सास दामाद के बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी एक्स वीडियो हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

पति का पर्यायवाची: सास दामाद के बीएफ, देखते ही देखते किशोर का एक हाथ मेरी कमर से होता हुआ मेरे पिछवाड़े तक चला गया और वो मेरे चूतड़ों को सहलाने लगा.

बीएफ सेक्सी वीडियो एचडी

यही भाभी मेरी पिछली कहानीअनजान प्यासी भाभी के घर जाकर चुत चुदाईकी नायिका थी तो मुझे दूसरी बार बताने की जरूरत नहीं है कि वो किस तरह के हुस्न की मालकिन है. हिंदी बीएफ चुदाई कायह मेरी पहली फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी है, जो कि एक सच्ची घटना पर आधारित है.

मैडम ने मेरे पेपर अपने पास रख लिए और बोली- शाम को 4:00 बजे ले जाना. पोर्न वीडियोस फुल हदउसकी चूत बहुत गीली हो चुकी थी, तो मेरा लंड सरसराता हुआ अन्दर तक घुसता चला गया.

अंकल ने कहा- आज नहीं तो कल, तुम्हें ये सब करना ही होगा, आज मैं तुम्हें वो सुख दूँगा जिसे तुम हमेशा मुझे याद करोगी.सास दामाद के बीएफ: पति ने मेरे हाथ को पकड़ कर मेरे मम्मों से अलग किया और एक दूध चूसने लगे.

ननद- अच्छा वो सब छोड़ो, मेरी चुदाई की वीडियो देखोगी!मैं- नहीं, मुझे नहीं देखना.उसने अपने लंड पर थूक लगाकर मेरी चूत में एक जोर का झटका दे मारा और सन्नाटे को चीरते हुए उसका मोटा लंड मेरी चूत की गहराई में घुस गया.

इंग्लिश पिक्चर वीडियो बीएफ - सास दामाद के बीएफ

वो आज मैं अपनी आँखों से देख रहा था।मैंने फिर कविता भाभी के बूब्स दबा दिये.मैंने पूछ भी लिया कि भाभी जी आपको मेरा इतना चिन्ता क्यों रहती है? जबकि आपको तो भईया की चिंता रहनी चाहिए.

उसकी इस बात से मुझे पता चल गया कि ये साली वर्जिन नहीं है, इसे चोदने में कोई दिक्कत नहीं होगी. सास दामाद के बीएफ फिर अपना मुँह सीधा उसकी चूत पर लगा दिया और जीभ से लपलप करके चूत चाटने लगा.

दीदी हंस कर बोलीं- हां तुम्हारे जीजा जी मेरी गांड और चूचियों से बहुत खेलते हैं.

सास दामाद के बीएफ?

कुछ ही देर में भाभी भी पूरे जोश में आ गई थीं और उनके मुँह से ‘आह … आह …’ की मादक आवाजें निकल रही थीं जो मुझे और भी ज्यादा और भी उत्तेजित कर रही थीं. इस बात से मैं काफी खुश हुआ कि वह भी मेरे लिंग की प्रशंसा कर रही थी. करीब 10 मिनट के बाद मैंने उसके मुंह में ही अपना वीर्य गिरा दिया और तब तक लंड बाहर नहीं निकाला जब तक उसने वो लील ना लिया.

लंड एडजस्ट हो जाने के बाद मैंने जोर से धक्का लगाया तो लंड का सुपारा गांड में दाखिल हो गया. मैं बस में खड़ा था, पब्लिक बहुत ज्यादा होने के कारण सब एक दूसरे से चिपके हुए खड़े थे. थोड़ी देर तक उन्होंने अपना लंड अन्दर ही बिना हिलाए-डुलाए घुसाए रखा और मेरे मम्मों को चूसने लगे.

मेरे चुदाई शब्द बोलने से भाभी एकदम से गुस्सा हो गईं और मुझ पर चिल्ला कर बोलीं- अगर तेरा मादरचोद भईया मुझे तुम्हारी तरह मेरा ध्यान रखता और मुझे प्यार करता, तो मैं किसी और से आस नहीं लगाती. प्रिया भाभी बस ब्रा और पैंटी में रह गई थीं और मैं कच्छे में रह गया था. इतना सुनते ही उसने मुझे गोद में उठाया और बोला- कमरा कहां है?मैंने रूम की ओर इशारा कर दिया.

