बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर

छवि स्रोत,नंगी नाचने वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

जल से पतला क्या है: बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर, थोड़ी देर बाद बड़ी बहन फ़ोन पर बात करती हुई बाहर आई और मेरी ओर देख कर अपनी चूत और बूब्स पर हाथ फेरते हुए बात करने लगी.

सेक्सी बीएफ हिंदी में आवाज

अगले कुछ ही पल बाद उसने मेरे लौड़े की चमड़ी पीछे करते हुए सुपारा बाहर निकाल लिया. मराठी सेक्स पोर्न वीडियोमैं तुम्हारा साथ पूरी जिंदगी के लिए चाहती हूं मैं तुमसे सच्चा प्यार करती हूं.

जैसे जैसे डॉक्टर की स्पीड बढ़ रही थी, मेरी आ आ की आवाज़ बढ़ रही थी और मुझे काफ़ी मज़ा आने लगा था. सेक्स बीएफ दिखाइए हिंदी मेंउसे क्या नहीं पता कि लड़का और लड़की जब अकेले हों और वो भी दोनों पूरी तरह से भूखे, तो क्या करेंगे.

लेकिन मैं कुछ भी सोचने की हालत में नहीं थी क्योंकि मुझे बहुत ज्यादा मजा आ रहा था.बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर: मैं अपने पिलपिले हो रहे लंड से अभी भी उसकी माल भरी चूत में लंड को आगे पीछे करता रहा.

उसके बाद हम दोनों ने खुद को सही किया और बाहर आकर फिर से एक ऑटो पकड़ ली.मगर सुरेश ने सोनी की टांग पकड़ कर उसे टेबल के नीचे से बाहर निकाल लिया.

सी बीएफ देहाती - बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर

मैंने उससे मजाक में कहा कि मेरे पास के एफसी का बकेट है, उसमें कर लो.मैं भाभी पुसी चाटने में लगा रहा और थोड़ी ही देर में भाभी ‘ऊंह अक्की ऊम्म्म … मर गई … आंह …’ बोलती हुई मेरे मुँह पर झड़ गईं.

तब तक के लिए आप लोग मस्त चुदाई करें और स्पर्म की बारिश करते रहें।मिलती हूँ जल्दी ही।मैं उम्मीद करती हूँ आप लोगों यह कहानी जिसमें एक सेक्सी लड़की की चुत चुद गयी, पसन्द आयी होगी। आप लोगों को मेरी यह आत्मकथा कैसी लगी। आप अपनी राय कमेंट्स में बता सकते हैं।. बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर अदिति कराहती हुई बोली- हर्षद, अब मैं और धक्के नहीं सह सकती … आंह अब मैं झड़ने वाली हूँ.

मेरा लंड चूत की पंखुड़ियों के बीच से होता हुआ छेद को फैलाता हुआ आधा अन्दर चला गया.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर?

अपनी बहन के बारे में ऐसा सोचते हो तुम?मैं बोला- आपा प्लीज आप मेरी गर्लफ्रेंड बन जाओ न प्लीज़. फिर धीरे धीरे करके मैंने उनके पीछे जाकर उनके घर तक जाना शुरू कर दिया. कुछ ही देर बाद हम कुछ इस तरह एडजस्ट हो गए थे कि उसका सिर मेरी गोदी में आ गया था.

वो मेरे नितंबों को दबा कर लिंग को और गहराई में ले जाने लगी।जैसे जैसे घर्षण बढ़ रहा था, उसके नितंबों में भी उछाल आना शुरू हो गया. आपको मेरी ये हिंदी सेक्स सेक्स Xxx कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. मेरे होठों पर प्रगाढ़ चुम्बन करके वो मेरे बगल में कुछ देर लेटी रही। उसकी आँखों में संतुष्टि साफ साफ झलक रही थी। उसके बाद मैंने उस ब्यूटी सेक्स को कई बार चोदा और उसकी गांड का भी उद्घाटन कर दिया.

जैसे-जैसे लिंग अंदर जा रहा था, लिंग को उतनी ही मेहनत करनी पड़ रही थी. फिर मैं आगे से भी उनके सामने झुक झुक कर फ़ाइल ढूँढने का ड्रामा करने लगी. मैंने तुरंत वक्त ना गंवाते हुए भाभी को विधि करने बैठा दिया और झूठी विधि करने का ड्रामा चालू कर दिया.

