हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए

छवि स्रोत,पॉर्न व्हिडिओस

तस्वीर का शीर्षक ,

मुसलमानि सेक्सी बफ: हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए, मैंने शन्नो की गांड से लंड निकाल कर उसे लिटा दिया और पीछे से चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप चोदने लगा.

फुल हिंदी ब्लू फिल्म

खिड़की बंद हो चुकी थी मगर मैंने उसमें एक झिरी तलाश ली और उसमें से झांक कर अन्दर देखने लगा. गुजराती बीपी सेक्सी वीडियोउनका हाथ मेरी पीठ पर चलने लगा था और बीच बीच में वो मेरी जांघ पर भी अपना हाथ रख देते.

उसकी नंगी सफाचट चूत, मदमस्त गांड, दूध से भरे और तने हुए उसके मम्मे, उसकी फैली हुई चिकनी बांहें और हाथों के अंडरआर्म एकदम चिकने मुझे हद से ज्यादा गर्म कर रहे थे. রাজস্থানী বিএফमैंने बोला- क्यों … पिता जी का मेरे जैसा नहीं था क्या?मां बोली- तेरा हथियार तो तेरे पिता जी से लम्बाई में थोड़ा सा कम है बस, पर मोटाई में तेरा हथियार तो तेरे पिता से डबल है.

[emailprotected]हॉट गर्ल्स सेक्सी कहानी का अगला भाग:दो से बेहतर चार- 4.हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए: अफ़रोज़- क्यों आपा?अब तक उसका लंड मेरी चुत में अपना पूरा रस निचोड़कर बाहर आ गया था.

तो मैंने उसे ठीक ठाक जवाब नहीं दिया और वहां से नीचे अपने कमरे में आ गया.उस दिन जब मैंने तुम्हें गे पोर्न देखते हुए पाया तो फिर मैं बहुत खुश हो गया.

पंजाबी लड़कियों की ब्लू फिल्म - हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए

फिर मैंने उसकी शॉर्ट्स को भी उतार दिया और उसकी पैंटी में हाथ डाल दिया उसकी चूत तो पूरी गीली हो चुकी थी.अफ़रोज़- क्यों आपा?मैं- अरे यार, तू अपनी ज़िंदगी की पहली चुदाई अपनी ही बहन की कर रहा है और उसी बहन की, जिसकी चुत को तू जाने क़ब से चोदना चाहता था.

मैंने मीना को इसी अवस्था में शयनकक्ष की दीवार के सहारे सटा दिया और इसी के साथ मैंने अपने धक्कों की गति बढ़ा दी. हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए मैंने बहूरानी के दोनों मम्मे कस के दबोच रखे थे और पागलों की तरह उन्हें चूमे जा रहा था.

ऐसे ही मैंने पहले दो, फिर अपनी तीन उंगलियों को गांड के अन्दर डाल कर चलाया और मां की गांड का छेद थोड़ा खोल दिया.

हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए?

मीना की दर्द भरी तेज आहें और कराहें निकल कर महल का वातावरण गर्म कर रही थीं जिसे पूजा बड़े ध्यान से सुन रही थी. ये मेरी सेक्स लाईफ में पहली बार हुआ था कि मैं और गीत एक साथ स्खलित हुए थे. कुच्ची हंसते हुए बोला- अबे गड़दुल्ले दिन में कहां चुत मिलने वाली है, बात कुछ और है, तू चुपचाप चल बस.

फिर वो उठ कर बैठ गयी, अपने हाथ से अपने होंठ साफ किये, और अपने बालों को पीछे करके बांधा और बोली- ओह अंकल, सच में सेक्स में बहुत मजा है, मेरी फ्रेंड्स बिल्कुल सही बोलती थी, मुझे बहुत मजा आया मैं तो दो तीन बार डिस्चार्ज हो गयी।मैं- तुमने तो मजे ले लिए, पर मेरा क्या मैं तो अभी एक बार भी नहीं झड़ा. मैं बोली- ओह मुकेश … घुसा दो अंदर … मेरी कली को फूल बना दो … डाल दो अपना लंड चूत में … फाड़ दो मेरी चूत को … आह।वो लंड को चूत पर रगड़ रहे थे और मेरे चूचे मसल रहे थे. आपको ये गर्म भाभी Xxx कहानी कैसी लगी, आप अपने अभिप्राय जरूर शेयर करना.