लेकिन जॉब में समय फ़िक्स नहीं होगा, कभी नाइट शिफ्ट भी हो सकती है, कभी 12 घंटे या 24 घंटे भी शिफ्ट रह सकती है. उन्होंने मुझे कहा- रात को तुम घर के अंदर आ जाना।उन्होंने उस दिन रात को अपने घर पर अपने दो सहेलियों को और बुला लिया।मैं रात को घर में गया तो मैंने देखा उन तीनों ने बहुत ही सेक्सी ड्रेस पहनी हुई है।मुझे उन्हें देखकर सच में सेक्स चढ़ गया था।उन तीनों ने मेरे कपड़े खोल दिए.

एक दिन मैं उन्हें डॉक्टर के पास ले गया तो उन्होंने मुझे अपने घर रोक लिया.

पास में नौकरी करने वाले लड़कों का हॉस्टल है, वहां मैं लड़कों से अपनी गांड मरवाता हूँ.

मैंने एक एक करके सबको समझाया और जिनको आबंटन हुआ था, उनको कॉल करके निर्देश देने शुरू किया. हमारे बंगालियों में अक्सर लड़कों kई शादी बड़ी उम्र में ही होती है और लड़कियां ज्यादातर कम उम्र की होती हैं. उनकी बेताबी देख कर मुझे ऐसा लगा, जैसे चाची आज पहली बार सेक्स कर रही हों.

तभी अचानक से आंटी ने ज़ोर से आवाज निकाली- आआयय गयई मैं!ये कहते हुए जेनीका ने अपनी कमर को दो तीन झटके दिए, फिर वो शांत हो गयी. उसी दरमियान मैंने स्वाति की साड़ी का पल्लू हटा दिया और उसके ब्लाउज के ऊपर से उसके मस्त संतरों को दबाने लगा. भाभी ने प्यार से मुझे माथे में चूमा और कहा- बड़े दिनों बाद ऐसा लंड औरयौन संतुष्टिमिली है.

उसकी गांड में ऐसा जादू था कि मरीज सिर्फ़ उसकी गांड देखने के लिए बार बार आते थे.

मैंने कहा- तुम झूठ बोल रही हो स्वाति, भईया ने तो तुमको छुआ ही होगा और तुम्हारी चुदाई भी की होगी. अब मैंने अपनी दोनों टांगें खोल दी थीं जिससे वो मेरी बुर और मेरी जांघों को और अच्छे से सहला सके. मेरी पिछली सेक्स कहानीXxx ब्रदर सिस्टर कहानीमें आपने मेरी और दूर की रिश्ते में लगने वाली दीदी की चुदाई की कहानी में पढ़ा था कि मैं दीदी को स्कूटी सिखाने ले गया और सुनसान जगह में स्कूटी खड़ी करके उन्हें हचक कर चोद दिया था.

कुछ मिनट बाद उसने मॉम से पूछा- आंटी कैसा लगा?मॉम बोलीं- बड़ा सुकून मिल रहा है और ऐसे सुकून की तो तू कोई भी फीस मांगेगा, तो मैं दे दूँगी. वो मेरी बताई हुई जगह पर मुझे लेने के लिए अपनी कार लेकर मेरे से पहले उधर पहुंच गई. भाभी- और तुम ये बताने में डर रहे थे!भाभी ने ये कहते हुए अपने मम्मे मेरे सामने तान दिए.

दूसरे ने मेरे पैरों को पकड़ लिया और एक ने मेरे हाथों को पकड़कर मुझे कुर्सी से उठा दिया.

कुछ देर बाद पाखी ने खुद मेरे ऊपर आकर मुझे पूरा नंगा किया और मेरी छाती समेत सारे शरीर को अपनी जीभ से चाट कर मुझे गीला कर दिया. भाभी के पास मेरे ऑफिस आने का कोई साधन नहीं था, तो मैं ही बाइक लेकर उनके घर पहुंच गया.