मैं बाथरूम से आकर उसे प्यार से देखता रहा और उसके गालों को सहलाता रहा. बीवी बोली- वो सब तो ठीक है, मगर मुझे लग रहा है कि उसे पैसों की नहीं बल्कि हमारी बेटी की जरूरत है.

दोनों ने एक दूसरे के लिए ब्रा पैंटी सिलेक्ट की, जिसमें थोंग पैंटी, पुश अप ब्रा और कुछ रेग्युलर ब्रा पैंटी भी, जो बस पीरियड के समय में ही काम आती हैं.

मैंने पूछा- यामिना, कुछ अपने बारे में बताओ?यामिना- साहब, मैं मेरे दो बच्चे हैं, लड़की ने दो महीने पहले प्लस टू पास किया है, लड़का अभी पांचवीं क्लास में पढ़ता है, पति चार साल पहले हमें छोड़कर चला गया और दूसरी शादी कर ली.

अनामिका को निप्पल काटे जाने से मीठा दर्द हुआ तो वो सिसयायी- आह कमीनी … प्यार से चूस वैसे चूस ना जैसे अंगूर चूसे जाते हैं. अब उन्होंने मुझसे कहा- तुम्हें यह लॉलीपॉप केवल चूसनी है … खानी नहीं है न दांत से दबानी है, इसे चूसने के बाद इसमें से अपने आप दूध निकल आएगा. कुछ वक्त बाद उसके बॉयफ्रेंड का फोन आया तो तेनजिंग ने उससे बोला- बस खराब हो गई है, थोड़ा ज्यादा टाइम लगेगा.

मैंने पूछा कि कुसुम मेरी जान वीर्य कहां गिराऊं?तब ताई ने कहा- मेरी चूत में ही डाल दो. मैं उनके ऊपर से उठा, तो आंटी ने भी एक कपड़े से अपनी चुत को साफ़ किया. मेरे आधे खड़े लौड़े को सहलाते हुए रेशमा में मेरे सीने पर चूमना चालू किया.

आंटी ने पीहू को बुलाया और बोल दिया- तुम कान्हा के साथ जाओ और कोई अच्छा सा मैरिज प्लेस बुक कर लो.

बीच बीच में भाभी के निप्पल में थोड़ा काट भी लेता था, जिससे भाभी की मादक सी आवाज ‘आह … आउच …’ निकल जाती थी. अब सुरेश के दोनों हाथों की कुहनियों पर मेरी बेटी की गोरी जांघें टिक गयीं और फिर सुरेश अपने हाथों को जोर जोर से ऊपर नीचे लाने लगा. मेरे होंठों में ताई जी के मम्मों के निप्पल बारी बारी से मसले जाने लगे.

चिराग उसे समझाते हुए बोला- देख स्नेहा, इस समय हमें कोई भी जाने नहीं देगा … ना मॉम और ना पापा. वो पूरे मज़े से मेरी उंगली से अपनी गांड और मुँह से चूत को चुदवाने लगी. अपना लण्ड मैंने मामी की चूत के मुखद्वार पर रखा तो मामी करवट बदलकर सीधी हो गईं और बेसुध हालत में पीठ के बल लेट गईं.

खैर … मैंने ज़्यादा ध्यान नहीं दिया क्योंकि कैसे भी मेरी चुदाई होने ही वाली थी.

मेरी माँ की भी जॉब है तो वह भी जल्दी ही घर से निकल जाती है।अब मैं जल्दी उठ जाता था सुबह ताकि जब वो आये तो मैं उससे बातें करते हुए उसको पटाने की कोशिश करूं. इधर कविता मुझसे निरंतर हर एक या दो दिन के अंतराल में बात करती रहती.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर जिस कंपनी में मैं काम करती थी वो रूम नहीं दे रही थी। मेरी तनख्वाह तो अच्छी थी मगर मैं हमेशा होटल में रह कर तो काम नहीं कर सकती थी न? इसलिए मैंने किसी तरह से एक महीना निकाला. मैं- क्या तुम्हारी उम्र इतनी है कि तुम्हारी लड़की ने प्लस टू पास कर रखा है?यामिना- सर, छोटी उम्र में शादी हो गई और 9 महीने में ही बेटी हो गई.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर खाना ख़ाने के बाद हम तीनों पिक्चर देखने चले गए और रात को होटल से खाना खाकर ही वापिस आए. उसकी इन सब बातों से तय हो गया था कि वो मेरे साथ सेक्स करने को मर रही है.