चूमते चाटते हुए मैंने दोनों चूतड़ों को फैला दिया जिससे उनकी चूतड़ों की बीच की खाई में भूरे रंग की मामी जी की गोल सिकुड़ी हुई गांड का छेद नज़र आ गया. अबकी बार उसका धैर्य जबाब दे गया और वो बोली- प्लीज पहलेएक बार मुझे चोद दो… मैं सहन नहीं कर पा रही हूँ. अम्मी के वापस आ जाने के बाद मैंने अम्मी से कहा कि अफ़रोज़ सैट हो गया है.

मैंने उसके मस्तक पर चुम्बन करते हुए उससे कहा- तुम अपने भगवान को याद कर लो, मेरे प्यार की निशानी तुम्हारे शरीर में जाने वाली है. मीरा ने तभी अपनी दूसरी शर्त रखी कि प्यार निखिल तुमसे ही करेगा पर वो आज से हम दोनों की चुदाई करेगा.

अपनी मामी जी को इस तरह मस्त होता देख कर मैं और भी जोर जोर से मामी जी की चुचियों को चूसने लगा.

बातें करते करते पता ही नहीं चला कि कब हम टीचर स्टूडेंट के रिश्ते से निकल कर गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्ते में आ गए.

उन्होंने मुझे पीछे खींचा और मेरे मम्मों को मसलते हुए बोले- वाह शबनम क्या बात है क्या मस्त गांड है आह मज़ा आ गया. चूतड़ उचका उचकाकर उफ उफ करते हुए चित्रा ने मेरे लण्ड का पानी निकलवा दिया. यार उसके मम्मे, कोई साधारण मम्मे नहीं थे बल्कि मक्खन मलाई जैसे मुलायम, कमल के फूल से खिले हुए थे.

हमारे ग्रुप में टूर की बात चली तो काफी बातचीत के बाद हम लोगों ने भी फैसला किया कि हम भी टूर पर जाएंगे. और फिर रात को भैया को सो जाने के बाद फिर भाभी मेरे बेडरूम में आ गई. और मैं चाहती थी कि वह लंड हाथ में लेकर मेरी मिन्नत करे कि आपा बस एक बार चोदने दो.

अब वो बेड के बिल्कुल किनारे पर आकर घोड़ी बन गईं और मुझे नीचे खड़ा होकर लंड पेलने की कोशिश करने को कहा.

कुच्ची- तो मैं तो तुझे रात भर चोद नहीं पाऊंगा, गुड्डू को भी बुला लेता हूं … फिर हम दोनों तुझे रात भर चोदेंगे. मेरा नीचे से घुसा हाथ, उसके चूतड़ों के बीच से होकर आगे को आ गया और कृति की चूत को सहलाने लगा. हालांकि मुझे भी ऐसे कई मौके पड़े थे, मैंने रुक रुक कर आठ से दस पैग दारू पीकर अपने क्लाइंट्स को भरपूर चुदाई का सुख दिया था.

मेरे हाथ से मम्मी की चूचियां दब रही थीं तो मम्मी के मुँह से मादक सिसकारियां निकल रही थींवो अपना चेहरा नीचे किए हुए थीं और वासना से गर्म होती जा रही थीं. आज तक उसने अपने यहां काम करने वाली मजदूर औरतों की हर तरह की चूतें चोदी थीं … पर ज्यादातर सभी ढीले और फटे भोसड़े थे. यदि किसी लड़की की झिल्ली फटी हुई होती है तो उसकी चुत से खून नहीं निकलता है.

फोटो शूट के थोड़ी देर के बाद रमेश बोला- अब तुम अपनी ये पैंटी भी निकाल दो.

कुछ देर बाद मूवी में एक रोमांटिक सीन आया जिसमें हीरो हीरोईन को किस कर रहा था. कुछ देर बाद उसने लन्ड चूसना छोड़ दिया और अपनी बुर को मेरे होंठों पर दबा दिया और ससस आह आह कर के मेरे होंठों पर झड़ गयी.

हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए कुछ देर बाद जब मां ने कोई हरकत नहीं की तो मैं अपने पैर को भी मां के पैरों पर रख उनका पेटीकोट और ऊपर सरकाने लगा. मुझे लेटा देखकर बोला- आपा आपकी तबीयत तो ठीक है न?मैं- ठीक ही समझो, तुम बताओ कुछ होमवर्क मिला है क्या?अफ़रोज़- आपा, कल संडे है … वैसे कल रात का काफ़ी होमवर्क बाकी बचा हुआ है.

हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए इस उम्र में आकर पति पैसे के पीछे भागते रहते हैं और औरतें घर में तड़पती हैं. मामी जी ने भी मस्त होकर सिसकारी भर दी- ओह्ह्ह राहुल … जल्दी से मेरी चूत को अपने लंड से चोदो ना … आह अपने मोटे लंड से पेलो … ओह्ह राहुल.

फिर भी मैंने नाराजगी जताते हुए सवाल किया- आपने यहां हाथ क्यों लगाया?वे कुछ नहीं बोले.

डाबर च्यवनप्राश 2 किलो कीमत

चूंकि चाची साड़ी पहनती थीं तो मम्मे बड़े होने के कारण उनका पल्लू ज़्यादा देर तक ऊपर नहीं रह पाता था. उसकी आंखों में नशा देख कर मुझे यकीन हो गया कि शमा पक्के में लंड की प्यासी है. मैंने कमरे में आने से पहले शन्नो की तरफ देखा तो उसने हां में सर हिला दिया.

आंटी बोलीं- यह क्या … तू चड्डी नहीं पहनता क्या?मैंने कहा- आंटी आज चड्डी गीली हो गई थी … इसलिए नहीं पहनी. फिर मैंने उनसे कहा- आप मुझसे शादी करना चाहती हो, तो एक काम करना पड़ेगा. मेरी मॉम को अब तक सब समझ में आ गया था कि ये रोहन उसे चोदने के लिए मरा जा रही है.

वो मेरे घर पर आई, वो मेरे साथ चिपक कर बैठी थी क्योंकि मूवी डरावनी थी.

कितना दर्द हो रहा मां … हाय मां कितना मोटा लंड है भैया का … इतना बड़ा गदहे जैसा लंड और कहां मेरी कमसिन चूत … आह मर गई रे. चाची के घर के सामने वाली खिड़की हमारे घर के सामने ही खुलती थी जिसे चाची ने आज मम्मी की सुविधा के लिए खोल दिया था. वो बार बार अपने लंड को खुजला रहे थे और मुझे दिखाने की कोशिश कर रहे थे.

उसने मुझे पकड़कर बैड में बैठा दिया।अब वो मेरे पास आकर मेरी जांघों पर हाथ फेरने लगी. भाभी भी मस्त होने लगीं और अपने दोनों दूध मेरे मुँह में बारी बारी से देने लगीं. मैं- सागर मैं समझ सकती हूं कि प्यार के बिना ज़िन्दगी कैसे अधूरी हो जाती है। मैं यही ज़िन्दगी जी रही हूं। और मैं नहीं चाहती कि तुम ऐसे ज़िन्दगी जियो.

अब मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और हम दोनों सीधे 69 की पोजीशन में आ गए. मगर जब मौसी बाहर आईं तो मैं भी अपनी नजरें चुराता और लंड छुपाता हुआ बाथरूम में चला गया और अपने आपको साफ करके वापस आ गया.

इसलिए मैंने पूनम बुआ को समय देना सही नहीं समझा; मैंने देर ना करते हुए लंड पर थोड़ा जोर लगाया और देखते ही देखते मेरा लंड पूनम बुआ की चुत में घुस गया था. उनकी चुत पर झांटें थोड़ी बड़ी थीं, पर फिर भी मैं पूनम बुआ की चुत का चीरा देख सकता था. मैंने आंटी की गांड में अपना लंड सैट किया और एक ही झटके में आंटी की गांड में लंड पेल दिया.

अभय- ओके … पर क्या तुम जानती हो एक भाई बहन कभी दोस्त नहीं होते?ममता- अगर हम बन जाएं तो?अभय- ठीक है.