सास दामाद के बीएफ दोस्तो, मैं मोहित आपको अपनी सगी बहन की सीलपैक चूत और गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था. [emailprotected]वाटर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बैचलर पार्टी में मेरी सामूहिक चुदाई- 3.

सास दामाद के बीएफ मैं- भाभी आपने गांड में लंड घुसवाने का आज तक ट्राय नहीं किया क्या?भाभी- नहीं, मुझे चूत चुदवाना ही पसन्द है. आंटी तुरंत वरूण से बोलीं- बेटा मेरे कमरे में लगेज रखा है, उसमें एक इंटरनेशनल ब्रांड की व्हिस्की रखी है.

बोल क्या है?मैंने बुआ से पूछा- बच्चे सो गए क्या?वो बोली- राज दरवाजा बंद है.

बीपी सेक्सी विडियो

मैंने आंटी के कान में कहा- आंटी, सेक्स राइड चाहिए तो बोलो, मैंने इंतजाम कर लिया है. मैं बोला- भाभी अभी घर में सिर्फ हम दोनों है, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. एक दो प्रेमिका तो होंगी ही!मैंने कहा- नहीं वंदना जी, मेरे पास कोई प्रेमिका नहीं है.

मेरा फिर मन करने लगा, मैंने उनको पीछे से बांहों में भरके चूचियां को पकड़ लिया. मैं चौंक कर बोला- क्या … मेरे सालों ने तुमको चोदा था!कोमल मुस्कुरा कर बोली- हां. फिर मैंने नीतू से पूछा- गांड मरवाने के लिए तैयार हो?नीतू बोली- हां भैया, मैं तो कब से तैयार हूँ.

उसी समय वो एकदम से उठ गई और उसने कहा- ये तुम क्या कर रहे हो?मैंने न जाने किस झौंक में कह दिया- कामिनी, मुझसे कण्ट्रोल नहीं हो रहा है.

कभी वे मेरे मम्मे दबाते, कभी मैं उनका लंड सहलाती, वह मेरे मम्मे चूस लेते, मेरी चूत में उंगली कर देते, कभी मैं मौका पाकर उनका लंड चूस लेती. अपने नए साथियों को एक बार पुन: बता देती हूँ कि मेरी उम्र 37 साल की है और मेरा जिस्म 38-32-40 का है. उसने अपने खड़े लंड को हाथ में लिया और मुझे उठकर लंड पर बैठने को कहा.

कुछ देर रुकने के बाद अब राजेंद्र हल्के-हल्के धक्के लगाने लगा और उसके धक्कों के साथ ही मेरी चूत में इमरान का लंड और मुँह में प्रकाश का लंड अपने आप अन्दर बाहर होने लगा. मेरी भी सगाई बचपन में हमारे पड़ोसी रिश्तेदार वैशाली के साथ तय हो गई थी. इसलिए जब कॉल करूं, तब आना, मैं आगे का गेट खुला छोड़ दूंगी।अब तक 1-30 बज चुके थे और सुबह से मैं भूखा था और चूत चोदने की भूख वो अलग लग रही थी.

शमशुद्दीन जी ने अरुणिमा का चेहरा पकड़ कर उसका मुँह अपने लंड से चोदना चालू कर दिया. उन्होंने मेरे दोनों कंधों पर अपना वजन डाल कर मुझे नीचे बैठा दिया और मेरे मुँह को पकड़ कर मेरे मुँह में लंड डाल दिया.

मैं भाभी के सम्पूर्ण गदराए बदन और शरीर को अपने होंठों से बड़ी ही बेहरमी से चुम्बन किए जा रहा था. उसके चूचे मेरे जिस्म से चिपके हुए थे, जिससे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. वो- आंह निकालो बाहर … मर जाऊंगी … मुझे पानी दो पानी … प्यास लगी है … आंह निकालो बाहर.

कुछ दिन बीत गए और उसे मुझसे प्यार हो गया लेकिन मैं अपने ऑफिस में व्यस्त रहता था और वो अपने घर में.

