बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो हॉलीवुड पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

कुमारी लड़कियों के बीएफ: बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में, जब शाम के 7 बजे के आसपास मेरी नींद खुली और मैं अपने रूम से बाहर आया.

गांव की लड़कियों की सेक्सी ब्लू पिक्चर

बायआपकी पिंकी सेन[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 8. ब्लू फिल्म सेक्सी बीपी पिक्चरलंड घुसाकर चाचा बोले:तेरी जवानी का पी जाऊंगा आज रात सारा रस,अपने मोटे लन्ड से बुर को कर दूंगा तहस-नहस।खाली तू मोटे लंड के प्रहार को सहती जा,आह्ह … उह्ह … अह्ह … यही शब्द सिर्फ तू कहती जा।शायरी समाप्त कर वे उसकी जांघों को पकड़कर फिर से चूतड़ों को आगे-पीछे करने लगे। मैं तो उनके 65 साल के जोश को देखकर दंग रह गया.

पीछे उसका पति मधुराज गुप्ता हम दोनों को चुदाई का मजा लेते हुए बहुत ही ध्यान से देख रहा था. देहाती सेक्सी वीडियो भोजपुरी गानामैंने सफेद कुर्ता पहना था, उन्होंने उसको ऊपर कर दिया और मेरी चुचियों को चूसने लगे.

मुझे तो तुम्हारा लंड लेने की आदत है, मगर वो तुम्हारा लंड सहन ही नहीं कर पाएगी.बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में: वो मस्ती में आहें भरते हुए चुदने लगी और मैं भी जैसे जन्नत की सैर करने लगा.

मैं उसके मुंह को दबाये रहा और वो ऊँ … ऊँ … करके अपने दर्द को जता रही थी.मैंने सोचा इसी बहाने मुखिया जी के सारे मजदूर भी मुझे देखकर अपनी आंख सेंक लेंगे.

ट्रिपल एक्स सेक्सी बीपी वीडियो - बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में

सुमन जल्दी से अपनी स्कीम मुखिया को बता दी, जिसे सुनकर वो खुश हो गया.वो चीखी लेकिन मेरे होंठ उसके होंठों पर कसे होने के कारण उसकी आवाज नीचे दब गयी.

अब दुनिया के नियम इंसानों के लिए बने हैं, लंड और चुत इन नियमों को नहीं मानते. बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में करीब आधे घंटे की घमासान सास की चुदाई के बाद मैं उनकी चुत में ही निकल गया.

इस तरह अगले दिन ग्यारह बजे के करीब हम मौसा जी की कार से फार्महाउस के लिए चल दिए.

बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में?

जब मुझसे रुका न गया तो मैंने भाभी को धक्का देकर पटक लिया और उसकी चूत को ऊपर से सहलाते हुए उसके बोबों में मुंह दे दिया. उसका चुदने के लिए बहुत मन कर रहा था इसलिए वो जरा भी हिचक नहीं रही थी. फिर वो जब थोड़ी शांत हुई तो मैंने हल्के-हल्के धक्के देने शुरू किये.

पानी निकलने के बाद सुरेश वहीं लेट गया और उसने सुमन को बांहों में भर लिया. उसके आंसू मेरे सीने के ऊपर गिरते ही मैंने पूछा- मधु क्या हुआ? तुम रो रही हो या आज ज्यादा दर्द हो रहा है?मधु ने कहा- नहीं जानू, आज गर्मी बहुत है न … ऊपर से तुम्हारा इतना बड़ा मेरी चुत के अन्दर घुस गया है, तो मुझे पसीना आ रहा है. गीता- नहीं काका, मुझे डर लगता है कि किसी ने देख लिया या कहीं कुछ हो गया तो!मुखिया समझ गया कि अब चिड़िया जाल में फंस गई है.

बहुत दिन से भाबी को मर्द का प्यार नहीं मिला था इसलिए वो तड़प गयी थी. मैंने चाची की ब्रा के ऊपर से उनकी चूचियों को पकड़ लिया और दबाते हुए चाची के ऊपर लेटते हुए होंठों पर होंठों को रख दिया. [emailprotected]देसी सेक्स का खेल कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 9.

