दिया. जब चार्ली बस तुम्हारे ही नाम की माला जपता था तब तो मेरा शक यकीन में बदल गया था कि तुम दोनों के बीच कुछ ना कुछ तो चल रहा है.

वो चुदास भरी आवाज में बोल रही थी- जल्दी करो डार्लिंग … मेरे को नंगी कर दो प्लीज़. मैं तो मेडिकल स्टोर पर जाकर सेक्स मेडिसिन ले आया जिससे मैं संजना के जिस्म का भरता बना दूँ, उसके हर एक छेद को अपने पानी से भर दूँ, उसको अपने मूत में नहला दूं!यही मेरे ख्वाब थे. और समझा दो मेरी चुत को कि मोटे लंड से चुदवाने का मतलब क्या होता है.

राज ने मेरा इनर खोलने की कोशिश की, लेकिन मैं तो किस करने में व्यस्त थी, तो नहीं खुल सका.

ये सुनकर वो हंस पड़ी- तुम्हारी गर्लफ्रेंड तो तुमसे भी ज्यादा सेक्सी बात करती है बाबू. इस कहानी को पढ़कर आप अपने लौड़ों को हिलाने और चूत में उंगली करने से खुद को रोक नहीं पाएंगे, ये मेरा दावा है. मगर कुछ तो पसंद नहीं आते और कुछ को मैं अपने डर के कारण जवाब नहीं दे पाती थी.

” महेश ने ज्योति की बात सुनकर उसे देखते हुए कहा।नहीं पिता जी, बस ठीक है,” ज्योति ने जल्दी से पिता की बात को टालने की कोशिश की।अरे वाह बेटी, यह क्या बात हुई? आओ बड़ों से ज़िद नहीं करते. अरे मतलब झाड़ू पौंछा वगैरह करेगी ना?”उसने कहा- हां उसके एक्स्ट्रा पैसे लगेंगे.

मगर उसको कैसे समझाऊं कि मैं अपने घर वालों से घर पर रुकने के लिए क्या कहूंगी. और मैं झूमती हुई उठ गयी।सोनम ने कहा- क्या हुआ तुझे? तू बिल्कुल होश में नहीं है. मैंने उन्हें समझाया कि किसी को कुछ पता नहीं चलेगा … आप बेफिक्र रहिए.

फुल सेक्स व्हिडिओ

उसके लिए मैं सबके सामने छुट्टी के समय निकल जाती थी और फिर सबके जाने के बाद फिर से केबिन में आकर बॉस से चुद लेती थी.

मैंने पहली बार किसी औरत की सिसकारियां ऐसे सुनी थीं और मैं उत्तेजित भी हो रही थी. तो मैंने कहा- बिल्कुल जानू … आज से मैं तुम्हें और तुम्हारी माँ … दोनों का पूरा ख्याल रखूँगा … देखो कैसे गांड उठा कर पड़ी हुई हैं. अगर इतनी ही चुदास जग रही है तो कुछ देर के बाद तेरा भाई आने वाला है उससे ही चुदवा लेना.

क्या बताऊँ … उस पल के बारे में सोच कर मैं जोश में आ गया और मैंने उसके मुँह की जोरदार चुदाई की. इतना बोल कर मैंने दीदी को दबोच लिया और उनके होंठों को बेतहाशा चूमने लगा. विदेशी सेक्सी ब्लू पिक्चररवि ने कहा- आपको कैसे पता कि मैं शादी के लायक हो गया हूं? मैंने तो अभी कुछ देखा ही नहीं है आप मुझे कुछ सिखाओ.

बहुत लड़के मुझ पर लाइन मारते थे लेकिन मैं किसी को ज़्यादा भाव नहीं देती थी. शादी के दो साल बाद भी बहुत प्रयास करने के बाद भी मैं प्रेगनेंट नहीं हो रही थी.