दीदी कुछ भरे गले से बोलीं- तुम मेरे अलावा किसी और को नहीं देखोगे, भले शादी के बाद अपनी बीवी से कर लेना, पर अभी मुझे ही अपनी बीवी समझो. तू बस हामी भरवा कर आ जा, बाकी सब कुछ मुझ पर छोड़ दे … आज मैं भी तुझे एक्स्ट्रा माल दूंगी. उसके चेहरे पर गुस्सा साफ नजर आ रहा था और उसके दोस्त मुझे घूरे जा रहे थे.

मेरा लंड भाभी की चूत को चीरता हुआ गहराई में चला गया और भाभी जोर से चिल्ला उठीं. भाभी ने कहा- यह तो बहुत नाइंसाफी है!और तुरंत उन्होंने एक झटके से मेरे अंडरवियर को उतार दिया और फिर कहा- हां अब हुई ना बराबर की बात!इस बात पर हम दोनों मुस्कुरा दिए.

हुआ यूं कि मैं दीवाली पर मेरी मम्मी को लेकर अपने मामा के यहां गया था. मैंने टाईट जींस और टाईट टॉप पहना हुआ था, बाल खुले हुए, माथे पर बहुत छोटी सी बिंदिया, लाल गाल, टाईट चूचे. उसे किस करते करते मैंने उसकी टी-शर्ट को खोल दिया और चुचे सहलाने लगा.

सेक्सी फिल्म बीएफ व्हिडिओ

मैं और भाभी एक दूसरे की बांहों में आ गए और करीब दस मिनट तक हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर चूमाचाटी के साथ बातें करते रहे.

बोलो आशु तुमको क्या चाहिए?मैंने भी बोल दिया- आपकी चूत को चोदना चाहता हूँ. अब तक आपने मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमुझे चाची से मुहब्बत हो गयीमें पढ़ा था कि मैं चाची के साथ एक गुमटी पर चाय पी रहा था और हम दोनों प्यार मुहब्बत की बातें कर रहे थे. इसके बाद सुकेश ने मुझे एक फोटो भेजी और वो फोटो देखते मेरी आँखें खुली ही रह गई.

चाची बोलीं- पक्का ना … हम जाएंगे ना!मैं बोला- हां मेरी प्यारी चाची जी, हम जरूर जाएंगे और खूब चुदाई करेंगे. उन्होंने मुझे अपनी बांहों में भर कर मेरे होंठों को चूम लिया, फिर चूमते हुए मुझे वापिस बेड पर लिटा दिया. बीएफ हिंदी मूवी एचडीकोई पन्द्रह मिनट तक मुझे धकापेल चोदने के बाद राजेश ने अपने लंड को चूत से बाहर खींचा और उसका गर्मागर्म माल मेरी चूत के ऊपर झाड़ दिया.

उन्होंने मुझे आवाज लगाई- प्रियांश, मम्मी कहां हैं?मैंने लंड अन्दर करते हुए कहा- भाभी, मम्मी मार्केट गई हैं. भाभी के बिस्तर पर पहले से उनका 5 माह का बच्चा सोया हुआ था तो मैंने उनके बच्चे को चुपचाप उठाकर झूले में ले जाकर सुला दिया.

वो बोलने लगीं- विकास प्लीज़ अब डालो ना!अब हॉट चाची चुदाई के लिए बेचैन थी, मैं भी देरी ना करते उनके होंठों को चूसने लगा, बूब्स को भी चूसा. मैं उसके साथ सेक्स तो करना चाहती थी मगर उससे ये सब कैसे कहूँ, ये समझ नहीं आ रहा था. मैं बोली- लेस्बियन फिल्म क्यों बनाना?नीरज बोला- लेस्बियन पोर्न की मार्केट में डिमांड है.

मैंने कहा- चल ठीक है, किसी लड़के वाले का फोन आएगा तो मैं आपको बता दूँगा. उसके दोनों मम्मे अब मेरे बिल्कुल सामने थे, मैंने उसके एक मम्मे को मुंह में ले लिया और अब भी मेरा लंड उसकी चूत के अंदर था. हम दोनों कुछ देर बाद नहा कर बाहर आ गए और बिस्तर पर लेट कर आराम करने लगे.

वह अपनी चूत पर मेरी जीभ का ऐसा प्रहार पाकर बहुत मज़े से चूत चटाई करवा रही थी.