वो वासना से मेरी आंखों में देखने लगी और उसने मेरे लंड पर हाथ रख दिया. एक दिन की बात है, मैं अपनी छत पर खड़ा था तो सामने के मकान की छत पर एक लड़की दिखाई दी. मैंने नीतू को बड़े प्यार से बेड पर लिटा दिया और उसके होंठ चूमने लगा.

भाभी के साथ होने वाली चुदाई के बारे में सोचते हुए मेरा लंड एकदम खड़ा होने लगा था. बंगालिन भाभी- ठीक है, पर इसे कैसे तैयार करूं! अच्छा होगा कि तू ही अपने देवर को मेरा दूध पीने को तैयार कर दे ना!भाभी- ओके भाभी … मैं कोशिश करूंगी.

जब हम सब लोग रात को छत पर सोने जाएंगे, तब तुझे मैं चुदाई का मजा दूंगी. नेहा ने पूछा- वो कैसे?ममता ने कहा- वो सब बाद में … पहले तुझे ठंडी कर दूं. चाची ने कहा कि तू अपना काम निकलवाने के बाद अपने बेटे का लौड़ा मुझे भी अपनी चूत में डलवाने देगी.

गाउन कपड़ा

ये सब करने से बहू की आंखें आनंद से मुंद सी गयीं और इधर मेरा लंड भी तन कर खड़ा हो गया जिससे मेरी लुंगी उठ गयी और लंड उभार जैसे टेंट के पोल जैसा दिखने लगा.

अब मैंने उसका गाउन उतार दिया और उसकी ब्रा उतार कर उसे पूरी नंगी कर दिया. थोड़ी देर बाद उन्‍होंने अपना हाथ मेरे कंधे के ऊपर रख दिया और साइड से मेरी बांह को सहलाने लगे. मॉम सन हॉट सेक्स स्टोरी के पहले भागविधवा मां का नंगा जिस्म देखा तोमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी मां ने गर्मी लगने का बहाना करके अपने पेटीकोट को उतार दिया था और मैं उन्हें सिर्फ पैंटी में देख कर गर्मा गया था.

ह्म्म्म … क्या मस्त टाइट चूत है मेरी डार्लिंग की …” मैं अब पूरे जोश में चुदाई करते हुए बोला. अब मेरी बारी आ गई थी लेकिन भाभी ने मुझे काटने से और सेक्स करने से मना कर दिया. नहाती हुई लड़की की सेक्सी वीडियोफिर मैंने भाभी को लिटा आकार उनकी चुत में लंड पेला और धकापेल चुदाई करना चालू कर दी.

फ्री मॉम सेक्स कहानी के पिछले भागमेरी गंवार माँ को चुदाई का चस्का लग गयामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी मां को ब्लू-फिल्म दिखा कर गर्म कर रहा था. उनकी इस बात से मेरे चेहरे पर थोड़ी मुस्कान आ गई और मेरी टेंशन खत्म हो गई.

कुछ ही देर में रोहन अंकल का मोटा लम्बा लंड मॉम के सामने लहराने लगा. मैंने उससे पूछा- तुमको लंड का स्वाद कैसा लगा?वो बोली- शुरू में तो जरा कसैला सा लगा, पर अब तो नमकीन लग रहा है. मामी ने मुस्काराकर धीरे से कहा कि तुम अपने मामा के साथ खेत में मत जाना.

मैंने पूछा कि बताओ न … वो आपको क्यों नहीं चोदते थे?मौसी ने कहा- उस साले का बाहर कहीं चक्कर था. मेरी नींद सुबह छह बजे खुली, तो मौसी तब भी मेरे ऊपर वैसे ही नंगी सो रही थीं. भाभी एक साथ उन तीनों को चुदाई का मजा देने में शायद असमर्थ थीं लेकिन फिर भी पता नहीं क्यों भाभी उनसे चुदी जा रही थीं.

उनके आते ही मैंने उन्हें गोद में उठा लिया और वैसे ही उनके होंठों को चूमने लगा.

मेरे डिस्चार्ज का समय हो रहा था, लण्ड का सुपारा फूलकर मोटा हो गया था तभी मेरे लण्ड से पिचकारी छूटी और जया की बुर लबालब भर गई. पूनम बुआ- ये गाना तुमने ख़ास चलाया है क्या?मैं- एफएम चल रहा है बुआ जी.