मैं उनको अच्छे से देखने लगा, फिर मुझे खुद ही बुरा लगा कि मेरी मदद करने वाले इंसान की बीवी को मैं ऐसे देख रहा हूँ. चाचा ऑफिस गए हुए थे और घर वाले रिलेशन की ही किसी पार्टी में गए हुए थे और मैं चाचा को खाना खिलाने के लिए घर में रुक गयी थी. उसने मुझे कहा– कितना देखते रहोगे मुझे?मैंने जवाब दिया– आप मुझे रोको मत, जी भर कर देख लेने दो.

सोनिया- हम्म्म्म … किस टाइम?रोहन- लंच करते हैं साथ में … 12:30 बजे … पिज़्ज़ा हट?सोनिया- नहीं रोहन, 12:30 बहुत लेट है क्योंकि 1 बजे अक्षय के आने का टाइम हो जाता है. मुझे चेहरे पर उसके हाथों का एहसास हुआ, वो मेरे बालों को ठीक कर ही थी. मैं अपना लंड चाची की चुत के अंदर बाहर करने लगा, वो सिसकारी की आवाज उम्म्ह… अहह… हय… याह… करने लगी.

चूत को चाटने के साथ में मैं एक उंगली भी उनकी चूत में अन्दर बाहर कर रहा था.

”ये सुड़का लगाकर गिलास में चाय पीने का मज़ा ही अलग है? है ना?”आप भी निले बच्चे जैसे हलकतें कलते हैं. बीवी भी मेरे इस बदले हुए व्यवहार से खुश हो गई थी क्योंकि हम पति-पत्नी की चुदाई में एक नयापन आ गया था.

वहां जाकर उसके जिस्म से छेड़छाड़ करना, अगर वो कुछ नहीं कहे तो उसके कपड़ों के अन्दर भी हाथ मारना. शायद वह मेरी झिझक दूर करना चाहता था, लेकिन मेरा चेहरा लाल हो गया था. वो आगे बोलती ही जा रही थी:और सुन … तेरी चुत में जो खुजली होती है, वो तो तेरी मां को पता होते हुए भी वो चुप ही रहती है.

उसके पति से मैं नहीं मिल पाया लेकिन मिलना चाहता हूँ क्योंकि मैं देखना चाहता हूं कि उसका पति कैसा है जो इतनी गर्म औरत की चूत को शांत भी नहीं कर पाता है. उसने पहली बार में तो मुझसे अपनी कंपनी में शामिल होने से मना कर दिया किंतु दूसरी बार उसे मैंने अच्छा पैकेज ऑफर किया जो कि उसके वर्तमान वेतन से करीब 50000 रूपये महीना ज्यादा था। ऊपर से अहमदाबाद में रहना मुंबई में रहने से सस्ता था. वो दोनों तैयार हो गये और हमने गुड़गांव के होटल को बुक करने का प्लान कर लिया.

हिंदी देसी बीएफ सेक्सी मैं भी अपने मन में सोचने लगी कि जब मेरी सहेलियों को ये पता लगेगा कि मेरी नौकरी लग गई है, तो उन सबको यही पूछना है कि ये नौकरी पाने में तेरी चूत ने कितनी बार लंड लिया था. यह कहानी तब की है जब मैं बारहवीं कक्षा में पढ़ता था। यह सेक्सी कहानी मेरी मम्मी की है.

बीपी सेक्स

कम्मो की चूत की बास बहुत ही कामोत्तेजक लगी मुझे; मैंने उस गंध को गहरी सांस लेकर अपने भीतर तक समा लिया और दाने के नीचे नाव की गहराई में अच्छे से जीभ घुसाकर लप लप करके चाटने लगा. तभी मुझे दरवाजा बंद करने की आवाज आयी, मैं उसके कमरे में जाने की हिम्मत नहीं जुटा पायी. धीरे धीरे उसने मेरी मदनमणि को अपने होठों में पकड़ा और उसे जीभ से छेड़ने लगा। मैंने अपने हाथों से उसके बालों को पकड़ा और उसके सर की मेरी चुत पर दबाने लगी.