सच सच बताइए क्या देख रहे थे?मैंने बोला कि जब आपको पता ही है, तो क्यों पूछ रही हैं?वो बोली- मैं आपके मुँह से सुनना चाहती हूँ.

बीएफ दिखाइए नंगी चुदाई

मैं भाभी की दोनों चूचियों को मसलने लगा और धक्कों की रफ़्तार बढ़ा दी. अभी परसों ही मैंने बैगन घुसा कर अपनी चुत ठंडी कर रही थी, तब से पता नहीं क्या हो रहा है कि चुत के अन्दर खुजली सी बनी रहती है. उनका एक 23 साल का लड़का था। जब मैंने उस लड़के को पहली बार देखा तभी से वह मुझे आकर्षक लगने लगा था.

मेरी दिली तमन्ना पूरी हुई और मैंने पहली बार किसी मर्द का सुपाड़ा चखा।बहुत स्वाद था. मैं दीपक सोनी ऐसे ही आपके सामने बहुत मस्त मस्त रियल स्टोरी लाता रहूँगा।[emailprotected]. गुलजान की मोटी मोटी चुचियां मेरे सीने के नीचे दब रही थीं और मुझे एक मखमली गद्दे का अससास करा रही थीं.

कुछ मिनट तक चाची की मस्त जवानी को याद करके मैंने अपना सारा माल उनकी पैंटी में निकाल कर उसे फिर से खूंटी पर टांग दी और हाथ धोकर नीचे आ गया.

भाभी की चूत पानी से लबालब भरी हुई थी जिसे मैं जीभ से चाट चाट कर साफ़ कर रहा था।साथ ही साथ भाभी के चूचों को दबाये जा रहा था।भाभी ने कहा- दीपू, प्लीज अब चोद भी दो यार! अब कण्ट्रोल नहीं हो रहा. लेकिन वो मेरा पक्का दोस्त था और वो काफी समय से मेरे घर आता जाता था. पता नहीं आपका ये कर्ज कभी चुका भी पाऊँगी या नहीं!”कोई कर्ज नहीं है.

मैंने उसकी तमन्ना कैसे पूरी की? मजा लें!मित्रो, मैं विवान अपनी सेक्स कहानी में चुदाई का रंग भरने एक बार फिर से हाजिर हूँ. हम दोनों वहां से निकल कर नजर बचाते हुए उसके घर पहुंचे जहां सब कोई पहले ही शादी में जा चुके थे और अब वहां सिर्फ हम दोनों और हमारी काम वासना थी।घर पहुंचते ही हम दोनों के जिस्म आपस में लिपट गए. मैंने उसे कॉफी पिलाई, नाश्ता खिलाया उसको नहलाया, उसके बदन को पौंछा.

हम अपनी बेटी को तेरे पास कहीं बाहर नहीं भेजेंगे।वो तुरंत राजी हो गया।मैंने उसे कहा- यार सोनी बहुत छोटी है. वो बोलीं- मैं ये बात तुम्हें कैसे बताऊं मेरी समझ में नहीं आ रही है.

मैं- बस हो गया कुतिया … शुरू शुरू में तो दर्द होवे ही … फिर मजा ही मजा आवे. स्नेहा सोचते हुए कब सो गई और जब नींद खुली, तो नेहा उसको जगा रही थी. कॉलेज खत्म होते ही सबने विदा ली और अपने अपने घर की तरफ रवाना हो गए.

अगर रास्ते में कुछ हो गया तो कौन देखने वाला है तुम्हें?ये कहकर उसने मेरी बाईक की चाबी निकाल ली.

जैसे ही मैंने हाथ को ऊपर नीचे किया तो सरिता बोली- राज! तुम्हारे हाथों में तो बड़ी जान है, तुम तो बच्चे नहीं हो, थोड़ा ऊपर तक कर दो. मैं चचा के सामने अपना पजामा खोलने लगा तो चचा मेरी तरफ ही देख रहे थे. सटा सट सटा सट लंड फच्च फच्च फच्च करके लंड चुत में अन्दर बाहर हो रहा था.