मेरे भाई ने बहन को चोदा … आपको कैसा लगा?प्लीज़ मेल और कमेंट्स जरूर कीजिएगा कि यह Hindi Sexy Audio Story सुनकर कैसी लगी?आपकी चुदक्कड़ बहन आशना. भाभी अब मुझे अपने एक मम्मे को मेरे मुँह में डाल दिया और चूची चुसवाने लगीं. ये टूर लगभग तीन हफ्तों का था, जिसमें टीचर्स, स्टूडेंट को कुछ हिस्टोरिकल प्लेस दिखाने और साइंस से सम्बन्धित कुछ सिखाने के लिए ले जाते थे.

हम दोनों ने एक दूसरे को संभोग से संतुष्टि देने के लिए धन्यवाद बोला और कुछ देर के लिए चिपक कर लेट गए. मैंने आपकी पिक्चर कोई सेव नहीं की है और आप भी मेरा नम्बर डिलीट कर दो. भारी योगिनी थी वो … लंड को अपने वश में कर लेने की हर कला को जानती थी.

हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए दीदी अब पीछे की ओर घूमी तो उनकी बड़ी सी गांड एकदम नंगी मेरी निगाहों के सामने आ गई थी. चाची- तू सच में नहीं जानता क्या?मैं भ्रमपूर्ण नजरों से उन्हें देखने लगा.

सपने में मिठाई खाना

इसलिए मैं रूही से बात करूंगी।सागर- नहीं भाभी, ऐसा मत करना, वरना उसे लगेगा कि मैंने आपसे उसे बुराई करी है। आपने सही कहा शायद यही लाइफ है। वैसे भाभी, आप कई साल से अकेली हो. पूनम के पति, बृज को व्यापार में कुछ नुकसान हुआ था और इसीलिए पूनम बुआ थोड़ी परेशान रहने लगी थीं. फिर मां ने मेरे लंड पर तेल की धार गिराना चालू की और मेरे लंड को पूरा तेल से भिगो दिया.

मेरी एक आदत है कि मैं अक्सर शाम को खाना खाने के बाद घर के बाहर अपनी सास के साथ टहलने निकल जाती हूं. अदिति बेटा, तेरा ये रिवर्स काउगर्ल आसन तो मस्त है, जब तू लंड को चूत से जकड़ कर आगे पीछे होती है तो क्या मस्त आनंद आता है. ஆன்ட்டி செக்ஸ் மூவிஸ்मेरी नंगी चुत देख कर उसने अपना मुँह मेरी चुत पर लगा दिया मेरी चूत चाटने लगा.

हम दोनों जैसे ही स्टोर रूम में पहुंचे, मैंने दीदी को कस कर पकड़ लिया और किस करने लगा, उनके मम्मों को दबाने लगा.

उसने तेज धक्के लगाने शुरू किए और वो लगातार बिना रूके मुझे चोदता रहा. कुछ देर बाद उन्होंने कॉल उठाया तब मैंने उन्हें कहा- गुलशा आई आल्सो लव यू.

शहजाद- तो?सबा- तो ये कि आप मेरे साथ भी सेक्स करो वरना मैं अब्बू को सब बता दूंगी. मैंने धीरे से अपनी जीभ को गांड के अन्दर डालनी चाही मगर गांड इतनी टाइट थी कि जीभ अन्दर नहीं जा पा रही थी. मैंने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और झुक कर उसकी चूत पर सैट करके धीरे धीरे फांकों में रगड़ने लगा.

अब मैंने भी अपना हाथ उनके सीने पर रख दिया, उससे उन्हें सिग्नल मिल गया कि मैं भी कुछ करना चाहता हूँ.

नमस्कार मित्रो, मैं आरुष दुबे फिर से अपनी सेक्स कहानी का तीसरा भाग लेकर हाजिर हूँ. जब उसको मजा आ रहा था तो मैं भी ये सोचने लगा था कि साहिल को उसकी अम्मी की चुत चोदने मिल जाए तो उन दोनों का काम बन जाएगा. मैंने पूछा- चाची क्या हुआ?अचानक से उन्होंने अपनी साड़ी और पेटीकोट को ऊपर कर दिया और बोली- देख मुझे मधुमक्खी ने काट लिया है मेरी जांघ पर … तू ज़रा डंक निकाल दे.