मेरी कामुक नजरें दीदी के बदन पर पड़ी तो …नमस्कार दोस्तो, मैं राज, उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं. मैंने देखा कि ये वही लाल रंग की ब्रा पेंटी का सैट था, जो हमने मार्केट से खरीदा था.

मेरा लिंग बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया था, इसलिए एक मिनट तक हिलाते ही मेरे लिंग ने पानी छोड़ दिया.

मुझे चूत भले ही खुली हुई मिली थी लेकिन गांड टाइट मिल गयी थी चोदने के लिए। मैंने आंटी की गांड के छेद पर लंड को लगाया और उसकी गांड में अंदर पेल दिया.

ब्लैक ब्रा में कैद रूचि के एकदम गोरे गोरे मम्मों को देखकर राहुल मानो पागल हो रहा था. सन्नो- लंड चूसने की बड़ी जल्दी है तुझको … चल तू भी क्या याद करेगी, मेरे रहते तुझे फ़िक्र की जरूरत नहीं है. उन्होंने पूरे जोर से पेटीकोट को पकड़ लिया था। इधर मैं भी उनके पेटीकोट को खोलने के लिए पूरा जोर लगा रहा था लेकिन वो पेटीकोट खोलने ही नहीं दे रही थी।फिर मैंने ज़ोर से झटका देते हुए उनके हाथों से नाड़े को छुड़ा दिया और उनका हाथ हटते ही मैंने तुरंत पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया.

आपको यह देसी इंडियन चुत चुदी कहानी कैसी लगी? मेल और कमेंट्स करके मुझे बताएं. मैंने अपने दोस्त से वो जगह पूछी जहाँ मैं गाड़ी में सेक्स कर पाऊं- भाई अपनी गर्लफ्रैंड को गाड़ी में कहां चोदने ले जाता था तू?दोस्त- भाई, शहर से बाहर!मैं- कहां? कोई जगह भी तो होगी भड़वे? काम के टाइम पर ही बातें चोदनी होती हैं तुझे?दोस्त- भैनचोद सुन तो ले?फिर उसने मुझे एक ऐसी जगह बताई जिसके मालिक स्वयं मेरे दोस्त के ही परिचित लोग थे. पहली बार मेरा लंड किसी चूत में गया था और सच कहूं दोस्तो तो कितनी भी मुट्ठ मार लो लेकिन चूत में जब लंड जाता है तो उस जैसा मजा और किसी चीज में नहीं है.

आंटी किचन में थी और बार-बार मेरी ओर देख रही थी और दोबारा से अपने काम में लग जाती थी.

सुरेश- कहां चली गई थी तू … पता नहीं यहां कितने काम होते हैंमीता- मैं तो यहीं बाहर ही थी. वो अब अपने आपे से बाहर आने लगी थी और इंग्लिश में चिल्लाने लगी थी- आह फॅक मी हार्ड … यू आर मेक मी हॉर्नी. मेरी गर्लफ्रेंड की बुआ की लड़की है संजना! एक बार वो भोपाल आई हुई थी.

उसके बाद उसने क्या किया?दोस्तो, मैं राज सिंह उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले से हूँ. इस बार में गाली देकर चिल्लाई- आह … बहनचोद … चोद दी मेरी मां … साला लंड है या टावर … आह तोड़ दिया मेरा एक एक अंग … कमीने. मुखिया- चल मान लिया … मगर ये बता कि तू मुझको नहीं बताता, तो ये सब कैसे करता?कालू- मैं कहां कुछ करता मालिक.

कुछ देर तक उसकी चूत को चाटने के बाद मैंने फिर से पैंटी को वापस पहना दिया.

जब मामी पूरी तरह से तड़प गयी तो मैंने उनकी चूत से उंगली को बाहर निकाल लिया और चाट लिया. अब मेरे पूरे शरीर का दबाव भाभी की गांड पर पड़ रहा था। मेरा लन्ड भाभी की गांड में घुसने के लिए दबाव बना रहा था। भाभी का पूरा जिस्म तपने लगा था। मैं भाभी की गर्दन के पीछे किस करने लगा।फिर मैंने उसके बालों की चोटी को खोल दिया.

बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में मैं बस धक्के पर धक्के देता हुआ अपनी जानू को चोदे जा रहा था और जानू भी गांड हिला हिला कर चुत चुदवा रही थीं. वो तेजी से अपनी गांड को पीछे की ओर धकेल रही थी जिससे थप-थप की आवाज हो रही थी.

बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में मेरी गांड इतनी टाइट थी कि अगले 5 मिनट में ही उसका पानी मेरी गांड में निकल गया. फिर मैंने भाभी को दूसरी तरफ घुमाकर झुका लिया और पीछे से उसकी चूत में लंड दे दिया.

मगर मैं अपनी सहेलियों को दिखाने के लिए उसे अपना बॉयफ्रेंड बनाना चाह रही थी.

बहन की चुदाई का वीडियो

फिर मैं उसे गोदी में उठाके बेड पर ले गया और उसके चुचो के साथ खेलने लगा. वो किचन में नाइटी में खड़ी थी और मैंने जाते ही उसकी गांड पर लंड सटा दिया. मेरा ईमेल आईडी है-[emailprotected]देसी विर्जिन सेक्स स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:बंगाली भाभी की ननद की अन्तर्वासना- 2.

मैं अपने केले को अंदर बाहर करता रहा और जब उसका गर्म गर्म योनि का द्रव मेरे लन्ड के सिरे के छोटे छिद्र से टकराया तो मेरा उबलता हुआ वीर्य उसके बिल में ही झरने की तरह प्रवाह के साथ बहने लगा. धीरज ने मेरे मुँह से जब ये सुना कि मैं पहले बार गांड में लंड ले रही हूँ, तो वो खुश हो गया और उसने एकदम से मेरी गांड में लंड पेल दिया. अपने होंठों पर पटकने लगी ताकि वो जल्दी से अपने चुदाई वाले आकार में आ जाये.

मैंने सोचा इसी बहाने मुखिया जी के सारे मजदूर भी मुझे देखकर अपनी आंख सेंक लेंगे.

मैंने उसका मुँह अपने मुँह से बंद कर दिया और एक तगड़े झटके में पूरा लंड अन्दर डाल दिया. मैंने दीदी से कहा- अब ब्रा पहन कर दिखाओ न!वो बाथरूम से आने के बाद अपने रूम में गईं. दीक्षा ने मेरे हाथ को पकड़ कर इशारा किया कि थोड़ा रुक जाओ … और आराम आराम से करो.

अब डॉक्टर ने देख लिया, तो सबको पता लग जाएगा और पता नहीं क्या आफ़त आएगी. विक्रम साइड में बैठ गया और मैं सीधी हो गई।आदिल का लण्ड मेरी गांड में था, मैं उस पर कूदने लगी।उसका लण्ड मेरी गांड में अन्दर बाहर होने लगा।थोड़ी देर में वो चिल्लाया- बहन की लौड़ी मैं आने वाला हूं!इतना सुनते ही मैं और तेजी से उछलने लगी. मैंने दरवाजे खोल कर दरवाजे की झिरी से देखा, तो पति महोदय आए हुए थे.

रघु का लंड अब अकड़ कर दर्द करने लगा था, तो उसने मीनू के मुँह में घुसा दिया और उसके मुँह को चोदने लगा. मुझसे और नहीं सहा जा रहा था, तो मैंने उसकी कोमल टांगों को हाथों से फैला कर एक जुल्मी की तरह एक झटके में आधा लंड अन्दर डाल दिया.

सुमन- मुझे बहुत दुख हुआ सुनकर वैसे उसका बच्चा भी उसके साथ ही …कालू- नहीं नहीं मैडम जी उसने चाँद जैसी बेटी को जन्म दिया था. मीता गहरी नींद में थी … मगर ऐसे कुचले जाने से उसकी हल्की सिसकारियां निकल रही थी. किसी लड़की को देखकर उसकी साइज सोचता, कभी किसी के हिलते हुए चूचों में अपने लंड को लेकर सोचने लगता, कभी कोई मस्त आंटी साड़ी में मुझे नंगी कैसी लगेगी, यही सब सोच रहा था.