मैंने बोला- तो बन जाओ न!आपा बोली- नहीं आसिफ तुम मेरे भाई हो, मुझसे ये सब मत कहो. मेरा मन कर रहा था कि अभी ही भाभी को चोद दूँ, पर ये अभी संभव ही नहीं था.

मैंने जल्दी से गूगल पर करनाल में होटल सर्च किये और हम एक होटल पर पहुँच गए।होटल जाकर मैंने एक रूम बुक किया जिसके लिए होटल वाले ने मुझसे 1500 रुपए लिए. जबसे चाची जी चुत की खुजली वाली बात सुनी थी, तब से दिमाग भन्ना गया था. उसको इस तरह बिना कपड़ों में काम करते देखना सच में शब्दों में वर्णित करना मुश्किल है।आटा गूँथते समय उसके माँसल नितंबों में जो कंपन हो रहा था वो मुझे फिर उसके पास खींच रहा था.

सेक्सी पिक्चर बीएफ फिल्म बीएफ

कुछ मिनट तक मैं कभी गांड का छेद चाटता, तो कभी उसके कूल्हे जोर जोर से चाटने लगता था.

क्या मस्त माल थी वो यार उफ्फ़… मजा आ रहा था उसके साथ!उसकी चूत को चूसते और चाटते हुए मैंने उंगली उसकी गांड में डाल दी जिससे वह उछल गई. आज तक हम दोनों ने एक बंद कमरे में अकेले कभी भी इस तरह से बेड पर बात कर चूमाचाटी नहीं की थी. जब मैं उसके दोनों मम्मों पर अच्छे से चॉकलेट लगा चुका तो प्रियंका से बोला- चल तू इसका एक आम चूस … एक मैं चूसता हूँ.

’ और आआह्ह्ह्ह करते करते 2-4 धक्के जोर जोर से मारे और मेरी चूत में झड़ गए. मुझे लगा कि अब ये दरवाजा बंद करके चोदेगा लेकिन उसने दरवाजा लॉक नहीं किया. बेटी का सेक्सी बीएफवो बोली- यार, तुम बहुत सीधे हो, तुम्हारे सामने मैं इतनी देर तक ऐसे ही नंगी लेटी रही और तुमने मेरे साथ कोई गलत हरकत नहीं की.

भाभी समझ गईं और बोलीं- अक्की, बहुत दिन से नहीं चुदी हूँ और तू मुझे इतनी देर से तड़पा रहा है. जैसे-जैसे लिंग अंदर जा रहा था, लिंग को उतनी ही मेहनत करनी पड़ रही थी.

मैंने उसे कैसे भोगा?नमस्कार दोस्तो, मेरी भाभी की चूत की कहानी के पहले भागचचेरे भाई की नवयौवना पत्नी का आकर्षणमें आपने पढ़ा कि वर्षों के इंतजार के बाद आखिरकार रेनू मुझसे मिलने के लिए तैयार हुई. मैंने हर तरह से उसके होंठों को किस किया, फिर मैंने बूब्स पर ध्यान केंद्रित किया और एक एक करके मैंने दोनों मम्मों को चूसना शुरू कर दिया. फिर जब थोड़ा थक गए तो उसने लंड निकाल लिया और साइड में लेट कर हम दोनों थोड़ा सुस्ताने लगे.

लेकिन कुछ ही देर में मेरा पानी भी निकल गया और समीना का भी निकल गया, पर इस भैन की लवड़ी काली भैंस रीता का पानी नहीं निकला. चूत का छेद भी अपने आप खुल रहा था, भीतर के गुलाबी रंग का इलाका मैं अपनी आंखों से साफ़ देख पा रहा था. मेरे बड़े बड़े बूब्स तौलिये में आधे से भी कम ढके हुए थे और लगभग पूरे बाहर बिना ब्रा के नंगे नजर आ रहे थे.

दरअसल शर्ट और पैंट साइज में टाइट होने के कारण, और लड़कियों के चूतड़ भारी होने के कारण, पैंट पीछे की ओर खिंच जाती है और सामने की सिलाई चूत के बीच दरार होने के कारण, अंदर की ओर घुस जाती है जिससे चूत की पुट्टीयां दिखाई देने लग जाती हैं.

देसी भाभी Xxx कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मेरे भैया मुंबई में जा फंसे. उसकी चूचियां, जो 40 साइज की ही थी इस कसी हुई टी-शर्ट में एकदम तनी हुई लग रही थीं.