अब मगर मैं माथे से होते हुए उसकी गर्दन, गले और वक्ष स्थल को भी सहला रहा था. मेरी चूत को सहलाने के बाद चाचा ने मेरी चूत में उंगली डाल दी और दो उंगलियों को डाल कर अंदर-बाहर करने लगे. एक्स एक्स सेक्सी फिल्मतो शायद उन लोगों को इस बात का अहसास ही नहीं था कि उनकी कामुक हरकतों को कोई छत से भी देख सकता था.

नितिन मेरी इस हरकत से शॉक रह गया। धीरे धीरे मैंने सब वीर्य अपनी उँगलियों पर जमा कर के उसे चाट लिया और बचा हुआ माल मेरे शरीर पर रगड़ लिया.

वो बोली कि देखो कुछ दिनों में मेरी शादी हो जाएगी, तो ये सब अपने दिमाग से निकाल दो. शिवानी- फिर उसको अपना बना लो शादी से पहले ही … ताकि वो तुम्हारी ही बनी रहे.

कुछ ही देर में आंटी एकदम चीखती हुई झड़ गईं और मैंने उनके नमकीन अमृत रस को पूरा पी लिया. पानी इतना ज्यादा था कि मेरे पेट तक बह रहा था और बह के इधर-उधर गिर भी रहा था. जब हम दोनों के बीच में सारी बातें साफ हो गईं तो उसने मुझसे पूछा- तुम सच बताना, क्या तुमको वो सब करने में मजा नहीं आया?उसके सवाल का मेरे पास कोई जवाब नहीं था.

उसने पानी पीया और भाई व बिक्कू बाइक लेकर दोनों ही कहीं बाहर चले गये.

मैंने उसके नाजुक अंगों को सहलाना शुरू किया तो वह भी वासना में डूबने लगी।मुझे लगा कि वह सेक्स करने से पहले मुझे कमरे में जल रही लाइट बंद करने को कहेगी क्योंकि उसी कमरे में हमारे बगल में रवि लेटा हुआ था जो सेक्स के वक्त मेरी पत्नी को एकदम नंगी देख सकता था।मगर मेरी पत्नी ने मुझे लाइट बंद करने को नहीं कहा।मैंने रोशनी में ही उसे प्यार करना जारी रखा. उन्होंने शराब का गिलास अपनी चूत पर डाला और मुझसे अपनी चुत चटवाने लगीं. तू दीदी से बात कर लेना, वो दोनों ज्यादा क्लोज हैं … और जल्दी प्लान बना.

डब्ल्यू डब्ल्यू एक्स एक्स सेक्सी वीडियोसोनिया- थैंक गॉड, तुम ऑनलाइन आ गए आख़िरकार … मैं आधे घंटे से वेट कर रही थी. तभी वो अलग हुई और बोली- इससे ज्यादा इधर और कुछ नहीं हो सकता इसी लिए मैं तुमसे अकेले में मिलना चाहती हूँ.

पंजाबी सेक्स वीडियो दिखाइए

मैं बोला- ठीक है, मैं बता दूंगा अगर इसकी जरूरत हुई तो।उसके फोन काटने के बाद मैंने प्रियंका को फ़ोन किया और उससे दारू वाली बात पूछी. इतने में परवीन आंटी घोड़ी बनकर मुझे आने के इशारे करने लगीं- आ जा मेरे राजा … मेरी गांड तेरे लिए इन्तजार कर रही है. एक बार मेरे बेटे के दोस्त रोहित ने मुझे चोदा था, मुझे मजा आ गया था.

हम दोनों बहुत बार फ़ोन पर ही चुदाई कर लेते थे। मैं अपने घर पे भी आता रहता था पर चुदाई का मौका नहीं मिलता था. आलिया- आह राज … धीमे … बहुत दर्द हो रहा है … आह ओह रहने दे अब … ओह माँ, राज निकाल ले प्लीज … आह यू आर सो हार्ड. मेरी समस्या सुलझ गयी।मैं चाहती तो अपने पति से मांग सकती थी पर मुझे उनसे पैसे नहीं चाहिए थे क्योंकि ये पैसे मैं अपनी एक सखी को देने वाली थी और उनसे कितनी बार ले चुकी थी.