धीरे-धीरे मैं उनकी पैन्टी के किनारे से हाथ डालकर उनकी चूत सहलाने लगा.

ये बात किसी को मत बताना, नहीं तो मेरी बहुत बेइज्जती हो जायेगी यहां पर।वो कुछ नहीं बोल रही थी और गुस्से में लग रही थी. मुखिया वहां से निकल गया और सुमन कुछ सोचने लगी कि कैसे उसने पहली बार अपनी चुदाई करवाई थी. तीनों एक ही घर में रहते हैं और नजदीक के कस्बे में कपड़ों का शोरूम चलाते हैं.

सुरेश- आह ज़ोर से चूसो ऐइ … मैं गया … आह मेरा पानी निकलने लगा है आह. एक दिन मैं ऐसे ही ग्रिंडर पर सर्च कर रहा था, तो मुझे एक प्रोफाइल दिखी.

मैं बस कामुक सिसकारियां भरने लगी और जोर जोर से बोलने लगी- आह … आह … आह मजा आ गया जान … मजा आ गया आह … और चोदो … जोर से चोदो. मगर वो जिद पकड़े रहे और बोलने लगे कि अगर कोई तुम्हें पसंद आ गया है तो बता दो, हम नीरज की जगह उसे ही अपने साथ ले लेंगे और थ्रीसम चुदाई का मजा लेंगे. ये तो वही लाल साड़ी वाली लड़की थी जिसके लिए मेरा लंड बेकाबू हुआ जा रहा था.

पति के सामने चुदाई

उसको बेड पर ही खड़ी कर लिया और घुमाते हुए उसकी सारी साड़ी खींच डाली.

जब मुखिया को लगा कि अब इससे कोई भी बात मनवाई जा सकती है, तब उसने धीरे से कहा- सुमन तुमसे एक जरूरी बात करनी है. उसने कहा- चूस मेरे लंड को।मैंने सोचा कि आज तो मेरी चूत फटने ही वाली है. वो बोलीं- आह … मज़ा आ रहा है जानू और आगे बोलिए न!मैं बोला- फिर मैं आपको दीवार से टेक लगा कर आपको और ज़ोर से किस करूंगा.

सुमन- नाम क्या है उसका … और ऐसी कौन सी लड़की आ गई, जिससे आप कहने से डर रहे हो. तो मैंने भाबी की प्यास कैसे बुझाई?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम गुड्डू है. सेक्सी वीडियो मुसलमानी एचडीसुमन ने जल्दी से सुरेश की आंखों पर अच्छी तरह पट्टी बांध दी और उसको अपनी कसम दे दी कि जब तक वो ना कहे, पट्टी मत निकालना … और जैसा वो कहे, वैसा ही करते रहना.

कभी डाइनिंग टेबल पर उसे चोद देता, तो कभी किचन की स्लैब पर चुदाई शुरू हो जाती थी. मैंने राजेश को रिक्वेस्ट करते हुए बोला- डार्लिंग … पानी पी लेते हैं, प्यास लगी है.

गुलाबी उभरे होंठ, बड़ी सी काली आंखें और उसके चेहरे पर हमेशा एक तिरछी मुस्कराहट होती थी. अब बोल क्या कहता है!हरी- लेकिन मुखिया से क्या कहेगा?कालू- उसकी चिंता तू मत कर, बस जैसा मैं कहूं, तू वैसा करना. जानते हुए भी मैं अनजान बना रहा और मैंने ऐसा दिखावा किया कि जैसे मैं उसको नहीं पहचान पाया.

फिर मुझे जोर जोर से चोदने लगे और चोदते हुए बोले- डार्लिंग … आज ही पांडेय के पास फोन लगाता हूं. इस पर मैंने मोनिषा से कहा- इतने दिनों से तुझे नींद आ रही थी … और आज तुझे क्या हुआ?मोनिषा ने कहा- भैया मैं ज़मीन पर ही बिस्तर बिछा लेती हूं. तभी कासिब ने अपना लंड मेरी चूत के सुराख पर रखा और दूसरी तरफ अब्बू ने अपना लंड अस्मा की गांड से लगा दिया.