उसके बाद हमारा खाना हुआ और हम दोनों फिर से आंटी के बेडरूम में आ गए. और इस बीच अंकल के लंड को याद करके एक बार चूत में उंगली भी डाल ली और पानी भी निकाल लिया. आशा है कि आप सभी को यह कहानी पसंद आएगी और आपके लंड और चूत का पानी निकाल देगी.

वो मेरा लंड पर लगा सारा चॉकलेट कुछ ही सेकंड में चाट कर खा गई … और मजे से लंड चूसने लगी. इसी प्रकार से चोदते हुए थोड़ी देर बाद हम दोनों लगभग एक साथ ही झड़ गए. मेरी सौतेली मां की गर्म चूत की प्यासमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी सौतेली मां मेरे साथ चुदाई में गर्म हो गई थी और वो तकिया के सहारे से उठ कर मेरे लंड को चूत में घुसते निकलते देखने लगी थी.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर कई बार रात को उसे उसके कमरे में अपनी टांगों के बीच में उंगली करते हुए देख चुकी हूं. उसके होंठ बहुत ही रसीले थे और उसकी लार पीने में मुझे बहुत मजा आ रहा था.

बीएफ अमेरिका सेक्सी

फिर मैं एक हाथ आपा के लहंगे के ऊपर ले गया और कपड़ों के ऊपर से ही आपा की चूत को सहलाने लगा था. घबराकर रेशमा मुझे देखने लगी, पर तभी मैं उसको उसका बुरका देते हुए पहन लेने का इशारा किया. करीब आधा घंटे बाद हम दोनों संतृप्त होकर वापस कपड़े पहन कर गाड़ी में आ गए.

हो सकता है अगर मैं भी कहीं कुछ दिनों के लिए इधर उधर चला गया, तो वो किसी और के लंड को अपनी चुत में डलवा ले. मैं किताब को खोलकर देखने लगा तो उसमें विदेशी लौड़े गोरी चूतों में घुसे हुए थे और साथ में सेक्सी कहानियां भी लिखी हुई थीं. आम्रपाली दुबे की बीएफकशिश दीदी इन्द्रेश अंकल का लंड अपने मुँह में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगीं.

भाभी थोड़ी घबरा कर बोली- आराम से करना, तेरे लंड के हिसाब से मेरी चूत काफी छोटी है.

थोड़ी ही देर में अचानक से मेरे लंड ने 5-6 पिचकारियों के साथ अंकिता के चेहरे पर हमला बोल दिया और सारा माल उसके मुँह पर निकाल दिया. बड़ी मुश्किल से रुक रुककर मैंने भाभी की गांड में टोपा घुसाया और उसकी पीठ पर लेटकर उसकी चूचियां दबाने लगा.

इससे हुआ ये कि उसने अपनी टांगों को खुला छोड़ दिया था और अब वो अपनी गांड उठाते हुए मुझे चुत चटवाने का मजा लेने लगी थी. उनकी चुत के गर्म पानी से मैं भी पिघल गया और अब मैं भाभी अपनी चरम पर पहुंचने गया था. जब वह मुझसे यह सब बोल रही थी तो यामिना पियोन भी वहीं थी, दरअसल वह मुझे चाय देने ही आई थी.

मैंने अपना लंड पकड़कर उसकी जांघों के बीच में होते हुए उसकी चुत पर रगड़ना चालू कर दिया.

बगल से नदी निकलती थी जिस पर बांध बना हुआ था।चारों ओर बड़ा सा बगीचा है. मैंने भाभी को वहीं घोड़ी बनाया और पीछे से अपना लंड उनकी चूत में डाल दिया. भाभी- धत्त पागल … बताओ न क्या देख रहे थे?मैंने भाभी से बोला- यार भाभी आपका ब्लाउज थोड़ा गीला हो गया है, वही देख रहा था.

कुवारी बहनमैं इतना तो जानती थी कि जहां औरतें ही सिर्फ हों, मर्दों को कोई शक नहीं होता. एकदम से इतने ज्यादा प्रहार हुए तो अनामिका अधमरी हो गई और चीखने लगी.