भाई को तो यकीन ही नहीं हुआ और जब हुआ, तो उनकी और बुआजी की खुशियां देखते बन रही थीं. मैं- फिर भी सर उसके सामने ये सब कैसे हो सकता है?अब बॉस ने मुझे छोड़ दिया और वापिस कमरे में आ गए. मैंने एक ज़ोर का झटका दे दिया, जिस वजह से एक ही झटके में मेरा पूरा का पूरा लंड दीदी की चूत की गहराई तक चला गया.

मैं तो अक्सर ऐसे ही मसाज सेंटर पर जाता था जहां पर मसाज हैपी एंडिंग वाली होती है. कभी भी कोई भी परेशानी या तकलीफ हो बेझिझक मुझे बताना, जितना भी मेरे से हो सकेगा, मैं हमेशा मदद के लिये तैयार मिलूँगा.

ये सुनते ही मैं हंसने लगी और उससे बोली- मेरे भाई ने ही मेरे लिए मेरा उद्घाटनकर्ता भेज दिया.

मुकुल राय का आधे से ज़्यादा लंड एक ही बार में परीशा की कुँवारी चूत के अंदर जा चुका था. एक्स इंग्लिश सेक्समैं भी अपने मन में सोचने लगी कि जब मेरी सहेलियों को ये पता लगेगा कि मेरी नौकरी लग गई है, तो उन सबको यही पूछना है कि ये नौकरी पाने में तेरी चूत ने कितनी बार लंड लिया था. सनी लियोन की चूत की चुदाई वीडियोरीमा ने मेरे होंठों को किस करना बंद करके पीछे से राहुल का लंड चूसने लगी. मुझे घोड़ी बना कर चाचा सिसकारियां लेते हुए मेरी चूत को चादने लगे और मैं भी मजे से उनके लंड से चुदने लगे.

उसने मेरा लंड अपने हाथों में लिया, मेरी आंखों में देखा और बैठते हुए अपने मुँह में ले लिया.

उसके बाद उसी के एक खास दोस्त कबीर ने बताया कि उसका स्टेमिना बहुत कम है और वो तुम्हें खुश नहीं कर सकता है. फिर थोड़ी देर बाद मैंने ही हिम्मत करके शीना से कहा- कम से कम दरवाजा खोलते वक्त आवाज तो किया करो. फिर एक दिन अपनी तरकीब के अनुसार मैंने उस आदमी की गर्दन में अपना नाखून चुभो दिया.

मैं और मेरे 3 साथी वहां गए, सिक्योरिटी ऑफिसर ने हमें काम समझा दिया. रोज उसे चूत में डिल्डो डालने से मेरी चूत का छेद गोल हो चुका है जो काफी अच्छा लगता है देखने में!मेरे बूब्स का साइज़ भी 34डीडी हो गया है. थोड़ा पीछे जाते हुए ये बता दूँ कि हमारी बुआ की 3 बेटियां और 1 बेटा है.

हॉट सेक्स जापान

आलिया- लेकिन …मैं- एक दिन तो हम करेंगे ही, हम कुछ गलत नहीं कर रहे हैं. इससे पहले मैं इस सेक्स कहानी को लिखूँ, आप सभी को इसके पहले भाग से रूबरू करा देता हूँ. इसका मतलब तुम मुझे अच्छे दोस्त नहीं मानते और भरोसा भी नहीं करते हो.

उस लड़के ने मुझे कंडोम दिया और मैंने कंडोम लगाया और मैडम के ऊपर आकर चुदाई करने लगा और वह अपने मुंह से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ करने लगी और गांड उठा उठा कर उछलने लगी और अपने हाथ से अपनी चूची मुझे पिलाने लगी.