मैंने उसका प्रोग्राम पूछा, तो उसने कहा कि मैं यहां सिर्फ दो हफ्ते के लिए ही आई हूँ.

फिर जब बीच रात में मेरी नींद खुली तो मैंने पाया कि बाहर बारिश का शोर हो रहा था और मामी मेरे रूम में अंदर लेटी हुई थीं. यहां इस पुराने से घर में अच्छा नहीं लगता था, इसलिए मुखिया जी ने हवेली में हमको शिफ्ट कर दिया है.

सन्नो सोचने लगी कि कहां वो इसको मुखिया के लिए तैयार कर रही है … और ये उसकी सौतन बनने के चक्कर में पड़ी है. मैंने कहा- फिर तो बहुत दिक्कत होती होगी आपको?भाबी ने हां में सिर हिला दिया. सिमरन तुम्हारा फिगर, तुम्हारे चुचे 34 ब्रा साइज D, कमर 28 और गांड 33 इंच है.

उसके चेहरे पर मदहोशी छा गयी थी और उसके मुंह से जोर जोर की सिसकारियां निकल रही थीं. अरी सुलक्खी तू खड़ी क्या है, जा जल्दी से चाय नाश्ते का बंदोबस्त कर साहेब के लिए. लगभग 15 मिनट के बाद सर का लन्ड फिर से उठने लगा।सर बोले- अगर अपनी चूत की खुजली मिटाना चाहती है तो मुँह में ले ले … जल्दी तैयार हो जाएगा लौड़ा.

बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में आह … मेरी तौबा, मेरी मां की तौबा … प्लीज़ इसे लौड़े को बाहर निकाल लो. मेरे पति अभी भी अपने हाथ से ही अपने लंड की मुट्ठ मारने में व्यस्त थे.

સેક્સ.વિડિયો

जैसा कि मैंने लिखा था कि अगली बार मैं आपको सेक्स के साथ कुछ रहस्य रोमांच का मजा भी दूंगी, तो आइए चलते हैं कि आगे क्या हुआ. थोड़ी ही देर में वो चुत की रगड़ाई से गर्म हो गईं और अपनी पैन्टी गीली कर बैठीं. लगभग पांच घंटे की चुदाई के खेल के बाद मेरा जिस्म एकदम से हल्का हो गया था.

इस प्रेम में सेक्स की लहरें किस मोड़ पर कैसे पहुंचती हैं, इस सबका का विवरण आपको अगले भाग में पढ़ने को मिलेगा. मैं बोला- आह्ह … रोको मत भाभी … आपकी चूचियां इतनी मस्त हैं कि मैं उनको भींच भींच कर उखाड़ ही दूंगा. सेक्सी पिक्चर डाउनलोड राजस्थानीइस प्रेम में सेक्स की लहरें किस मोड़ पर कैसे पहुंचती हैं, इस सबका का विवरण आपको अगले भाग में पढ़ने को मिलेगा.

उन्होंने भी मुझ पर नजर मारी, मेरा तना हुआ लंड उनकी आंखों ने भर कर देख लिया.

मेरे वे भाई लोग, जिन्होंने इस तरह से अपनी गांड चटवाई होगी, वो ही इस सुख का अंदाजा लगा सकते हैं. पोर्न फिल्मों में देखी हुई उन चुदाइयों को याद करके मैं अपनी चूत में लंड लिए धीरे धीरे उछलने लगी.

मैं इतनी कामुक हो गयी कि मैंने अपनी दो उंगिलयां अपनी चूत में डाल लीं. सन्नो ने धीरे से लंड पर हाथ घुमाया और रणजीत को बातों में उलझाने लगी. रविवार के दिन मैं बाथरूम में कपड़े धो रहा था कि किसी ने दरवाजा खटखटाया.

मैंने धक्कों की रफ्तार पूरी तेज कर दी और उसकी चूत में पानी छोड़ दिया.

सवेरे सवेरे गांड में एक राउंड चुदाई का चला और उसके बाद चूत में दो राउंड चुदाई के खेलकर मैं अधमरी सी हो गई. उसने पूछा- पापा आप सब कैसे हो?उन्होंने कहा- हम तो ठीक हैं, तुम किस होटल में हो. वो रोते हुए बोली- मर गयी मामू … ये क्या कर दिया … रंडी नहीं हूं मैं … आईई … आह्ह … फाड़ दी मेरी गांड …उई मां … मार दिया।मैंने कहा- तू आज से मेरी रंडी ही है.