टीन पोर्नयह कामुक कहानी हमारे घर में एक दम्पत्ति किराये पर रहने आये किरायेदार की बीवी की है. उधर मेरे निकलते ही मेरी बेटी सबा ने शहजाद के पास जाकर उससे सीधे सीधे बात की.

न्यू हिंदी सेक्स वीडियो

मैं- मेरी जान, आज आपको इसको चूसना तो इसकी जड़ तक चूसना पड़ेगा … वरना आपकी चुत की प्यास भी नहीं बुझेगी. मौसी बोली- छुपा मत, मुझे गांव की हर खबर रहती है। अभी बता दे, मैं कुछ कर दूंगी। बड़े घर में नाक मत कटवा देना. मुश्किल से मैंने खुद को संभाला लेकिन इतनी चुदने के बाद अब मुझे अंदर से बहुत संतुष्टि हो रही थी।मैं वहां एक महीने रुकी और उन्होंने मुझे न जाने कितनी बार चोदा और मैं गर्भवती भी हो गई.

अब मैंने पूछा- अरे तू मुझे इतना चाहता है, मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि घर में ही एक लंड मेरे लिए तड़प रहा है. मैंने अपने लंड को बुआ की चुत से पूरा बाहर निकाला और फिर से एक तेज झटके से वापस अन्दर डालते हुए उनके होंठों पर काट लिया. नेहा- तू ही चुदवा अपने भाई से … अगर मुझे चुदवाना होगा तो मैं अपने घर में अपने भाई चिराग से चुद लूंगी.

दोपहर में जैसे रुबिका घर आई तो वो शहज़ाद को देख कर एकदम से खुश हो गयी. करीब दस मिनट तक मौसी के चूचे दबाने के बाद मैं उनकी पैंटी उतारने के लिए नाईटी को धीरे धीरे उठाने लगा. आंटी सेक्स कहानी के पिछले भागमौसी की जेठानी मेरे साथ सुहागसेज़ परमें आपने पढ़ा कि नीतू के साथ मैं चूमाचाटी कर रहा था.

दो मिनट किस करने के बाद हम दोनों अलग हुए और टॉयलेट से निकलकर नीचे चले गए. तभी मैंने अपने लंड को नीतू की गांड से निकाला।रूपाली और नीतू दोनों मेरे लंड के पास बैठ गई.

मां मुझसे छूटने की कोशिश करने लगीं … पर मैं मां को पकड़े रहा और धीरे धीरे लंड को अन्दर डालता रहा.

मैंने बोला कि हां बताइए … क्या काम है?उसने बोला- मैं अभी आया हूँ और आप प्लीज़ मेरी बीवी को जल्दी दिखवा दीजिए. देहाती नंगी फिल्मेंफिर मैंने अपनी उंगली पर तेल लगा कर उसे गांड के अन्दर डालना चाहा तो मां चीख पड़ीं. மல்லு செக்ஸ் வீடியோबस फिर क्या था … मैंने दीदी की टांगें फैलाईं और अपना लंड दीदी की चुत में पेल दिया. सागर- भाभी, आपकी चूत गीली हो गई है। देखो, कच्छी पूरी भीग गई है।मैं- सागर उतार दो इसे! यह पानी तुम्हारे नाम का है.

उनकी जांघों पर बैठकर अपनी नाइटी उतार फेंकी और इनके लंड को मुँह में लेकर खूब चूसा.

एक मेरे पास आया और मेरी टांगें फैला कर मेरी टांगों के बीच में बैठ गया. एक अकेली बेसहाय महिला की स्थिति का अंदाजा तो आप लगा ही सकते हैं कि कितनी कठिनाई होती होगी. थोड़ी देर बाद उन्‍होंने अपना हाथ मेरे कंधे के ऊपर रख दिया और साइड से मेरी बांह को सहलाने लगे.