बीएफ सेक्सी हिंदी गाना वाली

फिर मैंने क्या किया?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा आपका स्वागत करता हूं हिन्दी सेक्स कहानी की सर्वोत्तम वेबसाइट अन्तर्वासना पर।आज मैं आपके लिए अपनी एक अनोखी हॉट लेडी सेक्स स्टोरी लेकर आया हूं. आंटी 5 मिनट बाद अलग हुईं तो मैंने कहा- मैं आपको बहुत पसंद करता हूँ. कमरे की‌ खिड़की पर काले रंग के शीशे लगे हुए थे, इसलिए बाहर से शायरा को तो हम नजर नहीं आ रहे थे … मगर अन्दर से वो मुझे साफ दिखाई दे रही थी.

उसकी गांड और चूत पर मेरा सूखा वीर्य दिख रहा था और वो गांड के दर्द की वजह से ठीक से चल नहीं पा रही थी. अच्छा तुमने अपने पति के बाद किसी और से भी चुत की सेवा करवाई है?अनन्या- नहीं भाभी, मैं करवाना तो चाहती थी … मगर कोई ऐसा नहीं मिला, जो मेरा साथ पूरी तरह से दे. उनकी बात सुनकर मेरे निप्पलों की साइज बढ़ गई थी, जिसका मैंने इज़हार भी किया था.

उस दिन के बाद मैं गांव चला गया और इधर सोनी अपनी शादी की तैयारी में बिजी हो गयी. मैं- भाभी कभी भी ट्राइ कर लेना … अगर कभी आपकी ओर आपके यहां जो दो तितलियां हैं … उनको एक साथ चोद ना दूं, तो मेरा नाम बदल देना. कुछ ही देर में आंटी ने अपने दोनों हाथों से मेरा सर अपनी चूत पर दबा लिया और चूत को मेरे मुँह पर रगड़ने सी लगीं.

सुमंत, महंत और अर्चना, पहली बार अनु से मिलकर बहुत खुश हो गए क्योंकि अनु दीदी बहुत मिलनसार और सेक्सी माल हैं. जैसे ही मेरे लंड से पिचकारी लगने लगी उसकी चूत ने भी एक बार फिर से रस की धारा बहा दी.

मेरे लंड में ना जाने कहां से पहली बार इतना पानी निकला था कि मुझे विश्वास नहीं हुआ.

फिर बोली- तुम्हारा लंड तो पूरा फौलादी बना हुआ है, चाची कैसे इसे अपनी चूत और गांड में ले लिया?मैंने कहा- जैसे आप लोगी भाभी!उन्होंने कहा- दीपू, मेरी चूत बहुत टाइट है. डॉगी बीएफफिर नेहा स्नेहा की तरफ देख कर बोली- मैं मोटी नहीं हूँ … बस थोड़ा शरीर भर गया है. पोर्न वीडियो ब्लू पिक्चरमैंने अपने लैपटॉप पर पोर्न पिक्चर लगा कर छोड़ दी थी और वह हल्का खोल दिया था. अनन्या अब पूरी तरह से खुल चुकी थी और किसी भी नये लंड को लेने के लिए एकदम तैयार हो गई थी.

क्यों तरसा रहे हो?मैंने अपना लौड़ा उसकी चूत पर टिकाया और धीरे धीरे अन्दर उसकी चूत में डालने लगा.

इतने में तो निलेश साहब ने मेरी गांड में लंड लगा दिया और वो मुझे चुम्बन करने लगे थे. मैं उसकी चुचियों में खोया हुआ था, तभी गुलजान ने बड़ी ही हवस भरी आवाज़ में कहा- क्या हुआ … कहां खो गए. मखमली कोटी के नीचे लक्स की बनियान और शॉर्ट्स में अनु दीदी के चौंत्तीस के चूचे और छत्तीस इंच नाप के चूतड़ साउथ इंडियन फिल्मों की लड़कियों की तरह गजब क़यामत ढा रहे थे.

खिड़की पर तेज धूप के कारण नीले रंग का सा प्रकाश अलग ही‌ नजर आ रहा था. क्या करूं जान? बहुत दिनों का प्यासा हूँ ना … इसलिए सब्र ही‌ नहीं हो रहा. धीरू अंकल अपनी उंगलियों से मेरी गांड की चुदाई कर रहे थे और जीभ से मेरी कमर को चाट रहे थे.

बीएफ जानवर वीडियो

प्रभात और सन्ध्या तुम बताओ क्या करें?मम्मी- सन्नी दूसरे कमरे में सोया है. वैसे तो मेरी ताई की उम्र 43 वर्ष की है लेकिन कोई भी उसे देख चोदने के बारे में ना सोचे … ऐसा हो ही नहीं सकता. मेरी माशूका मुझसे इतनी मुहब्बत करती है कि वो हरदम मेरे आगोश में रहना चाहती है.