हिंदी सेक्सी वीडियो जाने वालीवो बाथरूम के डोर के पास खड़ी होकर उंगली के इशारे से मुझे करीब बुला रही थी. मुखिया जी ने बस हाल चाल पूछने भेजा है … और आपको कोई चीज की जरूरत हो … तो बता दो, मैं ला दूंगा.

सेक्सी हिंदी देसी वीडियो

जब से मेरी अम्मी दुकान पर बैठने लगी थीं, तब से हमारी दुकान और भी अच्छे से चलने लगी थी. होंठ चूसते चूसते अपने दोनों हाथों से दीदी की दोनों चूचियों को मसलने लगा. उन्होंने पहले मेरे पैरों पर साबुन लगाया, फिर वो मेरी जांघों के अन्दर वाले हिस्से पर साबुन लगाने लगीं.

तभी मुझे ध्यान आया कि घर की तीसरी मंजिल पर एक कमरा है जिसमें फ़ालतू सामान पड़ा रहता है. उसके होंठ सूख रहे थे और चुत तो ऐसी टपक रही थी जैसे रस की बारिश हो रही हो. मेरा लंड भाभी के अंदर इतनी जोर से ठोक रहा था कि जैसे उनके पेट में घुस रहा हो.

मैंने भाभी की टांगों में टांगों को फंसा लिया और मेरा लंड भाभी की चूत पर टकराने लगा. इसी को लेकर मैं अक्सर वीजा लेने के लिए चंडीगढ़ जाता रहता था … जिसके लिए मुझे कई चक्कर लगाने पड़ रहे थे. मैंने भाबी की गीली चूत पर मुंह रख दिया और उसकी चूत के रस को चाटने लगा.

उसने नशीली आंखों से मुझे देखते हुए मेरी टी-शर्ट को नीचे से उठाया, मैंने अपने हाथ ऊपर कर दिए और उसने मेरी छाती को नंगा कर दिया. कभी मेरे आंड को कसके दबा देती, तो कभी लौड़े पर दांत लगा कर मुझे चीखने पर मजबूर कर देती.

मैंने अंकिता की कुंवारी बुर में लंड फंसा दिया और उसके होंठों को अपने होंठों से दबा कर एक धक्का लगा दिया.

बड़ी मुश्किल से मैंने मामी को चुदाई के लिए उकसाया था लेकिन उनके बच्चों ने सारी मेहनत और उम्मीदों पर पानी फेर दिया. गांव की देसी सेक्सी वीडियोसकालू- एक बात का ध्यान रखना हरी, वो कोई रंडी नहीं है … कोई बदतमीज़ी ना करना … और पहले उनको खुश करना. स्मृति ईरानी का सेक्सी वीडियोमैंने भी सिसकारते हुए उसकी चूत को अपनी उंगलियों से भींच दिया और हम दोनों तड़प गये. मुझे चोदने के बाद मौसा जी का फोन अक्सर आता रहता और कई बार वो किसी न किसी बहाने से हमारे घर भी आ के दो तीन दिन रुक जाते और मौका देख हम चुदाई के अपने अरमान पूरे कर लेते.

उसकी सिसकारियों की वजह से रोबीना के उठने का डर था इसलिए मैंने समीना को अपनी ओर खींचा और उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूत को सहलाने लगा.

फिर उस रात भाभी ने मुझे दोबारा मौका नहीं दिया और मैंने भी ज्यादा कोशिश नहीं की. मौका देखकर मैं बोला- भाबी , आपको कभी भी किसी काम के लिए मेरी मदद की जरूरत पड़े तो मैं आ जाऊंगा. सुरेश- आज जितना मन है चूस मेरी जान … स्पेशल तेरे लिए दवा लेकर आया हूँ.