भाभी- मेरे पति पिछले बीस दिन से घर पर नहीं हैं और अभी दस दिन और नहीं आएंगे. शुरू शुरू में वो नाक भौं सिकोड़ती थी, मुँह बनाती थी … लेकिन ब्लू-फिल्म देख कर धीरे धीरे लंड चूसने की अभ्यस्त हो गई और उसने बहुत अच्छे से लंड चूसना शुरू कर दिया.

ट्रेनर- ग्राहक का लंड कंडोम लगा कर और चूत डेंटल डॅम लगाकर ही चूसना है, इससे बीमारी का ख़तरा नहीं होता. मैंने कहा- तू मुझसे कहता, तो मैं तेरा हिला हिला कर तेरी गर्मी निकाल देती लेकिन तुम तो बहन को ही अपनी रंडी बनाने वाले थे. भाभी को इन सब बातों का अहसास था कि मोहल्ले के सभी लड़के उनको वासना भरी नजरों से देखते हैं लेकिन भाभी किसी को भाव ही नहीं देती थीं.

मैं उनके कपड़े निकालने लगा और जल्दी ही उनको सिर्फ पैंटी में करके बेड पर धक्का दे दिया. मैं सिर्फ़ यही चाहता था कि मैं उन्हें दिखूं और उन्हें ऐसा लगे कि मैंने उन्हें कपड़े बदलते देख लिया है. कहानी के पिछले भागशादी के बाद सुहागरात की बेसब्रीमें आपने पढ़ा कि शादी के बाद दुल्हा दुल्हन ने सुहागरात मनाई, उसके बाद विदेश में हनीमून की मस्ती की.

सास दामाद के बीएफ नीतू कराहने लगी- उई मां … आंह भैया दर्द हो रहा है … प्लीज़ निकाल लो अपने लंड को. कामिनी हंस पड़ी और बोली- हां रे … मेरा दिल आ गया था तेरे पे!हमारे बीच ऐसी ही बातें होती रहीं.

बीएफ हिंदी में ब्लू फिल्म

अरुणिमा एक प्रोफेशनल रंडी और उनकी आज्ञाकारी रखैल की तरह तुरंत विश्वेश्वर जी के टांगों के बीच आ गई और उनके सोये हुए लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. कोमल बोली- ऐसी ही सोती रहोगी तो तुम्हारी शादी कभी नहीं होगी … और ना ही तुम्हारा फिगर सही होगा. इस तरह जब भी हमको मौका मिलता, हम एक दूसरे के साथ सेक्स कर लेते और एक दूसरे को संतुष्ट कर लेते.

दूसरे दिन मुझे फिर जाना था, लेकिन मैं कल वाले हादसे के बाद डर रहा था. मैंने नैना के माथे पर किस किया और उससे कहा- नैना, आज अपनी रात का मजा ले लो … तुम भूल जाना कि वो मेरा कजिन है. चाची का भोंसड़ाज़्यादातर पति पत्नी, गे, लेस्बियन जोड़ी को कुछ साल बाद सेक्स नीरस लगने लगता है.

उसने अपनी आंखें खोलीं, अपना चेहरा मेरे चेहरे से थोड़ा दूर करके मेरी ओर देखा.

उसने सारा माल चाट चाट कर साफ कर दिया और अपनी पोजीशन बदलते हुए मेरे ऊपर आकर अपने पैर मेरे सिर की तरफ कर दिये और दुबारा से मेरी चूत को दोनों हाथों से फैला कर चूसना शुरू कर दिया. अब प्रिया भाभी कहने लगीं- पैरी, अब मुझे चोद दो, लंड अन्दर डाल दो, बहुत दिन हो गए चुदे हुए.

दिन भर मैं अपने दोस्तों के साथ था, पर जब मैं शाम को घर पर आया तो देखा कि बड़े पिताजी के बेटे आए हुए हैं. कुछ देर बाद भाबी का दर्द भी कम हो गया और वो भी चुदाई का मज़ा लेने लगीं. कोमल ने मुझे अपनी तरफ बुलाया, फिर हम ऊपर कमरे वाले कमरे में चले गए.

मां खड़ी हो गईं और हंस कर बोलीं- इतना मजा मुझे इस उम्र में और कोई नहीं देगा.