इस घटना से उसके अहम् को काफी धक्का लगा और वो क्लास के बाद वो मेरे पास आकर माफी मांगने लगा और फिर से एक चान्स देने की बात कहने लगा.

पत्नी के रोने की आवाज सुनकर मेरी आंखें खुलीं तो मुझे भी इस दुखद खबर का पता चला।आनन-फानन में पत्नी के मायके जाने की तैयारियां शुरू हुईं और 1 घंटे के भीतर ही हम दोनों अपनी कार से निकल भी गए।मेरठ से लुधियाना के सफर में मेरी पत्नी शशि के कई बार आंसू ढलक आये क्योंकि उसके मायके में संयुक्त परिवार है तो आपस में लगाव होना स्वाभाविक ही है.

मुझे उसका गर्म गर्म वीर्य अपनी चूत में चलता हुआ साफ महसूस हो रहा था. मारते समय निलेश आपके बारे में कह रहे थे- तेरे सर का हथियार बड़ा मस्त है, कितना मोटा है. रानी मुखर्जी का सेक्सी बीएफमेरे जैसे चुदक्कड़ आदमी के लिए ऐसी चूत का मिलना बहुत किस्मत की बात थी.

फिर उन्होंने गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया जिससे मुझे कंट्रोल करना बहुत मुश्किल हो गया था. मैं मन ही मन खुश हो रहा था और सोच रहा था कि मैं तो आज भी रेडी हूँ मगर चुग्गा डाला है मेरी अनारकली को, तो इसे कल ही देखूंगा. मैं उनकी भरी हुई गांड को भी जोर-जोर से दबा रहा था, बीच-बीच में मैं शॉवर भी शुरू कर देता था.

कहानी के दूसरे अंशट्यूबवेल के कोठे में फुफेरे भाई के साथ नंगीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपने फुफेरे भाई विपिन का लंड चूस रही थी. आंटी थोड़ी देर यूं ही लंड पर चूत टिकाए बैठी रहीं, फिर बोलीं- कैसा लग रहा है?मैंने कहा- ऐसा लग रहा है जैसे सबकुछ मिल गया हो.

आशा करता हूं कि आपको मेरी यह रियल हिन्दी सेक्स स्टोरी पसंद आयेगी और आप इसका पूरा मजा लेंगे.

चारों उंगलियों को उसने मेरी गीली चूत के पानी से भिगो दिया और दुबारा से मेरी पैंटी में से हाथ निकालकर चारों उंगलियां अपने मुंह में लेकर मेरी चूत के पानी को चाट लिया. मैंने उनकी तरफ देखा और कहा- अंकल हो गया, और मत डालो बस इतना ही रहने दो. जब आराम हो गया तो वो बोला कि दीदी कैसा लगा मेरा लौड़ा?मैंने कहा- अच्छा है, पर इतना आराम से क्यों कर रहे हो, थोड़ा तो जंगलीपना दिखाओ न … मेरा पहली बार नहीं है, तो डरो मत, थोड़ा तेज तेज करो.

सेक्सी बीएफ देवर भाभी की हिंदी सनी का लौड़ा लेकर मेरी गांड पूरी खुल चुकी थी और उसका माल अभी भी मेरी गांड में भरा हुआ था इसलिए रवि के लंड से चुदते हुए अब मेरी गांड से पच … पच की आवाज आ रही थी. वो रुक गया और मेरे गाल चूमते हुए बोला- सोना डार्लिंग, कुछ नहीं होगा, थोड़ा सा सह लेना.

मैंने उसके होंठों को चूम लिया और दोनों चुचियों को भी चूमकर अपनी पोजीशन में आ गया. बस फिर क्या था … उसने मेरी चुत की भी वैसे ही चुदाई की, जैसे अनन्या की की थी. वह रोज़ रात को नंगी नंगी मेरे लण्ड से खेलती है और मैं भी उसके नंगे जिस्म से खेलता हूँ।यह वाइफ एक्सचेंज Xxx कहानी मेरी बीवी की अन्तर्वासना के कारण ही बन पायी है.