मैंने कहा- मेरे लिए मतलब?तो उन्होंने कहा- हम हमेशा ऐसे थोड़े रहेंगे … थोड़ा रोमांस भी तो करेंगे. जब खाना बन गया तो उसने मुझे पुकारा- साहिल जी, खाना लग गया है, आकर खा लीजिए. मैं घर में गया तो देखा कि रमेश और दीदी फोटो सेशन चला रहे थे और रूम का दरवाजा लॉक था.

शिलाजीत कैसा होता है

उसका निचला होंठ चूसते हुए मैं बहू के दोनों स्तन दबाने मसलने लगा; फिर उसके टॉप में सामने से हाथ घुसा कर ब्रा में उंगलिया घुसा दीं और नंगा स्तन मसलने लगा. विवेक ने अपना सारा माल उसके मुँह में डाल दिया और वह उसका सारा माल पी गई. राजकुमारी कृति की चूत में मेरी जीभ चल रही थी और मेरे दोनों हाथ उसके मम्मों के उभार नाप रहे थे.

उसे अपने लंड पर और उसकी चूत में भर दिया और उसे झुकाकर दीवार के सहारे घोड़ी बना दिया.

मैं उनके पैर पड़ने के लिए झुका, तो और दर्द हो गया और मेरी आंख से पानी आ गया- सॉरी चाची!चाची- अरे हर बार पैर क्यों पकड़ रहा है … कोई बात नहीं है.

कहानी के पहले भागजवान मौसी को नंगी करके मजा दियामें आपने पढ़ा कि जब मौसी घर में अकेली रह गयी तो उन्होंने मुझे अपने घर बुला लिया. मैंने धीरे से आंटी की चड्डी में हाथ डाल दिया और चुत पर हाथ फेरने लगा. हिंदी पिक्चर साउथ मेंपर इस चुदाई में वो मजा नहीं आता था क्योंकि ना हम खुल कर चुदाई कर पाते थे … और ना ही मजा ले पाते थे.

मैंने झट से अपनी उंगली उनकी पैंटी में डाल दी और उनकी चुत में उंगली करने लगा. दो दिन बाद पायल ने मुझसे कहा- एक रास्ता मुझे दिखता है जो तुम्हें इस घोड़ी की सवारी करा सकता है. अब जब भी मेरे दोस्त के घर कोई नहीं होता तो मैं उसके घर जाकर उसकी ही बहन को चोद कर आता हूं.

’थोड़ी देर बाद चाची उठीं और लंड चाटती हुई बोलीं- आह मजा आ गया … अब मैं गांड में लंड लूंगी. मेरी चीर (क्लीवेज) पर टिके मंगलसूत्र को साईड करते हुए सुरजन ने जीभ से चाटना शुरू किया और बोला- साली, जिसका मंगलसूत्र पहना है वो शराबी तो गांडू है, बहुत बड़ा लंड खाने वाला गांडू।मैं बोली- क्या बोल रहे हो तुम ये?वो बोला- हाँ भाभी, वो गांडू है.

जैसे ही मैं मुठ मारने लगा तो चाची बोली- अरे केदार, तू फिर से चालू हो गया?मैं खुद को संभालते हुए बोला- अरे चाची आप गयी नहीं?तब मैं पैंट की जिप बंद करते हुए बोला- हां चलो चाची.

मैं बहुत देर से चेयर पर बैठा लौड़े को बाहर किये अपने हाथ से ऊपर नीचे कर रहा था. कुल मिला कर बहूरानी इस वेश में इक्कीस बाईस साल की किसी कॉलेज की सेकेण्ड इयर की स्टूडेंट जैसी लग रही थी. मेरी पहली बार सेक्स की कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी भाभी को उनके दोस्त के साथ नंगी चुदाई करते देखा.

इंडियन भाभी पोर्न वीडियो यूं ही दस मिनट तक हमने एक दूसरे के लंड चुत को चूस चाट कर बेहद गर्म कर दिया था. अभय ने देखा तो देखता रह गया, ममता की चूत से पानी बह रहा था, जो उसकी जांघों तक बह कर आ गया था.