मेरे जिस अंग पर उसका हाथ पड़ता, वहां के रोम अपने आप खड़े होते जा रहे थे. Xxx लड़की सेक्स कहानी में पढ़ें कि अंकल से चुदाई के बाद मुझे बड़े लंड की जरूरत थी. मैं अपना लंड धीरे धीरे डालने लगा और अंजलि चाची चिल्लाती रहीं- आआह ऊऊह उई मां अअह मेरी चूत फाड़ दी इस्स!मैं लंड को जोर जोर से उनकी चूत में पेल रहा था.

क्षक्षक्ष काममुझे लगा कि अरुणिमा की मोबाइल की बैटरी कम रही होगी और बाकी लोग आने से पहले मोबाइल स्विच ऑफ कर के रखे होंगे. भाभी के मुलायम और गुलाबी होंठ चूसे जाने से और भी ज्यादा गुलाबी हो गए थे.

बीएफ चाची की चुदाई

मुझे ऐसा लग रहा था कि पायल अपनी नाभि रोज़ अपने पति के लंड से चुदवाती है. वो हंसी और उसने अपनी टांगें खोल कर चूत दिखाते हुए कहा- सॉरी को अपनी गांड में डाल लो और इधर आओ. तू मुझसे नाराज तो नहीं है ना!यह कहते हुए उन्होंने मेरे मुँह से तकिया हटा दिया.

उसे दारू पीते हुए जब नशा होने लगा तो वो मुझसे बोला- डार्लिंग मेरा लंड तुम्हारी गांड में मस्त फंसा है … तुम भी देखो न!मैं बोला- यार मैं उल्टा लेटा हुआ हूँ, मेरी गांड मुझे नहीं दिखती. सीखने वाले/वाली जब अपने होंठ जीभ चूसने देते, तो परीक्षक बताते कि होंठ, जीभ चूसने देने से कैसे बचना है. मैं भाभी से कुछ देर बात करता रहा और इसके बाद मैंने जब उससे पहले गांड मारने की बात की, तो वो सन्न हो गई और घबराने लगी.

मैडम की निगाहें मेरे उभरे हुए पैंट पर थीं, जो कि मेरे पैंट के अन्दर से झांकते हुए लंड को देख रही थीं. कहानी के पहले भागमुठ मार कर अपनी वासना का हल कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने बाजू वाले चाचा की लौंडिया फौजिया को चुदने के लिए राजी कर लिया था और वो मेरे घर के एक कमरे में नंगी पड़ी थी. मैं उसकी तारीफ़ से खुश हो गई और बोली- मस्का बाद में … पहले ये बता कि रूपया कितना दोगे?नीरज बोला- अब सब कॉल पर ही बात नहीं कर सकते यार, तू विम होटल आ जा, वहीं बात करते हैं.

मैंने कहा- डार्लिंग, एक बार मेरे लिए इतना भी नहीं कर सकती?मुझे चुदाई में असली मजा लंड को चुसवाने में ही आता है. फिर मैंने उससे कहा- वैसे तूने अब तक लंड तो अपनी चूत में लिया है न!बहन हंस कर बोली- तुझे क्या लगता है?मैंने कहा- मुझे तो लगता है कि तूने अपनी गांड में लंड पक्का लिया है.

इन दोनों चुदक्कड़ औरतों की कहानी मैं आपको अगले भाग में जरूर बताऊंगा.

मैं पांच मिनट उसके ऊपर ही पड़ा रहा वो मेरे पूरे चेहरे हो बड़े ही प्यार से चूम रही थी. सनी लियोन की बफतुम सब लोगों की जांच हो गयी है, किसी को भी कोई यौन या अन्य रोग नहीं है. खुल्लम खुल्ला नंगा सेक्सी वीडियोअब उन्होंने अपने मोटे लंड को मेरी चूत पर रख दिया और एक बार में चूत में धकेल दिया. मॉम उछलती हुई लंबी लंबी सांसें लेने लगीं- आआहाअ आहाअ मज़ा आ रहा है जेनीका डार्लिंग यू आर एन एक्सपर्ट सक मी.