बीएफ सेक्सी खुल्लम-खुल्ला बीएफ

मुझे पता था कि शायरा पीछे खिड़की पर ही खड़ी है और हमारी बातें सुन भी रही है. भाभी ने अपनी छाती और आगे कर दी और मुझे आगे होकर अपने बूब्स पिलाते हुए सिसकारने लगी- आह्ह … अंकित जोर से चूस … आह्ह … मेरे चूचे … पी जा इनको … इनका दूध निकाल ले चूस चूसकर!काफी देर तक मैंने बूब्स को चूसा और वो मेरे लंड की मुट्ठ मारती रही. मुझे उससे दोस्ती करनी थी और मैं सीधे सीधे उसको कुछ बोल नहीं सकता था.

कुछ देर तक उसके दोनों दूध चूस चूस कर लाल करने के बाद अब मुझे सब्र नहीं था. पूजा बुआ के घर में रात बिताने के बाद अगले दिन मैं काम ढूंढने निकल गया पूजा बुआ भी वर्किंग लेडी थीं, तो वो भी अपने काम पर चली गईं.

यह सारी सेक्स कहानी समीना की बेटी को हमारी चुदाई देखने की पहले की है.

एक रात 11 बजे उसका फोन आया और उसने मुझे सीधा अपने बाथरूम में आने को कहा. मैंने चिल्लाती हुई कह रही थी- आहह … आहह … उम्म … फाड़ दे साले आह … स्सी … चोद मां के लौड़े साले विपिन अपनी बहन को चोदता रह … आह रुकना मत … बहुत मजा आ रहा है. अब मुझे चोदने से ज़्यादा अपनी बीवी को अपने सामने किसी और से चुदते हुए देखने में बहुत मज़ा आता है.

मैंने अपना लंड पकड़कर उसकी जांघों के बीच में होते हुए उसकी चुत पर रगड़ना चालू कर दिया. ममता को लेकर मैं अपने कमरे पर तो आ गया … मगर उस दिन गर्मी इतनी ज्यादा थी कि कुछ करना तो दूर मेरे कमरे में तो बैठना भी मुश्किल हो गया. ताई की चुत तो देखने में ऐसी लग रही थी मानो किसी अप्सरा की गोरी जांघों के बीच कोमल कोमल गुलाबी पंखुड़ी वाली चूत खिली हुई हो.

[emailprotected]भाभी सेक्स पोर्न कहानी का अगला भाग:सलहज और बीवी के साथ ससुराल में सेक्स- 3.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी पिक्चर: मैं पहले दिन से ही समझ गयी थी कि कविता मेरी तरफ आकर्षित थी और अपनी कामवासना मुझसे पूरी करना चाहती थी. मैंने कहा- क्या मोटा है … और क्या फट जाएगी?इस पर संजू शर्मा गई, आखिर थी तो वो एक सभ्य भारतीय नारी ही न.

वाइफ एक्सचेंज Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी को नया लंड लेने की तलब लगी तो उसने वाइफ स्वैपिंग का आईडिया दिया. मुझे एक अजीब सी ठंडक मिलने लगी और मैंने महसूस किया कि उनकी चूचियां मेरी छाती में कुछ ज्यादा ही गड़ रही हैं. मैं ज्यादा देर वहां रुक नहीं पाया और उन्हें चुदाई करते हुए वहीं पर छोड़कर बाहर बरामदे में आ गया.

जब से मैंने भाभी की चूत देखी थी, तब से ही मेरे दिमाग में भाभी की चूत घूम रही थी और मेरा लौड़ा भी खड़ा था.

वो भी मेरे पीछे पीछे अंदर आ गयी और हंसने लगी, बोली- क्या हुआ देवर जी? किसका वेट कर रहे थे इस अवस्था में?मैंने कहा- किसी का भी नहीं भाभी!तो उन्होंने कहा- तो क्या फिर आप हर किसी का ऐसे ही स्वागत करते हो क्या बिना कपड़ों के?अब मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहूँ. चूतड़ों से नीचे आकर मैं उनकी जांघ को किस करने लगा और किस करते करते उनकी पूरी टांगों को चूम डाला. मैंने उससे अपनी प्यास के बारे में बताया है तो उसने वादा किया है कि उसकी समस्या हल होने के बाद वह मुझे अपने उम्र के साथी दोस्तो से मिलाएगी और मुझे उनकी प्यास बुझाने का मौका देगी.