जब मैंने रोने का कारण पूछा तो भाबी ने कहा कि तुम्हारे भैया मुझे खुश नहीं कर पाते हैं … तो बच्चा कहां से होगा.

भाभी की आंखों से आंसू आने लगे, पर उन्होंने कमाल का कन्ट्रोल कर रखा था. मेरी पिछली कहानी थीभाई से चूत चुदवाई बहाना बनाकरइस सेक्स कहानी की शुरुआत करने से पहले मेरा आपसे कहना है कि यदि आपको मेरी सेक्स कहानी अच्छी लगे, तो मुझे ईमेल जरूर करना, ताकि मैं इस कहानी का अगला भाग लिख सकूं. सेक्सी वीडियो नंगी चुदाईमुझे लगता है कि वो कला मेरे अंदर है इसलिए मैं लड़कियों को जल्दी ही पटाने में कामयाब भी हो जाता हूं.

वो चुत से मुँह हटा के अपने लंड को मुझे चूसने का बोले, मैंने वैसा ही किया. मेरी बीवी मेरे निप्पलों को चूस रही थी और अपनी चुत मेरे लंड पर जोर से रगड़ रही थी. वो उचक उचक कर मज़े में चिल्ला रही थीं- आअहह दामाद जी … आआओ और अन्दर आओ अपनी सास के … अया ऐसा दामाद भगवान सबको दे … ऊऊहहूओ हमम्म उम्म्म्म … जमाई बाबू आ जाओ और ज़ोर से चोदो अपनी सास को!ये कहते हुए वो अपनी चुत को अपने हाथों से मसलने लगीं और एक उंगली अपनी चुत में पूरी अन्दर तक डाल दी.

मैंने पूजा से पूछा- अब क्या प्रोग्राम है?तब पूजा बोली- अरे अभी तो रात बहुत बाकी है और इसका पूरा का पूरा फ़ायदा मुझे उठाना ही है. उस दिन तू फार्म हाउस के लिए जो बुला रहा था, उसी दिन मुझे सब पता चल गया था.

अहा अह क्या नमकीन स्वाद था भाभी का … एकदम सॉल्टी … मैं भाभी के मम्मों को ही चूसता रहा.

मैंने सोचा कि मुझे इसका इलाज करना तो पड़ेगा, पर मैं मुठ नहीं मारूंगा. इससे पहले कि मैं कुछ बोलती, उन्होंने किसी से फ़ोन पर कहा- जल्दी से दो कॉफी और बिस्किट भेजो. जैसे जैसे उसकी हिम्मत बढ़ती गई तो उसने मेरे फोन पर डबल मीनिंग चुटकलों की लाइन लगा दी.

एक्स वीडियो देहाती में मुझे पता है तुम चार्ली से कितना प्यार करती हो … मैंने तुम दोनों का यह खेल शुरू से देखा है जब चार्ली घर के अंदर आया था और मैं तब से तुम दोनों की बातें सुन रहीं हूँ और करतूतें देख रही हो. मगर हैरानी तो तब होती थी … जब वो लड़कियां भी, जिनकी अभी शादी नहीं हुई थी, अपनी चुदाई भी बातें बहुत मजे लेकर सुनाती थी.

कुंवर साहब की उम्र 70 साल थी, लेकिन वे इतनी उम्र के लगते ही नहीं थे. मैंने अमायरा को पलंग पर लिटाया और उसकी चूत को चाटने की तैयारी करने लगा. बस मुझे कुछ अलग करना था इसलिए मैं हमेशा फोन में व्हाट्सएप ईमेल और अपनी सहेलियों के साथ बात करती रहती थी.