फिर अपने लंड में ढेर सारा थूक लगाया और उसकी एक टांग उठा कर अपना लंड एक ही झटके में उसकी चुत में डाल दिया. मैं मजाक करते हुए बोला- ये तुम क्या कह रही हो … मैंने कब कहा कि तुम खराब हो … तुझमें कुछ भी खराबी नहीं है. तो मित्रो, अब उमर के हिसाब से तो ये शादी ब्याह की जिम्मेवारी संभालना, समाज में आना जाना, तो अब मेरे बेटे अभिनव की जिम्मेवारी बनती है.

फिल्म का सेक्स वीडियो

मेरा लण्ड बहार की बुर में जाने को तैयार था लेकिन मैं बहार की पहल पर आश्रित रहना चाहता था. मैंने अपना एक पैर उसके पैरों पर रखा और हल्के हल्के ऊपर नीचे करने लगा. अब ये सब बातें मेरी कहानी का विषय तो हैं नहीं तो चलो मुद्दे की बात पर आते हैं.

मां मुझे उदास देख बोलीं- बेटा तू चिंता मत का … मैं रात में आ कर तेरा हथियार अपने हाथों से शांत कर दिया करूंगी. बंगालिन भाभी के मुँह से सीत्कार निकलने लगी और वो मेरे सर पर हाथ फेरती हुई मुझे अपना दूध पिलाने लगीं.

इसी बीच रुबिका ने भी हम दोनों को चुदाई करते हुए देख लिया लेकिन वो कुछ नहीं बोली.

उसने कहा- मार्केट में भी तो आधा लीटर का दूध पानी मिलाकर एक लीटर मिलता है. मैं- हां मां, मैंने डॉक्टर से बात कर ली है … उन्होंने ये गोलियां दी हैं. मैं बीच में कुछ बोल भी नहीं सकता था कि तुम लोग मजे करो, मुझे नहीं चाहिए.

मेरी मां रज्जी, मेरे खड़े लौड़े को बाहर निकलता देख कर एक मादक सिसकारी लेती हुई बोलीं- आह कितना सॉलिड लंड है आपका. और अगर वो लंड आपका हो तो क्या आपको कोई ऐतराज है?तोमर साब खुश हो कर बोले- अरे वाह, फिर तो मजा आ जाएगा. अब मेरे दोनों हाथ उसकी चूचियों पर थे और उन्हें पकड़ कर मैं जोर जोर से चूत में धक्के मार रहा था.

क्वीन सेक्स कहानी के पहले भागराजकुमारी को चोदकर महारानी बनायामें आप सबने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने प्यार राजकुमारी कृति को पाने के लिए सितमगढ़ पर कब्जा किया और फिर तीनों राजकुमारियों से विवाह कर लिया.

हिंदी बीएफ मूवी दिखाइए: अब गांड पर मेरी जाँघों की थप थप थप थप थप की सैक्सी आवाज से पूरा कमरा गूंजने लगा।ऐसा लग रहा था कि मैं कोई घोड़ी चोद रहा हूं. इस पर उसने हंस कर कहा- नहीं मैं अब नहीं मार पाता … हां तुम बस मेरा लंड चूस कर रस निकाल देना.

आप सबसे विनती है कि अपने घरों में ही रहें और स्वयं को सुरक्षित रखने के साथ ही दूसरों को भी सुरक्षित रखें. शाम को मैं छत पर टहल रहा था तो वो भी छत पर आ गई और उसने मुझे धन्यवाद बोला. फिर जैसे रुबिका अपने कमरे में गयी तो मैंने शहज़ाद का मूड बनाने के लिए एक लाल रंग की फैंसी सी और बहुत ज़्यादा खुली हुई ब्रा पैंटी पहन ली.

मैंने मसखरी की- क्या तुमने अब तक इससे छोटा लिया है!वो हंस पड़ी और बोली- अभी तो जवान हुई हूँ, इससे पहले कैसे किसी का ले सकती थी.

मेरा रंग गोरा, सुंदर चेहरा, पके आम से स्तन, केले के तने सी जांघें, बेदाग और काफी सेक्सी बदन है. उन्होंने मेरे होंठों को चूमना शुरू कर दिया और ताबड़तोड़ चुदाई करने लगे. वो मानी नहीं और मुझसे बोली- मुझे पता है कि मैं तुमको पसंद नहीं हूँ.