आपको मेरी ये पहली रियल सेक्स की कहानी कैसी लगी मुझे मेल कर के जरूर बताना.

मैं मेज पर लेट गई और अपनी टांगों को खोलकर अपनी मासूम सी बुर को उसके सामने रख दिया. उसके जोर से दबाने से मुझे अपने मम्मों में बहुत दर्द महसूस होने लगा था क्योंकि मेरे स्तन बहुत टाइट रहते थे. सुबह कसरत के बाद हॉल में हुई, जहां 8 पलंग थे, जिन पर रात को हम आठों सोते थे.

ननद ने देवर के लंड पर कंडोम चढ़ाया और बोली- लो भैया, भाभी की चूत को चोदो. भाभी ने मेरे लंड को अपनी चूत के दाने पर टिकाया और उसे धीरे धीरे अन्दर लेना शुरू कर दिया. मैंने अरुणिमा को बुलाया और कहा- मैं ऑफिस से आ रहा हूँ, जब तक तुम हमारे मेहमानों का ख्याल रखो और खातिरदारी में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए.

பிபி எக்ஸ் வீடியோ

साढ़े नौ बजे तक भी पूरा मामला निपट नहीं पाया था, तो मैंने सोचा कि अरुणिमा को कॉल करके खाना लगा देने को कह दूँ. फिर नीलिमा ने कहा- समीर, बस अब और मत परेशान कर, जल्दी से एक बार चोद दे … ये साली तेरी रंडी बुआ ने तो अपनी आग बुझा ली है, अब मेरी भी बुझा दे. कुछ देर बाद जब मैंने हाथ पटके और इशारा किया, तो उसने लंड बाहर निकाल लिया.

शायद लौड़े के बड़े और मोटे होने के कारण पूरा अन्दर तक लेने में उसको तकलीफ हो रही थी.

मेरा फिर मन करने लगा, मैंने उनको पीछे से बांहों में भरके चूचियां को पकड़ लिया.

मैं तुरंत रुक गई।मुझे उसने खड़ा किया और पास ही कपड़े बदलने की कमरों की दीवार पर झुकाया. अब मेरा 4 इंच का लन्ड कितना अंदर जाता!आंटी आंखें बंद करके मज़ा ले रही थी।फिर वे घोड़ी बन गईं. मोटी मोटी औरतों की बीएफऔर हम किस करते रहे।अचानक उसने मेरा हाथ लेकर अपनी गांड पर रख दिया और मैंने उसकी गांड को सहलाना शुरू कर दिया.

वो बस लंड अन्दर गाड़ कर चोदे जा रहा था और पानी के अन्दर जोर-जोर से झटके मारे जा रहा था. अचानक मेरी श्रीमती जी ने मुझसे कहा- पड़ोस वाले वर्मा जी के यहां पर बिजली चली गई है. मैंने उससे पूछा तो उसने हंस कर हां में सर हिला दिया कि वो अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुदती थी मगर अभी काफी दिनों से नहीं चुदी थी.

बारहवीं क्लास की एक लड़की, जिसे मैं काफी पसंद करता था … परंतु उसे कभी बोल नहीं पाया था. भाभी ने हंस कर कहा- जो आपने मेरे और मेरे परिवार के लिए किया है, उसके लिए मैं आपकी सदा के लिए आभारी रहूंगी.

जब पायल ज़्यादा गर्म हो गई तो वो मुझसे बोली- यश, अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

गुलाम हाथ पीछे करके खड़ा, हर बार मार पड़ने पर धन्यवाद या थैंक्यू कह रहा था या थी. मॉम चुपचाप उसके उसके लौड़े पर बैठने लगीं तो वो चिल्लाया- साली बहन की लौड़ी गांड का छेद लंड पर सैट कर, अपना भोसड़ा नहीं. रात को खाना वगैरह हो गया और हम सब लोग बिस्तर पर आ गए।वो दोनों मैक्सी पहने थीं.

बांग्लादेशी बीएफ सेक्सी उनका नाम विश्वेश्वर था और मैं उनका बहुत ज्यादा कृपा पात्र था, जिस वजह से मेरा कोई काम रुकता नहीं था. भाभी ने बताया- आप मुझे बहुत प्रिय हो, साथ ही साथ आप मुझको बहुत अच्छी तरह से समझते हो और मुझे कभी भी उदास देखना आपको पसंद नहीं है.