मुखिया वहां से निकल गया और सुमन कुछ सोचने लगी कि कैसे उसने पहली बार अपनी चुदाई करवाई थी. जब वो जींस पहनकर कॉलेज के लिए निकलती थी, तो वो अपने मम्मों और गांड को ऐसे हिलाकर चलती थी कि किसी राह चलते बुड्ढे का भी लंड खड़ा हो जाए. पति के दोस्त से चुदाई की सोचकर मेरे ऊपर सेक्स का एक अलग ही नशा चढ़ जाता था.

गांव की छोरियों की सेक्सी

मैंने अपना कौमार्य, अपनी योनि की सील अपने पति के लिए ही बड़े जतन से बचा रखी थी और अब उसे उन्हें ही अर्पण करने की घड़ी आन पहुंची थी. भाभी का रंग ज़्यादा गोरा नहीं था, पर ब्लैक साड़ी में उनका रंग बड़ा खिल रहा था. ये सब घटना सोचकर मेरी चूत में जोर की चुदास जगी और मैं खुद ही सोनू के ऊपर चढ़कर उसको चोदने लगी.

उनकी गांड को मैंने थोड़ा सा ऊपर उठाया और साड़ी को खोल कर उतार दिया.

थोड़ी देर उसके मम्मों से खेलने के बाद उसने मेरी आंखों में देख कर कहा- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं, अब से मैं बस तुम्हारी हूँ.

पानी निकल जाने के बाद उसने अपना लंड निकाला और बाथरूम में साफ़ करने चला गया. मैंने भाभी का हाथ अपनी निक्कर की जिप पर रखवाते हुए कहा- तो क्या हुआ, मैं तो हूं न घर में? आप मेरा अकेलापन दूर कर दो और मैं आपको खुश कर देता हूं. साउथ अफ्रीका ब्लू सेक्सीमैंने उसको बिस्तर से नीचे पैर लटकाकर लेटने के लिए बोला ताकि मैं फर्श पर जाकर उसकी चूत में लंड डाल सकूं.

बालों में प्याज का रस लगाने के बाद मैंने कहा दीदी- जैसे नाई मसाज करते हैं, वैसे कर दूँ. मेरा फ्लैट एक होटल स्टाफ के लिए बनी बिल्डिंग में है, जो 11वीं मंज़िल पर है. मैंने चूत से उंगली निकालकर अपने मुंह में डाल ली और चूत के रस को चाट गया.

सुशी कहने लगी- इतना बड़ा है, इससे मेरी चुदाई कैसे करोगे?मैंने उसकी बात को अनसुना किया और उसे पकड़ कर चूमने लगा. मैंने उसकी तारीफ करना शुरू कर दिया- तुम बहुत अच्छी लगती हो, तुम्हारे लम्बे बाल तुम पर काफी जंचते हैं.

अभी थोड़ी शराब बाकी थी लेकिन मुझे नशा ज्यादा हो गया था तो मैंने पीने से मना कर दिया.

मुझे यकीन है कि ये भाभी की चूत Xxx चुदाई कहानी पढ़ने के बाद आप लोग भी अपने आप पर काबू नहीं रख पाएंगे और जहां भी आपको चुदाई जुगाड़ मिलेगा, आप उसका भरपूर लाभ लेंगे. मैंने धीरे से अंडरवियर भी अपनी जांघों से निकाल कर अलग कर लिया और मैं अब बनियान में मॉम के सामने नंगा था. सन्नो- अब जाने भी दो … और सब जल्दी से खाना खा लो, सरजू तेरे बापू का खाना लेकर जाना, तू भूल मत जाना.

गुजराती भाभी सेक्सी बीपी वीडियो गे सेक्स वीडियो देख देखकर मेरी गांड में लंड लेने की खुजली होने लगी थी. फिर उसकी कोमल टांगों को फैला कर चूत खोली और लंड को चुत की फांकों में फंसा कर धीरे धीरे अन्दर डालने लगा.

पहले मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी, क्योंकि मैं लड़कियों से बात करने में शर्माता था. मेरी कामुक नजरें दीदी के बदन पर पड़ी तो …नमस्कार दोस्तो, मैं राज, उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं. फिर तो मैं तुम्हारा ही वेट करती थी कि कब तुम आओगे और अपना लंड हिलाओगे, तुम्हारा लंड मेरे पति से बहुत लम्बा और मोटा है.