घोड़ा का सेक्सी पिक्चर

उधर संजना का तो बहुत बुरा हाल हो गया था क्योंकि एक तरफ उसका प्यार था और दूसरी तरफ समाज की बदनामी … यह सब सुनकर संजना फिर से रोने लगी. वो मेरे मम्मों को अपने मुँह में ले लिया और अपने हाथ मेरी कमर पर फिराने लगा. यह मेरे लिए एक बिल्कुल नया अनुभव था जब एक औरत मेरा लोड़ा मुंह में लेकर चूस रही हो और दूसरी मेरे होंठों का रसपान कर रही हो.

” महेश ने अपनी बहू से छोटे बच्चे की तरह ज़िद करते हुए पूछा।पिता जी आप ऐसे मानेंगे नहीं, मुझे यहाँ पर दर्द है … रात आपने इतनी बुरी तरह से किया था कि अभी तक मुझे दर्द महसूस हो रहा है. इसलिए मोहन भैया ने जरा सा ही धक्का दिया और उनका लंड मेरी चूत में अन्दर तक घुसता चला गया.

आज 15 दिन हो गया, मैं उससे बात करने को तरस गया हूँ क्योंकि मुझे उससे सच्चा प्यार हो गया है.

उसने बताया कि अगर वो मुझे भी साथ में रखता तो वीडियो बनाते समय हम पति-पत्नी भी उसमें दिखाई देते इसलिए ब्लैकमेल से बचने के लिए वो मेरे सामने ही मेरी बीवी की चुदाई करता था. महेश ने अपने लंड को अपनी बेटी की चूत से निकलते हुए पानी से गीला किया और उसे पकड़ कर अपनी बेटी की चूत के छेद पर रख दिया।इन्सेस्ट सेक्स कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. कुंवर साहब खड़े हुए, काफी देर तक मुझे देखते रहे और आगे बढ़ कर उन्होंने अपने रूम का दरवाजा बंद कर दिया.

अंकित का लंड शबनम के चेहरे से कुछ इंच की दूसरी पर ही गर्व से खड़ा था. कल तेरी शादी हो जायेगी और तू पराये घर चली जायेगी इसलिए सब सीख ले पहले ताकि तेरा पति खुश रहे तेरे से!” मैंने कहा तो मेरी बात सुनकर कम्मो की हंसी छूट गयी. शबनम ने अपनी चूत को अंकित के लंड के इर्द-गिर्द थोड़ा अलग तरीके से हिलाते हुए कुछ ऐसा किया कि अंकित को लगा कि जैसे उसके लंड को चूसा जा रहा है.

ड्राइवर और बॉस के नौकर ने सभी को दीदी की चुदाई की कहानी सुना दी थी.

हिंदी देसी बीएफ सेक्सी: अगर तुम भी मुझे चाहती हो तो मुझे किस करने से मत रोकना।बेशक मैं नशे में थी मगर बेहोश नहीं थी, मैं वैसे ही लेटी रही. तुमने पहले क्या किया, क्या नहीं किया, वैसे भी मैंने तुम्हें दिल से प्यार किया है.

मेरी 24 की कमर पूरे कॉलेज के लड़कों के दिल पर जैसे बिजली गिराती थी और मेरी 34 की मटकती गांड में बुड्ढों के लंड भी खड़े करने का दम था. और मुझे अपनी बांहों में पूरी शक्ति से कस लिया और अपनी टाँगें मेरी कमर में लपेट दीं. ये पहली बार था, जब उसके बारे में मुझे बुरा ख्याल आया कि इसके रसीले और हॉट से होंठों को चूस डालूँ.

मैंने जानबूझ कर उसके हाथों से निकलने की कोशिश की, लेकिन फिर उसने मुझे अपने कंधे पर डाल लिया और कमरे में ले गया.

रोनित चुदास भरी नजरों से उसकी मदमस्त कमनीय काया को देखता हुआ बोला- वाओ यू आर सो हॉट. उन सभी लोगों से अभी भी मेरी बात होती है, लेकिन मुझे अब किसी नए लंड की तलाश है. हालांकि मेरी चूत पूरी गीली हो रही थी उसके बारे में सोच सोच कर … फिर भी मैंने जल्दी करना ठीक नहीं समझा.