मैंने भी उसे अपनी बांहों में भींच कर चूमा और हम दोनों नंगे ही चिपक कर बात करने लगे. इस आसन को ज्यादा देर तक नहीं कर सकते थे, मुझे अपने भी डिस्चार्ज होने का डर था. चाची बोलीं- हां हम जरूर साथ में नहाते, लेकिन तुम्हारे चाचा का फोन आने की वजह से मेरी नींद खुल गई.

हिन्दी सेक्सी मुवि

उन्होंने एक जोर का झटका मारा, पूरा लौड़ा सट से अंदर चला गया।उसके मोटे लौड़े से मुझे मीठी सी चुभन हो रही थी, इतना मोटा लौड़ा मैंने अभी तक नहीं लिया था. उसने नीतू को भी लंड दिखाया और मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. दोस्तो, जिंदगी में सभी किसी न किसी फ़िल्म की हीरोइन को चोदने का सपना देखते हैं और शायद मेरा वो सपना पूरा हो रहा था.

बस बीच बीच में वो कपड़े सुखाने उतारने के बहाने छत पर चली जाती थी।ताकि पड़ोसियों को कोई शक ना हो।और इन दो दिनों में हमने कम से कम 12 बार चुदाई की. मुझे चूमते हुए उसने मेरी सलवार कमीज दोनों ही निकाल दीं और अपने भी कपड़े निकाल दिए.

फिर मैंने लंड को थोड़ा हिलाया और आगे पीछे किया जिससे फिर से मेरा लंड कड़क हो गया.

मम्मी के पूछने पर मैंने कह दिया कि रात को बहुत सारी लड़कियां धर्मशाला के दूसरे कमरे में अंताक्षरी खेल रही थीं. फिर मैंने अपनी बहन को सोफे पर झुका दिया जिससे नीतू की गांड मेरी ओर हो गई. ’जोगी सर ने अपना एक हाथ मेरी कमर पर रखा और दूसरे हाथ से मेरी चोटी को पकड़ लिया.

उन्होंने जोर जोर से किसी मदांध सांड के जैसे झटके मारे कि मेरी जान ही निकल गई. [emailprotected]अगर आपने मेरी पिछली कहानीखेत में भैया और उसके दोस्त ने चोदानहीं पढ़ी है, तो इसे भी पढ़ कर मजा लें. उनकी श्रीमती जी ने बिजली रिपेयर करने वाले को फोन किया था लेकिन वह फोन नहीं उठा रहा है.

कुछ सेकंड देखने के बाद उसने खुद से ही मुझे किस किया, जिससे मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया.

सास दामाद के बीएफ: कमरे के अन्दर एक बिस्तर बिछा हुआ था और उस घर के आगे और पीछे दोनों तरफ दरवाजा था. वर्जिन सिस्टर सेक्स में मुझे दर्द इसलिए हुआ था क्योंकि मेरा भी पहली बार का सेक्स था, पर मुझे इतना मजा कभी नहीं आया था.

मैं उस समय अपनी दीदी की गांड को दबा रहा था और हल्के हाथों से थपकी भी मार रहा था. फिर उसने दूसरा हाथ कम्बल के अन्दर से ही मेरी शर्ट में डाल दिया और मेरे सीने के दानों को मसलने लगी. अगली बार आपको ऐसी ही किसी ग्रुप सेक्स की कहानी का मजा मिलते ही लिखूंगा.

दस मिनट बाद मैं कमरे में आ गई तो देखा कि पहलवान जी चित पड़े थे और उनका लंड सिकुड़ गया था.

दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो उसने उठ कर मुझे खड़ा किया और जोर जोर से मुँह में लंड लेकर हिलाने लगी. कमरे में लाते ही मैंने आंटी को बेड पर पटक दिया और झट से उल्टी करके गांड को चाटने लगा. अब मैं धीरे-धीरे लंड को चाची की गांड के गहरे कुंए में उतारने लगा और एक दो शॉट में पूरा लौड़ा गांड में उतार दिया.