एक्स एक्स वीडियो

फिर मैंने मौसा जी के लंड की लम्बाई का अनुमान कर अपनी कमर को इतना ऊपर उठा उठा कर चुदाई की कि वो मेरी चूत से बाहर न निकलने पाए. एक बार फिर से मैंने आंटी के होंठों को चूसते हुए दूसरा धक्का मारा और अबकी बार मेरा पूरा का पूरा लंड आंटी की चूत में उतर गया. शुरू से ही मैंने आमतौर पर रमेश बाबू या उनके भाई, चचेरे भाई-भतीजे को भी देखा था.

मेरा लौड़ा पूरा सख्त था और मैं उसको देसी आंटी की चूत पर रगड़ने की कोशिश कर रहा था. फिर मैंने धीरे से उनकी एक चूची पर मुंह रख दिया और उसको आराम से चूसने लगा.

धीरज बोला- अरे अजय कैसा है रे!मेरे पति बोले- मैं ठीक हूँ … लेकिन तुम दोनों यहां यह समय कैसे?इकबाल सिंह बोला- यार तू दो दिन से अड्डे पर नहीं आया, इसलिए हम ही चले आए.

मैं बोला- चाची … चिंता न करो, यहां भी वैसा ही मजा दूंगा आपको जैसा रात को चूत में दिया था. लेकिन ये एक षडयंत्र था, जो मेरी सास ने अपनी बेटी के खिलाफ रचा हुआ था. मैं उन दोनों को देखकर पागल हो गया … क्योंकि उस समय मेरी सासु मां बैकलेस और डीप नेक ब्लाउज पहनकर आयी थीं.

उनको देख कर मुखिया भड़क गया- तुम दोनों यहां क्या कर रहे हो? काम कौन तुम्हारा बाप करेगा वहां?बिरजू- मालिक अब कितना सहेंगे हम … आप कर्जे के नाम पर काम करवाए जा रहे हो. दीक्षा- हां मन तो करता ही है, मेरा तो बीएफ है … पर तू बता तू कैसे मैनेज करता है?मैं- यार बस मेरा तो बुरा हाल है, मन करता है … तब पोर्न देख लेता हूँ. अपने सारे कपड़े उतार लेने के बाद वह एक बार फिर से मेरी गांड पर सवार हो गया.

मैंने उसको पकड़कर लिटा दिया और उसके ब्लाऊज को खोलते हुए बोला:मेरे हवाले अब कर दे अपना पूरा बदन,आज रात तुझे चोद मैं बन जाऊंगा तेरा सजन!उसके बूब्स को मैं चाटने लगा.

बीएफ पिक्चर देखनी हिंदी में: थोड़ी देर उसके मम्मों से खेलने के बाद उसने मेरी आंखों में देख कर कहा- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं, अब से मैं बस तुम्हारी हूँ. मगर इतने में ही वो हलचल करने लगी और मैंने घबराकर अपना हाथ तेजी से बाहर खींच लिया.

भाभी जमीन पर बैठ गईं और अपने नीचे के ब्लाउज हुक खोल कर अपने मम्मों को बाहर निकाल लिया और मुझे अपनी गोद में लिटा कर दूध पिलाने लगीं. मैं धक्के लगाने लगा और अब पूरे रूम में उसकी कामुक सिसकारियां ही सुनाई दे रही थीं. जब वो खड़ी हुई थी, तब मैंने टांगों के बीच फंसी हुई कुर्ती पर चूत का उभार देखा, जोकि एकदम टाइट था.

मेरी नींद कुछ 4:30 के आस पास खुली, तो देखा बुआ मेरा लंड चूस रही थीं.

इस बात पर जोर से हंसने लगी- मेरे साथ फ्लर्ट कर रहे हो, मैं सबको बता दूंगी. नमस्कार दोस्तो, मैं आपकी चहेती लेखिका पिंकी सेन एक बार फिर से अपनी देसी लंड की चुदाई कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. हैरानी की बात थी कि मेरा वीर्य छूटने के बाद भी रजिया ने मेरे लंड को मुंह से नहीं निकाला.